एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी सेक्सी वीडियो फर्स्ट टाइम

तस्वीर का शीर्षक ,

हां हिंदी सेक्सी वीडियो: एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ, मन में कहने से क्या होता है भला!एक बात तो बताना भूल ही गया, उसकी छोटी बहन निकिता जो अभी पढ़ती है.

इतनी सुंदर हो मैं क्या करूं

मैं- ओके दी… सॉरी मेनका!मेनका- हम्म अब ठीक है जान…फिर मैं और नीचे जाने लगा और मेनका की चूत मेरे सामने खुली रखी थी जैसे मुझे अपने पास आने का निमन्त्रण दे रही हो. हार्ड हिंदी सेक्सी वीडियोदर्द तो मुझे भी बहुत हो रहा था क्योंकि उन्होंने गांड ज़्यादा बार मरवाई नहीं थी और उनकी गांड बहुत टाइट थी.

मैंने पूछा- क्यों?तो कुणाल ने जवाब में जबलपुर से दुर्ग तक के सफ़र में, रात 12 बजे से लेकर भोर 4 बजे तक कैसे आंटी ने उसका लंड चूसा और कैसे चुत चुदवाई. బ్లూ ఫిల్మ్ వీడియోफिर मैंने उसे सीधा करके लेटाया, उसके ऊपर लेट गया और उसके होंठ पर अपने होंठ रख दिए और बूब्स को थोड़ी जोर से सहलाने लगा।कुछ देर बाद ज्योति भी मेरा साथ देने लगी, मैं उसके होंठ को पागलों की तरह चूस रहा था और चूम रहा था.

अब वो आराम से बैठ गई… क्योंकि अब गाड़ी के अन्दर का सब बाहर की रोशनी में दिखाई देने लगा था.एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ: तभी जोर जोर से तीन चार धक्के मार कर दीपक भैया रीना दीदी की गांड में तुनक तुनक कर झड़ कर हट गए.

एक दिन 4-5 सीनियर ताश के पत्ते खेल रहे थे और मैं वहीं पर खड़ा था, तभी उसने मुझे अपने पास बैठने को बोला और कहा- देख.कुछ देर बाद उसने पूछा- लग तो नहीं रही?दो तीन धक्के के बाद लंड डाले रूक हुआ था.

खुशबू सेक्सी वीडियो - एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ

वे मोटर साईकिल पर थे, बोले- उधर कितनी देर रूकोगे?वह बोला- बस घूम कर आते हैं.बताओ?अमित- तुम्हें 15-20 दिन तक एक लड़के की गर्लफ्रेंड होने का नाटक करना है बस.

मैंने रोहण को यह बात बतायी तो हमने दुबई में स्थायी रूप से शिफ्ट होने का फैसला कर लिया. एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ जब रुबीना हमारे सामने चाय लेकर आई तो मेरी आँखें उसको देखते ही रह गईं, वो तस्वीर से कहीं ज़्यादा सुन्दर थी.

आज मैं उसे अच्छे से गर्म कर देना चाहता था क्योंकि मैंने ये पढ़ा था कि अगर पहली बार चुदाई कर रहे हैं तो पार्ट्नर को अच्छे से गर्म कर देना चाहिए ताकि सेक्स का मजा सजा में ना बदल जाए.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ?

लेकिन दोस्तो, इस सिलसिले में आई एक मेल बहुत दिलचस्प और ज़िक्र के काबिल है. अभी तक की इस कामवासना से भरपूर बहु की चुदाई कहानी में आपने पढ़ा कि हम ससुर बहू अपने केबिन के बाहर की दुनिया से बेपरवाह अपनी ही दुनिया में खोये हुए सेक्स का मजा कर रहे थे. आखिरकार मैंने अलमारी से संजय का फेवरेट ब्लैक ड्रेस निकाल कर पहन लिया.

कुछ देर भाभी उसे अपने हाथ से आगे पीछे हिलाती रही, फिर उसे सूंघने लगी. मामी- क्या ब्रा के ऊपर से ही मालिश करोगे?मैं- नहीं वो तो निकालनी पड़ेगी न. कई दिनों से मैंने अपनी पासबुक में एंट्री नहीं करवाई थीं और बैंक में कुछ और भी काम था, तो मैं घर से लगभग 10 बजे बैंक के लिए निकल गई.

मैंने उनको 6 बजे मेट्रो से अपने घर के पास वाले मेट्रो स्टेशन पर बुला लिया और जल्दी जल्दी अपना पूरा कमरा ठीक करके कपड़े पहन कर उन लोगों को लेने के लिए चली गई. चाची की चुत गीली होने के कारण मेरा लंड चुत को चीरता हुआ सीधा उनकी बच्चेदानी से टकराया. दीदी की पीठ भी हल्के झटके खाने लगी थी।कुछ देर बाद मैंने दीदी के सर को ऊपर उठा दिया और दीदी को सोफे की बैक से लगा कर बिठा दिया, दीदी के लिप्स पर हल्का थूक लगा हुआ था, वो मेरी तरफ देख रही थी और तभी मेरा ध्यान दीदी के बूब्स की तरफ गया जहाँ से ब्रा नीचे लटक रही थी और बूब्स लगभग सारे नंगे हो गये थे.

मैं तो वैसे भी डर रहा था कि माँ ने वीडियो के बारे में पूछ लिया तो क्या बोलूँगा. जैसे जैसे माया की साड़ी ऊपर जा रही थी, माया की साँसें तेज़ होती जा रही थीं.

दीदी- अच्छा, ऐसे मुझे ब्लॅकमेल करके मेरी चुदाई करके मज़ा आया तुझे!मैं- सॉरी दीदी… ब्लॅकमेल तो नहीं करना चाहता था लेकिन ऐसा मौक़ा हाथ से भी नहीं जाने देना चाहता था, और मज़ा तो आप पूछे मत, इतना मज़ा कभी नहीं आया मुझे, जितना आपकी चूत मारने में आया है.

मैंने भी घर का काम खत्म किया और मैं भी रूम में आ गयी।मैंने राजीव को जगाया, मैंने उनसे कहा- राजीव मुझे आज चुदाई करनी है!पर राजीव ने मुझे कहा- नहीं, मेरा मन नहीं कर रहा।और फिर वो सो गए.

मुझे बहूरानी के कपड़े उतरने की सरसराहट सुनाई दी और फिर उसका नंगा जिस्म मुझसे लिपट गया और उसका एक हाथ मेरे बालों में कंघी करने लगा. पापा बोले- सच?अंकल बोले- वादा आपसे!मेरे पापा बोले- मैं आज तक नहीं बोला, तो बोल नहीं सकता आरती से, अगर आप बुला दो तो आज जो मांगोगे दे दूंगा. मेरे हाथ उसके नितम्बों पर जा पहुंचे, उसके गोल गोल गुदाज नितम्बों को मुट्ठी में भर भर के मसलने दबाने का मजा ही अलग आया.

तकरीबन सुबह 5 बजे मेरी आँख खुली तो मेरा सर दर्द से फटे जा रहा था, शराब का नशा अभी भी मुझ पर था. जैसे ही मैं सही से खड़ी हुई कि अमित तेजी के साथ ऊपर बढ़ा और उसका थोड़ा सा लंड मेरी गांड में घुस गया. मैंने उसे देखा तो उसकी आँखों में आंसू थे, पर होंठों पर एक मुस्कान थी.

मेरी सेक्सी कहानी में अभी तक आपने पढ़ा कि प्रेरणा और मैंने वाइल्ड सेक्स करके अनोखा सुख पाया.

तेरी आदत हो जाएगी, तुम्हें लंड लिए बिना चैन नहीं पड़ेगा और तू फिर से मुझे कहेगी कि तूने मुझे चुदवाया, तू छिनाल है. आधा वीर्य उनकी चुत में और आधा उनके पेट पर निकाल कर मैं उनके बाजू में लेट गया. फिर यश उठ कर साइड में लेट कर हाँफने लगे। मैं आग सी में जल रही थी। फिर मैंने सोचा शायद दारू या पहली बार की वजह से ऐसा हुआ होगा। दोबारा करेंगे तो ठीक होगा। फिर मैं यश के उठने का इन्तजार करने लगी। परन्तु वो तो गहरी नींद में सो गए। मैंने उठाने की कोशिश की, पर सब बेकार। इधर मेरा बुरा हाल था। जैसे-तैसे मैंने अपनी चूत को रगड़ कर शान्त किया और सो गई।”अरे.

फिर मेरा लंड जो एक बार ले लेती, उसे दुबारा पाने की उसकी लालसा बनी रहती. ये कहते कहते भी चाची की नज़र मेरे खड़े होते लिंग पर जा टिकी, जो कि तौलिया में अपना आकार बना चुका था. मक्खन की चिकनाई की वजह से लंड तो अन्दर दाखिल हो गया पर उसे दर्द होने लगा.

मैंने कहा- हां, मैं समझ तो रहा हूँ, लेकिन फिर भी आपके मुँह से सुनना चाहता हूँ.

पर काजल के मुँह से कांपती हुई आवाज़ निकली, जो डर और चुदाई की उत्तेजना से मिली जुली थी. अब उसे निश्चित ही इस बात की चिंता हो रही होगी कि चोदने वाला तो उसे पहचान गया कि वो इस घर की बहूरानी अदिति हैं पर उसे कौन चोद रहा था यह उसे अभी तक नहीं पता.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ और मैं शोर्ट ब्लैक नाइटी वो भी ट्रांसपेरेंट पहन कर वाशरूम से बाहर आयी. मेरे बेटे को होने वाली पत्नी और मेरी बीवी को होने वाली बहू पसंद आ जाए बस.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ दीपक की बहन चिंघाड़ चिंघाड़ कर झड़ती रही और दीपक भैया अपनी बहन की बूंद बूंद योनिरस चाटते हुए बुरी तरह हांफ रहे थे. मैं इस मौके का फायदा उठाकर उसकी पैंटी को निकालने लगा, पहले तो उसने भी कमर उठाकर मदद की, लेकिन तभी उसे ख्याल आया कि मैं क्या कर रहा हूँ तो तुरंत ही उसने मेरे हाथों को पकड़ लिया और बोलने लगी- ये नहीं, ये नहीं.

बहन ने पेंटी नहीं पहनी थी, तो मैंने बहन से कहा- बहन क्या तुम पेंटी नहीं पहनती हो?तो वो बोलीं- अरे बुद्धू तुम आने वाले हो, ये बात मुझे मालूम थी ना, इसलिए तुम्हारे स्वागत के लिए निकाल रखी है.

सेक्सी बीएफ एचडी फुल एचडी में

संजय मेरे होंठ गाल गरदन कान हर जगह चुम्बनों की बौछार कर रहा था- नसीम मेरी जान. मैंने भी दीदी को किस करना शुरू कर दिया और उनके मम्मों और गले पर किस करने लगा. मैं रसोई में पानी पीने गया और मैंने चाची को आवाज़ दी कि चाची खाना लगा दो.

लेकिन अंजलि ने मुझे जबरन जगाया और कपड़े पहनने को कहा, वो अपने कपड़े पहन चुकी थी. अब तक मैंने अपने आप पे बहुत कंट्रोल किया था मगर यह फुल स्पीड चुदाई की वजह से मेरी अब चीखें निकलने लगी. शुरू में भाभी मेरे लंड को लोवर के ऊपर से ही सहला रही थीं, फिर उन्होंने मेरे कपड़े उतार कर फेंक दिए.

स्वाति अरुण की ही गर्लफ्रेंड थी, जवाब में मैंने भी हाथ बढ़ाया और उससे मिलाया.

”साले रोकने की बात क्या कहता है, सीधे बोल ना कि उसको चोदने से मत रोकना. मेरा मन वहीं हुआ कि अभी इसे चाट लूं और मेरा लंड कड़क हो गया, मैंने अपने आप पर कंट्रोल रखा और फिर से सो गया और मेरा मोबाइल मैंने उसके हाथ में दिया. नमस्कार दोस्तो, इस एडल्ट कहानी के पिछले भाग में अब तक आपने पढ़ा कि हम बाबा जी का पाखंड जानने आश्रम में श्रद्धालु बनकर पहुंचे थे.

जैसे ही मैं पहुंचा, मैंने उसे अपनी बांहों में ले लिया, वो भी मेरा साथ दे रही थी. उन्होंने कहा कि उन्होंने मेरी रेज़्यूमे देखी है और मैं उनकी जरूरत के लिए सही हूँ. फिर मैं भाग कर अपने रूम में आ गया और भाभी की चुदाई के सपने देखने लगा, जिससे मेरा लंड खड़ा हो गया और मैंने बाथरूम में जा कर भाभी के नाम की मुठ मार ली.

हम दोनों गरम हो चुके थे लेकिन मैं भाबी को तड़पते हुए देखना चाहता इसलिए मैं चुत में उंगलियां करने लगा. रूम को देखते ही रोहण का और मेरा मूड बन गया और रोहण मुझे बेड पर ले जाने लगे।मैंने रोहण से कहा- रोहण रुकिए, पहले हम फ्रेश हो जाते हैं, फिर करेंगे.

फिर एक दिन सोच ही लिया, जो भी होगा देखा जाएगा, अब तो ममता से बात करके ही रहूँगा. मैं मन ही मन सोच रही थी कि क्या करूँ? ऊपर जाऊं कि नहीं? एक तरफ मेरी मर्यादा मुझे रोक रही थी, पर मेरा दिल और जिस्म संजय की तरफ खिंचा जा रहा था. मैंने सोचा कि दिया तो अवी ने ही है, उसे कोई दिक्कत नहीं है तो मुझे क्या करना.

वे सिगरेट पी रही थीं, ऐसा लगता था वो दो पैग लगा कर फूफा जी से चुदवाने ही आई थीं.

इस बार वो गईं लेकिन काफी देर बाद ड्रिंक लेकर आईं और पहले की तरह नीचे बैठ गईं. मैं- छी… छी… दीदी आपने मेरा सूसू क्यूँ पिया?मेनका- भाई सूसू सफेद कब से होने लगा और वो भी इतना गाढ़ा… हा हाहा मेरे बुद्धू भाई!दीदी मेरे भोलेपन पर हंसने लगी. रजनी ने मुस्कुरा कर कहा- चलो एक काम करते हैं, तुम मुझे अपनी जीएफ बना लो.

मैंने भी अपने कपड़े उतार दिए और मैं भी वर्षा की प्यास बुझाने में लग गई. मैंने उसे अपनी बांहों में भरा और किस करने लगा, कभी उसके होंठों पे तो कभी उसके गालों पे, कभी कान की लौ पे, तो कभी गर्दन पे.

कुछ अच्छे कुछ बुरे, जो भी हो अच्छा लगा इसलिए अपनी आगे की कहानी आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूँ. करीब दस मिनट तक चूसने के बाद मैं उसके मुंह में ही झड़ गया और उसने मेरा पूरा वीर्य पी लिया. उन्होंने बोला हमारे यहा मैरिज है तो हमें मिलेट्री बैंड और ऑर्केस्ट्रा बुक करवाना है… पैसे की फिक्र मत करिए.

सेक्सी भोजपुरी में बीएफ

मुझे लड़कों में बहुत पहले से ही इंटरेस्ट है लेकिन इस घटना से पहले मैंने किसी से भी गांड नहीं मराई थी.

मैंने और कुणाल ने कल्याणी और कौमुदी से लंड चुसवाया, एक घंटे तक हम दोनों ने दोनों बहनों की चूतों को रौंद डाला. तो दीदी ने मुझे सोफे पर बिठा कर मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. मैंने उनके चूतड़ के ऊपर के हिस्से से लेकर कमर तक अपनी उंगलियाँ धीरे धीरे फेरीं.

उस दिन पूरी रात मुझे नींद नहीं आई और सोनी का वो मासूम चेहरा मेरी नज़रों के सामने घूमता रहा. जैसे ही मेरे बूब्स देखे, दोनों अंकल ने एक एक बूब जोर से पकड़ लिया और बोले- आरती, तुम्हारे ये मस्त दूध हैं यार कितनों से दबवा चुकी हो?और मेरे दोनों बूब्स को पूरी ताकत से दबा दिये. भोजपुर का सेक्सी वीडियोमैंने झट से जाकर गेट बंद कर दिया और वापस आया तो देखा कि दीदी ने मैक्सी निकाल दी थी, वो सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थीं.

उसकी चूत एक सूरजमुखी के फूल जैसी खुल गई और मेरे तने हुए लंड की तरफ देखने लगी. कुछ मिनट तक भाभी के मम्मों को चूस कर मैं नीचे भाभी की चूत की ओर बढ़ने लगा.

अब वो और भी ज्यादा उत्तेजित होने लगी और पागलों की तरह तड़पने लगी, बोली- आह. उधर दीपक भैया उसकी टांगों को चौड़ी करके चुत और गांड में मुँह डाल कर चूसते रहे. बाथरूम में एक किनारे पे उनकी नाईटी रखी थी, जैसे ही मैंने उसको उठाया, उसमें से उनकी ब्रा और पैन्टी नीचे गिर गई.

थोड़ी देर के बाद वो मेरे पास आ कर मेरे कंधे पे अपने कंधे मार के मैरिज हॉल की सीढ़ियों पर चढ़ गईं. उनमें से एक ने मेरे ऊपर आकर कस कर मेरे होंठ चूमे और कहा- तूफानी लड़की हो. दोस्तो, मेरी बहन के संग मेरे प्यार की इस दीवानगी के बाद मेरी बहन की चूत चुदाई की कहानी किस तरह पूरी हुई, ये आपको अगले भाग में लिखूंगा.

एक लंबी कहानी है… पर तुम समझी कैसे कि मैं इस बार जीजू से चुदवा कर आयी?”चाल दीदी चाल… कुंवारी लड़की और चूत चुदाई की हुई लड़की के चाल में मामूली अंतर आ जाता है.

संजय की आँख के एक इशारे पर मैं दौड़ती हुई जाकर उसकी बांहों में समा गई. ! मुझे अभी शादी थोड़ी करनी है, पहले जॉब, फिर कहीं शादी की बात सोचूंगी.

पर मम्मी ने ये देख लिया था कि दुपट्टा के बिना मेरे सामने चली गई थी, इसलिए मम्मी उस पर आग-बबूला होने लगीं और गुस्से में उसे बहुत कुछ सुना दिया. वो टाइम लकी था कि छत पर कोई नहीं था क्योंकि सब नीचे ऑर्केस्ट्रा पर डांस में लगे थे. इन डेढ़ सालों में उसके जिस्म में आश्चर्यजनक बदलाव मैंने नोट किया; वो पहले से और भी छरहरी हो गयी थी उसका सुतवां जिस्म और भी सांचे में ढल गया था.

क्या लग रही थीं वो… पूरी गहने से लदी… आँखों में सुरमा… एकदम लाल होंठ… गोरे गाल…मैंने चॉकलेट साइड में रख दी और अपनी जेब से अंगूठी निकाल कर उनका हाथ पकड़ते हुए अंगूठी उनकी उंगली में पहना दी और हाथ चूमते हुए कहा- मेरी जान के लिए यह छोटा सा तोहफ़ा इस नाचीज़ की तरफ से. चाय बना कर बाहर आया था तो देखा निर्मला जी ट्रांसपरेंट गाउन पहन कर सोफे पर बैठी थीं. वो कभी ‘आई लव यू जानू…’ तो कभी मादक सिसकारियां ले रही थी, तो कभी किस कर देती थी.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ पापा जी, अब बताओ, आप कुछ कहने वाले थे मुझे देख कर?” बहूरानी सामने वाली कुर्सी पर बैठती हुई बोली. हम दोनों का घर ज्यादा दूर नहीं था। उसने मुझसे कहा- अगर तुमको कोई प्रॉब्लम नहीं हो.

बिहारी बीएफ सेक्सी हिंदी

अंकित ने अपना सारा माल माया के मुँह में ही निकाल दिया और माया ने एक बूंद भी बाहर नहीं निकलने दी. बहूरानी के मायके वाले हमें रिसीव करने आये थे, सब लोगों से बड़ी आत्मीयता से हाय हेलो हुई और हम लोग अपने ठहरने की जगह की ओर निकल लिए. मैंने सोचा कि वो अब चुदवाने के लिए तैयार तो हो ही गई है लेकिन मैं अभी उसके साथ थोड़ा और मस्ती करना चाहता था.

मैं- शहजाद मेरा फोन नहीं दिख रहा?शहजाद- यहीं कहीं होगा रिंग मार के देख लो. तुम बहुत गंदे हो।उसने सिर्फ़ नीचे निक्कर ही पहनी थी। उसमें उसका लंड खड़ा हुआ था।वो- अरे चाची जी शर्म की क्या बात. বয়েজ সেক্স ভিডিওअब तो धक्के मार कर अपनी चाची की चूत दोबारा ढीली कर दे!तो बस धकापेल चुदाई का मंजर शुरू हो गया.

अच्छा ये बताओ तुम इसके लिए क्या जुगाड़ करने वाले थे?”तुम करने वाली होगी तो जुगाड़ सोचने का कोई मतलब है.

कुछ दिन रहने के बाद उनसे थोड़ी बातचीत बढ़ी, वो लोग भी बहुत अच्छे स्वभाव के थे. वो अपनी पेन्ट उतारने लगा, लंड निकाल के बोला- जान चूसोगी नहीं?मैं झुक कर घुटनों पर बैठ गई और लंड लगी चूसने!वो आह्ह्ह आह्ह्ह करने लगा और मेरा मुह लंड पे दबाने लगा, मैं भी गले के नीचे लंड उतार लेती, पूरा निगल लेती, वो आह्ह्ह आह्ह करते अकड़ने लगा, मेरा मुंह लंड पे दाब दिया.

मैं आहिस्ता आहिस्ता उसे चोदने लगा।पांच मिनट के बाद मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया और देखा कि बुर से थोड़ा खून आ रहा है. मैंने भी अपनी टाँगें उसकी कमर पे लपेटी और चूतड़ उठा उठा कर उसके हर धक्के का जवाब देने लगी. अब जैसा कि मैंने आपको बताया कि वहां भीड़ ज़्यादा थी, इसलिए झूले पर बैठने के लिए हमें लाइन में खड़े होना पड़ा.

भगवान ने तुम्हें क्या चीज़ बनाया है, तुम्हारा हुस्न और फिगर किसी को भी दीवाना बना दे.

मैंने अपने मुँह को हवा से फुला लिया और हाथ से मुँह जोर से दबा दिया ताकि मेरी चीख ना निकल जाए. जिस बहूरानी को मैंने हमेशा अपनी सगी बेटी जैसी ही समझा, जिसकी तरफ मैंने कभी नजर भर के नहीं देखा, मेरी वही कुलवधू मेरे घर की लाज, मुझ पिता समान व्यक्ति के नंगे जिस्म से अपना नंगा जिस्म रगड़ते हुये मेरे लंड पर अपनी गीली चूत घिस रही थी. पहले पहल काफी समय ऐसे ही निकल गया और हम कहीं और किराये के घर में रहने आ गए.

सेक्सी न्यू वीडियो सेक्सीजब उनकी कामवासना चरम पर थी तो वो पूरे जोश से मेरा लंड चूसने लगी थी लेकिन एक बार झड़ने के बाद उन्होंने मेरा लंड अपने मुख से निकाल दिया. अगली सीडी में दीदी एक पहलवान नुमा हब्शी जैसे गुलाम की पीठ पर सवारी कर रही थीं.

वीडियो बीएफ नंगी

मामी ने अपना हाथ मेरे लंड पर रखा और बोलीं- ये क्या है?मैं- आपको तो सब पता है. तब मुझ पर रहम नहीं किया, रहम करतीं तो ये अहसास कभी ना होता, दीदी दिल से थैंक्यू. थोड़ी देर बाद मैं खुद खड़ी हुई और उसके लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

रीना जाने लगी तो उसके मटकते चूतड़ों को देखकर दीपक भैया अपना लंड मसलते रहे. फिर रोहण ने मुझसे अपना शोर्ट उतरवाया और मुझसे कहा- माँ, मेरा लंड चूसो!फिर मैंने उसका लंड चूसा काफी देर तक! रोहण मेरे मुख में ही झड़ गया. मेरे चेहरे की राहत देख कर संजय भी समझ गया कि कोई दिक्कत नहीं है और खुश होते हुए उसने मेरी चुत को जोरों से चोदना शुरू कर दिया.

ममता मुझसे बात कर रही थी और मेरी नज़रें उसके चूची के पहाड़ों पर टिकी थीं जिसे उसने भी पकड़ लिया और अपनी साड़ी ठीक करने लगी. मैं उसे तड़पाने के लिए जान बूझ के ऊपर को उठ जात और वो तड़पती रह जाती. मेरी हालत ख़राब होने लगी और बस मैं भगवान से यही प्रार्थना कर रहा था कि माँ रात वाली वीडियो ना देख ले.

फिर अपना सर उठाकर उसकी तरफ देखा तो वो अपनी आँखें बंद किए हुए चूत की चुदाई का मजा ले रही और हल्की हल्की आहें भर रही थी. यह कह कर मैंने भाभी को ज़ोर से बेड पर पटका और उनकी टांगें चौड़ी करते हुए अपना लंड भाभी की चूत के छेद पर रगड़ने लगा.

मैंने जल्दी से दरवाजा बंद किया और तेजी से मधु की नंगी गाण्ड को याद करके मुठ्ठ मारने लगा। जल्द ही मेरा माल निकल गया और मैं नहाने घुस गया।मित्रों ये मेरे जीवन की एकदम सच्ची घटना है जिसमें मैंने सिर्फ वो लिखा है जो वास्तव में मेरे साथ हुआ था।मेरी एडल्ट कहानी आपको कैसी लगी, आप सभी पाठकों की प्रतिक्रियाएं आमंत्रित हैं।[emailprotected].

रोशनी ने जैसे ही चिल्लाने की कोशिश की, उसके मुँह में बाम से भरा रस टपकने लगा. काजल मेहरा की सेक्सीउन्होंने मुझे देखा और हंटर लहराते हुए कहा- चल बहन के लंड, आज तेरी माँ चोदती हूँ. करीना कपूर का सेक्सी वीडियो बताइएमैंने पूछा कि तुम्हारा कितना बाकी है?उसने बोला कि मैं तो दोबारा भी झड़ चुकी हूँ, तुम इतने दमदार तरीके से चोद रहे थे कि मैंने तुम्हें बीच में नहीं रोका. लेकिन अनन्या को उसके पति के बड़े भाई ने पीछे से पकड़ लिया और उसके गाल पर चुम्बन करने लगे और बोलने लगे- अनन्या, मैं तुमको बहुत पसंद करता हूँ.

करीब बीस मिनट के फोरप्ले में रीना के सब्र का बांध टूटने लगा परन्तु मैं जल्दबाजी नहीं करना चाह रहा था क्योंकि कल रात मैंने देखा था कि 21 साल की इस जवान ठण्डी लड़की के लिए दो मर्द कोई मायने नहीं रखते थे.

मेरी तो फिर से लाटरी निकल पड़ी… उसका फिगर क्या मस्त था, बस पेट पर दो ऑपरेशन के निशान थे, बच्चे हुए थे उनके. ”अच्छा तुम अपनी चुन्नी, सलवार, कमीज़, ब्रा, पेंटी सभी कुछ उतार कर चेयर पर रख दो और गोलू तुम्हारी साइज़ की नाप लेके बताएगा कि तुम कितना सच बोल रही हो. और तब मैंने रोहण से कहा- रोहण, मेरे बदन में बहुत दर्द हो रहा है तुम मेरी वैक्स और मसाज कर दोगे?रोहण ने कहा- ओके माँ!फिर मैं वैक्स का समान ले आयी अपने बैग से और मैं बाहर स्विमिंग बेड पर लेट गयी.

उसने मेरे लंड की मुठ मारकर मेरे माल को गिरा दिया और उठकर अपने कपड़े ठीक करके चली गई. मैंने पूछा तो बोली बस यूं ही लगा ली थी क्योंकि अब एकाध दिन में ही पीरियड शुरू हो सकते हैं. चूत के अन्दर ही नहीं डाल पाए। उस दिन मैंने सोचा मुझे ही शर्म छोड़नी पड़ेगी। मैंने रात को केवल एक पतली सी नाईटी पहनी और नीचे कुछ नहीं पहना। जिसमें से मेरी 34 की सुडौल चूचियां साफ दिख रही थीं और गाण्ड भी बिल्कुल नंगी ही थी। ये समझ लो कि मैं नंगी ही थी। फिर बिस्तर पर लेट कर यश का इन्तजार करने लगी। थोड़ी देर बाद यश कमरे में आए और मुझे इस रूप में देखकर दंग से रह गए। वो कपड़े बदलने लगे.

बांग्ला बीएफ 2

पंद्रह बीस सेकंड बाद ही मेरे लंड से वीर्य की पिचकारी छूटी और ऊपर वाली बर्थ से जा टकराई… फिर छोटी छोटी पिचकारियाँ किसी फव्वारे की तरह निकलने लगीं और बहूरानी के दोनों पांव मेरे वीर्य से सन गये. मैंने अपने टॉप को ऊपर उठा दिया और बॉस के मुँह में अपना निप्पल डाल दिया. राहुल मोना की चुत के सामने बैठ गया और उसकी चूत को सहलाना शुरू कर दिया.

तभी मैंने मौका पा कर प्रिया से बोला- प्रिया मैं तुमसे एक बात बोलना चाहता हूँ, तुम प्लीज़ बुरा मत मानना.

मैं फिर किसिंग करने वाला था कि उसने कहा- इसके लिए भी कुछ नया तरीका निकालो ना!मैं उठा कुछ सोचते सोचते बाहर गया.

मैं खिड़की के पास गया और पूछा- मेरे बारे में क्या सोचा है?पहले तो उसने ऊपर ही नहीं देखा… कुछ भी नहीं बोली… तो थोड़ा सा धीरज करके मैंने कहा- पढ़ाई कर के थक गई होगी तो मुझसे मालिश ही करवा लो!तो उसने ऊपर देखा तो उसकी आँखों में आंसू थे. अब मैं भी गुस्से से किचन से निकल कर अपने बेडरूम में चला आया और लेट गया. ट्रेन की सेक्सी वीडियोपुलकित ने अपने जूते उतारे, और फिर अपने कपड़े भी उतारने लगा और मन ही मन सोच रहा था कि ‘बस अब सब्र नहीं होता, पहले एक शॉट लगा लूँ, फिर सोचूँगा कि बाद में क्या करना है.

जब मेरा दोस्त बाहर आने लगा तो इतने में मैं दूर जाकर बैठ गया जैसे मुझे कुछ पता ही ना हो!दरवाजा बंद करके मेरा दोस्त मेरे पास आया और बोला- तू जा अब!मैं बोला- ठीक है भाई!अब बारी मेरी थी तो मैं अंदर गया और दरवाजा बंद कर लिया. पर एक दिन वो मुझे नहीं दिखाई दी, मैं बहुत उदास हो कर कॉलेज चला गया. अपनी पत्नी की इस चाहत से रजामंद तो थे लेकिन वो चिंतित थे कि कहीं किसी को पता चल गया तो उनकी काफी बदनामी होगी और कोई गलत आदमी मिल गया तो हो सकता है कि ब्लैकमैल भी करे.

अब मेरी पतिव्रता पत्नी ओमार के मोटे लंड को अपनी तंग गांड में लेने और वासना के खेल को और मजेदार बनाने के लिए और अधिक स्वतन्त्र हो गई थी. हम एक ही सोसाइटी में रहते थे तो ये हमारे लिए ज़्यादा मुश्किल नहीं था.

फिर शाम को राजीव घर आ गए, हमने डिनर किया, मैंने राजीव से चुदाई की कहा तो उन्होंने आज फिर से मना कर दिया और मैं रोज़ की तरह अपनी चुत की खीरा चुदाई कर के सो गई.

तुझे बेड पर कुतिया बना कर चोदने में जो मजा है, वह कहीं नहीं!उफ़ कुतिया क्यों ब्रायन? चुदवा तो रही हूँ चुपचाप. इससे पहले वो कुछ समझ पाती, अंकित ने माया को घोड़ी बना दिया और पीछे से अपना लंड एक झटके में उसकी चुत में उतार दिया. दीदी के बूट में लगे नुकीली कीलों की मार से गुलाम की गांड पर कट आ गए थे, जिससे खून रिस रहा था.

ओपन सेक्सी फुल वीडियो की आवाजें निकाल कर कहने लगीं- हाँ ब्रायन चोद ऐसे ही, आज तक मुझे इस पोजीशन में किसी ने नहीं चोदा. तभी मैंने वहाँ किसी से पूछा कि ये लेडी कौन है?उसने बोला- ये लड़की दूल्हे की मौसी है, पर तुम क्यों पूछ रहे हो?मैंने कहा- मुझे वो परेशान सी दिखीं तो पूछा.

एक लंबी कहानी है… पर तुम समझी कैसे कि मैं इस बार जीजू से चुदवा कर आयी?”चाल दीदी चाल… कुंवारी लड़की और चूत चुदाई की हुई लड़की के चाल में मामूली अंतर आ जाता है. मैंने एक ज़ोर का धक्का मारा, जिससे मेरा लंड आधा उसकी चुत में घुस गया और उसकी चीख निकल गई ‘हयी मम्मी… मैं मर गई… आह. वो बुरी तरह से तड़पने लगी और मुझे पीछे धकलने लगी और उसने मेरे होंठ भी काट लिए, पर ना ही मैंने उसके होंठ चूसना छोड़ा और ना ही अपनी पकड़ ढीली की, क्योंकि मुझे पता था कि अभी सिर्फ सुपारा ही अन्दर गया है.

बीएफ फिल्म सेक्सी मूवी बीएफ

मैं बोली- तुम समझ नहीं रहे, मुझे फर्क पड़ता है, तुम सब कुछ कर सकते हो, तुम को हक़ है मुझे चोदने का क्योंकि मैं तुमको प्यार करती हूं, तुम्हें शर्म नहीं आती यह कहते हुए… वो मेरे बाप जितना है. फिर मैंने अपने लंड थूक लगाया और बहुत सारा थूक उसकी गांड में भी थूका, जिससे लंड जाने में दिक्कत कम से कम हो. उस दिन हम दोनों ही घर में थे, इसलिए मैंने और भाभी ने जल्दी खा लिया.

मेरे लंड का टोपा कुछ ज़्यादा ही मोटा था, जिससे वो भाभी की चुत में अन्दर नहीं जा रहा था. मैंने तुरंत उसके होंठों पर अपने होंठों को रखा और हम दोनों एक दूसरे के होंठों को चूसने में लग गए.

मैं आपके लंड को बहुत प्यार करती हूँ और आपके लंड के बिना एक पल भी रहने का मन नहीं करता है.

उसने कुछ कहा तो नहीं लेकिन अपना एक हाथ मेरे गालों पर रख कर सहलाने लगी. हमने जल्द से जल्द अपना घर आफिस सब बेच दिया और सब कुछ लेकर दुबई आ गए. बहुत मोटा है इस नीग्रो हब्शी का… अपनी मासूम बच्ची को बचा ले राधिका.

कुछ मिनट के बाद उसके साथी ने अपना लंड पदमा की चूत पर सैट किया और एक जोर का धक्का दिया तो पूरा मोटा कलुआ लंड मेरी बीवी की चूत को शायद चीरता हुआ अन्दर घुस गया. हम और तुम दो इसके पति हो जाएंगे।सुरेश अंकल बोले- ठीक है, मंजूर है। मैं 15 दिन में कर के बताता हूं. आख़िरकार मैं सुकुमारी भौजी के पीछे तक पहुँच गया और धीरे से झुककर बड़े झटके के साथ उनकी दोनों चूचियों को दबोच लिया.

फिर मयूरी खुद ही दरवाज़े की तरफ बढ़ी और ऐसे झुकी जैसे पीछे से मोहन लाल को अपनी गांड के दर्शन करवाना चाहती हो और दरवाज़े को अन्दर से बंद करने की कोशिश करने लगी.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ: एक बार तो मेरे बिल्कुल पास से निकलीं और उनका कंधा मेरे कंधे से लगा. मुझे यह भी मालूम था कि उसका ये फ्रेंड अमीर तथा काफी पहुँच वाला है, इससे उसे इसके साथ काम करने से, काफी मजे से काम और दाम भी प्राप्त हो जाता है.

तब तक उसकी ही पैन्ट में से इरशाद ने वैसलीन की शीशी ढूंढ निकाली और मुझे दे दी. बस मैंने उनके ब्लाउज के सारे बटनों को खोल दिया और उनके एक दूध में मुँह लगा कर मस्त होकर पीने लगा. मैंने अंजू से कहा- अंजू, तुम तो कह रही थीं कि लड़के कमेंट करते हैं? जिस किसी ने भी मुझे देखा.

पापा जी को नाश्ते में दही जरूर चाहिये होता है, और दही ताजा ही लाना, खट्टा मत ले आना!” बहूरानी ने यह कहते हुए मेरे बेटे को बाज़ार भेज दिया.

मैंने उनको दोनों मम्मों को अपने दोनों हाथों में लेकर सहलाने लगा, तो दीदी के मुँह से गर्म सिसकारियां निकलने लगीं, ‘म्म्म्मो… उम्म्ह… अहह… हय… याह… उहाआआ. ज़ायरा भाभी हमारे घर में अपने पति और एक बच्चे के साथ किराये पर रहती थीं. मैं- ठीक है दीदी, आज नहीं फिर कभी लेकिन अब एक बार चूत की चुदाई तो करने दो ना.