बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में

छवि स्रोत,देसी गर्ल्स बफ

तस्वीर का शीर्षक ,

पटना का सेक्सी: बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में, हेमा आगे कुछ बोलती तब तक सुमन वहां से निकल गई और सीधे टीना के घर जा पहुँची.

मोटी आंटी की

बस मेरा भाई तो पहले दिन से ही उनके पीछे उन्हें चोदने के लिए पड़ गया. एक्स एक्स एक्स सेक्सी सुहागरातफिर मैंने उनकी ब्रा भी खोल दी और उसके दोनों बूब्स को जोर जोर से दबाने लगा, वो चीखने लगी, वो भी मजे ले रही थी.

सुमन- दीदी क्या होगा, अब पापा किसी और के साथ बिल्कुल नहीं करेंगे वरना इतने साल वो ऐसे तड़पते नहीं. राजस्थानी सेक्सी वीडियो नंगाकुछ देर बाद उसने अपनी पकड़ ढीली की और मैंने उसका लंड चूसना शुरू किया.

जैसे ही उसने अपना मुँह खोला मैंने लंड के सुपारे को उसके मुँह में डाल दिया.बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में: गोपाल वहां से चला गया नीतू ने उसको चाय दे दी और तब तक मोना भी उठ गई थी.

इससे वो और मस्त हुए जा रही थी, वो मुझे बोल रही थी- जल्दी डालो ना प्लीज़.उसका पति दलेर सिंह काफी सालों से लंदन में था और उस भाभी की हरियाली चूत को सूखा करने के लिए उसे पीछे छोड़ के गया था वो.

બીપી વિડીયો - बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में

लगभग दस मिनट में मेरा काम हो गया, पर इससे पहले उसका स्खलन भी एक बार हो चुका था.दो बजे मनोज को पेपर देने जाना था, नवीन उसको परीक्षा-केन्द्र छोड़ कर आ गए.

मेरी आँखों के सामने मानो ब्लू फिल्म फ़ास्ट फॉरवर्ड में चलने लगी थी!इधर नताशा काफी तेज गति के साथ स्वान का लंड चूसे जा रही थी, तो उधर एंड्रयू कुत्ते की तरह लपड़-2मेरी बीवी की चूतचाटने में लगा था!कुछ देर बाद शायद एंड्रयू का मुख थक गया और उसने मेरी रूसी सुन्दरी के पैरों को सीधा कर उसे बाईं करवट लिटा उसके पीछे लेट कर अपने एक हाथ से लंड सीधा कर मेरी प्राणप्यारी बीवी की चूत में घुसेड़ दिया. बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में मैं बोला- बोल मेरी रंडी भाभी… चुत के इतना बड़ा लंड काफ़ी है या फिर गधे के नाप का लेना है?वो बोलीं- आह क्या मस्त लंड है तुम्हारा… मुझे पहले लंड चाटने दो.

जब वासना का ये खेल खत्म हुआ, तब नीतू को अहसास हुआ कि वो जैसे मोना की चुत का पूरा रस मज़े से गटक गई और उसको वो अच्छा भी लगा.

बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में?

अचानक सबीना जोर जोर से मेरे मस्ताना और मेरी गोलियों को चूसने लगी और थोड़ी उछलने लगी शायद वो झड़ने वाली थी. इससे पहले वो रांड कुछ कहती, मैंने अनुराधा को बाइक पर बिठाया और हम भाग निकले. उसने एक ही झटके में मैक्सी निकाल दी और एकदम नंगी गुलशन जी के सामने अपने मम्मे तान कर खड़ी हो गई.

फिर मुझे ऊपर छत पर बनी कोठरी का ध्यान आया, मैं गद्दों के ढेर में से बिस्तर लेकर ऊपर वाली कोठरी में पहुंच गया सोने के लिए. मुझ पर वो कुछ ऐसे हावी हो रही थी जैसे कोई शेरनी अपने शिकार पर होती है. ये सब मेरी वजह से हुआ।मैंने कहा- क्या?वह बोला- भाई साहब ने जो किया। वे मेरे होम टाउन में भी ये सब करते रहते हैं। हम भाइयों की मार दी.

मैं उसे देख के पहले तो धीरे से खिड़की से हट गया पर फिर मेरे मन में ख्याल आया क्यों न इसे लंड देखने दूँ. उसके बाद तो गुलशन रोज अनिता को चोदने लगे और वो भी उनके बड़े लंड की आदी हो गई. अब दो मिनट के इंतजार की जगह पाँच, सात, दस, पंद्रह तो बीस-बीस मिनट का इंतजार होने लगा.

वो तो अब और भी हसीन और सेक्सी लग रही थी, उसकी गांड तो इतनी मस्त थी कि मैं सीधा गांड को चाटने लगा और उसकी चूत को उंगली से रगड़ने लगा. लेकिन मुझे भी यही पसंद है कि लड़की चिल्लाये, उसकी चीखें निकल जायें दर्द में भी और मजे में भी!मैंने ऋतु को कमर से कस लिया और उसकी टांगों को अपनी टांगों से लपेट लिया.

आपके देश में खुल कर सेक्स करना भी पाप माना जाता है तो यहाँ पैसे के दम पे सिर्फ सिर्फ हवस का नंगा नाच होता है.

फिर पीछे मुड़कर देखा तो उसकी पैन्ट आगे से गीली हो गई थी और वो बहुत घबरा गया था.

दोस्तो, मैं हिमाचल का एक नौजवान मुंडा हूँ, मुझे सेक्स बहुत पसंद है, जब भी मुझे सेक्स का मौका मिलता है तो उसको कभी भी नहीं छोड़ता. वैसे मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ और अभी तक की सारी कहानियाँ पढ़ी है इसीलिये अपनी कहानी को मैं आपके सामने रखने जा रहा हूँ, आशा करता हूँ कि आप सबको पिछली कहानी की तरह ये कहानी भी बड़ी ही पसंद आएगी. इस बात को सविता ने भी ताड़ लिया था कि प्रेम मेरी चूचियों में खो रहा है.

पूजा का चेहरा भी लाल सुर्ख हुआ पड़ गया था पर उसकी आँखों में एक अलग ही चमक थी. !सुधीर टेंशन में आ गया, ऐसी मस्त चुत अब उसको कहाँ मिलती, उसने मोना को कहीं बाहर मिलने को कहा. रॉबर्ट ने उसे अपने हाथ में लपक लिया और मेरी पैंटी की खुशबू लेने लगा.

अब मैंने मोर्चा संभाल लिया, पण्डित जी चित लेट गए और मैं धीरे धीरे ऊपर नीचे करते हुए सम्भोग का मजा लेने लगी.

ऋतु ने अपनी आँखें खोली और मेरी तरफ नशीली आँखों से देखा और मुझसे कहा- आई लव यू… रोहण!मैं कुछ समझ पाता इससे पहले उसने अपनी गांड का दबाव मेरे ऊपर डाल दिया और मेरा पूरा लंड उसकी चूत में समाता चला गया. अब मुझे पक्का विश्वास हो गया कि दूसरी तरफ कोई है… शायद कोई औरत… लेकिन कौन?मेरा दिल धड़का… मैं टेबल से उतारकर बे आवाज़ दरवाजा खोला और माँ के कमरे में देखा… दरवाजा खुला था… मम्मी गायब थी… मैं टायलेट तक आया, वो भी खाली था. लेकिन बहूरानी ने मेरे फोन पर कभी भी फोन नहीं किया और न ही मैंने उसके फोन पर कभी किया.

आपको याद होगा जब गाँव जाने के पहले गोपाल और मोना का झगड़ा हुआ था, ये उसी दिन मोना से मिलने आई थी. मैंने बेड के दूसरी ओर जाकर जमीला की गांड के नीचे एक तकिया लगाया और जमीला की गांड में थूक लगा कर मस्ताना को पेलने लगा. उधर सुमन भी घर आ गई थी और रात की उसकी नींद पूरी नहीं हुई थी तो वो सो गई.

चुत पर उसकी जीभ लगते ही मैं सातवें आसमान पर उड़ने लगी और मैंने पैर फैला कर चुत खोल दी.

उस दिन मैंने ख़ुशी के कारण खाना ना खाया, और ना सही से सो पाया मैं मन ही मन मुस्कुराता रहा, रात भर उसी के बारे में सोचता रहा और उसके बारे में सोचते हुए रात में 3 बार मुट्ठ मारी. मैं पापा का लंड पकड़ कर चूसने लगी और इस तरह पापा के लंड ने मुझको एक बार फिर अपना दीवाना बना दिया.

बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में सुमन भाभी ने कहा- सैम प्लीज अब बर्दाश्त नहीं होता, प्लीज अपना लंड मेरी चुत के अन्दर डाल दो. सुमन के साथ सब हंसने लगे और संजय के साथ बाकी सब भी हैरान थे कि ये सुमन अचानक से इतनी फास्ट कैसे हो गई.

बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में यह सब देखकर मुझे भी थोड़ी हिम्मत आई और मेरी जान को सुकून आया कि मुश्किल से ही सही लेकिन लंड मिलने की उम्मीद तो जागी. अब मेरे हाथ उसके मुलायम दूध की थैलियों यानि उसके मम्मों पर जम गए थे.

सविता भाभी को ये जानकर बड़ी निराशा हुई कि अशोक को उसकी कोई परवाह ही नहीं है, आज उसके मन में चुदाई को लेकर कितने अरमान थे.

সানি লিওন ব্লু

बस तू उनकी बात ऐसे मानना जैसे तुझे कुछ पता ही नहीं है, तू तो बस आईसक्रीम और पैसों के लिए ये सब कर रही है. रमेश के लंड ने जब पिचकारी मारी तो सरिता की बुर वीर्य से भर गया और वह इस शानदार चुदाई से तृप्त हो गयी. वैसे कितना साइज़ है और कितनी देर तक कर सकते हैं?टीना- संजय का तो 8″ का है.

मैंने कभी कुछ ग़लत काम नहीं किया और गोपाल ने मुझे क्या बना दिया?मीना- हाँ यार तू तो शुरू से ही बहुत सीधी है, कॉलेज में भी तूने कभी ब्वॉयफ्रेंड तक नहीं बनाया. उसने भी खूब एंजाय किया, आपमें से कई नौजवान संजय जैसा बनने की चाहत करने लगे मगर ग़लत काम का कभी अच्छा फल नहीं मिलता और देखो आज संजय जेल की सलाखों के पीछे है, ऊपर से किसी को मुँह दिखाने लायक भी नहीं बचा. एक पेड़ की तरफ पेड़ थोड़ा खाली था और दूसरी तरफ दीवार थी, हमने सोचा कि हम थोड़ी देर तक उस पेड़ के पीछे बैठ के थोड़ी किस्सिंग कर लेते हैं क्योंकि माहौल गर्म था!पेड़ के पीछे कुछ देर बैठने और बतियाने के बाद हमारी किस्सिंग स्टार्ट हो गई.

‘हाय कितना बड़ा है तुम्हारा! मेरे मुंह में तो पूरा घुस भी नहीं रहा… आआआआ…’ मेरे लंड को एक हाथ से सहलाते हुए नताशा बोले बिना न रह सकी क्योंकि सचमुच एंड्रयू के लंड की लम्बाई किसी ट्रेन जितनी थी… कम से कम मेरे और स्वान के लंड से तो काफी ज्यादा!‘सक आल्सो हस्बैंड!’ एंड्रयू ने आदेश दिया.

पहले तो मैंने इसे अपना वहम समझा लेकिन मैंने बार बार इसे कन्फर्म किया. जब भी सैर करते वक्त मैं उसके पीछे चलता था तो अक्सर मेरा लंड खड़ा हो जाता था और मैं सोचता था कि उससे किसी तरह बात शुरू करूँ और उसकी चूत मारने को मिल जाए तो जिंदगी सफल हो जाए. गोरी गिलहरी थोड़ा सा कुनमुनाई और उसने प्रसन्न आँखों से अपने चोदू तरफ देखा, तो उसने भी मुस्कुरा कर जवाब दिया.

मेरे मना करने पर भाभी ने हम दोनों के बच्चे की कसम दिलवा दी और बोली- तुमको मेरी बहन की चुदाई करनी ही होगी. भाभी मेरी जींस का बटन खोलने लगीं … तो मैं भी उनकी सलवार का नाड़ा खोलने लगा. एक गर्ल फ्रेंड थी उसे मैंने छोड़ दिया क्योंकि वो मुझ पर हर टाइम शक करती रहती थी.

अब आते हैं आज की कहानी पर!वैसे तो चुदाई की घटनाएं बहुत हो चुकी हैं. वो भी अकसर रात में पढ़ाई करता था और छत में हम दोनों बातें किया करते थे.

मैंने छुप कर देखा कि मेरा बेटा अपनी माँ की नंगी चुची को देख रहा है और एक हाथ से अपने लंड को पैन्ट में छुपा रहा है. इसके साइड इफेक्ट नहीं होते और ज्यादा असरदार भी होते हैं, लेकिन इसे सेक्स करने के दो तीन दिन पहले से नियमित लेते रहना पड़ता है, जैसे कि मैंने लिया था. सुबह जब 6 बजे मेरी नींद खुली तब देखा कि दीदी मेरे साइड में ही सोई हैं और बड़ी ही सेक्सी लग रही थीं.

जब भाभी घर में आई तो मैंने भाभी और अपने बेटे के ऊपर से 5100 रूपये वार कर दिये.

मैं दिखने में अपनी सहेलियों से थोड़ी ज्यादा अट्रैक्टिव हूँ और क्लास के लड़के मुझे पटाने में लगे भी रहते हैं. लंड की चोट से चुत सूज कर लाल हो गई थी मगर खुलने के बाद वो ऐसी लग रही थी, जैसे अभी-अभी ताज़ा गुलाब खिला हो, उसे देख कर संजय को उस पर बड़ा प्यार आया उसने एक प्यारा सा किस चुत पे कर दिया. मेरा मन तो उसे चोदने का था तो एक दिन मैंने उससे अपने दिल की बात कह दी कि मैं तुम्हें पसंद करने लगा हूँ.

मुझे पता था कि मेरा बेटा बहुत भोला है इसलिए वो इधर-उधर की बात ज्यादा नहीं जानता है. मैं- अब लंड कहाँ से लाऊं तेरे लिए?ऋतु- तुझे जरूरत नहीं है, मेरे पास है!इतना कहते ही उसने राहुल को आवाज दी- राहुल?और अगले ही पल राहुल हमारे सामने नंगा खड़ा था.

मैं शिवम बाहेती कोलकाता से हूँ, मुझे अन्तर्वासना की हॉट कहानी बहुत पसन्द है, मैं इसका नियमित पाठक हूँ. उन सभी लोगों का भी धन्यवाद जिन्होंने मुझे ईमेल पर कांटेक्ट करने की कोशिश की. मैंने अपना लंड उनकी चुत पर रखा और एक धक्का लगा दिया तो आधा लंड भाभी की चुत में सरसराता हुआ अन्दर चला गया.

बीएफ सेक्स वीडियो सॉन्ग

अब क्यों चुप बैठी है क्या हो गया तुझे?संजय की आवाज़ सुनकर टीना का ध्यान टूटा ही नहीं, वो तो उसी कमरे में पहुँच गई थी.

मोना- अच्छा ये बात है तुझे तो बहुत ज्ञान है मगर मैं उन लड़कियों में से नहीं हूँ. इसका मतलब उसकी चुत गीली होने लगी है।वीरू- मान गए यार इस मामले में तेरा कोई जवाब नहीं. वो तो विनय का बांकपन रीना को भा गया वर्ना वो और कविता तो मियां बीबी की तरह रह ही रहे थे.

भाभी के लंड पकड़ते ही मेरे लंड ने एक तुनकी सी मारी, भाभी मेरी आँखों में देखते हुए मुस्कुराईं तो मैंने आँख मार कर अपने होंठों पर बड़े ही अश्लील भाव से जीभ फेरी. मैंने उसे दर्द की वजह से लंड को बाहर निकालने को बोला, वो दो मिनट के लिए रुक गया. सेक्सी भाभी को चोदामैं कुछ समझी नहीं?टीना- सुन संजय ने तुझे चुत चूस कर मज़ा दिया और तुझे इतना तड़पाया.

गुलशन और सुमन जैसे ही अनिता के घर के बाहर पहुँचे, तभी वहां जॉय और फ्लॉरा भी आ गए. मेरा तो लंड मानो फट रहा था भाई भाभी की हॉट बातें सुन कर!फिर भैया भाभी से बोले- शरमा मत, मुझे पता है कि नया लंड सबको अच्छा लगता है, रुक, मैं कुछ करता हूँ तेरे लिए.

सुमन कुछ बोल पाती, तभी वहाँ कोई सर आ गए और उन्होंने कहा कि क्लास में जाओ. मामा जैसे ही फ्रेश हो कर निकले, मैं चाय लेकर मामा के रूम में आ गई, पर मैं ना तो मामा से नज़र मिला पाई और ना ही कुछ बोल पाई. ये सब देखकर ऋतु आगे आई और हमें अलग करते हुए कहा- चलो चलो, बहुत हो गया.

फिर उन्होंने मुझे छेड़ते हुए कहा- कोई दवाई खा रखी है क्या?इस सवाल पर नया आदमी झैंप कर जवाब देता. टीना- वो तुम मुझपे छोड़ दो, दुनिया का कोई मर्द ऐसा नहीं होगा, जिसको एक साथ दो चुत फ्री में मिलें और वो ना कह दे. फिर जय मुझे मॉल में ले गया और वहां से मुझे कुछ कपड़ों की शॉपिंग करवाई.

चुदाई अपने चरम पर थी, मैं अपने 6″ के लंड को बाहर खींच कर एक ही झटके में पूरा अन्दर घुसा देता और मेरे लंड के प्रहार से स्मृति कराहने लगती.

चन्दन ने संगीता की दूसरी चुची को चूसने के बाद उन्हें अपने से अलग किया और एक हाथ बढ़ाकर बिस्तर के पास लगे बिस्तर लैंप को रोशन कर दिया. मेरे कहने पर भाभी अंदर गई और अंदर जाकर एक कटोरी में अपना दूध निकाल कर ले आई.

लगभग दस मिनट में मेरा काम हो गया, पर इससे पहले उसका स्खलन भी एक बार हो चुका था. अब मुझे उनके चूचे छूने में शर्म आती थी और वो भी अब मुझे उतना नहीं चिपकाती थीं. वॉट ए सीन यार! मैं तो भरी जवानी देख कर पागल हो गया। मैंने उनके चूचे हाथ में लिए और सहलाने लगा। क्या आनन्द था.

मगर आज मैं अपने ब्राजील की नहीं, अपनी मामी के घर में हुई की चुदाई बताने जा रही हूँ. वो मेरे कहाँ खुजली हो रही है?गुलशन जी भी समझदार थे, उन्हें इतना इशारा काफ़ी था. चाची मुझे अपने ऊपर से हटाने की पूरी कोशिश कर रही थीं, पर एक आदमी की ताकत और एक औरत की ताकत में बहुत फर्क होता है, खासकर तब जब आदमी पर वासना का भूत सवार हो, तब उसकी ताकत दोगुनी हो जाती है.

बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में एक दिन मैंने फ़ेसबुक पर एक कम उम्र की शादीशुदा भाभी को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दी. हुआ यह जब आज मैं और रोहन ऑफिस पहुंचे, तो रोहन ने मुझे बताया कि आज हमारी एक अफ्रीकन क्लाइंट के साथ मीटिंग है.

xxx हिंदी मे

यह बात गर्मी के दिनों की है, जब मेरे शौहर काम के सिलसिले में आउट ऑफ कंट्री गए हुए थे, उस समय बच्चों के छुट्टियां चल रही थीं, इसलिए घर में मैं, मेरा लगभग जवान हो चुका बेटा और उससे छोटी बेटी घर में अकेले थे. अब तो आप कयामत ढा रही हो, जरूर कोई बात है जो आप मुझसे छिपा रही हो। ये सब कैसे हुआ?इस पर मीना कुछ सोच कर बोली- तुम खाना खाओ बस!मैं भी खाना खाकर अपने काम पे चला गया।रात को मैं डबल बैड पर अकेला सोता था, घर में चारपाई की कमी थी तो मीना बोली- सोनू तू चारपाई पे सो जा, मैं बेड पर एक कोने में बच्चे के साथ सो जाती हूँ. क्योंकि भाभी को मेरे शॉर्ट में से मेरा लंड एकदम तंबू बना हुआ दिखाई दे रहा था.

मैं वहीं गेट पर खड़े होकर निहार रहा था कि तभी दीदी ने करवट ली और मुझे देख लिया. तभी मैंने सोचा ऑफिस वाले इससे मल्लिका कहते हैं, पर ये तो हॉटनैस में मल्लिका को भी पीछे छोड़ रही थी. सेक्सी व्हिडिओ सुहागरातमैंने पूछा- और तुम्हें जो तकलीफ होगी?वो बोली- 10 साल हो गए इसी तकलीफ को सहते, अब कोई भी दर्द… दर्द नहीं लगता.

वहीं पास पड़े सोफे पर उसने फ्लॉरा को लेटा दिया और पागलों की तरह उसकी चुत चाटने लगा.

उसने अपने दोनों हाथ मेरी गर्दन से लपेट लिए और वह मेरे ऊपर पूरी तरह से लटक गई. रजनी ने धीरे से सीईईई… की आवाज से साथ मेरे कान में कहा- सर थोड़ा धीरे!फिर मैंने उसे पलंग पर लिटा दिया और उसके ऊपर आ गया.

जब कई दिन ऐसा करते हुए हो गए तो एक दिन मैंने भाभी से बात करने की ठान ली और पार्क में जिधर भाभी जॉगिंग कर रही थीं, मैं उधर उनके करीब को चला गया. पूजा के लिए ये बहुत था, वो बेड पर लेटी हुई मचलने लगी और अपने एक हाथ से मुझे और दूसरे से ऋतु को धक्का देने लगी पर ऋतु ने उसकी दोनों टांगों को इस तरह से जकड़ रखा था कि वो छुड़ा ही नहीं पाई और मैं तो उसके चेहरे पर बैठा था और मेरे वजन को हटा पाना उसके बस का नहीं था. रात को मैं अपनी चुत में मेरा फेवरिट 11 इंची वाईब्रेटर घुसेड़ कर नंगी हो सो गई.

टीना- मैंने सोचा आज तू अपने पापा के साथ कोई गेम खेलेगी, ये सोचकर मैं तेरे घर नहीं आई.

गोरी इतनी कि चांद भी फीका लगे, आंखों में नशा इतना कि मदिरा का नशा बेकार लगे. जब फ्लॉरा ने कपड़े बदल लिए वो वहां से चला गया और सोचने लगा कि फ्लॉरा इतनी भी छोटी नहीं है. उन्होंने अपने हाथों से मेरे सिर को धकेलते हुए हटा दिया और मुझे लगभग बिस्तर पर पटकते हुए मेरे ऊपर चढ़ गईं फिर मेरे पाजामा के नाड़े को तेज़ी के साथ खोल दिया और खींचते हुए बाहर निकाल दिया.

ब्लू पिक्चर बताएं सेक्सीउसने चूस-चूस कर मेरे लंड को खड़ा कर दिया और बोलीं- अब और ना तड़पाओ. इधर मैं अपने हाथों को उनकी जाँघों के बीच ले जाकर उनकी चूत के उभार को अपनी हाथों में भर कर मसलने लगा.

ஆன்ட்டி படம் செக்ஸ்படம்

अब ज्यादा देर ना करते हुए मैंने उसकी चुचियों को दबाना शुरु किया, उसके ब्लाउज के बटन खोल दिए, अंदर उसने लाल रंग की ब्रा पहनी हुई थी. भाभी को काफ़ी दर्द हो रहा था, मैंने कहा- मैं डॉक्टर को बुला लेता हूँ. मैंने अपने मुरझाये हुए लंड को निचोड़ कर आगे किया और उसके सिरे पर बड़ी सी वीर्य की बूंद चमकने लगी तो मैंने दोनों से कहा- अब इसका क्या होगा?ऋतु- पूजा तुम चाट लो इसे!पूजा घबराते हुए बोली- मैं… नहीं मैं कैसे!?!मैं- जल्दी करो… नहीं तो मैं जा रहा हूँ.

उसने करवट ली और मेरे सीने पे अपना सर रख दिया, जैसे वो मेरी पत्नी हो, या दिलरुबा हो. सुबह जब विभूति और तिवारी अपने पास वाली चाय की दुकान पे मिले तो मलखान और टीका दोनों आपस में बतिया रहे थे. यह सुन कर भाभी हंसी और बोलीं- ये तो मालूम है कि अब तू जवान हो रहा है… पर अपनी भाभी के बारे में गंदा सोचता है ये पहली बार मालूम हुआ.

नीतू- हाँ दीदी बोलो, क्या हुआ, जीजू को मेरा पैर दबाना अच्छा लगा क्या?मोना- हाँ अच्छा लगा मगर वो थोड़े नाराज़ भी हैं. मैं पेपर लिखने बैठा, वो पीछे से कभी मेरे पैर को धक्के मारती तो कभी मेरी पीठ को हाथ लगाती. मुझे तो यह मस्त जवान ठाकुर राजकुमार मुश्किल से मिला था और बिना लंड लिए मैं उसे कैसे जाने दे सकता था, तभी मैंने उसका हाथ पकड़ते हुए रोका और मैंने कहा- चलो यार, उधर वो जो नए कमरों में फर्नीचर बन रहा है वहाँ चलो.

अभी तक जो पाठ मैं किताबों से या ब्लू फिल्मों से सीखता था, वो मेरे साथ प्रेक्टिकल रूप से हो चुका था, फिर भी मैंने सभी लड़कियों के चूतड़ को जमकर सहलाया, लड़कियाँ भी मेरे चूतड़ या लंड को सहला देती थी, उनमें से काफी लड़कियाँ थी जो मुझसे बोली कि वास्तव में मेरा लंड बहुत ही लम्बा और मोटा है, कैसे अन्दर जायेगा. उसके बाद जब माला नीचे बैठी अपनी योनि को पानी से धो रही थी तब मैंने शावर खोल दिया और माला को खींचते हुए उसके नीचे अपने साथ नहलाने लगा.

सविता, कहीं ये लोग भी तो हमारी आवाज और हमें देख तो नहीं पाएंगे न?”अरे समीर नहीं, बस हम ही देख और सुन सकते हैं.

मैं भी आनन्द में सिसया रहा था- हाय मेरी माँ… आह ईई ईई ओह ओह… तुम्हारी चूत कितनी टाइट है, ओह माँ ओह ओह मेरी माँ उईई और चूत बहुत गर्म हैं, ओह मेरी प्यारी माँ दुलारी माँ लो अपनी चूत में बेटे के लंड को, ऐसे ही लो, देखो आज उई ईई ये उसी चूत को चोद रहा है जिससे निकला है. सेक्स एक्स एक्स एक्स सेक्सीअपनी नाकाम कोशिश के बाद मम्मी तुरंत दरवाजे की तरफ भागी पर जीजाजी लपककर दरवाजे पर खड़े हो गये. ब्लू फिल्म वीडियो ब्लू फिल्म वीडियो मेंफिर मैंने उनकी ब्रा भी खोल दी और उसके दोनों बूब्स को जोर जोर से दबाने लगा, वो चीखने लगी, वो भी मजे ले रही थी. तुरंत दो मिनट के अंदर सपना नीचे आई!जैसे ही वो नीचे आई, थोड़ी डर गई पर उसने सोचा कि मैंने कुछ नहीं देखा.

मैंने मामा को मैसेज किया और पूछा- कहाँ हो आप?तो मामा ने रिप्लाइ मैसेज किया- क्लास मैं हूँ.

मैंने थोड़ी देर बाद सविता को फ़ोन किया- हैलो जानू सो गई क्या?‘अभी नहीं. मेरी शादी हो जाने के बाद भी हम दोनों के बीच पति पत्नी का रिश्ता कायम था. मैंने कहा- भाभी मैं उतावला नहीं हूँ … आप पहली बार घर आयीं हैं, तो आपका स्वागत भी ना करूं क्या?तो भाभी झट से अन्दर आईं और दरवाजा बंद करके मेरे लंड को पकड़ कर चूसने लगीं.

’‘और अंकल जी, मेरी तमन्ना है कि मेरा पुरुष मुझे तरह तरह से चोदे, जैसे मैं चाहूँ वैसे मुझे रगड़ रगड़ कर रगड़े, मेरी प्यासी चूत को फाड़ के रख दे. जैसे तैसे हम अलग हुए, मैंने उसका हाथ पकड़कर उसे अपनी कार में बिठाया और तेजी से गाड़ी चलकर हम मेरे घर पे पहुँच गए. वो बोली- तुझे क्या मालूम कि मर्द के वीर्य में क्या क्या प्रोटीन और विटामिन रहते हैं.

लंड वाली चूत

फिर मैंने अपना हाथ उसकी ब्रा में डाल दिया और उसके निप्पल को दबाने लगा. क्या मुझे पसंद नहीं करते? मैं तैयार हूँ।वह मेरे पजामे के ऊपर से मेरा लंड सहलाने लगा. शादी में पहुँचने पर सविता भाभी अपनी सहेली ममता से मिलीं और उसे बधाई दी.

अब वह मुझसे लिपट कर बोली- जानम, मुझे छोड़ कर तो नहीं जाओगे?मैंने कहा- पगली, तू तो मेरी जान है, जब चाहे जहाँ चाहे बुला कर देखना, दौड़ा चला आऊंगा.

एक दिन हम दोनों रात में 3 बजे बात कर रहे थे, तभी वो बोली- विक्रम क्या तुम अभी मेरे घर आ सकते हो?मैंने कहा- इतनी रात में?क्योंकि उसका घर मेरे घर से दूर था और जिस कोलोनी में वो रहती थी उसमें उसका घर लास्ट था तो मैंने बोला- इतनी रात को?तो बोली- आ जाओ ना… तुम्हें देखने का बहुत मन कर रहा है.

मैं बस ऐसे ही प्यार कर रहा हूँ तुझे!”आपका ऐसे ही मैं जानती हूँ कैसा होता है. इसके बाद स्मृति सात दिन हमारे घर में रही और हर रात वो उसी ऊपर वाले कमरे में मुझ से चुदाई करवाती. देवर भाभी सेक्सी फिल्मऐसे ही काफी देर तक चला और फिर दोनों झड़ने को हुए तो बोले- कहां निकालें? मेरा मन उनके माल को गांड में लेने का किया तो मैंने इशारे से गांड में झड़ने को कहा.

गुलशन जी बहुत देर तक मिन्नतें करते रहे मगर हेमा नहीं मानी और आख़िर हार कर गुलशन जी सो गए मगर बाहर खड़ी सुमन के दिमाग़ में एक तूफान छोड़ गए. वो जब होगा तब देखेंगे अभी क्यों आप ये लेके बैठ गई?टीना- तू भूल रही है ये टास्क चल रहा है. हाँ तो मैं देख रही थी कि वो पटाखा सी लौंडिया नहा रही थी कि तभी एक अफ्रीकन लड़का कमरे में आता है और लड़की के बाथरूम में जाकर उसको नहाते देख कर लंड मुठियाने लगता है.

मेरा एक हाथ उसकी चूचियों को मसल रहा था, दूसरा हाथ उसकी चड्डी में प्रवेश कर रहा था. मगर अंकल ने हमें संभाल लिया और मेरी माँ को उन्होंने व्यापार का काम समझा दिया ताकि पापा की जगह वो बिजनेस चला सकें.

हमारी जीभ आपस में कबड्डी खेलने लगी थीं और हम एक दूसरे के जिस्म की गर्मी को महसूस कर रहे थे.

मैं धीरे-धीरे अपना मुँह उसके पास लाया, वह थोड़ा डर रही थी इसलिए लंबी और गर्म साँसें छोड़ रही थी, जो मेरे लंड को खड़ा करने के लिए काफी था. गुलशन- अरे बाहर क्यों? हम दोनों साथ मिलकर बनाते हैं ना, बात भी होती रहेगी और परांठे भी बन जाएँगे. टीना- आज बहुत दिनों बाद तुम मुझे छूने जा रहे हो तो पहले अपनी आँखों पर पट्टी लगाओ.

चूत में लंड चुदाई मैं उसकी फुद्दी को चाटना चाहता था पर वहाँ स्पेस कम था तो उसने मना कर दिया. सविता भाभी जब अकेली रह गईं तो वे सोचने लगीं कि काश उनका पति का सोच मेरे पूर्व प्रेमी प्रेम जैसा होता तो कितना सुहाना होता.

अगल दिन उन्होंने फेसबुक पर बात करने की इच्छा ज़ाहिर की तो मैंने दो नये फेसबुक अकाउंट बनाकर एक उनको दे दिया और एक से मैंने लॉग इन किया. मेरी इकलौती बेटी की शादी और विदाई हो चुकी थी, घर मेहमानों से भरा हुआ था. उसको पता था यह इस कच्ची कली का पहला मौका है, जब वो झड़ रही है, उसने उसको कस के पकड़ लिया और तेजी से उसकी चुत पे लंड घिसने लगा।पूजा अनजानी कामुकता से सिसकती रही और संजय लंड घिसने में लगा रहा क्योंकि पूजा की चुत बहुत गर्म थी, उसने संजय के पॉवरफुल लंड को भी झड़ने के लिए मजबूर कर दिया.

सैकस फोटो

मैंने उसकी चड्डी एक तरफ हटा कर उसकी गांड के छेद को अपनी उंगली से छू कर कहा- तुम में करंट ही इतना है जानेमन, सब के हीटर तो चालू होने ही थे. हुआ यूं कि जब मैं चाची को देखने की जुगत लगा रहा था, तब मुझे ये मालूम हो गया था कि वो नहाते वक़्त अपने बाथरूम का दरवाजा खुला रखती थीं. मेरे दोस्तों द्वारा अपनी चूत चाटने की बात सुनकर उसकी चूसने की स्पीड बढ़ गई और वो दोनों हाथों से मेरा लंड पकड़कर अन्दर बाहर करने लगी.

और उसने दराज से एक लंबा सा स्ट्रैप ऑन डिल्डो निकाला और ऊँचा करके मुझे दिखाया।उसे देखकर मेरी आँखें फटी की फटी रह गयी. और मुझे किश करने लगे, मैं भी मामा जी का साथ देने लगी, मेरा निचला होंठ पूरी तरह से मामा जी के मुँह के अंदर जा चुका था.

उसकी दाढ़ी इस प्रक्रिया में मेरी पत्नि की गांड से रगड़ खाने लगी, जिससे ब्लोंड लड़की के होठों पर मुस्कान और खिल गई.

वैसे इसका सेवन डॉक्टरी सलाह से करें, तो ज्यादा बेहतर होगा, ज्यादा दवाई खाना किडनी को नुकसान पहुंचाता है और दवाई खाने के दूसरे दिन सर भारी लगता है. जब उन्होंने टी-शर्ट और ऊपर की तो वो समझ गए कि सुमन ने ब्रा नहीं पहनी है. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:बिजनेस बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुद गयी-2.

कोमल- जमीला को दिखाओ ना?तो मैंने जमीला को दिखाया जो मेरा लण्ड चूसने लग गई थी. कुछ लिखा और पेपर को वहीं गिरा कर चली गईं।मैंने सोचा शायद उनका कुछ गिर गया और जब मैंने उस पेपर को उठा कर खोल कर देखा तो उस पर एक मोबाइल नंबर लिखा हुआ था और लिखा हुआ था कॉल मी आफ्टर 2 आवर।मैं समझ गया कि ये भाभी मुझसे बात करना चाहती हैं।मैंने दो घंटे बाद उनको कॉल किया।मैं- हैलो, मुझे आपका ये नंबर शॉपिंग माल में मिला था, जब आपने पेपर में लिख कर गिरा दिया था।औरत (काजल)- यस, आप अभी कहाँ हो. अबकी बार मैंने पूरा पी लिया मगर अपने मेरा रस क्यों पिया?टीना- अरे तेरा रस वेस्ट ना हो इसलिए पी लिया मेरी जान.

जैसे ही उसने मेरे दाने पर हाथ लगाया तो मुझे जैसे करंट सा लगा और मेरा पानी निकल गया, पहली बार किसी ने उस जगह को छुआ था.

बीएफ वीडियो चाहिए सेक्सी में: मैंने उसे एक और उंगली डालने को बोला, अब वो 3 उँगलियाँ मेरी चूत में डाल कर मुझे पूरा आनन्द दे रहा था और मैं उसके लंड को जितना कठोर बना सकती थी, बना रही थी. दोस्तो, मैं हिमाचल का एक नौजवान मुंडा हूँ, मुझे सेक्स बहुत पसंद है, जब भी मुझे सेक्स का मौका मिलता है तो उसको कभी भी नहीं छोड़ता.

क्योंकि अब वो अच्छी तरह समझ गई थी कि संजय और उसके दोस्त भी उसको चोदना चाहते हैं. चन्दन को दबाने में मजा आ रहा था लेकिन चोली में फंसी होने से चन्दन को कुछ दिक्कत हो रही थी तो उसने सास की चोली के बटन खोल दिए. हमने चाय पी और ये बोले- यार चलो, अंदर आराम से लेट कर बात करते हैं!हम तीनों आराम से बैडरूम में जाकर बिस्तर में लेट गए.

मैंने उससे पूछा- लड़कियाँ चोदते होंगे?उसने जवाब दिया- अरे लड़कियों की चूत में ही तो असली मज़ा है.

तो बस गुलशन जी आपे से बाहर हो गए। ना जाने क्या सोच कर उनका लंड पेंट में तन गया। उनके दिमाग़ में सुमन को लेकर कुछ नहीं था मगर वो कपड़े देख कर वो उत्तेजित हो गए। इधर बेचारी सुमन का शर्म से बुरा हाल था. अब मैं तो वहां पर पहले से ही पहुँचा हुआ था तो मैंने भी ज्यादा वेट न करवाते हुए उसको जा दबोचा. फिर उन्होंने वहीं ज़मीन पर अपना दुपट्टा बिछा दिया और मुझे लेटने को बोला.