वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,పాపులర్ సెక్స్ వీడియోస్

तस्वीर का शीर्षक ,

शीतल होटल: वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ, शायद चाची भी इस बात को जानती थी क्योंकि अक्सर उन्होंने मुझे उनके चूचों को घूरते हुए देखा हुआ है.

वियाग्रा खाने से क्या होता है

मैंने आंटी से पूछा- क्या हुआ?तो आंटी जी बोलीं- लगता है आते ही पहला राउंड ले लिया तुमने मालिनी के साथ, कम से कम आज तो आराम करने देते. 88 सेक्सी वीडियोमैंने उसे रिक्वेस्ट सेंड की तो 2 दिन बाद उसने उसे एक्सेप्ट कर लिया.

चूंकि वो उम्र में उनसे 10 साल छोटी थी, इसलिए उनमें अभी बहुत सेक्स का खुमार बाकी था. सट्टा सट्टा किंग 786उसने मेरे लंड पर अपने दांत गड़ा दिए और इधर उसकी चूत से कामरस बह निकला.

अब महसूस हो रहा था कि वह भी गर्म हो चुकी थी और टॉवल गिरने के बाद वो पूरी नंगी तो हो ही चुकी थी.वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ: क्या शरीर था … 5 फिट 2 या 3 इंच की हाइट, दूध सा गोरा बदन, बड़े बड़े बूब्स … मैं चुपके चुपके उनके बदन को देख रहा था.

इसमें क्या गलत और सही है?जब उसके मुँह से मैंने ये बात सुनी तो मैं समझ गई कि इसका मतलब ये था कि मेरी सहेली के भाई को भी उसके चालचलन के बारे में सब पता था कि उसकी बहन बाहर चुदवाती है.वो कितनी प्यासी और चुदासी सी लग रही थींमैंने आंटी की जीभ चूसते हुए उसके होंठ पर काट लिया, जिसके उनके मुँह से आवाज़ निकल आयी- हहहह … विक्रम क्या कर रहे हो? आज से मैं तेरी ही हूँ… जब मन करे तब रौंद देना मेरी चर्बीदार जवानी को!इतना सुनते ही मेरा जोश डबल हो गया.

सेक्सी वीडियो पहाड़ी - वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ

आह … ऐसे मत तड़पा अब … बिल्कुल आराम से अंदर करूँगा … माँ कसम … पता भी नहीं लगने दूँगा तुझे … तेरी तो वैसे भी इतनी चिकनी है कि सर्ररर से जाएगा … आजा अंजलि आ जा आ!” पगलाए हुए से सर ने मुझे कमर से पकड़ कर ज़बरदस्ती फिर से वैसे ही करने की कोशिश की.मैंने अपनी बांहों में रवि को जकड़ लिया और उनकी पीठ में नाखून से नोंचने लगी.

तब तक वह मेरे पीछे आकर खड़ी हो गई, उस वक्त मैं बेडशीट बदल रही थी- मैं आ गयी … ये तुम्हें पसंद नहीं आया क्या?सोनल बोली. वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ लिहाजा कुछ ज्यादा ही नाटक करते हुए भड़क उठी और बोली- साले कुत्ते, समझता क्या है अपने आप को? शादी के पहले तीन-तीन लंड खाई हूं और तुझसे तगड़े लंड का मजा भी ले चुकी हूं.

होंठों को चूसते हुए मैं उसके गोरे चिकने नंगे बदन को भी सहला रहा था, जिससे उसकी सांसें अब फिर से भारी होने लगीं.

वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ?

उसने मुझे सुझाया के यदि मुझे पति से सुख नहीं मिल रहा, तो तुम किसी अन्य से ये सुख प्राप्त कर सकती हो. मगर मैंने कहा- वो सब बाद में देखना मगर मुझे मेरे पहले पति ही चाहिए … मैं पूरी पतिव्रता ही बनी रहना चाहती हूँ. इस पर उसने मेरी बात को समझा और अगले दिन बस हाल चाल पूछ कर दूध देकर मुझे जाने दिया.

लेकिन मेरे को नींद नहीं आ रही थी कि इतना मस्त माल मेरे पास लेटा हुआ है और मैं कैसे सो सकता था. मैंने उनको घुटनों के बल लेटने को कहा तो उन्होंने कहा- यहाँ नहीं, बाथरूम में नहाते हुए!मैं बाथरूम में पानी में उनकी चूत चोदने लगा और उनके मम्मों को ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा. इसके बाद वे मेरी जांघों तक पहुंच कर मेरी जांघों को चूमने सहलाने लगे.

फिर कुछ देर बाद मैं 69 की पोज़िशन में आ गया और उसकी खूबसूरत, गुलाबी और बिना बालों वाली चूत को चूमने लगा. मैं धीरे धीरे बैठने लगी तो छत्तू ने मेरी कमर पकड़ कर जोर से दबा दिया और एक हाथ से मेरा मुँह दबा लिया. फिर कुछ देर बाद उन्होंने मेरी पैंट को खोला तो मेरी चड्डी में मेरे लौड़े ने आतंक मचा रखा था.

सैक्स कहानियों के शौकीन मेरे प्यारे मित्रो, मैं निशा शर्मा हूँ, मेरी काफी कहानियां अन्तर्वासना पर प्रकाशित हो चुकी हैं। आपने भी मेरी कहानियों को पढ़ा होगा. प्रिया ने मेरे हाथों से अपने हाथ छुड़ा लिये और दोनों हाथों से मेरे सिर को पकड़कर जोर जोर से अपनी चूत पर रगड़ने लगी … साथ ही साथ वो‌ इईई.

भाभी मुझे चूमते हुए गालियाँ भी दे रही थी- साले तड़पा मत मुझे, मेरा मर्द तो साला काम पर जाता है, बच्चे निकाल कर कमीने ने मुझे चोदना ही छोड़ दिया.

उसका भी दिल कभी एक बार लंड से नहीं भरता था और मैं तो था ही बार बार चूत चुदाई के लिए.

मैंने धीरे-धीरे धक्के लगाना शुरू किया … तो पहले पहल वो चिल्लाईं, लेकिन फिर कुछ देर के बाद चुप होकर लंड को जज्ब करने लगीं. तभी वो जोर से हँसी और मुझसे बोली- एक बार मुझे भी अपना दम दिखा दे, नहीं तो बुलाती हूँ सबको. चाची आज भी मुझे दिल से उतना ही चाहती हैं, जितना मैं उन्हें चाहता हूँ.

मुझे समझ नहीं आया कि ये अचानक खड़ी क्यों हो गई, जबकि नीचे उसका बच्चा सो रहा था. भीड़ बढ़ने लगी तो वह फिर मेरे पास आया और बोला- और कुछ चाहिए?मैं- चाहिए तो सही … पर आप दोगे?वह- जी हाँ! दूकान खोली ही इसलिए है, दूकान का सारा माल बेचने के लिए है. तभी ट्रेन के हिचकोलों ने मेरी चूत को सहारा दिया और लंड ने अन्दर अपनी जगह बना ली.

एक दिन उसकी सासू माँ ने खाना खाते वक्त कहा- मैंने इससे बोला कि तू दूसरी शादी कर ले, कब तक अकेली रहेगी, लेकिन ये है कि मानती नहीं.

बातों बातों में उन्होंने बताया कि अब उन्होंने काम देखने के लिए एक आदमी रख लिया, इस वजह से वे घर पर ज्यादा समय रहने लगे. मैंने अपनी बांहों में रवि को जकड़ लिया और उनकी पीठ में नाखून से नोंचने लगी. फिर मैंने उससे पलंग पर उल्टा लिटा कर उसके हाथ मोड़ कर उससे चोदने लगा, इस आसन में वो एकदम से मजे में आ गई और सीत्कार भर कर बोल रही थी- आह.

अब जगत अंकल मेरी पैंटी को धीरे-धीरे नीचे उतारने लगे और पैंटी मेरे पैरों के नीचे आ गई तो झुक कर मेरे पैरों से पैंटी खींचकर उसे फोल्ड करके अंकल ने अपनी पैंट की जेब में डाल लिया और बोले- वन्द्या, तेरी पैंटी मेरे पास है. मैंने अब पहले तो नेहा के होंठों पर एक प्यार भरा चुम्बन किया और फिर उसके गाल, गर्दन, उसकी चूचियां और फिर उसके पेट पर से चूमते हुए धीरे धीरे मैं उसकी जांघों के बीच आकर अपने घुटनों के बल बैठ गया. मेरे मन में एक नहीं कई हज़ार लड्डू फूटने लगे कि ‘वाह यार मेरे शेरू की तो निकल पड़ी …’ कोई उससे चुदाई करवाना चाहती है.

क्योंकि मुझे मालूम था कि मेरे पति का मोटा मूसल लंड मेरी गांड में आसानी से नहीं घुसेगा, ये मूसल मेरी गांड को फाड़ देगा.

तब जगत अंकल ने बोला- तू चिंता ना कर … ये दोनों वही ठेकेदार हैं, जो तेरे लिए आए हैं. कुछ पल बाद ज़ीनत को जब थोड़ा आराम मिला, तो मैंने अपना लंड बाहर निकाला.

वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ ”इस दौरान मैं ठीक उसके ऊपर था, मैंने ब्लाऊज के हुक खोले और उसके बड़े बड़े स्तनों को जोर जोर से दबाने लगा और उसके निप्पल को होंठों से चूसने लगा. मैंने हाथ बढ़ाकर दरवाजे की कुंडी लगाई और सोनू को अपनी बाहों में भरकर ऊपर उठा लिया.

वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ उनकी तबियत ठीक नहीं है, जिसके कारण मैं तुम्हारे पापा के साथ जा रही हूं. मैं घर आ गया और उनके बारे में सोच सोचकर उनके प्रति फीलिंग्स लाने की कोशिश करने लगा, लेकिन बात बन नहीं रही थी.

जब उसके फोन में जांच-तलाश करने में लगा हुआ था तो वो एकदम दुकान में वापस आ धमकी.

सेक्सी बीपी चालू करा

जिससे ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह… इइईईई … श्श्शशश … ओय्य्येऐऐऐ …’ की आवाज के साथ प्रिया के मुँह से सिसकारी निकल गयी और उसने दोनों‌ हाथों‌ से मेरे हाथ को पकड़ लिया. उसके कुछ देर बाद मेरा भी पानी निकलने वाला था तो मैंने उससे बोला कि मेरा होने वाला है तो वो बोली- मेरी टांगें दोनों तरफ़ करके मेरी चुत का तबला बजाते हुए धक्के लगाओ. ये सब देख मेरा लंड भी खड़ा हो गया और मैंने अलमारी से एक कंडोम निकाल कर और रवि की बहन को खूब चोदा.

मगर चुदाई की शुरुआत करने से पहले नीना रानी लंड से खेलने के मूड में थी. मेरे साथ के इतने साल के रिश्ते को वो एकदम से भूल कर अभिषेक से ऐसे चिपका हुआ था. मैं हंस कर बोला- अच्छा ऐसी बात है … तुम सुबह से मेरे सपने देख रही हो?नूपुर- हां.

फिर उन्होंने स्कर्ट को पीछे से ऊपर किया और मेरी चूत में अपनी हथेली को लगाया.

हम दोनों बाहर खाना खाने के लिए होटल में रुके और अपने सास और ससुर के लिए भी देवर ने खाना पैक करवा लिया. कई बार मालती भी मुझको अपने घर पर बुला कर पहले दिन जैसे चुदाई करती और करवाती थी. फिर मैं धीरे-धीरे भाभी के बच्चों को चॉकलेट देने लगा और इस बहाने भाभी के करीब जाने के बहाने ढूँढने लगा.

मेरी कसी हुई छातियों को दबाते हुए बोले- खुदा ने खूब तराशा है।मैंने बांहें उनके गले में डालते हुए कहा- आप जैसे कद्रदानों के लिये तराशा है। कर लो अपनी चाहतें पूरी और इस अधूरी तनु को अपने जोश से संपूर्ण कर दीजिए।लगता है हुस्न के इस बगीचे का माली कमज़ोर है. वो गुस्सा थे मुझसे इसलिए मैं उन्हें मनाने की कोशिश करने लगी।मैंने अपने हाथों से वो गिलास उनके मुँह पर लगाया तो उन्होंने वो पी ली. मगर सुशीला को पता था कि वो किसलिये सिसकारी मार रही है।मानसी- मैं झड़ने वाली हूँ!मैं- अब हाथ मेरे लंड पे रख के सहलाओ, दोनों साथ में झड़ेंगे.

अब मुझसे भी कंट्रोल नहीं हो रहा था, सो मैंने उसकी टांगों को फैलाया और अपने लंड को पकड़ के थोड़ा उसकी चूत के मुँह के अन्दर डाला, फिर धक्का मार के पूरा उसने लंड उसकी चूत के अन्दर डाल दिया. एक फेस बुक अकाउंट भी बना लिया गया, जिस पर हम दोनों के अलावा और कोई फ्रेंड नहीं था.

प्रमिला भी ड्रिंक लेने गई थी, तो ये बात उसे भी नहीं सुनी और फिर हम सबने साथ में डांस किया, बाहर ही खाना खाया और हम घर आ पहुंचे. फिर उसका सूट उतार दिया, जिससे वंदना मेरे सामने सिर्फ लाल रंग की पैंटी ब्रा में रह गई थी. आपको मेरी सेक्सी कहानी कैसी लगी? मुझे जरूर बताइये।मेरा ईमेल आई डी है[emailprotected].

मुझे से उतरते ही आंटी किसी प्यासी दुल्हन की तरह मेरे सीने से चिपक गईं.

मैंने रेखा की डिटेल जाननी चाही, तो उसने ये भी बताया कि फेसबुक भी चलाती है, क्योंकि घर में अकेले ही रहती है. 5 इंच का ही है और मेरी बीवी ने उस डिल्डो के साइज़ का लंड कभी आज तक देखा ही नहीं था. भाभी बोल रही थीं- आराम से राजा … आज मैं पूरी रात तुम्हारी हूँ … जो जी चाहे कर लो … मुझे रात भर खूब चोदो … गांड मारो, मेरी चुत को खा जाओ.

भाभी का कराहना, उसकी हवस से भरी सिसकारियां, मेरे बेडरूम को किसी रंडीखाने जैसा बना रहा था. वो दूध सी गोरी और चिकने बदन की मालकिन थी, परंतु उसमें अपनी सुन्दरता पे बहुत घमण्ड था.

अब मैं एक हाथ से लंड को मसलते हुए दूसरे हाथ से उनके मोटे मोटे आन्डों को खुजाने लगा. मैंने नामित के सामने अपने दूध मसलते हुए से पूछा- मेरा काम कब करोगे. उसने मुझसे कई बार बातों-बातों में बोला भी कि वह कितने दिन से लंड के लिए तड़प रही है.

कांवरिया गांव की सेक्सी वीडियो

मैंने उससे कहा कि मेरा निकलने वाला है, मगर वह तब भी नहीं रुकी और मेरे लंड ने वीर्य उसके मुंह में छोड़ दिया.

नेहा के हाथ अब अपने आप ही फिर से मेरे सिर पर आ गए और मेरे बालों को सहलाते हुए वो मुँह से हल्की हल्की सिसकारियां निकालने लगी. तभी अब्दुल ने मुझे अपने दोनों हाथ से उठाया और अपनी गोदी में ऐसे ले लिया, जैसे छोटी बच्ची या कोई खिलौना होऊं. मुझे मेरे लंड पर नाज था, जिसने आज वंदना की सील तोड़ दी थी और वंदना की चुत से खून आने लगा था.

सरिता को भी दो साल बाद लंड मिला था सो उसका थोड़ा दर्द होना वाजिब था. वहां पर उस मकान के पीछे आंगन में एक अल्हड़ सी लड़की बार-बार मेरे कमरे की तरफ देखती रहती थी. भारतीय सेक्सी व्हिडिओवैसे ये अच्छा मौका भी था, मेरा वेतन भी काफी बढ़ रहा था और हमारा परिवार अब बढ़ने वाला भी था तो मैंने हां कह दी.

यहां एक से बढ़ कर एक चुदाई की कहानी पढ़कर मुझे बड़ी उत्तेजना जागती है. मैंने भी हंस कर उसे चूमते हुए उसकी रेशम सी चिकनी नंगी जांघों पर हाथ चलाने लगा.

मैं उसके मम्मों को दबा रहा था और धीरे धीरे उसके मुँह को चोद रहा था. इस तरह से बातें करते हुए उनमें से एक ने मुझसे पूछा- तुम्हारे किले पर कितनी बार चढ़ाई हो चुकी है?मैंने अनजान बनते हुए कहा- क्या पूछ रही हो … मुझे नहीं समझ में आया क्या पूछा है. जब चाची से और ज्यादा बर्दाश्त नहीं हुआ तो चाची ने मुझसे बेडरूम में चलने के लिए कह ही दिया.

सोनल अब दादाजी के पेट पर सर रख कर सो गई, उसका मुँह दादाजी के लंड की तरफ ही था. तभी बुड्ढे मियां कुछ मिनट बाद जोर से कस के मेरी गांड को लिपटकर रगड़ के बोले- वन्द्या सेक्सी इस उम्र में भी मैंने तेरी इतनी देर तक चुदाई कर ली, यह तेरी मस्त गांड का ही कमाल है. मैंने उनकी तरफ से हाँ सुनकर मन ही मन बहुत खुश होकर उनको कहा- हाँ ठीक है, जैसा आप कहोगी, मैं ठीक वैसा ही करूंगा!उस समय वो गुलाबी कलर की मेक्सी में थी.

उधर जेठ जी का नाग मेरे सामने फन निकाल कर डोल रहा था, मैंने झट से उसे पकड़ा और उसे मुँह में डाल लिया.

उनका शरीर भरा हुआ है और पेट पर पड़ने वाली सिलवटें उनको और भी ज्यादा मादक बना देती हैं।मेरी चाची की शादी को 18 साल हो चुके हैं और मेरे चाचा बाहर जॉब करते हैं। चाची अकेली ही अपने 15 साल के बेटे के साथ रहती है. अंकल मौके को गंवाना नहीं चाहते थे, उन्होंने एक करारा झटका दे मारा और अपना आधे से ज्यादा लंड मेरी बीवी की चूत में उतार दिया.

उसका जोश इतना अधिक था, मानो न जाने कितने दिनों से वो लंड की भूखी हो. मुझे उसकी चूत में उंगली डाले 2 मिनट ही हुए होंगे कि उसका शरीर अकड़ने लगा. मैंने फिर से खिड़की को खोल लिया था और उसी के कमरे की तरफ बड़ी आशा भरी निगाहों से देखता हुआ लंड हिला रहा था.

वहाँ स्टेशन पर ही हमारे लिए बस खड़ी थी, सबने अपना सामान उस बस में रख दिया और अपने हिसाब से सीट पकड़ ली. मैं घुटनों के बल फर्श पर बैठ गयी और पायजामे के ऊपर से ही लंड को चूमने लगी. लगभग बीस मिनट बाद वह तौलिया लपेटकर निकली और मुझे देखते हुये मुस्कुराई.

वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ मैं- हैलो?अमित- हैलो नहीं, क्या कर रही हो?मैं- कुछ नहीं, बस बोर हो रही हूँ।अमित- मेरे रहते बोर होने की ज़रूरत नहीं. ऐसा मुझे इसलिए लगा क्योंकि मुझसे जब उसने बात शुरू की थी तो वह नॉर्मल आवाज में ही बात कर रहा था.

सारी फिल्में सेक्सी

क्या हुआ मेरी जानू … घबरा गयी क्या … जरा इसे मुँह में तो लेकर देखो. दस मिनट की धकापेल चुदाई के बाद मैंने उसकी गांड से लंड निकाला और चूत के छेद में लगा दिया. कुछ ही देर में उनका लंड सिकुड़ने की वजह से बनी हुई जगह से हम दोनों का कामरस बहकर नीचे चादर गीली कर रहा था.

मुझे इधर की कहानियों से लगा कि क्यों न मैं अपनी भी एक आपबीती को कहानी बना कर लिखूँ. ऊंघती देखकर जीजाजी ने मुझसे कहा- तुम मेरा कम्बल ओढ़ लो और आराम से सो जाओ. हिलाने से क्या फायदा मिलता हैतुम एकदम अलर्ट हो गईं और तुमने कहा- गाली तो मत दो यार!लेकिन तुम्हारी बातों से मुझे कोई फर्क पड़ने वाला नहीं था.

दादाजी का तना हुआ लंड अभी भी मेरी नजरों के सामने था, मुझे तो यकीन नहीं हो रहा था कि इस उमर में भी किसी का लंड खड़ा हो सकता था और वह भी इतना कड़क.

जब वो बैठकर लंड चूस रही थी तो उस वक़्त वो और भी सेक्सी और कामुक लग रही थी क्योंकि उस पर सेक्स का भूत सवार हो गया था. मस्ती में आंखे बंद कर मैं अपना होंठ चबाने लगी।उन्होंने अपनी शर्ट उतारी और फिर जीन्स उतार दी.

सभी से मुलाकात के बाद मैं मेरे दोस्त के साथ घर में काम करने लगा कि तभी सामने से आ रही एक सुंदर गोरी औरत पर मेरी नजर पड़ी. अब आगे:कौशल्या ने पूछा- क्या हुआ मास्टर जी आपको कुछ चाहिए था क्या?नहीं नहीं … बस मैंने सोचा आज रसोई में आपकी थोड़ी मदद कर दूँ. मेरी आवाज सुनकर मम्मी ने पीछे मुड़कर देखा और पूछने लगीं- बैठते बन रहा है कि नहीं सोनू?तब जगत अंकल बोले- क्या बताएं थोड़ी परेशानी तो है … बेचारी बिटिया दबी जा रही है.

मेरी उम्मीद के उलट, जब मैं उसके दाने को काटता, वो लंड को छोड़ कर चिल्लाने की जगह और अन्दर लेने की कोशिश करती, जैसे मेरे टट्टों को भी खा जाएगी.

मैंने कहा- भाभी थकान हो जाती है, प्राइवेट नौकरी पैसे तो देती है, लेकिन तेल निकाल लेती है और उस कारण थकान को मिटाने के लिए रोज 2 पैग लगाकर खाना खा कर सो जाता हूँ. जैसे ही मालती मेरी चूत में डिल्डो डाल कर अन्दर बाहर करने लगी, तो मैं भी नीचे से गांड को उछाल उछाल कर उसे अपने अन्दर करवाने में लग गई. उसी ने मुझे बताया कि मेरी मॉम उससे काफी खुल गई हैं और जल्द ही उनके साथ सेक्स की स्थिति बन जाएगी.

संडे का आयलहम लोग रात में रोज चुदाई करते थे और कभी कभी तो मेरे पति मुझे दिन में भी चोद देते थे. मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा, मैंने झट से लाइट बंद कर दी और उसका एक स्तन अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.

साड़ी खोलने वाली सेक्सी वीडियो

हमारी कुछ सीट्स साथ में थी तो कुछेक साथ वाली बोगी में! रात भर का सफ़र था तो खाने का समान लेकर निकले थे. फिर मैंने नेहा आंटी को वहीं सोफे पर लेटाया और उनकी चूत को चाटने लगा. पहले मैं बेड पर चित लेट गया, उसके बाद वो मेरे ऊपर आकर नीचे की तरफ मुँह करके लेट गई.

नेहा ने मेरे हाथ को पकड़ कर खींचने की कोशिश भी की, मगर कामयाब नहीं हो पायी. मैडम भी पूरे मस्त मूड में बोली- देविका नायक … आप मुझे देवी भी बोल सकते हैं सर. साथ ही मेरे पति बहुत ही हैंडसम भी हैं और उनका लंड का साईज भी आम औसत लंड से बड़ा, पूरे सात इंच का है.

मेरे मुंह से निकल गया- आज़मा कर देख लो।मैं बोला- सॉरी-सॉरी चाची, गलती से निकल गया।चाची बोली- कोई बात नहीं, अगर मैं तेरी चाची न होती तो आज़मा कर देख भी लेती।मैं सुनते ही पागल हो गया और यकीन नहीं हुआ कि यह सब चाची कह रही है. अब अनु भी गांड उछाल कर करण का साथ देने लगी ‘आऊ उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआह!पूरा कमरा इस चुदाई से गूंज उठा. मुझे कुछ कुछ हो रहा है नीरू! मैं जाने वाली हूं! मुझे चोदो ना … मुझे चोदो!पायल का शरीर अकड़ने लगा तो मैं समझ गया कि पायल झड़ने वाली है, मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और तुरंत ही पायल ने मेरी बांहें पकड़ ली और मेरे सीने से चिपक गई और शरीर को उठाती हुई बोली- हो गया … हो गया … हो गया … मार दिया!और यह कहती हुई वह शांत पड़ गई और मुझे लंड बाहर निकालने के लिए बोलने लगी.

उसके बूब्स और गांड आकार लगभग 38 इंच होगा, चाची का वो गोरा गठीला बदन बड़ा ही कामुक लगता है और वो हमेशा घर में अक्सर सलवार कुर्ता पहनती है और जब भी वो कहीं घर से बाहर किसी पार्टी या उनको कहीं बाहर जाना होता है तो वो साड़ी पहनती है. उनके लंड का मजा अपनी चूत में ले ही रही थी कि बगल में जो ठाकुर साब कहे जाने वाले अंकल बैठे थे.

उसका लंड मेरे मुँह में अन्दर बाहर होने लगा और फिर… मेरे प्रियतम का सफेद पानी मेरे होंठों के बीच में बरस गया.

फिर फोन बंद करके अमीषा ने मां से बात की और उसको भी मना लिया। इसी से घर की बात घर में रहेगी और किसी को कोई प्राब्लम नहीं होगी।अगले दिन वो आया तो अमीषा ने देखा कि वो माँ से कुछ बात करने लगा. डॉक्टर सेक्सी वीडियो हिंदी मेंमैंने मीना को अपनी गोद में बैठने के लिए कहा तो वह आहिस्ता से मेरी गोद में आकर बैठ गई. पूरण सेक्स वीडियोअब नीरू और मेरी पत्नी दोनों ने उसकी टांगों को चौड़ा किया और उसकी कुंवारी बुर की दरार को खोल कर मुझे दिखा कर बोली- देखो राजा जी, बिनचुदी बुर के दर्शन करो … कितनी मस्त लग रही है पायल की बुर … हम आपके लंड के लिए बंद और नई बुर लेकर आए हैं. तुम बेफिक्र चोदो … जब मेरी चूत में तेरे लंड की रगड़ पड़ेगी, तो इसकी गर्मी कम हो जाएगी.

चाची की गांड हर धक्के पर ऐसे हिल रही थी, मानो पानी से भरा गुब्बारा हिल रहा हो.

इधर से मैं अपनी चूत के दर्शन उसको करवा रही थी तो दूसरी तरफ से अजय अपने लंड का साइज अपने हाथ में लेकर मुझे नापकर दिखा रहा था. पचास हजार की बात सुनकर मुझे समझ आ गया कि ये सब रईसजादे हैं और मेरी बहन को चोदने का सौदा किया है. चार पांच बार ऊपर नीचे करने के बाद आखिरकार दादाजी का पूरा लंड सोनल की चूत के अन्दर चला गया.

मैंने उससे कहा- ये क्या है … रोज क्यों चुदवाती हो उससे?तो उसने गुस्से से कहा- तुम ही मना कर दो ना उसे … यह सब हुआ तो तुम्हारी वजह से ही है … ना तुम उससे दोस्ती करते … ना उसे घर लाते तो वो क्यों मेरे साथ ये सब करता. हालांकि प्रशांत को यह सब बड़ा ही नागवार गुजर रहा था, क्योंकि चूत की लालच में तब तक लंड से न जाने कितना पानी बह चुका था. मेरी सहेली का पति मेरी चूत को चाटने लगा और मैं उसके लंड को चूसने लगी.

हिंदी में बोलकर सेक्सी वीडियो

तभी वह मन भरण अंकल मेरे पीछे से लिपट कर मेरे कूल्हों को फैला कर अपनी नाक मेरी गांड के छेद में रगड़ने लगे और बोले- वन्द्या सच में तेरी गांड से अच्छा दुनिया में कुछ भी नहीं है. इस बीच वो दो बार अपना पानी छोड़ चुकी थी। मेरी ज़बरदस्त चुदाई के बाद वो काफी थकी हुई लगने लगी थी।अब उसकी हालत देखकर मेरे लण्ड में भी कड़ापन और ज्यादा बढ़ने लगा था। मेरे लण्ड के अंदर जैसे तूफान उठा हुआ था और मैं उसकी चूत को रगड़ने में लगा हुआ था। वो दर्द से कराहने लगी थी। मैं उसकी चूत को चोदने में लगा हुआ था जैसे आज अपने लण्ड से चूत को फाड़ ही दूंगा. अब तो मेरी बीवी उसके लंड और उसके शरीर से आकर्षित होकर खूब मजा ले रही थी.

तभी मामी ने उस किराने वाले का अंडरवियर उतारा और उसके लण्ड को हाथ से सहलाने लगी.

मैं हां कर दी तो उसने तुरंत अपने पति को फोन लगाया जो ओमान में किसी कंपनी में काम करता था.

चूत अब अपना रास्ता पूरा खोल चुकी थी, इसलिए अब मुझको इस डिल्डो को अन्दर करवाने में कोई तकलीफ़ नहीं हुई क्योंकि यह पहले वाले से कुछ कम मोटा था. मैं- ज्यादा मजा किस के सथ चुदवाने में आया … मेरे साथ या चाचा के साथ. सेक्सी वीडियो बसमैंने देखा कि अन्दर ले जाते ही उसने जोर से बेड पर पटका और अनु के होंठ खाने लगा.

आ जाओ ना नीलूतुम्हारी कसम तुमसे बिछड़कर मैं दुनिया में अकेला हो गया हूँ जानू!अभिजीत देवले[emailprotected]. उसके बाद मेरे मम्मी पापा मुझे आगे की पढ़ाई के लिए किसी बड़े शहर के अच्छे कालेज में भेजना चाहते थे. कल भी मेरे पति घर से बाहर रहेंगे, आप कल रात का खाना खाने घर आ जाना.

मैंने पुनीत का लंड छोड़ कर सामने चूत चोद रहे मैक को कसके अपनी बांहों में जकड़ लिया और नोंचने लगी. मेरे एक बड़े भाई की शादी 5 साल पहले ही हो गयी थी और इस बार 2 लोगों की शादी एक साथ होनी थी.

वो फ़िर वही बच्चों वाली सूरत बना कर बोली- हूँह … गन्दे कहीं के … चलो जहां चलना है.

थोड़ी देर तक तीन उंगलियों से मेरी गांड में लगातार फिंगरिंग होते होते मेरा दर्द कम हो गया. ऐसा करने से उनके मुँह से एक लंबी आह निकली और एक बड़े झटके के साथ लंड मेरे कलेजे तक पहुंच गया. कुछ देर तक लंड चूसने के बाद अब मुझसे बिल्कुल रहा नहीं जा रहा था, मैं बोली- रवि जी सीधे हो जाओ और अब मत तड़पाओ.

सेक्स सेक्स फिल्म वीडियो लेकिन वे दोनों मरदूद बहुत तेजी से अपने बचे हुए लंड मेरे अन्दर करने में लगे थे. अब मैंने उसकी गांड में फिर उंगली डाली और उससे कहा कि मुझे तुम्हारी इस बड़ी गांड में भी लंड डालना है.

बता उसको … कैसा लग रहा है?” सर ने घूर कर पिंकी की ओर देखते हुए कहा और फिर मेरी ओर देखने लगे. पर वो मुझे देख कर मुस्कुरा कर बोली- मेरी सीट में पानी गिर रहा है … क्या मैं यहाँ बैठ सकती हूँ?मैं तो उसे देखते ही रह गया. फिर उसने अपने एक हाथ से अपना लंड पकड़ा और मेरे को बोला- वन्द्या तू ऐसे ही खड़े हुए में बता दे.

सेक्सी वीडियो चूत चाटने का

करीब चार-पांच मिनट तक ऐसा लगा कि मैं अभी मर जाऊंगी … दर्द के मारे जान निकल रही थी. तो उसने मेरे लिप्स पे किस किया, फिर बोली- जान मुझे चोदते रहो … मुझे चोद दो. तुझे नहीं पता यार … वो गाना है ना … निगोड़े मर्दों का … कहाँ दिल भरता है? करने को तो मेरी बीवी भी बहुत अच्छे से कर देती है … पर कच्ची कलियों का मज़ा कुछ और ही होता है.

जैसे ही दादाजी ने उंगली सोनल की चूत पर रखी, तो सोनल ने अपनी कमर को नीचे से उठा दी. चिकनाई निकलने के बाद मेरी चिकनी चूत को मेरी सहेली के भाई ने बहुत देर तक चाटा.

मैंने उससे पूछा- बेटा तुम्हारा नाम क्या है … और करते क्या हो? घर में और कौन कौन है?वो- सर मेरा नाम मदन है, मैं इंजीनियरिंग कर रहा हूँ, मेरा घर बस आपके स्टाफ कॉलोनी से कुछ दूरी पर है.

चाची उखड़ी हुई साँसों से बोलीं- क्या हुआ … निकाला क्यों?मैं- चाची आपकी चूत बहुत गर्म है … लगता है … मेरा लंड जल जाएगा. कुछ पल बाद मैंने अपने पेट पर गर्म पानी जैसा महसूस किया थोड़ा उठ कर देखा तो वो उनकी चूत के ऊपर वाले छेद से पेशाब निकल रहा था. मैं दूध लाने जा रहा था, तो भाभी जी ने बोला- आशिक, कहाँ जा रहे हो?तो मैं बोला- भाभी जी दूध लाने!भाभी जी बोलीं- क्या करोगे, मैं चाय बना रही हूँ.

परंतु उस दिन में सोने के लिए वहाँ कुछ नहीं होने की वजह से मैं शाम की बस से घर वापस निकल गया. प्रमिला ने बड़ी हैरानी से मेरी तरफ देखा और बोली- अच्छा … मैं नहीं मानती?एकता ने कहा- अच्छा … तो आज रात आजमा कर देख लो. मुझे समझ नहीं आया कि ये अचानक खड़ी क्यों हो गई, जबकि नीचे उसका बच्चा सो रहा था.

5 इंच का ही है और मेरी बीवी ने उस डिल्डो के साइज़ का लंड कभी आज तक देखा ही नहीं था.

वीडियो ओपन सेक्सी बीएफ: फिर मैंने सोचा कि पहले इसको गर्म करता हूँ। अब तो यह मेरी बीवी बन चुकी है. तभी अरुणा की नजर अंकल के लोअर में तगड़े लंड पर पड़ी, जो अकड़ कर बाहर आ रहा था.

जब मुझे ज्यादा ही जोश चढ़ गया तो मैंने अपना 7 इंच का लंड बाहर निकाल लिया. लिंग से नाक छूने से उनकी कामुकता और भी बढ़ गयी औऱ उन्होंने अपने एक हाथ से मेरे बाल पकड़कर एक तेज़ धक्के के साथ अपना लंड मेरे गले तक उतार दिया. फिर कुछ पल इसका आनन्द को उठाने के बाद मैंने अपने लंड को उसकी चूत से थोड़ा बाहर निकाला और चुदाई शुरू कर दी.

हैलो मेरे प्यारे प्यारे दोस्तो, मैं राज आर्या, एक बार फिर से एक सच्ची सेक्स कहानी लेकर हाज़िर हूँ, जो अभी एक महीने पहले मेरे साथ घटित हुई.

उसके बाद प्यार से तुम्हारे होठों पर किस करता, तुम्हें कस-कर अपनी बाहों में पकड़ लेता और फिर एक और मस्त किस करता। फिर तुम्हारे कान पर किस और बाइट करता और उसके बाद तुम्हारी गर्दन पर और फिर एक हाथ से तुम्हारे!नेहा- बस. अंकल ने कहा- रेशमा, लंड का पानी छोड़ने वाला हूँ, कहाँ छोड़ूँ?मामी बोली- साली रंडी की चूत में ही छोड़ दो. पर मेरा मन नहीं था जाने का … क्योंकि मुझे तो मनीषा की गांड दिख रही थी.