सीखने वाली बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ वीडियो हिंदी साड़ी में

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो राजाजी: सीखने वाली बीएफ, उसके इस तरह की लंड चुसाई से मैं अपने आपको कंट्रोल नहीं कर पाया और मैंने सारा वीर्य उसके मुँह छोड़ दिया, कुछ छिटके उसकी छाती पर भी गिर गए थे.

बीएफ वीडियो सनी लियोन बीएफ

जैसे ही उसके बड़े-बड़े बोबे और एकदम क्लीन शेव चुत मेरे सामने आई, मैं तो जैसे पागल सा हो गया. चोदा चोदी वाला बीएफ चोदा चोदी वालाअब मैंने उससे 69 के लिए कहा तो उसने 69 में आ कर अपनी चूत मेरे मुँह पर दे दी और मेरा लंड अपने मुँह में लेने की कोशिश करने लगी.

अन्यथा कि स्थिति में पापा से सब कुछ कह देने की धमकी दी थी, तब जाकर उस हरामी से पीछा छूट सका था. सेक्सी कहानियां बीएफये और ज्यादा तकलीफ पैदा करने वाली बात हुई कि जिस मज़े से आप अनजान नहीं थीं और शायद आदी थीं, वो आपको यूँ किश्तों में मिल पा रहा है।”हम्म.

थोड़ी ही देर बाद मैं बाथरूम के दरवाजे के पास जा कर खड़ा हो गया तो मैंने देखा कि वो अपनी चूत को साबुन लगा कर धो रही थी.सीखने वाली बीएफ: उन्होंने मुझे बांहों में जब उठाया तो मुझे अलग सा महसूस हुआ, मेरे दूध को चूम कर अंकल बोले- बड़ी मस्त है लग रही है तू मेरी गोद में, मेरी बाहों में तू वन्द्या!और ले जाकर बगल से जो बिस्तर था, उसमें मुझे पटक दिया.

मैं भी कई दिन से सोच रहा था कि अब तो मेरी बहन जवान हो गई है और अब चोदने में मज़ा देगी, इसलिए घर का माल घर पर ही रहना चाहिए.उस वक़्त मेरे लौड़े में कुछ दर्द सा भी हुआ, मगर चूत की गर्मी ने उसे ठीक कर दिया.

सेक्सी व्हिडिओ बीएफ पंजाबी - सीखने वाली बीएफ

तब मैंने उसको सब बताया कि मैंने बहुत सी आंटी और लड़कियों और भाभियों को चोदा है.किस करते वक्त मेरा लंड पेन्ट के अन्दर ही अपनी अंगड़ाईयां ले रहा था और अब तो काबू से बाहर हो रहा था.

वो अधिकारी अगले कुछ दिनों में ही आकर कंपनी का रिकॉर्ड चैक करेगा और अगर उसमें कुछ ग़लत पाया गया तो क्रिमिनल केस भी चल सकता है. सीखने वाली बीएफ फिर रंजीत नीचे लेट गया और मेरी वाइफ उसके लंड पर बैठ ऊपर नीचे होने लगी.

बहुत ही प्यारी लग रही थी ऐसे सोये हुए वो!मैं पीछे हटा और उसके कूल्हों को सहलाने लगा.

सीखने वाली बीएफ?

मैंने उसकी चूत को लगभग पूरा अपने मुँह में भर कर चूसा तो उसका रस छूट गया. वो भी अपनी चुत पर मेरी जुबान अहसास पाते ही मादक सिसकारियां लेने लगीं. बिंदु ने कहा- तो ठीक है आज रात तो मैं भी देखती हूँ कि तुम उसके साथ क्या क्या कर सकते हो.

उसकी आंखें बंद थीं तो मैंने अपने लैपटॉप के बैग में हाथ डाला और उसमें से एक गुलाब निकाला, जो मैं उसके लिए लेकर गया था. मैंने अपने हाथ से उसकी सलवार का नाड़ा खोला और अपना हाथ उसकी चुत पे ले गया. एकता को डॉली के मुँह पर आगे की तरफ झुक के घोड़ी स्टाइल में होने का कहा और मैं डॉली की मोटी मोटी जांघें ऊपर उठा कर फैलाने लगा.

लेकिन ये तय हो गया था कि वो मेरे लंड को अपनी चुत में लेकर ही रहेंगी. मैं भी अब झड़ने वाला था तो मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार और तेज कर दी. मगर साली की गांड बहुत टाईट थी, लंड जा ही नहीं रहा था और वो कह रही थी- मान जाओ, गांड में नहीं जायेगा.

जबकि वह अपने लिंग को अपने दोनों हाथों में दबाने छुपाने की कोशिश करता एकदम नीचे उकड़ू बैठ गया था।यह क्या है?” मैंने अपने कुरते पर आये सफ़ेद लसलसे पदार्थ को उंगली से छूते हुए कहा- क्या हो गया तुझे? और यह क्या है सफ़ेद-सफ़ेद?तुम जाओ. मैंने कुछ घंटों पहले आपसे मोहब्बत की जो कुछ घंटों बाद खत्म हो जाएंगी। मैं आपके लिए दिमाग में गंदगी नहीं ला सकता.

लेकिन कोई बात नहीं, मैंने भाभी के मोबाइल से आपका नंबर निकाल लिया है.

मेरी साली की चूत रस से बिल्कुल तर बतर थी, इसलिये मेरा लौड़ा बड़े आराम से उसके भीतर घुसता चला गया और सुपारा जाकर रेखा रानी की बच्चेदानी को चूमने लगा.

उसने मुझे फिर अगले दिन फोन कर के आने को कहा तो मैंने कहा- यार आज तो नहीं आ सकता, मुझे कुछ जरूरी काम है. कैसे समझाऊं, किसे समझाऊं कि जब मर्द पास नहीं होता तो कैसा महसूस होता है उसकी जवान बीवी को।”बहुत सी औरतें इसका इलाज ढूंढ लेती हैं. सुकन्या रानी भी पूरी मस्ती में चीख चीख कर लण्ड का रसास्वादन अपनी चूत में कर रही थी.

उसके झड़ने के 1-2 मिनट बाद में भी झड़ने वाला था, मैंने उसे इशारा किया कि मैं झड़ने वाला हूँ. चलते चलते एक बहुत लम्बी चुम्मी ली, रानी की चूचियां थोड़ी सी निचोड़ी और थोड़े से नितम्ब दबाये. वो पीछे की सीट पर बैठ गई, मैंने ट्रिप स्टार्ट की और उसकी बताई जगह पर चल दिया.

जैसे ही मैं पहुंचा, भाबी ने दूर से ही मुझे देख कर इशारा करते हुए अन्दर बुला लिया.

किचन के पीछे का दरवाज़ा जो बैकयार्ड में खुलता है, अक्सर खुला रहता है. जब उन्हें लगा कि गांड ढीली हो गई तो उन्होंने अपना लंड जो बड़ी देर से मचल रहा था, मैंने देखा कि उनका सुपारा तो छोटा था पर उसके पीछे लंड बहुत मोटा था, अब लंड मेरी गांड पर टिकाया और धक्का दिया. अब मेरे सामने उसकी नाजुक, मुलायम चुत खुली पड़ी थी, मुझे उसके दीदार हो गए थे.

फिर उसने हँसते हुए अपने हाथ पीछे ले जाकर अपनी ब्रा के हुक खोल दिये अब मैं आराम से उसके बूबस को दबा सकता था. दूध खुलते ही वो शर्मा गईं और हाथ से अपने मम्मों के निपल्स छुपाने लगीं. मैं जो सेक्स की कहानी पढ़ती हूं और जो मैंने मैगजीन देखी है, उसमें एक लड़की एक बार में तीन चार पांच मर्द तक से एक साथ करवा लेती है और बहुत इंजॉय करती है.

तो पूजा ने गांड मरवाने से मना कर दिया, वो बोली- आज तक गांड में नहीं किया और अभी जल्दी से कर लो, अभी मैं ये करवाने नहीं आई थी.

मैं भी अब झड़ने वाला था तो मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार और तेज कर दी. एक दूसरे को बहुत देर तक किस करने के बाद हम दोनों लोग बिस्तर पर लेट गए.

सीखने वाली बीएफ फिर धीरे से उनके मम्मों पर रख दिया और उन्हें ब्लाउज के ऊपर से ही सहलाने लगा. मैं अपने कमरे में सोने चला गया मगर मुझे अभी भी ख्यालों में रिंकू भाभी की चूत दिखाई दे रही थी.

सीखने वाली बीएफ मैंने मजाक के मूड में कहा, मुझे उनका ये दिखावटी खफा होने अंदाज अच्छा लग रहा था. मैं तो कई महीनों से परेशान हूँ कि काश कोई मुझे चोद कर कली से फूल बना दे, पर मैंने बदनामी के डर से कभी किसी लड़के को लिफ्ट नहीं दी.

जब काम वाली अंदर के कमरे में सफाई कर रही थी तो मैं किचन में अपनी सास के पास गया और कहा- चलो सेक्स नहीं कर सके लेकिन आपको मेरा पानी तो निकालना होगा क्योंकि मेरे भी जाने का टाइम हो रहा है.

किस आकर मधु का सेक्सी वीडियो

मैंने अपनी दोनों बहनों को कपड़े दिला दिए और अपना जो शादी के लिए जरूरी सामान लेना था, वो भी ले लिया और घर आ गये।और फिर शादी की रात जब मेरे चाचा का बेटाअपनी सुहागरात मना रहा थातभी हम तीनों भाई बहन मिल कर अपनी दूसरी सुहागरात मना रहे थे।अब मैं 19 साल का हूँ और कामिनी की शादी हो चुकी है लेकिन जब भी वो हमारे घर आती है हम दोनों चुदाई जरूर करते हैं और खूब मजा करते हैं. मैं उसको किस करता हुआ सीधा बेडरूम में ले गया और नेहा को बेड पर लेटा दिया. जब वे ऐसा कहती थीं, तो मैं उनसे मजाक में कह देता था कि बुआ तुम ही अपना दूध पिला दिया करो.

मुझे अभी भी अपनी आँखों पे यकीन नहीं हो रहा था कि ये सब वास्तव में मेरी आँखों के सामने हो रहा है. अगर 3-4 दिन उसकी गांड नहीं मारता था तो वो तो कहने लगती थी कि सुनो जी, मेरी गांड खुजा रही है, आज इसमें ही डाल दो. उसने मुझे कहा- तुम को थोड़ा ज्यादा दर्द होगा जो तुमको सहन करना होगा.

मैंने रोटी पीटती किस्मत को गालियां देती हुई किसी तरह तैयार हुई और होटल में पहुँच गई.

दोनों लैम्पों के शेड भी नीले थे, इसलिए रौशनी हल्का सा नीलापन लिए थी, वातावरण को बहुत कामुक बना रही थी. एकदम गोरा बदन, बड़े-बड़े मम्मे, ऊंची उठी हुई गांड बड़ी कातिल जवानी थी. इस वक्त भाभी अकेली थीं तो मैंने उनसे कहा- आप प्लीज मॉम को मत बताना.

चाहे कोई मरे या जिये आपकी बला से!”ऐसे नहीं न कहते मेरी जान … अच्छा चलो मेरी सॉरी; आगे से बड़े प्यार से एंटर करूंगा. यह कह कर मैं उसका पजामा यूं ही खींच कर नीचे करने लगा लेकिन वो नीचे नहीं हो पा रहा था. मैंने हिमानी को बेड पर लिटाया और स्कर्ट को ऊपर करके उसकी टाँगे फैलाई.

मैंने उसका हाथ पकड़ा और जैसे ही मैंने खुद अपना हाथ रखा, वह पैन्ट के ऊपर से ही बहुत बड़ा सा लगा. जवाब में मैं भी कुर्सी से उठ खड़ा हो गया और उसको आलिंगन में भर अपने होंठ उसके होंठों से चिपका दिए.

वो मुझे बताती थी कि कैसे उसकी सहेली ने अपने बॉयफ्रेंड से सेक्स किया, उसकी सहेली का बॉयफ्रेंड उसकी चुत को चाटता था. वो मुस्कुराई- इतना मत सोचना, प्यार ना हो जाए कहीं अपनी बहन से ही!मैं भड़क गया- तुम मेरी बहन नहीं हो!वो हँसने लगी- ओह, लगता है मैंने कुछ ज़्यादा ही तड़पा दिया दिन में… मेरे पास आओ!मैं बेड से उठ कर उसके पास गया. फिर मेरे पास एक चाचा बैठे थे, वो वहां से उठ गए और बस रुकवा कर उतर गए.

जैसे बाहर रहने वाले सभी मर्द लेते हैं।”इस बार वह चुप रह गयी।एक बात पूछूं?”क्या?”मैंने आपको देखा है और देखने के बाद से दिमाग में एक सवाल चक्कर काट रहा है, अगर उसका जवाब मिल जाये तो मुझे भी सुकून मिल जाये।”क्या?”आप एकदम गोरी हैं.

अब मैं भी देर न कर करते हुए भाबी के ऊपर चढ़ गया और अपना लंड उनकी चुत पर रगड़ने लगा. बिल्कुल कर सकती हूँ… लेकिन वहां स्टूडियो में सब कुछ रियल नहीं होता, एक-एक शॉट के दस दस रीटेक होते हैं, फैसिलिटी ही अलग होती हैं… और मैं तो आज बिल्कुल ही तैयार नहीं थी एनल सेक्स के लिए… और वो भी ऐसे मोटे ढपाल लंड के साथ!”प्रत्युत्तर में आर्थर सिर्फ हंसने लगा और उसने अपने कंधे उचका दिए. कुछ दिनों बाद उस लड़के ने मुझसे अपनी शादी के लिए अपने माँ बाप को मना लिया.

ये सब देख सुन कर मेरा भी लंड खड़ा हो गया था, तो मेरा भी हाथ अपने पैन्ट के अन्दर चला गया. हटो जल्दी से कपड़े पहनो!बहूरानी बेसब्री से बोलीं और बेड से उतर कर खड़ी हो गयी, उसकी चूत से मेरे वीर्य और उनके रज का मिश्रण उनकी जांघों पर से बह निकला जिसे उसने जल्दी से अपने घाघरे से पौंछ डाला और अपना घाघरा चोली पहनने लगी.

आज कम से कम आधा घंटा अपने मम्मों की मालिश करना और हाथों को नीचे से ऊपर ले जाना और कभी भूल कर बिना ऊपर से नीचे ना लाना. आप जानते हैं कि यह अपराध होता है, अगर आपने अभी ज़रीन से माफी नहीं माँगी तो मैं आपके खिलाफ केस करूँगा. मैं किसी से भी चैट नहीं करूँगी, ना ही अपनी फोटो पेस्ट करूँगी और ना ही किसी को मेरा नंबर मिल सकता है.

माधुरी दीक्षित हॉट सेक्सी

तब मैडम ने कहा- रुक क्यों गए?जैसे ही मैंने उसे सहलाना व दबाना शुरू किया, मैडम ने सिसकारी लेते हुए एक सवाल कर दिया- इस्स.

सोनिया की इन हरकतों की वजह से पापा मम्मी बहुत परेशान रहते थे और डरते थे कि कहीं छोटी लड़की भी उसके नक़्शे कदम पे न चल पड़े. अब मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैंने उसके पास अपना एक पैर लाकर उसकी जांघों पर रख दिया. वो मुझे बोला- तुम मुझे अपनी जिस्म से मुझे खुश कर दो, मैं तुमको बहुत पसंद करता हूँ.

कुछ दिन हम दोनों की चुत को कोई खुराक नहीं मिली, तो लंड के लिए तड़फ गईं. तो यारो, यह थी मेरी अपनी बड़ी साली रेखा रानी की साथ चुदाई के संबंधों की शुरुआत. सेक्सी मूवी बीएफ फिल्मेंजब दिल की धड़कनें और साँसें सामान्य हो गयीं तो मैंने उठ कर स्थिति का मुआयना किया.

भाभी ने मुझे फोन करके बुलाया- कहाँ हो, कुछ काम है, तुम जल्दी घर आ जाओ. बेटी पूजा, अब हम किसी दूसरे स्टाइल से चोदते हैं!”पूजा बोली- अब मैं आपके ऊपर चढ़ कर आपको चोदूँगी.

मैं सोच रहा था कि क्या दरवाजा अन्दर से लॉक होगा?फिर मैंने सोचा अगर खुला होगा तो सीधा अन्दर चला जाऊंगा, जो होगा देखा जाएगा. मेरी तो जान ही निकाल दी उस झटके ने… मेरी आँखों से पानी आ गया, मेरी चीख गले में ही रह गयी. लेकिन वो कहाँ मानने वाला था, उसे तो मेरे मम्मे इस तरह से लग रहे थे जैसे किसी बच्चे को उसका मनपसंद खिलौना मिल गया हो और वो उसे छोड़ना ही ना चाह रहा हो.

मनोहर बोला- दिनेश, तू वन्द्या के मुँह में अपना लौड़ा डाल के मुँह की जबरदस्त चुदाई कर. वो शायद जल्दी में थी या कोई और भी उसके पास था, तो उसने रात में बात करने का बोल कर फ़ोन रख दिया. उसका पिता देर से आएगा, यह जान कर खाना खाने के बाद पद्मिनी सभी बातों को भूलकर सोने चली गयी.

भाभी ने मेरे मूसल लंड देखा तो एक बार तो उनके चेहरे पर घबराहट सी आ गई- यह तो बहुत बड़ा है.

उसने तो सब संकेत दे दिए थे तो अब यह जिम्मेदारी मेरी थी कि पहला क़दम उठाऊँ और चुदाई के लिए कोई जगह का इंतज़ाम भी करूं. मगर जबसे बाप ने टीचर वाली बात सुनी और लोगों की बातें सुनी तो गौर से पद्मिनी को देखने के बाद, उसके प्यार ने किसी और प्यार का रुख ले लिया.

मेरे पास मोटे कपड़े थे, जब मैंने उनको डालना शुरू किया तो बोली- क्या यार, तुम भी कहाँ की दकियानूसी हो. तभी लालजी अपना एक हाथ मेरे नाभि में चलाने लगा, मेरे अन्दर बहुत अजीब सी हलचल होने लगी. इत्तेफाक से जब वे इस बार सऊदी गये, मैं ठीक उसी वक्त लखनऊ शिफ्ट हुआ था तो मुलाकात न हो सकी।”मुझे नहीं पता था… मुझे लगा स्कूल कालेज के टाईम के दोस्त रहे होगे।”आप बताइये कुछ अपने बारे में।”मैं मलीहाबाद से हूँ.

ड्राइंग रूम में छह बड़ी बड़ी आराम कुर्सियां रखी हुई थीं और एक बड़ा सा दीवान था. दोस्तो मुझे लड़कियों की नाभि बहुत पसंद है, उसको देखने का भी अपना एक अलग मजा है. कुछ देर तक ऐसे ही हमारी सामान्य सी बातचीत होने लगी और हम पार्क के एक किनारे पर रखी बेंच पर बैठ गए.

सीखने वाली बीएफ मेरे लण्ड को हाथ में पकड़ कर बोली- राज! तुम तो वाकई में मर्द हो, इतना बड़ा हथियार. थोड़ी देर बाद उनको मजा आने लगा और वो चूतड़ों को उठा कर गांड चुदवाने लगीं.

संगीता की सेक्सी पिक्चर

फिर मैंने बाथरूम में जाकर उसको याद कर के मुठ मारी और अपने कमरे में आ गया. अब मेरीपूरी साफ चुतऔर गोल गोल मम्मे और उनके ऊपर लगी गुलाबी घुंडियां उसको चिढ़ा और ललचा रही थीं. जोर जोर से रोने लगी मैं, उन तीनों से गिड़गिड़ाने लगी, पर उन तीनों ने छोड़ा नहीं बल्कि मनोहर ने और जोर से मेरे अन्दर लंड डाल दिया.

सुहैल तो अपने हाथ से अपनी मुनिया रगड़ रहा था, तुम कैसे रगड़ती हो?”यही तो परेशानी है कि लड़की कैसे रगड़े। ऐसे में उसे लड़के की जरूरत पड़ती है जिसकी मुनिया में भी खुजली हो रही हो।”फिर?” मैंने अविश्वास से दोनों को देखा।फिर क्या. फूफा जी सो रहे थे, मुझे पता नहीं था कि फूफा जी अब भी नशे में होंगे या फिर नहीं!मगर अब की बार मैंने सोचा कि अगर फूफा जी नशे में ना भी होंगे तो अच्छा ही है, उनको भी पता चल जाएगा कि कोमल उनके लंड की दीवानी है. गांव की देसी बीएफ वीडियोवह हल्की हल्की सिसकारियां ले रही थी और मेरे लंड को ज़ोर ज़ोर से हिला रही थी.

तभी लालजी मेरे पीछे से जांघों को चूमते हुए मेरे पीछे गांड के छेद तक पहुंच गया और अपनी जीभ को जैसे ही मेरी गांड में टच कराया, मैं बिल्कुल अकड़ गई.

मैंने ओके कहा और वो मेरे पैरों के बीच में आ कर जोर से लंड चूसने लगी. मैंने अपने लंड की जोर जोर से मुठ मारते हुए कहा- मैं आपकी चूत में अपना लंड डालना चाहता हूँ.

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम रॉकी है, मेरी उम्र 32 वर्ष और मैं उदयपुर राजस्थान से हूँ। कभी कभी आपके हमारे जीवन में ऐसी घटनाएं घट जाती हैं जिनको हम कभी भुला नहीं पाते। कुछ ऐसा ही एक वाकया मेरी जिंदगी के साथ भी जुड़ा हुआ है जिसे कभी भुलाया नहीं जा सकता. मैंने उससे पूछा कि इतना मस्त लंड चूसना किधर से सीखा है?वो हंस दी लेकिन कुछ बोली नहीं, उसकी इस अदा से मुझे पक्का यकीन होने लगा था कि साली लंडखोर है और चुदी चुदाई चुत है. ” उन्होंने ऐसा बोलकर, मेरे एक तरफ के गाल को अपने हाथों से नोंचा और बेडरूम की ओर चली गईं.

क्या सही फिगर है मेरी… पर सीमा जितनी अच्छी नहीं है ना!” मैं फिर नेगेटिव सोच रही थी.

मैं सीधे उनके घर में चला गया और देखा आंटी नहा कर सेक्सी नाइटी में बाथरूम से बाहर निकल रही हैं. आज यह लैटर घर पर दिखा देना और कल रात के लिए मैं तुम्हें फिक्स कर दूँगी. बताओ क्या करना है?सुजाता कहने लगी- दरअसल मुझे आज कुछ पीठ में दर्द है, शायद चनक आ गई है अर्थात झटका लग गया है.

हिंदी बीएफ आईमेरे इस निडर व्यवहार को देख कर अब उन्होंने मुझे कातिलाना निगाहों से देखा और कहा- जो तुम पिलाने चाहो पिला दो, वो ही पी लूँगी. उसको जब भी मौका मिलता तो अपनी काम वाली बाई के साथ लेस्बियन सेक्स करती है.

सेक्सी मूवी छोडा छोड़ी

तब मम्मी ने पापा से कहा कि लाइट तो ऑफ कर लिया करो वरना कभी लड़की जाग गई तो उसे नज़र आ जाएगा. उन्हीं दिनों एक लड़की ने क्लास ज्वाइन की, वो दिखने में तो कोई हीरोईन से कम नहीं थी. मुझे फिर अजीब तरह का लग रहा था, तकलीफ होने लगी तो मैंने एक धक्का मार कर उसे नीचे उतारा मगर साली फिर से मेरे ऊपर चढ़ने के लिए पागलों की तरह करने लगी मगर मैंने उसे चढ़ने नहीं दिया.

उसे कहीं ना कहीं दिल में लग रहा था कि आख़िर वो उसका बेटा है और उसकी देखभाल करेगा. एक दिन की बात है, जब मैं रोजाना की तरह अपनी क्लास खत्म करके आ रहा था. अब मेरे पास कोई और ऑप्शन भी नहीं था, प्रेरणा ने बात ही ऐसी बोल दी थी.

टेबल पर वैसलीन की डिब्बी रखी थी जिसे वह डिल्डो पर लगाती थी, उसने वही वैसलीन मेरे लण्ड पर अच्छी तरह लगाई और फिर अपनी चूत के अन्दर तक लगाई. उसे समझते देर न लगी कि मैं क्या चाहता हूँ, हम दोनों ने पीस को एक दूसरे के मुंह में डालते हुए चूसना जारी रखा. आपको हम सगे भाई बहन की चुदाई की कहानी पढ़कर मजा आ रहा है ना?तो प्लीज़ मुझे ईमेल करें.

उसने देर न करते हुए अपनी उंगलियों को पद्मिनी की पेंटी पर ठीक चूत के पास फेरा. फिर उसने मुझसे सारा का सारा ही झूठ बोला था और मुझे फंसा कर और पैसे वापस मांगने की धमकी दे कर राज़ी किया था.

उसके चेहरे पर अब फिर वही सदाबहार मुस्कान लौट चुकी थी, उसकी गोरी मक्खन जैसी मुलायम गुलाबी गांड को चोदता हुआ आर्थर उत्तेजना से फटा जा रहा था और उसके मुंह से किसी भेड़िये जैसी गुर्राने वाली आवाज निकल रही थी.

तो उसका बापू धीरे धीरे, बिल्कुल आहिस्ते आहिस्ते पद्मिनी के ऊपर से चादर को हटाता गया. एक से एक बीएफयह कह कर मैं उसका पजामा यूं ही खींच कर नीचे करने लगा लेकिन वो नीचे नहीं हो पा रहा था. बीएफ घोड़े कातभी शायद उस लड़की को भी शक हो गया था कि मैं उसे देख रहा हूँ, तो वो मुँह बनाते हुए उठ कर वहाँ से चली गई और मैं देखता रह गया. मैंने जब अपने लंड के नीचे सील पैक चुत का अहसास किया तो मैं मस्त हो गया और मैं उसे अब प्यार से किस कर रहा था.

क्या अपने पिता का प्यार स्वीकार करेगी? क्या एक पढ़ने जाने वाली लड़की पढ़ी लिखी ऐसे बेहूदा बात को मानेगी? बग़ावत कर बैठी तो?? क्या करेगा बापू तब? उसको हमेशा के लिए खो देगा.

कभी वह अपनी गरम गरम राल से तर जीभ टोपे पर घुमा घुमा के चाटती और कभी वह दुबारा जीभ को मोड़ के नोक लंड के छेद में डाल के एक तेज़ करंट मेरे बदन में फैला देती. मैंने नोट किया कि वह मोटर साइकिल सोसाइटी में से तो किसी की नहीं है. वो दुल्हन जैसी लाल साड़ी पहने हुए थी और ऐसी लग रही थी मानो अभी मेरे पास आकर मुझे वरमाला पहना देगी.

मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था क्यूंकि रोज़ मैं आपके लम्बे लन्ड को सिर्फ देखती ही थी और उस दिन आपका लन्ड मेरे हाथ में था. थोड़ी देर बाद उसे सीधा लेटाकर उसकी जुबान अपने मुँह में ले ली और भयंकर तरीके से चूसते हुए उसको किस करने लगा. वो बहुत खुश थीं, उन्होंने कहा- बहुत टाइम बाद मैंने इतनी चुदाई की है.

इंग्लिश अमेरिकन सेक्सी वीडियो

राज ने एक लंबी सांस ले कर एक जोर का शॉट मारा और उससे मैं लिपट गई- आह्ह राज… राज… और… और करो… मजा आ रहा है… चोदो मुझे… और तेजी से चोदाई करो मेरी!और राज शॉट पर शॉट मारने लगा. वो भी इस बात को जानती थी कि मैं उसे देखता रहता हूं लेकिन वह कुछ नहीं बोलती. तेरे ही लिए तो खड़ा है ये!” मैं बोला और अपना फनफनाता लंड अपनी कुलवधू की चूत के मुहाने पर रख कर घिसने लगा.

थोड़ी देर में उसका फिर से खड़ा हो गया और उसने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और मेरे ऊपर आ गया, जोर जोर से मेरे स्तन दबाने लगा.

आज तुम उसे मेरे कमरे में ले कर आओगी और मुझे उसी तरह से उससे चुदवाओगी, जिस तरह से तुमने मुझको आशीष से चुदवाया था.

अभी मेरा पानी निकलना बाकी था… मैंने उनको घोड़ी बनने के लिए कहा… और पीछे से चोदने लगा… और 20 मिनट बाद मेरा होने आया था. मैंने उसके गले पर अपनी जीभ से किस करना चालू कर दिया, तो उसने मुझे अपने हाथों से जोर से दबा लिया. बीएफ सेक्सी वीडियो एचडी एचडीमेरी तो जान निकल गयी क्योंकि जो लण्ड के ऊपर जो खाल थी, वो अचानक से नीचे रगड़ खाते हुए निकली… मैंने उसको बाहर निकालने को बोला और फिर से बैठने को कहा।पर मैंने सोचा कि जब मुझे इतना दर्द हुआ तो इसको क्यों कुछ नहीं हुआ.

कैसी उम्मीद?” मैं उलझन में पड़ गया।आप के परिवार में कौन-कौन है?” उसने बात काट दी।दो भाई बहन हैं पर यहां कोई नहीं, सब भोपाल में रहते हैं। मैं अकेला रहता हूँ यहां. मैं बोली- मैं पौंछ लूंगी!लेकिन जीजा ने अपने हाथों से मेरे होठों को अपनी उंगलियों से छुआ और बोला- कितने कोमल होंठ हैं तुम्हारे साली जी!मैं शरमा गई कुछ नहीं बोली. मनोरमा ने कुछ घड़ियाली आंसू बहा कर उससे कहा कि मुझे नहीं पता था कि वो इतने लुच्चे निकलेंगे.

मैंने शीतल से कहा- चोदने का मन कर रहा है!तो शीतल ने कहा- आगे जंगल की तरफ झाड़ियों में चलते हैं!हम लोग झाड़ियों में पहुंच गए, वहां कुछ कपल पहले से चुदाई में मगन थे, ये सब देख के शीतल भी गर्म हो गयी, शीतल तुरंत घुटनों पर बैठ गयी और मेरा लंड बाहर निकाल के चूसने लगी. मैं पूरे जोश में भाभी को चोद रहा था और वो भी पूरा साथ देते हुए चुद रही थीं.

इन सब बातों से मुझे चुदास सी भड़कने लगी थी और अब मैं हमेशा यही सोचता था कि बुआ को कब प्रपोज करूँ.

बापू चाय लेने रसोई में चला गया और जल्दी जल्दी पद्मिनी ने अपनी यूनिफार्म पहन ली. मैंने कहा- आपका कमरा मैंने नहीं देखा, कैसे आऊं?उसने मुझे एड्रेस दिया और कहा कि इस एड्रेस पे आओ, मैं तुम्हें घर के बाहर दिख जाउंगी. एक उनके दूध घाटी में रखा दूसरा उनकी नाभि पर और एक को उनकी चूत के ऊपर रख दिया.

पंजाबी सेक्स वीडियो बीएफ अशोक अपने लंड से मेरी चुत का हलवा बना रहा था और उसका फ्रेंड मेरी चूचियां के बीच में अपना लंड रख बूब फकिंग कर रहा था. तब मैंने कोशिश करते हुए आखिर वो झिर्री तलाश ही ली, जिसके अन्दर मेरा टोपा घुस गया, फिर मैंने थोड़ा जोर लगा कर अपना आधा लंड नताशा की गांड में घुसेड़ दिया! अब आर्थर ने फिर से अपने धक्कों की रफ़्तार बढ़ानी शुरू कर दी, और उसके समान्तर घुसे मेरे लंड को भी उसी अनुपात में चुदाई तेज करनी पड़ी!नताशा थोड़ी बहुत कुनमुनाई, लेकिन उसे कुछ विशेष परेशानी हुई हो, ऐसा मुझे नजर नहीं आया.

उसने अपनी टांगों को फैला दिया और चूत चुसवाते हुए खूब ‘आआआह आआआह अयाया. वह देखना चाहता था कि पद्मिनी कैसे गुसलखाने से बाहर निकलेगी, क्या पहनकर आएगी और उसको कौन सा हिस्सा उसके जिस्म का दिखेगा. मैं भी पीछे के दरवाज़े से भाग कर नीचे आ गया लेकिन लंड अभी भी खड़ा और प्यासा ही था, मैंने बाथरूम में जाकर उसके नाम की मुठ मारी और फिर सब नार्मल हुआ।उसके बाद फिर कभी हमें वैसा चांस नहीं मिला.

सेक्सी video dehati

फटाफट मैंने भी अपना लोअर व टी शर्ट उतार दी और फिर ज़रा सा पीछे हट के अलका रानी को निहारने लगा. जब इसे देखोगी तब सब याद आ जाएगा कि कैसे लंड देखने के चक्कर में इतना मज़ा लिया. अभी वो नाच ही रही थी कि एक लड़के ने उसको पीछे से जा कर उसे धर दबोचा और उसके मम्मों को बुरी तरह से दबा दिया.

बस फिर क्या था… मैंने उन्हें कुतिया बनाया और उनकी गांड में तेल लगाया. मैं अन्तर्वासना की सारी कहानियों को पढ़ती हूँ और मुझे अन्तर्वासना की सारी कहानियां बहुत अच्छी लगती हैं.

प्रिय अन्तर्वासना पाठकोमई 2018 प्रकाशित हिंदी सेक्स स्टोरीज में से पाठकों की पसंद की पांच बेस्ट सेक्स कहानियाँ आपके समक्ष प्रस्तुत हैं…मैं आप सब पाठकों को अपनी आप बीती बता रही हूँ.

मामी फड़फड़ाकर बोलीं- अबे मादरचोद, मार डाला! बाहर निकाल जल्दी से!और मुझे अपने हाथों से धक्का देने लगीं. बीच बीच में मैं उनके कानों के निचले भाग यानि कान की लौ को अपने दांतों से काट देता तो उनके मुँह से हल्की सी सिसकारी निकल जाती. मैंने नीचे फर्श पर बैठ कर रेखा रंडी के पैरों के गुलाबी तलवों पर जीभ फिरानी शुरू कर दी.

वो कामुक सिसकारियां ले रही थी, आह… प्लीज़… ऊं… आह ऊंउनह… कर रही थी. मैंने कहा- यार ऐसे नहीं, मुस्कराओ… वरना मजा नहीं आएगा।तो उसने दांत निकाल दिए, वह मजे ले रहा था।हम बीस मिनट में निपट गए। बहुत दिनों बाद एक चिकने माशूक लौंडे की मारने को मिली। इसका असली शुक्रिया तो रमेश भाई साहब को देना था। मैंने लौंडे के भी चुम्बन लेकर उसका शुक्रिया कहा।पांच बजे करीब बलवीर बोला- मैं लेट्रिन जा रहा हूं. तो उन्होंने कहा- अच्छा जी, मेरी तारीफ कर रहे हो या फ्लर्ट!मैंने कहा- अपनी बदकिस्मती बता रहा हूँ जी.

कुछ देर निढाल रहने के बाद वो बहुत उतावली हो रही थी और बोले जा रही थी- आह.

सीखने वाली बीएफ: मैंने भी देर करना ठीक नहीं समझा और भाभी के ऊपर चुदाई की पोजीशन में आ गया. उसके जाने के बाद मैं बाथरूम में गई और अपनी चूत को और अपनी गांड को साफ़ किया और नहा कर अपने कपड़े बदल लिए और घर का काम करने लगी.

पर वो मानी ही नहीं, भाभी बोलीं- अमित तुमसे एक मदद चाहिए, मुझे बच्चे नहीं हैं. वो मुझे बील्डिंग की छत पर ले गया और उसने मुझे नीचे बैठने का इशारा किया और जींस का बटन खोल दिया. थोड़ी देर बाद जब लंड ने चुत से दोस्ती कर ली और उसका दर्द कम हुआ तो मैंने हल्के हल्के धक्के लगाने शुरू कर दिए.

झट से मैंने पोजीशन बदली और मैं घुटनों के बल बैठकर सुकन्या के मुंह के ऊपर पहुँच गया.

मेरी जीवनसाथी अभी तक आर्थर का लंड चूस रही थी और अब एरिक ने भी अपना लंड उसकी ओर बढ़ा दिया. आपकी शादी के बाद मैं आपके कमरे में ही सोती थी और रोज़ रात को सोने का बहाना करके आप और भाभी दोनों की चुदाई देखा करती थी. तभी एक दबी हुई चीख के साथ भाभी ने अपनी चूत का सारा पानी मेरे मुंह पर छोड़ दिया और उठ के मुझे किस करने लगी, किस करते हुए, मेरे मुँह में भाभी की कामुकता का जो पानी था वो मैंने भाभी के मुँह में छोड़ दिया।अब मैंने फिर से भाभी की टांगें फैलाई और अपना लंड ले जा के भाभी की चूत पर रख दिया और ऊपर से ही रगड़ने लगा। भाभी तो जैसे अब पागल सी होने लगी और अजीब अजीब आवाजें निकालने लगी.