सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,हिंदी भाभी सेक्सी फ सेक्सी हँड

तस्वीर का शीर्षक ,

राजस्थानी सेक्सी चूत: सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो, मैं भी उसका सहयोग करते हुए अपने दोनों हाथ पीछे ले गया और उसके चूतड़ों को अपने चूतड़ों पर दबाते हुए मैंने अपने पैर और ज्यादा फैला दिए.

हिंदी सेक्सी आंटी का वीडियो

मैं उसको अपना मोटा बड़ा लन्ड दिखाना चाहता था ताकि मेरी मेड सेक्स के लिए राजी हो जाए. सुहागरात की सेक्सी बातेंउसकी गांड मारते टाइम ठप ठप की आवाज़ आ रही थी जिससे मुझे बहुत मजा आ रहा था.

एक आदमी दरवाजे तक आया और मुझे देख कर मुस्कुरा कर बोला- मस्त रंडी है … आज तो मजा आ जाएगा. एचडी सेक्सी नंगी फिल्मसंयोग से मुझे तुम मिल गए हो, तुमको जो चाहिए, मैं देने के लिए तैयार हूं.

कुछ पल लंड को चूत की गर्मी का अहसास दिलाने के बाद मैंने अपना लंड भाभी की चूत में धीरे-धीरे चलाना शुरू कर दिया.सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो: हम लोगो ने रात भर मजा किया।मैंने उसको गांड मरवाने के लिए भी बोला पर उसने मना कर दिया.

मेरा मन कर रहा था कि साली को अभी ही पटक कर चोद दूं, मगर बीवी सामने लेटी थी.गोद में भी उठा के पेलता हूं।अहाहा … जब चूत में लन्ड घुसता है और वीर्यपात होने के बाद निकलता है … क्या मजा मिलता है।अब मैं आंटी के घर में नहीं रहता.

एक घंटा की सेक्सी पिक्चर - सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो

मैं उसे इस तरह लगभग नंगी हालत में पहली बार देख रहा था; मैं बस उसे देखता ही रह गया.तभी गुरबचन जी मुझे देख कर बोले- अबे अरुणिमा के दल्ले, यहां कहां घुस रहा? बाहर जाकर सोफे पर सो जा भोसड़ी के.

मेरे चाचा बिज़नसमैन थे तो वो अक्सर टूर पर जाते थे इसलिए चाची हम बच्चों में से किसी को भी अपने घर में रात को सोने के लिए बुलाती थी. सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो जब मैं अपनी ब्रा पैंटी धोने के लिए ले गई तो मैंने देखा कि मेरी ब्रा पैंटी पर चिपचिपा सा कुछ लगा हुआ है जो एकदम गाढ़ा सफेद रंग का था.

आयशा भाभी मुझसे कुछ ज्यादा ही हंसी मज़ाक करने लगी, मेरे साथ छेड़छाड़ करने लगी.

सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो?

राजशेखर जी बोले- चूत भी बहुत टाइट है साली तेरी बीवी की, मेरा लंड अन्दर दबा कर रगड़ रहा है. मैं दो-तीन मिनट तक लगातार धक्के लगाता और रुक जाता तो चाची मेरे लंड को चूत में लिए लंड पर बैठ जातीं जिससे मुझे थोड़ा आराम मिल जाता. मैं- अभी से!दीदी- तीन बज गए हैं घोंचू, टाइम देख ज़रा!हम तीनों बाहर हॉल में आ गए.

इतना सुनते ही मैंने भी अपनी सलवार का नाड़ा थोड़ा ढीला कर दिया जिसमें सिर्फ उसका हाथ आराम से जा सके. अब उसने अपने लंड को मेरी गांड में सही से सैट किया और अपना हाथ आगे लाकर मेरी कमर पकड़ कर दूसरे हाथ से मेरा लंड पकड़ लिया. राजेश ने शर्मा अंकल को वहां से जाने के लिए कह दिया और कहा कि मेरे दोस्त आपके सामने पार्टी एन्जॉय नहीं कर पाएंगे, इसीलिए आप ललिता को यहां छोड़ कर लेडीज संगीत के कार्यक्रम में चले जाइए.

लड़कों को पलंग पर पीठ के बल लिटाकर उनके हाथ पैर फैलाकर पलंग से बांध दिया. वैसे भी शर्मा अंकल कई बार मुझे एक लड़की और कई लड़कों की चुदाई वाली गैंगबैंग ब्लू फिल्म दिखा चुके थे. कुकोल्ड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि जब पति ने अपने दोस्त को घर बुलाकर अपनी बीवी को उसके लंड का मजा लेने को कहा तो गर्म बीवी ने क्या किया?कहानी के पिछले भागहॉट बीवी को दोस्त के लंड से चुदवाने की तमन्नामें आपने पढ़ा कि पति ने अपने दोस्त को घर बुलाकर अपनी बीवी के सामें दोस्त का नंगा लैंड पेश कर वदिया और चूसने को कहा.

फिर वो बोली- चाचा ऐसे नहीं … उल्टे लेटिए!मैं फिर डरने लगा मगर मैं उल्टा होकर लेट गया और सर एक तरफ घुमा लिया. मैंने आगे बढ़ कर अपनी बीवी की दोनों कलाइयों को जकड़ लिया और विश्वेश्वर जी ने उसकी कमर को कसके पकड़ लिया.

थप्पड़ का दर्द अभी भी गाल पर हो रहा था तो मैं उनको मना ही नहीं कर सका.

चाची सास- हां मैं समझ सकती हूं कि तुम दोनों के ऊपर क्या बीत रही है.

उन दिनों सर्दियों का मौसम चल रहा था और हम दोनों एक ही बेड पर पास पास सोते थे. मैं तुम्हारे चाचा को राजी कर लूंगी और बाहर जाने के लिए उन्हें मना लूंगी. मैं अपनी इस मदमस्त कर देने वाली फिगर को लेकर जब भी कहीं से निकलती हूँ तो लगता है कि मुझे देखने वालों ने पक्का अपने सपनों में मुझे रात को पकड़ कर चोदा होगा.

अभी पति के लंड का सुपारा ही मेरी चूत में गया था कि मेरी चीख निकल गई और वो हंसने लगे. मैंने पहली नजर में ही वो मेरे दिल में घुस गयी, मैंने उसको चोदने का सोच लिया. ये देख कर गुरबचन जी हंस कर बोले- पूरी प्रशिक्षित हो गई है रांड … साली कोठे पर बैठने लायक हो गई है.

मैंने मन पक्का कर लिया कि अब चाहे जो भी हो जाए, मैं भाई से सब कुछ साफ़ साफ़ कह दूंगी.

किशोर ने अपने लंड को सहलाते हुए आगे पीछे किया और उसका बड़ा सा गहरे गुलाबी रंग का सुपारा बाहर निकल आया. Xxx लव कहानी मेरी मकान मालकिन आंटी के साथ यौनाकार्षण और प्रेम की है. उसकी बीवी हुसैना और भाई की मां साथ में रहती हैं, दोस्त की मां मेरी खाला (खाला) भी हैं.

मेरे ऊपर चाची का वजन था इसलिए मैं ज्यादा तेज धक्के नहीं लगा पा रहा था. फिर मैंने उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और उसके खूबसूरत चूचों के जोड़े को देखने लगा. मुझे इस बात का अहसास भी नहीं था कि इस दौरान हम दोनों के बीच सेक्स भी हो जाएगा.

एक मिनट बाद आंटी बोलीं- आज तुझे तेरे अंकल का काम करना है, करेगा ना!मैंने सर हां में हिला दिया.

प्रवीण आई लव यू यार!मैं इतना सुनते ही मैं भाभी के पास आ गया और उनको अपनी बांहों में भर लिया. शायद उन्हें मेरे दर्द में मजा आ रहा था और वो ये सोच रहे थे कि उनको हनीमून सेक्स में सीलपैक चूत चोदने मिली है.

सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो उधर स्टाफ क्वार्टर्स में नर्स सुरभि और डाक्टर स्वाति भी रहती थीं, क्योंकि उन दोनों का घर भी अस्पताल से दूर शहर में था. उन मादक सिसकारियों को सुनकर मुझमें और जोश आ गया और मेरी रफ़्तार और बढ़ गयी.

सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो मैंने अपना हाथ नहीं हटाया, तो उसने भी थोड़ा जोर लगाया और मेरे हाथ को हटा दिया. किशोर का चेहरा मेरे चेहरे के पास आता गया और ऐसे ही करते हुए उसने मेरे गुलाबी होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

मैं उसके दोनों पैरों के बीच में आ गया और अपने लंड को उसकी चूत पर रखकर आहिस्ता से पहला धक्का लगा दिया.

सेक्सी सेक्सी आर्केस्ट्रा

फिर मैं रूम में गया और उन्हें सामने देखकर में एकदम से पलट गया और वापस रूम से बाहर आ गया और सोचने लगा कि अब क्या होगा?अब मुझे बहुत डर लग रहा था कि कहीं चाची समझ नहीं गयी हो कि मैं जानबूझकर रूम में आया था. यह सुनकर राजेश मेरे ऊपर से हट गया और उसके तीनों दोस्त मुझ पर टूट पड़े. फिर मैंने थोड़ा सा लंड चूत से बाहर निकाला और एक तेज झटके में पूरा का पूरा लंड चूत में धकेल दिया.

मैंने कहा- मुझे थप्पड़ याद है, शायद तुम्हें भी उस थप्पड़ की वजह याद होगी. जब कुछ इस कदर की सनसनी होना शुरू हुई तो हाथ ने लंड को सहलाना शुरू कर दिया. किशोर मुझसे उम्र में 15 साल बड़ा होने के साथ साथ शादीशुदा मर्द था, मेरे तो अंकल जैसा था.

आखिरकार उन्होंने मेरे मम्मों को ब्रा की कैद से आजाद कर दिया और अपने मुँह से मेरी चूचियां चूसने लगे.

मैं बार बार चूची की नोक को अपने मुँह में दबाने की कोशिश करता मगर वो मछली सी फिसल कर अपनी चूची हटा देती. मैंने कहा- भाभी, मैं कुछ नहीं जानता हूं, मुझे तो फिलहाल आप ही चाहिए. उसे मेरे दूध चूमने और मसलने में इतना मजा आ रहा था और वो इतने जोश में आ गया था कि मेरी गांड पकड़ कर मुझे अपनी तरफ खींच रहा था.

हाय दोस्तो, मैं ललिता जोशी फिर से एक बार आप सभी का अपनी चुदाई की कहानी में स्वागत करती हूँ. एक बार चाची सास ने पूछा- तुमने वैशाली के साथ कुछ किया है?मैंने कहा- क्या कुछ किया है … साफ साफ बोलो न!चाची सास- कभी तुमने वैशाली के साथ सेक्स किया है?ये सुन कर मेरा लंड खड़ा हो गया. अब तो रोज रात मैं अपनी सास अंजलि से फोन सेक्स करके उन्हें हर दिन चोदने लगा था.

मैंने देखा आंटी के घर में कोई नहीं है, तो मैंने आवाज लगाई- आंटी जी, कहां हो?बाथरूम से आवाज आई- आशु, खाना गर्म करना पड़ेगा, तुम बैठ जाओ. मैंने तुरंत उससे पूछ लिया- ये सब मुझे क्यों बता रही हो कि तुम घर में 7-8 दिन के लिए अकेली हो?उसने अपनी बेबी डॉल का सामने का फीता खोलते हुए कहा- मेरे खसम के साले, मैं तुझे ये सब इसलिए बता रही हूँ कि जो तूने मेरी ननद प्रिया के साथ किया, वो सब मुझे मालूम है और अब वो सब तू मेरे साथ भी कर.

मैंने अन्तर्वासना में कई कहानिया पढ़ी हैं, तो आज मेरा भी मन किया कि अपनी एक सेक्स कहानी आपके लिए प्रस्तुत करूं. मैंने उसके होठों को चूसना शुरू कर दिया और उसने धीरे धीरे कर के पूरा लंड मेरी चूत की गहराई तक उतार दिया. अब मैंने भाई का लंड मुँह में ले लिया और चूस चूस कर अपने भाई के लंड से दो बार वीर्य निकाल कर पी लिया.

तब हम दोनों ने चॉकलेट हटाने के नाम पर फव्वारे के नीचे खड़े होकर करीब एक घंटे तक मस्ती की.

वो हम सभी आठ बंधे लड़के, लड़कियों के शरीर, चूचे, चूत, लंड, गांड पर हाथ फेरने और दबाने लगे. मेरी दीदी से मन नहीं भरता है क्या?मैं कह देता- मन तो भर जाता है, पर तू भी तो मस्त है मुझे तेरी भी चाहिए!वंदना की सहेली नेहा बोली- मुझे नहीं करना. मैंने उनकी गर्दन पर चूमते हुए पूछा- आंटी, आपने एक साथ कितने लंड चूत में लिए हैं?आंटी ने कहा- चूत में तो अभी तक एक ही लिया है, लेकिन गांड में एक साथ दो लौड़े लिए हैं, इसीलिए तो ये इतनी ढीली हो गई है.

मैं- प्लीज मुझे छोड़ो, मुझे जाने दो, यह सब क्या कर रहे हो, सिर्फ नाच दिखाने की बात हुई थी. उनके बड़े-बड़े नितंबों में छोटी सी पेन्टी पता नहीं कैसे आ रही थी, वह सिर्फ उनके आधे नितंबों को ही ढक पा रही थी।तभी भाभी का मन पता नहीं क्या हुआ, उन्होंने कहा- तुम अपनी भाभी से खुलकर बात भी नहीं करते?तो मैंने कहा- ऐसा नहीं है भाभी.

मैं किसी कुत्ते की मानिंद अपनी जीभ से उसकी चूत का रस पिए जा रहा था. मैंने अरुणिमा को बुलाया और कहा- मैं ऑफिस से आ रहा हूँ, जब तक तुम हमारे मेहमानों का ख्याल रखो और खातिरदारी में कोई कमी नहीं रहनी चाहिए. दूसरे दिन जब मैं घर से बाजार जा रहा था, उसी बीच पायल मुझे उसके घर के बाहर दिखी.

फुल सेक्सी पिक्चर पिक्चर

एक दिन शनिवार को छुट्टी ले लेना और संडे को तो तुम्हारी छुट्टी रहती ही है.

वो ऐसी लग रही थी मानो बादलों में से कोई चाँद का टुकड़ा बाहर आ गया हो. रूम से निकलने से पहले राजशेखर जी अरुणिमा से बोले- फ्रेश होकर रूम में आ जा. मैंने धीरे से चाची की टी-शर्ट उतार दी और जो नज़ारा देखा, वो आज भी मुझे भी याद है.

आंटी ने अनुज को अपना नंबर दे दिया जिससे वो कभी दोबारा दिल्ली आएं तो उसके साथ चुदाई कर सकें. हम सबने खाना खाया और कुछ बातें की।भाभी मेरी क्लास की टाइमिंग पूछने लगी. काजल सेक्सी फोटोजफिर वो बोली- क्या मैं आप पर भरोसा कर सकती हूँ?मैंने उससे कहा- आप फ़िक्र मत करो, आपने बिल्कुल सही जगह मैसेज किया है, मैं आपकी हर जरूरत को पूरा कर सकता हूँ.

मैं समझ तो रहा था कि ये चुदने मचल रही है, लेकिन समझ नहीं आ रहा था कि कैसे शुरुआत करूं. उसने आंटी को जल्दी से उल्टा लेटा दिया और पीछे से उनकी गांड में लंड डाल कर चुदाई शुरू कर दी.

होश आने के बाद में मैंने उनसे पूछा कि मोमबत्ती कहां पर है?उन्होंने कहा कि इसी कमरे में है. फिर 5-6 मिनट के बाद चाची अब थोड़ी ढीली हो गईं और उन्होंने अपनी चूत से पानी छोड़ दिया. वो पीछे से ही अपने हाथ से मेरी सलवार के ऊपर से ही मेरे गांड के छेद को मसल रहा था.

उन दिनों सर्दियों का मौसम चल रहा था और हम दोनों एक ही बेड पर पास पास सोते थे. हम दोनों रूम में आए और दरवाजे के बाहर ‘डू नॉट डिस्टर्ब …’ का बोर्ड लगा कर बंद कर दिया. तो मैंने हिमेश को मेरी सिम्मी से पंजाबी सेक्स की इजाजत दे दी।हिमेश फौरन उसके ऊपर चला गया और उसके बदन को किस करने लगा.

ऑफिस गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने बॉस से चुदना चाहती थी, वे भी मुझे चोदना चाहते थे पर हम खुल नहीं पा रहे थे.

हॉट गर्ल बिहारी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं पटना में किराए के कमरे में रहता था. उसने हंस कर कहा- और अब आप बताओ, आपकी कितनी प्रेमिकाएं हैं?मैंने कहा- एक भी नहीं है … ये क्यों पूछ रही हो?उसने कहा- बस ऐसे ही, पर आप झूठ बोल रहे हो कि आपकी कोई प्रेमिका नहीं है.

बैग काफी भारी थे, हमने घर से बस स्टैंड तक गाड़ी कर ली।शाम 5 बजे निकल गए।आंटी गाड़ी में मुझसे सट के बैठी थी। उनकी चूची मेरी कोहनी से सट गई थी, मैं कोहनी से चूची दबा दे रहा था।मेरा लन्ड तन गया. सब लोग उसे देखने आते पर मेरी बहन को नापसंद करके चले जाते क्योंकि वो दिखने में जवान नहीं लगती थी. [emailprotected]हॉट वाइफ Xxx कहानी का अगला भाग:मेरी कमसिन बीवी मेरे दोस्तों से चुद गयी- 2.

इस सेक्स में ख़ास बात ये थी कि ठेकेदारी से धन कमाने की लालच में मैं अपनी बीवी को चुदवा रहा था और सोच रहा था कि ये तो करना मजबूरी है. कुछ देर बाद पापा ने मम्मी को घोड़ी बनाया और पीछे से लौड़ा पेल कर चूत चुदाई करने लगे. हॉट इंडियन भाभी ननद सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे पड़ोस वाली भाभी ने मुझे बहाने से अपने कमरे में बुलाकर बांहों में लेकर चूमने लगी.

सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो उसने अपने बच्चे को अपने पड़ोसी के बच्चे के साथ खेलने को बोला और घर से बाहर भेज दिया. तभी मेरी भाभी को दर्द उठा और उनको डिलीवरी के लिए अस्पताल ले जाना पड़ा।भैया भाभी को साथ लेकर अस्पताल चले गए.

एचडी ओपन सेक्सी व्हिडिओ

मैंने कुछ नहीं कहा तो भाभी ने फिर से लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. हॉट गर्ल बिहारी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं पटना में किराए के कमरे में रहता था. बीस मिनट चूत चोदने के बाद मैंने कामिनी को दीवार के सहारे से खड़ा कर दिया.

वो जोर जोर से आवाज निकाल रही थीं- आह्ह ऊऊऊ विकास और चाटो … आंह चाट चाट कर लाल कर दो. शमशुद्दीन नंगे होकर अरुणिमा के मम्मों को मसल रहे थे, अरुणिमा खिलखिला रही थी और शमशुद्दीन जी का लंड अरुणिमा की चूत में फंसा था. सेक्सी सेक्स व्हिडिओ सेक्सीनदी में नहाने के बाद मेरी बाकी सहेलियां तो अपने घर चली गईं मगर मैं और मेरी एक अन्य सहेली ने कुछ और देर तक नदी में रुकने का मन बनाया.

मैंने उसी दिन शाम को चाची की चूत चुदाई करने का प्रोग्राम बनाया और मैं चाची के घर कुछ काम के बहाने आ गया.

स्कूल से आने के बाद शाम को मैंने खाना खाया, फिर सोने की तैयारी करने लगा. कहानी के पहले भागचढ़ती जवानी को चढ़ा चुदाई का शौकमें अभी तक आपने पढ़ा था कि जवानी में कदम रखते ही कैसे मैं अपने आप पर काबू नहीं रख पाई.

भाभी ब्लू कलर की ब्रा ओर पैंटी पहनी थीं जो कि उनकी झीनी सी मैक्सी से साफ़ झलक रही थी. फिर विक्रम बोला- बहनचोद, चल अपनी असली औकात में आ जा और कुतिया बन जा. मैंने मामी की दोनों टांगें पकड़ीं और उनके कंधों कर ले जाकर कहा- टांगें पकड़ कर रख रंडी.

उस दिन भी चाची मेरे लंड के साथ खेल रही थीं, उसकी मालिश कर रही थीं और एकसरसाइज करवा रही थीं.

एक परीक्षक ने पूछा- रंडियो, प्यास लगी है क्या?सभी ने हां में सिर हिलाया. मेरे मोबाइल पर तुम दोनों की रिकॉर्डिंग हो गयी है, मैंने वो सुनी है. तो मैंने फिर से मना कर दिया, उससे कहा कि अभी तक तो उसने अपना कुछ दिखाया भी नहीं है कमरे में अकेले मिलने पर मेरी नियत बिगड़ जाएगी.

श्रद्धा सेक्सी फोटोमैंने अपना बैग मेरी आगे टंकी पर रख लिया ताकि चाची मुझसे चिपक कर बैठ सकें. उनकी आंखें बंद थीं और वो मेरी बीवी की टाइट चूत का पूरा मज़ा ले रहे थे.

प्रिंसिपल की सेक्सी वीडियो

किसी भी लड़की या भाबी के लिए उसकी प्राइवेसी और गोपनीयता बनाए रखना बहुत ज़रूरी होता है. हिंदी Xxxx कहानी के पहले भागचचेरे भाई को सेक्स के लिए गर्म कियामें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरे भाई ने मेरी चूत चाट कर मुझे चुदास के शिखर पर पहुंचा दिया था. मैंने जाकर देखा कि मेरे दूसरे बाथरूम में भाभी पूरी तरह नंगी बैठी थीं और बाहर की तरफ पीठ करके भाभी नहा रही थीं.

क्या इसका कुछ हो सकता है?उस बात पर उस महिला ने मुझे देखकर कहा- शेयर बाजार से पैसा कमाना हर किसी के बस की बात नहीं है, पहले सीखना चाहिए, फिर शेयर बाजार में निवेश करना चाहिए. मैंने खिड़की से देखा तो मेरे दादा जी गार्डन में ही दारू पीकर बेहोश पड़े थे. ‘आह्ह … बहुत मजा आ रहा है … और जोर से पेल मेरे राजा बेटा … आंह और जोर से पूरा डाल मादरचोद.

हुसैना भाभी- अगर मुझे ऐसा बंदा पहले मिलता, तो वो मुझसे ही शादी कर लेतीं. अरुणिमा को उनका आना बिल्कुल अच्छा नहीं लग रहा था और ये उसके चेहरे पर साफ़ झलक रहा था. एक दिन मेरे पड़ोस की लड़की मेरी मम्मी के पास अपने किसी काम से आई हुई थी, उसका नाम पायल था.

मैं घर आकर सेक्स की कहानियां पढ़ कर अपनी चूत में उंगली करके खुद को शांत कर लेती थी. इमरान मेरी चूचियों को दबा रहा था और प्रकाश नीचे से मेरी गांड के छेद को सहला रहा था.

दोस्तो, जब लंड में चूत लेने की तलब हो ना … उस वक्त ना कोई खतरा दिखता है … ना कोई डर.

इससे उसके मुँह से सिर्फ आह … आह … मर गई … धीरे-धीरे डालो न बहुत दर्द हो रहा है प्रवीण आह … आह … मम्मी, मैं मर जाऊंगी. हिंदी सेक्सी pornमैं थोड़ा घबराकर चाची से बोला- क्या कहा चाचा ने?चाची बोलीं- अरे शांत हो जाओ तुम, कुछ नहीं कहा चाचा ने. सेक्सी भाभी का एक्स एक्स एक्सकभी वो मुझे लेटा कर मेरी एक टांग को ऊपर उठा कर पीछे से अपना लंड मेरी चूत में डाल कर चोदने लगते तो कभी मेरी दोनों टांगों को फैला कर मेरी चूत का बाजा बजाने लगते. मेरी दीदी से मन नहीं भरता है क्या?मैं कह देता- मन तो भर जाता है, पर तू भी तो मस्त है मुझे तेरी भी चाहिए!वंदना की सहेली नेहा बोली- मुझे नहीं करना.

कुछ देर लंड चूसने के बाद भाभी ने कहा- तुम्हारा लंड तो तुम्हारे भाई से काफी बड़ा और मोटा है.

मुझे बहुत अजीब लग रहा था और डर भी लग रहा था क्योंकि मैं सीलपैक माल थी. मेरी मोटी मोटी चिकनी जांघों को सहलाते और चूमते हुए मेरी चड्डी के ऊपर से ही उसने मेरी चूत को चूमा और फिर मेरे पेट के पास आकर मेरी गहरी नाभि में अपना जीभ डालकर चूमने लगा. अगर मुझे लगता कि मेरा निकलने वाला है, तो मैं रुक जाता और थोड़ी देर बाद फिर से धक्के लगाना चालू कर देता.

पायल बोली- क्या तुम मेरे बारे में बोल रहे हो?मैंने सर हिला कर हां कहा. मैं फिर से भाभी की तरफ घूम गया और अपना एक हाथ पलंग के नीचे लटका दिया. उसका गर्म गर्म लावा मेरे गले में जाता हुआ मुझे ऐसा लग रहा था, जैसे मैं गर्म गर्म पानी पी रही हूँ.

सेक्स अंग्रेजी वीडियो सेक्सी

अब जब भी हमारा खुल कर चुदाई करने का मन होता है तो हम दोनों होटल में चले जाते हैं. नाश्ते में भाभी ने मुझे एक केला दिया जिसे देखकर मैंने कहा- भाभी, इतना बड़ा केला मैं नहीं खा पाऊंगा. तुम्हें डर भी नहीं लगेगा और मेरे लंड से चुद कर नींद भी अच्छी आ जाएगी.

अगले वीडियो में हाथ पैर बांधकर कॉल गर्ल कॉल बॉय के मुँह, गांड और चूत को चोदा जा रहा था.

राजेश मुझे दीवार के सहारे घोड़ी बनाकर जोर-जोर से लगातार चोद रहा था.

उन्होंने फिर से एक दो जोर के झटके दिए और मुझसे कहा- जल्दी बोलो, कहां पर अपना वीर्य निकालूं?मैंने कहा- बाहर निकाल दो, अन्दर नहीं … कहीं मैं गर्भवती हो गई तो गड़बड़ हो जाएगी. और अचानक मुंह से ओ याह … ओ याह … की आवाज निकालते हुए मेरी चूत की गहराई में अपना सारा माल निकाल दिया. प्रियंका चोपड़ा की सेक्सी फिल्म दिखाएंउसने अपना लंड पैंट से बाहर निकाल रखा था जो कि इतना कड़क था कि मेरी सलवार फाड़ने को तैयार था.

रोशनी के बाल उनकी मुट्ठी में थे, वो अपनी गांड हिला कर रोशनी के मुंह में धक्के देते हुए अपना मोटा लौड़ा पेल रहे थे।तभी दीपक जब झड़ने को हुए तो रोशनी के बाल खींच के लौड़ा निकाल के बोले- क्यों रोशनी जी, दिल्ली की शाम में ज्यादा मजा है या यहां इस कमरे में?सर, जहां आपका लंड मिल जाए, वही जन्नत!” रोशनी एक रांड की तरह बोली. मेरे घर वालों के जाने के बाद मैं आंटी के घर खाना खाता और रोज की तरह स्कूल जाता. वो एक काटन का हाउस कोट जैसा गाउन था जिसे आप घुटनों तक आने वाली नाइटी कह सकते हैं.

चाची बोलीं- हां हम जरूर साथ में नहाते, लेकिन तुम्हारे चाचा का फोन आने की वजह से मेरी नींद खुल गई. मैंने उसकी ब्रा से एक दूध निकाला और उसे अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.

मैंने एक हाथ ऊपर ले जाकर भाभी का दूध दबाया और पूछा- मजा आ रहा है भाभी?उन्होंने मुझे बताते हुए कहा- हां देवर जी, मुझे ओरल सेक्स बहुत पसंद है … आप बड़ा मस्त चूसते हो.

उसके बाद मेरे दोस्त ने मुझसे कहा- रोनित, सबको अन्दर आने को बोल और तू मेरे साथ टिकट लेने चल!मैं उसके पीछे चल दिया और बाकी दोनों अन्दर आ गए. विश्वेश्वर जी ने उसके गुलाबी होंठों को अपने मोटे मोटे होंठों से जीभर कर चूमा, चूसा और धीरे धीरे साथ में उसकी चूत मारते रहे. मैं ऐसे ही चूत में लंड डाले ही चाची के मम्मों के ऊपर धम से गिर पड़ा.

pooja सेक्सी फोटो मेरी ब्रा मुझे नीचे पड़ी मिली और उसमें सफेद सफेद चिपचिपा सा कुछ लगा हुआ था. फिर जब आंटी ने मेरे कपड़े उतारने शुरू किए, तब ख्याल आया कि लंड के लिए चूत तो सामने ही है, मुठ क्या मारना.

मेरे बार-बार वंदना के घर जाने से वंदना के मोहल्ले के लड़कों को हम दोनों के ऊपर शक होने लगा था क्योंकि मैं जब भी वंदना के घर जाता था, तो उसके मोहल्ले के लड़के मुझे बेहद शक की नजरों से देखने लगे थे कि वंदना और मेरे बीच में क्या रिश्ता है. एक दिन उसने मुझसे पूछा कि तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?मैंने कहा- नहीं है. उसकी सिसकारियों से कमरा गूँज उठा।वो सिसकारियां लेते हुए कह रही थी- आह अर्जुन … ऐसे ही करते रहो, मज़ा आ रहा हैं, ऐसा मज़ा कभी नहीं आया.

लोकल सेक्सी वीडियो सेक्सी

दोस्तो, लॉकडाउन में बहुत लोगों की नौकरी चली गई थी, बहुत सी फैक्ट्री और कंपनियां बंद हो गयी थीं. अब मैं सावधान रहने लगा और सिर्फ फोटो वगैरह देखकर अकेले में मुठ मारने लगा. मैंने ठीक वैसा ही किया और अपना लंड हाथ से पकड़ कर वंदना की चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया.

फिर हम नए कपड़े पहन कर तैयार हो गए और होटल से करीब 2:00 बजे को निकल गए. तो मैंने उनका हाथ पकड़ा और नीचे लिटा कर उल्टा होकर मैम के ऊपर लेट गया.

इससे चाची की गांड मेरे लंड के साथ दबाने लगीं और मेरा लंड टाईट हो गया.

मैडम मेरे अंडकोष को बार-बार अपने दोनों कोमल कोमल हाथों से सहला रही थी. अब आगे ममता भाभी को कैसे पटाया और चोदा, वो मैं अगली बार की चुदाई कहानी में लिखूंगा. आयशा भाभी ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही थी- आआह … आआ … हह … सस्स … सशस्स … हीईए!अब तक भाभी तीन बार पानी छोड़ चुकी थी और अब मैं भी पानी छोड़ने के करीब था.

मैंने सोच लिया था कि अब दुबारा से फोन आया तो आज मैं घोड़ी बना कर इसकी गांड मारूंगा. अब मेरी जगह रोहित ने ले ली थी और वो अपनी बीवी ज्योति की चुदाई रोहित कर रहा था. उधर स्टाफ क्वार्टर्स में नर्स सुरभि और डाक्टर स्वाति भी रहती थीं, क्योंकि उन दोनों का घर भी अस्पताल से दूर शहर में था.

भाभी ब्लू कलर की ब्रा ओर पैंटी पहनी थीं जो कि उनकी झीनी सी मैक्सी से साफ़ झलक रही थी.

सेक्सी वीडियो देहाती बीएफ वीडियो: मैंने उससे खुलकर कहा- देखो आज यहां जो भी होगा, उसका पता कभी किसी को नहीं चलने वाला. फिर मैं उनके मुँह से उठी तो वो बोलीं- कुतिया मेरी चूत का क्या!मैं कहा- साली छिनाल, लंड खा लिया अब भी चूत में खुजली हो रही है.

मैडम को थोड़ा आराम मिलने के बाद मैंने फिर से एक जोरदार झटका दे दिया. सच सच बोलो, तुम्हें मेरे ये चूचे पसन्द हैं?मैं- नहीं नहीं, ऐसा नहीं है भाभी. इतना सुनते ही उसने मुझे गोद में उठाया और बोला- कमरा कहां है?मैंने रूम की ओर इशारा कर दिया.

फिर मेरी लंड की तरफ आंख गई तो मेरा लंड तो तन कर पूरा टाईट हो गया था और कड़क हो गया था.

लेकिन इस बार धीरे धीरे मारा तो वो सिसकने लगी और गालियां देने लगी- बेनचोद … आआआ आआ आआअ … याआआअ … रुक जा … भाई … लग रही है … जल रही है अंदर … यार प्लीज यार एक बार रुक जा … ओओ ओह्ह या य्ह्ह हां … प्लीज यार प्ली … ओह्ह नहीं … रुक … ह्ह्ह ह्ह्ह्ह!मैंने धक्के तेज़ लगाने चालू कर दिए और एक हाथ से उसके गला दबा दिया. मैं- आहह प्लीज़ अब रहने दो, ऐसे ही रुक जाओ … प्लीज़ हिलो मत, दर्द हो रहा है. बारी बारी स्त्री परीक्षक अपनी जगह बदल रही थी, लंड से उतरने के बाद उनके लंड पर चांटा मारा जाता.