मोटी औरत सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,अंग्रेजी लोगों की सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सैकसी फोटो: मोटी औरत सेक्सी बीएफ, वो मेरी बताई हुई जगह पर मुझे लेने के लिए अपनी कार लेकर मेरे से पहले उधर पहुंच गई.

চায়না বিএফ

ये देख कर गुरबचन जी हंस कर बोले- पूरी प्रशिक्षित हो गई है रांड … साली कोठे पर बैठने लायक हो गई है. पिक्चर सेक्सी मूवीइतने में भाभी दोबारा आ गईं और बोलीं- मेरे पति घर पर नहीं हैं और सास ससुर जी भी नहीं हैं.

थोड़ी देर बाद दोनों बच्चे खाना खाकर अपने कमरे में जाकर सो गए।अब मैंने अपने बैग से एक वोतका का हाफ निकाल लिया और पैग बनाने लगा।बुआ बोली- राज, मैं शराब नहीं पिऊंगी. साउथ हीरोइन का सेक्सी फोटो” दीपक अपने बिछाए जाल से फिसलती मछली नहीं देख सकते थे।तभी मुझे सहारा दिए लड़कों में से एक बोला- सर, क्या इसे अंधेरे में अकेले बिठाना ठीक होगा, इस वक्त सभी टुन्न हैं, कोई ऊंच नीच हो गई तो?दीपक झेंप के बोले- मुझे तुम दोनों पर गर्व है, लड़कियों की सुरक्षा के बारे में सोचना, बहुत अच्छा ख्याल है.

मैंने उसकी ब्रा से एक दूध निकाला और उसे अपने मुँह में लेकर चूसने लगा.मोटी औरत सेक्सी बीएफ: वो बिस्तर के नीचे आ गई और घुटनों के बल बैठ कर बिना सकुचाए मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी.

आंटी बोलीं- चूत चूसते जाओ बस … मरी तरफ मत देखो … और जो भी परसाद मिले, उसे खा जाना.अब आगे बहन की गांड की भाई से चुदाई:मैं अपनी बहन और कोमल को बारी बारी चोदता था.

इंग्लिश मे सेक्सी वीडियो - मोटी औरत सेक्सी बीएफ

ये बात आप सीधे सीधे नहीं बोल सकते हो क्या?मैंने कहा- भाभी आप खुद इतनी समझदार हो, तो खुलकर बताने की जरूरत ही क्या है.इसके कुछ सेकंड बाद उसने मुझे सहलाना शुरू कर दिया और मेरी चूचियों को पीने लगा.

मैं उसके दोनों निप्पलों को बारी बारी से कभी चूसता तो कभी दांतों में दबा देता. मोटी औरत सेक्सी बीएफ उसके बाद उसने खुद लंड पकड़ कर अपनी चूत में सैट किया और उसके ऊपर बैठ कर झटके देते हुए लंड चोदने लगी.

दीपक बोला- अरे, ये तो वीनस है, मौका अच्छा है, धीरज तुम इसके कपड़े उठाओ, मैं इसे कमरे में ले जाता हूं.

मोटी औरत सेक्सी बीएफ?

कहीं घूम कर आने से मन बहल जाएगा और हम दोनों थोड़े रिलॅक्स भी हो जाएंगे. मैं आंह करते हुए बोला- आह मेरी लवली सुप्पी … आज जी भरके लंड चूस लो. चाची की ये सब अदाएं मुझे पसंद आ रही थीं जिसकी वजह से मुझे चाची से जैसे सच्चा प्यार हो गया था.

विश्वेश्वर जी से बहुत दिनों से मुलाकात नहीं हुई थी और उन सबकी व्यस्तता के कारण कोई भी मेरी शादी में आ नहीं पाया था. मेरा लंड लोहे की रॉड से भी ज्यादा सख्त हो गया था जो भाभी की पीठ को चुभ रहा था. वो उधर दर्द की वजह से मेरी पीठ मसलने लगी।फिर मैं एक हाथ उसकी नाभि से ले जाते हुए उसकी पेंटी के ऊपर फेरने लगा.

[emailprotected]पोर्न चाची Xxx कहानी का अगला भाग:चुदासी चाची के साथ मस्ती से भरी रंगरेलियां- 4. आप भी मजा लें कहानी पढ़ कर!फ्रेंड्स, मैं शनाया राजपूत आपको अपने भाई से हुई चूत चुदाई की कहानी सुना रही थी. मैंने धीरे धीरे करके उनके नीचे से चादर निकाली और उसको वाशिंग मशीन में डाल दिया.

यह कहानी तब हुई थी जब मैंने 2017 में स्कूल से 12 वीं क्लास पास करके कॉलेज में दाखिला लिया था. मैं इतनी गर्म हो गई थी कि पूरा कमरा मेरी कामुक आवाजों से गूंज रहा था.

इस प्रकार से भाभी की मेरे प्रति चिंता करना और मेरे बारे में सभी जानकारी रखना, साथ ही साथ मुझे बार-बार कॉल करना और घर जल्दी आने की कहना मेरे ऊपर एक अलग सा प्रभाव छोड़ने लगा था.

कुछ दिन में मेरी तबियत ठीक हो जाएगी, तो बहन को घर भेज देंगे और हम दोनों पूरे दिन मस्ती करेंगे.

जब तक मैं तैयार हो रहा था और फाइलों को समेट और एक सी जमा रहा था, तब तक उसने नहा कर नाश्ता तैयार कर दिया. अचानक से उसे मज़ा आने लगा और वो बिना कुछ बोले नीचे से अपनी गांड हिला गीला कर लंड को चूत में लेने लगी. ग्राहक तुमको तकलीफ़ देगा, पीटेगा आदि और सामूहिक चुदाई की परीक्षा होगी.

मैं अपनी फुटकर की दुकान के लिए आफरीन भाभी की थोक की दुकान पर सामान लाने रोज़ जाता हूँ. दस मिनट बाद मेरा रस निकलने वाला था तो उसने उठ कर मुझे खड़ा किया और जोर जोर से मुँह में लंड लेकर हिलाने लगी. मैं अपनी बहन के मुँह में पूरा लंड घुसा रहा था और थोड़ी देर में ही बहन के मुँह में ही झड़ गया.

उन्होंने फिर मुझे मेरे कपड़े दिए, तो मैं देखकर बहुत खुश हुआ और उनका धन्यवाद कहा.

कुछ देर बाद जब मैंने हाथ पटके और इशारा किया, तो उसने लंड बाहर निकाल लिया. एक ने उसी समय अपने दांत से मेरे मम्मों पर काट लिया और निशान बना दिया था. मैंने उनकी उनकी गोल और नर्म गांड को अपने हाथों से दबाना शुरू कर दिया.

विश्वेश्वर जी ने शमशुद्दीन जी से कहा- चेहरा पकड़ इसका … और लंड मुँह में अन्दर तक ठेल दे, मुझे दिक्कत नहीं होना चाहिए. मैंने तुरंत बोला- भाभी मेरी कामना कब करेंगी?भाभी हंस कर बोलीं- जब आप चाहो. फिर मैंने नीचे को खिसक कर उनकी पैंटी को सूंघा, उसमें से मादक महक आ रही थी.

”ये सुनकर मेरे दिमाग में सब साफ़ हो गया कि नैना ने एकदम से हितेश के साथ सेक्स करने की बात मान ली थी.

शमशुद्दीन जी उसकी कमर को पकड़ कर ताबड़तोड़ उसके चूत का भुर्ता बना रहे थे और अरुणिमा पूरा ध्यान राजशेखर के लंड पर केंद्रित करके चूस रही थी. मेरी चाची लव स्टोरी में पढ़ें कि होटल रूम में चाची को खुल कर चोदने में हम दोनों को बहुत मजा आया.

मोटी औरत सेक्सी बीएफ मैंने भाभी को वासना से देखा और अपनी बांहें फैलाईं, तो वो मेरी बांहों में आकर समा गईं और मुझसे बोलने लगी- हम दोनों एक ही उम्र के हैं, तो आप मुझे भाभी मत बोला करो. मैंने हंस कर पूछा- कैसे मालूम हुआ… क्या तुम लंड की डॉक्टर हो?वो मेरे मुँह से लंड शब्द सुनकर शर्मा गई और फिर से लंड पकड़ कर बोली- इसमें डॉक्टर वाली क्या बात है, ये गर्म है.

मोटी औरत सेक्सी बीएफ चाची की चूत में भी पानी निकल गया था लेकिन चाची अभी भी आंखें बंद करके बस लंड के मजे ही ले रही थीं. मेरे लंड का साइज़ 3 इंच मोटा है, इसलिए वो पहली चोट में थोड़ा सा ही अन्दर जा पाया.

उसके दोनों गोरे गोर दूध मेरे सीने से बुरी तरह दबे हुए थे और मैं जानबूझकर उसके दूध को सीने से रगड़ रहा था.

पंजाब सेक्सी बीएफ

मेरा लन्ड उनकी गांड की दरार में फंसा … उफ्फ … मैं तो पागल ही हो गया।उनको भी अच्छा लग रहा था, आंटी मज़े लेने लगीं. धीरे धीरे भाबी भी जोश में आने लगी थीं- आ हूँ दबाओ ज़ोर से … कुछ तो करो यार बड़ी सर्दी लग रही है. मैंने एक कागज पर अपना मोबाईल नम्बर लिखकर उनमें से एक वेटर के हाथ में दे दिया और उनसे थोड़ी देर बाद फोन करने के लिए बोल दिया.

स्कूल के जीवन से सीधा कॉलेज की जिन्दगी में आना काफी महत्वपूर्ण होता है. स्कूल के जीवन से सीधा कॉलेज की जिन्दगी में आना काफी महत्वपूर्ण होता है. उसी पोजीशन में चाची के ऊपर लेटे लेटे ही मैं अपनी गांड ऊपर नीचे करके धक्के लगाने लगा.

साली हंस कर बोली- अरे जीजू, मैं कोई लन्दन से थोड़ी आ रही हूं, जो इतना थक गई होऊंगी.

मेरी चूत के गर्म लावा से मेरा भाई भी पिघलने को हो गया और उसने भी लंड चूत से खींच कर मेरे मम्मों पर अपना सारा माल निकाल दिया. मैंने फिर से कहा- कुछ तो बता साली, जब तक नहीं बताएगी, मैं तुझे नहीं चोदूंगा. भाभी ने लंड पकड़ लिया और बोलीं- क्यों हटा लिया?मैंने भाभी से पूछा- तुमने कभी जूस पिया है कि नहीं?भाभी- नहीं, मैंने लंड ही नहीं चूसा था तो जूस पीने की बात ही कैसे कहूँ.

आंटी की पकड़ इतनी मजबूत हो गई थी कि लग मुझे निचोड़ देंगी अपनी बांहों में ही!मैं और जोर से धक्के मारने लगा. विश्वेश्वर जी ने मेरी बीवी के चूतड़ों को अलग अलग किया और उसकी गांड के छेद पर अपना लंड टिका दिया. गुरबचन जी ने उसके चूतड़ों को फैलाया और अपना लंड उसके गांड में घुसाने लगे.

आंटी ने मुझे बुलाया, मेरे आगे ही खड़ी रहीं और मैं उनके पीछे खड़ा होकर अलमीरा खोलने लगा. आप सबने मेरी पहले वाली दोनों कहानियोंगर्लफ्रैंड की मस्त चुदाईऔरबुआ की ताबड़तोड़ चुदाईको सराहा, उसके लिए धन्यवाद.

अगर तुम्हारे दिल में भी मेरे लिए कुछ है, तो अपना जवाब देना … नहीं तो मैं दुबारा तुम्हें परेशान नहीं करूंगा. मैंने चाची का हाथ पकड़ कर अपनी गोद में बैठाया और कहा- आप चिंता मत करो, मैं कोई ना कोई उपाय जरूर सोच लूंगा. एक परीक्षक ने पूछा- रंडियो, प्यास लगी है क्या?सभी ने हां में सिर हिलाया.

मैं इतना मोटा लंड अपने मुँह में लेते ही एकदम से चौंक गयी और सोचने लगी कि इतना मोटा लंड मेरी चूत को फाड़ न डाले.

दोस्तो, मुझे आशा ही नहीं वरन विश्वास है कि आपको मेरी इस सेक्स कहानी को पढ़ने में मजा आ रहा होगा. शनिवार बाजार बंद होता है तो उस दिन मुझे मैम के घर के काम ज्यादा करने थे. हैलो फ्रेड्स, मैं असलम एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी के साथ हाजिर हूँ.

मैं चाची के कपड़ों के ऊपर से ही गांड की दरार के बीच लंड सैट करने लगा. चाची की गांड मारी मैंने होटल के कमरे में! मुझे गांड मारने में सबसे ज्यादा मजा आता है क्योंकि गांड में जाकर लंड जोर से भींच जाता है.

मैंने पजामे के ऊपर से ही उसकी गांड के छेद में उंगली घुसेड़ना शुरू कर दी. मैंने पूछा- आपको क्यों जरूरत है भाभी जी, आपके पास तो गन है न!भाभी समझ गई और बोलीं- हुंह … वो टॉयगन है. अब मेरी बहन नीतू का शरीर भी सुंदर लगने लगा था और वो बहुत ही सेक्सी बन गई थी.

बीएफ नंगी सीन हिंदी में

इसके बाद बेड पर हम दोनों सिर्फ पैंटी में थीं और हम दोनों एक दूसरे के मम्मे टकरा रही थीं.

करीब आधा घंटा तक मैं भाभी को पेलता रहा और भाभी की चूत में ही झड़ गया. आपको यह काल्पनिक पंजाबी गर्ल सेक्सी कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें. हैलो फ्रेंड्स, मैं प्रवीण कुमार, एक बार फिर से अपनी Xxx चुदाई की कहानी के अगले भाग के साथ आपके सामने हाजिर हूँ.

मेरे नंगे होते ही उसने मेरे लंड को हाथ में ले लिया और बोली- ये तो मेरी चूत फाड़ ही देगा. मेरे बार-बार वंदना के घर जाने से वंदना के मोहल्ले के लड़कों को हम दोनों के ऊपर शक होने लगा था क्योंकि मैं जब भी वंदना के घर जाता था, तो उसके मोहल्ले के लड़के मुझे बेहद शक की नजरों से देखने लगे थे कि वंदना और मेरे बीच में क्या रिश्ता है. रंगीला तारावो मुझसे लम्बाई में कम थी, इसलिए मैं झुककर उसके एक निप्पल को अपने जीभ से चाटने लगा और दूसरे दूध को हाथ से हल्के हल्के सहलाने लगा.

कुछ देर के बाद मैंने भाभी के दूधिया जिस्म पर कसी हुई उनकी काले रंग की ब्रा उतार दी. करीब दो घंटे बाद चाची का फोन आया तो मैंने उन्हें अपने रूम पर आने को बोला.

इस वजह से मेरा लंड खड़ा होकर टाइट हो गया था और उसकी चूत पर कपड़ों के ऊपर से ही रगड़ खा रहा था. मैंने जबरदस्ती भाभी के हाथ को पकड़कर उनके हाथ में रूपए थमा दिए और कहा- अगर आपको कोई भी काम हो या आपको कुछ चाहिए हो … तो आप मुझे बिना हिचकिचाहट के बोल देना. चूमा चाटी के बाद मैंने बीवी के स्तनों को पीना शुरू किया, तो उसे दर्द की शिकायत हुई.

मामी की आखों में आंसू आ गए और वो कराहती हुई बोलने लगीं- आंह रहने दे यार … बहुत दर्द हो रहा है. फ्रेंड मॉम सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे दोस्त की मम्मी हमारे फ़्लैट पर आई तो मैंने उन्हें कैसे चोदा. मैं उम्मीद करता हूँ कि कहानी के पिछले भाग आप लोगों को अच्छे लगे होंगे और कहानी आपको पसंद आ रही होगी.

कुछ देर बाद वो शांत हुई तो मैंने उसकी चूत में लंड अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया.

जैसे ही मैं अपनी बहन के घर पहुंचा, तो वो एक बेबीडॉल फ्रॉक पहने हुई थी और काफी हॉट लग रही थी. वो मुझे किस करने लगीं और बोलीं- तुम्हारा लंड अब मैं यहां घर में नहीं लूंगी … बल्कि बाहर होटल में जाकर पूरा दिन खूब चुदाई करेंगे … और मजे करेंगे.

उसके बाद जब भी भाभी का मन करता, भाभी मुझे फोन करके बुला लेती और मैं भागा चला जाता. बेडरूम में जाकर मैंने बिस्तर के पास उसे खड़ा कर दिया और उसकी ब्रा को निकाल दिया. उनकी चूत में से निकला आधा रस तो मेरे मुँह में चला गया और आधा उनकी जांघों को भिगोने लगा.

भाभी के फुटबॉल जैसे दो बड़े बड़े चुचों को बारी बारी से चूसने और चूमने लगा. गांड ढीली करने के लिए लड़की को खुद की उंगली गांड में चलाना चाहिए, ताकि मर्द को लंड पेलने में आसानी हो और गांड मरवाते समय लड़की को भी मजा आए. नतीजा ये निकला कि मेरी चाची सास अंजलि आज मेरे बेटे की मां बन चुकी हैं, उसका चेहरा बिल्कुल मेरे ऊपर गया है.

मोटी औरत सेक्सी बीएफ दीदी की शादी की उम्र हो चुकी थी पर उनका रिश्ता कहीं नहीं हो पा रहा था क्योंकि उनके पैर में मामूली नुक्स था, उनकी चाल थोड़ी अलग थी. साथ ही मैंने चाची को अपनी बांहों में भर लिया था और नीचे से गांड में धक्के दे रहा था.

बीएफ दिखाओ सेक्सी में

भाभी को आठवां महीना चल रहा था तो उनकी मदद और देखभाल के लिए उनकी बहन यानि मेरे भाई की साली मेघा आ गई थी।मैं बी कॉम में पढ़ता था. फिर हालात ऐसे बन गए कि मेरी बीवी को अपनी प्यास बुझाने के लिए मर्द मिल गए और मुझे जिल्लत के साथ ही सही … मगर काम मिलने लगा. वो अपनी गांड को मेरे लंड पर रगड़ने लगी, मुझे किस करने लगी और मेरी छाती पर हाथ फेरने लगी.

वो बोली- आंह क्यों हट गए … मुझे और चूसो न विक्रांत … प्लीज़ … और तेज!मैंने उससे कहा- आवाज धीरे निकाल सोनू … किशी उठ जाएगी. जब ग्राहक गांड चूत फाड़ने की बात कहता है, तुम लोगों को डरने का अभिनय करना है. सेक्स वीडियो गर्लवो आज मैं अपनी आँखों से देख रहा था।मैंने फिर कविता भाभी के बूब्स दबा दिये.

यह देख कर मैंने मिसेज वर्मा को पेट के बल लिटाया और गर्दन से लेकर पैरों तक सारे शरीर पर चुम्बनों की बौछार कर दी.

जल्द ही मैंने अपना मुँह चूत के ऊपर रख दिया और चाची की चूत पर अपनी जीभ फिराने लगा. जब मैंने उन्हें देखा, तो हैरान रह गया कि नेहा दीदी पहले से भी अधिक सुंदर दिख रही थीं.

कुछ देर बाद मैडम अकड़ गई, मैं समझ गया कि मैडम का पानी निकलने को है. दोस्तो, यूं तो मैं अच्छे घर से हूँ लेकिन चूत की सन्तुष्टि पाने और दिलाने के लिए सब जायज़ है. उसके दूध देखकर मेरे तो होश उड़ गए, बिल्कुल सफेद रंग के उसके दोनों दूध और उसमें गुलाबी रंग की छोटे से निप्पल दूध की गोलाइयों पर नीले रंग की नसें साफ साफ दिख रही थीं.

अगले दिन जब मैं उन्हें खाना देने गई तो अब उनके और मेरे बीच में पहले जैसी बात नहीं रही.

फिर हालात ऐसे बन गए कि मेरी बीवी को अपनी प्यास बुझाने के लिए मर्द मिल गए और मुझे जिल्लत के साथ ही सही … मगर काम मिलने लगा. अब तो मैं उनके तलवे पर भी च्यूंटी भी काट देता था पर वो एकदम शांत लेटी थीं. मैंने सिर्फ उनकी तनी हुई चूचियों को आंखों से चोदा और उनकी तरफ देख एक गहरी आह भरी.

जंगल में सेक्स मूवीअरुणिमा चार दिन तक घर में नंगी ही घूमती रही पर मैंने उसकी हालत को समझते हुए उसे परेशान नहीं किया. फिर विक्रम ने अपने दोनों हाथों में तेल लिया और मॉम के चूतड़ों पर लगा कर उन्हें जोर जोर से दबाने लगा.

मराठी सेक्सी बीएफ ओपन

आजकल जो माहौल है, तो हमारी एजेंसी के पास प्राइवेट और कुछ सरकारी हास्पिटल में एम्बुलेंस ड्राइवर की डिमांड आई है. फिर मैंने ध्यान दिया कि वो कुछ तेज स्वर में आवाजें निकालने लगी और दरवाजे की तरफ को होकर अपनी चूत दिखाने लगी. मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा दीदी … देखो न मेरा ये लंड दर्द कर रहा है सॉरी सॉरी.

जैसे ही मेरी लंड मेरी बहन की बुर के अंदर घुसने लगा, वो दर्द से एकदम काम्पने लगी. विक्रम ने मॉम के दोनों निप्पल पकड़े और जोर से खींचे, तो मॉम के मुँह से आह निकला. मैं एक 28 साल का युवक हूँ और मेरे लंड की साइज़ भी इतनी मस्त है कि ये किसी भी लड़की या भाबी को चुदाई का पूरा मज़ा दे सके.

इसी सुन्दरीकरण नीति के चलते अब नीतू के लिए अच्छे अच्छे रिश्ते आये और बहुत ही जल्दी उसकी शादी भी हो गई. फिर मैं मां के पास गया और उनसे कहा कि जितना जल्दी दीदी सैट हो जाएं, मेरे लौड़े के लिए उतना ही अच्छा होगा. शायद लौड़े के बड़े और मोटे होने के कारण पूरा अन्दर तक लेने में उसको तकलीफ हो रही थी.

मेरे चाचा के घर में तीन लोग रहते थे; महेश चाचा, सुमन चाची और उनका चार साल का बच्चा. यहां खड़े रह कर क्यों समय गंवा रहे हो, जाओ जाकर ललिता के जिस्म के मजे लूटो.

अगले दिन हम शादी में शामिल होने के लिए रात 8:00 बजे बस से रवाना हुए.

वहीं दूसरे हाथ से उसकी चूचि को एक एक करके दबाने लगा, जिससे उसमें चुदाई की प्यास बढ़ने लगी. बिलार वाला गेमकिशोर का चेहरा मेरे चेहरे के पास आता गया और ऐसे ही करते हुए उसने मेरे गुलाबी होंठों पर अपने होंठ रख दिए. ट्रिपल वीडियो सेक्सीराजेश ने शर्मा अंकल को वहां से जाने के लिए कह दिया और कहा कि मेरे दोस्त आपके सामने पार्टी एन्जॉय नहीं कर पाएंगे, इसीलिए आप ललिता को यहां छोड़ कर लेडीज संगीत के कार्यक्रम में चले जाइए. उन्होंने शायद मुझे बालकनी में बैठा देख लिया था पर मुझे नहीं पता चला था.

सुकेश मेरे उरोजों को दबा रहा था साथ ही साथ उसने हल्के हल्के धक्कों लंड को मेरे गले में उतारना शुरू कर दिया.

जैसे ही रात हुई, मैंने उसको एक वीडियो भेजा, जिसमें एक लड़का एक लड़की को कसके गले लगाए हुए था और उसे दीवार से लगा कर उसकी गांड अपने हाथों से मसल रहा था. लेकिन वो बोला- यार, तुमने मेरा लंड इतना मोटा करके खड़ा कर दिया, अब इसे किसकी बुर में डालूं?मैं बोली- तू एक काम करना, रात को ग्यारह बजे मेरे घर पर आ जाना. राजेंद्र ने यह कहते हुए उसे मना कर दिया- कल तेरी शादी है और तुझे सुहागरात में भाभी के लिए भी तो कुछ बचा कर रखना है.

उसने अपनी चूत पर उगे झांटों के बाल सजावटी अंदाज में काटे थे, चूत के ऊपर झांटों की एक छोटी सी पट्टी थी. तभी एकदम से हितेश ने टीवी बंद किया और बोला- और सुना क्या चल रहा है?मैंने जवाब दिया- कुछ नहीं भाई, लॉकडाउन में क्या चलेगा. बेडरूम में जाकर मैंने बिस्तर के पास उसे खड़ा कर दिया और उसकी ब्रा को निकाल दिया.

सेक्सी बीएफ नेपाली सेक्सी

मुझे उस समय इस बात का गुमान ही नहीं था कि वहां मेरा चुदाई का सपना पूरा होने वाला है. इसमें ग्राहक मालिक बनकर, लड़के/ लड़कियों को गुलाम बनाकर, उन्हें बांधकर तरह तरह का खेल खेलते हैं. उसकी गहरी नाभि जो कि अब उसके लेटे हुए होने की वजह से और भी गहरी दिखने लगी थी.

अपनी गांड मैंने ऊपर उठाई और इमरान के लंड पर चूत को रखकर धीरे से बैठ गयी.

अब तो ऐसा लगने लगा था कि संगीता भाभी मुझसे कुछ ज्यादा उम्मीद लगा कर बैठी थीं.

इसके बाद हमारी कामवासना फिर से जाग उठी और चाची ने कहा- विकास मेरा मन नहीं भरा है. जिस दिन हमें जाना था, उस दिन अचानक से हुसैना भाभी ने जाने से मना कर दिया क्योंकि उनको एमसी आई थी. बिहारी सेक्सी वीडियो चाहिएजब मुझे लगा कि अब डिस्चार्ज होने का डर है, तो मैंने तकिया निकाल कर बीवी की टांगों को कन्धे पर रखा और लंड को चूत में पेल दिया.

कुछ नहीं मिलता तो लड़के लड़कियां हस्तमैथुन से ही अपनी यौन तृप्ति करते हैं. मुझे उस वक्त अहसास हुआ कि लड़कियों को चुदाई में क्यों इतना मजा आता है. वो थोड़ा रुक कर बोले- जब मैंने उसका पल्लू पकड़ कर खींचा तो घबरा गई थी.

फिर मुझे पता नहीं क्या हुआ … और मैंने एक जोर का झटका मार कर अपना पूरा लंड अन्दर पेल दिया. मुझे हर रोज चाची जॉब से आते ही कुछ ना कुछ काम के बहाने अपने घर बुला लेती थीं और चाचा देख ना लें, इस बात का पूरा ख्याल रखती थीं.

दूसरे दिन सभी को आंखों पर पट्टी बांधकर बंद गाड़ी में बिठाया गया और नयी बिल्डिंग में छोड़ा गया.

फिर मैं सोनल के पास चला गया और हितेश भी नैना के पास जाने के लिए तैयार था. गांड ढीली करने के लिए लड़की को खुद की उंगली गांड में चलाना चाहिए, ताकि मर्द को लंड पेलने में आसानी हो और गांड मरवाते समय लड़की को भी मजा आए. मैंने अपना हाथ नहीं हटाया, तो उसने भी थोड़ा जोर लगाया और मेरे हाथ को हटा दिया.

पंजाबी सेक्सी व्हिडिओ शायद मेरे मुस्कुराने का ही असर था कि अब वो रोज मेरे घर के आसपास चक्कर लगाने लगा और मेरे स्कूल के समय भी रास्ते में मुझे देखता और मुस्कुरा देता. मैंने कहा- तो उससे चिड़िया भी नहीं मर पाती है क्या?वो गहरी सांस लेकर बोलीं- उस बंदूक से चिड़िया मर पाती तो तुम्हारी भाभी तुम्हारे पास न बैठी होती.

वहां मॉल में जाकर खूब सारी शॉपिंग की और दूसरी कई जगहों पर हम एक दूसरे के बगल में हाथ में हाथ डाल कर खूब घूमे. बड़े भैया इन सब बातों से अनजान थे कि मेरा लंड घर की सभी औरतों की फुद्दी का स्वाद ले चुका है. जिसको पाने के मैं सपने देखता था, वो आज स्वेच्छा से मेरी गोद में बैठी हुई थी.

सेक्सी वीडियो बीएफ गर्ल

इसी तरह नीचे जाती हुई वो मेरी छाती पर किस करने लगी, अपनी जीभ मेरे निप्पलों पर घुमाने लगी. रीना इशारा पाते ही अपने हाथ मेरे पीछे से मेरी स्कर्ट पर ले गई और मेरी गांड दबाने लगी. उसने आगे बढ़कर मुझसे बोलना चाहा, मैं भी उसकी तरफ देख कर मुस्कुरा दिया.

मैंने कहा- क्या हुआ मामी?मामी बोलीं- इतना बड़ा यार … तू तो जवान से भी ज्यादा जवान हो गया. मैं अपने भाई की बीवी की धकापेल चुदाई कर रहा था और उधर भाई, मेरे कमरे में मेरी बीवी को रगड़ रहा होगा.

मेरी प्यारी पाठिकाओं के मेल पढ़ कर सच में मुझे बड़ी ख़ुशी मिलती है जब वो मुझसे अपनी चूत की आग को लेकर लिखती हैं.

मैंने पूछा- भाबी, लंड चूसने में मजा आ रहा है?भाबी ने कहा- हां यार, मुझे लंड चूसना बहुत पसंद है. मैंने भी धक्के लगाना बंद कर दिए और खुद ही चाची के धक्कों की वजह से चूत में लंड डाले अपने आप ही हवा में उछलने लगा. मैं- अअह्ह मेरी जान, तुझे भी हर दिन जलसा कराऊंगा ओह चूस मेरी जान चूस कर पानी निकाल दे.

जैसे ही मैं थोड़ा जोर से धक्का लगा देता, वो अपने नाखून मेरी पीठ पर गड़ा देती और उसके मुँह से बहुत ही कामुक आवाज निकलती ‘ऊऊ ऊईई ईई मम्मीई. मैंने लन्ड से उसकी चूत में झटका मारा और आधा लन्ड उसकी चूत में चला गया. आगे की पढ़ाई के लिए हमें दूसरे गांव जाना पड़ता था, जो 5 किलोमीटर दूर था.

मैंने तुझे और उस रंडी डॉक्टरनी को कितनी बार चुदाई करते देख चुकी हूँ.

मोटी औरत सेक्सी बीएफ: पर मैं ऊपर सरक कर उसके पेट को किस करते हुए नाभि में जीभ घुसाने लगा. उसने मेरे हाथ के नीचे से अपने हाथ आगे लाकर मेरे सीने को ऐसे भर लिया जैसे वो स्तन हों.

उसने अब तक अपनी चूचियों की एक झलक मुझे दिखा कर वापस अपनी बेबीडॉल से अपने मम्मे छिपा लिए थे. दोस्तो, मेरे अनुज दोस्त और वरूण की मम्मी का रिश्ता किस इरादे से आगे बढ़ा, यह भी आपको आगे की सेक्स स्टोरी में मालूम चल जाएगा. हॉट बहन की वासना इतनी बढ़ गयी कि वो अपने भाई से सेक्स करने की बातें सोचने लगी.

एक तो मैं अच्छे घर की लड़की हूं और ऊपर से घर की सख्ती की वजह से सेक्स वगैरह मेरे लिए संभव नहीं है और ये मेरे संस्कार में भी नहीं था.

चाची ने जब से मेरे प्यार को ठुकरा दिया, तब से मेरे अन्दर जैसे अजीब से ताकत आ गई थी. मैं यही देख रही हूं कि इसे मैं अपनी चूत में ले पाऊंगी या नहीं!मैंने कहा- आराम से ले लोगी, तुमने तो एक बच्चा पैदा भी कर लिया है तो तुम्हारी चूत में मेरा लंड आराम से घुस जाएगा. कभी उन्हें भींचता, कभी उन्हें मुँह में रख कर चूसने लगता, कभी चाटने लगता.