लियोन का सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,देसी सेक्सी चूत चूत

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स xx वीडियो: लियोन का सेक्सी बीएफ, मेरी कुंवारी बुर की पहली चुदाई कैसे हुई- 3अब तक आपने जाना था कि चाचा जी मुझे एक बार चोद चुके थे और अब मेरा मन दुबारा चुदने का हो गया था.

सेक्सी कार

चाची ने मेरा लंड छोड़ा और सर पर हाथ फेरने लगी।वो गर्म होने लगी सांस तेज चलने लगी. चोरी वाली सेक्सी वीडियोअब राजू चाचा ने संध्या चाची को अपने ऊपर खींच कर कहा- आज तू मुझे चोद.

अब जैसे ही उसको दर्द होता … वो अपने बदन को कड़ा करके नाख़ून मेरी पीठ में गड़ा देती … मगर उसकी आंखें कहतीं कि मुझे दर्द नहीं हो रहा. सेक्सी मूवी ब्लू पिक्चर इंग्लिशशनाया ने मजे में चिल्लाते हुए कहा- आह्ह … प्लीज … ओह्ह … आराम से … आह्ह … धीरे।शनाया अपनी गांड को उस डिल्डो पर नचा रही थी और ये नजारा देखकर मैं अपने लंड की मुठ मारता जा रहा था.

उसने मेरे लन्ड को जीभ से चाटकर साफ कर दिया और इस तरह हमारा पहला राउंड पूरा हुआ.लियोन का सेक्सी बीएफ: मुझे भी उनका इस तरह से मेरे जिस्म के लिए पागल होना बहुत पसंद आ रहा था.

तभी मुझसे रहा न गया और पास जाकर मैंने सुमन से उसकी चूत के बढ़े झाँटों के बारे में पूछ ही लिया।हमेशा ही अपनी मुनिया को चिकनी रखने वाली सुमन ने सिसकारी भरते हुए मुझे अपनी वासना से बोझिल उनिंदी निगाहों से देखा और मादक आवाज़ में धीरे से कहा- मुझसे क्या पूछ रहे हैं … इन्होंने ही कहा था कि झाँट साफ़ मत करना।वो पंकज की तरफ़ इशारा करके बोली.जैसे ही जीभ ऊपर आती तो मैं अनु की क्लिट को अपने दांतों से हल्के से चबा लेता.

सेक्सी डॉट कॉम बीपी - लियोन का सेक्सी बीएफ

फिर मैंने उसकी एक टांग को जरा सा हवा में उठाया और अपना लंड उसकी चूत पर टिका दिया.मैंने सोचा कि अब देर करना ठीक नहीं है वर्ना चाची का पता नहीं क्या हाल होगा.

शायरा के मुँह से एक बार फिर से दबी हुई चीख निकली, मगर उसे वो अन्दर ही अन्दर पी गयी. लियोन का सेक्सी बीएफ खैर … मैंने ऐसे ही उसे अपने मुँह में ले ले कर चूसना शुरू किया और काफी देर बाद वो हल्का हल्का खड़ा होना शुरू हो गया.

आई आई टी इंजीनीयर है और फिलहाल एक एमएनसी में दिल्ली में कार्यरत है.

लियोन का सेक्सी बीएफ?

आप मेल करके जरूर बताएं क्योंकि इससे ही मुझे आगे की सेक्स कहानी लिखने का हौसला मिलेगा. वो भी हमारी तरफ प्यासी निगाहों से घूरते हुए देख कर बोली- तुम दोनों की बॉडी काफी मस्त है … उम्मीद है स्टेमिना भी अच्छा होगा और आज मेरी प्यास पूरी शांत हो जाएगी!मैंने न्यासा से वादा किया कि आज हम आपकी सारी हवस मिटा देंगे और ऐसी सर्विस देंगे कि आप हमें हमेशा याद रखेंगी. दूसर दिन देर रात को अचानक मेरे रूम का दरवाजा खुला, मैंने तुरंत मोबाइल का फ़्लैश जलाया, तो देखा मासी मेरे रूम में थीं.

उसने एक नीले रंग का स्किन टाइट शॉर्ट पहना हुआ था और ग्रे रंग की स्पोर्ट्स ब्रा पहनी हुई थी. थोड़ा सा कुम्लाहते हुए सायरा बोली- पापा, छोड़िये ना प्लीज … थोड़ी देर रूक जाओ. मैंने बड़ी अदा से कश खींचा और गिलास उठा कर एक ही सांस में हलक के नीचे उतार लिया.

मोना ने लाल रंग की नेट वाली ब्रा पहन रखी थी और उसकी चूचियां उसकी सेक्सी ब्रा से बाहर निकलने के लिए बेचैन थीं।मोना बोली- डेजी … अपने आशिक़ को थोड़ा मेरे साथ भी बाँट ले. तब तक आप लोग मुझे बताओ कि अगर आप मेरे पति की जगह होते तो आप मेरे साथ क्या करते? मुझे कॉल करो और बताओ कि आप क्या चाहते हो?इस लिंक परक्लिक करके आपको मुझसे बात करने का विकल्प मिल जायेगा. मगर बस में भीड़ थी क्योंकि सब लोग एक साथ चढ़ आये थे और मैं जल्दी से अंदर घुस नहीं पाया.

मैं बस धीरे धीरे धक्के मारकर दिल से ही शायरा की चुदाई को फील कर रहा था. मैं- तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई मेरी मां का महंगा शैम्पू चुराने की? मैं अभी जाकर उसको ये सब बता दूंगा और वो तुम्हारी गांड पर लात मारकर तुम्हें घर और काम से निकाल देगी.

मेरी कमर के पीछे किसी ने अपनी छाती सटा दी और अपने बाएं हाथ से मेरी छाती से मुझे दबोच लिया.

इसके बाद मैं अपना लन्ड बाहर निकाल कर भाभी की गांड को देखते हुए जोर जोर से हिलाने लगा.

शायरा के अब आई लव यू बोलते ही मैंने उसे फिर से गले लगा लिया और उसके गालों पर किस करते हुए उसे बिस्तर पर लेकर लुढ़क गया. जींस उतरते ही ट्विंकल की केले के तने जैसी चिकनी चिकनी दूध जैसे गोरी जांघें मेरे सामने नंगी हो गई थीं. अब मैंने चाची की पैंटी पर मुंह रखा और चूत को मुंह में लेकर जैसे खाने लगा.

जब वो मेरी झांट साफ करने लिए थोड़ा आगे आती, तो मेरा लंड कभी उसके गालों से तो कभी उसके होंठों से टच हो जाता. वो अब अपनी लोवर को नीचे खिसका कर अपने लंड को मेरी सेक्सी बीवी की चूत पर रगड़ रहा था।सुमन की मादक और उन्मुक्त सिसकारियों से पूरा कमरा गूंज रहा था और कमरे में सुमन के शरीर से निकलती रज की महक फैली हुई थी।उसे इस तरह बेचैन होकर मादक सिसकारियाँ भरते मैंने आज तक कभी नहीं देखा था. मैं तो पहले से ही उस पर फ़िदा था, मगर बहन होने के कारण मैंने कभी हिम्मत नहीं की थी.

इस दौरान मैं भी उनके खुले बालों को पकड़ कर उनके मुंह को ऊपर नीचे करने लगा.

ये कहते हुए अनामिका ने अपनी टी-शर्ट खुद उठा दी और मेरी तरफ देख कर मेरी आंखों में आंखें डाल कर बोली- अब बोलो जीजू … कैसे लगे मेरे आम, इनका रस पियोगे ना! मेरे आम आपके मुँह में जाने के लिए बहुत तड़प रहे हैं. रवि समझ गया कि उसने अनिल को वक्त रहते हटा दिया, वर्ना तो पिंकी आज खुद ही उसे घुसा लेती. दोनों चूचों के बीच चॉकलेटी कलर का बड़ा सा निप्पल का घेरा और निप्पल मुझे काफी आकर्षित कर रहा था … और दूसरे चूचे को, जो उन्होंने हाथ से दबाया था … वो बड़े अच्छे से उनके गंदे इरादों को उजागर कर रहा था.

वो बोली- अकेले क्यों रहते हो?मैंने कहा- अकेला रहने का अवसर नहीं मिलता है. पूरा छह फीट दो इंच लंबा-चौड़ा, काफी हैंडसम, ब्लैक जींस और हाफ टी-शर्ट में था. इसका हल सायरा ने निकाला, उसने मुझसे अपना हाथ छुड़ाया और वो मेरे लंड को पकड़ कर अपनी कमर को उचकाते हुए लंड को चूत में लेने लगी.

देसी कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी में इसके आगे मैं बताऊंगी कि कैसे मेरी चूचियों ने मस्त आकर लिया और इसके लिए मुझे डॉक्टर के लंड से चुदना क्यों पड़ा.

जब उसने जीन्स खोलकर नीचे की तो मेरी गुलाबी पैंटी पर गीला निशान हो गया था. किसी को कार में चोदना पड़ता है, किसी को उसके सहेली के घर पर पलना होता है.

लियोन का सेक्सी बीएफ दरअसल मीना के चाचा गांव में रहते थे और आज अपने भाई से मिलने आये हुए थे. हर किसी की निगाहें बरबस उसके मम्मों को एक बार देखे बिना नहीं रहती थीं.

लियोन का सेक्सी बीएफ मैं बोला- मुझे किसी के आने की आवाज हुई और मैंने सोचा कि शायद मौसी आ जाये और उनको मूवी के वो किस सीन दिख गये तो क्या सोचेगी. मैं भी पेशाब करके नंगी चाची के साथ में लेट गया।चाची बोली- आज तो छोरे … तने इतना मजा दिया … सोची ना थी इब कदै मिल जावगा.

पर एक दिन उसका दिल टूट गया, जब उसने अपनी क्लास में पढ़ने वाली एक लड़की के साथ मोहित को सेक्स करते देख लिया.

लॉकडाउन में चुदाई

उस डॉक्टर ने मेरा इलाज कैसे किया?साथियो, मैं शरद अपनी सेक्स कहानी में आपको बता रहा था कि एक लड़की की चूचियों को बड़ा करने को लेकर परेशान थी. उसके निप्पल अब एकदम कड़क हो गए थे जिन्हें प्रियंका बारी बारी से दोनों को चूसने में लगी थी. ये सुन कर मैंने उसके होंठों को चूमा और कार वापिस हमने होटल की तरफ मोड़ दी.

मैंने कुछ देर ऐसे ही चोदने के बाद उसे घोड़ी बना दिया और पीछे से उसकी चूत चोदने लगा. मैंने भी घर वालों को कहा कि मैं अभी अपनी पढ़ाई करूंगी और कुछ समय बाद शादी करूंगी. ”तो तुम क्यों इतने दिन तक दबायी रही, बोल देती … तो इस तरह तुम्हें उंगली से अपनी चूत की क्षुधा शांत नहीं करनी पड़ती … और तुम्हारी चूत में झांटों का जंगल न हो जाता.

मैं अब कुछ देर तो उसे देखता रहा, फिर मुझसे रहा नहीं गया इसलिए मैं धीरे धीरे करके उसकी बगल में ही जाकर खड़ा हो गया.

वह उछल पड़ी और साथ ही एक उंगली चूत के अंदर डाल दी और वह सिसकारी लेने लगी. प्रियंका- बिना गांड चुदाई के मजा नहीं आएगा तेरे को … कुछ बाकी रह गया लगेगा. उसके लौड़े को अपने दाएं हाथ से पकड़ कर अपने बाएं हाथ से मैंने अपनी आंखों पर आ रहे पानी को पौंछा, लेकिन ऊपर से गिर रहे पानी से मेरे चेहरा फिर से गीला हो जा रहा था.

मैंने बिन्नी की स्कर्ट के इलास्टिक में उँगलियाँ डाली और उसे नीचे करने लगा. उसने पहले भी अपने बॉयफ्रेंड के साथ सेक्स किया हुआ था जो उसने खुद मुझे बताया था. तू एक काम कर, कल सुबह आ जा, उससे भी मिलवा दूँगी … और क्या पता कल ही तेरी चुत को भी सेक्स का सुख दिलवा दूँगी.

मैं खुद यही सोचता था कि इसके दूध दबाने को मिल जाएं, तो जन्नत मिल जाए. घर से इतनी दूर तो हम अब आए हैं, जब आपने मेरे साथ यहां आने की हां की, तो मैंने तभी सोच लिया था कि अब मैं आपके साथ अपनी सभी ख्वाहिशें पूरी करूंगी.

अनु अन्दर आते ही बोली- मौसी, अकेले अकेले ही पूरा साफ मत कर लेना, कुछ मेरे लिए भी बाकी रखना. अब जैक, रोनित और नील लेट गए और हमने उनके लंड को अपनी गांड में रखा था. उसने अपनी जीभ निकाली और बिल्कुल कुत्ते की तरह ही मेरे बदन को चाटने लगा.

उसने मुझे एक तरफ धक्का दिया, मेरे गालों को अपने हाथ से पिचकते हुए गुस्से से देख कर बोला- मेरा मुकाबला किसी और से मुझे बर्दाश्त नहीं.

हेतल, रश्मि और रागिनी को मैंने कहा- क्रीम कहां लोगी?नीचे से सबने कहा- तीनों थक गई हैं चुदाई से, उनको थोड़ा प्रोटीन पिला दे. स्कूल सेक्स की हिंदी कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी सहेली के बॉयफ्रेंड को अपने सेक्सी बदन से रिझाने की कोशिश की. मैं अभी इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा हूं।बचपन से ही में एक अच्छा दिखने वाला पर थोड़ा पतला सा लड़का रहा हूँ.

कुछ ही देर में अयान के हाथों का ये दबाव मुझे ऐसे लगने लगा था कि मेरी पैंटी के अन्दर एक अजीब सी हलचल महसूस होने लगी थी. फिर उसका एक हाथ मेरी जैकेट के अन्दर घुस गया और वो मेरे मोटे मम्मों को मसलने लगा.

इन भावों के साथ उसको चुदते हुए देखकर मैं धीरे धीरे स्खलन की ओर बढ़ रहा था. अब मैंने उस कटोरी में से थोड़ा सा शहद सलोनी की बुर पर टपकाया और अपनी जीभ से चाट लिया. उन्होंने मुझे नंगा देख कर पूछा- क्या हो रहा है?मैंने कहा- कुछ नहीं, भाभी जी की सेवा कर रहा था.

नागडी मुलगी

मैंने दो गिलास लिए, उनमें वाइन डाल कर एक उसे दे दिया और एक खुद ले लिया.

वो बोली- ये सब करता है तू लैपटॉप में? बता दूं आंटी को?उस समय मैं कुछ कहने लायक नहीं था. वो बोलीं- अब थोड़ा इस चूत को भी चाट लो … बहुत परेशान करने लगी है आजकल. घर से निकलते समय वो अपनी सास रीमा से बोली- आज मुझे अपनी सहेली के घर जाना है.

जब आयशा अपने रिश्ते में किसी की शादी में गयी थी … तो मैंने जीजू को अपनी चूत को शांत करने के लिए बुलाया था. जब भी उनके फ्रेंड्स की दारू पार्टी होती है, तो ड्रिंक्स और नॉन वेज ऊपर रहता है, बाद में डिनर नीचे. कॉलेज की लडकीयो के सेक्सी व्हिडीओफिर उसने मेरी गांड को मेरी जांघों के पास से पकड़ लिया और मेरी चूत में लंड को तेजी से ठोकने लगा.

वो- उस दिन वाली मतलब?मैं- अरे जिस रात को तुम्हें पेटदर्द हुआ था ना … वही वाली. कुतिया का गाँड नचाना भी फेल था सुमन की गाँड के आगे। मैंने अब बिना सोचे ही सुमन के पीछे जाकर उसकी गाँड की दरारों में अपना मुँह घुसा दिया।आह … क्या मदमस्त करने वाली सुगंध थी.

गाँव की लड़की की सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने अपने मामा की पड़ोसन लड़की चोद दी थी. सायरा ने अपने आपको बिल्कुल ढीला छोड़ दिया और अपनी आंखें बन्द कर लीं. मैंने कहा- हां ये तो है … मगर होटल में सभी सुविधाएं मिल जाती हैं, इसी लिए होटल चुना है, नहीं तो मैं भी होटल में जाना पसंद नहीं करता.

रोनित उसके सामने ही था और रोनित ने अपना लंड उसके मुँह में दे रखा था. जैसे ही मैं खिड़की के पास गया तो देखा कि मेरी मां पड़ोस के लड़के वरुण के साथ चुदाई करवा रही हैं. मेरी उत्तेजना को समझती हुई कविता ने भी मुझे परस्पर चूमना शुरू किया और मुझे कंधों से पकड़ कर धक्कों की गति इतनी तेज कर दी कि मेरे सब्र का बांध टूट पड़ा.

उसने एक हाथ नीचे कर मेरी अंडरवियर में डाला और मेरे होंठ छोड़कर बोली- आप इनको रोज शेव क्यों नहीं करते?मैं- क्या हुआ?ज़ारा- चुभ रहे हैं हाथों में!मैं- ठीक है सुबह तुम ही शेव कर देना!ज़ारा- मतलब बाथरूम सेक्स!और मुझे फिर से बाहों में भर लिया और किस करने लगी.

उसने हाथ पैरों को सिकोड़कर अपने नंगे बदन को छुपा लिया और अपने कपड़ों को ढूँढने लगी, जो सब इधर उधर बिखरे पड़े थे. फिर थोड़ी देर तक यों ही एक दूसरे के ऊपर लेटे रहने के बाद चाचा जी ने मुझे अपने नीचे ले लिया.

झटके पर झटके अब तेज होते गए, बेड चु चु की आवाज करने लगा, गांड के पास से फच फच की आवाजें आने लगी. चूंकि मैं बहुत टुन्नी में था, तो कमल ने अपने नौकर को मुझे घर तक भेजने की हिदायत दी और उसे मेरे साथ भेज दिया. फिर वो अपने पति का बुराई करने लगी- वो मुझे जरा भी इज्जत नहीं देते हैं.

चूमते हुए मैं उसकी झांटों की जगह पर पहुंचा और उसको चूत के ऊपर से चाटने लगा. वो मेरी मां से बोला- आज गाड़ी में चुदोगी?मां बोलीं- मुझे तो चुदने से मतलब है … जहां मर्ज़ी चोद दो. ”ऐसा कहकर मुझे मेरे दर्द से जुदा करने के लिए वो फिर से मुझे मुँह से चोदने लगा.

लियोन का सेक्सी बीएफ रात को डिनर के बाद कभी नीचे घूमने जाते, तो वो पिंकी को बिना ब्रा के टी-शर्ट पहनने को कहता. कुछ देर बाद मैंने उसे घोड़ी बनाकर बहुत देर तक चोदा … चूंकि गोली का असर था तो लंड पूरी शिद्दत से चुत चुदाई में लगा हुआ था.

सेक्सी पिक्चर जबरदस्त

शॉवर की उन गिरती बूंदों से, जो उसके होंठों से मेरे होंठों से होते हुए हमारे बदन तक जा रही थीं … बस एक दूसरे की प्यास को ही नहीं, बल्कि हमारी हवस को भी बढ़ा रही थीं. मैंने लंड से चुदाई की की रफ्तार बढ़ा दी और टाइट चूत के अंदर-बाहर करने लगा. उसने अनामिका के ढीले शॉर्ट्स को नीचे खिसका दिया, जो खुद ही नीचे अनामिका की टांगों में गिर कर मैदान खाली कर गया.

उसने धीरे से मेरे पैरों को छुआ और फिर जब मेरी कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो वो धीरे धीरे मेरे पूरे शरीर को सहलाने लगा. मैं अब तक शायरा के घर के अन्दर आ गया था मगर अभी तक उसने कल के मेरे उस किस के बारे में कुछ कहा नहीं था. हॉटस्टार सेक्सी वीडियोमैंने उसके लंड को अपने बाएं हाथ से पकड़ कर उसे अपनी तरफ खींचा और कहा- बेड पर चलें!उसने भी अपने होंठों से पाउट करते हुए अपने कंधे उचका दिए.

मैं- क्यों क्या हुआ?वो- एक तुम हो जो मेरी, मेरे खाने की तारीफ करते करते नहीं थकते और एक मेरा हज़्बेंड हैं जिन्होंने कभी ये भी नहीं कहा कि खाना अच्छा बना है, बस भुक्कड़ की तरह ख़ा लेते हैं और ये भी नहीं पूछते कि मैंने खाना खाया कि नहीं.

मैंने कहा- कोई नहीं, आप चोदो, चाहे मैं कितना भी रोऊं, गिड़ागिड़ाऊं, पर रहम मत करना और चोदना चालू रखना. बुआ लोग मेरे सामने वाली सीट पर थीं, मगर अब वो मेरे आजू बाजू आ गई थीं और मैं बीच में था.

बियर की कैन ख़त्म हो गयी थी तो मनीषा किचन में गयी और बियर ग्लास्सेज में कर लायी. क्योंकि ये सब लिखने के लिए मैंने अपनी पूरी एक कापी फाड़ फाड़ कर खाली कर दी है. आपको गाँव की लड़की की चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे ईमेल कर सकते हैं.

मैंने देखा कि जिस तरह की बेचैनी मुझ में थी, वैसी ही बेचैनी विमला में भी दिखाई पड़ रही थी.

गर्म तो आप हो ही चुकी हो … बस अब और नखरे मत करो और जल्दी से टांगें फैला दो. फिर उसने अपने खड़े लंड को मेरी चूत पर लगाया और एक ऐसा धक्का मारा कि मेरी तो जान ही निकल गयी. मैं भी उनसे चुदवाते हुए आगे पीछे बेड पर हिल रही थी और मेरे मुँह में सूरज का लंड था.

सेक्सी स्थितिइतने में मेरी मां बोलीं- तू नहीं चोदेगा तो क्या हुआ … तेरा ड्राइवर तेरी मां को चोद ही रहा है. मैं- ठीक है तो जैसा तुम चाहो, पर मैं तुम्हें हमेशा प्यार करता रहूँगा.

अनारी नंबर वन

तो मैंने अपने को हॉट और सेक्सी बनाने के लिए क्या किया?हाय फ्रेन्ड्स, मैं आप सभी लोगों का तहे दिल से शुक्रगुजार हूं कि आप मेरी गर्म व सेक्स कहानी बड़ी रूचि के साथ पढ़ते हैं और आनन्दित होते हैं. जब मैं दोबारा गाँव गया तो उससे मिल कर दोबारा चुदाई का प्रोग्राम बनाया. ऐसा मैंने 20 25 बार किया, तब जाकर शायरा की चूत ने मेरे लंड के लिए कुछ जगह बनाई और लंड आराम से अन्दर बाहर जाने लगा.

अब मेरा लंड बैग के पीछे था और भाभी का हाथ बैग के नीचे से आया हुआ था. वो बोली- वो कैसे करते हैं?मैंने पूछा- क्या कैसे करते हैं?वो बोली- उंगली का इस्तेमाल?मैंने कहा- अपनी किसी सहेली से पूछ ले. उसकी बुर से काफी खून निकला था और उसकी छोटी सी बुर फूल कर गोलगप्पे जैसी हो गई थी।अच्छे से उसकी बुर साफ करने के बाद मैंने दुबारा से बड़े ही आराम से अपना लंड बुर में डाला.

प्रियंका बोली- वो चूत और गांड दोनों मारते हैं … अपने दोनों छेदों की अच्छे से तेल से मालिश कर ले. फिर मुझे देखकर वो बोला- मिस नंदिनी क्या हुआ?मैं अपनी सांसों को काबू करते हुए बोली- कुछ नहीं डॉक्टर. कभी वो मेरे होंठों को, तो कभी मेरे मम्मों पर थूकता और उन्हें चूसकर काट भी लेता.

मगर वो काफी दिनों बाद लंड ले रही थी तो उसे दर्द हो रहा था, उसकी आंखों से आंसू निकल आए. प्रियंका बाथरूम का दरवाजा बजाती गई और बोलती रही- तू निकल तो सही यार, मैं तेरे लिए सब इंतजाम कर दूंगी.

लगा जैसे चूत में किसी ने कोई सख्त चीज ठूंस दी हो!लेकिन लिंग की प्यास तो चूत को भी थी.

वो तो बस अभी तक मेरी चूत में अपने लंड के लिए जगह ही बना रहा था।करीब 5 मिनट तक उसने हल्के हल्के मेरी चुदाई की. सेक्सी पवन सिंह कामैं उसके मन की बात जान गया था कि अब उसकी चूत को लंड की सख्त जरूरत है. तुम की सेक्सीअनिल ने तय दिन पर एक बैग में कुछ कपड़े वगैरह ड्राइक्लीनिंग के लिए कह कर रख लिए और उधर पिंकी ने एक झीना सा नाईट सूट और साथ में कुछ साड़ियां ड्राईक्लीनिंग के नाम पर रख लीं. इतना शर्माओगी तो आगे कैसे करोगी?उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझे अपनी छाती की ओर खींच लिया।उनके होंठ मेरे होंठों के करीब आ गये।उनकी गर्म सांसें मुझे मेरे गालों पर महसूस होने लगीं.

अभी तो मैंने शायरा के होंठों से आरम्भ किया था … पर सफर बहुत लंबा तय करना था.

दर्द से मेरी आंखों में आंसू आ गए और अगले ही पल मैंने रोना भी चालू कर दिया. मैं बोला- हां मुझे पता है शादीशुदा रंडी को कैसे चोदा जाता है, तू एक बार मिल तो सही … कैसे तेरी चूत और गांड का भोसड़ा बनाता हूं. पर प्रिया ने उसकी इतनी तारीफ कर ली थी कि मनीषा मिनटों में ही अजय से घुलमिल गयी.

मैंने उसकी चुत की झांटों को साफ़ किया और उसने मेरे लंड की झांटों का जंगल साफ़ किया. मेरे लंड को खड़ा करने के बाद वो उसपर बैठ गई और लंड सटृ से अंदर चला गया।वो उछल उछल कर गांड को लंड पर पटकने लगी. यानि बस मिलो, पेलो और दफा हो लो!”मानवेन्द्र ने मेरे शर्ट के बटन खोलते हुए ही मुझे गाल पर से गर्दन तक किस करना चालू कर दिया.

नोट सेक्स वीडियो

प्लीज बेबी तुम ही मान जाओ ना!वो बोली- क्या जय यार … तुम भी ना … अपनी बीवी को रंडी बना कर ही छोड़ोगे. मेरा अंडरवियर फ्रेंची था … और मामी को चोदने के सपने के चलते लंड पहले ही टाइट था. इस पर मैंने बोला- नहीं भाभी, मैं तो बहुत ही शर्मिला बन्दा हूं मगर आपके मामलें मे क्या पता इतना फास्ट कैसे हो गया हूँ.

मैंने पूछा- अब इसको क्यों उतारना है?तो वो बोला कि तुम अपने मम्मों को जिस शेप में चाहती हो, उसके लिए कुछ टेस्ट करने पड़ेंगे.

वो- तुम लड़के हो, तुम्हें कैसे बता सकती हूँ?मैं- अच्छा अब मैं समझा … तुम्हारे पीरियड आ गए है ना?मेरी बात सुनते ही वो अब शॉक्ड सी हो गयी, कितनी आसानी से बोल दिया था मैंने, पर मेरी बात से शायरा एकदम से शर्मा गयी थी.

लगभग 10 मिनट बाद मुझे दो फोटो मिले, जो शायद उन्होंने बाथरूम से भेजे थे. अब आगे की कहानी अनिल के शब्दों में:मैं अपनी बीवी को एक गैर मर्द से चुदते हुए देख रहा था और एक अजीब सी संतुष्टि और उत्तेजना को एक साथ महसूस कर रहा था. मां बेटे की हिंदी में सेक्सीमदहोशी में मैंने अपने आपको कांच की दीवार में सटा दिया और उसके सर को अपने हाथों से अपने पेट में घुसा लिया.

प्रियंका ने देखा कि वो अपने ढीले शॉर्ट्स के पैर साइड से अन्दर हाथ डाल कर अपनी चूत चोद रही थी. मैं फिर सोचने लगी कि काश मोहित कुछ ऐसा मेरे साथ करता, मैं अपना सब कुछ उस पर लुटाने के लिए तैयार बैठी थी, लेकिन वो संध्या पर फिदा था. 5-7 मिनट तक मैंने हेतल की गांड चोदी और फिर रागिनी की गांड पर लंड लगा लिया.

क्या आपने भी किया?अगर हां तो मुझे आप वॉइस कॉल पर बता सकते हैं और गर्म सेक्स चैट का मजा ले सकते हैं. संध्या चाची- अच्छा देवर जी, अब आप इतने बड़े हो गए कि अपनी भाभी को चोद सको.

इस पर रेखा बुआ बोलीं- पप्पू तू क्या बड़बड़ा रहा है!मैं बोला- कुछ नहीं, आप दोनों आज बहुत सुंदर लग रही हैं.

अब मैंने उस कटोरी में से थोड़ा सा शहद सलोनी की बुर पर टपकाया और अपनी जीभ से चाट लिया. कांच के बाथ केबिन अन्दर जाकर मैंने शॉवर को चालू कर दिया और उस पानी से अपने आपको तर करने लगा. प्रिया के मायके में उसके मम्मी पापा कालोनी में एक कोठी में रहते थे और उसके बड़े भाई भाभी पास में ही सरकारी कोठी में रहते थे.

पंजाबी सेक्सी जंगल पता नहीं शायरा होश में नहीं थी या जानबूझकर ऐसे ही लेटी हुई थी, ये तो मुझे नहीं पता. सलोनी की बुर के खुले लबों के बीच सलोनी की बुर के मुखद्वार से सम्पर्क होते ही मेरा लण्ड अन्दर घुसने के लिए बेताब हो गया.

क्लिक करते ही मैं एक वेबपेज पर पहुंच गया जोदिल्ली सेक्स चैटके नाम से था. संध्या- उईईई मजा आ गया देवर जी … बस इसी तरह अपनी भाभी की सेवा करते रहा करो … तुम्हें जल्दी ही मेरे भोसड़े से मेवा मिलेगा. अपने ही शरीर को निहार लेना, मेरी उन आदतों में से एक है … जो मैं हर रोज करता हूँ.

ब्लैक पोर्न सेक्स

लंड चुसाई से पहले हमने एक दूसरे की आंखों में देखा, एक अनचाहा अनजाना सा फ़्लाइंग किस किया और फिर किसी भूखे भेड़िये की तरह एक दूसरे के लंड पर ऐसे टूट पड़े, जैसे होड़ लगी हो कि पहले कौन किसे फ्री करेगा. असलम भाई असल में समझ तो गए थे मगर वे गांड मारने में भी फिस्स हो गए थे … जल्दी झड़ गए थे. क्योंकि वो भी टुन्न था और मेरे साथ मुझे छोड़ने जाने से अच्छा था कि मैं टैक्सी से ही चला जाऊं.

मेरी पिछली कहानीपब में मिला एक हैंडसम आज्ञाकारी गुलामभी सभी पाठकों ने बहुत पसंद की थी. उसके चूसने के अंदाज से ही पता लग रहा था कि वो कितनी चुदासी हो गयी है.

पहले तो उसने मेरी गांड के छेद को खूब बढ़िया से चाट कर एकदम गीला कर दिया.

उसने मेरे कान में कहा- चाची, इतनी तेज आवाज करोगी तो बाहर कोई सुन लेगा. उन पलों को जब भी सोचो तो मन को एक सुखद अहसास होता है।कई बार बोरिंग जिन्दगी से ध्यान हटाने के लिए इन्हीं पलों का सहारा लेना पड़ता है. एक बार फिर मैं शीशे के सामने खड़ी हुयी और अपने जिस्म को निहारने लगी, पर वही पिलपिले आम की तरह लटके हुए मेरे दो-दो कबूतर, जो बिल्कुल बेजान से लग रहे थे.

उसकी इस हरकत से मेरी उत्तेजना एकाएक बढ़ गयी और मैंने अपनी गर्दन उसके कंधे पर रख दी जिससे उसको और आसानी हो जाए. पर रात को हम लोग खाना खाकर वापस आ गए।जबकि मम्मी और पापा वहीं शादी में रुक गए थे।घर पहुँच कर हमने कपड़ बदल लिए।चाचा जी ने लुंगी और बनियान पहनी और बाहर आँगन में चारपाई पे सोने की तैयारी करने लगे।उनके शरीर पर काफी बाल थे. उसके बाद लड़के को आने में देर लगी, तो मैं अपने सारे कपड़े उतार कर बिल्कुल नंगी हो गई और अभी पहनने के लिए अपने बैग से कपड़े निकालने लगी.

अब मैंने ईयर फ़ोन लगा लिए और खिड़की तरफ अपना सर टिका कर मौसम का मज़ा लेने लगी.

लियोन का सेक्सी बीएफ: धीरे धीरे पूरा लण्ड अन्दर करके पैसेंजर ट्रेन की रफ्तार से चुदाई शुरू की जो बढ़ते बढ़ते राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड तक जा पहुंच गई. मैं अपने अंडरवियर के ऊपर से भाभी को लंड का उभार दिखा कर हिलाने लगा.

मैंने पूछा कि किसके साथ पहली बार चुदने से तुम्हें सबसे ज्यादा मजा आयेगा?तो उसने सबसे पहले पंकज का नाम लिया और फिर मेरे एक दूसरे मित्र सुशील का नाम लिया. फच्च फच्च की आवाज से पूरा कमरा गूंजने लगा।थोड़ी देर बाद आंटी की चूत ने पानी छोड़ दिया और वो शांत हो गई. शायद इसकी वजह ये थी कि काफी समय से मेरा अपने पति के साथ सेक्स न करना था और उसके मजबूत हाथों के दबाव से भी कुछ मज़ा आने लगा था.

मैं किसी अजनबी के सामने पूर्ण नग्न थी और वो मेरे एक-एक अंग को अपना अधिकार समझकर अपने हाथ चला रहा था.

मन ही मन मैं सोचने लगा कि अपनी पहली ही चुदाई में मैंने भी सिक्सर लगाना है. कमरे में पहुंचते ही मैंने अन्दर का दरवाजा बन्द कर लिया और अविना को लेकर बिस्तर में घुस गया. उसके सामने भी एक कमरा था और उसी की दीवार की तरफ भी एक छोटा सा कमरा था.