देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो

छवि स्रोत,देहाती भाभी के बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी जोशी: देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो, कुछ देर तक लंड चुसवाने के बाद पापा ने दीदी को नंगी होने के लिए कहा.

बीएफ डब्ल्यूडब्ल्यू2

हाथ से चुत में उंगली और होंठों से चुम्बन का सुख हम दोनों की चुदास को लगातार बढ़ाता जा रहा था. हिंदी फिल्म सेक्सी वीडियो बीएफहां वो अलग बात है कि अब वो बढ़ती उम्र के साथ थोड़ी मोटी हो गयी हैं लेकिन उस वक्त गजब की माल थी.

उल्टा करने के बाद अपने फटने को हो रहे लंड को उसकी गांड पर घिसने लगा. बांग्ला सेक्सी बीएफ एचडीमुझे हमेशा से ही बड़ी चूचियों को देखने और उनको हाथ से छूने की बहुत तमन्ना रहती थी.

अगर तुझे मालिश ही करवानी है तो मैं कर देती हूं चल।मैंने कहा- नहीं अम्मी, आप क्यों तकलीफ करती हो.देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो: दोस्तो, शीला दीदी की बेटी कविता, मेरी बहन नन्दिनी दीदी और मौसेरी बहन ज्योति … तीनों घर की लड़कियां हैं.

इसी के चलते मैं ऑफिस से बाहर फील्ड पर निकल गया और शाम को घर आकर मैंने कल्पना को कॉल किया- कल जरा जल्दी आना … और देर तक रुकना.थोड़ी देर बाद मैं अपना काम करके वापस आ गया। पर जब तक मैं भाभी के घर था वो मुझे पूरे टाइम घूरती रही।फिर अगले दिन उसकी फेसबुक पर रिक्वेस्ट आई, मैंने एक्सेप्ट कर ली.

सेक्सी वीडियो प्लेयर बीएफ - देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो

मैं उसके पीछे की ओर गया और उसकी चूचियों को टीशर्ट के ऊपर से ही मसल दिया और दबाने लगा.क्या आपको नहीं लगता कि दुनिया का हर पुरुष उसी लड़के के किरदार में खुद को देखना चाहता है और दुनिया की हर लड़की अपने मर्द (पति या होने वाले पति) के हाथों उसी की तरह एक कला बन जाने का सपना देखती होगी?शरीर के गुप्तांगों के अतिरिक्त कमर की तगड़ी के रूप में भी मेंहदी डिजाइन काफी आकर्षक लगता है.

सच कहूँ, तो मेरी उस रंडी से चुदाई की बात करने की हिम्मत ही नहीं हो रही थी. देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो उसने मुझे लेटते देखा, तो वो मेरे खड़े लंड की तरफ लालसा से देखने लगी.

मगर बिजनेस में कोई दिक्कत आ गयी थी इसलिए पापा का जाना कैंसिल हो गया था.

देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो?

सुबह उठकर सारिका बाथरूम गई तो मैंने फूलदान के बीच छिपाकर रखा अपना स्पाई वीडियो कैमरा निकाल लिया जिसमें रात की पूरी पिक्चर रेकॉर्ड हो चुकी थी. इस बीच सिम्मी और मुझे बात ना किए हुए एक हफ्ते से ज्यादा का समय हो गया था. मम्मी ने मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चूत में दबा दिया और चिल्लाने लगीं- आह और जोर से … आह … मैं गई.

मम्मी से नजर मिलाने की हिम्मत नहीं हो रही थी और मम्मी भी नजरें चुरा रही थी. उसकी चूत को देख कर ऐसा लग रहा था जैसे वो खुद ही मेरे लंड के द्वारा चुदने का इशारा दे रही हो. नवीन सर का लंड मुझे अभी दर्द दे रहा था … क्योंकि मैं काफी दिन बाद चुद रही थी.

मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मुझे कभी अपनी ही बहन की चूत मारनी पड़ेगी. चड्डी के अंदर हाथ जाते ही वो पहली बार अपनी गीली सफाचट चूत पर हाथ फिराने लगी. उसने मेरे हाथ पकड़ कर मुझे अपनी टांगों के बीच में खींचा और मेरे सर को अपने लण्ड की तरफ दबाया.

भाभी के रहते हुए कुछ कर पाना बहुत मुश्किल हो गया था क्योंकि आंटी भी भाभी की देखभाल में ही लगी रहती थीं. जैसा कि उसने ये फैसला किया है कि शादी होने तक वो मेरे अलावा किसी से नहीं चुदेगी … इसलिए वो मेरे लंड के नीचे ही रहती है.

इस बार मैं काफी देर तक तो अपने लंड को उसकी चूत और गांड पर घुमाता रहा.

मैं खड़ा होकर बाथरूम में गया और अपने लंड को पानी से धो कर मैंने खुद को साफ़ किया.

बर्फ लगने से उसकी चूत में जो सनसनी मची वो उसकी तेज सिसकारी बखूबी बयां कर गयी. उस रात हम दोनों भाई बहन ने जमकर चुदाई की मैंने उसकी गांड को तीन बार बजाया. मैं चखना देकर जाने लगी, तो नवीन जी ने कहा- जरा मेरी टेबल से सिगरेट और माचिस ला दे.

मैंने कहा- बहू, बात क्या है खाना क्यों नहीं खा रही हो?बहू बोली- मुझे आपसे बात नहीं करनी है. फिर मैंने स्कर्ट रूपी घूंघट को उठाया और अपनीं बहन की प्यारी सी गांड देख कर मुझे मजा आ गया. भाभी ने अपनी आंखों में वासना के डोरे तैराए और मुझसे सरगोशी से बोलीं- मोहित, क्या तुम मुझे चोदोगे?मैं उनके होंठों को चूमा और दूध मसल कर बोला- मैं तो कब से लंड खड़ा किए हूँ मेरी जान.

गुलाबी रंग के गाऊन में मम्मी का गदराया बदन मेरी आँखों में नशा भरने लगा.

सामान को एक दिन के लिए बाहर बरामदे में रखा रहने दें, उसके बाद घर में अंदर लायें. मैंने उसकी चूत पर हाथ घुमाया, तो उसने गांड उठाते हुए कहा- जैसे रात में चाटी थी, वैसे चाटो. किचन से निकल कर जब मैं बेडरूम की ओर आया तो मेरा लंड मेरी जांघों के बीच में दायें बायें डोल रहा था.

तुमको देखते ही पता चल गया था कि तुम बैठी तो यहां हो अपने दोस्तों के साथ … पर तुम अपनी लाइफ में खुश नहीं हो. सुबह के घर के काम निपटा कर लगभग 11 बजे मम्मी नहाने चली गईं और मैं टीवी देख रहा था. मेरे लंड को निहारने के बाद उसने एकदम से कहा- बाप रे! ये तो बहुत बड़ा है.

तो दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी चुदक्कड़ बहू? आप अपने ईमेल सविता जी को भेज सकते हैं.

सेजल अपने ससुर के अंडों को दबा रही थी जिससे कि उसका ससुर आराम से सिसकारियां ले रहा था. उसकी गीली बुर के लकीर में मैंने एक उंगली से उसकी क्लिट को रगड़ना शुरू किया, तो वो ‘अहह ऊंह.

देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो अब मैं नीचे से जोर जोर से झटके दे रहा था और वो अपनी गांड उछाल उछाल कर मज़े ले रही थी. मुझे सेक्स कहानी लिखने में कोई तजुर्बा नहीं है … इसके लिए क्षमा चाहूंगा.

देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो आशा है कि आप सबको मेरी बहन की चूत चुदाई की सेक्सी कहानी अच्छी लगेगी।तो चलिए शुरू करते हैं।मैं छत्तीसगढ़ का निवासी हूं. करोना करीब 4 बार और झड़ कर जब थक गई तो बोली- अंकल, अब बस भी करो मेरी जान निकलोगे क्या?चिन्ना- नहीं बेटी, तुम तो मेरी जान हो.

थोड़ी देर बाद भाभी बोलीं- आज तूने जो सुख मुझे दिया है, वह आज तक मेरे पति से मुझको नहीं मिल पाया था.

सेक्सी बीएफ वीडियो फुल एचडी सेक्सी

कुछ देर के बाद जब वो नॉर्मल हो गयी तो मैंने एक जोर का झटका उसकी चूत में मारा और उसकी चूत की सील को तोड़ता हुआ मेरा लंड उसकी बुर में जा घुसा. कच्ची कली की चुदाई में मेरा लण्ड कमजोर न पड़ जाये इसलिये मैंने सुबह शाम शिलाजीत के दो कैपसूल खाने शुरू कर दिये. फिर हम एक रजाई में आ गए और दोनों रजाई एक साथ कर ली। पर ठंड फिर भी लग ही रही थी.

दोस्तो, मेरी पिछली सेक्स कहानीपेट और चूत की आग ने रंडी बना दियापर मुझे आपके काफी सारे ईमेल मिले लेकिन मैं सबको रिप्लाई नहीं कर पाती हूँ. आह्ह … दोस्तो, उस पल में उसके होंठों को चूसने में जो आनंद था उसको याद करते ही मेरे लंड में तूफान सा आ जाता है. भाभी मेरे पास आकर बैठ गई, मेरी शर्ट के बटन खोलने लगी और मेरे बालों वाली छाती में अपना हाथ फिराने लगी.

मुझे तो जैसे जन्नत का मजा मिल गया लेकिन दर्द के मारे तनु की हालत खराब हो गयी.

उसने फिर जो कहा, उसे सुन कर मुझे बड़ा सुकून मिला और समझो मजा ही आ गया. इस बार मेरी पढ़ाई पूरी हो चुकी थी इसलिए मैं गांव में काफी दिनों के लिए रुकने वाला था. अब चिन्ना के हाथ करोना की नंगी पीठ पर थे जिन्हें वह आगे बढ़ाता हुआ उसकी बगलों के नीचे से होते हुए बेधड़क करोना की खुली चूचियों पर फिरने लगा.

तो उसने भी हां में जवाब देते हुए कहा- कब मिलना है … और कितने बजे?तो मैंने उसे अपने घर पर ही मिलने के लिए कहा और 4 बजे का टाइम बता दिया. मई माह में 12वीं के रिजल्ट आने के बाद मैं बुआ के घर आ गयी और वह एक कॉलेज ज्वाइन कर लिया. मेरे गांव में जो हमारा पुश्तैनी घर है उसके पास में ही एक राजपूत परिवार रहता था.

इसके बाद मैंने उसे काफी समझाया, पर उसकी मासूमियत से मैं हार गया और चुपचाप वैसे ही सो गया. मैंने दूध मसलते हुए पूछा- तो मामी, अब तो आप मुझे अपना दूध रोज पिलाओगी?मामी मेरे मुँह में एक चूचुक देते हुए बोलीं- हां बेटा … ले चूस ले … ये तेरे ही हैं … तुम रोज चूस चूस कर इनको पीना.

इस दौरान कई बार चाचा को उठाते समय चाची के बूब्स मेरे बदन से टच हो जाते थे. तभी किसी के आने की आहट ने मुझे बेड से उठने को मजबूर किया और उठते हुए मैंने अपनी उंगलियों से उसकी चुत की गंध को सूंघा और अवनी की चुत को चोदने का निश्चय कर लिया. सेक्स के वक़्त लड़की जो आवाजें निकालती है ना, वो सुन कर बहुत मजा आता है.

उनके हाथ में लकड़ी से बना हुआ लंड के जैसे आकार लिये हुए कुछ चीज़ थी.

मैं- तो क्या करूं?दीदी- मैंने तुझे बचाया है बच्चू!मैं- तो क्या आरती उतारूं तेरी!दीदी- ठीक है … तो फिर मैं मम्मी को सच बता देती हूँ कि तेरे फोन में ब्लू फ़िल्म पड़ी हैं. वह अब जोर से सिसकारने लगी थी- उम्म… ओह … हा … और जोर से चूसो … लिक इट … सक इट … उम्म्म … हा. पुरूष कलाकारमहिला कलाकार के साथ आप नग्न अवस्था में अधिक सहज महसूस करेंगी.

नसरीन- मैं समझी नहीं दीदीमैं- देख नसरीन … मैं मसाज सर्विस देती हूँ और सेक्स का मजा भी देती हूँ. एक दिन मेरे बैंक की छुट्टी थी मैं अपने कमरे पर अपने कपड़े धो रहा था.

इसका मतलब चिन्ना ने अपनी तरफ की कुण्डी नहीं लगाई।वह बिना कोई शोर किए दरवाजे के पास चली गई और कुछ साहस जुटा कर चिन्ना के कमरे में झाँका तो उसके बदन को जोरदार झटका लगा. मैंने बहुत कोशिश की खुद को समझाने की लेकिन मैं तीन साल तक प्यासी ही रही. मैंने उसको होंठों को छोड़ कर उसकी कोमल पतली लंबी गर्दन को किस करना और चूसना चालू किया, तो वो तो बिन पानी की मछली की तरह तड़पने लगी.

सेक्स वीडियो अंग्रेजी बीएफ

मुझे बुर के अन्दर उसके यौवन का कामरस दिखाई दिया, जिसे मैंने चूसने में एक पल का समय भी नष्ट नहीं किया.

उधर तनु की सिसकारियां भी कुछ ऐसा ही इशारा कर रही थीं कि वो झड़ने वाली है. कोई 20 मिनट की जोरदार चुदाई के बाद मामी झड़ चुकी थीं … और मैं भी झड़ने वाला था. जब मैंने इस ओर ध्यान देना शुरू किया तो मुझे मालूम हुआ कि वो अब पहले से ज्यादा नजदीक आ गये थे.

उस दिन 14 फरवरी को सुबह 7 बजे ही सैम का मैसेज आया- दस बजे तैयार रहना. मेरी माँ ने मास्टर की बेटी तनु को भी बहाने से हमारे घर बुला लिया था. हिंदी ब्लू फिल्म बीएफ हिंदी मेंमेरे लंड के टोपे पर जुबान फिराकर और पूरा मुँह में लेकर ऐसे चूस रही थी, जैसे लंड को नहीं, सोफ्टी आइसक्रीम को चूस रही हो.

पर आप यह जान लो कि उस दिन से मैं जब भी नन्दिनी दीदी के घर जाता हूं और मेरा जब भी दिल करता था मैं मौका देखकर उसकी चुदाई कर लेता था. दोस्त की सेक्सी बीवी की चूत चुदाई स्टोरी में आपको मजा आया? मुझे आपके मेल की प्रतीक्षा रहेगी.

मेरा लण्ड ठोकर मारकर नीलम की चूत के अन्दर जाने को तैयार था, तभी डोरबेल बजी. उसने फिर से अपनी दोनों टांगें मेरी कमर में जकड़ लीं और मुझे किस करने लगी. मेरी इन्सेस्ट सेक्स स्टोरीपसंद आपको आई या नहीं? मुझे मेल करके बताइयेगा.

हालांकि नसरीन दर्द से छटपटा रही थी और अपने आप को मुझसे छुड़वाने का प्रयास कर रही थी. कुछ ही देर में मैंने नोटिस किया कि सिस्टर की चूचियां मेरी कुहनी के साथ में टच हो रही हैं. मेरे होंठ दीपिका की चूत पर लगते ही उसके शरीर में सिरहन सी दौड़ गयी.

हमने बालकनी की सीट ली जिससे हमें आस पास के लोगों से ज्यादा परेशानी न हो।गर्लफ्रैंड के साथ फ़िल्म देखने कौन जाता है … मस्ती करने जाते हैं सब।फ़िल्म शुरू हो गयी थी.

तभी मेरा दोस्त क्रिकेट के लिए बुलाने आया, तो मैं फ़ोन चार्जिंग पर लगा कर उसके साथ चला गया. मेरा लंड तो पहले ही उसकी चूत में घुसा हुआ था, थोड़ी देर हम एक दूसरे से ऐसे ही चिपके रहे और एक दूसरे के होंठों को चूसते हुये मैंने उससे बोला- जानू असली मजा लेना शुरू करें? जो मजा तुम्हारी दीदी अपने बॉयफ्रेंड से लेती है, आज वही मजा अब तुम्हें मिलने वाला है।उसने भी धीरे से अपनी गर्दन हिलाई.

अपना लण्ड पकड़ कर मैंने हनी की चूत पर रगड़ना शुरू किया तो हनी मस्त होने लगी. मुस्कुराने की एक्टिंग करते हुए करोना धड़कते दिल के साथ बैठ गई और इधर उधर की बातें करने लगी. क्योंकि अब तक मेरी कोई गर्लफ्रेंड बनी ही नहीं थी और न ही मैंने किसी रंडी से साथ सेक्स किया था.

चूंकि मैं कविता को चोदना चाहता था, लेकिन मैंने इस बात को उसे अभी तक नहीं बताया था. सारिका की सलवार और पैन्टी मैंने उतार दी, 69 की पोजीशन में आकर उसकी चूत चाटने लगा. मैंने पूछा- आप इतने दिनों से दिखी नहीं … कहीं बाहर गई थीं क्या?उन्होंने बताया कि वो बीस दिनों से मायके में थीं.

देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो फिर जब उससे बर्दाश्त न हुआ तो वो सिसकारते हुए बोली- डाल दो प्लीज … नहीं तो मैं मर जाऊंगी. कुछ ही देर में तेल गायब हो गया तो मैंने चार बूंद तेल फिर से सारिका की गांड के छेद पर टपकाया और अंगूठे से मसाज करने लगा.

बीएफ के गाने

मेरी ब्रा भी लगभग इसी तरह से अलग कर उन्होंने मुझे पूर्णतया लग्न किया. क्यों न इनका चुपचाप पीछा किया जाये और मौका मिलते ही अपना काम बना लिया जाये?तो हम लोगों ने चुपके से उनका पीछा करना शुरू कर दिया. दोनों बाप-बेटे मेरे दूधों को चूसते रहते हैं इसलिए शायद इतने बड़े हो गये हैं.

जब भी हमें अकेले में मौका मिलता, मैं कज़िन सिस्टर के साथ सेक्स का मजा लेता. और क्यूंकि मैंने शॉर्ट्स और टॉप पहना हुआ था और शॉर्ट्स भी काफी मुश्किल से मेरी गांड को छुपा पा रहे थे इसीलिए वो लगातार मेरी गांड और बूब्स देख रहा था. बीएफ देसी बीएफ देसी बीएफ देसी बीएफउधर पहुंच कर मैंने सीमा को फोन किया- स्वीट हार्ट कहां हो?उसने कहा- मैं घर पर हूँ.

अब तो मैं आ ही गया। तुम्हारी इस चूत का पूरा रस निचोड़ लूंगा उसकी चिंता मत करो। पहले थोड़ा सा गर्म तो होने दो।मैंने उसे अपने पास सटा कर बैठाया और उसे अपनी बांहों में भरकर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

उसके चूचे बहुत बड़े थे और वो इतना मज़ा दे रहे थे कि मुझे पता ही नहीं लगा कि कितनी देर मैं उनको मसलता रहा. मैंने कभी उससे ऐसी बात नहीं की थी, वो मेरे संग काफी कुछ बातें करने लगी.

जैसे ही डोर बेल बजी, हम दोनों घबराए पर फिर उन्होंने गाउन पहना जल्दी से और बोली- मैं खाना लेकर आती हूं, तुम बेडरूम में चलो. अब इस सेक्स का अगला पार्ट मैं आप लोगों के साथ साझा करने जा रहा हूं. दीदी- इस बार तो मैं तुम्हें माफ कर रही हूँ … लेकिन दोबारा कभी ऐसी गलती मत करना.

एक होटल में मैंने ऑनलाइन बुकिंग की, मैंने सिंगल कमरे में दो अलग अलग बेड वाला बुक कर लिया.

कल्पना ने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत के मुँह पर सैट किया और आंख मारते हुए कहा- अटैक. मेरे रूम में मां, दीदी और तनु और मैं चारों ही एक साथ लेट कर इस सीन का मजा ले रहे थे. ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, बाद की कुछ याद भरी चुदाई की कहानियों के साथ मैं फिर मिलूंगा.

बीएफ चुदाई बढ़िया वालीउनका कोमल हाथ मेरे लंड पर महसूस होते ही मेरे लंड ने फनफनाना शुरू कर दिया और वो एकदम कड़क होने लगा. मुझे उसके इस मैसेज से कोई आश्चर्य नहीं हुआ क्योंकि आज के दिन की हमारी पहले से प्लानिंग हो चुकी थी.

गर्ल्स की बीएफ

मैं आधे घंटे तक वहीं खड़ा रहा लेकिन मां और पापा दोनों गहरी नींद में सो रहे थे. अगले दिन मैं किसी जरूरी काम से एक दिन के लिए अपने कॉलेज दिल्ली चला गया. उसकी चूत का रस निकल कर मेरे मुंह में जाने लगा और उसकी जांघों से बहने लगा.

उसने जाते वक़्त कहा- मैं तुम्हें बाद में जरूर फ़ोन करूंगी … तुम बताना. मामी बोली- कोई बात नहीं, मैं तुम्हें सिखा दूंगी लेकिन ये बात किसी से कहना मत. उसने करोना की दोनों टांगें अपने कन्धों पर चढ़ा ली और उसकी गुस्से से भरी आँखों में बेशर्मी से झांकते हुए अपने खरतनाक लण्ड के सुपारे को करोना की नाजुक और अभी तक कुंवारी चूत के मुँह पर भिड़ा कर हल्का हल्का रगड़ा लगाना शुरू कर दिया.

सेक्स कहानी के अगले हिस्से में क्लब में मिली इस भाभी की चुत चुदाई की कहानी का पूरा मजा मिलेगा. मैंने अपना हाथ सूट के ऊपर से ही उनकी चूत पर रखा, तो वो ओर नीचे हो गईं. उसका हाथ नीचे सरक कर मेरे पेट को सहलाता हुआ मेरे पैंट तक पहुंच गया था.

उनकी चूची सच में ही बहुत मोटी थी जो किसी बड़ी फुटबाल के जैसे झूलती हुई दिख रही थीं. चारों तरफ फूल और गुब्बारे थे, बिस्तर तो मानो गुलाब के फूलों का ही बना था.

करोना की चीखें रोकने के लिए एक हाथ करोना के मुँह पर रखा एक हाथ से करोना का एक निप्पल पकड़ा और आगे झुक कर मुँह में दूसरा निप्पल पकड़ कर चूस लिया.

फिर उसको चूम कर पूछा- अब पथरी का दर्द कैसा है?वो हंस दी और बोली- पथरी को तेरे इस लोहे के लंड ने तोड़ दिया है. अंग्रेजी देसी बीएफमैं ससुर जी को बोल रही थी- पापा और चोदो मुझे … आह चोदो चोदो … ओह ओह माई गोड ऑय मां मर गई … कितने दिन बाद अन्दर गया है. देहाती पंजाबी सेक्सी बीएफचूत पर लंड को लगवाने के बाद अजय ने मुझे अंदर धक्का देने के लिए कहा. और फिर मैंने उनको पलट दिया और उनकी जांघों पर किस करने लगा, चाटने लगा.

अब आगे:मैं उसके गले को किस करने लगा, उसके दोनों चुचों को ब्लाउज के ऊपर पकड़ कर जोर से दबाने लगा.

प्रिय दोस्तो, मेरी ये सेक्स कहानी एक सच्ची घटना पर आधारित है, इसमें कुछ रोचकता डालने के लिए शब्द संकलन किया गया है, बाकी सब कुछ सत्य है. उसने लजाते हुए अपनी आंखें नीचे कर लीं और अपने हाथ अपने चेहरे पर रख लिए. अभी बस कुछ पल ही हुए होंगे कि रूबी एक लम्बी आहहह … के साथ झड़ गई और बेड पर बिल्कुल बेहोश सी लेटी रही.

ये सुनकर मैंने उसे ऊपर की ओर खींच लिया और अपने होंठों को उसके होंठों पर रख दिये. खाना खाने के दरमियान हम दोनों ने एक दूसरे से बहुत सारी मस्ती भी की. फिर पापा ने बिना देर किए एक हाथ मेरे पेट पर और दूसरा हाथ मेरी कमर पर रख दिया और मेरे जिस्म को मलने लगे.

बीएफ दिखाइए बीएफ फिल्म

आप तो जिसे चाहते होंगे उसके अपना बना ही लेते होंगे!उसकी बातें सुन कर मुझे हंसी आ गयी. फिर मैं मां और पापा के रूम में गया तो देखा कि पापा मेरी मां की टांगों को चौड़ी करके उसकी गांड को पेल रहे थे. अपनी मां की मोटी चूचियों और उनके नंगे बदन के बारे में सोच कर लंड को रगड़ता था और फिर वीर्य छोड़ कर सुकून मिलता था.

इस बार हमने और दूसरी कई पोजीशनों में चुदाई करने की कोशिश की, जिसमें मुझे बहुत मजा आया.

इतना कहकर मैंने मम्मी की चूचियां छोड़ दीं, मम्मी की टांगें अपने कंधों पर रख लीं और अपना लण्ड मम्मी की चूत में अन्दर बाहर करना शुरू किया.

जैसे ही वो पलटी, मुझे उसकी गांड देख कर मेरा लंड शॉर्ट्स के अन्दर से ही झटके मारने लगा. उसके बाद चुदाई तक बात कैसे पहुंची?दोस्तो, आपका क्या हाल है, आशा है आप सब ठीक होंगे. हिंदी फिल्म पिक्चर बीएफवह कुतिया बनकर हो गई और उसने अपने हाथों से अपने चूतड़ों को फैलाया और कहा- चल शुरू हो जा कुत्ते.

हनी चुपचाप उठी और कपड़े पहनने के लिये सोफे के पास जाने लगी तो मैंने उसका हाथ पकड़कर कहा- कुछ नहीं करते, बस एक बार मेरा लण्ड चूस लो. जब मैं तौलिया बंद कर बाथरूम से निकली तो मैं सामने से साफ़ दिख रही थी. मैंने कई बार उसके लंड को मेरे सामने खड़ा होते हुए देखा है जिसे वो छुपाते हुए बहुत सेक्सी लगता है.

उसने मुझे नीचे लेटने को बोला और अपनी गुलाबी चूत मेरे मुँह पर रख कर बैठ गई और झुक कर मेरे लंड को हाथ में लेकर सुपारे को जीभ से चाटने लगी. धीरे धीरे लगभग पहली पीढ़ी में 50 बच्चों ने जन्म लिया, हमने वहीं अपना गाँव बना लिया, 100 बीघा में हमने फलों के बगीचे भी लगाये, बहुत सी गाय भैंसें भी खरीद ली गईं।हमने अपने सभी बच्चों की शादी भी आपस में करवा दी.

झटके दे देकर मैंने अपना सारा माल उसके मुंह में गिरा दिया और वो उसे पी भी गयी.

पापा नई जगह चले गए 1 हफ्ते बाद … मैं और मॉम वहीं रहने लगे।पापा के जाते ही मॉम ने अपना रंग दिखाना शुरु कर दिया, वो बाहर घूमने जाने लगी, बाहर रेस्टोरेंट में खाने पीने जाने लगी. मामी मेरे वीर्य को देख कर जोश में आ गयी और तेजी के साथ अपनी चूत में उंगली करने लगी. क्या तुम भी मुझे पसंद करती हो?निधि ने कहा- रात में दस बजे कॉल करने जवाब तभी मिलेगा.

बीएफ के साथ चिन्ना ने भी सुनहरी मौका देख कर झट से करोना के संगमरमरी ऊपरी बदन को उसके टीशर्ट से आज़ाद कर दिया. बहू बोली- तो क्या आप गाँव में भी किसी औरत के साथ करते हैं?मैंने कहा- बहू इस शरीर की जरूरत के आगे झुकना ही पड़ता है.

फिर मैंने भाभी को नाप कर दिखाया और वह मेरा लंड अपने मुंह में लेकर चाटने, चूसने लगी. उसने ऐसा ही किया और मैंने अपने कूल्गे उचका कर नीचे से अपना लंड चूत के अंदर पेल दिया।कोमल भी मेरा साथ देने लगी और मजे से चुदने लगी। अबकी बार मैंने उसको अलग अलग पोजीशन में बहुत देर तक चोदा. वो मेरे साथ बिल्कुल चिपक गई और मेरे होंठों को अपने होंठों का रस पिलाने लगी.

बीएफ सिनेमा सेक्सी

मेरी जान भी मुझे आनन्द मिलते देख बहुत खुश थी और मुझे किस किये जा रही थी और बोल रही थी- मेरा बेटा थक गया!थोड़ी देर हम दोनों साथ साथ लेटे रहे. फिर मैं उसके चौतीस बी के बड़े गोलाकार चूचों को दबाने लगा और उनका रसपान करने लगा. कुछ देर गांड चोदने के बाद मैंने लंड गांड से निकाला और एक ही झटके में आकांक्षा की चूत में डाल दिया.

मैं चाची की कमर को थामे हुए एक हाथ से उनके बूब्स को छेड़ रहा था और नीचे से मेरा लंड चाची की गांड पर लग रहा था. मानवी और मैं दोनों बचपन से लेकर 12 वीं तक एक साथ पढ़े हैं तो उसकी और मेरी फैमिली में बड़ा घरोबा है.

थोड़ी देर बाद मैंने उंगली बाहर निकाली और दो उंगलियां उसकी गांड में आगे पीछे करने लगा.

एक दिन मैंने घर में कुछ ऐसा देखा कि अम्मी के बारे में मेरे विचार बदल गये. मैं उसको अपनी बांहों में लेकर करीब पांच मिनट तक चूमता रहा, चाटता रहा. खैर हम वहां से चले आए, लेकिन हमारे दिल में एक डर सा था कि आखिर वो भाभी हमें घूर क्यों रही थी, क्या उन्हें पता था कि हम अन्दर चुदाई कर रहे थे!कुछ समय बाद मैंने उस भाभी को भुला दिया और मैं आकांक्षा के साथ सेक्स का मजा लेने में मस्त हो गया.

तभी मैंने मीनू को जगाया और पूछा- वो गोली किस चीज की थी?तो उसने कहा- वो तो सर दर्द और बैचेनी के लिए थी. हनी धीरे धीरे मेरा लण्ड चूसने लगी तो मैंने उसकी चूचियां सहलाना शुरू कर दिया. करोना हिचकिचाते हुए काम्पते हाथों से चिन्ना की छाती की मालिश में जुट गई.

विशाल के पैदा होने के कुछ महीने के बाद ही मेरे पति की मृत्यु हो गयी थी हार्ट अटैक के कारण.

देसी सेक्सी बीएफ चुदाई वीडियो: इधर चिन्ना भी जब भी अपने हाथों को कन्धों से नीचे छाती की तरफ लाता तो उन्हें करोना की चूचियों पर थोड़ा और आगे की तरफ बढ़ा देता. मैं भी अपने हाथों से कभी उसकी पीठ या कभी उसके चूतड़ों को सहला रहा था.

दोस्तो, हो सकता है आपको ये भाग बोर लगे, पर सच मानिए जो जैसी घटना घटी है, वैसे ही मैंने लिखा है, कोई मिर्च मसाला नहीं डाला. वो कहने लगी कि उसको उसकी मशीन ठीक ही चाहिए किसी भी कीमत पर या फिर इसको वापस करवा दीजिये. मैंने उसकी चूत पर शहद लगाया और बर्फ के क्यूब को उसकी चूत पर रख कर अपना मुंह उसकी चूत पर लगा दिया.

मैंने पूछा- कब?कल्पना ने कहा- तुम्हें याद है मैंने तुम्हें कहा था कि मैं तुम्हें कॉल करूंगी.

मैं कुर्सी पर बैठ गया और कल्पना को मेरी तरफ मुँह करके मेरे लंड पर बैठने को कहा. मैंने तेरी आंखों में नसरीन के लिए भरपूर और बेइंतहा प्यार को देखा है. बहू की आवाज आयी- बस डैडी जी, 5 मिनट!वैसे ये बात हर मर्द जानता है कि औरतों के 5 मिनट मतलब 30 मिनट होते हैं.