2021 के नया बीएफ

छवि स्रोत,देसी आंटी सेक्सी वीडियोस

तस्वीर का शीर्षक ,

रंडी वीडियो: 2021 के नया बीएफ, जब वो मेरे मम्मे चूसते और मसलते तो मैं मानो जन्नत की सैर करने लगती थी.

सेक्सी चोदने वाली चोदने वाली

आज मैं आपको अपने जीवन की एक सच्ची सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूँ जिसमें मैंने अपनी चचेरी बहन को चोदा!मैं कॉलेज में पढ़ता था और तब मेरे एग्जाम चल रहे थे. एचडी सेक्सी बीपी हिंदीउस दिन चाची ने बड़ा कसा हुआ सूट पहना हुआ था जिसमें से उनकी मादक गांड बड़ी मस्त लग रही थी.

अब ड्राइवर ने मेरी चूत से लंड निकाला और मेरे स्तनों के बीच में फंसा दिया और मेरे दूध चोदने लगा. इंग्लिश फिल्म सेक्सी चुदाईफिर उसे अपने और करीब खींचकर उसकी छाती तक अपनी उंगली को नीचे ले जाता गया.

धीरे धीरे हम दोनों की बात बनती गयी और हमने नंबर भी एक्सचेंज कर लिए.2021 के नया बीएफ: वो भी मदहोश हो चुकी थी, उसे भी मजा आने लगा था।बीच बीच में मैं उसकी पैंटी के अंदर हाथ डालकर उसकी झांटों से भरी चूत को भी रगड़ देता था जो अब तक गीली हो चुकी थी और रस छोड़ रही थी.

मैंने मॉम की दोनों टांगें मोड़ कर उन्हें कुतिया बना दिया था और मैं बहुत तेज तेज उनकी गांड में धक्के लगा रहा था.रवि, हॉस्टल में हम लोग जो यौन आनन्द लेते थे, तुम्हें वो याद है?मैं- जब मेरा बीवी से यौन सम्बन्ध ख़त्म हो गया था, मैं वो कल्पना करके कि तुम मेरी गांड मार रहे हो, अपनी गांड में मोटी मोमबत्ती डालकर मुठ मार लेता था.

स्कूल या लड़की के सेक्सी - 2021 के नया बीएफ

कुछ देर ऐसे ही मजा लेने के बाद मैंने उन्हें बेड पर लिटा दिया और मैं उनके ऊपर चढ़ गया.उनका लण्ड मेरे मुंह में फूला फूला लगने लगा और अचानक उनके लण्ड में से सात आठ बार गर्मागर्म पिचकारियां मेरे मुंह में छूट गईं.

मीनू की उत्सुकता देख कर कोमल बोली- सुनो न … आप मेरे साथ ऐसे ही करोगे क्या?मैंने हां कह कर सिर हिला दिया. 2021 के नया बीएफ चाची की मस्त गांड को लंड पर कुदाने में मुझे अब और भी बहुत मज़ा आता है.

मैंने पूछा- आंटी अगर दर्द ज्यादा है, तो मैं मसाज कर दूँ क्या?उन्होंने पहले तो कहा- नहीं अभी ठीक हो जाएगा.

2021 के नया बीएफ?

अब मैंने उसे बाथटब से बाहर निकलने का इशारा किया और हाथ पकड़ कर बिस्तर पर ले गया. फिर मैंने दरवाजा बंद किया और उसको अपनी बांहों में उठा कर अपने रूम में ले गया. फिर हम दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया और चाची की चूत को मैंने अपने पानी से भर दिया.

मैं मुस्कुराते हुए ड्राइवर से बोली- सोच रही हूँ लौटते समय भी ट्रैन की जगह टेक्सी ही कर लूँ. आखिर मैंने उसकी चूचियां कसके पकड़ीं और उसके मुँह में अपनी जीभ डाल कर जोर का धक्का दे मारा. मेरी नज़र नीचे गयी तो मैंने देखा कि उसके पेट का वो हिस्सा जो कमर के नीचे होता है, मुझे दिखने लगा.

तो मैंने देसी गर्लफ्रेंड की चूत पे थूका और लन्ड को चूत के छेद पर फिट करके अचानक एक झटका मारा. डिंपी- फिर इसकी आदत डाल लो, क्योंकि अभी तुम्हें और भी बहुत कुछ करना पड़ेगा. साथ ही अपनी एक उंगली उनकी चूत में डाल कर ज़ोर ज़ोर से अन्दर बाहर करते हुए तेज़ी से चाटने लगा.

जब वो एक्टिवा पर बैठती थी, तो उसकी कमर से लेगिंग्स ऐसे दिखती थी मानो उसकी जांघें केले के तने की तरह हों. पहले मुझे लगा कि उन्हें मेरा आइडिया पसंद नहीं आएगा लेकिन वो दोनों ही झट से मान गईं.

मैं समझ गया कि चुदने को मचल तो रही है लेकिन कुछ डर रही है,मैंने कहा- तुम्हारी मौसी कुछ नहीं देख सकेगी.

मैंने जल्दी जल्दी उसका ब्लॉउज खोला और उसकी एक चूची को मुँह में ले लिया.

मन कर रहा था कि अभी जाकर अपने दिल की बात बोलकर इस भाभी से ही शादी का प्रपोजल रख दूँ. मैं पीछे से उनकी गर्दन पर पागलों की तरह चूम चाट रहा था और वो मेरे हर चुम्मे पर सिसक रही थीं. आंटी ने कुछ सेकेंड सोचा, फिर बोलीं- हां, सही कह रहा है तू, चल दे अपने कपड़े, वही पहन लेती हूं और तू मेरे भीगे कपड़े मशीन से सुखा लाना.

जलालुद्दीन ने मेरी ब्रा के अंदर हाथ डाल कर कुछ देर मेरे मम्मों से खेला और फिर अचानक ही पूरी ताकत से खींच कर मेरी ब्रा के दो टुकड़े कर डाले और मेरे मम्मों को कैद से आजाद कर दिया. मगर तब भी मैंने उससे पूछा- आप कौन बात कर रही हैं?तो उसने कहा- अरे मेरा नंबर सेव नहीं किया क्या? मैं बोल रही हूँ. सुबह मैंने देखा कि हम सब सो रहे थे मगर नेहा और पुलकित कहीं नहीं दिख रहे थे.

जब वो किचन में खाना बनातीं तो मैं अपना लंड खड़ा करके पीछे के जाकर खड़ा हो जाता था और उनकी गांड में लंड दबा कर मजे ले लेता था.

अब जलालुद्दीन ने एक जोरदार झटका दिया और अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चूत में ठेल दिया. किधर में दुबली पतली नन्ही सी लड़की और किधर ये भरा पूरा मुस्टंडा मर्द, मुझे लग रहा था मानो बकरी पर हाथी चढ़ गया है. अब मैंने मीनू को बेड पर बिठा दिया और कोमल को भी उसके बाजू में बिठा दिया.

कुछ देर तक एक ही जैसे धक्के मारते मारते जलालुद्दीन ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उल्टा सीधा चिल्लाने लगे- ले मादरचोद रंडी, आज तेरी चूत का भोसड़ा बनाकर छोडूंगा. माधुरी ने मुझे अपनी बदली हुई शॉप का पता बताया और कहा- कल दो बजे शॉप पर आ जाना, देर मत करना वर्ना तुम्हारी शिकायत क़र दूंगी. दोस्तो, आप लोगों को बता दूँ कि जो भी औरतें अपनी चूत हमेशा साफ़ रखती हैं और सेक्स की प्यासी होती हैं, उनकी चूत की खुशबू में ऐसा नशा होता है कि आपको असली जन्नत का मजा दिला दे.

कुछ ही देर में अदीबा फिर से गर्मा गई और मेरी चुदाई का जवाब देने लगी.

शायद वो मेरी भावनाओं को समझ रही थी और उसका भी कुछ कुछ मन हो रहा था. अगर तू गांव जाएगी, तो न तेरी पढ़ाई हो पाएगी और न ही तेरे भैया के लिए खाना बनाने वाला कोई रहेगा.

2021 के नया बीएफ com/antarvasna/x-bhabhi-ki-hindi-kahani/में आपने पढ़ा कि मैं भाभी की जवानी को लेकर उसे चोदने का सपना देखने लगा था. लेकिन मैंने उसके दोनों हाथों को मोड़ कर उसके पीठ के पीछे किया और अपने बदन को उसके ऊपर चिपका दिया.

2021 के नया बीएफ आंटी की गोरी लम्बी टांगें देखकर मेरा लंड पूरी तरह से टाइट होने लगा था. वो एक हाथ से मेरे एक मम्मे को दबाते थे और दूसरे मम्मे को मुंह में भर लेते थे.

यह देखकर ड्राइवर को भी मेरी चुदाई में मजा आने लगा और वो और भी प्यार से मुझे चोदने लगा.

गुजराती नमकीन

मैंने दुकान से कुछ जल्दी ही घर जाने की इजाजत ली और अपने मित्र के साथ उसके घर चल दिया. फील्ड से मैं सीधा शाम को ही ऑफिस आया और आते ही मैंने माधुरी की दुकान पर नजर डाली. आज मॉम का जन्मदिन था तो मॉम काफी खुश थीं इसलिए वो शराब के लम्बे लम्बे घूँट भर रही थीं.

मैं भी उससे मिलने के लिए बहुत एग्ज़ाइटेड था और वो भी!वो दिन आ ही गया, सब तैयारी करके मैं उससे मिलने चला गया. मैं लगातार उसकी आंखों में देखे जा रहा था और कब हम धीरे-धीरे एक दूसरे के करीब आने लगे, यह हमें भी नहीं पता चला. सब लोग उसे ही देख रहे थे और वो मुझे!मेरे पास आते ही उसने मुझे मेरे गाल पर किस किया तो सब लोग और भी ज्यादा अचंभित हो गए.

जब मैं चौथा पैग पी रहा था, तभी मेरी बीवी सोनू (बदला हुआ नाम) ऊपर के कमरे में आ गयी.

फिर मैंने माधुरी के नीचे होंठों को भी चूमा और बीच बीच में मैं अपनी जुबान माधुरी के मुँह में डाल देता तो माधुरी मेरी जीभ को चूसने लगती. फिर मेडिकल स्टोर जाकर 5 कंडोम के बड़े वाले पैकेट लिए और सेक्स की गोलियों की एक पूरी डिब्बी ले ली. उसने चुस्त सी टी-शर्ट पहनी हुई थी जिससे उसका मजबूत शरीर साफ झलक रहा था.

पहले मैंने उन दोनों को मजा दिया, फिर उन्होंने मिल कर मेरे साथ फोरप्ले करके मुझे आनन्द से भर दिया. शायद यही बात रम्भा को भी पता चल रही थी इसलिए अब वह मेरे सामने बैठकर उसने अपने शरीर को टेबल पर थोड़ा आगे की तरफ झुकाया जिससे कि अब मुझे उसके चूचों की गहराई भी दिखने लगी।वह जानबूझकर मुझे अपना बदन दिखा रही थी. कुछ मिनट तक चाची की गांड की अच्छे से ठुकाई करने के बाद मैंने लंड को गांड से बाहर निकाला और चूत में घुसा दिया.

तो टॉप में से उसकी उभरी हुई गोल गोल चूचियां ऐसे हिलती थीं मानो उसके टॉप के अन्दर दो संतरे थिरक रहे हों. इससे पहले कि मैं कुछ कहती, सलीम बीच में ही बोल पड़े- हां सलमा बेगम, आज तुम्हारे हाथों के जाम ही पिएंगे और तुम्हारे शौहर बनकर तुम्हारे साथ सुहागरात मनाएंगे.

वर्षा अपने पूरे ज़ोर पर थी तथा हम लोगों के अन्दर भी तूफ़ान हिलोरें मार रहा था. जब थोड़ा आगे गए और बाइक पर ठंडी हवा लगी और दिमाग शांत हुआ, तब ठंडी हवा में मेरी पीठ पर उसके जिस्म की गर्माहट महसूस हुई. मैकेनिक अब्दुल गाडी चेक करके बोला- नया रेडिएटर पाइप लाना पड़ेगा जो यहां से पांच किलोमीटर दूर की बस्ती में मिलेगा.

माधुरी बाहर गयी और अन्दर आते ही उसने दुकान शटर अन्दर से बंद कर दिया.

पर जब भी वह मुझसे पिक भेजने को कहती, मैं उसे यह कह कर चुप करा देता कि एक दिन खुद तुमसे मिलकर सरप्राइज दूंगा. मैंने हाफ में बची हुई दारू देखी और सीधे मुँह से ही बोतल लगा कर दो बड़े घूंट खींच लिए. गर्मी के मौसम में हम लोग पानी की कमी के कारण गर्मी में कोई फसल नहीं लगाते थे.

कभी मैं उसकी एक चूची को चूसता … तो कभी दूसरी चूची को!और धीरे से मैंने उसके निप्पल पर काट लिया … जिससे उसकी आह निकल गई. मेरे अंदर आग भड़कने लगी जिसको शांत करने के लिए मेरी चूत से पानी निकलने लगा.

अब तक मेरा आधा लंड कोमल गर्म चूत के अन्दर जा चुका था और कोमल की आंखों से निरंतर आंसू आ रहे थे. अब आगे सगी चाची की गांड फाड़ चुदाई:मैंने लंड को चूत से बाहर निकाला और चाची के हाथों को खोल कर उनको बेड पर सीधा लेटा दिया और उनकी टांगों को ऊपर उठा कर फैला कर उनकी चूत का रस पान करने में जुट गया. मैंने महसूस किया कि मॉम की चूत बहुत गर्म थी और उनकी चूत हल्का हल्का पानी भी छोड़ रही थी.

सोनम कपूर xxx

हैलो फ्रेंड्स, मैं रॉकी आपका अपनी कुंवारी गर्लफ्रेंड की चुदाई की कहानी में एक बार फिर से स्वागत करता हूँ.

तो मैडम ने मम्मी की साड़ी घुटनों के ऊपर की जिससे मम्मी की गोरी जाँघें दिखने लगी. कुछ देर बाद उसके पिता जी खेत की तरफ चले गए, माता जी पड़ोसी के यहां कुछ काम से मिष्टी के बच्चों के साथ पहले ही चली गई थीं. मैं निप्पल के चारों तरफ अपनी जीभ फिरा रहा था, जो खाला को बहुत मदहोश कर रहा था और वो सिसकारियां ले रही थीं- उम्म … आह … ओह या बेबी … मेरे निप्पल चूस लो … आहह … कितना मजा आ रहा है.

मैंने सोचा कि एक बार रूम में जाने के बाद कौन क्या कर सकेगा, इसलिए मैं और रानी दोनों वहां चले गए. कुछ देर बाद मैंने लंड को गांड से बाहर निकाल लिया और चाची को बेड पर ही कुतिया बना कर उनके पीछे से लंड गांड में डाल दिया. सेक्सी वीडियो पंजाबी हॉटफिर मेरी अम्मी ने मुझे माहवारी के बारे में बताया और यह भी बताया कि अब मुझे परदे में रहना होगा और लड़कों से दूर रहना होगा.

ड्राइवर ने टेक्सी से उतर कर देखा तो परेशान होकर बोला- लगता है पाइप फट गया है, मैकेनिक को बुलाना पड़ेगा. छोड़ दीजिए मुझे!मुझे उसकी बात उचित लगी और मैंने उसे उस वक्त जाने दिया.

सोनी ने उंगली से मेरी गांड के छेद में तेल भरा, मेरे भरे हुए चूतड़ों को चूमा. क्या आप मुझे वो क्लिप वापस दिखा सकते हो?इससे मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैंने वीडियो गैलरी को ओपन करके मोबाइल उसे दे दिया. मेरी आपा आँखें बंद करके मजे ले रही थी और उनका पूरा बदन बहुत ही बुरे तरीके से हिल रहा था.

करीब आधा घंटा कोमल को चोदने के बाद मैंने कोमल को फिर से अपने नीचे ले लिया और अपना वीर्य कोमल की तपती चूत के अन्दर छोड़ दिया. मैंने कहा- कुछ कुछ क्या होने लगता है?वो बोली- अब ऐसे कैसे बताऊं?मैंने कहा- जब हीरो हीरोइन को किस करता है, तब कैसा लगता है?वो बोली- तब तो समझो ऐसा लगता है कि काम ही हो गया है. उनकी मेहनत रंग लाई और थोड़ी ही देर में मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

मैंने मन ही मन कामदेव की वन्दना की कि ‘हे प्रभु ये आपकी कैसी लीला है.

मैंने गांड के छेद पर लगा तेल मलते हुए अपनी एक उंगली गांड के अन्दर घुसाई, तो साक्षी की आउच की आवाज आई. ये सुनकर उसने कहा कि अरे तुम कमरे के अन्दर भी चले गए, रुको मैं आती हूँ.

नीना- रवि, तुम्हें दर्द नहीं हो रहा?मैं- डालते समय थोड़ा दुखा, पर अब मजा आ रहा है. मैं उसे अन्दर लेने को बेताब होने लगी, तो मैंने दोनों टांगों को फैलाकर हारून को संकेत कर दिया कि अब मैं चुदाई करवाने को तैयार हूं. उसके बाद शर्त के हिसाब से 5 दिन बाद बुआ ने मुझे घर बुलाया और बुआ की सहेली को बुआ के घर में उसके सामने चोदा, उसकी गांड की सील भी तोड़ी.

फिर अचानक से वो खड़े हो गए और अपना लंड आगे करके मेरे मुँह में देने लगे. उसमें अन्दर से उसकी जवानी फूट फूट कर दिख रही थी, चूचियों के निप्पल एकदम कड़क दिख रहे थे और वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा भी रही थी. पर उसने मेरे बाल जोर से खींच कर मेरा मुंह खोला और अपना बदबूदार लंड मेरे मुंह में ठूंस दिया.

2021 के नया बीएफ अब जीजू तेज तेज धक्के मारने लगे और मेरा सारा बदन उनके धक्कों के साथ हिलने लगा. फिर उसने हंसते हुए कहा- मुझे नींद में पैर चलाने का आदत है, अगर लग जाए तो बुरा मत मानना.

सेक्सी गधे की

उन्हें पहनकर मैं शीशे में अपने आपको देखकर उत्तेजित होने लगी थी और अपने आपको एक स्त्री समझकर अपने पति के लिए शृंगार करने लगी. फिर आपा ने जीजू का लंड अपने मुंह में लिया और लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. कुछ देर बाद मैंने मामी की गांड में लंड को निकाल लिया और मैं मामी की चूत फिर से चोदने लगा.

कुछ ही पल बाद मैं पूरी तरह से अकड़ कर भैया से पूरी लिपट गई और झड़ गई. उधर बापू ने काकी की साड़ी जांघ तक सरका दी तो काकी ने भी अपना हाथ बापू के लंड पर रख दिया और वो बापू के लंड को सहलाने लगीं. गावरान बाईचा सेक्सी व्हिडीओदोस्तो, अंकल पोर्न स्टोरी का पूरा मजा लेने के लिए आप अन्तर्वासना से जुड़े रहें.

कुछ देर बाद उसका फ़ोन आया- क्या कर रहा है?उसने पूछा, तो मैंने कहा- कुछ नहीं तेरे ही फ़ोन का इंतजार कर रहा था, कहां है तू? जल्दी आ.

मैं जलालुद्दीन साहब से बीस पचीस बार चुदवा चुकी थी फिर भी आज उनका लण्ड काफी बड़ा, मोटा और कड़क लग रहा था. अब अगले आठ दस घंटों तक मुझ पर जिन्न का हमला नहीं हुआ और मुझे कोई दौरे नहीं पड़े.

अब मेरे हाथ शबाना की छोटी-छोटी चूंचियों को मसल रहे थे और शबाना की मादक सिसकारियां निकल रही थीं. चाची अन्दर जाने लगीं और मैं पीछे से उनकी ठुमकती गांड को निहारने लगा. मुझे उठाकर उसने घुटनों के बल बैठा दिया और लंड मेरे मुंह में दे दिया.

उस वक्त चाचा अपने किसी दोस्त से मिलने गए थे तो वो रात को थोड़ा देरी से आने वाले थे.

मैंने मॉम की दोनों टांगें मोड़ कर उन्हें कुतिया बना दिया था और मैं बहुत तेज तेज उनकी गांड में धक्के लगा रहा था. मैंने उसकी गांड साफ की और उसने मुझे पीठ पर साबुन लगा कर अपनी चूचियों से मेरी मालिश की. भाभी का फिगर 36-30-40 का था और उसको देख कर कोई भी मर्द अपने आपको रोक नहीं सकता था.

रँडी वाला सेक्सी व्हिडीओमुझको शुरुआती दर्द के बाद अभी मजा आना शुरू ही हुआ था कि सोनी झड़ गया. निशा ने मेरी बात सुनकर मुझसे नजरें हटा दीं और वो उन दोनों को देखने लगी.

साड़ी में चुदाई वीडियो

दो से उसी गोटी को आगे चलाया ताकि वो महफूज़ हो सके, उसी समय अचानक छह-छह-एक और उसकी हरी गोटी घर जाते हुए दिखी. वह मुझे हटाने की कोशिश कर रही थी लेकिन कुछ बोल नहीं रही थी।वह मेरा विरोध कर रही थी और अपने हाथ से अपने चूचों को भी दबा रखा था. कुछ देर बाद शायद कविता को लगा कि मैं सो गया हूँ और उसके हाथ मालिश करते हुए लुंगी के अन्दर तक जाने लगे.

आंटी हमेशा फ़िटिंग के सूट सलवार पहन कर रहती थीं, जिससे वो हमेशा कांटा माल लगती थीं. शाम को 4 बजे तापोश ने रवि को गेस्ट हाउस में बुलाकर कहा- नीना मुझको रवि की गांड मारते और दोनों को मजा लेते देखना चाहती है. मैंने बीवी को घोड़ी बनाया और लंड को पीछे से एक ही झटके में चूत की गहराई में पहुंचा दिया.

चूमता हुआ वो नीचे पैरों के पंजों तक गया और फिर वापसी में चूमता हुआ ही मेरी चूत के पास आ गया. मुझको पेट के बल लिटाकर पहले अपनी एक उंगली में तेल लगाकर वो मेरी गांड में डालकर अन्दर बाहर करने लगा, फिर दो उंगली से!किताब में लिखा था कि गांड ढीली रखने से दर्द कम होता है और मजा ज्यादा आता है. वो मुझे चोदने के लिए इतने उतावले थे कि अन्दर आते ही मेरी सलवार और कमीज उतार दी.

बस उसी वक्त मेरे लंड के सब्र का बांध टूट गया और मैंने चिल्लाते हुए ‘आहा … आ आ … ले साली आह चूस ले आहा …’ करते हुए अपना सारा लावा माधुरी के गले में ही छोड़ दिया. शबाना- इतना महंगा गिफ्ट किस लिए साहब?मैंने लापरवाही में जवाब दिया- बहुत ज्यादा महंगा भी नहीं है.

मेरी पूरी उंगली गीली हो चुकी थी और चूत अन्दर से बहुत गर्म हो रही थी.

मगर तब भी मैंने उससे पूछा- आप कौन बात कर रही हैं?तो उसने कहा- अरे मेरा नंबर सेव नहीं किया क्या? मैं बोल रही हूँ. सेक्सी सेक्सी नया वीडियोवो भी राजी हो गई और बोलने लगी- आह हां … चोदो मुझे … और चोदो मज़ा आ रहा है … मैं बहुत दिनों की प्यासी हूँ. मोटी औरत की फोटो सेक्सीमैंने उससे पूछा- अब आगे क्या करना है?उसने मेरे लंड अपना हाथ रखा और बोली- अब मेरी बारी है. डैड तुरंत से बाहर जाने लगे और वो जाते जाते मुझसे बोले- बेटा गेट बंद कर लो और अपनी मॉम का अच्छे से ख्याल रखना, शायद मुझे आने में सुबह हो जाएगी.

उसकी ये खुशी मुझे बर्दाश्त नहीं होती थी पर अपनी गंदी शक्ल को देख कर मन मसोस कर शांत हो जाती थी.

अब मैंने सीधे सीधे पूछा- आखिरी बार उसने तुम्हारे साथ सेक्स कब किया था?उसने भी बेलाग जवाब दिया- आठ महीने पहले. उस समय मेरी शादी नई नई हुई थी और मैं अपनी पत्नी के साथ बहुत मजे से रह रहा था. बस मैंने अपने बचे हुए लौड़े को भी एक और बड़े झटके के साथ उसके अन्दर उतार दिया.

तो मैंने बोला- अंजलि को मेरे रूम में भेज दो।कुछ टाइम बाद मेरे रूम की डोर बेल बजी. मैंने लंड का टोपा उसकी गांड के छेद में फंसाया और उसकी जांघों को पकड़ कर एक ही झटके में पूरे लौड़े को उसकी गांड में उतार दिया. मैंने भी बुआ को अपनी तरफ खींचते हुए कहा- हां मेरी बबली रानी, तुमने भी मेरी जिन्दगी में खुशियां भर दी हैं.

हीरोइनxxx

कुछ दिन बीतने के बाद भाभी की मम्मी को कॉल आया कि भाभी के मामा की तबियत खराब हुई है और उनको बुलाया गया है. अब जलालुद्दीन ने मुझे जमीन पर घुटनों पर बैठने को कहा और मेरे आगे आ गए. होटल में जाकर मैंने एक कमरा ले लिया और कमरे में आकर साक्षी की प्रतीक्षा करने लगा.

दोस्तो, आज पहली बार मैं बहुत खुश था क्योंकि पहली बार में ही मैंने जैसे चाहा था कि मैं उससे बात करूं, ठीक वैसे ही हुआ.

क्या जबरदस्त मस्ती भरा अहसास हो रहा था चूत में!और एक जोर के झटके के साथ सब कुछ शांत हो गया.

मैंने कहा- हां वो तो तुम हो ही, लेकिन ये मेरी इच्छा है कि तुम्हारी किसी सहेली को भी चोदूं. मैं भी बस झड़ने वाला था तो बिना रूके धक्के पे धक्का मारते जा रहा था. जंगल में लड़कियों का सेक्सी वीडियोजब भी हम दोनों घर में अकेले होते हैं, तब तो घंटों मेड सेक्स करते हैं.

दोनों ही पसीने की वजह से भीग चुके थे लेकिन मज़ा दोनों को ही बहुत ज्यादा आ रहा था. वो बोली- यह क्या कर रहे हो आप?पर मुझे पता था कि उसको मन ही मन में अच्छा लग रहा है. मेरा मन तो किया कि उसी समय कमर के साथ खेलने लग जाऊं, लेकिन अभी तो समय किसी और खेल का था.

नंगी लड़की देसी कहानी में पढ़ें कि मेरे मामा की बेटी हमारे यहाँ रहने आई तो सोते हुए मैंने उसे छेड़ा. वो बोले- हां, नाम तो मुझे भी ट्रू कॉलर पर आ गया था कि कोई प्रियंका का नम्बर है, मगर मुझे समझ नहीं आया था कि ये प्रियंका तुम हो.

आंटी के स्तन गोल नहीं थे, वे आकार में शंक्वाकार थे और बहुत कड़े थे.

चारों तरफ पानी ही पानी भरा हुआ था और गांव से होकर बहने वाली नदी उफान पर थी. मीना दिखने‌ में साधारण थीं लेकिन उनकी मोटी गांड और भरी हुई 34 नाप की चुची ‌‌देख कर मेरी नियत खराब हो गई और मैं देसी आंटी की चुदाई की ‌सोचने‌ लगा. थोड़ी देर में जब चाची का दर्द कम हुआ तो चाची बोलीं- अब फिर से लंड डालो चूत में … और साले इस बार आराम से डालना!एक बार फिर मैंने चूत पर लंड सैट किया और आराम आराम से आधा लंड आसानी से घुसा दिया.

दर्द होने वाली सेक्सी मुझसे अब रहा नहीं गया और मैं मॉम के दोनों चूतड़ों को फैला कर उनकी गांड के छेद को चाटने लगा. सेक्सी और शानदार बर्थ डे पार्टी के लिए सब कुछ तैयार है।लेकिन उन लड़कियों को ही नहीं पता कि उनकी पार्टी में एक अप्रत्याशित अतिथि आने वाला है।क्या लड़कियों की अप्रत्याशित पार्टी सफ़ल रहेगी? या बिन बुलाया मेहमान पार्टी को बिगाड़ देगा?इन सभी उत्तरों को जानने के लिए देखें सविता भाभी एपिसोड 27 का वीडियो!.

तो उसने बोला कि उसके पैर की नस खिंच गई है, इसलिए चल नहीं पा रही है. मैं चूंकि चाची के साथ ही रहता था तो चाची अपना हर काम मुझसे ही करवाने लगी थीं. माधुरी ने भी ये बात नोटिस की कि मेरी आंखें उसकी चूचियां देख रही हैं.

चुत चाटने का मजा

कुछ देर में मेरा दर्द कम हो गया तो जीजू ने एक बार फिर जोरदार धक्का मारा और अपना सारा लंड मेरी चूत में उतार दिया. मैंने जीजू के कपड़े उतार दिए और जैसे ही उनका अंडरवियर नीचे किया तो उनका बड़ा सा लंड उछल कर मेरी नाक से आ टकराया. अब मैंने उसकी गांड में लंड लगाया और उसकी पीठ के ऊपर हाथों से सहलाते हुए जोर से झटका मारा.

इससे पहले कि मैं कुछ कहती, सलीम बीच में ही बोल पड़े- हां सलमा बेगम, आज तुम्हारे हाथों के जाम ही पिएंगे और तुम्हारे शौहर बनकर तुम्हारे साथ सुहागरात मनाएंगे. वो मेरे चक्कर में खुद भी भीग चुकी थी और मैं भी होश में आने का नाटक करने लगा था.

थोड़ी देर बाद वो बेलन का हैंडल उनकी चूत के अन्दर चला गया और उसी के साथ मां की सांसें तेज हो गईं.

अभी तक भाभी के पांव भारी नहीं हुए थे, शायद भैया-भाभी परिवार नियोजन कर रहे थे. दो घंटे तक हम दोनों को ऐसी गहरी नींद आई कि हमें कोई सुध ही नहीं रही. कालू के दोनों बेटे स्कूल की पढ़ाई के बाद फार्म में काम करने लगे, उनको अच्छी तनख्वाह मिलने लगी.

फ्रेंड्स, मैं संजू पंडित एक बार फिर से आपको अपनी चचेरी बुआ की चुदाई के बारे में बता रहा हूँ. वो बोली- जब मैं 10+2 में थी, तब एक बार एक दोस्त के साथ उसके बर्थडे पर उसके रूम पर रुकी थी. अगले दिन का वादा करके जलालुद्दीन उस दिन मुझे बिना चोदे ही कमरे से बाहर निकल गए.

मेरा नाम है अंकुर … इस Xxx Hindi Com वेबसाइट पर मैंने पहले भी कई कहानियाँ लिखी हैं।यह Xxx हिंदी कॉम हॉट कहानी आज से करीब 3 महीना पहले की है.

2021 के नया बीएफ: एक बार अभी कुछ दिन पहले ही रात को मैं उसी तरह शनिवार के दिन बीयर पीकर घर आया. चूंकि उंगली पेलने से मेरी गांड जरा खुल सी गई थी और फिलहाल तेल भी लगा था तो गांड में सुरसुरी हो रही थी.

लेकिन माधुरी मुझ पर बस बरसी जा रही थी और बात करते करते एकदम से उसने फ़ोन काट दिया. मुझे यहां एक महीने के लिए रखा गया था और अभी तो तीन चार दिन ही हुए थे. जैसे ही मेरे लंड के आगे का हिस्सा साक्षी की गांड में घुसा, उसके मुँह से ‘आह आह मर गई …’ निकली.

अब वो चिल्लाए जा रही थी- आह … आहकुछ देर बाद मैं भाभी को कुर्सी पर ले गया, जो मेरी फंतासी का एक हिस्सा थी.

तभी आंटी बोलीं- बेटा अब रहा नहीं जाता, अब चोद दो अपनी पूनम आंटी को. लेकिन कुछ दिनों के बाद एक फैमिली वहां पर आई थी।वे काफी अच्छे लोग लग रहे थे. आंटी एक बार रस छोड़ चुकी थीं लेकिन मेरे कपड़े अभी नहीं उतरे थे और आंटी के हाथ में लंड नहीं आया था इसलिए मेरे लंड ने हार नहीं मानी थी.