बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ की कहानी

तस्वीर का शीर्षक ,

मैडम को चोदा: बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली, मैं बोला- आज तुमने पहली दफा अपनी गांड में लंड लिया है और तुम्हारी गांड की सील भी आज ही टूटी है.

दिल तोड़ने वाला बीएफ

शायरा ने तुरन्त मेरी कमर पर अब चिकोटी काट दी- बकवास बन्द कर … और सही बता कहां ले जा रहा है?मैं- अरे कहीं नहीं जा रहा, मुझे बस एक दो अंडरवियर खरीदने हैं, इसलिए पास ही जो कपड़ा मार्केट है … वहां जा रहा हूँ. ब्लू सेक्सी चलती हुईजैसे जैसे झटके तेज होते गये वैसे-वैसे ज़ारा की आहें भी तेज और मादक होने लगीं.

वहां पर उसके मामा की लड़की भी तो है।दीदी के घर से रोहित का कमरा करीब चार पाँच किलोमीटर दूर था. बीएफ ब्लू पिक्चर हिंदी मेंयह मेरी लाइफ का पहला वाकया है जो मैं आप लोगों से शेयर करने जा रही हूं.

कुछ देर बाद मैंने फिर से चुत में उंगली डालनी चाही, पर फिर से मिस फायर हो गया.बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली: पांच मिनट में ही उसके चुम्बनों ने मेरी चूत में गीलापन लाना शुरू कर दिया.

तो पिंकी ने हैंड टॉवल से चूत को साफ़ किया और रवि से कहा- आओ जान, अब तुम इसे फाड़ो.उसके बाद उसने मेरे पेट पर गिरे हुए अपने वीर्य से मेरे चूत की मालिश की और उसके बाद पास पड़ी हुयी शीशियों में से एक शीशी खोल कर मेरे ऊपर उड़ेल दी.

सेक्सी हिंदी में बताएं - बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली

एक गैर मर्द का लम्बा मोटा लंड देख कर मेरे मुँह और चुत दोनों में पानी आ गया था.रामू- भाभी अगर आप बुरा ना मानें, तो मैं एक बात पूछ सकता हूँ?आरिषा- हां बोलो रामू.

बिन्नी- ग्रेट आइडिया, नंगे किचन में?मैं और बिन्नी मेरी छोटी सी किचन में ऑमलेट बनाने चले गए. बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली मेरा होम टाउन मध्यप्रदेश के ग्वालियर-चम्बल संभाग में एक तहसील स्तर का कस्बा है.

पार्क में मिली लड़की इतनी गर्म निकली कि वो जरा सी कोशिश में ही लंड के नीचे आ गयी.

बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली?

मैंने बिना रुके पहले तो दस से बारह झटके जोर जोर से ऐसे लगा दिए जैसे वो कोई औरत नहीं … सेक्स डॉल हो. वो गुरुवार का दिन था, हमेशा की तरह हम दोनों अपनी अपनी बेटियों को स्कूल पहुंचाने आ गए. कुछ दिन बाद मैंने एक दिन अपने बेटे सैम को अपने घर खाने पर बुलाया और उस दिन मैंने एक सेक्सी पारभासी साड़ी पहन ली.

उसने पूछा- क्या … बताओ तो?तो मैंने बोला- बाद में बता दूँगा … और उसे मेडिसिन कैसे लेनी है, वो बता दिया. कुछ देर बाद वह अपना लिंग धीरे-धीरे अन्दर बाहर करने लगा।तभी उसने कहा- मेरी जान, सील तो तुमने पहले ही तुड़वा ली है. फिर मैंने उसे उल्टा किया और उसकी गांड को देखा।क्या बड़े बड़े चूतड़ थे।मैंने चूतड़ों में किस किया और चाटने लगा।फिर उसने मेरी चड्डी उतारी और मेरा लन्ड देख कर आंखें बंद कर लीं।मेरा लण्ड बिल्कुल कड़क होकर उफान मार रहा और एक दो बूंद वीर्य की उसके टोपे पर से टपक रही थी।मैंने उसे पौंछा और एकटक उसकी गुलाबी चूत को देखने लगा.

बस अपनी गति से चल रही थी और अभी तक हम मुंबई शहर से बाहर निकले नहीं थे. मेरा मतलब पता नहीं शिल्पा कब से राहुल से चुदवा रही होगी … इसलिए अभी मेरे लिए सब देखना ही सही था. इधर से मैं भाभी की गर्दन पर किस करने लगा और अपना एक हाथ ले जाकर भाभी की ब्रा का हुक खोलने लगा.

जेम्स- आप पेमेन्ट नहीं, आप एक काम करें … मैं आप जैसा माशूक नमकीन तो नहीं … पर आप बदले में मेरी मार दें, ये राशि राकेश को दे दें, उसे जरूरत है. मेरा भी अभी अभी दाखिला होने की वजह से मुझे कॉलेज का कोई ज्यादा होम वर्क नहीं था.

मैंने बोल दिया है गुलाबो को।”फिर गौरी बाथरूम चली गई और मधुर चाय नास्ता बनाने रसोई में चली गई।मैं थोड़ी देर मार्किट में जाकर आता हूँ.

विकी ने अब मुझे अपने ऊपर बैठा लिया, मैंने खुद उसका लंड अपने चुत के ऊपर सैट कर लिया.

जब वो मेरे सीने पर आई, तब हर बार की तरह कामुक हरकत करते हुए मेरे सीने की घुंडियों को बारी बारी से चूसने लगी. बस यह हम दोनों की आखिरी बातें थीं, कुछ ही समय बाद भाभी का स्टॉप आ गया था और वो मुझे अलविदा कहकर बस से उतर गईं. इसलिए मैं कोई अच्छा बंदा ढूंढ रही थी, जो मेरी शारीरिक जरूरत को पूरा कर सके.

मैंने उनसे कहा कि आप मुझे अपना नंबर दे दो, ताकि मैं अपने रिजल्ट के बारे में आपसे पूछ सकूँ. इसलिए मैं तुम्हारी जवानी के रस का एक एक कतरा निचोड़ कर पी लेना चाहता हूँ. फिर उसने दोबारा से वही मूवी लगा दी और मेरे पैरों पर अपने पैर रगड़ने लगी.

उसके बाद उसने अपनी जीभ से चाट चाट कर मेरे लंड को पूरी तरह से साफ कर दिया.

मगर जब मामा जी ने सुधा का नाम बताया, तो मेरे दिल में लड्डू फूटने लगे. तो वो बोले- बेटी तो नहीं हो ना!फिर मैंने मन मन में सोचा कि साला बुड्ढा सच में बहुत हरामी है. उसने मुस्कुराते हुए मुझे अंदर बुलाया।घर साफ सुथरा था। एक टेबल और दो कुर्सियां थी.

फिर अंत में उससे बर्दाश्त न हुआ और उसके लंड ने मेरे मुंह पर ही पिचकारी छोड़ दी. यह कह कर उसने अपनी चुत खोल कर मेरे आगे कर दी और बोली- चल डाल इसमें. लाल ब्रा के साथ ही लाल पैंटी और दूध जैसा गोरा बदन अब तो बस यूं लग रहा था कि कितना तगड़ा चोद दूँ इसे।अब तक हम दोनों भाई बहन नंगे हो चुके थे और मैं एकदम जोश में था.

फिर अन्दर … और अन्दर वो चलता चला गया … प्रीति की चूत की फांकों को पूरी तरह से चीरते हुए, उसके क्लिटोरिस को छूते हुए मेरा पूरा 7 इंच का लंड अन्दर जड़ तक घुसता चला गया था.

मेरी चूत पर रोएं जितने बाल थे क्योंकि कुछ दिन पहले ही मैंने अपनी चूत चिकनी की थी. वो आंखें नचाते हुए मेरी तरफ देखने लगी, तो मैं उसके गाल खींच कर एक चिकोटी ले ली और कहा- ऐसे क्या देख रही हो … जल्दी से मुँह में ले लो.

बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली वो मुझसे बोली- साहब, अगर कभी मैं आपको अकेले में बुलाऊँ तो क्या आप आओगे?तो मैं बोला- जरूर आऊंगा मेरी जान!यह सुन कर उसने मुझे अपनी बांहों में भर लिया. मैंने एक पल के लिए कुछ सोचा तो अभिषेक ने कहा- तुम चिंता मत करो, छत काफी ऊंची है और कोई हमें नहीं देख सकेगा.

बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली मैंने बिना रुके पहले तो दस से बारह झटके जोर जोर से ऐसे लगा दिए जैसे वो कोई औरत नहीं … सेक्स डॉल हो. मेरी बात सुनकर सुगंधा भाभी मुस्करा दीं और खिलखिला कर बोलीं- बिना फेरे के शादी कैसे होगी.

उनके बीमा के चलते मुझे अच्छी ख़ासी रकम मिल गई थी जिससे मुझको काम करने की नौबत नहीं आयी.

मुसलमान एक्स एक्स

उन्होंने मुझे उसी दिन की घटना याद दिलाई, जब हम चाचा जी के सामने पकड़े गए थे. मैंने अंजू को पकड़ कर उसकी गांड पे चपत लगाई और बोला- दिखाऊं अपने लौड़े का दम साली? तेरी गांड और चूत दोनों फट जायेंगी … वो भी अभी!तभी अंशिका बोली- हाँ जीजू, फाड़ दो इसकी चूत, ये वैसे भी रोज़ आपको याद कर करके मुठ मारती है. विकी ने अब मुझे अपने ऊपर बैठा लिया, मैंने खुद उसका लंड अपने चुत के ऊपर सैट कर लिया.

अब समय था पूरा लंड अंदर तक डालने का; तो मैंने धीरे धीरे रफ्तार तेज कर दी और एकदम से जोर लगा कर अपना पूरा लन्ड उसकी चूत में डाल दिया. फिर भी आप थोड़ा ध्यान रखना क्योंकि आपका लंड मेरे पति के लंड से कहीं ज्यादा मोटा है. तभी मेरा फोन बजा!मैंने सुना!मैं- यार, मुझे एक बार पारुल के पास जाना पड़ेगा!ज़ारा- क्यों?मैं- अब, बुलाया है!ज़ारा- अर्जेंट है?मैं- हां!सुनते ही उसका चेहरा उतर गया!मैं- क्या हुआ?ज़ारा- कुछ नहीं … मैं खाना बनाती हूं!कहते हुये वो उठी और किचन में चली गयी.

वैसे शायरा की चुत थी भी इतनी प्यारी कि चूत को देखते ही मेरे मुँह से पानी आ रहा था.

अब आरव के आने का डर हो गया था मगर मुझे उसकी अनचुदी चूत को देखने का भी मन था. पहले मुझे भी यकीन नहीं था लेकिन फिर लूसी ने मुझे उनकी लाइव चुदाई दिखायी. तो पिंकी ने हैंड टॉवल से चूत को साफ़ किया और रवि से कहा- आओ जान, अब तुम इसे फाड़ो.

मैंने इसी कमरे में उसकी खूब बजाई थी, जिसमें आप अभी मेरी मार रहे हो. मैंने उससे पूछा- तेरा दोस्त कब तक आने वाला है?उसने कहा- सुबह बात हुई थी, तब उसने 8 बजे के लिए कहा था. एक चुदक्कड़ आदमी के साथ इतनी जवान और कुंवारी लड़की थी, फिर भी कैसे मैंने अपने आपको रोका, ये मैं ही जानता हूँ.

प्रीति बोली- अगर खा जाओगे तो कल किसे प्यार करोगे?मेरा सर पकड़ कर प्रीति ने मुझे हटाना चाहा, लेकिन मैं टस से मस नहीं हुआ और दोनों चुची को एक साथ चूसने और काटने लगा. शायरा को कुछ लेना तो था नहीं, इसलिए वो वैसे तो दुकान के बाहर वहीं स्कूटी के पास ही खड़ी हो गयी थी.

वो अपनी मोटी सी गांड को हिला-हिलाकर भाई का लंड लेने में लगी हुई थी. दोस्तो, आगे की कहानी में आपको ये बताऊँगी कि कैसे रीमा और उसका ब्वॉयफ्रेंड चुत चुदाई का खेल खेल रहे थे. बाहर दरवाजे पर एक 22-23 साल का मस्त, कसे हुआ बदन वाला, गोरा-चिट्टा एक लड़का खड़ा था.

दस-पंद्रह मिनट की चुदाई के बाद मेरा वीर्य निकलने वाला था तो मेरे पूछने पर उसने कहा- मेरे मुंह में ही गिराना अपना माल.

शिवानी ने मुझसे कोई बहस नहीं की और बोली- ठीक है, यह तो तुम्हारा अपना निर्णय है, जो तुम चाहो वो ही करो. मैं थोड़ा हिचकिचाया, तो उन्होंने बोला- बैठ जाओ … वैसे भी तुम जल्दी ही इस स्टाफ रूम का हिस्सा बनने वाले हो. अपनी टांगें फैला कर रेखा ने अपनी चूत के लब फैलाये और मेरे लण्ड पर बैठ गई.

आप में से अनेक लोगों ने मुझे अपने सेक्स अनुभव और फंतासी शेयर की हैं कि मैं उस पर कहानी लिखूं. जब मेरे लंड ने उसे भेदकर आगे बढ़ना चाहा, तो प्रीति चिल्लाने लगी कि दर्द के मारे मैं मर जाऊँगी.

क्योंकि मैं जिस कंपनी में जॉब करता हूं उस कंपनी का बिजनेस पूरे देश में फैला हुआ है. उसको शर्म तो आ रही थी मगर वो दोनों सेल्सगर्ल उसके पीछे ही पड़ गयी थीं. मैं बोली- और लूसी के साथ तुम्हारा क्या चल रहा है, वो भी बता देना?वो बोला- क्या बक रही है!?इतने में मैंने विवेक को फोन कर दिया.

ब्लू पिक्चर सेक्स सेक्स वीडियो

फिर जूली ने बड़ी अदा से अपने साया की डोरी को हाथ से पकड़ा और एक झटका देते हुए उसे ढीला कर दिया.

मैं- प्लीज़ भाभी अभी बहुत मन है … मैं खुद को ज्यादा देर कन्ट्रोल नहीं कर सकता अब. फिर मैंने चाची से अपने दोनों हाथों से गांड को फाड़ कर पकड़ने को बोला. वैसे तो मैं घर से बाहर भी कम‌ ही निकलता था, मगर फिर भी मैं यही प्रयास करता कि मेरा कभी शायरा से सामना ना हो.

किसी के आने की आहट से भाभी हल्के से जग गई क्योंकि रात में जाना पहले से पक्का नहीं किया गया था, इसलिए मुझे डर था कहीं भाभी रात में मेरे जाने से डर ना जाए और चीख न पड़े. मेरा कॉलेज दिल्ली में था, मैं अपनी बाइक से मैट्रो स्टेशन तक गया और वहां जा कर पता चला कि किसी खराबी की वजह से इस रूट की मैट्रो ट्रेन लेट चल रही हैं. भोजपुरी सेक्स वीडियो गाना”इतना कहकर भैया रुक गए। अब तो उनका सिकंदर जोर-जोर से उछलकूद मचाने लगा था।फिर क्या हुआ?” भाभी ने पूछा।अरे … होने को क्या था वहीं इच साली का गेम बजा डाला। बाप … क्या मस्त पूपड़ी थी अपुन को भोत मज़ा आया। उसने खुश होकर अपुन को पहनने को नए कपड़े दिए, एक हज़ार रुपया बी दिया और नाश्ता बी करवाया.

मेरे इतना बोलने के बाद वो भी चुप हो गईं और उन्होंने अपने हाथ पैर हिलाना बन्द कर दिए. मैं पिंक कलर की नाइटी के नीचे लाल कलर की जालीदार ब्रा पैंटी पहन कर आई थी.

रामू थोड़ा पीछे को होने लगा, तभी आरिषा भाभी ने उसे कसके पकड़ लिया और बस वो दोनों एक दूसरे के होंठों का रस पीने लगे. अगले दिन ऑफिस आते ही शिवानी ने कहा- मेरी तबीयत कुछ खराब लग रही है, इसलिए मैं डाक्टर के पास जा रही हूँ. उसके लंड से पिचकारी मारती धार निकली, जिसे मैंने मुँह खोलकर सीधे अन्दर ले लिया और लंड के रस को स्वाद के साथ चखने लगी.

कारण यह कि तेरे अंकल आते थे और जब तक मेरी कामवासना जागे तब तक पानी टपका देते थे और मैं तड़पती रहती थी इसलिये मैंने चुदवाने से मना करना शुरू कर दिया लेकिन तुमने तो जन्नत दिखा दी. सभी बहुत गर्मजोशी से मिले … किसी के चेहरे पर कोई टेंशन नहीं थी, लड़कियां ज्यादा उछल रही थीं. अशोक के जाने के बाद अनन्या ने मनोज से फोन करके कहा- आपका बहुत थैंक्स कि आपने मेरे भाई की प्राब्लम दूर कर दी, वो बहुत परेशान था.

लंड पर कंडोम लगा कर मैंने उस पर क्रीम लगाई और उसकी गांड चुदाई की पोज़िशन में आ गया.

मैं नीचे क्लास गई और क्रीम को लेकर छत पर आ गयी और अभिषेक को पकड़ा दी. हालांकि खड़ा लंड देख कर भाभी कुछ बोली नहीं क्योंकि उनको पता था कि इसी लंड से उनकी चुत चुदने वाली थी.

और जब सब ख़त्म हो चुका तो दोनों लड़कियाँ मेरे आजु बाजू में लेट गयी और पता नहीं कब हमें ऐसी ही नंगे पड़े नींद लग गई. मैंने किचन का काम भी निपटा लिया और उसके बाद मैं धुले हुए सफेद रंग के नाइट ड्रेस में सोई. उसकी सांसें तेज होने लगीं और वो मेरा सर पकड़ कर मेरे होंठों को चूसने लगी.

मुझे भी ब्लू-फिल्म्स देख देख कर इस चीज़ का शौक चढ़ा हुआ था और ये भी पता था कि पहली बार में गांड मराने में बहुत दर्द होगा. कभी मैं छत पर जाकर टहलने लगता, तो कभी मोबाइल पर मूवी देखने लगता, पर मेरा ध्यान बस रंगोली की तरफ ही था. एक बार ऐसे ही रात को 12 बजे के करीब मैं अपने कम्प्यूटर में पोर्न वीडियो देख रहा था.

बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली जैसे जैसे मैं धक्का लगाता गया, वैसे वैसे भाभी की कामुकता बढ़ने लगी थी. पायल ने मरी हुई कुतिया सी आवाज में रुआंसे स्वर में बस हां में सर हिलाया.

सेक्सी ब्लू पिक्चर व्हिडिओ

उसने उस क्रीम को ले लिया और कुछ देर बाद मुझे छत से वो नीचे दूसरी क्लास में ले आया. उससे बड़ी चाची भड़क गयी और बोल रही थी- तुम्हारे लंड में अब दम नहीं रहा, मुझे शांत किये बिना ही झड़ जाते हो।फिर बड़े चाचा कपड़े पहनकर बाहर चले गये. देखना ही है तो उन्हें चोरी से देखिये … जिस तरह वो मर्दों को ताड़ लेती है और मर्दों को पता भी नहीं चलता.

मैंने जोर से झटका मारा, तो लंड का आगे का हिस्सा सास की गांड में घुसता चला गया. उसके लंड चूसने से मुझे ऐसा मजा आने लगा, जैसे पता नहीं मैं कहां आ गया होऊं. ব্লু ফিল্ম বই ব্লু ফিল্ম বইइससे ज्यादा तो मॉम पर बहुत गुस्सा आया कि वो लड़के ये सब कर रहे थे और मॉम उनको कुछ नहीं बोल रही थीं, बल्कि उन्हें ऐसा करने के लिए हंस हंस कर और उकसा रही थीं.

फिर वो चला आया और शाम को जब मैं कपड़े उठाने गयी तो वहां पैंटी नहीं थी.

हालाँकि मैंने वो हिस्सा छोड़ कर पहले उनकी जाँघों को चूमना शुरू कर दिया. भाभी को मैंने अपनी ओर खींचा और उसको कसकर अपनी बांहों में भींच लिया.

वो बोली- फिर?मैं बोला- फिर मैं तुम्हारे गर्दन और कंधों से भी चुम्बन लेता. मुझे कोरोना होने के कारण एक सप्ताह अस्पताल में रहना पड़ा और दो सप्ताह होम आइसोलेट रहने के कारण इस बार पिछली कहानी को लिखने में देर हुई. हालांकि मेरी कोई गलती नहीं थी मगर अभी हाल ही में शायरा ने मुझे भी थप्पड़ मारा था, इसलिए सबकी बातों का विषय मैं ही बना हुआ था.

मेरी बड़ी चाची भले ही देखने में काली है लेकिन गदरीली मांसल जांघों वाली और मोटी गांड की मालकिन है.

लेकिन पता नहीं वह सच बोल रही थी कि झूठ?या फिर पहले से ही दोनों की प्लानिंग थी?दोस्तो, आप लोगों को क्या लगता है? आप लोग मुझे मेल करके बताना।जब उसकी मामा की लड़की अन्दर कमरे में गयी तो उसकी नजर मेरी पुरानी वाली ब्रा पैंटी पर पड़ी. कुछ देर तक मैंने उसके मुंह में धक्के दे देकर लंड चुसवाया और फिर हम दोनों 69 की अवस्था में एक दूसरे को तृप्त करने लगे. पर सेक्स की हिम्मत नहीं पड़ रही थी किसी की … और पता नहीं उनके पार्टनर्स सेक्स की बात को मानेंगे या नहीं!पर ये बात जरूर थी कि अब उनको मजा भी आ गया था और डर भी निकल गया था.

बीएफ सेक्स ओपनअरे तुम … आ जाओ … अन्दर आ जाओ, शायरा … ये ही वो लड़का है, जिसने ऊपर का कमरा लिया है. वैसे भी मैंने जहां कमरा‌ लिया हुआ था … वहां से कॉलेज ज्यादा दूर नहीं था.

सेक्सी सनी लियोन सेक्स

हम लोगों का जीवन बड़ा सुखमय व्यतीत हो रहा था लेकिन चार साल पहले कुछ ही दिनों के अन्तराल पर हम दोनों के साथ अचानक घटी घटनाओं ने हम दोनों का जीवन छिन्न भिन्न कर दिया. दोपहर का समय था, हम खाना खाकर टीवी देख रहे थे कि तभी मॉम को मिष्टि आंटी का कॉल आया. अगर तू पहले ही हाँ बोल देती तो!भाभी, दूसरों के पसंद का लण्ड लेने में और खुद पसंद करके लण्ड लेने में बहुत फर्क होता है.

चाची की चूत पर बड़ी बड़ी झांटें थीं और चाची अपनी चूत के अन्दर उंगली कर रही थीं. मेरी कमर पर हाथ रखकर उसने मुझे उसकी ओर खींचा और सबसे पहले मेरी गर्दन पर चुंबन अंकित किया. यह मेरा वादा है तुमसे!और ऐसा कहकर मेरा हाथ दबा दिया।और मुझे भी पता चल गया था कि अगर मैं विजय के साथ अकेली उसके घर पर रही तो मुझे इन दिनों में एक नया लौड़ा खाने को मिलने वाला है.

मुझे भी बहुत अच्छा लगा और मैं कमरे में आकर आगे के प्लान के बारे में सोचने लगा. हम दोनों की दिल की धड़कनें भी बढ़ती जा रही थीं … क्योंकि इस समय हम दोनों एक दूसरे के पार्टनर को चीट कर रहे थे. फ्री हिंदी Xxx कहानी के पिछले भागचलती बस में खूबसूरत भाभी के साथ चूमा चाटीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं चलती बस में भाभी को गर्म कर रहा था.

”थैंक यू सर!”प्रेम! लेकिन तुम्हें 3 महीने की ट्रेनिंग पर पहले बंगलूरू हो जाना होगा. ज़ारा- आह जान! हसरतें तो आप पूरी कर रहे हो!ये कहकर अपने दोनों पैर जमीन पर रख लिये और हाथ कैबिनेट पर.

फिर उसने मेरा चेहरा ऊपर उठाया और किस देते हुए लंड चूसने की रिक्वेस्ट की.

आज मैं आपको एक ऐसी हॉट लेडी सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हूँ, जो बिल्कुल सच है. ब्लू वीडियो देखिएमैं- डॉक्टर साहब … आप उस दिन की बात कर रहे हो, जब चाचा ने हम दोनों की ठुकाई लगाई थी?वे बोले- नहीं, उस दिन तो मैं चाचा जी की वजह से बिना कुछ ज्यादा देखे भाग गया था. पंजाबी ब्लू पिक्चर बीएफअब आगे की बीवी को चुदवाया कहानी :मेरा काम हो जाने के बाद मैं फिर से सोफ़े पर आकर बैठ गया और पंकज ने सुमन को जाँघों से हटा कर अपनी गोद में बिठा लिया था।उसका लंड सुमन की चूत के ठीक बीचोंबीच था और दोनों लिप किस कर रहे थे।तभी सुमन ने अपनी गाँड थोड़ी सी ऊपर उठा ली और पंकज के गले में अपने हाथों को लपेट कर अपनी एक चूची उसके मुँह में दे दी. मैं बहुत तेजी से ऊपर हुआ, भाभी ने टांग एकदम मेरी पीठ के ऊपर डाली और मैंने एक ही बार में आधा लंड भाभी की चूत में घुसा दिया.

रेखा बोली- कैसे हो?मैंने कहा- ठीक नहीं था, लेकिन शायद अब ठीक लग रहा है.

वो खुल कर बोलीं- जब मैं रात में तेरे सर को अपनी तरफ खींच बूब्स में दबा रही थी, तो तुमने कुछ किया क्यों नहीं!मैं भाबी की बात सुनकर हैरान रह गया. उसकी उठक-बैठक इतनी जोरदार थी कि पूरे कमरे में बस पट पट पट पट पट पट की आवाज आ रही थी जो उसकी गांड के मेरे जांघों पर लगने की वजह से हो रही थी. विवेक ने सारा सीन देख लिया और मुझसे बोला- हमें अपना रास्ता मिल गया है, ये शिवम साला बहुत शरीफ बनता है लेकिन मेरी बहन पर हाथ साफ कर रहा है.

मैं उसको चूमते हुए उसके उभारों को चूसते चबाते हुए उसकी चुत पर जैसे ही अपने होंठों को रखा, रिचा जल बिन मछली की तरह तड़प उठी. मैं शीना को किस कर रहा था और उसके बोबे दबाने में लगा हुआ था और संजना मेरा लौड़ा चूस रही थी. थोड़ी देर खड़े रह कर ट्राई करने के बाद मेरा भी पेशाब निकलना शुरू हुआ और सीधे उसकी बॉडी पर जाने लगा.

सीएनएक्सएक्स hindi

उसने खुद से मेरा लंड पकड़ कर अपनी चुत के छेद पर लगा दिया और बोली कि अब इसे तुम मेरी चूत के अन्दर डाल दो. उसके जोश को देखकर मैं और अच्छे से चूत से खेलने लगा और एक हाथ से उसके मम्मे सहलाने लगा।अब उससे बर्दाश्त नहीं हो रहा था. कभी वो मेरी चूचियों को दबाने लगता और कभी निप्पलों को मुंह में लेकर काटने लगा.

उसने बड़ी लड़की की शादी के बाद दामाद और ससुर ने मिल कर केमिकल का बड़ा प्लांट लगा दिया था.

उम्म्ह … अह … हयई … याह … मुझे काफी दर्द हुआ, मेरी गांड के अन्दर से खून भी निकल आया था.

उसकी सांसों को महसूस करके पता नहीं क्या हुआ कि मेरी आंखें बंद होने लगीं. जिन लोगों को रिश्तों में सेक्स पसंद नहीं हो, वो लोग प्लीज़ इस चुदाई की गन्दी स्टोरी से दूर ही रहें. लैंड चूसैमैंने पीछे हटते हुए बोला- प्लीज़ … मैं अब नहीं कर पाऊंगी, रहम करो प्लीज़.

उसने अपना हाथ पैंट के ऊपर से मेरे लंड पर रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा. गंदा सेक्स की हिंदी कहानी में पढ़ें कि मैं शुरू से ही गुलाम पति चाहती थी. वैसे भी मैंने जहां कमरा‌ लिया हुआ था … वहां से कॉलेज ज्यादा दूर नहीं था.

शीना ने पूरा पानी पीकर फिर से मेरा लौड़ा चूस के पूरी तरह से साफ़ किया. मैं भी अपनी उंगली को तेजी से अंदर बाहर करने लगा।मीना मज़े में अपनी चूची दबा रही थी और उसकी आंखें बंद थीं.

मैंने होंठ हटा कर उसे टाईट वाला हग किया और बोला- बस जान … अब दर्द नहीं होगा.

तो मैं बोला- सॉरी भाभी, आप इतनी हॉट हो कि पता ही नहीं चला … मैं कब झड़ गया. मैंने उसके लंड के अमृत की कुछ बूंदें, जो इधर उधर मेरे मम्मों पर बिखर गई थीं, को अपनी उंगली से उठा कर चाट लिया. चाची के लंड चूसने की वजह से लंड खड़ा हो गया और चाची लंड के ऊपर बैठ गईं.

सेक्सी वीडियो भोजपुरी में चाहिए कपल ग्रुप्स से जुड़ने पर पता लगा कि पति-पत्नी आपस में पार्ट्नर बदल कर सेक्स का आनंद लेते हैं और उनका जीवन नव-आनंद से भर जाता है, जीवन से तनाव समाप्त हो जाता है और पति पत्नी के बीच अटूट प्यार हो जाता है. अब रवि ने अपना हाथ पिंकी की टी-शर्ट के अन्दर डाल कर उसके मम्मों को सहलाना शुरू किया.

उसने मुझे पूरी नंगी करके रखा हुआ था और गोद में बिठा कर अपने लंड को मेरी चुत में डाल कर बोला- अभी तो इसका इलाज तुम्हारी चुत ही कर देगी. आज भी हम दोनों मिलते हैं।उसके अलावा भी मैंने कुछ लोगों से रिश्ता जोड़ा है. मैंने भी पीछे से हाथ ले जाकर उसकी जीन्स को टटोलते हुए उसकी पैंट के अन्दर हाथ डाला तो मैंने पाया कि उसने पैंटी भी नहीं पहनी हुई थी.

bf वीडियो चाहिए

अब इस सेक्स कहानी का अंतिम भाग आपके अगली बार लिखूंगा … जिसमें शायरा मेरी हो जाएगी. जिससे आरिषा भाभी मादक सिसकारियां लेने लगीं- आआअहह उहहहह रामू खा जाओ इन टांगों को … आह खा जाओ. मैं अपनी आंखें बंद करके हम दोनों के इस हसीन रात के चुदाई वाले सफ़र के बारे में सोच रहा था.

कुछ सोचने के बाद मैं भी दादी की सेवा के बहाने रुक गया और घर वाले चले गए।उस दिन मैंने सोचा कि आज इस मिठाई को चख कर जरूर रहूंगा. रिचा पूरी ताकत से अपनी चुतड़ को ऊपर नीचे करने लगी थी यानि उसकी चुत मेरे लंड को खाने के लिए एकदम से तैयार थी.

मैंने भी उसके बदन पर कपड़ों के ऊपर से ही हर जगह हाथ फिराया और कसके उसके निप्पल मसल दिए.

अपने लण्ड का सुपारा रेखा की चूत के मुखद्वार पर सेट करके मैंने धक्का मारा तो पहले धक्के में आधा और दूसरे में पूरा लण्ड रेखा की गुफा में समा गया. वरना कोई न कोई पड़ोसी आ धमकता कि क्या हुआ?अपने मुंह पर हाथ रखकर रेखा ने खुद को चुप कराया और अपने गाऊन से अपने आँसू पौंछ लिये. मुझे अपने लंड को शायरा की चूत में जाते हुए देखने में मज़ा आ रहा था इसलिए मैंने पहले पहले के कुछ धक्के तो इतने प्यार से और धीरे धीरे मारे कि इतना तो कभी वर्जिन चूत के साथ भी नहीं मारे होंगे.

मैं बोला- क्या पता ये लोग नकली लगाकर घूमते हों?वो बोली- नहीं, ये क्या बात है, नकली कैसे लगेगा? और लग भी गया तो उसके साथ वो सारी चीजें तो नहीं हो सकती जो असली के साथ होती हैं. तब जानकार ने समझाते हुए कहा कि अगर आपको यहां पर रहना तो आपको पानी की जगह पर ये ही इस्तेमाल करनी होगी. मैंने भी उसका टॉप निकाल फेंका और उसके मम्मों को ब्रा के ऊपर से ही मसलने लगा.

लेकिन मेरी नजर अब भी उसके लौड़े पर अटकी हुई थी और विजय ने ऐसा करते हुए मुझे कई बार पकड़ लिया.

बीएफ सेक्सी लड़कियों वाली: मैं दौड़ कर उस रूम में गया तो देखा कि संजू विक्रम के लंड पर बैठी है … और अपनी गांड को आगे पीछे कर रही है. इसीलिए मेरा छूना आपको इतना अच्छा लगा।” छाया एक सांस में बोल गयी।वैसे बड़े देवर जी देखने में भी इनसे अच्छे हैं और हंसमुख भी हैं पर मैं कैसे बोलूंगी और कहीं किसी को पता चल गया?और ये पाप भी तो है कि अपने ही देवर के साथ?नहीं नहीं दीदी; मुझसे नहीं हो पायेगा।”देखो भाभी, अगर करना ही है तो सब मैं करवा दूंगी क्योंकि भैया का भी मन है.

जैसे ही भाभी की मखमल जैसी चुत में मेरा लंड घुसा … मैं तो मानो स्वर्ग में आ गया था. मैंने भी मॉम से कहा कि मैं भी आज आप लोगों के साथ पार्टी में चलूंगा. अचानक संजना की नजर मुझ पर पड़ी, वो संतुष्टि के भाव से मुझे देखने लगी.

फिर उसके बाद चाची ने अपनी पेंटी निकाल दी और मुझे चाची के बड़े बड़े चूतड़ दिखने लगे.

और उसने भी अपना सारा पानी मेरी चूत में ही निकाल दिया। मेरी चूत और मेरी जांघें हमारे पानी से एकदम सन गई थी।फिर उसने मुझे नीचे बैठने का इशारा किया और मैं नीचे बैठ गई।तो फिर उसने मुझे अपने लंड चूसने को कहा मैं अपने दोनों हाथों से पकड़ कर उसके लौड़े को चूसने लगी. मजे की बात ये थी कि काफी सारी लड़कियों के दिल में आपका भाई छाया हुआ था. तब मैंने धीरे से लंड बाहर निकाला और पूरा जोर से धक्का देकर उसकी चूत में डाल दिया.