ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर

छवि स्रोत,ட்ரிபிள் எக்ஸ் வீடியோ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गांव का सेक्स: ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर, यह सेक्स कहानी मेरी शादी से कुछ साल पहले की उस समय की है जब मैं एक अमीर घर की बिगड़ैल और अय्याश लड़की थी, जिसे ना अपनी परवाह थी और ना अपने मां बाप की.

सेक्सी 2002

रीना ने टी-शर्ट और जींस पहने हुए थे, जिससे उसके बदन का कोना कोना साफ़ समझ आ रहा था और उसके शरीर का भूगोल दर्शा रहा था. सेक्सी वीडियो पिक्चर मारवाड़ीमैंने पूछा- क्या हुआ?वो बोली- क्या इतना बड़ा और लम्बा भी आदमी का होता है?मैंने फिर से पूछा- क्या कभी इस तरह के लंड को देखा नहीं?वो बोली- अगर देखा होता तो उठती ही क्यों?मैं चुप रहा.

यह ऐसा शायद मैं जिंदगी भर कभी भी नहीं भुला पाऊंगी और ना ही इस अहसास को मैं शब्दों में बयान कर सकती हूं कि वह मजा कैसे होता है. ओ से शुरू होने वाले लड़कों के नामसलीम के साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ।सुबह के साढ़े नौ बज गए चुदाई चुदाई में, पर सलीम अभी भी लगा हुआ था और झड़ने की कोई संभावना नहीं थी।थक हारकर मैं सलीम को बोली- थोड़ा ब्रेक ले लें, भूख लग रही है।हमने कपड़े पहने और खाने होटल के रेस्तराँ में चले गए.

पहले तो बुर की महक और स्वाद थोड़ा अजीब सा लगा, पर जल्दी ही वो महक और स्वाद मेरा पसंदीदा बन गया.ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर: अम्मी अब मदहोश हो चुकी थीं और मुझे किसी भी तरह की कोई हरकत करने से मना नहीं कर रही थीं बल्कि अब तो सिर्फ सिसकारियां ही भर रही थीं.

फिर मामा से लड़की ने पूछा- तुम कब जा रहे हो?इस पर मामा ने जवाब दिया- जब तुम मुझे दे दोगी, उसके अगले दिन चला जाऊंगा.अब तक मेरे हाथ भी फिसल कर उसकी शर्ट के अन्दर से उसकी नंगी कमर में चलने लगे थे.

ओपन सेक्सी हिंदी फिल्म - ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर

मैंने सोचा कि जहां मैं छह इंच एक लौड़े को आराम से नहीं मिल पाती थी, वहीं आज मुझे 3-3 मस्त लौड़े मिले हैं जो आज मेरी चूत गांड की अच्छे तरीके से बजा देंगे.अमित के मेरी गांड पर हाथ घुमाने की वजह से मेरी गांड और मेरी चूत में सिहरन सी होने लगी थी.

रेशमा की चूत को बड़े गर्म तरीके से चूसते हुए किरण ने भी अपनी गांड रेशमा के मुँह की तरफ कर दी और उसके मुँह पर अपनी गांड दबाती हुई वो रेशमा के बदन पर लेट गयी. ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर फिर चूत में कुछ डालकर मैं अपने ब्वॉयफ्रेंड रोहित को फोन करने वाली थी और उससे फोन सेक्स करने वाली थी.

उन्हें कामुक नजरों से देखते पाकर मेरी चुदाने की इच्छा और बढ़ गई और मैं वहां से चली जाने के बजाए वहीं अपनी चूत और जोर-जोर से मसलने लगी.

ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर?

उस रात में भैया ने रुक रूककर मुझे 4 बार चोदा और अपनी उतने दिन मुझे ना चोद पाने की कसर को पूरा कर लिया. ‘उस नामर्द सलमान का नामर्द बच्चा पैदा करने से बेहतर तो तुम्हारे लौड़े से मर्द पैदा करूंगी. अब आगे चूत गांड Xxx कहानी:पाटिल जी ने भी अब रेशमा के दर्द की चिंता किए बिना जोर जोर से अपना लौड़ा गांड में अन्दर बाहर करना चालू कर दिया.

अर्णव ने कहा- अगर आप को जल्दी न हो, तो एक कप कॉफ़ी पी लेते हैं, यहां एक बहुत खूबसूरत कैफे है. मेरे सारे दोस्त कभी भी मेरे घर आ जाया करते थे और मैं सभी को अपने घर वालों से मिलवाती थी, तो किसी को इस बात से कभी प्रॉब्लम नहीं हुई. अब मैं खुद अपने पैरों पर उठ कर सीधे खड़ी और उनकी तरफ मुँह करके उनकी गोद में बैठ गयी.

यूँ तो अर्णव की बहुत सी लड़कियों के साथ दोस्ती थी और कई उसके साथ हमबिस्तर भी हो चुकी थीं, पर उसे मोहिनी उन सबसे अलग और ख़ास लगी. मैंने उनकी साड़ी खोली और पेटीकोट को खोला तो देखा उन्होंने पैंटी नहीं पहनी थी. उन्हें यूं कमरे में आया देख कर मं थोड़ा घबरा गयी पर मन ही मन मैं उनके लंड का मजा लेना चाह रही थी.

वो अपने खाली हाथों से मेरी चूत को सहला रहे थे और मेरे मम्मों पर सुरेश ने अपना कब्जा जमा लिया था. पर मैंने तुरंत ही दूसरे धक्के के साथ अपना पूरा लंड रसिका भाभी की चूत के अन्दर कर दिया.

उसके पति के मरने के बाद से उसने सेक्स किया ही नहीं था, जिस वजह से उसकी चूत टाइट हो गई थी.

हमेशा की तरह मैंने साड़ी को नाभि से दो अंगुल नीचे बांधी थी जिससे मेरी पूरी कमर और पेट दिखता है.

अपने हाथ से उसने किरण के चूतड़ फ़ैला दिए और जोर जोर चूत का दाना मुँह में लेकर चूसने लगी. सोनी भी GF BF Xxx वीडियोज़ देखने के लिए लालायित रहती और अगर उसे भी वीडियोज़ वाला आसन पसंद आता तो हम भी वही आसान सेक्स के टाइम आजमाते. इस बात पर मैंने कहा- बस इतनी सी बात, बोलो कब डालना है?गीता मुस्कुराती हुई बोली- जब तुम्हारा मूड करे.

Xxx देल्ही गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी फुफेरी बहन की कामुक हरकतों को पहचान कर उसकी अन्तर्वासना का भूत उसकी चूत चोद कर उतारा और मजा लिया. मैंने अपने हाथ से उसकी सलवार का नाड़ा खींचा और सलवार को ढीला कर दिया. मैं भी काफी ज्यादा उतेजित हो गया था और मैं भी अपनी चड्डी उतार कर अपने लंड को उसके सामने मसलने लगा.

भैया भी मुझे डांटने का नाटक करते हुए बोलने लगे- ये क्या कर दिया तुमने?मैं डर गई और रोने लगी.

दोपहर में पड़ोस में ही सगाई कार्यक्रम था तो सासुजी रजनी के साथ वहां चली गईं. मैंने उसकी कमर पर हाथ रखा और धीरे से चड्डी की इलास्टिक में उंगलियां फंसा कर धीरे धीरे उसे नीचे को खिसकाने लगी. मुझे पहले से पता था कि वो नंगी अपने जिस्म से खेल रही है और इतनी मगन है कि उसे किसी की आवाज भी सुनाई नहीं दे रही है.

[emailprotected]लेखिका की पिछली कहानी थी:मैं अकेली हूँ अंकल, मुझे चोदो. कुछ दिनों बाद मैंने नोटिस किया कि सुदिति मेरे सामने हर समय जॉन की ही बातें करती रहती थी. शायद मेरे कहने की ही देर थी कि शैली मेरी तरफ आ गई और मुझे कसके अपने सीने से लगा लिया.

फिर उसने अपने लंड के ऊपर हाथ रखा और मेरी तरफ देख कर अपने कमरे में चला गया.

मैंने फिर से अमित को आवाज़ दी, तो वो जैसे नींद से जाग गया और मुझसे बात करने लगा. आज आप किसी भी बात की कमी मत रखना, हर तरह से मुझे मजे देना और मुझे आज हर तरह से मजे देना, चाहे कुछ भी करना पड़े.

ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर अब मैं उसके हाथ को अपने लंड के पास ले गया और उससे लंड पकड़ने को बोला. कल शाम को साहिल और मैंने बहुत दारू पी ली थी, तो तुमसे बात नहीं कर पाया.

ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर चुदाई के इस खेल में रीना भी अब बुरी तरह से गर्मा चुकी थी और उसकी भोसड़ी लौड़े की चुदाई के लिए तरस उठी. अन्दर वो अपने बिस्तर पर एकदम नंगे होकर मोबाइल में कुछ देख रहे थे और लंड की मुट्ठ मार रहे थे.

तभी उसके हाथों ने मेरे सिर को पकड़ कर उसके निप्पल का रास्ता दिखा दिया.

ववव क्सक्सक्स

तीन साल से मैं बॉडी से, दिल से और दिमाग से इतनी प्यासी हूँ कि मैं बस पागल ही नहीं हो सकी हूँ. आपको यह फर्स्ट किस की कहानी कैसी लग रही है? मुझे मेल करके मेरा हौसला बढ़ाएं. वो मेरे लंड को देखते ही बोली- आ … ये तो बहुत बड़ा है … इतना तो अंकित का भी नहीं है.

मेरे पापा एक कॉलेज में प्रोफेसर हैं और पापा कस्टम में जॉब करते हैं. आपके लंड और चुत में भी रस आ गया होगा दोस्तो कि रेशमा नाम की शै अब मेरे लौड़े के नीचे आने वाली है. ये देख रीना भी अपने पति की मदद करती हुई आगे आई और उसने मेरा लौड़ा फिर से मुँह में भर लिया.

हम दोनों ने बाथरूम जाकर उसकी सफाई की और फिर से ताबड़ तोड़ चुदाई के लिए हाल में आ गए.

आग तो रीमा की भी भड़क गई थी, पर कल के दिन वो पूरे इत्मीनान से चुदवाना चाहती थी इसलिए फिर से उसने मुझे कण्ट्रोल में रहने को बोला. मैं चिल्ला चिल्ला कर रोड सेक्स का मजा लेने लगी और वे दोनों ही पूरे मज़े से मुझे चोद रहे थे. मैंने उसे भरोसा दिलाया कि अगर उसे ज्यादा दर्द हुआ तो मैं आगे नहीं करूंगा.

उसने कहा- अरे बेटा, इतने दिनों बाद मिले हो, तेरा स्थान यहां नहीं है. इसके बाद मैंने खुद उन्हें एक साथ लेकर टॉफी की तरह काफी देर और बड़े मजे से चूसा. अब नीता मजा लेने लगी- स्स्स स्स्स आह आह ओह हा ऐसे ही जोर जोर से धक्के मारो हर्षद … आ स्स्स स्स्स बहुत मजा आ रहा है.

नमस्कार दोस्तो, मैं कोमल मिश्रा अपनी एक नई सेक्स कहानी में आप सभी पाठको का स्वागत करती हूं. मैं आराम आराम से भी गया, तो भी हर हाल में तीन घंटे में उधर पहुंच सकता था.

थोड़ी देर बाद जब मुझे लगा कि अंकित सो गया तो मैंने अपनी हरकतें शुरू कर दीं. मैं भाभी के पूरे जिस्म को किस करने लगा और उन्हें जीभ से चाट रहा था. खाना खाने के बाद दोनों पूरे नंगे हो गए, फिर वही चुम्मा-चाटी शुरू हो गई.

मैं भी एकदम से जोश में आ गयी थी और उसके लंड को और जोर जोर से चूसने और हिलाने लगी थी.

अब आगे कपल बैड पोर्न डर्टी स्टोरी:रीना को मस्ती से चुदवाते देख मैं बोला- अब आ गयी न रंडी औकात में? देख ले हिजड़े … कैसे तेरी बीवी खुद गांड पटक रही है मेरे लौड़े पर … बहनचोद, चूस अपनी लुगाई की भोसड़ी … हरामी कुत्ते. मेरा लंड इतना बड़ा होने के बाद भी एक ही झटके में पूरा अन्दर घुस गया और वो आंखें बंद करके निढाल होकर मेरे ऊपर झुक गयी. मैंने कहा- वो तो ठीक है मेरी कामुक कुतिया … मगर तू चूत का भोसड़ा बना देने वाली बात पर क्यों हंसी थी?चित्रा बोली- हां वो इसलिए हंसी थी कि जब तू मेरी चूत का भोसड़ा बना देगा तो तुझे मेरी चूत चोदने में मजा आना बंद हो जाएगा.

हुआ ये कि जब भी मैं अपनी वाइफ के साथ सेक्स करता था, तो मुझे अंदाजा था कि शालिनी छिप छिप कर कई बार हमारी चुदाई देखने आया करती थी. बिना कुछ कहे रेशमा ने मेरे बगल में लेटते हुए पाटिल जी का लौड़ा अपने मुँह में ले लिया.

उसमें मैंने लिखा:बेबी, आपके लिए ब्रा और पैंटी मेरे तरफ से तोहफा हैं. वो मेरी और मैं उसकी जीभ को ऐसे चूस रहे थे, जैसे लॉलीपॉप का मजा ले रहे हों. मूवी शुरू हुयी और जैसे ही अंधेरा हुआ, मैंने रीमा को पकड़ कर उसके गालों को किस कर लिया.

इंडियन बस गेम डाउनलोड

एक दिन किसी काम से मैंने अपने ऑफिस के ड्राइवर के साथ कंपनी के काम से बाहर गया था.

अब तक मेरे लंड में चूत की गर्मी सताने लगी थी, मैं पूरा लंड ठोकना चाहता था. मेरे हिलते हुए टट्टे पाटिल जी के टट्टों पर लग रहे थे और रेशमा की चूत बेहिसाब पानी बहा रही थी. दरअसल हल्की हल्की ठंड पड़ रही थी तो मेरी इस हलचल से मेरी आंख खुल गयी.

कुछ पल बाद मैंने अपने होंठ उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत पर रख दिए. फिर मैं दोनों चूचियों को बारी बारी से मुँह में लेकर चूसने लगा और पूरी क्रीम को खा लिया. सेक्सी पिक्चर वीडियो में एचडी मेंमैंने उससे थोड़ी दूर अपनी बाईक रोक दी और नीचे उतर कर रुमाल से अपना गीला मुँह पौंछ लिया.

किरण की चूत जितनी ढीली थी, उससे कहीं ज्यादा तंग मुझे उसकी गांड लगी. बात उन दिनों की है जब मैं बारहवीं की परीक्षा के बाद अपनी मौसी के पास घूमने गांव आया था.

आज की Xxx लेडी टीचर सेक्स कहानी का टॉपिक देख कर आप समझ गए होंगे कि इस बार क्या सुहाना है और कैसी सुहानी चुदाई है. देसी गर्ल न्यू चूत कहानी में पढ़ें कि मैं पड़ोस की कई चूतें मार चुका हूँ. नेहा मादक सिसकियां लेने लगी ‘उम्म … उम्म … उम्म …’वो अपने होंठों को काट रही थी.

बहन लेट गई और मैं अपना लंड वंदना के मुँह में डालकर अन्दर बाहर करने लगा. वो पराये मर्दों से चुदने का सोच भी नहीं सकती थीं, भले ही जब वो कहें, तब पापा उनको ना भी चोदें. उसने अर्णव के लंड पर हाथ फिराया तो अर्णव के मुँह से आह अस्स की आवाजें निकलने लगीं.

मैंने तो पहले उसकी कमर को पकड़ लिया और अपनी दोनों टांगों से उसकी टांगों को दबाने लगा.

नीता ने मेरे कान के नजदीक अपना मुँह लाकर पूछा- कितने बजे हैं हर्षद?मैंने हाथ की घड़ी देखकर उसकी तरफ अपना मुँह मोड़कर कहा- सात बजे हैं. जैसे ही मेरा काम तमाम होने को हुआ, उससे पहले भाभी ने मेरी कमर को वहीं रोक दिया.

वो सो रही होती थीं और मैं उनके होंठों पर किस कर लेता, तो कभी स्तनों को चाट लेता. मैंने अपने लंड पर थूक लगाया और लंड को चूत पर सैट करके एक झटके में ही पेल दिया. अब इतने ही लड़के मुझे ठीक लगे थे, बाकी सब बाद में मिलेंगे तो उनसे भी बात करूंगी.

वो मुझे चूमने चाटने लगीं, जगह जगह मुझे काटने और नाख़ून से नौंचने सी लगीं. मैं भी उसके दर्द को समझते हुए थोड़ा रुक गया और उसके होंठों पर किस करने लगा. उत्तेजना के कारण हमारी आवाजें निश्चित ही औरों को सुनाई दी गई होंगी.

ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर मेरी नींद खुल गई और मैंने उसे बहुत दिन बाद देखा, पहले तो मैं समझ ही नहीं पाया कि ये कौन है क्योंकि आज काफी दिनों के बाद रानू दी मेरे घर आई थी. हम दोनों की कामुक सिसकारियां एक दूसरे का जोश बढ़ा रही थीं और उसी जोश की वजह से मैं जल्दी ही स्खलित होने को आ गया.

पाकिस्तान इंडिया का मैच दिखाएं

मुझे पता चला कि रीना भी अपनी भड़ास निकालने के लिए अपने पति पॉल के मुँह पर मूतने वाली है, तो मैं चुपचाप खड़ा होकर उनके कामुकता का खेल देखने लगा. अभी उसकी योनि को चाटते हुए कुछ ही पल बीता था कि इतने में सोनी ने मेरे सिर को पकड़ लिया और अपनी बुर पर दबाने लगी. मेरी चूत से पानी निकलने लगा था, जो मेरी टांगों के साथ नीचे आने लगा.

उस वक्त मेरी उससे इतनी बातचीत नहीं होती थी, फिर धीरे धीरे काम करते रहे, बातें होने लगीं. आप चाहे मुझे अब छिनाल कहें, या रण्डी, पर मेरे जिस्म की इच्छाएं, एक बार चुदने से खत्म होने वाली नहीं थी. हिंदी मूवी कश्मीरनंदा अपनी गांड ऊपर से नीचे करती, तब मैं लंड को बाहर निकाल कर झटके से वापिस अन्दर डाल देता.

जिसके फल स्वरूप कुछ देर में मैं भी मज़े लेकर और अपनी गांड उचका उचका कर उस पूरे कमरे में फट फट की आवाज के साथ अपनी गांड चुदवाने लगी.

तभी मैं उसके ऊपर 69 की पोजीशन में आ गया और अपना 6 इंच का मोटा लंड उसके मुँह में डाल दिया. मैं- नगमा, आज तो तेरी चूत से निकले इस मर्द के लंड में आग लग चुकी है.

मैं ये सोच रही थी कि मैं इतने समय से भाई के साथ हूँ और अब तक इस सुख से दूर थी. उसकी चूत के गर्म रस के अहसास से मेरा लंड भी अपने गर्म वीर्य की पिचकारियां मारकर गीता की चूत वीर्य से भरने लगा था. मैं आगे की तरफ हो गया लेकिन उसने मेरे चूतड़ों को पकड़ कर खींचा और पीछे खींचते ही पूरा लौड़ा मेरे अन्दर उतर गया.

उन दोनों की इतनी मस्त चुदाई देखने के बाद मैं समझ गया था कि मम्मी को चुदाई में क्या कर दिया पसंद है.

उसके एकदम हिलने से मैं डर गया था, पर खड़े लंड को तो बस चूत चाहिए होती है. दोनों हाथों की उंगलियों से अपने फुद्दी की पंखुड़ियां खोलती हुई वो पॉल से बोली- देख ले मादरचोद आज फिर से चुद गयी मैं तेरे बाप से … अब साफ़ कर अपनी मां की चूत भोसड़ी के, देख कैसे तेरे बाप का माल निकल रहा है मेरे भोसड़े से कुत्ते!मेरा वीर्य जैसे जैसे रीना की भोसड़े से बहने लगा, वैसे वैसे पॉल बिना किसी संकोच के किसी दूसरे मर्द का अपनी बीवी की चूत से चाटने लगा. चाहे उनकी माँ चुद जाए भोसड़ी वाली।मैं दोनों को बैठा कर बातें करने लगी।मैंने कहा- असद, तू तो बहुत बड़ा हो गया है.

सेक्सी पिक्चर इंग्लिश वालादोस्तो मैं अगर उसके जिस्म के बारे में बताऊं, तो आप पढ़ने वालों का ईमान डगमगा जाए. करिश्मा ने कहा- क्योंकि कल शनिवार है और बैंक और कोर्ट दोनों बंद हैं, तो हम दोनों शिमला चल रहे हैं.

इंग्लिश bf फिल्म

मैंने अंकिता से कहा- तुम्हारे पैरों को भी लोशन लगा दूँ? मगर लोअर में लोशन लग जाएगा. घूमने के बहाने वहीं खेत में फसलों के बीच हम लोग किस करते और खड़े खड़े सेक्स भी कर लेते थे. शायद इसी वजह से उसने अपना मंगलसूत्र हटा दिया था ताकि वो एक मस्त रांड की तरह मुझे पूरा सुख दे सके.

मूवी में अब मां बेटा 69 में आकर जमकर एक दूसरे की चूत लंड को चूसने लगे थे. मैंने अचानक पीछे से उसके दोनों मम्मों को जोर से पकड़ लिया और मसल दिया. यह मेरा पहला अनुभव था इसलिए मुझे भी बेहद मज़ा आ रहा था, आनंद से मेरा रोम रोम पुलकित था।थोड़ी देर ऐसे ही चटवाने के बाद ऑन्टी ने मेरा सर अपने हाथों से हटा दिया और फिर सीधी लेट कर अपनी टाँगें फैला कर मुझे अंदर डालने के लिए कहा.

फिर जैसे ही मैंने शॉवर चालू किया, अंकित ने गेट पर हाथ मारा और मुझे आवाज़ दी- अनुष्का, जरा गेट खोलो. अर्णव जल्दी से गाड़ी पार्क करके मोहिनी के साथ बगल वाली सीट पर बैठ गया. अपने बदन पर से रात की कहानी को रगड़ रगड़ कर साफ की और दूसरी कहानी के लिए एकदम मदमस्त कर लिया.

रागिनी तो अभी तक अपनी बहन रजनी के साथ ही अपने पुराने कमरे में सो रही थी. वहां क्या हुआ?मेरा नाम आकाश है और मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ.

फिर अर्णव मोहिनी की चूत के दाने को जीभ से छेड़ने लगा तो मोहिनी उत्तेजना में पागल हो गयी और अर्णव का सर पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगी.

अब हमें बस लॉज या होटल में जाने के लिए एक बहाने की जरूरत होती और जैसे ही हमें मौका या बहाना मिलता, हम पहुंच जाते. औरत कैसे प्रेगनेंट होती हैजब तुमको बेंगलोर फ्लाइट का टिकट भेजा, उसी समय मन में पक्का सोच रखा था कि तुम कैसे भी होओगे, तब भी मैं तुमसे चुद लूंगी. नवरत्न गोल्ड कूपनजब मैं चूत के दाने को मुँह के लेकर जोर चूसता और हल्का हल्का दांतों से काटता तो वो मचल उठती और अपने अपने हाथ बिस्तर पर पटकने लगती. फिर अली ने पूछा- जब वो तेरी बॉडी देख कर तुझ पर फ़िदा होती हैं तो तुझसे किस तरह से व्यवहार करती हैं?मैं हंस दिया और बोला- भाई, वो सबसे पहले मेरे पास आकर हाय बोलती हैं.

फिर हम दोनों ने एक जोरदार किस की और एक दूसरे को कस कर बांहों में भर लिया.

मैंने भी रेशमा की टांगें खोलकर एक ही झटके में मेरा लंड अन्दर पेल दिया. मैंने अपनी कामुक सिसकारियों को धीरे धीरे निकाल रही थी क्योंकि बाहर सब आते जाते रहते थे. कुछ दिन के बाद मेरी वाइफ ने नाटक किया कि मुझे बहुत नींद आ रही है और रात में जल्दी सो गई.

धीरे धीरे दोनों खुलने लगे।उसने मुझसे मेरे बारे में पूछा तो मैंने बताया कि मैं कुंवारा हूं।उसकी आंखों में एक अजीब सी चमक बढ़ने लगी।उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- गर्लफ्रेंड तो होगी?मैंने कहा- नहीं है. इसके बाद समीर भैया मेरे दर्द को कम करने के लिए मेरे होंठों को और चूचियों को चूसते और दबाते रहे. मैं चाहती भी थी कि जैसे मेरी गांड की खुजली मिट गई, वैसे ही मेरी चूत की खुजली भी उसके पानी से मिट जाए.

सेक्सी फिल्म ब्लू चलने वाली

इसके साथ ही आप मुझे ईमेल के माध्यम से भी अपनी बात बता सकते हैं कि आपको मेरी चुदाई एवं मस्ती भरी सेक्स कहानी कैसी लगी. पापा- अरे वाह भाभी, क्या बात है … आपकी साइज़ तो मेरी बीवी से काफ़ी बड़ी हो गयी है. जॉन ने सुदिति की पैंटी निकाल दी और अपने लंड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा.

भाभी भी कम नहीं थीं, उन्होंने अपना राम बाण चलाया और पूछा- बताओ आपको मेरी कसम है, कौन है वो खुशनसीब लड़की?मैंने कहा- भाभी बता दूंगा लेकिन आपको भी मेरी कसम है, आप बुरा नहीं मानोगी.

फिर एक दिन मैं उनकी चुदाई देखते वक़्त महसूस करने लगा था कि पापा अब कम देर तक चोदते थे.

वो गुस्से में बोली- आने दो आंटी अंकल को, मैं उनसे तेरी शिकायत करूंगी. अब मुझसे रहा न गया, मैंने उसी तरफ जाकर भाभी से राम राम की- भाभी जी, राम राम!भाभी एकदम से सकपका गई और धीमे स्वर में बोली- राम राम भैया जी. सट्टा किंग २०२२ मार्चमैंने उसका दुपट्टा लेकर अपना चेहरा और बाल साफ कर दिए और दुपट्टा टेबल पर रख दिया.

उसके मुँह से दर्द भरी आवाज निकल गई- आह उई!फिर मैंने उसके लंड के सुपाड़े को मेरी चूत पर सैट किया और उससे धक्का लगाने को बोला. मैं- साली मादरचोद रंडी की औलाद रेशमा, देख मां की लौड़ी कैसे तेरी नूरानी चूत खोलकर उसका भोसड़ा बना दिया बहनचोद, अब क्या मुँह लेकर जाएगी उस हिजड़े सलमान के पास कुतिया?रेशमा किरण की चूत से अपना मुँह निकालती हुई बोली- अब मैं उस नामर्द कुत्ते के पास नहीं, मैं तो आपकी रखैल बन कर रहूंगी वीरू जी. शराब की कड़वाहट से मुँह का स्वाद बदलने के लिए मैंने सिगरेट सुलगाई और कश लगाने लगी.

खासकर राकेश ने मुझसे और बाकी दोनों से भी बहुत ही ज्यादा गिड़गिड़ा कर माफी मांग ली. पॉल अब भी रीना की गांड अपनी जीभ से चोद रहा था और मेरा लौड़ा उसकी बीवी की चूत की मां चोद रहा था.

मैं मज़ाक में बोली- सिर्फ़ नहाना है या और कुछ …तभी उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और मुझे ज़ोर ज़ोर से किस करने लगा.

मैंने मोबाइल में अपनी कुछ हॉट तस्वीर रखी थीं, जैसे ब्रा और पैंटी में. पर पहली बार किसी कुंवारी लड़की के साथ सेक्स कैसे करते हैं, ये मुझे नहीं पता था. फिर मैं उसके पेट पर अपना हाथ फेरने लगा और पेट को चूमने लगा, जहां हमारा बीज पड़ चुका था और अगले कुछ महीनों में बाहर आने वाला था.

हिंदी सेक्स वीडियो hd मादरचोद … ढीली रख, थोड़ा दर्द तो मराने में होता ही है … चुप कर वो जाग जाएगा, तो वो भी पेलेगा. वैसे भी उन तीनों के लौड़े बाहर ऐसी हालत में फुदकियां मार रहे थे कि वह कम से कम 7 से 8 इंच के तो रहे होंगे.

मैंने उसकी चूत को सहलाना शुरू रखा, वो सिसकारियां भरने लगी और उसके हाथ का दबाव मेरे लंड पर बढ़ गया. भाभी एकदम मस्त हो गई थीं, उन्हें उस वक्त चूत से लंड निकालना अच्छा नहीं लग रहा था. मैंने भी आपा के गुस्से को और ना बढ़ाते हुए एक ही बार में पूरा लंड डाल दिया.

खलीफा सेक्सी व्हिडीओ

Xxx स्कूल गर्ल हॉट स्टोरी में 19 साल की एक देसी लड़की अपने पहले सेक्स का बेसब्री से इन्तजार कर रही है. अब वह भी काफी ओपन होने लगी और बातों ही बातों में कहने लगी- लगता है आपकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. मोहिनी ने जब फ्रेंची में से फूले हुए लंड को देखा तो उसकी आंखों में वासना के डोरे तैरने लगे.

बुआ अब अपनी गांड आगे पीछे करके मस्ती से लंड को अपनी गांड में अन्दर तक ले रही थी. मैंने हंस दिया और कहा- क्या हरामीपन देख लिया भौजी?वो हंसी और उसने अपनी चूचियां हिला कर मुझे इशारा दिया कि कल क्या ताड़ रहे थे देवर जी?मैंने कहा- अब ताड़ने वाली चीज को ही न ताड़ूंगा भौजी तो किस काम की मर्दानगी?भाभी हंस दी और बोली- बड़े मर्द बने फिरते हो … कैसे मानूँ कि असली मर्द हो?मैंने कहा- मर्द को समझने के लिए तो औरत को ही खुलना पड़ता है भौजी.

पता ही नहीं चला कि कब उसने पीछे से अपना पूरा लौड़ा मेरी गांड के अन्दर पूरी तरह से घुसा दिया.

उधर रेशमा ने अपने कपड़े चेंज कर लिए थे ताकि मेरे साथ हवस का खेल और मनोरंजक हो सके. अदिति बोली- हर्षद तुम जैसा चाहे करो, मुझे तो तुम्हारी खुशी में ही खुशी मिलेगी. मैंने आगे पीछे कुछ नहीं देखा कि ये लोग मुझे अपनी रखैल बनाएं चाहें यह मुझे अपनी रंडी बनाकर रखें.

अब मैं लंड अन्दर बाहर करने लगा; उसकी चूत में लंड के धक्के मारने लगा. कुछ मिनट की किसिंग के बाद मैं पहले उसके गालों को, फिर गले पर फिर कंधे पर किस करते हुए नीचे आने लगा. पिक्चर शुरू होने के कुछ देर बाद ही बड़े साले साहब को फोन आ गया और काम के कारण वे दोनों भाई पिक्चर छोड़कर चले गए.

मुझे ऐसा लगने लगा था कि उसके अन्दर भी पूरी आग लगी थी, पर मैं चुप था.

ससुर बहू की बीएफ सेक्सी पिक्चर: मैंने चैट पढ़ी, तो मेरे होश उड़ गए क्योंकि चैट में वो दोनों इस तरीके से बात कर रहे थे जैसे गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड हों. कुछ देर बाद मैंने फिर से उन दोनों को बारी बारी से हचक कर अलग अलग पोज़ में चोदा.

चाची खुश हो गईं और उन्होंने मुझसे कहा- आज से तुम ही मेरे पति हो … मेरे देवता हो. फिर मैं उनकी गोद से उतर कर उनके पैरों में आ गयी और उनके लोअर में उबाल मारते हुए कड़क लंड हाथ से टच कर दिया. वो सो रही होती थीं और मैं उनके होंठों पर किस कर लेता, तो कभी स्तनों को चाट लेता.

मैंने वहीं पड़े तकिए ने अपना मुँह घुसा कर दबा लिया और चीख को बाहर निकलने से रोका.

क्योंकि उनके लौड़े बिल्कुल खड़े थे और मैं उन्हीं चीजों को देख रही थी कि यह मेरे साथ क्या करने वाले हैं. साथ ही आपको ऐसा लगेगा कि ये घटना जीवन के किसी ना किसी पहलू से मेल खाती हुई ही है. राजीव को देखकर सनी हंसते हुए बोला- अच्छा तो जीजू को साथ लेकर आई हो.