बीएफ सेक्स करते दिखाओ

छवि स्रोत,ब्लू फिल्म सेक्सी इंडियन चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

बच्चों के साथ बीएफ: बीएफ सेक्स करते दिखाओ, इस बार सब आराम से किया था, तो मज़ा भी बहुत आया और राउन्ड भी खूब लम्बा चला.

मानचित्र सेक्सी वीडियो

चढ़ती जवानी में जीजा का लंड भोगने के बाद 20 साल की उम्र में मेरी शादी हो गई थी. मेरे पापा सेक्सी वीडियोउसने मेरे दोनों हाथ मेरी चुन्नी से बाँध दिए और एक हाथ से मेरे बंधे हुए हाथ को पकड़ कर दूसरे हाथ को मेरी चूत के आस पास सहलाने लगा.

हैलो, मेरा नाम अजय है और मैं नियमित रूप से अन्तर्वासना की कहानियां पढ़ता आ रहा हूँ. सेक्सी वीडियो देवर भाभी रोमांससच बताऊं तो मैं भी यही चाहती थी कि वो मुझे बेताब कर दे चुदाई के लिए!उसने एक बार फिर मेरे पास आकर मुझे अपनी बांहों में कस लिया और बिस्तर में जा पटका.

”मैं उठकर बैठ गई, शर्म को बाजू में रख कर मैंने खुद ही मेरी शर्ट को उतार दिया और ब्रा भी उतार दी.बीएफ सेक्स करते दिखाओ: इसके साथ साथ मुझे यह भी अनुभव हुआ कि क्यों मर्द शादी के बाद भी अपनी प्रेमिका के साथ सम्भोग करना पसंद करते है.

मुझे बहुत दर्द होने लगा और मैं दर्द के मारे तेज स्वर में चीख रही थी … वो तो कार के शीशे बंद थे, जिस वजह से आवाज बाहर नहीं जा रही थी.गुड कुत्ते … तुझे शरीर सुरा का स्वाद चखाऊँगी राजे … धीरे धीरे देखता जा तू.

सर्च सेक्सी - बीएफ सेक्स करते दिखाओ

चूंकि वो लोग किसी कारणवश मेरी शादी में नहीं आ पाए थे, इसलिए वो दोनों आने के लिए काफी जिद कर रहे थे.अब आगे:राधिका ने अपना गिलास खाली करते हुए कहा- सोनल, अब तुम अपने भाई का लंड चूसो.

पता नहीं अब वो किस से चुदवाती होगी क्योंकि मैंने उसे ऐसा चस्का लगा दिया था कि वो बिना चुदे रह ही नहीं सकती थी. बीएफ सेक्स करते दिखाओ मुझे लगा था कि सोनल ने राधिका से अपनी मर्जी से कुछ भी करने का कहा था, तो वो चूत में लंड ले लेगी.

फिर शाम को जब मैं घर पहुंचा, तो माँ ने कहा कि बेटा तेरे पिताजी काम के सिलसिले में बाहर गए हैं, तो मैं तुम्हारे लिए खाना बना देती हूँ.

बीएफ सेक्स करते दिखाओ?

अनिता की चूत एक बार झड़ चुकी थी तो मुझे उसे फिर से चुदाई के लिए तैयार भी करना था. उसका आधा जिस्म हवा में था और वो आह-आह करके इस आसन से चुदाई का मजा ले रही थी. मुझे तो बहुत मजा आ रहा था और उन्हें भी आनन्द आ रहा था ऐसा मुझे लगा.

इधर गुड्डी रानी की चूत प्रदेश को मैंने चाट के साफ़ किया उधर बेबी रानी आकर गुड्डी रानी की बगल में बैठ गयी- राजे अब मेरी बारी है … मेरा अमृत भी निकलने को हो रहा है. उसका लंड काफी मोटा और लम्बा था, जिस वजह से मैं दर्द से चिल्ला रही थी. एक बार आंटी और मम्मी फ़िल्म देखने जा रही थीं, अंकल गैलरी में खड़े होकर उन्हें बाई बाई कर रहे थे.

उसने अपनी साड़ी उतारी और सिर्फ ब्लाउज पेटीकोट में होकर मेरे साथ बिस्तर पर आ गई. इसलिए कभी मैं उसके शरीर पर चढ़ कर अपने शरीर उसके जिस्म से रगड़ कर अपनी उत्तेजना को बढ़ा रहा था. मेरी माँ स्कूल में टीचर है उनकी जॉब से हमारा घर बस किसी तरह से चल रहा था।19 साल की उम्र में मैंने अपनी 12वीं की पढ़ाई पूरी कर ली और कुछ काम की तलाश करने लगी पर मुझे मन का काम नहीं मिल पा रहा था.

उसने अपने घुटनों को सीधा करके एक बार तो अपनी चूत को पीछे से भी मेरे चंगुल से छुड़ाने की कोशिश की मगर जैसे उसने अपने पैरों को आगे की तरफ से सीधा किया वैसे ही मैंने आगे की तरफ से उसकी चूत पर हाथ रख दिया. निहारिका की चुदाई एक घन्टे तक चलती रही और उतनी देर में मैं दो बार मुठ मार चुका था.

मगर जब उन्होंने मेरी चूत की चुदाई शुरू की तो मैं आनंद में गोते लगा रही थी.

मैं- हां मेरी जान, मैं भी अपने लंड को अब तीन चार दिन तक तुम्हारी चूत के अन्दर घिसना चाहता हूं.

मैंने टीवी में हमेशा देखा था की सुहागरात वाले दिन दुल्हन का कमरा बहुत अच्छी तरह से सजा होता है. थोड़ी ही देर में मौसी के निप्पल कड़क हो गए, तब लगा कि यही मौसी की वासना जगाने का सही वक्त है. आज मैंने अपनी चूत में फ़ूड ग्रेड का डिओ लगाया था, जो चूसने पर बड़ा ही मीठा स्वाद देता था.

उसने एकदम से खड़े लंड को अपने मुँह में ले लिया और लंड को लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. अब अंकल ने आगे की तरफ झुककर मेरे दाने को अपने मुँह में पकड़ा और हल्के से खींचते हुए काटा, फिर उसे होंठों में पकड़ कर मस्ती से चूसने लगे, अपनी जीभ से छेड़ने लगे. वो भी मेरा इशारा समझ गईं और उठते हुए मेरी तरफ थोड़ा झुक कर बोलीं- बता भी दो और क्या चाहिए.

मेरी चूची पर अपना माल छोड़ने के बाद वो मेरी चूत को चाटने लगे और मैं उनके माल को साफ़ करने लगी.

दोनों के होंठ से होंठ ऐसे चिपकाए पड़े थे, जैसे कोई भूखा शेर अपने शिकार को एक बार में ही निगल लेना चाहता है. दीपिका- तुम आकर खुद ही बात कर लो न?संजना- तुम राज जी से बात तो करो, तुम्हारे लिए तो वे अपना कमरा भी खुला छोड़ गए थे, हाय, ऐसा पड़ोसी मुझे भी दिला दो यार. दस मिनट की लंड चुसाई के बाद मैं एकदम से कड़क हो गया और मैंने उनके मुँह में ही अपने लंड का सारा माल निकाल दिया.

मैंने कहा- आपने जवाब नहीं दिया?तो बोली- मैं क्या कहूँ?मैंने कहा- शरमाइये नहीं. रितेश जीजू ने चोद-चोद कर उसकी कमसिन जवानी को फूल की तरह खिला दिया था. नहीं सर … आज बहुत थक गई हूं … फिर कभी!”कुछ पल रुक कर मैंने उनसे कहा- सर, एक बात पूछनी थी आपसे?पूछो ना!” सर बोले.

काजल बोली- ननद जी वो तो है, पर आप भी मुझसे कम नहीं हो, अपनी साइज तो देखो.

संतोष ने लंड हिलाते हुए कहा- क्या देख रही हो … लेना है?मैं बोली- शर्म नहीं आती आपको ऐसी हरकत करते हुए?तो उन्होंने बोला- पहले आती थी … पर जब तू मेरे रस से भीगी चड्डी को बार बार शाम को सूखने डालने लगी, तो मुझे समझ आ गया कि तू मुझसे चुदना चाहती है. यह सब कुछ खड़े खड़े हो रहा था, अब मैंने उसको लिटा दिया और उसकी चूचियों पर हाथ फेरने लगा.

बीएफ सेक्स करते दिखाओ मैं सिसकारियां लेते हुए सर के बालों को सहलाते हुए उनका मुंह अपनी चूत में दबाती रही. अच्छा मैं अपने हस्बैंड से बात करती हूं, अगर वो तैयार हो जाते हैं, तो मेरे घर वालों का भी तुम ही रिजर्वेशन करा दो.

बीएफ सेक्स करते दिखाओ वो मेरे दर्द को समझ तो रहा था लेकिन वो इस बात को जानता था कि एक बार लंड के एडजस्ट होते ही दर्द खत्म हो जाएगा. ”अच्छा वसुन्धरा! उस लड़के का क्या हुआ? सॉरी टू आस्क … ऐसा क्या था उस लड़के में?”उसकी तो कहीं और शादी हो गयी … बरसों पहले ही.

उसका तना हुआ छह इंच लंबा और दो इंच मोटा लंड खड़ा मीरा को ललचा रहा था.

इंडियन ब्लू सेक्स वीडियो

मैंने अंगूठे को पूरा चाची की चूत में डाल कर तेजी से उनकी चूत को कुरेदना शुरू कर दिया. कभी मेरी चूत को होंठों से चूमने लगे और कभी जीभ अंदर देकर उसको चूसने चाटने लगते. फिर मैं सीधी खड़ी हो गयी और मेरे पति राजेश ने मुझे पीछे से अपनी बांहों में लेकर मेरी गर्दन और गालों को चूमते हुए कहा कि तुम इस नाईटी में बहुत सेक्सी लग रही हो.

उसमें कुछ कमियां थीं, तो मैंने विनीता को फोन करके बताया, फिर उसकी वो सब कमियां दूर करने में मदद भी की. ”अरे क्यों?”शूगर के कारण डॉक्टर्स ने मना कर रखा है।” कहकर उसने मेरी ओर देखा।ओह … आई एम सॉरी!”प्रिय पाठको और पाठिकाओ! आप तो बहुत गुणी और अनुभवी हैं। आप तो जानते ही हैं शूगर के कारण ज्यादातर पुरुष अपनी पौरुष क्षमता खो देते हैं।और पता है सुहाना भी मीठा बहुत कम खाती है. संजना ने मेरा लौड़ा पूरा चिकना कर दिया और मेरा लौड़ा पकड़ कर शीना की गांड के छेद के ऊपर रख दिया.

इधर उधर सिर हिलाते हुए गुड्डी रानी चिल्ला रही थी- आह आह आह कुत्ते … और ज़ोर से चोद कमीने … आह आह आआआह आआह जानू तेरा लंड क्या है बिजली का खम्बा है … अहा अहा अहा अहा … ज़ोर से ज़ोर से ज़ोर से … अहा अहा अहा अहा … उफ्फ फ़फ़फ़ मादरचोद अब जान लेगा क्या?मैं भी गुड्डी रानी के हुकम के अनुसार धम्म धम्म धम्म शॉट पे शॉट पेले जा रहा था.

हालांकि हम दोनों उस रात दुबारा चुदाई नहीं कर पाए क्योंकि मेरे साथ मेरी मम्मी मेरे बेडरूम में ही सोती हैं. थोड़ी ही देर में वो बहुत गर्म हो चुकी थी, जिसका अंदाज़ा भाभी की गीली चुत से मुझे हो गया. और उसकी चूत से निकला थोड़ा सा पानी जो चॉकलेट से मिला हुआ था, उसके मुँह में डाल दिया.

मीता- फिर किसके साथ करूं?मैं- हूँ … तुम मुझे एक बात बताओ कि क्या तुम्हारा मन सेक्स करने का है … और तुम कितना डिस्प्रेट (बेताब) हो सेक्स के लिए?मीता- मेरा सेक्स करने का बहुत मन है. इस कहानी का वास्तविकता से कोई लेना-देना नहीं है। एक बार फिर मैं आपसे प्रार्थना करता हूं कि इसे एक कहानी की ही तरह पढ़ें।अब मैं कहानी शुरू करता हूं. अब वो मेरे आधे नंगे जिस्म को चाटने लगा, अपने जिस्म को मेरे जिस्म से रगड़ने लगा.

मां बोलीं- हर्षद, तुम ये क्या बार बार घूर-घूर कर मुझे देख रहे थे? ऐसा मुझमें तुझे क्या नया दिख रहा है? तुम बहुत बदमाशी कर रहे हो. वो बोला- तुम बीच में कहां गायब हो जाती हो?मैंने कहा- तुमने मेरी ऐसी हालत कर दी है कि मुझसे अब बोला नहीं जाएगा.

अगली सुबह रोज की तरह रितेश छत पर योगा करने पहुंचा, तो उसने देखा कि मीरा वहां पहले से ही आई हुई है. पर उसको सेक्स किए बहुत दिन हो गए थी तो लंड घुसते ही मानसी दर्द के मारे चिल्ला पड़ी. अब दीपाली की चुत में जब भी खुजली होती है, वो मुझे कॉल कर देती है … और हम दिन भर चुदाई का खेल खेलते हैं.

मैंने चैक करने का पक्का इरादा कर लिया और रात को सबको खाना खिला कर मैं और मेरी ननद सुमीना टीवी देखने लगी.

मैंने अपने लंड पर ऊपर तक तेल चुपड़ लिया और उसकी बुर में भी जहां तक तेल जा सकता था, उतना तेल से तर कर लिया. मुझे अपनी गोद में बिठाकर रवि अपने दोनों हाथों से मेरी निप्पल्स को मरोड़ने लगा. शायद उसने भी दूध में कोई चीज मिलाई थी जो उसकी चूत लंड को चाटने के खेल को मस्त बना रही थी.

मैं उसके गुलाबी होंठ चूसते निप्पल पर आया और एक निप्पल को अपने होंठों में दबा आकार चूसने लगा. आंटी कुछ दूर जाने तक अंकल ने मुश्किल से खुद को कंट्रोल किया, लेकिन फिर उन्होंने मुझे ऐसा चोदा कि पूछो मत.

मैंने बोला- थोड़ा दर्द तो होगा, अगर तुम नहीं चाहती हो, तो मैं बाहर निकाल लेता हूँ. मैं खड़ा होकर दिशा के पास गया और मुझे आता देख कर चुदासी सी दिशा खड़ी हो गई. मैंने महसूस किया कि जीजा जी चूत चाटने में पहले के मुकाबले ज्यादा माहिर हो गये थे और उन्होंने दो मिनट के अंदर ही ऐसी तरह से मेरी चूत चाटी कि मेरे मुंह से सीत्कार निकलने लगे.

इंग्लिश बीएफ नंगी चुदाई

इस बार मैंने ब्रा पहनी और जोर से अपने मम्मों को कुछ इस तरह से फुलाते हुए अंगड़ाई ली कि ब्रा पर जरूरत से ज्यादा जोर पड़ गया.

बातों बातों में पता चला कि डॉली का एडमिशन इलाहाबाद में हो गया है, अगले सोमवार को पहुंचना है इसलिये इतवार को रात की ट्रेन पकड़ेंगे. तभी रेखा भी धड़ाम से मेरे ऊपर गिर पड़ी और लम्बी लम्बी सांसें लेने लगी. मैं सोच रहा था कि जिस औरत से मेरी ठीक ढंग से बात भी नहीं होती उससे ऐसे गंभीर मामले के बारे में कैसे बात करूंगा.

मेरा लंड चाची की चूत पर जा लगा और मैं जोर से चाची की गर्दन को चूसने लगा. धड़ाम … धड़ाम!!!! इतनी ज़ोर की आवाज़ आयी कि जैसे बिजली सामने सड़क पर ही गिरी हो. सेंड सेक्सी वीडियोनम्रता- हां मेरे राजा, बस ऐसे ही मेरी गांड चुदाई चालू रखो, बहुत मजा आ रहा है.

वो मुझसे कहने लगी कि तू मुझे ऐसे क्यों देख रहा था?मैंने कहा- गलती हो गई यार. हम लोग उस दिन घर पूरा दिन बोर होते रहे इसलिए शाम को मैं और जीजू घूमने के लिए निकल गये.

अंकल जी के चुम्बन का जवाब मैं भी तत्परता से देने लगी और उनके होंठ चूसने लगी. उसने मुझसे एक ही बिस्तर पर थ्री सम चुदाई के लिए कहा, तो मैंने हां कर दिया. अब मेरी बारी थी उसके लंड पे उछाल मारने की … मैं उसके लंड के ऊपर कूदने लगी.

इतना स्टेमिना मुझमें है … मेरी इस मजबूती को कभी भी चैक किया जा सकता है. उसने नजर भर कर मुझे पूरा से नीचे से ऊपर तक देखा, फिर घुटनों पर बैठ कर मुझे एक रिंग दिया और कहा- आई लव यू. मेरे इस रवैये से मौसी ने एक बार फिर मेरी तरफ देखा और हल्के से मुस्कुरा दीं.

फिर मेरे दिमाग ने सोचा कि ससुरजी भी हो सकते हैं क्योंकि सासु माँ को गुजरे हुए भी कई साल हो गये.

तो चलिए गौर फरमाते हैं एक और हसीना की चीखों पर!बात कुछ दिनों पहले की है जब मेरी मुलाकात एक और हसीना. रास्ते में मैंने उससे पूछा- कहां जाना है?तो वह बोली कि तुम जहां ले चलो.

मगर अंतर्वासना पर पाठकों के साथ अपनी उलझनें और अपने जीवन की घटनाएँ आसानी से शेयर की जा सकती हैं इसलिए यह मेरी पसंदीदा साइट है. लेकिन उनका कोई उत्तर नहीं मिला तो मैंने भाभी को आवाज लगाई- भाभी जान, अपने रूम से बाहर आ जाओ, भैया सो गए हैं. उनका मेरे अंगों को छेड़ने से चुत पर से मेरा कंट्रोल छूट रहा था, मुझे तो डर रहा कि कहीं सुसु पैंटी में ही ना निकल जाये.

फिर रमेश की आंखों में देखते हुए अपनी जीभ बाहर निकाली और लण्ड के निचले हिस्से को चाटने लगी। फिर सुपारे पर चूसने लगी और फिर लंड के दायें बायें और फिर ऊपरी हिस्से पर अपनी जुबान फिराने लगी. शर्मा सर ने बड़े आराम से मेरा नग्न शरीर को बेड पर लिटाया और तेजी से मेरी जांघों के बीच बैठ गए. वो लगातार सिसकारने लगी- आ … आ … आ … येस … ज़ोर्डन … कमॉन।मैं कभी उसके निप्पल काट रहा था तो कभी उसकी गर्दन के पास काट रहा था। हम दोनों पागल हो रहे थे.

बीएफ सेक्स करते दिखाओ पता नहीं कब मेरे हाथों ने उसके सिर को पकड़ लिया और उसके मुंह को लंड पर दबाने लगे. वो वन पीस सिल्की नाइटी पहन कर आई थी, जो सामने से खुली रहती है और एक तरह से सुविधाजनक ही रहती है.

देसी भाभी की चुदाई की

एक बार मैं और मेरा बॉयफ्रेंड हम दोनों एक गार्डन में घूमने के लिए गए थे और वहीं पर हम दोनों लोग एक दूसरे को खूब किस किये. माँ ने जल्दी से खाना बनाया और हम दोनों खाना खाकर सोने की तैयारी करने लगे. रात 9 बजे मैं उनके घर आ पहुंचा- भाभी दरवाजा खोलिए … बहुत ठण्ड लग रही है.

मैंने जाते समय अपने हाथों को उनकी गांड पे ऐसे टच किया … जैसे कि मुझे पता ही नहीं हो कि वो उनकी गांड है. वह गुस्से में बोली- थोड़ी देर रुक नहीं सकते हो क्या?मैंने कहा- कुछ नहीं कर रहा. खलीफा सेक्सी मिया खलीफाउसने अपने दोनों मम्मों से काफी दूध निचोड़ा और कटोरी को फिर बगल की टेबिल पर रख दिया.

जब मुझसे रहा न गया तो मैंने उसके सिर को नीचे दबाते हुए उसको नीचे बैठने का इशारा किया.

ठंडी सीट का स्पर्श बदन पर होने से मेरा कंट्रोल छूट गया और चुल्ल … की आवाज करते हुए मैं सुसु करने लगी. वह बात करके तो आ गया मगर उसने आकर मुझे कुछ भी नहीं बताया कि आखिर डॉक्टर से उसकी क्या बात हुई.

उन्होंने अपनी दो उंगलियों से अपनी चुत को थोड़ा खोला और धीरे धीरे करके मेरे लंड पर अपनी चुत सटा दी और खुद ही अपने आप जोर देकर लंड चुत के अंदर लेने लगी और मुझसे कहा- थोड़ा धक्का तुम भी लगाओ. कभी वो बेड के किनारे पर लाकर चोदने लगते थे, तो कभी सोफे पर ले जाकर घोड़ी बना देते थे. हमारी कामुक आवाजों को हमारे अलावा पास में बंधी हुई भैंसें भी सुन रही थीं.

नहीं सर … बिल्कुल नहीं … आहह … अब रुको मत … और तेजी से चोदो!” मैं कामवासना में बहकी बहकी बातें करने लगी थी.

इन तीन दिनों में हमारा काम केवल और केवल खाना खाना और चुदाई का खेल खेलना ही था. वो मुस्कराने लगी और अपने डैड के गले में हाथ डालकर उसने एक किस कर दिया।रमेश- अब सूसू करो. पाठकगण! मैं आपसे झूठ नहीं बोलूंगा … उस वक़्त चुनरी का वसुन्धरा की पेंटी की पकड़ से छूट जाना मुझे भी कहीं अंदर ही अंदर बुरा सा ही लगा था.

ओडिशा सेक्सी एचडीरमेश के लण्ड पर खीर का दबाव एक गद्दे की तरह लग रहा था। थोड़ी देर में रिया की गांड रमेश के घुसपैठिये लण्ड से अभ्यस्त हो चुकी थी।रमेश रिया की गांड में लंड को रखे हुए उसकी गांड का पूरा पूरा अंदाजा लगा पा रहा था. यह सब बात सुनकर संजना और शीना के आंखों से आंसू टपकना शुरू हो गए और मैं भी थोड़ा सा इमोशनल हो गया.

नंगे हिंदी

शुभ्रा सिसकारने लगी- और जोर से … और जोर से … करो आह्ह … कर गोलू।मेरा हौसला भी बढ़ता जा रहा था। फिर अचानक मुझे लगा कि मेरा जिस्म अकड़ने लगा और लंड में एक तेज खुजली सी महसूस होने लगी. अमित खड़े खड़े ही मुझे होंठों पर किस करने लगा … मेरे चुचे दबाने लगा. फिर अपना लंड मुझसे चुसवाया, लंड खड़ा होते ही उसने मेरी चूत में फिर से डाला, लेकिन दो मिनट में फिर ढेर हो गया.

अब तक आपने पढ़ा था कि नम्रता और मैं खुली छत पर नंगे घूमने का मजा लेने लगे थे. आज उन दोनों के पास पूरी रात थी, तो वो भी बहुत आराम से चुदाई का मजा लेने को तैयार थे. लंड सूंघने के बाद वो मुझसे बोली- शरद तुम्हारे वीर्य में जो नशा है, वही नशा तुम्हारे लंड को सूंघने में भी है.

इसलिए कभी मैं उसके शरीर पर चढ़ कर अपने शरीर उसके जिस्म से रगड़ कर अपनी उत्तेजना को बढ़ा रहा था. मैं क्या बोलूँ, वो एकदम मुलायम और राउंड राउंड गांड का अहसास मुझे सनसनी दे गया. अब आगे की कहानी:दोस्तो, अब मैं उस वजह पर आ रहा हूँ जिस कारण मैंने यह कहानी सांझी की है.

पति- सॉरी यार, पास पड़ी चीज पर मेरी नजर ही नहीं गयी, पर अब मेरी नजर ही नहीं हटेगी. एक दिन रविवार छुट्टी थी मगर बॉस ने कहा- कुछ काम है ऑफिस में तो तुमको आना होगा.

सारा लेट गयी और दिलिया उसके ऊपर लेट कर उसे लिप किस करने लगी और दोनों एक दूसरे की चूचियों से खेलने लगी.

मैंने अपने भी फटाफट कपड़े जिस्म से अलग किए और नंगा उसके सामने आ गया. ब्लू पिक्चर सेक्सी चुदाई सेक्ससंजना- और तुम्हारे राज साहब कैसे हैं?दीपिका- ठीक ही होंगे, क्यों … तुम्हें पसन्द आ गए क्या?संजना- यार, उनसे हमारी सिफारिश कर दो, हमें भी वो सामने वाला फ्लैट दिला दें. ब्लू सेक्सी सुहागरात हिंदीस्नान करने के दौरान मंजू मेरे लण्ड को अपने मुंह में लेकर चूसने लगी. वो जिस घर में रहता है, उसका मकान मालिक घर खाली करवा रहा है, तो क्या हम उसे अपने घर का ऊपर वाला कमरा, जो खाली पड़ा है, दे दें?थोड़ा मनाने पर पिंकी राजी हो गई.

क्या चिकनी चूत थी दोस्त … मस्त मुलायम डबल रोटी की तरह फूली हुई चूत मेरे लंड को आतंकवादी बनाने पर तुली हुई थी.

पापा ने मम्मी के ब्लाउज को निकाल दिया और उनके पेटीकोट को ऊपर कर दिया. मैंने उसकी चूची जोर से मसली, तो उसका मुँह खुल गया, तभी मैंने अपना लंड अपनी बहन के मुँह में ठूंस दिया. मैंने उसके मम्मों को, लगभग हट चुकी ब्रा में से ही चूसना और काटना शुरू कर दिया, जिससे वो और तड़फने लगी थी.

मुझे लगा था कि सोनल ने राधिका से अपनी मर्जी से कुछ भी करने का कहा था, तो वो चूत में लंड ले लेगी. वंश कुछ ही देर में आलू परांठा काजू-करी, सलाद पापड़ और बिरयानी ले आया. उसके बाद जब मुझे आभास हो गया कि अनिता पूरी तरह से गर्म हो चुकी है तो मैंने फिर से उसकी चूत चाटी और अपने लन्ड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा.

बीएफ हिंदी सेक्सी बीएफ

लण्ड से थूक चूने लगा तो रिया ने कटोरी लण्ड के नीचे लगा दी और अपने मुंह से चूते हुई लार को हाथों में इकट्ठा कर उस कटोरी में डाल दिया।रमेश ने उसी वक़्त रिया से कहा- अरे बड़े घर की छिनाल लड़की, इतने से काम नहीं चलेगा। तुमको टाइम बढ़ाना होगा।रिया ने हाँ में सर हिलाया। फिर दोबारा से रमेश के लण्ड को मुंह मे घुसा लिया उसने।सिसकारते हुए रमेश बोला- हाँ. तो मेरे गालों को अपने हाथों के बीच कैद करते हुए बोले- जान तुमने अभी भी जवाब नहीं दिया. रिया के पास चीखें मारने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। रमेश को उसमें बेहद आनंद आ रहा था।अब रिया की गांड चुदाई जोर से होने के कारण उसकी गांड से खीर भी बाहर गिरने लगी थी.

संगीता चाची बोलीं- अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा … रहा ही नहीं जा रहा मुझसे … तू जल्दी से चोद दे मुझे.

चुदाई करवाते करवाते उन्हें भी ना जाने क्या सूझी कि मुझे धक्का देकर फिर से भागने लगीं.

फिर कुछ देर के बाद जब उसको राहत हुई तो शलाका खुद ही अपनी कमर को आगे पीछे करने लगी. फिर मैंने एक हाथ से उसके चूतड़ पर हाथ फेरकर एक चपत लगाई और उसे हट जाने का इशारा किया. डॉक्टर वाला वीडियो सेक्सीमुझे देखते ही भाग कर आने का इशारा किया और मैं भी भागते हुए पहुंच गया.

अभी तक इस सारी प्रतिक्रिया के दौरान वसुन्धरा ने अपनी दोनों आँखें बंद कर रखी थी. हालांकि बाद में मुझे रेस्टरूम में जाकर मुठ मार कर खुद को शांत करना पड़ता था. मैंने भी मौके का फायदा उठाया और बायीं कोहनी मंजू के बूब्स पर टिका दी.

ऐसे ही एक बार में उसके घर गया, तो मैंने देखा कि वो घर में अकेली है. डगशाई पहुँच कर वसुन्धरा मुझे रास्ता बताती गयी और हम लोग एक घुमावदार और सुनसान सी सड़क के सिरे पर स्थित वसुन्धरा के कॉटेज पहुँच गए.

दस मिनट तक चाची की चूत को चोदने के बाद मेरा लंड जब वीर्य उगलने के करीब पहुंचा तो मैंने लंड को बाहर निकालने का विचार किया.

बीस मिनट बाद मैंने उसकी चूत में ही रस छोड़ दिया और अपने कपड़े पहनने के बाद अपने घर वापस आ गया. लेकिन मैंने उसे फिर भी नहीं छोड़ा।कुछ देर तक और चूत चाटने के बाद अनिता कहने लगी- मुझसे अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है. उन्होंने मुझसे लगभग चिपकते हुए कहा- मुझे अपनी जुगाड़ बनाएगा?मैंने तुरन्त चाची को गले से लगा लिया और किस करने लगा.

कॉक सेक्सी वीडियो फिर भाभी ने मुझे धक्का दिया और बोलीं- छोड़ो मुझे कोई आ जाएगा, तुम्हारे भैया आ जाएंगे. इसलिए मैंने भी अपने घुटने वैसे ही मोड़ते हुए उसकी चूत के सुनहर दरवाजे पर जब अपना लंड लगाया तो वह सहम सी गयी.

बाप बेटी दोनों एकदम सामान्य लग रहे थे जैसे कुछ हुआ ही ना हो!आज रविवार था तो सब घर पर ही रहने वाले थे. ये कहते हुए उसने मेरे हाथ से मोबाइल ले लिया और उसे आगे की सीट पर मोबाइल चार्जिंग के लिए लगा कर रख दिया. बिन्दू ने अपना हाथ मेरी तरफ मिलाने को बढ़ाया और बोली- प्रॉमिस?मैंने भी उसके हाथ को मिलाने के लिए पकड़ा और कहा- प्रॉमिस.

एक्स एक्स एक्स व्हाट्सएप

सब कुछ सैट कर के हम एक दिन छोड़ कर मिलने के लिये अपने घरों से सुबह निकले. ऐसा करने पर मुझे भी यह खेल खेलने में मजा आएगा और रकुल भी शायद इस नई सरप्राइज़ को खुल कर जी पाये और शायद गर्व करे कि वो इतनी खूबसूरत है कि कोई उस पर इस तरह से लट्टू हो गया है. मेरी जानू ने मेरी नई लायी हुई ब्रा और पैन्टी में से पिंक कलर का साटिन का सैट पहना था.

मैंने मौसी की तरफ देखते हुए और अपना मुँह बनाते हुए कहा- मेरा नहीं हुआ अभी तक. उन्होंने अपनी दो उंगलियों से अपनी चुत को थोड़ा खोला और धीरे धीरे करके मेरे लंड पर अपनी चुत सटा दी और खुद ही अपने आप जोर देकर लंड चुत के अंदर लेने लगी और मुझसे कहा- थोड़ा धक्का तुम भी लगाओ.

मेरी चूचियों पर लगे अपने वीर्य से मेरे मम्मों की अच्छे से मालिश करके मेरी गांड पे हाथ मार कर संतोष जी बोले- चूत के बाल छोटे छोटे कर लेना, एकदम साफ मत करना.

उसने अपने घुटनों को सीधा करके एक बार तो अपनी चूत को पीछे से भी मेरे चंगुल से छुड़ाने की कोशिश की मगर जैसे उसने अपने पैरों को आगे की तरफ से सीधा किया वैसे ही मैंने आगे की तरफ से उसकी चूत पर हाथ रख दिया. मेरा और उसका कमरा साथ-साथ हैं और मैंने उसके कमरे में देखने के लिए बीच में एक मोरी भी कर ली. कुछ दिन बाद प्लांट में एक नयी लड़की ट्रेनिंग के लिए आयी। उसका नाम मैरी था। जब मैंने उसको पहली बार देखा तो लगा कि अब अमेरिका आना सफल हो जाएगा क्योंकि काफ़ी दिनों से चूत का मेरे लिये जैसे सूखा सा पड़ा हुआ था।पहले दिन तो वो लड़की अपना कागजी काम करके चली गयी.

फिर अन्त में चाहे मेरा लंड कितना भी लोहे की तरह सख्त हो और कितना ही देर तक तुम्हारी चूत को रौंदे, अन्त में तो उसका ही मान मर्दन ही टूटता है और अपना मुँह लटकाते हुए निकलता है. उधर मैं उसके आने की सोच में डूबी थी और इधर अभी हम दोनों चुदाई में मस्त थे और अभी तक हम दोनों का पानी सिर्फ दो बार ही निकला था. क्योंकि बाहर के देशों में इससे भी कम उम्र की लड़कियां लंड का मजा ले चुकी होती हैं.

लेकिन मैंने धीरे धीरे स्पीड बढ़ा दी और एक टाइम ऐसा आया कि उसका सारा दर्द गायब हो गया.

बीएफ सेक्स करते दिखाओ: उस दिन हम दोनों ने काफी देर तक एक दूसरे से खुल कर बात की और उस दौरान उसने मेरे हाथ को अपने हाथ में लेकर सहलाया. उसे लेकर मैं तेजी से ऊपर वाले कमरे में गया, उनसे कहा- देखो मैं आपके लिए कुछ लाया हूँ।फिर लौकी उन्हें दिखाई.

उसने अपनी पकोड़ा सी चूत को मेरे पैंट में तने लंड के ऊपर रख दिया और रगड़ने लगी. नम्रता- लेकिन तुम पहली बार मेरे घर आए हो, कम से कम एक गिलास पानी पी लो, उसके बाद अपना काम करना शुरू करना. चाची ने फिर मुझे अपनी तरफ खींचने का प्रयास किया और मुझे अपने ऊपर लेटा लिया.

नाइटी इतनी छोटी थी कि उसकी आधी गांड ही ढकी थी और आगे से थोड़ी चूत भी दिखाई दे रही थी.

मैंने फिर पैन्टी उतारनी चाही तो हाथ पकड़ लिया तो मैंने कहा- न करने देना, दीदार तो करा दो. मैंने अपना लंड उसकी चूत पर सैट किया और उसकी पतली कमर पकड़ कर एक झटका दे मारा. इधर गुड्डी रानी की चूत प्रदेश को मैंने चाट के साफ़ किया उधर बेबी रानी आकर गुड्डी रानी की बगल में बैठ गयी- राजे अब मेरी बारी है … मेरा अमृत भी निकलने को हो रहा है.