सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में

छवि स्रोत,चूची वाला सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगे सेक्सी दिखाओ: सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में, फिर एक दिन मेरा एक दोस्त मुझे एक मज़ार पे ले गया, मैं भी उसके साथ चला गया.

हिंदी ब्लू पिक्चर नई

बगल से नदी निकलती थी जिस पर बांध बना हुआ था।चारों ओर बड़ा सा बगीचा है. बीएफ वीडियो सहितइसे देखकर संजू खिलखिलाकर हंसने लगी और बोली- अरे डरो नहीं, इस अमृत को मैंने बड़ी मेहनत से निकाला है.

मैं अपने खड़े लंड के साथ खड़ा था और कशिश दीदी मेरे सामने की तरफ खड़ी थीं. सेक्सी बीएफ नंगी सेक्सीतो मैंने सोचा कि चलो थोड़ी देर बालकनी में जाकर किसी लोंडे को ताड़ा जाये।लेकिन वहां कोई आया नहीं.

मैंने उसके पीछे से कंबल हटाना शुरू किया और सबसे पहले उसकी गोरी गोरी गांड मुझे दिखी.सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में: अब भाभी की चूचियां एकदम से तनकर कसाव में आ गयी थीं और निप्पल कड़क हो गये थे.

प्रभात और सन्ध्या तुम बताओ क्या करें?मम्मी- सन्नी दूसरे कमरे में सोया है.किताब में नंगी लड़कियों की फोटो देखकर मैंने फिर से लंड को सहलाना शुरू कर दिया.

x.com बीएफ - सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में

फिर कहानी सुनाते सुनाते ही वो सोनी की चूचियों को हाथों से सहलाने लगा.विपिन वहां से चला गया और अपने पापा को जा कर बोल दिया कि सुहानी दीदी को बाज़ार से कुछ लाना है, तो वो भी चलने को कह रही हैं.

मैंने डांटते हुए कहा- तुम्हें जॉब चाहिए तो चुपचाप वैसा करो जैसा मैं बोल रही हूं. सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में खड़े होते ही सरिता ने मेरे उभार को देखा और बोली- ये क्या पढ़ रहे थे?मैं हकला गया और बोला- वो … मैं … कुछ नहीं … बॉडी के पार्ट्स देख रहा था … आज पढ़ाये थे … सर ने.

एक सुबह ऐसे ही दौड़ लगाता और एक्सरसाइज करता हुआ मैं डाक बंगले पर जा पहुंचा.

सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में?

जो आकर्षण एक अरसे से दबा हुआ था वो बाहर आने को मचलने लगा। मैंने उसे व्हाट्सएप पर फॉलो करना शुरू कर दिया. उसको काम करने में दिक्कत होने लगी तो मेरे ससुर ने रिंकू की मम्मी को हमारे पास नागपुर भेज दिया. ये देख कर मैंने उसे पलटाया और उसकी पीठ दीवार से सटा कर उसकी पैंटी के बाहर से ही उसकी बुर को कसके मसल दिया.

वो भी मेरा साथ देने लगी और उसने अपने होंठ खोल दिये जिससे मेरी जीभ उसके मुंह के अंदर जा घुसी. उसने मादक सिसकारी भरी तो मैं उसके इस दूध को अपने मुँह में भर कर चूसने लगा. उसने कहा- ये तो तुम्हारा भाई है न!मैंने कहा- हां दुनिया की नजरों में, मगर मेरी नजरों में वो मेरा चोदू सईयां है.

मैंने चाची जी को नीचे सीधा लिटाया और उनके पैर फैला कर उनकी गीली चुत पर मुँह लगा दिया. मैंने ममता के होंठों‌ से चूमना शुरू किया था … मगर धीरे धीरे उनकी भरी हुई चूचियों पर से चूमते चाटते मैं अब उनकी चुत पर आ गया. ये सेक्स फॉर मनी Xxx कहानी एक साल पहले की है, एक दिन राकेश जब शाम को घर आए तो वो बहुत खुश थे.

मैं समझ गयी की बुड्डा अब गोली खाकर चोदेगा।धीरू अंकल मेरे बूब्स चूस रहे थे और मैं उनका लंड सहला रही थी, मुझे बहुत ही मजा आ रहा था. थोड़ी देर तक मैंने भी विरोध सा किया और ‘उन्हहह … उन्हहह …’ करती हुई उसको खुद से अलग करने की कोशिश करती रही.

मैंने ये जानबूझ कर बोला था पर मुझे मालूम था कि रचना मुझे छोड़ कर कहीं नहीं जाएगी.

मूतते हुए वो सोचने लगी कि दीदू की चूचियां तो एक साल में 34 से 36 हो गई हैं.

मैं- थैंक्स यार … पर अब तुम दोनों की चुचियां देख कर मेरा लंड तुम्हारी चुतों की धज्जियां उड़ाने के लिए तैयार है. मैं हेलीमा की चुचियों को बड़े ज़ोर से मसल रहा था और उसे किस कर रहा था. एक दिन मैंने अखबार में सेक्स प्रश्नोत्तरी में एक पाठक की समस्या पढ़ी कि वो क्रॉसड्रेसिंग करता है और लड़कियों की तरह रहता है।ये पढ़कर मुझे अपना भी ध्यान आया कि मैं भी ऐसा ही करना चाहती रही हूं.

मेरी लपलपाती जीभ उसकी चूत का सारा नमकीन पानी खींचकर बाहर निकाल रही थी. इस बहाने से मैं उन दोनों को अन्दर रूम में छोड़ कर बाहर दीवार से लग कर खड़ा हो गया. इसी के साथ अर्चना बहन एकदम से चीख मार कर मुझसे छूटने के लिए छटपटाने लगी- अहह मेरीईई ईईई … फट गई … चुत भैनचोद … साले कुत्ते … हरामी … रुक ज़ाआअ … आह बाहर निकाल लो … उम्म्ह … अहह … हय … याह … मम्मी.

इतना चोदने के बाद मैंने भाभी को एक कुर्सी में बिठाया और उसके मुँह के सामने अपना लंड रख के खड़ा हो गया.

मगर अब किसी और का लंड कैसे दिलवा सकती हूँ, यह मेरी समझ में नहीं आ रहा था. फिर मैंने दोबारा से उसी नम्बर पर कॉल किया तो वो पहुंच से बाहर बताने लगा. उसने मेरे पैरों को थोड़ा फैला दिया ताकि उसको मेरी टांगों के बीच में चूत पर चढ़ी जालीदार पैंटी दिख सके.

मुझे भी बहुत खुशी हुई और मैंने भी उनको आई लव यू टू बोला, उनको एक स्मूच दी. इतने में नीता ने आवाज लगाई- सो गए क्या हर्षद?उसने मेरी तरफ देखकर कहा. हां किसी भी मर्द को काबू में करना हो तो उसे अपनी चुत और मम्मों की झलक तो दिखानी ही पड़ती है.

हॉट यंग टीन पोर्न कहानी में पढ़ें कि कैसे बाप बेटी की आपस की शर्म खुली और उनकी गुड मोर्निंग किस वासना भरे चुम्बन में बदल गयी.

वो पूरी तरह से मचल रही थी- आह बेबी, ये क्या कर रहे हो आह उम उम आई मां … रुको यार इतना मत तड़पाओ. भाभी गर्म हो चुकी थी और अपनी टांगों को बार बार खोलकर जीभ को जैसे और अंदर तक घुसवाने की कोशिश कर रही थी.

सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में आंटी की चूत मेरे वीर्य से भर गई।मैं आंटी के ऊपर वहीं पर निढाल हो गया. इससे आंटी को बेहद चुदास चढ़ गई थी और वो मेरे लंड को हाथ से सहलाने लगी थीं.

सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में मैं उस समय लंड हिलाते हुए सोचता था कि कोई तो इसके चुचे चूसता होगा, कोई तो इसको इतनी मोटी गांड मारता होगा. मैं उसकी चूत में लंड घुसाये हुए ही उसकी गांड के ऊपर आ गया और जोर जोर से चोदने लगा.

फिर उन्होंने कहा- चल वो सब छोड़, आज तू मेरे शरीर की अच्छी से मालिश कर दे.

सेक्सी वीडियो एचडी ओपन सेक्सी

मैंने थोड़ा सा आँटी के घुटनों को मोड़ा तो चूत का बीच का हिस्सा दिखाई देने लगा. और हम दोनों तो बता कर आए हैं ना!मैं जानबूझ कर उसको परेशान करने के लिए नकली नखरे करती रही और उसे कुछ ऐसे ही टालती रही. लेकिन जब खीरे का मोटा हिस्सा उसकी गांड में जाने से दर्द देने लगा … तो प्रियंका चिल्ला उठी- आह मर गई निकाल कुतिया जल्दी से इसको निकाल रंडी.

लंड चुत चूस रहा था और मैं उसके होंठों को चूसने में लगा हुआ लंड अन्दर बाहर करने लगा था. उस दिन मैंने 10 बजे उसके नौकर के नम्बर पर फोन लगाया और उस बंदे ने मुझे एक पते पर आने को कहा। मैं तुरंत उस पते पर गई और बाहर पहुंचकर नौकर को फोन लगाया।वो मुझे सड़क पर लेने आ गया और मैं उसके साथ चल दी। वो मुझे एक 4 मंजिला बिल्डिंग में ले गया. हो सकता है कि मैं तुरंत उत्तर ना दे पाऊं क्योंकि कहानी प्रकाशित होने पर मुझे काफी मेल आते हैं, तो सबका उत्तर दे पाना थोड़ा मुश्किल हो जाता है.

वो कभी मुँह में ही पूरा लिंग दबा लेती, मानो अंदर से वीर्य खीचना चाहती हो और इधर मेरी जीभ उसको नितंब उछालने पर विवश कर रही थी।मेरे अण्डकोषों को धीरे-धीरे सहलाकर वो मुझे उसकी योनि को दाँतों से काटने पर मजबूर कर देती थी। मैं भी उसकी योनि के दोनों होंठों को अपने मुँह में भर कर चूसने लगा.

45 बजे उसकी कॉल आयी और मैं उस रास्ते पर निकल पड़ा जिस पर पर मैंने कई बार कल्पनाओं का सफर किया था।दरवाजे पर पहुंचकर कांपते हाथों से डोरबेल बजाई. मैं अपनी मां की एक चूची को दबा रही थी और ये देख कर भाई ने लंड की रफ्तार को बढ़ा दिया. अब हम पूर्णरूप से संतुष्ट हो चुके थे मगर साथ ही थक भी चुके थे। मैंने कपड़े पहनने शुरू किए.

अब मुझको इतना ज्यादा मजा आने लगा था कि लग रहा था मैं आसमान में उड़ रही हूं. हॉट वाइफ पोर्न कहानी मेरी सगी बीवी की चूत में मेरे दोस्त के लम्बे मोटे लंड घुसने की है. उन्होंने मुझसे कहा था- मैं तुम्हें बाद में सजा दूंगा!क्या सजा दोगे?”मैं उस वक़्त जमीन पर लेटी हुई थी.

उसके बाद लगातार 6 महीने तक हैदराबाद में उसके घर में ही हम दोनों हर वीकेंड पर सेक्स करते थे. तो जैसे ही हम दोनों चाची जी के घर पहुंचे, चाची जी गले लगा कर मेरा स्वागत किया.

मेरे केबिन में सीसीटीवी कैमरा लगा था जिससे मुझे बाहर बैठा स्टाफ लैपटॉप की स्क्रीन पर दिखाई देता रहता था. उसी वक्त मैंने उसके गाल पर तमाचा मार कर कहा- शट अप!मैंने कहा- अब मुझे अच्छे से खुश करो. गरम सेक्स की कहानी के पिछले भागभाई मेरा यार मेरा प्यारमें आपने पढ़ा कि मेरे भाई के साथ मेरी सुहागरात की शुरुआत हो चुकी थी.

इसके बाद सुरेश ने सोनी को कुछ कहा जिसे मैं सुन नहीं पाया मगर सोनी ने कोई जवाब नहीं दिया.

मैं तुरंत ब्रा पेंटी हाथ में लेकर सीधी हो गई और विजय के पास जाकर दुबारा से विजय की गले में अपने दोनों हाथ डाल कर खड़ी हो गई. रूबी- आह … मादरचोद … मैं मर गयी साले कुत्ते … आह बस एक बार तो निकाल ले … फिर डाल लिए भैन के लंड. रेशमा- हेलो सर, मैं रेशमा बोल रही हूँ, आप कहाँ हैं?मैं- क्यों क्या बात है?रेशमा- सर कुछ पेपर हैं जिन पर आपके दस्तखत चाहिए.

आंटी थोड़ी देर यूं ही लंड पर चूत टिकाए बैठी रहीं, फिर बोलीं- कैसा लग रहा है?मैंने कहा- ऐसा लग रहा है जैसे सबकुछ मिल गया हो. मैं हतप्रभ रह गया कि ना जान ना पहचान, मैं तेरी मेहमान … जैसी बात हुई थी.

अनन्या अब पूरी तरह से खुल चुकी थी और किसी भी नये लंड को लेने के लिए एकदम तैयार हो गई थी. हाल यह था कि लगभग रोज ही मुझे उनके जिस्म की महक और स्पर्श मिलने लगा था. शायद मेरी तरह ही पुराने गांडू थे।मैं लंड डाल कर उन पर चुपचाप लेटा रहा.

हिंदी चुदाई सेक्सी एचडी वीडियो

सुखबीर कम अनुभवी था … मगर वो इतना मजबूत था कि किसी भी स्त्री को शाररिक रूप से संतुष्ट कर सकता था.

आपको सच लगे या झूठ … वो आपके ऊपर है, लेकिन सेक्स कहानी मैंने एकदम सच्ची लिखी है. उसने मेरे हाथ पैर के … और चूत के बाल निकाल कर मुझे एकदम चिकना कर दिया. उसे मैंने कह दिया कि कल से तुम अगले 10 दिनों तक खूब मज़े से रोहन के लंड से चुदने आती रहना.

कमरे की‌ खिड़की पर काले रंग के शीशे लगे हुए थे, इसलिए बाहर से शायरा को तो हम नजर नहीं आ रहे थे … मगर अन्दर से वो मुझे साफ दिखाई दे रही थी. उसके बाद लगातार 6 महीने तक हैदराबाद में उसके घर में ही हम दोनों हर वीकेंड पर सेक्स करते थे. गोरी गोरी opn gaand garlsलंड को देख कर मेरी मम्मी घबरा गई थीं, वो बोलीं- ये इतना बड़ा … मैं नहीं ले पाऊंगी.

मेरे सारे अंडरवियर्स मेरे दागों से बेकार हो गए हैं, अब तो मैंने पहनना भी छोड़ दिया है. फिर कमर से धक्का लगाने से पहले मैंने उसके कान में कहा- करूं शुरू?उसने अपना सिर हां में हिला दिया.

मैंने देखा कि बगल वाले रूम से कशिश दीदी और रुखसार भाभी मेरे पास आ गईं. भाभी की चूत की कहानी में पढ़ें कि भाई की बीवी को एक बार चोद लेने के बाद उसके जिस्म का नशा मेरे ऊपर चढ़ गया. मुझे लगा कि मैंने उससे मदद के लिए कहा भी, तो कहीं वो अभी मुझे ही पकड़ कर गाली ने दे दें.

अब मैं छत पर सोता था, तो अपनी चुदाई की चुल्ल को लेकर मैं हर सुबह उठकर अपने आस-पास की छतों और घरों में झांक लेता था कि कोई अच्छा माल दिख रहा है या नहीं. मेरी बेटी चीखने लगी और फिर सोनी उसकी पकड़ से छूट कर एकदम भागी और टेबल के नीचे छिप गयी. उस साली रंडी पर भी मेरी नज़र है चुदैल!और वो बस ‘उफ्फ ले साली … और ले … आःह्ह’ करते हुए मुझे चोदे जा रहे थे।मैं बस ‘आराम से कर चूतिये … वर्ना मेरी फट जाएगी.

पानी पीकर एक दूसरे की बांहों में एक दूसरे की तरफ मुँह करके सटकर सो गए.

वो बोली- हट बेशर्म!मैं बोला- अरे इसमें क्या है, ऊपर से ही तो कर रहे हैं. सोनी इतनी मस्त हो गयी कि उसने अपनी दायीं जांघ उठा कर सुरेश की जांघ के ऊपर चढ़ा दी.

खून से सराबोर लण्ड सोनल की बुर के अन्दर बाहर होते होते अपनी मंजिल पर पहुंचा तो मेरे लण्ड से फव्वारा छूटा और सोनल की बुर को सराबोर कर दिया. जैसे ही वो नंगा हुआ तो मैंने देखा कि उसका लंड मेरे पहले पति से बहुत मोटा और लंबा था. लेकिन चुदाई तो चुदाई ही होती है, आप केवल नई कहानी की नई नायिका की चुदाई की घटना का आनन्द लें.

वो सीत्कार भरकर बोली- आंह प्रकाश तुझे एक बात बोलूं … तेरी और मेरी सोच बहुत हद तक मिलती जुलती है. मैं गया तो उन्होंने मुझे पहचान लिया, पर मैंने उनसे कहा- आप मेरे दोस्त को नहीं बताना. उनका मुँह मेरे लंड पर जिस तरह से चल रहा था, उससे मेरे अन्दर गजब का नशा हो था.

सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में उसकी किसी और के साथ मिलने की बात सुन कर मुझे लगा कि उसका कोई आशिक़ पहले से है. उन्हीं कहानियों से प्रेरित होकर आज मैं भी अपनी प्रथम सेक्स कहानी सेक्सी ताई की चुदाई की लिखने जा रहा हूँ.

सेक्सी मूवी फुल एचडी मूवी

पिछले काफी समय से मैं अन्तर्वासना में गंदी कहानियों की मजे ले रही हूं. लेखक की पिछली कहानी:जवान लड़की के दौरे का इलाजयह अन्तर्वासना मामी सेक्स स्टोरी तब की है जब इण्टरमीडिएट के इम्तिहान देकर दो महीने की छुट्टियां मनाने के लिए मैं अपनी ननिहाल गया. मैंने दिल‌ में ही सोचा कि शायरा की चुत मिलने की उम्मीद तो बहुत है, पर देखो कब लंड को मजा मिलता है.

‘अरे कैसी बात कर दी आपने, आइए न अन्दर से भी देख लीजिए, बिल्कुल सही ढंग से रखा हुआ है. हम दोनों वहां से निकल कर नजर बचाते हुए उसके घर पहुंचे जहां सब कोई पहले ही शादी में जा चुके थे और अब वहां सिर्फ हम दोनों और हमारी काम वासना थी।घर पहुंचते ही हम दोनों के जिस्म आपस में लिपट गए. नंगी सेक्सी देखने वालीमैंने परिचित व्यकित के अंदाज में अपना परिचय दे दिया- मेरा नाम स्नेहा है, जिसका मतलब होता है प्यार! मैं आपको ढेर सारा प्यार करूंगी और आपकी दोस्त बनकर रहूंगी.

मैंने अपनी पैंट और अंडरवियर को खोला और अपना लंड निकाल कर उसे दिखाया.

’कई मिनट तक वो वही सब करता रहा, मेरी चूत में चीटियां रेंगने लगी थीं. उधर रागिनी भी भाभी से चूत चटवाकर झड़ चुकी थी और भाभीजी ने उसकी चूत को चाट-चाटकर साफ भी कर दिया था.

सबके निकल जाने के बाद मैंने दरवाज़ा भेड़ा और लैब वाले रूम में अन्दर आकर साइड में होकर मैं अपने कपड़े बदलने लगी. जैसे ही मैं उसके निप्पलों को भींचता तो वो मेरे लंड को जोर से खींच लेती थी. एक दिन मैंने अखबार में सेक्स प्रश्नोत्तरी में एक पाठक की समस्या पढ़ी कि वो क्रॉसड्रेसिंग करता है और लड़कियों की तरह रहता है।ये पढ़कर मुझे अपना भी ध्यान आया कि मैं भी ऐसा ही करना चाहती रही हूं.

बुआ एकदम छोटी सी दिखने वाली ब्रा पैंटी ले रही थीं, जिसमें से उनका कुछ भी छुपने वाला नहीं था.

इतने में नीता ने पीछे से आकर मुझे अपनी बांहों में कस लिया और बोली- चलो हर्षद, खाना तैयार हो गया है. एक बार रात को करीब बारह बजे मामी मेरे कमरे में आ गईं और मुझे बेतहाशा चूमने लगीं जिससे मेरी नींद खुल गई. कुछ देर तक तो हम शर्म से बैठे देखते रहे, पर जैसा कि हम सभी औरतें ही थीं, तो हमारे बीच में ज्यादा देर शर्म नहीं रही.

रंडी सेक्सी रंडीवो सीत्कार भरकर बोली- आंह प्रकाश तुझे एक बात बोलूं … तेरी और मेरी सोच बहुत हद तक मिलती जुलती है. लौड़ा मुँह में लेने में या गांड में लेने के मज़े से वह अब तक अनजान थी.

सुकून मिला सेक्सी

पांच मिनट के बाद हम लोग उठकर बाथरूम में आ गए और बढ़िया शॉवर लेने लगे. मैंने कुछ जबरदस्त धक्के मारे, तो अदिति जोर जोर से सीत्कारने लगी- ऊंई मां आह स् स् स्ह स्ह उफ्फ उफ्फ ऊंई हर्षद झड़ गयी रे मैं!उसने मुझे अपने ऊपर खींच कर जकड़ लिया. मैंने फिर से आंटी की चूत में लंड पेल दिया और उसको वहीं बाथरूम में चोद दिया.

मैंने चुपके से मेरी भाभी की ब्रा-पैंटी, लेगिंग, कुर्ती चुराई और पार्क में जाकर वो पहन लिये. विपिन बाहर से मेरे सूखे हुए कपड़े ले आया और हम दोनों ने कपड़े पहन लिए. मैंने इससे और आगे जाने के बारे में नहीं सोचा और लंड हिलाने का मजा लेते हुए रस झाड़ कर सो गया.

थोड़ी देर बाद मैंने अनामिका के आगे झूल रहे आमों को पकड़ लिया और उससे चिपकते हुए थोड़ा दमदार और तेज झटके मारने लगा. रूबी की बात सुनकर मेरा दिल तो किया कि इससे पूछ लूं कि साली तुझे प्यार की क्या जरूरत तू तो सीधे लंड चुत के मिल्न में ही भरोसा करती है. स्नेहा ने जैसे ही चिराग की आवाज सुनी तो ब्रा उठा कर अपने स्तन पर ले ली और ब्रा ठीक से पहनते हुए बोली- तुझे इतना भी नहीं पता कि किसी लड़की के रूम में बिना नॉक किए नहीं जाना चाहिए?चिराग- ओये भूतनी … ये हमारे बीच कब से होने लगा और तेरे पास ऐसी कौन सी चीज बची है, जो मैंने नहीं देखी.

पहले तो मैंने इग्नोर करने की कोशिश की लेकिन फिर मेरी भी नज़र उन पर जाने लगी. मैंने उसकी चूत को देखा और एक बार उसकी आंखों की तरफ देखा, वह एक कातिल मुस्कान के साथ मुझे देख रही थी.

मुझसे उसके दूध देख कर रहा नहीं गया और मैंने अपना मुँह अनामिका के एक चुचे पर रख कर उसे चूसने लगा.

मेरी पिछली कहानी थी:पति ने कराई मेरी चूत की चुदाई जीजू सेमेरी शादी 3 साल पहले इंदौर की एक लड़की रिंकू (बदला हुआ नाम) के साथ हुई थी. बीएफ वीडियो चुदाईमैंने उसकी चूचियां देखते हुए कहा- तुम कमरे में चलो मैं अभी आता हूँ. सेक्सी बीएफ कंडोममेरी थोड़ी देर की रुकी हरकतों से अंकिता ने अपनी आंखें खोलीं और कहा- क्या हुआ … क्या देख रहे हो?मैंने कहा- लोग जिसे जन्नत कहते हैं, आज मैं उसे इतने करीब से देख रहा हूँ. भाई ने अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया और मां ने अपनी चूत को मेरे मुँह पर रख कर रगड़ना शुरू कर दिया.

एक मेरी मॉम की चूत चाटने लगा और नमन मॉम के चुचे ज़ोर ज़ोर से दबा रहा था और काट रहा था.

इस कहानी के पहले भागडाक बंगले में गांड चुदाई- 1में मैंने बताया था कि मैं गांव में नौकरी कर रहा था और वहां के डाक बंगले में रहने वाले शेखर बाबू लौंडेबाज थे. ममता तो इसके लिए तैयार थी हीं … इसलिए उन्होंने भी मेरे साथ आने में कोई आपत्ति नहीं जताई. मुझे उसकी चूचियां मेरे सीने पर महसूस हुईं और मैंने उसको कस कर अपनी बांहों में भींच लिया.

मैंने अर्चना के सुर्ख गुलाबी होंठों को चूसने लगा और उसकी चौंतीस इंच की चूचियों को मसलने लगा. फिर प्यार से मेरे मूसल को पकड़ा और फिर धीरे धीरे … आहिस्ता आहिस्ता … अपनी गर्म चूत में उतरवा लिया. तो फिर क्या हुआ?आंटी न्यूड स्टोरी के पहले भागचाची की बहन की चुदासमें आपने पढ़ा कि मैं कोटा में कोचिंग करने आया तो चाची की बहन के घर किराये पर रहने लगा.

रडी सेक्सी विडियो

”मैं उसकी इस बात पर भावुक हो गया, मैंने फिर से उसको गले लगाया- कितनी प्यारी हो तुम रचना. बसन्त जी बोले – अरे, ये कोई गैर थोड़े ही है अपना बच्चा ही तो है और फिर यह है भी तुम्हारा ही रिश्तेदार, तो करो एडजस्ट इसे. शायरा के वापस दिल्ली आते ही मैंने अब फिर उससे दोस्ती बढ़ाने की सोची.

वो तुरंत समझ गई और तुरंत अनामिका को छोड़ कर दूसरे दीवान में अपनी गांड के नीचे तकिया लगा कर लेट गई.

लगभग 5 मिनट की जोरदार चूमाचाटी के बाद हम अलग हुए तो वो मेरी साड़ी मेरे जिस्म से अलग करने लगे.

उस दिन हर रोज कि तरह मैं बाईक से ऑफिस के लिए निकला, मुझे आज देर हो गई थी, तो कोलावा पास करते ही एक सुदंर सी लड़की ने मुझे हाथ दिखाया. वो भी थोड़ी सहज होती जा रही थी और मेरी बातों के सही तरीके से बिना हिचके जवाब देती थी. हिंदी में सेक्स पोर्नवो बोली- सही से देख बे, यहां पर मैंने छेद बनाया है और अन्दर पेंटी है ही नहीं.

अब उसकी शादी होने वाली है लेकिन कहती है कि उसको बच्चा मेरे से ही चाहिए. मैं नीचे की ओर गया और उसके पैर के अंगूठे को मुंह में लेकर चूसने लगा. वो मेरी बात समझ गई और मेरी पीठ पर धौल जमाती हुई बोली- हरामी हो!मैंने कहा- अभी हरामीपन देखा कहां है बेबी.

लेकिन तब भी उसने कहा- मैं तुम्हें मना किया था न!मैं हंस दिया- हां हां मुझे सब पता है. मैं एक छोटी जगह से आई थी और मुंबई जैसे शहर की चकाचौंध मुझे डरा रही थी.

ये कह कर भाभी ने जल्दी से मेरे होंठों पर किस किया और कहा- आज नाइट में मैं आपको सरप्राइज दूंगी.

वो किताब कोई साधारण किताब नहीं थी बल्कि सेक्स कहानियों की किताब थी. उन्होंने मेरे सामने अपने कुक भूरा और एक दूसरे युवक सुनील की गांड मारी. फिर मैंने खरीदारी की सारी लिस्ट बनवा ली और मैंने पीहू के साथ मिलकर पूरा काम निपटा लिया.

सेक्सी फिल्म चोदा चोदी सेक्सी मुझे उसकी चूत और चूत से निकलती पेशाब की धार दिख रही थी क्योंकि वो मेरी तरफ मुँह करके नीचे बैठी थी. इस बीच उनके साथ वाली कहीं चली गई थी, शायद वो अपनी वाक करने निकल गई थी.

फिर बीच बीच में मर्दन करते हुए उसने अपनी पैंट भी खोल ली थी और सरका कर नीचे कर दी थी. उस पर बैठाते हुए बोली- अब बोलिए मेम क्या दिखाऊं?नेहा- मुस्कुराते हुए, क्या क्या दिखा सकती हो?नेहा ये बात उस लड़की की बेल जैसी बड़ी बड़ी लटकी हुई चूचियां की तरफ देखते हुए बोली थी. पापा का नंबर भी उनके पास नहीं था लेकिन किसी तरह उनको मेरी मम्मी का नंबर मिला तो उन्होंने मम्मी को फोन करके बहुत जिद करते हुए कल शाम की शादी में आने के लिए कहा.

ब्लू पिक्चर सेक्सी गांड मारने वाली

छीना झपटी में भाभी के बदन पर लिपटा हुआ तौलिया खुल गया और भाभी मेरे सामने ब्रा पैंटी में खड़ी रह गयी. स्नेहा- ओके दीदू, छोड़ो उस रंडी की बात … आप एक काम करोगी मेरा?नेहा स्नेहा की चूत पजामे के ऊपर से मसलते हुए- कौन सा काम?स्नेहा- पहले कसम खाओ गुस्सा नहीं करोगी?नेहा कुछ सोचते हुए- चल ठीक है. ममता के होंठों को चूसते चूसते मैं उनकी चूचियों पर आ गया था … इसके साथ ही मैंने अपना एक हाथ भी उनकी चुत पर ले आया था.

अगर आप चाहते हैं कि आपके साथी को भी चरम सुख की प्राप्ति हो, तो उससे धीरे धीरे गर्म कीजिए. मेरी ब्रा का हुक लगाने की बजाय उसने मेरी ब्रा को अपने हाथ में ले लिया और बोला- मैंने अपने पत्नी के ब्रा का कई बार हुक लगाया है.

मैंने बोला- भाभी, एक बार करवा के देखो मज़ा न आए, तो कभी नहीं करूंगा.

मेरे काले नाग को उसने मुंह में भर लिया और उसको ऐसे प्यार करने लगी कि जैसे ये उसका मनपसंद लॉलीपोप हो. अब जब बंगलौर में भाई रहता हो तो बहन हॉस्टल में क्यों रहे?मैं और सोनल एक ही फ्लैट में रहते हैं, दिन में वो कॉलेज में रहती है और मैं अपने ऑफिस!रात हमारी एक ही बिस्तर पर कटती है. मैंने मज़ाक में कहा- चलो अच्छा है अब मैं तुम्हारे बच्चे की मां बन जाऊंगी.

उसकी सांसें तेज होने लगी थीं, उसे आनन्द मिल रहा था, जिस कारण से उसकी सिसकारियां बढ़ती जा रही थीं. वो बोले- क्या करना है तुझे?तो मैंने कहा- वो सब मैं बाद में बताऊँगी. मैं समझ गयी कि यदि प्रीति नहीं आई, तो ये मुझे ही अपना शिकार बना लेगी.

और मैंने भी उसकी इच्छा को समझते हुए पूरी ताकत से उसकी चूत में अपनी जीभ घुसा दी.

सेक्सी बीएफ पिक्चर हिंदी वीडियो में: गांड सिकोड़ने लगा, पर भोला ने पूरा डाल दिया और उसकी कमर पकड़ कर चिपक कर रह गया।आधा मिनट तक चिपका रहा, फिर बोला- यार करने देगा? थोड़ी ढीली कर।तब भूरा मुस्कराया और बोला- अच्छा कर लो, तुम रुतबा पेल रहे थे।भोला बोला- यार! ऐसा नहीं करते, मेरा भैया! अच्छा, तू मुझे ठीक से करने दे, तो लेट जा।तब भूरा वहीं पेड़ के नीचे जमीन पर लेट गया. फ्रेंड्स, मैं पूनम पांडेय एक बार फिर से आप सभी का अपनी चुदाई कहानी में स्वागत करती हूँ.

वो जैसे ही झड़ने को हुए तो उन्होंने और तेज तेज धक्के मारने शुरू कर दिये. मैंने सोचा कि उनसे बात करके दिल हल्का हो जाएगा मगर ममता जी से बात करते समय भी मेरे जहन में बस शायरा ही शायरा घूम रही थी. एकदम से इतने ज्यादा प्रहार हुए तो अनामिका अधमरी हो गई और चीखने लगी.

कुछ देर की चूमाचाटी के बाद मैं खुद उठ खड़ी हुई और उसके बिठा कर उसकी गोद में बैठ गयी.

मैंने कई बार अपनी मॉम को नंगी नहाते हुए देखा है और मैं रोज उनके नाम की मुठ मारता हूँ. तो मैंने अपना अंडरवियर भी निकल दिया और ऐसे ही गेट खोलने चला गया उनको सरप्राइज देने!पर जैसे ही मैंने गेट खोला, सामने वही भाभी खड़ी थी. इसके साथ ही नीता मेरे लंड को पैंट के ऊपर से ही कुछ और ज्यादा दबाती हुई सहलाने लगी थी.