स्कूल टीचर बीएफ

छवि स्रोत,देवर और भौजाई का सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सनी लियोन की फोटो दिखाओ: स्कूल टीचर बीएफ, मेरे बालों को अपने मुट्ठी में भर कर वो मेरा सर और भी ज्यादा अपने मुँह में दबाने लगी.

सेक्सी जंगल के

उनकी ब्लू रंग की पैंटी में कसी और फूली हुई चूत बहुत ही हसीन लग रही थी. सेक्सी ठीक हैस्नेहा सुबह उठ के सीधा बाथरूम चली गई और नित्य कर्म से फ्री होकर, एक छोटा सा टॉवल लपेट कर बाहर आई.

दीपक ने अनु के साथ मिलकर खाने की चीजों को सजाया और सबको बीयर पकड़ा दी थीं. वीडियो सेक्सी पोर्न वीडियोतो आज मैं आपको बता रहा हूँ कि समीना को मैंने ब्लोजॉब और अनाल सेक्स के लिए कैसे मनाया.

वह कमरे में दाखिल हुई और उसने जैसे ही लाइट जलाई उसकी नज़र मेरे तने हुए लंड पर गई.स्कूल टीचर बीएफ: विपिन मुस्कुराया और वो धीरे धीरे नीचे झुकते हुए अपना लंड मेरी चूत में डालने लगा.

मैंने भी उनके होंठों को चूसते ही एक‌ हाथ से अपने लंड को पकड़कर उनकी चुत के‌ मुँह पर लगा लिया.मुझे पता था कि मेरी बुआ का लड़का कुछ दिनों के लिए किसी मीटिंग में यहां आ रहा है.

चूत की चुदाई सेक्सी वीडियो फिल्म - स्कूल टीचर बीएफ

फिर एक दिन शाईस्ता ने बताया- दो दिन के बाद हमारे बच्चे अपनी नानी के घर जाएंगे, तो हम तीनों अपने मिलने प्लान रात भर के लिए बनाने के इच्छुक हैं.उसके पेशाब कर लेने के बाद मैंने बोला- तुझे शर्म नहीं आई?वो बोली- इसमें काहे की शर्म … जैसे तेरी बीवी का शरीर, वैसा ही मेरा है.

दो जोरदार आहों के बाद उसने अपनी चूत का मुँह खोल दिया और उसका सारा नमकीन पानी मेरे मुँह और चेहरे पर लग चुका था. स्कूल टीचर बीएफ मैंने उसके चूतड़ों को चूमना जारी रखा, साथ ही मैं उसकी जांघों को भी किस करता रहा.

मैं- ठीक है यामिना, भगवान ने चाहा तो जरूर पहनेगी, उसे मैं अपने हाथों से पहनाऊँगा … लेकिन वह स्मार्ट और सुंदर होनी चाहिए, इन लड़कियों की तरह.

स्कूल टीचर बीएफ?

कभी मेरा लंड पूरा अन्दर घुस जाता तो कभी सिर्फ टोपा उसके मुँह की गर्मी का मजा लेने लगता. स्नेहा सुबह उठ के सीधा बाथरूम चली गई और नित्य कर्म से फ्री होकर, एक छोटा सा टॉवल लपेट कर बाहर आई. पूरे देश से बच्चे यहां पर अलग-अलग सब्जेक्ट की कोचिंग लेने के लिए आते हैं.

जब मौक़ा मिला तो …साथियो, मैं हर्षद मोटे आपका एक बार फिर से अपनी Xxx हिन्दी कहानी में स्वागत करता हूँ. मैंने उसे नहीं पटाया बल्कि उसी को खुजली हो रही थी।हम जंगल के एक पेड़ के पीछे गए. इतने में जोश में मैंने अनामिका के दोनों निप्पलों को मसलते हुए कहा- उधर देख प्रियंका को … साली कैसे खीरा अपनी चूत में पेल रही है.

मैं पलट गया तो आपा बोली- ठीक है, मैं तेरी गर्लफ्रेंड बनने के लिए तैयार हूं, पर कभी भी ये बात किसी को भी पता नहीं चलना चाहिए कि मैं तेरी गर्लफ्रेंड हूँ. बहुत जल्द फिर से एक नई सेक्स कहानी के साथ मिलूंगा![emailprotected]. स्त्री चाहे तो किसी अन्य स्त्री के साथ मिलकर संभोग कर सकती है या वो अकेली हो, तो अकेली भी मजा कर सकती है.

मैंने उनसे कहा- क्या विचार है, लेना है या मुँह से ही चुसवा कर काम खत्म कर दूँ?वो बोले- बेटा, अभी तो मुँह से ही चूस ले … बड़ा मजा आ रहा है. दोस्तो, मेरी पिछली कहानियों की नायिकाओं के साथ कभी कभी फोन पर बात होती थी.

मगर सुरेश ने सोनी की टांग पकड़ कर उसे टेबल के नीचे से बाहर निकाल लिया.

मेरे आधे खड़े लौड़े को सहलाते हुए रेशमा में मेरे सीने पर चूमना चालू किया.

चाट ले सारा रस मेरी चूत का … आज ये चूत तेरी हुई!” मैं मस्ती के मारे बड़बड़ा रही थी।विजय मेरी चूत का रस अपनी जीभ से निकालने की भरपूर कोशिश कर रहा था जिससे मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।मैंने भी विजय के लंड को चूस चूस कर निहाल कर दिया।अब उसका लौड़ा मेरे मुंह में फूलने लगा और मुझे अहसास हो गया कि विजय के वीर्य की धार अब आने वाली है और मेरी भी चूत किसी भी वक्त पानी छोड़ सकती थी. हेलीमा गुलजान की चूत चूस रही थी और गुलजान बहुत ज़ोर से अपना सिर इधर उधर पटक रही थी. जब उसने मुझे पीछे से पकड़ा था तो उसकी चूचियां मेरी पीठ में दब रही थीं.

उस समय मेरी नजरें उसके मस्त मम्मों पर पड़ीं तो लंड ने अपना कमीनपन दिखा दिया. ”मैंने अपना लंड का सुपारा उसकी गांड पर सैट किया और उसके दोनों चूचे कस के पकड़ लिए. मैंने अपने झटके और तेज कर दिए। कमरे में बस अब थप्प थप्प की आवाजें गूंजने लगीं.

मैं भूरा की गांड में उसका लम्बा मोटा मस्त हथियार अंदर बाहर होते देख रहा था.

तभी वो जोरदार तरीके से झड़ने लगी, लेकिन इस बार उसकी पेशाब भी छूट गई थी जिससे मेरा पूरा मुँह और विक्रम का लंड भीग गया. उसका लण्ड मेरी नंगी गांड में दबते ही मेरे मुंह से जोर से ‘आहहह विजय!’ निकल गया. मेरी चूत की आग अब बर्दाश्त से बाहर हो चुकी थी … मैं भी बेशर्म होकर उसके सामने नंगी पड़ी थी; बार-बार अपनी गांड उठाकर उसका लोड़ा अपनी चूत में लेना चाह रही थी.

मैं अपना थूक अपनी छाती पर लगाकर ऐसा सोचती थी, जैसे अंकल ने उसे चूसकर गीला कर दिया है. फिर से हमारे जिस्म भड़क उठे और मैंने शॉवर के नीचे बुआ को कुतिया बना कर उनकी खूब चुदाई की. मेरी गर्म जीभ के स्पर्श मात्र से ही उसकी चूत पिघल गयी और पानी छोड़ने लगी.

संजीव ने अपनी जीभ को पूरी तरह बाहर निकाला और मेरी चूत के अंदर दे दी.

उस कपल में जो भैया थे … वो मार्केटिंग की जॉब में थे ओर कंपनी के काम से दूसरे सिटी जाते रहते थे. अगर यह तीनों मुझे इसके बाद बोलते कि भरे पूरे रास्ते के सामने बीच चौराहे पर अगर यह मेरी चूत चुदायी करने वाले हैं, तब भी मैं इन तीनों को मना नहीं करती.

स्कूल टीचर बीएफ रेल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि बैंक ट्रेनिंग में मेरी दोस्ती एक नवविवाहिता सहकर्मी से हुई. मेरी बीवी संजू और मेरा दोस्त विक्रम दोनों पूर्ण नग्न अवस्था में थे और संजू घुटने के बल बैठकर विक्रम के विशालकाय लंड को बेतहाशा चूसे जा रही थी.

स्कूल टीचर बीएफ मैं उससे संबंध तोड़ना नहीं चाहती थी पर उसे अपने ऊपर हावी भी नहीं होने देना चाहती थी. वहीं नीचे प्रियंका अनामिका की चूत में कभी मुँह घुसेड़ देती, तो कभी उंगली से उसकी चूत में ‘दे दनादन.

शायद मैं ही गलत समय उससे मिलने चला गया था … इसलिए ये मुलाकात भी कोई खास नहीं रही.

बिहारी बाबा का मोबाइल नंबर

इस समय मेरे दिमाग में फिर से वो सब घूमने लगा और मैंने तुरंत रूबी की कमीज ऊपर उठा दी. शायरा एक पहेली सी बन गयी थी जो कि जितना हल करने का सोच रहा था … वो उतना उलझ रही थी. उनसे पूछा- मजा आ रहा है? लग तो नहीं रहा?वे प्रसन्न हुए और उनकी गांड धीरे धीरे हरकत करने लगी.

जो भी हो, पर उसे एक साथी‌ की जरूरत थी, जो मुझसे मिलकर पूरी हो गयी थी. आपको एक मदमस्त सेक्स कहानी सुना रही थी जिसमें परिवार के सदस्यों के बीच सेक्स भरा पड़ा है. रूबी- क्या?मैं- मगर डर भी लग रहा है कि तू इस बात को किसी से बता ही न दे.

छीना झपटी में भाभी के बदन पर लिपटा हुआ तौलिया खुल गया और भाभी मेरे सामने ब्रा पैंटी में खड़ी रह गयी.

अब मुझे चोद दो बस … आह्ह … घुसा दो अपना मोटा लंबा लंड मेरी चूत में … और बना दो इसकी चटनी चोद चोद कर!उसको और तड़पाना मैंने अब ठीक न समझा और घुसेड़ दिया अपना लन्ड उसकी बुर में. जौहरा को चोदने के साथ साथ मैं उसके मम्मों को भी जोर जोर से मसल रहा था. विपिन बोला- क्या हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं तुम चोदना शुरू करो भोसड़ी के … ज्यादा टाइम नहीं है.

उसने मुझे नीचे लिटाया और अपने हाथों से लिंग को योनिछिद्र में प्रवेश करवाकर मेरे ऊपर उछलने लगी. [emailprotected]ट्रेन हॉट सेक्स कहानी का अगला भाग:प्राइवेट सेक्रेटरी की रसीली चूत का मजा- 3. मैंने उसकी योनि की दोनों दीवारों को थोड़ा सा खोला अंदर की ओर, योनि गुलाबी रंग की होती जा रही थी।हल्के काले बाल उसकी योनि को और कामुक बना रहे थे.

उन दोनों बाबाओं ने मुझे बहुत घूर कर और ललचाई हुई नज़रों से मेरे बड़े बड़े मम्मों को खूब बढ़िया से देखा. ये मेरी चुदाई स्टोरी आज से 3 साल पहले की है जब मेरी नई नई नौकरी लगी थी।मुझे मुंबई में रहते हुए 3 साल हो चुके हैं और मैं यहाँ एक बड़ी कंपनी में काम करती हूं।मेरे पापा की कमाई इतनी नहीं थी कि वो हम दो बहनों की पढ़ाई का खर्च सही तरह से उठा सकें.

बैठने के बाद मैंने कहा- अगर आप चाहो तो ये खुशकिस्मत पांव आपके घर पर ही रह सकते हैं. उस दिन के बाद मैं गांव चला गया और इधर सोनी अपनी शादी की तैयारी में बिजी हो गयी. आखिरकार उसका पूरा लंड अन्दर चला गया और हम दोनों के चेहरे पर एक मुस्कान आ गई.

लिली के जाने के बाद यामिना बोली- साहेब, यह तो बहुत बदतमीजी कर गई, इसको इतनी भी तमीज़ नहीं है कि अपने साहब से कैसे बात करते हैं, आपने चाय पूछकर कोई गलत काम किया है क्या?मैंने कहा- कोई बात नहीं यामिना, मैं नया हूँ, पहले सब कुछ समझ लूँ, फिर देखता हूँ क्या करना है?यामिना एकदम जोश में आ गई और बोली- साहेब, क्या, … क्या करना है? ऐसी लेडी को तो नीचे लिटाओ और सीधा कर दो.

मैं- थैंक्स यार … पर अब तुम दोनों की चुचियां देख कर मेरा लंड तुम्हारी चुतों की धज्जियां उड़ाने के लिए तैयार है. इसको मुट्ठी में भींच कर इसकी चमड़ी को ऊपर नीचे कर।मौनी बिना कुछ बोले वैसे ही करने लगी. उसके बाद मैं धीरे धीरे अपनी जीभ उनकी छाती से पेट पर ले आया और उनकी नाभि में जीभ डालकर चाटने लगा.

कुछ देर बाद उन्होंने मुझे उठाया और खुद बैठ गईं, फिर मेरा लंड पकड़ लिया और तेज तेज हिलाने लगीं. खैर वजह जो भी हो … मुझे उनसे चिपट कर मज़ा बहुत आ रहा था।फिर उन्होंने अपने हाथ पीछे ले जाकर मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और उसे मेरे जिस्म से अलग कर दिया.

फिर जैसे ही शॉवर चालू किया, उसके जिस्म से झाग निकल गया और पूरा नंगा बदन दिखने लगा. मैंने मुँह अभी भी नहीं हटाया, मैं उसके रस को मस्ती में पी रहा था और मुझे तनिक भी जल्दी न थी. आप टेंशन ना लो।और भाभी जोर जोर से मेरे लंड को रगड़ने लगी।मैं भी भाभी को किस करते करते हुए अपने दोनों हाथ भाभी के दोनों चूचों पर ले आया और उनको रगड़ने लगा.

आस्था वीडियो

पांच मिनट तक मैंने उसके दोनों बोबों के ऊपर सिर्फ हाथ घुमाया, लेकिन बोबे दबाये नहीं.

साथ में उसने अपने दोनों हाथों से मेरी गांड थामी हुई थी, जिसे वो सहला रही थी. इसके बाद वह मेरे ऊपर चढ़ गई और खुद ही लंड चुत में फंसा कर गांड ऊपर नीचे करने लगी. वो देखने में अच्छी थी, पर मैंने ध्यान नहीं दिया क्योंकि मैं भी काफी थका हुआ महसूस कर रहा था.

कुछ टाइम बाद मुझे पता चला कि एक सूरज नाम के लड़के के साथ भी उसके संबंध थे, यौन संबंध थे या नहीं, ये नहीं पता लग सका, पर उन दोनों के बीच रोज घंटों बातें होती थीं. उसके बाद लगातार 6 महीने तक हैदराबाद में उसके घर में ही हम दोनों हर वीकेंड पर सेक्स करते थे. मेरी सेक्सी वीडियोवसुंधरा भाभी मेरी छाती के बालों से खेल रही थीं, बार-बार मुझे चूम रही थीं, मेरे चेहरे को प्यार से सहला रही थीं.

मेरे मुँह से अपनी तरीफ़ सुनकर फिर से उसके चेहरे पर हल्की सी मुस्कान आ गयी- इतना भी कोई कुछ खास नहीं है … बस नॉर्मली आलू के परांठे ही तो बनाए हैं. वैसे भी आज घर में बहुत लोग हैं, हम दोनों खुल कर चुदाई नहीं कर सकते.

मेरे कमरे में आने के बाद उसने मुझे 7 बजे तक मेरे कमरे में ही मुझे चोदा और चला गया. जरा आवाज देकर बुला देंगे?मैंने कहा- ठीक है, तुम बाहर ही रुको, मैं बुलाता हूं. ये कहते हुए ताई जी ने मुझे कसके पकड़ लिया और बोलीं कि अमन अब तुम मेरी सच्चाई जान गए हो, मेरे दुख को समझ गए हो, अब मुझे छोड़ कर मत जाओ.

वीर्य की कुछ बूंदें प्रियंका के चूचों पर गिरते हुए उसकी नाभि तक गिरती चली गईं. बड़ी मुश्किल से तो उसने मुझसे बात‌ करना शुरू किया था … और अब ये हो गया. मेरे दोस्त की गर्लफ्रेंड को मैंने मजे लेकर चोदा और मैंने उसकी चूत का खूब रस लिया.

अब जैसे जैसे झटकों की रफ्तार तेज होती जा रही थी, बस में थप थप की आवाज़ भी बढ़ती जा रही थी.

मैंने उसकी बात मान ली और ऐसे बाहर का रस पौंछ कर अन्दर पड़ा वीर्य अन्दर ही रहने दिया. मैंने पीहू को देख कर मुस्कुराते हुए कहा- मैंने जिस काम को करने का मन बना लिया, तो समझो मैं उसे पूरा करके ही रहता हूँ.

मैं भी सलमान की जवान बीवी को पूरी नंगी करके उसकी चूत का रस चाट चुका था. फर्क सिर्फ इतना है कि गुलाब मधुमक्खी को शहद देता है और चूत, लंड से सफेद शहद यानि वीर्य लेती है. खुद नेहा अपने रूम आ गई, जहां आते ही उसने अपने पूरे कपड़े उतारे और एक छोटा सा टॉवेल लपेट कर बाथरूम में घुस गई.

आंटी की पूरी नाभि को किस करने के बाद मैंने अपनी जीभ को आंटी की नाभि के छेद में डाल दी और उसको कुरेदने लगा. कुछ तो मैं थोड़ी देर पहले नंगी भाभी देखकर आया था और लंड पहले से ही तना हुआ था. भाभी समझ गईं और बोलीं- अक्की, बहुत दिन से नहीं चुदी हूँ और तू मुझे इतनी देर से तड़पा रहा है.

स्कूल टीचर बीएफ अब मैंने उसकी पैंट को और पैंटी को सरका कर नीचे कर दिया और कंबल के अन्दर से होते हुए उसके पैरों के बीच में आ गया. परंतु संजू की स्थिति देखकर मन मसोस कर रह गया और अपने कमरे में आकर सो गया.

मणिपूर डे

वो बोला- यार पैसे तो मैं दे दूंगा लेकिन ये काफी बड़ी रकम है, देने से पहले कई बार सोचना पड़ता है. बहुत लफड़ा होता।उनकी ओर देखकर मैं मुस्कराया।शेखर- तुमने तो बताया नहीं मगर भूरा ने बताया. उन्हें भी पिघलते ज्यादा देर नहीं लगी और भाभी भी समझ चुकी थी कि आज चुदना ही पड़ेगा।भाभी का बेटा जिसका नाम प्रिंस है, उस वक्त सो रहा था।अब मैं भाभी को लेकर दूसरे कमरे में गया और धीरे धीरे दोनों के कपड़े उतरने शुरू हो गये.

थोड़ी देर में पूरा लंड चूत के अंदर चला गया और वह मेरे जिस्म का जमकर मजा लेने लगा।और आपकी भाभी हॉट सेक्स का मजा लेने लगी. वाह क्या आनन्द था वो!फिर वो डॉक्टर झड़ कर मेरे ऊपर ही लेट गया और उसने मुझे कसके पकड़ लिया. राजस्थान भाभी सेक्सी वीडियोसरिता ने मेरे गाल को छुआ और बोली- कोई बात नहीं, मैं कोई नाराज़ थोड़े हुई हूँ.

उसी समय मैंने एक बार जोर से आहह … भरी और मेरी चूत ने फच्छ फच्छ करके झड़ना शुरू कर दिया.

मेरे मुंह से सिसकारियां निकल पड़ीं- आह्ह … आह् … आराम से … ओह्ह … आह्ह … इस्स … ओह्ह … धीरे … उम्म … ओह्ह … पूरी पी जाओ. थोड़ी देर ऐसा करने के बाद अंकल ने मुझे अपने आपसे लिपटा लिया और मेरे पूरे बदन को अपने बदन से चिपका लिया.

फिर रूबी मुझसे कहने लगी- क्या करें … यह प्यार व्यार मुझे तो समझ में ही नहीं आता. तो मैंने क्या किया?मेरे सभी पाठकों के लिए लगभग दो वर्ष बाद मैं यह कहानी लेकर आया हूं. थोडी देर बाद शामली बोली- रुक जा ना!मैंने पूछा- पेशाब लगी है क्या?वो बोली- नहीं, पर तू रुक तो सही.

उस दिन पहली बार मुझे ये अहसास हुआ कि सेक्स में जितना हो सके बेशर्म हो जाना चाहिए.

मैंने मना किया तो मुझे बांहों में जकड़कर मेरे गालों को चूम लिया और अपना एक हाथ मेरी छाती पर रख दिया. मैंने मज़ाक में कहा- चलो अच्छा है अब मैं तुम्हारे बच्चे की मां बन जाऊंगी. अब मैंने भाभी को छेड़ने के लिए लंड को उनकी चूत पर घुमाया पर अन्दर नहीं डाला.

सेक्सी vedioesफिर पता नहीं कैसे मेरे दिमाग में आया कि शायरा तो इस समय‌ बैंक में होगी … इसलिए क्यों ना उसके एसी वाले कमरे को ही इस्तेमाल कर‌ लिया जाए. जय ने पीछे से मेरी गांड में लंड धकेल दिया था और मुझे बहुत जोर का दर्द हुआ.

राजस्थान सेक्सी लड़की

इससे वो मचल उठी- आआह आईईईई ओऊऊ … मम्मी आआह ऊऊईईई आआह!उसके हाथ अपने आप ही मेरे सर पर आ गए और मेरे सर को अपने सीने पर दबाने लगे. मैंने अवकाश में संभोग का प्रबंध करने के लिए अपना नाम पता और मोबाइल नंबर एक ऑनलाइन वेबसाइट में रजिस्टर किया था और चुत मिलने की आस में उस साईट का भुगतान भी किया था. मैंने देखा तो पाया कि बिजली खराब हो गई थी और जनरेटर भी काम नहीं कर रहा था.

अब मेरा लंड रचना की गांड में घुसने के लिए बेताब हो रहा था- जानू, तैयार हो गांड मरवाने के लिए?रचना ने लम्बी सांस ली- हां, मैं तैयार हूँ. मैंने कहा- सब हो जाएगा, प्यार से करूंगा मैं!ये कह कर मैंने मम्मी की चूत के मुँह पर हाथ से दबा दिया और चूत के अन्दर एक उंगली डाल दी. मेरे इस तरह से दूध पीने से भाभी की चूत भी गर्म हो गई थी और वो अपनी दोनों टांगों को आपस में रह रह कर रगड़ रही थीं.

उधर दूसरे दीवान पर अनामिका होश में आ गई थी और वो लेटे लेटे ही हम दोनों को देख रही थी. उसके पति ने उससे कहा- फोन स्पीकर पर डाल दो और चलो हम लोग फोन सेक्स करते हैं. जैसे ही मैंने दरवाजे को खोलने के लिए कुण्डी पर हाथ बढ़ाया … आँटी अचानक बोली- अच्छा रुको, जो करना है, फटाफट कर लो.

मैंने धीरे-धीरे उसका सारा योनि रस चाट लिया। जैसे ही मेरी जीभ योनिछिद्र के अन्दर जाती तो उसके नितंब स्वत ही उठ जाते थे।मैंने देखा कि योनिद्वार के नीचे एक छोटा सा छिद्र जो इस क्रिया में हल्का सा खुल जाता था. कुछ मिनट तक मैंने उसकी गांड में उंगली डाल के रखी थी जिसे गांड ने उंगली को झेल लिया था.

उसको इस तरह बिना कपड़ों में काम करते देखना सच में शब्दों में वर्णित करना मुश्किल है।आटा गूँथते समय उसके माँसल नितंबों में जो कंपन हो रहा था वो मुझे फिर उसके पास खींच रहा था.

रेशमा- हेलो सर, मैं रेशमा बोल रही हूँ, आप कहाँ हैं?मैं- क्यों क्या बात है?रेशमा- सर कुछ पेपर हैं जिन पर आपके दस्तखत चाहिए. हॉट गर्ल का सेक्सी वीडियोअपनी शर्त की अनुसार समीना की गांड के बदले मुझे उस सांवली रीता की भी चुदाई करनी थी. भारत की सबसे सेक्सी फिल्मतुम मेरा हर काम करते हो तो मैं भी इतना कर ही सकती हूं कि अपने भाई का लंड चूस लूं. अब उसकी ब्रा और पैंटी को उतरवा कर मैंने भी उसको पूरी की पूरी नंगी कर दिया.

ममता की चुत का सारा रस पीने के बाद मैं तो उन्हें छोड़ देना चाहता था मगर वो मुझे वैसे ही अपनी जांघों के बीच दबाए पड़ी रहीं.

सर जी ने मुझे बारहवीं का फार्म भरवाया और डाक बंगले पर फौजी टुकड़ी आने पर अफसर से बात करवाई. मैं समझ गया था कि बुआ अपने माल को किसी दूसरी चूत के साथ शेयर करना नहीं चाहती थीं. मैंने चौंक कर बोला- आंटी जी, आधी रात हो गई है, आपके पति पूछेंगे नहीं कि कहां थीं आप?निर्मला- नहीं, वो हमारे फ्लोर पर नौ नंबर में मास्टरनी हैं न एक, मलयाली है वो, मिसेज मधुसूधन, मैं रात को उनके पास जाती हूँ … पता है इन्हें, बोल दूंगी वहीं थी.

इसके बाद हम दोनों ऊपर चले गए और हमने फिर से फोटो देखने के बहाने अपने पैरों पर कंबल रख लिया. मैं- क्या तुम्हारी उम्र इतनी है कि तुम्हारी लड़की ने प्लस टू पास कर रखा है?यामिना- सर, छोटी उम्र में शादी हो गई और 9 महीने में ही बेटी हो गई. मेरे ताऊ जी सक्रिय राजनीतिज्ञ है, जिस कारण वो घर में बहुत कम ही रहते हैं.

गले का हार दिखाइए

चुदाई के बाद मैंने उनको अपने हाथ से उनके कपड़े पहनाए, जिससे भाभी बड़ी ख़ुश हुईं. दोस्तो, मैं मानता हूँ कि पतली कमर … पतली फिगर का अलग मजा है मगर मोटे और भरे हुए फिगर का मजा कुछ ज्यादा ही अलग होता है. उसी समय मैंने एक बार जोर से आहह … भरी और मेरी चूत ने फच्छ फच्छ करके झड़ना शुरू कर दिया.

उसने थोड़ी सी जबरदस्ती करके मेरा कुर्ता ऊपर करके उतार दिया और सलवार का नाड़ा भी खोल दिया.

आकाश 21 साल का थोड़ा गुस्सैल स्वभाव का लड़का है और इसी शहर में रहता है.

एक धक्के के बहाने से राज मेरे ऊपर आ गिरा और उसने मेरी चूचियों को दबा दिया. पूरे शरीर को अच्छे से वेक्स भी कर लिया जिससे मेरा जिस्म एकदम चिकना हो गया था. हिंदी सेक्सी वीडियो शादीशुदाफिर आंटी की चूत पर लंड का सुपाड़ा सेट कर दिया और एक झटके में उसकी चूत में लंड को घुसा दिया.

यामिना मुझसे पूछने लगी- साहेब, उसने जो कहा क्या आपको वह बुरा नहीं लगा?मैं- यामिना, मुझे बुरा तो बहुत लगा, लेकिन मैं अभी नया हूँ, तो सबके बारे में जानता नहीं हूँ. मैं भी चूमने में उसका साथ देने लगी लेकिन इसी बीच उसने एक जोर का झटका मारा जिससे उसका लंड मेरी चूत फाड़ कर अन्दर घुस गया. जब वो चलती थी, तो उसकी थिरकती गांड को देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाए!और उसके चुचे देख कर तो मेरा दिल करता कि इसको नंगी करके चूचे खा जाऊं.

मैंने संजू की चूत में जाकर अपना लंड घुसा दिया और लगा जोर जोर से चोदने. संजीव ने अपनी जीभ को पूरी तरह बाहर निकाला और मेरी चूत के अंदर दे दी.

आप समझ रहे हैं न … उसकी चूचियों का जरा सा भी दाब मुझे महसूस नहीं हो सका.

मैंने पूछा- कपड़े धोएँ?सरिता- राज! कपड़े तो मैंने ही नहाते हुए धो लिए थे लेकिन भारी बाल्टी उठाने से मेरी कमर में दर्द हो गया. वो मुझे हल्का सा सहारा देते हुए गाड़ी तक ले आया और अपने दोस्त को धन्यवाद देने चला गया. उन्हें ऐसे सेक्सी लुक बहुत पसंद हैं, इसलिए उन्होंने ये सब करने के लिए मुझसे कहा था.

सेक्सी सेक्सी सेक्सी वीडियो हिंदी में वो मंजिल थी रेनू की नयी नवेली योनि जिसके ख्वाब मेरे लिंग ने पहले दिने से ही देखने शुरू कर दिये. तो वो रुके और मुझे बोले- सॉरी बेटा, बहुत दिनों बाद किसी को अपना लंड चुसवा रहा हूँ तो रुका नहीं गया.

दोस्तो, आपको मेरी यह छोटी सी Xxx स्टूडेंट की चुदाई कहानी कैसी लगी?कहानी पर अपनी प्रतिक्रिया के ज़रिये अपना प्यार देना न भूलें. मुझे नेल पालिश लगाई, लिपस्टिक वगैरह लगा कर मुझे चुदने के लिए रेडी कर दिया. वो अपने दोनों हाथों में मेरे लंड को पकड़कर बोली- बहुत शानदार और जानदार लंड है हर्षद तुम्हारा.

घोड़ा और घोड़े की सेक्सी

ममता तो इसके लिए तैयार थी हीं … इसलिए उन्होंने भी मेरे साथ आने में कोई आपत्ति नहीं जताई. कुछ मिनट तक लंड चूसने के बाद वो बोला- चलो, अभी कंट्रोल नहीं हो रहा. मैं बाजार से हर एक वो चीज़ ले गया जो आज की चुदाई में रंग डालने के लिए जरूरी थी.

कुछ ख्याल हमारा भी रख लेते।मुझे लगा कि अब भाभी को सारी बातों का पता ही लग गया है तो क्यों ना बिल्कुल खुलकर ही बात कर ली जाये. खैर … अगली बार जब मैं समीना को डॉगी स्टाइल में चोद रहा था … तो समीना ने मुझसे पूछा- क्या तुम मेरी गांड मारना पसंद करोगे?मैंने अचानक से ये सुना तो रुक गया और मैंने उसकी चूत में धक्का देना बंद कर दिया.

इतनी देर में कुकर की सीटी खुल गई और ढक्कन उसी में गिरने की हल्की सी आवाज आई.

उसके साथ मैंने क्या किया और मेरे साथ क्या हुआ?दोस्तो, मेरा नाम आतिफ आलम है और मैं अन्तर्वासना का बहुत पुराना पाठक हूँ. ड्रेस का गला थोड़ा बड़ा था, तो उसकी उठी हुई चुचियों के बीच की दरार एकदम घाटी जैसी लग रही थी. शायरा अब भी खिड़की पर ही थी, मगर वो अब नीचे से उठकर खिड़की पर खड़ी हो गयी थी.

ममता के दोनों पैर भी अब मेरी जांघों पर आ गए थे और वो मुँह से ‘उईई … श्श्श्श श्शश … आआह्ह्ह … ईईईई … श्श्श्श्शश … आआह्ह्ह. भाभी के मेरे लंड को पकड़ते ही मेरा 6 इंच का गेहुंआ लंड फूल कर झटके मारने लगा. शराब के नशे के साथ साथ पहली चुदाई का भी नशा मेरे अंदर छा चुका था।वो बहुत ही बेशर्मी से मुझसे सब पूछ रहे थे। मेरे अंदर की शर्म भी खत्म होती जा रही थी।उन्होंने कहा- अब मैं तुझे हमेशा चोदूँगा, अब तू मेरी है।वो मुझे बहुत ही गंदे तरीके से देख रहे थे और मेरी पीठ को सहला रहे थे।उन्होंने मुझे साफ साफ बता दिया कि वो आज से पहले बहुत सी लड़कियों को चोद चुके हैं मगर मुझे जैसी लड़की उनको नहीं मिली है.

मैंने अदिति से कहा- हां अदिति … अब मैं भी झड़ने वाला हूँ … हम दोनों साथ में ही झड़ेंगे अदिति.

स्कूल टीचर बीएफ: चिराग उसे समझाते हुए बोला- देख स्नेहा, इस समय हमें कोई भी जाने नहीं देगा … ना मॉम और ना पापा. अभी परसों ही मैंने बैगन घुसा कर अपनी चुत ठंडी कर रही थी, तब से पता नहीं क्या हो रहा है कि चुत के अन्दर खुजली सी बनी रहती है.

भाभी की चूत में मेरा पूरा लंड अंदर बाहर हो रहा था और पेट तक जाकर टकरा रहा था. हैलो फ्रेंड्स, मैं आपकी रीना चतुर्वेदी एक बार फिर से आपके सामने अपनी सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. कुछ देर बाद रोहन ने उसकी चुत को चाटना शुरू कर दिया और मेरे मम्मों को दबाना शुरू कर दिया.

विपिन ने मुझे तुरंत रोक दिया और बोला- नहीं दीदी, ये मेरा प्यार है, प्लीज इसे बाहर मत निकालो.

उसके जिस्म की कसावट इतनी मस्त थी कि मैं एकदम से वासना के वशीभूत हो गया था. जहां बस ने उतारा वह जगह डाक बंगले के पास थी, अतः टेकरी चढ़ कर डाक बंगले पहुंच गया. ममता की चुत का सारा रस पीने के बाद मैं तो उन्हें छोड़ देना चाहता था मगर वो मुझे वैसे ही अपनी जांघों के बीच दबाए पड़ी रहीं.