नेपाल की हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,क्सनक्सक्स इंडिया

तस्वीर का शीर्षक ,

हद सेक्सी वेदिओ: नेपाल की हिंदी बीएफ, खाला जोर से चीख पड़ीं- उईई ईईई अम्मी ऊऊऊ उफ्फ आ आह मर गई!अब अब्बू का 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा लौड़ा एक ही झटके में चुत के अन्दर जाएगा तो दर्द तो होगा ही.

क्सक्सक्स हिंदी इंडिया

अब आगे बुर फाड़ चुदाई की कहानी:मीना- उई मांआआ आह मर गईई … मार डाला आशु तूने … आंह निकाल बाहर … नहीं करना मुझे … आंह निकाल जल्दी से. सेक्स सेक्सी बीएफ सेक्सी सेक्सीफिर मैंने कहा- तनु बेबी, आज पूरी रात मजा ले लो … आज तो मैं जग भी रहा हूँ और आपको हर तरह से चोदने के मूड में भी हूँ.

और हमारे दीवार के ऊपर छत की तरफ एक छोटा सा रोशनदान या वेंटिलेशन है जिससे गर्ल्स टॉयलेट से बॉयज टॉयलेट में और बॉयज टॉयलेट से गर्ल्स टॉयलेट में देख सकते हैं।मैंने अभिषेक से बोला- शायद कोई टीचर होंगी. राजस्थानी सेक्सी एक्सउसके बाद तो जब तक आंटी के हसबैंड दिल्ली से लौट कर नहीं आ गए, दिन में 3 से 4 बार चुदाई हो ही जाती थी.

और मैंने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी।मैं रेखा की चूत में जीभ अंदर बाहर करने लगा.नेपाल की हिंदी बीएफ: मम्मी मस्ती में चिल्ला रही थीं- आंह साले जोर से मत कर लगती है भोसड़ी के … आंह राजेश मेरी गांड में बहुत दर्द हो रहा है … ज्यादा मत कर.

मुझे कोई आपत्ति नहीं!फिर वह फिर उसके लंड को जोर-जोर से फिर से चूसने लगी.” मैंने अपनी उंगलियों को चूत से बाहर निकालते हुए कहा।उसका दिमाग उत्तेजना से भन्ना रहा था और वो उंगलियां निकालते वक्त कराह रही थी.

दीपिका पादु की सेक्सी - नेपाल की हिंदी बीएफ

मैंने- तुझे कैसे मालूम?वो- यार, एक दिन मैं तेरे घर आया था और मैंने आंटी से तेरे बारे में पूछा था, तो आंटी ने बोला था कि तू अपने कमरे में है.मेरे नर्म नर्म स्तन उसके बड़े से स्तनों की गर्मी लेकर बहुत ही आनन्द ले रहे थे.

मेरी नींद लगे अभी कुछ ही समय हुआ था कि मुझे सपना ने फिर से उठा दिया. नेपाल की हिंदी बीएफ नेहा- वैसे विप्स तू क्या करेगी यहां अकेले … हितेश तो मम्मी पापा को लेकर शिर्डी गया है.

कुछ मिनट बाद ही उसकी चुत ने रस छोड़ दिया और मैंने उसकी चुत का पानी चाट लिया.

नेपाल की हिंदी बीएफ?

मैंने कहा- हां, इधर नीचे मेरा लंड सांप की तरफ फुंफकार रहा है, उसका कुछ करो. दो हफ्ते में मैंने भाभी के साथ कम से कम सौ बार चुदाई का मजा लिया होगा. थोड़ी देर बाद मैंने नफीसा को लिटा दिया और ऊपर से चोदने लगा। अब लंड गांड में अंदर बाहर अंदर बाहर होने लगा.

उन्होंने अपने पैर फैलाए और मैंने उनकी सलवार नीचे खींच कर निकाल ली।अब मासी सिर्फ ब्रा पैंटी में बैठी थी. प्रीति ने भी शिखा आंटी का साथ दिया और कुछ ही पलों बाद शिखा आंटी और प्रीति मेरे सामने नंगी खड़ी थीं. हमें जयपुर से जोधपुर जाना था और ये प्रोग्राम अचानक से बना था तो ट्रेन में बर्थ नहीं मिली.

मैंने उनके होंठ चूसते हुए खड़े खड़े ही अपने लंड को हाथ से पकड़कर उनकी चूत पर लगा दिया. मैं मेडिकल शॉप से कंडोम लेने जाने लगा तो भाभी बोलीं- रहने दो … आज पहली बार मेरी चुदाई अच्छे से होगी. बीस मिनट तक मेरे दोनों दूध चूसने के बाद उसने मुझे घुमा दिया और मेरी गांड पर वो अपना लंड रगड़ने लगा.

मैं उम्मीद करता हूं इस दीवाली आपकी गांड में जबरदस्त खुजली हुई होगी और आप सबने अपनी खुजली मिटाई होगी. जैसे तैसे मैंने उसकी बात मान ली, पर कहा- मेरे पास कोई कपड़े नहीं है.

इस वजह से मैंने थोड़ा सा लंड बाहर निकाला पर पूरा नहीं निकाला, कुछ लंड अन्दर ही रहने दिया.

फिर हमने एक दूसरे के अंग को चाट कर साफ़ कर दिए और बिस्तर पर लेट कर बात करने लगे.

मार्किट से मैंने कुछ चिकन सैंडविच और चिकन नगेट्स लिए और वापस आ गया. पर आज इत्मीनान का माहौल था तो वो लंड को हाथ में लेकर गौर से देख रही थी. मैंने उसे बांहों में लेते हुए पूछा- क्या हुआ संजय?जवाब में उसका मुँह मेरे चुचों में घुस गया.

होटल में उन्हें ना कोई उन्हें देखने वाला था और ना ही कोई उनकी आवाज सुनने वाला. ब्रदर सिस्टर Xxx चुदाई कहानी के पहले भागमौसी की बेटी ने अपनी सहेली से दोस्ती करवायीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी बहन प्रिया की चुत चुदाई शुरू कर रहा था. आग तो दोनों नौसिखियों को लगी थी, साथ ही ये भी पता था कि ऐसा मौका दोबारा शायद न मिले, तो आज क्यों न पूरा फायदा उठा लिया जाए.

आकांक्षा ने पहले मेरी और नेहा की दोस्ती कराई और फिर हम दोनों रिलेशनशिप में आ गए.

पापा का एक हाथ मम्मी के दूध पर था मम्मी धीरे से बोलीं- दूध में दर्द हो रहा है. मैं पीछे से जाकर उनसे चिपक गया और कसकर हग करते हुए दोनों हाथ उनके पेट पर बांध लिए. समता ने सिगरेट के छल्ले उड़ाए और विकास ने भी उसकी जांघों पर हाथ फेरना शुरू कर दिया.

पर एक घंटे बाद सीमा का मेसेज आया और उसने पूछा- फ्री हो?संजीव ने जवाब दिया कि अभी कुछ कस्टमर हैं, अभी थोड़ी देर में वापिस मेसेज करता हूँ।उसके पास आज ज्यादा ही काम था पर फिर भी उसने पाँच मिनट निकाल कर सीमा से चैट किया।सीमा ने उससे पहले ही अपनी एक दो सेल्फी भेज दी थीं. मैं इस फिराक में थी कि जैसे मुझे मौका मिले और मैं फौरन से जाकर उस बंजारा से अपनी बात कर लूं. उसे कोई भी देख ले तो उसका दिमाग ख़राब हो जाए और वो उसकी याद में बिना मुठ मारे रह ही न पाए.

फिर मुझे दीदी की वासना का ख्याल आया कि किस तरह से मेरी दीदी ने एक लड़के को बुला कर अपनी चुत चुदवाई थी.

हम सबने हां बोला और फिर हम चारों ने दोबारा वही खेल खेला और एक दूसरे को खूब मजा दिया. क्योंकि हमारे शोर से किसी को यहां परेशानी नहीं होती थी, ना ही हमको कोई परेशान करता था.

नेपाल की हिंदी बीएफ कुछ मेरी उम्र से बड़ी थीं, तो कुछ हमउम्र थीं और कुछ मेरे से छोटी थीं. करीब एक घंटे बाद मेरी नींद खुली, तो दोनों आग ही सेंक रहे थे पर मम्मी ने कम्बल नहीं ओढ़ रखा था.

नेपाल की हिंदी बीएफ मौसा जी रुकने वाले थे पर मासी ने कहा- रोहित तो है घर पे! कुछ रहा तो मैं उसके साथ दवाखाने चली जाऊँगी. तुझे क्या लगता था कि मैं तुझे देख नहीं रही हूँ कि तुम मेरी चूचियों को और मेरी कमर को देख रहे हो?मैंने सेक्सी चाची को चूमा और कहा- सच में चाची … मैं तो समझ ही न सका.

मैंने ध्यान से देखा, तो समझ गया कि शायद ही कोई मेरा स्कूटर देखेगामीना को डरा हुआ असमंजस में देख कर मैं समझ गया कि इसने अभी तक कुछ भी नहीं किया है.

सादा सेक्सी वीडियो

मैंने भी उसकी चूचियों को दबाना शुरू किया, तो उसके अधरों से सिसकारियां छूटने लगीं- आह ह ह आशु धीरे रे दर्द करता है … आह्ह … ओह्ह!मीना की साड़ी अब तक अस्त-व्यस्त हो चुकी थी, उसके बाल बिखर चुके थे, भीगे होंठ मस्त लग रहे थे. उसके बाद मैं दीदी के मुंह की तरफ मुंह करके लेटा और दीदी दीदी के होठों को चूसने लगा. पिंकू जब कपड़े पहनती तो मैं जानबूझकर कमरे में बैठा रहता था, उसकी पतली कमर और उभरी हुई गांड को देखकर मेरा लंड सिहह उठता‌।बहन की मदमस्त जवानी को देखकर और लंबी चौड़ी गांड को देखकर मैं सोचता था कि मेरा लंड छोटा ना पड़ जाए.

वो लड़की अब बहुत मजे ले ले कर अपनी चूत चुसवा रही थी और लंड चूस रही थी।थोड़ी देर ऐसे ही चूसने चाटने के बाद अभिषेक और वो लड़की दोनों साथ में झड़ गए।फिर हम सब अलग हुए और अपने अपने कपड़े पहने।हम तीनों बहुत खुश थे. उसने मेरी ज़िप को दांतों से खींचा, तो मैंने जींस को थोड़ा नीचे कर दिया. पन्द्रह दिन बाद लॉकडाउन में जरा ढील मिलते ही मैं वापस अपने घर चला गया.

शायद वो सही बोल रहा था क्योंकि मैं कॉल पर थी और शायद कार का हॉर्न नहीं सुन पाई थी.

मुँह में लंड लोगी!प्रिया- भाई अब रहने दे … मुझे दर्द होने लगा है, मैंने आज तक किसी को किस भी नहीं किया था. उन्होंने मेरे मम्मों के बीच में अपने फौलादी लंड को रखा और हाथों से मम्मे दबा कर मेरी बूब फकिंग करने लगे. उसने बिना लंड चुत से निकाले मुझे अपने ऊपर ले लिया और खुद नीचे लेट गया.

स्वाति ने बताया कि वह और शर्माजी जी रात को विस्की पीते हैं और फिर घमासान चुदाई होती है. साथ ही न्यूड, सम्भोग वाली कहानी और चित्रों वाली किताबों का भी चस्का लग चुका था. सुबह प्रिया ने मुझे किस करके जगाया और हम दोनों ने फिर से चुदाई शुरू कर दी.

बगल में शिखा आंटी के घर पर पूछा, तो उन्होंने कहा- तुम्हारे घर वाले दो दिन के लिए बाहर गए हैं और चाभी मेरे पास रख गए है. मेरे बूब्स चूसते ही वो गर्म हो गयी और बोली- ज़ो करना है, जल्दी कर लो … कोई आ जाएगा.

यकीन मानिए वो आनन्द के पल आज भी इतने साल बाद दिमाग में तरोताज़ा हैं. तभी अचानक से उस महिला का नंबर भी लग गया, जिसको मैं अब तक भूल गया था. शायद वो जानता नहीं था कि गुदा मैथुन, जिसे हम अनाल सेक्स भी कहते हैं, वो तब तक संभव नहीं हो सकता, जब तक कि कोई लड़की खुद अपनी गांड की मासपेशियां नहीं खोल लेती.

जिस वक्त मैं उनके घर रूम देखने गया था शायद उस वक़्त उनके घर में कोई नहीं था.

आज मैंने भी सोचा कि मैं अपने साथ घटित एक सेक्स कहानी आप लोगों के साथ साझा करूं. मैं अब आगे बढ़ा और आंटी के टॉप को ऊपर करने लगा लेकिन आंटी ने मुझे हल्के से पीछे कर दिया. उसने मेरी कहानी पढ़कर ईमेल किया। वो पहाड़न भाभी विधवा थी। उसकी चूत की आग ने मुझे बुला लिया!दोस्तो, मैं विकास एक बार फिर से आप सबके लिए एक और नयी रियल सेक्स स्टोरी लेकर आया हूं.

इसी कारण चाची थोड़ी बोरियत महसूस करने लगी थीं क्यूंकि घर में उनसे बात करने वाला कोई नहीं था. जैसे ही पूरा लंड अन्दर घुसा, दर्द के मारे ऋतु की आंखें फैलती चली गईं और उसकी आंखों में फिर से आंसू आ गए.

अगर हम अभी क्लास में जाएंगे तो कोई टीचर हमें देख लेगा।मैं और अभिषेक ऊपर वाले टॉयलेट में आकर छुप गए. मैंने तुरन्त उसकी सलवार उतारने की कोशिश की तो उसने हल्के से अपनी गांड ऊपर उठा दी. दूसरे राउंड में भी मैंने भाभी की चुदाई में रुक रुक 45 मिनट तक लंड चुत गांड में बारी बारी से रगड़ा.

बिहार के सेक्सी वीडियो भेजो

ये तय था कि अगर मैं अगला गेम हार जाता तो खेल खत्म … और चाची उठ कर चली जातीं.

देसी गांड की चुदाई की कहानी मेरी ससुराल में ससुर जी के मुनीम की बीवी की गांड मारने की है. भाभी- तब तो वो भी नहीं किया होगा?मैंने कहा- वो क्या भाभी?भाभी- वो जो पति, अपनी पत्नी के साथ करता है. ‘आह उफ़्फ़ … और जोर से चूस रॉकी बहुत मजा आ रहा है … जब तू इतना अच्छा चूसता है, तो चुदाई कितनी मस्त करेगा साले … आह हहह और जोर से चूस उफ़्फ़ …’आंटी की चूत चूसते चूसते ही उसका पानी निकल गया.

तुम्हें ठीक होना है ना?मैं- हां आंटी, लो देख लो मेरा लंड।फिर मैंने अपनी पैंट और चड्डी दोनों एक साथ उतार दी और अपना लंड बाहर निकालकर आंटी को दिखाया. फ्री पासवर्ड के लिए सविता भाभी वीडियोज़ के टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन करें और हर एक कड़ी को मुफ्त देखें. रवीना टंडन हॉटइस बार वो अपनी मम्मी की तरफ आंखें लगाई हुई थी कि जैसे ही मौसी जागें, वो मुझसे अलग हो जाए.

मगर मैंने कंट्रोल किया।वो दिन मैं कभी नहीं भूल सकता मासी को ब्रा, पैंटी में देखकर मेरा तो मन विचलित हो उठा था और उनकी चूत तो मेरे दिमाग में घर कर गई।फिर मैं उन्हें उठाकर ले गया और अस्पताल में दिखा कर घर ले आया।अस्पताल में एक्स रे करवाने पर पता चला कि मासी के पैर में मोच आ गई है फ़्रक्चर नहीं हुआ था।मासी को डॉक्टर ने बेड रेस्ट करने कहा था. फिर लता ने सविता भाभी को भी अपने पति मनोज से इंट्रोड्यूस कराया।पार्टी शुरू हुई, खाना पीना और इधर-उधर की बेकार बातें … इन सब हरकतों से सविता भाभी बड़ी बोर हुई।वह इस बोर पार्टी के खत्म होने की प्रतीक्षा करने लगी।इसके बाद क्या हुआ?यह सब और इससे आगे इस बोलने वाली वीडियो में देखकर आनन्द लें.

जबकि मैंने शमीज तो छोड़ो, ब्रा तक नहीं पहनी थी।मैंने शीशे में देखा … पूरे बूब्स का साफ अंदाजा हो रहा था और काली-काली घुंडियां तो एकदम क्लियर दिख रही थीं।नीचे स्किन कलर की एकदम फिट लैगी पहन ली थी, जैसे आपने कहा था।फिर जब एक-एक करके काम से वे अंदर आये तो मुझसे सामना हुआ और बिना दुपट्टे ही मैंने जब उनका सामना किया तो नजर तो टिकनी ही थी. मतलब वो अपना काम एक दो धक्के में ही खत्म कर देता है और मैं प्यासी रह जाती हूँ. उनका फिगर तो था ही … हॉट कुर्ता थोड़ा टाइट होने के कारण उनके बूब्स साफ समझ आ रहे थे.

मामी के बारे में बताऊं, तो वो देखने में बिल्कुल प्रीति जिंटा की तरह लगती हैं. मंजू- मीना दी क्या कह रही थीं … आराम से करना!मैं- अरे वो कह रही थी कि तुम्हारी चुदाई प्यार से करना. उस दिन चुदाई के बाद मेरी बीवी ने मुझसे कहा कि उसे गाली सुन कर बहुत मजा आया था.

सनी ने अपने जलते हुए होंठों को उसके प्यासे होंठों पर रख दिए और चूसने लगा.

मैं कामुक सिसकारी भरने लगी थी- सी सी सी … सीसीई … उफ्फ!मनोज मेरे चूचे मसलते हुए बोलने लगा- क्या मस्त दूध हैं तेरे … जैसी मां माल है … वैसी ही बेटी है. इस कहानी में पढ़ें कि जब मैंने 19 साल की एक लड़की की बुर फाड़ी तो उसका क्या हाल हुआ.

अपनी सास की चाल का हाल मैंने ही बदला था, ये मेरे बीवी को पता नहीं था. जब हम दोनों घर में पहुंचे तो मैं बैठ गया और भाभी चाय बना कर ले आईं. चाची की चूत में लंड से धक्का लगाते लगाते मैं उनको किस करने लगा और उनकी गर्दन को भी चूमने लगा.

आपका अंशु सिंह[emailprotected]मेरी बीवी की चुदाई स्टोरी का अगला भाग:मेरी पत्नी की गैर मर्द के लंड से चुदाई- 2. सेक्स के ऊपर भाभी से खुल कर चर्चा होने जब शुरू हुई थी तभी भाभी ने दबी जुबान में अपने पति से चुदाई में असंतुष्ट होने की बात कही थी. मैं चुपके से उठा और मम्मी की चुत के सामने अपना मुँह लेकर गया तो उसमें अजीब सी महक आ रही थी.

नेपाल की हिंदी बीएफ मेरा नाम विशाल है और मैं टीचर स्टूडेंट सेक्स स्टोरी पेश कर रहा हूँ. जब मुझसे रहा न गया तो मैंने अपना लंड पैंट से बाहर निकाला और मुठ मारने लगा.

कुमार लड़की के सेक्सी

मेरे पापा भी अच्छी तरह से जानते थे कि मुझे चुदाई करने की बहुत इच्छा हो रही है … लेकिन उनसे भी कुछ नहीं हो पा रहा. पहले वाले लड़के का लंड जरा सी चुसाई करते ही दूसरे से रहा ना गया, वो मेरे सर को पकड़कर मुँह में ही चुदाई करने लगा. वो व्यक्ति बोला- चाहें तो आप अपने भाई के साथ रात को यहां रूक सकती हैं.

दीदी ने कहा- अच्छा, दीदी को मस्का लगा रहे हो! बताओ क्या चाहिए, पापा से दिलवा दूंगी! पर ऐसी झूठी तारीफ ना करो. इसके साथ भी यही दिक्कत थी कि बाहर निकल नहीं सकती थी, बाहर निकल कर तो 2 मिनट में लंड का जुगाड़ कर लेती. खुला सेकसी विडियोपहले वो थोड़ा डरा, पर मैंने उसके हाथ को अपने बाएं स्तन पर ब्लाउज़ के ऊपर रख दिया.

ड्रिंक लेने के बाद मुझे नशा सा हो गया और मैं कब सो गया, पता ही न चला.

‘आह्हम्म आह्हम्म आह्हम्म उह …’मेरे लंड का सारा माल पीकर उन्होंने लंड को चाटकर साफ कर दिया. अगले दो गेम भी मैं ही जीता और चाची का पेटीकोट और ब्लाउज खुलवा लिया.

वो मुँह पर मेरे हाथ लगे होने के कारण चिल्ला भी ना सकी, पर ‘उम्म उम्म …’ करती रही. कसम से दोस्तो, चुत में उंगली लेते ही वो जो उछली न … मेरी आधी उंगली चुत में घुस गई. मुझे भी उस रात उसकी जुदाई करके भरपूर मजा आया।उसकी बड़ी बड़ी चूची को चूस कर मैंने भरपूर मजा लिया।उसके चेहरे पर संतुष्टि की भाव स्पष्ट दिख रहा था।जीजा साली की सेक्सी कहानी आपको कैसी लगी? मेल और कमेंट्स में अवश्य बताएं.

दो दिन बाद मुझे उसका रिप्लाइ आया, तो मेरी उससे बात होनी शुरू हो गई.

अपनी चुत की वजह से मैं काफी परेशान रही हूँ, तो मैंने सोचा कि चलो आज भी इस चुत को भूखा ही रहने दो. उसका बदन कांपने लगा था तो वो फुसफुसाती हुई आवाज में बोली- आशु, कोई आ जाएगा!मैं बोला- ऐसे ही खड़ी रहो वरना हम पकड़े जाएंगे और आऊट हो जाएंगे. मैं बोला- ठीक है, मैं आ रहा हूँ क्योंकि मैं जयपुर आया हुआ हूँ, तो सोचा तुमसे मिल भी लूंगा.

सनी लियोन की सेक्सी बीएफ फिल्मक्योंकि कल रात में मैं इतनी बड़ी गलती कर चुकी हूँ, तो अब एक बार ये गलती फिर सही. मैं जैसे ही पलटा और दरवाजे को खोलने ही वाला था कि भाभी पीछे से आकर मुझसे चिपक गई.

म्हणून सेक्सी व्हिडिओ

मैंने उसकी चूची को ऊपर से दबाया, उसकी चूत को साड़ी के ऊपर से सहलाते हुए बोला- इसकी प्यास मैं बुझा कर रहूंगा।उसने भी मेरा मजा लेते हुए कहा- अच्छा जी, देखते हैं बुझा पाओगे कि नहीं।मैंने सोचा था कि उसी रात में हमारे बीच कुछ ना कुछ हो जाएगा. भाभी को अपना नंबर देकर मैं अपने घर आ गया और भाभी के नाम की मुठ मार कर लेट गया. मैं बोला- हां पिंकू, यह सब नॉर्मल बातें हैं।अब पिंकू कुछ ओपन हो गई थी.

मेरी किस्मत इतनी अच्छी थी कि फिर मुझे उनकी कारगुजारियों को देखने का मौका मिल गया. वो बोली- बड़े जालिम हो सा … अब तक मैं अपना स्खलन 2 बार कर चुकी हूँ मगर आपने मेरी सुध नहीं ली. और मैं जैसा कहूंगी वैसा करोगे।मैंने आंटी से कहा- जी हां, आप जैसा कहोगे, मैं वैसा ही करूंगा और किसी को इस बारे में नहीं बताऊंगा।आंटी ने मेरे लंड को पकड़ा और हल्के – हल्के अपने हाथों से सहलाना शुरू किया.

सनी ने अपने एक हाथ को ऋतु की कमर पर रख दिया और हल्के हल्के से सहलाने लगा. या यूं कहिये कि जिस चीज की वो अपने घटिया पति से उम्मीद करती थी, आज मुझसे उसे मिल रही थी. जीजू अकेले होते तो मैं एक आजाद साली की तरह ही चुद जाती लेकिन उनके साथ उनका दोस्त भी था तो मुझे दो मर्द चोदने वाले थे.

उन दोनों आवाजों में हम दोनों की ‘अह्ह्ह अह्ह आह आआह … ईईईई …’ की आवाजें मदमस्त वातावरण पैदा कर रही थीं. फिर कुछ देर बाद उसने अपना नाड़ा खोला और बोली- यहां पर एक दाना हो रहा है … जरा चैक तो कर क्या है?मैंने लालटेन उठा कर देखा कि दीदी की गांड पर एक दाना हो रहा था.

कुछ ही देर में पापा का पूरा लंड उस लड़के की गांड में अन्दर तक जा चुका था.

थोड़ी देर में मीना के होश ठिकाने आए तो मैंने उसको अपने लंड पर उसका हाथ रखवा कर उसको आगे पीछे करना बताया. காட்டுக்குள் செக்ஸ் வீடியோडर के मारे गांड तो फट रही थी, फिर भी मैं अपनी आदत से बाज नहीं आ रहा था. नंगी नंगी चुतमैंने उनकी आंखों में देखा तो भाभी ने मेरे सर को अपने हाथ से पकड़ा और अपना दूध पिलाने लगीं. सहलाते सहलाते मेरे हाथ उनके मम्मों पर पहुंच गए और मैं मामी के दोनों दूध दबाने लगा.

इधर सपना बोली- प्रदीप तुम गेस्ट रूम में प्रिया के साथ चले जाओ, अंकित और मैं अपने ही रूम में रहेंगे.

थोड़ी देर में वो अक़ड़कर झड़ गई और मैं उसके कम को निकलते देखने लगा।अब मैंने उसकी चूत का कम साफ किया और उसे किस करने लगा, उसके गोरे गोरे मम्मों को खूब पिया और मसला।वो फिर से गर्म हो गई. सुमन एकदम माहिर खिलाड़ी जैसे किस कर रही थी।किस करते हुए सुमन ने मेरे शर्ट को फ़ाड़ दिया, मैं किस करते हुए चूचे दबा रहा था।करीब पंद्रह मिनट तक हमने एक दूसरे के होंठों को चूसा. साथ साथ मनोज सविता को चोदता भी रहा।मनोज ने बताया कि वह अपने गाँव की एक कमसिन जवान लड़की का दीवाना हो गया था।वासना की आग दोनों तरफ थी और एक दिन मौका मिलते ही उस लड़की ने बताया कि उसकी सगाई हो चुकी है पर वो मनोज जैसे गबरु जवान के साथ मजा करना चाहती है।मनोज ने उस गाँव की कुंवारी लड़की की चुदाई कैसे की? ये जानने के लिए यह आवाज वाली वीडियो देखें.

तुम भी तो अब चुदने लायक हो गई हो … तुम्हें लंड की जरूरत तो होती ही होगी?सन्नी मेरे जीजू से बोला- अबे साले, इस मस्त लौंडिया के सामने फ़ालतू का ज्ञान मत चोद … साली को पटक कर यहीं पेल दे. चूंकि प्रिया अब मुझे मना करने लगी थी तो मैंने सपना को लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया. हम दोनों को चुम्मा-चाटी और एक दूसरे के जिस्म से खेलने में अब तक 20 मिनट हो चुके थे.

वीडियो सेक्सी जंगल में

इसके बाद मैं उनके गहरे बादामी स्तनों को चूसने लगा और चूचुकों से खेलने लगा; उन्हें अपने दांतों के बीच दबा कर चुभलाने और काटने भी लगा. कुछ देर में मैं पूरे नशे में टुन्न हो गया था और मेरा सारा डर खत्म हो गया. दो मिनट ऐसे रहने के बाद मैं उठी और फिर से गद्दे पर पीठ के बल सो गई.

ज्योति ने मुझे भी अपने कमरे में बुलाया और बोली- मुझे कोई काम नहीं था … पर मैं यह चाहती थी कि मेरी बेटी भी अपना घर संसार बसाए.

मैंने एक जोर से हुंकार भरते हुए मीना को बांहों में भर लिया और उस पर लेट गया.

उनके मम्मों पर लाल निशान पड़ गए थे, जो ये बता रहे थे कि मैंने उन्हें कितना चूसा है … मामी के दोनों निप्पल भी फूल गए थे. मेरी दीदी का फिगर ऐसा है कि उनको देखकर बुड्ढों का भी लंड खड़ा हो जाए!पर जो बात मेरी दीदी को सबसे ज्यादा सेक्सी बनाती है वे है उनके लंबे लंबे काले घने और एकदम सिल्की सिल्की बाल!मेरी दीदी के बाल बहुत ज्यादा लंबे हैं और उनके लगभग घुटनों तक आते हैं. बीएफ सेक्सी वीडियो साड़ी वालीबस इसमें ये हुआ कि मेरी और भाभी के बीच सेक्सी बातें होनी शुरू हो गईं और वो अपने और अपने पति की बेमजा चुदाई की बातें बताने लगीं.

मैं अभी कुछ और करता, तब तक उसने मेरा हाथ पकड़ा और अपनी लैगिंग के अन्दर डाल दिया. उसने मेरे पैंट में बने हुए तंबू के बंबू को पकड़ लिया और बोली- देख रही हूँ कि ये साला कब से टनटना रहा है. तुम्हें ठीक होना है ना?मैं- हां आंटी, लो देख लो मेरा लंड।फिर मैंने अपनी पैंट और चड्डी दोनों एक साथ उतार दी और अपना लंड बाहर निकालकर आंटी को दिखाया.

वो ‘बाबू बाबू …’ करके लंड को चूत तक ले ही गया और उसने किस करके लंड को अन्दर डाल दिया. फिर कुछ मिनट बाद मैंने बोला- अब डाल दूं?आंटी बोली- नहीं … अभी मुझे भी चूसना है.

प्रीति फिर से ‘ओ येस येस … आह … उफ्फ … अहह जीजू फ़क मी हार्ड … ओह जीजू बहुत मजा आ रहा है!’ बोल कर चिल्लाने लगी.

मैंने उससे कह दिया- हां ठीक है तुम दीपक के साथ उधर सामने के कमरे में सो जाना. इतने दिन से हम मंजू और अंजू जो खेल, खेल रहे थे, उसके कारण मैंने महसूस किया कि अंजू की चूचियों का आकार थोड़ा बदल चुका है. मैंने पूछा- कैसा लग रहा है बुआ जी?वो बोली- राज, फ़ाड़ दे मेरी चूत! तेरे लौड़े में जादू है!मैं जोश में आ गया और लन्ड को तुरंत चौथे गियर में डाल दिया और झटकों की रफ्तार बढ़ा दी.

बीएफ बीएफ न्यूज़ meaning no भाभी के स्तन उनके ब्लाउज के ऊपर वाले हिस्से से निकल भागने को दिख रहे थे और दोनों मम्मों के बीच में ऐसा सीन बन रहा था कि बस ऐसा लग रहा था कि अपना लंड उनके मम्मों में फंसा दूं और उनको अभी के अभी चोद दूं. फिर मैंने भाभी को बेड पर लेटा दिया और उनकी टांगें खोलकर उनके पेट और बूब्स दबाकर किस करने लगा.

नहीं तो सबको दिखा देंगे कि मेरा लंड छोटा सा है और हम दोनों को बदनाम करेंगे. उसने मेरे माथे पर किस किया, फिर मेरे दोनों गालों पर … और फिर एक लम्बा किस मेरे होंठों पर. मैं भी पूरा कमीना था, जैसे ही मेरा पानी बाहर आने लगा तो मैंने सपना के सिर को कसके पकड़ लिया.

कॉलेज की सेक्सी वीडियो नंगी

मामी के मुँह से और तेज कामुक आहें कराहें निकलने लगीं- उई माँ … उम्म्ह … अहह … हय … याह … क्या कर रहे हो … आग लग गई है. अंजू की सांसें तेज हो गईं- आह अह्ह हहह हम्मह उफ्फ!वो बोली- आंह आशु छोड़ो मुझे उफ्फ … आह क्या कर रहे हो, मत करो कुछ हो रहा है मुझे … आह आह आह उफ्फ हिश हिश!ये सब करते हुए वो भी मंजू की तरह शांत हो गई. जब कोई चुत किसी लड़के के मुँह में जाती है, तब तो जैसे चुत का सपना सच हो जाता है.

मैंने उसे अपनी तरफ खींच कर उसको चूमना शुरू कर दिया, पर वो शांत पड़ी रही थी. मैंने अपने रूम पर लौटने के बाद ये सब मीना को बताया तो पहले तो वो काफी उदास हो गई … मगर बाद में मुझे और अपने आपको संभालते हुए मेरे पास सोफे में बैठ गई.

जब सामने इतना मस्त माल चुदने के लिए रेडी हो तो कंट्रोल कैसे हो?फिर मैंने भाभी के होंठों पर एक किस कर दिया.

इसी बीच उन्होंने अपनी दोनों उंगली मेरी गांड में डालीं और गोल गोल घुमाने लगे. वहां पहुंचे तो मैंने देखा कि मेरे कपड़े मेरे शरीर से भीगने के कारण चिपक गए थे और उसमें से मेरे स्तनों की गोलाई साफ दिख रही थी. उसी बीच लड़के ने उसे अपनी छाती पर ले लिया और उनकी चूत में लंड पेलने लगा.

दोनों को किसी बात का कोई डर तो था नहीं … बस दोनों एक दूसरे में खो जाना चाहते थे और चुदाई का भरपूर आनंद लेना चाहते थे. नशा मुझे भी हो रहा था तो मैंने इस मौके का फायदा उठाने का मन बना लिया और धीरे धीरे अपने हाथ उनके हिप्स पर ले जाकर सहलाने लगा. मैं- नेहा तुम ठीक तो हो, अपने भाई के बारे में तुम ऐसा कैसे बोल सकती हो!नेहा- देख मैंने ये देखा है कि जितने खुले विचार और खुली चूत रखेगी, उतना ही एंजाय करेगी.

हॉट गर्ल एनल फकिंग स्टोरी मेरी कम्पनी के मैनेज़र की दो बेटियों की चुदाई की है.

नेपाल की हिंदी बीएफ: नमस्कार दोस्तो, मैं विकी एक बार फिर से आपका स्वागत करता हूं चुदाई की दुनिया में!मेरी पिछली कहानी थी:तन्हाई में मन बहलाने को चुत चुदाईमैं उम्मीद करता हूं कि आपकी जिंदगी भी मजे में कट रही होगी. उन्होंने मुझसे कहा- तो क्या हुआ तुम्हारे भैया आज रात को नहीं है, तो तुम आज रात को मेरी चुदाई कर लेना.

इस बार कजरी ने मेरा हाथ अपने हाथ में ले लिया और एक हाथ से पानी डालने लगी. मैं बस अब ये ही सोच रहा था कि कैसे भी करके दीपिका की चुत चोदने को मिल जाए. मैंने मजा लेते हुए पूछा- कब से देख रही थीं!वो बोली- जब मैं तुमसे मिली थी, उसी समय मेरी निगाह इस पर गई थी.

वो इतनी ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही थीं कि आह मेरे राजा आज मेरी जवानी का रस पी जाओ … आह मेरीजवानी का पूरा मज़ाले लो.

जो दीदी ने सुन ली और पूछने लगी- यह तुमने क्या किया, पजामा क्यों नीचे कर दिया मेरा?मैंने कहा- दीदी, पजामा भी तो बचाना है और यह नीचे रहेगा तो फिर कमर पर अच्छे से मालिश हो पाएगी. फिर मैंने उससे बोला कि मैंने सब देखा था कि तू उस दिन की तरह से मेरे बूब की तरफ देख रहा था और उसमें चिड़िया मारने की कोशिश कर रहा था. मेरी उत्तेजना भी फिर से बढ़ चुकी थी और अपने मुँह की वो हालत दोबारा नहीं करानी थी, तो लेट गई और लंड खींच कर चूत पर टिका दिया.