दूसरा बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,एचडी बीएफ भाभी की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो hindi.com: दूसरा बीएफ वीडियो, अब उसकी गांड मेरे सामने थी और उसे लगा कि मैं उसकी गांड मारने वाला हूँ.

हिंदी बीएफ वीडियो 2021

उसकी आंखें तो ऐसी हैं कि एक बार नजरें मिला कर बात कर ले, तो कोई भी मर्द उसका दीवाना हो जाए. बीएफ सेक्सी चूत कामैंने पाया कि मामी का हाथ मेरे लोअर पर ठीक मेरे झांटों के पास रखा हुआ था.

मैंने मौसी को पहले ही बोल दिया था कि मैं उनके घर रुकने के लिए आऊंगा. बीएफ पोर्न स्टारमामी ने बैग खोला तो उसमें दुल्हन के लिबास के लिए लाल रंग का लहंगा चुनरी और उसके साथ कुछ मेकअप का सामान था.

तभी प्रिया का पैर मेरे चेहरे को लगा।वो बोली- राज, तुम वहां मत लेटो पैरों की साइड … अच्छा नहीं लगता।फिर मैं सीधा होकर उसके साथ आ गया.दूसरा बीएफ वीडियो: फिर 10-15 मिनट बाद उनका फिर से चुत चोदने का मन करने लगा लेकिन मैं तैयार नहीं थी.

मेरी हाइट 5 फुट 7 इंच है और मैंने अपने वजन को काफी सलीके से मेंटेन किया हुआ है.मैंने अभी दूसरी सांस ही ली थी कि जेठजी ने एक उंगली मेरी गांड में डाल दी.

बीएफ चोरी चोरा - दूसरा बीएफ वीडियो

उस वक्त जब किसी ग्राहक को सामान देने के लिए जब आंटी उठती थीं, तो मेरे मुँह के सामने अपनी बड़ी सी गांड मटकाते हुए जातीं.दोस्तो, जब सत्यम ने मेरे ब्लाउज के बटन खोल दिए; तब मैंने भी अपने स्तनों पर उसके हाथ के ऊपर ही अपने हाथ रख दिए और आंखें बंद करके अपने हाथों से उसका हाथ थाम कर मैं खुद ही अपने मम्मों को ज़ोर से दबवाने लगी.

नवाब किसी मदमस्त घोड़े की तरह मेरी चुत को भोसड़ा बनाने पर तुला हुआ था. दूसरा बीएफ वीडियो रूम में काफी अंधेरा था, इस लिए मैंने अपना लंड अपने लोवर से बाहर निकाला और उसे हिलाने लगा.

मैंने मधु को बिल्कुल भी इंतजार नहीं करवाया और उसकी साड़ी को उतार कर उसकी चूचियों पर टूट पड़ा.

दूसरा बीएफ वीडियो?

मुझे मालूम है कि तुम जो सुरेश से चाहती हो, वो तुम्हें नहीं दे रहा है. मेरी बीवी ने कहा- इधर टॉयलेट कहां है?मैंने बताया कि मेला कमेटी ने टॉयलेट बाहर की तरफ बनाए हैं मुझे भी जाना है मैं अनुराधा के साथ चला जाता हूँ. आज मैं आपके सामनेअपनी और अपनीदीदी युविका की चुदाई की कहानीका अगला भाग लेकर आया हूँ.

चुत का लावा छोड़ने के बाद वो जोर जोर से ऐसे हांफने लगी, जैसे एक तड़पती मछली शांत हो गयी थी. मैंने बोला- ठीक है, उस दिन जिस गली में हम मिले थे … उसी गली में मिल लिया जाए!उसने कहा- उस गली के आगे एक छोटा गार्डन है, जहां कोई आता जाता नहीं है. मगर अब सुनील ने मेरे साथ बात करना कम कर दिया और वो मुझसे कन्नी काटने लगा.

इस इंडियन सेक्सी चुदाई कहानी के पहले भागगर्म लड़की ने पड़ोसी युवक को पटायामें आपने जाना था कि कैसे अपनी सेक्स लाइफ में बोर होने के बाद सारा कुछ नया आजमाना चाहती थी. मैंने उससे कहा- जान माल आने वाला है, क्या करूं?उसने हाथ के इशारे से कहा- मेरे मुँह में ही झड़ना है. ये देसी आंटी सेक्स कहानी मेरे पड़ोस में रहने वाली नेपाली आंटी और मेरे बीच घटी एक सच्ची घटना है.

तो मैंने झट से लवली की चूत को उंगली से टटोल कर देखा और चूत के दोनों होंठों को उंगली से सहलाकर देखा तो लवली की एक कामुक सिसकारी निकल गई।बड़ा छेद दोनों टांगों के बीचोबीच जॉइन्ट पर था तो मैं थोड़ी देर तक उसकी चूत पर अपनी उंगली फिराता रहा. अब हम दोनों ने ये तय किया कि चुदाई को ज्यादा रोमांचक बनाने के लिए एक दूसरे के लिए एक एक पार्ट्नर और खोज लेना चाहिए.

ये सब देखकर दूसरी वाली भाभी का मूड भी बनने लगा, तो उसने खुद ही अपना गाउन उतार दिया.

इससे कुसुम की मादक सिसकारियां निकलने लगीं- आह उंह आह ऐसे ही रोहन … और कसके दबाओ … आह कर लो अपने मन की मुराद पूरी.

एक बार मैंने सुरेश की पैंट के ऊपर से ही उसका लंड हाथ से सहलाया था कि शायद इसको समझ आ जाए कि मैं उससे चुदना चाहती हूँ. हम दोनों की गान्ड टच होने लगी एक दूसरे से।मामी ने अपना मुंह मेरी साइड कर दिया. पर तभी उसने कहा- यह क्या कर रहे हो?पहले तो मैंने कोई जवाब नहीं दिया पर उसने कुछ तेज आवाज में पूछा तो मैंने कहा- कुछ नहीं, बस जो तुम चाहती हो, वही सोच रहा था.

मैं कुछ कहता, उससे पहले पूजा मेरे पास आई और मेरे लंड को अपने मुँह में भर कर धीरे धीरे आगे पीछे करने लगी. कमल के सो जाने के बाद भी सारा एक दो घंटे फोन पर इधर उधर चैटिंग करती और उलटी सीधी हरकतें करती. गर्लफ्रेंड Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मेरे दोस्त की उसकी गर्लफ्रेंड से अनबन हो गयी.

उसने पूछा कि तुम क्या पढ़ाई करते हो?मैंने उसे अपनी पढ़ाई के बारे में बताया और उससे पूछा.

भाभी कह तो रही थीं कि सेक्स नहीं करूंगी मगर वो मुझे लगातार किस भी किए जा रही थीं. वो कहती थी कि राज अब तो कैसे भी करो, लेकिन मुझे चोद दो, मेरे भोसड़े को चूसो. उसने मेरे लंड को तुरन्त अपने मुँह में ले लिया और निप्पल की तरह चूसने लगी.

अब धीरे धीरे उजाला बढ़ने लगा तो मेरी नज़र उसकी गान्ड पर गईमैंने लंड निकाल लिया और उसकी गान्ड में थूक लगाया और उंगली घुसा दी. पीयूष रुका नहीं, उसने एक और झटका दे दिया और उसका पूरा लंड उसकी बहन की बुर के अन्दर चला गया. अबकी बार रॉय का माल मेरी चूत में … और फिरंगी का रस मेरी गांड में निकला.

तभी अचानक से पापा बोले- अरे सपना, तुम्हारा इंटरनेट खराब हो गया है, तो अंकल के साथ चली जाओ.

फाइनल राउंड की बारी आई तो लकी ने फिर पेल दिया अपना मूसल सारा की चूत में।काफी देर की धक्कम पेल के बाद सारा माल उसने सारा की चूत में डाल दिया. मेरा नाम वरुण है, ये कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी उस समय की है, जब मैं 12वीं कक्षा में पढ़ता था.

दूसरा बीएफ वीडियो [emailprotected]हॉट आंटी सेक्स कहानी का अगला भाग:मां बेटी की चुदास मेरे लंड से मिटी- 2. मैडम ने उस लड़की को आवाज दी और उससे बोली- रेहाना तू आज इसे खुश कर दे.

दूसरा बीएफ वीडियो फिर मैंने उन्हें सीधा होने के लिए कहा … क्योंकि मुझे चरम पर पहुंचने का मजा आने वाला था. मुझे सारे रास्ते रिट्ज की बड़ी बड़ी चुचियां और उसके कड़क निप्पल मेरी पीठ पर रगड़ कर मजा देते रहे.

तब तक ममता मेरे कान में बोली कि उससे पूछ कि क्या तुम मेरे घर आ सकते हो?मैंने भी सत्यम से वैसा ही बोल दिया कि क्या तुम दोपहर में मेरे घर आ सकते हो?वह तुरंत तैयार हो गया तो मैंने उसको बोला- ठीक है, मुझे मौका मिलने दो.

y2 वीडियो डाउनलोड

रोहन एक बहुत ही शांत स्वभाव का लड़का था, जो ना तो किसी से कोई मतलब रखता था … और न ही किसी से कोई फालतू की बात करता था. तब भी वो सलवार सूट में ही थी, पर ये स्कूल यूनिफॉर्म से बहुत अलग था. अब मैंने ज़रीना को घोड़ी बनाया और उसके पीछे से लंड पेल कर उसे चोदने लगा.

वो चुत पर हाथ रखते हुए बोली- डरो मत … चूत की सील टूटती है, तो खून निकलता ही है. मैंने आंटी की टांगें फ़ैलाईं और अपना चुत की दरार में लंड सैट कर दिया. मैं एकदम से लजा गई और मैंने बसंत से कहा- ये क्या कर रहे हो … जरा रुको तो!मगर अब तक बसंत ने मेरी चुत की लकीर पर अपनी उंगली रख दी थी.

फिर मैंने उससे पूछा- क्या लोगी?उसने कहा- मुझे प्यास लगी है पानी दे दो.

लकी ने टोका तो सारा बोली- यहाँ नोएडा में दो तीन महीने रह लो, तुम भी साले, बहनचोद, फट गयी जैसे शब्दों के बिना बात नहीं करोगे. ओमी अंकल मुझे देख कर बोले कि तुम तो 8 बजे बोल रही थीं … और यहां तो साढ़े सात बजे से इतनी भीड़ हो रखी है. मैंने उसके दोनों पैरों को चौड़ा कर दिया और दोनों टांगों के बीच बैठ गया.

चुदाई के वक्त जब जेठजी ऊपर को धक्का मारते, तो मेरे स्तन ज़ोर से ऊपर की ओर उछल जाते और फिर नीचे की ओर आ जाते. मैंने सिसकारियां लेते हुए फ़ोन उठाया, तो मम्मी भी समझ गईं कि अभी मेरी चुदाई का काम चालू है. मैं बोला- सच में तेरे मम्मे बड़े मस्त हैं यास्मीन! कल वाली रेहाना के मम्मे तो साले सड़े आम से थे.

वो आगे बोली- जब तेरा लंड मेरी चूत में पूरा घुस जाये तो तू चाहे तो रुक सकता है. बस चुत में लंड पेला और चोद कर रबड़ी टपकाई और हो गई चुदाई बस इतना ही पता था.

पर फिर भी उसने मुझे इस बारे में नहीं बताया था, ये मेरे लिए थोड़ा असहज करने वाला मामला था. मैं रोज उसकी ब्रा खोल देता, थोड़ी देर उसके गोल गोल गुब्बारों को सहलाता और सो जाता. मयूरी भी शायद जाग गयी थी लेकिन उसने मुझे नहीं रोका, बल्कि उसने अपना सर हिला कर मेरे लंड को अपने गाल से रगड़ दिया.

जब शीना ने अपनी बुर की तरफ देखा तो उसमें से भाई का वीर्य और खून की धारा बह कर सूख चुकी थी.

मैंने कभी किसी लड़की के बूब्स दबाये नहीं थे इसलिए मैं बहुत उत्तेजित हो गया और चूचों को जोर जोर से दबाने लगा और किस करने लगा. वैवाहिक जीवन के प्रथम छह माह में हम दोनों ने अनगिनत बार अलग अलग मुद्राओं में एक दूसरे को खुश और तृप्त किया. फिर 26 दिसंबर को अजय का जन्मदिन था। जन्मदिन की तैयारी के लिये सभी लोग जुट गए क्योंकि अजय का जन्मदिन बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता था.

इस इंडियन सेक्सी चुदाई कहानी के पहले भागगर्म लड़की ने पड़ोसी युवक को पटायामें आपने जाना था कि कैसे अपनी सेक्स लाइफ में बोर होने के बाद सारा कुछ नया आजमाना चाहती थी. रमेश ने मंजू की तरफ देखते हुए पूछा- कैसी शर्त?मंजू ने कहा कि अंजलि कह रही है कि सेक्स कंडोम के बिना नहीं होगा और दोनों पार्ट्नर अलग अलग रूम में सेक्स करेंगे.

फिर मैंने बिल्कुल भी देर ना करते हुए उसको दूसरी तरफ घुमाया और उसका ब्लाउज खोल दिया. कुकोल्ड सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी पड़ोसन भाभी ने मुझे अपने पति के होते हुए अपने घर बुलाया और उसी के बिस्तर पर नंगी होकर अपनी चूत मरवायी. उनको देख कर मेरे बाबू ने हरकत करनी शुरू कर दी और मेरा लंड खड़ा हो गया.

एशियाई पेंट

उधर उसने अपना पज़ामा नीचे किया और मेरी टांगों के बीच में आकर बैठ गया.

प्रिया कहने लगी- अमन … बस अब ऊपर आओ … और अन्दर डाल दो।मैं भी तैयार था. अभी तो पापा भी अपने दोस्तों के साथ बैठ कर जाम का मज़ा ले रहे हैं … कुछ देर और रुक जाओ. वो बार बार उसके लोहे जैसे लंड को अपनी चूत पर महसूस कर रही थी जिससे उसकी चूत दिन भर गीली बनी रहती थी.

अचानक भाभी की आवाज आई- अमन जी, मेरे कपड़े गिर गए हैं, मुझको ऊपर आकर दे दीजिए. आखिर में आकृति आंटी मेरे गले लग कर मुझे प्यार करते हुए बोलीं- आज बहुत मज़ा आया. बीएफ के पिक्चरबस अब मुझे इंतजार था कि कब अमित से मेरी मुलाकात हो और वो मुझे चोदने के लिए बुलाये.

हैलो साथियो, मैं आकाश आपको इस सेक्सी लेडी पोर्न स्टोरी के पिछले भागआखिर मेरे लंड को चूत मिल ही गयीमें आंटी की चुदाई के बारे में लिख रहा था कि आंटी मेरे लंड को चूस रही थीं. फिर भाभी मेरे लिए एक तौलिया लाईं और बोलीं- तुम भीग गए हो, इससे पौंछ लो.

मुझे रिप्लाई करके ज़रूर बताएंजिन पाठकों ने मेरी पिछली सेक्स कहानी नहीं पढ़ी, वो उसे ज़रूर पढ़ें. मैंने एक बार इस मामले को लेकर आसिफा से बात करना चाहा, लेकिन उससे मेरी कोई बात नहीं हो पाई. वो समझ रही थी कि मैं कोई चूतिया हूँ, जो बस लड़की देख कर फर्जी भाव बना रहा था.

मैंने उससे बोला- देखो मुझे भी तुम अच्छे लगे और पसंद हो, लेकिन हम दोनों की उम्र इस तरह की नहीं है कि हम ये सब करें. मामी भानजा Xxx कहानी में पढ़ें कि कैसे मैं अपनी सबसे छोटी मामी को जंगल में ले गया. आप बताओगी क्या किसी को?आंटी बोलीं- मैं क्यों बताऊं भला?मैंने बोला- जब आप चुप, मैं चुप … तो किसे पता चलेगा.

मेरा ध्यान ससुर के कमरे की ओर गया तो मैंने पाया कि उनके रूम की लाइट जल रही थी.

मैं कोमल के पेटीकोट को उसकी जांघों तक ऊपर कर चुका था और अब उसकी चिकनी और गदरायी जांघों को चूस रहा था. मैंने इतनी लड़कियों को चुदवाते देखा मगर तेरी जैसी माल को अब तक नहीं देखा.

तो सोते हुए हम दोनों एक दूसरे से चिपके हुए थे।आयशा ऐसे सोने में असहज महसूस कर रही थी तो उसने अपना मुंह दूसरी तरफ घुमा लिया. उस दिन चुदाई में मैंने उसकी बहन को अपने लंड के नीचे समझ कर चोदा और उसने मुझे राज समझ कर चुदवाया. कुछ ही देर के प्रयास में कुसुम ने अपने बेटे का पूरा लंड मुँह में ले लिया.

ओमी अंकल मुझे देख कर बोले कि तुम तो 8 बजे बोल रही थीं … और यहां तो साढ़े सात बजे से इतनी भीड़ हो रखी है. पांच मिनट में ही वो जोर जोर से सिस्कारियां लेने लगी- आआह … अम्म्म्मा. उसी समय कार्तिक ने मेरे होंठों को किस करके एकदम से चूसना शुरू कर दिया.

दूसरा बीएफ वीडियो मेरा एक फव्वारा आने पर जेठजी ने जीभ को बाहर किया और स्तन से अपने दाहिने हाथ को नीचे लाकर, झट से एक साथ अपनी तीन उंगलियां, प्यार के रस से लबालब हुई मेरी चूत में डाल कर तेज रफ़्तार से चुत को चोदने लगे. मूवी काफी रोमांटिक थी, तो हम दोनों का ही मूड बन रहा था, पर वहां कुछ हो नहीं सकता था.

चोदा चोदी दिखाएं

मैं जानता था कि वो शर्मा रही थी।मैं उसके बूब्स को चूसने लगा।वो आह्ह … आह्ह की आवाजें करने लगी थी।फिर मैंने उसकी चूत में उंगली करना शुरू कर दिया. फिलहाल मैं कॉलेज की पढ़ाई से आज़ाद थी और किसी से भी चुदने के लिए और कुछ भी करने के लिए मुझे पूरी स्वछंदता थी. अमित के मोटे लंड का सुपारा कुछ ही अन्दर गया था कि कसाव बहुत बढ़ गया.

कोई पांच मिनट में ही मैंने लंड हिला कर उसकी मुठ मार ली और रस झड़ा दिया. वो नशीली आवाज में बोला- क्या बात है सरिता … तुम तो बहुत मस्त लग रही हो … एकदम माल लग रही हो. बीएफ एचडी सॉन्गउस समय शायद वह कोई मेहनत का काम कर रही थी, जिससे उसके माथे पर पसीने की बूंदें चमक रही थीं.

आजतक इससे पहले मॉम ने मुझे पापा के बाहर जाने को लेकर कभी नहीं कहा था.

मेरे और सामने वाली भाभी के सामने एक ऊंचा सा बैग रखा था, इसलिए उसको ये नहीं पता चला कि मैं भाभी की कमर में हाथ डाल रहा हूँ. एक्स एक एप्लिकेशन है … जिसमें हम पुराने सामान को खरीद और बेच सकते हैं.

मैं जानबूझ कर इस तरह झुक कर बैठी थी कि मेरी नाइटी में से मेरी चुचियां उसको कुछ ज़्यादा ही साफ दिख रही थीं. इतने में रमेश अंजलि के मम्मों को कस कर दबा दिया, जिससे उसका मुँह खुल गया और रमेश ने उसी पल अपने लंड को मुँह में डाल दिया. अपनी टांगों को मेरे कंधों पर रख कर मेरे गले को एकदम से दबा कर मुझे अपनी चूत में लगभग बांध लिया था.

रमेश का लंबा लंड होने के कारण अंजलि सिर्फ़ आधा लौड़ा ही मुँह में ले पा रही थी.

कुछ मिनट बाद मैंने अपने मन को शांत किया और उसकी पैंटी वहीं टांग कर अपने रूम में वापस आ गया. मेरे मन में आपा को चोदने का जी कर रहा था पर उसे कैसे चोदूं ये समझ नहीं आ रहा था. इसी बीच मैंने सोचा कि इसकी चूत का स्वाद भी चूसकर ले लूं, फिर पता नहीं क्यों उसकी चूत पर झांटें देखकर चूसने की इच्छा नहीं हुई.

बीएफ सेक्सी मराठी बीएफ सेक्सीइस बताने के चक्कर में उसका लंड भी टाइट होने लगा और मैं इन सब बातों को जानते हुए भी अनजान बन कर उसके लौड़े पर बैठी रही. उसने मेरे दूध मींजते हुए मेरे निप्पलों को इतना ज्यादा चूसा कि मेरे दोनों निप्पल सूज़ कर लाल हो गए थे.

हेमा मालिनी की सेक्स वीडियो

मैं भी अंदर ही अंदर उनका साथ देने लगी लेकिन मैं ये नहीं दिखाया कि मुझे मजा आ रहा है. आखिर में आकृति आंटी मेरे गले लग कर मुझे प्यार करते हुए बोलीं- आज बहुत मज़ा आया. अब भाभी भी फुल एन्जॉय कर रही थीं और मेरा पूरा साथ दे रही थीं- आह आह उह आह राजा … अह उम्म अह चोदो मुझे … और ज़ोर से … आह औरज़ोर से चोदो मेरी जानआह आह.

मैंने भाभी से कहा- अब चुदाई का काम शुरू करें?भाभी ने कहा- तेरे पास सेफ्टी है?मैंने पूछा- वो क्या होता है?भाभी बोलीं- मैं बिना कंडोम के सेक्स नहीं करूंगी. आंखों में गहरा काला काजल लगाया हुआ था और हाथों और पैरों में लाल नाख़ूनी लगी थी. और फिर नहाकर मैंने एक पुरानी बहुत सेक्सी साड़ी पहन लिया जिसका ब्लाउज बहुत ही ज्यादा सेक्सी था.

कुछ देर बाद एक खाली ऑटो हमारे करीब रुकी, तो पहले मैं उसमें जाकर एक किनारे बैठ गयी और वो लड़का भी मेरी तरफ वाली सीट पर बैठ गया. मैं अभी ऐसा सोच ही रही थी कि जेठजी ने मेरी चूत की बायीं तरफ, जो मेरी चूत और उनके लंड की जगह से बची हुई फांक थी, उसमें अपनी एक उंगली अन्दर करते हुए मेरी चूत में उंगली डाल दी. फिर वो अपने कपड़े पहनने लगी।मैंने पूछा- क्या हुआ?उसने कहा- मेरी बुआ की लड़की आयी हुई है जो मेरे साथ ही सोएगी.

मैं बोला- देख मेरी बीवी गांव में है और मुझे मजे भी नहीं देती, घरवालों ने करा दी थी. मैंने भी उसके बाल पकड़े और उसके चुम्बन का जबाव देते हुए कहा- तेरी चुत में आग लगी है तो किसी खूंटे से रगड़ ले कुतिया.

वो एकदम से चिल्लाई- आराम से … इडियट … इतनी जोर से कौन करता है?दीदी को मैंने सॉरी कहा और फिर लंड को वहीं रोक दिया.

उसने मुझे वो दिखाई और बोली- ये देखो, ये वाली … बाद में मत बोलना मुझे क्या पता. बीएफ मियां खलीफा कीतो मैं समझ गयी थी कि आज मेरी चूचियों और चुत का हाल बुरा होने वाला है. सेक्सी वीडियो बीएफ चलना चाहिएमैंने उससे शादी के बारे में तफसील से पूछा, तो मालूम चला कि वो मेरे शहर से बस 30 किलोमीटर की दूरी पर ही एक कस्बे में वो रहती थी. उसकी बिना बालों की चिकनी गुलाबी चूत गर्म हो गई थी।मैं समझ गया कि वो साड़ी के साथ ब्रा और पैंटी भी उतार कर आई है।उसने अपना हाथ मेरे लोवर में डाल कर लंड को सहलाना शुरू कर दिया।अब दोनों गर्म हो गए थे.

मुझे रिप्लाई करके ज़रूर बताएंजिन पाठकों ने मेरी पिछली सेक्स कहानी नहीं पढ़ी, वो उसे ज़रूर पढ़ें.

वो बोली- आप 7 दिन से खिलौने लेने आते हो … और देखते कहीं और हो, चक्कर क्या है?मैंने कुछ नहीं कहा. मगर ज्यादा देर तक मैं खुद को रोक नहीं पाया और अचानक मेरा चरम बिंदू आ गया. फिर आंखें बंद करके चंचल की ब्रा पैंटी को लंड पर लपेट लिया और मस्ती से लंड की मुठ मारने लगा.

मैं लंड रस चूसने के बाद उसके होंठों को चूमने लगी और उसको गर्म करते हुए उसके पूरे शरीर को चूमने लगी. उसके इस धक्के में आधा लंड मेरी चूत के अन्दर आसानी से घुस गया क्योंकि अभी मेरी चूत एकदम गीली थी, जिसमें से मेरा पानी टपक रहा था. मैं आंटी की हवा में झूलती हुई चुचियों को कभी मसलता, कभी दांतों से उनके निप्पलों को बारी बारी से चबा लेता.

बब्व सेक्स

और फिर पूरा कोन खत्म हो जाने के बाद उसके अन्दर की सारी आइस क्रीम मेरे लंड पर लपेट दी. बाद में मैंने उसकी टांगें ऊपर उठा दीं और उसकी गांड के छेद में जीभ लगा दी. फिर कुछ देर बाद मैंने प्रिया को बिस्तर के किनारे पर खड़ा किया और उसको झुका लिया.

दीदी की चुदाई का पहला मजा मिल रहा था मुझे।मुझे मजा आने ही लगा था कि दीदी ने मुझे रोक दिया।वो बोली- अलमारी से कंडोम निकालकर पहन लो!मैं गया और जल्दी से कंडोम निकालकर अपने लंड पर पहन लिया.

मैंने उसकी टिकट चैक की तो पता चला उसकी सीट क्लीयर नहीं हुई।ज्यादातर लोग सो रहे थे।मैंने उससे पूछा- आप कहां जाओगी?तो उसने कहा- भोपाल! भोपाल से 60 km दूर मेरा गांव है।मैं भी नींद में था तो फिर से लेट गया।तभी वो बोली- सुनिए, क्या मैं थोड़ी देर बैठ सकती हूं?हां बोल कर में सो गया।थोड़ी देर बाद टीटी आया उसने कहा- मैडम आपकी सीट क्लीयर नहीं हो पाएगी.

फिर घर आकर जब शीना ने वो पैंटी पहनी, तो उसको अपनी गांड में अजीब सा लगा. मैं कोहनी उसके मम्मों पर दबाने लगा और वो भी मेरी कोहनी से अपने मम्मों को दबवाने का मजा लेने लगी. बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी हिंदीमैं तो देखकर खुश हुआ कि चलो कोई तो लड़की इस बैच में है, अब पढ़ने में मजा आएगा.

मैंने धीरे से उसकी चूत को उंगली से खोल दिया।वो कुछ नहीं बोली तो मैंने उंगली अंदर बाहर करना शुरू कर दिया और उसकी चूचियों को मसलने लगा. उसके हिलते चूचों को मसल कर अपने लंड को उसकी चूत की जड़ में उतारने लगा. फिर जब मैं उस पर झपट पड़ता हूँ तो वो भी मेरे साथ चुदाई करने के लिए एकदम से फट पड़ती है.

ऐसे ही इस शहर में इस पोर्न भाबी सेक्स कहानी में एक मुख्य किरदार के रूप में सरिता भाबी है. लौड़ा बुरी तरह से चुत में जकड़ चुका था, या यूं कहें कि चूत ने लौड़े को अपने अन्दर कस लिया था.

मैंने अपनी सहेलियों से पूछ कर अपनी चुत पर वाटरप्रूफ फाउन्डेशन भी लगाई थी और उसके ऊपर कैडबरी चॉकलेट के स्वाद वाली क्रीम भी मल ली थी.

किन्तु लज्जावश बिल्लो बोली- मना किसने किया किया है, खोलकर देख लीजिए न. मैंने बोला- पापा वहां बहुत भीड़ होती है … और खाली पेट करवानी होती है. इस जनता कर्फ्यू से दो ही दिन पहले 20 मार्च को मेरी और मेरी बड़ी बहन सलमा का निकाह हुआ था.

सेक्सी ब्लू पिक्चर एचडी बीएफ सारा भी कमल की नज़र बचा कर बेडरूम में गयी और लिपस्टिक ठीक करके डिनर लगाने चली. फिर मैंने उनको मज़े से चोदा।जीजा जी नेहा दीदी को रण्डी बोल बोलकर गाली दे रहे थे।सुबह तक फिर हम तीनों नंगे लेटे थे.

जाते समय वो बोला- मैं वैसे भी किसी को तुम्हारी वीडियो फॉर्वर्ड नहीं करता. मैं सोच रही थी कि नवीन के पास खूब पैसा है, तो मुझे अब किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं रहेगी. फिर …सभी दोस्तो को मेरा हैलो, नमस्ते, प्रणाम।मेरा नाम प्रतीक है। मैं अन्तर्वासना का पुराना पाठक हूं.

कोलकाता काली मंदिर वीडियो

अब जेठजी तक़रीबन अपने पूरे लंड को मेरी चूत से बाहर निकालते और वापस पूरी रफ़्तार से अन्दर डाल देते. खैर … मैंने सोचा कि इसने मुझे अपना फोन नम्बर दिया है इसका मतलब ये हुआ कि समय कम होने से ये मेरी पूरी तरह से खिंचाई नहीं कर पाई है. कुछ देर लंड चुसवाने के बाद जब उससे भी नहीं रहा गया, तो वो नीचे मेरे पैरों के बीच में आ गया.

उसके बाद सुनील ने ज़ोर-ज़ोर से अपना लौड़ा मेरी दीदी की चूत में देना शुरू कर दिया. यह अहसास किसी प्रेमिका के कंधे पर सर रखने पर ही आता है।हर्षिता ने बताया की साले साहब अब उन्हें प्यार नहीं करते, पहले 4-5 साल तो कोई दिन नहीं रहता था जब वो उनके साथ घर आके समय नहीं बिताते थे और रोज़ रात प्यार नहीं करते थे ।पर अब…वो बोलते बोलते रुक गयी।मैंने उत्सुकता वस पूछ लिया- तो अब क्या बदल गया?वो बोली- अब तो महीनों बीत जाते हैं.

उस वक्त जब किसी ग्राहक को सामान देने के लिए जब आंटी उठती थीं, तो मेरे मुँह के सामने अपनी बड़ी सी गांड मटकाते हुए जातीं.

उन दोनों के लंड इतने बड़े और मोटे थे कि मेरे दिल में चुदाई के लिए मस्ती सी छा गई. ऐसा लगने लगा था कि अब सरिता भाभी शांत हो गई थी और वो अपनी गांड मराने का मजा लेने लगी थी. यदि तू मेरे साथ सेक्स करेगी तो मैं तुझे पैसे भी दूँगा और कुछ और फिल्म मेकर्स के पते भी दूँगा, जिधर से तू लाखों कमा लेगी.

मेरी आंखों के सामने अब उनकी घुटने से नीचे की नंगी और चिकनी टांगें साफ़ दिखाई देने लगी थीं जो अब मुझे और ज़्यादा कामवासना में लीन करने लगी थीं. मैं और रिट्ज सबसे पीछे वाली सीट पर जा बैठे और बस में अंधेरे का फायदा उठा कर रिट्ज मेरी गोद में मेरे सीने लग कर बैठ गयी. इस बार उसका विरोध ना के बराबर था लेकिन वो अभी भी मेरा साथ नहीं दे रही थी.

आंटी की ये नाइटी आगे से बस एक डोरी से बंद होने वाली थी, जिसको आकृति आंटी ने एक हल्की सी गांठ मार कर रोका हुआ था.

दूसरा बीएफ वीडियो: मुझे गुस्सा आ गया; मैंने कहा- मुझे बिना किसी गुनाह के सजा दी जा रही है, तो गुनाह कर लेने में ही भलाई है. उसे इतना अधिक मजा मिलने लगा कि कुछ ही देर में उसने अपना सारा चूत रस मेरे मुँह में ही निकाल दिया और बेड पर गिर पड़ी.

थोड़ी देर बाद मैंने रिया का हाथ अपने लंड से हटाया और सरीना का हाथ लंड पर रखवा दिया. उसका लंड अपनी मॉम को देखते ही खड़ा हो गया था … और जब वो अपनी मॉम के गले लग कर मिला था, तब तो उसे लगा था कि उसका लंड पैंट फाड़कर ही बाहर आ जाएगा. मैं लंड रस चूसने के बाद उसके होंठों को चूमने लगी और उसको गर्म करते हुए उसके पूरे शरीर को चूमने लगी.

जब तक दीदी मसाज करवाती रही तब तक मेरे लंड में तनाव बना रहा और मेरा लंड पानी छोड़ता रहा.

फिर मैंने अपनी शॉर्ट पैंट भी उतार दी और दीदी के सामने अंडरवियर में खड़ा हो गया. वो पानी पी रही थी कि अचानक उसे खांसी आई और उसका पानी का ग्लास गिर कर उसके कपड़ों पर गिर गया, जिससे वो आगे से भीग गई और इस भीगे कुर्ते से उसके बूब्स और ब्रा दिखाई देने लगे थे. मैंने उसको फिर से कसके पकड़ा और इस बार लंड सैट करके कुछ ज्यादा ही ज़ोर लगा दिया.