के बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,हिंदी भाई बहन का सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

નેપાળ સેક્સ: के बीएफ फिल्म, मैं जैसे ही दरवाजा खोल कर निकलने लगा कि अन्दर आने वाली एक लड़की से टकरा गया.

सेक्सी अंग्रेज चुदाई

थोड़ी देर बाद मैंने दो उंगलियां डाल दीं और उंगली को आगे पीछे करते हुए चूत को चोदना चालू कर दिया. राजस्थानी सेक्सी मूवी गांव कीकरीब पन्द्रह मिनट की चुदाई में मेरी चूत से काम रस निकलने लगा लेकिन उसका लंड उसी तरह खड़ा था.

थोड़ी देर बाद चाची ने मुझे फिर से आवाज दी और कहा- राज, जरा इधर आओ, मुझे फोन में कुछ सीखना है. देसी डॉट कॉम सेक्सीआपा बोली- धत बेशर्म, ये सब भला कोई कैसे दिखाएगा? ये तो बंद कमरे में होता है.

मैंने कहा- किधर मिल सकते हैं?उसने कहा- कुछ दिन बाद मेरे घर वाले बाहर जा रहे हैं.के बीएफ फिल्म: करीब दस मिनट के बाद वो डॉगी स्टाइल में आ गई मगर डॉगी स्टाइल में आने से मुझे भाभी की मखमली गांड दिखने लगी.

मैंने गांड मारी अपनी बुआ की होटल के कमरे में! हम दोनों शादी में जा रहे थे कि आखिरी बस मिस हो गयी तो होटल में रुकना पड़ा.उसकी लेगिंग्स उसकी गांड और जांघों से ऐसी चिपक कर टाइट दिखती थी कि जब भी वो अपनी शॉप के सामने कभी झाड़ू लगाने या रंगोली बनाने की लिए झुकती, तो पीछे से ऐसा लगता, जैसे कोई जलपरी अपनी गांड उठाकर दिखा रही हो.

न्यूड सेक्सी मूवी - के बीएफ फिल्म

मेरी उंगली चलने से वह बहुत ज्यादा मचल रही थी और अपने हाथ से मेरे लौड़े को पकड़ना चाह रही थी.मेरा दिल रोने को हुआ लेकिन अपने अम्मी अब्बू के सामने मैंने खुद को संभाले रखा.

मैं उनकी गर्दन पर किस करते हुए आगे बढ़ा और उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. के बीएफ फिल्म मैं अपनी बहन को प्यार करते हुए धीरे धीरे उसके कपड़े उतारने लगा, उसके होंठों को चूमने लगा.

नीना बोली- रवि और सोनी तुम लोगों के बारे में तापोश से इतना सुना है कि लगता है तुम लोगों को बरसों से जानती हूँ.

के बीएफ फिल्म?

दोस्तो, आपको मेरी फर्स्ट चूत की पहली चुदाई अच्छी लगी हो मेल जरूर कीजिएगा. अब उनसे बर्दाश्त नहीं हुआ … उन्होंने कहा- अब अपनेघोड़े जैसा लंडमेरी चूत में घुसा दो और मुझे चोद चोद कर अपनी रानी बना लो।फिर मैंने आंटी को पीठ के बल लेटाकर उनकी टांगों को फैला दिया।अब अपना लंड उनकी चूत पर रगड़ के जोर के धक्के के साथ पूरा का पूरा अंदर कर दिया।वे ‘आआहह … आहह … उहह … हाय मैं मर गई!’ ऐसे जोर जोर से चिल्लाने लगी. मेरे मुँह से बस ‘आआह उह जानू और जोर से चोद मुझे … साले पागल कर दे मुझे … और जोर से चोद मादरचोद …’ निकल रहा था.

उसके बाद मैंने उनकी कुर्ती उतारी और वो सिर्फ़ सलवार ओर ब्रा में थीं. मैं उनकी चूचियों को याद करके ब्रा नाक से लगा कर ऐसा महसूस करता रहा, जैसे मैं मामी की चूचियों में अपना मुँह घुसाए हुए हूँ. मैंने कहा- अब तुम्हें समझ में आया ऋषि कि मैं सच में बुरचोदी रेहाना हूँ। भोसड़ी वाली रेहाना हूँ।वह हंसने लगा.

हमारे बीच बातें साफ़ होने लगी थीं और जवानी की तपिश हम दोनों को ही जलाने लगी थी. मैं अपनी अलमारी से आंटी के लिए एक टी-शर्ट और एक बाक्सर निकाल‌ कर ले‌ आया. अचानक हुए इस हमले के लिए आयेशा तैयार नहीं थी तो वो एकदम चीख पड़ी लेकिन पुलकित ने उस पर कोई रहम नहीं दिखाया.

माधुरी बोली- पहले मुझे ये बताओ कि क्या तुम्हारे ऑफिस के सभी लोग मुझे ऐसे ही देखते हैं?मैंने झट से कहा- अरे नहीं, सिर्फ मैं ही देखता हूँ तुम्हें!वो बोली- क्या?मेरे मुँह से जल्दी जल्दी में फिर से ये निकला तो मैं फिर से पछताने लगा. मैंने कैसे चोदा मामी को?मेरा नाम अनस पठान है और मैं उत्तर प्रदेश में रहता हूँ.

मेरे वालिद सोच रहे थे कि मैं उनसे इतने दिन बाद मिली हूँ इसलिए रो रही हूँ लेकिन मेरा दिल ही जानता था कि मैं अपने सरताज, अपनी मुहब्बत अपने प्यार जलालुद्दीन के लिए रो रही थी.

जांघों पर हाथ फेरते फेरते शेखर का हाथ मेरी चूत तक आ गया और वो सलवार के ऊपर से ही मेरी चूत सहलाने लगा.

एक तो साले का लंड पूरा कड़क था और ऊपर से उसकी चीते सी फुर्ती … मगर कमाल तो ये था कि उस बार उसका लंड बड़ी आराम से मेरी बुर में चला गया. फ्रेंड्स, मैं संजू पंडित एक बार फिर से आपको अपनी चचेरी बुआ की चुदाई के बारे में बता रहा हूँ. वो झड़ गई तो भी मैंने चुदाई जारी करते हुए उसे ताबड़तोड़ चोदना शुरू कर दिया था क्योंकि अब लंड बड़ी आसानी से अन्दर बाहर होने लगा था.

अब मैंने माधुरी के चूचियों पर अपना सारा काम निकाला क्योंकि इतनी देर की चुसाई और चूमाचाटी में हम दोनों की सांसें फूल गयी थीं … दोनों के सीने जोर जोर से ऊपर नीचे हो रहे थे. मुझे यहां एक महीने के लिए रखा गया था और अभी तो तीन चार दिन ही हुए थे. मंजू ने फूफाजी से पूछा- फूफा जी रात कैसी रही?वह बोले कि हां अच्छा रही, बढ़िया नींद आई ….

इन सबमें सबसे ज्यादा मजेदार पानीपत के एक होटल में चाची की ठुकाई हुई थी.

थोड़ी देर में मुझे महसूस हुआ कि शेखर के हाथ मेरे स्तनों तक पहुँच गए हैं; शेखर बड़े ही प्यार से मेरे स्तन सहला रहा था. फिर हमने सब लड़कों को खोल दिया और उनसे कहा कि चलो अब असली काम करते हैं. मैंने पूछा- सोनू तुम्हारी भतीजी जाने क्या सोच रही होगी? यार मैं तो बहुत शर्मिंदगी महसूस कर रहा हूं.

फिर कुछ मिनट के बाद जैसे ही मैं वहां से उठा और अचानक से घूमा, तो मैं शॉक हो गया. थोड़ी देर में उसको दर्द कम होने लगा और अब उसे भी थोड़ा थोड़ा मजा आने लगा. मामी ने उधर आकर अपना हाथ मेरे गाल के पास रख दिया और मैंने उस हाथ पर ऐसे किस कर दिया जैसे ये सब अंजाने में हुआ हो.

एक बार जब हम सब नशे में थे, तब किशन ने मुझसे पूछा कि कोई फंसाई?तो मैंने उसे अपनी सारी फीलिंग चाची के बारे में बता दी.

मम्मी- कोई बात नहीं, पर ये किसी को बताना मत!मैं समझ गया कि मम्मी को मेरे लंड से गांड घिसवाने में मजा आता है. फिर उसने मेरे खड़े लंड की तरफ देखा और बोली- जवानी तो तुम्हारी भी बहुत उबाल मार रही है विकास!मैं- तो सम्भालो न मेरी जान इस जवानी को.

के बीएफ फिल्म मैंने अब पूरा लंड अन्दर पेल दिया था और आंटी को मिशनरी पोजीशन में चोदना शुरू कर दिया. मेरी बीवी मेरे सर पर हाथ रख कर मेरे मुँह को अपने गोल गोल बॉल के पास लाने के लिए दबा रही थी.

के बीएफ फिल्म मैंने उसके पास बाइक ले जाकर उससे पूछा- कोमल क्या मैं तुम्हें छोड़ दूँ, तुम कहां रहती हो?वो मेरे साथ जाने को राजी हो गई और अपने घर का पता बताती हुई मेरे साथ बाइक पर बैठ गई. मेरा लंड काफी लम्बा और मोटा है, ये लंड किसी भी औरत की चीखें निकाल सकता है.

आंटी ने बोला- चल अच्छा मैं तेरी मम्मी के कपड़े पहन लेती हूं, तब तक तू मेरे कपड़े मशीन में डालकर सुखा दे.

કુવારી દુલ્હન સેક્સી

पूनम आंटी की उम्र यही कोई 40 वर्ष की होगी लेकिन देखने में सिर्फ 35-36 की लगती हैं. कुछ देर तक ड्राइवर से चुदने के बाद मेरे बदन में गर्मी आने लगी थी और मैंने सिसकारियां भरनी शुरू कर दिया था. मैं समझ गया कि हॉट भाभी वांट सेक्स!परन्तु हम दोनों अलग अलग शहर से थे तो हमारा मिलना नहीं हो पा रहा था।आपको मैं बता देता हूँ कि अंजलि को मैंने अभी तक देखा नहीं था, सिर्फ हैंगआउट पर ही बात होती थी।मेरा एक दोस्त है जिसका नाम राजवीर है।उसका मुझे एक दिन कॉल आया, उसने बताया कि उसको कपंनी के काम से बाहर किसी हिलस्टेशन जाना है.

भैया के लंड में लगे वीर्य का स्वाद मुझे अच्छा लगने लगा और मैं चाट चाट कर लंड का बचा खुचा रस खाने लगी. मुझे भी मजा रहा था तो मैंने उसकी चूत पर एक हल्का सा चुम्बन दे दिया जिससे उसके शरीर में एक करंट से दौड़ गया और वो थोड़ी ऊपर खिसक गई. तुम्हारी पीठ पर ब्लाउज़ … आह मैं तुम्हारी ब्रा देख कर तो बस पागल ही हो गया था.

बापू हंसने लगा और बोला- क्यों किस किस ने बताया तुझे?काकी हंस कर बोली- सबसे पहले तो उसी चौधरन ने बताया था, जिसके खेत पर तू मुझे पेलता है.

मैं अभी अफसोस मना ही रहा था कि तीन आते ही मेरी गोटी मेरे पाले में वापस चली आयी. मेरे आंसू निकल रहे थे, मैं दर्द के मारे चीखना चाहती थी और किसी भी तरह उनके लण्ड को मेरी गांड से बाहर निकालना चाहती थी लेकिन मैं कुछ कर नहीं पा रही थी. लगता है दो बच्चों की मां है साली!अब्दुल बोला- जिस तरीके से हम इसको चोद रहे हैं, लगता है आज ही ये चालीस पचास बच्चों की मां बन जाएगी.

मैंने उसकी सस्ती ब्रा के हुक खोल दिए और स्तन को एक बच्चे की तरह चूसने लगा. कुछ ही देर में मैंने उसकी चूत और गांड के छेद को साफ़ कर दिया व उसने मेरे लंड को. आंटी को मेरा आठ इंच का मोटा लंड चूसने में मज़ा आ रहा था और मुझे आंटी की महकती चूत चाटने में उनका कामरस मिल रहा था.

आंटी ने मुझे जगाने की कोई कोशिश नहीं की बल्कि थोड़ी देर बाद उनका हाथ हलचल करने लगा. अब चुदाई का समय था इसलिए समीर ने मुझे फिर से किस करना शुरू कर दिया.

अमन ने कहा- ठीक है, हम सब गांड मरवाने के लिए रेडी हैं मगर हमारी एक शर्त है कि तुम ये बात किसी से नहीं कहोगी कि तुम लोगों ने हमारी गांड मारी है. मैंने उसकी चूत में लंड को अन्दर बाहर अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया था. वो किचन में जाकर मेरे लिए एक गिलास गर्म काजू बादाम वाला दूध लेकर आईं और मुझे पिलाया.

थोड़ी देर में उसे भी मज़ा आने लगा और वो भी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी.

मुझे 5 मिनट शॉवर में नहलाने के बाद उसने मुझे बाथटब बैठा दिया और मुझसे बोली- अपने कपड़े उतारो. जब उसकी गांड थोड़ी ढीली हो गई तो उसकी गांड में मैंने पास में रखा हुआ नारियल का तेल डाल दिया. अब मैं अपनी सारी शर्म लज्जा त्याग कर उन दोनों के बीच औंधी होकर लेट गई.

मैंने जलालुद्दीन साहब की पीठ पर अपने नाख़ून गड़ा दिए और बोली- मेरा पानी छूट रहा है. उसने मेरी अंडरवियर के अन्दर हाथ डालकर मेरे लंड को बाहर निकाला और उसको हिलाने लगी.

हम लोग भी परेशान हो गए तो ड्राइवर बोला- घबराइए नहीं, पीछे एक किलोमीटर पर गाँव में एक मैकेनिक की दूकान थी. अब मेरा हाथ रम्भा के मोटे मोटे चूचे पर आ गया है जिनको मैं पहली बार इतनी पास से देख और दबा पा रहा था. अदीबा का गोरा सा चेहरा, बड़ी बड़ी आंखें, रसीले होंठ और उन पर डार्क ब्राउन कलर की लिपस्टिक कहर ढाती थी.

बीएफ दूध पीने वाली

शेखर बोला- ऐसा कैसे हो सकता है? तुम तो इतनी स्मार्ट और सुन्दर हो, फिर तुम्हारा बॉयफ्रेंड कैसे नहीं है?मैंने कहा- मैं लड़कियों के स्कूल में पढ़ती थी और इसी साल कॉलेज में आई हूँ इसलिए कभी लड़कों से घुलने मिलने का समय ही नहीं मिला.

मेरे आंसू देखकर वो मुझे प्यार से सहलाने लगा और मेरे गाल पर, माथे पर, होंठों पर किस करने लगा. फिर सबने एक दूसरे की तरफ देखकर इशारा किया और डिल्डो का टोपा लड़कों की गांड में पेल दिया जिससे सभी लड़कों की एक साथ चीख निकल गयी. कभी-कभी मुझे ऐसा लगता कि बहुत मामूली से दचकों में भी उसके हाथ आगे-पीछे हो रहे थे.

हारून ने आगे आकर अपना लंड मेरे होंठों पर रख दिया और सलीम ने मेरी सलवार का नाड़ा खोलकर मेरी सलवार थोड़ी नीचे सरका दी. चाची मेरे ऊपर चढ़ गई और अपने एक हाथ से लंड को चूत पर सैट करके धीरे धीरे पूरा लंड चूत में डालकर ऊपर नीचे होकर लंड पर कूदने लगीं. देसी सेक्सी वीडियो हिंदी आवाज मेंमैंने पूरा लंड कोमल की फुद्दी के अन्दर डाल दिया और अन्दर बाहर करने लगा.

मोहल्ले के सभी लड़के उसको पटाने के कोई न कोई बहाना ढूंढा करते हैं।वो मेरी चचेरी बहन है तो मेरा उसके घर आना जाना लगा रहता है. फिर मैंने भाभी का पैर टब के किनारे से उठा कर अपने कंधे पर रखा और अब मैं और जोर से चूत का रस पीने लगा, चूत के दाने को मसलने लगा.

खाला के ब्रा पहने होने के बावजूद मुझे उनके निप्पल का उभार साफ़ नज़र आ रहा था. माधुरी भी मेरे वीर्य की एक एक बून्द गटक गयी और साथ ही साथ उसकी चूत ने भी रुक रुक कर मेरे मुँह में अपने गर्म गर्म रस को छोड़ना शुरू कर दिया था. साथ ही वो जोर जोर से सिसकारियां लेने लगीं- आहह … ओयया … ओ माय गॉड आआहह … फक मी हार्डर माय बॉय … फक मी हार्डर बेबी … तुम मस्त चोद रहे हो … मजा आ गया मेरी जान.

उधर ही पढ़ाई का मूड बनेगामैंने ओके कहा और उसको बस स्टॉप पर छोड़ कर मैं भी अपने घर आ गया. हैलो फ्रेंड्स, मैं रॉकी आपका अपनी कुंवारी गर्लफ्रेंड की चुदाई की कहानी में एक बार फिर से स्वागत करता हूँ. नीना उत्तेजना में मेरे होंठ चूमकर मुझे आलिंगन में लेकर कहा- थैंक्यू रवि, तुमने मेरा गांड में दर्द का डर निकाल दिया.

फिर मैंने दूसरे नम्बर से व्हाट्सएप डाउनलोड किया और उससे बात करनी चाही, तो उसने मना कर दिया.

काकी ने बापू के लंड को देखा तो उनकी आंखें चमक उठीं और उन्होंने मेरे बापू का लंड अपने हाथ में पकड़ लिया. उन्होंने मेरे बाल पकड़ कर मुझे ऊपर खींच लिया- अब नहीं रुका जाता, इससे पहले मैं तड़प कर मर जाऊं, मुझे चोदो मेरी जान … फाड़ दो मेरे छेद को.

जब मेरी बात खत्म हुई, तो मैंने उससे कहा- ये मेरी दिली ख्वाईश है माधुरी, जो मैंने तुमसे साफ़ साफ़ कह दी है. फिर तो हम दोनों कॉलेज में प्रेमी प्रेमिका की तरह रहते और हाथ पकड़ कर चलते. इस तरह से मेरी चचेरी बहन और मैं घर पर रह गए, बाकी सब लोग शादी में जाने की तैयारी करने लगे.

इतना कहकर मैंने मम्मी की चूचियां छोड़ दीं, मम्मी की टांगें अपने कंधों पर रख लीं और अपना लंड मम्मी की चूत में अन्दर बाहर करना शुरू किया. सुबह सुबह मैंने जीजा जी को फ़ोन किया कि आज मैं जयपुर के लिए निकलूंगा. मैंने जीजू के लंड को चूम लिया और फिर अपना मुंह थोड़ा सा खोल कर जीजू के लंड को अंदर लेने का प्रयास किया तो शरारती जीजू ने जोर का धक्का मार दिया और पूरा लंड मेरे मुंह में समा गया.

के बीएफ फिल्म इस बार वो भी शायद हल्की गर्म होने लगी थी और उसने कोई विरोध नहीं किया. मैं भी बोली- हाँ जीजू, साली बहुत परेशान कर रही थी कल से! आज क़त्ल कर दो इस हरामजादी का!अब जीजू के धक्के तेज होने लगे और गन्दी गन्दी बातें करते हुए जीजू मुझ पर जोर जोर से कूदने लगे- ले हरामजादी, आज तेरी बुर का भोसड़ा बना दूंगा … तेरी चूत में आग लगा दूंगा … साली रंडी.

बांग्ला सेक्स वीडियो में

अब हमें कोई फ़िक्र भी नहीं होती थी और हमारी हरकतें भी धीरे धीरे बढ़ती जा रही थीं. मोहित ने कहा- अरे माँ चुदाने गयी ऐसी दोस्ती, जिसमें गांड मरवानी पड़े. उसने अपनी टांगें मेरी कमर के पीछे ले जाकर मुझे टांगों से कसना और जकड़ना शुरू कर दिया.

मैंने पूछा- आंटी अगर दर्द ज्यादा है, तो मैं मसाज कर दूँ क्या?उन्होंने पहले तो कहा- नहीं अभी ठीक हो जाएगा. मैंने अपने दोस्त से फोन पर कहा- भाई, एक दिन के लिए अपने रूम की चाबी दे दे. सेक्सी व्हिडीओ देसी सेक्सवो- हाय राहुल, मेरा नाम अमन (नाम बदला हुआ है) है और मैं 29 साल का हूँ.

मैंने हंसते हुए कहा- अरे बहनचोद … इन चूतियों में तो दर्द बर्दाश्त करने की गजब की क्षमता है.

इससे मेरे अन्दर की औरत तृप्त होने लगी थी, पर हारून भी कहां मानने वाला था. मैंने अपना हाथ उसके मम्मों पर रखा और एक चूची को दबाते हुए मजा लेने लगा.

करीब दस मिनट के बाद वो डॉगी स्टाइल में आ गई मगर डॉगी स्टाइल में आने से मुझे भाभी की मखमली गांड दिखने लगी. वो बिल्कुल हल्का सा मेकअप करती थीं, जिससे उनकी ख़ूबसूरती और भी ज़्यादा बढ़ जाती थी. जिस स्टॉल पर कोमल भाभी डिनर लेने का प्रयास कर रही थी, मैं वहां आया और मैंने उससे उसकी मदद के लिए पूछा.

तापोश, नीना ने देखा कि गांव के लोग सोनी और मेरी काफी इज्जत करते हैं.

उसमें राजकुमारी एक गुलाम को पकड़कर लाती, गुलाम को पीठ के बल पलंग पर लिटा देती. मीनू की तरफ से हरी झंडी मिलते ही कोमल ने भी लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगी. मैंने दोपहर में अपने बेडरूम को अच्छे से साफ किया, बिस्तर पर नई मखमली चादर बिछाई.

हिंदी सेक्सी ब्लू फोटो सेक्सीहम लोग गांव वालों की मदद करते, फल सब्जी उगाने के आधुनिक तरीके गांव वालों को भी सिखाते. मैंने सोचा था कि घर जाने के बाद दोस्तों के साथ घूमने जाऊंगा लेकिन हुआ उल्टा, मैं लॉकडाउन के कारण घर में ही फंस कर रह गया.

बीएफ हिंदी फिल्म व्हिडिओ

मैं नीचे से साक्षी की गांड में अपना फंसा हुआ लंड ढीला होता देख रहा था. उसके बाद से ये सेक्स विद ब्यूटीफुल गर्लफ्रेंड का सफर शुरू होकर 2018 तक चला, जिसमें कोई आसन, कोई जगह घर में नहीं रही, जहां हमने सेक्स ना किया हो. उसकी बड़ी बड़ी गोरी चूचियों को देख कर मुझसे और रहा ना गया और मैं उसकी एक चूची को अपने हाथ में भर कर दबाने लगा.

तभी मेरी मुलाकात उस परिवार की एक हसीना से हुई, उस आंटी का नाम कविता था. स्कूल खत्म होने के बाद रोज़ आधा घंटा मैं नीलेश को पढ़ा दूंगी। स्कूल की छुट्टी 2 बजे होती है तो तुम ढाई बजे स्टाफ रूम में आ जाना।इसके बाद मैं रोज़ मैडम से एक्स्ट्रा क्लास लेता था और जब भी क्लास टेस्ट हुए तब मेरे दोनों बार 10 में से 9 नंबर आये।लेकिन सेकंड टर्म के मैथ्स एग्जाम में मैं फिर से फेल हो गया और मेरे 70 में से 20 ही नंबर आये. मैं आंटी को आगे बताता गया कि उनके बदन में मुझे क्या क्या सुन्दर लगता है.

मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर रखा और धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत में पेलने लगा. बोलो, मंजूर है मेरी शर्त?अपने प्यार से पूरे एक महीने के लिए दूर रहना बहुत मुश्किल था मेरे लिए इसलिए मैंने भी जानबूझ कर एक ऐसी शर्त रख दी जो पूरी नहीं हो सकती थी. मेरी चचेरी बहन कुमकुम का भी शादी में जाने का मन था पर वह इस साल अपनी बोर्ड की परीक्षा देने वाली थी तो चाचा जी ने उसे मना कर दिया और बोला- दो महीने के बाद तेरी परीक्षाएं हैं, तू उसकी तैयारी कर.

मैं देखने में उतना ठीक-ठाक हूँ, जितना किसी लड़की को एक लड़के में चाहिए होता है. मैं इंडियन डिफेंस के एक अंग में कार्यरत हूं, इससे ज्यादा जानकारी प्रोटोकॉल के कारण आपसे साझा नहीं कर सकता हूँ.

मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से बंद किया और चूत में जोर जोर से धक्के लगाने लगा.

इतने में Xxx भाभी जी ने अपनी ही पेंटी को फाड़ डाला और मेरा मुंह अपनी चूत पर रख दिया, बोली- मैं बहुत प्यासी हूं. मराठी गाने वाली सेक्सीउनके होंठ अपने होंठों में लिए हुए ही मैं सीधे लेट गया तथा उनको अपने ऊपर कर लिया. हरियाणा सेक्सी पिक्चर वीडियोमम्मी हंस कर बोलीं- क्या हुआ? कोई बुरा सपना देख रहा था क्या?मैंने बोला- नहीं. मैंने पूछा- ये चुदास का जिन्न क्या होता है?तो हिजड़े ने बताया- जब लड़के लड़कियां जवान होने लगते हैं तो उनके शरीर में काफी बदलाव आते हैं.

मैंने कोमल के हाथों को अपनी टाई से बांध दिए और अपना मोटा लंड कोमल की चूत से टच कराने लगा.

बातों बातों में मैंने उसकी कमर के पीछे से हाथ फिराया, तो उसके बदन में सिहरन दौड़ गई और वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लगी. अब मेरा हाथ रम्भा के मोटे मोटे चूचे पर आ गया है जिनको मैं पहली बार इतनी पास से देख और दबा पा रहा था. मैंने तुरंत मीना का मुँह बंद कर दिया और धीरे से उनके कान में बोला- बस में बहुत लोग हैं, हल्ला मत कीजिए.

देखने में इतनी सुन्दर कि मलाई की चिकनाई भी मद्धिम पड़ जाए और उस पर उसकी वो बेहद लाजवाब ड्रेस, उसकी खूबसूरती को निखार रही थी. फ्रेंड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरा दोस्त अपनी बीवी की गांड मारना चाहता था मगर वो डरती थी. तभी उसे न जाने क्या समझ में आया, उसने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे उठा कर बाथरूम में ले आई और मुझे शॉवर के नीचे खड़ा कर दिया.

सेक्सी चुदाई विडिओ

मैं घर पर हितेश के घर ग्रुप स्टडी की बोल कर बाइक लेकर आंटी के घर पहुंच गया. धक्का लगते ही चाची ज़ोर से चिल्लाईं अअह ऊऊई माँ साले कमीने आज तो तू मुझे मार कर ही दम लेगा. उसका पूरा वजन मेरे लंड पर था, जिससे मेरा पूरा 6 इंच का लंड उसकी गांड में सीधा घुस गया.

रिया ने कहा कि सालो ये बात याद रखना आज जितनी प्यार से सेक्स करोगे … कल तुम्हारी गांड उतना कम दर्द करेगी.

मगर मुझे पता था कि इस दिल्ली शहर में सब अपने आप में ही बिज़ी होते हैं.

अब मुझे लेटाकर भैया मेरे ऊपर चढ़ गया और मुझे किस करते करते मेरी चूचियों को दबाने लगा. उसे आगोश में भरकर मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे सारी कायनात मेरी बांहों में हो. सेक्सी बीपी नंगी ब्लूइस घने जंगल में हमारी आवाज सुनने वाला कोई नहीं था तो मुझे आवाजें निकालने में कोई डर भी नहीं था.

कुछ पल बाद भैया खड़ा हो गया और उसने अपना लोवर और चड्डी एक साथ निकाल कर दूर फेंक दिया. मेरे उछलने पर मेरे मम्मे भी उछलते थे, मैं पूरा ऊपर उठ कर धप्प से लण्ड पर बैठ जाती थी तो जलालुद्दीन साहब को भी बहुत मजा आता था. जीजू मुझे चोदते चोदते बोलने लगे- आह सकीना, तेरी कुंवारी चूत चोद कर तो मजा ही आ गया.

जैसे ही आंटी ने अपना हाथ मेरी ज़िप के ऊपर किया, मैंने भी शॉल के अन्दर से अपना हाथ उनके मम्मों पर रख दिया और एक को सहलाने लगा. इतनी देर की हमारी घमासान चूमा चाटी और मसल मसली की वजह से मेरा लंड पैंट के ऊपर से तम्बू बनाए कब से अन्दर से ही सलामी दे रहा था.

मैंने फर्श पर खड़े होकर नीना का स्कर्ट कमर तक उठा दिया और नीना की कमर और चूतड़ की मालिश करते हुए कहा- अपनी गांड को ढीला करो.

कोमल के हाथ मेरे बालों में थे और कोमल मुझे प्यार से बच्चे की तरह दूध पिला रही थी- आह मेरे राजा, चूस ले मेरा सारा दूध … जल्दी से चोद दो मुझे … मेरी चूत लंड की प्यासी है … आह आह ओह्ह मर गई!मगर मैं अभी कहां चुदाई को राजी था. तो मैं जल्दी से किचन की तरफ चली गई और पानी पीकर अपने रूम में आकर अपनी चूत में उंगली अंदर बाहर करने लगी।मेरी आंखों के सामने बार बार पापा का फौलादी लंड आ रहा था. अगले स्टॉपेज पर मुझे उतरना था तो मैं उतर गया और उससे मेरी कोई बात न हो पाई.

नई सेक्सी गांव की कुछ मिनट के बाद वो अन्दर आकर बोली- अब कोई दिक्कत नहीं है, तुम आराम से बाहर जा सकते हो. चाची ने मेरे लंड पर ढेर सारा साबुन लगा दिया और लंड को धीरे धीरे रगड़ने लगीं.

अब तो मैं इतना बेशर्म हो गया था कि मैं अपनी मॉम की गीली कच्छियां भी सूंघने लगा था. हुआ यूं कि हल्की सर्दी के दिन थे, एक दिन मम्मी और दादी ऊपर छत पर थीं. मैं इतना ज्यादा गर्म हो गया था कि मैं साक्षी के होंठों को काटने लगा था और जोर जोर से उसकी चूची को दबाने लगा था.

xxxxभोजपुरी

मैं धीरे से उसके लोअर को पैंटी समेत नीचे करने लगा तो वो सेक्स के लिए ना बोलने लगी. मुझे उनके ऊपर बहुत गुस्सा आया, मैंने कहा- आप ये क्या कह रहे हैं?पति ने कहा- जरा ठंडे दिमाग से सोच … सेक्स की भूख सभी को लगती है. चलो बिस्तर पर लेट जाओ और बिल्कुल हिलना मत, जिन्न को पता ना चले कि मैं क्या कर रहा हूँ.

मैंने अपना लौड़ा उसके मुँह में दे दिया और उससे चुसवाना शुरू कर दिया था. कहीं जाना होता नहीं था तो रात देर तक मोबाइल चलाता रहता था, सुबह जल्दी उठने की कोई चिंता नहीं रहती थी.

उस दिन गरिमा मुझसे मज़ाक़ कर रही थी और कह रही थी कि तेरी कोई सैटिंग हुई है या नहीं अभी तक?मैंने कहा- एक से कोशिश तो करता हूँ, पर वो कुछ ज्यादा भाव खा रही है.

साक्षी किसी तरह से मेरे होंठों से अपने होंठ निकाल कर आवाज भरने लगी. इसके बाद मैंने सबसे पहले अपने लंड को अच्छी तरह धोया, अपनी झांट के बाल साफ किए और लंड पर एक डिओ लगाया. तो अमन ने कहा- बहनचोद अगर ये शर्त मंजूर हैं तो बोल, वर्ना माँ चुदा.

मैं उसकी गांड को अपने ख्याल में लाकर बट्ट सेक्स करने की सोच कर मुठ मार लेता था. वो अगले दो दिन तक कॉलेज आने वाली नहीं थी क्योंकि उसके यहाँ एक फैमिली फंक्शन था तो वो घर वालों के साथ बाहर जाने वाली थी. मैं सोच रहा था कि मेरी बीवी अपनी भतीजी को पता नहीं कैसे सफाई पेश कर रही होगी.

मैं भी पूरे मूड में आ चुका था सो पजामे का नाड़ा खोल कर नीचे गिरा दिया.

के बीएफ फिल्म: दोस्त की चाची देखने में बहुत सुंदर थी, उसके बड़े बड़े दूध देखकर मेरे लंड ने हरकत करना शुरू कर दी. मैंने भी कह दिया- देवर जी, अकेले अकेले ही पैग लगा रहे हो, अपनी भाभी को नहीं लगवाओगे?तो हारून ने मुझे और सलीम के लिए भी पैग बना डाले.

छोटू मजे लेते हुए मुझे गाली देने लगा- ले रंडी मादरचोद, चूस ले मेरा लंड. मगर मेरे मॉम और डैड ने मुझे फोन करके मुझसे सभी से मुलाक़ात करते रहने का कहा. मैंने कुछ देर पहले ही पेशाब किया था तो मेरी चूत में अभी भी पेशाब की खुशबू आ रही थी.

मुझे देखकर वो शर्मा गयी और कहने लगी- मैं आ तो रही थी, तुम क्यों आ गए?मैंने कहा- मैं तुम्हारी चूत और गांड को साफ़ कर देता हूँ.

उसकी चूत बिल्कुल छोटी सी थी, जिसमें हल्के बाल थे शायद कुछ दिन पहले ही उसने साफ किए होंगे. मैं चूचियों की गोलाई के सहारे बर्फ के टुकड़े को घुमाते हुए काफी देर बाद कोमल के निप्पल के ऐरोला के पास आया. मेरी एक फंतासी ये भी थी कि मैं लेटा रहूँ और कोई लड़की अपनी चूत मेरे मुँह पर रख कर चूत चटाए.