सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो

छवि स्रोत,भोजपुरी बीएफ एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स ना वीडियो: सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो, पहली बार कोई मर्द मेरे दोनों मम्मों को एक-एक हाथ में पकड़ कर सहला रहा था।वे मेरी आँखों में एकटक देखते हुए बोले- ये क्या है निकी?मैंने बहकी सी आवाज़ में कहा- मेरे मम्मे हैं यार…उन्होंने कहा- किसके?मेरे मुँह से अपने आप निकल गया- आप लोगों के…अब मेरी ज़ुबान से काबू हट गया था…‘इतने बड़े कैसे हुए.

एक्स एक्स एक्स ब्लू फिल्म एचडी में

वो मैं बता नहीं सकता…भाभी भी खूब मज़े लेकर चुदवा रही थी और मुझे अपनी बाँहों में जकड़े हुए थी। करीब 20 मिनट तक हमने खूब ज़बरदस्त चुदाई की और फिर मैं भाभी के अन्दर ही झड़ गया। भाभी भी झड़ चुकी थी।हम दोनों कुछ देर एक-दूसरे से लिपटे पड़े रहे और चुम्बन करते रहे।उस रात हमने 4 बार चुदाई की और मैंने अलग-अलग आसनों में भाभी की चुदाई की। फिर सुबह मैं अपने घर चल दिया।वो दिन मेरी ज़िन्दगी का सबसे अच्छा दिन था. एक्स एक्स वीडियो फिल्म वीडियोसेक्स के दौरान वो खुल कर अपने प्रेमी का नाम ले ले कर सिसकारियाँ भरती है, उसके साथ किये गए सेक्स का जिक्र करती है.

जिनमे वो सिर्फ़ ब्रा और पैन्टी में थीं। तब मेरे दिमाग़ में एक ख्याल आया और मैंने वो फोटो अपने मोबाइल में ले लीं और उनके मोबाइल में से डिलीट कर दीं।फिर कुछ दिन ऐसे ही निकल गए. सेक्सी ब्लू वीडियो भेजिएचुम्बनों की बौछार कर रहा था। वो अब गरम हो रही थी और मेरा लण्ड भी खड़ा हो रहा था।जब मैं ज़ोर से उसकी रसभरी चूचियों को दबाता.

लेकिन मैं भी अपने हाथ का उपयोग नहीं कर सकता हूँ।तब वो बोलीं- ये कैसी विधि है कि हम हाथ का उपयोग किए बिना स्वास्तिक निकालें.सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो: मैंने दरवाजा बंद कर दिया और उसको अपनी बाँहों में भरते हुए चूमने लगा। वो छूटने की कोशिश करने लगी।मैंने एक हाथ से उसके पेटीकोट को ऊपर उठाया और दूसरे हाथ में लंड पकड़ कर कल्लो की चूत से सटाने लगा.

मैं ये देखकर पागल हो जाता।मैं अपनी छत से खिड़की के छेद से उसे स्नान करते देखता।एक बार वो बाथरूम का दरवाजा खोलकर दोपहर में नहा रही थी.अब तुम ही इसे चाट कर साफ करो।मैं डर और उत्तेजना में उनकी बुर पर लगे अपने वीर्य को चाटने लगा।वो भी कमर उठा कर बुर चटवाने लगी।फिर बोली- चोदना जानते हो?मैंने कहा- पढ़ा है.

जवान लड़की के बीएफ वीडियो - सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो

अब भाभी को भी मजा आने लगा था।चुम्बन करते-करते मैंने अपने शर्ट निकाल दी और भाभी का टॉप धीरे-धीरे उठाने लगा।भाभी भी गरम हो रही थी.अब दीपाली थक कर चूर हो गई थी।आज चुदवाते-चुदवाते उसकी गाण्ड और चूत का बुरा हाल हो गया था।दीपाली- उफ़फ्फ़ मर गई.

सासू माँ भी ऐसा ही कहती हैं जबकि तुम्हारे भैया का खड़ा ही नहीं होता… अब उसमें मेरी क्या गलती है?मैं- भाभी आप रो मत. सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो तो उनके कई रिश्तेदार मेरे घर पर ही रात में सोने के लिए रूके थे।निम्मी को मैंने रात में अपने कमरे में बुला लिया और उससे कहा- बस की अधूरी कहानी.

तेरे बदले वो इतने दिन हमारे साथ मज़ा कर रहा था और हर तरह से मन बहलाता रहा है।फिर रूपा मुझसे मुखातिब हुई- प्यारे जमाई जी.

सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो?

यही कोई 20-25 दिन तक बातें ही चलती रहीं। लेकिन उसने बताया था कि वो पटना में ही रहती है और मुझे रोज देखती है।इस बात से मुझे मेरी मकान मलिक की लड़की पर शक हुआ. इतना कह कर वो मेरे पास आकर बैठ गई और अपना हाथ मेरी छाती पर रख कर सहलाने लगी।अब मेरा लण्ड माने नहीं मान रहा था। मैंने भी अपना हाथ उसकी चूचियों पर रखा और दबाना शुरू कर दिया।अब उसके मुँह से ‘आआआअह. मैंने पीले रंग के फूल वाले प्रिंट के कपड़े पहने हुए थे और मदीहा ने लाल रंग की सलवार कमीज़ पहने हुई थी।मदीहा ने अपने मोबाइल में हसन भाई से नंगी वीडियो लेकर रखी हुई थीं।रात को बातों-बातों में हम चुदाई की बातें करने लगे.

मेरा लन्ड फ़िर से खड़ा हो गया। मैंने भाभी के मुँह में फ़िर से लौड़ा डाला और उनके मुँह को चोदने लगा…लगभग 10 मिनट के बाद मैंने उनको उलटा किया. सब्र कर आह्ह…दीपक ने तीन-चार जोरदार झटके मारे और अंत में उसके लौड़े का जवालामुखी फट गया।वो प्रिया की गाण्ड में वीर्य की धार मारने लगा।दीपक के गर्म-गर्म वीर्य से प्रिया को गाण्ड में बड़ा सुकून मिला।उसने एक लंबी सांस ली।प्रिया- आई ससस्स. जरा जल्दी करना।उस की बात सुनकर मैंने उसे खड़े-खड़े ही चूमना शुरू कर दिया और वो भी मुझे चूमने लगी।हम दोनों ने एक-दूसरे को चुम्बन किया और एक-दूसरे को खूब प्यार किया।उसके बाद उसने कहा- राज मुझे अब चलना चाहिए।मैंने उसकी एक ना सुनी और अपना काम करता रहा.

बाथ-टब में उसको डॉगी स्टाइल में खड़ा करके चोदने लगा और ऊपर से शॉवर शुरू कर दिया।सच में बहुत मजा आ रहा था. पर मुझे अभी घर जाना ही होगा। फिर शाम तक आ जाऊँगा।मैं मन में सोचने लगा कि मैंने तो सोचा था कि अब आना ही कम हो जाएगा. भाभी दो बार अकड़ कर झड़ चुकी थीं।मैंने अब भाभी से कहा- पोज बदलें?भाभी कराहते हुए बोलीं- तुम तो चूत ही बदल लो.

उसी वक्त दूसरे अंकल ने मेरे मुँह मे जीभ डाल कर मेरे अन्दर चाटने लगे।अब उनके होंठ मेरे होंठों में चिपके हुए थे और वे अपनी जीभ से मेरी जीभ को चाट रहे थे।जॉन्सन अंकल ब्रा के ऊपर से ही मेरा एक मम्मा अपने मुँह में भरे हुए थे और दूसरे को एक को हाथ से जोर से दबा रहे थे. मैं वहीं पर लेट गया। थकान के कारण हम दोनों कुछ सो से गए।एक घंटे के बाद मैंने जाग कर उसको जगाया।वो बोली- आलोक.

दीपाली के सामने खड़ा होकर विकास उसके कपड़े निकालने लगा। तभी पर्दे के पीछे से प्रिया ने झाँक कर अपनी मौजूदगी उसे बता दी कि मैं यहाँ हूँ।विकास ने इशारे से उसे वहीं रहने को कहा और दीपाली को नंगा करने में लग गया।विकास- जान मैंने कहा था ना.

m) से सिगरेट ला कर देनी पड़ी।मैं बच्चा चाहता था पर अनीता इसके लिए अपना फिगर ख़राब करने को तैयार नहीं थी, उसे अपने इसी फिगर के बलबूते अभी बहुत कुछ हासिल करना था।कहानी जारी रहेगी।.

बीच-बीच में ऊँगली भी अन्दर-बाहर कर रही थी।वो बोली- अब मेरी बुर की खुजली को शाँत करो।उसकी बुर लाल हो गई थी।मैंने कहा- अभी नाश्ता कर लूँ. एक दिन शाम को मैं अपने दोस्त की दुकान पर घूमने के लिए गया।मेरा दोस्त दवाई की दुकान पर जॉब करता था।जब मैं उसके पास पहुँचा तो उसने पूछा- क्यों परेशान है?मैंने उसे अपनी और संगीता की सारी कहानी बता दी।तो उसने कहा- बस इतनी सी बात से परेशान हो. ” की आवाज़ आ रही थी।मेरी साँसें तेज़ हो रही थीं और चाची भी ज़ोर-ज़ोर से सीत्कार कर रही थीं। मैंने चाची को बगल से लिटा कर चोदना शुरू किया और साथ में ही उनके मम्मों को भी दबाने लगा।मेरी चुदाई और भी तेज़ हो रही थी.

वहीं पर ड्रॉप कर दिया और बाय बोल कर चला गया।रात को उसका फोन आया और हमने खूब सारी बातें कीं।वो बोली- मुझे मिलना है।फिर हम दोनों मिलने का प्लान बनाने लगे. तो पहले वाली मेरे बाजू में आई और बोली- चल अब चूत की खुजली मिटा दे।अब तक मेरा भी पूरी तरह से टाइट हो गया था. कभी सहलाती और कभी उखाड़ने की कोशिश करती।मेरा लण्ड लोहे की रॉड की तरह कड़क हो गया था।फिर मैंने चूचियाँ चूसने के बाद चुम्बन करते-करते नीचे की तरफ बढ़ने लगा।मैंने नाभि को चुम्बन किया, वो सिहर उठी.

मैंने बड़े प्यार से उसकी कमर को पकड़ा और मज़बूत पकड़ रखते हुए वहीं बिस्तर पर खड़ा हो गया।अब वो उलटी लटककर मुझे मुँह-मैथुन का मज़ा दे रही थी और मैं उसकी चूत को चाट रहा था।इस हालत में उसको उठा कर मैं शीशे की दीवार के पास ले गया और बिना उसके पैर जमीन पर लगाए.

साली को तेरे सामने पूरी रात चोदूँगा।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !अब मुझे आनन्द की भाषा अच्छी नहीं लग रही थी।सलीम- हाँ आनन्द. जैसे आप सही कह रहे हों और फिर 6 बजे के आस-पास मैं ही आपकी माँ को काल करूँगी और उनसे बोलूँगी कि आंटी अगर भैया घर पर ही हों तो आप उनसे बोल दीजिएगा कि हम आज नहीं आ पा रहे हैं। हमारी ट्रेन कैंसिल हो गई है. मुझे सब अपने हाथों से थोड़ा-थोड़ा खिला रहे थे और कभी मेरे कंधे में तो कभी होंठों में कुछ लग जाए तो निकालने के लिए उन्हें छू कर साफ़ कर रहे थे.

उससे चिपके हुए ही मैंने उसे चुम्बन करना शुरू कर दिया। मैं उसे उसके होंठों पर चुम्बन कर रहा था। वो भी चुम्बन करने में मेरा पूरा-पूरा साथ दे रही थी।फिर मैंने उसकी गर्दन पर चुम्बन करना शुरू किया. वो है कहाँ?तो मैंने भी लोअर की जेब में हाथ डाला और झटके से उसकी आँखों के सामने लहराने के साथ-साथ बोला- लो कर लो तसल्ली. ऐसे ही एक महीना गुजर गया अब कहानी को उसके अंजाम तक पहुँचाने का टाइम आ गया है तो चलो विस्तार से आपको बताती हूँ कि क्या हुआ आगे.

तो मैंने फिर से उससे बोला- क्या तुम भी मुझे अपना सकती हो?तो वो उलझन में आ गई… जो कि उसके चेहरे पर दिख रही थी.

वहाँ जाकर मैंने अपनी हाथों और टाँगों पर वैक्स करवाई और एकदम चिकनी हो गई। अपना हेयर स्टाइल बनवाया अपने बाल सीधे करवाए और फेशियल करवाया। फिर मैं कुछ कपड़े खरीद कर घर आ गई। मॉम ने भी जाने की सब तैयारियाँ कर ली थीं।हम सब शादी से एक हफ़्ता पहले जा रहे थे ताकि शादी में हाथ बंटा सकें और हमने सामान पैक कर लिया।ऐसी ही तैयारियों में रात हो गई. सच कहूँ तो मुझे भी अब वो अच्छी नहीं लगती। बातों-बातों में मुझ पर टोक मारती है और जो तुम्हारे साथ किया.

सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो मेरे होंठों को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी।मैं भी उसका साथ देने लगा और फिर से मैं उसके मम्मों को मुँह लेकर चूसे जा रहा था।तभी उसने मेरे लंड के साथ खेलना शुरू कर दिया और मेरे लंड को मुँह में लेकर फिर से चूसने लगी और कुछ ही पल के बाद मेरा लंड फिर से टाइट हो गया।तभी मैंने कहा- यार मुझे तुम्हारी गाण्ड बड़ी मस्त लगती है. तभी मैंने दूसरा धक्का लगा दिया और भाभी ने अपने नाख़ून मेरे पीठ में गाड़ दिए।मैंने और एक धक्का लगा दिया और मेरा पूरा लण्ड भाभी की चूत में समा गया.

सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो जिससे उसकी दोनों चूचियाँ उभर कर दिखती थीं।उसको देख कर ऐसे लगता था कि काश ये मिल जाती!मैं बाकी लड़कों की तरह लफंगा तो था नहीं. वो और मैं दोनों एक साथ झड़ गए। हम दोनों को अपनी इस पहली चुदाई में बहुत मजा आया।उसके बाद से हम रात को 4 या 5 बार चुदाई तो कर ही लेते थे और सारा दिन घूमते थे। ऐसे ही एक महीने तक चला.

यही काम चालू हो गया।ऐसा कई दिन तक चलता रहा।फिर मैंने थोड़ी हिम्मत जुटाई और उनसे बात करने की मन में ठान ली कि मैं आज अपनी बात बता कर ही रहूँगा कि मैं आपको चोदना चाहता हूँ।तो उस दिन शाम को जब मुझे लगा कि उनके घर पर कोई नहीं है.

এইচডি বিএফ বাংলা

उसे चुदाई के बारे में सब कुछ खुल कर बताना और अगर वो ज़्यादा पूछे तो एकाध ब्लू-फिल्म भी दिखा देना।आंटी मान गईं।अब रात के 9:30 बज रहे थे. फिर मैंने उसकी पैंटी को नीचे सरकाया और उसके जिस्म से अलग कर दिया। अब मैंने स्पा के लिए क्रीम उसके जिस्म में लगाना शुरू किया और उसे उल्टा लेटने को बोला. सुबह मेरी आंख 9 बजे खुली जब राधिका मेरे पास चाय लेकर आई।मुझे चाय पीकर फिर से रात का कार्यक्रम चालू करने के लिए कहा।दोस्तों में पहले ही थका हुआ था.

Madmast Roshni Bhabhi Ki Choot Chodiअन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा सादर प्रणाम। मेरा नाम मनोज है और मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ। मैंने इसी साल इन्जीनियरिंग पूरी की है। मेरा कद 5’7″. उसकी चूत का सूनापन मेरे लवड़े ने भर दिया था। हम रोज ही चुदाई की बातें करने लगे। उसको मैंने अपने जीवन में एक चुदासी मगर सच्ची प्रेमिका का स्थान दिया है।आपको मेरी यह घटना कैसे लगी प्लीज मुझे मेल करके ज़रूर बताना। मैं आपके मेल का इंतजार करूँगा।आपका साहिल।. पर मज़ा अभी भी पूरा ना हुआ था। उसे देख कर लग रहा था कि अब वो भी जाने वाला है।गौरव- जानू अपनी गांड कब दोगी?मैं- जान आज चूत की प्यास बुझा दो.

मैं, साक्षी और उसकी कुछ दोस्तों को बचाते हुए दूसरे कोने पर बने गर्ल्स-हॉस्टल तक छोड़ने ले जा रहा था। उधर मेरे ही दोस्तों ने कॉलेज की बस में आग लगा दी थी और पुलिस बुलानी पड़ी।बाहर जैसे ही पुलिस ने लाठीचार्ज करना चालू किया.

जो मेरा ख्याल रखे।मेरे मन में लड्डू फूटने शुरू हो गए।बाद में हमने खाना खाया और टीवी देखने लगे। फिर 11 बजे सोने चले गए. कभी सहलाती और कभी उखाड़ने की कोशिश करती।मेरा लण्ड लोहे की रॉड की तरह कड़क हो गया था।फिर मैंने चूचियाँ चूसने के बाद चुम्बन करते-करते नीचे की तरफ बढ़ने लगा।मैंने नाभि को चुम्बन किया, वो सिहर उठी. जिससे वह बहुत जोर-जोर से ‘आहें’ भरने लगी। वह अपना सिर बार-बार इधर-उधर कर रही थी।मैंने 5 मिनट तक वहाँ उसे बहुत रफ़्तार से रगड़ा और जैसे ही उसे आगे चूत के छेद के पास पहुँचा.

उनका लंड तना हुआ था और सुपारा अपना घूँघट निकाल कर बाहर की हवा खा रहा था।उनका लंड पूरी तरह से तना हुआ था, मेरी नज़र सैम के खड़े लंड पर ही टिकी हुई थी और मैं उस पर से अपनी नज़रें हटा ही नहीं पा रही थी।सैम तो शरम से अपने लंड को मेरी नज़र से छिपाने की कोशिश कर रहे थे. पर ये सब मुझे अच्छा लग रहा था और मैं हेमा की गरम चूत में अपना कड़क लंड जोर-जोर से पेल रहा था, मेरे हाथ उसके मम्मों को दबा रहे थे। इस दौरान वो दो बार झड़ चुकी थी।मैं हेमा को उठा कर बाथरूम में लेकर गया. दोस्तो, मैं अन्तर्वासना का एक नियमित पाठक हूँ।मेरा नाम सुमित है, मैं आगरा से 20 साल का जवान लड़का हूँ, मेरा लंड 5.

असली मजा लेने का तरीका कल समझाऊँगी।वो बोला- अब अपना स्वाद चखाइए।मैं बिस्तर पर अपनी सलवार खोल कर चित्त लेट गई और अपने घुटने पेट की ओर मोड़ लिए।उसने मेरी बाल रहित बुर के होंठ से अपने होंठ भिड़ा दिए और चूत की पुत्तीयों को अपने मुँह में भरकर बुरी तरह चूसने लगा।उसके चूसने के ढंग से उसके अनाड़ीपन झलक रहा था. अब सही मौका है ये खुद इतना बोल रही है तो क्यों ना अपने दिल की बात बोल दी जाए।दीपाली- उफ़फ्फ़ गर्मी ज़्यादा है आज.

क्योंकि मेरा सारा बदन ठनक रहा है।मेरी इस सत्य घटना पर अपने विचार लिखने के लिए मेरी ईमेल आईडी पर आपका स्वागत है।कहानी जारी है।[emailprotected]. किसी ने नहीं घुसाया…इतने में दादा जी ने बोला- अब पैंटी भी उतार कर फाइनली ये मस्त तेरी चूत और देख लें?मैंने कहा- हाँ दादा जी…तो उन्होंने सीधे मेरी गाण्ड तरफ से हाथ डाल कर पैंटी का ग्रिप पकड़ा. भाभी मुस्कुरा उठीं, बोली- अरे वाह्… त्युम भी सविता भाभी कार्टून के शौकीन हो?और बैठ कर उन्होंने मेरा लवड़ा पकड़ लिया।कुछ देर लौड़े को हाथ से सहलाने के बाद उन्होंने मेरी तरफ देखा और अपने मुँह में ‘गप्प’ से सुपारे को दबा लिया।‘आह्ह.

पर कुछ भी तो करके मुझे वो अनमोल सुख दे दे।इस पर मैं उन्हें बेतहाशा चूमने लगा और एक-एक करके उनके कपड़ों को हटा कर उन्हें ब्रा और पैन्टी में ले आया। सच कह रहा हूँ दोस्तों.

तुम्हारे नशे में मेरा डिस्चार्ज ही नहीं हो रहा।उसने शरारती स्माइल दी और मेरे लंड को कस कर पकड़ लिया और बोली- आज तो तू गया राज़।उसने इतनी सख्ती से मेरे लौड़े को पकड़ा कि मेरे लंड में दर्द होने लगा।वो बोली- बहुत तेज़ है न ये तेरा शेर. पर आगे से ध्यान रखना।मैंने कहा- ठीक है।राधिका ने मुझे चाय दी और बाहर चली गई। कुछ देर बाद राधिका ने मुझे बुलाया और कहा- मेरे साथ बाजार चलो।मैंने कहा- ठीक है।मैं तैयार होकर राधिका के साथ बाजार निकल गया।बाज़ार से खरीददारी करके जब हम घर लौट रहे थे. वो इतनी कामुक थी।किसी भी आदमी के एक हाथ में उसका एक स्तन पूरा नहीं आ सकता था और इतने बड़े होने पर भी वो तने हुए खड़े रहते थे.

वैसे भी मेरे कॉलेज में अच्छा रूल है … वहाँ हाजिरी की कोई जरुरत नहीं होती।दूसरे दिन चारू ने कॉलेज जाकर छुट्टियाँ ले लीं।मुझे लगता था कि वो दो-तीन दिन की छुट्टी लेगी. वहाँ से मैंने कपड़े से तेल पोंछ कर साफ़ किया और चूत को चाटने लगा।मुझे लगा कि उसकी बुर को चाटने से वह जबरदस्त चुदासी और पागल सी हो गई है कि उसने अपने पैर किसी चुदासी रण्डी के जैसे फैला कर अपनी लपलपाती बुर को और खोल दिया है।अब मेरी जीभ अन्दर तक जाकर उसकी चूत को चाट रही थी, उसने अपना पानी तेज़ी के साथ गिरा दिया।अब उसको मैंने फिर पेट के बल लिटा दिया.

ये सुनते ही मुझे पता नहीं क्या हो गया और उसी पल से मुझे एक-एक सेकेंड बहुत बड़ा लगने लगा और रात के बारे में सोचने लगा।मेरा दिन गुजारना बहुत मुश्किल हो गया. पर कड़क बहुत था।मैंने उसके पैंट के बटन खोलकर उतार दिया। उसका लंड 120 डिग्री के अंश का कोण बनाते हुए छत की ओर था।उसका लंड अभी पूरी तरह विकसित नहीं हुआ था, लंड के शिश्नमुंड से चमड़ा पूरी तरह हटा नहीं था।मैंने चमड़े को पीछे किया, उसके लंड की गर्दन के गढ्ढे पर सफेद पदार्थ लगा था. तो वो बोली- इतना भी क्या बेसबर हो रहे हो?तो मैंने कहा- तेरी जवानी को चखने में मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा बेबी.

एक्स एक्स बीएफ बिहार

मैं किसी को नहीं बताऊँगी कि अपना राज अब जवान हो चुका है।मैंने उसे ‘थैंक्स’ बोला और चाय ख़तम करके तुरन्त वापस जाने लगा।भाभी ने मुझे रुकने के लिए कहा.

उसे देखकर मेरा मन मचलने लगा।मैं उसके साथ चुदाई करना चाहती थी, उसका बड़ा लंड अपने चूत में लेना चाहती थी. थोड़ी देर तक अपने मम्मों को दबवाने के बाद राधिका मेरे ऊपर से उठी और अपने पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया।जैसे ही राधिका का पेटीकोट नीचे गिरा तो मैंने देखा कि उसने पेटीकोट के नीचे कुछ भी नहीं पहना था।मैं उसे अपलक देखता ही रह गया।तभी राधिका ने कहा- क्या हुआ मेरे राजा?मैंने कहा- मैंने आज से पहले कभी किसी को ऐसे नहीं देखा।तो राधिका ने पूछा- क्या आज से पहले तुमने कभी चुदाई नहीं की?मैंने कहा- नहीं. उसकी और मेरी एक साथ ‘आह’ निकल गई।मैंने जब नीचे देखा तो खून ही खून था। मैंने हड़बड़ी में उसको 6-7 मिनट तक चोदा और उसके बोबे जी भर कर चूसे। फ़िर मुझे लगा.

मेरी गर्लफ्रेंड जिसका नाम देविका (नाम बदला हुआ है जिससे कि उसकी बदनामी न हो) जिसकी उम्र 18 साल थी।उसकी फिगर क्या बताऊँ. जार सब्र तो कर।इतने में जाने कैसे ऊपर से कुछ चीज की आवाज आई और भाभी ने रोशनदान की तरफ देखा तो मैं सकपका गया. सेक्स बीएफ फिल्मआते समय कुछ सामान लेकर आया था।मैंने देखा उसमें मेरे लिए एक लाल रंग की ब्रा और एक लाल रंग की जाली वाली पैन्टी थी और बहुत सारी लाल रंग की चूड़ियाँ भी थीं और कुछ साज़-श्रृंगार का सामान था साथ ही दो कन्डोम के पैकेट भी थे।करीब 6 बजे मैं फ्रेश होकर तैयार होने लगी।आज पहली बार शौहर के सामने मैं किसी दूसरे मर्द के लिए सज रही थी और शौहर देख रहा था।पहले मैंने सलीम के लाए हुए पैन्टी पहनी और ब्रा.

वरना लोग तो ऐसे मौके पर जबरन चोदन भी कर देते हैं।मैं बोला- मैं आपसे प्यार करता हूँ इसलिए…उन्होंने मुस्कुरा कर अपनी बाँहें फैला दीं और मुझे अपने आगोश में ले लिया।फिर उन्होंने मुझे चूमते हुए कहा- मेरा ये जिस्म तुम्हारा है. ताकि कहानी पढ़ने में ज़्यादा मज़ा आ सके और जब कहानी अपने गरम मुकाम पर पहुँचेगी तो लण्ड की मुठ मारने में और लड़कियों को चूत में ऊँगली से चुदास शान्त करने में आसान रहेगा।जिन लड़कियों को डिल्डो.

तो खूबसूरत भी होने लगी।लेकिन उन्हें इस बात की परवाह नहीं थी।मैं अपनी सहेलियों को मैसेज करने के लिए अपनी अम्मी के मोबाइल इस्तेमाल करती थी।मुझे मेरे एक कज़िन वलीद से मुहब्बत हो गई थी और उसे मुझसे मुहब्बत हो गई थी. बात खत्म हुई।अब वे मुझे रोज बुलातीं और अब मैं रोज उनकी गाण्ड में दवा लगाता। तीन दिन बाद वो फोड़ा पक गया. क्या बात है?तो उन्होंने कहा- मेरे सभी घर वाले सभी एक रात के लिए बाहर जा रहे हैं और तुम आज रात को ही आ जाना…यह कह कर उन्होंने फ़ोन रख दिया.

आईईइ गाण्ड पहले ही दुख रही थी उफ़फ्फ़…विकास- मेरी जान बस जब तक मेरा रस तेरी गाण्ड में नहीं गिरता, तब तक ये दर्द रहेगा. मैं नीचे से उसको सामान दे रहा था और सामान देने के बहाने से मैं उसके स्तनों को बार-बार स्पर्श कर रहा था।वहाँ मेरी मामी भी थीं. इस बार दर्द कम हुआ। अब वे धीरे-धीरे लण्ड से घर्षण करने लगे।कुछ देर तक उनसे चुदाने के बाद मुझे मजा आने लगा- आँ.

जो कार से मुझे छोड़ने आया था।मैंने अपनी आँखें बंद कर ली।कुछ देर बाद उसने मुझे कस कर पकड़ लिया।पर मैं उसे धक्का देकर वापिस बाथरूम में भाग गई।पर पता नहीं क्यों मैं खुद से बेकाबू हो गई थी, वापिस बाहर निकली और जाकर उससे लिपट गई।होंठ से होंठ मिल गए.

तो कई को कुछ और ही अनुभूति होती है।कुल मिला कर जी-स्पाट उत्तेजना के महिलाओं में अलग-अलग अनुभव होते हैं। इसलिए अपनी संगनी से पूछिए कि उसे क्या अनुभूति हो रही है और उसे कैसा लग रहा है।. बिल्कुल मक्खन की तरह चिकनी और मुलायम… उसकी चूत पर झांटों का नामो-निशान नहीं था।लगता था कल की चुदाई देख कर वो मतवाली हो चुकी थी और अपनी चूत को आज नहाते वक्त ही साफ़ की होगी।मैंने अपना चेहरा उसकी जाँघों के बीच घुसा दिया और उसकी नन्हीं सी बुर पर अपनी जीभ फेरने लगा। चूत पर मेरी जीभ की रगड़ से रिंकी का शरीर गनगना गया।उसका जिस्म मस्ती में कांपने लगा.

मैंने उसे अपने घर बुलाने का प्रोग्राम बनाया और उसे घर में किसी के न होने के बारे में बताया।वो मेरे घर आने के लिए तैयार हो गई। जितनी जल्दी मुझे उसे चोदने की थी. प्रिया की दहकती गाण्ड में लौड़ा ज़्यादा देर नहीं टिक पाया उसको लगा कि अब कभी भी पानी निकल जाएगा तो उसने प्रिया की कमर को दोनों हाथों से कस कर पकड़ लिया।दीपक- बहना मेरा पानी किसी भी पल निकल सकता है… अब बर्दास्त नहीं होता. तुमने मुझे मेरी दावत भी दे दी और मुझे पता भी नहीं चलने दिया।इसी के साथ मैंने अपनी आँखों पर बंधे हुए दुपट्टे को खोल दिया। मैंने देखा कि सना पास ही बिस्तर पर बैठी मुस्कुरा रही है और साथ में अपनी चूत में ऊँगली कर रही है।उसने कहा- तुमको कैसे पता चला कि ये मैं नहीं हूँ?तब मैंने कहा- इसकी चूत बिल्कुल बंद है.

तब उसने मुझे भी इशारा करके डांस-फ्लोर पर बुला लिया।मैं उसके पीछे खड़ा हो गया और डांस करने लगा।थोड़ी देर में मैंने उसकी कमर को पीछे से पकड़ते हुए डांस चालू रखा और डांस-डांस में थोड़ी देर में ही अपना पूरा बदन. वो मुझे फिर अपने फ्लैट में ले गई।रात में क्या हुआ? वो मैं आप सबके ईमेल आने के बाद बताऊँगा।यह मैंने अन्तर्वासना पर अपनी पहली सच्ची घटना प्रस्तुत की है।आप सबके ईमेल का इंतजार रहेगा।हेमा मुझे तुम्हारे ईमेल का भी इंतजार है. मारे दर्द के सिसकने लगी।रूपा ने फिर मेरे लंड पर मक्खन लगाया और मैंने उसकी दोनों टाँगें उठा कर फिर से उसकी गाण्ड में लंड पेल दिया।इस बार उसे चीखने दिया।वो बुरी तरह चीखते-चीखते लस्त हो गई।रूपा बोली- लगता है फिर बेहोश हो गई.

सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो मेरे कुछ समझ में ही नहीं आ रहा था।मेरा आपसे निवेदन है कि मेरी कहानी के विषय में जो भी आपके सुविचार हों सिर्फ उन्हीं को लिखिएगा।मेरी सील टूटने की कहानी जारी है।. वो उत्तेजित होने के कारण विरोध नहीं कर पा रही थी।कमल बोला- रीना तुम जिसके लिए अपना कौमार्य बचा रही हो.

संदेश सेक्स सेक्स

तो अब उसे भी राहत मिल चुकी थी। जो कि उसके चेहरे से समझ आ रही थी।मैंने इसी तरह चुदाई करते हुए अपने लौड़े को बाहर निकाला और इस बार जब पूरा निकाल कर अन्दर डाला. तो आपको ये रंग किसने लगाया?भाभी ने इतराते और इठलाते हुए कहा- ये तो पड़ोस वाली भाभी और इनके कुछ दोस्त आए थे. लेकिन मुझे देख कर वो अपने घर में अन्दर चली गईं और तेजी से अपना दरवाजा बंद कर दिया।शाम को मैं घर लौटा तो भी सब सामान्य था.

तब मेरे बदन से तौलिया भी हट गया और मैं उसके नंगा बदन देखते हुए लौड़े को हिलाने लग गया।अन्दर दीपिका ने फुव्वारा चालू किया और पानी के बूंदें उसके नंगे बदन पर जब गिर रही थीं. करीब 60 साल या 65 साल के थे।मैं इतनी डर गई कि मेरे आँसू निकलने लगे और मैं रोने सी लगी।तब उन्होंने जैक्सन को गाली दी- साले हरामी. इंडियन आंटी का सेक्स वीडियोऔर टब में आ जाओ।मैंने जब कैबिनेट खोली तो मुझे ‘बबल-बाथ’ की बोतल के साथ एक वाइब्रेटर भी मिला। मेरे पूछने पर दीपिका ने बताया कि वो उसकी दोस्त पूजा का है.

’उसकी मस्त आवाज़ें निकल रही थीं।मैं उसे 25 मिनट तक इसी तरह चोदता रहा।फिर मैंने सना को कहा- तू बिस्तर पर लेट जा.

जो मेरे दोस्त ने दी थी। तो मैं DVD को चला कर देखने लगा।प्रिया भाभी भी मूवी देखने लगीं।उसमें पहला सीन आया कि लड़के की मौसी उस लड़के को अपनी सहेली के पास भेजती है और फ़िर उसमें चुदाई के सीन आने के डर से मैंने टीवी बंद कर दिया।तो भाभी बोली- चलने दो न. इससे मैं और जोश में आकर चूसने लगा फिर मुझे लगा इसमें इतना मज़ा नहीं आ रहा।फिर मैंने कहा- चलो आज तुम्हारी चूत के अन्दर कुछ मस्त चीज डाल कर चाटूँगा।मैं फ्रिज से थोड़ी सी आइसक्रीम लेकर आया और उसकी चूत के ऊपर रख कर चाटने लगा। थोड़ी सी क्रीम उसको भी टेस्ट करा दी.

उनके गाल मक्खन जैसे मुलायम थे।फिर थोड़ा हिचकिचाते हुए मैं बोला- सासूजी अगर आप बुरा ना मानो तो एक बात कहूँ. शायद इतने मर्दों से चुदाई की बात सुन कर उसके अन्दर की रंडी जाग गई थी।कुछ ही पलों में सोनम की गाण्ड सीट की टिप पर टिकी थी और मैं उसकी चूत में ‘भकाभक’ धक्के मार रहा था।उसके पैर मेरी गाण्ड पर कसे थे और उसके हाथ मेरी बाँहों और कन्धों पर रेंगते हुए कस रहे थे।सीट के पेंचों से ‘चूँ. वो एकदम परी जैसी लग रही थी।मैं उसके पास गया और ‘हाय’ किया और बोला- आज तुम बहुत बहुत ज्यादा खूबसूरत लग रही हो।उसने बोला- थैंक यू…फिर मैंने उसे राहुल के बारे में बताया उसने साफ़ मना कर दिया। फिर काफी समझाने पर वो मान गई.

तो मैं जल्दी से वहाँ से निकल गया और अपने घर में घुस गया।मैं उसकी बुर अक्सर देखता रहता था। एक दिन रात दो बजे पेशाब करने उठा तो देखा वो बुर फैलाकर मूत रही थी.

तब इसके नंगे बदन पर गरम-गरम पिघला हुआ मोम डालना…तानिया ने एक जैल जैसा कुछ लिया और उसे अपने लंड पर लगा कर. उसकी चूत का सूनापन मेरे लवड़े ने भर दिया था। हम रोज ही चुदाई की बातें करने लगे। उसको मैंने अपने जीवन में एक चुदासी मगर सच्ची प्रेमिका का स्थान दिया है।आपको मेरी यह घटना कैसे लगी प्लीज मुझे मेल करके ज़रूर बताना। मैं आपके मेल का इंतजार करूँगा।आपका साहिल।. मैं धीरे से गले से चूमते हुए उसके मम्मों पर आ गया और ब्लाउज के ऊपर से ही उसके कड़क चूचुकों को चूसने लगा। साथ ही दूसरे स्तन को हाथ से दबाने लगा।अब वो पूरे जोश में थी और बोल रही थी- आह्ह्ह राज…चूसो इन्हें.

सेक्सी बीएफ दिखाइए वीडियोइसी तरह ऐश्वर्या राय, माधुरी, मनीषा, प्रियंका, दीपिका पादुकोणे, रिया सेन, करीना कपूर, करिश्मा कपूर, कटरीना कैफ़, रानी मुखर्जी और मेरी फेवरिट आयशा टकिया की नंगी और कामुक तस्वीरें थीं।मैंने ये सब देखा तो मुझे हैरानी हुई और मैं गरम भी होने लगी।फिर मैं उठी. ।जब वो आईं तो वापिस मैंने सासूजी को पूजा के स्थान पर बिठाया और आधे घंटे तक मन्त्रों को बोलने का नाटक किया फिर कहा- अब आज की सारी पूजा ख़त्म हुई.

इंग्लिश बीएफ सेक्स वीडियो

तो खूबसूरत भी होने लगी।लेकिन उन्हें इस बात की परवाह नहीं थी।मैं अपनी सहेलियों को मैसेज करने के लिए अपनी अम्मी के मोबाइल इस्तेमाल करती थी।मुझे मेरे एक कज़िन वलीद से मुहब्बत हो गई थी और उसे मुझसे मुहब्बत हो गई थी. इस ड्रेस में वो बहुत ही सेक्सी लग रही थी…हम दोनों सोफे पर बैठे थे… और वो मुझको समझा रही थी … अचानक से मेरा पेन नीचे गिर गया और मैं नीचे से पेन उठा ही रहा था कि मेरे नज़र उसकी स्कर्ट के अन्दर चली गई. वो साला हमेशा उसके बारे में ही बात करता रहता था। हालांकि मैं भी उसको देखने या मिलने का बहाना ढूंढता रहता था।तभी मुझको पता चला कि हर शाम वो अपने घर के बाहर आती है.

लेकिन अब दर्द से ज्यादा मुझे मज़ा आ रहा था।वो लवड़े को मेरी चूत के अन्दर-बाहर कर रहा था।मुझे मजा आने लगा और मैंने अपनी कमर को चलाया तो वो तेज़-तेज़ मेरी चूत में अपना लण्ड अन्दर बाहर करने लगा।अब मैं तो मज़े में पागल हो रही थी और कहने लगी- आआआ… ऊऊ… हसन भाई और तेज़ करो ना. जैसे मैं जन्नत में पहुँच गया होऊँ, मुझ पर एक नशा सा छाता जा रहा था।करीब 10 मिनट तक मैं उसके रसीले होंठों को चूसता रहा. इसलिए वो दोनों अलग किराए के घर पर रहते थे।मेरा दोस्ती की वजह से उसके घर आना-जाना लगा रहता था।एक दिन अब्दुल का मेरे पास फ़ोन आया- यार आतिफ.

दीपक के जाने के बाद वो दोनों बिना मुख्य दरवाजे को लॉक किए ही मस्ती में लग गई थीं।दीपक जब आया दरवाजे की घन्टी बजाने के पहले उसने दरवाजे को हाथ लगाया तो वो खुल गया।उसे दोनों पर बड़ा गुस्सा आया. वो बहुत शर्मा रही थी। उसने एक हाथ से अपने चूचे और एक हाथ से अपनी चूत छुपा रखी थी।मैं उसे प्यार से अपनी गोद में उठाकर बिस्तर पर ले आया।अब मैं उसे पागलों की तरह चूम रहा था। फिर मैंने उसका हाथ अपने लंड पर रखा और उसे दबाने के लिए कहा।वो भी पागलों की तरह मेरे लंड को दबाने और खींचने लगी और मैं उसके चूचे दबा और चूस रहा था।उसके बाद वो बहुत ही उत्तेजक आवाजें निकाल रही थी। मैंने उसे लण्ड चूसने के लिए कहा. तो मैंने रिसीव कर लिया।मैं- जब तुम सब को पता है कि मैं अपनी फ्रेंड के अलावा किसी से फ़ोन पर बात नहीं करता.

तब तक के लिए धन्यवाद।कृपया ध्यान रखते हुए कहानी का आनन्द लें और ऐसा समझने की कोशिश करें कि इस घटना-क्रम को तेज़ी से बयान नहीं किया जा सकता. ’फिर खुद ही उसके हाथ ढीले पड़ते गए।अब मैंने उसके हाथों को छोड़ उसके दोनों मस्त कूल्हे पकड़े और अपनी जीभ को और अन्दर डाल कर उसकी चूत को चूसने लगा था। इसके साथ ही मैं उसकी गांड में अपना अंगूठा रगड़ रहा था।उसकी बुर काफी गीली और गर्म हो गई थी और इधर लंड का भी हाल बुरा था।बस फिर क्या.

जिससे मैं आसानी से किसी भी लड़की या आंटी को पूरी तरह संतुष्ट कर सकता हूँ।अब मैं सीधे मुख्य घटना पर आता हूँ, यह बात आज से 2 साल पहले की है।मेरे एक चाचा हैं.

तब उसकी माँ किसी काम से बाहर गई हुई थी।चुदाई के कारण उसको बड़ी जोरों की भूख लगी थी, उसने खाना खाया और सो गई।ऐसी गहरी नींद ने उसे जकड़ लिया कि बस क्या कहने. सेक्सी गुजराती वीडियो बीपीमैं उधर ही आता हूँ।फोन रखते ही मैंने सोनम के बाल लगाम की तरह पकड़े और उसके मुँह को चूत की तरह चोदने लगा। कमाल की बात थी सोनम के मुँह से भी लण्ड बार-बार अन्दर-बाहर होने की वजह से ‘स्लर्र्प. मसाज बीएफमैं जाग गया।मैंने देखा कि मुकेश बिल्कुल मुझसे चिपक गया था और उसका मोटा लन्ड मेरी गाण्ड से टकरा रहा था।शायद वो नींद में ही करवटें बदलता हुआ मुझसे चिपक गया था।मैं उसका मोटा लन्ड अपनी गाण्ड पर महसूस कर रहा था. मैंने जबरदस्त तरीके से चुदाई करना चालू कर दिया था।करीब डेढ़ सौ चोटों के बाद लौड़े ने पानी चूत में ही छोड़ दिया और मैं निढाल हो कर भाभी के ऊपर ही ढेर हो गया।भाभी पूर्ण रूप से तृप्त हो चुकी थीं.

सबसे माफ़ी मांगने के बाद मुझे तानिया के पैर छूकर उससे भी माफी मांगने को कहा गया और मैंने वैसा ही किया।मुझे खुद पर शरम आ रही थी.

और दोस्तों में ऐसी बातें होती रहती हैं। इसका ये मतलब नहीं कि मैं अपने पति के अलावा किसी से भी चुदवा लूँ. लो आपके लौड़े के लिए तो गधी भी बन जाती हूँ लो अपनी गधी की गाण्ड में लौड़ा डाल दो।प्रिया घुटनों के बल हो गई। कमर को सीधा कर लिया पैर फैला लिए. उसने खुद मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर अपनी चूत पर लगाया और धीरे से मेरा लंड अन्दर ले लिया और उसने मेरे ऊपर बैठ कर झटके देना शुरू किया।मुझे उसकी चूत काफी टाइट लगी.

बाकी गाने के बोल सुनते ही हम एक-दूसरे को देखने लगे।तभी उस नवयुवती ने कहा- आपको कहाँ जाना है?मैं हड़बड़ाहट में बोला- जी. या मेरी जान लेके रहोगे।फिर मैं उठा और बिस्तर से नीचे खड़ा हो गया और उसे बिस्तर के किनारे खींच लिया। मैंने उसकी टाँगों को फैला कर उसकी चूत पर अपना लण्ड रगड़ने लगा।वो मचलने लगी- आअहह. इसलिए वो ज्यादा विरोध नहीं कर पाई, राहुल उसकी गाण्ड में जोर-जोर से धक्का मारने लगा और झड़ गया।फिर राहुल रमशा से चिपक गया।मेरी तो झांटें सुलग ही रही थीं.

बीएफ ओपन मूवी

बाद में मैंने अपना लण्ड चूत से बाहर निकाला तो वो दोनों के वीर्य से तर हो गया था।भाभी उठीं और उन्होंने मेरा लण्ड अपने मुँह में ले लिया और उसे चूसने लगीं।मैं फिर से मस्ती में आने लगा. जिसमें वो बिल्कुल नंगी थी और एक आदमी उसकी गाण्ड में लण्ड देकर उसको चूचियाँ दबा रहा था।मैं तो हैरान रह गई. दीपाली- अरे ये क्या दीदी आप भी साथ में रहो ना… ज़्यादा मज़ा आएगा।अनुजा- अरे नहीं रात को ही विकास ने बहुत ठुकाई की है और वैसे भी इतना वक्त कहाँ कि हम तीनों साथ में मस्ती कर सकें.

वो क्या था?अनुजा- तुझे कैसे पता ये बात तुम्हें तो मैंने कुछ बताया ही नहीं?दीपाली ने उस दिन की सारी बात अनुजा को बताई.

हर साँस के साथ चूची भी आगे-पीछे होने लगी थी। कई बार मुझे ऐसा लगा कि भाभी बिलकुल मदहोश होकर अपने शरीर को ढीला छोड़ दे रही थीं। मैंने बार-बार उनको अपनी बाँहों का सहारा दिया।शायद यह उनकी उत्तेजना के कारण हो रहा था।भाभी अब काफी उत्तेजित हो गई थीं। मेरा लंड लोहे के जैसा सख्त हो चुका था।भाभी ने कहा- अब देर न करो साजन.

सीमा ने बिंदास कहा- मुझे आपके साथ सेक्स करना है।मैं- लेकिन यार मैं तो तेरी फ्रेंड का ब्वॉय-फ्रेंड हूँ. थोड़ी देर ऐसे ही रहो।करीब दो मिनट के बाद उसने अपने आप नीचे से अपने चूतड़ उठा कर धक्के लगाना चालू कर दिया।मैंने भी ऊपर से जोर से धक्के लगाने लगा।कमरे में उसकी आवाज़ गूंज रही थी।बस फाड़ डालो मेरी चूत को. सविता xxxमेरी तरफ देख कर मुस्कुराईं फिर मेरे लौड़े पर एक चुम्मी की और धीरे से अपनी होंठो से उसे पूरा चाटा और अपने मुँह में लेकर उसे चूसने लगीं।आह्ह.

आगे तुम्हारी मर्ज़ी…यह कहते हुए मैं शांत होकर उसके चेहरे के भावों को पढ़ने लगा।उसका चेहरा साफ़ बता रहा था कि अब वो कोई हंगामा नहीं खड़ा करेगी. लगता है आपको कुछ ज्यादा ही प्यार करते हैं।तो माया मुस्कुरा कर मेरे पास आई और मेरे हाथ पकड़ कर बोली- तुम इतनी जल्दी क्यों परेशान हो जाते हो? तो मैंने बोला- तुम बिना बताए अचानक यहाँ आ गईं और मुझे नहीं दिखीं. या मेरी जान लेके रहोगे।फिर मैं उठा और बिस्तर से नीचे खड़ा हो गया और उसे बिस्तर के किनारे खींच लिया। मैंने उसकी टाँगों को फैला कर उसकी चूत पर अपना लण्ड रगड़ने लगा।वो मचलने लगी- आअहह.

इसका भी एडवांस में दे दूँगा।मैं तैयार हो गया। कुछ दिनों के बाद प्रीती का फ़ोन आया कि मैं उसको मालिश देने आ जाऊँ।मैं उसके बताए दिन और समय पर उसके घर आ गया। वह तैयार थी. तो तुम ही बताओ कि तुम्हारे और तुम्हारी माँ के शरीर की बनावट में कोई ख़ास अंतर है क्या?तो वो थोड़ा सा लजा गई और मुस्कान छोड़ते हुए बोली- सॉरी राहुल.

जैसे किसी ने पानी के पाइप से तेज धार चूत में मार दी हो…लौड़े से वैसी ही कई पिचकारी और निकलीं और दीपाली की चूत माल से भर गई।जब भिखारी ने लौड़ा बाहर निकाला ‘फक’ की आवाज़ से लौड़ा बाहर निकला.

चार लौड़ों के पानी एक साथ ना छुटाए ना तो नाम बदल देना मेरा।तब तक मैं रूचि को कोने में लेकर आ गया था और होंठों को चूमते हुए पूछा- हरामी. मुझे मेरे काम के सिलसिले में एक ईमेल आया जो किसी रीना नाम की लड़की का था। उसने मेल में मेरी होम-सर्विस के बारे में जानकारी मांगी थी. ।’अवी ने भी धक्के तेज़ कर दिए।मुझे लगा कि वो भी मंज़िल के नज़दीक है। अचानक लंड रस की गरम धारा मेरी चूत में गिरने लगी और मेरा चूत रस.

हिंदी मारवाड़ी बीएफ मेरी गाण्ड में पेल दिया…मैं तो चीख पड़ी और रोने लग गई।लेकिन वो ना माना और मेरी गाण्ड को भी चोदने लगा और मेरी गाण्ड को भी फाड़ दिया।आधा घंटा मेरी गाण्ड को चोदने के बाद उसका पानी निकल गया और मैं भी अपनी चूत में ऊँगली मार रही थी तो मेरा पानी भी निकल गया।एक बार फिर हम दोनों थक कर बिस्तर पर गिर गए।थोड़ी देर लेटने के बाद फजर का वक्त हो गया और आख़िर वो सेक्सी रात जो नफ़रत ओर ब्लॅकमेलिंग से शुरू हुई. तो उसने देखा कि मेरे सारे कपड़े बिखरे पड़े थे।वो कहने लगी- प्रवीण, ये क्या हाल बना रखा है?मैंने कहा- मेरी बीवी तो है नहीं.

लेकिन सीमा मुझको अगले दिन सुबह 9 बजे बस स्टैंड पर मिलने का बोल कर चली गई।अगले दिन मैं ना चाहते हुए भी सुबह 9 बजे बस स्टैंड पर पहुँच गया और जब मैं वहाँ पहुँचा. ये आप क्या कर रहे हो?तब मैंने कहा- अंजलि मैं जब भी तुझे देखता हूँ तो मेरे मन में हेनू-हेनू होने लगता है. फिर वो खाना निपटा कर उठीं और सब प्लेट्स वगैरह टेबल से उठा कर रसोई में रखने लगीं। मैं भी उनका हाथ बटाने लगा और जब सब ख़त्म हो गया.

नंगी पिक्चर में

हाय सी…सी…सी …थोड़ी देर बाद दोनों झड़ गए, अनीता को रॉकी ने अपनी बांहों में उठाया और अनीता ने उसके गले में हाथ डाले, रॉकी उसको लेकरबेडरूम चला गया।जैसे फिल्मों में हीरो सुहागरात मनाने हिरोइन को उठा कर ले जाता है।कहानी जारी रहेगी।. मैं तो दंग रह गया।फिर एक मम्मी जी ने कहा- आज तुझे तेरी जिंदगी की 2 साल पहले की गई भूल की सज़ा मिलेगी. मैंने देखा कि दोनों चुदासी सी तैयार और खुली बैठी थीं।थोड़ी देर की रसीली बातों के बाद बाद मैं पलक के उरोजों (चूचियों) को दबाने लगा और उसके होंठों को चूसने लगा।कभी उसके जीभ मेरे मुँह में तो कभी मेरी जीभ उसके मुँह में घुसती रही.

मगर दीपाली के इतना करीब आ जाने से उसकी सहनशक्ति जबाव दे गई और उसका लौड़ा अकड़ना शुरू हो गया।दीपाली ने एक-दो बार अपने मम्मों को उसके मुँह से स्पर्श भी कर दिया और अपने नाज़ुक हाथ सर से उसकी पीठ तक ले गई. तभी मैंने दूसरा धक्का लगा दिया और भाभी ने अपने नाख़ून मेरे पीठ में गाड़ दिए।मैंने और एक धक्का लगा दिया और मेरा पूरा लण्ड भाभी की चूत में समा गया.

वो मना करने लगी- मुझे अच्छा नहीं लगता।लेकिन मेरे जोर देने पर वो मान गई और फिर धीरे-धीरे मेरा लवड़ा चूसने लगी।फिर हम 69 की अवस्था में आ गए। वो मेरा लन्ड चूस रही थी और मैं उसकी चूत चाट रहा था।उसकी आँखों में से पानी निकल रहा था.

थोड़ी देर बाद हमने कुछ अलग-अलग तरीकों से भी चुदाई की।मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।मैंने इससे पहले किसी लड़की को चुदाई का इतना आनन्द लेते हुए नहीं देखा था और साथ ही साथ उसके चेहरे पर ख़ुशी साफ़ दिखाई दे रही थी।थोड़ी देर में दीपिका का काम उठ गया. अपनी चूत में अपनी उंगलियाँ डाल रही थी और चूत के ऊपर के भगनासे को रगड़ कर मज़े ले रही थी।यह बात हम सब सहेलियों के मन में बैठ गई. मुझे घिन आती है।फिर मैंने उसको जोर नहीं दिया, मुझे भी उसकी बुर चाटने का मन नहीं हुआ।मैं उसकी चूचियों को दबाने लगा.

तुमने तो एक दूसरी जन्नत की सैर करवा दी… मेरी जान… आज तो मैं तुम्हारा सात जन्मों के लिए गुलाम हो गया… कहो क्या हुक्म है…?’‘हुक्म क्या. थोड़ी देर चाटने के बाद भाभी ने मेरा सर कस कर पकड़ लिया और अपनी चूत पर दबा दिया।मेरा पूरा मुँह पानी से भर गया. हैलो दोस्तो, मेरा नाम एस के चौधरी है और मैं आगरा से हूँ।मेरी उम्र 21 वर्ष है मेरा रंग गोरा है यानि कि दिखने में आकर्षक बन्दा हूँ।मैंने आप लोगों की बहुत सारी सेक्स स्टोरी पढ़ी हैं.

’रोशनी भाभी की चूत को फ़ाड़ता हुआ गहराई में घुस गया।मैं रोशनी भाभी के चेहरे को हाथ में लेकर उनके होंठ चूसने और चूमने लगा। मुझे आज मेरी किस्मत पर भरोसा ही नहीं हो रहा था कि मेरे सपनों की रानी रोशनी भाभी की चूत में आज मेरा लौड़ा घुसा हुआ है।मैं अपने लौड़े को धीरे-धीरे उनकी चूत में कभी आगे.

सनी लियोन के सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो: ?तब मैंने कहा- मुझे आपकी पीठ में और आपके पेट पर स्वास्तिक बनाना है।वो कहने लगीं- ऐसी विधि भी होती है क्या. उसकी इस अदा पर मैं इतना ज्यादा मोहित हो गया कि उसको शब्दों में पिरो ही नहीं पा रहा हूँ।फिर वो मेरी ओर प्यार भरी नजरों से देखते हुए बोली- जान.

अभी और भी कुछ है।यह कह कर उसने अपनी कैपरी खोल दी।उसने गुलाबी रंग की पैन्टी पहनी हुई थी।वो भी उसने उतार दी, अब वो पूरी तरह नंगी थी।मैंने देखा तो उसकी चूत से कुछ पानी जैसा निकल रहा था।मैंने फ़टाक से उसे लेटा दिया और उसकी चूत चाटने लगा।थोड़ी देर बाद चारू ने मेरी चड्डी निकाल दी, वो देखकर बोली- वाह मेरे राजा. सहायता की गुहार करती नीलम उल्टी डांट पड़ने पर सकते में आ गई। रूपा ने उसके सिर पर प्यार से हाथ फेरते हुए उसे समझाने लगी।रूपा झट से जाकर मक्खन ले आई और मेरे लंड को मक्खन से तर कर दिया. जिससे मेरा लण्ड उसकी बच्चेदानी से टकरा जाता और माया के मुँह से ‘आआआह स्स्स्स्स्स्स्श’ की सीत्कार फूट पड़ती।मैं लौड़ा पेलना के साथ ही साथ उसके चूचों को ऐसे दाब रहा था.

मैं पागल नहीं हूँ जो तुम्हारी मम्मी को ये सब बताऊंगा।फिर आंटी ने उसको लिटाकर उसकी बुर में तेल लगाकर मालिश करने लगी.

जो मैं भी सोच नहीं सकती थी।उनके सवाल के उत्तर में मेरे मुँह से निकल गया- अंकल दोनों करो…उनके फिर से पूछने पर- ज़ोर से. यह तो अच्छा हुआ कि दीपाली ने हाथ रख दिया नहीं तो घर के बाहर भीड़ जमा हो जाती कि आख़िर ये कौन चिल्ला रहा है?दीपक- आह साला बड़ी मुश्किल से घुसा है आह्ह… दीपाली ऐसे ही मुँह बन्द रख. वो सब यही है आगे और भी कुछ ऐसे सीन आएँगे जो अनुजा ने बताए कि कैसे सब करना है।दीपक अपने आप से कहने लगा- साले बोल दे.