हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ

छवि स्रोत,ममता सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

भक्ति वॉलपेपर: हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ, मौसी हंसने लगीं और बोलीं- अच्छा ये बता, तेरी कोई गर्लफ्रेंड है?मैं- नहीं मौसी, मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

बीएफ सेक्सी वीडियो बढ़िया में

अब वो भी मस्ताने लगी थी- आह जोर से … और जोर से जीजू … आज से मैं आपकी हुई … आपका जब मन करे, मुझे प्यार करो, जब चोदने का दिल करे तो अपने ऊपर लेटा लो … आप जैसा बोलोगे, मैं वैसा करूंगी … बस मुझे जिंदगी भर चोदते रहना. ट्रिपल सेक्स बीएफ फिल्ममगर वो दोनों साले आपस में यही बातें किए जा रहे थे कि टीना और दिशा चोदने लायक माल हैं यार!वो टीना की चुचियां देख कर लार टपका रहे थे तो कभी दिशा की चुचियां देख कर … वो दोनों यही सब कर रहे थे.

मोहन ने रवि से कहा- अब तू खुद को मोनिका समझना, विशाल को अपना पति, तुझे गांड मराने में ज्यादा मज़ा आएगा. बीएफ नंगी चुदाई दिखाइएतुम रात को घर आ जाना और हम दोनों ऊपर की मंजिल पर बने कमरे में मिल लेंगे.

जैसे ही मेरा ध्यान घड़ी पर गया, मैंने अपने लंड को चुत से बाहर निकाला.हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ: वो मेरे सामने सिर्फ ब्रा पैंटी में रह गई थी और मैं एक अंडरवियर में उसके सामने था.

उसके चेहरे से मुझे समझ आ रहा था कि उसको चुदाई से पूरी तृप्ति मिली है.मगर जब से मेरी नजरें चाची जी को लेकर बदलीं, तब से सीन ही बदल गया था.

क्वालिटी बीएफ - हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ

वो हंसी और बोली- फट्टू … बच्चे अगर जाग रहे होते, तो ये भी बोलते कि पापा मम्मी किसी से रात में बात कर रही थीं.मगर जब से मेरी नजरें चाची जी को लेकर बदलीं, तब से सीन ही बदल गया था.

हमारे बीच जो भी बातें होंगी और हम दोनों का हर रिश्ता सिर्फ हम दोनों तक ही सीमित रहेगा हर्षद. हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ इतना सुनते ही धीरू ने एक ज़ोरदार धक्का लगाया और अपना लौड़ा मेरी गांड के अन्दर तक घुसा दिया.

अन्दर घुसते ही गेट बंद करके मैंने उनको पीछे से कसके पकड़ लिया और उनको चूमने लगा, उनके दूध दबाने लगा.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ?

मैंने कहा- जल्दी क्यों … क्या सॉफ्टवेयर भाग जाएगा?वो हंस दी और बोली- यार, मुझे तुम्हें जल्दी से वो दिखाना है. उसके बाद मैंने उसे खड़ा किया और झुड बैठ कर उसकी चूत पर अपना मुँह रख दिया. वो दिखने में काफी खूबसूरत थीं, उनका रंग एकदम दूध की तरह सफेद था और फिगर 34-24-36 का था.

बाकी जब मैं मार्केट जाती हूं या कहीं और बाहर जाती हूँ, तो कुछ छिछोरे किस्म के आदमी मुझ पर गंदी निगाहें और भद्दे कमेंट्स करते हैं. मेरी पिछली कहानी थी:मामा की साली की वासनामैं कुरुक्षेत्र हरियाणा का रहने वाला हूं. फिर वह खुद खड़ा हो गया और खड़े-खड़े ही अपना मुसल जैसा लंबा लण्ड मुझे नीचे करके मेरी चूत में दबा दिया और गोद में लेकर मुझे जोर जोर से चोदने लगा.

मैं नहाने लगा और नहाने के बाद उधर बाथरूम में कहीं तौलिया नहीं दिखी, जोकि मुझे पहले से ही मालूम था. चूत का मुँह और गांड का छेद भी खुला हुआ था तो मैं लंड अन्दर बाहर कुछ आसानी से कर पा रहा था. मैंने कहा- सोनाली, तुम पहले ही आगे क्यों नहीं बैठी?उसने कहा- मेरे सास ससुर थे इसलिए मैं पीछे बैठी थी.

मैंने उसे उठाकर कहा- तुम्हें अपने घुटने के बल बैठकर सर तकिए पर रखना है. मैं बहुत खुश होकर सरिता के दोनों स्तनों से चूस चूस कर दूध पीने की इच्छा पूरी करने लगा था.

मैंने उससे पास में अपने होटल चलकर बैठने का प्रस्ताव रखा जिसे शिखा ने थोड़ी सकुचाहट के बाद मान लिया.

शिखा आंख बंद कर इसका मजा ले रही थी, उसके मुँह से कामुक सिसकारियां तेज़ होती जा रही थीं, उसका बदन थरथरा रहा था.

उसने हंसते हुए कहा- क्यों डर लग रहा है क्या!अब हम बात करते उसके घर पहुंच गए. मैंने भी पानी पीकर बोतल साइड में टेबल रख दी और मैं पीठ के बल लेट गया. मेरा सगा देवर तो कोई नहीं है लेकिन वह गांव में मेरे पड़ोस का एक लड़का है.

तो मेरा क्या … मुझे भी मौका दो सेक्स करने का! नहीं तो मैं सबको बता दूंगा. उसके बाद कुछ देर बाद सौम्या पेट दर्द के बहाने से ऊपर से वाले रूम में आ गयी. मैंने तुम्हें अपना दोस्त माना है तो तुम्हारी इज्जत की जिम्मेदारी मेरी है.

उसके बाद मैंने उसकी गर्दन पर होंठ से चूमना जीभ से चाटना शुरू कर दियाउसके मुँह से सीई ईईईई की आवाजें निकल रही थी.

उसने मेरे दोस्त हार्दिक का लंड पूरी शिद्दत से चूसा और उसके लंड का रस अपने मुँह में ले लिया. जब भी मैं अपनी बुआ के घर जाता, तो उनके पड़ोस में ही मेरा मन लगा रहता था क्यूंकि पड़ोस में रहने वाले की बेटी सोनल मुझे बड़ी भाती थी. सभी औरतों को मेरी ये आदत बहुत पसंद है कि मैं बिना नागा हमेशा मेरी बेटी को छोड़ने आता हूँ.

उनमें से एक ने मुझसे पूछा- कहां जा रहे हो राहुल?मैंने कहा- बाजार जा रहे हैं. उसकी उमर सिर्फ 20 साल थी।उससे मैं बात करने लगा।थोड़ी देर बाद मैंने उससे फोटो मांगा तो उसने बेहिचक अपनी फोटो मुझे भेज दी।वो एकदम मस्त दिखती थी. पहले भागबस स्टॉप पर एक भाभी से दोस्तीमें अब तक आपने पढ़ा था कि उस दिन स्वीटी के साथ थोड़ा सा वक्त गुजार कर मैंने घर आकर उसके नाम की मुठ मारी और उसके बारे में सोचने लगा.

इस पर राहुल ने कहा- कोई बात नहीं, अगले महीने मैं चाची जी से मिलने जाऊंगा, तब तू भी मेरे साथ चलना और खुद देख लेना.

कभी कभी मुझे उसका डांस देखने का मूड होता है, तो मैं बीवी से कहता हूं. वो बोली- जैसी मदद तुमने मेरे मम्मों के लिए की थी, वैसी ही मदद मेरी चूत के लिए भी कर दो.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ मैंने तो जोर जोर से झटके मारना चालू कर दिए और अपनी बहन की गांड पर चमाट मारना शुरू कर दिया. फिर उसने मेरी शर्ट फाड़ कर मेरे बूब्स में अपना लंड फंसा दिया और रगड़ने लगा.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ उधर एक शॉप थी, जिस पर मैं अक्सर खड़ा रहता और उस लड़की से आते जाते नज़रें मिल जाती थीं. मैं अपने घर जा रहा था, तब वो बोली- धन्यवाद बेटा, आज तुमने सच में मेरी बहुत मदद की.

जब मैं जाता हूं तो उंगलियों से अपनी नाजुक कोमल गुलाबी चुत मसलती है, मुझे चोदने के लिये उकसाती है.

करवा चौथ का बीएफ

वो लंड को पकड़कर देखने लगी और अचानक से चिल्ला कर बोली- ऊंई मां … अभी शायद तीन इंच बाहर ही है हर्षद … आज तो मेरी पक्के में फट जाएगी. फिर कुछ ही देर में मेरे लंड का पानी छूटने लगा और मैंने उसकी चूत में ही अपना पानी निकाल दिया. अब जब भी हम दोनों का मन होता है, हम दोनों चुदाई का खेल खेल लेते हैं.

मैं- हां भाभी … ये आपके लिए ही चमकाई है मैंने!भाभी लंड सहलाने लगीं. हां अगर तुम मेरी बात को मानोगी तो मैं भी तुम्हारी हर बात को मान लूंगा. कुछ देर बाद अंधेरा होने लगा तो मेरे चाचा के लड़के ने बोला कि वो हलवाइयों के पास जा रहा है.

मैंने अपना खड़ा लंड उनके मुँह में घुसेड़ दिया और उनकी चूत चाटने लगा.

मुझे बहुत मजा आने लगा और मैं उसके मुंह में झटके मारने लगा।5 मिनट तक यही सब चलता रहा और वह झड़ गई. कुछ देर बाद दोनों ने मुझे घुमाया और केविन मेरी गांड चाटने लगा और लांस चूत को।बहुत देर तक यह सिलसिला चलता रहा, मैं इतने में ही गर्म हो गई. लगभग 5 मिनट चूसने के बाद आंटी का शरीर कांपने सा लगा और आंटी मेरे मुँह में ही, दबी दबी सिसकारियों के साथ झड़ गईं.

मैंने भाभी की क्लिट को अपने होंठों में दबा कर खींचने लगा और भाभी की आहें जोर से निकलने लगीं. अब काफी महीने हो जाने की वजह से सबसे मेरा हैलो होना शुरू हो गया था. आहह क्या मज़ा था … उसकी नर्म नर्म जांघों का!उसकी जांघ का स्पर्श पाकर ही जन्नत का मज़ा आ गया था.

मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर रख कर जैसे ही धक्का मारा तो वह पीछे हटने लगी लेकिन मैंने उसे जोर से पकड़ कर रखा था. मैं कई सालों से अन्तर्वासना पर कहानियां पढ़ता आ रहा हूँ और कॉलेज में मेरे दोस्त भी मस्ती मज़े में कभी कभी अन्तर्वासना कहानियों का जिक्र कर लेते थे.

फिर हम दोनों ने चाय पी और विलास ने अपनी बाईक पर मुझे मेरे घर तक छोड़ दिया. मैं भी जब भी, जैसा भी मौका देख कर उसके बदन की, उसकी आंखों की मुस्कराहट की किसी ना बहाने तारीफ़ कर ही देता. फिर आंटी ने कहा- मेरे बेटे ने इनकी बस की टिकट्स करवा दी है, अगर तुम्हारे पहचान में कोई ऑटो वाला हो, तो उसे बुला दो.

मैं- पर दीदी आपने आपने तो मेरा प्रपोजल स्वीकार भी किया, उसका क्या?माया- हां, मैंने तुम्हें मना नहीं किया है.

मैंने सौम्या डार्लिंग को नसबंदी करवाने से रोकने का सोच लिया था ताकि बाद में सौम्या मेरे बच्चे की मां बन सके. पहली कहानी है तो त्रुटियों से अवगत जरूर कराएं।सीधे देसी हाउस मेड सेक्स कहानी पर आता हूं. जिसके बाद वो पराँठे बनाने में लग गई और मैं भी किचन में खड़ा होकर उससे बाते करने लगा.

सारे दिन की थकान के कारण अंजली भाभी थक गई थीं तो वो भैया के साथ जल्दी ही सोने चली गईं. इतनी गीली चूत होने के बाद भी मैं अपने लंड को हल्के हल्के से अन्दर बाहर कर रहा था.

मैंने भी वक्त की नज़ाकत को समझते हुए आगे कुछ नहीं किया और उसके साथ चुम्मा चाटी के बाद अलग हो गया. कुछ टाइम तक ऐसे ही रहने के बाद मैं मॉम को किस करते हुए अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा. पति के जाते ही मैंने अपने भैया को कॉल लगाया और अपने आने की बात बता दी.

हिंदी वीडियो बीएफ ओपन

वो बोली- हां बस मेरा भी होने वाला है … और तुम मेरे अन्दर ही अपना निकाल दो, मैं तुम्हारा पानी अपने अन्दर फील करना चाहती हूँ.

ये बात ऐसी थी कि इससे मेरे जाने पर किसी को कोई आपत्ति नहीं होने वाली थी. मैं तो था ही इसी इंतजार में कि कोई मौका मिले तो चाची की चूत मारने का मजा मिल सके. हॉट गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी शुरू करने से पहले मैंने एक बार फिर से अपना परिचय दे देता हूँ.

मेरे इस हमले से आंटी थोड़ा चौंकी ज़रूर, पर शायद अब सेक्स का नशा उन पर भी ऐसा चढ़ चुका था कि उन्होंने कोई विरोध नहीं किया. कोई हॉट सेक्सी भाभी सेक्स के लिए क्या कुछ कर गुजरती है, इस कहानी में जाने. बीएफ सेक्स वाली फिल्ममैंने राहुल को वहां से चले जाने के लिए इशारा किया तो राहुल कमरा खोल कर बाहर चला गया.

बाइक वाला बोला- सबसे पहले मेरे चाचाजी इसको चोदेंगे और इस लौंडिया की बुर का उद्घाटन करेंगे. और अगर तुमने जबरदस्ती से पेला, तो फिर मैं तुमसे कभी भी सेक्स करूंगी ही नहीं.

जैसे ही आंटी करीब आईं, मैंने सीधे उनके सामने से पकड़ा और किस करने लगा. मेरा झड़ा हुआ लंड एकदम से ऐसे लुड़क गया है जैसे भोसड़ी वाला अब कभी खड़ा ही नहीं होगा. तब तक हार्दिक ने अपना लंड उसके होंठों से लगा दिया और उससे लंड चूसने को कहा.

मैंने उन्हें मुस्कुराते हुए आंख मारते हुए बोला- तुम्हारा काम हो जाएगा।उसके कुछ ही देर बाद लांस और केविन ने मुझे उनका घर दिखाया और तो और मुझे दोनों ने उनका बेडरूम भी दिखा दिया. पिछले भागप्यासी औरत के हाथ में मेरा लंडमें अब तक आपने पढ़ा था कि डॉक्टर रेखा ने मुझे अपने घर बुला लिया था और वो मुझसे चुदने के लिए मचल रही थी. अब उसने 69 की पोजीशन में आकर मेरे लंड को अपने दोनों हाथों में पकड़कर आगे पीछे करना शुरू कर दिया.

अदिति अपने हॉस्टल के कमरे में शिफ्ट हो गई लेकिन कुछ दिन बाद उसकी तबियत खराब हो गई क्यूंकि उसके हॉस्टल में खाना अच्छा नहीं मिलता था.

तो सोनाली ने पूछा- क्या हुआ हर्षद?मैंने कहा- नीचे उतरो और आगे की सीट पर बैठो. फिर मैंने धीमे स्वर में कहा- जी नहीं, मैं यहां मेहमान बनकर नहीं बल्कि एक फैमिली मेंबर की तरह आपकी मदद करना चाहता हूँ.

चुदाई की खुशी मेरी प्यारी पत्नी की चेहरे पर साफ दिख रही थी और उसके चेहरे पर ये खुशी देखकर मुझे बड़ा सुकून महसूस हुआ. Xxx दुल्हन सेक्स कहानी में पढ़ें कि जब मैंने अपने ममेरे भाई की दुल्हन को देखा तो मेरा लंड पागल सा हो गया. क्लिप भेजने के बाद मैंने उससे सॉरी कहा तो वो बोली- अरे यार, सॉरी किस बात की.

उस समय मैं इन सब बातों से बेखबर था और उस तरह की बातों का मतलब समझ नहीं पाता था कि वो क्या बोल रहे हैं. लंड पेलते हुए धीरू बोले- तेरी गांड किसी छोरी से कम नहीं है, तू यदि किसी कोठे पर लग जाए तो लोग रंडियां छोड़ कर तेरे पीछे हो जाएं. अब मैंने उसे उठा कर सोफे पर बिठाया और उसका सूट सलवार दोनों को निकालकर फैंक दिया.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ प्राची ने रूम में आते ही मेरे चड्डी में हाथ डाल दिया और मिनी के ऊपर से चादर हटा दिया. उन्होंने 69 में होकर राहुल के मुँह पर अपनी रसभरी चूत रख दी और राहुल के लंड को अपने मुँह में लेकर किसी भूखी कुतिया की तरह लंड चूसने लगीं.

मूवी वीडियो बीएफ

अब आगे सेक्सी गांड में लंड:सुबह पांच बजे उठते ही मैंने देखा तो सामने नव्या भाभी का गेट बंद था. मैं- अरे जब सामने इतनी हॉट साली हो, तो कहीं और क्यों नजर जाएगी साली साहिबा. मैं तुरंत ही मैसेज को पढ़ कर भाभी की छत के जरिए उनके घर में चला गया.

मैंने सौम्या डार्लिंग से पूछा- मैं अपनी मलाई कहां गिराऊं?तो उसने बोला- तुम्हें पता है मेरे राजा. मैंने पहली बार कोई सेक्स कहानी लिखी है, इसमें हुई गलतियों के लिए माफ़ी सहित मैं आपके सुझावों की प्रतीक्षा करूंगा जिससे अगली बार उन्हें सुधार कर आपको उत्तम मनोरंजन पेश कर सकूं. बीएफ+सेक्समैंने कुछ देर बाद भाभी से कहा- अब मैं अन्दर डाल दूँ या अभी रुकना है?भाभी बोलीं- डाल दो ना … मेरी चुत में चींटियां रेंग रही हैं.

जब से तुमने मुझे प्रेग्नेंट किया, तब से आज तक मैंने तुम्हारे दोस्त का भी लंड नहीं लिया.

मुझे उसी भाभी की कुंवारी चूत कैसे मिल गयी?दोस्तो, मेरा नाम आलोक है और मैं जयपुर से हूँ. भाभी- क्या मैं अभी भी भाभी हूं!मैं- सॉरी जानेमन अब से जानू … ठीक है.

चाची की लंबाई 5 फुट 5 इंच, उम्र 29 साल और फिगर 36-32-38 का एकदम गदरया हुआ माल है. वह भी पूरी तरह गर्म हो चुकी थी, जल्दी ही उसने अपनी दोनों टांगें खोल दीं. मैंने उसकी आंखों की पट्टी थोड़ी सी हटाई और उसके सामने खुद भी बिल्कुल नंगा हो गया.

मैंने धीरे से उसके निप्पल को ब्रा के ऊपर से ही अपने होंठों में भर लिया और दबाते हुए मसलने लगा, साथ ही दूसरे निप्पल को अपनी दो उंगलियों की बीच में लेकर मींज दिया.

फिर रात को हम दोनों ने साथ में खाना खाया।आज मैं काफी घुल मिल गई जेठ जी से!मैंने लास्ट में बोला- आपने अपने छोटे भाई की कमी आज पूरी कर दी. हम दोनों ने थोड़ी इधर उधर की बात की पर इस दौरान किसी ने भी उस दोपहर को हुए उस वाकिये के बारे कुछ नहीं कहा. मेरी इस सेक्स कहानी को जो भी महिलाएं पढ़ रही हैं, वो इस सम्वेदना को बेहतर समझ सकती हैं.

इंडिया एक्स एक्स एक्स बीएफमैं अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी साईट का निमियत रूप से पाठक हूं। मैं पिछले कई सालों से यहाँ पर चुदाई की कहानी पढ़ता आ रहा हूं।आज मेरे मन में विचार आया कि क्यों न मैं भी अपनी सच्ची Xxx विडो सेक्स कहानी लिख कर अन्तर्वासना पर भेज दूँ!मेरा नाम सचिन कुमार है और मैं 23 साल का हूं। मेरा कद 5 फिट 8 इंच है। मैं पटना का रहने वाला हूं।मैं सिंगल हूं, मुझे रिलेशनशिप पसंद नहीं है. मेरे बालों में मौसी हाथ घुमाने लगीं और मेरे सिर को अपने मम्मों पर ज़ोर ज़ोर से दबाने लगीं.

बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी

उसने अपने लैपटॉप में वही पोर्न फिल्मों से एक फिल्म चलायी, जो 2 घंटे की थी. धीरू के उस प्यार के लिए मेरी गांड तरस गई थी, पर उस प्यार के दर्द ने मुझे तारे दिखा दिए थे. तभी लड़की की आवाज आई- आह चोद दो मुझे भाई!मैं ये आवाज सुनकर गर्म हो गई.

उसका मुँह मेरे लंड से टकरा जाता।मेरा लंड भी तन रहा था।करीब रात के 10 बजे के करीब मुझे भी नींद आ रही थी. मैंने दीदी से पूछा- वो लोग क्या बोल रहे थे?दीदी ने कहा- कुछ नहीं, वो आपस में ही कुछ जोर जोर से बोल रहे थे. दो मिनट किस करने के बाद वह मुझसे दूर हो गया और मैं उसकी आंखों में देखने लगी.

सुबह नाना पूछने लगे- बेटी, तुम रात को कोई सपना देख रही थीं क्या, जो इतना तेज चिल्लाई थीं. चार पांच धक्के कस कसकर मारने के बाद मेरे लंड ले अपना लावा उगल दिया. मेरी आंखें खुलने से पहले तक पूरा लंड मेरी गांड चीरते हुए घुस चुका था.

भाभी- ठीक है … मेरे राजा!फिर भाभी की टाइट जींस को मैंने एक झटके में उतार फैंका. सौम्या ने मुझे खुद ही बुला लिया और कहा- मेरे लिए जूस ला दो प्लीज़!मैं सौम्या के लिए जूस लेकर गया.

इस बार मैं आपके लिए ये सेक्स कहानी अपने फ्रेंड की तरफ से लिख रहा हूँ.

आंखें बंद करके मैं उस पल का इंतजार कर रही थी लेकिन विलियम अपने लोड़े को मेरी चूत पर रब करके मुझे ज्यादा तड़पा रहा था. सेक्सी बीएफ अंग्रेजी सेक्सीउसने मेरे सिर के पीछे हाथ रख कर उसने मुझे झुका दिया और अपने खड़े लंड की तरफ मेरे मुँह को ले गया. मोटा लंड बीएफ सेक्सीवो पल … जब उसके नाज़ुक से हाथ मेरे होंठों से टकराए, ऐसे गोरे हाथ और मासूम से हाथ मेरे होंठों को … आह तो बस यही अहसास आया कि ये पल यहीं रुक जाए. उसने मेरे बाल जोर से खींचे और बोली- प्लीज अन्दर डाल दो प्लीज़!तड़प के साथ उसको गुस्सा भी आने लगा था.

तब मैंने कहा- रंडी साली मादरचोद … तू पहले नीचे तो बैठ!उसके नीचे बैठते ही मैंने उसके बाल पकड़ लिए और जोर से खींचे और कहा- जल्दी से ले इसे अपने मुंह में … इसे चूस और मुझे आराम दे जल्दी!मेरे गुस्सा करने के बाद वह मेरे लोड़े को चूसने लगी.

कुछ मिनट बाद रीता जोर से अकड़ी और उसने मेरा मुँह अपनी जांघों में भींचकर मेरा सर जोर से चूत पर दबा लिया. आज तेरी चुत की आग ठंडी कर दूँगा … ले भैन की लौड़ी अपने यार का लंड खा. रात में हम दोनों एक ही कमरे में सो गए क्योंकि अकेले चलने में उनको दिक्कत आती थी.

पहली बार मैं ऐसा लंड देख रहा हूँ … तेरा लंड क्या मस्त डंडे जैसा है. वहां मामा की बेटी, मेरी साली अंगिका कुछ ज्यादा ही मेरा ख्याल रख रही थी।मुग्धा का एक बेटा भी है जो उस वक़्त स्कूल में पढ़ रहा था।शाम का वक़्त था और ठंड के मौसम के कारण अंधेरा जल्दी हो जाता था।घर पे सिर्फ मैं और मुग्धा थे, अंगिका अपने दोस्त के घर गई थी और मामा जी आये नहीं थे।मुग्धा मामी छत पर से कपड़े उतारने गयी थी कि तभी मैंने सीढ़ियों की लाइट बन्द कर दी।मैं ‘मामी जी … मामी जी …. मेरा लंड पूरी तरह से तैयार हो चुका था पर मैंने सोचा कि क्यों न उसे थोड़ा और तड़पाया जाए.

बीएफ पिक्चर हिंदी में इंडियन

उसका मल मेरे लंड से लगा हुआ था और मैं होटल के बाथरूम में लंड को साफ़ करने आ गया. भैया ने मुझे ब्रा और पैंटी पहनाई और मेरा हाथ पकड़ कर रूम से बाहर ले गया. जब मैं गाड़ी चलाने लगा, तो सोनाली ने पूछा- क्या लाने गए थे हर्षद?मैंने उसके हाथ में क्रीम की ट्यूब देकर कहा- ये तुम्हारे काम आएगी.

इससे उनकी चुत ने रिसना शुरू कर दिया था, जिससे कमरे में पछ पच की आवाज़ होने लगी.

वो बोलीं- मार ले मेरी जान … चूत तो चोद ही ली है, अब गांड भी मार ले.

अगले दिन में बहुत शर्म सी महसूस कर रही थी लेकिन हम दोनों ने ऐसा ही व्यवहार किया जैसे हमारे बीच कुछ हुआ ही नहीं है. मैंने दीदी को अपने बिस्तर पर लिटा दिया और बिना रुके उनके शरीर के हर हिस्से को चूमने लगा. तेलुगू आंटी बीएफकुछ दिन तक रोज रात में मैं ही रुचिता को फोन लगाता और वो मुझसे साधारण बातचीत करती.

मैंने चाची से पूछा- मुझे आपको चोदना है, क्या आप तैयार हो?उन्होंने हामी भर दी. हमने एक बार और सेक्स किया फिर हम लोग सो गए।इसके बाद क्या-क्या हुआ … वो अगले भाग में बताऊंगा।कैसे अंगिका खुद मेरे नीचे आ गई।मेरी इंडियन मामी सेक्स कहानी पर अपनी राय जरूर बताइयेगा. उसने मुझसे कहा- क्या हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं, चीनी का डिब्बा तुम्हें मिल गया हो, तो थोड़ा पीछे हटो … मुझे नीचे से एक बर्तन निकालना है.

जैसे ही मैंने स्क्रूड्राइवर मांगने के लिए नीचे देखा कि निशा के चुचे ऊपर से साफ साफ दिख रहे थे और मैं उन्हें कुछ देर तक देखता रहा. मैंने पांच-छह तगड़े शॉट मारे और अपना पूरा माल उसकी चुत में डाल दिया.

अगले दिन जब मैं गया तो वो रोज़ की तरह मुझसे पहले खड़ी थी और शायद आज बस की तरफ नहीं … बिल्डिंग की गली तरफ देख कर मेरे आने का ही इन्तज़ार कर रही थी.

जिस वजह से उसे मुँह बना लिया था और मुँह में आए हुए लंड रस को थूक कर अपने आपको ठीक करने लगी. इस कहानी की नायिका रुचिता (बदला नाम) नामक लड़की है, जो कि मेरी ही कॉलोनी में रहती थी. पत्नी ने एक हाथ पीछे लाकर मेरा लंड मुट्ठी में पकड़ा और मुठ मारने लगी.

देहात वाली बीएफ इतना सब होने के बाद भी मैं अब तक चोदन कला में अनुभवहीन एक लड़का था. मैं मन ही मन ये सोच कर खुश था कि शायद आज रात रंगीन होने वाली है, पर मैं डर भी रहा था कि अगर कुछ उल्टा हो गया, तो मेरी वाट लग जाएगी.

पर मैंने तो मार्च में ही चुदाई की थी और मन तो मेरा भी बहुत कर रहा था किसी की चूत चोदने के लिए!मेरा लंड हमेशा तैयार रहता था. चाचा के कमरे का बिस्तर काफी बड़ा था क्योंकि ये 3 लोग एक ही बिस्तर पर सोते थे. मैंने भी जागने का नाटक करके विलास से कहा- यार विलास ये क्या कर रहा है … सोने दे न मुझे!वो बोला- हर्षद यार तेरा लंड कितना लंबा और मोटा है.

गांव की बीएफ सेक्स

मुझे लगा जीजा दीदी को चोद रहे हैं, पर जब वहां जाकर देखा नज़ारा कुछ और ही था. भाभी की और देवर की चुदाई कहानी के पहले भागभैया चुदाई का मजा नहीं दे पाए भाभी कोमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं भाभी की याद में मुठ मारकर सो गया था. जब मैं वापस आया तो देखा कि चाची का गाउन कुछ ज्यादा ही ऊपर ऐसे उठा हुआ था, जैसे कह रही हों कि बेटा आ जा मेरी गांड मार ले.

वो भी मूड बना कर आई थी इसलिए वो भी गर्म होने लगी और मेरा साथ देने लगी. सुबह मेरी आंख खुली मैंने देखा कि अंकल की लुंगी उनसे अलग थलग पड़ी है और उनका हथियार सोया हुआ है.

मोहन के झगड़े के नाटक के बाद विशाल ने मोहन पर खूब गुस्सा किया, फिर उसकी धुंआधार गांड मारी.

तो दोस्तो, यह थी मेरी असली कहानी!कृपया मेल करके बताइए कि आपको मेरी कहानी कैसी लगी।कमेंट बॉक्स में भी कमेंट करके बतायें. वो सरक कर मुझसे सटकर बैठकर बोली- क्या सच कहते हो हर्षद?मैंने मुस्कुराकर कहा- सच में डाक्टर. मैंने उसके रसीले आम को अपने मुँह में भर लिया और दबाते हुए चूसने लगा.

मैंने अपना एक हाथ उसके सलवार में डाला और कच्छी के ऊपर से ही उसकी चुत को सहलाने लगा. कुछ देर बाद डॉक्टर नेमम्मी के मुंह में लंडघुसेड़कर दिया।वो मम्मी का मुंह चोदने लगा और कुछ देर बाद उनके मुंह में झड़ गया।फिर को उठा कर उनकी जांघों को दबा कर अपनी जांघों से उनकी छातियों को अपनी मुट्ठी में पकड़ कर उनकी चूत चोदने लगा. मम्मी भैया के लंड को चूस रही थीं और पापा ने मेरी चूत में अपने बड़े लंड को घुसेड़ दिया था.

उधर से एक कटोरी में सरसों का तेल लिया और उसे थोड़ा भी गर्म कर लिया.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ: रवि का चेहरा धुलवाकर मोहन ने उसे लाल लिपस्टिक, बिंदी लगा दी और रवि को चादर ओढ़ा दी. लंड ने मुँह घुसाया ही था कि मैंने एक जोरदार धक्के के साथ आधे से ज्यादा लंड को मौसी की चूत में उतार दिया.

आज मेरा यहां आने का कारण मेरे बहुत से अनुभवों में से एक को साझा करने का है. मैं जैसे ही जाने को उठा, तो उसने मुझसे कहा- आज मेरे पास ही ठहर जाओ ना. ’‘आज तो रहा ही नहीं जा रहा उम्म्म्म …’सर ने मुझे बांहों में भर लिया और चूमने लगे.

उसकी चुत चुदाई उसी के घर में किस तरह से हुई, वो मैं हॉट चुत की सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगा.

विलास को लगा कि मैं गहरी नींद में हूँ, तो उसने मेरे लंड को ऊपर से ही आहिस्ता आहिस्ता दबाना चालू कर दिया. अब रीता मुझे अपने ऊपर खींचने लगी और कहने लगी- जानू अब और मत तड़पाओ, जल्दी सेमेरी चूत की खुजलीमिटा दो!मैंने पूछ लिया- क्या तुम्हारी चूत की खुजली पति नहीं मिटाता?रीता बोली- मिटाता है, पर 2 महीने में एकाध बार!मैंने उसे सोफे पर कुतिया बनाया और अपने लंड के टोपे से ऱीता की चूत को रगड़ा. वो दोनों पता नहीं क्या बातें कर रही थीं और मेरी तरफ देख कर हंस रही थीं.