बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल

छवि स्रोत,इंडियन सेक्सी व्हिडिओ पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

डब्लू सेक्स डॉट कॉम: बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल, मामा जी ने मुझसे कहा कि 22 मई तक घर मिर्जापुर आ जाना, यहां बहुत से काम हैं … जो तुम्हें ही करना है.

सेक्सी फिल्म वीडियो एचडी हिंदी में

वो हमारी कोलोनी के एक दुकानदार की बेटी थी, मैंने उसे कई बार उस दूकान पर देखा था. चाची सेक्स वीडियोइस बार मैंने तेज झटका लगाया, तो वो तड़प कर रह गयी … उम्म्ह… अहह… हय… याह… उसने छूटने की कोशिश की, लेकिन मैंने उसे छोड़ा नहीं.

उस समय वो मेरे साथ पढ़ती जरूर थी, लेकिन मेरी जिया से बात नहीं होती थी. मुझे मां बना दोउसने मेरे सर को अपनी गोद में दबा दिया और मैं धीरे धीरे उसका लंड अपने मुँह में लेने लगा.

मैं अपने भाई के मुँह से ऐसी बात सुनकर दंग रह गई कि ये क्या बोल रहा है.बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल: आह्ह … दोस्तो, उसकी चूत में लंड देकर जो मजा आया वो मैं आप लोगों को कैसे बताऊं.

पापा हर 3 महीने में भारत आते हैं और 10-12 दिन रुक कर वापस चले जाते हैं.आपको हमारा सेक्स सम्बन्ध कैसा लगा, मेल से जरूर बताएं तथा इस चुदाई की कहानी के बारे में अपनी राय जरूर भेजें.

17 साल की लड़की की - बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल

विशाल का लगभग 8 इंच का लौड़ा मेरे दिमाग में घर कर चुका था और उसका खड़ा लंड एक तस्वीर की तरह से मेरी आंखों के सामने घूम रहा था.दो मिनट के बाद ही मोसी ने अपनी गांड को उठाते हुए मेरे लंड की तरफ धकेलना शुरू कर दिया और मेरी कमर को सहलाने लगी.

यह सब मैं पहली बार देख रहा था और अंदाजा भी हो चला था कि इस जगह पर फाइव स्टार होटल वाली सुविधायें तो मिलने से रहीं. बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल मैं जोश में आकर भाभीजान को लिप किस करने लगा और साथ ही उनके बोबे दबाने लगा.

मैंने देखा कि सोफी नाम की एक भाभी ने मेरी रिक्वेस्ट एक्सेप्ट की है.

बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल?

लेकिन थोड़ी देर बाद अनिल ने एकता को नीचे बेड पर लिटा दिया और खुद एकता के ऊपर आकर मस्ती करने में लग गया. और पापा को भी यही दिखाना चाहती थी मॉम!फिर मॉम बोली- बेटा, तू बेडरूम में जाकर बैठ जा तेरे पापा को मालूम नहीं चलना चाहिए कि तू इधर ही है क्योंकि अब वो मुझसे वीडियो कॉलिंग से सेक्स करेंगे और जिससे मुझे और तेरे पापा को संतुष्टि मिलेगी. मेरे दोस्त की जवान मृत्यु के बाद मैं उसकी पत्नी की मदद किया करता था.

फिर मैंने उसे चुदाई की पोजीशन में लिटाया और उसकी चूत के छेद पर अपना लंड टिका कर एक हल्का सा झटका दे दिया. मेरी इस भेड़िये सी भूखी नजर को उसने भी तीन से चार बार नोटिस कर लिया था लेकिन वो चुप थी. यहाँ अगर मेरा बॉयफ्रेंड होता तो मैं उसकी किस ले लेती इस नजारे को देख कर!ऐसा बोल कर वो मेरे तरफ बढ़ी और मुझसे लिपट गई.

सच में दीदी की चूचियां चूसने की मेरी इतने दिनों की तड़प आज निकल रही थी. कोई 10 मिनट बाद मैंने मॉम की गांड में पानी गिरा दिया और मां के ऊपर ही गिर गया. थोड़ी देर बाद अनिल ने एकता के चूचों को सहलाते हुए पूछा- मजा आया?एकता बोली- हां … बहुत मजा आया भैया.

कुछ देर तक तो मामी कुछ नहीं बोलीं … बस लंड पर उछलते हुए आहें भरती रहीं. मॉम ने अभी लॉन्ग ब्लैक कलर की फुल साइज की नाइटी पहने के आई जिसमें मॉम का पूरा बदन ढका हुआ रहता है.

उसके मुंह से सिसकारी फूट पड़ी- अहह्ह … हाह … आ … ऊँ।अब मैंने उसकी चूत के साथ खेलना शुरू कर दिया.

शादी के करीब 15 दिन बाद हनी एक हफ्ते के लिए अपने मायके आई तो सीधे मेरे पास आ गई और गले लग गई.

बहुत बार मैंने उस सेक्सी आंटी के नाम की मुठ मारते हुए अपना वीर्य निकाला था. फिर उसने लड़की को उठा दिया और उसको भी अपने कपड़े उतारने के लिए कहा. कभी उसकी चूत में जीभ घुसा देता तो कभी उसकी चूत के दाने को अपनी जीभ से रगड़ देता.

मैं पोर्न नंगी वीडियो देखा करता था तो मुझे सेक्स के बारे में काफी कुछ पता था. उनके घर पर रुकने से मुझे भी सही था क्योंकि हम रात में अकेले अपने घर में नहीं सो सकते थे. मैंने अपने कपड़े उतार दिये और अंडरवियर में ही गाड़ी को चेक करने के लिए उतर गया.

इसके बाद दोनों परिवारों ने विचार विमर्श किया और अंततः हनी का विवाह सुरजीत के साथ हो गया.

माँ बोलीं- अब मेरे में इतनी हिम्मत नहीं रही … उम्र 45 से ज्यादा की हो गयी है और तू जब भी चोदने लगता है … मेरी जान निकाल देता है. रास्ते में वो मुझसे चिपक कर बैठी रही और मेरे लंड को टच करते हुए मुझे गर्म करती रही. उसका मन तो अन्दर जा कर बड़ी को दबोच लेने का कर रहा था … लेकिन वो जब भी कपड़े दिखाने चेंजिंग रूम के बाहर आती, तो वो उसे ठीक से देखने के बहाने उसके शरीर को सहला देता.

तब वो मुझे कहने लगी- तुम खाना अपने आप बनाते हो?तो मैंने कहा- नहीं, मैं खाना बाहर खा लिया करूंगा।तब वो कहने लगी- मैं तुमको खाना बना कर दे दिया करूंगी. दरअसल हुआ ऐसा कि मेरी कॉलेज की पढ़ाई खत्म हो गयी और मैं एक कंपनी में काम करने लगा. तुम भी जवान हो रहे हो और कल को जब तुम किसी लड़की के साथ सेक्स करोगे तो तुम्हें आसानी होगी.

उनकी यह बात सुनकर मुझे यकीन तो हो गया था राजेश अंकल मुझे ऐसे नहीं छोड़ेंगे.

मैंने उसकी चूत पर लंड को लगाया और एक धक्का दे दिया, मगर मेरा लंड उसकी चिकनी हो चुकी चूत से फिसल गया. ”मैं हैरान होकर मनी का मुंह देख रहा था कि मेरी बीवी बोली- मैं जग गई थी और चुप इसलिये थी कि अब कभी कहेगी कि तुमको क्या मिला तो बताऊंगी कि वही जो तुमको भी मिला है.

बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल उस पोर्न वीडियो का मजा लेते हुए मैं इतना खो गया कि मुझे पता नहीं चला कि कब मेरी मौसी मेरे पीछे आकर खड़ी हो गई. यह तो था नहीं कि वह कोई कुंवारी थी, जिस हिसाब से वह उस लड़के को किस कर रही थी, उससे फिन्गरिंग करवा रही थी, उसका लोड़ा चूस रही थी तो यह पक्का था कि यह चुद भी चुकी है.

बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल मैंने मेघा की तरफ देखा तो वो प्रिया से बोली- अरे यार प्रिया, तुम खाना खाने के लिए तो हमें ज्वाइन कर ही सकती हो?प्रिया बोली- नहीं, ऐसी कोई बात नहीं है. कई बार जब मैं अपने फ्रेंड के रूम पर होता था तो वो दोनों आपस में मेरे सामने ही किस कर लिया करते थे.

मर्द को हर तरह से मुजरिम करार दिया जाता है, चाहे उसकी गलती हो या न हो.

छोटी साली का सेक्सी वीडियो

फिर मैंने बात को बदलते हुए निम्मी से पूछा- अरे खूबसूरती की दुकान, तुमने अपना बर्थ-डे का दिन और प्रोग्राम तो बताया ही नहीं. फिर मैंने उससे पूछा- कैसा लगा?वो शर्म से पलट गई और जैसे ही वो पलटी, उसकी नंगी गांड मुझे चादर के अन्दर से दिख गई. मैंने उनकी तरफ देखा, तो उन्होंने मुझे अपनी तरफ खींचा और फिर से मेरे लंड को चूसने लगीं.

मॉम सीधे मुंह नंगी ही बेड पर लेट गई और मैं बाथरूम चला गया और अपने लन्ड को अच्छी तरह से धोकर आ गया. वो महिला बोली- नहीं जी, कोई दिक्कत नहीं है, इनकी तो आदत है मज़ाक करने की. वो होटल देख कर बोली- मुझे लगा हम हॉस्पिटल जाएंगे, पर ये तो होटल है.

अपनी इकलौती बेटी की शादी के चार महीने बाद मेरी पत्नी का निधन हो गया.

मैंने कहा- मैम ये चोदना क्या होता है?उन्होंने कहा- मैं तुम्हें सब पढ़ाऊंगी. और जो स्वर्गिक सुख गर्म चूत के आखिर तक घुस कर पिचकारी छोड़ने का है, वह मुठ में कहाँ. उसकी सहेलियों ने उसे जिस जिम के बारे में बताया था, वो जिम कोई और था और वो गलती से मेरे जिम में आ गई थी.

अब मैं अपने बेटे का लंड बड़ी मस्ती से चूसती हूँ और वो मेरी चुत को खूब चाटता है. मेरा पागलपन जागने लगा, पर अंजना पहली बार चुदने जा रही थी … इसलिए मैं बहुत कंट्रोल कर रहा था. जब एकता ने उसका लंड देखा, तो हाथ में पकड़ते हुए बोली- आह … कितना बड़ा है ये.

वो मुझसे बोला- बता मेरी जान … मजा आया कि नहीं?मैं उसे चूमते हुए बोली- बहुत मजा आया मेरे चोदू राजा. उसकी चुत से बहुत ही मदहोश करने वाली खुशबू आ रही थी … और चूत से रस भी निकल रहा था.

फिर मैं वहां से स्टेशन जाकर अपनी ट्रेन का इन्तजार करने लगा, नियत समय से कुछ देरी से ट्रेन आई, तो मैं अपनी सीट पर जाकर बैठ गया. जैसे ही मैं कामठीपुरा में अंदर गया तो उस इलाके में घुसते मुझे यकीन हो गया कि यहां मुझे मेरी मनचाही चूत चोदने के लिए यकीनन मिल जायेगी. मैंने चाची को चूचियों को दबा दबा कर दूध निकाला और मस्ती से पीने लगा.

उसके बाद कहा कि अब जंगलियों की तरह चूस डालो, खेलो मेरी चुचियों से … इनको को पी जाओ … मेरे दूध को माल समझ कर निचोड़ डालो.

शिखा- आप मेरे पापा की उम्र के हैं … अच्छा कैसे लगेगा!मैं- देखो आज पहली पहली बार है, तो ऐसा लग रहा है. मैंने अपने पैरों से उनकी चड्डी भी निकाल दी और मैंने उनको पूरी तरह से नंगा कर दिया. मैंने हिम्मत जुटा कर अपना हाथ अर्पणा की तरफ दोस्ती के लिए बढ़ा कर कहा- हाय मैं साहिल … और आप?मेरे इतना कहते ही हाथ मिलाते हुए अर्पणा ने कहा- मैं अर्पणा सिंह.

पहले तो मैंने मना किया लेकिन उसने जबरदस्ती अपना लंड मेरे मुँह में डाल दिया. उसने मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत में लगाया और मेरे लंड को अपनी चूत में ले लिया.

एक पल बाद उनकी सांसें लौटीं, तो भाभी जोर जोर से दर्द के मारे कराहने लगी थीं. फिर अपनी हाथों की उंगली, मॉम की गांड के छेद में डालकर उंगली से कुछ शॉट मारे. मैं भाभी की तरफ हैरानी से देखने लगा क्योंकि एक माँ अपनीबेटी की चुतचाटने के लिए कह रही थी.

सेक्सी हिंदी गाना पर

ये कहानी तब की है जब मैंने अपने स्कूल की पढा़ई खत्म की थी और मैं कॉलेज में एडमिशन के लिए इंतजार कर रहा था.

आज मैं अपनी जिन्दगी में पहली बार एक कमसिन लड़की को इस तरह से देख रहा था. अब सिर्फ मेरी बीवी ही मेरे लंड की शिकार बनना रह गई थी, जो कि अगले पांच दिनों तक चले सुहागरात महोत्सव में आखिरी दिन चुदी. मैंने अपनी साड़ी को भी जांघों तक उठा दिया और सोने का नाटक करते हुए लेट गई.

मेरे लंड की नसें अब फटने को हो गई थीं और वो पूरा आंटी के मुंह से निकले थूक में नहा गया था. इसके बाद उसने एक और धक्का मारा तो उसका आधा लंड मेरी चुत के अन्दर चला गया. जुग जुग जिया सु ललनवारात की बातें सोचते ही मेरा हाथ अपने आप मेरे लंड पर जाने लगा और लंड सहलाने लगा.

आप लोग तो जानते ही हो कि ज़रीन जैसे नाम वाली लड़कियां काफी सुन्दर होती हैं. इस तरह से मजे लेते हुए मैंने मोसी को चोदा, काफी देर तक हम चुदाई में खोये रहे और फिर मैंने एकदम से मोसी की चूत में अपना वीर्य छोड़ दिया.

मैंने दरवाजा खोला और अपने धड़कते दिल से अपने पति का इन्तजार करने लगी. जब उठा तो बाथरूम गया, पैन्टी को वॉशबेसिन पर थोड़ा धोया ताकि मेरा माल छूट के निकल जाए, और फिर लांड्री बास्केट में फ़ेंक दी. मैं- अब खुल कर बताओ कि कैसा लगा तुमको?शिखा- बहुत दर्द हुआ … आपका बहुत मोटा है.

दस मिनट तक ताबड़तोड़ चुदाई करने के बाद अंकल बोले- मेरा निकलने वाला है … बोल मेरी अदिति रंडी … मैं अपना माल कहां निकालूं?मैं कराहते हुए बोली- आपने अपने मन की ही की है … अब भी क्या पूछते हो … आप मेरी चुत में ही गिरा दो … कुछ तो राहत मिलेगी. फिर उसने बेड के गद्दे के नीचे से कंडोम निकाला और उसको मुंह से फाड़ कर मेरे तने हुए लंड पर चढ़ा दिया. मैंने कहा- फिर मुझको तुमने बुलाया किसलिए था?सीमा बोली- तुमसे मुझे कुछ दूसरा काम है … इसलिए बुलाया.

उस समय एंड्राइड मोबाइल तो होता नहीं था और मेरा मोबाइल गुम गया था, तो सारे कांटेक्ट खो गए थे.

मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी साड़ी उतार कर मुझे नंगी कर दिया और मेरी बड़ी बड़ी सेक्सी चूची दबाने लगा. मेरे मुँह से ये बात सुनकर वो एकदम से कहने लगीं- अरे तुम तो मुझे वैसे देख रहे हो?मैंने कुछ कहा नहीं, सिर्फ इशारे से सर उठाते हुए सवालिया सा मुँह बनाया.

मेरी चचेरी भाभी भी मेरे ऊपर मर मिटी और अपनी जवानी मेरे लंड के नाम कर दी. ज़िया मुझसे इन्हीं सब बातों को करके अपना दुःख मुझसे बांट कर बहुत हल्का महसूस करती थी. वो दारू पीते पीते एक की गोद में बैठ गई … उसके होंठों से अपने होंठों को लगा कर चूमाचाटी शुरू कर दी.

मैंने उसे दोनों हाथों से उठाया और धीमी चाल से उसे महसूस करते हुए बेड तक आ पहुंचा. वो बोली- सिर्फ दोस्त ही हो!मैंने कहा- तो, और क्या कहूं?आंटी बोली- मैंने तो कुछ और ही सोचा था. मैंने आशी के पापा से कहा- अब देर मत करो, आपकी बेटी अब आपकी रांड बनने को तैयार हो चुकी है.

बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल वंदना मैम ने मेरी शर्ट उतारी और मेरे सीने पर हाथ रखकर कहा- मैं जैसा कहूं … और जो चाहूँ, तुम वही करना. उसने अपनी गांड उठाते हुए बुर को लंड के आगे पेश कर दी और बोली- तुम शुरू में आधा ही लंड अन्दर डालना … पिछली बार तूने पूरा लंड एक साथ डाला था, जिससे मुझे दर्द होने लगा था.

देखा सेक्सी वीडियो

अब वो सोफे से उठ कर बिस्तर पर जाकर लेट गयी और मैं उसके पीछे पीछे जाकर उसके ऊपर चढ़ गया. हम सबने अगले दिन पुष्कर जाना था लेकिन हम भी बहन सोकर समय पर उठे ही नहीं … देर होने के कारण हमारे मम्मी पापा हमें छोड़ कर पुष्कर घूमने चले गए. बहुत दिनों के बाद गैर मर्द का लंड चूत में लेकर मुझे अलग ही मजा आ रहा था.

मैं अचानक उठा और अपने साथ में काव्या को देख कर उसको बांहों में भरने की कोशिश करने लगा. कैसे?ये बात तब की है, जब मैंने 12वीं पास करके आगे की पढ़ाई करना शुरू की थी. राजस्थान सेक्सी भाभीदीदी ने मेरी तरफ वासना भरी निगाहों से देखा, तो मैंने उनको अपनी बांहों में भर लिया और उनको चूमने लगा.

अपने दोनों हाथों को उसके कंधों के नीचे ले गया और उसको अपनी तरफ उठाते हुए उसकी चूत में लंड को जोर-जोर से पेलने लगा.

जैसे जैसे मैं जीभ घुसाने की कोशिश करता, वो कसमसाने लगती और उसके मुँह से प्यारी प्यारी आवाजें आने लगतीं- आआश्हह … जोर से चूस मादरचोद. उन्होंने बाजी के हाथ से कपड़े लिये और तौलिया लपेटे हुए अपनी लोअर को डालने लगे.

ऑफिस पहुंच कर मैंने पहले शीनू को ऑफिस के सोफे पर अच्छे से सुला दिया. मैंने उस दिन रात को और दूसरे दिन भी रात भर अंजना को शराब का मजा देते हुए चोदा. मैंने तुरंत उसकी चूत में लड सैट किया और बोला- तैयार हो जा … आज तुझे जन्नत का मजा देता हूँ.

फिर धीरे-धीरे आहिस्ता से लंड को अंदर धकेलते हुए मैंने पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया.

वह सुगंध जानी पहचानी लग रही थी, पर कहां सूंघी थी, ये याद नहीं आ रहा था. फिर मैंने झुक कर उसकी चूचियों को मुंह में भर लिया और उसके निप्पलों को काटने लगा. सुबह कॉलेज जाने से पहले तू मुँह में लगा लिया कर और शाम को आकर तेरी गांड मार दूंगा.

मैक्स प्लेयर प्रोकुछ दिन मायके में बिताने के बाद मैंने अपनी बीवी को वापस आने के लिए कहा. पर वो अच्छे से चल नहीं पा रही थी … चलने में दर्द हो रहा था उसे बहुत।अब मैंने खाना आर्डर किया, हम दोनों ने खाना खाया.

सेक्सी फिल्म इंग्लिश की

मेरे मुँह से ये बात सुनकर वो एकदम से कहने लगीं- अरे तुम तो मुझे वैसे देख रहे हो?मैंने कुछ कहा नहीं, सिर्फ इशारे से सर उठाते हुए सवालिया सा मुँह बनाया. कुछ देर बाद अनिल की गर्मी बढ़ गई, तो उसने अपनी जीभ फिर से एकता के मुँह में डाल दी. तो मैंने क्या किया?हाय दोस्तो, मैं योगी अमृतसर, पंजाब का रहने वाला हूँ.

तब मॉम चिल्लाई- नहीं नहीं नहीं … मर गई आह आई ओह!फिर मैंने मॉम को बोला- सॉरी मॉम, गलती से हो गया. मेरी उम्र 22 साल है कद 5 फुट 8 इंच है दिखने में अच्छा और रंग गोरा और साथ ही राष्ट्रीय खिलाड़ी होने की वजह से बहुत चुस्त और फिट हूँ। और लंड 6. जैसे ही रवि का लंड अन्दर गया, तो जोर चिल्लाते हुए बोली- उई माँ मर गई.

उस दिन के बाद से जब कभी उनका या मेरा मन होता, मैं दोनों में से किसी एक को बुला लेता और चुदाई के मजे ले लेता. मैंने बरखा से कहा- पहले कहाँ लंड डालूं?तो बरखा कहने लगी- मेरी चूत बरसों से प्यासी है. अब मैं उसकी चुत में लगातार दबाव बनाते हुए अपने पूरे लंड को उसकी चुत में अन्दर बाहर करने लगा था.

com/family-sex-stories/chachi-ki-chut-ki-pyas/अन्तर्वासना की फ्री सेक्स कहानी साईट पर प्रकाशित हुई, जिसकी मुझे बहुत खुशी है. हालांकि मुझे उन दोनों में मस्ती का आलम दिखा, तो समझ में आ गया कि मेरी मम्मी और अंकल की सैटिंग है.

जब मां लाइट बंद करने के बाद वापस चली गई तो मैंने अपने लंड को निकाल कर उसकी मुठ मारी और मैं सो गया.

अब मैं पहले दिन से ही पूरा दिन भाभीजान और भतीजी के साथ बिताया; भाभी के साथ खूब मस्ती की. ఇంగ్లీష్ సెక్సీ వీడియోస్मैं रात की शिफ्ट कर रहा था … लेकिन मुझे प्रीति पर गुस्सा था कि उसने मुझे बताया भी नहीं और मैं अभी अपने पूरे स्टाफ से भी नहीं मिला था. सपना चौधरी कॉमेडीशीनू ने कोई हरकत नहीं की, उसने मुझे केवल तिरछी निगाहों से घूरा, जिसके उत्तर में मैंने उसे चुम्बन देते हुए उसे अपने साथ चिपका लिया. मैंने उसके साथ घूमते हुए बस मज़ाक में उससे कहा था कि तुम्हारा वजन ज्यादा है.

मन में आशिमा को यह पैन्टी और ब्रा डाले हुए सोचा तो लंड ने एक ठुमका मारा.

उसकी गांड में उंगली करना शुरू किया तो मैडम के मुंह के साथ ही उसकी गांड का सुराख भी खुलने लगा. जब उससे सहवास की बात करता तो वो कहती कि वो शादी से पहले अपनी योनि का कौमार्य भंग नहीं करवाना चाहती. क्योंकि मेरी कोई सगी बहन नहीं थी तो मैं खुशबू दीदी को ही अपनी दीदी मानता था.

कुछ देर बाद मैं अनुजा के रूम में गया, तो मैंने देखा कि उसके कमरे का दरवाजा थोड़ा सा खुला था. मेरी मॉम को भी दर्द हो रहा था लेकिन चुदाई भी बिना दर्द के थोड़े ही होती है. इसीलिए तो मेरे कोई बच्चा नहीं हो रहा है।और चाची कामवासना से अपनी चुत में उंगली करने लगी और फिर थोड़ी देर बाद वो भी झड़ गयी और फिर सो गई।सुबह जब मैं उठा तो देखा कि दीदी मम्मी और चाचा तैयार हो रहे थे।मैंने पूछा- आप लोग कहाँ जा रहे हैं?तो दीदी ने बताया- जल्दी से तैयार हो जा … मामा के घर चलना है.

सेक्सी भोजपुरी 2022

मैंने तुरन्त अपना मुँह वापिस उसकी बुर से भिड़ा दिया और उसे जीभ के अग्रभाग से जल्दी-जल्दी चाटने लगा. उन दिनों सेक्स का खुमार ऐसा था कि मुझे नहीं पता था कि सेक्स की भूख मिटाने के लिए मेरा ये पागलपन मेरी जिन्दगी को बदल कर रख देगा. मैंने उससे पूछा- तुमने उस दिन क्या देखा था?उसने अपने दोनों हाथों से अपना चेहरा ढक लिया.

रवि को ये अच्छा लगा, उसने अपने लंड में दाल मखनी गिरा ली और निशा को चाटने के लिए बोला.

एक झटका मैंने उसकी चूत की तरफ दिया तो उसके मुंह से हल्की सी चीख निकल गयी.

मैंने उसे ऑफिस का … और स्कूल का ढेर सारा काम थमा दिया, जिसमें बच्चों की कॉपी जांच करने का काम भी था. मैंने जीभ की रफ्तार बढ़ा दी और उसकी कोमल अछूती बुर को जीभ से चोदने लगा. सेक्स पिक्चर पंजाबीमैंने पुरानी कंपनी भी छोड़ दी, तो वहां से भी कोई डिटेल नहीं मिल सकी.

वह बहुत गर्म होने लगी!दोस्तो, यह कहानी जब मैं लिख रहा हूं तो आपको बताना चाहूंगा कि मैं अपना लंड हाथ में लेकर उसको दबा रहा हूं और मुझे अहसास हो रहा है कि जैसे बीते हुए लम्हों को मैं फिर से जी रहा हूं. वो हमेशा दूसरी लड़कियों के मम्मों दिखा कर बोलता है कि काश तुम्हारे भी ऐसे होते. जब मिष्टी ने मुझे ये बात फोन करके बताई, तो मेरे दिमाग में एक आइडिया आ गया.

मैं अपने घर में पजामा और टीशर्ट पहनती थी, रात को सोने से पहले मैं शॉर्ट्स पहन लेती थी. आधे घंटे बाद निशा आयी, साथ में पूरे डाक्यूमेंट्स थे, तो किसी को शक नहीं हुआ.

झड़ने के बाद भी बहुत देर तक हम ऐसे ही लेटे रहे।बहुत समय बीत गया था तो अब मुझे घर जाना था.

फिर मैंने भाभी के पेटीकोट को उतार दिया और उसकी जांघों पर किस करने लगा. मेरी बातों से वो भी अपनी अपनी सीलबंद बुर की चुदाई के लिए बेचैन हो रही थी. कहानी का पिछला भाग:मेरी संस्कारी मॉम सेक्स की प्यासी-2मेरी सौतेली मॉम मेरे स्तनों को चूस रही थी, निप्पल दांतों से खींच रही थी और दबाए जा रही थी.

सेक्सी फिल्म एचडी वाली मैंने जैसे ही अपने एक हाथ को उसकी नंगी चुचियों पर रखा, उसके रोएं खड़े हो गए. पूछने लगी- तो फिर क्या कर रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं, बस ऐसे ही फोन में वीडियो देख रहा था.

मैंने उसे सहलाना शुरू कर दिया, जिससे वो शांत हो गई और अब उसे भी मजा आने लगा. मैं अपने भाई के मुँह से ऐसी बात सुनकर दंग रह गई कि ये क्या बोल रहा है. जब वह कुल्ले के लिए वॉशबेसिन पर झुकी तो उसकी पैन्टी की आउटलाइन उसकी जीन्स पर उभर आई.

बिहार की नई सेक्सी

मेरे लंड ने महसूस कर लिया था कि उसकी कुंवारी बुर की फांकों से पानी भी कुछ ज्यादा आने लगा था … जिससे एक प्राकृतिक चिकनाई ने चुदाई के लिए लंड रास्ते को सुगम बनाने में मदद करना शुरू कर दी थी. सीमा दर्द से कराह उठी- उईईईईई माँ … मर गई मैं!मैंने एक पल रुक कर लंड को सैट होने दिया और इसके बाद उसको चोदना शुरू कर दिया. मेरी बड़ी बहन मेरी मां के साथ रहती है और मैं पापा के साथ!तलाक के कुछ दिन बाद मेरे पापा ने दूसरी शादी कर दी थी.

मेरी बात पर वो शरमा गई और उसने एक इमोजी भेजी जिससे मुझे पता लगा कि वो शरमा रही थी. परीक्षा के बाद मैं घर में ही खाली बैठा रहता था। एक दिन घर पर मेरी छोटी मोसी आयी.

निशा के पहनावे को देख कर रवि ने उसे डांटा भी कि आज तुमने ये कैसे कपड़े पहने हुए हैं, आज तो ख़ास मेहमान आए हुए हैं.

मेरे दो घर हैं, एक पुराना वाला और एक नया फ्लैट, जिसमें मेरा बेटा विशाल रहता था. लेकिन मॉम तो अभी मुझसे क्यों शरमा रही हैं? कल रात तो हमारे बीच सब कुछ तो हो गया था. उनकी चुदाई देखने की लत लग गई थी मुझे और मैं रोज खिड़की के पास पहुंच जाता था.

फिर उसने मुझे घुमा कर मेरी ब्रा को खोल दिया और मेरी चूचियों को नंगी कर दिया. मैंने शीनू को बांहों में भर लिया और उसे चूमते हुए बोला- मुझे मालूम था … तुम ज़रूर आओगी. ऐसी स्थिति में बच्चे के माता पिता को किसी अन्य का बच्चा मिल जाता है और जो उस दम्पत्ति का जैविक बच्चा होता है वो किसी अन्य के पास चला जाता है.

मैं अन्तर्वासना का एक नियमित पाठक हूँ और काफी समय से इसकी सेक्स कहानी पढ़ कर अपनी पिपासा शांत करता रहा हूँ.

बीएफ वीडियो सेक्सी एचडी फुल: फिर उसने मुझसे कहा- आपको मेरे साथ कोई दिक्कत है क्या? मेरे साथ अपनी बीवी समझ कर सो जाओ. अपना मोटा, लम्बा लण्ड उसकी चूत पर टिका दिया और हल्का सा दबाव डालने लगा तो वो तुरंत बोली- जनाब धीरे, काफी सालों से इसमें किसी का लण्ड अंदर नही गया है।मैंने हल्का दबाव बनाते हुए एक झटके से उसकी चूत में आधा लण्ड घुसा दिया.

भाई की हिम्मत बढ़ गयी … अब भाई ने कहा- सोनिया तेरी इन चुचियों में ऐसा क्या जादू है … कितनी सेक्सी और हॉट हैं … मुझे इनको छूने का मन कर रहा है. वो बोली- नहीं भैया, आप ये वीडियो मां-पापा को मत दिखाना नहीं तो वो मेरा घर से बाहर निकलना ही बंद कर देंगे. मामी कराह रही थी- आह … हहह!बोली- मसल दो मेरे मम्मे मेरी जान … निचोड़ डालो इन्हें … हहहह आह!मैंने एक ही बार में मामी की ब्रा और पेंटी निकाल दी और उनके दूधों को पीने लगा और एक हाथ से चूत में उंगली डाल दी.

डोरबेल बजाते ही अंदर से एक औरत बाहर निकलकर आई। जब मैंने उन्हें देखा तो मेरी आंखें खुली की खुली ही रह गई। क्या मदमस्त जिस्म था उनका देखने में एक मॉडल की तरह थी। जब मैंने उसे ऊपर से नीचे तक देखा तो देखता ही रह गया। उसका फिगर 36 32 40 होगा। उसके मोमों का साइज 38 डी होगा। उसके स्तन बड़े बड़े और भरे हुए थे और कमर एकदम पतली और गांड भी एकदम भरी भरी थी.

भाई कहने लगे- सोनिया, ऐसी चुदाई के लिए कब से तरस गया था … आज अपनी सोनिया बहन को चोद चोदकर रांड बना दूंगा. वो बोली- खाना भले ही ठंडा हो जाये लेकिन हम तो ठंडे नहीं है, पार्टी में आग न लगा दी तो कहना. मुझे पहली बार चाची के साथ ऐसी हरकत करने का मौका मिला था इसलिए मैं उस अहसास को पूरा भोगना चाह रहा था.