बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी

छवि स्रोत,हिंदी सेक्सी बीएफ हिंदी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी 16 साल की सेक्सी: बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी, मैंने पूछा- कहां पर देखा है?वो बोली- एक बार कॉलेज की बिल्डिंग के पीछे की झाड़ियों में।उसने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा- वो मेरी ही क्लास की लड़की थी जो हमारी कॉलेज बस के पैंतालीस की उम्र के ड्राइवर के साथ ये सब कर रही थी.

हिंदी लड़की की सेक्सी बीएफ

हम दोनों का ही मन हो रहा था कि बस एक दूसरे की बांहों में सिमट जाएं और अपने मन की इच्छा को पूरा कर लें. हिंदी वीडियो बीएफ वीडियो सेक्सीमैं पांचों लड़कियों में से सबसे ज्यादा तेज तर्रार थी और बहुत ही चुलबुली थी.

मैंने राजेश की तरफ देखा तो उसने भी अपनी बीवी की हां में हां मिलाते हुए गर्दन हिला दी. एक्स एक्स एचडी बीएफ फिल्मक्योंकि जब तक मेरे साथ हादसा नहीं हुआ, उससे पहले मुझे लगता था कि चाहने से कुछ नहीं होता है, कोई कायनात वायनात नहीं होती.

मैंने दूसरा धक्का मारा और अबकी बार मेरा लंड पहली ही बार में आधा घुस गया.बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी: उन नाज़ुक नाज़ुक सी लड़कियों पर अपनी हैवानियत दिखा कर ना जाने क्यों मेरे दिल को सुकून सा मिलता था.

आगे बढ़ने से पहले मैं रेनू चाची सास के बारे में बता दूं कि वो रंग की थोड़ी सांवली थी.मैंने लंड बाहर निकालते हुए कहा- अब जल्दी से मेरी चुदाई कर दो, मुझसे रहा नहीं जा रहा है.

शिल्पी राज का वायरल बीएफ - बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी

फिर मैंने अपनी स्पीड तेज कर दी और आंटी की चूत को दस मिनट तक लगातार चोदने के बाद मेरा माल निकलने को हो गया.जब वह सेक्सी मूड में होतीं, तो मुझे इधर-उधर हाथ लगा कर मुझसे छेड़खानी करतीं, मेरी जीएफ के बारे में पूछ कर मुझे चिढ़ाती थीं … जबकि मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी.

वो मेरे हाथ में अपने हाथ से थामे हुए ही मेरे मुँह तक ले गई और मेरी आंखों में देखने लगी. बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी मैंने कुछ दिन के बाद सब जान लिया था कि ससुराल में किस वक्त मेरी सलहज अकेली रहती है.

वो मुझसे लिपट गई और मेरे बदन को बांहों में भरते हुए यहां-वहां चूमने लगी.

बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी?

वैसे तो मैं बहुत शर्मीला हूं और इस वजह मैंने कभी किसी लड़की को प्रपोज भी नहीं किया है. राजेश्वरी- अच्छा तुम ये सब घर में करते हो?कमलनाथ- तुम्हें सब पता है. पहले तो मैंने उनकी चूत के ऊपर किस किया और फिर उसके आस पास किस किया.

कुछ देर के बाद मेरा भाई बाथरूम से निकल कर बाहर आ गया और बिस्तर पर आकर सो गया. फिर मैंने बात शुरू की- दीदी, आप ऐसी साइट पर सेक्स स्टोरी पढ़ती हो … क्या आपको शर्म नहीं आती … आप रात भर सेक्स चैट करती हो. सभी धीरे धीरे कामुक महसूस करने लगे और फिर तय हुआ कि जिसे संभोग की इच्छा हो रही हो, वो किसी के साथ भी संभोग कर सकता है.

मैंने उसकी गांड को अपने हाथ में पकड़ लिया ताकि वो आगे की तरफ छूट कर न भागे. दस मिनट होते होते तो कमलनाथ चरम पर पहुंचने की स्थिति में आने लगा था. मुझे लगा कि शायद आज ट्रेन में सेक्स की मेरी ख्वाहिश पूरी हो जायेगी और मेरी यह ट्रेन सेक्स स्टोरी बन जायेगी.

मैंने इधर उधर देखा और झट से उनके घर के खुले दरवाजे के अन्दर घुस गया. उसने मुझे किसी तरह अपने ऊपर से उतारा और निर्मला को पकड़ कर उसे बिस्तर पर पेट के बल लिटा दिया.

मैंने उठ कर अंदर झांक कर देखा तो मेरी दीदी अपनी कुछ सहेलियों के साथ अपने कमरे में किटी पार्टी कर रही थी.

मैं भी पूरा गर्म हो चुका था और उसे गालियाँ बके जा रहा था- तेरी माँ का भोसड़ा मारूं … हरामजादी कल से लंड तड़पा रखा है … कुतिया … रात भर तेरे गदराये बदन ने मेरी नींद उड़ा रखी थी साली … अब भुगत लंड का कहर.

चैट का अंतराल जब काफी लंबा चलने लगा, तो हम दोनों एक दूसरे से खुलने लगे और हम दोनों के फोन नम्बर आपस में एक्सचेंज हुए. आंटी ने मुझसे पूछा- क्या मैं तुझे सेक्सी लगती हूं?मैंने कहा- हां आंटी बहुत. मैंने एक हाथ उसके सूट के अन्दर डालकर उसके नंगे मम्मों को पकड़ लिया और धीरे धीरे सहलाना शुरू कर दिया.

इतने में वो पलट गई और मुझे अपने पैर और ऊपर तक दबाने के लिए बोलने लगी. आशा करता हूं कि आपको मेरी चुदाई कहानी पसंद आएगी।बात आज से 2 साल पहले की है. मेरे पापा ने तो कभी चूत भी ढंग से नहीं मारी थी तो फिर गांड तो बिल्कुल कुंवारी ही थी.

एक दिन मौसी का पैर फिसला, मैंने उनकी मदद की तो …दोस्तो, ये मेरी पहली कहानी है.

उसने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया और हम दोनों अब 69 की पोजीशन में एक दूसरे को मजा देने लगे. कुछ देर तक कमरे में घमासान धुआंधार चुदाई चलती रही … कब मैं स्खलित हो गई, मुझे पता ही नहीं चला. मैं जहां जहां धक्के मार उसे पकड़ चिपकी रही, वहीं वो तब तक गुर्राते हुए झटके मारता रहा.

उनकी मुस्कराहट से मुझे समझ में आ गया था कि वो शायद मेरी हालत समझ चुके हैं क्योंकि वो मेरे पापा की उम्र के थे और इन सब चीजों से गुजरे हुए थे. क्या चुदाई की … साली चूत सहला रही होगी।वह मुस्कराया।मैं चित लेटा था. जब मेरी नज़र उस पर गयी तो उसका गोरा बदन देख कर मेरी साँसें अटक गयी थी ऊपर से लेकर नीचे तक गोरी चिकनी खूबसूरती की बला थी.

फिर मैंने उसकी चूत में हल्के से धक्का दिया तो उसने सोफे को पकड़ लिया और उसको नाखूनों से नोंचने लगी.

काफी देर इसी तरह मुझे टटोलने के बाद वो अपने होंठ, मेरे होंठों के करीब ले आया, पर मैं जस की तस रही. लेकिन वो ऐेसे बर्ताव कर रही थी जैसे वो नींद आने के चलते बड़बड़ा रही है ताकि उसको मां को इस बात का शक न हो जाये कि उसकी बेटी एक मोटे और लंबे लंड के साथ नीचे फर्श पर पड़ी हुई अपनी चूत की चुदाई करवा रही है.

बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी मेरे लंड को आंटी ने मेरी चड्डी से बाहर निकाल कर देखा, तो उनकी आंखें फटी की फटी रह गईं. मैंने जल्दी से उसके सूट को उतरवा दिया तो अंदर से उसकी लाल ब्रा सामने आ गयी.

बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी दो-तीन मिनट तक उसकी टाइट कुंवारी चूत में लंड को डालकर मैं लेटा रहा. मैंने सोचा कि यह अभी कुंवारी है, किसी से चुदी नहीं है … यहां पर पूरा खेल नहीं हो पाएगा.

मुझे हर तरीके से सेक्स करना और काफी देर तक पति के साथ सेक्स करना बहुत पसंद है.

राधिका की सेक्सी फोटो

जब मेरा मन सेक्स करने का होता था, तब मैं छिप छिप कर पोर्न फिल्में देखा करता था. अब नहीं देखने हैं क्या?इतना कह कर उसने मेरे बालों को छोड़ दिया और सामने कुर्सी पर जाकर बैठ गयी. इतने में उन्होंने कहा- मुझे ये भी पता है तुम्हें मुझमें क्या पसन्द है.

उस रात हम दोनों इतने गर्म हो गए थे कि हमने दो बार पूरी मस्ती से सेक्स किया. सिस्टर ब्रदर इन्सेस्ट स्टोरी में पढ़ें कि दीदी शादी के बाद घर आई तो मैंने कैसे दीदी को चोदा. मेरी सगी मम्मी लापता हो गयी थी तो मेरे पापा ने अपने से 12 साल छोटी लड़की जो गरीब घर की थी, से शादी कर ली थी.

मेरा लंड काफी देर से खड़ा हुआ था तो इस वजह से मेरे लंड को जब उसके हाथ का कोमल सा स्पर्श मिला तो मुझे बहुत मजा आने लगा.

कुछ समय के बाद आदमी खुद को ठगा सा महसूस करता है और वो अपनी खोयी खुशी को बाहर ढूंढता है. नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम निखिल चौहान है। मैं दिल्ली में रह रहा हूं और मैं गुड़गांव में एक ऑटोमोबाइल कंपनी में एक मैकेनिकल इंजीनियर के रूप में काम करता हूं. उस रोशनी में बिल्कुल चमक सी रही थी और मेरा पूरा बदन एकदम चिकना दिख रहा था.

मान लिया गया कि शादी हो चुकी थी और दूल्हा दुल्हन का सुहागरात का सीन होना बाकी था. वो चार लड़के उसे छेड़ने लगे और उससे बोलने लगे- चल बोल … कितना लेगी?वो बोली- आप जैसा समझ रहे हो … मैं वैसी नहीं हूँ. अचानक से उसने मेरे लंड का सुपारा पीछे कर दिया, इससे मुझे थोड़ा दर्द भी हुआ.

मैं उसे 5 मिनट तक निहारता रहा क्योंकि मैंने किसी लड़की का नंगा शरीर पहली बार देखा था. मैंने थोड़ी देर तक उसने दूधों को पीना जारी रखा तो वो बोली- अब यही करते रहोगे क्या? या फिर बेडरूम में भी चलने का इरादा है?वो जैसे मुझे राह सी दिखा रही थी.

अब मैं उसकी चुदाई के लिये तड़प गया था और भगवान से प्रार्थना कर रहा था कि घर वाले कहीं चले जायें. हम सभी लड़कियां जो ग्रुप में थीं वो शुरू से ही सेक्स करने के मामले में पीछे नहीं थीं. उसने धीरे धीरे से पूरा का पूरा लिंग मेरी योनि के भीतर घुसा दिया था और उसके सुपारे का स्पर्श मैं अपनी बच्चेदानी में महसूस करने लगी थी.

असल में ये हॉट वाइफ स्टोरी दो महीने पहले उस वक्त की है, जब हम दोनों उसकी स्कूटी को सर्विस के लिए छोड़ने गए थे.

लेकिन आज मुझे इतना पता तो चल गया था कि मेरे जीजा जी मेरी दीदी को चोदते नहीं हैं. पर अब उनके कई सारे देसी और विदेशी मित्र हैं, जो इस तरह की जीवन शैली पसंद करते हैं. तो हमने भी अपनी अपनी चारपाई बाहर निकाल ली और सभी सोने लग गए।चूँकि उसकी और मेरी चारपाई एकदम ही पास-पास थी.

तो वो बोली- क्या मेरी चूत को आपके लंड का स्वाद मिलेगा या खाली ज़ीभ से ही काम चलना पड़ेगा?मैं बोला- ज़रूर मिलेगा मेरी जान! लेकिन मैं इस दिन को एक यादगार दिन बनाना चाहता हूँ. मैंने उसके निप्पल को अपने उंगली से पकड़ कर कसके खींचा, तो वो कराह उठी.

वह तो तुझे छुप छुप कर देखा करते हैं और कर बार तेरे बारे में बातें भी करते रहते हैं. भाभी बोलने लगीं- मेरे पति काम के सिलसिले में ज्यादातर बाहर ही रहते हैं और वे मुझे ज्यादा वक्त नहीं दे पाते हैं. लिंग का सुपाड़ा जैसे ही रमा की योनि में घुसा, रमा ने ऐसा दिखाया, जैसे उसे न जाने कितना सुकून मिल गया हो.

हिंदी सेक्सी वीडियो रियल

मुझे ऐसा लग रहा था मानो ये कुछ ही पलों में झड़ जाएगा … पर मेरा अंदाज गलत था.

उसके चले जाने के बाद मैंने देखा कि जहां वो बैठी थी वहां पर जमीन में पानी के निशान हो गये थे. वो भी पूरे दस हजार!जब मैंने पैसे की बात बताई तो भाभी ने मेरी तरफ हैरानी से देखा. शायद मैं भी ट्राय करूंगा … मैं सब कर सकता हूं, जान तुम्हारे लिए मेरा मन मचला जा रहा है.

मैंने जल्दी से अपनी टी-शर्ट उतार दी और अपने नंगे बदन से उनकी नंगी पीठ को सटा दी. हम और सनी ऐसे रियेक्ट कर रहे थे कि जैसे हम लोग आपस में जीएफ बीएफ हों. बीएफ बीएफ हिंदी चुदाईगर्म चिकनी चूत की चुदाई का जो मजा भाभी उस रात को मुझे दे रही थी उसको अपने शब्दों में मैं लिख नहीं पा रहा हूं.

कुछ समय के बाद आदमी खुद को ठगा सा महसूस करता है और वो अपनी खोयी खुशी को बाहर ढूंढता है. सेक्स कहानी की किताबों के अलावा हम नंगी चुदाई की फोटो वाली किताबें भी साथ में रखा करती थीं.

मैं बिना कुछ कहे नीचे लेट गई और मेरे लेटते ही रवि मेरी जांघें चौड़ी करके मेरे बीच में आ गया. मैंने लंड को निकाल कर उसकी चूत पर सेट किया और अपने सुपाड़े को उसकी चूत की फांकों के बीच में लगा कर एक झटका मारा तो लंड उसकी चूत को फैलाता हुआ अंदर घुस गया. और पर मुझ पर सेक्स का भूत सवार हो चुका था तो मैंने उसे गंदी गंदी गालियां देते हुए चोदना शुरू कर दिया।वो उम्म्ह… अहह… हय… याह… करती हुई चुद रही थी.

डॉक्टर साहब ने अपना लण्ड मेरी बूर पर रखना चाहा लेकिन पैन्ट पहने होने के कारण उनको असुविधा हो रही थी. आधे घंटे के बाद उसका फिर से फ़ोन आया और उसने कहा- तुम कल तैयार रहना, मैं तुमको लेने आ रही हूँ. लड़की के हाथसे लंड सहलवाने में मुझे भी मज़ा आने लगा था, मैंने भी जींस के ऊपर से ही निधि की चूत को सहलाना आरम्भ कर दिया। अब तक निधि बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी.

कुछ देर तक ऐसे ही उसको चाटने और चूसने के बाद मैंने पूरी ताकत लगा कर उसको गोदी में उठा लिया और खुद नीचे बैठ गया.

वो जब ऊपर उठती, तो उसके चूतड़ मेरे लंड को छू जाते और जब वो नीचे जाती, तो मेरे दोनों हाथ थोड़ा फिसल कर उसके मम्मों को छू जाते. मेरी पहली चुदाई से पहले मेरे जीवन में बहुत सी लड़कियां आईं, लेकिन मैंने किसी के साथ सेक्स नहीं किया.

उन दोनों के लंड एकदम से तन कर भाभी के जिस्म में जैसे घुसने को बेताब लग रहे थे. आखिरकार मैंने यह तय किया कि भाबी को अब सब कुछ बता देता हूं। अब सीमा भाबी ही मुझे इस प्रॉब्लम से बाहर निकाल सकती हैं। लेकिन मुझे उनके सामने जाने में और उनसे कहने में शर्म महसूस हो रही थी. उसके बाद में उसकी नाभि पर किस करते हुए सीधे उसके पैर में एड़ी के पास चूमते हुए धीरे धीरे घुटने की तरफ आने लगा.

मैंने हम दोनों के ऊपर एक चादर ओढ़ ली और उसकी सलवार को ढीला करते हुए पैंटी को नीचे सरका दी. मैंने डोली को अपनी बांहों में लिया और उसे गर्दन पर चूमते हुए अपने हाथों को उसकी पीठ पर ले गया. वो सूंघने लगी तो मैंने कहा- बहू, इसे एक ही घूंट में खत्म करना होता है.

बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी मेरे लेटते ही डॉली मेरा लौड़ा पकड़ कर कर उस पर अपनी चूत को फंसाकर बैठ गई और लंड पर जोर जोर से उछल उछल कर चुदवाने लगी. कांतिलाल भी मेरी चुनौती स्वीकारते हुए अपनी मर्दानगी का परिचय देने लगा.

माधुरी के सेक्सी वीडियो भोजपुरी

फिर उसने मुझे डॉगी स्टाइल में खड़ा किया और मेरे पीछे से लंड पेल कर चुदाई करने लगा. रोहण ने प्रिया की पिक देखते ही कहा- वाह क्या माल है यार … ऐसी पटाखा लड़की तो मैंने आज तक नहीं देखी … कौन है यह छमिया?मैंने बोला- एक टॉप की मॉडल है. मैंने वासना के वशीभूत अपने पति के दोस्त के लंड को दोबारा से चूसना शुरू किया.

उसका हाथ जैसे ही मेरे होंठों तक आया, तो मेरी सांसें तेज तेज चलने लगीं. तभी उसकी चाचा की बेटी ने उसकी तरफ करवट ली जिससे मेरी साली थोड़ा सा अलग हो गई. गांड मारने बीएफएक बार मैंने फिर से कोशिश की और इस बार मैंने भाभी का हाथ अपनी जांघ पर रखने का प्रयास किया, तो भाभी ने मेरी तरफ देखा और मुस्कुरा कर मेरे लंड को टच करके जल्दी से अपने हाथ को हटा लिया.

सिखाते हुए उसने मुझे तैयार करना शुरू किया और मुझे एक कामुक वस्त्र पहनाया.

उन्होंने ढेर सारे कामरस की नदी बहा दी और थोड़ी देर के लिए शांत पड़ गयी थीं. मैंने थोड़ी देर तक उसने दूधों को पीना जारी रखा तो वो बोली- अब यही करते रहोगे क्या? या फिर बेडरूम में भी चलने का इरादा है?वो जैसे मुझे राह सी दिखा रही थी.

उसके बाद खाना आया, हम तीनों बात करते हुए खा रहे थे और बीच बीच में मैं काव्या के साथ मस्ती भी कर रहा था. रिक्शे में उसने मेरे लंड पर अपना हाथ रख कर लंड के खड़े होने का अहसास किया. मैंने उसके दोनों हाथों को पीछे किया और पीठ पर सटा कर पीछे की तरफ दुपट्टे से बांध दिया.

यह योजना कांति लाल और रमा की थी, जिनके बारे में मैं आप सभी पहले भी बता चुकी हूँ.

इसके बाद उसने मेरे वस्त्र को खींचते हुए मेरी टांगों के नीचे से निकाल कर मुझे बिल्कुल नंगा कर दिया. भाबी मेरे लंड के पास आकर नीचे बैठ गई। मैंने अपने दोनों हाथों से अपनी पैंट को पकड़ लिया जिससे पैंट लंड पर नीचे की तरफ जोर ना डाले. मेरी गांड उसकी चूत पर आगे पीछे चलने लगी और हम दोनों ही चुदाई का मजा लेने लगे.

बीएफ ओपन करमौलीश्री मेरे घर से कुछ दूरी पर रहती थी और वो अपनी स्कूटी से आती थी तो हम दोनों सहेलियां जिस दिन हम लोग की छुट्टी रहती थी, घूमने जाती थी. उसने मुझे बिस्तर पर गिरा दिया और मेरे ऊपर चढ़ कर मुझे चूमने लगा, मेरे मम्मों की घुंडियों को चूसने लगा.

कुत्र्याची आणि बाईची सेक्सी व्हिडिओ

मैं नीचे झुक कर देखता तो कुछ दिखाई भी नहीं दे रहा था कि लंड के नीचे खाल किस जगह और कैसे फंसी हुई है. उधर कांतिलाल ने निर्मला को उठाया और मेरे बगल में सोफे पर एक टांग नीचे लटका कर पेट के बल झुका कर पीछे से अपना लिंग प्रवेश कराते हुए धक्के मारने लगा था. उसके लंड को हाथ लगा कर मेरे बदन में एकदम से करंट सा दौड़ गया और मैंने हाथ पीछे खींच लिया.

इतना आनन्द आने वाला है, अगर ये पहले से पता होता तो शायद मैं कान्तिलाल को पिछली रात खुद को रौंदने न देती और शायद ये मजा और कई गुणा बढ़ गया होता. मैंने भी उसको प्यार से उसके गालों पर एक किस कर लिया, ये मेरे जीवन का पहला किस था. उसे बहुत ज्यादा आनन्द आ रहा था और मुझे भी और मैं भूल ही गई थी कि कोई और भी हमें देख रहा है.

अब उसका खड़ा मस्त लंड मेरी खुली गांड से टकरा रहा था और मुझे करवट दिलाने की कोशिश में उसके लंड का सुपारा बार बार मेरी गांड के छेद से टकरा रहा था. मैंने आंटी के होंठों पर अपने होंठ रख दिए और थोड़ी देर तक किस करने लग गया. रमा की बात खत्म होते होते रवि ने अपना लिंग एक झटके में मेरी योनि में घुसा दिया.

इस ग्रुप सेक्स कहानी के छठे भागखेल वही भूमिका नयी-6में आपने पढ़ा कि न्यू इयर की पार्टी मनाने का माहौल तैयार होने लगा था. दीदी की चूत को चोद कर मैंने बुआ की बेटी की चुत चुदाई की प्यास को बुझा दिया.

हम दोनों पागलों की तरह ऐसे लिपट गए थे, जैसे हम दोनों जन्मों से अपनी सेक्स की आग को बुझाने के लिए प्यासे हों.

उनके दोनों चूतड़ जब थिरक रहे थे, तो ऐसा लग रहा था … मानो एक दूसरे से बातें कर रहे हों. लेडीस पुलिस सेक्सी बीएफफिर वो बोली- तो तुमने यहां पर छिप कर क्या क्या देखा?मैंने कहा- तुम्हारी जांघों के बीच का घोंसला. बीएफ वीडियो चालू वीडियोतभी दीदी ने मुझे रोकते हुए कहा- इसकी जरूरत नहीं है। अब मैंने ऑपरेशन करा लिया है. जैसे ही मेरी गिनती 401 पहुंची, रवि के चूतड़ किसी मशीन की भांति आगे पीछे होने लगे.

मैं ध्यान से सुन रहा था, जिसमें सलमा अपनी सहेलियों की कहानी बता रही थी.

लेखक की पिछली कहानी: गोवा में माँ को चोदागोवा में माँ को चोदायह भेनचोद भाई की सेक्स कहानी मेरे एक दोस्त की है. मुझे आपकी ईमेल का इंतज़ार रहेगा, मैं कोशिश करूंगा कि जल्द ही अपनी एक और नई व सच्ची सेक्स कहानी लेकर आपके सामने पेश होऊं … तब तक के लिए आप सभी से विदा लेता हूँ. मेरा ध्यान बस अब उसकी चूत की रसीली फांकों के बारे में ही जा रहा था.

मुझे क्या? हो सकता है, इसी बिना पर मैं माँ बेटी दोनों को एक साथ चोदने का भी मज़ा ले सकूँ. वो थके हुए स्वर में बोलने लगी- आह … काश तुम पहले मिल जाते, तो मैं इतना नहीं तड़फती … आज मुझे नया जीवन मिल रहा है. उसकी बातें सुन रवि ने मुझे खुद से अलग किया और मेरा हाथ पकड़ मुझे अपनी ओर खींचने लगा.

नई हिंदी सेक्सी बफ

इसी वजह से निर्मला इस बात पर राजी हो गई कि मुझे राजशेखर के साथ संभोग के लिए राजी कर ले … ताकि अपनी व्यवाहिक जीवन बचा सके. क्योंकि जब आप गोवा जैसी जगह जा रहे हों और आपका बॉयफ्रेंड साथ न हो तो गोवा सेक्स, मस्ती अधूरी रह जाएगी. जैसे जैसे धक्कों में तेज़ी आनी शुरू हुई, वैसे वैसे ही रमा की सिसकियां मादक कराहों में बदलनी शुरू हो गईं.

कुछ देर बाद उसने मेरी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रख लिया और मेरी चूत में अपना लंड अन्दर तक डाल कर मेरी चूत को चोदने लगा.

वहां उन लड़कियों ने मुझे केवल ब्रा और पैंटी में लिटा दिया, फिर अपना काम शुरू कर दिया.

मैंने घर के सारे दरवाजे खिड़कियां बंद कीं और छुपाई हुई सेक्स कहानियों की किताब निकाल कर पढ़ने लगी।कहानी पढ़ते हुए मुझे काफी समय बीत गया. उनके वजह से मुझे भी हवाई जहाज में सफर करने का आज अवसर मिलने वाला था. बीएफ गंदी फिल्म सेक्सीचूत में पूरा लौड़ा घुसते ही डॉली जोर से चिल्लाने लगी- आआअह्ह … मर गई … उईईई … मम्मी रे फट गई मेरी चुत … आह निकाल ले … मर गई रे मम्मी.

उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए ताकि मेरी सिसकारियाँ होटल रूम से बाहर नहीं जायें. अंदर जाते ही भाभी ने बल्लू की शर्ट और पैंट उतरवा दी और फिर सोफे पर उसको बिठा दिया. उस समय वैसी सी फीलिंग आ रही थी कि मेरे अन्दर न जाने ताकत एकदम से डबल कैसे हो गई थी.

इससे पहले कि मैं कहानी को आगे लेकर जाऊं मैं आपको अपने बारे में कुछ हल्की-फुल्की जानकारी देना चाहता हूं. इसी तरह की बातें चल रही थीं कि तभी कैब एक बढ़िया से रेस्टोरेंट के बाहर जा रुकी.

इतना सुनने के बाद वो अपने पजामे के ऊपर लिंग को हाथ से सहलाते हुए बोला- चल थोड़ा तैयार कर … बहुत दिन हो गए है मुझे.

मैं इतनी तेज धक्के मारने लगी कि कमलनाथ समझ गया कि मैं भी झड़ने वाली हूँ. उनका दर्द कुछ थमा और जब वो नार्मल हुईं, तो मैंने एक और जोर का धक्का लगा दिया. अपने लंड के सुपारे को उसकी चूत के मुँह पर सैट किया और हल्के से धक्का लगा दिया.

त्रिशा बीएफ कभी मैं उनके थोड़े से उभरे हुए पेट पर हाथ फिराता, तो कभी बोबों को मसल देता. मैं उनके घर के अन्दर गया तो मैंने पूछा कि घर पर कोई नहीं दिख रहा है, क्या आप अकेली रहती हैं?भाभी बोलीं- मेरे शौहर बाहर गए हैं.

अब मैं आंटी के एक बोबे को हाथ से मसलने लगा और दूसरे बोबे को मुंह में लेकर चूसने लग गया. मैंने सोचा कि यह अभी कुंवारी है, किसी से चुदी नहीं है … यहां पर पूरा खेल नहीं हो पाएगा. मैंने ठोके और जोर जोर से मारे और कहा- अम्मा मुझे देखना है कि तू हस्तमैथुन कैसे करती हो.

सेक्सी व्हिडिओ मराठी आदिवासी

निर्मला जब उसका लिंग चूसने में व्यस्त हो गई, तो रवि ने मुझे हाथों से पकड़ कर उठने का संकेत दिया और इशारे से मुझे खड़े होकर अपनी योनि उसके मुँह में देने को कहा. सेक्स की प्यास के बारे में कई बार मैंने अपने मां और पापा को बातें करते हुए अपने ही कानों से सुना हुआ था. वो जैसे ही कुछ ढीली पड़ीं, मैंने तेजी से हाथ नीचे ले जाकर उनकी कच्छी को उतार दिया.

मैं- अरे ऐसे दर्द में आपको छोड़ कर कैसे चला जाऊं?मैंने उनके विरोध की चिंता किये बिना तुरंत पेटीकोट ऊपर करके उनकी चिकनी जांघों पर हाथ फेरते हुए आयोडेक्स लगाने लगा. उसके बाद मैंने उसको सीधा लिटा दिया और उसके ऊपर चढ़ कर अपने लंड को उसकी चूत में डालने लगा.

उसने बोला- कुछ नहीं होगा, बस कोशिश करती रहो, अभी काफी देर तक करना है और अभी तो दो दिन और यहां रहना है.

मगर यह उन दिनों की बात है जब मैं सेक्स को लेकर इतनी बेसब्र नहीं रहती थी. उसने पहले तो हाथ हटा लिया लेकिन मैंने दोबारा से उसका हाथ रखवाया तो फिर उसने नहीं हटाया. वो भी एक दोस्त की तरह बड़ी खुल कर सेक्स की बातें करती है, क्योंकि अब मेरे लिए शिफा को वही लेकर आती है.

इस कम्पनी में मेरी रिपोर्टिंग कम्पनी की स्टेट हेड एक महिला लेती थी. कांतिलाल ने भी अपने कपड़े उतारे और फिर कविता के पूरे बदन से खेलना शुरू कर दिया. मेरा भी होने वाला है, बस दो मिनट और।मैं उसको चोदता रहा और दोनों जोर जोर से सिसकारने लगे.

उसने अगले ही पल लंड को झटका मारा तो उसका लंड मेरी फांकों को फैलाता हुआ अन्दर घुस गया.

बीएफ पिक्चर हिंदी में नंगी: रोहण ने दीदी के कमरे में आते ही उसे पीछे से झटके से पकड़ लिया और होंठों को जबरदस्त चूसने लगा. क्या तुझे कुछ नहीं हो रहा था?मैंने कहा- हां मुझे भी नींद नहीं आई थी.

आज आपको मैं इस नयी साईट पर अपने एक पाठक की भेजी हुई कहानी बताने जा रहा हूँ। इन पाठक महोदय ने अपने अंदाज़ में कहानी लिख कर भेजी थी, मगर मैंने उसे सिर्फ उनसे पूछ पूछ कर इस कहानी को थोड़ा और रोचक बनाया है. मैंने उसकी बुर को अपने हाथ से टटोलते हुए अपने लंड को उसकी बुर के मुंह पर सेट कर दिया. इस तरह से हम दोनों ही एक दूसरे से मिल कर सेक्स करने को हद से गर्म हो चुके थे.

एक दिन तो मैंने मां से पूछ भी लिया- आपको अगर पापा के साथ खुशी नहीं मिलती है तो मैं कुछ मदद करूं आपकी?लेकिन उस बात को सुन कर मेरी मां को इस बात पर गुस्सा आ गया कि मैं चुपके उन दोनों के बीच की बातें सुनता रहती हूं.

उसी टाइम अचानक सीमा भाबी ने अपनी कमर थोड़ी सी हिलाई और मेरा लंड उनकी गांड की दरार में घुसने लगा. उस समय मेरा कॉलेज शुरू होने वाला था और मैं घर पर उन दिनों फ्री ही रहता था. उषा- ये बात तो तूने सही कही … इसकी गांड और चूत चुदेगी, तो ये एक नंबर की माल बनेगी, ये कमाई भी बहुत करेगी.