बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो सील टूटती

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स वीडियो हिंदी: बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी, लेकिन वो बोले- सरीना बिटिया कुछ नहीं होगा … कुछ देर दर्द देगा, फिर मज़े ही मज़े हैं.

सेक्सी फिल्म एचडी व्हिडिओ

चुत में मुँह लगा कर जीभ भी अन्दर डाल कर चाटने लगे जिससे दीदी को मज़ा आने लगा. सिंगरौली सेक्सी वीडियोमोनिका ने मुझे कॉल किया और समझाया कि तुम आज शाम को कहीं रूम अरेंज कर लो, मैं तुम्हें कोमल दीदी की चूत दिलवाऊंगी.

इस दोहरे हमले को ज्योति संभाल नहीं पाई और उसका पानी छूट गया जिसे मैंने पी लिया. आसमा सेक्सीउसका फोन भी स्विच ऑफ़ है, तो कैसे क्या हो सकता है … प्लीज़ बताओ!उसने मुझे दस मिनट बाद व्हाट्सैप पर वीडियो कॉल करने के लिए बोला ताकि वो मुझे कार सुधारने के लिए वीडियो कॉल से बता सके.

तो वो बोली- जीजू गिलास में क्या है?मैंने कहा- वाइन है … तुम भी पिओगी?वो बोली- नहीं, मैंने कभी नहीं पी.बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी: इंडियन भाभी बूब्ज़ कहानी में पढ़ें कि मेरी चुचियों में बहुत दूध बनता था जिसे मैं अपने पति को चुसवा देती थी.

दोस्तो, ये दृश्य इतना अच्छा था कि मुझसे एक पल के लिए भी अपनी नजरें नहीं हट पा रही थीं.वह मस्ती में एक हाथ से अपने चूचे को दबा रही थीं और एक हाथ में मेरे सर को सहला रही थीं.

मारुति सागर का सेक्सी वीडियो - बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी

जब आप इस तरह का किस किसी लड़की को करते हैं, तो वो और उतवाली हो जाती है.मेरी बीवी अनिता भी मस्त होकर चुदवाने लगी और अपनी तमन्ना पूरी करने लगी.

फिर मेरी मॉम ने अपनी दो उंगलियों को सुमन डार्लिंग की चूत में डाल दीं और उनकी चूत को चोदने लगीं. बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी हम दोनों इस स्पीड में चुदाई करते हुए काफी देर तक संभाल नहीं पाए और मोनिका ने अपना पानी छोड़ दिया.

उन्होंने बोला- बहनचोद … चूत ही चाटेगा या फिर बहन की चूत को चोदेगा भी? चल अपना लंड मेरे मुँह में डाल पहले!और दीदी ने मेरे सारे कपड़े उतार दिए.

बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी?

पहले तो वह काफी देर नखरे करती रही, मना करती रही पर थोड़ा जोर देने पर वह मान गई. मैंने जॉब पर से लौटा तो पाया कि वो पलंग पर लेटी हैं और कराह रही हैं. मैंने उससे कहा- अभी मेरा दोस्त मेरे पास है, इसलिए मैं अभी नहीं, बाद में देता हूँ.

मैं- तुम्हें उससे कोई फर्क नहीं पड़ता?वो हंसती हुई बोली- जीजू आप तो पार्टी की तैयारी करो, मैं खाना बनाती हूँ. अब मैं और ऊपर आने लगा और उसकी पैंटी को टच कर दिया जिससे उसके पूरे शरीर में झुरझुरी सी होने लगी. मीना- तो क्या जीजू … मैं इसे प्यार कर सकती हूँ?मैं- ये अब से तुम्हारा ही है, जो करना है करो.

[emailprotected]हनीमून नाईट एन आर आई सेक्स कहानी का अगला भाग:देवर भाभी की चुदाई बनी हकीकत- 2. रियासत में कोई भी नया माल यानि किसी की भी बहन बहु-बेटी दिख गई तो ठाकुर उसको उठा लेता और 2-3 दिन, जब तक उसका मन नहीं भर जाता, उसको सुबह शाम चोदता था. दस मिनट के बाद मैं ऊपर गया तो वह बेड पर कम्बल के अन्दर लेटी हुई थी.

फिर 12वीं पास करने के एक साल बाद मुझे एक लड़के से प्रेम प्रस्ताव मिला. बुआ ने उसे फोन किया और थोड़ी देर बाद एक चौबीस साल की पतली सी लड़की आई.

अ न्यू Xxx कहानी में पढ़ें कि शादी के कुछ साल बाद सेक्स लाइफ नीरस होने लगती है.

वो दूध और गांड पर साबुन मल रही थी और मैं मज़े से उसके जवान नंगे जिस्म का नजारा ले रहा था.

थोड़ी देर बाद नींद में वो मेरे से चिपक कर सोने लगी तो मेरी नींद खुल गई. इसके बाद तो उसने मेरी गांड भी मारी थी जो मैं अपनी अगली गांड चुदाई वाली सेक्स कहानी में बताऊंगी. मगर मैं ये डर उनको नहीं दिखाना चाहती थी तो मैं मुस्कुराकर उनके पास गयी.

बामुश्किल दो मिनट उसने मेरी चूत को चाटा होगा कि मैं खुद बा खुद उसके लंड को अपने मुंह में ले गई. ये समझते ही कल्पेश फिर से मीरा के बदन से खेलने लगा और उसका हाथ पकड़ कर उसे खड़ा कर दिया. मेरी मम्मी को चाचा के होंठों से मम्मे मसलवा कर अपने निप्पल चुसवाने में बड़ा मजा आ रहा था.

फिर हम दोनों ने साथ में खाना खाया और हमारे बीच बातों का सिलसिला चलता रहा.

हॉट साली की कहानी में पढ़ें कि मेरी साली मेरे साथ मेरे घर में अकेली थी और लॉकडाउन लग गया. मगर वो राजी नहीं हो रहा था; उसका कहना था कि पहले मैं उसे अपना नाम बताऊं. मैंने उसके करीब आते ही दिलप्रीत को अपनी बांहों में भर लिया और उसे दीवार से चिपका कर चूमने लगा.

मैंने फोन उठाया तो सामने से मां ने पूछा- दीदी की तबीयत कैसी है?मैंने कहा- लो आप खुद दीदी से बात कर लो. मैंने जैसे ही हाथ उनके चूत पर लगाया, उनकी चूत बिल्कुल गीली हो चुकी थी और उनकी झांटें काफी बड़ी बड़ी थीं. कुछ ही देर में जोरदार चुदाई से दीप्ति की तरह मेरी सांसें भी तेज हो गई थीं.

फिर मामा की आवाज आई- मैं तेरे मुँह में कुल्फी डाल रहा हूँ, इसे चूस लेना चूसने से जो निकलेगा, उसे प्रसाद समझ कर पी जाना.

मैंने अपनी पिछली सेक्स कहानीदोस्त की बीवी को ट्रेन में चोदाआपको सुनाई थी, उसका लिंक दे रहा हूँ. मेरी बुआ अब मेरे कपड़े भी साफ कर देती थीं और मैं भी उनके घर के कामों में उनकी मदद कर देता था.

बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी तो दीप बोला- लंड तो चूस लेती हो, या पति ने कभी लंड भी नहीं चुसवाया?मैंने फिर ना में सर हिलाया. मीनाक्षी लंबी लंबी सांसें ले रही थी और मेरा सर अपनी चूत पर दबा रही थी.

बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी आधा घंटा तक मैंने हाथ से मालिश की तो दीदी ने कहा- भाई बड़ा मजा आ रहा है. मेरी जॉब की बात तो कहीं नहीं बनी लेकिन मैडम से बात होनी शुरू हो गई.

उधर एक कमसिन सी लड़की अपना मुँह ढके खड़ी थी जिसके दूध निम्बू जैसे थे.

सेक्सी एक से बढ़कर एक

फिर मैंने जैसे भी करके अपना लंड भाभी की चूत में पूरा का पूरा घुसा दिया. मैं अब सेक्स कहानी के रूप में उस घटना को विस्तार से आपके सामने रख रहा हूँ कि कैसे मेरी मम्मी और उनके सहकर्मी अध्यापक के साथ उनकी चुदाई हुई. तो मैंने अपनी बहन की सील कैसे तोड़ी?दोस्तो, मेरा नाम अमन है आज मैं आपको अपनी छोटी बहन रिशू की चुदाई की कहानी बताऊंगा!रिशू मेरे चाचा की बेटी है, मुझसे 1 साल ही छोटी है.

Xxx चाची की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरे जेठ का बेटा मेरे घर रहने लगा तो एक दिन मैंने उसका लंड देख लिया. मैंने उसी समय दीप्ति को किस करते हुए उसको बेड पर पटक दिया और दीप्ति के सामने अपनी पैंट निकाल दी. उधर निधि मेरी चूत को चाट रही थी। मैं पूरे सातवें आसमान पर थी।अब कभी तपिश अपना लंड मेरी चूत में डालता और कभी निधि के मुँह में!तभी तपिश ने थोड़ी देर में अपना गर्म गर्म पानी मेरी चूत में छोड़ दिया.

मेरे इतना कहने पर अम्मी गुस्सा हो गईं और कहने लगीं- तू अपनी अम्मी को शराब पिलाएगा, शर्म नहीं आती तुझे?फिर मैंने उन्हें समझाया- अम्मी इसमें कुछ ग़लत नहीं है.

जैसे ही वो थोड़ी सी भटकी, मैंने झटके से अपनापूरा लंड उसकी चूत मेंउतार दिया. जब चौथे महीने भी मुझे माहवारी नहीं हुई तो मैंने इस बात को मामा से कहा. मैं- फिर क्या हुआ था किसी को लगी तो नहीं थी?वो- नहीं … वैसे हुआ यूं कि मम्मी भैया के ऊपर गिरीं और मैं मम्मी के ऊपर.

मेरे सीधे होते ही उसने मेरा लोअर नीचे कर दिया और मेरे खड़े लंड को निहारने लगी. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:गर्लफ्रेंड की कोरी चूत में लंड से हस्ताक्षर- 2. उसके दूध को छूते ही मेरा लंड, जो 6 इंच का था, एकदम से खड़ा हो गया और उफान मारने लगा.

रोज ही कुछ ना कुछ उपहार लेकर आती और बोलती कि बॉस ने उसके काम से खुश होकर उसे तोहफे दिए हैं. तभी मैं कंबल से बाहर गया और जल्दी से बैग से कंडोम निकाल कर लंड पर लगा लिया.

उस समय वो क्या सेक्स की देवी लग रही थी, देख कर ही मेरा हाल खराब हो गया था. अगर तुमको मजा नहीं आयेगा तो कभी मत चोदने देना!उसने थोड़ी देर सोचा, फिर मान गई. पता नहीं ये उस वोड्का का असर था, कम रोशनी का, म्यूज़िक का … या फिर उसका … पर मेरी आँखें बंद हो चली थी और मैं पूरी तरह से उस माहौल में खो चुकी थी.

मैंने मना किया और कहा- मुझे इतनी ठंड नहीं लग रही, मैंने बियर पी हुई है न.

जैसे ही मैंने अपना चेहरा ऊपर किया तो उसके मूत की धार मेरे चेहरे पर आ गई जिसको मैंने एकदम से हटा दिया. यह देख कर मैंने अपने लौड़े की रफ्तार बढ़ा दी और उसे तेज़ी से चोदने लगा. जिस तरह से दीप्ति मेरे लंड को देख रही थी, शायद पहली बार वो इतने बड़े लंड को देख रही थी.

मैंने पूछा- फिर?थामस- फिर क्या … रात भर मैंने उसकी बीवी चोदी और उसने मेरी बीवी चोदी. मैं- शायद तेरे भैया होते तो मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं होती, पर आपको कैसे बताऊं, मुझे शर्म आ रही है.

तभी आनन्द भी आ गया और हम दोनों ने नैना के हाथ के बने गर्मा-गर्म आलू के परांठे खाए. और उसका भी हाथ कपड़ों के ऊपर से ही मेरे लंडूराम पर पहुँच गया, वो उसे मसलने लगी. आह क्या गजब की चूचियां थीं भाभी की!मैंने दोनों मम्मों को भरपूर नजरों से देखा, फिर एक चूची को अपने मुँह में लेकर पीने लगा.

सेक्सी कहानियां देवर भाभी की

उसके बॉस की नजर मेरे ऊपर पड़ गई तो उसने उंगली का इशारा करते हुए उसे बताया कि तुम्हारे पति पीछे खड़े हैं और बॉस ने फोन कट कर दिया.

मेरे मन में अपने लव से मिलने की बात तो आती थी, पर मैं उससे कह नहीं पाती थी. नीरज से सब्र नहीं हो रहा था तो उसने मुझे उठाया और बोला- माँ चुदाने गया सब्र!उसने मुझे पकड़कर किस करना शुरू कर दिया. हम दोनों पार्किंग में आए तो मोनिका ने पूछा- क्या हुआ परेशान क्यों है?मैं काफी संवेदनशील हूँ, ये मोनिका जानती है … इसलिए वो समझ गई.

मुझे भाभी काफी सुंदर लग रही थीं और उस समय घर में हम दोनों अकेले थे. तो चलिए आपको जल्दी से अपनी छोटी बहन की चुदाई की कहानी सुनाता हूं!जाड़ों का समय था; मैं और सभी लोग मैच देख रहे थे. सेक्सी बता वीडियोकल्पेश अब बिंदास हो गया और मीरा के मम्मों को उसकी मिनी के ऊपर से ही दबाते हुए मजा लेने लगा.

मैं- प्लीज!मैं दीप्ति को राजी करने के लिए उसके होंठों को चूमने लगा और साथ में उसके मम्मों को सहलाता रहा. ऋतु की ‘आअह्ह ओह्ह ह्ह और ज़ोररर से …’ की आवाजों से माहौल और गर्म होता चला गया.

मैंने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और तेज़ी से चोदने लगा।अब मैंने पीछे से पकड़ कर उसकी चूचियों को मसलना शुरू कर दिया और झटके पे झटके लगाने लगा।पूरा कमरा चुदाई की आवाज से गूंज उठा था और थप्प थप्प थप्प आह आहह की आवाज तेज होने लगी थी।अब मैं बिस्तर पर लेट गया और चाची अपनी गांड में लंड लगाकर बैठ गई और लंड अंदर चला गया. अगर आराम से गांड मारी जाए तो मजा आता है … और जान मैं तेरी तो बड़े प्यार से फाड़ूँगा … बस थोड़ा सा झेल लेना. लेकिन अभी तक वो किसी से भी नहीं पटी और ना ही उन्हें कोई चोद पाया है।हमारे मोहल्ले में उनके जैसी कोई और माल नहीं है जो भी उन्हें देखता है, उसके लण्ड में तूफान आ जाता है।इसलिये हर कोई उन्हें अपने लंड की सवारी करवाना चाहता है।पहले मैंने कभी भी भाभी को गन्दी नजर से नहीं देखा था.

बालों भरा सीना और भरा हुआ जिस्म, एक ताकतवर मर्द, जो अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों स्तनों को भी मसल रहा था और अपने कड़क लंड से मेरी प्यासी चूत की खुजली भी मिटा रहा था. जब सभी मेरे साथी कॉलेजों में और दूसरी जगह पर फार्म भरने के लिए गए थे तो उस टाइम में ऑफिस में अकेला ही था और अपने फोन पर सेक्स कहानियां पढ़ रहा था. दीदी झड़ चुकी थी और निढाल होकर लेटी थी उसकी सांसें धौंकनी की तरह चल रही थीं.

मैं- पर तू तो रांड लग रही है साली भोसड़ी की!वो- कब का चुदने का मन कर रहा था, कोई चोदने ही नहीं आया.

तो वो हंसने लगा और उसने कहा- इसमें तो मुझे बहुत मज़ा आयेगा।उस रात और अगले दिन मैंने निधि और तपिश से ग्रुप चैट हर रोज की तरह बात करी।मंगलवार रात को मैंने उनसे कहा- यार, अब मैं आगे तुम्हारे घर नहीं आ पाऊँगी।दोनों ने पूछा- क्यों क्या हुआ?मैंने कहा- यार, यश ने हमारी सारी चैट रीड कर ली है और मुझे कह रहा है कि वो मम्मी को बता देगा. पीठ की मसाज करते समय दीदी के ब्रा का हुक आनंद के रस में अड़चन बन रहा था.

आखिरकार एक दिन हेमा का राज मेरे सामने खुल ही गया और राज खुलने पर भी हेमा की आंखों में कोई पछतावा नहीं था. भाभी का रंग तो गोरा था ही, उस पर गोल्डन कलर की साड़ी उनकी खूबसूरती पर चार चांद लगा रही थी. वो अपने मुख को खोलकर बुरी तरह से सांसें ले रही थी और हर सांस लेने से उसके मुख से एक लंबी सी सस्स शह्हह निकलती।अब मैं भी अपना दम खो चुका था और धीरे धीरे मेरी पकड़ भी दाइशा जी से ढीली पड़ने लगी.

सारे काम के साथ साथ डेरी से दूध लाने का काम भी मेरे हिस्से में आ गया था. उन्होंने पूछा- आप कौन?मैंने अपने बारे में बताया और बोला- सॉरी मैंने गलती से आपकी बातें सुन लीं और आपके पति के जाते ही आपका मूड खराब हो गया, ये मुझसे देखा नहीं गया. मैंने अपना लंड कुछ बाहर को निकाला और धीरे धीरे चार पांच धक्के लगाए बाद में एक धक्का जोर से मारा तो मेरा पूरा लंड उसकी छोटी सी चूत में अन्दर तक घुसता चला गया.

बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी जबकि ये बात जानने योग्य है कि चुदाई का खेल नर नारी के मिलने से शुरू होकर स्खलन और स्खलन के बाद चूमाचाटी तक का माना जाता है. इसके बाद चाचा अपना लंबा, मोटा और सख्त लंड मम्मी की चुत की तरफ ले गए.

हिंदी लव सेक्सी वीडियो

फिर नीता ने कहा- अब हम दोनों शुरू करेंगे और तुम वैसे ही उंगली करोगी जैसे रोज़ इसके बारे में सोच कर करती हो. मैंने भी कह दिया- जब तेरी जैसी गुफा यहां उपलब्ध है, तो किसी और का क्या काम. दीदी पापा को गालियां देने लगीं- मादरचोद … भड़वे … साले … मैं रंडी नहीं हूं भोसड़ी के …मां चोदरहे हो अपनी भोसड़ी के … धीरे धीरे कर लो … समझ ही नहीं रहा है कुत्ता … तुमको तो अपनी बहन चुदवानी है भोसड़ी के … जो तेज़ पेल रहा है कमीने … रुक जा हरामी … अभी मेरी बुर बहुत छोटी है … आराम से चोद … आंह.

ज्योति ने शरमाकर अपनी नजर नीची कर ली।मैंने ज्योति की चोली को खोल दिया और उसे बैठाकर उसकी चोली को निकाल दिया. [emailprotected]प्यासी भाभी पोर्न स्टोरी का अगला भाग:सहकर्मी की पत्नी की प्यासी चूत की चुदाई का आनन्द- 2. भाई बहन सेक्स सेक्सीलेकिन मिहीन ने उसी पल मीरा के एक दूध को जोर से मसला तो मीरा का मुँह आह करते हुए खुल गया.

मैं बहुत खुश हुआ क्योंकि मैं बहुत दिन से रिशू की बुर चोदना चाहता था.

वो तड़प रही थी कि वो मुझे अपने होंठों पर महसूस क्यों नहीं कर पा रही है. तभी मैंने देखा उसके आर्मपिट में बाल थे, मैंने पूछा- इन्हें साफ नहीं करती क्या?वो कुछ नहीं बोली, बस उसकी आंखों में वासना के नशे की खुमारी चढ़ गई थी.

इतना बोल कर मैंने दीदी को फोन पकड़ा दिया और दीदी के बूब्स दबाने लगा. दोस्तो, अब आप बताएं कि कैसी लगी मेरी गुरु बाबा सेक्स कहानी?प्लीज़ मेल और कमेंट से ज़रूर बताएं. दीप्ति के मम्मों को सहलाते हुए मेरी उत्तेजना बहुत ज्यादा बढ़ गई थी.

उसने मुझे हड़काते हुए कहा- अंकल आप उतारते हो या मैं रात वाली बात डैड को बताऊं!मैंने मजबूरन अपनी टी-शर्ट उतार दी.

वो मेरे साथ अडल्ट जोक साझा करने लगी, तो मैं भी उसे कुछ रोमांटिक फोटो आदि भेजने लगा. ऐसा ही लौड़ा शेखर का था, जो अन्दर दूर तक घुस कर चोदता था और इसका तो सुपारा बिल्कुल आकाश के लंड का सुपारे जैसा लगता है. फिर मेरी बुआ मेरी तरफ घूम गईं और अपना दुपट्टा अपने चेहरे से हटा कर मेरी तरफ देखने लगीं.

याद की सेक्सी वीडियोअचानक उसकी बीवी ने अपनी ब्रा खोल दी तो उसकी दोनों चूचियां छलक कर बाहर आ गयीं. मैंने पूछा- लंगड़ा क्यों रही हो?दीदी बोलीं- रात में बाथरूम में गिर गयी थी.

अमरीकन सेक्सी अमरीकन सेक्सी

फिर दीप्ति की ब्रा की पट्टी के हुक को खोल दिया और दीप्ति की मदद से उसकी स्टाइलिश ब्रा निकाल कर अलग कर दी. अब दोपहर के 3 बज चुके थे और मैं अब तक उन दोनों से चार चार बार चुद चुकी थी. मैंने थोड़ा जोर लगाकर भाभी की टांगों को अलग किया, तो सामने आया जन्नत का दरवाजा.

इंडियन भाभी बूब्ज़ कहानी में पढ़ें कि मेरी चुचियों में बहुत दूध बनता था जिसे मैं अपने पति को चुसवा देती थी. उसने लाइट पीली कलर की सलवार और वाइट कलर की लैंगिंग्स पहनी थी और उसपर सफ़ेद दुपट्टा लिया हुआ था. यह बोलते हुए मैंने उसे पकड़ कर अपने पास खींच लिया और मेरी बगल में बैठा लिया.

थोड़ी देर बाद मैंने उससे कहा- घोड़े की तरह मेरी गांड मारेगा?वो बोला- हां चलो मारता हूँ. पहले तो मैं घबरा गया, फिर उसने कहा कि ये मेरी सहेली है, इसे भी रगड़ दो. लेकिन अब आज फिर मैं अपनी बीवी के साथ वाइफ स्वैपिंग करने के इरादे से ही यहां गोवा में आया हूँ और अब समंदर के किनारे वाइफ स्वैपिंग करके ही जाऊंगा.

कुछ ही देर में ऋतु अब झड़ने वाली थी, उसने कहा- मैं ऊपर आना चाहती हूँ. इससे मेरी हिम्मत थोड़ी और बड़ी और मैंने उसके बूब्स पर अपना हाथ डाल दिया.

गांव के लड़के सिर्फ और सिर्फ मेरी बुआ को पटाने आते थे, ये बात मैं समझ गया था.

उसने बहुत नखरे दिखाए और बाद में बोला कि उसे मेरे साथ सेक्स करना है. राजस्थानी महिला का सेक्सी वीडियोदोस्तो, अब आप बताएं कि कैसी लगी मेरी गुरु बाबा सेक्स कहानी?प्लीज़ मेल और कमेंट से ज़रूर बताएं. एक्स एक्स एक्स सेक्स सेक्स सेक्सीमुझसे भी अब सहन नहीं हो रहा था इसलिए बिना देरी किए मैंने उनकी दोनों टांगों को दूर दूर किया और अपना लंड उनकी चूत पर रगड़ने लगा. आपने मेरी पिछली कहानीतलाकशुदा लड़की ने मम्मी पापा के घर में चुत चुदाईhttps://www.

हॉट बाँडेज सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे अपने पड़ोसी कपल से BDSM सेक्स का बदला अपने भाई के साथ मिल कर उनके घर में ही लिया.

वो नशीली आवाज में बोली- कैसी लग रही हूँ?मैंने सीधे जाकर उसको अपनी बांहों में भर लिया और कहा- मेरी जान, तुम बहुत प्यारी लग रही हो. फिर से मैं भाभी के ऊपर चढ़ गया और उनका गाउन ऊपर करके अपना लंड उनकी चुत में डाल दिया. बस मेरा दिल कर रहा था कि मैं एक बार हेमा को उसके बॉस के साथ चुदाई करते हुए देखूं.

इसके बाद उन्होंने नाभि में थूक दिया और फिर उसमें अपनी जीभ डालकर उसे अपनी जीभ से सहलाने लगे, उसमें जीभ को घुमाने लगे. मैंने कई विदेशियों की बीवियां चोदी हैं और मेरी बीवी ने कई विदशी लंड से चुदवाया है. कुछ ही देर में मुझको लगने लगा था कि विशु आज मेरी चूत को पूरी तरह से घिस डालेगा.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी हिंदी भोजपुरी

मैंने कहा- अभी भी यदि तुम सहयोग नहीं करोगी तो तुम्हें ज्यादा कष्ट होगा. स्कर्ट उसकी जांघों तक आ रही थी, नीचे उसकी सुडौल पिंडलियां और संगमरमरी पैर नजर आ रहे थे. मैंने कहा- मुझे डर लगता था कि कहीं तुम अपने पति को न बोल दो, पर अब तो तुम खुद मेरे साइड हो, तो क्या डर.

उसे अंदाजा हो गया था कि चुदाई के टाइम पर मैं पूरे जोश में ठुकाई करता हूँ.

उसकी बात सुनकर मैंने मेरे दोस्त को बता दिया कि मैं आज रात नहीं आ पाऊंगा.

मैंने उसे नेट सर्फ करने के साथ साथ फेसबुक व्हाट्सैप आदि चलाना सब बता दिया था. उसने कहा- मेरी दिली इच्छा है कि मैं तुमसे अपने पूरे बदन पर हाथ फिरवाऊं. जानवर की और लड़की की सेक्सीअब मैं उसके गाल और गर्दन पर धीरे धीरे किस करता गया और उसके एक कान को अपनी जीभ से चाटने लगा.

मेरे लंड को न जाने क्या हो गया था कि वो झड़ने के बाद भी शांत ही नहीं हो रहा था. उनकी कमर के नीचे तकिया होने से गांड और चूत अभी भी उठी थी जिससे पापा दीदी के ऊपर चढ़े हुए ही थे. भाभी को मैंने ठीक से बिस्तर में लेटा दिया और खुद उनकी दोनों टांगों के बीच में आ गया.

मेरा लन्ड फिर खड़ा हो गया और मैंने 20 मिनट तक फिर से उसकी चूत चुदाई की।फिर हम दोनों ने कपड़े पहने, उसे खड़ी होने में थोड़ी दिक्कत आ रहा थी।उसने कहा- अब तुम घर जाओ. मेरे इंस्टाग्राम अकाउंट की आईडी है @jsxy001व मेल आईडी है[emailprotected].

कुछ पल निढाल रहने के बाद अब वो हॉट बेब सेक्स के लिए तड़प रही थी, वह मेरे ऊपर आ गयी थी और पागलों की तरह किस कर रही थी.

मैं- दिया तो था आते ही!संजय- क्या?मैं- किस और क्या?संजय- वो किसे चाहिए. वो मुझे धमकी देने लगीं कि अगर तूने किसी को कुछ बताया तो मैं बोलूंगी तूने जबरदस्ती मेरे साथ सेक्स किया. उउउम्मा …फिर मैंने दोनों के बाकी के कपड़े भी उतार दिए और मैं भी पूरा नंगा हो गया.

सेक्सी नंगी वीडियो देखनी है उस दिन मैंने उसकी 3 बार चुदाई की और अगले दिन मैं वहां से अपने घर चला आया. उसने फटाक से लंड पकड़ कर चूत में ले लिया और गांड आगे पीछे करने लगी.

मैंने बोला- प्रिया मेरा यह पहली बार है, अगर कुछ गलती हो जाए तो मुझे माफ कर देना. पर दिन भर पड़ोस की लड़कियां और घर वालों के बीच उससे कोई बात न हो सकी; न ही उसकी तरफ से कोई इशारा मिला।रात में मैं खाना खाने के बाद जब छत पर जाकर टहल रहा था. उसने अपनी एक सहेली से मेरे बारे में बात की कि कैसे मैं रोज छत पर जाकर उसको पटाने की कोशिश करता हूं.

डॉक्टर और मरीज की सेक्सी मूवी

आपको भाभी की जबरदस्त चुदाई कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके बताना न भूलें, धन्यवाद. फिर कुछ महीने बाद उनकी शादी फिक्स हो गई और हमारा ट्यूशन जाना भी बंद हो गया था. उसके बाद मुझको जब भी मौका मिलता, तो मैं विशु से अपनी चुदाई करवा लेती औरचरम सुख की प्राप्तिकर लेती.

मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया, वो मुझसे चिपकी रही और मैं उसकी चूचियां सहला कर उसे मज़ा देता रहा. दीप्ति हंस पड़ी और बोली- अच्छा, मैं तुम्हें इतनी ज्यादा पंसद आ गई!मैंने भी धुंआ उड़ाते हुए झौंक में कहा- हां.

आने वाले संडे को मुझे मम्मी की स्कूटी बनवाने के लिए ऑटोमोबाइल जाना था.

बुआ के जाने के बाद मेरी नजरों के सामने सिर्फ बुआ के चुचे और चूतड़ ही दिख रहे थे. दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि पार्टनर स्वैप सेक्स इन ओपन से आपके लंड चुत एकदम गर्मा गए होंगे. तभी मैं कंबल से बाहर गया और जल्दी से बैग से कंडोम निकाल कर लंड पर लगा लिया.

वो कसमसा उठीं … मगर मैंने उनके होंठ दबाए हुए थे, तो उनकी आवाज नहीं निकल सकी. फिर हम दोनों अलग हुए तो मेरा पूरा मुँह उसकी लिपस्टिक से लाल हो गया था. मैंने अपने पैर फ़ैला दिए और प्रियंका मेरी तरफ देखती हुई मेरी चूत चाटने लगी.

मैंने थामस से कहा- वाइफ स्वैपिंग का जो मज़ा समंदर के किनारे खुले आसमान में है, वह मज़ा कमरे में रह कर नहीं आता.

बीएफ पाकिस्तानी सेक्सी: वो बोली- अगर मैं न आऊं तो!मैंने कहा- तो दूसरे दिन अखबार में खबर पढ़ने को मिल जाएगी. दस मिनट चोदने के बाद अंकल ने अपनी गांड तेज़ी से हिलानी शुरू कर दी और मेरी चूत में ही झड़ गए.

दीदी ने भी मेरी कमर पर अपने दोनों हाथ बांध दिए और मैं दीदी की चूत में धक्के लगाने लगा. वो हमारे मेहमान हैं, अगर किसी चीज की आवश्यकता हो, तो कम्पनी के सुपरवाईजर को बोल देना. मैंने धीरे से अम्मी के ब्लाउज के बटन खोलने शुरू कर दिए और दूध बाहर निकाल दिए.

उसे देख कर ऐसा लग रहा था कि जैसे कोई नव नवेली दुल्हन अपने पति का इंतजार कर रही हो.

मुझे और ऋतु को कम्बल शेयर करना था और दूसरा कम्बल पल्लवी और मीनाक्षी को. चूंकि मैं गांव के एक छोटे से स्कूल से कॉलेज में पहली बार गई थी, मुझे अब तक मर्दों की इस तरह की नजरों का कोई अनुभव ही नहीं था. यंग गे बॉय सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे घर एक 20 साल का लड़का दूध देने आता है.