डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी बफ चुदाई वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सलोनी सेक्सी पिक्चर: डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ, उसके बाद वो मेरे कपड़े खोल कर मेरे लंड को चूसने लगी और फिर हम लोग 69 की पोज़िशन में हो गये.

जॉनसन सेक्सी वीडियो

मैंने फटाफट भाभी की घोसी में अपना लंड डाला और फटाफट सेक्स करके अपना पानी निकाल दिया. নাঙ্গী ফটোवो समझ चुका था कि मेरी चुदाई अच्छी तरह से हुई है और मुझे नींद आ रही है.

उन्होंने दरवाजा खोला, मैं तो उसको देखता ही रह गया यार… क्या मस्त माल थी. सेक्सी ब्लू पिक्चर भेजो हिंदीसविता भाबी के फूले हुए चूतड़, तने और कसे हुए दूध गोरी नारी, उनको जबरदस्त माल किस्म की चीज का दर्जा देते हैं.

तभी उसने एक अपनी एक उंगली मेरी गांड में डाल दी और गांड में उंगली को आगे पीछे करने लगा.डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ: भाभी के मुँह से सेक्स की बात सुनते ही मेरा लंड तन कर खड़ा हो गया और मेरा मन सेक्स करने को उत्तेजित हो गया.

तभी नगमा ने दरवाजा खोला, उसकी माँ चिल्लाते हुए बोली- क्या कर रही थी अन्दर?कुछ नहीं पेट सही नहीं लग रहा था.मैंने उसे फिर तैयार होने को बोला और वो मस्ती में एकदम से मुझे लिपट गई.

देसी जवान लड़की का सेक्सी वीडियो - डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ

मगर क्या तुम फिर से मेरी पत्नी बन कर मुझे माफ़ नहीं कर सकती?मैंने कहा- मुझे सोचना पड़ेगा मगर शायद नहीं हो सकेगा.फिर ब्रा को बिना खोले उनके बूब्स से ऊपर खिसका दिया और उनके सेक्सी मम्मे मेरे सामने एकदम बाहर आ गए.

अगर तुम मामूली सा इशारा भी कर दो तो अपनी गर्लफ्रेंड को छोड़ तुम्हारे पास आ जाएंगे. डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ फिर पागलों की तरह उसकी मम्मे से रस चूसने लगा ‘उम्मम्म… च्यउ… उउहह… उहह…’फिर बारी आई आखिरी उस आम की, जो उसकी चुत पे रखा था.

मैं उसको जगह जगह से चूस रहा था, कभी गाल, कभी मम्मे तो कभी उसकी गर्दन.

डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ?

अपना होम टाउन छोड़ कर इस तरह मैं अपनी डिअर स्वीट वाइफ नीना समेत बच्चों के साथ दिल्ली से सटे शहर फरीदाबाद में शिफ्ट हो गया. मैं तो उन्हें देखता रह गया, क्या लग रही थी यार… एकदम कयामत लग रही थी. जैसे ही मैंने उन्हें टावेल पकड़ाया, उन्होंने मेरे हाथ पकड़ कर अपने तरफ खींच लिया.

ये सब तुझे गर्म करने के लिए करती हूं ताकि तेरा लंड खड़ा हो जाए क्योंकि मुझे तुझे गर्म करने में बहुत मज़ा आता है. कुछ ने तो मुझसे मिलने की इच्छा भी जाहिर की, लेकिन मेरी पहली कहानी की घटना के बाद तो जैसे लाइफ ही बदल गई. मैं जानती हूँ कि जब जवान लड़का और लड़की साथ हों तो उनका दिल क्या करने को करता है.

अंकल मेरे लंड को पैंट के ऊपर से सहलाने लगे, मेरा लंड खड़ा हो गया था और मुझे मजा आने लगा. पहले मैंने उसे होंठों पर किस किया, फिर उसकी गर्दन पर किस करते हुए मैं नीचे आने लगा. पहले मैंने सोचा कि अब मुझे निकल लेना चाहिये लेकिन फ़िर दिल ने कहा कि इतनी मुश्किल से लंड नसीब हुआ है तो ऐसे जाना ठीक नहीं…उसने अपना लंड अंदर किया और बोला- चल… अंदर चल… यहाँ कोई आ जायेगा.

मैं- भाभी मजा आता होगा ना?भाभी- क्यों तुझे भी कराना है?मैं- नहीं बाबा बस ऐसे ही…भाभी- मन में तो लड्डू फूट रहे हैं… बोल भी दे माधवी. जब तक वो कुछ सोच पातीं, उसने माँ को पलंग पर चित लिटा दिया और बिना समय गंवाए अपना खड़ा हुआ लंड अपनी माँ की चूत में घुसेड़ दिया.

जब चुत में लंड जाने का रास्ता बन गया, तब मैंने धीरे से एक झटका दिया.

लन्ड साफ होने के बाद आशीष मेरे ऊपर से हट गया।अब बालू मुझे बोला- कि घोड़ी बन जा वन्द्या!और मैं लन्ड डलवाए डलवाए घोड़ी बन गई, अब जोर जोर से पीछे की तरफ से बालू मेरी गांड में लन्ड डाल रहा था और पीछे से दूध पकड़े हुए बहुत जोर से दबा रहा था.

मैंने उसका मुखड़ा हाथों में लेकर उसके रसीले होंठ चूसे तो उसने भी आनन्दमग्न होकर चुम्‍मे में मेरा पूरा साथ दिया. कुछ पांच मिनट की चुदाई में के बीच में ही भाबी ने अपना सारा पानी मेरे लंड पर छोड़ दिया. एक स्कर्ट डाली जो काफ़ी खुली हुई थी और घुटनों के काफी ऊपर तक की थी.

बेहद कामुक इतनी कि देखते ही लौड़ा अकड़ अकड़ के पैंट से बाहर कूदने को करे. डॉली ने कहा- अभी तो हम इस घोड़े की सवारी कर रहे हैं और फिर एकता भी आ गई है, तो अभी तो इस को छोड़ नहीं सकते. इधर पापा से माँ की कुछ कहा सुनी हुई थी, जो मुझे नहीं पता था कि क्या बात है, मगर इतना तय था कि वो बात आशीष को लेकर ही थी.

मैंने अपने लंड को उसकी आँखों के सामने लहराया तो उसकी आँखें फ़ैल गईं.

मैंने उसके चुचे दबाने शुरू कर दिए और उसकी घुन्डियां मुँह में लेकर चूसने और काटने लगा. फिर उसके एक बोबे पे हाथ रखके उससे पूछा- इन्हें चूसा है उसने?उसका जवाब हाँ था. फिर उस रात भर सोचता रहा कि भाभी की चूत कैसे लूँ!कब नींद आई पता ही नहीं चला.

उन दोनों की उम्र में काफी फासला होने के कारण उन दोनों में हंसी मजाक नहीं होता था. उसने एक जोरदार झटका मारा और पूरा लंड चूत की दीवारों को चीरता हुआ अन्दर तक चला गया. दस मिनट तक उसी स्पीड में दौड़ने के बाद वो मेरे करीब आईं, मशीन को बंद किया और मुझको सहारा देकर चेयर पे बिठाकर बोलीं- बैठो यहां पे… मैं तुम्हारे लिए प्रोटीन शेक लाती हूँ.

भाबी झट से तैयार हो गईं और मैं भैया भाबी तीनों एक ही बाइक पर बैठ कर चल दिए.

पहले भाबी की आँखों पर पट्टी बंधी और भाबी ने मुझे ही पकड़ लिया और मेरा टॉप जानबूझ कर खींचते हुए फाड़ दिया. चेतना अब उठ कर अपने को साफ़ करने बाथरूम चली गयी और राजू भी अपने धोती कपड़े ठीक ठाक करके नीचे चला गया।जो भी हो… नौकर की लंड चुसाई का शानदार नजारा देखकर हम सब सहेलियों का भांग का नशा डबल हो गया और हम वहीं बेड पर एक दूसरी से चिपक कर सो गई।मेरे प्रिय पाठको, आपको मेरी सेक्स कहानी कैसी लग रही है, मुझे मेल करके बतायें!मेरा मेल आईडी है[emailprotected]कहानी का अगला भाग:मेरा नौकर राजू और मेरी बहन-4.

डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ मैंने दीदी की पीठ को सहला कर और चूम कर कहा- आह एकदम चुदक्कड़ रंडी लग रही हो जानूं. भाभी अचानक से भलभला कर झड़ने लगीं और उन्होंने मेरे सर को अपनी जाँघों की कैची जैसी पकड़ से दबोच रखा था.

डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ यहाँ पर तुम्हें कोई भी देखेगा तो तुम्हें नहीं पता लगेगा, जिससे तुम शर्मा जाओ और दूसरा फायदा ये है कि यह नहीं पता लगेगा कि चुदाई के समय किस का लंड अच्छा और ताकतवर है. फिर सत्य नारायण को इंग्लैंड में एक बहुत अच्छी जॉब मिल गई तो ये लोग वहां चले गए.

दीदी ने मुझसे अपने थन उभारते हुए पूछा- वीशु, क्या मैं तुम्हारे लंड को छूकर देख सकती हूँ?मैंने कहा- हाँ हाँ दीदी, क्यों नहीं… मेरा लंड तो आप जैसी औरतों और लड़कियों के लिए ही तो भगवान ने मुझे दिया है.

डब्ल्यू डब्ल्यू एक्स बीएफ बीएफ

फिर हम दोनों ने एक दूसरे के होंठों को चूसा और सहर ने मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ लिया और उसको सहलाने लगी. थोड़ी देर बाद जब वो बाहर निकला तो वो मेरी तरफ देखकर स्माइल करने लगा. उसने अपने ब्लाउज का ऊपर का एक बटन भी खुला रखा था, जिससे उसके स्तन काफी बाहर को झांकते हुए दिख रहे थे.

उसके पापा ने मुझे खुश होकर धन्यवाद कहा, तभी उसकी मम्मी ने खुश होकर मुझे खाना खा कर जाने को कहा. मैंने आखिरी झटके काफी जोरदार मारे और झड़ने के बाद मौसी की चूत में लंड डाले काफी देर तक लेटा रहा कि मेरा वीर्य चूत से बाहर ना बहे. मैंने उसकी ठोड़ी के नीचे हल्के से हाथ लगाया और उसके चेहरे को अपने होंठों के पास ले आया.

फिर दरवाजे के नीचे से भाबी ने एक चिठ्ठी डाली, जिसमें लिखा था- मुझे माफ कर देना आकाश, मैंने उस दिन मजाक में तुमसे गुस्सा किया.

दिशा बोल रही थी- इधर मेरे घर की रसोई की तरफ देखो, मैं अभी रसोई में हूँ और चाय बनाने आई हूँ लेकिन तुम नंगे होकर क्या कर रहे हो?तब मैंने तौलिये से अपना लंड छुपाया और उससे कहा- मैं अपने कपड़े चेंज कर रहा हूँ। तुम अपना काम बताओ?तो दिशा ने जवाब दिया- आपको दीदी पूछ रही है कि आप खाना कितनी देर में खाओगे?मैंने कहा- अभी मेरे पेट में चूहे कूद रहे हैं. एक हाथ से वो मेरे मम्मे को इतनी जोर से मसल रहा था कि बस दर्द किसी भी पल सहन से बाहर हो जाए और दूसरे मम्मे के निप्पल पर उसकी जीभ मीठी मीठी सिहरन दे रही थी. उसके पापा एक बड़ी कंपनी में जनरल मैनेजर थे, इसलिए ये सब उनके लिए सामान्य था.

जिसमें से बाकी के तो उसे मिलेंगे ही… और बताई हुई रकम से भी 10% निकाल लेगी. और सुन जाने से पहले यह सुनती जा कि कल जैसे ही मेरा फोन आए, बिना कुछ सोचे बिना चड्डी ब्रा पहने आ जाना. आज मेरे पास लाल कलर के डीप नेक के गाउन में मेरे सपनों की रानी लेटी थी.

यह सुनते ही वो सुबकियां ले ले कर रोने लगी और वो बार बार सॉरी बोल रही थी. लिहाज़ा मेरी होंठों और जीभ का सफ़र उस पर्वत की चोटी पर पहुँचने से पहले ही रुक गया.

और मैं आपसे बात तो कर रही हूं ना… फिर आप ऐसा क्यों कह रहे हो?उसने थोड़ा रुआँसी होते हुए कहा. मेरे बैडरूम में जाते ही रश्मि अन्दर आ गई और बोली- राज साहब! मेरे और सिमरन के बीच कुछ भी छिपा नहीं है, उसने सब कुछ बता दिया है, तो क्या आप मुझे सूखा ही रखेंगे?यह सुनते ही मैंने रश्मि को बाँहों में ले लिया और उसके होठों को चूसने लगा. कुछ देर गांड में लंड का मजा लेने के बाद मैंने उनकी चुत में अपने लंड को घुसेड़ दिया और उनकी धकापेल चुदाई शुरू हो गई.

तभी मैंने उनकी गांड के छेद में उंगली डाल दी, तो पायल भाभी उछलने लगीं और बोलीं- ये क्या कर रहे हो?मैंने कहा- ये भी मसाज़ ही है.

यह कहानी आज से 3 साल पहले यानि जनवरी 2015 से शुरू हुई थी तब मैं इंजीनियरिंग दूसरे साल का छात्र था और जयपुर में अकेले ही रेन्ट पे रहता था, मेरी एक गर्लफ्रैंड थी जिसका नाम सपना (बदला हुआ) था. तू पूरा लंड बाहर निकाल कर इसकी चूत को किस करके चूस, अपना लंड भी इसके मुँह में डाल कर इससे चुसवा. मैं उनके इस रूप से एकदम से सहम गया और मैं बहुत डर गया था, मैंने हाथ जोड़ कर सॉरी बोला और तुरंत वहां से भाग गया.

हम दोनों लोग एक दूसरे को देख कर मुस्कुराने लगे और केमिस्ट भी हम दोनों लोगों को देख कर मुस्कुरा रहा था. जब उन्होंने मनोरमा की तरफ देखने की कोशिश की तो वहाँ पर मैं थी और मनोरमा को बाहर जाने के लिए बोला जा चुका था.

”इस पे जरा शर्माते हुए नीतू बोली- ऐसा नहीं है सलीम भैया… मैं इतनी भी ग्रेट नहीं हूँ!उसकी तारीफ से नीतू शर्मा कर लाल हो गयी थी। अपने पति के अलावा किसी ने भी उसकी इतनी तारीफ नहीं की थी।इतना स्वादिष्ट खाना खिलाने के लिए मैं तुम्हें एक गिफ्ट दे कर थैंक्स बोलना चाहता हूं। पांच मिनट में, मैं तुम्हें घर से लाकर देता हूं, रुको!” ऐसा बोलकर सलीम उठने लगा. दो दिन बाद मैं शाम को कॉलेज से वापस आया तो मैंने देखा कि एक बेहद ही खूबसूरत और स्टाइलिश लेडीज सैंडल का जोड़ा मकान मालिक के दरवाजे के पास रखा था. ’ निकला और मॉम ने अपने पैर हवा में फैलाकर अपनी आँखें बंद कर लीं और ‘ऊह आह.

बीएफ वीडियो एचडी में बीएफ

तभी मैडम ने आवाज़ दी- प्लीज़ थोड़ी सी रोशनी करे रखना, मुझे अँधेरे से डर लगता है.

फिर मैंने उसे उस आदमी के कानों को काटने को कहा, उसने मेरे कान को काट दिया. फिर वो अपनी माँ बिंदु को देख कर बोला- माँ इसमें यहाँ तो कुछ है ही नहीं!बिंदु माँ ने जवाब दिया कि अब तू आ गया है तो मुँह में भर कर खींच खींच कर इसके नींबुओं को संतरा बना दे ना. मेरी निगाहों को पढ़ कर चाची ने मुझसे अपनी नजर चुरा ली और हंसने लगीं.

अधखुले आद्र और गुलाबी होंठों में बालों पर चढ़ाने वाला काला रबर-बैंड और बालों में बिजली की गति से चलती दस लम्बी सुडौल उंगलियाँ।यकीनन मेरी कुंडली में शुक्र बहुत उच्च का रहा होगा तभी तो रति देवी मुझ पर दिल खोल कर मेहरबां थी. जो आज उनके घर का चिराग है, वो मेरा बच्चा है। यह सिर्फ़ हम दोनों को ही पता है।लेकिन उस दिन के बाद मैंने चाची जी के घर जाना बंद कर दिया। उसके बाद मैं दिल्ली आ गया।तो ये थी मेरी आप बीती चोदन कथा!प्राइवेसी के कारण मैं अपना इमेल नहीं दे रहा हूँ. सेक्सी एल्बम वीडियोमैं उनको किस करते करते ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाने लगा, उनकी चुत को ज़ोर ज़ोर से मेरे लंड से पेलने लगा.

दूसरा बूब खाली करके मुँह ऊपर किया तो उनकी गुलाब की पंखुड़ियों जैसे होंठ का रसपान करने लगा. तो मॉम अपने घुटनों को ज़मीन पर रखकर नवीन के ऊपर झुक गईं और अपने दोनों हाथों से नवीन की लुंगी.

मैंने अपने एक हाथ से उसके ब्लाउज के हुक को खोल दिया और उसके मम्मों को दबा दबा कर मसलने लगा. मैंने अपनी स्पीड को बढ़ा दिया और अपना रस आंटी जी के मुँह में डाल दिया. लेकिन मेरी सलवार मेरे चूतड़ों के नीचे दबी थी, इसलिए ज़्यादा नीचे नहीं हो सकी.

मोहन ने जैसे मुझे देखा, खुद झटके से मेरे सर से टोकरी को नीचे रख दिया और मुझे बांहों में लेकर चुम्बन लेने लगा. फिर उसके एक बोबे पे हाथ रखके उससे पूछा- इन्हें चूसा है उसने?उसका जवाब हाँ था. इस बार भी कह रहे थे कि होली में साली से मिल कर भी आया और चोद कर भी आया.

आपको ऐसा बोलते शर्म नहीं आती?मैंने बोला- अब तुमको ये करने में शर्म नहीं आती तो मुझे बोलने में क्यों आएगी, सीधे बताओ कौन था वो लड़का?वो फिर से अनजान बनने की कोशिश करने लगी और बोली- कौन लड़का?हालांकि उसके चहरे से घबराहट साफ दिखाई दे रही थी.

अगले ही पल मैंने गप से उसका लंड मुँह में भर लिया और अब मैं उसका लंड चूसे जा रहा था, उसका लंड अपनी औकात में आ गया था. और मुझे और कस के पकड़ रही थी, वो भी मेरा खुल कर पूरा साथ दे रही थी.

और फिर मैंने पूनम की चूत में प्लास्टिक का लण्ड डाला तो पूनम और तेज आहहहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… करने लगी और बोली- दीदी, आज तो बहुत मजा आ रहा है… इतना मजा तो मेरे पति नहीं दे पाये मुझे कभी यार! तुमने तो मेरी चुदाई की इच्छायें पूरी कर दी!और वो अपने चूतड़ उठा उठा कर अपनी चूत मेरे मुँह में पेलने लगी. विवेक ने उसको गोल्डन ब्रा पहनाई और पेंटी को देख कर बोला कि अब ये भी पहनोगी. मेरी हॉट सेक्स स्टोरी में एक एक घटना सत्य है, पागलपन से भरी है, ऐसा कि कोई सोच नहीं सकता है। जो कोई सोच नहीं सकता है, उसे मैं कर चुकी हूं.

जब सामने बैठ कर टांगों को ज़रा सा भी ऊपर करती थी तो चूत पूरी नज़र आती थी क्योंकि स्कर्ट के नीचे भी कुछ नहीं था. भाभी ने पचास का नोट निकाला और कहा- रूको… हम दोनों को वापस भी छोड़ देना. उनकी 32 इंच की चुची, जो डीप नेक के गाऊन से बाहर निकलने को बेताब दिख रही थीं.

डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ जैसे ही मैंने अपना मेनगेट खोला तो वहाँ पड़ोस की रहने वाली ज्योति (बदला हुआ नाम) खड़ी थी. मैं कुछ नहीं बोल पाई तो बोला- आओ इधर और सीधी खड़ी हो जाओ और कुछ डांस करके दिखाओ जो कुछ देर पहले तुमको कुसुम ने सिखाया था.

जानवर वाला बीएफ जानवर वाला बीएफ

मैं उसके मम्मे चूसने लगा तो उसके कंठ से ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ निकलने लगा. सगे भाई बहन की चुदाई की अब तक की कहानीदीदी का नंगा बदन देख जागी मेरी कामुकता-1में आपने पढ़ा था कि दीदी मुझे चूमने लगी थी. मैंने नताशा को नर्म गद्दे पर बिठा दिया और स्वयं खिड़की के सामने की सोफा चेयर पर बैठ गया, बोला- जाइए दोस्तो, हमारी रानी को खुश कीजिए!आर्थर और एरिक नताशा के नजदीक आ गए और नताशा बेड पर बैठ कर अपनी लाल कच्छी को एक साइड खिसकाती हुई उन्हें अपनी सुन्दर गुलाबी, बालरहित, क्लीन शेव्ड चूत के दर्शन कराने लगी.

बालू मेरे पति की एक शादी पहले हो चुकी थी और शादी के दिन से ही उन दोनों की नहीं बनी थी तो वे अलग अलग हो गए थे. धीरे से मेरे लंड को किस करते हुए कहा- आज रात मैं जैसे कहूँगी, वैसे ही करना, ओके. क्सक्सक्स वीडियो हद सेक्सीलेकिन मैंने समय की नज़ाकत को समझते हुए उसे यूनिवर्सिटी चलने को कहा और फिर हम दोनों बाइक से उसके कॉलेज जा ही रहे थे कि रोड पर गड्ढे होने के कारण मैंने उसे पकड़ने को कहा.

उसका रंग दूध से भी ज्यादा गोरा मतलब ‘हाथ लगाओ तो मैली हो जाए’ ऐसा था.

उसने कहा- रोड के पास हमारे खेत हैं, वह पर मिलूँगी!फिर मैं बस में से वही रोड पे उतर कर उस से मिलने चला गया, मैं उससे बात करते करते खेतों में पहुँच गया. उनके सलवार खोलने पर उनकी पायल की आवाज ने मुझे वहीं पर मुठ मारने को मजबूर कर दिया और मेरे मुँह से आह आह की हल्की लेकिन लगातार आवाज आने लगी.

बस के ड्राइवर व कन्डक्टर ने उनके पैर छुए व कहा- दादा आपकी सवारी फ्री जाएगी. दोस्तो, आज मैं आप लोगों को अपनी कहानी सुनाने जा रही हूँ, जिसे मैंने अभी तक किसी से भी नहीं बताया है. फिर उसने मेरे गाऊन को फाड़ दिया और मैंने उसकी नाइटी को फाड़ कर हटा दिया.

मैं अपना हाथ उसके पीछे ले गया और उसकी ब्रा को खोल कर अपनी सगी बहन की चूचियों को ब्रा की कैद से आजाद कर दिया.

आज के गेम से मेरी झिझक कम हो गई थी और भाबी मेरे से बहुत मज़ाक करने लगी थीं. अब मैं बिना देर किए उसकी चुत पर पिल पड़ा और एक ज़ोर का झटका दे मारा. मैं तो जैसे उसमें खो ही गया, वो खड़े खड़े ही अपनी चुत चौड़ी कर रही थी, पर मुझे कुछ दिख नहीं रहा था.

सेक्सी फिल्म एचडी मूवी हिंदीआआह कोमल ये कोमल हाथ मेरे लंड को छूते हैं तो लंड में तूफान आ जाता है. इस दौरान हमने एक दूसरे के नंगे फोटो भी शेयर करे।उसका नंगा बदन देख कर मुझे तो उसको चोदने की लत सवार हो गई, उसके मम्मे देख कर तो दिल करता कि बस इन्हें अभी चूस कर निचोड़ लूं.

इंडियन गर्ल्स की बीएफ

दो पैग ड्रिंक करने के बाद कामिनी विवेक से बोली- मैं तुम्हारे लिए कुछ लाई हूँ. नमस्ते दोस्तो, मैं किरण एक बार फिर से अपनी पिछली सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर आया हूँ. इस पर वो बोली- मैं आपको कैसे दिखा सकती हूँ?मैंने कहा- जब उस लड़के का पूरा लंड ले सकती हो, तो मुझे सिर्फ अपनी चूत नहीं दिखा सकती, अगर ये बात को राज रखना है, तो तुम्हें मुझे यकीन दिलाना ही होगा कि तुमने अभी तक चुदाई नहीं की है.

मैं कुछ देर के बाद मकान मालिक के साथ उसकी कार में बैठकर शॉपिंग करने चल दी. इसी प्रकार पैदल घूमते हुए हम गार्डन रिंग रोड तक आ गए और आगे हमें दाएं अपने घर की ओर जाना था. उसने मुझे चुदाई पूरी होने रुकने का कहा और मैं उसकी चुदाई पूरी होने का इन्तजार करने लगा.

फिर मैं उसकी साड़ी के अंदर हाथ ले गया और उसकी चड्डी में हाथ डाल कर उसकी चूत को रगड़ने लगा, भाभी की चूत के ऊपर बाल नहीं थे, शायद उसने आज ही साफ किये होंगे. अंत में जब मैं झड़ने को हुआ तभी मैंने प्रीति से पूछा- प्रीति, अब मैं झड़ने वाला हूँ, इसलिये बताओ कि मैं अपना बीज कहाँ निकालूं?प्रीति ने कहा- वीशु जी, अभी कोई खतरा नहीं है इसलिये आप अपने लंड की पिचकारी मेरी चूत में ही छोड़ दो।उसके बाद मैंने करीब 3 मिनट तक धक्के और मारे होंगे कि मेरे लंड ने प्रीति की चूत में अपनी पिचकारी छोड़ दी और मैं उसके ऊपर धम्म से गिर पड़ा. जैसा कि मैंने बताया कि मैं जब भी अपने सहेली के रूम पर जाती थी तो उसका मकान मालिक मुझसे खूब बातें करता था.

उसने अपने दोनों हाथों से बैड की चादर को भींच लिया और कमर को ऊपर करके चुत मेरे मुँह से सटा कर बोलने लगी- आह और मत तड़पाओ… चोद दो मुझे…मैं उसकी चूत चाटे जा रहा था. उसने प्यार से फ़िर मेरा एक लम्बा सा चुंबन लिया, फिर बोली- अच्छा राजे मैं ज़रा बाथरूम जाकर आती हूँ… बड़ा प्रेशर बन रहा है चुदाइयों के बाद… यूँ गई और यूँ आयी!अलका रानी ने जैसे ही उठने का प्रयास किया मैंने उसे रोक दिया- रुको रुको मेरी जान… अभी एक ज़रूरी काम तो हुआ ही नहीं… तेरा स्वर्ण रस पीना बाकी है न… इस ग़ुलाम के होते हुए मैडम को बाथरूम जाना पड़े ये तो हो ही नहीं सकता.

मैंने अब तक बहुत सी लड़कियों के साथ सेक्स किया था क्योंकि मुझे सेक्स करने का बहुत शौक था.

पर सच कहूँ तो उनकी गंदी चुदाई देखने की मुझको भी आदत पड़ गई थी और मजा भी आने लगा था. राजस्थानी सेक्सी वीडियो घाघरा”भाईजान, अगर आपने पहले कहा होता तो मैं आपकी मुराद पहले ही पूरी कर देती क्योंकि मेरी सभी सहेलियाँ अपने अपने छोटे बड़े भाईयों के साथ शादी वाला प्यार करती हैं और उनकी कहानी सुन सुन कर मेरा मन भी करता था कि काश मेरे प्यारे बड़े भैया मुझे भी खूब प्यार करें. नागपुर सेक्सी फिल्म वीडियोमुझे लगा था कि ये लंड को धीरे धीरे अन्दर करेगा मगर उस जालिम ने तो चुत तो फाड़ कर ही रख दिया. मैंने एक बार एक पोर्न वीडियो में देखा था कि आदमी अपने लंड को आगे पीछे करके औरत की चुत में लंड डाल कर मजा लेता है.

मेरा नाम राज है ये भाभी सेक्स स्टोरी फरवरी 2016 की है, ये मेरा पहला सेक्स अनुभव था.

मेरे लंड को ज़ोर ज़ोर से हाथों से हिलाने लगीं और गपा गॅप चूसने लगीं. उसने मुझे कई बार कहने पर भी अपनी फोटो नहीं दिखाई, न ही कभी वीडियो चैट हुई. तो इन पन्द्रह दिनों मेंइंडियन सेक्सी वाइफका क्या हाल होता होगा?उस समय भाभी के कपड़े देखकर मुझे कुछ कुछ हॉट सा फील हुआ था कि भाभी ने बहुत ही ज्यादा एक्सपोज करने वाले कपड़े पहन रखे थे.

उसने कहा- जब प्यार किया तो डरना क्या? कल जैसे ही सब चले जाएंगे, मैं तुम्हे फ़ोन कर दूंगी. मैं मेरी रानियों को मेल कर देता था और वो अपनी विशेष सहेलियों को पढ़ने दे देती थीं. फिर हम दोनों अलग हुए और एक दूसरे की आँखों में आँखें डालकर देख कर मुस्कुराने लगे.

सनी लियोन के बीएफ एक्स एक्स

मेरा मूड बिगड़ने लगा और मामी के बड़े बड़े बूब्स भी बाहर की तरफ झाँक रहे थे. मैंने बहुत अच्छे से मेकअप किया, आज मैंने रेड कलर की स्कर्ट और ऊपर व्हाइट टॉप पहना नीचे मैंने ब्रा नहीं पहनी, सिर्फ पैंटी पहनी और जल्दी सवेरे 9:00 बजे मम्मी से झूठ बोलकर बहाना बनाकर मैं सतना गई, सुरेंद्र जीजा अपनी बाइक लिए खड़े मिले, हम मकान मालिक के घर पहुंच गए. ऐसा करते हम दोनों 69 के पोजीशन में आ गये। हम दोनों एक दूसरे के मुख में झड़ चुके थे, फिर मैं उठ सीधा हुआ और अपना लंड भाभी की चूत रख दिया.

क्योंकि आप भी मेरी तरह उल्लू ना बनें, ये बात अगर किसी को अफवाह लगती है तो मेरे पास डिपाजिट की बैंक रसीद है, जो मैं दिखा सकता हूँ.

वहां ठीक पंखे के नीचे उनको खड़ा कर दिया और हैंडकफ से उनको बाँध दिया.

वास्तव में नीना ने मुझे चुदाई का ऐसा चस्का लगा दिया है, जो इस उम्र में भी जब तक एक राउंड चुदाई न कर लिया जाय, नींद कोसों दूर रहती है. मैंने उससे बोला कि अगर तू बुरा ना माने तो मैं भी तेरी चादर में आकर लेट जाऊं. सपना चौधरी के गाना डाउनलोडअपने मुँह से मेरा बड़ा लंड कब तक सहतीं, सो लंड बाहर निकाल दिया और मेरे ऊपर आकर मेरे लंड पर बैठने को हो गईं.

जब भी मैं उसके दाने को चूसता तो वह टांगों को और चौड़ा करके आई… आई… करके चिल्लाने लग जाती थी. वो बोली- कितनी टाँगें फैला फैला के लोगे… चूत 35 की और गांड 42 की हो जाएगी. पुलिस का नाम सुन के उन लोगों की फटने लगी… उनमें से जो ज्यादा ऐंठ रहा था, वो बोला- हाँ अभी तो जा रहा हूँ, पर किसी दिन तेरी चूत चखने जरूर आऊंगा.

यह बात लगभग 8 वर्ष पुरानी है यानि मेरी कहानी 8 साल पहले शुरू हुई थी उस समय मैं 18 वर्ष के लगभग था और मेरी उस समय 12 वीं की परीक्षाएं समाप्त हुई थीं. बार बार मेरी आँखों के सामने तेरा नंगा बदन आ रहा हैसोनिया- भैया ये नहीं हो सकता प्लीज सो जाओ.

वो मेरा सिर पकड़ कर जोर से अपनी चुत पर दबा रही थी और जोर जोर से चिल्ला रही थी.

उसने मेरे खड़े होते लंड को देख लिया था, तो शिखा अपनी चूचियों को झुका कर मुझे दिखाते हुए बोली- मैं वही सीमा हूँ जिससे तू ऑनलाईन सेक्सचैट पे पूरी रात बात करता रहता है. वो बहुत गुस्से में थी, मैंने उसको समझाया और सब कुछ सच सच बता दिया कि मेरी गर्लफ्रैंड है. मैंने भी झटके के साथ नीलम की ब्रा फाड़ दी, अब नीलम भाभी बिल्कुल नंगी हो गई थीं.

हार्ड हार्ड सेक्सी वीडियो इतनी देर में विवेक की आवाज आई- कहां हो स्वीटू?वो बोली- आ रही हूँ जानू. रात को मेरी आँखों में नींद नहीं थी, बहुत सोचने के बाद मैंने उसी पुलिस अधिकारी से बात करने की सोची, जिसने मुझे अपनी बहन कहा था.

मगर इधर बिंदु की सूजी हुई चुत को देख कर मेरी चुत भी लपलापने लग गई थी कि उसके साथ भी ऐसा ही हो. मैंने वो नम्बर फ़ोन में सेव किया, वो नंबर व्हाट्सएप पर थे तो मैंने व्हाट्सएप पे उसको मैसेज किया. मैंने लंड के सुपारे को भाभी की चुत के अन्दर धकेला और भाभी के ऊपर पूरा चढ़ गया.

बीएफ एचडी में सेक्सी वीडियो

मेरा हाथ सीधा मेरी चुत पे चला गया और मैंने अपनी चुत में उंगली शुरू कर दी. वो मेरे करीब आईं और भाभी मेरे लंड को पकड़ कर उसमें सेलोटेप से 50 ग्राम का तोला बाँधने लगीं. ”शायद राघव भी मेरी तरफ आकर्षित हो रहा था, केले लेने के लिए हाथ खोलते ही उनकी नजर फिर से मेरे मम्मे पे जा अटकी।तभी मैं बोली- पांच दिन के लिए रुकेंगे!चलो मैं आपको हमारी खेती, गाय और बैल दिखाता हूँ.

और आज मेरा इंतजार ख़त्म होता दिख रहा था और मेरे मन में भी अब उसको चोदने के सपने आने लगे थे. पर खुद सोचा कि कहाँ यार एक बार भी सेक्स करने को नहीं मिलता, यहाँ खुद ही मौके और जगह बनती जा रही है.

दोनों ने एक दूसरे की चुत और लंड को मज़े से चूसा, जो पूरी तरह से कैमरा में रिकॉर्ड हो चुका था.

किसी तरह रात निकल गई और मैं सुबह तक सोती रही, मुझे भैया ने जगाया तब मैं ज़गी. आपको मेरी यह सच्ची कहानी कैसी लगी, माफ़ कीजिएगा अगर कोई ग़लती हुई होगी तो… क्योंकि मैंने पहली बार यहाँ अपनी कहानी को पोस्ट किया है. मैंने अपनी ब्रा और पेंटी उतार दी क्योंकि इनकी वहाँ कोई ज़रूरत नहीं थी.

फिर मेरे लंड से माल निकलने हो हुआ, जिसे मैंने चाची की चूत में ही गिर जाने दिया. एकदम से मोटा लंड घुस जाने से ऋतु की आँखों से पानी गिरने लगा और वो कराहने लगी. मैं अपने खड़े होते लंड को दबाने की कोशिश करने लगा, मगर वो और दर्द करने लगा.

हम सभी हक्के-बक्के रह गए!तभी मुझे याद आया कि अंतिम बार मैंने किचन के टीवी पर अपनी पेन ड्राइव लगा कर नताशा को रिया सन की शानदार पोर्न फिल्म दिखाई थी.

डब्ल्यू डब्ल्यू इंडियन बीएफ: चाचा को उनके मित्रों ने ढेर सारी भांग की ठंडाई पिला दी, जिससे वो गहरी नींद में सो गए. दोस्तो, मुझे सेक्स से पहले फोरप्ले बहुत पसंद है, मैं सेक्स से पहले अपने पार्टनर को फॉरप्ले में बहुत मजा देता हूं, जिया के साथ भी यही हुआ, उसकी ब्रा से उसके मम्मे आजाद करने के बाद मैं हापुस आम की तरह उन पर टूट पड़ा, और मुझे अच्छे से याद है कि मैंने कम से कम आधा घंटा उसके मम्मे चूसे होंगे.

एक बार फिर गांड पर थूक लगाया और लंड का सुपारा टिका कर धक्का देकर अन्दर कर दिया. आशीष बोला- मैं अब झड़ने वाला हूं। बता वन्द्या, मेरा लन्ड रस पिएगी या चूत में ही डाल दूं?मैं बोली- अपना लन्ड रस मुंह में मेरे डालो!और सच में आशीष ने मेरे मुंह में लंड डालकर अपना पूरा रस मेरे मुंह पर भर दिया, मैंने उसे चाट लिया. उन्होंने मुझे घोड़ी बना दिया और अपना लंड मेरे गांड के गड्डे पर रख दिया और उसे हिलाने लगे.

हमारे राजस्थान में एक मैजिक मोमेंट के नाम से बोतल आती है, उसमें महक नहीं आती है.

रात को लगभग दस बजे माँ ने जोर से बोला कि पानी पी कर सोना और अपना रूम बंद कर लिया. मैं अंकल के लंड का रस गटक गया और उनके लंड को चाट चाट कर साफ कर दिया. लगभग 5 मिनट तक इस पोज़ में चुदाई करने के पश्चात् गांड के रसिया आर्थर ने नताशा को बिना अपने ऊपर से उठाए, हाथों से घुमा कर उसकी कमर अपने चेहरे के सामने कर दी और फिर आराम से अपने एक हाथ नताशा की जांघों के नीचे डाल ऊपर की तरफ उचकाते, दूसरे हाथ से लंड को उसकी गांड पर निशाना साध अन्दर घुसेड़ दिया.