इंग्लिश बीएफ देना

छवि स्रोत,बड़ा बड़ा चूची वाला बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ भेज सेक्सी बीएफ: इंग्लिश बीएफ देना, मैं जानना चाहती हूं कि क्या लड़के भी सेक्स के लिए इतने ही प्यासे होते हैं? मुझे अपने कमेंट्स और मैसेज में बतायें.

देहाती सेक्सी बीएफ 2020

आपकी पिंकी सेन[emailprotected]गर्म चूत की देसी चुदाई कहानी का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 6. देसी आंटी की चुदाई बीएफमैं पायल बहू का एक दूध मुँह में भरकर चूमने चूसने लगा और दूसरा हाथ से मसलने लगा.

[emailprotected]हॉट सेक्सी मॉम स्टोरी का अगला भाग:चूत में घुसी चींटी ने मॉम चुदवा दी- 2. सेक्स बीएफ चैनलमैंने देखा कि उसकी चूत पूरी गीली हो चुकी थी और उसका रस चूत पर पूरा फैल गया था.

बस यही बोलने आई थी कि तू मौका देख कर प्रेरणा की चूत को लंड का सुख दे दे.इंग्लिश बीएफ देना: चूंकि मैं हल्की सी मुँहफट हूँ, इसलिए मेरे मुँह से निकल गया कि खुद ही चैक कर लो.

फिर मैंने अपनी साड़ी और पेटीकोट को कमर के ऊपर तक सरका लिया और अपनी पैंटी में हाथ घुसा के अपने योनि-केशों को उँगलियों से कंघी करने लगी तो योनि रस से मेरी उंगलियां गीलीं हो गयीं.जब मुझे लगा उसका शौहर सो गया, तो मैंने उसे इशारे से टॉयलेट में आने का इशारा किया.

बीएफ सेक्सी 18 साल की लड़की का - इंग्लिश बीएफ देना

उसकी चूत का रस मेरे लंड पर लगा था और मैंने उसको उसकी चूत के रस का स्वाद लेने के लिए कहा.रोज चूत चोदने वाला बंदा ऐसे मुठ मार रहा है, मुझे यकीन नहीं हो रहा है.

मेरी बीवी की उम्र 29 साल है और हम दोनों की एक बेटी भी है जो 12 साल की है. इंग्लिश बीएफ देना मन कर रहा था कि मां को बुरी तरीके से चोद दूं लेकिन मैं इतनी हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था.

स्टूडेंट टीचर सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैं अपनी टीचर की ओर आकर्षित था.

इंग्लिश बीएफ देना?

एक बार तो मैंने सोचा कि वो मजाक कर रही है मगर उसका दोबारा से मैसेज आया- आ रहे हो क्या?मैंने कहा- अभी तो नहीं आ पाऊंगा, शाम को फ्री होकर 7 बजे के करीब आ सकता हूं. उसकी कैपरी उसके घुटनों के पास थी और उसका लंड साफ मेरी आंखों के सामने था. मगर वो ये भूल गया कि इस वक़्त वो कहां है और इसकी बहन मीता भी बाहर बैठी है.

अब तो तुली हर गुरुवार की रात मेरे साथ ही बिताती थी, क्योंकि शुक्रवार को तुली को स्कुल में छुट्टी रहती थी. वो भी आह आह करके बड़बड़ाने लगी- पेलो भैया … चोदो भैया फाड़ दो गांड … और जोर से चोदो … आह मजा आ रहा है भैया. पापा मैं आज सारी रात आपके लंड के साथ खेलूंगी … आपके लंड को मुँह में ले कर चूसती रहूँगी.

उनकी दोनों चूचियों को अपने हाथों में भरा मैंने और अपना लंड पीछे से मम्मी की चूत पर सैट कर दिया. उनके ऐसे करने से मेरा पूरा जिस्म झनझना उठा और मेरी चूत में पानी की जैसे बाढ़ सी आ गई. उसकी नजरों के लिए मैंने अपनी चूचियों के उभारों को और दिखा दिया और नजारा बहुत कामुक हो गया.

दोनों ने साथ में स्कूल खत्म किया था और फिर एक और इत्तेफाक ये हुआ कि उन्होंने उसी कॉलेज में एडमिशन भी ले लिया जिसमें मुझे दाखिला मिला. मैंने उसकी कमर की नीचे एक तकिया रखा और अपना 7 इंच का लंड उसकी चूत के मुहाने पर रखकर डालने की कोशिश करने लगा.

नंगी मां को पापा के लंड पर चुदते हुए देख कर मैं लंड को जोर जोर से मसलने लगा और दो मिनट में ही मेरा वीर्य निकल गया.

अब मैं अपनी सेक्स कहानी का अगला पार्ट छोटी बहन की गांड मारी हाजिर कर रहा हूँ.

मेरा हाथ धीरे धीरे उसके पेट पर होते हुए ऊपर जाने लगा तो उसने मेरे हाथ को पकड़ लिया. अब आगे की स्टूडेंट टीचर सेक्स स्टोरी:अब सुषमा मैडम का व्यवहार मेरे लिए काफी बदल गया था. जब उसका लंड पूरा लार से भीग गया तो उसने लंड निकाला और मेरी टांगें उठाकर अपने कंधे पर रखवा लीं.

फिर धीरे धीरे मैं उसके लंड पर उछलने लगी और मेरे मुंह से आवाजें निकलने लगीं. अपनी चूत पर मेरा हाथ महसूस करते ही वो एकदम से ऐसे कांप गई, जैसे किसी ने पहली बार उसकी चूत को छुआ हो. फिर धीरे धीरे मैं उसके लंड पर उछलने लगी और मेरे मुंह से आवाजें निकलने लगीं.

मैंने उनको अपने पास खींचा और उनको बांहों में लेकर उनके होंठों को चूम लिया और बोला- अब आपको सेक्स के लिए तड़पना नहीं पड़ेगा.

महक की फिगर का साइज तो पता नहीं चला … लेकिन इतना जरूर पता चल रहा था कि उसकी बॉडी एक परफेक्ट शेप में ढली हुई थी. जब मैंने उनके होंठों को छोड़ा, तो भाभी बोलीं- सुमित अब और मत तड़पाओ … जल्दी से डाल दो. इस हिंदी सेक्सी कहानी में पढ़ें कि बारिश में मेरे घर के सामने बाइक से गिर कर बेहोश हो गया.

उसकी चूचियों की नोकें इतनी शानदार थीं कि मेरे लंड में आग लगी जा रही थी. उसकी सिसकारियां निकल रही थीं- उफ़ यार … उफ़ डाल दे भी प्लीज़ उफ्फ्फ डाल दे न क्यों तड़फा रहा है. मुझे समझ नहीं आ रहा था कि काउंटर पर क्या कहूं?जैसे तैसे हिम्मत जुटा कर मैंने काउंटर पर बैठे आदमी से कहा- रूम नं.

मैंने सोचा कि मैंने तो अभी तक चूत भी नहीं मारी है, मैं बिना चूत चोदे नहीं मरना चाहता हूं.

दोस्ती ये गाँव की सेक्सी लड़की की कहानी आप लोगों को कैसी लगी, मुझे मेल करके ज़रूर बताना. मुझे ऐसा लगा कि हम सबके जिस्मों में भूख है मगर किसी को भी खाने की जल्दी नहीं थी.

इंग्लिश बीएफ देना मैंने उनको नीचे लिटा कर उनकी काली ओर मोटी जांघों को चौड़ा करके अपने होंठों को उनकी मोटी और पाव रोटी जैसी फूली हुई चूत पर रख दिया. वो मेरे गाल पर चूमते हुए बोली- आपसे हो पाएगा इस उम्र में?इस पर मैंने भी उसके मम्मे हाथ में भरकर कहा- एक बार मौका तो दो बहू.

इंग्लिश बीएफ देना जिसके चलते कृतिका दीदी को जब भी अपने फोन में कोई दिक्कत आती थी, वो मुझसे बोल देतीं और मैं उनके फोन को मिनटों में सही कर देता था. वो अपना मस्त काला मोटा लंड घपाघप मेरे मुँह में अन्दर बाहर कर रहा था.

ओल्ड लेडी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कम्पनी की ओर से मैं विदेश गया तो मेरा दिल वहीं बसने को हो गया.

மலையாளம் செக்ஸ் ஃபிலிம்

छोड़ते ही वो भाग कर बाथरूम में गयी और मेरे माल को थूक कर मुंह को पानी से साफ करने लगी. वो मेरा सिर और जोर से चूचियों में दबाने लगीं और अपनी जांघों को चिपकाने लगीं. झड़ने के बाद मैं निढाल होकर उसके ऊपर गिर गया और हम एक दूसरे को चूमने लगे.

मैं झट से उठ कर कुतिया बन गई और सर मेरे पीछे से लंड पेल कर मेरी चुत चोदने लगे. मुझे पता लग रहा था कि आकाश और रागिनी की चुदाई 2 मिनट से ज्यादा नहीं चलती होगी. मेरे लंड ने कामरस छोड़ छोड़ कर मेरे अंडरवियर को आगे से पूरा ही गीला कर दिया था.

फिर नॉर्मल होने के बाद वो बोली- नाहिद, मैं तुम्हारी दीवानी हो गयी हूं.

उसके बाद मुझे अहसास हुआ कि मैं चूत नहीं बल्कि मैं अपनी ही भाभी का मुँह चोद रहा था. जल्दी ही मैं आपसे वो करवाऊंगी … मेरा मतलब मदद या कोई भी काम होगा, तो आपसे ही करवाऊंगी. वो एकदम से कराह उठी और बोली- आईई अम्मी, जान निकालोगे क्या? अह्ह आईई … मर गयी.

मेरे अन्दर के शैतान जिसको मैंने सालों से समझा बुझा कर रखा था अब उसे जागना ही था. मेरी प्यासी जवानी के भार को अपने लंड पर टांगे हुए मुझे चोदे जा रहा था. मगर मैं अबकी बार लम्बी पारी खेलना चाहता था इसलिए धीरे धीरे चोदते हुए डटा रहा.

मैंने बिना लंड निकाले भाभी को पलट कर सीधा किया और एकदम से उनकी दोनों टांगें खोलकर उनके ऊपर चढ़ गया. पूजा की लम्बी नुकीली नाक, बड़ी बड़ी आँखें, चौड़ा उठा हुआ मस्तक, गोरे गोरे भरे हुए गाल और उसके होंठों पर लगी हुई लाल लिपस्टिक उसे एक अद्भुत बला की सुंदरी के रूप में पेश कर रही थी.

मैंने भाभी से बोला- कैसा लगा?भाभी बोलीं- तुमने तो मेरी जान ही निकाल दी … तुमगन्दी चुदाईकरते हो पर मज़ा बहुत देते हो. फिर उसे अच्छे से साफ करके उसको वापस सुखा दिया और नहा कर बाहर आ गया. फिर मैंने उससे पूछा कि सैड स्टेटस क्यों लगाये रहती हो तो वो बोली कि ऐसे ही अच्छा लगता है उसको।वो बोली- आज कैसे मैसेज कर दिया? ऑफिस में मैंने तुम्हें कितनी बार देखा है.

फिर मेरे पति देव ने भी हां में हां मिला दी और तीसरा पैग भी रेडी कर दिया.

हाथ बाहर निकाल कर मैं लेट गया और फिर मुझे नींद लग गयी जिसका मुझे पता नहीं चला. क्या गजब की खूबसूरत थी वो … रेशम जैसे लम्बे लम्बे बाल, जो उसकी कमर तक आ रहे थे. उसके मुंह से चूत शब्द सुनना मुझे बड़ा भद्दा और गन्दा लगता था पर मैं उसकी इन बातों का कोई जवाब नहीं देती थी.

वो बोला- अब हमारे लिये लड़ना मुश्किल होगा और पैसे भी ज्यादा लगेंगे. रोहन की भी नींद टूट गयी और वो मेरी चुचियां पकड़ कर नीचे से धक्के देने लगा.

सुपारे की गर्मी से चाची की मस्त आह निकल गई और उसी समय मैंने लंड को हल्का सा धक्का दे दिया. जब से वो ऑफिस में आई थी तब से ही मैं भाभी की चुदाई का ख़्वाब देख रहा था. मैं बाहर इसी उधेड़बुन में लगा था कि श्वेता ने मुझे आवाज लगा दी कि अब आप अन्दर आ सकते हैं.

70 साल की सेक्सी फिल्म

करीब 10-12 मिनट तक चली इस चुदाई में अजीब सा मज़ा था … और मजे के साथ डर भी लग रहा था कि कहीं अल्पना जाग न जाए.

जब तीन चौथाई लंड बाहर आ गया तब फिर धीरे धीरे अंदर करने लगा। पांच दस मिनट के बाद लंड आसानी से अंदर बाहर होने लगा।तभी मेरा मोबाइल घनघना उठा. मैंने हवस में डूबकर उसके बदन को सहलाते हुए कहा- रवीना, मैं तुमसे प्यार करने लगा हूं. मैं- क्या करूं अंकल आपकी बेटी है इतनी मस्त और हॉट कि इसकी चुत में से लंड निकलने का नाम ही नहीं लेता.

ये कहते हुए उसने मेरी चूची को दबा दिया और मुझे हवस भरी नजर से देखने लगा. तभी भाभी सभी के लिए दूध बनाकर लाई तो मैंने दूध पीया और सोने के लिए चला गया लेकिन मेरी आँखों से नींद कोसों दूर थी क्योंकि मेरे दिमाग में बस एक ही बात थी कि प्रेरणा भाभी की चुदाई का प्लान कामयाब कैसे हो!बाकी के लोग अपनी अपनी जिम्मेदारियों में लग गए और करीब 12 बजे तक सभी सो गए. बीएफ सेक्सी इंग्लिश में वीडियो मेंशायद वो देख रही थी इसीलिए कुछ देर में ही उनका हाथ मेरे तड़पते लौड़े पर आकर टिक गया.

मगर जब धीरे धीरे लंड ने अपना जादू चलाना शुरू किया तो मेरा दर्द मजे में बदल गया. मैं- तेरे जैसी गरम लड़की को तड़पा कर चोदने का मजा ही कुछ और है रंडी कुतिया … फाडूंगा तेरी चूत को … पहले इस लंड को कौन चूसेगा रंडी!वो- मैं चूसूंगी तेरी रंडी … हां मैं तेरी रंडी हूँ … 24 घंटे तेरा लंड चूसूंगी … पर अभी मुझे चोद दे … मैं मर जाउंगी.

ये देसी इरोटिक स्टोरी तब की है जब मेरी एक प्राइवेट कंपनी में जॉब लगी थी। मेरे ऑफिस से सटा दो कमरे का एक फ्लैट था जिसमें एक परिवार रहता था। उस परिवार में पति पत्नी और उनके तीन बच्चे थे. मैंने उसे रुमाल निकाल कर दिया। उसने रुमाल से पहले खुद की चूत साफ की और फिर मेरा लन्ड भी साफ किया. ‘अहहाहां गुरू अहहाआआं … काटो मत ना मेरे दूधों को … तुम्हारे तो ही हैं ये सब … आंह लगती है मेरी जान … धीरे चूसो न.

उसके बाद उसने अपना लंड मेरी चूत पर लगा दिया और मुझे अपने लंड से जोर जोर से चोदने लगा. अब तक मेरे लोवर में एक तंबू बन गया था, जो पारिज़ा अच्छी तरह से महसूस कर रही थी. ये सोच कर मैंने अपना लिंग बाहर निकाला ताकि सेक्स का टाइम बढ़ सके, क्योंकि अभी वो पूरी गर्म थी और मेरा भी मूड था.

जबकि बेटे की चाह में उसने काफी बाद तक अपनी बीवी की चुदाई की थी और नतीजे के रूप में उसका सबसे छोटा बेटा दो साल का था.

जब एक मिनट बाद मैंने सामान्य रहते हुए दूरी बार अपनी नज़र मोबाइल से हटा कर उठाते हुए उसकी तरफ देखा, तो वो अपना बुर्का उतार रही थी. वो जोर जोर से गांड उठा कर मेरा साथ दे रही थी ‘उहहहह ओह्ह … उफ्फ जोर से चोदो फाड़ दो आज इसको … आह पूरी फाड़ दो … छोड़ना मत इसे आज.

मैंने मोनिषा से कहा- मुझे भूख नहीं है, तुम खाना खा लो, मैं तब तक बाहर से घूम कर आता हूं. पता नहीं क्यों … आज मुझे चुत में एक अलग ही तरह की चिनमिनाहट सी हो रही थी. उसके बाद मुझे उसकी गांड पसंद आ गयी और मैंने सोच लिया कि अब इसकी गांड मारनी है.

वो भाभी की चुदाई की आस लिये मुझे उकसा उकसा कर कह रहा था कि चोद दे इस माल को। मुझे इसकी चूत में जाना है. तुम्हें ऐसी खुशी और मज़ा कभी नहीं मिला होगा, मैं दावे के साथ कहता हूँ. मैंने उसकी काले रंग की ब्रा भी उतार दी अब वो सिर्फ़ पेंटी में रह गई थी.

इंग्लिश बीएफ देना वो मेरे इस सफर में एक साये की तरह आईं और फिर जब छांव पड़ जाए, तो साया अपने आप निकल गया. फिर मुझे बताना पड़ा और मैं बोला- भाभी, अभी जब मैं अंकल जी के साथ चाय पी रहा था तो प्रेरणा भाभी ने अपनी चूची दबाते हुए मुझे आँख मारी और उस जगह पर खुजलाने लगी जिस जगह पर चूत होती है.

खुली सेक्सी खुली

उसने एक वकील का नम्बर दिया और बोली कि यह बहुत पैसे खाता है लेकिन कोई केस हारता नहीं है. आह … जैसे एक वीरान रेगिस्तान में भगवान ने दो बड़े बड़े पर्वत शिखर एक के साथ एक अगल बगल में रख दिए हों. हम दोनों ही एक दूसरे को चूसते हुए अपना थूक भी एक दूसरे को पिला रहे थे.

जैसे जैसे मोहतरमा का हाथ लोई को गोल करने के लिए घूमता, वो कड़े उसकी खूबसूरती को और बढ़ाते हुए थिरके जा रहे थे. एक हफ्ते बाद फिल्म की शूटिंग शुरू हो गई और मैं और लोगों के साथ शूटिंग करने लगी. बीएफ बीएफ बीएफ चोदी चोदादिशा उसको निगल गयी और लंड से सारा बचा हुआ माल निकालने के लिए और जोर से हिलाने में लग गयी.

ड्रिंक के साथ उन दोनों की नंगी फोटोज देख कर मेरे निप्पल खड़े हो गए.

वो ऐसे खड़ी थी जैसे अंदर का सब कुछ दिख जाये मगर अंदर वाले को वो खड़ी हुई न दिखे. उसकी आंखों की चितवन से ही मुझे उसकी आंखें इतनी नशीली दिख रही थीं कि मैं बस मदहोश सा हो गया.

इस बार उसने मुझे दीवार से चिपका कर खड़ा कर दिया और मेरा एक पैर उठाकर मुझे चोदने लगा. अपनी कमर आगे पीछे करते हुए मनीषा लण्ड के मजे लेने लगी तो मैंने पूछा- ये सब कैसे सीखा?सनी लियॉन की क्लिप्स देखकर!”काफी देर से अलग अलग आसनों में चोद चोदकर मेरा लण्ड भी अपनी मंजिल तक पहुंचने वाला था. इतने में ही उसने मुझे जोर से भींच दिया और अपना लंड एकदम से कसकर मेरी चूत में ठोक दिया.

मैंने तो पहली बार आज किसी 19 साल की लड़की को इस तरह मेरे सामने खड़ी पाई थी.

ऐसा बोलकर राज बेशर्मों की तरह अपना लंड एडजस्ट करने लगा, लेकिन उसकी कोशिश नाकाम रही. फर्स्ट टाइम सेक्स स्टोरी का अगला भाग:भाभी की कुंवारी बहन संग सुहागरात-2. वो इठलाते हुए करीब आई तो मयंक सविता की गांड पर हाथ फेरने लगे और हम दोनों को किस करने लगे.

सपना चौधरी की बीएफ मूवीइसे देख कर ऐसे लगता है, जैसे भगवान ने बनाते टाइम बस गांड पर ज़्यादा ध्यान दिया होगा. मां उठी और अपने नंगे जिस्म को अपने हाथों से छिपाने की नाकाम कोशिश करने लगी.

हिंदी सेक्स सेक्सी मूवी

शाम को उठा तो पेट में थोड़ा दर्द हो रहा था।फिर शाम को मैंने सुनीता को फ़ोन किया और मेरी क्लाइंट का हाल पूछा तो वो बोली कि उसकी चूत में बहुत जलन हो रही है।मैंने उससे दवाई लेने को कहा तो वो कहने लगी कि ले चुकी हूं. उधर गीता ने बड़ी मुश्किल से मुखिया के लौड़े का सुपारा ही अपने मुँह में ले पाया और वो जीभ से टोपे को चूसने लगी. सविता- मैं सौतन बन कर ही रहूंगी … अभी मयंक बोल रहे थे कि सोनम को जब से चोदना स्टार्ट किया है … उनको तो जन्नत मिल गई है.

मैं उनके लिए कभी आइसक्रीम लाता, कभी समोसे, कभी कोई सामान लाता … और हम दोनों साथ में खाते. थोड़ी देर चूसने दो अपनी बुर।मैंने फराह के हाथों को बेड पर दबा लिया और उसकी बुर में जीभ दे देकर उसकी बुर को चूसने और चाटने लगा. गजब की लंड चूसती थी वो … मानो साली ने लंड चूसने में पीएचडी कर रखी थी.

बंगाल वाली लड़कियां किसी फैमिली में बच्चों और एक बुजुर्ग माता की देखभाल किया करती थीं और 2 घंटे पार्लर में काम करती थीं. अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों में लोग लिखते हैं कि लेडीज बहुत आराम से लंड चूस लेती हैं. सर एकदम पागलों की तरह मेरे होंठों को, मम्मों को, कानों को चूमते हुए नीचे आ गए और मेरी चुत चाटने लगे.

मेरा मन किया कि अभी ही इसे पटक कर चोद दूं … इसे लेकिन मुझे डर लगा कि कहीं कोई पंगा ना हो जाए. देसी बुर कीचुदाई स्टोरी में पढ़ें कि चाची ने मुझे चुदाई के लिए गाँव बुलाया था.

उसके बाद पारिज़ा ने घुटनों के बल बैठे ही मेरे लंड को मुँह में ले लिया और लंड चूसने लगी.

उसके बाद जब भी अंकित कभी रूम पर आता था तो मेरी चुदाई जरूर करके जाता था. बीएफ सेक्सी हिंदी बीएफ वीडियोउसी काम में अचानक से मेरा हाथ चाची की एक चूची पर लग गया, पर जल्दीबाज़ी में उन्होंने इस बात पर ध्यान नहीं दिया. बीएफ सेक्स हार्डउनकी टांगों पर उनकी नाइटी फेंक दी और नीचे से जांघ पर हाथ लाकर उनकी चूत में उंगली डालने लगा. फिर मैं पूरा का पूरा उसके ऊपर लेट गया और उसने मेरे चूतड़ों पर अपनी टांगें लपेट लीं और टांगों से मेरे गांड के हिस्से को चूत पर दबाती हुई चुदने लगी.

परंतु अब मैंने रूम में अंदर जाने का मन बना लिया था। पहले बस से उतरते ही मैंने मूत कर अपने टैंक को खाली किया और हम रूम की तरफ़ निकल पड़े.

तो दोस्तो … आपको मेरी सेक्सी होली चुदाई कहानी कैसी लगी, प्लीज़ कमेंट करके बताइएगा. उस लड़की के मन की सबसे बड़ी बात उसकी जवानी की दहलीज पर कदम रखने के बाद आए दिन उसके गुप्तांगों में उठ रही चुल्ल को शान्त करने से जुड़े होते हैं. तो मैंने उन्हें एक लंबा चुम्मा किया और फिर से हॉट चाची के ऊपर चढ़ गया.

मैडम मुझसे कहने लगीं- क्या तुम्हें ये ड्रेस पसंद नहीं आई?मैंने मैडम से कहा- नहीं … आप इस ड्रेस में तो बहुत ही सुन्दर लग रही हैं. बहुत देर बाद उसने ब्रा को अलग किया लेकिन ब्रा हटाते ही वो मुझसे चिपक गयी। ऐसे ही मैं उसे किस करता रहा. रघु- माफ़ करना बाबूजी, कभी किसी ने ऐसे छुआ नहीं ना … तो ये खड़ा हो गया.

देसी हॉट सेक्सी वीडियो एचडी

इतनी कमसिन, भोली और मासूम सी दिखती थी कि दिल एक दिन में उस पर कई बार फिदा हो जाता था।मैं अक्सर उसके घर के सामने कभी चाय तो कभी सिगरेट पीने के बहाने ऑफिस से निकल जाता और उसके घर मे ताक झांक करता रहता था ताकि उसकी एक झलक मिल सके. मेरी हॉट वाइफ स्टोरी के अगले भाग में मैं सब तरतीब से लिखूंगा कि पारिज़ा के साथ सेक्स का मजा हमने कैसे लिया. इस बात को लेकर मुझे ऐतराज था क्योंकि मैं पेशेवर था और ऐसे किसी अन्जान महिला से नहीं मिल सकता था.

उसकी आवाज से मेरा ध्यान भटका और मैं आदी की तरफ देखने लगा ही था कि अचानक से मेरी बाइक एक स्कूटी से जा टकराई और मैं नीचे गिर गया.

ऐसा करते हुए वो मेरे लंड को अपने हाथों से ऊपर नीचे ऊपर नीचे कर रही थी.

उनके ऐसे करने से मेरा पूरा जिस्म झनझना उठा और मेरी चूत में पानी की जैसे बाढ़ सी आ गई. मैंने देखा कि भाभी ने वही जाली वाली ब्रा पहनी थी, जो मैंने उन्हें गिफ्ट की थी. गंदी वाली बीएफवो रोने लगी कि अभी थोड़ी देर के लिए रुक जाओ … मुझको बहुत दर्द हो रहा है.

सुरेश- अरे ऐसे जल्दबाज़ी में मत बता, ठीक से देख कर बता ना … एक काम कर अन्दर से समझ नहीं आएगा, रुक जरा … तू बाहर से देख कर बता ठीक है ना!सुरेश अब गीता के मज़े लेना चाहता था. लेकिन जब दुबारा वो आवाज आयी, तो मैंने सोचा कि ये किस चीज की आवाज आ रही है. मगर आप ये क्यों पूछ रहे हो?सुरेश- अरे उसी हिसाब से दवा दूंगा ना … पहले पता तो लगे कितना बड़ा था.

मैंने सरिता चाची की साड़ी ऊपर की और उनकी टांगों को फैला कर देखा कि चाची की चूत एकदम चिकनी थी. उसने मदहोशी में आकर मेरे सिर को पकड़ लिया और बहुत ही प्यार से मेरे बालों में हाथ फिराने लगी.

मैंने उसकी कमर को पकड़ा और उसकी चूत की जड़ तक अपने लौड़े को खींच खींच कर मारने लगा.

ऐसा कहते हुए वे मेरे ऊपर अपना हाथ लगा कर कहने लगीं कि ये तो काफी लाल हो गयी है. चूंकि वो दो साल से चुदवा रही थी इसलिए बिन चुदी चूत का सपना देखना तो बेकार ही था. इस बीच उसने बाहरवीं की परीक्षा काफी अच्छे नंबरों से पास की।रिज़ल्ट आने की खुशी में उसके पापा ने ऑफिस में सबको मिठाई खिलाई.

एक्सरसाइज वाली बीएफ उसकी चूत का रस टपकते ही उसने बेड पर निढाल होकर अपना सिर नीचे रख लिया. साथ ही चुत पर लगाने के लिए क्रीम भी दी और उसको हिदायत दी कि गर्म पानी से अच्छी तरह साफ करके फिर क्रीम लगाना.

मैं उठ कर बेड से नीचे खड़ा हो गया और बैग से तेल की शीशी निकाली और अपने लंड पर तेल लगाने लगा. रागिनी थक गयी और हांफते हुए बोली- जीजू, आप तो घोड़े के जैसे चोद रहे हो इस उम्र में भी।मैंने बोला- हाँ, भगवान की देन है सब. दिखने में मैं बिल्कुल फिट हूँ। अपने शरीर का काफी ध्यान रखता हूं और हल्की फुल्की कसरत भी कर लेता हूं.

सेक्सी वीडियो हिंदी छोटी

मैंने प्यार से अपनी जाँघों को सहलाया और दायीं जांघ पर हथेली से बजाया जैसे पहलवान लोग कुश्ती लड़ने के लिए अखाड़े में जांघ पर हाथ मार मार कर प्रतिद्वन्द्वी को ललकारते हैं. फिर उसने अपनी ईयर फोन कान में लगा कर मुझे लिखा- पापा आप खड़े हो जाओ. मगर उस साले को चोदना ही नहीं आता था ढंग से इसलिए मैंने उसे छोड़ दिया.

मैं समझ गया कि दानिश की अम्मी को मेरी बात समझ आ गई है, इसीलिए वे चुप हैं. वो जब भी झुक कर बात करती थीं, तो उनके सीधे हाथ की तरफ वाले दूध पर एक तिल था, बस उसे देख कर मैं अन्दर तक घायल हो जाता था.

भाभी ने एक बहुत ही मोहक सेंट लगाया हुआ था, जिसे मैं बस सूंघे जा रहा था.

उसने भी अपना बड़ा लंड निकाल कर मेरी चूत पर लगा दिया और एक धक्के में ही अन्दर कर दिया. मैं रवीना की चूत को चाटने लगा और नगमा ने अपनी देसी बुर को रवीना के मुंह पर रख दिया. मैं उसको चोदने लगा और कुछ ही देर में भाभी सिसकारने लगी- आह्ह … मजा आ रहा है परेश … जोर से चोदो … पहली बार गांड चुदवाने का आनंद ले रही हूं.

मैंने अन्दर जाकर डोर लॉक नहीं किया … क्योंकि मुझे हाथ तो सिर्फ धोने थे … लेकिन मुझे क्या पता था कि विवेक अन्दर आ जाएगा. मैं उठने लगा, तो काटते वक़्त टमाटर का थोड़ा सा पानी जो नीचे गिर गया, वो दिखा नहीं. मेरी हॉट वाइफ स्टोरी के अगले भाग में मैं सब तरतीब से लिखूंगा कि पारिज़ा के साथ सेक्स का मजा हमने कैसे लिया.

मेरी बात सुनते हुए वो एकदम से मेरे पास आ गईं और मुझे मेरे होंठों पर किस करने लगीं.

इंग्लिश बीएफ देना: सुरेश- आपके हालत ठीक नहीं है, तो आप कैसे घर को चला पाती हो?सुलक्खी- बाबूजी अब क्या बताऊं, बस मर मरके जी रहे हैं. मैंने उसे रुमाल निकाल कर दिया। उसने रुमाल से पहले खुद की चूत साफ की और फिर मेरा लन्ड भी साफ किया.

वो अपने हाथों में आटे की लोई बनाते हुए अपने हाथों को एक रिदम में चला रही थी. मैंने कहा- तू इतनी देर से मुँह में लेकर चूस रही है ना, इसलिए तुझे ऐसा लग रहा है. भर दे इसको अपने माल से मेरे लाल।फिर मैंने मां की गांड को थाम लिया और जोर जोर से नीचे से धक्के लगाने लगा.

[emailprotected]देसी चुत स्टोरी का अगला भाग:कमसिन कुंवारी लड़की की गांड- 3.

मैंने देर न करते हुए उसके चेहरे को पकड़ लिया और अपनी तरफ घुमा कर उसके नाजुक होंठों पर अपने होंठ रख दिए. होटल में पहुंचते ही अंगिका ने अपने कपड़े उतार डाले और केवल ब्रा और पैंटी में रह गयी. हम कम से कम आवाज करने की कोशिश कर रहे थे लेकिन चुदने की मस्ती में रवीना के मुंह से हल्के हल्के ऊऊऊ … उम्म … स्स्सश … ऊऊह … करके कुछ कामुक आवाजें निकल रही थीं.