लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,इंग्लिश इंग्लिश में बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

পিকচার চুদাই: लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो, सरला ने मुझे रोका तो मैंने उससे पूछा- क्या बात है?तो उसने कहा- अगर आपको अभी कुछ काम नहीं हो, तो प्लीज मुझे मेरे रूम तक छोड़ कर आ सकते हो?मैंने मजाक में कहा- तुम्हें दिन में भी डर लगता है क्या?वो कुछ नहीं बोली.

बीएफ हॉट सेक्सी वीडियो बीएफ

जब मैंने इंस्टिट्यूट में एडमिशन लिया तो कंप्यूटर का बैच कुछ आगे निकल गया था. बीएफ ब्लू पिक्चर दिखाजब मैंने उसकी पैंटी को उतारा तो उसकी चूत के बारे में सोचकर मेरे लंड ने वीर्य छोड़ दिया.

यह कहते हुए उसने अपने मुलायम होंठों की पंखुड़ियां मेरे होंठों पे फैला दीं. एक्स एक्स बीएफ वीडियो देखने वालाअसल में दोनों लेडीज़ का सुंदरता में कॉम्पिटिशन था और दोनों ही अपनी अपनी जगह हिरोइनों की तरह सुन्दर थीं.

मैंने उसके भीगे मुंह वाले लंड को बिना पूछे ही अपने मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो: जब मैंने अंदर की तरफ दोबारा देखा तो विनय ने अपना लंड कुसुम दीदी के मुंह में डाल रखा था.

कोमल के मुंह में वीर्य छोड़कर मेरा लंड अपनी प्यास बुझाना चाहता था और शायद कोमल मेरा वीर्य अपने मुंह में निकलवाकर अपने होंठों की प्यास बुझाना चाहती थी.मैं बोला- मैं तो कब से इंतजार कर रहा हूँ … लेकिन मौका मिल ही नहीं रहा है.

सेक्सी बीएफ हिंदी में एक्स एक्स एक्स - लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो

और फिर मैंने सोचा कि क्यूँ ना सारा को थोड़ा तड़पाया जाए!मैं बस लंड को चूत पर रगड़ रहा था.हेमा भाभी ने मस्त सोनू की चूत कैसे दिलवाई यह मैं अगली कहानी में लिखूंगा.

मेरी दोनों जांघों को चाटने के बाद सर ने मेरी चूत में अपनी दो उंगलियों को डाल दिया और मेरी चूत में अपनी उन दोनों उंगलियों को अन्दर बाहर करने लगे. लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो उन्होंने बताया कि वह बहुत बिज़ी रहते हैं और चाहते हैं कि यहां पर किसी प्रकार की डिस्टरबेंस न हो.

जब विनय जीजू ने देखा कि अनन्त ऊपर की तरफ से हट चुका है तो उन्होंने भी दीदी की चूत से अपने लंड को निकाल लिया.

लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो?

वो मेरे सर को जोर से बढ़ाते हुए बोलने लगी- मीनू, प्लीज मुझे भी अपने लंड का स्वाद चखाओ ना … मुझे भी तुम्हारे लंड को प्यार करना है, उसे चूसना है. नीचे की तरफ विनय जीजू ने दीदी की चूत में अपनी जीभ डाल दी और चूत में उसको अंदर बाहर करने लगे. शोभन भूखे भेड़िए की तरह से मुझ पर टूट पड़ा और मेरे मम्मों की धुनाई करने लगा, कभी चाटता, कभी काटता, कभी चूत पर मुँह मारता.

बस, ज़िन्दगी में पहली बार उन्होंने बड़ी संजीदगी से मुझे भाभी से मिलने को मना किया. ’उनकी चिल्लपौं सुनकर मैं एक मिनट के लिए रुक गया और उनके ऊपर झुक के उनके होंठों को चूसने लगा. मैं आपको अगली कहानी में बताऊंगा कि मैंने अपनी सील पैक सहेली को कैसे चोदा.

काफी देर प्रयास करने के बाद थोड़ी सी हल्की धार निकली, जो मेरे मूत्रद्वार से होते हुई जांघों से बह गई. आपको बता दूं कि उसके मम्मे की साइज काफी मस्त है, ये 36 डी नाप के हैं. गांड के चक्कर में मेरी झुमरी तलैया, मेरी मुन्नी, मेरी भोसड़ी प्यासी ही रह जाती है। मादर चोद भड़वे … पहले इस सुलगती भट्टी में अपना लौड़ा डाल कर इसे शांत कर दे फिर चाहे गांड मार या गांड चाट। चल पहले मैं मूत कर आती हूँ.

अपनी बीवी या अपनी गर्लफ्रेंड से अपनी बगलों की झांटों को चाटने का बोलिए. फिर तुंरत ही अपने चूतड़ों और घुटनों को ऊपर नीचे करके लंड को अपनी चूत पर टक्कर दिलवाने लगी.

उसके बाद सीधे मेरे पीठ के ऊपर तरफ आके टांगें इधर उधर करके अपना लौड़ा मेरी गांड के छेद में टिका दिया.

जब मैं वापस दीदी और जीजू के बेडरूम में आई तो मेरे पूरे बदन में आग लगी हुई थी.

मैंने लंड सैट करते हुए कहा- तेरी सासू माँ?मेरी प्यासी दीदी ने गांड हिलाते हुए लंड सैट किया और कहा- वो सो रही है, तुम जल्दी अन्दर करो. मैंने भी झट से खड़े हो कर उनकी टॉवेल और लाल रंग की ब्रा और पैंटी उठा ली. नीचे की तरफ विनय जीजू ने दीदी की चूत में अपनी जीभ डाल दी और चूत में उसको अंदर बाहर करने लगे.

मैंने कहा- थोड़ा तेल लगा लो!तो वो तेल लाकर पूरी फुद्दी में और अपने मूसल लिंग पर लगाने लगे. वह किसी भी हालत में चिन्टू से अपने सम्बन्ध तोड़ने की बात नहीं सोच सकती थी. लेकिन मेरे ग्रुप की एक लड़की, जिसका नाम साजिदा था, उसको देखके मेरा मन थोड़ा ललचा रहा था.

मेरी चाची स्कूल टीचर हैं, जिस वजह से उनको रोज़ सुबह जल्दी उठना होता था.

मैंने उसे अपनी आर्थिक स्थिति तो पहले ही बतायी हुई थी, फिर से हवाला दिया. रात को मामा जी आ गए और उन्होंने मुझे समझा दिया कि कैसे मुझे अपने परीक्षा केन्द्र तक जाना है. मैंने कहा- आप कौन हैं मैडम, मैं आपको अभी भी नहीं जान पाया?वो झट से मेरे सामने आई और कहा- अब पहचाना.

वो मुझे रुकने की कह कर, अकेली उधर एक दुकान से सफाई का सामान खरीदने लगी. तभी उसने एक झटके में मुझे पलट दिया और कमर के नीचे तकिया लगा कर मेरे ऊपर छा गया. … आप कृपा करके मुझे एक ग्लास पानी दे दीजिए, मुझे बहुत तेज प्यास लगी है.

मैडम ने जल्दी से अपना गाउन निकाल फेंका और मेरे सामने घोड़ी बनकर बेड पर झुक गई.

मैंने पूछ लिया कि पति के बिना रात को अकेले कैसे रह लेती हो?मेरा आशय था कि अकेली औरत होने के कारण डर तो नहीं लगता, मगर जब आधी से ज्यादा फिल्म बन चुकी हो तब इसका मतलब भी दूसरा निकलता है. पर उनके मजबूत फ़ौजी शरीर के आगे मैं निर्बल लग रही थी, चाचा ने जोर का झटका मारके मेरी सलवार को एक ही बार में अलग कर दिया। उनको पता चल चुका था कि मैं जाग रही हूँ। उन्होंने अब लाइट भी ऑन कर दी थी।हालांकि चाचा जो भी कर रहे थे, उसमें मेरी पूरी रजामंदी थी, मैं इस सारे कार्यकलाप का आनन्द उठा रही थी फिर भी मैंने दिखावे के लिए उनसे कहा- क्या कर रहे हो चाचा? यह सब ठीक नहीं है! मैं शोर मचा दूंगी.

लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो शाम पांच बजे वो फिर रूम पे आयी एकदम क़यामत बन कर और फिर अच्छे से शाम आठ बजे तक चुदती रही. मैं- तुम पीछे होकर मेरे लंड पे बैठ जाओ … मैं मेरा लंड तुम्हारी गांड के नीचे रखता हूँ.

लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो हर बार मैं अपना मुँह उसकी योनि के पास ले जाता, लेकिन उसे छूता तक नहीं … और वो बस अपनी योनि रस छोड़े जा रही थी. मैंने उसको चूमते-सहलाते हुए फिर से गर्म कर दिया और कुछ ही देर में मेरा लंड भी दोबारा अपने आकार में आ गया.

दस मिनट में ही उसकी हालत खराब हो गयी और वो बोलने लगी- बस करो मेरी चूत फट गयी है.

सेक्सी मोटी मोटी मोटी

मुझे लगा मेरा लंड उसकी झिल्ली से जा टकराया था क्योंकि इस बार मैंने कोई अवरोध महसूस किया था. मैंने किस करते हुए उनको जोर से दबाया तो उसकी आंखें खुलीं और वो भी मुझको बेसब्र बन कर किस करने लगी. वैसे तो मार्किट पास ही थी, परन्तु उन्हें दूसरी मार्किट में जाना था.

अब मैं उसको उसी जोश के साथ चोद रहा था; उसके बूब्स हिल रहे थे झटकों के साथ साथ! आह आह आह की भी आवाजें आ रही थी।बहुत शानदार मूड था कमरे का भी. यह थी साजिदा की चूत में मेरे लंड का सिजदा करने वाली चुदाई की कहानी, आपको मेरी कहानी अच्छी लगी या नहीं … प्लीज़ मुझे मेल जरूर करें. मैं लगातार पर धीमे धीमे हल्के हाथ से अपनी बिटिया की चूत की दरार सहला रहा था.

बातों बातों में उसने मुझे काफ़ी सारे कॉंप्लिमेंट दिए, जैसे आप बहुत सुंदर हो.

मुझे विश्वास ही नहीं हुआ कि आशा ने हाँ कह दी, पर मैंने सोचा इसका मन है तो इसको कर लेने दो. मैं बड़े मजे से सर का लंड चूस रही थी और मैनेजर सर मजे से सिगरेट पीते हुए अपना लंड मुझसे चुसवा रहे थे. मैंने कभी उसकी टांगें कंधे में रखकर, कभी उसे कुतिया बना कर उसकी जोरदार चुदाई की.

कुछ देर बाद वो खड़ा हो गया और मुझे घुटनों के बल बैठा कर मेरे मुंह में अपना लंड डालने लगा. मैडम को छोड़ कर मैं वापस आने लगा, तो मैडम ने कहा कि कम्पनी में पता ना चले. दीदी की चूत अजय के मुंह की तरफ थी और अजय दीदी की चूत को चाट रहे थे.

उसकी काली नशीली आंखें, गुलाबी पतले पतले होंठ मुझे उसकी तरफ मोहित किये जा रहे थे. सारा आपा ने मुझे बताया कि इमरान के कमजोर लंड के कारण उसकी सील अब तक नहीं टूटी है … और आज मैं उसकी सील तोड़ दूँ.

चाची मुझसे बोलीं- अब देर मत कर जल्दी से चोद ले मुझे … नहीं तो तेरे चाचा सो कर उठ जाएंगे, फिर ख़तरा है. उसने मेरी जीन्स को खींचकर निकाल दिया, साथ ही मैंने अपने अंडरवीयर को उतार दिया. जी …” मैंने आँखें बंद करके कहा।तुम्हें पता है न कि ये लेटर वाली पर्ची किसने दी है तुम्हें?” उन्होंने मेरी कमीज़ के अंदर हाथ डाला और मेरे चिकने पेट पर हाथ फेरने लगे.

इसलिए अगर आप किसी स्ट्रेट लड़के का प्यार पाने की उम्मीद में बैठे हैं तो यह आपकी बहुत बड़ी गलतफहमी है.

और तो और मामा ने बोल भी दिया कि अब मुझे आने की जरूरत नहीं है, तू अपने हिसाब से इलाज कर दे. जब मैं 10 बजकर 30 मिनट पर फ्लैट पर आई थी तो तब से ही उसका लिंग तना हुआ था. मेरे एक दोस्त सुमेर की मदद से उसकी घरेलू काम करने वाली लड़की पारो जिसे वो चोदता है, की बहन की कुंवारी चूत मुझे मिलने वाली है.

मेरी कमर अपने आप आगे-पीछे होने लगी और जैसे मैं उसके मुंह को चोदने लगा. इसके बाद मैंने उसकी बहन को और उसे गांव के खेत में कैसे चोदा, उसकी कहानी भी जल्दी ही लिखूंगा.

अब आशीष ने अपनी दो उंगलियां एक साथ मेरी चुत में अचानक डालीं, तो फट से घुस गईं. मैंने उसे समझाना शुरू किया कि उसके जीवन में इतना परिवर्तन, उसकी शारीरिक रूप रेखा से नहीं, बल्कि खुद उसी के नकारात्मक व्यवहार से आया है. खैर 4-5 दिन बाद एक कर्मचारी ने मुझे बिना बात के डांट दिया, मैं ठहरा देसी गांव वाला, मैंने भी उसे बोल दिया कि साले तेरी ऐसी गांड बजाऊंगा कि सात पीढ़ी गड़वी पैदा होगी.

देसी सेक्सी सनी लियोन

मैंने अपनी पेंटी निकाली और जिस तरह से मम्मी पापा के ऊपर बैठी थी, उसी तरह से भाई के लंड पर बैठने की कोशिश की.

उसकी नजरों से लगता, जैसे कह रही हो कि आज रुको मत … बस ऐसे ही प्यार करते रहो. मैं- मैडम यहां ऑफिस से घर जाने के बाद पार्ट टाइम काम करने की हिम्मत बिल्कुल भी नहीं हो पाएगी. इस नए शहर में किसी मित्र को बुला कर जोखिम भी नहीं उठा सकती थी, क्योंकि भले मैं नई थी, पर पति काफी दिनों से थे, तो कौन कहां पहचान ले, इस बात का क्या भरोसा था.

2 मिनट बाद तो मैंने खुद ही गांड को हिलाकर एडजस्ट करते हुए उसके लंड को पूरा अंदर ले लिया. शुरू शुरू में तो हमारे बीच कोई बातचीत नहीं हुई लेकिन कुछ दिनों बाद वो कॉलेज जाते वक्त मुझे रास्ते में मिलती और हम दोनों एक दूसरे को स्माइल पास करते. जबरदस्त बीएफ चुदाईकभी मैं उसकी चूत की फांकों को काट लेता था, तो कभी उसकी चूत में फिर से जीभ चलाना शुरू कर देता था.

मेरे लंड की रगड़ को अपनी गांड के अन्दर महसूस करके, मामी जी भी अब पूरी मदहोश हो चुकी थीं. जाने से पहले वंश ने वोदका की बोतल से लम्बे लम्बे दो तीन घूंट नीट ही लगा लिए और मेरी तरफ बोतल बढ़ा दी.

अब मामी जी की मस्त मोटी गांड मेरे सामने थी, जिसका मैंने कल रात को उद्धाटन किया था. एक दिन प्रीति ने मुझसे पूछा- क्या मैं बूढ़ी हो गयी हूँ?मैंने उत्तर दिया- स्त्री और मर्द 50-50 साल तक बूढ़े नहीं होते, तुम अभी से क्यों खुद को बूढ़ी समझने लगी हो. फिर मैंने कहा- कोई बात नहीं, अगर आपको मदद नहीं चाहिए तो कोई बात नहीं, मैंने तो बस ऐसे ही पूछ लिया था.

मैं अपने हाथों से अपने दूध दबाने लगी, मेरे मुँह से निकलने लगा- याल्ला … रहम कर! ऐसी चूत चुसाई तो मेरे अब्बू ने भी नहीं करी कभी!मेरी हालत देखकर अम्मी और भाभी भी उत्तेजित होने लगी और अब्बू भाई को ज्यादा परेशान करने लगे. जैसा कि मैंने आप लोगों को बताया कि मैं कंप्यूटर में तेज़ हूँ तो मैं मात्र 15 दिन में ही सब स्टूडेंट्स के बराबर में आ गया. अब मुझे मज़ा आने लगा था और मैंने पीछे हाथ ले जाकर उसके चूतड़ों को पकड़ते हुए अपनी तरफ धकेलने की कोशिश की.

भाभी बीच बीच में कहे जा रही थीं कि अमित ये कैसी होली खेल रहे हो … छोड़ दो मुझे … आह ऊऊ यार मत करो … कहीं तुम्हारे भैया ऊपर न आ जाएं … आआह.

गलत था उसका इतनी जोर जोर से कमर हिलाते हुए झड़ना और कपड़े गन्दा करना क्यूंकि मेरा फ्लैटमेट भी आने वाला था. जब मेरी नींद खुली, तो देखा कि मामी जी उसी तरह नंगी मेरी बगल में सो रही थीं.

मैंने उसके चुत की पंखुड़ियों को खोला और चुत के दाने पे जैसे ही जीभ लगाई, वो सिहर उठी और मेरे सिर को हाथों से दबा कर बड़बड़ाने लगी. जब मस्ती से चलती थी तो अड़ोस-पड़ोस के आदमी उन्हें देखे बगैर नहीं रहते थे और पड़ोस की लेडीज उनसे चिढ़ती थी, परन्तु वह मस्त रहती थी. साफ करते-करते मैं उसकी चूत में उंगली भी डाल रहा था जिससे वो फिर से गर्म हो गयी और मेरा लंड वहीं अपने मुंह में लेकर चूसने लगी.

’‘हाय राम, मतलब?’‘हाँ मेरी छमिया तेरी मम्मी की चूत और गांड दोनों पे मेरे लंड का ठप्पा लग चुका है, वो मेरा माल है. मैं मेट्रो पकड़ कर डेढ़ घंटे में उनके बताए अड्रेस पर पहुंच गया और घर के बाहर जाकर बेल बजाई. खैर, अल्ला अल्ला खैर सल्ला … आखिरकार मैं उस नाईटी को उतारने में सफल हो गया तो मेरी निगाह उस अलौकिक, इंद्रलोक की अप्सराओं को चुनौती देने वाले शरीर पर अटक गयी.

लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो मीना समझदार थी उसने लेटे लेटे ही लंड मुँह में लिया और चूसना चालू कर दिया. अब मैं बाहर चली जाती हूँ।विमला के बाहर जाते ही मेरे पति ने दरवाजा बंद कर दिया.

सेक्सी फिल्म अंग्रेजी वीडियो फिल्म

जब घर पहुंच गया, तो उसने माला को खाना खिलाया और उसको पढ़ाई करने को बोल दिया. इंदु ने मेरी झांटों में खूब झाग बनाया और रेजर से मेरी झांटों को साफ करने लगी. इंदु मेरे लंड को भी खड़ा करने की कोशिश कर रही थी और मैं भी इंदु को फिर से गर्म करने में लगा था.

टांगों को अपने कंधों पर रखा और मोड़ने से उनकी चूत और भारी चूतड़ मेरे बिल्कुल नीचे आ गए. हम कब उस रोमांटिक पल से काम वासना की ओर चल दिये हमें पता ही नहीं चला। हम दोनों की किस और टाइट होती चली गयी और उसने मुझे धकेल के दीवार से सटा दिया और हम दोनों काफी ज़ोर से एक दूसरे को किस कर रहे थे, हम दोनों एक दूसरे के होंठों की होंठों से रगड़ रहे थे, अब वो मेरे और मैं उसके होंठों को चूस रही थी। लगभग 1-2 मिनट के किस के बाद हम हटे, हम दोनों के दिल ज़ोरों से धड़क रहे थे।कहानी जारी रहेगी. कुत्ता लड़की सेक्सी बीएफइसी भयानक लंड ने मुझे चोदकर आनन्दित किया था। मुझे अजय के लन्ड पर प्यार आया और मैं अजय के सीने से लग कर लन्ड पर प्यार से हाथ फेरने लगी।तभी मेरी नजर जीजू पर पडी.

मैंने कहा- ओह लेकिन ये क्या है?सासू माँ ने कहा- मूर्ख है … तू चुपचाप पिला दे.

मैंने बड़े प्यार से उनके चारों तरफ जीभ घुमाई, उसको और तड़पाने के लिए मैं यही करता रहा … उसके मम्मों को चूसा पर निप्पल को नहीं, हल्का इधर उधर से जीभ टच हो जाती थी पर मैं तुरंत खींच लेता. मेरी कामवासना भरी कहानी के पहले भागकाम पिपासु को मिली काम ज्वाला-1में आप ने पढ़ा कि अपनी पत्नी की मृत्यु के बाद से मैं अपनी कामुकता को हस्तमैथुन से दबा रहा था, मुझे कोई चूत नहीं मिल रही थी.

खैर … नीना ने प्रशांत को बेड पर लिटा दिया और खुद ने इस तरह से लंड की सवारी करने का पोज बनाया, जिससे वह चूत में अपने मनमाफिक लंड घुसवा सके. बृजेश की तो कई गर्लफ्रेंड भी हुआ करती थी इसीलिए हमारा सेक्स तो कभी कभी ही होता था. [emailprotected]अगली बार फिर नयी कहानी के साथ मिलने का वादा करता हूं, पायल और मेरी कहानी भी पढ़ना चाहते होंगे, तो भी जरूर बताइयेगा.

तो बृजेश और आदिल ने मेरे एक एक पैर को फैला कर ऊपर की ओर कर के पकड़ लिया और निकुंज ने फिर से मेरी गांड में लंड डाला.

शाम को पापा ने मुझे कहा कि तेरी भाभी को उनके किसी रिश्तेदार के यहां जाना है … तो गाड़ी में ले जा और वापस भी ले आना. मैंने उसकी चूत को सहलाते हुए अपने लंड का एक झटका उसकी चूत में दे दिया. लगातार करीब 3-4 मिनट तक पैंटी के ऊपर से ही रगड़ता रहा और मुझे खा जाने वाली आंखों से देखता रहा.

बीएफ चोदा चोदी हिंदी में वीडियोमेरी पिछली कहानी थीऑफिस की चुदक्कड़ देसी गर्ल की चूत चुदाईमैं आप सबको बता दूँ कि यह कहानी कोई गप्प नहीं है, ये मैं खुद का ही अनुभव लिख रहा हूँ. जब मेरी जवान बेटी नहा कर बाहर निकली तो मैंने अपना फोन चेक किया और देखा पहले मेरी बिटिया आरज़ू ने अपनी काली लेगी उतारी.

सेक्सी सुहागरात वीडियो चुदाई

निकलते-निकलते मैंने पूछा- भाभी, अब तबीयत कैसे है आपकी?तो वह हंसकर बोली- एकदम तंदरुस्त. मैं उससे मिलने भी गया था, पर तब इतना मासूम था कि उसके साथ कुछ किया नहीं था. उन्होंने एक दो बार मेरे होंठों को चूसा और फिर नीचे आकर मेरे चूचों को दबाते हुए मेरी चूत में लंड को घुसाने की कोशिश करने लगे.

बल्कि वो मेरे लंड को ऐसे चूसने लगी, जैसे सॉफ्टी आइस क्रीम चूस रही हो. इधर मैं उसके लंड को अपने अन्दर लेकर घूमती, उछलती और बस अपनी मस्ती को अपने मुँह से निकालने लगती- याल्लाह … आहह … बस ऐसे ही … म्म्म्म. मैं बस उसको देख रही थी और वो कंबल के अन्दर मेरी जांघों पर हाथ फेर रहा था.

रमेश- ह्म्म्म … ये तो मुझसे बेहतर कौन जानता है मालिक हा हा हा लेकिन आप छोटी बहू की भी चाल बदल देंगे, यह तो मैंने भी नहीं सोचा था. इसीलिए बिना देर किये अब मेंने चैन खोलकर अपना हाथ अन्दर डाल दिया और उनकी अंडरवियर के ऊपर से लंड को मसलने लगा. उसका लंड मेरे मुंह में जब पूरा तन गया तो मेरी सांस भी रुकने लगी थी.

मैंने फिर से उन्हें रोका तो उन्होंने मेरा हाथ पकड़ा और मेरा हाथ अपने बम्बू की तरह तन चुके लंड के उभार पर रख दिया. उन सबके लंड इतने लंबे और मोटे थे कि मुझे एक अजीब सा रोमांच होने लगा.

तो आप वो छोटा लड़का और मैं तो मैं हूँ ही।मैंने ये कभी ट्राई नहीं किया था इसलिए मुझे भी रोमांच आ गया और हाँ बोल कर रोल प्ले शुरु कर दिया।वो उसी पोज में चुदवाते हुए बोली- हाँ बाबू, मुझे जोर से चोदो ना।मैं बोला- हाँ भाभी, चोद रहा हूँ!और सन्जू को चोदने लगा.

अब आगे:तभी आशीष मेरी समीज के ऊपर से ही मेरे दोनों दूधों को पकड़ कर जोर से दबा दिया और फिर मुझसे बोला- तू बहुत मस्त लग रही है. सेक्सी बीएफ सन 2021 केफिर जब कोमल आयी तो मणि कोमल की चुदाई करने लगा और मैं लंड की प्यासी हो गई. अच्छी सी वीडियो बीएफमैं पायल की सुन्दर नाभि के अन्दर तक जुबान डालकर उसे तड़पाने लगा और एकदम से उसकी नाभि के उभरी हुई चमड़ी को दांत में पकड़ के जोर से काट दिया. मैं वासना से भर कर मादक सिस्कारियां लेने लगी और मेरी भी चूत चुदासी हो गयी थी.

बाकी तेरी मर्जी बेटा, अगर तुझे यहां नहीं रहना, तो तू अपने मायके जा सकती है और हितेश से तलाक ले सकती है.

मैं उसकी गर्दन को चूमने लगा तो उसने कहा- पहले कॉफी पी लो, फिर आराम से कर लेना, जो भी मन हो. जैसे कि मुझे क्लब से बोला गया था कि जाते ही ग्राहक से खुल जाना और फ्रेंडली हो जाना. मैं खुद में मस्त रहती और वे दोनों मेरे सामने भी सब बातें करते रहते। पर जल्दी ही दोनों के चक्कर के बारे में सबको मालूम हो गया।दीदी और विनय भैया घबराने लगे.

दोस्तो, मेरी कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मैं जॉब तलाश करने के लिए दिल्ली में पी. मैंने जोर से गर्म गर्म सांसें उसके बूब्स पर मारीं, इससे हवस बढ़ती है और यही हुआ. मैंने सोचा कि यदि मैं अपनी लुल्ली दिख देता हूँ, तो फिर मैं रवि मामा से अपना लंड दिखाने की जिद कर पाऊँगा.

नेपाली सेक्सी वीडियो आदिवासी

मैंने उसी वक्त उसकी दोनों जांघों को पकड़ कर एक जोर का झटका मोनिका की चूत मैं दे मारा, जिससे पूरा लंड मोनिका की चुत में जड़ तक घुस गया था. एक रात मैंने पति से आखिरकार कह दिया- क्यों न आप अपनी कमजोरी के बारे में किसी डॉक्टर को दिखा लेते?इस बात पर पति इतने क्रोधित हो गए और कहने लगे- इतने साल में इस उम्र में तुम्हें अब कमी दिख रही है, दो बच्चे क्या ऐसे ही हो गए?उन्होंने मुझे उल्टा पुल्टा बहुत सुनाया. मैं लखनऊ का रहने वाला हूँ और इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा हूँ। मेरी उम्र 23 साल है.

अब की बार भाभी अपने हाथ को नीचे की तरफ लाकर मेरे अंडरवियर के ऊपर से ही मेरे लंड को सहलाने लगी.

फिर धीरे से स्तनों पर से ब्लैंकेट भी हटा देती थी, सीलिंग फैन की ठंडी हवा लगने के बाद मेरे निप्पल्स और भी कड़क हो जाते थे और उन्हें मसलने को मचल उठते.

मैं- मतलब?सासू माँ- मतलब ये कि हमारी जो भी प्रॉपर्टी और ज़ायदाद है और जो भी चल अचल से संपत्ति है, अब से उसमें तुम्हारा भी उतना ही हक़ है, जितना हितेश का है. उसका मूसल जैसा लंड जब दीदी की चूत के अंदर जाता तो दीदी की चूत फैल जाती थी. बीएफ वीडियो बीएफ फिल्म बीएफइसका मस्त चुदाई की कहानी का अगला भाग मैं आपको बाद में बताऊंगा कि कैसे मेरी पत्नी आशा ने मेरे दोस्त का लंड अपनी चूत और गांड में लिया.

अब वो मेरी परमानेंट ग्राहक बन गयी है और जब भी कभी उसको मेरी जरूरत होती है, मैं उसकी सेवा में हाजिर हो जाता हूँ. तभी चाची ने अपनी पेंटी को, जो कि अब तक गीली होकर उनकी चूत से चिपकी थी, उतार दिया और पलट कर आवाज दी- कितनी देर लगाएगा, जल्दी कर ना!मैंने कहा- चाची मैं तो कबसे देने को खड़ा हूँ, आप लो तो. मैंने कहा- तुम्हारे पापा की एज बहुत बड़ी है और उनका लंड भी बहुत छोटा है इसलिए उनका कम डिस्चार्ज होता है.

हैलो दोस्तो, मैं आपका रवि खन्ना, उम्मीद है आपने मेरी पहले की कहानियां पढ़ी होंगी और अच्छी भी लगी होंगी. वो मेरे लंड को चूस रही थी और मैं उसकी चुत को चाट रहा था … काट रहा था.

मैं भी अपनी माँ की गांड को अपने मोटे लंड से पेल रहा था और माँ की टाईट गांड को ढीला कर रहा था.

फिर दीदी की सासू माँ ने एक डिब्बी निकाली और मुझसे कहा- भर अपनी दीदी की मांग. मैं उस बिना आर्म की कुर्सी पर बैठ गया और भाभी को लंड के ऊपर बैठने के लिए कहा. फिर उनमें से एक लड़का पास आया और उसकी टी-शर्ट को पकड़ कर निकाल दिया.

हिंदुस्तानी बीएफ हिंदी मैं भाभी के होंठों को चूसने लगा और साथ में उसके चूचों को भी हाथों से दबाने लगा. रात को मामा जी आ गए और उन्होंने मुझे समझा दिया कि कैसे मुझे अपने परीक्षा केन्द्र तक जाना है.

अब मुझे भी थोड़ा-थोड़ा नशा हो रहा था जो पैग मारे थे, उसका असर जब दिखाई दे रहा था, तो मैंने भी मैडम से हंसी मजाक में बोल दिया- नहीं मैडम आपकी नाक नहीं कटेगी … आपकी नाक की जिम्मेदारी अब से मेरी है. मैडम ने जल्दी से अपनी चूत को टिश्यू पेपर से पोंछ लिया और मुझे आगे की तरफ ड्राइविंग सीट की तरफ धकेल दिया. वो पहली चुदाई से लेके पूरी रात और सुबह तक नंगी ही रही और मैं भी यूं ही नंगा बना रहा.

सेक्सी विडियो हिंदी इंडिया

सोनल ने उसी अवस्था में पलट कर मुझे अपने नीचे लिटाया और मेरे ऊपर आकर लेट गयी. मामी जी- क्या ये अभी भी भूखा है? सारी रात तो मुझे चोदता रहा और अब फिर से अकड़ गया. तब बृजेश आगे आ गया, अब प्रेम और बृजेश के लंड मेरे मुंह में जाने लगे.

मैं अपने उसी साइट पर फिर से व्यस्त हो गयी और फिर इसी बीच मेरी गुजरात की सहेली, जिसका वर्णन मैंने अपनी पिछली कहानी में किया था, उससे दोबारा बात शुरू हो गयी. झटका देने के तुरंत बाद भाभी ने मेरे गीले टोपे वाले लंड को अपने मुंह में भर लिया और अपनी जीभ लगाकर लंड का स्वाद लेते हुए चूसने लगी.

मेरे प्यारे पाठकों को मेरा प्यार भरा नमन, मैं प्रधान जी अपनी एक और अनुभव ले कर आपके सामने प्रस्तुत हूँ, मेरे नए पाठको से अनुरोध है कि आप मेरी पिछली कहानियों को जरूर पढ़ें ताकि मेरे इस कहानी के पात्र आपको ठीक से समझ आ सकें और आप इस कहानी का ज्यादा मजा ले सकें।फिर भी थोड़ा पात्र परिचय दे दूँ.

जब वह चला गया, तो सोनम बोली- ये मेरा भाई है और साला खातिरदारी तेरी कर रहा है. जब आधा लंड चूत में घुस गया तो मैंने हल्का सा धक्का दिया और पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया. फिर हम दोनों ने मिल कर एक प्लान बनाया कि आज मैं ऑफिस नहीं जाऊँगी और यहीं कहीं छुप कर रहूंगी और जब वो आकर आरती को पूरी नंगी करके अपना खड़ा लंड उस की चुत में डालने लग़े तो मैं अंदर आ जाऊँगी.

मैं समझ रहा था कि ये बिस्तर से उठ कर भागने की कोशिश करेगी, लेकिन वो बिस्तर से नहीं उठी. उसके बाद अनन्त नीचे की तरफ आ गए और दीदी की टांगों को अपने हाथों में पकड़ कर ऊपर उठा लिया. मुस्कुराते हुए बड़े प्यार से बोली- क्या दीदी, शक करने चल दी अपने पति पर? मैं तो उनको प्यार से खाना खिला रही थी.

फिर मजाक में ही मैंने सबसे पूछा- कौन सुबह में जल्दी उठता है?मैंने कहा- मैं 5 बजे उठ जाता हूँ.

लड़की के बीएफ सेक्सी वीडियो: मैंने उसे काफी देर तक चूमा, फिर उसकी टीशर्ट उतार दी, उसकी छाती को चूमने लगा. सर अंदर गये और थोड़ी देर बाद मैडम बाहर निकली- किशन! बाकी कमरों को ताला लगाकर तुम चले जाओ.

उसने अब तक मेरे हाथ नहीं खोले थे, लेकिन जैसे ही लंड चुत के छेद पर पहुंचा, मैंने नीचे से जोर का झटका लगा दिया. तभी अचानक से चाचाजी ने मेरी कमर को मजबूती से पकड़ लिया और नीचे से जोर जोर से झटके मारने लगे. मैं बोली- मैं कभी आप पे गुस्सा हो सकती हूं क्या, आपने मेरी इतनी मदद की है.

ठंड का मौसम सम्भोग और जिस्मानी आनन्द के लिए सबसे उपयुक्त माना जाता है.

मैंने उससे कहा- साक्षी चाय क्यों ले आई … मुझे तो तुम्हारा दूध पीना है. थोड़ी देर के बाद सारा का हाथ अपने आप ही मेरे लंड पर आ गया और वो मुझसे लिपट भी गई. कुछ बेसब्री के इंतजार के बाद वो दिन भी आ गया, जिसका मैं बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहा था.