हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ तमिलनाडु

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी नंगी सेक्सी पिक्चर: हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन, उसने फ़ौरन अपने होंठ चुत पे लगा दिए और जीभ से चुत को चूसना शुरू किया.

बीएफ 4जी वीडियो

जैसे तैसे दिन बीत गया पर मेरे दिमाग़ में तो बस एक ही बात घूम रही थी कि क्या मेरी बहन पहले भी किसी से चुद चुकी है?बस उस दिन से दीदी को देखने का मेरा नजरिया बदल गया, अब तो मैं भी उसे एक माल की तरह देखने लग गया और सोचने लगा कि जब मेरी दीदी दूसरों की प्यास बुझा सकती है तो मेरी क्यों नहीं!अब मैं उसे एक जवान लड़की की तरह देखने लगा. बीएफ सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्स एचडीमैं सलोनी के पास गया और उनको भी अपने गले से लगा लिया और साथ ही चूतड़ सहलाने के साथ उनकीगांड की दरार में उंगलीभी कर दी.

मैं- मैं आपकी कुछ हेल्प कर सकता हूँ?भाभी- ओके वो जैल लगा कर थोड़ी कमर की मालिश कर दो प्लीज़. चावला बीएफजैसे ही मैंने दीदी के एक चूचे को पकड़ा, दीदी की एक आवाज आई- सब कुछ तू ही करेगा या मुझे भी कुछ करने देगा?वो दीदी की मादक आवाज थी.

उसने मुझे फिर से देख लिया मगर आज भी उसने कुछ नहीं कहा और वो अपना काम दिखा कर चली गई.हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन: उसने अपना लंड निकाला, मुझे अपनी तरफ घुमाया और किसी जानवर की तरह मेरे होंठ खाने शुरू किये, साथ में वो मेरे मम्मे बेदर्दी से दबा रहा था.

फिर मैं सारा दिन उसको शादी में ढूंढता रहा लेकिन वो कहीं भी नहीं दिखी.फिर जब मैं उनको खाना परोस रही थी तो झुक झुक कर अपने बेटे को अपने दूध दिखा रही थी.

हिंदी बीएफ बात करते हुए - हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन

सुमन की बात दोनों ने मान ली और तय ये हुआ कि सबसे पहले टीना अपनी चुत की चुदाई की कहानी बताएगी, उसके बाद फ्लॉरा.और तू अपनी कामवाली को तो जानती ही है कितनी मक्कार है काम करने में, उसके सिर पर खड़े होकर काम करवाओ तभी करती है; अगर मैं तेरे पास आ गई तो समझ लो घर का क्या हाल करेगी वो और सबसे बड़ी बात तू तो जानती हीहै मेरे घुटने का दर्द; स्टेशन की भीड़ भाड़ में पुल चढ़ना उतरना मेरे बस का अब नहीं रह गया.

उसने कई चांटे मारे मेरी गांड पर और यह सब कहते हुए राहुल ने मेरी गांड पर अपना लंड रखा तो वो थोड़ा सा फिसल गया. हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन इस बार मौसी ने मुझे सिखाया कैसे अपने पर काबू रख कर औरत का पानी पहली गिराया जाता है.

वो बोली- मुझे पता है, आप मुझे ही देख रहे थे न?मुझे पता चल गया कि ये कुंवारी लड़की भी चुदाई की बहुत प्यासी है.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन?

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:बिजनेस बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुद गयी-2. तो बोली- हाँ मैं भी! और करो और जल्दी और आह आअह्हह!फच्च फच्च की आवाज चल रही थी और मैंने एक बड़ी सी गुर्राहट ली और अपना लंड कंडोम से बाहर निकाल सारा माल उसकी गांड पर डालने लगा, उसकी गांड मैंने अपने वीर्य से भर दी. क्या बात है?उसने पूछा- तुम अपने घर की चाभी अगर मेरी वाइफ को दे सकते हो तो अच्छा रहेगा, वो जब भी बोर होगी तो तुम्हारे घर आकर टीवी देखने बैठ सकती है।मैंने हंसते हुए कहा- ओके नो प्राब्लम.

मैं अन्दर आकर सोफे पर बैठ गया, वो मेरे पास आई और बोली- चाय पियोगे या पानी लोगे?मैंने कहा- कुछ नहीं. वैसे तो सुमन और टीना के मम्मों में बहुत फर्क था मगर संजय को पता था ये सुमन है. मैं धीरे-धीरे ऊपर गया तो मैं हैरान हो गया कि दीदी पड़ोस वाले लड़के सुमित की गोद में बैठी थी.

क्यों बार-बार खड़ा हो रहा है। कहीं मेरे दिल में सुमन के लिए तो कुछ. मैं उसके मस्त लंड को जीन्स के ऊपर से ही सहलाने लगा और मैंने अपना मुँह उसके लंड पर पैंट के ऊपर से ही रख दिया. मामा का लंड थोड़ा खट्टा और नमकीन लग रहा था, पर मुझे लंड चूसने में मज़ा आ रहा था.

उसने मेरे वीर्य का टेस्ट भी मुझे कराया था, जो मैंने लाईफ में पहली बार लिया था. मैंने मेरी बीवी की चूत को थूक लगाया और अपना लम्बा लंड उसमें डालने लगा.

गुलशन जी ने टी-शर्ट थोड़ी ऊपर की तो सुमन आगे की ओर झुक गई- पापा थोड़ा ऊपर करो ना प्लीज़.

चल जाने दे मैं तेरी चुदाई नहीं करूंगा मगर तुझे मैं खुलकर प्यार तो कर सकता हूँ ना.

तुझसे अब क्या छुपाना जब में गाँव गई थी, मेरे पति के चाचा के बेटे यानि भाई ने ही मुझे दबोच लिया था. गुलशन जी समझ गए कि अब रस की धारा आने वाली है, वो जल्दी सेबेटी की चुतसे चिपक गए और चुत को होंठों में दबा कर चूसने लगे. दोस्तो, मेरी कहानी जिसमें मैंने अपनी सगी बहन को चोदा, के छः भाग आ चुके हैं, मुझे काफी मेल आ रहे हैं, सभी ने मेरी सेक्स कहानी की तारीफ की है पर मैं आपको बता दूं कि यह कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है.

अब मुझे क्या, मैंने उसके कहने के साथ ही एक झटके से लंड उसकी चूत में पेल दिया, आह- आराम से पेलो यार, इतना लंड इस चूत में गया है, लेकिन तुम्हारे लंड ने मुझे एक बार फिर से दर्द का अहसास करा दिया है. मेरे प्यारे साथियो, आप मुझे मेरी देसी सेक्स स्टोरी पर भद्दे कमेंट्स ना करें. आप क्यों बोल रहे थे चुत फट जाएगी?संजय- अरे पागल अभी इतना समझाया कुछ नहीं फटी.

भाभी ने इठलाते हुए अपनी जाँघों के फंसी चुत को खोला… आह्ह… उनकी क्या मस्त पिंक चुत थी… मैं देख कर मस्त हो गया.

वैशाली कहने लगी- मैं आपका अंदर नहीं लूँगी, मैं चौड़ी कर लूँगी, आप ऊपर डिस्चार्ज कर देना. उसने एक झटका मारा और उसका मस्त सुपारा मेरी गांड में चला गया और मुझे बहुत तेज दर्द हुआ मानो किसी ने गांड में बेलन फंसा दिया हो. कुछ देर बाद नताशा भी हमारे कमरे में आ गई, और मैंने एंड्रयू के साथ अपनी बीवी का परिचय कराया.

मैंने उसकी आँखों को पौंछा और उसे धीरज बँधाया तो वो मुझसे गले लग गई और फिर हम कब एक दूसरे में खो गये, हमें पता ही नहीं चला. पहले तो वे रोहित के सामने कुछ भी नहीं कहना चाहती थीं लेकिन जब रोहित ने उन्हें अपनी दोस्ती का वास्ता दिया तो सविता भाभी ने रोहित के सामने अपनी भड़ास निकालने शुरू कर दी कि आज मैंने अशोक को किस तरह से रिझाने का सोचा था. और मुझे किश करने लगे, मैं भी मामा जी का साथ देने लगी, मेरा निचला होंठ पूरी तरह से मामा जी के मुँह के अंदर जा चुका था.

स्वाति जैसी लंबी, गोरी एंव सुंदर है, वैसे ही चन्दन भी गोरा, चौड़े सीना वाला, छरहरा शरीर का गोरा लड़का है और वह भी एक बैंक में कार्य करता है.

मैंने देखा कि रिया के साथियों ने भी अपने लंड उसके छेदों से बाहर निकाल कर अपने पानी की बौछार उसके मुँह और सीने पे कर दी थी. आज मानसी की चूत की धज्जियाँ उड़ने वाली थी और मेरे लंड की वो दावत होने वाली थी जो इसकी कभी ना हुई थी और ना कभी ज़िन्दगी में दोबारा होनी थी.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन मैं यही सोच रहा था कि कब चाची सोएं और मैं उनकी चूत के दर्शन करूँ पर मेरी उम्मीदों पर पानी तब फिर गया जब चाची बोलीं कि चलो छत पर सोते हैं. मीना ने अपनी तरफ़ से जितना हो सका मोना को चुदने के लिए मना लिया, उसके बाद वो चली गई.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन जब माला के मुंह से सिसकारियाँ निकलती, तब मेरी उत्तेजना बढ़ जाती और उसके मुंह में मेरा लिंग-मुंड फूल जाता जिस से उसकी आवाज़ निकलना बंद हो जाती. लगभग 15-20 मिनट में हम दोनों एक दूसरे की गर्म सांसों को महसूस करने लगे.

जहाँ हमारी बेंच में 20-25 लोग बैठे थे, वहीं लड़कियों की बेंच में 7-8 लोग ही बचे थे.

बीपी सेक्सी भोजपुरी

यह सुन कर मेरे मन में निराशा छा गई, पर एक तरफ ये भी लगा- चलो, अभी नहीं तो चार पांच दिन बाद सही!फिर उसी रात अंकल का अलग कमरे में बिस्तर लगा दिया और वो थके होने के कारण जल्दी सो गए और पूजा मेरी बहन के साथ सोने लगी. ‘तो मैं कब तुमसे प्यार नहीं करती बुद्धू?’ ऐसा कहकर भाभी ने मेरे गाल पर चुम्मा दे दिया और कहने लगी- अब तो मैं भी तुमसे बहुत प्यार करने लग गई यार … पर मिलन कैसे होगा, मुझे इसी बात का डर है. !सुमन की बात सुनकर गुलशन जी खुश हो गए, उनको लगा सुमन भी यही चाहती है कि उसके पापा उसको मज़ा दें.

यह सोच कर जैसे ही सरिता उठने को हुई तो पैर फिसल गया और गिरने को हुई तो रमेश पकड़ लिया. इस कल्पना में चुदाई के दृश्य इतने कामुक तरह से चित्रित किए गए हैं कि आपका मन चुदाई के लिए एकदम से भड़क उठेगा. ऋतु- क्या तुम्हें इसके रस का स्वाद पसंद आया?पूजा शर्माते हुए- हाँ… ठीक था.

ना चाहते हुए भी मेरे मुँह से निकल गया- आप मुझसे यूं चिपक कर बैठी हो तो मुझे कुछ-कुछ हो रहा है.

फच फच की आवाज़ से गूँज रहा था।इस धकापेल चुदाई से हम दोनों ही पसीने से भीग गए थे। वो भी मेरी बॉडी के पसीन से लथपथ हो गई थी। मैंने उसको अपने ऊपर लिटा कर चोदना स्टार्ट किया. फिर मैंने थोड़ी और हिम्मत की और इस बार हाथ सीधे उनके सीने पर यानि दांईं चूची पर रख दिया और चुपचाप लेटा रहा. उसके आने से पहले ही हम माँ बेटे की चुदाई कैसे हो गई, पढ़ें!आलोक को आने में समय लगना था, उसका घर दूर था.

वो बोली- क्यों?मैं डरता हुआ बोला- हमारा तो काम ही ऐसा है कि जेब में दर्ज़न और बंदा स्टिल वर्जिन. सविता भाभी को ये जानकर बड़ी निराशा हुई कि अशोक को उसकी कोई परवाह ही नहीं है, आज उसके मन में चुदाई को लेकर कितने अरमान थे. मैंने अब भाभी के पेटीकोट के अन्दर हाथ करके उनकी पिछाड़ी के ऊपर के हिस्से में हाथ फेरते हुए मालिश करना शुरू कर दी.

नहा कर जब मैं बाहर आया तो खाना बन रहा था, तो मैं भी दीदी की कुछ हेल्प करने लगा. मैं- अनुराधा, एक प्रॉमिस करेगी?अनुराधा- क्या?मैं- तू ज़िंदगी भर मेरी रांड बन के रहेगी?अनुराधा- मतलब?मैं- मतलब, मैं जब चाहूँ तुझे चोद सकूं, चुत चूस सकूं.

उसने कहा- आप मेरी हेल्प कर देंगे न?मैंने कहा- तुम चिंता मत करो, तुम्हारी हर समस्या का समाधान कर दूंगा. मौका देख मैंने भी जल्दी-जल्दी अपने कपड़े खोल लिए और अब मैं उसे चोदने के लिए पूरा तैयार था. इसके 2 मिनट बाद ही मैं भी तेज झटकों के साथ उसकी बुर में ही झड़ गया.

पीटर ने मेरे मम्मे पकड़े और फिर एक करारा झटका मारा। मेरी तो सांस ही अटक गई.

अगले दिन मैं उसके साथ मार्केट में घूमा और पूरा मार्केट देखने के बाद उसके साथ एक छोटे से बार में जाकर बियर पी. ’पापा ने अपनी रफ्तार बढ़ा दी, नीचे से मैं अपने चूतड़ों को हवा में उछाल रही थी कि तभी मेरी चुत से कुछ निकलने को हुआ. पर मेरी बहन को नींद काफी आ रही थी, उसने कहा- तुम देखो, मैं सोने जा रही हूँ.

भाभी की चूत चाटते हुए मैंने अपनी एक उंगली उनकी चूत में डाल दी और अन्दर-बाहर करने लगा. वो बार बार बात करते करते मेरे मम्मों को देखता था, मुझे थोड़ी शर्म आई.

मैंने उसकी ब्रा को भी निकाल दिया और उसकी चूचियों को हाथों में भर कर बारी बारी पीने लगा, साथ में उसके गालों और होंठों को चूसता रहा. वो बोलीं- क्या तुम्हें पता है कि इनको छूने से औरतों को घबराहट सी होती है?मैं चुप होकर सो गया, फिर थोड़ी देर बाद वो खुद से मेरा हाथ पकड़कर अपने मम्मों पर रख कर बोलीं- क्या करना चाहते हो. बीच बीच में मैं अपनी जीभ उसकी गांड के छेद पर भी फिरा देता, तो वो एकदम सिहर उठती.

न्यू आंटी सेक्स वीडियो

वो ये चुदाई की आवाजें सुनती रही मगर जब उसको लगा वो खुद गर्म हो रही है तो सच में वो जाकर सो गई क्योंकि उसको पता था पापा अब शाम तक फ्लॉरा को नहीं छोड़ेंगे.

‘पर मेरा अभी नहीं हुआ है चाची, मुझे चोदने दो अभी!’चाची बोली- ठीक है चोदना शुरू कर और पिला दे अपना पानी मेरे चुत को!मैंने चाची की चुत में लंड हिलाना शुरू किया. अब तक की इस चोदन कहानी में आपने पढ़ा था कि सुमन अपनी माँ से अपने इकलौते होने के कारण पर सवाल-जबाव कर रही थी. आआअ स्ससस स्स्सह…हाहाह!”15 मिनट धीरे धीरे तड़पा तड़पा के चोदने के बाद उसका पानी निकल गया ‘आआ समीर आआआ हाहाह… तुमने बहुत तड़पाया मगर ऐसे चुदने में मजा भी बहुत आया.

जब रीना को विनय से प्यार हुआ, तो उसे कविता का ख्याल आया कि बिना उसके कविता कैसे रहेगी. मेरे फेसबुक प्रोफाइल पे भी कहानियाँ अपडेट होती रहती हैं, बाकी ईमेल का तो मैं रिप्लाई देता ही हूँ. बीएफ सेक्सी व्हिडिओ ओपनइस बार सुलेखा और मुझे गर्म होने में देर नहीं लगी, क्योंकि सुलेखा वैसे ही हॉट ज़ल्दी हो जाती है.

शायद उसने आज अपनी चूत के बाल साफ़ किये थे… मेरे तो मुंह में पानी आ गया. वो भाग कर टीना के पास गया और उससे लिपट कर जोर से रोने लगा- मुझे माफ़ कर दो दीदी, सॉरी मुझसे ग़लती हो गई प्लीज़ दीदी.

बहन की चुदाई की आगे की कहानी अगले भाग में… आप अपने विचार मुझे मेल कर सकते हैं साथ ही इंस्टाग्राम पर भी जोड़ सकते हैं. वैसे वो बात तो सामान्य ही कर रहा था लेकिन नशे में सेक्स का इतना ज्यादा ध्यान नहीं रहता है. एक सांस में दारू का गिलास खत्म किया और उसे कहा- हम लोग गलत जगह आयी हैं.

मेरा तना हुआ लुल्ला उसके मुँह के बिल्कुल पास था, जिसे मौसी ने थोड़ा सा सर उठा कर अपने मुँह में ले लिया. टीना- मैंने सोचा आज तू अपने पापा के साथ कोई गेम खेलेगी, ये सोचकर मैं तेरे घर नहीं आई. मेरा मन बहुत करता कि किसी और के पास जा कर चुत की भूख मिटा आऊं, पर मुझे बदनामी का डर लगा रहता था, इसलिए मैंने आज तक किसी बाहरी आदमी से नहीं चुदवाया.

सुमन भाभी ने भी अपनी गांड ऊंची कर दी, जिससे आराम से पैंटी निकल जाए.

मैंने राहुल से जय के बारे में पूछा तो वो कुछ नहीं बोला और मुस्करा दिया. आज उन्हीं के आग्रह पर मैं मेरे और उनके बीच हुए एक अत्यन्त कामुक रोमांचित और आनन्दमयी सेक्स समागम का यहाँ वर्णन करने जा रहा हूँ.

क्या कातिलाना मुस्कान थी वो… उस मुस्कान के साथ वह जवान लौंडा और भी कामुक लग रहा था. फिर प्रिया के घर जा कर मैंने उससे पेपर्स लिए और अपने घर वापस आ गया, नेहा अपने घर चली गई. (फुसफुसाते हुए) वैसे मैंने उसकी और उसकी ननद दोनों की चूत सुजा दी पर तुम जमीला को बताना मत.

मेरे मुँह से जोर-जोर से चीख निकलने लगीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह…तभी मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया, पर मामा रुकने का नाम ही नहीं ले रहे थे. मैंने अपने एक हाथ उसकी बुर पे रखा और उसकी बुर में अन्दर बुर के दाने पे ले गया. जब गोपाल ने अपने होंठ नीतू की चुत पे लगाए तो वो सिहर गई और उसका विरोध कम हो गया.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन फिर मुझे ऊपर से किस करते हुए नीचे लंड राजा तक आ गई और मेरे लंड को चूसने लगी. फच्च की आवाज़ के साथ लौड़ा बाहर निकाला, जिस पर खून और वीर्य लगा हुआ था.

सेक्सी वीडियो भाभी देवर

उस दिन मैं उनके घर कुछ सामान देने के लिए गया था और अहोभाग्य कि आंटी जी घर पर नहीं थीं. आप क्यों बोल रहे थे चुत फट जाएगी?संजय- अरे पागल अभी इतना समझाया कुछ नहीं फटी. मम्मी सिर्फ ब्लाऊज में दीवार से सट कर अपना बदन छुपाते उकडू बैठ कर सुबकने लगी.

अब मुझे उनके चूचे छूने में शर्म आती थी और वो भी अब मुझे उतना नहीं चिपकाती थीं. उसको इंडिया से बहुत लगाव था इसलिए वो अपने पापा से ज़िद करके इंडिया पढ़ने आ गया था. एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स एक्स वीडियोरिया ने कहीं से जुगाड़ करके सुला रासा की वाइन मंगाई थी और हम दोनों सोफे पे पसर के उस बेहतरीन वाइन की चुस्कियां ले रही थी.

रमेश ने सरिता की पैंटी को उतार कर उसे नंगी कर दिया और अपना लुंगी खोल कर उसके हाथ को लंड पर रख दिया.

मेरी बाइक पर मैं मेरी वाइफ और मेरी दोनों सालियां चलने को आई, तो मैंने मेरी छोटी साली को मेरे पीछे बिठा लिया ताकि मैं उसके मम्मों का मजा ले सकूँ. मुझे ये था कि अगर अभी ज़्यादा छू कर देख लिया, तो कमरे में जाकर सेक्स करने का मज़ा खत्म हो जाएगा.

मैंने फिर से चाची को पकड़ लिया पर इस बार चाची ने मुझे धक्का दे दिया. मैंने उन्हें लंड चूसने को बोला तो वो बाइक पर से नीचे उतरीं और झुक कर मेरा लंड लॉलीपॉप की तरह चूसने लगीं. थोड़ी देर बाद बच्चे स्कूल चले गए और घर में सिर्फ मैं, चाची और चाची का छोटा बेटा ही बचे.

बस दोस्तो यही मेरा मकसद था आपको बताना कि कभी रिश्तों को गंदा मत करना.

अब बनाने का भी इरादा है क्या?गोपाल- अरे नहीं जान मेरा ये मतलब नहीं था. मैंने मोहन को फोन किया तो कोमल ने उठाया- हेलो, राजेश हमने तुमको कितना फोन किया? कहाँ बिजी थे?मैं- सॉरी डार्लिंग सो रहा था, तुम सुनाओ क्या कर रही हो?कोमल- कल शाम को जमीला का फोन आया था, कह रही थी कि उसकी चूत सुजा दी चोद चोद के! तो हमने प्लान किया कि चलो स्काइप पर तुम लोगों के साथ हम भी दिन में चुदाई का आनन्द ले. कुछ देर बाद उसने अपनी गांड उठाते हुए कहा- अब मुझसे सहन नहीं हो रहा, कुछ करो.

दिल्ली का सेक्सी वीडियो बीएफउसके बाद हम अंदर गये तो उनका पति उन्हे ढूँढने बाहर आ रहा था, उसने पूछा- कहाँ रह गई थी?तो उसने जो जवाब दिया उससे मैं थोड़ा शॉक हुआ, उसने कहा- बाहर गेट पे पूजा का कुछ समान छूट तो नहीं गया, चेक करने गई थी. उसने अपने पैर फैला दिए और मैंने उसके पैरों के बीच ठीक चुत के नीचे अपना लंड लगा दिया.

नंगी देसी

फिर मोना ने नीतू की मदद से खाना बनाया और दोनों ने अच्छे से खाना खाया और मोना उसे अपने कमरे में साथ ले गई. मेरी पीठ पे दबाव डाल कर उसने यश को कहा- यश, लपेट लेना इस कुतिया को, मुझे अब इसकी गांड मारनी है. भगवान खुद यही चाहता है कि आज तुम खुलकर जी लो ताकि फिर कभी पछतावा ना हो कि ग्रुप सेक्स का मौका मिला था मगर मैंने गंवा दिया.

मैं घबरा कर वापस आने लगा तो मैंने देखा कि वो केवल पेटीकोट और ब्लाउज़ में थीं और उनका क्लीवेज साफ मुझे दिख रहा था. अमेरिकन लड़का नताशा की सुन्दरता देख कर बहुत प्रभावित हुआ था और वो हर समय उसे ही देखे जा रहा था. तो इस रसभरी सत्य कथा का मज़ा लीजिये और पढ़ते पढ़ते जैसे चाहें मज़ा लीजिये पर मुझे अपने कमेंट्स नीचे लिखी मेल आई डी पर जरूर लिखिए.

अब डिनर करके जाओगे क्या?चलो थोड़ा सुमन के होम सेक्स को भी देख लो, आज उसकी सील टूटने वाली है तो उसने क्या किया है. जब वो घोड़ी बनी तो मैंने उसके पीछे से अपना लंड उसकी चूत में डाला और बजाए उसके कंधे पकड़ने के मैंने उसकी बालों की चोटी अपने हाथ में पकड़ ली, और उसके बाल खींच कर मैंने उसकी चुदाई की. उनकी उम्र 45 साल की है और केवल 26 साल की उम्र में उनके पति उन्हें छोड़ कर इस दुनिया से चले गए थे.

भाभी चिल्लाईं- सुअर की औलाद… भोसड़ी के मेरे मुँह में गिरा ना…मैं माल गिरा कर वापस आया और उनकी साड़ी उतार कर उनको पूरा नंगी कर दिया. अब खेल शुरू करने के नजरिये से मैंने अगले दिन बड़े गले वाली नाइटी पहनी, वो भी बिना ब्रा के, जिससे मेरी चुची नाइटी में उभर कर दिख रही थीं.

क्या सोचने लगे?गुलशन जी की तो हालत देखने लायक थी मगर उन्होंने कुछ ग़लत नहीं सोचा और सुमन की गर्दन पर धीरे-धीरे दबाने लगे.

ये समझते ही मुझे बहुत खुशी हुई कि मैंने ही मेरी रीना की सील तोड़ी है. एक्स एक्स एक्स बीएफ मूवी हिंदी मेंसुमन ने थोड़ी देर सोचा कि पापा सही कह रहे हैं और पापा से चुदवाने में एक फायदा और भी है. लड़की की सील टूटते हुए बीएफमुझे उस बेचारी पर बहुत तरस आ रहा था कि उसे गर्म करके ऐसे ही जा रहा हूँ. मैंने अपने हाथ उसकी चौड़ी गांड पर रखे और उन्हें दबाते हुए नीचे से धक्के मारने लगा.

कॉम सर्च कर रहा था कि तब मुझे अन्तर्वासना हिन्दी सेक्स की साईट मिली.

तो वो गेट लगाने के लिए बाहर गई। मैं भी भाग कर गेट पर पहुँचा और गेट लगते ही उसको मुँह में मुँह डालकर फ्रेंच किस करने लगा। हम एक-दूसरे को क़िस कर रहे था. इसलिए अब तक जितने भी लोगों से दोस्ती की है और जिनसे रिलेशन बने, वो हमेशा मेरी रिस्पेक्ट करते है और मैं उनकी. मेरी उम्र अभी 19 साल की है, मेरे घर में मेरे मम्मी-पापा और मेरा भाई रहता है.

मैं शौर्य सिंह जालंधर पंजाब का रहने वाला हूँ, अच्छा गठीला बदन है मेरा…यह उस समय की बात है जब मैं कॉलबॉय बनने की कोशिश में था. सब मुझे पागलों की तरह नोच रहे थे, जिसको जो अंग मिलता, वो उसी को अपने दाँतों से काट रहा था. हमारे आस पास लोग थे तो मैंने बात को और नहीं खींचा, मैं बैठे बैठे दूल्हा दुल्हन की फोटो खींच रहा था, उसने मुझसे मेरा मोबाइल माँगा और अपने पिक्चर लिए, वो मुझसे बोली- आपके मोबाइल से पिक्चर अच्छी और क्लियर आ रही हैं.

क्सक्सक्स वीडियो देहाती

यह मेरा पहला अनुभव था कि कोई लड़की से गले मिले, हालाँकि कुछ देर पहले ही चुदाई का नया पाठ सीखा था. … आह और चूसो उम्म्ह… अहह… हय… याह… आउ आऊ… आऊ…’ अपनी गांड उठा उठा कर चूत को मेरे मुँह पर दबाने लगी, मैं भी उसकी चूत में दो उंगली डाल के आगे पीछे करते हुए चूत को जोर-जोर से चाटने लगा. उसको चोदने की इच्छा मेरे अन्दर कुछ कारणों से जागी, जैसे उसका मेरे साथ इस तरह की बातें करना, उसके फ़ोन में गंदी-गंदी फोटो पाना और बहुत कुछ इस तरह का होता था जो उसके चुदक्कड़ होने की तरफ इशारा करते थे.

सोफे पर पटक कर उसने मेरी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखा और फिर से अपना लंड मेरी गांड में पेल दिया.

बैंक के आस-पास हो तो मुझे भी छोड़ दो।तो वो बताने लगी कि बैंक में उसका काम 5 बजे ही खत्म हो जाता है.

हेमा ने सुमन की तरफ गुस्से से देखा- तेरे दिमाग़ में ये बात आई कैसे?सुमन- माँ बस ऐसे ही ख्याल आ गया अगर आप नहीं बताना चाहती तो कोई बात नहीं. उसने अपना नाम सुमन बताया और हम दोनों ने अपने मोबाइल नंबर एक दूसरे को दे दिए थे. स्कूल वाली लड़कियों की बीएफउसने करवट ली और मेरे सीने पे अपना सर रख दिया, जैसे वो मेरी पत्नी हो, या दिलरुबा हो.

माँ ने भी मुझे अपने से चिपका लिया और मुझे अपने ऊपर खींच कर मेरे चूतड़ों को दबाने लगी और मेरे जीभ को मुँह में चूसने लगी फिर जीभ से जीभ टकराने लगी. तो आजा मेरी जान तेरे लिए तो लंड हमेशा तैयार है।पूजा- मामू आज हम कुछ नया करेंगे।संजय- अच्छा ये बात है. सविता भाभी जब अकेली रह गईं तो वे सोचने लगीं कि काश उनका पति का सोच मेरे पूर्व प्रेमी प्रेम जैसा होता तो कितना सुहाना होता.

वो सिसकते हुए बोल रही थी- ओह बेटा, ऐसे ही, हाँ ऐसे ही चोदो, अपनी माँ को ओह ओह हाँ हाँ और जोर से, बस पूरा पूरा पेल के आह आह हां बेटा उईई ईईई आईई इसी तरह से ज़ोर-ज़ोर से धक्का लगाओ, इसी प्रकार से चोदो मुझे… आह… सीईईई. ’फिर टीचर ने कहा- कपड़े पहन लूँ?मैंने कहा- कौन सा कोई देख रहा है।टीचर हंस दीं.

उसने ड्रिंक आर्डर कर के सिगरेट जला ली तो मेरा भी सिगरेट पीने का मन हुआ.

मैंने रजनी से कहा- अगर दीपक उठ गया तो?वो बोली- नहीं उठेंगे, भैया बहुत गहरी नींद में सोते हैं. सुमन अच्छी तरह जानती थी कि उसकी माँ किचन से एक घंटे पहले बाहर नहीं आने वाली. इसके बाद सासू मां अपनी एक उंगली चंदन के होंठों पर रख कर बोलीं- धत्त, ऐसा नहीं बोलते.

देहाती सेक्सी वीडियो बीएफ फुल एचडी अब मैंने उनके पैरों को पकड़ा और चुमते हुए ऊपर उनकी जांघों तक पहुंचा. मैंने कहा- भाभी, यदि ऐसा है तो आप अपनी बहन की शादी मुझसे ही करवा दो.

यह सुन कर मेरे मन में निराशा छा गई, पर एक तरफ ये भी लगा- चलो, अभी नहीं तो चार पांच दिन बाद सही!फिर उसी रात अंकल का अलग कमरे में बिस्तर लगा दिया और वो थके होने के कारण जल्दी सो गए और पूजा मेरी बहन के साथ सोने लगी. ‘चलो अच्छा ही है’ मैंने भी मन ही मन सोचा और मुझे राहत भी मिली, आखिर गलत काम करने का दोषी तो मैं भी था. रानी के मुंह पर पीड़ा के चिह्न उभरे लेकिन वो दर्द को पी गई पर मुंह से कुछ न बोली.

मोहन सेक्स

मम्मी परेशान… अंत में उन्होंने अपनी पूरी साड़ी खोली और धीरे से खिड़की के अंदर फेंक दिया. रानी भी चुम्बन का जवाब देने लगी साथ में वो अपना एक हाथ नीचे लाई और मेरे लंड को पकड़ कर चूत के छेद पर लगा लिया और अपनी एड़ियों पर उचक कर अपनी कमर उछाली. कुछ घण्टे पूर्व जिस लड़की ने मुझे ज़लील किया था वही एक बार पुनः मेरे साथ बिस्तर में बैठी थी.

मैंने एक झटके से गिलास उठा कर अपने हलक से उतार लिया और उसके हाथ से सिगरेट लेकर दो लम्बे कश खींचे और गांड मटकाते हुए टेबल से ब्रा-पैंटी और नाइटी उठा कर वॉशरूम में वापिस आ गयी. मैंने कहा- सरिता जी, आप बेहद खूबसूरत लग रही है साड़ी में!वो थोड़ा शरमाई और बोली- शुक्रिया, लेकिन अब मैं जवान नहीं रही, आप तो जवान हैं.

मैंने मामा को मैसेज किया और पूछा- कहाँ हो आप?तो मामा ने रिप्लाइ मैसेज किया- क्लास मैं हूँ.

मेरा चरमोत्कर्ष हो गया था, बदन काँप रहा था, योनि बार बार मेरी तेज सांस के साथ साथ संकुचित हो रही थी और मुझे योनि के अन्दर पानी रिसता हुआ महसूस हो रहा था. मुझे फ्रेंच किस देने लगीं। मैं उनकी पीठ सहलाने लगा।मेरा लंड तो पहले से ही सलामी दे रहा था।मैंने कहा- भाभी आप मेरी टी-शर्ट खोलो. गोवा की हवा और वाइन का सुरूर ऐसा छाया कि शावर के नीचे हम दोनों मतवाली हो गयी.

मेरे पापा ने उन्हीं के साथ जॉब की थी और काफी दूर के रिलेशन में भी हमारे अंकल यानी चाचा जी भी लगते थे. वैशाली बहुत ही गरम हो चुकी थी, उसने मेरी पैन्ट निकाली और मेरा लंड हाथ में लेकर जोर जोर से हिलाने लगी. अब तक की इस बाप बेटी सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि सुमन ने अपनी पापा की गोद में बैठ कर खुद अपनी चुत को पानी-पानी कर लिया था और गुलशन जी के लंड को भी उत्तेजित कर दिया था.

और आज पहली बार मुझे मेरे लंड पर गुस्सा आया कि आख़िर ये इतनी जल्दी क्यों खड़ा हो रहा है.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ इंडियन: चूंकि मेरी बेटी अभी छोटी थी, इसलिए उसे इस सबसे कोई फ़र्क नहीं पड़ रहा था. करीब 5 मिनट ऊपर नीचे-होने के बाद मेरा लंड गीली चुत की वजह से स्लिप करके बाहर निकल गया।मैं- भाभी आप लेट जाओ.

मैं उठ कर बैठी और जोर से रिया के चूतड़ों पे तमाचा मारा।ना नुकूर करते करते वो भी उठ गयी. मैंने उससे बताया तो वो बोली कि अन्दर ही निकाल दो।मैंने कहा- रिस्क नहीं लेना चाहिए।तो वो बोली- मेरा भी होने वाला ही है. जैसे ही मैंने हाथ मिलाया, उसके गरम हाथों के स्पर्श से मेरा लंड खड़ा हो गया.

तभी वो बगल में बैठा लड़का फिर फुसफुसाया- देखा लौड़े के, मैं मना कर रहा था.

जब सब सो गए तो संजय ने पूजा को दवा दे दी और अपने हाथ से उसकी सूजी हुई चुत पे मलहम लगा दी. उधर टीना और बरखा भी समझ गई थीं कि अब लोहा गर्म है तो हथौड़ा मार देना चाहिए. ऋतु- बिल्कुल कर सकती हो!और उसने पूजा का चेहरा पकड़ कर आगे किया और दूसरे हाथ से मेरा लंड पकड़ कर उसके मुंह में डाल दिया.