ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली

छवि स्रोत,बर्तन मांजने वाला

तस्वीर का शीर्षक ,

तृषा कर मधु वीडियो वायरल: ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली, पहले मैं आप सभी से माफी मांगना चाहता हूं कि इतने लंबे वक्त के बाद मैं आपके सामने हाजिर हुआ हूं, लेकिन आप जानते हैं काम की व्यस्तता के कारण आजकल वक्त बहुत कम मिल पाता है.

काम वाली बाई xxxvds

रूचि के मम्मों का साइज़ चाहे जैसे बड़ा हो लेकिन साली के दूध में बड़ी कसावट थी … और सबसे बड़ी बात यह थी कि इतने बड़े बड़े थे कि मेरे एक हाथ में नहीं आ रहे थे. દેસી ભાભીइसके बाद अब मम्मी का या मेरा कोई भी काम होता, तो मैं ही उसके पास जाती.

मौसी- फिर?मैं- फिर, दोनों हाथ से तुम्हारी गांड को छू कर हल्के हाथों से दबाऊंगा. थ्री एक्स ब्ल्यू फिल्ममैंने शीना को दोबारा पीठ के बल बेड पर लिटा दिया और खुद उसकी बगल में लेट कर उसके होंठ चूसने लगा.

सार्थक का घर दो मंजिल का है, जिसमें नीचे उसके मम्मी पापा और प्रज्ञा रहते हैं और ऊपर सार्थक और उर्वशी का कमरा है.ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली: उसने अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत पर सैट किया और धीरे धीरे पूरा लौड़ा चुत के अन्दर ले लिया.

उसका मोटा लंड जैसे ही ही मेरी गांड के छेद में घुसा तो मेरी एक कराह निकल गई.अब भाई बोला- क्यों मेरी रंडी, चुदने में मजा आया?मैं हंस दी और बोली- हां यार … तेरा लंड मस्त है.

ब्लू पिक्चर चुदाई वाली - ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली

भाभी मेरी आंखों में नशीले अंदाज से देखती हुई धीमे स्वर में बोलीं- आज चोद ले मुझे … आज के लिए मैं तेरी हूँ … आज मेरी चूत तेरे नाम है राजा.इस बार मैंने उसे किस तरह से चोदा था, वो मैरिड गर्ल सेक्स कहानी मैं बाद में लिखूंगा.

अपने साथ आप किसी लेडीज को लेती जाएं … क्योंकि वहां दरवाज़ा नहीं है … बस पर्दा पड़ा है. ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली सेक्सी इंडियन भाभी की कहानी के अगले भाग में मैं भाभी की चुदाई की कहानी में लिखूंगा कि इस होली में क्या हुआ.

थोड़ी देर बाद हॉट सेक्सी भाभी का विरोध खत्म हो गया और अब वो आंख बंद कर आह आह कर रही थीं.

ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली?

वो चिल्लाने लगी- साले, अब गांड में डाल अपना लंड … पूरा घुसा … और चोद मुझे. मेरी भाभी ने भी उन्हें मुस्कुरा कर देखा और आंख दबा कर उनका शुक्रिया अदा किया. और रही बात तुम्हारी माँ और मेरे मिलने की … तो एक दिन तुम्हारी माँ और पापा दोपहर में सेक्स करने के बाद आपस में बात कर रहे थे तो इतने में मैं आ गया और उनकी सारी बातें सुन ली.

आपके पास एक सुनहरा मौका है कि मुझे अपने पास आने दीजिये, ईश्वर की कृपा हो सकती है. वो गिरने को हुईं, तभी पता नहीं कैसे मैंने उन्हें पकड़ने के चक्कर में उनकी मोटी गांड पर अपने दोनों हाथ लगा दिए. मेरे नये पाठकों को अगर नीरू के बारे जानना है तो मेरी कहानीगर्लफ्रैंड की बहन के साथ थ्रीसम चोदनजरूर पढ़ें.

कुछ देर बाद मैंने देखा कि मेरा दोस्त हम दोनों को देख कर मुठ मार रहा था. मेरे दिमाग में कुछ खटका और मैंने रोहन को मैसेज कर दिया कि रोहन मैं अगर कल चंडीगढ़ आ जाऊँ तो क्या आप मिल सकते हो?रोहन- आप कहाँ मिलोगे?मैंने उसे बताया- ये तो मुझे नहीं मालूम. फिर बेड से रुचि आयी, उसने मेरे पैंट को नीचे कर दिया और लंड को पकड़ कर सहलाने लगी.

लेकिन वे मुझे तड़पा रहे थे, वे बार-बार मेरी चूत में से अपना लंड निकाल रहे थे जिससे मुझे बहुत गुस्सा आ रहा था. उसने मेरी टांगों को फैला दिया और उनके बीच में बैठ कर मेरी चूत चाटने लगा.

मैंने मौके का फायदा उठाया और उसको बेड पर लिटा कर उसके होंठ चूसने लगा.

अब चंचल ने ऋतु से पूछा- दीदी, क्या आप प्रकाश से चुदना चाहती हो?ऋतु ने नाटक करते हुए कहा- नहीं, मैंने ऐसा कब कहा?चंचल ने कहा- अरे बोलो न दी, आपको चुदना है क्या?ऋतु- मुझे प्रकाश से नहीं चुदना है लेकिन आज मन तो है चुदने का!इस पर चंचल ने कहा- तो दी, प्रकाश से ही चुद लो न … वैसे भी पहचान का भी है और आपका पुराना बॉयफ्रेंड तो था ही.

धारा- ह्म्म … आप दोनों ने इतनी सारी बातें की हैं कि पूरी पढ़ने में 1-2 घंटे लग जाएँगे. मैंने उसे अपने ऊपर से हटाया और बोली- साले तूने यह क्या किया?गौतम को लगा शायद उसने मेरी चुत में स्पर्म डाल दिया, उसके लिए मैं गुस्सा हूं. उसने शेखर के सर को अपने दोनों हाथों से पकड़ लिया था और अपनी उंगलियाँ उसके बालों में फिरा-फिरा कर वासना के इस खेल का पूरा आनंद ले रही थी.

उसने अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत पर सैट किया और धीरे धीरे पूरा लौड़ा चुत के अन्दर ले लिया. उभरी हुई चूत का मुँह नीचे चाची की एड़ियों की ओर हो गया जिससे मेरे पेट की तरफ खड़ा मेरा लौड़ा चूत को उसी पोजीशन में अच्छी तरह ठोक सकता था. फिर अचानक से उसने अपना लंड मेरी चूत से निकाल लिया और मेरे बूब्स को काटना शुरू कर दिया.

वो ज़ोर ज़ोर से कराहने लगीं- आह आह आह उई उई मम्मी मर गई आ ऊ ऊह!उनकी तेज तेज आवाज आने लगी और कमरे में ‘फच फच फच.

मैं उस लड़की को देखे जा रहा था तथा अब वो लड़की भी मुझे कभी कभार देख लेती थी. फिर मालूम ही नहीं हुआ कि कब हम दोनों एक दूसरे से मुहब्बत करने लगे थे. मैं फ़लक की गर्दन, चूचियों, नर्म पेट और सेक्सी धुन्नी से होता हुआ जाँघों, चूत और क्लिटोरियस पर पहुँच गया.

शायद रेणु से दूरी और कुछ दिनो से अंदर ही अंदर उमड़ रही कामवासना ने शेखर को इस अवस्था में ला दिया था. फिर एक हल्की सी आवाज़ आयी- आपकी दाहिनी तरफ़ टेबल पर एक पट्टी रखी है, उसे पहन लीजिए. जैसे ही मैंने उसकी चूत पर अपनी जुबान लगाकर चुत चाटना शुरू किया, वैसे ही उसके मुँह से मदभरी सिसकारी निकल गई.

फिर तो चिराग एकदम से आगे बढ़ गया और वो अपनी एक उंगली ज्योति की चूत में घुसेड़ने लगा.

अब रुचि अपनी चुत के बाजू में उंगली फेर रही थी और मैं उसे ताबड़तोड़ चोद रहा था. वहां पहुँच कर मैंने डोर बेल बजायी तो मोहन ने दरवाजा खोला और हम बाहर गार्डन में बैठ गए.

ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली भाभी बेड पर बैठी थीं और नाइटी में से उनकी लाल रंग की ब्रा पैंटी साफ दिख रही थी. जैसे मैं उसके पास पहुंची और उसे हिलाया तो वो एकदम से चौंक कर उठ गया.

ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली भाभी बोलीं- बड़ा कड़क है!मैंने कहा- हां आपकी फुद्दी में जाने की जिद कर रहा है. उसकी गांड में लंड ने पिचकारी छोड़ दी और गांड से वीर्य बाहर निकलने लगा.

इस पर मैं बिल्कुल हैरान हो गया, मुझे अपनी किस्मत पर विशवास नहीं हो रहा था.

से ब्लू फिल्म

उस दिन मैं वहां से आने के बाद सीधे अपने उसी चोदूमल टेलर के यहां कपड़ा लेकर गयी. मैं अपना थूक आंटी के मुँह में जाने लगा था और उनका रस मेरा मुँह में. वो थी उसकी गीली चूत में लन्ड की रगड़ जिससे वो छटपटा रही थी।उसने फिर से बोला- रोहन डालो न … प्लीज डालो.

दोस्तो, कहानी के इस भाग में बस इतना ही!अपने माँ बाप की चुदाई की वीडियो देख कर शीना की क्या प्रतिक्रिया रही?क्या वो मुझ से चुदी?ये सब मैं आप को फ्री सेक्स स्टोरी के अगले भाग में बताऊंगा।s[emailprotected]फ्री सेक्स स्टोरी हिंदी का अगला भाग:माशूका की जवान बेटी की चुदाई- 2. चाचा- किसे बुला रही मेरी रंडी … अपनी मां को … आह बुला ले आज उसको भी नंगी करके चोद दूंगा. उन्होंने मुझसे बोला- अरे रवि तुम पूरे पूरे दिन रूम में अकेले कैसे रहते हो … वो भी गेट बंद करके?मैं- तो क्या करूं भाबी, कोई अगल बगल में है भी तो नहीं, जिससे बात की जाए.

उसकी अम्मी ने मुझे वासना भरी नजरों से देखा तो समझ गया कि ये साली पूरी नेशनल हाइवे है और बड़े बड़े ट्रक इस पर से गुजर चुके हैं.

उसकी आंखें वासना के जाल में फंस गई थीं और मुझे अपनी चूत की चुसाई के लिए आमंत्रण दे रही थी. सिम्मी भाभी चुटकी बजा कर बोलीं- दीपक कहां खो गए?मैंने हड़बड़ाते हुए बोला- क. नेहा एक बार मेरे अंडरवियर में तन रहे लंड को देखती और फिर शर्म से यहां वहां देखती हुई अपनी चूचियों को छिपाने की कोशिश करने लगती.

मेरा लन्ड तन कर बिल्कुल मूसल हुआ पड़ा था जिसे देख कर शीना की आंखों के साथ साथ उसकी गांड भी फट गई. जैसे ही प्रिया ने ये किया तो सब लोग अचम्भे में आ गए कि ये कैसे हो गया. शिवम मुझे बाथरूम में लेकर घुस गया और मेरी चूचियों को नंगी करके पीने लगा.

उसके मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं, जिससे मेरा जोश और बढ़ गया और मैंने अपने दांत रीतू की जांघों में गड़ा दिए. मैंने उर्वशी से पूछा- ऐसा क्यों हुआ?वो बोली- वो सब मैं बाद में बताऊंगी.

इस बीच वो एक बार झड़ गयी थी और उसकी चुत एकदम टमाटर जैसी लाल हो गयी थी. मेरे भाई की शादी दो साल पहले एक बहुत खूबसूरत लड़की से हुई थी, जिनका नाम स्नेहा है. मैंने भाभी की चुत से लौड़ा निकाल दिया और उन्हें थोड़ी देर वैसे ही छोड़ दिया.

क्योंकि इसके पापा भी इसकी शादी का मन बना चुके थे, बस मेरी जिद के कारण ये अपनी पढ़ाई कर पा रही थी.

जब लॉकडाउन हुआ था, तब 15 दिन बाद मुझे पता चला कि अंकल अपने भाई के पास देहरादून गए थे और आंटी घर पर अकेली थीं. मैंने पहले थोड़ी ना नुकुर की, फिर अंत में हां कह दी और पूछा कि मुझे एड्रेस भेज दो, मैं वहां आता हूँ. तो मैंने उसे पूछा- ऐसा करना तुमने कहाँ से सीखा?वो बोली- आप भी पूरे बुद्धू हो अंकल! आपकी और मम्मी की वीडियो में देखा था.

ले देख कैसे निचोड़ा है तेरी बहन को!ये कह कर मैंने पूरी बेशर्मी के साथ अपना गाउन उतार दिया और बोली- देख तेरे दोनों जीजाओं ने तेरी जिज्जी को हर तरफ अच्छे से चोद कर निचोड़ दिया है. सच में बड़े गज़ब का स्वाद था शहज़ाद के लौड़े का … और इतना बड़ा और मोटा लंड को अपने मुँह में लेकर मैं खुद को बड़ी किस्मत वाली समझ रही थी.

इतने में उनका लड़का बोल पड़ा- भैया आज यहीं सो जाइए ना … क्या हो जाएगा. मैंने उससे बातचीत जारी रखी और उसके बारे में कुछ और जानने की कोशिश करने लगा. एकदम चाची बोली- राज, मेरा बस अब छूटने वाला है, दोनों साथ ही डिस्चार्ज होंगे.

सेक्सी वीडियो में नंगी सीन

मैं सुबह उठा तो भाभी ने मुझे फिर से अपनी बांहों में लेकर प्यार किया और हम दोनों एक साथ नंगे नहाये और उधर बाथरूम में भाभी की आखिरी चुदाई करके मैं घर आ गया.

अब फ़्रेंची तो फ़्रेंची है, पहले से ही टाइट होती है ऊपर से शेखर का लंड जो पिछले आधे पौने घंटे से वासना के सागर में डूब कर अकड़ू हो गया था, वो लगभग फ़्रेंची में फँस ही गया था. दोस्तो मेरी ये सेक्सी ऑफिस गर्ल की चुदाई आपको कैसी लगी? मुझे मेल करके जरूर बताएं. गगन अपनी बहन प्रियंका की चुत के होंठों को अपने मोटे लंड से जोर जोर फाड़ने लगा और प्रियंका भी अपनी चुत चुदाई का मजा लेने लगी.

मैं भी उनके पास जाकर अलग सोफे पर बैठ गयी और अब हम सब एक दूसरे को देखकर स्माइल करने लगे. एक हफ्ते बाद उसके यहां शादी में जाना था तो मैंने अपने शौहर से साथ चलने को पूछा. देसी भाभी वीडियो सेक्सभाभी का अपने पति से अलगाव हो चुका था और वो अकेली ही अपनी बेटी के साथ रहती थीं.

उस औरत ने अपना नाम फरियाल (इधर मैंने ये नाम बदल दिया है) बताते हुए लिखा था कि उसको एक बच्चा है. रात में मन नहीं भरा … लगता है।अब दोनों की चुदाई की थप थप थप बढ़ने लगी।रोमिल बोला- मेरी बीवी मेरे सामने मेरे दोस्त का लन्ड लेकर कितनी खुश है।मैंने कहा- भाभी देवर का प्यार है भाई!और मैं जोर जोर से झटके लगाने लगा और उसकी गान्ड में फिर से लावा निकाल दिया।लंड निकाल कर मुंह में डाल दिया वो गपागप गपागप चूसने लगी और साफ कर दिया।हम एक-दूसरे से लिपटकर किस करने लगे.

आंटी हंस दीं और वो लंड को मुँह में लेकर उसे लॉलीपॉप की तरह चूसने लगीं. इस तरह से तीन दिन तक गगन और प्रियना दोनों को नंगे ही स्टेज पर रखा गया. आंटी बोली- हां ठीक है, मगर पहले मेडिकल स्टोर पर जाओ और कंडोम ले आओ.

मैंने दूर से उन्हें फोन किया तो अंजू भाभी ने गेट खोला और फोन पर कह दिया कि अन्दर आ जाओ. इस तरह की औरतों में से लगभग 80% औरतें बाहरी लंड से ही चुदाई करवाती हैं. जब मेरे दोस्त की मम्मी की सेक्स पावर ऑन हुई, तब तो क्या बोलूं आपको … आह वो तो एक भूखी पोर्न ऐक्ट्रेस सी साबित हुईं.

आप लोग नंगी चूत दिखाने की कहानी पर अपनी राय मुझे कमेंट्स में बताएं.

हम दोनों ने एक दूसरे को देखा और गर्मा गर्मी में एक दूसरे को चूमने चाटने लगे. अब धक्के मारो मेरे लाड़ले देवर जी!मुझे भाभी की चूत बहुत गर्म गर्म महसूस हो रही थी और सनसनी सी हो रही थी.

नीतू अपनी कमर को उचका कर चूत मेरी तरफ धकेलने लगी।उसकी चूत मुझे अब कुछ तंग लगने लगी थी, ऐसा लग रहा था कि उसकी चूत के होठ मेरे लंड को अंदर खींच रहे हो।ये सारे शुभ संकेत थे कि नीतू की अब झड़ने वाली है।मैं भी उसी गति से चोदता रहा फिर नीतू ने अपने मुंह से एक हाथ हटाया और एक हाथ से अपने चूत के दाने को सहलाने लगी।थोड़ी देर बाद मुझे मेरे लंड पर तेज दबाव महसूस हुआ लगा कि नीतू बस अब झड़ जाएगी. हॉट चैट स्टोरी में पढ़ें कि ऑनलाइन बने दोस्त ने अपनी बीवी से सेक्स की बात की तो वो भी बेचैन हो गया अपने सेक्स जीवन में कुछ नया करने के लिए. मैंने पूछा क्या हुआ आप चौंक क्यों गईं!भाभी हंसती हुई बोलीं- अनुज मुझे केएलपीडी का अर्थ सही में नहीं मालूम था.

मैंने अपनी पूरी स्पीड पकड़ ली और धकाधक पूरा लंड पीछे खींच खींच कर अंदर चाची की बच्चेदानी तक घुसाने लगा. इसलिए अब मैं उनके शरीर के एक एक अंगों को चूमने लगा और अंततः मैंने उनके कानों के पास किस किया. मामी ने मुझे बिस्तर लगाते देखा तो बोला- तुम वहाँ क्यूँ सो रहे हो? बेड पर ही सो जाओ। एक तरफ तुम सो जाना और एक तरफ मैं सो जाऊँगी।मैं तो जैसे इसी के इंतज़ार में था और बिना देरी किये तुरंत बेड पर आ गया।मैं बोला- मामी, आप सो जाओ.

ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली सरकार ने लॉकडाउन में जैसे ही कुछ ढील दी तो सभी इधर उधर जाने आने लगे. वो ऊपर ऊपर से मना कर रही थीं … लेकिन मेरे साथ साथ मज़ा भी ले रही थीं.

बीएफ सेक्सी वीडियो भाभी देवर

नमस्कार दोस्तो, मैं प्रवीण कुमार रायपुर से आपके सामने अपनी सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. सैम ने मेरी मां की चूत से अपनी उंगलियां निकालीं और उनको घुटने के बल बिठाकर अपना मोटा सा लंड मां के मुँह में पेल दिया. एक बोला- मेरी रानी आज पूरी रात हम दोनों मिलकर तेरी चुदाई ही करेंगे.

तब उसने मुझे सीधी खड़ी किया और सीधे मेरे बूब्स को चूसना शुरु कर दिया. गपागप गपागप अन्दर बाहर करने लगा उसकी आहहह आहहह के साथ मेरी भी सिसकारियां निकलने लगीं और मेरे लौड़े ने अपना गर्म गर्म लावा शन्नो रंडी की चूत में भर दिया. ब्ल्यू फिल्म के सेक्सीअब मैं वापस लंड पर आया और सुपारा नीचे करके चाटने लगा, तो अंकल के मुँह से आह आह की आवाज़ आने लगी.

शुरुआत में तो भाभी चुम्बन का विरोध कर रही थीं पर मैंने उनके हाथ पकड़ लिए और बेतहाशा उनके होंठों का रस चूसने लगा.

इसलिए उसका स्वभाव ग्रामीण प्रवृति का था, वो स्वभाव में बिल्कुल सीधी सादी थी. निखिल भी मान गया और ये तय हुआ कि रोज रात 8:30 बजे शाम से 10:30 बजे रात तक रीमा निखिल को पढ़ाने के लिए उसके घर आएगी.

मुझे भाभी की चुत पर बहुत गर्म-गर्म महसूस हुआ और उसकी चूत से पानी में बह रहा था. या तो मुझे भी अपने साथ शामिल करो या फिर मैं इस बात को ऐसे नहीं चलने दूंगा. दफ़्तर से घर तक पहुँचते-पहुँचते शेखर को क़रीब डेढ़ घंटे का समय लग गया.

निखिल कुछ सब्जेक्ट में रीमा की मदद लेना चाहता था, उसने रीमा को बताया.

सेक्सी रीमा की 32 इंच की कसी हुई चुचियां और उन पर उसके भूरे रंग के चूचुक देखकर निखिल कामातुर हो गया. जब होश आया तो अंकल मेरे बाल खींचते हुए धक्के लगा रहे थे और बस अपनी मस्ती में मेरी गांड चोदे जा रहे थे. भैया ने कहा- दीपक, मैं 15 दिन के लिए कम्पनी के काम से बाहर जा रहा हूँ.

लोकल देसी सेक्सऔर वहां मेरा भाई, तेरे जन्मदिन वाले दिन ही तेरी बहन की सील तोड़कर उसकी चूत का भोसड़ा बना चुका है. धारा की चूत पहले ही पूरी तरह से गीली हो चुकी थी।अब शेखर की उंगलियाँ उस गीली चूत की दरार में थोड़ा अंदर तक पहुँच गयीं और ऊपर की तरफ़ सीधे चूत के दाने तक पहुँच गयीं.

देवर भाभी की सेक्सी वीडियो ब्लू

मैं कमरे के पास गई … तो कमरे की खिड़की तो पूरी खुली हुई थी, बस पर्दा लगा था. आपको ये बीवी को चुदवाया स्टोरी कैसी लगी मुझे मेल में जरूर बताईयेगा. मैंने भाभी से पूछा कि ये आप क्या कर रही हैं?भाभी कहने लगीं- यही तो मेरी उदासी का कारण है मुदित … अगर तुम मुझे खुश देखना चाहते हो तो जो मैं कर रही हूँ … मुझे कर लेने दो.

उसने मेरा सिर पकड़ कर पीछे को घुमाया और मेरे होंठों पर अपने होंठ रख कर उनका रस पीने लगा. उसने मेरी टांगों को फैला दिया और उनके बीच में बैठ कर मेरी चूत चाटने लगा. स्कर्ट उतारते हुए गौतम बोला- दीदी आप इतनी हॉट हो और इतनी छोटे छोटे कपड़े पहनती हो, तो सनी भैया ने आप पर कभी ट्राई नहीं किया!मैं शराफत से बोली- सारे भाई तुम्हारे जैसे ठरकी नहीं होते कि तुम अपनी बहन को ही चोदने में लगे हो.

उसने मेरी चूची दबा कर कहा- बीबी जी, आज पहली बार किसी ने मेरा लंड मुँह में लिया है. मैं- क्या हुआ शीना, तुम्हें ऐसी में भी पसीने क्यों आ रहे हैं? और ये तुम क्या कर रही थी?शीना- क क कुछ नहीं … मैंने क्या करना?मैंने उसे बैठने को बोला और खुद भी उसके पास बैठ गया. इतने दिनों से प्रिया का शरीर लंड के सुख से दूर था तो वो कुछ ज्यादा ही झड़ने लगी थी.

उनका सिर्फ एक तिहाई लौड़ा ही मेरे मुँह में समा पा रहा था।वे बोले- वाह हरामजादी वाह … क्या बात है, साली तू तो काफी मजेदार तरीके से लंड चाटती है, अहमद को तो मजा आता होगा बहुत!मैं लंड को हाथ से रगड़ते हुए बोली- अरे जेठ जी, उनका लंड तो आपके लंड से आधा भी नहीं है. वो दोनों सनी को बोलते थे- साले साहब … मस्त बहन है तेरी!ये तो उन लोगों की अब रोजाना की बात सी हो गयी थी.

थकान और फूली हुई सांस के वजह से रीतू उसी पोजिशन में निढाल हो गयी; वो मेरे लिंग को अपने अन्दर रखे हुए ऐसे ही मेरे पैरों पर सो गई.

मैं उसे अपने गोद में उठा कर दूसरे कमरे में ले गया और उसकी मां की बगल में लिटा दिया. मां की गांड चुदाईमैं विशाल को बोली- तू कुर्सी पर बैठ … मैं तुझे जन्नत की सैर कराती हूं. सेक्सी ब्लू पिक्चर नंगीइस तरह से वो मेरेलंड की दीवानीहो गई और जब तब मेरे साथ सेक्स का मजा लेने आने लगी. वो बोला- पैंटी मतलब क्या?मैंने उसकी हिंदी में समझाया कि मेरी काले रंग की एक चड्डी थी, वो नहीं मिली.

चाची की चूत और चूतड़ मेरे खड़े होने से थोड़ा नीचे हो गए और मैंने अपनी टांगें फैलाकर अपनी ऊंचाई को बड़े आराम से चूत में सेट किया.

मगर मैंने देख लिया था कि उसकी मम्मी जाग रही थीं और अपनी टांगों के बीच अपने हाथ से कुछ रगड़ रही थीं. पर मैं काम और कामसूत्र को हमेशा अलग रखता हूं, हमारे रिश्ते काफी प्रोफेशनल थे. यह मेरी पहली और सच्ची बॉय एंड गर्ल सेक्स कहानी है, जो आज मैं आप लोगों के साथ साझा करना चाहता हूँ.

रज्जी- आई लव यू टू जान … लेकिन किसी को हमारे प्यार के बारे में पता नहीं चलना चाहिए. क्योंकि ये सच था कि उनका सेक्स करने का मन नहीं था लेकिन उन्होंने पैसे लिए थे, तो अपना काम भी अधूरा नहीं छोड़ सकती थीं. चाची ने सुबह ही मुझसे केमिस्ट से कुछ दवाई मँगवा ली जिससे कि वो प्रेग्नेंट न हो.

ब्लू फुल मूवी

तभी उसकी नजर हमारी तरफ पड़ी, जहां मैं दोनों लड़की के साथ नंगा बैठा था. जिस टाइम ये मेल आया था, उन दिनों लॉकडॉउन चल रहा था तो मैंने उसको रिप्लाई दिया कि अभी तो लॉकडॉउन है तो मैं भी नहीं आ सकता हूँ … और ना ही किसी और को भेज सकता हूँ. नेहा- ओके … मैं गार्डन में कुछ देर घूमती रही, उसके बाद में सोने जाने लगी.

उससे रहा नहीं जा रहा था तो मैंने भी लंड को सैट किया और एक धक्का दे मारा.

उसकी रेड ब्रा में उसका बदन काफी दिनों बाद देख मेरा लन्ड फुंकार मारने लगा.

मैंने उनके बारे में कभी भी गलत नहीं सोचा था क्योंकि मुझे पता था कि भाभी देंगी तो हैं नहीं. जब कभी भी हम तीनों को टाइम मिलता था तो उस वक्त मेरे देवर पीछे रहते थे और उनका दोस्त आगे. পাকিস্তানি এক্সअब शेखर ने धारा की कमर को थाम लिया और नीचे से अपने लंड को झटके पर झटके देकर उसकी चूत की चुदाई करनी शुरू कर दी.

मैंने कहा- हां मुझे मालूम है बेबी … मगर मैं पूरा मैदान देखने के बाद काम भी शुरू करता हूँ. उधर अनामिका अपनी ब्रा उतारकर समीर को अपने चूचे चुसवा रही थी और समीर भी बड़ी मस्ती से हम दोनों औरतों के साथ मज़े ले रहा था।अब अनामिका अपनी पैंटी उतार कर समीर के मुंह पर अपनी चूत रख कर बैठ गयी और उसको अपनी चूत मानो खिलाने लगी. तभी मैं उसके पास गई और उसके होंठों पर एक जोर का किस किया और कहा- जाकर चुपचाप अपनी जगह पर लेट जाओ.

जब भी मौका मिलता, मैं उसकी गांड पर हाथ फिरा देता और उसका का लंड मसक देता था. इसी तरह कुछ और देर घूमने के बाद हम दोनों वहां से आ गए और शहज़ाद मुझे मेरे घर छोड़ते हुए अपने घर चला गया.

मेरी बस पहुंचने के समय मैंने उसे बताया कि मैं बस अड्डे पर पहुंच गया हूँ.

निखिल- मेरी जान अब मैं आ गया हूं, तुम किसी भी बात की चिंता मत करना. शाम को 4:00 बजे के करीब मैंने सोचा कि मुझे घर जाना चाहिए क्योंकि जाकर चुदाई की तैयारी भी करनी थी. चाची ने थोड़ा घूमकर उसे चुप कराने की कोशिश की लेकिन वह जोर जोर से रोने लगा.

आंटी की चुदाई की वीडियो मैंने भाभी की चुत से लौड़ा निकाल दिया और उन्हें थोड़ी देर वैसे ही छोड़ दिया. अबकी बार मैंने बोला कि आपको किससे बात करनी है आप बार-बार फोन क्यों कर रहे हो?उधर से आवाज आई.

मैं पिछले काफी समय से … उस समय से अन्तर्वासना पर कहानियां पढ़ता आ रहा हूँ, जब मेरी शादी भी नहीं हुई थी. फिर उनका वह दोस्त एक दिन फिर से घर पर आया और मेरे देवर ने मुझे चाय बनाने के लिए कहा. जब उसने यार बोल कर मुझसे हंस कर बात की, तो मैं भी उसके साथ फ्लर्ट करने लगा.

18 साल की लड़की सेक्सी बीएफ

हॉट गर्ल ओरल सेक्स कहानी में पढ़ें कि ग्वालियर से दिल्ली की ट्रेन में मुझे एक सेक्सी जवान लड़की मिली। उससे मेरी बात हुई तो आगे कहाँ तक बढ़ी।दोस्तो, मेरा नाम आदित्य है. मगर कहते हैं ना कि कोई किसी कांड को करने का मन बना लो तो सब खुद ब खुद हो जाता है. पर लगातार लंड हिलाने की वजह से और उनके मेरे निप्पल के चारों ओर ऊपर जीभ फेरने की वजह से मैं चरम पर आ गया और झटके से जब तक अपना मुँह नीचे लंड की ओर किया, तब तक पहली पिचकारी उनके माथे और नाक पर गिर चुकी थी.

शन्नो ने पास रखी ब्रा और पैंटी पहन ली और बोली- राज, मेरी मैक्सी तेरे पास है … उसे छुपा लेना. मैं उसके हिलते कबूतर पकड़कर दबाने लगा तो वो एकदम बेकाबू सी होने लगी- आ…ह…जा…न! दबाओ! निचोड़ दो इन्हें!कहते-कहते अपनी स्पीड बढ़ा दी.

मैं- क्योंकि ये तुम्हारा पहली बार होगा तो तुम्हें थोड़ा दर्द होगा, ये बात तो तुम जानती होगी, क्योंकि आज तुम्हारी सील टूटेगी, खून भी निकलेगा.

ये देख कर रीमा ने रूम का दरवाजा लगा दिया और वो उस किताब को मस्ती से देखने लगी. अगले ही पल वो निढाल हो गई और मेरे सीने पर हाथ लगा कर मुझे रोकने लगी- आह राज अब बस … रुक जाओ. वो बोले- लीसा, मुझे भूख लगी है कुछ खाने का है?आंटी ने उनसे कहा- आप अन्दर चलो मैं आती हूँ.

उन्होंने मुझसे बोला- अरे रवि तुम पूरे पूरे दिन रूम में अकेले कैसे रहते हो … वो भी गेट बंद करके?मैं- तो क्या करूं भाबी, कोई अगल बगल में है भी तो नहीं, जिससे बात की जाए. कुछ देर बाद हम तीनों ने व्हिस्की के दो दो पैग गटके और फिर से चुदाई के लिए गर्म हो गए. प्रिया अपनी चुत में गगन का लंड ले रही थी और रोमा गगन के मुँह पर बैठ कर अपनी चुत उससे चटवा रही थी.

उसकी हरकतें मुझे आभास करा रही थीं कि उसे मज़ा आ रहा है।एक पुरुष को क्या चाहिये? यही कि बिस्तर पर वो अपने साथी को मज़ा दे.

ब्लू फिल्म बीएफ चोदने वाली: जब मैं सुबह सोकर उठा, तो मुझे फिर से वो बात याद आ गई और मुझे लगा कि मुझे आंटी के घर जाना चाहिए. अब मैं आपको अपनी एक और बुढ़िया सेक्स कहानी लिख रहा हूं, अन्तर्वासना पर ये मेरी अपनी घरेलू चुदाई की कहानी है.

अगले दिन मैनेजर सर ने मुझे स्टेशन छोड़ा और वो बोले- राज मैं वहां फोन कर दूंगा, तो तुम्हारे रहने की व्यवस्था हो जाएगी. सितारा ने जैसे ही मेरी फ्रेंची नीचे खिसकाई काले नाग सा फुफकारता मेरा लण्ड बाहर आ गया. उधर चमेली भी चुदने को मचल रही थी, वो अपनी चूचियां मसलती हुई गगन को उत्तेजित कर रही थी.

उसने चुंबन के लिए तो साथ दिया पर आगे कुछ करने से रोकते हुए कहने लगी- चाहती तो मैं भी थी कि उठकर एक और राउंड की चुदाई हो जाए! पर मुझे उठने में देर हो गई.

वो गगन के लंड को अपने दोनों पैरों के बीच में फड़फड़ाती चुत के अन्दर लेकर धच्च से बैठ गई और गांड हिलाती हुई लंड से चुदने लगी. उसने मेरी मॉम की चूत कैसे मारी?दोस्तो, काफी दिन हो गए थे, लॉकडाउन के बाद पहली बार दोस्त के साथ मैं अपने घर आया था. मैंने उसकी चूत पर जैसे ही जीभ लगाई, वो तड़प गई और मेरे लंड को मुँह में गले तक ले लिया.