पशुओं की बीएफ

छवि स्रोत,ब्लू वीडियो सेक्सी में

तस्वीर का शीर्षक ,

अन्तर्वासना कॉम: पशुओं की बीएफ, एक तरफ से मैं उसकी चूचियों को दबा रहा था और दूसरी तरफ मैं उसके होंठों को चूस रहा था.

पोर्न वीडियो सेक्सी हिंदी

तभी तो आगे की कार्रवाई पूरी होगी या बिना कपड़े उतारे ही अपनी भट्टी शांत कर लोगी?तो उसने कहा- यार, कपड़े मैं ही उतारूंगी तो क्या मजा है। ऐसा करो, तुम मेरे सारे कपड़े उतार डालो और मैं तुम्हें नंगा करती हूं।उसकी यह बात भी ठीक थी, असली मजा तो एक दूसरे कपड़े उतारने में ही था. देहाती वीडियो एक्स एक्सफिर उसको चूम कर पूछा- अब पथरी का दर्द कैसा है?वो हंस दी और बोली- पथरी को तेरे इस लोहे के लंड ने तोड़ दिया है.

कुछ माल भाभी के होंठों पर गिरा, कुछ चेहरे पर! और वे सारा वीर्य इधर उधर से साफ कर कर पी गई. सेक्सी चूत की चुदाईइस बार वो फिर से चीखी और मुझे मारने लगी- भैया आंह मर गई … आप बहुत गंदे हो.

मैंने अब 69 अवस्था में होकर उसके मुँह में अपना लंड घुसा दिया और खुद उसकी चूत पर अपना चेहरा झुका दिया.पशुओं की बीएफ: बात करते करते मैं घर के पास आ गयी थी और मैंने उसे घर से दूर ही रोक दिया और कहा- घर तक मत चलो, नहीं लोग गलत समझेंगे.

सच्ची बात तो ये थी कि मैं दिखने में शरीफ हूँ, मगर शातिर दिमाग का हूँ.बेड पर ले जा कर मैंने दीदी के शर्ट को उठा दिया और उनकी पीठ को चूमने लगा.

पोर्न सेक्सी फोटो - पशुओं की बीएफ

बहू बोली- रात में 2 बार महनत भी तो करवाई है मैंने … इसीलिए!फिर मैं और बहू दोनों हंसने लगे.मैं बड़ा खुश हुआ।क्या बूब्स थे उसके … देखते ही सिर्फ़ चूसने का मन करता था। मैं गर्म होने लगा, अब मुझे हिलाना था.

मैं सिम्मी के गुलाबी होंठों को चूमते हुए उनके गले पर किस करने लगा।उस समय सिम्मी ने एक हरे रंग का प्यारा टॉप पहना था जिसमें उनके 30 इंच के स्तन की घाटी साफ दिख रही थी. पशुओं की बीएफ मुझसे भी अब रहा नहीं जा रहा था, तो मैंने जल्दी से उसे बेड पर लिटाया और उसकी जांघों के बीच में बैठकर उसके दोनों पैर उठाकर अपने कंधों पर रखे और लंड को चूत पर सैट किया और अन्दर डालने लगा.

तो मैंने आकांक्षा से बातें करना शुरू कर दीं और उसका ध्यान बंटते ही मैंने अचानक से एक तेज झटका दे मारा.

पशुओं की बीएफ?

जो लड़कियां इस कहानी को पढ़ रही हैं वो नेहा की हालत को समझ पा रही होंगी, जब किसी के साथ पहला चुम्बन होता है तो कैसा लगता है. मेरी पिछली गंदी सेक्स कहानीआंटी की गांड चाटी और चुदाई कीआपको पसंद आई. मैंने दो मिनट ऐसा करने के बाद उसका लोअर निकाल दिया, उसने कुछ नहीं कहा.

अपनी मम्मी की चूची चूसते चूसते मैंने अपना लण्ड मम्मी की चूत में धकेला तो धीरे धीरे पूरा लण्ड मम्मी की चूत में समा गया. इस पहले स्खलन के बाद इतनी अधिक थकान थी कि पता ही नहीं चला, कब हमारी नींद लग गयी. फिर मैंने गर्म पानी से उसकी बुर के बाकी बचे बालों को भिगो कर मुलायम किया और शेविंग फोम लेकर बुर पर मलने लगा, जिससे उसको मजा भी आ रहा था और मुझे भी.

जब मैं नन्दिनी को कसकर चिपक गया और जोर से उसके मुम्मे दबाने लगा, तो उसकी नींद खुल गई. शिल्पा सरक पर मेरे सीने पर अपने बूब्स गड़ा कर लेट गयी … और मैंने भी उसे बांहों में भरे रखा. मैंने भी देर न करते हुए उसको थोड़ा आगे खींच कर उसके दोनों पैरों को अपने कंधे पर रख लिया.

भाभी मेरे दोनों गोटों को एकदम प्यार से सहला रही थीं और मेरे सात इंच के लंड को पूरा निगल रही थीं. मेरा 9 इंच का लंबा लंड तोप की नाल की तरह सीधा नसरीन कीकुंवारी चुत की सीलतोड़ने के लिए लपलप कर रहा था.

उनको देख कर मुझे और ज्यादा जोश चढ़ रहा था और मैं उसकी चूत को जोर जोर से ठोक रहा था.

अगले दिन रविवार था तो मुझे भी किसी बात की चिंता नहीं थी और उसे भी काम पर जाने की चिंता नहीं थी.

नीचे उनकी गांड बाहर की तरफ उठी हुई थी। गाउन रेड कलर का था और उसका गला बहुत बड़ा था। नीचे से टाइट था और उनकी पैंटी की लाइन दिख रही थी।मेरा तो ये देख के खड़ा ही हो गया जिसे मैं यहां वहां घूम के छिपा रहा था. मैंने कहा- हां पर उस वक़्त तुमने कॉल पर कहा था कि मेरी चूची में दूध नहीं आता, फिर अब कैसे?कल्पना बोली- मेरा नहीं … किसी और का!मैंने कहा- चलो ये तो ठीक है मगर दूसरी कौन सी ख्वाहिश?कल्पना बोली- गांड मारने की?मैंने कहा- आरे वाह … फिर तो ठीक है … तो पहले क्यों ना बोल रही थी?कल्पना ने कहा- मैं मेरी गांड मारने की नहीं कह रही हूँ. मेरे अंदर कामवासना के समुद्र में एक ज्वार फूट चुका था जो रुकने का नाम नहीं ले रहा था.

मैंने माँ को बताया तो हमने दीदी की चुदाई का प्लान कैसे बनाया? लेकिन उससे पहले हमने भाभी को पापा से कैसे चुदवाया?मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागमास्टर और प्रिंसिपल ने मेरी माँ की डबल चुदाई कीमें आपने पढ़ा कि मेरी मां को राजेश मास्टर और उसके कॉलेज के प्रिंसीपल ने बुरी तरह से चोद दिया. उसने अपनी नाजुक चूत की किस्मत का फैसला अब उसके लण्ड के हवाले करने का फैसला कर लिया. दीदी के जाते ही मां ने पापा के अंडरवियर में से उनके लंड को निकाल कर चूसना शुरू कर दिया.

मैंने जैसे ही एक हाथ से उसकी चूत को सहलाया, तो रूबी की बड़ी आह निकल गई.

सुप्रिया- ले ठूंस ले … मम्मी पापा कहीं बाहर गए हैं … जल्दी से खाले … वरना आज तो तुझे खाने को कुछ मिलता ही नहीं. मैंने एक हाथ से उसके बूब्स को दबाना शुरू किया और दूसरा हाथ उसकी पेंटी में डालकर उसकी चुत में एक उंगली डाली तो उसकी चूत से पानी आना शुरू हो गया था. फिर मैंने अपने माल को उनकी गांड के छेद पर मल दिया और फिर अम्मी की गांड में उंगली दे दी.

तभी चमन ने अपना लंड मेरी गांड के छेद में डाल दिया … वो भी पूरी स्पीड से. वो बाथरूम से टॉवल लपेट कर आई और उसने मेरे सामने आते ही टॉवल खोल दिया. मां की मृत्यु के बाद सभी विधि हो जाने के दो दिन बाद नसरीन काम पर आयी.

थोड़ी देर बाद मधुलिका तीनों बच्चों को लेकर पार्क में चली गई।और यहीं से शुरू होती है गोसानी परिवार की कहानी.

अनुभवी चोदू चिन्ना ने इसी तरह कुछ देर मालिश करवाने के बाद करोना से रुकने के लिए इशारा किया और कहा- बेटी, अब मेरी थकान उतर गई है. उसको ऑर्डर देने के बाद हम दोनों बेड पर बैठ कर एक दूसरे को किस करने लगे.

पशुओं की बीएफ अगर मैं उससे कोई बात सेक्सी बात करता था तो वह शरमा जाती थी और फोन काट देती थी. हम काफी धनी परिवार से हैं और मुंबई में रहने के कारण काफी आधुनिक सोच की जिन्दगी जीते हैं.

पशुओं की बीएफ भाभी का नाम शानू है, भाभी दिखने में सांवली हैं, पर बहुत ही मस्त हैं. हम लोग दोपहर का खाना घर से खाकर निकले और रात को बाहर खाकर आयेंगे, यह तय हो गया.

अपनी मां नीलम के हैवी ड्यूटी शरीर के मुकाबले हनी बहुत नाजुक थी लेकिन मुझे यह भी मालूम था कि दुबली से दुबली लड़की भी पूरा लण्ड झेल जाती है.

बीएफ चुदाई इंग्लिश फिल्म

मैंने टिश्यू-पेपर से अपना वीर्य साफ़ किया।फिर हम गले लग कर 2 मिनट लेट गए।मैं- फिर से अच्छा वाला अहसास चाहिए?शिल्पा- हाँ. अगर हमारे परिवार में इतनी खूबसूरत लड़कियां हों, तो क्यों कोई बाहर की लड़की को चोदना चाहेगा. पर अनुभवी चिन्ना स्थिति को भांपते हुए संभाल ली और ऐसे दिखावा किया जैसे कुछ नहीं हुआ हो.

निशा- मेरे सेक्स स्लेव (गुलाम) बनोगे पूरी लाइफ के लिए?उसने ये कातिलाना मुस्कुराहट के साथ कहा. वो ऊपर से मेरे लंड पर धक्के लगा रही थी मैं उसकी ताल में ताल मिलाकर नीचे से लंड को उसकी चूत में गचागच पेल रहा था. शिल्पा सरक पर मेरे सीने पर अपने बूब्स गड़ा कर लेट गयी … और मैंने भी उसे बांहों में भरे रखा.

खैर वीडियो की कोई जरूरत नहीं है, सारिका का अंजू के प्रति व्यवहार अच्छा हो गया है और मुझे बुढ़ापे में जवान लौंडिया चोदने को मिल रही है.

वो मुझे बोल रही थी- आंह बड़ा पेन हो रहा है … प्लीज़ अज्जू मत करो … बहुत दर्द हो रहा है. फिर मैंने उसको नीचे गिराया और उसके ऊपर आकर उसकी चूत पर अपना लंड घिसने लगा. उस दिन पहली जनवरी के दिन मैंने नैनीताल में मस्ती करते हुए फिर से उसकी चूत मारी.

करोना ने भी बिना कुछ सोचे समझे बेहोशी के से आलम में अनायास ही अपने हाथ ऊपर उठा दिए. धीरे धीरे करो जेठ जी … कहीं भागी नहीं जा रही हूँ मैं … अपने छोटेभाई की बीवी के सेक्सी बदनको चोदने की नीयत रखने वाले बुरे आदमी … मेरी चुत में तूने भयानक आग लगा तो दी … अब इसको बुझा … आह्ह … चूस इसे!”मेरे भाई की बीवी अब वासना की देवी बन चुकी थी, उसे लंड चाहिए था, जोरदार चुदाई मांग रही थी वो!मैंने उसके घाघरे का नाड़ा खोल दिया और उसे गिर जाने दिया. सारिका बहुत नखरीली है, दसियों लड़कों को रिजेक्ट कर चुकी है और दसियों ल़ोग इसको रिजेक्ट कर गये हैं.

… उउह … चोद डालो मुझे … आह भोसड़ा बना दो आज मेरी चूत का … फक मी … फक मी हार्ड…’ इतना ही कह रही थीं. सब पाठकों ने ही कहानी की बहुत तारीफ की और मुझे आगे और भी कहानियां लिखने के लिए प्रेरित किया.

उसने पहले बाथरूम में जाकर मेरी बोतल में थोड़ी बची दारू देखी और बोटल उठा ली. इस कहानी की नायिका का नाम मैं नहीं लूँगा, ऐसा उसकी प्राइवेसी बनाए रखने के लिए कर रहा हूँ. नीलम ने सिर हिलाकर मना करते हुए कहा- नहीं, हनी घर में है और वैसे भी मुझे डेन्टिस्ट के यहां जाना है, टाइम हो रहा है.

भाभी ने कहा- ठीक है, पर आपका 8 इंच का लंड है कैसे जाएगा अंदर? आप तो मार डालोगे मुझे?मैंने कहा- नहीं, कुछ नहीं होगा.

मैंने उसकी सलवार बिल्कुल निकाल दी और हम दोनों ही आगे नंगे हो चुके थे, हम दोनों ने ही नीचे कुछ भी नहीं पहना था. मैंने उससे पूछा- अरे भाभी, तुम कब आईं, मैं बस अभी आपको ही याद कर रहा था. मैं भी जोश में था … क्योंकि अब मेरा रस कभी भी निकलने वाला था, तो मैं भी तेज धक्के देते हुए उसके होंठों को काट रहा था.

तो सबसे पहले मैं कहानी के नायक यानि मैं, के बारे में बता देता हूँ। मैं 5’4″ लम्बा और गोरे रंग का हूँ पर थोड़ा पतला (उस समय) लड़का हूँ।मेरी लम्बाई ज्यादा नहीं है, पर मेरा स्वभाव अच्छा है और मुझे लड़कियों से बातें करना आता है, जो कि बहुत लड़कों को नहीं आता … कभी भी कैसे भी मुँह खोल देते है. मैं बैठा तो मैंने उसे अपनी तरफ खींच लिया और वो मेरी गोद में आकर बैठ गई.

फिर मैंने रूम हीटर को उसके पैर की तरफ लगाया और बोला कि स्कर्ट ऊपर करके पैर फैलाओ. और अपनी टीशर्ट और ब्रा को उठा कर अपनी चूचियों के ऊपर कर दिया।मैंने निधि को गमछे के ऊपर लिटा दिया और उसकी बायीं चूची के निप्पल को अपने मुहँ में लेते हुए बोला- इसके नीचे मेरी जान का दिल है, जो सिर्फ मेरे लिए धड़कता है।मैं निधि की बायीं चूची को पी रहा था और उसकी दायीं चूची को दबा रहा था. लेकिन जब मैंने उन्हें देखा कि वे तो मेरी नंगी चूत से खेलने में ही लगे हुए हैं तो मैंने अलसी और कामुकता भारी आवाजा में कहा- अब ऊपर भी आ जाओ ना.

हिंदी में सेक्सी पिक्चर बीएफ वीडियो

इस तरह की सेक्स कहानी पढ़ते पढ़ते न जाने मैं कबसे अपनी बहन की तरफ आकर्षित होने लगा … मुझे इसका होश ही नहीं रहा.

तीन-चार दिन के बाद अजय ने मुझे बताया कि उसने अपनी पत्नी के साथ सेक्स करने के लिए उसको मना लिया है. शुरू शुरू में मैं समझता था कि वे ऐसी औरत नहीं है और मैं उस पर ध्यान नहीं देता था. हम दोनों एक दूसरे को इतना अच्छे से जानते और समझते थे कि हम आँखों ही आँखों में इशारे समझ जाते थे.

मैंने अपनी कमर आगे पीछे करके झटके लगाने शुरू किए और उसकी जोरदार चुदाई करने लगा. मुझे ऐसा लगा कि जैसे अभी मेरे लंड का सारा लावा कल्पना के मुँह में चला जाएगा. सेक्सी पिसातुरे बापइससे उसकी हल्की से चीख निकल गई और उसने मेरे सर को जोर से पकड़ कर अपनी चूत पर दबा दिया और सर को चुत पर रगड़ने लगी.

इसके बाद मैंने अपने लंड पर सरसों का तेल लगाया … और लंड को चुत पर टिका कर झटका मार दिया. मैंने उससे कहा- अभी मेरी प्यास नहीं बुझी मेरी जान … अभी मुझे तुम्हें और चोदना है.

मैंने भी उसको जोर से हग कर लिया और लंड उसकी चूत के अन्दर ठांस कर मैं भी पड़ा रहा. उसे अब चिन्ना द्वारा चूत से लण्ड हटाना एक पल के लिए भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था. मैंने बॉक्सर से बाहर निकाल कर अपने लण्ड का सुपारा आंटी की चूत पर रख दिया और हल्के हल्के से रगड़ने लगा.

वो मुझे बोल रही थी- आंह बड़ा पेन हो रहा है … प्लीज़ अज्जू मत करो … बहुत दर्द हो रहा है. अचानक मुझमें ये हिम्मत कहाँ से आयी, मैंने सिम्मी की ठोड़ी उठा कर उसे किस कर दिया. मेरे ऐसा करने से वो बहुत खुश हो गईं और मुझसे बोलने लगीं कि ऐसे ही मुझे दर्द देते रहो … इस तन्हा ज़िंदगी में अब यही एक नयापन लगता है.

मेरे सामने अवनी जैसी सेक्सी आइटम पड़ी थी, जो पिछली रात खूब चुम्मा चाटी कर रही थी.

नसरीन अपने भाई के काले नाग की तरह फनफ़नाते हुए लंड को देख कर और गर्म हो गयी. मैं सिम्मी के गुलाबी होंठों को चूमते हुए उनके गले पर किस करने लगा।उस समय सिम्मी ने एक हरे रंग का प्यारा टॉप पहना था जिसमें उनके 30 इंच के स्तन की घाटी साफ दिख रही थी.

उस दिन जब मैं बीच में ही चुपके से वापस आया तो वैसे ही पहले की तरह घर के सभी खिड़की और दरवाजे बंद थे. फिर मैंने उसके शरीर से उसकी साड़ी को अलग कर दिया और फिर से उसके उरोजों को दबाते मसलते हुए उसे चूमता रहा और वो अपने मुँह से ‘ऊह हहहह आह आह सस्स सस्स ससीई. मैं चुत चाटते हुए दीदी के मम्मों भी दबाने लगा, जिससे दीदी और भी मदहोश हो रही थीं.

एक दिन मुझे ओर आकांक्षा को सेक्स करना था लेकिन जगह का जुगाड़ नहीं हो पा रहा था क्योंकि स्कूल की छुट्टी थी वहां का चुदाई का कोई चांस नहीं था. वो दिन है और आज का दिन है … हमने कभी उस बारे में बात नहीं की … ना ही मैंने कभी उसको भोगने वाली नज़रों से देखा … और ना ही उसने!आज हमारी दोस्ती को 9 साल हो गए और हम बहुत खुश है अपनी दोस्ती में. हाइट के साथ साथ मेरा लंड भी 6 इंच का ही है जो देखने में काफी दमदार लगता है।यह मेरा पहला सेक्स अनुभव है जोकि 3 साल पहले हुआ था.

पशुओं की बीएफ अब मेरे दोनों छेद में दो लंड घुस गए थे और मैं भी खूब उचक उचक कर चुदवा रही थी. मैं उसके नंगे बदन पर गिर गया और उसके होंठों पर होंठ रख कर चूसने लगा.

बीएफ सेक्सी 16 साल की

भाभी- चाय पियोगे?मैंने चौंक कर उसे देखा, फिर इससे पहले मैं कुछ कहता कि भाभी बोली- अन्दर आ जाओ … अन्दर कोई नहीं है, चाय पीकर जाना. मैं बोला- रीना, आज सुबह से ही बहुत गर्मी है, अभी तो पूरा दिन है, तुम चाहो तो नहा लो।रीना- नहीं दादा, ठीक है, ज्यादा गर्मी नहीं लग रही मुझे!मैं- अरे देखो तुम्हारी कुर्ती पसीने से भीग रही है!रीना- ठीक है दादा, जाती हूं।रीना सकपका गयी कि मैंने उसकी अंडरआर्म्स के पसीने को नोटिस किया, इसीलिए वो जल्दी से बाथरूम में चली गयी. इतने में उसने करवट बदली, तो उसकी कमीज थोड़ी ऊपर को हो गयी और उसकी मोटी गांड मेरे सामने हो गयी.

थोड़ी देर तक नीलम की चूत सहलाने के बाद मैंने नीलम की लाल रंग की सिल्क की सलवार उतार दी और हल्की हल्की गीली हो चुकी पैन्टी को नीचे खिसकाकर उसकी चूत में अपने दायें हाथ का अंगूठा डाल दिया. मैं तो शादी के बाद ही चुदाई करने वाला था, लेकिन ऑफिस के दोस्तों के बहकावे में आकर मैंने चुदाई करने का फैसला किया था. ಸೆಕ್ಸ್ ಚಿತ್ರये सब सोच कर मैंने उसे एक चूतियापंती वाली सलाह देते हुए कहा कि जब दांत में दर्द होता है, तो उसे भींचने से आराम मिलता है.

लम्बा चौड़ा काला भुसन्ड भैंसे सा बालों से भरा बदन और दोनों टांगों के बीच में लम्बा और करोना के बाजू जितना मोटा मूसल जैसा भयानक बमपिलाट लण्ड का नजर देख का करोना एकदम हक्की बक्की रह गई और शर्म के मारे दोनों हाथों से करोना ने अपना चेहरा ढक लिया.

मैंने कहा- अरे बेटू इसे सुसु नहीं बुर कहते हैं … सुसु तो छोटे बच्चों की होती है … अब तो ये बड़ी हो गयी है. ऐसा लग रहा था कि जैसे दीदी को मैं चोद रहा हूं और प्रत्युत्तर में दीदी मुझे चोद रही थी.

मैंने अपना लंड उसके मुँह के पास किया तो उसने अपना मुँह खोल के लंड मुँह में ले लिया और उसे चूसने लगी. मैंने देखा कि लंड मेरी बहन के गले तक चोट कर रहा था जिससे उसे तकलीफ हो रही थी, तो मैंने अपनी बहन का सर छोड़ दिया. उनमें से एक लड़का अंदर गया और एक कैरी बैग लेकर आया और मॉम से बोला- ये लो, पहन लो!उसमें नए कपड़े थे.

उसके बाद मैंने उसे अपने ऊपर से हटा कर खुद उसके ऊपर आ गयी और उसके निप्पलों को मैंने चूसना शुरू किया.

उनकी चूचियां इतनी बड़ी हैं कि यूं समझो दो बड़े साइज़ के टाईट खरबूजे लगे हों. कल्पना के मुँह से अब बस सिसकारियां निकल रही थीं- आहा … आ … और अन्दर थोड़ा धीरे धीरे डालो … आहा मजा आ रहा है. उसने मेरे ब्लाउज को खींच कर फाड़ दिया क्योंकि अंधेरे में ब्लाउज खोलना पॉसीबल नहीं था.

सेक्स ओपन करोदो या तीन दिन बाद मुझे रात की ड्रिंक के लिए पैसे की जरूरत थी, तो मैंने इधर उधर कोशिश की. लेकिन उसने मुझे नीचे किया और मेरे मुँह में अपना लंड डाल दिया और लंड चूसने के लिए कहने लगा.

कम उम्र की लड़कियों का बीएफ

‘आंह मारोगे क्या … ये नाजुक जगह होती है … धीरे करो न…’मैंने उसे चूमते हुए कहा- नाजुक तो कहीं नहीं होती है … लम्बा और मोटा लंड ले लेती है और नौ महीने बाद फुट भर से ज्यादा का बच्चा निकाल देती है. फिर उसने कपड़े पहने, हल्का मेकअप लगाया और बोली- भैया मैं कैसी लग रही हूँ. मैं कभी सोच भी नहीं सकता था कि निशा इतनी अच्छी लाइफ पार्टनर मिलेगी … जो मुझे मेरी सेक्स लाइफ इतनी अच्छी बना देगी.

हालांकि मैंने उसकी फोटो देखी हुई थी, लेकिन रियल में वो और भी ज्यादा हैंडसम दिख रहा था. इस सेक्स कहानी को पढ़ने वाली सारी लड़कियां, भाभियां और आंटियां अपनी चूत को खूब उंगली करेंगी. मौसी कीबेटी की नंगी चूतपर अपनी उंगलियां फेरते हुए अलग ही मजा मिल रहा था.

मैंने कहा- आवाज भी नहीं आयी गेट खुलने की?बहू बोली- आप आपने रूम में थे इसीलिए नहीं आयी होगी. वो ब्लैक कलर की नेट वाली ट्रांसपरेंट ब्रा और पेंटी थी, जो सिर्फ कहने के लिए ही ब्रा-पेंटी थी, उससे छुपता कुछ भी नहीं था. ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, इसलिए अगर कोई गलती हो जाए तो प्लीज नजरअंदाज कर दीजियेगा.

श्वेता बोली- अब क्या हुआ भैया!मैंने कहा- गोटियां बहुत नाजुक होती हैं … तू हल्के हाथ से लगा … और अब रहने दे. उसकी चुत को जैसे ही मैंने अपनी उंगलियों से फैलाया, तो चुत के अन्दर का नजारा एकदम से सुर्ख लाल था.

एक दूसरे के बदन को चूम रही थीं और एक दूसरे के मम्मों पर हाथ घुमा रही थीं.

मैं बहू की जांघें सहलाये जा रहा था और बहू को देखकर लग रहा था वो भी गर्म हो रही थी. बंगाली ब्लू फिल्म बंगाली ब्लू फिल्मउसका जोश देख कर मेरा जोश और भी बढ़ गया और उसे किस करते हुए उसके होंठ को अपने दांतों से काट लिया. सेक्सी किलपामैं चोरी छिपी तिरछी नज़रों से उसके भरे भरे उछलते थिरकते नितंबों और चुचियों को बड़े प्यार और ललचाई नज़रों से देखता रहता. जब मैंने घुटनों के बल बैठ कर उसे प्रपोज़ किया, तब वो बहुत खुश हो गई थी.

अब मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैंने उसकी दोनों चूचियों पर एक एक हाथ रख दिया.

उसने कहा था कि पहले पैसे दो और फिर काम कराओ।फिर भी मैंने किसी तरह पैसों का इंतजाम किया और उनसे अपना काम कराया. वो बोलीं- और क्या क्या जाता है गर्लफ्रेंड के साथ?मैं बोला- आपको तो पता होगा, शादी से पहले भाईसाहब भी तो आपके साथ करते होंगे वो सब. इसे अनुभवी चिन्ना ने तुरंत भांपते हुए अपने हाथों को करोना बेटी के दोनों जांघों पर रखते हुए नीचे की और खींच लिया और अपना हथियार ढंग से करोना बेटी की नाजुक चूत की फांकों के बीच लम्बवत फंसा दिया.

मैंने नसरीन के मम्मे दबाए और बोली- तेरे दूध बड़े मस्त हो गए हैं … अब 37 के हो गए न!नसरीन- जी दीदी … आपको कैसे पता?मैं बोली- ये बात तू नहीं समझेगी अभी. रानी बोली- मेरी नौकरी तो नहीं जाएगी ना?मैंने कहा- नहीं जाएगी यार, तू मुझ पे भरोसा रख. मैंने ऐसे ही कुछ देर कल्पना के साइड में लेटे लेटे उसके निप्पल को पकड़ा और मुँह में ले लिया.

बीएफ फुल मूव्ही

इस बार मैंने जोर का झटका मारा और अपना पूरा लंड उसकी गांड में पेल दिया. इस तरह से मुझे फेसबुक से पहली लड़की मिली जिसके साथ मैंने पहली चुदाई का मजा लिया. उसके पूछने पर मैंने कह दिया कि मुझे रात में अकेले सोने की आदत नहीं है.

जिससे उसके ब्रैस्ट का कोई भी भाग नहीं दिख रहा था। मगर उसकी दोनों अंडरआर्म्स पसीने से भीगी थी।शायद उसने अपनी अंडरआर्म्स शेव नहीं की थीं.

फिर उन्होंने दोबारा से लंड को चूत पर रखा और एक झटके से लंड को अंदर घुसा दिया.

फिर पापा ने बिना देर किए एक हाथ मेरे पेट पर और दूसरा हाथ मेरी कमर पर रख दिया और मेरे जिस्म को मलने लगे. वो कुछ डिब्बे पार करते हुए अपने कोच में आया, जहां पहले से एक आदमी मौजूद था. ब्लू हॉट सेक्सलेकिन अब मुझे इस बात से कोई दिक्कत नहीं है क्योंकि अब मुझ पर सब वैसे भी फिदा हो जाते हैं.

उसने कहा- यार आईसक्रीम इतनी ठंडी है कि मेरी चूत में अब और भी ज्यादा खुजली हो रही है. उसने दोनों हाथ चोली के नीचे रखे और झटके से चोली के अन्दर लेकर बोला- बगल से ढीली है … वर्ना हाथ अन्दर नहीं जाते. इन नज़रों में नसरीन के लिए एक भाई का जो प्यार और स्नेह होना चाहिए, वो बिल्कुल नहीं था.

मैंने ध्यान से देखा तो उसकी चूत फूल कर पकौड़ा सी लाल हो गई थी, जिससे उसको दर्द होने लगा था. तभी परवीन ने उनके निप्पल को अपनी उंगलियों के बीच में लेकर मसल दिया.

लेकिन शादी के महीने भर बाद ही जब अंजू ने बताया कि उसकी ननद सारिका उसे बहुत तंग करती है तो मेरी सारी खुशी काफूर हो गई.

कई दिनों तक मैं इसी ताक में रहा कि उन दोनों की चुदाई देखने को मिल जाये. हां मेरा भाई शुभम … हर बार पहले मेरे मम्मों पर अपना बड़ा लंड रगड़ता है. मेरा लंड अब बहुत दर्द कर रहा था क्योंकि वो बहुत देर से खड़ा था … पत्थर बन गया था.

नंगी पिक्चर वीडियो नंगी उन्होंने मुझे पेट के बल लेटा कर पीछे चूतड़ों की दरार से अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया और मेरे बालों को कस कर पकड़ लिया।वे मुझे बहुत तेज तेज चोदने लगे. एक रात मैं जब उसके कमरे में मुठ मारने गया, तो देखा आज उसकी शर्ट काफी ऊपर हो रखी थी.

मैं सीधी होने लगी, तो मोहन ने मेरे निप्पल को दांत में दबा लिया और इतना सख्ती से पकड़ा कि अगर मैं सीधी होती तो निप्पल टूट कर मोहन के मुँह में ही रह जाता. अगले 30 सेकेंड में ही मेरा पूरा का पूरा लावा उसके मुँह में निकल गया. सेजल लंड के ऊपर थूक रही थी और उस थूके हुए लंड को अपने मुंह में ले रही थी सेजल अपने ससुर के अंडों को भी चाट रही थी.

बंजारा बीएफ

मैं हर जगह चाटने लगा उनकी पीठ को, उनकी बांहों को और उनके पेट के निचले हिस्से पर किस करने लगा. पैंटी के ऊपर से ही बहन की बुर का मुआयना किया, तो लगा कि उसकी बुर पर बहुत सारे बाल हैं, जो काफी घने लग रहे थे. फिर उसने अपने लंड पर थूक लगाया और मेरी गांड में लंड का धक्का दे दिया.

मेरा दुबारा मूड बनाने के बाद सैम ने फिर से चुदाई का खेल चालू कर दिया. दूसरी चाहत ये कि किसी दूध देने वाली भाभी या रंडी के मम्मे चूस कर दूध पियूं.

पूरे कमरे में उसकी सिसकारियां गूँज रही थीं- ओह ओहाअ हाह आआहह हा … यूं ही करते रहोऊऊ … आज से मैं बस तुम्हारी रांड हूँ … तुमने मुझे आज अपना बना लिया है … आह आज से पहले इतना मज़ा कभी भी नहीं आया … अज्ज्जुउउ आई लव यू बेबी … फक मीईई हार्डर.

उनका लंड मेरी चुत में काफी अन्दर तक घुस गया था और उन्होंने अपना मुँह मेरे मुँह पर जमा दिया था, इसलिए मैं चिल्ला ही नहीं पाई. मामी इस हमले से एकदम जोर से चिल्ला दीं- हाय आह हहह … फाड़ डाली साले … मेरी चूत में धीरे से डाल कमीने … मादरचोद फ्री की चुत समझ कर मत चोद. रचना भाभी की लंबाई 5 फीट 11 इंच है और उसके शरीर की बनावट 40 की छाती 32 की कमर और उसकी गांड 38 की है.

नसरीन पीछे घूमी, तो मैंने उसकी गांड पर थप्पड़ लगाते हुए कहा- ये 39 इंच की हो गई है न??नसरीन- हां दीदी … लेकिन ये सब आप क्यों चैक कर रही हो?मैं- कर्जा कैसे वसूलूंगी, जो तूने लिया है. उसकी चूत को देख कर ऐसा लग रहा था जैसे वो खुद ही मेरे लंड के द्वारा चुदने का इशारा दे रही हो. वो बोली- लगता है आप भी अपनी बहू को चोदना चाहते हो? बाबूजी आपका लंड तो बहू के नाम से खड़ा हो जाता है.

तो हमने क्या किया?मेरी बहन की चुदाई की सेक्सी स्टोरी के पहले भागकुंवारी मौसेरी बहन की चूत चुदाई-1में आपने अभी तक पढ़ा कि मैं अपनी मौसेरी बहन को एक परीक्षा दिलाने ले गया था.

पशुओं की बीएफ: लगभग 15 मिनट के ताबड़तोड़ चुदाई के बाद वो झड़ने वाला था उसने मुझसे पूछा- कहां निकालूं?मैंने कहा- चूत में ही निकाल दो. आज तक मैंने कई लोगों के साथ चुदाई की है मगर तुम्हारा लंड है छोटा जरूर … पर मोटा बहुत है और तुम बहुत ज्यादा स्पीड से चोदते हो.

मैं आप लोगों को अपने जीवन की आपबीती बताना चाहता हूं यह कज़िन सिस्टर सेक्स की एक सच्ची घटना है. उसने हंस कर कहा- तेरा लहंगा भी ढीला है … इस पर भी तुरपाई लगानी पड़ेगी. चिन्ना- फिर से बोलो, क्या होती हैं?करोना- चूचिया अंकल!चिन्ना अब सिर्फ निप्पल्स पर प्रेशर डालते हुए- ये क्या होते हैं?करोना हल्के से- निप्पल।चिन्ना निप्पलों को जोर से दबाते हुए- जोर से बोलो क्या?करोना खुमारी भरी कम्पकपाती आवाज में- निप्पल्स।चिन्ना- शाबाश मेरी अच्छी बेटी।अब चिन्ना ने अगला कदम बढ़ाया और करोना को सहारा देते हुए खड़ा कर दिया.

मैं धीरे से उसके ऊपर आया और उसके होठों को चूमने लगा, उसे बोला- थैंक्यू भाभी मजा देने के लिए।भाभी ने कहा- थैंक्यू तो मुझे कहना चाहिए। कब से इस चूत ने ढंग से पानी नहीं पिया था.

वो दिखने में भी बड़ी खूबसूरत है, वो तुझे लंड चूत का खेल सिखा भी देगी. मैंने अपनी लेफ्ट वाली रोड पर देखा, तो वहां से काले रंग की साड़ी में एक मदमस्त रंडी मेरी तरफ देखते हुए मेरे पास आ रही थी. मैंने एक दिन भाभी से बोला- आप इतनी मुलायम कैसे हो? मसाज वगैरह करवाती हो?तो उन्होंने कहा- नहीं, पर पहले करवाती थी.