साली के बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ भोजपुरी दिखाइए

तस्वीर का शीर्षक ,

हनीमून फोटो: साली के बीएफ, यह सोचकर मैंने अपनी बहन को चार सेक्स कहानी भेज दीं, जिसमें तीन बहन भाई की चुदाई वाली कहानी थीं.

सोनी की बीएफ

मैं बहुत परेशान था और सोच रहा था कि साला ऐसी भी क्या जल्दी थी कि मैंने उसे बिना पटाए बिना कुछ सोचे ऐसा बोल दिया. चीन बीएफ एचडीमैंने भी मौके की नजाकत को समझते हुए उसकी मैक्सी के अन्दर हाथ डाल दिया.

फिर मैंने चूत पर थोड़ा थूक लगाया और फिर से लंड चूत में डालने की कोशिश की. लड़की ने की बीएफतब अपनी उसी उंगली को चाट कर बोले- पिछवाड़े में भी खुशबू आ रही है, मतलब जिन्न को मुंह से खींच कर निकालना होगा.

मैं इतनी जोर से चूचे चूस रहा था कि तीन बार अन्दर तक चूची खींचने से साक्षी का दूध मेरे मुँह में पूरा भर जाता था.साली के बीएफ: मैंने नीना का सर सहलाकर पुचकाकर कर कहा- गांड ढीली छोड़ो, विश्वास करो उंगली से भी मजा आएगा.

मैंने सुपारे से उसकी गांड को चूमा और थोड़ा पीछे को सरक कर अपने लंड के सुपारे को साक्षी की गांड पर सैट करने लगा.मैं थोड़ा हट्टा-कट्टा पहलवान टाइप का हूँ और साथ ही साथ मैं थोड़ा सांवला भी हूँ, इसलिए शायद लड़कियां मुझे पसंद नहीं करती थीं क्योंकि लड़कियों को सिर्फ सिर्फ गोरे-चिट्टे और हैंडसम लड़के ही पसंद आते हैं.

ब्लू पिक्चर बीएफ चोदी चोदा - साली के बीएफ

मैंने कहा- आज तो आपका लण्ड किसी मूसल जैसा लग रहा हैजलालुद्दीन साहब धक्के मारते हुए बोले- ये सब तो अंग्रेजी दवाओं का कमाल है, इसी कारण तो आज तेरी गांड के चीथड़े हो रहे हैं.उस वक्त मेरे बदन में बिजली सी दौड़ गई जब उन्होंने अपनी जीभ को मेरे निप्पल पर चलाना शुरू किया.

उम्र कम होने के कारण मुझे सेक्स के बारे मैं कुछ भी नहीं पता था लेकिन मेरा रिश्ता पक्का होने पर मेरी शादीशुदा सहेलियों ने मुझसे अश्लील मजाक करना शुरू कर दिया था. साली के बीएफ उसके पति की मौत शादी के एक साल बाद ही एक सड़क दुर्घटना में हो गई थी.

कुछ देर बाद मैंने चाची को वापस बिस्तर पर लिटा दिया और ऊपर चढ़कर चूत में लंड घुसा कर सटासट सटासट अन्दर बाहर करने लगा.

साली के बीएफ?

मुझे कंडोम की जरूरत नहीं थी क्योंकि जो मज़ा नंगे लंड से गांड मारने में आता है, वो मज़ा कंडोम लगा कर कहां आता. दिल में तो खलबली सी मच उठी थी कि आखिरकार मैंने इस सुंदरी के नग्न रूप के दर्शन कर ही लिए. मुझे कंडोम की जरूरत नहीं थी क्योंकि जो मज़ा नंगे लंड से गांड मारने में आता है, वो मज़ा कंडोम लगा कर कहां आता.

बस चूक इतनी सी हो गई कि एक दिन मैंने उससे एकदम से खुल कर कह दिया कि तुम इतनी हॉट माल लगती हो कि मन करता है कि तुम्हें पटक कर चोद दूँ. मैं किस करते करते उसको जोर से गले से लगा कर उसकी चूचियों को अपने सीने पर गड़ता हुआ महसूस कर रहा था. तो उसने मुझसे कहा- यार फेहमिना, मुझसे गलती हो गयी थी, मैंने तेरे साथ वो सब किया मगर मुझे लगा शायद तुझे मज़ा आएगा.

अब आगे विगरस वियाग्रा सेक्स कहानी:अब रोहित मंजू से बोला- तुम घोड़ी बन जाओ. मेरे ऐसे करने पर उसने अपने दोनों पैरों को बंद कर दिया और अपने दोनों हाथों से मेरे सर को अपनी चूत की तरफ घुसाने लगी।वह मुझसे कह रही थी- अब और मुझे मत तड़पाइए उम्म मम … अपना लंड मेरी चुत में डाल दीजिए. समीर ने बड़े प्यार से मुझे अपनी गोद में बिठाया और अपने हाथ से खाना खिलाने लगा.

’इस दरमियान मैंने भी अपनी पैंट उतार दी और उसकी चूत पर हल्की हल्की चुम्मी करने लगा. देसी पोर्न नजारा और चाची की चूत देखकर मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया.

मम्मी की चुदाई के बाद मैं उनके ऊपर ही लेट गया और उन्हें किस करने लगा.

लम्बी चुदाई के बाद मेरे लंड का माल कंडोम में निकल गया और शालू के ऊपर ही लेट गया.

भाभी मस्ती में आह उह उम्म्ह हाह ऊह … चोदो मुझे … चोदो मुझे प्लीज़ … फक़ मी अआह अह ह्म्म्ह! अमन प्लीज मुझे चोदो. फिर मैंने निशा से आंखें हटा कर उससे गरिमा की तरफ़ देखने का कहा जिससे उसको मदहोशी चढ़ी रहे. और वह अपने चचेरे भाई का नाम लेकर अपनी चूत में उंगली करना शुरू कर देती है!इस बीच कुणाल चाचा जाग जातें हैं और अपनी बहू को किसी गैर मर्द का नाम लेकर चूत में अपनी उंगली करते देख लेते हैं!यह सावी के लिए अच्छी बात नहीं थी.

तापोश नीना के होंठ चूस रहा था, रवि नीना की चूत और सोनी नीना की चूची चूसने लगा. अचानक मेरी चूत में हजार वाल्ट का झटका लगा और झटके खाते हुए मेरी चूत ने पानी की धार छोड दी. दरअसल जब मेरी मॉम नहाने के बाद अपनी कच्छी सूखने के लिए डालती थीं तो मैं छुप कर अपनी मॉम की कच्छी उठा लाता था.

दोस्तो, आप लोगों को बता दूँ कि जो भी औरतें अपनी चूत हमेशा साफ़ रखती हैं और सेक्स की प्यासी होती हैं, उनकी चूत की खुशबू में ऐसा नशा होता है कि आपको असली जन्नत का मजा दिला दे.

मेरा लंड जब भी किसी लड़की की चूत या गांड में जाता है, तो उस लौंडिया को पूरी तसल्ली करवा कर ही बाहर आता है. वो गुर्रा कर बोली- मैं जैसा कहती हूँ, अगर तुम वैसा नहीं करोगे तो मैं वो बात अम्मीअब्बू को पक्का बता दूँगी. कुछ ही देर में वो एकदम खुल कर रंडी के जैसे मुझे दूध पिलाती हुई चूत चुदवाने लगी.

फिर वो जैसे ही मेरे करीब आई, मैंने झटके से उसे अन्दर खींच लिया और दरवाजा बंद कर दिया. मैंने चाची को उसकी मालकिन डॉक्टर के घर पर काम करते हुए भी कई बार खूब पेला. उसी समय मैंने फिर से एक हल्की सी सीत्कार सुनी ‘आह …’उसके मुँह से ही ये आवाज निकली थी.

वो पूरी ताकत से धक्के मारते थे और मेरे बदन के सारे पुर्जे हिला डालते थे.

3 फिट की 30 से 32 साल की औरत खड़ी हुई है जिसने सिंपल सी नीले रंग की साड़ी पहने हुई थी। जिसमें उनका निखरा हुआ रंग और 36 30 38 का फिगर अलग ही दिख रहा था।उनके होंठों पर गहरे लाल रंग की लिपिस्टिक खुले हुए बाल देखकर ऐसा लग रहा था कि मैं कोई सपना देख रहा रहा हूँ. ड्राइवर गुस्से में आ गया और बोला- देखो मैडम, ये ताव कहीं और दिखाना.

साली के बीएफ मुझे एक डर भी था, क्योंकि अगर मैं आंटी को खुश नहीं कर पाया तो बहुत इज्जत का भारी कचरा होगा. लेकिन‌ मेरे मन में हिचकिचाहट अभी भी थी, जिसकी वजह से मैं खुद को रोक रहा था.

साली के बीएफ मेरे घर से सभी लोग वहीं गए थे और उसके दोनों भाइयों को भी शामिल होने जाना था. मुझे इतना जबरदस्त मजा आया की मैं भी चिल्ला उठी- भर दे हरामी, मेरी चूत अपने माल से भर दे, मुझे अपने हरामी बच्चे की माँ बना दे.

रवि को अपने विवाहित जीवन में कभी शांति नहीं मिली थी, यौन सम्बन्ध भी मजेदार नहीं था.

सेक्स सेक्स वीडियो सेक्सी

मेरी मॉम की चूचियां बहुत ही मस्त थीं और आज मैं मॉम की चूचियों का सारा रस निचोड़ लेना चाहता था. हम सब एक दूसरे के साथ मिल कर एक साथ खूब अच्छी तरह से खुशी खुशी रहते हैं. उसने 15 मिनट तक मेरा लंड चूसा और बोलने लगी- प्लीज, अब नहीं रहा जा रहा मुझे जल्दी से चोद दीजिए.

क्या अहसास था वो!फिर मैंने चाची की चूत में उंगली डाल दी और चाची ने आंखें बंद कर लीं. जब भी मैं बॉक्स देने के लिए हाथ बढ़ाता था, तो मैं ये सुनिश्चित करता था कि मेरे हाथ उसके स्तनों को छू लें. उन्होंने 5 मिनट तक मेरे होंठों को चूसने के बाद एक कपड़े से अपनी चूत और गांड के बिल को साफ़ कर लिया और मेरे लंड को भी साफ़ कर दिया.

इसी तरह की कामुक और रसीली बातों के साथ मैंने उसे बिस्तर पर गिरा दिया.

ऐसा लग रहा था कि उसको पोर्न देख कर लंड के साइज़ का अंदाजा हो गया था. मैं अपनी जगह से चलकर आगे हुआ और उसके सर की तरफ बढ़ता हुआ उसके करीब चला गया. अपनी सगी चाची की गांड फाड़ चुदाई का मजा मैंने लिया होटल में! चाची चूत मरवाने के चक्कर में मेरे साथ गयी थी पर मैंने चाची की गांड भी मार ली.

मैंने भाभी की चूत को अच्छे से चाटा और बाद में उनके चेहरे के पास अपना चेहरा ले गया. मैंने उससे कहा- एक बात कहूँ, बुरा तो नहीं मानोगी?उसने कहा- एक क्या दो बात कहो और बिंदास कहो. हम दोनों अपनी पूरी ताकत से लड़ रहे थे और एक दूसरे से आगे निकल जाने जैसी होड़ लगा रहे थे.

मैं- आप तो बहुत ही बेशर्म निकले जीजू, देख लिया था तो खिड़की बंद कर लेनी थी ना. उसको पता था कि मैं उसके ऊपर गलत निगाह रखता हूँ क्योंकि कभी कभी मैं उसको अपनी बहन की बेबी पकड़ाने के बहाने से उसकी चूची को कुछ जोर से छू लेता था.

उसे मैंने चिल्लाने से मना किया और साथ ही उसकी चूत के अन्दर एक उंगली डाल दी. फिर थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि आयेशा अमन के साथ हंसती हुई आ रही थी. अब मेरी नियत खराब हो गई, मेरे दिमाग़ में बस उसे चोदने का ख्याल आ रहा था.

उधर मैंने उसके होंठों पर किस किया और उससे कहा- तुझे सेक्स करना था तो इतने नखरे क्यों कर रही थी.

फिर उन्होंने अपने कपड़े भी एक एक करके उतार दिए और मेरे सामने नंगे हो गए. रानी चाची- आ जा मेरे राजा निकाल दे मेरी गर्मी … और बना ले मुझे अपनी जोरू!फिर मैंने चाची के पेट को चूसा, हाथ, बांहों, बगलों को चाटा. चाची की मादक सिसकारियां बढ़ने लगीं और वो ‘उईई ऊईईई आह आह …’ करने लगीं.

हम दोनों ने तीन दिन तक धकापेल चुदाई की, फिर पापा मम्मी आ गए और सब सामान्य हो गया. तब खालिजा भाभी ने लण्ड चाटना शुरू कर दिया।बबली भी नंगी हुई और वह खालिजा की चूत चाटने लगी.

मेरा लंड पूरा खड़ा था जिसे देखकर चाची के चेहरे पर चमक बढ़ने लगी थी. फिर मिताली ने सबको बताया, मैंने अर्पण का प्रपोजल रात को ही स्वीकार कर लिया था. इससे चाची पागल हो गई थीं; वो अपनी चूत को ऊपर नीचे कर रही थीं और मेरा सिर अपनी जांघों से जकड़ लिया था.

मामी भांजे की चुदाई

मैंने पूछा- मजा आ रहा है?उसने कहा- हां अब मजा आ रहा है और तेज तेज चोदो.

तुम्हारे बदन को मसल कर हम बस थोड़े समय का इलाज कर सकते हैं, असली इलाज के लिए तुमको अपनी पूरी चुदाई करवानी होगी. इस तरह से मुझे अब तक काफी देर हो गई थी और इतनी देर में चाची 1 बार और झड़ चुकी थीं. मैंने फ़ोन उठाया तो कॉल रिसेप्शन से था।उन्होंने मुझे बताया कि कोई अंजलि जी आप से मिलने आई हैं.

वो दूसरे मम्मे का निप्पल अपने हाथों की उंगली से मसलने लगा जिससे मैं उसका सर अपने सीने से दबाने लगी. दो हफ्ते बाद तापोश अपनी बीवी नीना के साथ तीन दिन के लिए फार्म हाउस आया. मियां खलीफा की बीएफ फिल्मदोस्तो, क्षमा करना सेक्स कहानी थोड़ी लम्बी हो गई क्योंकि मैंने मेरी चाची और मेरे बीच का सारा कांड आपको पूरे विस्तार से बताया है.

लगता है दो बच्चों की मां है साली!अब्दुल बोला- जिस तरीके से हम इसको चोद रहे हैं, लगता है आज ही ये चालीस पचास बच्चों की मां बन जाएगी. दोनों का ही रंग बहुत ज्यादा साफ नहीं था लेकिन देखने में दोनों की दोनों बहुत सुंदर लगती थी.

” मैं बोला और उन्हें सैंडविच मसाज के बारे में समझाने लगा।मैंने उन्हें एक दो ब्लू फिल्म भी दिखाईं।लेकिन हमारी भी एक शर्त है कि तुम बीच में अपना कोई हाथ पैर या दिमाग नहीं चलाओगे, और जो हम करेंगी वो करने दोगे!” पिंकू ने शर्त रखी।मैंने सहमति दे दी. तू जा, मैं कपड़े बदलकर बाहर ही रख दूंगी और तेरे कमरे‌ में बैठी हूं. मैंने भी खुद को कोमल से ऐसे चिपका दिया, जिससे हम दोनों के बीच हवा भी न जा सके.

जीजू बोले- सकीना, आज तुमने सेक्स का सबक सीख लिया है, अब अपने पति के साथ करने पर तुमको ज़रा भी दर्द नहीं होगा और तुम हर रात उसके साथ मजे करोगी. मैं साक्षी के ऊपर चढ़ा था और उसकी गांड में लंड पेल का उसके नंगे बदन को रौंद रहा था. मेरा लंड जब भी किसी लड़की की चूत या गांड में जाता है, तो उस लौंडिया को पूरी तसल्ली करवा कर ही बाहर आता है.

तब मैंने देखा कि चूत में से पानी निकलने लगा तो मैंने चूत चाटना शुरू कर दिया.

मैंने मम्मी से कहा- मुझे वो मूवी देखने दो मम्मी, बस अब वो खत्म होने वाली ही है. मैंने जब भी चुदाई की है, तब भी चुदने वाली को कम से कम चार बार से कम नहीं चोदा होगा.

अब मैंने उन्हें ध्यान आंटी को देखा तो उनकी उम्र 40-42 साल के आस पास की समझ आई. तभी मम्मी बेड से उतरने लगीं तो मैं अपने कमरे में आ गया और अपने बेड पर लेट गया. मैंने उसकी बुर की फांकों को फैलाया और चूत के छेद में अपना 6 इंच के लंड का मोटा सुपारा लगा दिया.

सोनी- रवि तुम्हारे चूचे और गांड के पास के बाल भी बढ़ गए है, नाक में जाते हैं. वह एक बंगाली बीवी थी लगभग 32 साल की एकदम मदमस्त जवान।उसकी चूचियाँ बहुत ज्यादा ही मादक लग रहीं थीं मुझे!वह मुझसे मिलकर खुश हुई और मैं उससे मिलकर!बबली उसके कपड़े उतारने लगी।मैंने जब उसे पूरी तरह नंगी देखा तो मेरा लण्ड साला अपने आप ही बाहर निकल आया।उसकी चूचियों ने तो मेरी जान निकाल ली थी।मैं रुक नहीं पाया. उसके बाद वो थक गया तो उसने मुझे अपने लंड पर बैठ लिया और मुझे चुदाई करने को कहा.

साली के बीएफ वो अपनी बच्ची को साथ में लेकर मेरे ऑफिस की तरफ शायद मुझे ही ढूंढती हुई जा रही थी. काफी देर तक उसके दोनों दूध चूसने चाटने के बाद मैंने अपना एक हाथ उसकी चूत पर फेरा और उसकी पैंटी के अन्दर डाल दिया.

सुहागरात को क्या होता है

मुझसे रहा नहीं गया; मैंने उनकी ब्रा उतार दी और पेट पर किस करते हुए सलवार उतारने लगा. मैंने पूछा- चाची ये किस काम आता है?वो कुछ नहीं बोलीं, सिर्फ़ मुस्करा दीं. मैं उन्हें हर तरह से खुश करना चाहती थीं क्योंकि वो सात सौ किलोमीटर दूर से मुझसे मिलने या कहिए मुझे चोदने आ रहे थे.

मैं अपने एक हाथ से उनके मम्मों को दबा रहा था और दूसरे हाथ से उनकी चूत में उंगली करने लगा था. बीवी- चंदा बोली कि फूफा जी तो पहले से ही ड्रिंक करते आ रहे हैं … लेकिन बुआ आप थोड़े ही नशे में थीं, कम से कम कमरे का दरवाजा तो बंद कर लेतीं. हिंदी मराठी बीएफ सेक्समंजू किचन की तरफ नाश्ता बनाने आ गई तो मैंने उससे पूछा- मंजू तुम्हारा तो सुबह भी चुदाई कार्यक्रम चल रहा था?वह बोली- हां बुआ.

सेक्स विद ब्यूटीफुल गर्लफ्रेंड का मजा मुझे मिला राजस्थान की एक लड़की से.

मैंने उससे जोर देकर पूछा तो वह कहने लगी- मेरे पति का बाहर किसी के साथ चक्कर है. मैंने उसकी दोनों टांगें उठा लीं और ज़ोर-ज़ोर से उसकी चूत चोदने लगा.

और चूचियों के तो क्या ही कहने‌ … उनके निप्पल एकदम टी-शर्ट से बाहर निकलने‌ को आ रहे थे. मैंने महसूस किया कि मोहित मुझे बहुत देर से चोद रहा था और ये अभी तक झड़ा भी नहीं था और थका भी नहीं था. मेरा लंड उत्तेजना की वजह से ऐसा अकड़ा हुआ लग रहा था मानो वो गद्दे में ही छेद न कर दे.

वेश्या ने कपड़े उतारे, थोड़ी देर चूचे दबाने दिए, फिर पलंग पर पैर फैलाकर लेट गयी और बोली ‘बैठ’ (उनकी भाषा में चोद) का.

मैं समझ गया कि शायद मैंने ये वही वाली चूची मुँह में ले ली है, जिसे मैंने पहले खाली किया था. चूत झड़ने के बाद मैंने भाभी की चूत चटाई का अपना काम जारी रखा और भाभी की फुद्दी से निकले रस को अच्छे से चाटना शुरू कर दिया. मेरे हर थप्पड़ पर मोहित के मुँह से चीख निकल रही थी क्यूंकि मैं थप्पड़ बहुत जोर जोर से मार रही थी.

सेक्सी में बीएफ वीडियो मेंहर इंच के साथ उसके भाव बदल रहे थे हर बार जैसे ही थोड़ा लंड अन्दर जाता, वो आंह करके तुरंत ऊपर हो जाती. मैं तेरी गर्लफ्रेंड हूँ मुझे चोदो। वॉवो आज मुझे मालूम हो रहा है कि कोई मर्द मुझे चोद रहा है।ऐसे ही एक दिन बबली मुझे मिसेज रूपाली के पास ले गयी.

पंजाबन की चुदाई

जलालुद्दीन साहब बोले- हाँ जान, आज की चुदाई तुम सारी जिंदगी नहीं भूलोगी. कहानी के पहले भागगाँव में मिली दो सेक्सी भाभीमें आपने पढ़ा कि गाँव में शादी थी, मैं वहां गया हुआ था. मैं ये जानता था कि मैं जो हर रोज माधुरी की गांड को और उसकी चूचियों को घूरता हूँ, ये बात उसे पता है, लेकिन वो जानबूझ कर ऐसा दिखा रही थी कि उसको ये बात पता नहीं थी.

मीना भी अपने चूतड़ ऊपर उठा कर लंड लेने के लिए अपनी तड़प को दिखा रही थी. सोनी की बीवी अपना फिगर अच्छा रखने के चक्कर में वह बहुत कम ही अपने चूचे दबाने देती थी, चूचे चूसने तो देती ही नहीं थी. गिफ्ट खोला और मोबाइल फोन देखकर शबाना और भाभीजी के आश्चर्य का कोई ठिकाना नहीं था.

कुछ देर बाद मैं महसूस कर सकता था कि उसका बायां हाथ मेरे लंड की तरफ बढ़ रहा है. ऐसा कह कर मैं बेड के किनारे पर आकर बैठ गया और अपने दोनों पैरों को ज़मीन पर रखकर चाची को अपनी ओर खींच लिया. नीना ने अपने बैग से स्ट्रेप ऑन डिल्डो निकाला और बोली- मैं तुम्हारी गांड चोदना चाहती हूँ.

अगले ही पल उसने मेरे लंड को पकड़ कर टॉवल ऊपर कर दिया और मेरे लंड को मुँह में ले लिया. मगर यह बात जरूर है कि हमने आज तक अपनी लिमिट्स कभी क्रॉस नहीं की थी.

नीना ने तो मेरे गले से लगकर मेरे होंठ चूमकर कहा- रवि, तुम्हारी दी ट्रेनिंग के कारण मैं पहली बार गांड मरवाने आनन्द ले सकी.

अब जीजू का शरीर अकड़ने लगा और जीजू ने मुझे अपनी बाँहों में बुरी तरह जकड कर धक्के मारने शुरू कर दिए. सेक्सी वीडियो बीएफ हिंदी हिंदीलेकिन मेरी नींद उड़ चुकी थी और लंड के ‌टाईट‌‌ होने से मेरा ‌बुरा‌ हाल था. सेक्सी बीएफ लुधियानामुझे देखकर पुलकित ने अपने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी और वो नेहा को जोर जोर से चोदने लगा. उसकी चूचियों को चूसते चूसते अब मैं उसकी नाभि को चूसने लगा तो वो बेकाबू हो गई और उसने अपने नाखून मेरी कमर में गड़ा दिए.

नेहा को नंगी देखकर मोहित ने मेरी गांड से लंड निकाल लिया और नेहा को पकड़कर घोड़ी बना दिया.

हिना क्या सोचेगी मेरे बारे में?समीर उठा और बाहर जाकर हिना को बुलाकर लाया. इतने में मेरी अम्मी ने आवाज लगाईं तो हम सब अपने अपने काम में लग गए. काफी देर तक जीजू मेरे होंठ चूसते रहे तो मुझे भी अच्छा लगने लगा और मैं भी जीजू के होंठ चूसने लगी.

उस समय मैं सही में सातवें आसमान पर था क्योंकि माधुरी की चूत में मेरा लंड बिल्कुल सीधा घुस रहा था. मैंने देखा तो वहां कोने में पहली मंजिल पर माधुरी की शॉप का बोर्ड दिख गया. झगड़े की बात की खबर उसके पति को लग गयी थी और उस गांव वाले लड़के ने माधुरी को थप्पड़ मारा था.

सेक्सी वीडियो बफ देहाती

वो अपने हाथ मेरे सर पर, कंधों पर, पीठ पर घुमा रही थी और मैं साक्षी के दोनों चूचों को जोर जोर से होंठों में लेकर दबा दबा कर पी रहा था. बीवी का तो बिल्कुल भी मन नहीं करता था लेकिन मैं सेक्स के लिए तड़पता रहता था. यद्यपि काम के कारण भैया उन्हें अधिक समय नहीं दे पाते, पर फिर भी उन्हें इसका कोई दुःख नहीं है.

उसी बस में मेरे से पहले वाले गांव से एक तीस वर्ष की आंटी हमेशा आती थीं.

उस वक्त चाचा अपने किसी दोस्त से मिलने गए थे तो वो रात को थोड़ा देरी से आने वाले थे.

अब ना चाहते हुए भी मेरा लंड उसके होंठों पर तैरने लगा था।थोड़ा सा गर्म करने के बाद वह भी तैयार हो गई थी और उसने अब मेरा लंड का अगला हिस्सा अपने मुंह में ले लिया था।शुरुआत में तो वो एकदम देसी हिंदी Xxx रंडी की तरह मेरा लंड चूस रही थी. कहानी के पहले भागनर्स चाची को होटल के कमरे में चोदामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी चाची की चूत में लंड पेले हुए उनकी चुदाई कर रहा था और वो झड़ चुकी थीं. हिंदी सेक्सी बीएफ लेडीसलेकिन जो तीन बाहर थीं वह भी मेरे पाले तक नहीं आई थीं क्योंकि वो बहुत सहज कर खेल रही थी.

उसकी दूध सी गोरी पीठ, साइड से दिखती कमर … और पीछे की तरफ निकली हुई मुलायम सी मखमली गांड को देखकर मेरा लंड नब्बे डिग्री में खड़ा हो गया था. हर पल मेरा लंड पोर्न भाभी की रस छोड़ती चूत की चिकनाई का सहारा लेते हुए अन्दर घुसता जा रहा था. स्नेहा झड़ चुकी थी, मग़र मेरा अभी लंड झड़ना बाकी था क्योंकि मैं गोली खा चुका था.

बीवी के जाने के बाद उसी दिन एक गाय ने बगिया के सारे फूल खराब कर दिए थे. बॉटम गे सेक्स कहानी एक ऐसे लड़के की है जिसका इंटरेस्ट लड़कों में होने लगा था। गे साइट पर अपनी गांड की फोटो पोस्ट करके उसने एक दोस्त बनाया और उससे पहली बार गांड मरवाई.

उसके भरे से स्तन मेरे सामने थे, जो सफेद रंग की ब्रा में और मस्त चमक रहे थे.

मैंने भाभी को उठाया और एक लंबा सा किस करके बोला- भाभी, अब शरीर में जान नहीं बची है. वो भी मेरे साथ गिनती गिनने लगी और अभी दस भी पूरे नहीं हुए थे कि वो मस्त हो गई और ‘उन्हा आंह और जोर से सर आह पेलो … आंह फक मी हार्डर सर … फ़क मी …’ करने लगी. उसके 32 इंच के भरे हुए दूध मस्ती से उछाल भर रहे थे और उनमें से हल्का-हल्का दूध रिस रहा था जिसे देख कर बहुत मज़ा आ रहा था.

बीएफ चाइना सेक्सी उसके बाद मैंने और जोर से उनकी पीठ को रगड़ते हुए अपना पूरा लंड उनकी पीट पर टच कर दिया और ज़ोर ज़ोर मसाज करने लगा. चाची ‘मोंहह ओंहहह …’ करके लॉलीपॉप की तरह गपागप गपागप लंड को मस्ती में चूस रही थीं.

चूंकि सलीम का लंड पतला था, जो आसानी से मेरे छेद के अन्दर प्रवेश कर गया. यही सब सोचते सोचते और थोड़ा डरते हुए मैंने दरवाजा खोला, तो सामने उन्हें खड़ा देखकर मेरा भय और डर, कई गुणा बढ़़ गया. फिर जब माधुरी मेरे लंड पर पूरी तरह से बैठ गयी, तब तो मैं मानो जन्नत में पहुंच गया था.

एक्स एक्स हिंदी सेक्सी व्हिडीओ

आई लव यू अमन कम इन मी प्लीज!इतना कहने पर मैंने अपना सारा माल भाभी के अंदर छोड़ दिया. इस सबसे मुझे समझ आ गया कि कोमल भी मेरे साथ सहज है और मेरी उससे बात बन सकती है. मैंने महसूस किया कि साक्षी की चूत बहुत ज्यादा झड़ी थी और मेरी उंगलियां बहुत ज्यादा चिपचिपी हो गयी थीं.

मेरी आपा के मुंह से एक आह निकली और जीजू का पूरा लंड मेरी आपा की चूत में समा गया. फिर मैंने मामी की चूचियों के बीच में अपना लंड फंसाया और उनके मम्मों को चोदने लगा.

मेरे हर थप्पड़ पर मोहित के मुँह से चीख निकल रही थी क्यूंकि मैं थप्पड़ बहुत जोर जोर से मार रही थी.

शहर में जाने के बाद चाची की चुदाई बिल्कुल ना के बराबर होने लगी थी क्योंकि चाचा जी सारा दिन काम पर रहते थे और रात के दस बजे घर आते थे. जिस स्टॉल पर कोमल भाभी डिनर लेने का प्रयास कर रही थी, मैं वहां आया और मैंने उससे उसकी मदद के लिए पूछा. लेकिन उस बेदर्दी ने अपना पूरा लंड बाहर निकाल कर एक बार फिर पूरी ताकत से मेरी चूत में पेल दिया.

फिर 2 मिनट बाद वो भी मेरा साथ देने लगी मुझे चूमने लगी, मेरे शर्ट के अंदर हाथ डालके मेरे सीने पर हाथ सहलाने लगी।हम लोगों ने 20 मिनट तक एक दूसरे के साथ खूब रोमांस किया होंठ से होंठ मिलाकर चूमे।अब तक हम लोग बहुत गर्म हो चुके थे. अब मैं बस ऐसे मौके की तलाश में था, जब उन्हें अकेले में पकड़ कर चोद दूँ. आपको मेरी हॉट गर्ल चीटिंग सेक्स स्टोरी अच्छी लगी? तो प्लीज़ कमेंट और मेल जरूर कीजिए.

जब मैं नई नई इस कॉलोनी में रहने आई थी तो वो सभी मुझ पर भी लाइन मारते थे.

साली के बीएफ: ’खैर … मैंने पहले तो अपने घर फोन किया कि मैं अपने एक दोस्त के घर रुक गया हूँ, कल आऊंगा. मेरे दोनों हाथ चाची की चूचियों पर आ चुके थे और चाची धीरे धीरे लंड पर उछलने लगी थीं.

नमस्कार दोस्तो, मैं कोमल मिश्रा अपनी एक नई सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. रात को चाची और मैंने खाना खाया और हम दोनों सोने के लिए अपने अपने कमरे में चले गए. किसी मर्द ने आज पहली बार मेरे होंठों पर अपने होंठ रखकर उनके रस को पिया था.

थोड़ी देर बाद मैं उठा, उनकी चूत में अपने ही वीर्य से सना हुआ लंड निकाला.

मुझे ऐसा लग रहा था मानो मेरी चूत से कुछ बह रहा है जिसको जीजू चाटे जा रहे हैं. इतने में मेस का टाइम हो गया तो मैंने सोचा क्यों ना आज ब्रा पैंटी पहन कर ही चला जाए. मैंने चाची को उठाकर घोड़ी बना दिया और चूत में लंड लगाकर जोर से धक्का लगा दिया.