ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ

छवि स्रोत,डॉक्टर की सेक्सी वीडियो फुल एचडी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ बच्चा वाला: ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ, दादाजी- हां बोलो बेटा क्या हुआ?मैं- दादाजी मैंने झूठ बोलकर आपसे साइन करा लिए हैं.

सेक्सी वीडियो हिंदी पंजाबी

मैंने पूछा- अब क्या है?मामी जी- अगर आपको मेरी चूत भी पसन्द आ गयी हो … तो मुझसे शादी कर लो. सेक्सी पिक्चर वीडियो हिंदी सेक्सीमैं मिहिका के ऊपर आकर उसके होंठों को चूसने लगा, उसे मेरे होंठों में लगा अपनी चूत का रस बड़ा ही मस्त लग रहा था.

शायद ख्यालों में मेरी चुदाई कर रहे थे … है ना भैया?अभय- नहीं, ऐसी बात नहीं है. हीरोइन का वीडियो सेक्सीएक पैग के बाद दूसरा पैग भी इसी तरह से चला और अब उसने बोतल उठाई और मेरे मम्मों पर वोडका गिरा कर पीना शुरू कर दिया.

एक तरफ मेरी पत्नी की वफादारी थी और दूसरी ओर एक मस्त चूत थी, जो खुद से ऑफर दे रही थी.ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ: चूत चटवाने में औरत को कितना सुख आता है यह बस एक औरत है जान सकती है.

3सम सेक्स कहानी में पढ़ें कि मौसी ने अपने भानजे से सेक्स के बाद उसकी गर्लफ्रेंड को भी अपने सेक्स गेम में शामिल करके थ्रीसम सक्स और लेस्बियन का मजा लिया.शायद वो मुझे पसंद करने लगी थीं, वो मजाक मस्ती के समय कभी कभी मेरा कभी हाथ पकड़ लेतीं और कभी कभी मैं भी अपना हाथ उनकी जांघ पर रखने लगता था.

रेशमा का सेक्स - ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ

मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]सेक्स विद सिस्टर इन लॉ की कहानी जारी रहेगी.उसे भी मज़ा आ रहा था और हल्की सी सिसकारी भी निकल रही थी- सि…स्स्ह … आअ अहह!उसकी ये कामुक आवाजें मेरी उत्तेजना को और बढ़ा रही थीं.

बस जैसे सुई लगवाते समय हल्का सा दर्द होता है, वैसे ही थोड़ा सा लगेगा. ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ अच्छा पापा जी! तो आप इस इक्कीस साल की कुंवारी छोरी के तन को मसलना मीड़ना चाहते हो, उसे भोग कर लड़की से औरत बनाना चाहते हो, है न?” बहूरानी बड़ी अदा से बोली.

मैं उसको इस तरह से किस करते जा रहा था, जैसे मैं आज उसको खा ही जाऊंगा.

ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ?

करीब 11 बजे मैं टीवी देख रहा था कि चित्रा और जया की मम्मी आईं और मुझे छुहारे वाला दूध पिलाकर बोलीं- जाओ बेटा, जया अपने बेडरूम में है. मेरी चूत के लब खोलकर सर ने अपना लण्ड रखा, बहुत गर्म और चिकना लग रहा था. मैंने देखा कि उसकी नज़र अभी भी मेरी चूची पर ही थी जो कि ब्लाउज से बाहर थी.

अब उसकी गान्ड में थप थप थप थप की आवाज आने लगी और गीला लंड फच्च फच्च फच्च करके चूत में अंदर तक समाने लगा।अब मेरे शरीर में भी बिजली दौड़ने लगी और झटके के साथ लंड ने वीर्य छोड़ दिया. मैंने उनके निप्पल को दोनों उंगलियों के बीच लेकर मसलना शुरू कर दिया और पूनम बुआ की कामुक सिसकारियां भी बढ़ती चली गईं. लोलिशा- कौन सी? आप जो कहेंगे वही मिठाई खिलाऊंगी।मैं- पक्का न?लोलिशा- आप बताइए तो आपको कौन सी मिठाई चाहिए?तभी मैंने उसके होंठों पर उंगली फिराते हुए कहा- ये वाली।वो पहले तो देखती रही, फिर कहा- आप आईये … मैं खिलाऊंगी न।फिर मैंने कहा- एक काम करना.

कभी कभी तो मैं उसकी कमर में हाथ डाल देता हूँ, पर तब भी वह कुछ नहीं कहती है. अदिति ने अपनी सासू माँ से सब बातें बतायीं और पूछा कि आप कहो तो वो ग्वालियर चली जाये?अब बात थ्रू प्रॉपर चैनल मेरे पास तक तो आनी ही थी:जरा सुनिये, अखबार फिर पढ़ लेना!” रानी (मेरी धर्मपत्नी) ने अधीरता से कहा. दोस्तो, मेरा नाम मोना है। मैं अन्तर्वासना की नियमित पाठिका हूँ। सबकी कहानी पढ़ने के बाद मेरा भी मन हुआ कि मैं भी नंगी बहन की चूत कहानी बताऊं.

मैंने लवली की तरफ लंड हिलाया और उसे आंख मारी तो लवली ने मेरा लंड पकड़ लिया और चूसने लगी. थोड़ी देर बाद मैंने शन्नो को लंड से उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी चूत में लंड घुसा कर गपागप गपागप अन्दर बाहर करने लगा.

’उसकी इन रसभरी बातों से मैं और ज्यादा उत्तेजित हो गया और मैंने फिर से एक जोर का धक्का दे दिया.

उफ्फ … अब और मत सताओ पापा; प्लीज … मेरे भीतर समा जाओ न अब तो!” बहूरानी ने अपनी एड़ियां मेरी पीठ पर ऊपर की ओर रगड़ते हुए कहा जैसे वो अपने पैरों से ही मुझे ऊपर की ओर खींच लेंगी.

उस वक्त मेरे ऊपर वासना का भूत सवार हो रहा था, इस कारण मैं फिर से भाभी की चूत को मसलने लगा. मैंने कहा- कुछ खा ही ले मेरी जानेजाना वरना मुझे भी सिर्फ मुसम्मियां चूस कर काम चलाना पड़ेगा. और मैं मम्मी से सहेली के यहां जाने का बहाना बना कर चोरी छिपे यहां जंगल में आपसे मिलने आ गयी हूं; हमारे पास मिलने के लिए सिर्फ एक घंटा ही है.

पर सच तो ये था कि मामा के मोटे लंड से चुदने के बाद अहमद का लंड मुझे छोटा लगने लगा था. फिर देखते ही देखते हम लोगों के बातचीत का सिलसिला अच्छा चलने लगा था. मैं भी अपनी चरम सीमा पर था और उनके मम्मों को मसलते हुए मैंने पूरे दूध लाल कर दिए थे.

मेरी एक आह निकल गई और मैंने लंड को ठोकर मार कर मिहिका के मुँह में पूरा ठांसने की कोशिश की.

ताजमहल देखने तरह तरह के देसी विदेशी सैलानी अपने अपने रंग में मस्त एन्जॉय कर रहे थे. उसके बाएं स्तन के ऊपर जो तिल था, वो उसके उभार की खूबसूरती को और निखार रहा था. मैंने उसको अपनी चूचियों के ऊपर खींच लिया और उसे चूमते हुए कहा- बस अब मुझसे और नहीं सब्र होता.

मैं भी नीचे से लंड को और अन्दर तक घुसाने की कोशिश कर रहा था, पर मुझे कुछ खास मज़ा नहीं आ रहा था. मैं ऐसे लंड को चूस नहीं पा रही थीमैंने सागर को बेड पर धकेला और उसके ऊपर आकर लंड चूसने लगी. ये तीनों मेरे भरोसे के आदमी हैं और पूरी तरह से संतुष्ट करने की ताकत भी रखते हैं.

दोपहर में जैसे रुबिका घर आई तो वो शहज़ाद को देख कर एकदम से खुश हो गयी.

मैंने आंटी को ओके बोला और कहा- आप मेरी मम्मी को फ़ोन कर दो कि मैं आज यहीं रुकूंगा. आपकी चुदक्कड़ बहन आशनाभाई बहन सेक्स कहानी का अगला भाग:छोटा भाई मेरी चुत का चोदू बना- 2.

ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ रमेश बोला कि कौन सी शर्त?दीदी ने बोला कि मैं समीज उतारूं, तब तुम मेरे चुचों पर हाथ रख कर उन्हें ढांप देना. थोड़ी देर बाद मेरे लौड़े ने गर्म वीर्य की धार छोड़ दी और शन्नो की गांड भर दी.

ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ उधर से 5 मिनट बाद बाहर आईं और किचन से मेरे लिए गर्म दूध लेकर आ गईं. मां अपने भाई यानि हमारे मामा से दिल खोल कर चुदवाती हैं और बापू भी अपनी बहन हमारी संगीता बुआ की ले चुके हैं.

थोड़ी देर लंड को चूत में लिए बैठी रही और कमर हिलाते हुए संभलने की कोशिश करती रही.

सेक्सी सेक्स वीडियो वीडियो

मैंने अपना ड्रेसिंग टेबल खोलकर नारियल का तेल लिया और अपने लण्ड पर चुपड़कर घोड़ी बनी बहार के पीछे आ गया. उसने मुझे क्या बताया?लेखक की पिछली कहानी:पड़ोसन आंटी की रात भर चुत चुदाई कीहैलो प्यारे पाठको, कैसे हो आप सब लोग?आज मैं आपको अपने दोस्त की आपबीती सुनाने जा रहा हूं। जो उसके साथ हुआ उसकी कल्पना तो कोई कर भी नहीं सकता है।यह फ्री Xxx कहानी पढ़ कर सब जानें. पापा फ़ौज़ में थे, जिस वजह से वो साल में 2 या 3 बार ही घर आ पाते थे.

मैंने नीतू को बड़े प्यार से बेड पर लिटा दिया और उसके होंठ चूमने लगा. मैंने कहा- अच्छा तो आपको लम्बी जर्नी पसंद है?भाभी ने मेरी कमर में चिकोटी काटी और बोलीं- हां अब समझे … तुम्हारा दोस्त तो जरा सी दूरी तय करने में ही टैं बोल जाता है. महारानी कृति हमारे और करीब आई और मीना के गाल पर हाथ फेरते हुए उसने मीना के माथे पर प्यार से चुम्बन कर दिया.

नीतू बोली- आप सिर्फ दीदी की प्यास ही बुझाओगे क्या … हमारी भी बुझा दो.

कुछ देर के रसमय चुम्बन के बाद जैसे ही पूनम बुआ को बच्चों की याद आयी, तो उन्होंने खुद को पीछे खींचते हुए मुझे बराबर के कमरे में पढ़ रहे बेटे की याद दिलाई. मैंने उसकी चूचियों पर अपने हाथ जमा दिए और अपनी गांड उठा कर उसकी चुदाई चालू कर दी. मेरी चूत तो इतनी गीली हो चुकी थी कि लंड अपने आप ही फिसल कर अन्दर जा रहा था.

किस करने में इतना मजा आ रहा था कि बस लग रहा था कि उसके मुँह को चूसता ही रहूँ. वह अपनी यूनिफार्म चेंज करने गया और मैंने भी प्लान के मुताबिक़ अपनी सलवार कमीज़ उतार दी. राहुल उस लड़की का नाम लेने लगा- आह हुर्रेम … तेरे दूध बड़े रसीले हैं.

तुमने देखा तुम्हारी माँ कितने प्यार और मजे से मेरा लन्ड चूस रही थी, और मेरा सारा माल कितने चाव से पी गई. लौटते समय देखा कि अफ़रोज़ के कमरे की लाइट ऑन थी और उसके कमरे का दरवाज़ा भी थोड़ा सा खुला था.

अफ़रोज़- क्यों आपा?मैं- अरे यार, तू अपनी ज़िंदगी की पहली चुदाई अपनी ही बहन की कर रहा है और उसी बहन की, जिसकी चुत को तू जाने क़ब से चोदना चाहता था. मैं भी अपनी चरम सीमा पर था और उनके मम्मों को मसलते हुए मैंने पूरे दूध लाल कर दिए थे. अरे अदिति बेटा, मेरे ऊपर से अपने पांव तो हटा तभी तो मैं तुझे चोद पाऊंगा न!” मैंने कहा.

लेकिन दादा दादी हंसने लगे और दादी जी बोलीं- अरे रश्मि कोई बात नहीं, रोहन भी सूरज जैसा ही है.

अब मेरे दोनों हाथ उसकी चूचियों पर थे और उन्हें पकड़ कर मैं जोर जोर से चूत में धक्के मार रहा था. इसलिये हम वहीं बेड पर सो गये।दोस्तो, इस देसी गन्दी चुदाई कहानी में आपको जरूर आनन्द मिला होगा. अगले दिन भाभी अपनी बेटी के साथ आईं, तो मैंने उनकी बेटी का चैकअप करवाया.

आज मैं अपनी और अपने एक मित्र की बुआ पूनम की आपबीती आपसे साझा करने जा रहा हूँ. अन्तर्वासना के सभी प्रिय पाठिकाओ एवं पाठको, मेरा अभिवादन स्वीकार करें.

शन्नो चिल्लाने में लगी थी और मैं अपनी पूरी रफ्तार से उसे चोदने में लगा था. मैंने पूछा- बताओ न, किसका देखा है?काफी देर तक उसे कुरेदने के बाद उसने बताया कि मैं जब अपने बगल वाली चाची के बेटे को मूतते हुए देखती हूँ न … तो उसका तो जरा सा दिखता है. रीमा ख़ुशी से मीरा के गले लग गयी क्योंकि कल रात के बाद अब वो खुल्लम खुल्ला निखिल के साथ चुदाई का खेल खेल सकती थी.

www.com नेपाली सेक्सी वीडियो

पंजाबी भाभी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी पड़ोस की भाभी ने मुझे मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई करते देखा.

लंड को लेकर मैं दावा कर सकता हूं कि कोई भी लड़की लेगी तो खुश हो जायेगी।तो अब सीधा हॉट फ्रेंड सेक्स कहानी पर आते हैं। ये तब की बात है जब देश में लॉकडाउन लगने वाला था. मामी ने अपनी चूची चुसाते हुए कहा- राहुल, मेरी दूसरी चूची में भी रस आता है … आह दूसरी भी चूसो न!मैंने झट से मामी की चूची छोड़ी और दूसरी चूची के निप्पल को अपने मुँह में ले लिया. सच बात तो यह है दोस्तो … कि हम दोनों बारहवीं कक्षा से लेकर आज तक एक दूसरे से बेइंतेहा प्यार करते आए हैं.

हॉट फॅमिली सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक बार मेरे ननदोई जी मेरे घर पर रात को रुके तो हमारी वासना उमड़ पड़ी और हम सेक्स के लिए उतावले हो गए. अब मुझे भी जोश आ गया और मैंने भी उनकी एक चूची को अपने दांतों से दबा कर चूसने और काटने लगा. कॉल गर्ल जॉबये एक प्यार का रिश्ता था … जिसे हम दोनों ने मन ही मन स्वीकार लिया था.

दोस्तो, मैं प्रवीण एक बार फिर से आपके सामने अपनी प्रेमिका प्रभा के साथ लैंड बुर की चुदाई कहानी को आगे लिख रहा हूँ. उसने मुझे कुछ भी बोलने का मौका ही नहीं दिया और मुझ पर टूट पड़ी, किस करने लगी.

मैंने मौसी की गांड अच्छे से चाटी और अपनी जीभ गांड के अन्दर तक डाल कर अन्दर बाहर करने लगा. मैं- हां … वैसे भी मैं होता कौन हूँ?पूनम बुआ मेरे होंठों पर उंगली रखती हुई बोलीं- दोबारा ऐसा मत कहना. अभी मुझे टहलते हुए दस ही मिनट हुए थे कि पांच लड़के पण्डाल से निकल कर अचानक सड़क पर मेरे सामने आकर खड़े हो गए.

मैंने उसकी प्यास का कारण पूछा तो उसने बताया कि उसका पति महीने महीने बाद आकर उसकी प्यास बुझाता है और वह भी पूरी तरह नहीं ठंडा कर पाता. चाची- तू सच में नहीं जानता क्या?मैं भ्रमपूर्ण नजरों से उन्हें देखने लगा. ये ड्रेस मेरे चाचा के लड़के रिज़वान ने सेलेक्ट की थी, उसकी पसंद भी कमाल की है.

गुरुत्वाकर्षण की मदद से वो नीचे को हुई और पहली ही बार में मेरा लंड 4 इंच तक चुत के अन्दर चला गया.

एक भी लड़के से बात नहीं करती है, जबकि इनके युगांडा में सेक्स को कोई गम्भीर विषय नहीं मानते, कोई भी, कभी भी, कहीं भी, ऐंवई. आजू बाजू में रहने वाले लोग भाभी पर बुरी नजर गड़ाए बैठे थे, वो मौके की तलाश में थे कि कब भाभी बुलाए और कब वो अपनी हवस मिटा लें.

मैं- आज पूरी रात मजा करेंगे मां, जल्दी से खाना बना लो, मैं जरा दुकान से कुछ सामान लेकर आता हूँ. चाची- अब ये मास्टरबेशन क्या है?मैं- ओहो … चाची ये मैं कैसे बताऊं?चाची- वैसे ही, जैसे मैंने तेरा गीलापन देखा था. भाभी जैसे ही दरवाजे पर आयी तो उसने मेरा खड़ा लंड देख लिया और कुछ देर के लिए दरवाजे पर से ही मेरे लंड को निहारने लगी.

मैं भाभी के 34 साइज के मम्मों को बहुत जोर से और पूरी ताकत के साथ चूस और चाट रहा था. लंड का पूरा माल, जो कि आज बहुत ज्यादा निकला था, मैंने भाभी के मुँह में छोड़ दिया. मैंने अपने हाथों से मम्मी की दोनों चूचियों को पकड़ा और धीरे धीरे ब्रा के कप में डालने लगा.

ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ मेरी दीदी ने अन्दर समीज पहनी हुई थी … लेकिन वो ब्रा नहीं पहनती थीं. अंकल मेरी छाती का इलाज करना चाहते थे लेकिन शर्म और मर्यादा रुकावट बन गई थी.

यूपी बिहार सेक्सी पिक्चर

मेरे भाई की एक टेलीकॉम की दुकान है, जिस पर कभी-कभी मैं भी भाई के अनुपस्थिति में दुकान पर रहता था. आप सबको मेरी ये हॉट कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी कैसी लगी?ये आप मुझे मेल पर बता सकते हैं. इस लड़की का नाम जीनिया था, कद करीब छह फीट, तीखे नैन नक्श, रंग चमकीला काला, चूचियों का साइज 38 इंच, चूतड़ 42 इंच और वजन कम से कम सौ किलो रहा होगा.

आजू बाजू में रहने वाले लोग भाभी पर बुरी नजर गड़ाए बैठे थे, वो मौके की तलाश में थे कि कब भाभी बुलाए और कब वो अपनी हवस मिटा लें. उसकी बुर चाटते वक्त मेरी नजर उसकी छोटी सी गांड पर चली गई और मेरा मूड बन गया. गुदा में सूजनमेरे गाल मामी जी की चूचियों पर दबे हुए थे और मेरा आधा तना हुआ लंड अभी भी मामी जी की चूत में ही था.

मम्मी ने मौसी से बात की तो मौसी ने भी कहा- हां मेरे घर भेज दो, इसमें पूछने की क्या बात है.

वैसे तो सारी सुविधाएं अपने अपने रूम थीं, लेकिन पीने का पानी रीना के रूम के पास में आता था. मैरिज गार्डन से निकल कर यहां आते आते मुझे पसीना आने लगा था; ऐ सी की ठण्डी ठण्डी हवा और साथ में सट कर बैठी बहूरनी के जिस्म की आंच एक अजीब सा सुखद अनुभव दे रही थी.

डर्टी भाभी- आरुष, मैं चाहती हूँ कि तुम एक बार और ओरल सेक्स करो … प्लीज मुझे काटना मत और सेक्स भी मत करना. चाची ने हंसते हुए मेरी मम्मी की एक चूचि उनके ब्लाउज के ऊपर से पकड़ ली और जोर से दबाने लगीं. आज की ये सेक्स विद हॉट आंट कहानी भी मेरी और आंटी शन्नो की चुदाई की एक और दास्तान है.

इतना ही नहीं अंकल ने मेरी गांड पर हाथ लगाकर बड़े प्यार से उसे सहलाया भी था.

मैं बोली- ऐसे मत कर! सुन … तू अपनी एक उंगली मेरी चूत में डाल दे, मुझे अंदर बहुत खुजली हो रही है. इस देसी सेक्स कहानी के पिछले भागबहन ने भाई को मुठ मारते देखाhttps://www. जब चाची मेरी जांघों तक मालिश करतीं तो उनके बड़े बड़े दूध देखने से मेरा लंड चड्डी में खड़ा होने लगता था.

लुल्ली निकालकर हिलानेरात आठ बजे छत फांदकर जीनिया आ गई, बड़े बड़े फूलों वाली मिडी में उसको देखकर मेरा लण्ड टनटना गया. थोड़ी देर बाद मैंने उसका ब्लाउज खोल कर निकाल दिया और उसने मेरी शेरवानी हटा दी.

सेक्सी चुदाई नंगी सेक्सी

सर बोले- शबनम मादरचोद … काफी दिनों बाद तेरी चुत चोदने मिली है कुतिया … आह तेरी चूत रगड़ने में मजा आ गया … आह क्या मस्त चुत है बहनचोद तेरी. मैंने बोला कि हां बताइए … क्या काम है?उसने बोला- मैं अभी आया हूँ और आप प्लीज़ मेरी बीवी को जल्दी दिखवा दीजिए. उसके सहलाने से मेरा लण्ड कड़क होने लगा तो जीनिया बेड पर बैठ गई और मेरा लण्ड अपने मुंह में लेकर मेरे चूतड़ों को अपनी बांहों के घेरे में लेकर अपनी ओर खींचा तो पूरा लण्ड उसके मुंह में चला गया.

फिर मैंने उसके कंधों पर मालिश करते हुए उसके बालों की चोटी बना कर अपनी पकड़ बनाई और उसे हल्के से खींचा. भगवान ने यही मुझे एक अच्छी आर्ट दी है कि किसी को भी मैं बहुत जल्दी इम्प्रेस कर लेता हूँ. तभी राजेश की पिचकारी चूत में इतनी तेजी छूटी कि जैसे किसी मशीन ने प्रेशर से चूत में धार छोड़ी हो.

बहूरानी के मुंह से लंड शब्द सुनना इतना उत्तेजक लगता है कि वो खुशी वो आनंद व्यक्त करने के लिए उपयुक्त शब्द मेरे पास हैं ही नहीं. अब आगे :चाची मेरी तरफ देखती हुई बोलीं- उठ बेटा केदार, कब तक सोता रहेगा?मैं- ओह चाची … मैं कल देर से सोया था और …चाची- और क्या!मैं- मुझे सपना आ रहा था चाची. उसने मेरी बात का जवाब देते हुए कहा- मेरी छोड़ बे … अपनी बता आज़कल भी गांड मरवाते हो या छोड़ दिया?मैंने उसको थोड़ा मस्का लगाने के लिए कह दिया कि आप जैसा कोई दुबारा मिला ही नहीं, तो बस यूं ही चल रहा है.

आयुषी मुझे बहुत प्यार करती है और सेक्स में तो वह मुझे और भी ज्यादा प्यार करती है. मैं- तो क्या तुझे अपनी बहन को चोदकर भैनचोद बनने का कोई अफ़सोस लग रहा है!अफ़रोज़- नहीं आपा ये बात भी नहीं है, मुझे तो बड़ा ही मज़ा आया भैनचोद बनने में … मन तो कर रहा है कि बस अब सिर्फ़ अपनी आपा की जवानी का रस ही पीता रहूँ.

सेक्स कहानी के पहले भागकॉलेज की सहेलियों की शादी के बाद मस्तीमें आपने पढ़ा कि एक विवाहित लड़की अपनी शादीशुदा सहेली के घर आई.

तभी मौसी ने मुझे सीधा करके अपनी तरफ कर लिया दिया और खुद नंगी मेरे ऊपर आकर लेट गईं, मेरे सीने पर वो खुद को चढ़ाकर सो गईं. खुल्लम सेक्सी वीडियोउसने दीदी के भरे हुए … और हथेलियों से छिपने में असमर्थ मम्मों की कई फोटो ले लीं. राजस्थानी लड़की का सेक्समैनेजर का फोन आया तो मैंने गाड़ी इधर मोड़ दी, बताइये क्या दिक्कत है?मेरे द्वारा मामला बताने पर उन्होंने अपने कर्मचारियों का बचाव करने का प्रयास किया तो मैंने कहा- ऐसा लगता है कि इस हेराफेरी में आप भी शामिल हैं. बारहवीं के इम्तिहान सर पर थे और मैं पढ़ाई के लिए गांव से शहर जाता था.

मेरे पति मेरे साथ नहीं रहते थे तो मेरी चुत में चींटियां सी रेंगती रहती थीं.

फिर आंटी ने कॉल कट कर दी और बस मेरे उर्वशी के घर पर रुकने का भी इंतजाम हो गया. पूजा और मीना मेरे आजू बाजू में लेटी थीं और मेरी प्रिय कृति मेरे लंड पर मुँह लगाए लंड चूस रही थी. उनकी इस बात पर मैं हंस दिया और मैंने भाभी से पूछा- भाभी, आपने दूसरी शादी क्यों नहीं कि आपकी तो अभी उम्र ही कम है.

मैंने अपनी Xxx मामी की चूत चोदी बहुत जोरदार तरीके से … उनकी चूचियां बहुत बड़ी बड़ी थी. डैड- ये सब क्या है और रश्मि ऐसी क्यों है?दादाजी- हम सबने मिलकर रश्मि को एक तरह से इसे दूसरा पति दिला दिया है. ये कह कर मम्मी मेरी तरफ़ अपनी गोरी पीठ करके खड़ी हो गईं और मैंने ब्रा हाथ में ले ली.

शिल्पी राजा का सेक्सी वीडियो

मुझे भाभी की ये इच्छा सुनने में थोड़ी अजीब लगी, लेकिन प्रीति भाभी ने जैसा कहा था कि मेरी सहेली की हर इच्छा पूरी करना. साथ ही मैंने अपने दूसरे हाथ से लंड को पकड़ा और मां की चूत में डालने लगा. बाद में मम्मी पापा और मैं … यानि हम तीनों ने एक साथ दारू सिगरेट का मजा लेना शुरू कर दिया.

मैंने कहा- केले का सैंपल देखोगी?वो कुछ कहने ही वाली थी कि केबिन के बाहर से किसी ने आवाज दी- मे आई कम इन सर?ये वेटर था.

पहले दिन हम दोनों के बीच कोई बात नहीं हो पाई थी या कहो कि हम दोनों ने ही आपस में बात करने की कोई कोशिश नहीं की थी.

थोड़ी देर बाद मैं बेड से नीचे उतर आया और उसको बेड के किनारे लिटा दिया; उसकी गांड के नीचे तकिया रख दिया जिससे उसकी चुत ऊपर को हो जाए. लेकिन अब मैं कहां उसकी सुनने वाला था।उसकी गान्ड में अपनी उंगली घुसा दी और वो ‘उईई ईईई ऊईई ऊईई निकाल’ बोल कर चिल्लाने लगी. रोमांटिक स्टेटस वीडियोफिर मैंने अपने मोबाइल से उसकी फटी चुत और गांड की फोटी निकाली और किंजल को सेंड कर दी.

बाद में मुझे पता चला था कि काफी बार दोनों ही साथ में एक लंड से चुदवा चुकी थीं. मैंने तुरन्त पैंट की जिप खोली और उसका हाथ पकड़कर अपने खड़े लौड़े पर रख दिया. कुछ देर बाद दीदी ने रमेश से कहा- एक बार फिर से अपने छोटू पहलवान को मेरी चुत में डालो.

आगे बढ़ते हुए शहज़ाद ने रुबिका के गदराए बदन का रस चूसना शुरू कर दिया. ममता- और बता … कोई बीएफ बनाया या अभी तक अपना हाथ ही चला रही है?मैं- नहीं यार … मैं इन चक्करों में नहीं पड़ती.

मेरे ऊपर आते ही उसने मुझे भूखी शेरनी की तरह देखा और मेरे होंठों पर, मेरे गले पर और मेरी छाती पर बेतहाशा चूमने लगी.

मैं पूरी ताकत से उसके उठे हुए दोनों नितम्बों को दबा रहा था और दोनों हाथ के अंगूठों को अन्दर दबाता हुए गांड के छेद के पास तक ले जा रहा था. वो बोलीं- मुझमें ऐसी भी कौन सी चीज है, जो तुमको पसंद आ गई?मैंने शर्माते हुए कहा- मैंने अभी तक आपके जैसी कोई भी लड़की नहीं देखी. तभी मेरी बीवी का कॉल आया- मेरी सहेली सादिका को भी साथ में ले आना, वो भी एक दिन के लिए इधर आना चाहती है.

हिंदी सेक्सी वीडियो 2021 उसके बाद ममता अपने कमरे में जाने लगी और मंजू अपने कमरे आकर पैकेट खोल कर देखा. इसके बाद मैंने भी सोचा कि क्यों ना मैं भी अपनी रियल लाइफ सेक्स की कुछ बातें आप लोगों के साथ शेयर करूं।दोस्तो, स्टोरीज तो बहुत सारी हैं लेकिन मैं आप लोगों को सारी बात शुरू से ही बताऊंगा जब मैंने अपनी लाइफ में पहली बार सेक्स का अनुभव किया.

ये सारी बातें उसने मुझे बाद में बताई थीं मगर उससे पहले हमारे बीच में बहुत कुछ हुआ था और वही सब मैं आप लोगों को बताने जा रहा हूं. मैंने उसे खड़ी करके लंड चुसाया और लंड खड़े हो जाने पर उसे डॉगी स्टाइल में चोदने लगा. अभी बुआ मेरे लंड को देख नहीं सकती थीं, पर उसको अंडरवियर के ऊपर से हाथ में पकड़ने से ही उनकी आंखों में एक चमक नज़र आने लगी थी.

सेक्सी पड़ोसन वीडियो

चाची आंह आंह करती हुई मेरा सर दबा रही थीं और मैं अपनी जीभ से चुत संग चटाई का खेल खेल रहा था. मैंने उससे कहा- नहीं, ऐसा कुछ नहीं है … मुझे तुम भी उतनी ही पसंद हो. शुरू में तो उसने मेरी इस इच्छा को बहुत सारे तर्क देकर टालना चाहा लेकिन अंत में उसने मेरी मांग स्वीकार कर ली।फिर पता नहीं कब हमारी आँख लग गयी और हम सो गये।कुछ देर बाद मेरी आँख खुली तो देखा घड़ी में शाम के 4:10 हो रहे थे।रूपाली अभी भी सो रही थी.

एक बहुत ही कामुक किस्म की औरत हूँ मैं! शादी के पहले मैंने अलग अलग तरीकों से बहुत मजे लूटे. देसी ब्लो जॉब स्टोरी में पढ़ें कि कैसे हम तीन दोस्तों ने कॉलेज की दो जवान लड़कियों से लंड चुसाई का मजा लिया और उन्हें भी ओरल सेक्स का मजा दिया.

उनके जिस्म में कोई हरकत नहीं हुई तो मैंने दीदी के ब्रेस्ट मिल्क को पीना शुरू कर दिया.

वो मुझे निहारता ही रहा।कांपती आवाज़ में होश में आते हुए बोली- जी चाय।गुलाब- रख दीजिए, ले लूंगा।मैं काली साड़ी में क़यामत लग रही थी. आज भी भारी पड़ती होगी बापू पर … और गांड तो ओहो … लगता है कुतिया ने सबसे मरवा मरवा के इतनी बड़ी कर ली. शहज़ाद आधे घंटे में मेरे घर आ गया और आते के साथ मैंने शहज़ाद से किचन में ही खाना बनाते हुए अपनी चूत और गांड एक बार चुदवा ली.

शायद उसका भी पानी निकलने वाला था क्योंकि उसकी चुदाई की रफ्तार बहुत तेज थी. दीदी की चुदाई करते समय मुझे उनकी सबसे अच्छी बात लगी थी कि उनकी दूध से भरी चुचियां बड़ी मस्ती से दूध छोड़ती थीं और उनके शरीर से मादक महक मुझे जबरदस्त उत्तेजित कर देती थी. रात के उस अंधेरे में मैं बहू की चूत में लंड घुसाए यूं ही लेटा हुआ उनके होंठ चूसता रहता था, उनके गाल काटता रहता था.

पीछे के दरवाजे पर पहुंचकर मैंने उसे फोन किया, तो उसने दरवाजा खोल दिया.

ऑनलाइन बीएफ ऑनलाइन बीएफ: सेक्स विद हॉट सिस्टर स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी दोसरी मेरे दोस्त की बहन से हुई. उसने मेरी बातों का मजा लेते हुए कहा- हम्म … आप बातें बहुत अच्छी कर लेते हैं.

उसने अपनी चूत फैलाई और मुझे हुक्म दिया- साले कुत्ते, देखता ही रहेगा या चाटेगा भी इस चूत को. उसके बाद हमने कई बार सेक्स किया और मैंने ब्रेस्ट मिल्क सेक्स का मजा लिया. मैंने पूछा- क्या आप मेरी चूत में उंगली डालना चाहोगे?अंकल- भला कौन चूतिया इसके लिए मना करेगा!मैंने चड्डी उतारकर उनका हाथ मेरी चूत पर रख दिया और अंकल ने अपनी तीन उंगलियां मेरी चुत में आखिरी तक घुसेड़ दी थीं.

एक दिन हम दोनों को कंपनी के काम से दो दिन के लिए हैदराबाद जाना पड़ा.

पूजा कामवासना से चिल्लाते हुए कराह उठी- आह … चोदो मुझे … उम्म … मेरे चॉकलेटी महाराज … आह … चोद दो अपनी इस चॉकलेटी रांड को … आह. मैंने उनके बाल सहलाने शुरू किए ही थे कि तभी उनकी भी आंख खुल गई और वो मुझे देखकर मुस्कुराती हुई देखने लगीं. जब कोई लड़की, भाभी या औरत मेरा लंड चूसती है … तो मैं एकदम से मदहोश हो जाता हूँ, आसमान में उड़ने लगता हूँ, मेरा लंड फूल कर और मोटा हो जाता है.