हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ

छवि स्रोत,ચાઇના સેક્સ

तस्वीर का शीर्षक ,

भक्ति वॉलपेपर: हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ, मौसी हंसने लगीं और बोलीं- अच्छा ये बता, तेरी कोई गर्लफ्रेंड है?मैं- नहीं मौसी, मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

मां बेटे की चुदाई सेक्सी स्टोरी

अब वो भी मस्ताने लगी थी- आह जोर से … और जोर से जीजू … आज से मैं आपकी हुई … आपका जब मन करे, मुझे प्यार करो, जब चोदने का दिल करे तो अपने ऊपर लेटा लो … आप जैसा बोलोगे, मैं वैसा करूंगी … बस मुझे जिंदगी भर चोदते रहना. कॉलेज की सेक्सी फोटोमगर वो दोनों साले आपस में यही बातें किए जा रहे थे कि टीना और दिशा चोदने लायक माल हैं यार!वो टीना की चुचियां देख कर लार टपका रहे थे तो कभी दिशा की चुचियां देख कर … वो दोनों यही सब कर रहे थे.

मेरे पास मेरी और भी बहुत सी सच्ची कहानी है जो मैं आकर जल्दी शेयर करूंगा।[emailprotected]. ललित सेक्सी वीडियोउसके वो मखमली संतरे जैसे चुचे और बालों से घिरी हुई चुत की एक झलक मुझे मिल गयी थी, जो उसने ट्रिम की हुई थी.

जैसे ही मेरा ध्यान घड़ी पर गया, मैंने अपने लंड को चुत से बाहर निकाला.हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ: वो मेरे सामने सिर्फ ब्रा पैंटी में रह गई थी और मैं एक अंडरवियर में उसके सामने था.

मेरी सौम्या डार्लिंग ने कहा कि दिल्ली में तो हमारे रिलेशन में कोई नहीं रहता.ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, तो कोई भूल चूक हो सकती है, अत: पहले ही माफी मांग रहा हूँ.

जापानी सेक्सी वीडियो वीडियो - हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ

वो हंसी और बोली- फट्टू … बच्चे अगर जाग रहे होते, तो ये भी बोलते कि पापा मम्मी किसी से रात में बात कर रही थीं.मगर जब से मेरी नजरें चाची जी को लेकर बदलीं, तब से सीन ही बदल गया था.

हमारे बीच जो भी बातें होंगी और हम दोनों का हर रिश्ता सिर्फ हम दोनों तक ही सीमित रहेगा हर्षद. हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ इतना सुनते ही धीरू ने एक ज़ोरदार धक्का लगाया और अपना लौड़ा मेरी गांड के अन्दर तक घुसा दिया.

अन्दर घुसते ही गेट बंद करके मैंने उनको पीछे से कसके पकड़ लिया और उनको चूमने लगा, उनके दूध दबाने लगा.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ?

दीदी की चूत से सारा रस चाट लेने के बाद भी मैं दीदी की चूत को चूसता रहा था. फिर मैंने अचानक से एक धक्का मारा तो लंड का सुपारा जरा सा अन्दर घुस गया. मैं- साली मरवाएगी क्या … भैन की लौड़ी क्यों चीख रही है छिनाल … कोई कुंवारी लौंडिया नहीं है तू, जो गला फाड़ रही है.

वहां मामा की बेटी, मेरी साली अंगिका कुछ ज्यादा ही मेरा ख्याल रख रही थी।मुग्धा का एक बेटा भी है जो उस वक़्त स्कूल में पढ़ रहा था।शाम का वक़्त था और ठंड के मौसम के कारण अंधेरा जल्दी हो जाता था।घर पे सिर्फ मैं और मुग्धा थे, अंगिका अपने दोस्त के घर गई थी और मामा जी आये नहीं थे।मुग्धा मामी छत पर से कपड़े उतारने गयी थी कि तभी मैंने सीढ़ियों की लाइट बन्द कर दी।मैं ‘मामी जी … मामी जी …. मैं कई बात इस बात को चैक कर चुकी हूँ कि दादी रात को बेसुध होकर सोती रहती हैं. मैंने बिना कोई देरी किए मम्मी के होंठों पर अपने होंठ रख दिए और करीब दो मिनट तक ऐसे ही चूमता रहा.

पर मैंने अब उसकी एक न सुनी और वो चिल्लाती रही- आअह हईई हह्ह आययी ईइ!उसकी मीठी आवाजें निकलती रहीं और मैं बस तेजी से धक्के मारता रहा. भाभी ने कसमसाते हुए कहा- आह मेरे राजा, तुम्हारी तो उंगली ही मेरे लिए मोटी है. देवर भाभी की सेक्सी स्टोरी मेरी मौसेरे भाई की पत्नी के साथ सेक्स अनुभव की है.

शाम को खाना खाने के बाद टीवी देखी और नीरजा को आवाज दी मगर नीरजा को नींद आ रही थी तो वो नहीं आई. मैंने किस के बाद कहा- जानू, इस बार तुमने मुँह में किशमिश वाली बात नहीं कही?भाभी हंस दीं और बोलीं- दो किशमिश का मजा तो ले ही चुके हो, अब तीसरी का मजा भी ले लो.

मैंने दूध गर्म किया और मौसी के दूध में वो सेक्स की इच्छा बढ़ाने वाली दवा अच्छी तरह से मिक्स कर दी और दूध का गिलास लेकर सीधा मौसी के कमरे में चला गया.

मम्मा- कैसा इलाज?मैं- मैं अपनी मशीन के माध्यम से पास्ट में जाकर अपनी डार्लिंग को नसबंदी कराने से रोक लूंगा.

भईया बोले- हमारे यहां पहले कुल देवी की देहरी पर धोक लगने के बाद ही साथ सो सकते हैं. रास्ते में मैंने उससे पूछा- फ़लक एक बात बताओ, आज तुमको इतना दर्द क्यों हुआ … और तुम्हारा खून भी निकला. उसने मेरी आईडी की एंट्री रजिस्टर में कर ली और मुझे आईडी वापस थमाते हुए मेरा नाम बोला- शालिनी राठौड़!मैंने भी सर हिलाकर अपना नाम कंफर्म किया और हल्का सा मुस्कुराई.

फिर बाकी बातें रात को खाना खाने के बाद करेंगे। और आज रात हमारे नज़दीक ही सोना, 12 बजे हम यहां से निकलेंगे।” सीमा ने सारी बातें बताकर मयंक को साइकिल लेने भेज दिया।रात का खाना सर्दियों की वजह से जल्दी हो गया करीब 8 बजे तक खाना खत्म कर 9 बजे तक तो सब सोने लगे।लेकिन हमें इंतज़ार था सब के सोने का, कोई कोई रिश्तेदार अभी भी जग रहा था. हम दोनों इतने ख़ास दोस्त थे कि हम हर चीज़ को एक दूसरे में बांट लिया करते थे, चाहे वो कोई खाने की चीज हो या खेलने की या गाड़ी. फिर भी उसका जिस्म ऐसा कसा हुआ था कि अच्छे अच्छों के मुँह और लंड में पानी आ जाए.

वो दूध चुसवाने में ही इतनी मस्त हो गई थी कि उसने मुझे खुद अपने हाथों से पकड़ पकड़ अपने दूध पिलाए.

सुबह का ये सेशन करीब आधा घंटा चला और वो मुझे तृप्त करके अलग हो गया. वो मेरे नीचे थी।मैं सोरी बोलने लगा और उसकी चूत ढूंढने लगा अपने लण्ड से!उसने कहा- कोई बात नहीं … आपको तो चोट नहीं आयी?मैं- नहीं, मैं आपके ऊपर हूँ. मैं- अहहा … आशिमाआ … आंह मेरी जान … बहुत मज़ा आ रहा है … जान ऐसे ही करो.

मैंने सरिता को हाथ देकर उठाया और सरिता बैठकर चुत से बहते हुए कामरस को देख कर बोली- बहुत दिनों के बाद मेरी प्यासी चुत की प्यास तुम्हारे मोटे लंड ने बुझायी है हर्षद!हां सरिता आज मैं भी बहुत खुश हूँ. मैं खुश भी था कि आज एक साथ दो चूत मिलेगी।मैंने बिना देर किए मेरी पैंट की ज़िप को खोला और लन्ड बाहर निकल कर हाथों से मसलने लगा. एक दिन उसकी एक सहेली ने मुझे देखा और कहा कि क्या तुम रुचिता को पसंद करते हो?मैं पहले तो सकपका गया.

उनमें से एक 19-20 साल की लड़की थी, जो दिखने में ठीक-ठाक थी और हाइट भी अच्छी थी, मतलब चोदने लायक माल थी.

लेकिन विलियम को कोई जल्दबाजी नहीं थी, उसने दोबारा से अपने दोनों हाथों से मेरी चूत को चौड़ा किया और अपनी जीभ फिर से चूत में घुसा दी. एक बार मैंने उसे रियल सेक्स के लिए कहा तो उसने मुझे अपने शहर में बुला लिया.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ जब हम वहां से फ्री हुए तो हमें बहुत अच्छी और फ्रेश फीलिंग आ रही थी. रात को 8 बजे का समय था, लाइट थी नहीं और मुझे होटल से कहीं दूर किसी घर में पहुंचना था जो कंपनी का गेस्ट हाउस था.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ उधर एक शॉप थी, जिस पर मैं अक्सर खड़ा रहता और उस लड़की से आते जाते नज़रें मिल जाती थीं. तब भी मुकेश का लंड बहुत मोटा था और गांड मराने में दर्द होता ही है, ये गांड में लंड लेने वाले और वाली, सब जानते होंगे.

मैंने उसकी चुत में उंगली घुसेड़ी, तो अन्दर से चूत में पानी आया हुआ था.

करवा चौथ का बीएफ

वासना से मेरी मॉम की चुत अन्दर से तो तरबूज की तरह लाल दिखने लगी थी. मैं- तो मैं इसमें क्या कर सकता हूं! मेरे लायक अगर कोई काम हो तो मैं जरूर कर दूंगा. वो मेरे लंड से अपनी चुत की खुजली शान्त करवा कर अपने कपड़े ठीक करके नीचे चली गई थी.

मैंने उसे लेटा दिया और उसके मुँह में मुँह लगा कर उसके होंठों को चूसने लगा. दस बारह मिनट की चुदाई के बाद ही मेरा निकलने को हो गया और मैंने चाची की गांड को हाथों से थामकर तेजी से उनकी चूत में झटके देने शुरू कर दिए. खाने के बाद माया दीदी ने मेरी ओर देखा और बोलीं- राजू तुम तो काफी बड़े हो गए हो.

मैंने पूछा- क्यों?वो बोली- मेरा बस तुम्हारे साथ सेक्स करने का मन था तो जब से मेरा इंडिया आना पक्का हुआ, मैंने सेक्स ही नहीं किया.

हम सोने लगे तो फ़लक ने पहले कुछ सोचा और उसने मेरी तरफ कातिलाना नजरों से देख कर एक स्माइल दी और मुझे किस करके मेरी छाती पर सर रख कर लेट गयी. फिर मैंने एक ही झटके में उनको नीचे लिटा दिया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा. भावेश के पापा काफी हट्टे-कट्टे थे और अपनी धुन में ज्यादा ही रहते थे.

उसमें से एक टी-शर्ट लोअर भी ले लो क्योंकि आप भी गीले हो गए हो, तो आप भी चेंज कर लो. फिर मैंने एक पट्टी उसकी आंखों पर बांध दी, जिससे उसे कुछ नहीं दिख रहा था. उसने हंस कर कहा- आराम से!मैंने अपना मुँह उसकी गांड से सटा दिया और टांगें फैला कर उसकी गांड की खुशबू ली.

अब आगे भाभी की हॉट चुदाई:बीस मिनट की चूमाचाटी करने के बाद मिनी ने अपने गाउन को खोल दिया. फिर उसकी जब सांस घुटने लगी तो एकदम मेरा लंड बाहर निकाला और सांस लेने लगी.

दूसरी ओर मेरी चाची मेरे लन्ड को सहलाते हुए मेरे शरीर को चूम रही थी।मैंने मुस्कान को थोड़ा सा दूर करके मेरी चाची को बांहों में उठाया और उनके बदन चूमने लगा।कुछ देर चूमने के बाद मैंने उनके बड़े बड़े बूब्स को चूसना और चूमना शुरू किया. टीना शहर से थी तो उसने पॉर्न फ़िल्में देख रखी थीं मगर वो अब तक चुदी नहीं थी. फिर रानी की चूचियों को सोचते हुए मुझे कब नींद आ गयी, कुछ पता ही नहीं चला.

विशाल का मूतना ख़त्म होने के बाद, तीनों ने एक दूसरे को साबुन पानी से नहलाया.

उन दोनों पूरी चुदाई देखने के बाद मैं अपने लंड को शांत करने के लिए टॉयलेट में चला गया. मुझे देखकर गली के लड़कों के लंड खड़े हो जाते हैं और कई बार तो मैंने लड़कों को अपने लंड मसलते हुए भी देखा है. दरअसल हम दोनों की काफी पटती थी और हमारे बीच हर तरह की बातें चलती थीं.

इसी दौरान कई दिलफेंक मर्द मिले, दिल फेंक क्यों ना मिलते, मेरा फिगर ही कातिल था. कमरे की देहरी में घुसने से पहले वो थोड़ा आगे पीछे हुई लेकिन फिर अन्दर आ गयी.

मैंने भी वक्त की नज़ाकत को समझते हुए आगे कुछ नहीं किया और उसके साथ चुम्मा चाटी के बाद अलग हो गया. मुझे लगा तौलिया शायद बाहर ही रखा होगा, तो मैं ये चुन्नी लपेट कर तौलिया लेने आया ही था कि आपने मुझे देख लिया. फिर मैं धीरे से उसका कुर्ता ऊपर करने लगा और उसके शरीर से कुर्ता अलग कर दिया.

हिंदी वीडियो बीएफ ओपन

दो तीन कोशिशों में जब कामयाबी नहीं मिली तो उसने खुद अपने ब्लाउज को ऊपर खिसका दिया।ब्लाउज अब भी था तो सीने पर मगर मम्मे आजाद थे।मैंने उनको अपने हाथों में भर लिया.

उसके बाद अब हार्दिक और मैं बारी बारी से शनाया को एक ही बेड पर चोदने लगे हैं. मैंने अपनी देसी गर्लफ्रेंड Xxx चुदाई का मजा लिया पहली बार! हम दोनों ही सेक्स के मामले में अनाड़ी थे पर इंसान करके ही तो सीखता है ना! हमने भी सीखा!मेरा नाम ललित है. चूंकि मैं हरामी टाइप का तो था मगर औरतों के सामने ज्यादातर समय शर्मीला सा बर्ताव करने लग जाता था.

मैंने लंड को थूक से गीला करके उनके होंठों को अपने होंठों में दबाया और लंड को जोर से चूत में घुसाने लगा. मैं धीरे धीरे भाभी की चुत को भोसड़ा बनाता गया और मेरा पूरा लंड चुत में पेवस्त हो गया. सेक्सी वीडियो रानी कीउसके बाद हमारी थोड़ी बहुत नॉनवेज बातें होने लग गई और 1 महीने तक हम चुदाई की बातें भी करने लगे।वह बहुत टाइम से सिंगल थी और लगभग 1 साल से चुदी नहीं थी.

मैंने कहा- अरे ऐसा नहीं, सुन्दर हो तो लड़के लोगों को अक्सर जब कोई बहुत सुन्दर लड़की दिखती है, तो वो उसे माल कहते हैं. करीब बीस मिनट तक मैं सरिता की चूत चोदता रहा और सरिता मादक आवाजों के साथ सीत्कारती रही थी.

जैसे ही मोबाइल ठीक हुआ, मैंने घर आकर दीदी को मोबाइल दे दिया और अपने कमरे में चला गया. वो बिस्तर से उठीं, पर वो इतना थक चुकी थीं कि ठीक से खड़ी भी नहीं हो पा रही थीं. वो मुझसे बोलीं- अपने जीजा जी के साथ तुमने भी शराब पी है क्या?मैं- हां दीदी थोड़ी सी पी ली.

मैंने इधर उधर देखा, पुलकित नहीं दिखा तो मैंने अकेले ही जाने का सोचा. मैंने सौम्या को खुश करने के लिए उससे बातें करनी शुरू कर दीं, सौम्या को हंसाना शुरू कर दिया. मैं उसकी तरफ देख कर हल्का सा मुस्कुरा दिया तो बदले में उसने भी थोड़ी सी स्माइल दे दी.

जैसे ही लंड बाहर आया तो चूत से रेखा का चूतरस और मेरा लंडरस दोनों एक दूसरे में मिश्रित होकर बाहर बहने लगा था.

वो रोज की 5-6 सिगरेट भी पीते हैं और उनके मुँह से हमेशा सिगेरट की दुर्गन्ध आती रहती है. विलियम का पूरा चेहरा और सीना मेरे मूत से भीग चुका था और चादर भी पूरी भीग चुकी थी.

सरिता ने अपना एक हाथ मेरी गर्दन के नीचे से डालकर बाहर निकाला और दूसरे हाथ से मेरा सीना और पेट को सहलाने लगी. मैं उसे पागलों की तरह वाइल्ड किस किए जा रहा था, कभी उसे काटता, कभी कुछ. अब आगे लेडी डॉक्टर पोर्न स्टोरी:अब मैं अपनी जीभ रेखा की चूत में और गहराई में डालकर घुमाने लगा.

लिफ्ट खुलते ही लड़का मेरा बैग उठाकर बाहर निकल गया और रूम की तरफ जाने लगा. भाभी ने मेरा पूरा लंड अपने मुँह में ले लिया था और गले तक लेती हुई मुझे लंड चुसाई का मजा दे रही थीं. रेखा मदहोश होकर सब देखती हुई जोर से सिसकारियां ले रही थी- आ हा स्स स्स ऊंई उफ्फ हुं हूँ.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ प्राची ने रूम में आते ही मेरे चड्डी में हाथ डाल दिया और मिनी के ऊपर से चादर हटा दिया. मैंने बोला- निशा, कौन सा कौन सा पंखा खराब है?वो बोली- मेरे बेडरूम का पंखा है.

मूवी वीडियो बीएफ

अब वो प्यार भरे स्वर में बड़बड़ाने लगी थी- आंह जानू … चोद दो … आह … अह … मजा आ रहा है. पिछले भागवासना में डूबी लड़की मेरे साथ नंगीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने डॉक्टर रेखा की चूत चूसकर और उसके मम्मे मसल कर उसे पूरी गर्म कर कर दिया था. फिर मैंने उसकी टी-शर्ट को ऊपर कर दिया और ब्रा में से उसकी चूचियां दबाने लगा।उसके हाथ मेरी गर्दन पर थे और मैंने उसकी ब्रा उतार कर उसकी बाई तरफ वाली वाली चुची को अपने मुंह में भर लिया और उसके निप्पल चूसने लगा और साथ में अपने हाथ से दाईं तरफ वाली चूची को दबाने लगा।उसके मुंह से सिसकारियां निकल रही थी- आह अआह!अभी तक हमें यह सब खड़े होकर कर रहे थे पर तब मैंने उसे बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया.

वहां वो घर पर अपनी सहेली के साथ बाजार से खरीदारी का बहाना करके आने वाली थी. मैंने फ़लक को पकड़ा और उसका मुँह ऊपर करके उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. सेक्स पिक्चर हिंदी सेक्सीदेसी गर्ल Xxx कहानी मेरे चाचा की कमसिन जवान बेटी की पहली चुदाई की है.

विलियम मेरे कमीज को खींचने लगा तो मैं समझ गई कि अब यह मेरे बदन पर कपड़े नहीं रहने देगा.

फिर मैंने जब अपना मुँह आंटी की चूत से हटाया, तो आंटी ने मेरी तरफ मुझे देख कर मुझे कॉलर से पकड़ कर झटके से उठा दिया. मैं अपनी दीदी को अपने लंड पर बिठा कर उन्हें खड़े लंड की सवारी करवाने लगा.

इससे वो बेकाबू हो गईं और अपनी आंखें बंद करके मादक सिसकारियां लेने लगी थीं. उसके मुँह से ज़ोर ज़ोर से आह्ह आह्ह की सिसकारियां निकलने लगीं, साथ की साथ मेरे हाथ उसकी चूचियों को भी मसल रहे थे, तो वो अपनी कामोत्तेजना के चरम पर आती जा रही थी. शिल्पा ने अपने मुँह से लंड को बाहर निकाल लिया और ‘अअअ अअ ओऊ … आआह …’ की आवाज करने लगी.

मेरी बहन मुझे देख कर चौंक गई और अपने आप को ढकने लगी और कहने लगी- तुम यहां पर कैसे?तो मैंने कहा- बहना, आप यह सब क्या कर रही थी?वो घबरा कर इधर उधर देखने लगी, कुछ बोली नहीं.

उस दिन मैं और मेरा फ्रेंड साथ में बाहर घूम रहे थे, तभी अचानक मेरे फ्रेंड को कॉल आया कि भाभी और भैया घर पहुंच गए हैं. कुछ समय बाद जब मैं नॉर्मल हुआ तब उसको समझाने का बहाना बनाकर मैं सामने से उठकर बिल्कुल उसके पास उसी की बेंच पर जाकर बैठ गया. ट्रेन अपने राईट टाइम पर आ गयी और मैं अपनी पसंदीदा विंडो सीट पर जाकर बैठ गया.

चौधरी सेक्सी फोटोमैं अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी साईट का निमियत रूप से पाठक हूं। मैं पिछले कई सालों से यहाँ पर चुदाई की कहानी पढ़ता आ रहा हूं।आज मेरे मन में विचार आया कि क्यों न मैं भी अपनी सच्ची Xxx विडो सेक्स कहानी लिख कर अन्तर्वासना पर भेज दूँ!मेरा नाम सचिन कुमार है और मैं 23 साल का हूं। मेरा कद 5 फिट 8 इंच है। मैं पटना का रहने वाला हूं।मैं सिंगल हूं, मुझे रिलेशनशिप पसंद नहीं है. आशा करता हूँ कि आपको मेरी ये रियल हॉट गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी पसंद आयी होगी.

बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी

ऐसी कोई भी बात नहीं है, जो हम एक दूसरे से शेयर ना करते हों, चाहे वो एक दूसरे की गर्लफ्रेंड की चुदाई की बातें हों … या किसी और की चुदाई की बातें हों. समीर मेरी चुत में उंगली करने लगा तो मुझे और भी ज्यादा चुदास चढ़ने लगी. इस तरह से सिर्फ सौम्या ही अन्दर आयी और आते ही हम दोनों ने प्यार का खेल खेलना शुरू कर दिया.

उसका मुँह मेरे लंड से टकरा जाता।मेरा लंड भी तन रहा था।करीब रात के 10 बजे के करीब मुझे भी नींद आ रही थी. मुझे एक बात याद आ गई कि ‘पुरुष अक्सर संभोग के दौरान वीर्यपात होने पर अलग हो जाते हैं और स्त्री को लगता है कि वह छली गई है।’मैंने उसकी आंखों में देखने का प्रयास किया पर कुछ जान नहीं पाया. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:बस स्टॉप पर एक भाभी से दोस्ती और प्यार- 3.

नई भाभी की चुदाई बार बार की मैंने उसी के घर में! भाभी को लगा कि मेरा दोस्त उसे बच्चा नहीं दे पायेगा तो उसने मुझसे गर्भधारण में मदद मांगी. मैंने सौम्या डार्लिंग से रुकने को रिक्वेस्ट की और कहा- मैं घर पर अकेले बोर होता रहूंगा. जब सुबह हम दोनों मिलते तो वहीं पर किसी शांत जगह को देख कर बातें करना और चुम्बन अर्थात चुम्मा-चाटी भी कर लिया करते थे.

मैं उससे बात करने का प्रयास कर रहा था किन्तु वो मुझ पर ज्यादा ध्यान नहीं दे रही थी. अपनी चुत पर मेरी जीभ का स्पर्श पाते ही शिखा उचक पड़ी और उसके मुँह से एक गहरी सांस के साथ ‘आह्ह्ह …’ निकल गई.

वो वहीं झड़ गई, उसकी चुत ने सारा रस निकाल दिया और उससे उसकी पूरी जींस भीग गई.

तभी मैंने एक स्टिक उसकी चूतड़ों पर मारी, जिससे वो चिहुंक गयी और थोड़ा मीठे दर्द से चिल्लाई. தமிழ் செக்ஸ் பிக்சர்रेखा के मुँह से मादक आवाजें निकल रही थीं, इससे मैं जोश में आकर उसके कूल्हे जोर जोर से मसलने लगा तो मेरे लंड का दबाव उसकी चूत पर बढ़ने लगा. सेक्सी लिखाXxx इंडियन भाभी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने काल्पनिक टाइम मशीन में भूतकाल में जाकर अपनी मम्मी को उनका देवर बनकर चोद दिया. मैंने उसको बेड पर लिटा कर उसकी गांड में उंगली डालना चालू की और साथ में उसकी चूत को चूसना भी चालू किया.

वह झट से मेरे पेट के ऊपर आ गया और अपना लण्ड मेरे बूब्स के बीच में रख दिया.

समीर मेरे मम्मों को घूर रहा था और मैं भी उसे अपने दूध दिखा कर गर्म कर रही थी. उनकी भरी हुई मखमली जांघों पर चुम्बन करते हुए मैंने उनकी साड़ी पेट तक उठा दी. वो मेरे इस सवाल पर एकदम से फट पड़ी- उस भैन के लौड़े का खड़ा ही नहीं होता है, तो साला अन्दर बाहर क्या करेगा.

हॉट गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी गर्लफ्रेंड की चूत बहुत चोद चुका था. नई भाभी की चुदाई कहानी के पिछले भागदोस्त की बीवी ने मुझसे बच्चा माँगामें अब तक आपने पढ़ा था कि सरिता मेरे लंड से चुदने के लिए एकदम गर्म हो गई थी. गीली चूत में लंड अन्दर बाहर करने से पच पचा पच की आवाजें गूंज रही थीं.

बीएफ पिक्चर हिंदी में इंडियन

लंड बाहर आते ही हम दोनों का कामरस बाहर बहकर बेडशीट गीली करने लगा था. नहा धोकर बैठा ही था कि उसका मैसेज आया कि ये चॉकलेट क्यों रखा … पहले ही इतना मोटी हूँ और वजन बढ़ जाएगा. बताइए मैं क्या करूं?वो- मेरी गर्दन के पास बहुत खुजली हो रही है … थोड़ा खुजा दोगे?इसी पल का मुझे इंतजार था.

Xxx पेनफुल सेक्स कहानी में पढ़ें कि जब NRI भाभी की चूत में मेरा मोटा लंड घुसा तो उसे बहुत दर्द हुआ.

मगर मैं इस बात को भी जानती हूँ कि एक बार मेरे मामा के लड़के की शादी हो जाने के बाद वो मुझे चोदेगा तो, मगर मेरा मन शायद अपना प्यार बंट जाने को स्वीकार नहीं करेगा और मैं एक रखैल की हैसियत से ज्यादा कुछ नहीं पा सकूंगी.

तो शादी के शुरूआती समय में तो उन्होंने मेरी बात मानकर डॉक्टर को दिखाया, पर उन्होंने दवा का कोर्स पूरा ही नहीं किया और अपनी इन आदतों के गुलाम बनते गए. कुछ ही पलों में मैंने इतनी जोरों से चुदाई चालू कर दी कि उसकी चीखें निकलना शुरू हो गईं. झवाझवि विनोदउस लड़के ने मुझे मेरे ही बेडरूम में कैसे चोदा?फ्रेंड्स, मैं जीनी भोपाल से एक बार फिर से आपके सामने अपनी चुत चुदाई की कहानी को आगे बढ़ा रही हूँ.

पैंटी काफी टाइट थी जिससे चाची की चूत की दोनों फांकें अपनी शेप दिखा रही थीं. अब चाचा जी ने लंड पेले हुए ही दीदी की चूचियां दबानी शुरू की और बाइक चलाने को बोल दिया. साथियो, मैं अगम एक बार फिर से आपके सामने अपनी प्रेयसी फ़लक के साथ हाजिर हूँ.

भाभी को शायद पहले से पता था कि मैं क्या चाहता हूँ … मगर वो गर्म मसाला लेकर अपने फ्लैट पर वापस चली गईं. Xxx डॉक्टर फक स्टोरी मेरी सीधी सादी घरेलू मम्मी की चूत गांड चुदाई की है.

फिर मैंने उसे कहा- अब तुम नीचे बैठ जाओ और मेरा लौड़ा चूसना चालू करो!तो वह कहने लगी- नहीं नहीं, मैं यह सब नहीं करूंगी.

फिर उसने मेरी चूत पर कुछ ठंडा ठंडा लगाया, जिससे मेरी आंखें खुल गईं. मैं प्लान के मुताबिक घर से बाहर कुछ दूर जाकर एक पेड़ की आड़ में खड़ा हो गया जिधर से मैं घर के गेट को दिख सकूं. उसके बूब्स थोड़े छोटे थे, लेकिन फिर भी वो बहुत ज्यादा ही हॉट आइटम थी.

एचडी सेक्सी वीडियो ब्लू इतना सब होने के बाद भी मैं अब तक चोदन कला में अनुभवहीन एक लड़का था. मैं- अब इसे देखती ही रहोगी या मुँह में भी लोगी?मौसी- इसे मुँह में कौन लेता है.

चाची को चूमने के साथ-साथ मैं अपने एक हाथ से उनके बोबों को दबा रहा था और मेरा दूसरा हाथ चाची की चुत को रगड़ने में लग गया था. विलियम ने झट से अंदर से दरवाजा बंद कर दिया और मुस्कुराता हुआ मेरी तरफ आने लगा. मैंने ऊपर टी-शर्ट नहीं पहनी थी, तो वो मेरी चौड़ी छाती और गठीला बदन देख रही थी.

गांव की बीएफ सेक्स

उसका मुझसे चुदाई करवाने का बहुत मन था पर वो डरती थी कि कहीं मुझको अच्छा ना लगे. अगर कोई गलती हुई हो, तो माफ़ करना और मोटी आंटी सेक्स कहानी पर अपनी राय जरूर देना. उसके बाद फोन पर बातें तो होती ही रहती थीं पर मिलना नहीं हो पाता था.

सन्नी ने मुझको अपने एक दोस्त का नम्बर दिया जो लखनऊ का था लेकिन मोदीनगर में रह कर पढ़ाई कर रहा था. जैसे ही उसने अपने कपड़े उतार कर ब्रा पैंटी पहनना शुरू किया, तभी उसका भाई उसके रूम में आ गया.

सरिता बोली- मेरी चूत के आजू बाजू और जांघों में बहुत दर्द हो रहा है.

जिनल धीरे धीरे बोल रही थी- आंह इस्स आह आ मेरी जान … साले भड़वे मेरे चूचे निकाल कर चूस … बहुत तंग कर रहे हैं इतने बड़े बड़े हो गए हैं और कोई मादरचोद इन्हें चूसने वाला ही नहीं है. जब हम वहां से फ्री हुए तो हमें बहुत अच्छी और फ्रेश फीलिंग आ रही थी. मस्ती से वो मेरे सर को पकड़ कर अपने मम्मों पर दबा रही थी और मुझसे अपने थन चुसवा रही थी.

उसका पूरा लंड मेरी चूत में था और मुझे पता नहीं किस चीज़ का नशा चढ़ गया था, जो मैं अपनी आंखों से आंसू भी बहा रही थी और अपने भाई का लंड लेने को भी मरी जा रही थी. उसने मुझे धकेलते हुए कहा- उन्ह ये सब अभी नहीं, मम्मी कभी भी आ सकती हैं. वो सिहर गई लेकिन कुछ ही देर में लंड ने चुत को मजा देना शुरू कर दिया था.

वो शर्मा गई और मेरे साथ चिपकती हुई बोली- अभी नहीं … अभी कोई आ जाएगा.

हिंदी सेक्स बीएफ हिंदी सेक्स बीएफ: रवि का चेहरा धुलवाकर मोहन ने उसे लाल लिपस्टिक, बिंदी लगा दी और रवि को चादर ओढ़ा दी. लंड ने मुँह घुसाया ही था कि मैंने एक जोरदार धक्के के साथ आधे से ज्यादा लंड को मौसी की चूत में उतार दिया.

इस वक़्त मेरा एक हाथ उसकी कनपटी पर था, मैं होंठ से होंठ चूस रहा था और हल्के हाथ से उसकी चूत को उसकी लैंगिंग्स के ऊपर से सहला रहा था. उधर ड्रिंक करना मगर यहां गलत हरकत मत करो क्योंकि अभी सामने वाले भैया और भाभी भी हैं. सबने मिलकर दादा जी को नीचे उतार दिया और मेरी दीदी से कहा गया कि इन अंकल जी का लंड चूसकर टाइट करो.

सच कहूँ दोस्त, उस पल तो मन किया कि उसको वापस खींच कर गाड़ी में बैठा कर कस कर चूम लूं.

मैंने पहले से बगल में पड़ी वैसलीन को उठा कर अपने लंड पर मल दिया और और उसकी चुत में भी लगा दिया. ” मयंक ने सिर्फ इतना ही कहा।अच्छा एक काम करो मयंक … उस गैराज वाले के पास जाकर सायकिल लेकर आओ. मेरी चीख निकल गई तो पापा ने मेरे मुँह को अपने हाथ से बंद कर दिया और धीरे धीरे मुझे चोदने लगे.