बीएफ सारी वाली सेक्स

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ हिंदी औरतों की

तस्वीर का शीर्षक ,

बंधन हिंदी फिल्म: बीएफ सारी वाली सेक्स, वो हंस कर बोली- अब पैंट में अन्दर घुस जाएगा … छोटा हो गया है ना!फिर लंड बैठा, तो उसने अन्दर घुसा दिया और जाकर अपना मुँह धो आई.

बीएफ पिक्चर सेक्सी बढ़िया

उसे देख कर मेरे मन में पहला ख्याल यही आया था कि इसे देख कर ऐसा लग रहा है कि जलेबी शीरा पी गई है. अंग्रेजी बीएफ सेक्सी चुदाई वीडियोमेरा घर भरा पूरा था लेकिन अशफाक़ के घर में दो ही लोग थे, अशफाक़ और उसकी अम्मी जेबा.

मुझे उसकी जीभ की गर्मी से अपने लंड को सहलवाने में काफी मजा आ रहा था. सेक्सी बीएफ सेक्सी फिल्म वीडियोमैंने कहा- ब्रा नहीं पहनी है?वो बोली- नहीं, इस समय नाइटी में मुझे अपने बूब्स खुले रखना ही पसंद हैं.

मैंने भी देर नहीं की और फिर जल्दी से अपने कपड़े पहन कर रेडी हो गया.बीएफ सारी वाली सेक्स: इतना कह कर उसने मुझे चित लिटाया और मेरी दोनों टांगें बिस्तर के किनारे खींचते हुए फैला दीं.

अब उसकी गान्ड आगे पीछे होने लगी और लंड अंदर तक जाने लगा।दोनों तरफ से बराबर झटके लगने लगे और थप थप थप थप ऊईई ऊईई आहह आहह की आवाज तेज हो गई।समारा ने शरीर ढीला छोड़ दिया उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया।अब लंड फच्च फच्च करके अंदर बाहर होने लगा।मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया उसकी टांगों को चौड़ा किया और लंड घुसा दिया.मैं आपको मिहिरा के बारे में बता दूँ कि वो एक सुन्दर, कमसिन, कोमल, हॉट एवं काफी प्यारी सी लड़की है.

छोटे बच्चों की हिंदी बीएफ - बीएफ सारी वाली सेक्स

उन्होंने मेरा हाथ पकड़कर मुझे अपने करीब ले लिया और कहा- इतनी खूबसूरत हो तुम, ऐसे रूठा मत करो.सच में दोस्तो, मुझे अंकल जी से चुदने में बहुत मज़ा आने लगा था, इसलिए मैंने आज तक किसी लड़के को अपना बॉयफ्रेंड नहीं बनाया.

मैंने कहा- तो तूने पहले क्यों नहीं कहा? तुझे मेरे दोस्तों की जरूरत नहीं पड़ती और कितना लकी होता मैं, अगर तेरी पिंक पुसी की सील सबसे पहले तोड़ता. बीएफ सारी वाली सेक्स मेरी बस ये ख्वाहिश है कि एक बार तुम्हें जी भर के प्यार करना चाहता हूँ.

उस वक़्त आंटी घर पर अकेली थीं, तो मैं उनको बोल कर उनके घर की छत पर आ गयी, जो मेरे घर की छत से एकदम मिली थी.

बीएफ सारी वाली सेक्स?

मूड बन जाता तो कभी मैं असीम से कुछ बियर भी लाने कह देती, कभी अपना मन बहलाने के लिए ऑफिस के दोस्तों के साथ कोई फ़िल्म देखने चली जाती, या घर पर ही कोई अच्छी सी क़िताब पढ़ लेती. उसकी चूत का चीरा बहुत छोटा सा था और पहले जब मैंने उसकी चूत में उंगली घुसाई थी, तभी यह अहसास भी हो गया था. उसके बाद मैंने पूछा- बस अब ठीक है!तो वो बोला- इतने से काम नहीं बनने वाला है.

फिर मैं जल्दी से गौतम के घर गया और ज़ीनिया से बोला- तुम किस किससे चैट करती हो … और ये राज कौन है!यह सुनकर वो घबरा गई और बोलने लगी कि मैं किसी राज को नहीं जानती. इतना कहकर सलमा बेड पर लेट गई, उसने अपनी टांगें घुटनों से मोड़कर फैला दीं जिससे काले घुंघराले जंगल के बीच उसकी बुर के गुलाबी होंठ चमकने लगे. मैंने अपने सर को हल्के से जुम्बिश देते हुए उन्हें आदाब किया और अपने काम करने में वापस लग गया.

मैं उस वक्त 12वीं कक्षा में पढ़ता था और उस अपने गांव से दूर शहर में किराए पर कमरा लेकर रहता था. और माँ नहा कर जब वापस आईं तो मैं देखता ही रह गया कि एक सीधी साधी औरत आज कुछ ज्यादा ही मॉर्डन लग रही थी. इंडियन एक्ट्रेस बॉलीवुड सेक्स कहानी मेरी बीवी की ग्रुप चुदाई की है.

बाहर पहुंच कर मैंने मैम को कॉल की तो एक मिनट बाद मैम आ गयीं और बाइक पर बैठ गयीं. मैंने अनन्या को देखा तो वो सातवें आसमान में थी और बाई का मुँह अपने गुफा में ले रही थी.

गांड में चिकनाहट हुई तो मैंने अपने लौड़े को तेजी से अन्दर-बाहर करना शुरू कर दिया.

मैंने सर को झटका और एक बार फिर अपनी बहन की चुदाई की फिल्म देखने लगा.

मैंने उसके कान में कहा कि ये मेरा औज़ार है और इससे हम मर्द, चुत चोदते हैं. हम दोनों ने उस दिन आंटी के बेटे के आने तक चार बार चुदाई की और बहुत मज़े किए. मैं अपने एक हाथ से मौसी की चुचियां दबा रहा था और मौसी अपने एक हाथ से मेरा लंड सहला रही थीं.

मैंने पूछा- तुम्हारा पति इतना बड़ा आदमी है … तो कोई नौकर क्यों नहीं?उसने बोला- तुम आने वाले थे इसलिए मैंने उन सबको छुट्टी दे दी है. उसके हाथ की हर उंगली को मैंने अपने मोटे पर थोड़े ढीले स्तनों पर पूरा महसूस किया. फिर उसने मुझे देखा और कहा- तुम बहुत ही गर्म माल हो और तुम्हारा माल भी मस्त था.

अब मुझे पक्का हो गया कि आज दीदी आशीष के लंड से अपनी चुत की चुदाई करवाने के मूड में हैं.

मैंने करीब 5 मिनट तक भाभी का मुख चोदन किया, फिर अपना पूरा पानी उनके मुँह में ही निकाल दिया. जैसा कि आप जानते हैं कि मैं अपनी मकान मालकिन की बेटी सुमन और सरोज को अपने लंड का स्वाद चखा चुका हूं. अंजुमन- फिर क्या हुआ था सुमोना!सुमोना- फिर मैंने वहां से निकलने का सोचा और चुपके से तुम्हें लेकर निकल गई.

एक बार हमारे बीच सेक्स की बातें शुरू हुईं तो वो तो जैसे खुलता चला गया. लेकिन अपनी किस्मत तो गांडू थी ही … क्योंकि मुझे कभी भी उस हुस्न की परी को पास से ताकने का मौका ही नहीं मिला. अपनी बहन के दूध चूसते समय मुझे ऐसा लग रहा था कि मैं अर्शिया के बोबों से सारा दूध निकाल कर पी लूं.

मगर इतने में ही मेरा वीर्य छूट पड़ा और मेरे मुंह से आनंद भरी आह्ह … आह्ह … निकलना शुरू हो गया.

इस बिग कॉक सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने दोस्त की शादी के काफी अरसे बाद उसके घर गया तो भाभी से पहली बार मुलाक़ात हुई. आह … मेरी तो जैसे मन की मुराद पूरी हो गई थी; मैं अपने आपको बहुत मुश्किल से संभाल पा रही थी.

बीएफ सारी वाली सेक्स तभी हमारी सोच पर रोक लगाते हुए परेश की आवाज आई- आपको ऐतराज ना हो तो बगल के कंर्पाटमेंट में मेरी सीट है, आप वहां शिफ्ट हो सकते है क्या? हम फैमिली हैं … तो प्लीज़ हमें सहयोग कीजिएगा. मेरे घर वाले जैसे ही दोपहर तीन बजे घर से निकले, मैंने आशीष को फोन से बोल दिया कि मेरे घर आ जाओ, आज फ़ाइल पूरी बना ली जाए, घर में कोई नहीं है.

बीएफ सारी वाली सेक्स पहले बार मैंने आंटी की नाम की मुठ तब मारी थी, जब मैंने आंटी की चूचियों की गली देखी थी. वो हंस कर बोली- अब पैंट में अन्दर घुस जाएगा … छोटा हो गया है ना!फिर लंड बैठा, तो उसने अन्दर घुसा दिया और जाकर अपना मुँह धो आई.

और एक दिन ऐसा आया कि उसने भी अपनी तपती जवानी मुझे सौम्प दी।कोई पागल ही होगा जो कुँवारी चूत छोड़ेगा!हाँ लेकिन स्नेहा और मैंने आपस में सेक्स की बात रचना को कभी नहीं बतायी.

दीपिका चोपड़ा सेक्सी

हमारी कभी ज्यादा बातचीत नहीं होती थी, पर जब भी हम दोनों की नज़रें मिलतीं, तो उनके कुछ ना कुछ इशारे होते रहते थे. मैं थोड़ी देर तक दीदी के बालों से खेलते हुए उनके दर्द कम होने का इंतजार कर रहा था. उसके कान पर किस किया, गाल पर चुम्बन किया और धीरे धीरे नीचे आकर उसकी नाभि को चाटने लगा.

सोढ़ी ने लंड अन्दर बाहर करते हुए कहा- ओह सोनिये … साली दो दिन से तेरी ले ही नहीं पा रहा था. [emailprotected]गाँव की देसी चूत चुदाई कहानी का अगला भाग:मकान मालकिन की बेटी चुदाई कराने आयी- 2. मैं तैयार होकर अभी बैठी ही थी कि जेठ जी का फोन आ गया- मैं बाहर आ आ गया, तुम जल्दी से आ जाओ.

होटल से पिकअप एंड ड्राप की सुविधा मौजूद थी तो मैंने होटल के मैनेजर को बता दिया कि 9 बजे तक मैं निकल जाऊंगा.

वो हल्की आवाज़ निकाल कर मजा ले रही थी- आअहह अम्म्म … उहह आहह अरमान डोंट बी स्लो बी फास्ट … मुझे मजा आ रहा है. सक्सेना सोफ़े पर बैठ गया और मुझसे अपनी गोद में बैठने का इशारा किया. ‘ई स्स आ आह ई ई स्स स आह आ ई …’ करती हुई वो अपने दूसरे निप्पल को मेरे मुंह में देने की कोशिश करने लगी.

दर्द के मारे उसका चेहरा लाल हो गया मगर मैं तो जैसे स्वर्ग में पहुंच गया था।उसकी चूत में लंड डालकर जो मजा आ रहा था वो दुनिया का सबसे खूबसूरत अहसास था. मेरी गांड ऊपर उठने लगी थी और मैं अपनी चुत चुसाई का फुल मजा लेने लगी थी. सेक्स कहानी में आगे बताने से पहले मैं अपने फ्लैट पार्टनर के बारे में बता दूं, जो कि मेरे ऑफिस में साथ काम करता है.

आंटी ने भी किस नहीं तोड़ा बल्कि उन्होंने मेरे एक हाथ को पकड़ कर अपनी चूचियों पर रख दिया. कुछ देर पढ़ाने के बाद हमारी टीचर ने बताया कि आप सबको दो-दो के ग्रुप में मिल कर पांच चार्ट बनाना है … और सबको अलग अलग फ़ाइल करना है.

उसका व्हाट्सएप चैक किया, तो पता चला कि सारे मैसेज ही उसकी सहेलियों के ही थे, जिसमें अधिकतर जोक्स ही थे और कुछ नहीं था. इससे मैं कुछ बिंदास हो गया और मैंने अपने एक हाथ में मैम का हाथ लेकर अपने लंड पर ज़ोर से दबा दिया. हमारी टीचर ने बुक के लिए बोला तो मैंने अपनी एक बुक उसकी तरफ सरका दी.

आखिर मेरी जिन्दगी में भी वह दिन आ गया, जिसके लिए मेरा 7 इंच का लंड रोज सपने में उसकी गीली चूत को देखकर चोदने की ख्वाहिश कर रहा था.

मैंने एक दो बार और भी उनके बदन को छुआ, उनकी गांड को कई बार दबाया भी, पर दीदी ने कोई रिएक्ट नहीं किया. उसने हामी भर दी तो मैं पिज़्ज़ा ऑर्डर कर दिया और व्हिस्की की बॉटल और दो ग्लास निकाल लाया. चूंकि मैंने पैंटी नहीं पहनी थी तो मेरी गांड के उभार उसे साफ साफ दिखाई दे रहे थे … जिससे उसका लंड खड़ा होना शुरू हो गया.

मैं बस भाई से कह रहा था कि भाई रूको मत … आज पूरी रात हम दोनों भरपूर मजा लेंगे. तौलिया गिरते ही लता का हाथ उसके मुँह पर चला गया और उसके मुंह से निकल गया- हाय राम इतना बड़ा लंड!चूंकि मैं गर्म हो चुका था इसलिए मैंने देर न करते हुए लता को अपने करीब खींचा और उसे चूमना शुरू कर दिया.

उसकी चुत ने मेरे लंड को ऐसे जकड़ रखा था … जैसे किसी ने लंड को मुठ्ठी में भींच रखा हो. कोमल की हालत अब एकदम उस मछली की तरह हो गयी थी, जिसे अभी अभी पानी से निकाल दिया गया हो. फिर उसने ऐसे ही पीछे हाथ करके लंड पकड़ा और उसे गांड में घुसवाने की कोशिश करने लगी; हिलने लगी.

सेक्सी लंड चुत

आह … क्या मस्त मजा आ रहा था … मुझे अपनी तपती चुत में मजा आने लगा था.

मेरी कल्पना से भी परे, निशा एक अनुभवी रांड की तरह से मेरा लौड़ा चूस रही थी. फिर तुम्हें तो मालूम ही है कि तुम्हारे जीजा जी ने रात में मुझे जमकर चोदा. पर वो बेचारी क्या करती, पति को लकवा मारा हुआ था, वो तो चोद नहीं सकता था और अब पहले की तरह भाभी किसी को पटा भी नहीं सकती थी.

मैंने धीरे से कुछ और झटके मारकर लंड पूरा अन्दर तक घुसा दिया और लंड अन्दर बाहर करने लगा. जब मैंने उनको अपना लंड चाटने के लिए बोला तो उन्होंने पहले तो मना किया लेकिन फिर थोड़ा सा अंदर लेकर उसे लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. बीएफ सेक्सी शादी कीदोस्तो, आपने मेरी पिछली सेक्स कहानीदोस्त की शादी में मेरी पत्नी का रंडीपनाको पढ़ा था उस सेक्स कहानी का लिंक दे रहा हूँ.

मैंने उनको बिस्तर पर हाथ रख कर नीचे खड़ा किया और पीछे से उनकी चूत में लंड फंसा कर एक जोरदार धक्का दे मारा. ब्यूटीफुल गर्ल्स सेक्स कहानी दो सहेलियों की चूत चुदाई की कहानी है जो मुझे नशे की हालत में सड़क पर मिली थी.

इसी दौरान अरविन्द थोड़ा पीछे हो गए थे और मुझे पूरी तरह से चुदाई के बाद का मजा लेने दे रहे थे. उन्होंने बड़बड़ाते हुए कहा- ओह युवराज … यू आर सो गुड, कम ऑन मुझे और गीला कर दो. मैं बोला- नहीं सीरीयस … सिमरन को बताएगा कौन … मुझे भी नई गर्लफ्रेंड का कुछ एक्सपीरियेन्स मिल जाएगा.

चूंकि अभी तक संजना की सील पैक थी इसलिए शायद चुत चुदाई का कार्यक्रम कहीं और होना तय था. मैंने जल्दी से अपनी पैंट और अंडरवियर एक साथ उतार दिया और उनकी गांड से नीचे को सरकी हुई पैंटी को एक झटके में निकाल फैंका. वो चुदी कैसे?दोस्तो, मैं एक बार फिर से अपनी मौसेरी बहन की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.

मैं बोला- आज तक आपने अपना लंड मेरे मुँह में नहीं दिया … तो आज क्या हुआ? आज आप अपना लंड मेरे मुँह में कैसे दे रहे हैं.

मॉम मेरा लौड़ा 5 मिनट तक चूसती रही और मैं मॉम के मुंह में ही झड़ गया. उसने पूछा- किसके लिए इतनी सजी हो?मैंने भी इठला कर कहा- तुम्हारे लिए.

अब वो आह करने लगी तो मैंने एक कदम और आगे बढ़ कर उसकी क्लिट को उंगली से छेड़ना शुरू कर दिया. ये सुनकर मैं खुश था कि मैं हरियाणा की तीन तीन जाटनी बहनों को चोदने वाला बन जाऊंगा. भाभी मेरे बालों को पकड़ कर मादक सीत्कार कर रही थीं- आआह एईई ऊऊऊऊ अनुज … आआह ईई.

लड़का- यार, उस रात के बाद से मुझे तुम्हारी चूत की बहुत याद आ रही है. निजी जिंदगी में भी मेरी और शरद की शादीशुदा ज़िंदगी काफी अच्छी चल रही थी. मैंने उन दोनों लड़कियों की ओर देखा तो उन्होंने एक साथ स्माइल करते हुए हाय कहा.

बीएफ सारी वाली सेक्स चोद दो आह्ह आह्ह … चुद गयी मेरी गांड अअह ईईई …’ की सिसकारियां लेते हुए नील चुदवाने के पूरे मूड में आ गया था. साथ ही वो मेरी चुत में अपने लंड का दाब दिए जा रहा था जिससे लंड चुत में घुसता ही जा रहा था.

सेक्सी वीडियो xx3 वीडियो

फिर अंकल ने टी-शर्ट मोड़ कर मेरी चूची पर हाथ रख लिया, जिसके लिए मैंने भी उनको कुछ नहीं बोला. चुदाई की बातें पढ़ कर मेरा मन चुदाई के लिए मचलने लगा था जबकि पहले मुझे चुदाई के नाम से ही बहुत डर लगता था. मैं रेखा आंटी वाले रूम में गया तो देखा रेखा आंटी अभी नहाकर आयी थीं.

मैं सिर्फ बुआ को देखता था और उनकी कड़क चूचियों को वासना भरी नजरों से देखता रहता था. आह आह ओह्ह ओह्ह बेबी और मार जोर से लंड अन्दर तक घुसा मेरी जान … आह यस यस यस बेबी ओह्ह याह स्वीटू योगू … अहह यस ओह्ह ओह्ह योगगु … जोर जोर से. स्कूल एक्स एक्स एक्स बीएफमैंने फिर से उसकी चूत सहलाना शुरू कर दिया, जिससे शायद वो फिर से गर्म होने लगी और साथ में मेरा लंड भी खड़ा होने लगा था.

उन्होंने बोला- अगर तुम्हें कोई प्रॉब्लम हो, तो तुम मुझसे पूछ लिया करो.

शरद की ये बात मुझे बहुत अच्छी लगती थी कि चाहे कुछ भी हो जाए, वो मुझे पूरी संतुष्टि देता था. वो अपने पति से चुदवाती थी, तो उसकी चूत में लंड आसानी से अन्दर तक जाने लगा था इसी लिए अभी वो खुद अपनी गांड चलाने लगी.

मैंने नवीन को पानी पिलाया और फिर उसने मुझसे जो पेपर्स मांगे, वो देने के लिए मैं अपने ड्राइंगरूम के शोकेस के नीचे वाला ड्रॉवर ओपन करने के लिए झुकी. शायद ये व्हिस्की का असर था या मेरा वहम, पर बातों ही बातों में वो अपना हाथ मेरी पीठ पर सहला रहे थे. मुझे निशा नहीं थी कि ये इतना बेबाक तरीक़े से और गंदापन वाला सेक्स पसंद करेगी.

मैंने उनकी चूत चाटना चाहा पर उन्होंने ऐसा करने से मना कर दिया, बोली- मुझे यह अच्छा नहीं लगता.

एकदम गोरा-चिट्टा, लंबे कद का और उसका सीना और बल्ला दोनों एकदम कसा हुआ था. हो सकता है कि लिखने में गलती हो जाये इसलिए आप उसे नजरअंदाज करना।दोस्तो, मेरा नाम महेश है. वह मेरे नीचे लडकियों के तरह लेट कर अपने होंठों को मेरे होंठों से चुसवा रहा था.

मुंबई कॉलेज बीएफमैं- हैलो, मैंने आपका एड देखा है आपको सेक्रेटरी की जरूरत है!सामने से जवाब आया- जी हां है. उन्होंने अपना ब्लाउज खोल दिया … अन्दर आंटी ने ब्लैक कलर की ब्रा पहन रखी थी.

सेक्सी वीडियो 2021 के हिंदी में

मैंने उसकी कमर में हाथ डाल दिये और उसकी गांड को भींचते हुए उसके होंठों को चूसने लगा. कार्तिकेय ने मेरी बात मान ली और वो मेरी चुत चोदने ले लिए कमरे की तलाश में लग गया. मैंने उसके हाथ को झटके से एक तरफ किया और अपने बदन को होटल की सफ़ेद चादर से ढकने लगी.

करीबी दोस्त होने के कारण मैं उसके साथ उसके कमरे में चला गया और बीवी बाकी औरतों में बैठ गयी. फिर मैम ने अपना सिर पीछे को घुमाया और मुझसे छोड़ने को कहा ताकि वो दरवाज़ा बन्द कर सकें. उन दोनों की जुगलबंदी जमी और उन दोनों ने मेरे कमरे पर आने का तय कर लिया.

उनका 7 इंच का लंबा लंड देखकर मेरे मुंह में पानी आ गया लेकिन मैंने जाहिर नहीं होने दिया।डॉक्टर ने मेरे हाथ में कंडोम दिया और लंड पर चढ़ाने को कहा. उसने मेरे 8 इंच के लण्ड को महसूस कर लिया था जल्दी से!वह सॉरी कहकर सीधी खड़ी हो गई, कहने लगी- सॉरी, ये गलती से हाथ रखा गया. मैंने शरारत से कहा- अच्छा … सब कुछ क्या देखा था?नंदिनी- वही … जो आप दोनों करते थे.

कुछ पल बाद मैंने उसके पास जाकर बोबों पर किस भी किया और निप्पल को भी बहुत मजे से चूसा. चाची ने पूछा- गेट क्यों बंद किया था?मैंने कहा दिया- मुझे कोई हल्दी न लगा दे … इसलिए!उन्होंने हंस कर कहा- ठीक है … चल अब हल्दी का कार्यक्रम खत्म हो गया है.

उसने मेरी तरफ कोई ध्यान नहीं दिया बस वो लंड अन्दर गाड़ कर मेरे ऊपर लेट गया और मुझे दबा लिया.

मैं जैसे ही अपने रूम से निकल कर लिफ्ट वाली लॉबी में आया, तभी मैंने उसको लिफ्ट से निकलते हुए देखा. बीएफ बीएफ वीडियो में बीएफ वीडियोअर्शिया अपने मुँह से एकदम धीमी आवाज में कामुक सिसकारियां निकाल रही थी- आअह्ह् … आआअ ह्ह्ह … भैया आराम से करो … आअ ह्ह्हह. 18 साल की लड़की की हिंदी बीएफतेरा क्या भरोसा पहले तू मुझसे फंस जाए और फिर किसी दिन तेरी इच्छा भर जाए … तो किसी और को फंसा ले. इन सेक्स कहानी पढ़ कर मुझे बड़ी उत्तेजना होती है और अक्सर लंड को मुठ मार कर शांत करना पढ़ाता है.

मैंने कहा- क्या हुआ भाभी? बियर किस लिए चाहिए?भाभी बोलीं- मुझे आज पीने का मन है.

कोई बात नहीं डार्लिंग, मेरे लंड पर ही अपना गाढ़ा निकाल दे और मैं तेरी ही गांड में मेरा रस निकाल देता हूँ. तभी उसने अपने हाथ में थूक लगाया और लंड को धीरे धीरे आगे पीछे करने लगी. फिर कुछ पल बाद उसने मेरे होंठों को आजादी दे दी और मुझे हाथ का सहारा देकर बिठा लिया.

उसके सीने को चूमते व काटते हुए मैं उसकी पैंट के ऊपर से उसके लंड को सहलाने लगी. मेरी यह सच्ची सेक्स कहानी मकान मालकिन की बड़ी बेटी मालती की चुदाई की है, जिसको उसकी सगी छोटी बहन ने ही मेरे बिस्तर तक पहुंचाया था. इसी दौरान ऊपरी हाथ ने अपना जवाब दिया ‘तरुण सिंह … क्या हम दोनों नम्बर अदल बदल सकते हैं?’चश्मे से आंखों पर जोर देकर मैंने उसका मैसेज पढ़ा और उसी के अंदाज को अपना कर ऊपरी हाथ से पहले मैंने निचले हाथ से जवाब दिया.

नंगी सीन चुदाई सेक्सी

उस स्वाद से मैं समझ चुका था कि निशा ने अपनी चूत का पानी भी छोड़ा था और इतनी बार छोड़ा कि उसकी जांघों तक पहुंच चुका था. हम दोनों इस समय एक दूसरे की मिशनरी पोजीशन मैं धुँआधार चुदाई का लुत्फ़ उठा रहे थे; एक दूसरे को स्मूच करते चुदाई कर रहे थे. इस बिग कॉक सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने दोस्त की शादी के काफी अरसे बाद उसके घर गया तो भाभी से पहली बार मुलाक़ात हुई.

मेरी पिछली कहानी थी:ईमेल वाली गर्लफ्रेंड की चूत चुदाईमैं एक बार फिर से अपनी एक नई सेक्स कहानी के साथ हाजिर हूँ.

अब समारा आहह उहह ओहह उम्मह हहह करके लंड लेने लगी थी।मैं उसे ताबड़तोड़ चोदने लगा.

फिर अचानक से जुनैद भाई खड़े हो गए और अपना लंड मेरे मुँह के पास ले आए. मैं अनजान बनी कोई प्रतिक्रिया नहीं देती, सिर्फ उसकी तरफ देख कर नजर हटा लेती. देसी बीएफ चुदाई चुदाईइस सेक्स कहानी में मेरी जीएफ की एंट्री कैसे हुई और हम तीनों ने थ्रीसम सेक्स का मजा लिया.

मैं लंड के झटके मुँह के अन्दर तक मारने लगा और वो गपागप गपागप चूसने लगी. उन दोनों की जुगलबंदी जमी और उन दोनों ने मेरे कमरे पर आने का तय कर लिया. उसने अपने मम्मों पर ब्रा नहीं पहनी थी, जिसकी वजह से उसकी कुर्ती उतरते ही मुझे उसके बड़े बड़े चुचे दिखने लगे थे.

मैंने कहा- तो तूने पहले क्यों नहीं कहा? तुझे मेरे दोस्तों की जरूरत नहीं पड़ती और कितना लकी होता मैं, अगर तेरी पिंक पुसी की सील सबसे पहले तोड़ता. उन्होंने कहा- कोई ख़ास वजह?मैंने कहा- हां कुछ दिक्कत है, आज इसे सही करने के लिए जिस सामान की जरूरत है, वो अभी मेरे पास नहीं है और अब बाजार से भी अभी नहीं मिल सकेगा.

विजय ने कुछ कहे बिना ही सरिता भाभी को गोद में उठा लिया और अपने रूम में ले गया.

मैं उसके होंठों के रस को चूस लेना चाहता था क्योंकि पहली बार मुझे अपने आप से ये सुख नहीं मिल रहा था. ”तो इसका मतलब आपके साथ जिस्मानी रिश्ता?”कतई नहीं है, कई साल हो गये. उनके बेड का गद्दा 10 इंच मोटा था, उस पर उन्हें घोड़ी बना कर चढ़ने में जो मज़ा आया … आह क्या बताऊं दोस्तों … फुल मस्ती हुई.

सेक्स वीडियो बीएफ वीडियो हिंदी दूध से सफेद चूतड़ और गांड के गुलाबी रंग के चुन्नट देखकर मन बावला हुआ जा रहा था. फिर एक पल बाद उनकी प्यारी सी आवाज में एक बार फिर मेरे कानों में मिठास बन कर घुल गई- आप हमारा एसी कल जरूर ठीक कर देना … गर्मी के दिन है … बहुत परेशानी है.

अब्बू ने अपने कुर्ते से अपना लण्ड पोंछा और फिर से मेरी बुर पर रखा, मेरी चूचियों को मुँह में लिया और धीरे धीरे लण्ड को अन्दर धकेलने लगे. अस्पताल से बाहर निकल कर अंकल बोले- चलो पहले कुछ खा लो, तुमने सुबह से कुछ नहीं खाया. दूसरे दिन उसका कॉल आया, तो मुझे लगा कि उसी पढ़ाई के सिलसिले में फोन किया होगा.

जनावराची सेक्सी व्हिडिओ

दोस्तो, आप चाहें कितना भी रोक कर देखो … पर जिस्म की भूख हर बांध को तोड़कर ही रहती है. इस अवस्था में और कामुकता तब बढ़ी, जब मैंने अपना बायां हाथ उसके कंधे के ऊपर से उसकी सीट पर रख दिया. मैडम ने दो गिलास, पानी और नमकीन काजू सामने टेबल पर रखे और अल्मारी से व्हिस्की की बोतल निकाल आकर पैग बनाए.

निशा ने भी धीरे धीरे अपने होंठों को मेरे होंठों से रगड़ना चालू कर दिया था. पर भाई मान नहीं रहे थे, वो जोर जोर से झटके ऐसे देते जा रहे थे जैसे कि मेरी गांड कोई खेली खाई गांड हो.

परन्तु वहां जो लेडी डाक्टर थी वो छुट्टी पर चली गई थी। पता चला कि वो 1 माह तक नहीं आने वाली थी।फिर मुझे किसी ने बताया कि आप डॉ राज शर्मा को दिखा दीजिए, वो बहुत बढ़िया डॉक्टर है।जैसे ही मैं डॉक्टर के पास गई, वो मुझे घूरकर देखते हुए बोले- क्या प्रोब्लम है?मैंने अपनी प्रोब्लम बताई.

जागने पर मैंने देखा कि मैं आंटी समझ कर मेरी बहन के चूचे दबा रहा था. वहां मेरी मुलाकात मेरे बुआ के लड़के से हुई जो विदेश रहता था मगर भारत आया हुआ था. दोस्त ने लंड अन्दर जड़ तक पेलते हुए कहा- साली भाभी, तेरा पति बाहर तेरी चुदाई पर पहरा दे रहा है.

सुमोना की दर्द भरी सिसकारियां निकल रही थीं और उसका शरीर अभी भी अकड़ा हुआ था. सच कहूँ दोस्तो, तो मुझे अब जिंदगी जीने में फिर से मज़ा आने लगा था और मौसी भी ये खेल पूरा खुल कर खेलती थीं. मैंने हिम्मत करके नंदिनी से पूछा- उस दिन तुमने मुझे सही में स्नेहा के साथ देख लिया था?नंदिनी- हां, अगर सच कहूं तो मैंने जब से तुम्हारा लंड देखा है … तब से तुमसे चूत चुदवाना चाहती थी.

धीरे धीरे हमने अपने नंबर भी एक्सचेंज कर लिए और अब हम कॉल पर बातें करने लगे थे.

बीएफ सारी वाली सेक्स: दीदी अपने दोनों हाथों से मम्मों को मसलते हुए बेचैन हो चली थीं- अहह उसस … उई ई ई ई … उम्मम!दीदी की कामुक आवाजों से पूरा कमरा गूंज रहा था, अपनी चूत चुसाई से दीदी सातवें आसमान में पहुंच चुकी थीं. उसने अपनी मां को अपनी आंखों के सामने डॉक्टर का लंड अपने मुँह में चूसते देख लिया था.

जब मैं कम उम्र का था, तब से इसकी सेक्स कहानी पढ़ रहा हूं और काफ़ी लड़कियों और औरतों के साथऑनलाइन सेक्स चैटभी किया है. उसकी चूत पर बहुत सारा साबुन लगा कर एक उंगली सटाक से आधी उसकी चूत में सरका दी. तेरा लंड अलबेला है मेरे भाई … तू बस जल्दी जल्दी लंड चुत के अन्दर बाहर कर … मुझसे रहा नहीं जा रहा है.

मेरा 7 इंच लंबा और ढाई इंच मोटा लंड अभी आधा ही घुसा था कि चाची जोर जोर से चिल्लाने लगी, बोली- मेरे राजा, आराम से करो.

उन्होंने धीरे-धीरे वैसलीन से सनी उंगली मेरी गांड की तरफ से छेद में फेरना शुरू कर दी. पर अब मुझे अपनी बीवी के पूरी रंडी हो जाने का अहसास हो गया कि ये साली लंड देखते ही चुत खोलने को रेडी हो जाने वाली रांड बन गई है. उसने अपने मम्मों पर ब्रा नहीं पहनी थी, जिसकी वजह से उसकी कुर्ती उतरते ही मुझे उसके बड़े बड़े चुचे दिखने लगे थे.