बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म

छवि स्रोत,सट्टा किंग गली दिसावर रिजल्ट आज का

तस्वीर का शीर्षक ,

भोजपुरी ब्लू फिल्म बीएफ: बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म, फ्री सेक्स Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मैं होटल में अपने ऑफिस की लड़की की चुदाई कर रहा था.

ઇંગ્લીશ સેક્સ

लग रहा था कि इंद्रलोक की अप्सरा मेनका ने धरती पर अवतार लेकर जन्म लिया हो और जिसकी कामुकता और सुंदरता को मैं लफ़्ज़ों में बयां करना चाहूं तो शायद मेरे लफ्ज़ कम पड़ जाएं. सेक्सी पिक्चर हीरोइन कीहमारी रांड भी तैयार है।रवि- अरे नहीं, उसे मत लेकर आना।रमेश- मगर क्यों?रवि- तू भी क्या यार … एक ही रंडी के पीछे पड़ा है।रमेश- मतलब?रवि- अरे मैंने यहाँ एक कॉलेज गर्ल सेट कर रखी है.

वो तेजी से मेरी चूत में धक्के लगा कर मुझे अंदर तक पेल रहा था और मैं जैसे पागल होने लगी थी. सेक्सी एचडी फुल हिंदीचूत चोदने के लिए लौड़ों का खड़ा होना जरूरी था इसलिए मैंने संजय को बोला- लगता है अब सालियों की एक बार फिर से चूत चुसाई करनी पड़ेगी.

मैं अपने लंड की मुठ मारने के लिए तड़प उठा था लेकिन मेरे टाइट शॉर्टस और अंडरवियर इस कार्य में बाधा बन रहे थे इसलिए मैं शॉर्ट्स के ऊपर से ही उन सेक्सी मॉडल्स को देख कर लंड को मसल और सहला रहा था.बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म: तो वो हैरान होकर बोली- अजय, यह क्या है? सिर्फ एक ही पेग क्यों?मैं- इस शराब की बोतल में वो नशा कहाँ है जो तुम्हारें में है.

मेरी खुशी हल्के कदमों से आगे बढ़ते हुए किसी महारानी की तरह लग रही थी.वहां पर तीन तरह के ऑप्शन थे- ऑडियो चैट, वीडियो चैट और xxx वीडियो चैट.

செக்ஸி ப்ளூ பிக்சர் - बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म

इसके साथ वाली शर्ट कुछ लम्बी थी, तो मैंने उसको कटवा कर अपनी कमर से हल्का ऊपर तक का करवा लिया.मुझसे ठीक नीचे वाली फ्लोर पर रजत भैया रहते थे, जो एक बड़ी कंपनी में वाइस प्रेसीडेंट, सेल्स थे.

वैसे भी आपको गर्लफ्रेंड के रूप में पाने वाला इस दुनिया का सबसे लकी आदमी होगा. बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म उसके बाद सोहा आई … मेरी आंखों पर पट्टी बंधी थी, फिर भी मैं सबको पहचान पा रहा था.

कहीं तू भी उसकी तरह ऊपर से रगड़ कर पानी तो नहीं छोड़ देगा?इतना सुनते ही मैंने नीरजा की पैंटी को उतार कर उसको पूरी नंगी कर दिया और उसकी मस्त गुलाबी फूली हुई बुर को देखने लगा.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म?

क्या तुम्हारा ये उपहार कम है कि तुम्हारी आंखों में मेरे लिए इज्जत है. तो मेरे प्रिय पाठको, आपको भाभीजी की चूत चुदाई कहानी कैसी लगी? मुझे कमेंट्स में बताएं. मगर जब तुम्हारी बातें सुनी तो मैंने बहुत सोचा। तुम भी मुझे बहुत पसंद हो लेकिन इस नजर से तुम्हें आज ही देखा। मैं तुमसे दोस्ती करने को तैयार हूं लेकिन ये बात हम दोनों के बीच में ही रहनी चाहिए। दोस्ती अपनी जगह है लेकिन इज्जत अपनी जगह। अगर किसी को पता चल गया ना तो हम दोनों को घर वाले जान से मार देंगे।मैंने उसका हाथ सहलाते हुए कहा- तो तुम्हारी तरफ से भी अब हां है ना। पता चलने की बात की चिंता न करो.

वो बुरी तरह तड़प उठी क्योंकि मैंने एक उंगली एकदम से उसकी चूत में घुसा दी। उसकी पूरी चूत भीग गई थी. तो रवीना ने सीधे उसे धौल जमाते हुए कहा- चलो आज रात को डिनर साथ करेंगे. एक बार तो मैंने माथा पटका मगर फिर अगले ही पल सोचा कि अगर अंजू को बुरा लगा होता तो वो ऐसे नहीं मुस्कराती.

तो स्वरा को बाथरूम में खड़ा करके मैंने अपना रेजर उठाया और उससे कहा- खोलो अपनी सलवार, पांच मिनट का काम है और तुम टाल रही हो. मैंने पूरा लंड रस उसकी चुत में ही खाली कर दिया और हांफते हुए उसी पर लेट गया. मैं- अकेली हो?नेहा- जी, मम्मी अभी मार्किट गई हैं, घंटे भर में आएंगी.

अपने कंमेंट्स आप सीधे मुझे मेल कर सकते हैं।[emailprotected]कहानी का अगला भाग:कामवासना की तृप्ति- एक शिक्षिका की जुबानी-2. कई बार रिश्तेदारी में या समाज के शादी ब्याह में जाने पर ऐसा भी हुआ कि मेरी पत्नी शर्मिष्ठा, बहूरानी अदिति, निष्ठा और कम्मो (कम्मो की कहानी कमसिन कम्मो की स्मार्ट चूत” तो याद तो होगी ही आप सबको जो अदिति के चचेरे भाई की शादी में दिल्ली में मिली थी और मुझसे चुदी भी थी) एक साथ बैठे हुए बतियाते मिलीं.

मैंने वैसा ही किया … फिर उनसे पूछा कि भाभी आज तो आपने बचा लिया, कल क्या होगा … और बच्चा कहां से आएगा?भाभी मुस्कुरा कर बोलीं- मुझे भी वही बाबा बच्चा देगा, जिसने मेरी देवरानी निशा की गोद भरी है … और इसी लिए ये बाइक इस सुनसान इलाके में लगाई है.

फिर मैंने दूसरा पैर उसकी जांघ पर रख दिया और अपनी हील को उसकी जांघ पर दबा दिया.

मगर मुझसे नहीं रहा गया तो मैंने आवाज देते हुए कहा- आप सलीम भाई हैं न … सलाम. तब मैंने सरोज भाभी से उनकी चूत की ओर इशारा करके पूछा- सब ठीक है?सरोज- सब कुछ ओ. मुकेश के बड़े भैया विनोद और भाभी अंकिता को शादी के 4 साल बाद भी कोई बच्चा नहीं हुआ.

जब सुबह उठी, तो देखा कि उन दोनों ने मेरे पूरे शरीर पर अपने वीर्य की बौछार की हुई थी. ऊपर से तुमको याद करके मैं पिछले चार दिनों से तुम्हारे नाम से अपनी चूत में उंगली कर रही थी. जब आपका ख्वाब हकीकत में बदलने वाला हो तो इससे अच्छा तोहफा क्या हो सकता है?मैंने सब कुछ प्लान कर लिया कि प्रीति को कहां कहां घुमाना है, उसे कैमल सफारी करवानी है, रात में रेत के टीलों पर घुमाने के लिए लेकर जाना है.

उन दोनों की बात सुनकर मैं बोली- ये भी सोचो कि तुम लोग खुशनसीब हो, जो बिना शादी किए शादी के सारे फायदे ले रहे हो.

शुरू के कुछ दिनों में तो कुछ नहीं हुआ क्योंकि मैं रूम को सेट करने में लगा हुआ था. बाकी आप सब समझदार हैं ही!धन्यवाद।कैसी लगी आपको मेरी यह कहानी?अपने कमेंट[emailprotected]पर मेल करके जरूर बताइएगा. उसने मुझसे पूछा- सही क्यों नहीं है?मैंने कहा- रुमित … मुझे तुम पसंद हो, पर ईशिता तुमको पसंद करती है.

जैसे ही उसकी चीख ने उसका मुंह खोला मैंने अपने पैर का अंगूठा उसके मुंह में दे दिया. मैं रंजु को दीपक से पहले पेलना चाहता था इसलिए मैंने रंजु की चूत को अपने लंड के ऊपर रख लिया. उसने मेरे 6 इंची लंड को मुंह में लेने की कोशिश करते हुए उसको चूसना शुरू कर दिया.

अपनी गर्लफ्रेंड के क्रेडिट कार्ड से मैंनेलाइव वीडियो सेक्स चैटसेशन के लिए पेमेंट कर दी.

उन्होंने मेरी सलवार का नाड़ा खोला और मेरी गर्म कोरी चूत को अपनी मुट्ठी में बंद कर लिया. निष्ठा ने आंखें खोल कर मुझे असमंजस भरी निगाहों से देखा और फिर थोड़ा सा पीछे खिसक कर अपने दोनों पैरों के तलुओं में मेरा लंड दबा लिया और अपने पैर ऊपर नीचे करते हुए लंड का पग-मैथुन करने लगी.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म इस तरह हम दोनों ने पूरी बोतल एक साथ खाली कर दी।अब दोनों पर शराब की खुमारी अच्छे से चढ़ गई। मैंने उसके गालों को चूमते हुए और उसके स्तनों को मसलते हुए एक हाथ से उसकी चूत को सहलाना शुरू कर दिया. भाभी जोर जोर से आहा … आई … आई … आई … बस हो गया … बस … हो गया … मेरा … आ गया … हाय … राज … हाय राज … मैं … आ गई … हाय … राज … मेरा काम … हो गया.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म मैंने उन दोनों के साथ रास्ते में बहुत मस्ती की थी, जिसे मैं अपनी किसी दूसरी सेक्स कहानी में बताऊंगी कि मैंने उन दोनों के साथ क्या-क्या और किस तरह से मस्ती की. आप वापस क्यों आ गईं?वह सिर नीचे किए हुए बोली कि मेरा फोन यहां रह गया है.

भाभी ने धीरे धीरे खीरे को पहले मेरी चूत के छेद और क्लिटोरियस पर चलाया.

लड़की का फोन नंबर चाहिए

बहुत मजा आ रहा था लेकिन अभी तक मुझे मेरी साली की चुदाई का मौका हाथ नहीं लग रहा था. मैं जानती हूँ बहुत दिनों बाद मैं अपनी कहानी लिख रही हूँ और मेरे सभी प्रशंसक बेसब्री से मेरी कहानी का इंतजार करते हैं. अगर आपको मेरी सेक्स कहानी अच्छी लगे, तो कृपया ईमेल द्वारा अपनी राय जरूर दीजिएगा.

मैं भी उसकी कमीज में हाथ देकर उसकी नंगी पीठ पर उंगलियां फिराने लगा. मैं भूल गया था।फिर हमने फोन रख दिया, उन दोनों में से उसने कौन सा लिया, मैं उस वक्त नहीं जान पाया।खुशी की ये हरकतें मेरे प्यार की हसरतों को निरंतर बढ़ा रही थी।और आज मेरा एक सिद्धांत चरितार्थ भी हो गया था कि आप हमेशा उपहार देकर ही किसी को खुश नहीं कर सकते. अब वो खड़ी होकर खुद ही मेरे लंड को अपनी चूत पर रगड़ने लगी और सिसकारते हुए बोली- जीजू, दे दो अब अपना.

मैं तुमसे प्यार ही इसलिए करती हूँ कि तुम अपनी बीवी को बेइंतहा चाहते हो.

कुछ देर बैठे रहने के बाद वो लंड को चुत में लिए हुए कमर को गोल गोल घूमने लगी … जैसे चकिया का मूठा पकड़ कर गेहूँ पीस रही हो. मेरे सोफ्ट और गर्म हाथ उसकी गोटियों को सहलाने लगे और मैंने पीछे से उनको हाथ में भर लिया. मैंने जल्दी से उनके सामने ही अपनी स्कर्ट उतार कर जींस टॉप पहन लिया.

अब तक की सेक्स स्टोरी में आपने जाना कि कैसे पहली बार टीचर ने चोदा मुझे. मुझे जल्दी से नंगा करके घोड़ी बना दिया और मेरे पीछे आकर अपना लण्ड मेरी गांड के छेद पर टिका दिया. कोई बीस मिनट की मस्त चुत चुदाई के बाद मैंने अपने लंड का पानी पम्मी की फुद्दी में ही छोड़ दिया और हम दोनों चिपक कर अपनी साँसों को नियंत्रित करने लगे.

प्रीति जोर जोर से चिल्ला चिल्ला कर अपने रोमांच को बयां कर रही थी- वाउऊ … अजय … इट्स सो अमेजिंग … (यह बहुत ही अद्भुत है). मैंने लंड बाहर निकाला और उसे गले से लगाकर पूछा- मजा आया?वो मेरे बदन से चिपक गयी और मेरी पीठ को सहलाने लगी.

मैंने उनसे उनका साइज़ पूछा, तो भाभी जी ने अपना साइज़ 34-30-36 का बताया. भाभी बोली- क्या हो रहा है लाडो? जरूरत महसूस होने लगी लगता है, अभी तो छोटी हो, अभी नहीं मिलेगा. उसके मुंह से अब कामुक आवाजें आना शुरू हो गयी थीं- आह्ह … आदित्य … नहीं … आह … उम्म … आह्ह … बस … ओह्ह.

नेहा- पहले कुछ खा पी तो लो?मैंने कहा- बाद में!नेहा- मैं तो दिल से चाह रही थी कि आप आ जाओ.

सलीम भाई मेरी बात पर हंसने लगे और मुझे माशूक की नजरों से देखने लगे. वो इतने अच्छे से मेरी चूत को चाट रहा था जैसे कि ये उसका रोज का काम हो. मैं भी ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी- आह चोदो मुझे … आह सर फ़क मी फास्ट प्लीज …कुछ देर की चुदाई के बाद उन्होंने मेरे गांड के छेद को खूब अच्छे से चाटा और मेरी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रख कर लंड मेरी गांड में घुसाने लगे.

शांति का हाथ पकड़ कर मैं उसे बेडरूम में ले आया, शांति का पेटीकोट और ब्लाउज मैंने उतार दिया. लेखक की पिछली कहानी:पंजाबन भी चुद गयी60 साल की उम्र में बैंक से रिटायर होने के बाद मैं सारा दिन घर पर ही रहता था जबकि मेरी पत्नी अभी कार्यरत थीं.

मैं उस समय सिर्फ फ्रेंची कच्छे में था और मेरा लिंग कच्छे में पूरा तना हुआ खड़ा था. तभी अचानक अंकल की बेटी मेरे कमरे के पास आई और बाहर से आवाज देकर बोली- क्या मैं अन्दर आ सकती हूं?मैंने भी आवाज देते हुए कहा- हां आ जाइए. अब मुझे और ज्यादा मजा आने लगा है और मैं लाइव सेक्स चैट को अब ज्यादा इंजॉय करता हूं.

हीरोइनों की फोटो

तो मैंने अनीता को बांहों में जोरों से जकड़ लिया और कहा- साली कुतिया, तुझमें बहुत आग है, चल मुझे अपनी अगन से पिघला दे.

आप जो कहोगे, वही होगा।मैंने उसे फिर छेड़ा- जो कहूंगा वो होगा?अब वो बेचारी क्या कहती उसने चुप रहकर सर झुका दिया. जब भी मैं नीचे की ओर आती तो उसका लंड मेरी चूत में गहराई तक उतर जा रहा था. मैं बोली- इसकी ब्रा पेंटी कहां है?मेरा भाई कुटिल मुस्कान देते हुए बोला- मैं तो तुझे नंगी ही ले जाने को सोच रहा था.

फिर जब नींद खुली तो पाया कि निष्ठा की मुट्ठी में मेरा लंड था और वो धीरे धीरे उसे सहला रही थी. रात को ही प्रधानमन्त्री जी ने घोषणा की तो राजेश सोच में पड़ गया कि अब उसका घर कैसे चलेगा. भाई सेक्सी वीडियोमैं घर आया तो उसने ख़ुश हो कर बताया कि उसका पति 4 से 5 दिन के लिए काम के सिलसिले में बाहर गया है.

चूंकि बेबी रानी का चूचा मैंने पकड़ा था इसलिए उसकी बारी बाद में चुदने वाली थी. फिर एक हाथ से चुचे को मसला और दूसरे हाथ से चुत के ऊपर के हिस्से को सहलाने लगा.

उसने अपने सीने को साड़ी के पल्लू से ढक लिया और रोल प्ले शुरू करने के लिए एक अच्छी पोजीशन में आ गयी. गांड मारने का जो सुख मेरी सगी बीवी ने मुझे कभी नहीं दिया था वही सुख उसकी छोटी सगी बहिन मुझे दे रही थी. शायद प्रिंसीपल सर को भी पता लग गया था कि मैं भी चुदासी हूँ और इसीलिए बिना पैंटी के आई हूँ.

नेहा ने बड़ी बेचैनी से लिंग को कुछ देर और चूसने के बाद मुझे हाथ खींचकर बाथटब के अन्दर बिठा लिया. आप जो कहोगे, वही होगा।मैंने उसे फिर छेड़ा- जो कहूंगा वो होगा?अब वो बेचारी क्या कहती उसने चुप रहकर सर झुका दिया. ऐसे नहीं करते हैं देवर जी।और भाभी ने मुझे डाँटा और फिर प्यार से समझाया भी.

जवानी के कारण मेरे अंदर सेक्स करने की इच्छा बहुत तेज होती जा रही थी.

दोस्तो, मुझे दिल्ली सेक्स चैट वेबसाइट का वो लाइव सेक्स चैट वीडियो सेशन करके बहुत मजा आया. इस लाइव वीडियो सेक्स चैट के द्वारा मुझे मेरी कुछ दबी हुई बाप बेटी की चुदाई की कामुक लालसाएं जानने में मदद मिली.

वो भी मेरे गालों को चूमते हुए मेरी पीठ को अपने दोनों हाथों से सहला रही थी. इसलिए मैंने नेहा को कुछ देर के लिए रोक कर टब के अन्दर ही खड़े होकर किनारे पर पैर रखकर खड़े होने के लिए कहा. मैंने इस सेक्सी इंडियन लड़के के लंड को हाथ में ले लिया और उसको खींचने लगी.

जिससे मेरा आधा शरीर पानी के अन्दर चला गया और मेरा आधा शरीर पानी के बाहर ही रह गया. मैंने राहत की सांस ली और डरते डरते उनको सारी बात बता दी कि मुकेश की वाइफ निशा के पेट में जो बच्चा है, वो मेरा ही है … और परासिया में कोई बाबा नहीं है. अब हमने दोनों लड़कियों को एक साथ लाइन में बिठा दिया और मैं और संजय उनके सामने खड़े हो गये.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म पूरे रूम में उसकी चुत की खुशबू महक रही थी … हम दोनों बिना कुछ बोले बिस्तर पर पड़े थे. मेरे प्यारे दोस्तो, मैं आपको आज अपनी आपबीती देसी हॉट भाभी चुत चुदाई कहानी सुनाने जा रहा हूं.

एचडी में सेक्स वीडियो

पर जब उसके स्तनों पर उसकी बांहों का दबाव पड़ता तो स्तनों का उभार उसके कन्धों के नीचे साफ साफ नज़र आता. ऐसा पीजी में सब कहते हैं कि कॉलेज लाइफ में उसके कई लड़कियों से सम्बन्ध थे. अब एक बार फिर से लंड और चूत थाम कर बैठिये क्योंकि मैं अपनी सेक्सी कहानी को आगे बढ़ाने जा रही हूं.

दिन में उंगली डालने से मेरी चूत में जो दर्द हुआ था अब उतना नहीं हो रहा था और मैं मजा लेने लगी. उसके नर्म हाथों और शैपू की चिकनाई की कमलता मेरे मन को आनन्दित करन लगी. मेरी चिकनी पिंडलियों को चाटने लगामैं अपनी सभी दोस्तो को कहता हूं कि एक बार इस साइट पर जाकर आप भी ट्राई करें, कामुकता की दुनिया का मजा लें.

वो बोला- अरे आशना हमें क्या यहां सारी रात रुकना है … बस तुम अपनी चनिया चोली चेंज कर लो … तब तक हम यहीं खड़े रहते हैं.

तब किसी ने मेरे सर पर शराब का एक गिलास धीरे धीरे से उड़ेला और जैसे ही शराब मेरे सर से होकर नीचे को बही, किसी ने मेरी गर्दन पर किसी ने मम्मों पर, किसी ने कमर पर किसी ने चूत पर और किसी ने मेरी जांघों पर मुँह लगा लिया … और जिसको जहां से पीने को मिली, वहां से मेरे बदन को चूस चूस कर शराब पी. मगर चूसने की हिम्मत अभी तक नहीं कर पाया था।फिर एक दिन मैंने चोरी से लवी की अपने पति के साथ हुई व्हाट्सप्प चैट को चोरी से पढ़ा.

कुछ देर मैं भाभी के चिकने पेट पर लेटा रहा और धीरे धीरे लण्ड को चलाता रहा. मैं शर्म से उठकर जाने लगी तो भाभी ने मेरा हाथ पकड़कर वापिस बैठा लिया और बोली- देखती रहो … अभी फिर चढ़ेगा!उस वक्त मेरे मम्मों का साइज 36 था और मेरे पट और चूतड़ पूरे जवान हो चुके थे और मैं मन ही मन भैंस और भैंसा की चुदाई का आनंद ले रही थी. वो बोलीं- घर में अकेले बोर नहीं होते तुम?मैंने कहा- भाभी होता तो हूं लेकिन अब जायें कहां, बाहर घूमना फिरना तो वैसे ही बिमारी के खतरे से खाली नहीं है.

भाभी ने अपना नाईट गाउन निकाल दिया और एकदम नंगी हो गई और मुझसे कहने लगी- मेरी चूचियों को पियो.

मैंने दादी से पूछा- दादी, ये भैंस के पिशाब वाली जगह पहले क्या गिरा था?दादी- वो भैंसा ने चूत के अन्दर अपना वीर्य छोड़ा था जो लण्ड को बाहर निकालते हुए थोड़ा बाहर आ जाता है और उसके साथ ही भैंस की चूत भी पानी छोड़ती है. मेरा लण्ड अब भी अपने हल्के उभार से मेरे लोअर में काफी हिलता हुआ दिखाई दे रहा था जिसे चोर नजरों से नेहा देखकर अंदर ही अंदर खुश हो रही थी. चलो कोई बात नहीं फिर!” मैं संक्षिप्त स्वर में कहा और आंखें मूंद कर फिर आहिस्ता आहिस्ता कराहने लगा.

कुत्ता सेक्सी पिक्चरउसने कहा- आह … आ रही हूँ मैं …मैंने चूत चूसते हुए ही कहा- उंह … आ जाओ. मैं- तो क्या हुआ, क्या शादीशुदा गर्लफ्रेंड नहीं हो सकती!भाभी- किसी बिना शादीशुदा को पटाओ … हा हा हा हा … वैसे भी रजत को पता चलेगा तो जान ले लेंगे … हा हा हा हा.

हिंदी में बीपी सेक्स

हम दोनों ही इस पोजीशन में बैठी थी कि भैंसा और भैंस हमें साफ दिखाई दे रहे थे. ऐसे ही स्क्रॉल करते हुए मुझे एक सेक्सी वेबकैम मॉडल अस्मि की प्रोफाइल दिखी. उसकी मादक कराहें सुनकर मैंने पूरे जोश से एक जोरका झटका मार दिया और एक ही धक्के में लंड आधे से ज्यादा चुत में घुस गया.

अब तक की मेरी इस सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि प्रकाश भाईसाब की दूकान में ही सलीम ने मेरी गांड मार ली थी. उसने उसे वहां बिछा दी और बोला- भैया बैठो … आप थक गए हो, थोड़ा लेट लो. प्रीति जोर जोर से चिल्ला चिल्ला कर अपने रोमांच को बयां कर रही थी- वाउऊ … अजय … इट्स सो अमेजिंग … (यह बहुत ही अद्भुत है).

मुस्कुरा के राजेश बोला- क्या तुमको लगता है मैं तुम्हारा मजाक बनाऊंगा. चलते चलते उसके हाथ मेरी कमर से नीचे सरक कर मेरी जांघों पर जा पहुंचे थे. उसने एक लम्बा, गुलाबी रंग का डिल्डो उसके स्टैंड से उठा लिया और अपनी गांड में उसको घुसाने लगी.

मुझे संतुष्टि हुई कि चलो इसे पता नहीं चला कि रात मैंने इसके साथ क्या हरकत की है।अगली रात मैं फिर इसी उम्मीद के साथ उठ कर उसके बिस्तर पर गया।मगर आज लगता है है लवी ने अभी अभी अपने बेटे को दूध पिलाया था. कुछ देर बाद भाभी जी की ‘आ आआह निकलने लगी और वो ज़ोर से और कांपने लगीं.

मुझे यही उपाय पता था सो किया मैंने!” वो बोलीथैंक्स निष्ठा, पर बुखार तो दवाई से भी उतर जाता न!” मैंने कहा.

उसने मुझे बताया कि वो अभी तक कुंवारी है और अपनी चूत पे उंगली के अलावा कुछ नहीं डाला।वह अपने 19वें जन्मदिन पर वो सील तुड़वा कर इसको यादगार बनाना चाहती है. डीवीडी वीडियोऐसा नहीं था कि सिर्फ मैं ही पागल हो रहा था … भाभी का भी यही हाल था, वे भी मेरे लंड को अपनी चूत में लेकर अपनी अन्तर्वासना ठंडी करना चाहती थी. सेकसी म्युजिक भोजपुरी गानाअगर बिना तैयार किये ही चुदाई शुरू कर दी तो लड़की को ज्यादा दर्द तो होगा ही … साथ साथ लड़की के मन में आगे चुदाई का डर बैठ जाएगा।मैं मेरी पाठिकाओं को यह सलाह देना चाहूंगा कि वो अनुभवी आदमी से ही सील तुड़वायें. लेकिन प्रतिभा ने मुझे हौसला दिया और कहा- मैं हूँ ना … तुम बस रात की तरह ही परफार्म करने की कोशिश करना.

लड़कियों के बैठने के बाद भाभी बोली- राज, बात यह है कि आज मैंने रोहित को यहाँ से जाते हुए देखा है, मुझे उसके इरादे ठीक नहीं लग रहे हैं.

मेघा के सेक्सी कोमल बदन ने मुझे उन दिनों की याद दिला दी जब मैं अपने कॉलेज में था और सेक्सी कॉलेज गर्ल्स के साथ मस्ती किया करता था. चुदते हुए गच-गच की आवाज होने लगी और उसके बाप का लंड उसके मुंह में घुसा होने की वजह से उसके मुंह से गूं-गूं के सिवा कुछ और नहीं निकल रहा था. इस बार मेरा पूरा लंड मम्मी की चुत की दीवारों को चीरते हुए अन्दर घुस गया.

वे मुझे गालियां देते हुए बोलीं- भोसड़ी के मादरचोद … ऐसे कौन करता है. कुछ देर की चूमा-चाटी के बाद हम दोनों नंगे होकर एक दूसरे के सामने थे. फिर एक एक करके उसने अपने दोनों हाथों को ऊपर उठाते हुए अपनी क्लीन शेव कांख पर भी साबुन रगड़ा.

सविता भाभी की कहानिया

पूर्णिमा की चांदनी रात में खुले आसमान के नीचे प्रीति अपने जिस्म से कहर बरपा रही थी. मैं वाक के बाद करीब एक घंटे योग भी करता हूँ, तो वो सामने बैठ कर मुझे नोटिस करने लगी थीं. उसकी चूची इतनी टाइट थी कि दबाकर लग रहा था कि डॉक्टर साहब ने ठीक से कुछ किया ही नहीं था। मैं दोनों हाथों से उसकी नंगी चूचियों को भींचने लगा और भाभी सिसकारने लगी.

हां हां सोती रहना ना, घोड़े गधे सब के सब बेच कर सोना, मुझे क्या! मैंने भी हंसते हुए कह दिया.

मैंने कहा- रुको!और मैंने खुद ही नीचे हाथ ले जा के उसका लंड ढूंढा और पकड़ के अपनी चूत पे लगा लिया।फिर क्या था.

मैंने उसकी टांगों को फैलाया और उसकी फूली हुई चूत को जीभ से चाटना शुरू कर दिया. निष्ठा की गांड में मेरा पूरा लंड समा चुका था और मैं धीरे धीरे लंड को अन्दर बाहर करते हुए उसकी गांड मारने लगा था. kamukta.com ऑडियो स्टोरीमैंने गीत के मम्मों से अपना हाथ उठाया और गीत की दूसरी चूची चूसने लगा और अपना हाथ नेहा के एक मम्में पर रख दिया और उसे सहलाने लगा.

मैंने भाभी जी की चुत में हाथ लगाया, तो चुत हॉट थी और गर्म गर्म रस छोड़ रही थी. साथ ही साथ ऑनलाइन ऑर्डर करके पिज्जा, बर्गर, डोसा मंगाता और हम दोनों खाते. पिछले कुछ समय से मैं सलहज का खाने और पीने का स्टाइल चेंज करने में सफल रहा था.

भाभी चुदाई के लिए तड़प रही थीं और बोले जा रही थीं- आह साले कमीने जल्दी से अन्दर डाल दे. वर्जिन लड़की की सेक्सी चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मेरी मित्रता एक कुंवारी लड़की से हुई.

कुछ देर तो वो निश्चल लेटी रही फिर मुझे आभास हुआ कि वो बेचैनी से खुद को यहां वहां खुजला रही है और बार बार करवट बदल रही है.

उसको डिस्चार्ज के बाद थोड़ी शांति और थोड़े विश्राम की आवश्यकता थी, तो मैंने उसे बाथटब में अपने साथ खींच लिया. बाथरूम में अन्दर जाकर मैंने व्हिस्की का हाफ, केतली में खाली कर दिया और बोतल को चलती रेल से बाहर फेंक कर वापिस अपनी सीट पर आकर बैठ गया. थोडा सा टाईट छेद था उसकी चूत का, मगर एक जोर का धक्का लगाया तो आधा लंड उसकी चीख के साथ चूत में चला गया.

न से नाम लिस्ट ladki hindu आखिर ये मेरी जानेमन की शादी थी, चाहे बहाना कुछ भी हो मुझे अपनी खुशी के करीब आने का मौका मिल रहा था. लंड घुसते ही रमेश के लंड से वीर्य की धार फूट पड़ी और उसने अपनी बेटी का मुंह अपने वीर्य से भर दिया.

मैंने अब तक अपनी गर्ल फ्रेंड के साथ और उसकी कजिन सिस्टर के साथ सेक्स किया है. चौथी बार जब मैंने बुर में लंड को पेला तो उसकी बुर खुद ऊपर उठ कर लंड का स्वागत करने लगी. और शो रूम वाले को गवाही के लिए कहा- है ना भैया?पर वो तैयार नहीं था, उसने बक दिया- नहीं मैम, सिर्फ दस परसेंट ही छूट मिलेगी.

भाभी हिंदी सेक्सी वीडियो

अब मेरे पास अपना खुद का मोबाइल फोन है और मैंने रिंकी के साथ कई बार लाइव सेक्स चैट का मजा लिया है. वह मुझे बोली- क्या तुम मेरा मजाक उड़ा रहे हो? अगर ऐसा होता, तो आज तक मेरी शादी न हो गई होती?मैंने कहा कि शायद देखने वालों की आंखों में कुछ कमी रही होगी. जिसमें एक से बढ़कर एक खूबसूरत, सेक्सी, कामुक और सेक्सी की प्यासी औरतें और लड़कियां थीं जो एक ओपन माइंडेड सेक्स वीडियो चैट सेशन करने के लिए तैयार थीं.

मैं भी एक्साइटेड हो रहा था कि मुझे वो सब करने का मौका मिलेगा जो मैं अपनी सौतेली बेटी के साथ करना चाह रहा था. प्रतिभा ने मोबाइल निकाल कर कॉल अटैंड करते हुए कहा- हां वैभव, हम पहुंच गए.

लेकिन मुझे गलत समझने से पहले मेरी पूरी बात तो सुन लो।उसकी बात का कोई खास जवाब मेरे पास नहीं था, मैंने कहा- ठीक है कहो।खुशी ने कहा- तुमने किसी और से संबंध बनाने के लिए सीधे सीधे मना करके मेरा दिल जीत लिया, पर आज के समय में प्यार और सेक्स दो अलग-अलग चीजें हो गई हैं.

निष्ठा, मेरा ये बहुत देर से खड़ा है इस कारण पेट में तेज दर्द होने लगा है. मेरा गुलाम वो लड़का इस नजारे को मुंह फाड़कर देख रहा था और उसके मुंह से लार टपकने लगी थी. अब जब वो टॉवल लेकर बाथरूम में गयी तो उसने टॉवल को सूंघकर उसका सारा हाल जाना और मदमस्त हो गयी.

रिंकी- ओह्ह बेबी! ये तुमने क्या कर लिया?मैं- मैं खुद को रोक नहीं पाया. मैंने पूछा- रानी तो बता क्या करूँ तेरी सब शंकाएं दूर करने के लिए?रानी ने इतरा कर कहा- मैं क्या जानूँ … तुझे मेरी तसल्ली करवानी है तू ही सोच कैसे करेगा… मुझे थोड़ी करनी है जो मुझसे पूछ रहा है. अब तो उसके एक बेटा भी है और वो अपनी ससुराल में सब तरह से सुखी संपन्न है.

अब हमने दोनों लड़कियों को एक साथ लाइन में बिठा दिया और मैं और संजय उनके सामने खड़े हो गये.

बीएफ सेक्सी हिंदी मूवी फिल्म: वो बोली- तुमने सोनम के साथ कभी पानी वाला ट्राई नहीं किया?मैंने कहा- नहीं। उसके साथ कभी मौका नहीं मिला. उसके मुंह से अब कामुक आवाजें आना शुरू हो गयी थीं- आह्ह … आदित्य … नहीं … आह … उम्म … आह्ह … बस … ओह्ह.

ब्लाउज का हुक खुद नहीं लगाया जा सकता है।फिर मैं क्या करता … मैंने ही भाभी के ब्लाउज का हुक लगाया और ब्लाउज की डोरी को भी बाँधा।भाभी ने कहा- इसीलिए मुझे नीचे आने में देर हो गयी. दोस्तो, अपनी पिछली कहानीनजर थी मां पर, बेटी चुद गयीमें मैंने आपको बताया था कि मेरे पड़ोस में रहने वाले एक पंजाबी परिवार की लेडी मनजीत पर मेरी नजर थी, मैं उसे चोदना चाहता था. भाभी जी बोलीं- इस बार भी रस मेरी चुत में ही डालना … ताकि मेरी चुत भी आपके लंड की तरह गोरी और लाल हो जाए.

जब तू उसके साथ सब कुछ कर चुका है … तो एक बार बिना गर्भ निरोधक गोलियां दिए निशा से सेक्स कर ले.

मम्मी सीत्कार भरकर बोलीं- ओह हर्षद प्लीज … लंड को और अन्दर डाल दो ना. भाभी एकदम उठी और मुझसे बोली- चलो मेरी तो किस्मत ही ऐसी है, पर तुम्हारा तो हो ही गया. दोनों चप्पलें सूंघ के मैंने उनको चूमा और फिर पिंकी के पैरों को थाम से सहला सहला कर दबाने लगा.