सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,चोदा चोदी बताएं

तस्वीर का शीर्षक ,

सी वीडियो चोदा चोदी: सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ, मैंने कहा- इस मुस्कान का क्या मतलब समझूँ?वो मुझे चूमती हुई बोली- मेरी शादी जरूर हुई थी मगर सुहागरात नहीं हुई थी.

चिलम का फोटो

उसने अपने शरीर पर सिर्फ तौलिया लपेट रखा था जिससे उसकी गोरी गोरी जांघें मुझे और उत्तेजित कर रही थी. दही चूड़ामैं अपना संतुलन खो बैठा और उसकी गांड पर हाथ लगाने ही वाला था कि तब तक वो उठ गई.

दोस्तो,मेरी कहानी के पिछले भागमुझे आलिम साहब से मुहब्बत हो गयीमें अपने पढ़ा कि आलिम ने मुझे दुल्हन की तरह सजवाया. वीडियो वॉलपेपर डाउनलोडमॉम हंस कर बोलीं- इतनी उम्र के बाद औरत प्रेग्नेंट नहीं होती है समझे.

शेखर ने पूरी ताकत से मेरे दूध मसले और मेरी चूत पर दबाव बनाते हुए फचाक फचाक करके अपने वीर्य की गर्म गर्म पिचकारियां मेरी चूत में मार दीं.सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ: फिर उन्होंने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ा और अपनी गोरी चूत पर घिसा.

उनके होंठ अपने होंठों में लिए हुए ही मैं सीधे लेट गया तथा उनको अपने ऊपर कर लिया.कुछ देर बाद उसके पिता जी खेत की तरफ चले गए, माता जी पड़ोसी के यहां कुछ काम से मिष्टी के बच्चों के साथ पहले ही चली गई थीं.

प्रियंका का सेक्स - सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ

करीब पन्द्रह मिनट की चुदाई में मेरी चूत से काम रस निकलने लगा लेकिन उसका लंड उसी तरह खड़ा था.अब मैंने अपनी स्पीड और तेज कर दी थी और बुआ की गांड को गपागप गपागप चोदने लगा था.

मैंने उससे कहा- चूसो इसे!वो बोली- नहीं, इससे पहले मैंने कभी नहीं चूसा. सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ उस वक्त बहुत जोर जोर से चुदाई के झटके लगे और हम दोनों साथ में चिपक गए.

करीब दस मिनट बाद मैं उनके मुँह में ही झड़ गया, मम्मी सारा माल पी गईं.

सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ?

मैंने धीरे से पर्दे को हटाया तो देखा कि पड़ोस की काकी मेरे घर में दरवाजा खोल कर अन्दर आ रही थीं. मैं कभी उसकी चूचियों में अपनी कोहनी रगड़ देता, कभी उसकी पीठ को सहला देता. एड कर के घर पर बैठी थी।एक बार मेरे घर पर मैं और मेरी बहन ही अकेले थे और गर्मी का मौसम था इसलिए रात में हम छत पर सो रहे थे।बीच रात में जब मेरी नींद खुली तो मैंने देखा कि मेरी दीदी मेरे पास नहीं थी.

मैंने उससे कहा- नहीं यार, ऐसा नहीं है, तुम बोलो तो सही, तुम्हें क्या मदद चाहिए. उसने अपने नर्म हाथों से मेरे लौड़े को मेरी पैंट के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया. मेरी जीभ उसकी चूत को चाटने में लग गई थी और वो मेरे सर को अपनी चूत पर दबाए जा रही थी.

ये सब रोजाना देख कर यही सोचता था कि जल्दी से मुझे मम्मी को चोदने का मौका मिले. उसे अचानक से उठता देख मैं भी उठा और पूछा- क्या हुआ?वो बोली- कुछ नहीं. मतलब कुछ लड़कियों को अगर समय पर चोदा ना जाये तो उनको दौरे पड़ने लगते हैं.

कुच देर बाद हम दोनों अलग हुए तो बुर से खून भैया के लंड से लग गया था. अब जलालुद्दीन ने मेरे बाल पकडे और एक बार फिर तेजी से मेरा मुंह चोदने लगे.

उस दिन नशे में तो मैंने कह दिया था लेकिन बाद में गांड फटने लगी कि अब क्या होगा.

फिर बुआ बोलने लगीं- राज, मेरी सहेली ने मुझसे बच्चों को संभालने के बदले तुमसे चुदवाने की शर्त रखी है.

मैंने मन में सोचा कि इस बेचारे को क्या पता कि एक उंगली से मेरी गांड की गर्मी शांत नहीं होने वाली!मगर उसे दिखने के लिए मैंने मेरी गांड टाइट कर ली जिससे इसे लगे कि मेरी गांड अनचुदी है. मैंने देखा कि मेरी पूरी उंगली चूत में जा चुकी है और वह एक बार झड़ कर फ्री हो चुकी है. मैंने देखा कि माधुरी की चूत भी लबालब हो कर बहने लगी थी और साथ ही साथ उसकी गर्म सिसकारियां निकल रही थीं.

मेरे मामा मेरे गांव में ही रहते थे जिस वजह से मामी और चाची की ससुराल हमारे ही गांव में हो गई थी. मेरी दीदी की ननद शालू (बदला हुआ नाम) भी रांची में ही पढ़ती थी पर उससे मेरी बहुत कम बातचीत होती थी. मैंने भी अपनी बीवी को घर के काम करने के लिए एक नौकरानी रखने के लिए राजी कर लिया.

उसने फोन पर सेक्स कहानी पढ़ीं और हमेशा की तरह आज भी वो मुठ मारने बाथरूम में चली गई.

मैंने मुँह हटाया तो मॉम ने पूछा- क्या हुआ?मैंने कहा- आपकी चूत जैसा स्वाद नहीं है. एक तरफ उसकी चूत में मेरा मोटा लंड मजा दे रहा था और दूसरी तरफ मैं उसकी चूची चूसकर उसके आनन्द को चौगुना कर रहा था. जैसे ही मैंने उसके पूरे दूध को हाथ से भर कर दबाया, उसने हल्की सी आह भरी और मेरे कान में बोली- प्लीज़ ऐसा मत करो.

जब लगभग दस मिनट तक जलालुद्दीन साहब ने मेरी गांड चुदाई कर डाली तो मुझे दर्द कुछ कम सा लगने लगा था. यह सब देख कर मैं एकदम से उत्तेजित हो गया और उसे देखते हुए मदहोश होने लगा था. पैर पूरी तरह से खुल जाने से चाची की चूत भी खुल गई थी और लंड सीधा अन्दर बच्चेदानी तक मार कर रहा था.

पता नहीं क्या हुआ … मैंने उनके होंठों को अपने मुँह में भर लिया और देर तक स्मूच करता रहा.

मैं भाभी के ख्यालों में खोया हुआ था कि तभी भाभी किचन का काम समेटकर आईं और मेरे बगल में सो गईं. लड़कियों की चूत की सुरसुरी दूर करने के लिए बता दूँ कि मेरे लंड का साइज़ 7 इंच का है, जिस भी चूत में घुसेगा, फाड़ कर ही बाहर निकलेगा, इस बात की गारंटी है.

सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ चाची तुरंत तेल निकाल लाईं और बेड पर मेरी जांघों के बीच में बैठ कर लंड की मालिश करने में जुट गईं. पैरों में पायल पहनने के बाद मैंने सलवार कमीज पहनने के लिए उसका पैकेट खोला तो उसमें से एक सिल्की लाल कलर की प्रिंटेड सलवार और कुर्ती निकली जो उन्होंने टेलर से मेरे नाप की बनवाई थी.

सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ मैंने नाटक शुरू किया ही था कि इतने में भाभी मेरे करीब सरक आई और मुझसे चिपक गई. अब मैं अंजलि के सामने वी शेप वाली सफ़ेद अंडरवीयर में था जिसमें मेरा लंड अलग ही दिख रहा था।अंजलि की नज़र भी लंड के ऊपर ही थी।मैंने अंजलि का हाथ पकड़ के अपनी ओर खींचा और उसके ब्लाउज के हुक खोलने शुरू किये.

मंजू बोली- बुआ तुम्हारा क्या प्रोग्राम है?मैं बोली- मैं तो अभी तुम्हारे घर चार दिन तक रहूँगी.

हिंदी बीएफ ऑनलाइन

साक्षी मेरी छाती से उठी मगर वो मेरे लंड को गांड में घुसाए हुए ही मेरे ऊपर बैठ गयी. जबकि सुधा की आम लड़कियों की तरह ही थी।क्योंकि गांव के अंदर शादी हो रही थी इसलिए गांव के अंदर अपने घर पर काम करने वालों से थोड़ी दूरी बनाकर रखी जाती है. तापोश नीना के होंठ चूस रहा था, रवि नीना की चूत और सोनी नीना की चूची चूसने लगा.

मैं बाइक चलाते वक़्त इयर फ़ोन लगाता हूँ, तो मैंने कॉल उठा ली और बात करने लगा. कुछ देर ऐसे ही करके उसने एक जोर का धक्का मारा और उसका लंड मेरी चूत में पूरा जा धंसा. रात को भी जैसे ही खाना खाकर मोबाइल लेकर बैठा तो मुझे लगा कि शायद वो अभी मैसेज करेगी.

फिर मेरी अम्मी ने मुझे माहवारी के बारे में बताया और यह भी बताया कि अब मुझे परदे में रहना होगा और लड़कों से दूर रहना होगा.

भाई की सास ने आवाज़ दी- बेटा नींद आ रही होगी, ऊपर आकर सो जाओ रोहन, बहुत दूर जाना है. चैट के साथ साथ थोड़ी बहुत चुदाई की बात हो जाती, जिससे दोनों को मजा आता. तब तक हिना ने हमारे लिए नाश्ता बनाया था तो हम दोनों अपनी चुदाई पूरी करके फ्रेश होकर नाश्ता करने आ गए.

जॉब लगने के बाद हर शनिवार मैं घर आता था तो यार दोस्तों के साथ बीयर पीता था. मुझे बहुत बुरा लगा कि साला ऐसे कैसे एकदम से मैंने उससे ये सब बोल डाला. बड़ा ही गाढ़ा और नमकीन रस चाटने से मुझे नशा सा होने लगा था और भाभी की कसमसाहट लगातार बढ़ रही थी.

फिर उन्होंने मेरे कानों में लटक रहे बड़े बड़े झुमके और गले के बड़े बड़े हार उतार कर एक तरफ रख दिए. मैं आंटी को आगे बताता गया कि उनके बदन में मुझे क्या क्या सुन्दर लगता है.

लेकिन कभी भी बात इतनी आगे नहीं बढ़ सकी थी जिससे मुझे उसको चोदने का मौका मिल सके. थोड़ी देर तक धक्के मारने के बाद उन्होंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और जोर जोर से धक्के मारने लगे. मैं उनके फौलादी बाजुओं में थी और वो मुझे लेकर बेडरूम की तरफ चल दिए.

लंड चूसते समय मेरी चूत में अजीब सी सिहरन हो रही थी तो मैं शेखर से बोली- मेरी चूत में अजीब सी चूल उठ रही है, प्लीज इसको शांत करो.

अम्मीअब्बू जब तक नहीं आए हम दोनों ने सारे घर में चुदाई का खेल खेला. फिर थोड़ी देर बात करने के बाद उसने कहा- भाभी जी सही हैं यार, चल अब तुझे रूम दिखा देता हूँ. कोमल भाभी की केले के तने सी चिकनी जांघें उसकी चुस्त साड़ी से साफ़ नुमायां हो रही थीं.

अब मैं उसके स्तनों को और भीतर तक देख पा रहा था, जिन्हें उसकी सफेद ब्रा ने जकड़ा हुआ था. तभी चाची ने मुझसे अपनी चूचियों में हाथ डलवा कर कुछ और देर चींटियां देखने का कहा.

पर उसके बड़े बड़े चुचे उसके हाथों से ढकने वाले कहां थे … और वो अपनी गुलाबी बुर को कैसे ढक पाती. पहले साक्षी की गांड पर थोड़ा हिलाया और अपने लंड का सुपारा साक्षी की गांड में सटाक से घुसा दिया. मैंने नजरअंदाज़ कर दिया और साइड में खड़े होकर अपने मौसा जी के आने का इंतजार करने लगा क्यूंकि वो मुझे लेने आने वाले थे.

हिंदी बीएफ वीडियो हिंदी में बीएफ वीडियो

अब मैं चाची से नज़रें मिलाने में कुछ सकपका रहा था पर चाची मुझसे बिल्कुल घुल-मिल गई थीं.

मेरे पूछने पर उसने बताया कि वो बहुत परेशान रहती है और उसे नीचे बहुत ज्यादा बेचैनी होती है. उनके बारे में सोचते सोचते मैंने होंठों पर लाल लिपिस्टिक लगाई, आंखों में काजल डाला, फिर नाक में छोटी नथनी पहनी, कानों के रिंग मेरी गर्दन तक हलचल मनाने लगे. मैं बाइक चलाते वक़्त इयर फ़ोन लगाता हूँ, तो मैंने कॉल उठा ली और बात करने लगा.

थोड़ी देर बाद मैंने चाची की साड़ी ऊपर कर दी और उनकी जांघ तक साड़ी को ले आया. मैं आकर बिस्तर पर लेट गया और कुछ देर बाद भाभी मेरे और अपने बेटे के लिए दो गिलास दूध लेकर आ गईं. चोदा चोदी वीडियो में दिखाएंमाधुरी की उम्र 31 साल की थी, रंग एकदम गोरा था और उसकी हाईट पांच फुट चार इंच की थी.

मैंने कैसे चोदा मामी को?मेरा नाम अनस पठान है और मैं उत्तर प्रदेश में रहता हूँ. सलवार सूट पहनकर और पूरा मेकअप करके जब मैं तैयार हो चुकी थी और मीठे मीठे सपनों में खोई थी कि तभी दरवाजे की घंटी बज उठी.

मैं बिस्तर पर लेट गया मगर भाभी ने चूत की जगह अपनी गांड मेरे मुँह पर रख दी. ये कह कर मैं एक पल के लिए रुका और इस आशंका से माधुरी की आवाज सुनने की प्रतीक्षा करने लगा कि वो अब चिल्लाई तब चिल्लाई. मैं कुछ देर वहीं अपनी बाइक के पास रुका रहा लेकिन मुझे माधुरी कहीं नजर नहीं आ रही थी.

सारे लड़के बिस्तर पर नंगे लेटे हुए थे और हम लड़कियां जो अभी तक ब्रा और पैंटी में थीं, वो सब लड़कों को नंगा करके मजा ले रही थीं. आप मुझे मेल करें कि आपको इस देसी गर्ल बर्थडे सेक्स कहानी पर क्या कहना है. मेरा नाम राज है और मेरी पत्नी का नाम वंदना है।मैं 40 साल का हूं और वह 36 साल की है।हम दिल्ली में रहते हैं।यह वाइफ चीटिंग सेक्स कहानी मेरी अपनी पत्नी की है.

मेरा लंड अभी भी एकदम टाईट होकर खड़ा था और चूत के रस से सना होने के कारण पूरा चिकना हो गया था.

अब्दुल और छोटू लौटने लगे तो मैंने ड्राइवर से कहा- टेक्सी का क्या होगा?ड्राइवर ने चाबी लगा कर घुमाई और टेक्सी स्टार्ट हो गई. अब जलालुद्दीन साहब अपना पूरा लण्ड बाहर निकालते और एक जोरदार धक्का मारकर अपना पूरा का पूरा मूसल मेरी चूत में पेल देते.

दोस्तो, अब आँख पर पट्टी बाँधने के बाद हम लड़कियों के साथ क्या होने वाला था, वो मैं आपको सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगी. शेखर के होंठ मेरे होंठों पर थे, जीभ मेरे मुंह के अंदर थी और हाथ मेरे दोनों स्तनों पर थे. कुछ उन्हीं किस्म के ख्यालों में मैं खोया जा रहा था कि एक बंदा दिखा जो लिफ्ट लेने के लिए हाथ दिखा रहा था.

किसी जवान लड़की के मस्त मम्मों का दूध पीने का अपना सपना भी साकार किया. अब मैं अंजलि के सामने वी शेप वाली सफ़ेद अंडरवीयर में था जिसमें मेरा लंड अलग ही दिख रहा था।अंजलि की नज़र भी लंड के ऊपर ही थी।मैंने अंजलि का हाथ पकड़ के अपनी ओर खींचा और उसके ब्लाउज के हुक खोलने शुरू किये. उसने कहा- कोई बात नहीं, सब करते हैं, पर आपको मेरे नाम की नहीं मारनी चाहिए.

सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ मैं लंड को आधे से अधिक बाहर निकालता और फ़िर झटके से पूरा अन्दर डाल देता. दूसरे दिन चाची ने मुझसे कहा- राकेश आज तुम आज मेरे साथ बाज़ार चलो, मुझे कुछ सामान लाना है.

बीएफ में सेक्सी बीएफ

अब वो बिल्कुल नंगी हो चुकी थी और मेरी हालत उसे देखकर ख़राब हो रही थी. वो उफ्फ … अहह … अह … की मनमोहक आवाजें निकालने लगी जिससे मुझे और मजा आने लगा. वो मुझे चोदने के लिए इतने उतावले थे कि अन्दर आते ही मेरी सलवार और कमीज उतार दी.

लोहे की रॉड सा खड़ा लंड चूत की फांकों में अड़ा हुआ था, दाब देने से लंड का नीबू सा सुपारा कोमल की चूत के अन्दर घुस गया और किसी खूँटे सा फिक्स हो गया. मैं भी भैया के मुँह में अपने हाथ से अपनी चूची पकड़ पकड़ कर दे रही थी. सलवार सूट डिजाइन फोटो 2018मेरी पूरी उंगली गीली हो चुकी थी और चूत अन्दर से बहुत गर्म हो रही थी.

ये सुनकर साक्षी मेरे लंड से उतर कर बाजू हो गई और घोड़ी की तरह गांड ऊपर करके झुक गयी.

मैंने उनकी गांड पकड़ी तो अहसास हुआ कि उनके दोनों कूल्हे बड़ी तेजी से ऊपर नीचे हो रहे थे. तब असिस्टेंट ने कहा- इसका लंड तो देखो भोसड़ी वाले का, कितना छोटा सा नुन्नी सा है.

तो दोस्तो, मेरे ब्वॉयफ्रेंड और मेरे पति के साथ की कहानियां तो आप लोगों ने पहले ही पढ़ ली हैं. अब मैं अपनी सारी शर्म लज्जा त्याग कर उन दोनों के बीच औंधी होकर लेट गई. मैं थोड़ा हट्टा-कट्टा पहलवान टाइप का हूँ और साथ ही साथ मैं थोड़ा सांवला भी हूँ, इसलिए शायद लड़कियां मुझे पसंद नहीं करती थीं क्योंकि लड़कियों को सिर्फ सिर्फ गोरे-चिट्टे और हैंडसम लड़के ही पसंद आते हैं.

काफी बड़े बड़े चूचे थे और बहुत मुलायम भी निप्पल को चूसते ही रहा था।उनकी सिसकारियां काफी बढ़ गई थीं- आहह … आहह … उमम … उइई ईईई.

मैं डर के मारे रोने लग गई तो एक हिजड़ा ताली पीट कर बोला- अरे निगोड़मारी, रोती क्यों है, देख जलालुद्दीन ने पहली ही बार में तेरे जिस्म में छुपे जिन्न को मार गिराया. वो- ये तम्बू लिए घूम रहे हो और बोल रहे हो सब ठीक है?मुझे थोड़ा अजीब लगा और मैं अपना लंड छुपा कर एडजस्ट करने लगा मगर वो फिर भी तिरछी नजरों से देखे जा रही थी. मैं सोच रहा हूँ, क्या हम दोनों साथ रह सकते हैं? मैं खाना अच्छा बना लेता हूँ.

पीरियड कैसे होता हैप्रिंस ने अपने दोस्तों के साथ गांव घूमने का प्लान फिक्स कर लिया और वो तय समय पर अपनी अधूरी मोहब्बत को पूरा करने निकल पड़ा. शुरू से ही सेक्स के प्रति मेरी रूचि कुछ ज्यादा ही रही है, तो मैं पूरे दिन सेक्स कहानी पढ़ता और बाथरूम में जाकर मुठ मारता.

बीएफ फिल्म ओपन वीडियो

मैंने भाभी की फुद्दी के होंठों को खोला और अपनी जीभ को चूत के अन्दर डाल दिया. मैं- नीना, तुम सोनी को भी मौका दे सकती हो क्या?नीना- हां, तापोश ने बताया की सोनी का लंड बड़ा और मोटा है, मैं उसे देखने और लेने को उत्सुक हूँ. फिर उसने मुझसे कहा- विकास, जैसे ब्लू फिल्म में अलग अलग तरीके से चुदाई करते हैं, वैसे तुम भी करो न.

मैकेनिक अब्दुल गाडी चेक करके बोला- नया रेडिएटर पाइप लाना पड़ेगा जो यहां से पांच किलोमीटर दूर की बस्ती में मिलेगा. मुझे मजे लेते देख कर अब्दुल और छोटू फटाफट अपने कपड़े उतार कर नंगे हो गए. वो चिल्लाए जा रही थी- आंह और कसके … और कसके!फिर हम दोनों 69 में आ गए.

मैंने कुछ ही देर में उन्हें सोफे पर लिटा दिया और किस करते करते बूब्स मसलने लगा. वंदना भी मिस्टर रंजीत के लंड के आकार से हैरान और डरी हुई लग रही थी।उसने मिस्टर रंजीत से कहा कि वह इस बड़े लंड को अपनी चूत में नहीं ले सकती है इसलिए वह केवल उसका लंड चूसेगी और अपने बड़े स्तनों से चोद देगी।यह सुनकर मिस्टर रंजीत क्रोधित हो गए और मेरी पत्नी वंदना से कहा- वंदना तुम मेरे कमरे में अपनी मर्जी से आई हो और यहाँ चुदाई के लिए आई हो. रास्ते में अचानक एक गड्डा आ गया और बाईक एकदम से उसमें गिर कर उछल गयी.

मैंने उसकी बुर की फांकों को फैलाया और चूत के छेद में अपना 6 इंच के लंड का मोटा सुपारा लगा दिया. मैं सांस भी नहीं ले पा रहा था, पर चूत को चाटते वक्त मुझे कुछ होश नहीं था.

कुछ पल उसने लंड को देखा और नीचे जाकर वो मेरे लंड को चूसने लगी और टोपे को चाटने लगी.

मैं पागलों की तरह उसकी चुचियों को पीने लगा और निप्पलों को बारी बारी से काटने और चूसने लगा. कैटरीना कपूर की सेक्स वीडियोउसकी ऐसी बातें सुनकर मैं फटाक से बैठ गया और उसकी चूत पर अपना लंड रख दिया. सूट के गले के डिजाइन फोटोअब उनसे यह तो नहीं कह सकता ना कि इसको ठीक करने के लिए तुम्हारी बच्ची को चोदना पड़ेगा. मैंने पहले भी गांड में कई बड़े बड़े लंड लिए हैं तो मुझे कोई खास दर्द नहीं हुआ मगर मैं मोहित का जोश और ज्यादा बढ़ाना चाहती थी.

अपने हाथ को उसकी नाभि के ऊपर घुमाया, तो उसके हाथ से मोबाइल गिर गया.

मैं अन्तर्वासना और फ्री सेक्स स्टोरी डॉट कॉम की एक नियमित पाठिका हूँ. अचानक से उसे याद आया कि शहर से उसके दोस्त कमलेश और प्रमोद आए हैं, जिनकी इच्छा गांव घूमने की थी. शायद वो इसलिए हुआ क्योंकि आज मेरी पहली बार गांड की सुहागरात थी और चुदाई के टाइम तुम बार बार मेरी चूत सहला रहे थे और चूत में उंगली कर रहे थे.

लगभग साढ़े ग्यारह बजे मैं मांड्या के निकट आ गया था जहां नम्रता आंटी रहती थीं. सामने वाली सीट पर उसका वीर्य उछल कर फ़ैल गया और शेखर भी ठंडा पड़ गया. अचानक मेरा शरीर अकड़ने लगा, मैंने निखिल को कसकर अपनी बांहों में जकड़ लिया.

बीएफ बीएफ हिंदी वीडियो

उन हिजड़ों ने मेरे कपड़े उतारे और मेरे बदन पर खुशबूदार लेप लगाने लगे. उस शॉप की मालकिन माधुरी बेहद खूबसूरत सेक्सी बिल्कुल कामदेवी जैसी थी. आज इसे एक मोटा लण्ड मिल गया तो इसकी माँ चुदने लगी बहनचोद। हाय दईया, मुझे बड़ा मज़ा दे रहा है तेरा लण्ड! मरद हो तो तेरे जैसा और लण्ड हो तो तेरे लण्ड जैसा बाबू जी!उसकी प्यारी प्यारी गालियां मेरा जोश बढ़ा रहीं थीं।मुझे बहुत अच्छा लग रहा था।मैं और धकाधक चोदने लगा वह भी अपनी गांड़ उठा उठा के धक्के का जबाब धक्के से देने लगी।वह बोली- हाय मेरे राजा.

मैंने पूछा- बच्चे और मम्मी सो गए थे न?चाची बोलने लगीं- जीजी तो एक बार सोईं, तो समझो सीधे 5 बजे ही उठती हैं.

उसकी छटपटाहट ज्यादा थी तो मैं कुछ पल के लिए रुक गया मगर उसकी चूत में लंड का दबाव बनाए रहा.

बीवी ने भी साथ दिया, पर बीवी को गांड में लंड लेने से बहुत दर्द हुआ, बीवी को बवासीर नहीं है. शाम को मैंने बाथरूम में छोटी पिचकारी में पानी भरकर, पानी गांड के छेद में डाला, थोड़ी देर बाद पानी निकाल दिया. मियां खलीफा सेक्स सेक्स वीडियोमैंने उससे कहा कि तुम्हें हाथ में पकड़ने में मजा नहीं आ रहा क्या?उसने नाटक किया कि मैं चाचा चाची को सारी बात बता दूंगी.

कोमल मेरे करीब आई और बोली- मेरा ये ड्रेस कैसी लगी?शायद ये उसने जानबूझ कर पूछा था. वो मेरे पास आयी और उसने कहा- क्या तुम्हारे पास मोबाइल का चार्जर है … मेरे मोबाइल की बैटरी खत्म हो गयी है. आगे बढ़ते हुए मैं अपने हाथ उसके बालों के पीछे ले गया और बालों से रबर खींच ली.

गे फक का मजा लेते लेते मेरा टाइम आ गया था, मैं उसके नंगे जिस्म को सहलाने लगा, उसकी जांघों को सहलाता. इस बार होली पर मेरी बहन आयेशा भी मेरे साथ थी तो इस बार होली बहुत ही सेक्सी वाली होने वाली थी जिसमें रंग के साथ हमें लंड का भी मज़ा मिलने वाला था.

ऐसा लग रहा था कि कोई एक्सपर्ट रांड लंड की मालिश कर रही हो क्योंकि जो मज़ा किसी औरत से लंड पर तेल लगवा कर मालिश करवाने और मुठ मरवाने में आता है, वो मज़ा तो सील पैक गांड फाड़ने में भी नहीं आता.

जिसने ये सारा नज़ारा दीवार के छेद से देख कर अपनी आंखों में क़ैद कर रखा था, उससे दोनों जीजा साली अब तक़ अंजान थे. फिर अमन ने मेरा चेहरा पकड़ा और मेरे होंठों को अपने कब्ज़े में ले लिया और मुझे किस करने लगा. उसने मेरी तरफ पीठ करके मेरे मुँह पर अपनी चूत रखी और खुद मेरे काले लंड को लॉलीपॉप की तरफ चाटने लगी.

ब्लू फिल्म वीडियो रंग पेज अब उनके पति रात की फ्लाइट से मुंबई चले गए हैं तो अब वो अकेली ही है घर पे!मुझे ये बात सुनकर मन ही मन खुशी हुई।मैंने उनसे पूछा- आपके बच्चे आपके साथ नहीं रहते हैं?तो उन्होंने बताया कि उनका कोई बच्चा नहीं है. दो दिन बाद मेरी चूत में कुछ आराम लगा था और मैं ठीक से मूत पा रही थी.

मैंने हाफ में बची हुई दारू देखी और सीधे मुँह से ही बोतल लगा कर दो बड़े घूंट खींच लिए. मुझे पापा मम्मी के उठने का डर भी लगा हुआ था तो मैंने चुदाई तेज़ की और जल्दी ही उसकी चूत में वीर्य झाड़ दिया. सामने से छोटी बुआ बोलीं- जीजी, कहां तक पहुंच गईं?मैं जल्दी से बोला- बस जयपुर पहुंचने वाले हैं.

फ्री बीएफ वीडियो

फिर बाथरूम में जाकर एक दूसरे को मूत्र स्नान कराया, एक दूसरे का मूत्र पिया. उसका लंड लेने के लिए मैं बेडरूम के बाहर आई और हिना को मेरे घर फोन करके बोलने कहा कि कह दो कि मैं सुबह घर आऊंगी. Xxx गैंगबैंग चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरे चोदू यार को मैंने एक साथ कई लंड से चुदने की इच्छा बताई.

जलालुद्दीन साहब अपने मूसल जैसे लण्ड को मेरी गांड में पेलते पेलते थक चुके थे और बुरी तरह पसीना पसीना हो चुके थे. शादी में कुछ हुआ नहीं, वहां से लौट कर मैं वापस अपनी जॉब पर चंडीगढ़ चला गया.

उसका पूरा वजन मेरे लंड पर था जिससे मेरा पूरा लंड उसकी गांड में घुसा हुआ था और इसी मस्ती में वो जोर जोर से उचक उचक कर चुदवा रहा था.

घर पहुंच कर सुरेंद्र जी फ्रेश होने के लिए बाथरूम चले गए और मैं उनके लिए कॉफी बनाने लगी. कुछ देर धक्के मारने के बाद जलालुद्दीन ने अपना लंड बाहर निकाल लिया तो मेरी कुछ जान में जान आई. अब जलालुद्दीन साहब भी पीछे से मेरी गांड ठोकते ठोकते थक चुके थे तो उन्होंने अपना लण्ड बाहर निकाल लिया.

मैंने कहा- इस मुस्कान का क्या मतलब समझूँ?वो मुझे चूमती हुई बोली- मेरी शादी जरूर हुई थी मगर सुहागरात नहीं हुई थी. मैंने कहा- ठीक है, मैं तुम्हें चोदने के लिए अपने कुछ नए साथियों को बुला लूंगा. लड़का लड़की सेक्सी कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी सहकर्मी लड़की को सेक्स के लिए चाहने लगा.

यह सोचकर मैंने अपनी बहन को चार सेक्स कहानी भेज दीं, जिसमें तीन बहन भाई की चुदाई वाली कहानी थीं.

सेक्सी बीएफ एचडी में सेक्सी बीएफ: अब जब मेरा अपने घर जाने का प्लान होता तो मैं भाभी को पहले से बता दिया करता. तब मैंने चैक किया, तो पीछे से मेरी थ्री फोर्थ जरा नीचे सरक आयी थी, इसलिए पैंटी दिख रही थी.

मुझको चुदाई करते करते अभी कुछ मिनट ही हुए थे कि भाभी की चूत का पानी निकल गया और उनकी फुद्दी बहने लगी. यह मेरी पहली Xxx वर्जिन मेड सेक्स कहानी है, इसमें इसके पात्रों के नाम बदले हुए हैं बाकी सब सच है. हर जवान लड़का मुझे बस एक बार पा लेने की दुआएं मांगता है और हर जवान लड़की मेरे जैसा बदन चाहती है.

मेरी उंगली के चूत के अन्दर चलने से कोमल सिहरने लगी और उसकी गांड उठने बैठने लगी.

उसने बैग को खोला तो वो उसके अन्दर देख कर अचम्भित हो गयी क्योंकि मैं उसमें बियर और वोडका की बोतल लाया था. कुछ ही पल में एक लंबी कराह के साथ ‘आह ह ह ह … अअ … अअ …’ उसकी चूत से रस बहने लगा. अब आगे Xxx एस सेक्स की कहानी:मेरे जोर जोर से चूची चूसने से और नीचे से साक्षी की चूत में लंड पेलने से पहले से गीली चूत से सफ़ेद रंग का झाग मेरे लंड के चारों ओर लग गया था.