सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई

छवि स्रोत,बीएफ पिक्चर वीडियो ब्लू पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

বেঙ্গলি সেক্স মুভি: सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई, मैं उनके होंठों को चूसने लगा, वो पीछे जा कर दीवार से सट गईं मैंने उन्हें जकड़ लिया.

बिहारी नंगी बीएफ

लेकिन अभी भी डर ये था कि कहीं ये गुस्सा न हो जाए, इसलिए मैंने होंठों पे किस नहीं किया. देहाती सेक्सी बीएफ वीडियो मेंवो बोले साड़ी ही पहननी थी तो इंडिया में ही किसी तीर्थ स्थल पर चल लेते.

पिंकी को रोते हुए देखकर, गोलू खुश हो गया और उसकी भिन्डी भी कड़क हो गई, पर अब भी केवल 5 इंच से ज्यादा नहीं हुई थी. बीएफ साड़ी वाली सेक्सीआप अंदाजा लगा सकते हैं कि किस तरह से हम दोनोंभाई बहन ने चूत लंड का खेल खेलाहोगा.

आज सुहागसेज पर उसने मेरा साथ देने का मन तो बना लिया था लेकिन वो मेरे लंड के बड़े साइज के कारण थोड़ी डरी हुई थी.सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई: उसकी तीन बहनें थीं, एक‌ दिन अचानक मैं उसके घर गया और मैंने उसे आवाज लगाई तो उसकी बड़ी बहन निकली.

ऐसा लगा, इतना दर्द हुआ कि मैं बेहोश सी हो गई, मेरे मुंह में बालू का लन्ड घुसा था तो मुंह से आवाज भी नहीं निकली और बालू इतने जोश में था कि बस लंड से मेरे मुंह को चोदे जा रहा था.अब तक की चुदाई की कहानी में आपने पढ़ा था कि उस हरामखोर अधिकारी ने मुझे दम भर चोदा और उसने मेरी चूत में ही अपना निकाल दिया.

ससुर बहु बीएफ वीडियो - सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई

रेखा जोर जोर से सिसकारी ले रही थी और अपने दोनों हाथ पंकज के सर पर रख के अपनी चूत की ओर दबा रही थी.वन्दना के पति का करीब 13 साल पहले देहांत हो चुका था और उसका छोटा लड़का मर चुका था.

उनकी चूत थोड़ी फूली हुई और एकदम कली जैसी गुलाबी थी, जैसे कोई अधखिला गुलाब हो. सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई मैं अपने घुटने के बल फर्श पर बैठ गया था और मेरे सामने वह चुपचाप खड़ी थी.

तभी वो बोली कि आज वो घर से निकली ही इसलिए थी कि किसी ना किसी को ढूँढेगी, नहीं तो किसी जिगोलो की मदद लेगी.

सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई?

अब तो मेरा बुरा हाल हो गया, पहली बार मैंने अपनी चाची को वासना भरी नज़रों से देखा था. मेरी मॉम थोड़ी सी मोटी हैं लेकिन उनकी मॉर्डन ड्रेस में उनका पेट कम ही दिखता है, क्योंकि देखने वालों का सबसे पहले ध्यान उनके बाकी फूले हुए जिस्म पर ज्यादा जाता है. उसके बाद जब भी मौका मिलता, हम दोनों चूमाचाटी कर लेते, पर मैंने हॉस्टल में कभी गांड नहीं मरवाई.

उन्होंने चित लेटते हुए मुझे अपने ऊपर आने के लिए अपने हाथों से मुझे इशारा सा दिया और मैं अपनी को चोदने के लिए उनके ऊपर चढ़ गया. बहुत कामुक चूत की गंध आ रही थी उसमें से! मैंने देर ना करते हुए उसकी पेंटी को भी उतार दिया. आपका मैं क्या इलाज करूँगा?तो वो कहती हैं- मुझे तो तुम्हारी दवाई पीनी है.

पहली बार शायद तुम्हें चुदते समय मजा भी न आये!रेहाना को समझा कर चलता किया तभी क्लाइंट्स आना शुरू हो गई।अगले दिन यानी 21 फरवरी, सुबह करीब 8:00 बजे रेहाना मेरे घर पर आ गई. मैंने उसकी ब्रा पेंटी उतारी और उसके सारे अंगों को कपड़ों छुटकारा दे दिया. और 2-4 काफ़ी तेज धक्कों के बाद ज्वालामुखी का एक ऐसा फव्वारा छूटा जो अपनी अग्नि में सब बहा ले गया.

चूंकि मैं निगाह रखे हुए था तो मैं तुरंत जान गया कि चिड़िया फंदे में फंस गई. फिर मैंने कंडोम लगाकर लंड को उसकी चुत में धीरे धीरे धकेलना शुरू किया.

उसके बाद वो कई बार शाम को छत पर नहीं दिखती थी तो मैं पार्क में चला जाता था और वो वहीं बैठी मिल जाती थी.

प्लीज़ बस करो।पर उसने मेरी एक ना सुनी बल्कि उस साले ने अपनी स्पीड और तेज कर दी। उसके आंड मेरी गांड से खूब जोर से टच हो रहे थे। उसने अपने हाथ आगे लाकर मेरे मम्मों को पकड़ लिया और अपनी स्पीड बढ़ा दी।फिर थोड़ी देर बाद उसके मुँह से ‘अहह.

इतने से उसका मन नहीं भरा, और वो दोबारा उसका चुम्बन लेने को नीचे को झुका तो मेरी सती-सावित्री पत्नी ने अपनी गुलाबी जीभ को पतला बना बाहर निकाल दिया, जिसे आर्थर ने अपने मुंह में ले लिया! जी भर कर चुसवाने के पश्चात् नताशा ने अपनी जीभ को वापस ले लिया, और अब तक अपनी जीभ बाहर निकल चुके आर्थर की जीभ को अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम राकेश है (बदला हुआ नाम) मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ और पिछले कई साल से अन्तर्वासना पर प्रकाशित कहानियां पढ़ रहा हूँ. उफ्फ… मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था तो मैंने सोचा क्यों न एक बार चाची को भी चोद भी लिया जाए.

इसके बाद रमेश अंकल ने मां को आँख मार कर कुछ इशारा किया तो मां बेड पे बैठ गईं. मैं जब तक उसको सॉरी बोलता, मेरे फ़ोन की बैटरी खत्म हो गई तो मैंने अगले दिन उसको कॉल किया और उसको सॉरी बोला. ऐसे ही लगभग एक साल तक हम दोनों ने एक दूसरे की इच्छाओं की पूर्ति की और सेक्स का जम कर मजा लिया.

मैंने अजय का लंड अपने मुँह से बाहर निकाला और और पवन का लंड पकड़ कर अपनी गांड में ठेलने लगा.

वो ब्लैक ब्रा और पेंटी में मेरे सामने बिस्तर पर पड़ी थी और मैं रेड अंडरवियर में उसके सामने खड़ा था. क्योंकि मेरे ससुर बाहर जॉब करते हैं और मुश्किल से महीने में एक बार ही आते होंगे. मैंने कहा- मैं आपके साथ कमरे में हूँ, बोलिए क्या करना है मुझे?वो बोला- ठीक है.

वो रुचिका चौधरी पर शक करने लगा क्योंकि उसके बॉयफ्रेंड को भी मेरे और नीति के बारे में ज्यादातर बातों का पता था क़ि हम लोग कैसे रूम पर साथ साथ रहते हैं. तभी वो बोली- नाउ फक मी और अब मुझसे रुका नहीं जाता, प्लीज़ जल्दी से लंड पेल दे. कुसुम मुझे छोड़ कर उसके साथ कोई 3-4 मिनट दूसरे कमरे में जाकर वापिस आ गई.

थोड़ी ही देर में वो चाय लेकर आई तब तक मैंने वो xxx वीडियो चैक कर लिया और उसे सेफ्टी के लिए अपने गूगल ड्राइव पे सेव कर लिया.

वो मस्ती में मेरे बालों में हाथ फेर रही थी और मस्त सीत्कार करते हुए आवाज़ कर रही थी. उससे फोन पर बात तो खूब होती ही थी सो मैंने उससे शादी के बारे में पूछा.

सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई मैंने जब वो ड्रेस पहनी तो वो ढीली ढीली थी, जिसमें मेरे दोनों कंधे आधे बूब्स ऊपर तक खुले थे और वो ड्रेस पेट तक थी. वहां बड़े बड़े पटाखे यानि औरतें लड़कियां अपना इलाज कराने के लिए आती हैं.

सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई इस वक्त मेरा लंड बहन के मुँह में था और उसके मुँह में मेरा पानी निकल गया था. अब उसने कहा- अब क्या पूरी रात चूसते ही रहोगे या कुछ आगे भी करोगे?मैंने देखा कि मेरे लंड ने इतना पानी बहा दिया था कि उसे किसी भी चीज की जरूरत नहीं थी, जैसे चिकनाई या तेल की या थूक की… सो मैंने इसके बाद अपने लंड को हाथ में पकड़ा.

रात को मैं खाना खाने के लिए आंटी के घर गया और उनको कहा कि लैपटॉप में सीडी की वजह से हैंग हो गया था.

सेक्सी कॉलेज हिंदी

मैंने अपनी पेंट से कंडोम का पैकेट निकाला और चढ़ाने लगा तो आंटी बोलीं- ये किसलिए?मैंने कहा कि कहीं आप प्रेग्नेंट हो गई तो?वो बोलीं- तब तो और अच्छा है वैसे भी मेरे हज्बेंड में इतनी दम नहीं थी जो मैं प्रेग्नेंट होती. फिर मैंने उसकी चुत पर थूक लगाया और धक्का मारा तो मेरे लण्ड का सिर्फ टोपा ही अंदर गया, उसे बहुत दर्द हुआ और मेरे लण्ड पर खून लगा. जैसे ही मेरा कोई हाथ उसकी पीठ सहलाते सहलाते उसकी दायीं या बायीं बगल की ओर बढ़ता तो प्रिया उत्तेजनावश मुझे अपने आलिंगन में और जोर से कस कर मेरे मुंह पर यहाँ-वहाँ चुम्बनों की बारिश कर देती.

एक दिन वो बॉलीवुड की बहुत मशहूर एक्ट्रेस जिसका नाम मैं नहीं लिख सकती, उसकी चुदाई की फिल्म लेकर आई और बोली- डार्लिंग आज तुम्हें बताती हूँ कि इतनी फेमस होने पर भी चुत, चुत ही होती है, जो चुदने को हमेशा तैयार रहती है. तभी उनका बेटा अपने बिस्तर में सोने चला गया लेकिन चाची को अभी नींद नहीं आ रही थी. मैंने और फिर जोश में आकर उसके कानों के पतले भाग को धीरे धीरे चूमना शुरू किया और साथ ही में मैंने अपने हाथों को उसके गले और मम्मों पर धीरे धीरे चलाना शुरू कर दिया.

अब आगे:यह सही था कि अब प्रिया अक्षत-योनि नहीं थी क्योंकि पिछले साल मैंने ही तो प्रिया को सुहागिन बनाया था तदापि सवा साल पहले के किये गए एक बार के मैथुन का असर तो कब का योनि पर से विदा हो चुका था.

मैंने उनसे इस बात का इशारा भी किया है और शायद आंटी को भी मालूम है कि उनको चोदते समय मैं बॉबी की चूत में उंगली कर देता हूँ या उसकी चूचियां मसल देता हूँ. थोड़ी देर बाद उठकर हम दोनों बाथरूम में गए और वहाँ पर भी जमकर उसकी चुदाई की. लेकिन जान पहचान वाले लड़के मेरे जिस्म से खेल कर मुझे बदनाम भी करेंगे.

मैं नज़रें फेर कर चुप सा ही रहा और प्रिया अपनी गहन दृष्टि सर मेरे चेहरे के भाव पढ़ती रही. मैं शाम को तैयार हो गई और जो ड्रेस उसने बताई थीं, उसी में से एक ड्रेस निकाली तो वो भी बाकी सभी की तरह छोटी सी थी. नवीन फ़ौरन अपना लंड मॉम की चुत से बाहर निकालने के लिए पीछे की ओर हटने लगा.

जब वो कमर मटका कर चलती थी तो सभी लड़कों की नज़र उसकी थिरकती गांड पर ही होती थी. वह बूब्स को जोर-जोर से खींच कर जम के मसलने लगा और बोला- मादरचोदी, बहुत टाइट और जबरदस्त दूध हैं रे वन्द्या तेरे!इधर आशीष का लन्ड मेरे मुंह में घुसा था जिसे मैं चूस रही थी.

वो भी शरमा के तिरछी नजर से देखते हुए सिर्फ मुस्करा रही थी और मेरे बारे में पूछने लगी- अपनी वाइफ को क्यों नहीं लाये?तो मैं बोला- मेरी बेटी तबियत ठीक नहीं थी, इसलिए मैं अकेला ही आया हूँ. तभी मैंने महसूस किया कि दीदी का हाथ मेरा लिंग को हल्का हल्का दबा रहा है. अगर अब ना होता तो शादी के बाद तो होना ही था, इसलिए वो सब भूल जाओ और रियलिटी में जियो.

कुसुम आगे बोली- देखो, मैंने तुम्हें कल अपना लाइव शो भी दिखवा दिया था उससे तुम्हें पता लग गया होगा कि लड़की को कैसे और क्या क्या करना होता है.

अपने हाथों मेरी ब्रा निकाल कर मेरी चूचियों के निप्पलों को अपने मुँह में लेकर अपने अरमान पूरे कर लो. उसे ऐसा पति मिला कि वो आज मजबूर होकर किसी और के साथ वो काम करने को तैयार है. मेरे जीवन में एक ऐसी घटना घटी कि आज भी सोच कर मैं हैरान हो जाता हूँ.

उसने मेरी चुत के ऊपर और नीच राउंड शेप में लिख दिया- आज इस चुत की नथ उतरी है अशोक के लंड के द्वारा. बिल्कुल एक पतली बेल की तरह तथा उसके 36 इंच के चूतड़ जिसे लोग गांड भी कहते हैं, इतने मस्त थे कि मैं उन्हें अल्फाजों में बयान भी नहीं कर सकता.

उसके मुँह से सीईईईईई की आवाज निकली तो मैंने उन्होंने और भी तेज मसलना शुरू कर दिया. ये मैं आपको रात को बताऊँगी।मैं बोला- ठीक है।मैं उस दिन यही सोचता रहा कि क्या उस बेचारी से इस काम का पैसा लेना ठीक है या नहीं। मेरी कुछ समझ में नहीं आ रहा था। ऐसे ही दिन निकल गया। रात को मधु का फोन आया। मैंने हाल-चाल पूछा।फिर वो बोली- राज, धन्यवाद मेरी बात मानने के लिए।मैं बोला- इसमें धन्यवाद की क्या जरूरत है. कुछ देर में इसी तरह एक दूसरे को रगड़ सुख देते हुए हम लोग नदी किनारे पहुंच गए.

सपना चौधरी का सेक्सी वीडियोस

अब आगे…अब भाभी मेरे ऊपर आ गईं और मेरी छाती पर निकले खून को चाट गईं.

खैर मैंने दुबारा पूजा को घोड़ी बनाया और थोड़ी ज्यादा सी क्रीम लगा कर लंड को पूजा की गांड के छेद से सटा के जोर का धक्का मार दिया. मैंने उसकी मन की थाह लेने के इरादे से पूछा- एक बार ट्रायल कर लूं क्या साली जी?वो हंस कर बोली- अगर दीदी को पता चल गया तो वो क्या सोचेगी?अब तक मैं समझ गया कि साली चुदाई के मूड में है, मैंने कहा कि किसी को कुछ भी नहीं पता चलेगा. मैंने बेल बजाई अन्दर से एक लगभग 50 साल का बुड्ढा सा आदमी दरवाजा खोलने आया.

मेरा वन पीस स्किन टाइट तो था, पर वो एक तरह से लूज़ इलास्टिक का था ताकि वो किसी भी साइज़ पर फिट आ सके. उन्होंने मुझे 3-4 थैले पकड़ा दिए और कहा कि आप देख लीजिये, मैं अपनी समझ में सही लाई हूँ. एंटी की बीएफरोशनी मैं जानता हूँ कि हम एक दूसरे को दिल में प्यार करते हैं, हां या ना?”उसने आँखें नीचे करके सर हिला के हां” कर दिया.

मैं भी तेरे मुंह से राजे सुनने को तरस रहा था!” मैं बोला और बड़े ज़ोर से दोनों चूचुक निचोड़े और निप्पलो को कस के उमेठा. उसने माउस को छोड़ कर मुझे जोर से पकड़ लिया और मैंने उसके गले और कंधे पर बहुत सारे किस किए.

अब तो मुझे हरी झंडी मिल गयी, मैंने तुरंत उसके आठ खोले, उसकी शर्ट उतारी और उसे गले से लगाया. अंजलि बोली- तुम मेरी ब्रा का हुक खोल दो! फिर आराम से दबाना!मैंने अंजलि की ब्रा का हुक खोल दिया और ब्रा ऊपर करके उसके निप्पल को हाथ से दबाने लगा; अंजलि को मजा आने लगा और उसने मेरी जिप खोल दी और लन्ड बाहर निकाल कर सहलाने लगी. मैंने उनसे कहा- सेजल भाभी, आपकी चूत बहुत कसी हुई है?उन्होंने कहा- तेरे जैसा कोई मिला नहीं जो इससे फाड़ डाले.

अब चिंटू सीधा लेट गया और मैं उसके ऊपर ऐसे बैठ गया कि मेरी गांड उसके लंड पर आ गई थी. वो मुझे पीछे धक्का दे रही थीं लेकिन उनके धक्के में वो दम नहीं था, जो एक औरत की ना में होता है. वो बोली कि यार क्यों डरती है, तुम्हें कोई कुछ करने की बात तो छोड़ो, हाथ भी नहीं लगा सकता.

मैं विनय की बातों से उत्तेजित होने लगी और मैंने देखा विनय का लंड भी वासना से खड़ा हो गया है.

इस वजह से चाची थोड़ा गुस्सा भी हो गईं, वो अचानक खड़ी होकर रूम से जाने लगीं. मैंने उनसे कहा- सेजल भाभी, आपकी चूत बहुत कसी हुई है?उन्होंने कहा- तेरे जैसा कोई मिला नहीं जो इससे फाड़ डाले.

एक तो पहला सेक्स था और ऊपर से उसने इस तरीके से चूसा कि मैं कुछ ही मिनट में झड़ गया. वो अकेली ही रहती थी इसलिए उसके घर पर सेक्सी बुक्स और फोटो इधर उधर पड़ी थीं. हमने साथ में खाना खाया, पर रोशनी के चेहरे पे कुछ टेंशन सी लग रही थी.

आज मैंने मॉम के मम्मे सहलाए और जांघें भी टच की और मुठ मार कर सो गया. हम दोनों ने एक दूसरे को बांहों में भर लिया, हम दोनों लिप किस करने लगे. हालांकि मैंने उसका सहयोग किया, पर मैं शर्म के मारे दीवार की तरफ मुँह करके खड़ी हो गई.

सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई मैंने अब उसकी चूत में उंगली करनी और दूसरे हाथ से उसके मम्मे को दबाना जारी रखा. 15 मिनट बाद हम दोनों एक साथ झड़ गए, मैंने पूरा माल बाहर उसके पेट पर गिरा दिया और उसकी चूत का पूरा पानी पी गया।घर में कोई था नहीं और किसी के आने का डर भी नहीं था तो हम तीनों नंगे ही सो गए। जब अगल बगल में दो दोनंगी खूबसूरत लड़कियांहो तो सोने का अलग ही आनन्द मिलता है, ये मुझे उस दिन पता चला।कब नींद लगी, कोई होश नहीं था, नींद खुली तो जूही मस्त ठंडा शर्बत बना रही थी.

हिंदी फिल्म फुल सेक्सी वीडियो

उस मर्द के नज़दीक बैठे उन तीन अधेड़ उम्र के आदमियों को देखकर मन ही मन उनसे कहने लगा कि चाहो तो तुम तीनों भी अपने मोटे लंबे लंड से मुझे चोद दो और अपने लंड का मीठा पानी मुझे पिला दो लेकिन बस मेरे कलेजे में लगी लंड की भूख मिटा दो और उस जवान लौंडे के लंड का दीदार करवा दो. वो मेरालंड लॉलीपॉप की तरह चूस रही थींलंड लॉलीपॉप की तरह चूस रही थीं और मैं उनकी चूत का मादक रस निचोड़ रहा था. मैं उनके घर जाता तोमेरी मौसी की बेटीऔर उसकी बहन मुझसे बहुत लिपट कर बहुत ख़ुशी जाहिर करती थीं.

कुछ देर बाद वो झड़ गया, उसका कंडोम मैंने निकाला और लंड का क्रीम चाटने लगी. अब तो विक्रम का बुरा हाल था और वो अपने लंड को सम्भाल ही नहीं पा रहा था. बीएफ पिक्चर बीपी’ की आवाजें भी रूम में गूँज रही थीं, रूम का माहौल एकदम रंगीन हो गया था.

जब मैं इंजीनियरिंग के पहले वर्ष में गया तो मेरे पापा ने आँगन में मेरे लिए पढ़ाई के लिए रूम बनवा दिया, जिसमें मैं रात भर पढ़ाई करता था.

पहली चुदाई के बाद हम दोनों काफी थक गए थे इसलिए कुछ देर यूं ही शिथिल पड़े रहे. मैं- एक्च्युयली नोट्स तो मेरे पास हैं, पर मैं मंडे को तुम्हें दे पाऊंगा, क्योंकि मुझे रूम पर नोट्स ढूँढने पड़ेंगे.

मेरे मेरी माँ के साथ सेक्स सम्बन्ध अक्टूबर 16 की दीवाली की रात से शुरू हो गए थे. उस दूध में तुम्हें ज्यादा समय तक मजा देने वाली दवा यानि वियाग्रा भी डाली है. अब मैं भी झड़ने वाला था तो मैंने पूछा- माल कहां निकालूँ?उन्होंने बोला- अन्दर ही निकाल दो.

फिर ऐसे ही चलता रहा रुचिका चौधरी मेरी फेसबुक पर मेरे हर पोस्ट को लाइक करने लगी, जिससे रुचिका चौधरी के बॉयफ्रेंड को पता चल गया.

झटके से पैंटी खींच कर मैंने एक चुम्मा उसकी चूत पर जड़ दिया।चूत पर मेरे लबों के स्पर्श से वो अन्दर तक सिहर उठी। उसे जरा भी अंदाजा नहीं था कि मैं ऐसा कुछ करूँगा। उसके मुँह से निकले सीत्कार ने मुझे और जोश दिला दिया। मैं उसकी टांगों को फैला कर जोर-जोर से उसकी चूत चाटने लगा।वो बोल रही थी- आह. रानी ने पहले तो पूरे लौडे को नीचे से ऊपर तक चूमा, टट्टे सहलाये और फिर बड़े दुलार से खाल पीछे खींच के टोपे को नंगा किया. कॉलेज के पहले दिन मैं क्लास में बैठा हुआ बाकी स्टूडेंटस को आते देख रहा था.

बीएफ पिक्चर हिंदी देहातीजिस मोबाइल पर मुझे चुदाई के मैसेज मिलते थे, उसे मैं छुपा कर रखती थी और नॉर्मली उसे वाइब्रेशन मोड पर रख कर अपने मम्मों के बीच रखा करती थी ताकि कभी भी वो मोबाइल किसी के हाथ ना लगे. इसी चक्कर में मैंने रुचिका चौधरी की सेलरी बढ़ा दी, जिससे वो समझ गई क्योंकि वो मेरे और नीति मैडम के बारे में सब जानती थी.

वेस्टइंडीज सेक्सी सेक्सी

अब सच में मेरी हालत बहुत खराब होने लगी, तभी मुझे लगा कि लगता है बालू से चुदवा लूं… नहीं पागल कर देंगे. लगभग 10 मिनट बाद मेरे पास कोई मर्द आया और आवाज़ की- हूँ…मैंने ऊपर देखा तो वही मर्द मेरे पास खड़ा था… मेरे देखने पर वह धीरे से बोला- चल कहाँ चलना है?मेरी तो मानो लाटरी लग गयी थी उसकी बात सुनकर…जब मैंने उसके लंड के उभार को देखा तो वहाँ लंबा सा कड़क खीरे जैसा लंड उसकी सिली हुई पेंट में से साफ़ दिखाई दे रहा था. सबसे पहले मैं अपने चाहने वालों को तहेदिल से शुक्रिया करता हूँ कि उन्होंने मेरी पिछली कहानीप्लेबॉय बनने के लिए चुत चुदाई का टेस्टको बहुत पसंद किया.

भाभी की ओर मेरी नज़र गई, वो मेरे लिए खुश तो थीं, पर उनकी प्यास दिख रही थी. फिर उन्होंने देखा तो उनकी आँखों से पता चला कि उन्होंने मेरी बात का विश्वास कर लिया कि मैं सच ही कह रहा हूँ. मैं बोला- तो अब तुम मुझे मजा दो!शायद उसका मन तो था लेकिन थोड़ी झिझक थी, मेरे समझाने से उसने मेरी बात मान ली और झट से मेरा लंड अपने मुँह लेकर चूसने लगी.

इस तरह से कुछ देर तक चुदाई के बाद उसका रस फिर से निकल गया और वो झड़ गया. मैं किसी ऑटो के इन्तजार में था, तभी मेरा ध्यान बाजू की गली से निकली एक खूबसूरत सी लड़की जो कि ऑटो की तरफ जा रही थी, पर पड़ी. फिर वो कैमरे के सामने नीचे को झुक गई तो मुझे उसकी नंगी चूचियाँ दिखाई दी.

ब्लाउज के सारे बटन खुलने के बाद उसकी चुचियां एक नाम मात्र की ब्रा में क़ैद थीं और उस ब्रा में वो कयामत ढा रही थी. फिर तुम्हें तो पता नहीं, लास्ट चुदाई में उसका वीर्य भी बहुत देर तक नहीं निकला क्योंकि वो पहले कई बार निकल चुका था, इसलिए बहुत देर तक लौड़ा अपना काम करता रहा.

कुछ देर में इसी तरह एक दूसरे को रगड़ सुख देते हुए हम लोग नदी किनारे पहुंच गए.

फिर धीरे धीरे मेरे जेवर उतारने लगे और नथ छोड़ कर सब उतार दिया।अब मेरी बेटी के पति ने मेरी साड़ी भी उतार दी. सेक्सी/बीएफमैंने उसकी जींस को उतार कर साइड में फेंक दिया और पैन्टी के ऊपर से ही उसकी चूत चाटने लगा. बीएफ मंगेशमैं तो देखते ही रह गई कि 18 साल के लड़के का लंड इतना बड़ा कैसे होगा. वाओ क्या नजारा था… दीदी की गोरी गोरी चुत, उसके बीच में हरे रंग का करके फंसा पड़ा था.

उसी वक्त रमेश अंकल का वो तीसरा दोस्त… जिसने अपना लंड मां के मुँह में डाल रखा था, झड़ गया.

वो एकदम से कामुक हो गयी, मैंने जूही को इशारा किया कि उसके मुंह में अपनी चूत रख दे. मैं ये भी बोली थी कि ‘अंदर से भी बंद कर लो’ भले ही मम्मी बाहर से कुंडी लगा दी है।पर बालू ने कोई एक बात नहीं मानी मेरी, उसी का परिणाम कि शादी बालू गधे से होने वाली है और मेरी चूत उसके मौजूदगी में कोई और चोदे जा रहा है।कहानी जारी रहेगी. अब रोज़ पापा के ऑफिस चले जाने के बाद हमारा दोनों का नंगा नाच शुरू हो जाता था.

कई बार उसकी उँगलियों ने अण्डों और गांड के बीच के मुलायम भाग को दबाया, जिससे मज़े से मेरी किलकारियां निकल गयी; सी सी करता हुआ मैं झड़ने के क़रीब जाने लगा; उसका सिर पकड़ कर जो मैंने चार तगड़े धक्के मारे हैं तो लंड धम्म से झड़ा. शादी से पहले हमारी काम वाली के लड़के ने मेरी कुंवारी गांड मारी, फिर मेरी शादी के बाद मैं अपनी ससुराल से अपने भतीजे (पति के भतीजे, जेठ के लड़के) के साथ अपने पति के पास जा रही थी और रास्ते में एक होटल में उसने मुझको गांड मरवाने के लिए राजी कर लिया।अब आगे. दस मिनट बैठने के बाद मैंने उससे कहा- जल्दी चलो वरना मम्मी उठ गईं तो प्राब्लम हो जाएगी.

सलमान खान और कैटरीना की सेक्सी वीडियो

बोला- अभी कहाँ किया!उन दोनों ने अपने कपड़े खोल दिए, बोले- चल भोसड़ी के, चूस हमारे लंड!मैंने कहा- मैं नहीं चूसूंगा!वो बोला- साले, तू क्या… तेरे अच्छे अच्छे भी चूसेंगे!और हाथ में लिए डंडा मेरी गांड में जोर से मारा. राजेश ने कहा कि वो अन्दर जाकर वो बैग ले आएगा, जिसमें मेरी ड्रेस और बाकी सामान था. अब मैं लंड भाभी की गांड पर लगा कर धक्का मारा, मेरा आधा लंड भी अन्दर नहीं गया था कि वो रो पड़ीं और बोलने लगीं- अमित एक बार निकाल ले, बहुत परपरा रही है.

भैया ने कहा- नहीं यार, तुम मत जाओ, रिया तुम्हें नंगी होने की ज़रूरत नहीं है, तुम खाली अपनी पेंटी उतार लो और साड़ी ऊपर कर लो, बाकी मैं कर लूंगा, उन्होंने ऐसा ही किया.

ये सब सुन कर मैं और जोश में आ गया और फिर उसके 10 मिनट बाद मेरा भी पानी निकल गया.

मैंने देखा कि पीछे की तरफ एक खिड़की थी जो जाली की थी और आधी खुली हुई थी. लेकिन मुझे पता था ये मुझसे ही सैट होगी।दो साल मैंने तड़प कर गुजारे आखिर में जब मैं उसे भूलने लगा और उसके घर आना-जाना और बात करना बंद किया, तब उसने फिर खुद कॉल करके मुझसे अपने दिल की बात बताई।सारी लड़कियां ऐसी ही होती हैं। जब तक आप भाव दोगो. हिंदी में बीएफ बताओतो मैंने भाभी को उनके कमरे में पीछे से पकड़ लिया और उनकी गर्दन को चूमने लगा.

तभी वह मेरे पास आई और बोली- मुझे गणित के कुछ सवाल समझ नहीं आ रहे हैं. उसने हंस कर कहा- क्या ये मैं पहनूंगा? वैसे ये तुम पर अच्छे लगते हैं, रख लो, पहन लेना. उनके चूतड़ों की मुलायमियत ने मेरे लंड को कड़क करना शुरू कर दिया जो कि माँ की चुत से टच होने लगा था.

वहाँ पहले रीमा ने पानी दाल दाल कर अपनी गांड धोई, फिर मैंने उस कॉलेज गर्ल की गांड में उंगली डाल कर उसकी गांड अच्छे से साफ़ की. मां ने झट से मेरा हाथ नीचे कर दिया और मैं नींद में होने का बहाना कर लेटा रहा.

मेरे पति बस हर समय काम में बिजी रहते थे, लेकिन जब चुदाई करते तो बहुत मस्त चोदते थे.

उसने बोला- इतना जल्दी भूल भी गए?तभी मैंने बात को पकड़ा और बोला- ओहो आप हैं मोहतरमा, अहो भाग्य हमारे. मैं आपको दे दूँगी।मैं बोला- वो तो ठीक है परन्तु तुम मिलोगी कहाँ?वो बोली- मैं घर से बाहर तो आ नहीं सकती। इसलिए आपको मेरे घर ही आना होगा। कैसे. कामिनी बोली- यार, मूड मत ख़राब करो, वो अंदर है!विवेक बोला- तो क्या कर लेगा?कामिनी बोली- ज्यादा हीरो मत बनो?वो बोला- जानू, आज तो तुम्हारी ले के ही जाऊंगा!बोली- पागल हो क्या? आज नहीं!मैं समझ गया कि मेरा शक ठीक था, ये दोनों मजे करते हैं.

बीएफ बस में वो इस तरह ही चिल्लाती रहीं और पूरे कमरे में फ़चफ़च की आवाज़ गूंजने लगीं. कल मार लेना लेकिन तू पीछे से भी लंड डाल कर मेरी चुत चोदेगा तो गांड का भी मजा मिल जाएगा और तेरा लंड भी चुत में आराम से चला जाएगा.

वो अभी भी धीरे धक्कों के साथ पानी निकाल रहा था।फिर मैंने उसे अपने मम्मों का सारा दूध पिला दिया. मैंने भाभी की चिल्ल पों को इग्नोर करते हुए एक और तेज धक्का दे मारा और मेरा पूरा लंड अन्दर घुस के उनकी बच्चेदानी को ठोकर दे गयाओये रे ओये रे. आंटी लंड चूसते हुए मेरी गोटियों को भी सहला रही थीं, जिससे मुझे आंटी की चुत चुदाई की मचने लगी.

वीडियो का सेक्सी हिंदी

मैंने फिर से हिम्मत की और पहले दिन की तरह हाथ से बढ़ा कर उनके अन्दर डाला, दूध दबाए. मैंने बचने के लिए उससे कहा कि मुझे वो ऊपर नजर नहीं आया इसलिए जरा सा नीचे की तरफ देख रहा था. क्या परेशानी है? क्या मैं आपके कुछ काम आ सकता हूँ?आंटी पहले तो गुमसुम रहीं.

आज मुझे भी इसी बात का अहसास था कि आज भाभी की चुत मेरे लंड का पानी पिएगी. कहने लगी- राजे… बड़ा मज़ा आ रहा है… मेरा ऐसा दिल कर रहा है कि तुम मेरा कचूमर बना दो… तुम धीरे हो जाते हो तो ये बदन काट खाने को हो जाता है… प्लीज़ राजे पूरी ताक़त से धक्के ठोको.

मेरा नाम हेमन्त है, उम्र 23 साल, कद 5’8″ और लंड की लंबाई 5 इंच (नपा हुआ 13 सेंटीमीटर लम्बा और 8 सेंटीमीटर गोलाई में मोटा) है.

कुछ ही देर में मैं एक बार और झड़ गई और इस बार चिंटू भी मेरी चूत का सारा रस पी गया. मेरा पूरा मुँह उसके चुत रस से भर गया और मैं वो सारा नमकीन जूस पी गया. मैंने थोड़ी देर उसकी चुत में उंगली की, तो एक मिनट में ही उसका शरीर अकड़ गया और उसने मेरे हाथ पे अपना पानी छोड़ दिया.

उसने कहा- मैं अपने कपड़े निकाल दूँ?उसी नशे में मैंने कह दिया- हां निकाल दो, और मेरे भी निकाल देना, ये कुछ कसे से हैं. मैं अपने बारे में मधु को सच बताऊँ कि मैं उसके साथ पढ़ा था। मुझे अब ये डर था कि कहीं ये जानकर वो मना न कर दे। मना कर दे. वैसे उसकी 6 महीने की गुड़िया भी है, जिस वजह से उसके चूचों में दूध भी आता है.

फिर मैंने उसके कन्धों को थोड़ा और उचकाया, और इस बार थोड़ा और नीचे तक दबा दिया.

सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी चुदाई: मुझे बहुत ज्यादा दर्द गांड में होने लगा, लंड घुस नहीं रहा था तो उन्होंने बहुत सारा थूक लगाया और अंदर डाल दिया. रोका किसने है!उसकी सीत्कार निकली, वैसे ही मैंने और जोर जोर से उसकी चुत को चाटना शुरू कर दिया और वो अपनी गांड ऊपर करके मेरी जीभ को अन्दर तक लेने की कोशिश करने रही थी.

मैं नहीं डरती और तुम्हें मेरे घर पर भी फैमिली मेंबर की तरह ही ट्रीट किया जाएगा. भाभी पूरी नंगी हो गईं और कहने लगीं- घर पर कंडोम नहीं है, आज सिर्फ गांड की चुदाई कर ले, चूत नहीं दूंगी. ” निकल गई।मैंने सोचा मेरी तेज आवाज से कहीं बच्चा ना उठ जाए। मुझे दर्द बहुत हो रहा था.

मैंने उसके एकदम करीब होकर उसे अपनी जवानी की महक सुंघाते हुए पूछा- सर कितने बजे आऊं और इस बात का किसी को पता तो नहीं लगेगा ना?उसने मुझे एकदम करीब से फुसफुसाते हुए कहा- आप मुझे शाम को 7 बजे फोन कर देना.

दोस्तो, कोई कुछ भी कहे, मुझे औरत में जो चीज सबसे ज्यादा सेक्सी लगती है, वो है उसकी गांड, जब औरत बिस्तर पर उलटी लेटी होती है और उस वक्त उसकी उभरी हुई गांड का जो नजारा होता है, उससे ज्यादा मादक और सेक्सी नजारा इस दुनिया में और कोई नहीं होता. मैं काफी देर तक उसकी चूत पैंटी के ऊपर से सहला रहा था, इतने में उसने मेरा हाथ पकड़ के सीधा अपनी पैंटी में डाल दिया. अब मैंने उसकी टांगों को ज़ोर से पकड़ कर फैलाया और ज़ोर ज़ोर से उसकी चुत को चाटने लगा.