मूवी बीएफ मूवी बीएफ

छवि स्रोत,भाभी देवर की सेक्सी फुल एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी में ब्लू पिक्चर: मूवी बीएफ मूवी बीएफ, इतने में प्रिया चाय लेकर आ गई और मुस्कुराते हुए बोली- क्या बात हो रही है?राहुल बोला- सन्नी भाई बोल रहे हैं कि इनकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है, इन्हें टाइम नहीं है.

जोधा की सेक्सी

वहां पर मेरी मुलाकात मेरी सीनियर मैडम से करवा दी गई, जो कि कमाल की माल थी. सेक्सी वीडियो अच्छा वाला हिंदीइतनी दूर से उस लिंग के माप का सही अनुमान लगाना तो कठिन था लेकिन वह लिंग मेरे स्वर्गीय पति के लिंग की लम्बाई एवं मोटाई के बराबर ही लग रहा था.

अब और क्या फीस चाहिए मेरे नाई जी को?”मैंने बहु की पैंटी नीचे खिसका दी और अपना लंड गांड के छेद से अड़ा दिया- फीस तो मैं इसी छेद से वसूलूंगा आज!धत्त, वहाँ मैंने कभी नहीं करवाया. सेक्सी वीडियो अंतर्वासनावो फिर से दर्द में आ गई लेकिन इस बार मैंने धक्का मारना बन्द नहीं किया और वो भी कुछ देर में मेरा साथ देने लगी.

आंटी के होंठ थोड़े से भारी थे, बड़ी और तीखी आँखें थीं, उन में आंटी हल्का सा काजल लगा कर एक दम कामुक हिरनी सी दिखाई देती थीं.मूवी बीएफ मूवी बीएफ: घबराना नहीं तुम!अनुराधा- होने दो भैया… कभी ना कभी तो होना ही है तो आज ही सही… मैं सिर्फ़ तुम्हारे साथ ही ये करना चाहती हूँ.

नमस्कार दोस्तो, कैसे हो आप सब… माफ़ करना बहुत टाइम बाद वापस आई हूँ.मेरे घर के सामने प्रिया आंटी का घर था तो मेरे ध्यान में आरती आंटी के स्थान पर प्रिया आंटी की चूचियां आ गई थीं.

यह भी सेक्सी - मूवी बीएफ मूवी बीएफ

रूपा पप्पू का चेहरा चूमते हुए हाथ नीचे डाल कर उसकी गोटियाँ मसल कर बोली- अरे-अरे ये गाली मत दे उसे… उसके साथ शादी के बाद आज पहली बार किसी पराये मर्द का लंड इस चूत को नसीब हुआ है.तो मैंने कहा- सुमन जी फिर तो आप मेरे साथ ही जाया करो क्योंकि मैं भी उत्तम नगर में ही रहता हूँ.

वो वैसलीन लेकर आया, मुझे लिटा कर मेरी टांगें ऊपर करके उसने मेरी गांड पर किस की और वैसलीन से फुल उंगली मेरी गांड में कर दी. मूवी बीएफ मूवी बीएफ दोनों बाप-बेटी हेमा को स्टेशन छोड़ने गए और जब वो वापिस आ रहे थे, तो रास्ते में गुलशन जी को उनके एक दोस्त मिल गए.

जैसे-जैसे जॉय के हाथ फ्लॉरा के मम्मों पर घूम रहे थे, उसकी उत्तेजना बढ़ती जा रही थी.

मूवी बीएफ मूवी बीएफ?

रूपा पप्पू का चेहरा चूमते हुए हाथ नीचे डाल कर उसकी गोटियाँ मसल कर बोली- अरे-अरे ये गाली मत दे उसे… उसके साथ शादी के बाद आज पहली बार किसी पराये मर्द का लंड इस चूत को नसीब हुआ है. तो मैंने कहा कि ये कपड़े पानी में भिगोने पड़ेंगे, तभी इसका कीचड़ साफ हो सकेगा. मैं जानता था कि औरत जब पूरी हीट पर आ जाये तो उसे बड़े ही एहितयात से टेक्टफुल्ली संभालना होता है; इसी पॉइंट पर पुरुष की सम्भोग कला और धैर्य का इम्तिहान होता है.

शायद आंटी ने मेरी पैंट में बने तम्बू को देख लिया था, वो मुझे एक वासना भरी स्माइल देकर अंदर जाने लगी. आप जानते ही हैं बहुत से फ्रेंडशिप के लिए थे, बहुत से मुझे चोदने के लिए और बहुत से कंसल्टेंसी के लिए भी थे, जिसमें मुझसे कई लड़कियों ने अपने भाई से चुदवाना है कुछ हेल्प कर दो, की सलाह मांगी थी. शोभा- तुम मुझसे क्या चाहते हो?वरुण- मैं ये चाहता हूँ कि तुम जो कर रही थीं वही करती रहो.

अब मुझे क्या पता था कि पीछे वाली भी दर्द के बाद इतना ढेर सारा मज़ा देती है. मॉम की हाइट 5’6″ थी उनके मम्मों का साइज़ 38 इंच था और चूतड़ों का साइज़ आप खुद ही सोच सकते हैं कि कितना मस्त होगा. जहाँ मैं शर्म से आंखें झुका कर बैठी थी, वहीं आशीष मेरे चेहरे को कामुक अंदाज़ से निहार रहे थे.

अगर आप न्यूड क्लब में जाती है और पांच से ज्यादा लोग आपके साथ सेक्स करते हैं तो आपका आधा बिल लौटाया जाता है. जब मैं बाथरूम गयी तो देखा कि मामा अपना सुकड़ा हुआ लंड हाथ में पकड़े हुए थे और लंड का पिंक टोपा बाहर निकाला हुआ था, मैं देखती रही लंड को!थोड़ी देर में पानी की मोटी धारा निकलने लगी जो काफ़ी दूर जाकर गिर रही थी, मैं समझ गयी थी कि मामा जी के लंड में बहुत दम है.

दीपिका के क्या होंठ थे, उसके होंठ थोड़े भीगे हुए लग रहे थे, मैंने धीरे धीरे अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए.

हम दोनों शावर लेकर जब फ़ारिग हुए तो मेरी ने खुद हमारा मेक अप किया, हमारे बाल संवारे और फिर हमें पहनने के लिए एक बेहद सेक्सी, झीना सा गाउन दिया।रिया ने कहा- ये क्यों पहनना? हम तो बिना कपड़ों के ही रहेंगी।मेरी ने कहा- मैं मानती हूँ मैडम लो आप यहाँ हर वक्र पूरी नंगी रह सकती हैं, मगर अब आप क्लब में जा रही हो.

ये कह कर मैंने एक ही झटके उसकी गीली चूत में अपना पूरा लंड पेल दिया. दोस्तो, सब उसे ही घूरे जा रहे थे, आते ही बोलने लगी कि पहले उसे अपने दोस्त के घर कुछ काम है तो पहले वहाँ चलना होगा. रज्जाक- सही बोला तूने, एक दिन साली के घर में आकर पलंगतोड़ चुदाई करनी है.

मुझे लगा जैसे वो थोड़ा खीझ सी गई है, तभी सोनिया बोली- चलो यार अगर घर जा सकते हो, तो पहले घर ही चलो, फिर वहां से आगे निकलेंगे. तो राहुल हल्का सा मुस्कुरा दिया, तब अनामिका जी लंड को हल्का सा दबाते हुए बोलीं- देखते हैं कि कितना दम है, कल हाफ डे है. उसके मसलने से में भी पानी बिना मछली जैसे छटपटाने लगा और मैं अब उसकी छाती से लिपट गया.

लेकिन वह नहीं माना और मेरी चुचियों को ऐंठते हुए बोला- रानी, हमारे साथ आओगी या नहीं, यह बताओ.

मुझे आशा है बाकी कहानियों की तरह यह कहांनी भी आपको बहुत पसंद आयेगी और आपके लंड या चूत का पानी निकालेगी. वो मुस्कुरा कर धीमी आवाज़ में बोली- ये क्या हो रहा है?कुछ देर के बाद जब वो लिखने के लिए झुकी, तो मुझे उसकी कमर के नीचे एक ख़ास जगह का गोरा अंग दिखाई दिया. शहज़ाद उठ कर जैसे ही बाथरूम गए मैंने वैसे ही जैसे मैं नंगी बैठी थी, भाग कर बालकोनी का दरवाज़ा खोला ताकि सैफिना को चुपके से बाहर भेज सकूँ.

फिर उस दिन के बाद से हम दोनों कॉल पर बात करने लगे और देर तक बातें करने लगे. इस एक माह में किसी और ने उसे पटा लिया और ये ही सोचते हुए अपने घर पर पहुँच गया. मैं एक दम से उठी, पहले तौलिया लाकर अपनी चूत साफ़ की, फिर बाथरूम में जाकर साबुन और पानी से अपनी चूत रगड़ रगड़ कर धोई.

मैं अजीब निगाहों से मॉम को और उनकी चूचियों को देखने लगा था और सोच रहा था कि कभी मौका मिला तो जम कर इन रस भरी चूचियों को मसलूँगा.

मैंने कहा- अब क्या बाक़ी है?वो बोला- अभी मैंने ठीक से तुम्हारी गांड कहाँ मारी है. फिर एक एक करके घर की सारी लाइट्स बुझने लगीं और फिर पूरे घर में अंधेरा छा गया, बाहर दूर की स्ट्रीट लाइट से हल्की सी रोशनी खिड़की के कांच से भीतर झाँकने लगी.

मूवी बीएफ मूवी बीएफ सुबह नाश्ता किया और वहां से निकलने लगा तो उसके पापा बोले- ये भी बिलासपुर जाने की बोल रही है, तुम इस अपने साथ ले जाओ, साथ ही बस में चली जाएगी. मेरी चुत गीली होने के बावजूद इतने बड़े लंड के अन्दर जाते ही एकदम से रो पड़ी.

मूवी बीएफ मूवी बीएफ अगर मैंने इस अवसर को छोड़ दिया तो शायद ईश्वर अप्रसन्न होकर आगे कभी कोई अवसर ही नहीं दे और मैं बेटे को ले कर जीवन भर भटकती रहूँ. मैंने अपना नाम बताया क्योंकि मैं उससे पहली बार मोबाइल से बात कर रहा था.

मैं पूरी ज़िंदगी उसे याद रखूंगा क्योंकि मेरी देखी और फील की हुई पहली चुत अनुराधा की थी.

इंग्लिश सेक्सी फिल्म फुल सेक्सी

आज मेरे भाग्य में शायद चुदाई लिखी थी, रात हुई, मैंने अपने छोटे भैया के संग भोजन किया और हम अपने अपने रूम में सोने के लिए चले गए. नेहा बोली- क्यों साली, मेरी तो जब फटेगी तब फटेगी, तेरी अभी हमें देख कर ही फट गई, अब तू हम दोनों से जल रही है. अब तो गुस्सा सातवें आसमान पर था, सोचा साली घर में बिठाने की भी नहीं बोल रही है.

फ्लॉरा- वाउ यार सो नाइस, फिर क्या हुआ… चुदाई रुक गई या उसके बाद भी तुम्हें अपनी चुत में अंकल का लंड लेने का मौका मिला?टीना- अरे मिलता कैसे नहीं… अंकल ने माँ को काम में इतना उलझा दिया कि वो ज़्यादा बाहर ही रहने लगीं और अंकल मेरे साथ रासलीला करते रहते थे. मैंने पूछा- क्या मैं जान सकता हूँ कि आप इतनी जल्दी में क्यों हो?उसने कहा- चल कर देख लेना. सुमन ने थोड़ी देर लंड चूसा, फिर मुँह हटा लिया क्योंकि थोड़ा नाटक करना पड़ता है, नहीं तो गुलशन जी को शक हो जाता.

तो मैं मस्ती में बोली- क्यों जी ऐसा क्या है?तो बोला- नहीं नहीं प्लीज़ मत चलाना.

नीता की आँखों से हो कर, गाल, होंठ, नेक, दोनों निप्पल चूमते हुए उसके मम्मे चाट कर नीता के पेट को चाटने के बाद पप्पू जीभ नीता की नाभि में डाल कर, नाभि को जीभ से खोदने लगा. और नेहा मुश्ताक का निक्कर नीचे करके उसके लंड को बाहर निकाल कर हिलाने लगी. दीपिका के क्या होंठ थे, उसके होंठ थोड़े भीगे हुए लग रहे थे, मैंने धीरे धीरे अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए.

उसकी चूत तो जैसे मक्खन सी मुलायम, उस पर झांटों का नामो निशान नहीं, चूसने के लिए बेहतरीन चूत, लंड को लेने को तैयार जैसे किसी गुलाब का फूल हो. आप लोग यकीं करो या ना करो मगर सत्य यही है कि यह मेरी सच्ची कहानी है. उसे बारिश से बचाने के लिए और उसकी भूख मिटाने के लिए यहाँ बैठ कर उसे दूध पिला रही थी.

क्योंकि मुझे किसी स्त्री से कैसे बात करते हैं नहीं आती इसलिए मैंने तो तुम्हारी सहायता हेतु सीधी बात करी है. उनके रहते मैं पापा के साथ कैसे सो सकती हूँ?टीना- तूने कभी अपने ननिहाल के बारे में नहीं बताया.

वो मादक सिस्कारियां भरने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने उसकी साड़ी उतार दी, ब्लाऊज और पेटिकोट में वो क्या माल लग रही थी यार… पर वो शर्माने लगी, वो मुझसे लाइट बंद करने के लिए बोली. कुछ देर बाद हम दोनों उठे, भाभी ने अपनी चूत साफ़ की, मेरे लंड को भी तौलिये से पौंछा और फिर ममता चाय बनाने चली गई. अब मैं उन्हें देख रहा था, तब वो बोलीं- शाम को तो बहुत बोल रहे थे कि मेरी गांड और मम्मे तुझे अच्छे लगते हैं.

फिर मैं नेहा की तरफ देखता हुआ बोला- आ साली, अब दिखा फिर अपनी चूत की झांट…वो खड़ी होती हुई बोली- मेरी झांट देखकर आपकी बोलती बंद हो जाएगी जीजू, आप पहले अपनी पुरानी रांड की झांट देखो न.

तभी भाभी ने उठते हुए मेरे लंड को बाहर निकाल कर अपने मुँह में भर लिया. फिर मैंने उन को घुटने पर बिठा कर लंड चुसवाता हुआ उन के मुँह पर थूका और फिर उनके मुँह पर चांटे मार के उन को बेड पर लिटा दिया, उन की टाँग उठा कर अपना मूसल लंड उनकी चुत पे धीरे धीरे से रगड़ा. उसकी चूचियाँ मेरे छाती से दबी थी, मेरा लंड उसकी चूत को छू रही थी और हम एक दूसरे की पीठ को सहला रहे थे.

हेमा- आज भी आप दुकान जाओगे क्या? मैं सोच रही थी कि आज मैं माता के मंदिर होकर आऊँगी. अब मुझे क्या पता था कि पीछे वाली भी दर्द के बाद इतना ढेर सारा मज़ा देती है.

मैंने उसको बोला- मुझे पता है… अनु तेरा मेरा रिश्ता ओनली सेक्स वाला है… सो झूठ मत बोल… तू मुझे यहाँ सिर्फ चुदाई के लिए लाया है… सो जो करने आया है वो ही कर…इतना सुनते ही वो मेरे से पीछे हट गया और फिल्मी अंदाज में अपने पैरों पर बैठ कर उसने मुझे रिंग देते हुए कहा- हिमानी. मेरे अंदर भी अब चींटियाँ रेंगने लगी थी और करंट दौड़ने लगा था लेकिन मैं अपने मुंह से न तो कुछ बोलना चाहती थी और न ही कोई हरकत करना चाहती थी. वो रात को जब मेरे पास सोने आती तो उसके शरीर से रसोई की बास इतनी आती कि मेरे मन की रोमांस की आशा ही मर जाती.

ಫಾರಿನ್ ಬಿಎಫ್ ಸೆಕ್ಸ್

मामला क्या है, ये कैसे जानता है उसे, और अगर जानता है तो उसने क्या बताया इसे?मैंने हिम्मत करके बात छेड़ते हुए कहा- अखाड़े में सब पहलवान तुम्हारे ही गांव के थे क्या?वो बोला- नहीं, मेरे गांव के 3 ही थे उनमें.

वो दुकान से एकदम बाहर आया और बोला- मैं आपकी कुछ मदद करूँ?अब उसका लंड पजामे के अन्दर था जो बाहर से बिल्कुल तना हुआ दिख रहा था. मैं आशीष के साथ सहज और सुरक्षित महसूस करती थी पर जो कुछ हुआ शायद मेरी भी सहमति थी. वैसे मनोज यार बात ये है कि तुम्हारे बाद हमने प्लान बनाया है कि हम चारों आज एक साथ मज़े करेंगे.

मुझे नए लंडों से चुदना, गैर मर्दो की रांड बनना, बेरहमी से चुत चटवाना और तगड़े लौड़ों की गुलामी करना पसंद है. लगभग दस मिनट तक उनके चूचे चूसने के बाद मैं धीरे से अपना एक हाथ उनकी चूत पर ले गया और चूत को सहलाने लगा. 2000 की सेक्सी वीडियो एचडीहम दोनों काफी देर तक चुप बैठे रहे, जो कुछ हम कर चुके थे उसका मुझे तो कोई मलाल नहीं था, आशीष का पता नहीं!घड़ी में दो बज रहे थे.

मेरे 12वीं के एग्जाम के बाद मैं फ्री सी थी और घर पर ही दिन भर रहा करती थी. 30 पर वैशाली का फ़ोन आया; मैं विस्की के पेग लगा रहा था; पूछने लगी- क्या कर रहे हो?मैंने कहा- तुम्हें ही याद कर रहा था, कहो कैसी हो?उसने बताया कि दोपहर को खाना खा कर वह सो गई थी, 7 बजे उठ कर हस्बैंड के लिए डिनर बनाया, वे खा कर चले गए हैं.

अब आगे:जैसे ही हम बार की तरफ से निकले मैंने रिया को रोका और बार पे जाकर एक के पीछे एक करके टकीला के तीन शॉट पी गयी और वापस आकर रिया के साथ हो ली. मैं अपनी भाभी के पास आई, वो मुझे देख रो पड़ी- तेरे साथ जो हुआ दुश्मन के साथ भी ना हो. यह बात करीब एक साल पुरानी है, ऐसे ही एक दिन मैं अपने फ्रेंड्स के साथ चैट कर रहा था, तभी मेरे पास एक लड़की का मैसेज आया ‘हाय…’मैंने भी ‘हाय.

इसके बाद मैं कॉलेज आया हुआ था तो टीचर ने मुझे फोन करके बुलाया कि वो ऑफिस में हैं और उन्हें कुछ काम है. हालांकि चूत और गांड में दर्द अभी भी था मगर अब मैं दर्द सह पा रही थी। उन तीनों ने बहुत लम्बे समय तक मेरे तीनों छेदों का भुर्ता बनाया। इस बीच पता नहीं मैं कितनी बार झड़ी।आखिर तीनों एक साथ चिल्ला चिल्ला कर मेरे हर छेद में झड़ गए. मैंने हॉल में और फिर दूसरे बेडरूम में जा कर देखा तो वो वहाँ सो रही थी.

अनुराधा- मैं तुम्हारा लंड क्यों चूसूं? तुमने तो मेरी चुत नहीं चूसी?मैं- तू बोली ही नहीं.

दोस्तो, मेरा नाम रामू है और मेरी उम्र 22 साल की है, रंग गोरा और हाइट 6 फीट है. मैं कुछ पल निढाल पड़ा रहा… फिर मैंने उसके मम्मों को दबा-दबा कर चूसा तो मेरा लंड फिर से एक बार खड़ा हो गया.

मैं अन्तर्वासना की दैनिक पाठिका हूँ, मुझे इसके बारे में मेरी एक फ्रेंड अंजलि ने मुझे बताया था. मैंने उसकी पैंटी को एक झटके में अलग कर दिया और उसके पैरों के बीच आ गया. तो दीदी ने मेरा लंड पकड़ लिया और बोलीं- भैया, ये तुम्हें बहुत तंग कर रहा है ना?मैंने कहा- हाँ दीदी.

उसकी आवाज़ निकली- उईईई… मर गई… उम्म्ह… अहह… हय… याह… आह… ऊऊऊ… बहुत मोटा लंड है…मैंने कहा- तो क्या फर्क पड़ता है… खा ले. हमारी उत्तेजना इतनी बढ़ गयी कि हम दोनों चिल्ला चिल्ला के उनका बदन नोचने लगी. सर्वेश के मज़बूत कड़क मर्दाना हाथों से मेरे चूतड़ को मसले जाने पर मुझे भी मानो जन्नत का एहसास हो रहा था और मेरी गांड पूरी तरह लाल हो चुकी थी जिसे देखकर सर्वेश का जोश और भी बढ़ने लगा था.

मूवी बीएफ मूवी बीएफ हैलो दोस्तो, कैसे हो आप सब?मेरा नाम सैम है बदला हुआ, मैं लखनऊ उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ. थोड़ी देर बाद हम दोनों एक साथ झड़ गए और मैंने अपना माल उनकी चुत में भर दिया.

सेक्सी में चोदी चोदा

अंदर जाते ही उसने प्यार से हमारे हाथों में एक उम्दा ड्रिंक थमाई और कहा- मैडम, आप दोनों अब मसाज करवा लें. हम दोनों ने मन्दिर में जा कर खून से माँग भर के शादी कर ली और अपने-अपने घर चले गए. तभी वह पुरुष कपड़े पहन कर बाहर आया और बोला- तुम अभी तक यहीं बैठी हो? अब तो बारिश भी बंद है इसलिए तुमने जहां जाना है जल्दी से चली जाओ.

धीरे धीरे यश ने मेरी चूत चोदने की स्पीड बढ़ाई… अब मुझे मजा आने लगा, मेरे आनन्द की कोई सीमा नहीं थी, आह… म्म्म्ह आहहा हां… हां… ओह… मेरे मुख से लगातार सिसकारियां निकलने लगी, मैं गर्म साँसें छोड़ने लगी. फिर उसने मुझसे पूछा- सर जी क्या आपकी कोई गर्लफ्रेंड है?तो मैंने कहा- नहीं. मां मारवाड़ी सेक्सीबस मैं उसे अपनी चूची दिखाती रही और वो मेरे सामने ही अपना लंड पकड़ कर दबाता रहा.

मैं बाहर निकालती हूँ…” यह कह कर उसने मेरी जिप में से लंड बाहर निकाला और उसे हाथों से हथियाने लगी.

वो नेहा से बोली- अब जब जीजे का लौड़ा जाएगा न तेरी फुद्दी में साली… तब गांड फटेगी तेरी, फिर बचाने वाला नहीं मिलेगा कोई…अब हम दोनों ने एक दूसरे को छोड़ दिया. उसकी छोटी छोटी और कसी हुई ठोस चूचियों को देखता रहा और उनको धीरे से सहलाने लगा.

फिर कुछ मिनट बाद मैं उनके मुँह में ही झड़ गया और वो मेरे वीर्य को मजे से पी गईं और मेरे वीर्य के मस्त स्वाद से तृप्त सी हो गईं. जब 30 मिनट के बाद मेरा निकलने को हुआ तो मैंने अपना सारा पानी दीदी की फुद्दी में छोड़ दिया और बेड के ऊपर गिर गया. लगभग 5 मिनट के बाद जब राहुल उनके दोनों चूचुकों को चॉकलेटी से लाल कर चुका था तो उसने उनके बदन से सारे कपड़े उतार दिए और अपने हाथों को अनामिका जी के पेट से घुमाते हुए उनकी नाभि और उनकी नाभि से उनकी चूत तक ले गया जो कि पूरी तरह गीली हो चुकी थी.

मैंने धीरे धीरे उसके गले पे किस की, उसके कन्धों को चूमते हुए उसकी बाजू को ऊपर उठाया और नीचे बगलों को अच्छे से चाटा.

उसने फिर स्माइल की और कहा- क्या आप सेक्स करना चाहते हो?मैंने कहा- सुमन शायद तुम्हें बहुत चढ़ गई है. ” जो होता है तो उसमें सब औरतें और लड़कियां रतजगे में पूरियां और कुछ खाने का सामान बनाती हैं. उसकी चूचियाँ मेरे छाती से दबी थी, मेरा लंड उसकी चूत को छू रही थी और हम एक दूसरे की पीठ को सहला रहे थे.

माता की सेक्सी फोटोउसने ये भी बताया कि उसकी बेटी प्रिया बहुत समझदार है, वो कुछ भी एक्सट्रा डिमांड नहीं करती. मैं आँखें मूंदे पड़ी थीवो अपने बैग में से 2 बियर के कॅन निकाल लाया और मुझे हिला कर बोला- हिमानी ले… थोड़ा पी ले… थकान उतार जाएगी.

अम्मा की सेक्सी वीडियो

ममता कोमा में थी और ऐसा कोई रिश्तेदार भी नहीं था, जिसे वो घर बुला सके. वह लंड छोड़ कर बीच बीच में आनन्द से तरह तरह की आवाजें निकालने लग जाती थी और चूत को मेरे मुंह पर दबाव देकर रगड़ने लग जाती थी. क्योंकि मुझे किसी स्त्री से कैसे बात करते हैं नहीं आती इसलिए मैंने तो तुम्हारी सहायता हेतु सीधी बात करी है.

अब आप सभी तो जानते ही हो कि बॉक्सिंग वाले बंदे का शरीर और स्टेमिना दोनों ही अच्छे होते हैं. और दूसरा रास्ता था कि चाची को नींद की गोली खिला दूँ और पूरा मजा लूं. पर आँख लग गई, जब आँख खुली तो आशीष मेरे पास नहीं थे, मैं चादर से ढकी थी पर अंदर से नग्न थी.

शाम को हवेली वापिस पहुँचने पर गाय का दूध निकाला और फिर रात का खाना बनाया तथा तरुण को खिलाने के बाद खुद खाना खाया और फिर रसोई की साफ-सफाई करके ही सोयी. राहुल ने उनका एक पैर अपने कंधे पर रखा और अपने लंड को उनकी रसीली चूत के द्वार पर लगा कर धीरे धीरे अन्दर सरकाने लगा. गुलशन जी समझ गए कि सुमन सही बोल रही है और उनको भी थोड़ा रेस्ट कर लेना चाहिए क्योंकि रात में उनको अपनी बेटी की जवानी का मजा जो लूटना है.

कुछ मिनट की चुदाई के बाद मैं फिर से झड़ गई तो जय ने अपना लंड मेरी चुत से निकाल कर मेरी गांड में डाल दिया. अब इस पोज़िशन में वो मेरे सामने थी और मेरा लंड और उसकी चुत ऑलमोस्ट टच कर रहे थे.

कहानी का पिछला भाग:आए थे घूमने, चोद दी चूतें-1अब तक की चुदाई की कहानी में आपने मेरी गर्लफ्रेंड की सहेली नेहा को मेरे सामने नंगी होते हुए पढ़ लिया था.

मैंने सोनिया के होंठों को फिर अपने होंठों में ले लिया और हम जोरदार किस करने लगे और मैं उसके जिस्म पे अपना हाथ फिर रहा था, जिससे वो गर्म भी हुए जा रही थी. सुपर सेक्सी एक्स एक्स एक्समेरे पति सेक्स में बहुत अच्छे हैं, मुझे चूत चुदाई का पूरा मजा देते हैं. सेक्सी वीडियो कच्ची वालीहमारी कॉलोनी में बहुत सी लड़कियां रहती थीं क्योंकि उस कॉलोनी में करीब 15 घर थे और हर घर में एक दो लड़कियां तो थीं ही. दरवाजा खोलते ही वो अन्दर आ गई, मैं इससे पहले में कुछ कहता वो अन्दर आते आते सपना-सपना.

मेरी जान निकालेगा क्या?मैंने देखा कि चाची की आँखें दर्द से लाल हो गई थीं, वे थोड़ा गुस्से में भी दिख रही थीं, शायद एक दम से लंड पेलने से चाची की चूत में कुछ ज्यादा ही दर्द हो गया था.

शहज़ाद को मैंने बताया कि उसे कुछ पैसे चाहिएँ!शहज़ाद बोला- पॉकेट में नहीं हैं, अभी उसे ए टी एम से लाकर देता हूँ. मैं शीशे में देखता रहा और उसका मैं मोबाइल से वीडियो बनाने लगा। वह लड़का काफी देर तक मेरी साली की बेटी गुड़िया की चूचियों से खेलता रहा फिर वे अलग हो गए। मैं कम से कम 10 मिनट का वीडियो बना चुका था. दुनिया में कोई भी लड़की का जन्म होता हैं तो वो शुरुआत से अंत तक एक लड़की ही होती है, सिर्फ़ लड़की.

उस लड़के की कौन सुनता, तभी एक लड़के ने उसे कहा- साले तुझे नहीं करना तो तू जा, कितने दिनों के बाद ऐसी माल मिली है. वो मादक सिस्कारियां भरने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने उसकी साड़ी उतार दी, ब्लाऊज और पेटिकोट में वो क्या माल लग रही थी यार… पर वो शर्माने लगी, वो मुझसे लाइट बंद करने के लिए बोली. मुझे कुछ हद तक संतुष्टि मिल जाया करती थी इसलिए कभी ज्यादा हिम्मत नहीं कर पाई.

सेक्सी वीडियो सिंपल

मैंने अपनी पोजीशन बदली और अपना सिर शहज़ाद के पैरों की तरफ कर दिया जिससे मेरी टांगें शहज़ाद की तरफ हो गई और मेरी चूत उसके नजदीक हो गई. जब हम लोग बाजार पहुंचे तो मैंने उसकी मनपसंद आइसक्रीम गुड़िया को दिलवा दी। गुड़िया आइसक्रीम को बहुत मजे से जीभ निकाल निकाल कर चूस रही थी जिसे देख कर मुझे ऐसा लग रहा था जैसे वह मेरा लंड चूस रही हो।उसे आइसक्रीम खाते देख कर मुझे बहुत मजा आ रहा था. तो मनोज बोला- तुम जीजा साली कौन सा कम हो, हम तो अब शुरू हुए हैं और तुमने तो सबसे पहले शुरूआत भी कर दी थी.

करीब एक साल पहले हमारे हॉस्पिटल में डायग्नोस्टिक डिपार्टमेंट में एक नई आंटी की ज्वाइनिंग हुई थी.

काकू ने उनसे जगह बताने को कहा, उसने कहा- अगर नीचे ही गद्दा बिछा लें तो चलेगा.

फिर कुछ पलों बाद उसने अपना लंड निकाल कर पहले मेरी चूत और गांड पर रगड़ा और मेरे होंठों पर रगड़ने लगा. मैंने अपने सारे कपड़े निकाल दिए लेकिन अपने सेंडिल नहीं निकाले इससे मेरी गांड और ऊपर उठ गई थी. सेक्सी राजस्थानी हिंदी वीडियोरात में घर जाकर हमने खाना खाया और फिर थोड़ी देर के बाद अपने-अपने कमरे में चले गए.

दूसरे दिन ही मैंने देखा कि भाई लैपटॉप में वो सेक्स स्टोरी पढ़ रहा है और उसका लंड एकदम से खड़ा है. हालांकि मुझे बहुत मज़ा भी आ रहा था और देखते ही देखते मैं आंटी के मुँह में ही झड़ गया. तभी 3 लेडीज जिनकी उम्र लगभग 35-40 के अराउंड होगी, मेरी बगल वाली सीट पर आकर लाइन से बैठ गईं.

आज इस चूत को फाड़ कर अपनी रस की एक भी बूँद मेरी चूत के बाहार ना जाये… ये देखना. रिया ने अपनी आंखें कस के बंद की थी और उसके मुँह से आहें निकल रही थी.

उसने भी अपने पैर को हटाने की कोशिश नहीं की और एक बार मेरी और देख कर आगे देखने लगी.

वो बोल रही थी- मैं तुम्हें एग्जाम टाइम में प्रपोज के लिए बाहर आ जाती थी, तो तुम निकल जाते थे. मैं कुछ बोलता, इससे पहले कंडक्टर आ गया, उसने बोला- मैडम सही कह रही हैं, साइड स्लीपर मैडम का है. अब मैंने उसको दीवार से लगाया और टांग ऊपर करके अपने लंड को गर्लफ्रेंड की माँ की चुत पर लगा दिया.

ग्रामीण सेक्सी वीडियो देसी एक-दो बार ऐसा हुआ कि ठीक झड़ने के वक्त तेरे बाप की आहट सुनने से तेरी माँ लौड़ा चोड़ देती और मैं लंड शॉर्ट्स में डालने की कोशिश करता पर तब तक लंड झड़ जाता था. यहाँ से download करें!देसी लड़कियों से हिन्दी अंग्रेजी या अन्य भाषा में सेक्स चैट करने के लिएदेलही सेक्स चैटपर आयें और मजेदार सेक्स की बातों का मजा लें! यहाँ पर आप वीडियो सेक्स चैट यानि कैमरे पे भी लड़कियों को नंगी कर सकते हैं.

‘ओफ़्फ़…’ क्या अहसास था… क्या सिहरन थी!’कितने गर्म होंठ… धीरे धीरे मेरी चूची उनके मुँह में समा गई. सो दोस्तों! दो बजे तक कमरे में नंगा नाच चला!तीनों ने एक एक बार और चोदा, मेरी प्यास बुझा दी, इतना मजा दिया. अब होंठों से आगे बढ़ते हुए उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में घुसा दी और हर तरफ घुमाने लगा.

सेक्सी वीडियो कार्ड

मैंने उसके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और उसे निकाल कर एक तरफ रख दिया. सिंडी अब दर्द से कराहने लगी थी, उसके चेहरे का रंग भी बदलने लगा था और उन दोनों के चेहरे से भी लग रहा था कि उन्हें चुदाई में कितना मजा आ रहा है. अतुल- अरे अरे ये क्या मुझे ऐसे ही अधूरा छोड़कर जाओगी क्या? मुझ पर नहीं तो कम से कम मेरे लंड पर तो रहम करो यार.

मरीज की माँ को यौन सुख दिया-1अब तक की इस कामुक सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था मेरे एक मरीज की चुदासी माँ मेरे लंड से चुद गई थी. ये सुनते ही मौसी ने मेरे सामने अपनी दो उंगलियां चुत के अन्दर घुसाईं और निकाल कर मेरे नाक के सामने रख दीं.

तू बस चुत में जोर जोर से करना, फिर देख तुझे भी इसमें बहुत मजा आएगा.

क्यों कैसा लगा तुझे मेरा आइडिया?सुमन- आइडिया तो मस्त है पापा, मगर सच कहूँ आपका बहुत बड़ा है, इसे देख कर ही मुझे डर लग रहा है. उस दिन मैंने दोनों को चोदा और पूरी रात भर ब्लू फ़िल्म देख कर चुदाई के मजे लिए. अनु मुझे देख कर बोला- यार तेरा भी कुछ नहीं पता… कब क्या कर दे तू…मैंने उससे बोला- मैं ऐसी ही हूँ.

उस टाइम पता नहीं मुझ में कहाँ से हिम्मत आ गई थी, मैं चाची के पास गया और मैंने एक हाथ से चाची की गांड और दूसरे हाथ से चाची की चुची को दबाते हुए कहा- मेरी प्यारी चाची, मैं तो बस इन्हीं को देखता रहता हूँ. वो बोलीं- मैं लड़की होकर तुम्हारे सामने नंगी होने को तैयार हूँ और तुम लड़के हो कर शरमा रहे हो?रितु दीदी ने जब फिर कपड़े उतारने को कहा, तब मैंने एक एक कर कपड़े उतारने शुरू किए. मैं किचन की ओर चली गई, मैं रेफ्रिजरेटर से पानी की बॉटल निकालने के लिए थोड़ा सा झुकी ही थी कि तभी किसी ने मुझे पीछे से जोर से पकड़ लिया.

कुछ ही पलों में मेरी चुत ने भरभरा कर पानी छोड़ दिया, मैं वैसे ही निढाल सी किसी की बाहों में झूल गयी.

मूवी बीएफ मूवी बीएफ: तो बोली- फिर कैसे?मैंने उससे कहा- मैं तुम्हें बताऊंगा जरूर मगर जैसा मैं कहूँगा, तुम्हें वैसे करना होगा. वो मुंबई में रहती हैं, मैंने भी अपनी पढ़ाई पूरी कर ली और मुझे एक्टर बनने की इच्छा थी तो मैं अपनी बहन के पास रहने के लिए चला गया.

उसका घर और मेरा घर एकदम अगल-बगल में था, हमारी छतें भी मिली हुई थीं. घर आते ही मैंने अपनी बेटी रेखा से कहा- बेटी, पिंकी को कहीं घुमाने ले जाओ. लम्बीचुदाई का तूफानथमा तो एक-दूसरे को देख कर मुस्करा दिए; बिस्तर पर देखा तो खून था.

मैंने उसे थोड़ा नीचे खींच कर एक धक्का और मारा तो उसकी चीख निकल गई, चूत में आधा लंड उतर गया था और लंड ने कौमार्य की झिल्ली को फाड़ दिया था.

एक तरफ़ तुझे बिगाड़ रही है और दूसरी तरफ़ अपने भोले भाई को फास्ट बना रही है. मैं आंटी के दूध से खेलने लगा, आंटी की नींद खुली तो उस समय मैं आंटी के दूध पी रहा था. मैंने कहा- मैडम! आप बुरा न मानो तो एक बात बोलूं? कहाँ आप इतनी पढ़ी लिखी, लाजवाब पर्सनॅलिटी वाली कल्चर्ड लेडी और कहाँ ये आपके साधारण से पति.