हिंदी बीएफ नंगी वाली

छवि स्रोत,सेक्सी बीपी आंटी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सनी लियोन के साथ: हिंदी बीएफ नंगी वाली, मैं इकबाल सिंह का लंड चूसने लगी और इकबाल सिंह दारू की बोतल मुँह में लगा कर दारू पीने लगा.

बढ़िया में सेक्सी पिक्चर

तेरे बाप को कर्जे की माफी के लिए कोई कागज लिखकर नहीं दिए … समझी! अभी भी मैं चाहूँ तो तुम सबको घर से धक्के मार कर निकाल सकता हूँ. బిఎఫ్ హిందీ వీడియోमेरे देखते देखते ही उसका बदन अकड़ने लगा और उसकी चूत का पानी निकल गया.

दो बार चोदने के बाद फिर मैं वहां से आ गया क्योंकि बैंक में जाकर हाजिरी लगाना भी जरूरी था. తమిళ్ బ్లూ ఫిలింवो रोते हुए बोली- मर गयी मामू … ये क्या कर दिया … रंडी नहीं हूं मैं … आईई … आह्ह … फाड़ दी मेरी गांड …उई मां … मार दिया।मैंने कहा- तू आज से मेरी रंडी ही है.

वो जोर से कराह उठी और चिल्ला कर बोली- आआआ ह्ह … आराम से नहीं कर सकता क्या कुत्ते? उखाड़ेगा क्या इनको?मैं बोला- हाए … मेरी सेक्सी मामी … तुम्हारी चूचियों को देखकर कंट्रोल नहीं हो पाता है, क्या करूं यार?मैं दोबारा से उनकी चूचियों को भींचने लगा.हिंदी बीएफ नंगी वाली: कुछ देर चूचियों को पीने के बाद मैं नीचे की ओर आया और पेटीकोट खोलकर एक तरफ फेंक दिया.

आप इसे एक बार देख लो, फिर दवा दे देना … और साथ में आप उपाय बताने वाले थे … वो भी बता देना.पर आपने पता नहीं क्या कर दिया था, तो सब ऐसे ही मुँह से निकल गया था.

छोटी बच्ची की सेक्सी व्हिडीओ - हिंदी बीएफ नंगी वाली

मैंने भी उसकी अंडरवियर उसी तरह से निकाली, जैसे उसने मेरी अंडरवियर अपने दांतों से पकड़ कर निकाली थी.उसकी पेशाब की धार की तेजी देखी तो मैं सोचने लगा कि इसका लन्ड कितना मज़बूत है! इतना तेज़ धार मार रहा है.

आखिर आप मेरे भैसुर हैं, सेवा तो करनी ही पड़ेगी।उसके घूंघट से उसका चेहरा छुपा हुआ था. हिंदी बीएफ नंगी वाली दीक्षा- पोर्न देख कर मास्टरबेट करता है क्या?मैं- हां दीदी … जब कुछ जुगाड़ ही नहीं होगा, तो क्या करूंगा.

उफ्फ … हे भगवान … ये कैसी विडम्बना है … मेरे तन मन पर मेरा ही बस क्यूं नहीं रहा अब? अब करूं तो क्या?मैं इन अनचाहे कुत्सित विचारों को बार बार दिमाग से निकालने का प्रयास करती पर वो जिद्दी मन फिर उन्हीं पलों को याद करने लगता.

हिंदी बीएफ नंगी वाली?

ये चुदाई का खेल कैसे अंजाम पर पहुंच सका, इसको मैं अगले भाग में पूरा लिखूंगा. ये फ्लैट मैंने अपनी दीदी की शादी में आने वाले मेहमानों के लिए एक हफ्ते के लिए किराए पर ले लिया था. अब मैं बेड पर से उठकर नीचे फर्श पर आकर उनके पैरों के पास बैठ गया।फिर उनकी दोनों टांगों को फैलाकर अपनी जीभ से उनकी चूत को चाटने और चूसने लगा। साथ ही उनकी चूत को फैलाकर अपनी जीभ को उनकी चूत में अंदर डालकर उनके चूत-रस को चाटने लगा।सच कहूं तो मैंने ऐसा टेस्ट कभी महसूस नहीं किया था.

कभी चूत के पास हाथ ले जाकर दाने को मसलती तो कभी चूचियों के निप्पलों को उंगलियों से भींचने लगती. मन का पंछी अपनी मर्जी से यहां वहां उड़ने लगा था और मौसाजी के साथ आया वो चुदाई का मज़ा, उस आनंद के बारे में सोच सोच मेरी चूत फिर से रसीली हो उठी. ये कहकर मैं वहां से आ गया और सीधा सुमन भाभी के घर पहुंच कर डोर बेल बजा दी.

वो अब मुझे जोर जोर से किस कर रहा था और उसका एक हाथ मेरी शॉर्ट्स के अन्दर पहुंच कर मेरी गांड को जोर जोर से दबा रहा था. मैं आपको बता दूं कि इस लड़की से मिलने से पहले मेरी एक गर्लफ्रेंड भी थी. फोरेनर गर्ल फ्री सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि एक बार में मुझे रशियन डांसर पसंद आ गयी.

मैं घर की ओर अपने चरमसुख की लालसा में बिना कहीं रुके पहुंचना चाहता था। परंतु समय ने करवट ली और बीच रास्ते मेरे पास मेरी माँ का फ़ोन आया।माँ बोली- तेरी मामी भी आएंगीं, उनसे बात कर कि तू उनको कैसे और कहां मिलेगा?सुनकर मेरा माथा ठनक गया. रजिया अब शांत हो चुकी थी और आराम से अपनी मैक्सी को नीचे करके लेट गयी.

कुछ देर ऐसे ही ऊपरी चुदाई के बाद हम दोनों का ही शरीर एक साथ अकड़ गया और हम दोनों एक साथ झड़ गये.

मैं बोला- आप सीधे सीधे पूजा भाभी से मत कहना। उनको कैसे पटाना है वो सब मैं देख लूंगा ।आप तो बस समय समय पर मदद कर देना।उन्होंने कहा- हां, ठीक है.

फिर उसने अपने हाथों से मेरी फ्रेंची को नीचे खींचा और मेरा लंड उछल कर बाहर आ गया. फिर उसने सिसकारते हुए मेरे सिर को ऊपर उठाया और अपनी चूचियों पर मेरा मुंह लगाकर बोली- थोड़ा सा इनको भी पी लो. आंटी की चूत का सारा पानी मैंने पी लिया और चूत को चाटकर साफ कर दिया.

बस पर्दे के एक कोने को थोड़ा सा हटा कर आराम से देख लेना … और फिर मैं तेरे भाई का मुँह दूसरी तरफ़ कर दूंगी. मेरी झिझक भी काफी हद तक खुल चुकी थी और अपने आकर्षक युवा लावण्य के चलते मुझे काफी लड़कियां पसंद करने लगी थीं. जब भाभी वापस आईं, तो मैंने पूछा- क्या खरीद लिया भाभी, बताओ ना?भाभी- कुछ नहीं … बस ऐसे ही.

मधु ने मुझसे यह सब बताया और कहा कि आज तुम्हारी किस्मत है, तुम संजना की भी ले लेना … लेकिन तुमको अपनी आँखों पर पट्टी बांध के उसकी लेनी पड़ेगी.

यूं तो मेरी जिन्दगी में बहुत से ऐसे वाकिये हुए हैं, जो मैं आप लोगों के साथ साझा करना चाहता हूँ. वो रेजर से मेरी चूत को साफ कर रहे थे और मेरी चूत से रस निकलना शुरू हो गया था. वो भी इतनी अच्छी तरह कि एक बाल तक नहीं बचा है, बिल्कुल मक्ख़न जैसी चिकनी चुत कर रखी है.

थोड़ी देर में मेरा लंड कड़ा हो गया और मैंने उससे कहा कि तू अब जल्दी से अपनी दीदी की कमी पूरी कर दे बस. भाभी की हाइट 5 फुट 7 इंच थी और उनके शरीर का आकार 34-26-36 (बाद में भाभी ने बताया) हो गया था. मैं बोला- आप सोचिये कि मैं अभी आपके पास अकेला हूँ … हमारे पास कोई नहीं है.

लंड का पानी निकालते हुए हांफते हांफते मैं उस पर ही निढाल होकर गिर गया.

सुमन- ओये होये … क्या बात है आज लगता है पूरे मूड में हो, तो चलो फिर जल्दी से खाना खा लो, उसके बाद मुझे खा लेना. दोस्तो, अब मेरी जीजा साली सेक्सी कहानी को मैं अगले भाग में लिखूंगा.

हिंदी बीएफ नंगी वाली उसे असहनीय दर्द हो रहा था लेकिन मैं उसकी चूचियों को सहलाते हुए उसको किस करता रहा. मैं इतनी कामुक हो गयी कि मैंने अपनी दो उंगिलयां अपनी चूत में डाल लीं.

हिंदी बीएफ नंगी वाली सुरेश- तुम्हें मुझसे क्या चाहिए?रवि- हां अब आया ना लाइन पर … चल सुन … तू जितना मर्ज़ी इस गांव की लड़कियों के मज़े ले, चोद भी ले सबको, मुझे कोई दिक्कत नहीं है. दोस्तो, मेरा नाम विजय है, मैं एक कंपनी में पार्ट टाइम जॉब करता हूं और पढ़ाई भी करता हूं.

संध्या मौसी भी उनसे कुछ नहीं कहतीं थीं क्योंकि मौसा जी की यह पीने की आदत बहुत पुरानी थी.

सेक्सी वीडियो आदिवासी सॉन्ग

उसके कमसिन बदन की गर्मी मुझे भी पागल बना रही थी, लेकिन धकापेल चुदाई का मंजर हम दोनों को ही मदहोश किये हुए था. मैं सारे दिन में पागल हो गया था कि इतनी मस्त माल साथ है … और मैं कुछ कर भी नहीं पा रहा हूँ. शादी खत्म होने के बाद सभी लोग औरंगाबाद की ओर आने के लिए बस में आकर बैठ गए.

धीरज ने अपने मोबाइल से मेरी अम्मी की नंगी फोटो खींच ली और कपड़े पहन लिए. ताकि मैं आगे आने वाली कहानियों को आपके लिए और ज्यादा बेहतर तरीके से लिख सकूं. आंह जानू मैं आपकी चुत को पहले प्यार से काटूंगा और अपने दोनों हाथ आपके दोनों चूचों को मसलूंगा.

फिर वो दिन भी आ गया जब आशीष सर मेरी चूत चोदने के लिए हमारे घर आने वाले थे.

कच्ची कली के हाथों से मालिश का मज़ा लेते हुए उसका लंड एकदम तन गया था, जो धोती में साफ खड़ा दिखाई दे रहा था. फोन रखते हुए दीदी ने उससे कहा कि मैं तुम्हारा नंबर लेकर तुमसे बाद में बात करूंगी. इधर पीछे से में पेल रहा था, तो आगे के छेद में नीचे से अशोक अपना लंड पेले जा रहा था.

वो बाथरूम से जब बाहर आई, तो उसके सेक्सी शरीर देख कर मेरी वासना जाग गई और मैं उसे चोदने के लिए मचल उठा. तुम्हें देखता हूं तो मन करता है कि तुम्हें अपनी बांहों में लेकर दिन-रात प्यार करता रहूं. उनकी भी मीठी आवाजें निकालने लगीं- आह … आह … सच में बहुत मोटा है तेरा … आह … धीरे … चोद आह.

इतना बोलते ही वो बैठ गई और मेरी गांड चाटने लगी … और अपने दांतों से मेरे चूतड़ों की चमड़ी को काटने लगी. उसने मेरे मुंह को अपनी चूत पर दबा लिया और जोर से सिसकारते हुए बोली- आह्ह … चोद दो राज … मुझे चोद दो … फक मी राज … फक मी प्लीज!अब मैं भी नहीं रुक सकता था.

तो प्लान के हिसाब से मैंने अपनी जॉब से कुछ दिन की छुट्टी ले ली और सब परिवार वालों को अपनी ससुराल छोड़ आया. मैं बोला- हां क्या शर्त है बताओ?सुजाता बोली- पहले मुझे ये बताओ कि मेरी पैंटी पर वो चिपचिपा चिकना पदार्थ तुम ही गिराते थे न?मैंने हां में सिर हिला दिया. पिछली बार आपने डॉक्टर सुरेश और मीता की चुदाई शुरू होने की स्थिति पढ़ ली थी.

उस वक़्त हम दोनों में क्या केमिस्ट्री चल रही थी … हम दोनों को ही किसी बात का अहसास नहीं था.

मैंने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और चुत की फांकों में सुपारा सैट करते हुए एक तेज धक्का लगा दिया. उनके पसीने और चमड़ी का टेस्ट मुझे उत्तेजित करने लगा और मैं 5 मिनट में ही फिर से चुदाई के लिए तैयार हो गया. उसकी चूत के पास जाकर मैंने उसकी रेशमी पैन्टी को हल्का सा साइड में करके अपनी जीभ से चुत चाटना शुरू कर दिया.

अब सिर्फ उसके चूचों के ऊपर क्रीम कलर की ब्रा थी … नीचे फटी हुई जींस और पैंटी रह गई थी. कहानी के पिछले भागमामी ने भाभी की चूत दिलवाई- 3में मैंने आपको बताया था कि कैसे मैंने भाभी की चुदाई के प्लान में मामी की मदद ली.

उन्हें भी शायद मेरा उनकी गांड पर थप्पड़ मारना अच्छा लग रहा था। कुछ देर बाद मैं इसी आसन में उनकी पीठ पर झुक गया. उसके मेरे ऊपर आकर गिरने की वज़ह से और मेरे उसके हाथ पकड़ रखने की वजह से, मेरी उंगलियां उसके स्तनों को महसूस कर रही थीं. मैंने रंडी के साथ सेक्स किया हुआ था लेकिन आप तो जानते हैं कि रंडी और बंदी में कितना अंतर होता है.

सेक्सी वीडियो में चालू

मैं हूं न तेरे लिए!ये बोलकर भाभी ने सोनिया का हाथ पकड़ा और अपनी चूत पर रखवा दिया.

वो एकदम से चिल्ला पड़ी- ऊईई … ईईई … आआ आह्ह … मर गयी रे … फाड़ दी हरामी … इतनी जोर से क्या जरूरत थी … आह्ह … हाये … मेरी गांड … मर गयी मम्मी।मैंने पीछे से आंटी को कस कर पकड़ लिया और उनकी चूचियों को सहलाते हुए पीठ पर किस करने लगा. मेरे लंड के वीर्य और भाभी के चूत के रस से वहां पर बहुत ही मदहोश करने वाली खुशबू पैदा हो गयी थी. मगर फिर भी रसीली चूतों का मैं बहुत बड़ा भोगी हूं और मुझे ऐसी चूतें बहुत पसंद हैं.

अम्मी को कुछ समझ पातीं कि राज ने मेरी अम्मी को अपनी बांहों में भर लिया और उनके होंठों को पीने लगा. मैंने चाची को हल्के से हाथ से उठाते हुए पलटने का इशारा किया तो वो इशारा पाकर खुद ही पलट गयी. सेक्सी खून वाली वीडियोजब मुखिया को लगा कि अब इससे कोई भी बात मनवाई जा सकती है, तब उसने धीरे से कहा- सुमन तुमसे एक जरूरी बात करनी है.

मैंने शादी में काले रंग का सूट पहना था, मैंने भाभी के साथ भी सेल्फी कैमरे से फोटोज भी खींची. अपने कपड़ों को खोल मैंने लुंगी लपेट ली और मैं आराम करने लगा। रह रहकर उस लाल साड़ी वाली लड़की का नहाती हुई का नग्न बदन मेरी आंखों के सामने आ रहा था। लुंगी में से मेरा लंड खड़ा होने लगा.

कोई दूसरी नहीं चलेगी क्या?कालू की बात सुनकर बलराम खड़ा हो गया- यार अब इतनी भी छोटी नहीं है. थोड़ी देर ये किस चलता रहा, उसके बाद सुमन ने सुरेश को हटा दिया और कहा- पहले जाकर फ्रेश हो जाओ. यहां तक कि मैंने कभी उनकी ब्रा और पैंटी को छत पर सूखते हुए भी नहीं देखा था.

मैंने अपना लंड निकाला और अपनी भानजी के मुंह में घुसा दिया और झटके लगाने लगा. फिर उसने मेरी लोअर में हाथ डाल लिया और मेरे लंड को अंडरवियर के ऊपर से पकड़ लिया. उसकी मैक्सी को उठाया और अपना तना हुआ लौड़ा उसके चूतडो़ं पर लगाकर उससे चिपक गया.

कुछ देर में राजेश भी आ गया और मुझे वहां देख कर हैरान हो गया और बोला- तू इधर कैसे आ गया?मैं बोला- क्यों? नहीं आना चाहिए था क्या? तुमसे ही स्पेशल मिलने आया हूँ.

इस तरह की बात शैतानियां और मस्ती करके स्कूल वालों की गांड में उंगली करते हुए धीरे धीरे मैं और मेरे हरामी दोस्त स्कूल में फेमस होने लगे. फिर मुझे जोर जोर से चोदने लगे और चोदते हुए बोले- डार्लिंग … आज ही पांडेय के पास फोन लगाता हूं.

मैंने पूछा- आपके घर में और कौन कौन है?वो बोली- मेरे दो बच्चे और मेरे ससुरजी. उनके लन्ड के मुँह से भी उत्तेजना के मारे लार टपक रही थी। मैं तो आज सातवें आसमान पर उड़ रही थी. अब उसकी चुत दर्द करने लगी थी क्योंकि मैं उसे भूखे शेर के जैसे उसको चोद रहा था.

इससे मेरा पूरा लन्ड उनकी चूत के आखिरी छोर तक पहुंच गया।उनके चेहरे को देखकर ऐसा लग रहा था जैसे कि आज पहली बार किसी मर्द का लन्ड उनकी चूत के इतने अंदर तक गया हो। उनकी सांसें तेज़ हो गई थीं और वो अपने सिर को इधर उधर पटक रही थी।मैं जोर-जोर से धक्के मारकर उनकी चुदाई करने में लगा हुआ था।मैडम सिसकारते हुए बोली- बस … आह्ह्हह्ह … सीईईई … आह्ह्हह्ह … मजा आ गया. सुमन- कैसे मर्द हो आप, एक हसीना आपके सामने बिछने को तैयार है … और आप मना कर रहे हो. कुछ ही देर में वो मदहोश होने लगी और बड़बड़ाने लगी- आह्ह राज … तुम मुझे पहले क्यों नहीं मिले … आह्ह … तुम्हारा लंड तो बच्चेदानी तक जाता है … ओह्ह … चोदो मेरी जान … ऐसे ही चोदते रहो मुझे.

हिंदी बीएफ नंगी वाली मैंने यूं ही उससे कहा- क्या कर रहे हो आप, मुझसे दूर हो जाओ … दरवाजा खुला है, कोई आ जाएगा. मैंने भी उसकी पैंटी में हाथ डालकर उसकी चूत में उंगली दे दी और अंदर बाहर करने लगा.

সেক্স বাংলাদেশ

वो बेड पर पेट के बल लेट गयीं और मैं उनकी कमर और पीठ पर हल्के हाथ से मसाज देने लगा. कुछ देर तक गान मारने के बाद मैंने अपना पानी उसकी गांड के छेद में निकाल दिया. साबुन देकर वो वापस चली गई। मैं मेरी योजना के अनुसार धीरे-धीरे आगे बढ़ रहा था। अब एक दिन दोपहर का समय था। मैं उनके साथ उनके कमरे में बैठा हुआ था। हम दोनों बैठे बैठे टीवी देख रहे थे.

मैंने अपनी स्पीड़ बढ़ाई और चीखते हुए नीला की गांड में अपना मूसल चलाने लगा. इस पार्ट में मैंने ज्यादा गालियों का इस्तेमाल नहीं किया है, पर अगला पार्ट बहुत ही गर्म और कामुक है. ब्लू पिक्चर सेक्सी पंजाबी चुदाईतो मेरे प्यारे दोस्तो, आपको मेरी यह देसी चूत की इंडियन चुदाई कहानी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपने सुझाव जरूर भेजें.

तो मैं भी उनके सर को पकड़कर उनके मुँह में लंड को अन्दर-बाहर करने लगा.

फिर मैंने भाभी के एक दूध को मुँह में ले लिया जोर जोर से चूसना शुरू कर दिया. मीता- अरे दीदी आप यहां कैसे आई हो? डॉक्टर बाबू से मिलने आई हो … या बीमार हो, इसलिए आई हो?गीता- दोनों काम करने आई हूँ.

जब मुझसे बर्दाश्त न हुआ तो मैंने उसको नीचे पटका और उसकी चूत से उसकी पैंटी को फाड़कर अलग कर दिया. चादर में पहली चुदाई की निशानी … यानि के टूटी हुई सील का लाल धब्बा छपा हुआ था. साथ ही उनके पेट और चूत की भी मालिश करने लगा।जब मैं उसकी चूत में मालिश करता तो वो अपनी चूत को छुपाने का प्रयास करती लेकिन ऐसा संभव नहीं हो पा रहा था.

पहले मैंने जींस के ऊपर से लंड सहलाया, तो पता चला उसका लंड काफी कड़क हो चुका था.

बहन ने कहा- भैया, क्या मैं आपकी कुछ मदद कर सकती हूं?मैंने उससे कहा- अगर तुम थोड़ा मेरा पेट मसल दो, तो शायद ठीक हो जाएगा. जीजा साली सेक्सी कहानी का अगला भाग:चोद चोद कर साली की हालत खराब की- 2. मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने दोनों बगल में करके उसकी कमर को पकड़ लिया.

हिंदी में चुदाई का सेक्सी वीडियोदोनों शांत हो गयीं और भाभी सोनिया से बोली- साइड वाला लड़का कैसा लगता है तुझे? मैंने देखा है उसको तुझ पर लाइन मारते हुए।सोनिया ने कुछ जवाब न दिया और नज़र नीचे करके मुस्करा दी. मेरी अम्मी देखने में हमारी मां कम, बड़ी बहन ज्यादा लगती हैं और वे अपनी उम्र से 8-10 साल कम की लगती हैं.

सेक्सी एचडी नंगी वीडियो

मैंने उससे पूछा- तुम इतना कम क्यों दिखती हो?वो चौंक गई- क्या??मैं बोला- मतलब, तुम लोगों के साथ ज्यादा बात नहीं करती हो न, बस इसलिए कह रहा था. उसने पूछा- फिर उसके साथ रिलेशनशिप का क्या हुआ?वैसे दोस्तो, मैं रिलेशनशिप में कभी नहीं रहा. मैंने अपनी रफ्तार और बढ़ा दी और उससे कहा- बोल साली, पानी कहां निकाल दूँ.

कुछ देर चूचियों को पीने के बाद मैं नीचे की ओर आया और पेटीकोट खोलकर एक तरफ फेंक दिया. रुक्मणी भाभी के जाने के बाद मैंने सुमन भाभी को आज के बारे में सब बता दिया, जिस पर भाभी गुस्सा होने के बजाए मुस्कुराने लगीं. आप सामने से हाथ करके ले लो वरना कपड़े नीचे गिर जायेंगे और गीले हो जायेंगे.

मैं भाभी की गांड को चाटने लगा। मुझे भाभी की गांड को चाटने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। फिर उनके दोनों चूतड़ों पर किस करने लगा। वो चुपचाप होकर गांड चटवा रही थी। अब मैं भाभी की गांड के छेद में किस करने लगा।वो सिसकारियां भरने लगी। उसको भी गांड चटवाने में मजा आ रहा था. मुझे साड़ी में उसकी हाइट का अंदाजा नहीं लगा, लेकिन इतना पता चला कि वो मुझसे थोड़ी ही कम ऊंची थी. बाहर झांककर देखा कि कोई मुझे देख तो नहीं रहा है और फिर चुपके से आंटी के घर में घुस गया.

मैं बोला- आपको भैया की याद नहीं आती है क्या रात में?वो बोली- आती तो है, मगर वो तो मुंबई में हैं. वो सिहर उठी और उसने बेड की चादर को दोनों हाथों की मुट्ठी में भींच लिया.

दीदी मेरे कंधे पर सिर रखे रखे खड़े लंड को और मूवी दोनों को देख रही थीं.

मेरी रफ्तार इतनी तेज थी कि उसके चूतड़ मेरी जांघों में टकरा कर पच पच कर रहे थे. ল্যাংটা ডান্সमेरे अब्बू की घर में ही मोबाइल की दुकान थी और हम जहां रह रहे थे, वहां की बस्ती में सभी जातियों के लोग रहते थे. தமிழ் ஃபர்ஸ்ட் நைட் செக்ஸ் வீடியோइस पर राहुल ने देर न करते हुए अपना लौड़ा पूरी तरह से चुत के अन्दर डाल दिया. उनकी पूरी गांड की दरार औऱ चूत पर जैसे ही हाथ फेर कर अब्बू ने सहलाया.

मेरी शादी के लगभग डेढ़ साल बाद मेरी मौसेरी बहिन रूचि का विवाह भी तय हो गया और उसकी शादी का कार्ड भी आ गया.

एक मिनट के बाद वो मेरे होंठों से अलग हुए और घबराई सी मुझे देखने लगी. सुरेश कुछ समझ पाता, उससे पहले सुमन ने लंड को मुँह में भर लिया और चूसने लगी. थोड़ी देर बाद सुमन खड़ी हुई और अपने एक बूब को आज़ाद किया, फिर खीर को उस पर लगा कर मुखिया को इशारा किया.

मुखिया- बस सुमन रानी, अब मुझे जाना चाहिए … नहीं तो सुरेश आ गया, तो तुम्हें परेशानी होगी. निप्पलों को चुटकी से दबा कर मसलने लगा और उसके कड़क मम्मों को मस्ती से मसलने लगा. मगर मुझे मजा लेते देख कर वो बोली- आपा, तुझे तो बहुत मजा आ रहा है … और यहां मेरी गांड में बहुत दर्द हो रहा है.

2000 के सेक्सी वीडियो

मैं उसके होंठों को चूसते हुए उसकी लार को अपनी जीभ से अपने मुंह में खींचने लगा और वो मेरी लार को पीने लगी. मैं बोला- ठीक है मम्मी।मम्मी फिर सोने चली गई। थोड़ी देर बाद उनके बारे में सोच सोचकर मेरा लंड खड़ा हो गया. वो मुझे खींचते हुए बेड पर ले गयी और फिर मैंने उसको पीछे धक्का दे दिया.

मैंने करीब जाकर उससे पूछा- क्या हुआ मैम?आप तो जानते है कि मैं होटेलियर हूँ.

मैं उसके बहुत नजदीक था और ऊपर से मुझे उसकी चूचियों की गहराई उसकी शर्ट में दिख रही थी.

बहू मेरे पैरों के बीच अंडरवियर में उठे लिंग को आश्चर्य से देख रही थी और फिर शर्माने लगी. सुमन- तुम अनाड़ी तो नहीं लगते, फिर ये सब हुआ कैसे?कालू- मैडम जी … मेरा लंड थोड़ा भारी है. ट्रेन में सेक्सीमीनू के बारे में सोचते सोचते उसका लंड एकदम से तन गया था, अब सुरेश को फिर से मज़ा करना था.

उन्होंने पहले लंड पर तेल लगाया और फिर मुझे नीचे झुका कर अपने लंड को मेरी गांड में लगा दिया. आप सुरेश की और मेरी चुदाई भी देख लेना … और उसके बाद जब वो घोड़े बेच कर सो जाएगा, तो दूसरे कमरे में आप अपना काम कर लेना. सुबह करीब 10 बजे हम दोनों उठे, तो दीक्षा हम दोनों के लिए चाय लेकर आई.

मैं नहा कर फ्रेश होकर निकला तो देखा कि राजेश कपड़े पहन कर तैयार था।मैं उसको आज नहीं जाने देना चाहता था. उन्होंने जैसे ही नाइटी उतारने के लिए हाथ ऊपर किए, मैंने देखा उनकी बगल में बहुत बाल थे.

इन पांच दिनों में अलग अलग तरीकों से राहुल ने मेरी चुदाई करके चूत को सुजा कर पाव ब्रेड सा बना दिया.

तब विक्रम ने एक स्प्रे निकाला और मुझ पर बहुत सारा स्प्रे कर दिया। फिर हम घर की तरफ चल दिये।तब विक्रम बोला- अभी तो हम लड़के तुम लड़कियों का क्या हाल करेंगे घर पर, तू देखती जा।हम करीब शाम 6 बजे हम घर पहुंच गये।दोस्तो, कहानी बहुत लम्बी हो गयी है इसलिए यहीं विराम दे रही हूं. मैंने उनसे कहा- मुझे कोई दिक्कत नहीं नही, लेकिन आप वहां क्या बताओगी कि मैं कौन हूँ. मैंने जब उन्हें देखा, तो वो पहले से काफी ज्यादा खूबसूरत हो गई थीं, उनका बदन भर गया था.

सेक्सी वीडियो बिहार का एचडी जैसे ही उसने फ़ोन उठाया, उसकी आवाज़ सुनते ही उसके पापा उसे डांटने लगे. लंड की मोटाई इतनी थी कि चुत के अन्दर घुसवाने के ख्याल से ही चूत और गांड दोनों एक साथ फट जाएं.

बाथरूम में मैंने संजना के मुँह की चुदाई की और लंड को चुसवा कर उसे पानी पिला दिया. मेरे लंड के टोपे को चूसती तो कभी मेरी गोटियों को मुंह में भरकर चूसने लगती. लेकिन ये एक षडयंत्र था, जो मेरी सास ने अपनी बेटी के खिलाफ रचा हुआ था.

𝐒𝐞𝐱 𝐯𝐢𝐝𝐞𝐨𝐬

अब लंड महाराज कहां सोते हैं, उनको तो खड़े होने का मौका चाहिए होता है. उस दिन में मैंने अपना नम्बर उन्हें यह कहकर दे दिया कि कभी बाजार से कोई सामान मंगवाना हो, तो मुझे बता दिया करें, मैं ला दिया करूंगा या कोई और हेल्प चाहिए हुआ करे, तो बता दिया कीजिएगा. उनका मादक स्पर्श पाकर मेरे लंड में हलचल होने लगी, जिसे भाभी ने भी महसूस कर लिया था.

उस रात भी वो चोदते हुए कह रहे थे- साली रंडी … मैं तुझे इतनी पेलता हूं लेकिन फिर भी तेरी चूत की प्यास शांत नहीं होती है … लगता है तुझे तेरे पांडेय सर का लंड दिलवाना ही पड़ेगा. मुझे चाची के साथ चलते हुए बड़ा फख्र होता था कि मेरी चाची इतनी सेक्सी है.

सन्नो ने मुनिया को समझा दिया कि कैसे उसको रात को आना है … और वो रणजीत को बिना बताए उसका लंड चुसवाएगी.

कुछ देर यूं ही वे दोनों मुझसे बात करते हुए अपनी चूचियों की घाटियां दिखाती रहीं. मैं पागलों की तरह स्स्स … आह्ह … उफ्फ … अम्म … करके सिसकारियां ले रहा था. मोनिषा की कमसिन चूत पर उसके मुलायम नर्म बाल मुझे काफ़ी मजा देने लगे.

मेरी नज़र वहीं की वहीं अटक गयी और मन में एक चाहत उमड़ पड़ी कि काश अभी इसी वक़्त एक बार और …पर उन विचारों को मैंने दबा दिया और चाय का कप रख कर मैं जल्दी से उलटे पांव वापिस लौट आई. एक दिन मैंने पूछा- जानू क्या आपके पति आपसे प्यार करते हैं … और पूरा मज़ा देते हैं?वो बोलीं- वो मुझे प्यार तो करते हैं, लेकिन उनमें ज्यादा दम नहीं है. आंखें मलते हुए मैंने भाभी की तरफ देखा तो वह झाड़ू लगा रही थी और उनके बूब्स आधे बाहर दिख रहे थे.

मेरे शरीर में विरोध की कोई चाह नहीं रह गई थी, बस अब जो लहर चली थी … मैं उसमें खुद बह जाने चाहती थी.

हिंदी बीएफ नंगी वाली: अब मैंने एक बोबे को हाथ में पकड़ा और दूसरे बोबे को चूसने लग गया। उनके बोबे को मुंह में लेते ही मुझे तो मज़ा आ गया। एकदम मुलायम रसदार चूचे थे, जैसे उनमें मीठा दूध भरा हो. सबने उससे शामिल करने से मना किया, पर मैंने बोला- यार वो ये सब पहले करती थी, अब नहीं करती है.

फिर नाजिया आंटी ने उन्हें समझाया कि चुत की बोहनी हो गई, ले पैसे रख ले. पीठ से होते हुए आगे पेट पर लाते हुए उसके हाथ आखिर रूचि के मम्मों पर जाकर रुक गए. अब अगले भाग में गांव की इस चुदाई की दुनिया के नए रंग से आपके लंड चुत गर्म करूंगी, तब तक के अलविदा.

मैंने टांगें घुटनों में से मोड़कर ऊपर उठा लीं और अवनी को अपनी टांगों के उठाव के बीच में कर लिया ताकि कोई एकदम से अंदर आ भी जाये तो कुछ पता न चले.

मेरे देखते देखते ही उसका बदन अकड़ने लगा और उसकी चूत का पानी निकल गया. मैं इस उत्तेजना भरे माहौल में कभी दीदी की गर्दन पर किस करता, तो कभी कंधे पर. तब मैंने अपने मोबाइल में इयरफोन लगा कर चुदाई की मूवी लगाई और मजे से देखने लगा.