होली का बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,बीएफ वाली चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

फुल बीएफ मूवी: होली का बीएफ वीडियो, मुझे ऐसा करते हुए अभी बहुत देर नहीं हुई थी कि बुआ की सिसकारियां तेज़ होनी शुरू हो गईं और मैं समझ गया कि बुआ का झरना बहने वाला है.

डबल बीएफ सेक्सी

उसके गालों पर, होंठों पर, गर्दन पर चुम्बन करते करते मैंने अपना हाथ उसकी बुर पर रखा तो उसने बड़े सलीके से मेरा हाथ हटा दिया और बोली- कुछ न करो विजय, बस ऐसे ही लेटे रहो. देहाती सेक्सी सेक्सी बीएफगुलजान को खींच कर मैंने अपने मुँह पर बिठा लिया और उसकी चूत चाटने लगा.

मैंने मामी के दूध दबाए और कहा- आज आपको एक और मज़ा मिलने वाला है … देखती जाओ. अमेरिका बीएफ अमेरिका बीएफमुझे लौड़ों को उकसाना अच्छा लगता है और मेरी लैगिंग अपना ये काम आसानी से कर लेती है.

मैंने जब मोना भाभी के ब्लाउज़ को खोला था, तो देखा था कि भाभी ने ब्रा भी पहनी हुई थी.होली का बीएफ वीडियो: मैंने दो चार मिनट लेटे रहने के बाद लिली को अपनी मन पसन्द पोज़िशन में नीचे लिटाया, उसकी टाँगों को जांघों से मोड़ा और एड़ियों को अपने कंधों पर रखकर लण्ड को चूत के छेद पर लगाया.

गगन हंसने लगा और बोला- चाचा, आपका नसीब तो गधे के लंड से बंधा लगता है.उसने नीले रंग की एक मैक्सी पहनी हुई थी जो नहाने के लिए पहनी जाती है.

बीएफ का वीडियो भेजिए - होली का बीएफ वीडियो

अपने लंड को ममता जी‌ की चुत पर लगा कर मैंने एक नजर शायरा की ओर देखा और अगले ही पल जोरदार धक्का लगा दिया.मैंने उनको सीधा लेटा दिया और अपना मुँह उनकी गोरी चिकनी चुत पर रख दिया; जिससे वो एकदम से सिहर उठीं और उनकी गांड ऊपर को उठ गई.

वे बोले- वाह क्या मस्त हथियार है … मेरे से भी बड़ा है … कितना मोटा है. होली का बीएफ वीडियो इस चैट को जब मैंने पढ़ा, तो मैंने तय कर लिया कि मुझे अपनी बहन की ख़ुशी के लिए कुछ करना चाहिए.

गगन फोन में देखता हुआ आशा से बोला- साली कुतिया, ये तो अच्छी बात है.

होली का बीएफ वीडियो?

वो समझ गया और बोला- अच्छा मेरी रानी को ग्लिसरीन चाहिए ताकि वो किसी का भी लंड आराम से ले सके. आपको मेरी बड़ी बहन की चुदाई की कहानी कैसी लगी आप इसके बारे में अपनी राय जरूर दें. उसकी एक तेज सिसकारी निकली और अपनी गांड में अच्छी तरह चिकनाई मसल कर उसने अपनी उंगलियां वापस से बाहर निकाल लीं.

उसका गोरा बदन, बड़े और भरे हुए चूचे, गदराया हुआ जिस्म … और गीली टपकती चुत देख कर मानस ने पहले तो प्यार से उसे देखा और अगले ही पल एक दमदार शॉट मार दिया. फिर मैंने भी उसे पूरी नंगी कर दिया और मैंने महसूस किया कि अचानक से मेरा लंड फिर से सरिया की तरह सख्त हो गया. कुछ ही देर में मेरे लण्ड से वीर्य की पिचकारी निकली और गर्म वीर्य फ़लक के मुँह में भरने लगा.

’ ऐसे कहा था और अब अपना एक वक्ष बाहर निकाल कर मुझे उसका दूध पीने का निमंत्रण दे रही है. मैंने अब सोच लिया कि शायरा मुझसे खुद बात करे या ना करे, मगर मैं उससे जाकर जरूर बात करूंगा. तो मैं सीधे उसके बेडरूम में चला गया और जो नजारा मैंने देखा, उसके बाद तो मेरा प्राची को देखने का नजरिया ही बदल गया.

वह जोर जोर से बोल रही थी- अअहह … उईई अमन आह क्या कर दिया तुमने … आह बड़ा मजा आ रहा है … आह सक मी. थोड़ी देर में पापा ने मम्मी को घोड़ी बनाया और अपना लंड मम्मी की चूत में डाल दिया.

उसकी दोनों चूचियां छाती पर सीधी तनी खड़ी थीं।मैंने धीरे धीरे फिर से दिव्या का बदन से सहलाना शुरु कर दिया।सहलाते हुए मैंने महसूस किया कि दिव्या की योनि में हल्का सा गीलापन है।मैं बस इसी समय के इंतजार में था.

मैं बोली- पापा अगर मुझे देख कर आपका इतना ही लंड खड़ा हो रहा था … तो घर में ही पटक कर क्यों नहीं चोद दिया.

उन्होंने अपनी आंख से पट्टी उतार दी और बोली- यह क्या कह रही हो?मैंने कहा- मैं यह करना चाहती हूं, यह मेरी बहुत बड़ी इच्छा है. मैं समझ गया और मैंने अपना लंड बाहर निकालकर दीदी के सामने लहराने लगा. वो शायद इस दर्द को बर्दाश्त नहीं कर पायी थीं और उन्होंने समर्पण कर दिया था.

फिर अपने बच्चे के सोने के बाद रोज़ रात में एक बजे के बाद मेरे कहे अनुसार चूड़ी और पायल दोनों निकाल कर आ जातीं. शाम को घर पहुंचा, तो मैंने देखा कि श्वेता पास में शीतल (वकील की बीवी) से बात कर रही थी और परेशान लग रही थी. मेरी मंजिल पर सिर्फ दो ही रूम हैं, तो दोनों के दरवाजे आमने सामने हैं.

वो नहाने की तैयारी कर रही थी और जैसे ही वो बाथरूम में गयी, मुझे कुछ ज़ोर से गिरने की आवाज़ आयी.

उसके बारे में पूछने पर उसने बताया कि वो दूध को फ्रिज करके रखती है और इस प्रकार फ्रीज़ किया हुआ दूध लगभग तीन महीने से अधिक वक्त तक खराब नहीं होता. कभी कभी उनके निप्पल को ब्लाउज़ के ऊपर से ही पकड़ कर खींच लेता, तो मोना भाभी एकदम से सिसक उठतीं. चार घंटे बाद हम दोनों वापस आए, पर इन 4 घंटों में मैं केवल यही सोचता रहा था कि अगली बार मैं फिर से कहीं जल्दी न झड़ जाऊं तो न जाने क्या होगा.

वे बोले- प्रभात झांसी में पोस्टेड है उसकी शादी झांसी में ही हो रही है. एक मिनट बाद तो दीदी इतना अधिक झुक गईं कि उनकी चूचियों के निप्पल भी दिखने लगे. मैंने लिली की स्कर्ट को ऊपर उठाया और लण्ड को पैंटी के ऊपर से ही चूत पर अड़ा दिया.

मैंने मज़ाक़ किया- कुछ मदद करूं?श्वेता- क्या मदद कर सकते हो?मैं बोला- सफ़ाई करते करते थक गई होगी … मैं चाय बना दूंगा?श्वेता- हम्म … चलेगा, पर इधर ही आकर बना लो.

मैं फिर भी शर्ट एडजस्ट कर रही थी कि किसी की नजर में ना पड़े मेरी चूचियां. वह मेरा पुराना दोस्त था, उसे समझाना ही नहीं पड़ा … वो खुद अपने आप अपनी गांड को लंड के मुताबिक़ करता जा रहा था.

होली का बीएफ वीडियो वहीं दूसरी तरफ मेरा तो यह पहला अनुभव था। अब मैंने बिना देर किये उसकी टी-शर्ट निकाली और उसका मुँह मेरी तरफ रहे ऐसी हालत में उसको अपने लंड पर बिठा दिया. वो एक ऐसी सेक्स डॉल बन चुकी थी कि उसकी कमनीय काया को देखते ही लंड खड़ा हो जाए.

होली का बीएफ वीडियो अब मैं बार बार उसकी चूची को दबा देता, जिससे वो भी अपनी बाजू से अपनी चूची को और भी मेरे हाथ से सटा देती और उसकी चूची कुछ ज्यादा ही दब जाती. [emailprotected]हॉट मौसी की चुत कहानी का अगला भाग:जवान मौसी की चूत दोबारा मिली- 6.

पापा ने इशारा किया तो मैंने पापा के लंड पर थूक लगा कर मम्मी की चूत में डाल दिया.

बीटा सेक्सी वीडियो

प्राची की चूत फिर से पानी छोड़ने लगी थी और मेरे सात इंच के लंड को लेने के लिए तैयार थी. मैंने कहा कि क्या फंतासी है आपकी?तो उसने बड़े खुल कर बताया कि मैं मेरी बीवी को दूसरे से चुदते हुए देखना चाहता हूँ. न्यूड भाभी की मस्त चुदाई कहानी के पिछले भागमस्त शादीशुदा पड़ोसन को पटाने की कोशिशमें अब तक आपने पढ़ा कि मैं खिड़की से झांकती हुई श्वेता के मस्त मम्मों को देख ही रहा था कि उसने मुझे चाय पीने के लिए अपने फ्लैट में आने को कहा, तो मैं उसके फ्लैट में चला गया.

वहां पहुंच कर उसने फिर से मुझे चूमना शुरू किया, फिर मैं भी कहां पीछे रहने वाली थी. स्नेहा- कैसी लग रही हूं भाभी?उसने अपने हाथों से ऊपर उठा कर अपनी चूची हिला कर पूछा. मेरे परिचय के बाद अब सीधे कहानी पर आते हैं।कुछ महीने पहले की बात है, जब मेरी एक सहेली ने मुझे बताया कि एक लड़का उसके यहां काम करता है जो उसकी मदमस्त चुदाई रोज़ करता है।सहेली की चुदाई वाली बात ने मुझमें और ज़्यादा उत्तेजना भर दी थी। मेरी चुदाई की तमन्ना और तेज हो गयी थी.

मैंने अपना हाथ उसकी चूचियों पर रखा और एक दूध को दबाना चालू कर दिया.

जिसे देखकर वो गुस्सा हो गयी और पूछने लगी कि ये किसके साथ है?अब आगे की कहानी :बेटी की नंगी तस्वीरें और लंड चुसाई की वीडियो देखकर मृणालिनी गुस्सा हो गयी. तो वो बेटियों के बाहर होने की बाद बोल कर अलग हो गई और ‘रात को प्रोग्राम करेंगे. थोड़ी देर बाद उसने अपना पानी छोड़ा, तो मैंने रस चूस लिया और चुत रस से गीले होंठ उसके होंठों पर रख दिए.

मेरे बाद वो भी बाथरूम में गयी और जब वो वापस आयी तो सिर्फ टॉवल में ही थी. उन्होंने दोनों हाथ मेरे लोअर में डाले और मेरी गांड भींच कर मुझे अपनी ओर खींच लिया. मनीष ने नेहा को उठाया और बिस्तर पर पटक कर एक ही झटके में आधा लंड उसकी रस बहाती चुत में पेल दिया.

संगीता ने बांहें फैलाते हुए कहा- मयंक, आज मेरी यह खूबसूरत जवानी तुम दोनों के लिए खुली पड़ी है … आओ और जितना लूट सकते हो … लूट लो मुझे. नेट की ब्रा में से दीदी की चूचियों के आधे से अधिक दर्शन भी हो रहे थे.

वो बोले- ये ब्रा और पैंटी तुम्हारी अपनी कमाई से है ना?मैं- हां सर!वो बोले- और वो रूपये कंपनी ने ही दिये हैं तुम्हें, है ना?मैं- हां सर।उन्होंने कहा- तो इनको भी उतारो. फिर मैंने उसको बोला- जैसे वो अपने में खुश है, तो तू भी किसी को पटा ले!वो बोली- एक बार तूने उस लड़के के चक्कर से मुझे निकाला था. चाची की गांड ज्यादा टाइट नहीं थी क्योंकि चाचा चाची की गांड भी मारते थे.

फिर थोड़ी देर मेरे रुकने के बाद वह झुका और मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया.

अगर मिलकर कोई बदमाशी की तो देख लेना।उसी हामी सुनकर मैं बहुत खुश हुआ और हम दोनों ने लगभग डेढ़ घंटे तक मैसेज पर फ़ोन सेक्स किया और दोनों को ही खूब मज़ा आया।फ़ोन सेक्स पर क्या बातें हुई यह सब बताकर मैं आपका वक़्त बर्बाद नहीं करूँगा. मैं भी मीठे दर्द के साथ नसीम भाईजान का मशहूर लंड अपनी गांड में लेकर पुरानी यादों में खो गया था. हम सब अब सिर्फ़ चुदाई करने के ख्याल वाले ही रहे थे, लेकिन संख्या ज्यादा देख कर मेरा दिल बैठने लगा था कि चुदाई समारोह कैसे होगा.

मेरे साथ ये सब कुछ नहीं हुआ लेकिन अब इस डांट से वो मुझसे चिपकेगा।अब वो दिन और अगला दिन भी इसी तरह बीता. अब उसके गोरे बोबे उसी काली ब्रा में मेरे सामने थे, जिसे मैं चोरी चोरी देख रहा था.

अंदर उसकी ब्रा और पैंटी हल्की सी दिख रही थी। उसका नाईट सूट बिल्कुल फिट था जिसके कारण उसके माँसल नितंब थोड़े से बाहर निकले लग रहे थे. तीन साल बाद एक दिन प्रभात अपनी शादी का निमंत्रण देने आया व मेरे जोरदार चुम्बन ले डाले. मैंने दीदी के एक चुचे पर थप्पड़ मारा और कहा- मार से अच्छे अच्छे पानी छोड़ देते हैं दीदी, ये तो साले मम्मे ही हैं.

हिंदी सेक्सी गाना दिखाओ

आँटी ने अपनी दोनों टांगें चौड़ी की और मेरी तरफ मुंह करके मेरे खड़े लंड को अपनी चूत पर सेट करके मेरी गोदी में बैठ गई और पूरा लंड अपनी चूत में गच्च से लील गई.

पर मुझे भाभी को सच थोड़ी बताना था कि मैं कितनी लड़कियों, भाभियों की चुदाई कर चुका हूँ. मैंने उसको वादा किया कि जल्द ही मैं अगले सेक्स चैट सेशन के लिए फिर से लौटूंगा. धीरे-धीरे उससे बात शुरू हुई तो मालूम चला कि उसे गांड मरवाने में मजा आता है।उसने बताया कि उसने पहले भी अपनी गांड मरवाई है.

हमारी तरफ उसकी पीठ थी।मैंने लोलिशा को पकड़ते हुए कहा- आंटी, आप हमारे साथ नहीं आएंगी?मृणालिनी- नहीं दामाद जी, मुझे काम है. ”ये कहते हुए मेरी गांड तो बहुत फट रही थी … पर मां की चूत दुनिया की, सोच लिया था कि जो होगा सो देखा जाएगा. साड़ी के सेक्सी बीएफमगर पता नहीं क्यों मुझे उसके निश्छल बर्ताव पर प्यार आ गया और मैंने कहा- ठीक है, मैं तो आपका मन देख रहा था.

उसने धीरे से कहा- साले, भाभी की सवारी तो नहीं करने वाला है?मैंने कहा- सन्नी भोसड़ी के … फ़ालतू बात मत किया कर. चाची के आने से 15 दिन पहले ही मेरा 18वां जन्मदिन मनाया गया था और उस दिन फोन पर जब चाची से बात हुई थी तो चाची ने जन्मदिन की बधाई देते हुए मुझसे कहा था- आज तुम 18 साल के हो गए हो, अब तुम्हें कोई स्पेशल गिफ्ट देना होगा.

उसकी बातों से यह समझने में परेशानी होने लगी कि वो आख़िर में कोई लड़का है या लड़की!उसने काफ़ी देर तक इधर-उधर की बातें कीं. इसलिए कोई भी लड़का उससे कोई बात नहीं करता था या उसे भाव नहीं देता था. वैसे मैं उनसे मजबूत था, ज्यादा मस्कुलर था … तगड़ा था, पर इस समय उनका लंड मेरी गांड में था.

तब कविता ने कहा कि मेरे लिए एक सीखी-सिखाई साथी को उसने छोड़ रखा है।उसका संकेत समझने में जरा भी देरी नहीं हुई मुझे. मुझे साड़ी की वजह से चुत सहलाने में दिक्कत हो रही थी इसलिए मैंने साड़ी हटाते हुए पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया. मैंने उनकी सवालिया नजरों से देखा, तो विधि भाभी ने मुझे आंख मारी और गांड हिलाते हुए आवाज दे दी- रुक जा रांड … अभी दरवाजा खोल कर तुझे भी लौड़े दिलवा देती हूँ.

कुछ देर बाद मैंने भाभी के होंठों को अपने होंठों से दबा लिया और किस करने लगा.

उसके बाद उसने मेरी बीवी की ब्रा के स्ट्रिप्स को खोल दिया और ब्रा को हटा दिया. आपकी रूपा रानी[emailprotected]भाई का लंड कहानी का अगला भाग:इस चुत की प्यास बुझती नहीं- 3.

यहां तक कि मेरी पैंटी तक भीग गई थी बारिश से।हालांकि मुझे बारिश बहुत पसंद है मगर अभी तो ऐसा लग रहा था जैसे किसी बाज़ार में नंगी खड़ी हूं और बाकी सारे मेरा मुआयना कर रहे हैं कि चूची कैसी हैं इसकी, चूत कैसी होगी इसकी. तो मैंने हड़बड़ा कर लंड निकाला और मम्मी को झूठमूट का सहारा देते हुए आवाज दे दी थी कि कुछ नहीं हुआ पापा वो बिल्ली आ गई थी और मम्मी घबरा गई थीं. भाभी इस वक्त मस्त थीं और ‘आह … आह … आह …’ की मादक आवाजें निकाले जा रही थीं.

संगीता- ठीक है … रात को तुम दोनों अपने पापा से पूछ लेना, मुझे कोई एतराज नहीं है. चाची जब हमारे घर रहने आई तो मैं चाची के उफ़नते हुस्न और गदराए जिस्म को देखता ही रह गया. मैं कुछ नहीं बोला, बस लंड पर कंडोम लगाकर भाभी की चुत के ऊपर लौड़ा टिकाया और हल्का सा रगड़कर एक जोरदार धक्का दे मारा.

होली का बीएफ वीडियो मेरे साथ साथ शायरा ने भी अब मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया था, जिससे हम दोनों ही इस दुनिया को पीछे छोड़ कर अब अपनी एक नयी ही दुनिया में खो गए थे. मेरी नीचे नजर गई, तो भाभी की चूत पर हल्के हल्के बाल थे और चूत एकदम गुलाबी सी थी.

कार्टून में सेक्सी वि

ताई ने मेरी तरफ अपनी गांड कर रखी थी और उन्होंने मुझसे पलट कर लेटने के लिए कह दिया था. उसके बाद मैंने तौलिया को उसके बदन से अलग किया तो वो मेरे सामने नग्न पड़ी किसी संगमरमर की तराशी हुई मूरत के जैसी लग रही थी. अब रीना दीदी के मुख से अथाह आनन्द में कामुक सिसकारियां निकल रही थीं.

कविता से बात खत्म होते ही मेरे मन मे स्वयं प्रीति की छवि दिखने लगी और संयोग से आधे घंटे के बाद प्रीति भी आ गयी. मैं तुरंत जाकर उसके मुंह पर अपनी दोनों जाँघें फैला कर बैठ गयी। मैं खुद ही अपनी चूत उसके मुंह पर रख जल्दी जल्दी और जोरों से आगे पीछे कमर के सहारे रगड़ने लगी।उसने भी साथ देते हुए तुरंत हाथ उठाकर मेरे स्तनों को जोर जोर से दबाना शुरू कर दिया. इंग्लैंड की नंगी बीएफवो बोले- ये ब्रा और पैंटी तुम्हारी अपनी कमाई से है ना?मैं- हां सर!वो बोले- और वो रूपये कंपनी ने ही दिये हैं तुम्हें, है ना?मैं- हां सर।उन्होंने कहा- तो इनको भी उतारो.

वह हंसने लगा- मैं भी वह सब करता हूं … फालतू में झूठा चिल्लाने भी लगता हूं.

मैं सिगरेट जलाई और दीदी ने फिर से अपनी चूचियां दिखाते हुए सफाई करना शुरू कर दी. ये हॉट ऑफिस सेक्स स्टोरी पिछले साल जुलाई की है जब मैं बरनाला, पंजाब में जॉब के लिए आयी थी.

मैंने अपना लंड चइडी से बाहर निकाल कर मुट्ठ मार ली और आंखें बंद करके लेट गया. जब झड़ने को होता तो मैं चुत से लंड निकाल कर उनके मुँह में चोदना शुरू कर देता, तो कभी उनकी चूचियों में लंड फंसा कर मजा देने लगता. मैं टेबल पर खड़ी हो गई।वो बोले- सारे कपड़े उतारो।मैं चुपचाप सारे कपड़े उतारने लगी.

मैंने रीना से पूछा- लंड कैसा लग रहा है जानू!रीना- बहुत ही मस्त लग रहा है … तुम्हारा लंड सच्ची में मज़े दे रहा रहा है.

यह सही है कि आप अपने काम के पैसे ले रहे हो लेकिन जब परिस्थिति ऐसी हो तो फिर चार्ज नहीं देखा जाता. अपने 34-30-36 के गदराए बदन वाली मेरी अनु दीदी की चाल अब पहले से ज्यादा मतवाली हो गई थी. शायरा ने भी अब मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया था, जिससे हम दोनों ही इस दुनिया को पीछे छोड़ कर अब अपनी एक नयी ही दुनिया में खो गए थे.

सनी लियोन बीएफ देहातीआँटी- ठीक है, मत बताओ, मैं तुम्हारी चाची रश्मि से अपने आप पूछ लूँगी. मैं उन्हें वैसे ही पकड़े रहा और उनकी एक टांग को पकड़कर नीचे से लंड के धक्के लगाने शुरू कर दिए.

देसी नेपाली सेक्सी वीडियो

मिशैल ने अपने रसीले चूचों पर तेल डालना शुरू कर दिया। मालिश करने वाले तेल से उसके स्तन पूरे चिकने हो चुके थे. उसके होंठ मेरे होंठ पर थे, मेरे दोनों हाथ उसके दोनों स्तनों को मसले जा रहे थे. मुझे यह भी नहीं पता था कि दिव्या मेरा लिंग आराम से ले ली पाएगी या नहीं।इसीलिए मैंने अपने मुंह से थोड़ा सा थूक निकालकर अपने लिंग पर लगा दिया.

मेरे से ज्यादा नमकीन है … बहुत गोरा है, गुलाबी होंठ हैं, कंजी आंखें हैं … क्या मस्ती से करवाता है और मारता भी बड़ी जोरदारी से है. आंटी खलास हो गई थी उन्होंने मुझे कुछ देर जकड़े रखने के बाद एक लंबी सांस लेते हुए अपनी टांगें मेरी कमर से खोल दी और बोली- राज! बहुत दिनों बाद, मुझे बहुत मज़ा आया और मैं जल्दी ही खल्लास हो गई. तुमने क्या कहा?”मैं क्या कहूँ यार, मैं कुछ समझ ही नहीं पा रही कि क्या कहूँ.

निखिल- क्या?मैं- यही कि उस बारिश वाली रात हमारे बीच जो कुछ हुआ, वो केवल ठंड से बचने के लिए किए गए काम का हिस्सा था. तुम बताओ कि मैं तुम्हारे लिये क्या करूं?मैं- अगर तुम अपने कपड़े उतार कर अपनी गांड को ही मेरे सामने हिला दो तब भी वह मेरा माल निकालने के लिए काफी है. इस बार मैं अपने आपको सम्भाल नहीं पाया और एक झटके में नीचे बैठ कर मोना भाभी की टांगों को खोल दिया.

लेकिन इस जबरदस्त कजिन सेक्स कहानी के अगले भाग में और भी मजा आने वाला है. फिर अपने बच्चे के सोने के बाद रोज़ रात में एक बजे के बाद मेरे कहे अनुसार चूड़ी और पायल दोनों निकाल कर आ जातीं.

अब मुझे सच में कण्ट्रोल करना बहुत मुश्किल हो रहा था तो मैंने उन चारों को रोक दिया और उनसे कहा- देखो तुम लोग अब रुक जाओ.

मानस ने अपनी उंगलियों के जादू से सोनम की चुत का पानी उबालना चालू कर दिया. हिंदुस्तान का बीएफतो हम लोग भी मना नहीं कर पाये और सोचा कि इसी बहाने साक्षी का ससुराल भी देख आयेंगे. ब्लू फिल्म बीएफ डाउनलोडकुछ समय में वो जैसे ही चुप हुई, तो मैंने लंड बाहर खींचा और एक तेज झटके से उसकी चुत में फिर से अपना पूरा लंड घुसा दिया. मैं आपका ये अहसान कैसे उतारूंगी? आप जो कहोगे मैं बदले में करने के लिए तैयार हूं.

उसके चिकने हो चुके बदन को देखकर अब मैं अपने आपको अपने लंड को रगड़ने से नहीं रोक सकता था.

इधर मेरी चुत अभी सिर्फ एक बार ही चुदी थी और उसे भी काफी समय हो गया था. मैंने एक बर्फी ली और खिलाने लगा तो वो बोली- पहले आधी आप खाईये!तो मैंने आधी बर्फी खायी और बचा टुकड़ा उसे खिलाकर दूध का गिलास उसे दिया तो उसने गिलास मेरे होंठों से लगा दिया दिया. चिराग- पापा, हम सब दोस्त लोग इस वीकेंड पर महाबलेश्वर घूम आएं?मुकेश- मैं तुम्हारी मम्मी को पहले ही बता चुका हूं, गर्मी की छुट्टियों में कश्मीर सब साथ चलेंगे, नेहा भी आ जाएगी और दामाद जी को भी ले चलेंगे.

मेरे परिचय के बाद अब सीधे कहानी पर आते हैं।कुछ महीने पहले की बात है, जब मेरी एक सहेली ने मुझे बताया कि एक लड़का उसके यहां काम करता है जो उसकी मदमस्त चुदाई रोज़ करता है।सहेली की चुदाई वाली बात ने मुझमें और ज़्यादा उत्तेजना भर दी थी। मेरी चुदाई की तमन्ना और तेज हो गयी थी. किसी की गांड में अपना लंड अन्दर बाहर आते जाते देखना बहुत ही मजे का काम है. मैंने गालों पर गुलाल लगाने के बाद भाभी के पीछे से उनको कसके पकड़ लिया.

हिंदी सेक्सी वीडियो पर

वो कभी अपनी जीभ को पूरे सुपारे पर गोल गोल घुमा देती, तो कभी सुपारे के मुँह पर अपनी जीभ की नोक से कुरेदने लगती. कुछ देर बाद मैंने उसे एक ड्रेस दिया जो उसकी जांघों तक ही था और ऊपर से कंधों पर थोड़ा खुला हुआ था।उसने पहन कर दिखाया. मुझे यह भी पता था कि अब इससे काम के सिलसिले में आगे कोई और मुलाकात नहीं होगी.

मैंने उससे प्यार से बोला- तेरी चुत को मैं फिर से चाट लेता हूँ … ताकि थोड़ी राहत मिल जाए.

फिर बोली- अन्दर आओ … रुक क्यों गए!मैं अन्दर आ गया और मैंने हिम्मत करके पूछा- क्या हुआ उदास क्यों हो?वो बोली- कुछ नहीं, बस ऐसे ही!मैं बोला- कुछ तो बात है … मैंने सुना था सुबह आप दोनों किसी बात पर बहस कर रहे थे.

ये कहते हुए उसने मेरे लण्ड को अपने मुँह में भर लिया और लॉलीपॉप की तरह चाटने लगी. इसके बाद भाभी बोलीं- शर्माओ मत … मैंने तुम्हें ऐसा पहली बार नहीं देखा है, कई बार देखा है. बीएफ फिल्म वीडियो परवे उत्साहित कर रहे थे- क्या मरे मरे कर रहे हो … जोर से पेलो न!मैं जैसे जादू के जोर से बंधा उनकी बात मानता रहा.

मेरा वीर्य निकल जाने से मेरा जोश ठंडा हो गया था और मैं उससे खुद को छुड़ाने की कोशिश करने लगा. प्राची के मुँह से ये निकला तो मेरे लंड से एक फिर से फनफना कर दिखा दिया. जैसे जैसे दारू हलक के अन्दर जा रही थी, उसकी आंखें नशीली होती जा रही थीं.

मैं- हां, तुम्हारे ये सेक्सी अंदाज और टाइट गांड देखकर तो किसका खड़ा नहीं होगा. कमेंट या ईमेल करके प्रोत्साहन दें ताकि ऐसी ही कहानी आगे भी आपके सामने प्रस्तुत कर सकूं।मुझे इस ईमेल पर मैसेज करना ना भूलें-[emailprotected].

मैं फिर भी शर्ट एडजस्ट कर रही थी कि किसी की नजर में ना पड़े मेरी चूचियां.

नमस्ते दोस्तो, मैं समीर, इस कहानी का सूत्रधार हूं। यह कहानी बस मेरी कल्पनाओं का रूप है, इसमें कोई हक़ीक़त ढूँढने की कोशिश ना करें. तन्वी- अच्छा ये बता कुछ बात आगे बढ़ी विराज से?पल्लवी- नहीं यार, बस एक बार मैंने उसे प्रपोज किया था … पर उसने ये कह कर टाल दिया कि अभी मैं अपनी पढ़ाई पर ध्यान दूं इस सबके लिए सारी जिंदगी पड़ी है. मैं एकटक चाची के बेपनाह हुस्न और जगह जगह से दिख रहे उनके गदराए शरीर का जायजा ले रहा था.

बीएफ सेक्सी इंग्लिश एक्स एक्स एक्स साथियो, देसी सेक्स की मनघड़न्त कहानी के लिए आप मेरे साथ अन्तर्वासना से जुड़े रहें. फिर अशोक से पूछा- बोलिए अब क्या बात है?उसने झिझकते हुए कहा- मेम आप मेरी बात का कोई उल्टा मतलब ना निकालिएगा क्योंकि किसी लेडी ऑफिसर के साथ बहुत सोच कर बोलना पड़ता है.

उन्होंने ऊपर आते ही मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया पर मैंने बुआ की चुत से पहले उनकी अंदरूनी जांघों पर हमला किया. मैं अहमदाबाद से हूँ, मेरी उम्र 34 साल है और मैं एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हूँ. जिसमें दोनों पहले अपनी मम्मी और पापा की चुदाई देख कर वही सब रिपीट करने लगे थे.

सेक्सी हिंदी ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो

मैंने कमरे में झांक कर देखा तो सच में निखिल और नेहा का रोमांस अपने चरम पर था. उस क्लिप में अफ्रीकन हब्शियों के द्वारा उस अकेली लड़की की चुत गांड और मुँह की चुदाई को जबरदस्त तरीके से दिखाया गया था. प्राची भी अपने दुधारू मम्मों से पंप निकाल कर कमीज डालकर बाहर आ गयी.

मुझे ऐसा करते हुए अभी बहुत देर नहीं हुई थी कि बुआ की सिसकारियां तेज़ होनी शुरू हो गईं और मैं समझ गया कि बुआ का झरना बहने वाला है. इसके लिए कोई आदमी या लड़का रखो वरना रात की रखवाली अगर औरत या लड़की करेगी तो दिक्कत होगी उसको।पति से पूछने के बाद अब मैं ऐसा ही कोई लड़का देखने लगी.

जैसे ही मामी के मुँह से लंड निकाला मामी बोलीं- साले कमीने … मेरी जान लेने का मन बनाया था क्या?वो उल्टी जैसा करने लगीं, लेकिन उल्टी नहीं हुई.

अब आगे Xxx भाभी चुदाई कहानी:अब भाभी मेरा विरोध भी नहीं कर रही थीं और बिना कुछ बोले चुपचाप लेटी हुई थीं. मेरे कमरे में आते ही वो मुझसे दूर हो जाती थीं और अपनी बातें खुसपुसा कर करने लगती थीं. उसने उत्तेजित होते हुए मेरा सर पकड़ा और अपना पूरा लौड़ा मेरे मुँह में गले तक ठेल दिया.

मैंने भी उसके दो तीन चूमा ले डाले और धीरे धीरे लंड अन्दर बाहर किया- मजा आ रहा है?वो आंखें बंद किए शांत लेटा था, उसने कोई जवाब नहीं दिया. तभी उसने मुझसे पूछा कि यार इतनी देर से मैंने तुझसे पूछा ही नहीं कि तुम गांव कब आए?मैंने कहा- अभी कुछ दिन पहले ही लॉकडाउन शुरू हुआ था, तभी आया था. मेरे एक हाथ में दारू का गिलास था और एक हाथ से मैं अपने लंड को सहला रहा था.

वो अब उधर फंसे हुए हैं, अब तो उनका आना लॉकडाउन खुलने के बाद ही हो सकेगा.

होली का बीएफ वीडियो: अब मम्मी की गांड भी ढीली होने लगी थी और वो धीरे धीरे गर्म होने लगी थीं. बस मैं चाची की गांड में उंगली करता हुआ उनके मस्त गाल चूमने लगा और चाची मेरे लंड पर हाथ फिराने लगी.

मेरे हाथ में कंडोम का पैकेट आ गया।मैंने उसे रख दिया और दवा लेकर बेड पर आ गया. भाभी के साथ जो भी हुआ, उसे बताने से पहले एक बार इनकी जानकारी दे देता हूँ. भाभी मेरे लंड को अपने हाथों से हिलाने लगीं और मुझे ज़ोर ज़ोर से किस करने लगीं.

अगर आप मेरे साथ चुदाई करने को तैयार हों, तो मेरे लिए आप एक प्यारी सी परी बनकर चुदाई करोगी.

पांच मिनट में ही मुझे उसके लंड से माल की गंध आने लगी थी और थोड़ी ही देर में उसके मोटे लंड का वीर्य निकल गया. अब मेरे मन में एक ही बात घूम रही थी कि साक्षी प्यासी है और मुझे इस बात का फायदा उठाना चाहिए. ये आवाज कुछ तेज थी और ऐसा लग रहा अता जैसे किसी कपल में बहस हो रही हो.