देसी आंटी बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी नई बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू फिल्म बीएफ भेजें: देसी आंटी बीएफ सेक्स, मुझे हंसते देखकर वह भी मुस्कुराकर अन्य ग्राहकों को दूध देने में लग गया.

क्सक्सक्स हद इंडियन

मुझसे रहा नहीं जा रहा था, तो मैं जानबूझ कर अपनी टांगें फैलाने लगी ताकि उनकी उंगली चूत में आराम से अन्दर बाहर जाने लगे. लड़कियों का मसाजमैंने अपने लंड को पीछे निकालते हुए एक बार फिर जोर से शॉट लगा दिया और उसकी चूचियों को चूसने लगा.

मैंने अपनी टी-शर्ट और जीन्स उतारी और उसके गाउन के ऊपर से ही उसकी चूचियों को सहलाने लगा. ब्लू सेक्सी फिल्म देनारात में फिर से बात हुई और समय के बीतने के साथ साथ हम दोनों खुलने लगे.

फिर उसने सांस लेने के लिए मेरे होंठ छोड़े, तो मैंने फौरन उसकी एक चूची को चूसना शुरू कर दिया.देसी आंटी बीएफ सेक्स: वो हंसकर बोला- क्या डाल दूँ?मैंने मजबूर होकर कह ही दिया- सुनील अंकल, अपना लंड पकड़ कर मेरी चूत में घुसा दो.

तुम ध्यान से देखो, क्या तुम्हें अब अच्छी नहीं लग रही है?उसने ड्रेसिंग टेबल में देखा और बोली बहुत अच्छी लग रही है, अब तो यह कुछ-कुछ मम्मी जैसी लगने लगी है.बारहवीं के पेपर भी दे दिए और पेपरों के बाद एक दिन मेरे और शुभम के रिश्ते का घर पर पता चल गया और मेरी खूब पिटाई हुई और मुझे घर पर बिठा दिया गया.

पंजाबी ब्लू फिल्म पंजाबी ब्लू - देसी आंटी बीएफ सेक्स

मानो अब हम आज़ाद हो गए थे, कोई हमें देखने वाला नहीं था और शायद अब हम दोनों ही अश्लीलता पर उतर जाने को आतुर थे.मैं चुपचाप उसके फ्लैट पे पहुंच गया, तो सुरभि भी कॉलेज जाने के लिए तैयार थी.

दोस्तो, यकीन करना … वो मेरा पहला अनुभव था, मैं मुश्किल से 2 मिनट में आंटी के मुँह में ही झड़ गया. देसी आंटी बीएफ सेक्स तो मैंने पहले तो ना कर दी फिर पापा ने भी मुझे चलने को कहा तो मैंने हाँ कर दी.

जैसे ही पूरा डिल्डो मेरी चूत में तो अन्दर जाता था तो उसका जिस्म मेरे जिस्म से लगता था.

देसी आंटी बीएफ सेक्स?

तभी उसने मेरे को गेट पर खड़ा देखा तो ठिठकी और मुझे बाय बोलकर चली गयी. हालांकि नीना के कान में प्रशांत तो आंगन में पहले ही बता चुका था कि वह चूत में लंड डालकर धक्कमपेल चुदाई नहीं करेगा, बल्कि चूत की जड़ तक एक बार लंड को ले जाएगा और फिर चक्की पीसने के अंदाज में जड़ से लेकर क्लिट तक चूत की लौड़े से मसाज करेगा. उन्होंने मुझे उठाया, बिस्तर पर लिटा दिया और मैने उनके लंड को फ्रेंची से निकाल कर सहलाया.

गत वर्ष मैं मेरे व्यावसायिक काम के चलते कर्नाटका एक्सप्रेस से दिल्ली जाने के लिये मनमाड़ स्टेशन से सेकंड ए सी में शाम चार बजे बैठा. चोदना चुदाने के बाद नंगी तुम मेरी छाती पर सर रखकर मेरे दोनों स्तनों की घुंडियों को दबाकर मुझे उत्तेजित कर रही थीं. यह मैंने कई लड़कियों सील तोड़ते हुए महसूस किया कि अगर सही तरीके से किया कोई दर्द नहीं होता.

ठीक 9 बजते ही नेहा तो स्कूल चली गई, पर मैं मकान मालकिन के जाने का इंतजार कर रहा था. दोस्तो, मैं अनुज माहेश्वरी 20 वर्ष, मैं आज आपको यहां मेरी और मेरी मौसी की एक प्यारी कहानी बताने वाला हूं। मेरी मौसी 43 वर्ष की हैं पर हुस्न से 30 वर्ष की लगती हैं. फिर थोड़ी देर के बाद घंटी बजी, मैसेज आया- सुन मैं क्या बोलती हूँ … आया आ जाएगी तो बेबी को संभाल लेगी.

मैंने स्वीटी की चूत पर लंड रखा और एक धक्का मारा, तो मेरा आधा लंड स्वीटी की चूत में घुस गया. इसके बाद मैंने अपना लंड उसकी चुत के मुँह पर लगाया और ज़ोर का धक्का मारा, तो सिर्फ़ सुपारा ही अन्दर गया.

इसके बाद हम दोनों थोड़ी देर एक दूसरे की बांहों में बैठे रहे और बस एक दूसरे को धीरे धीरे चूमते रहे.

सोनल को सामने देख उन्हें आश्चर्य हुआ, पर उनके नींद से जगने पर सोनल को कुछ भी फर्क नहीं पड़ा.

हमें भूख भी लग रही थी, तो हमने पहले खाने पर धावा बोला और खाना खाकर दारू उतर गयी. उधर उन दोनों ने मेरी चुदाई की तैयारी शुरू कर दी थी और अपने दो दोस्तों को भी मेरी नंगी चूत की फोटो भेज कर बुला लिया था. मैंने भी उसके लंड पर लिक्विड चॉकलेट लगाई और खूब देर तक उसका लंड चूसा.

8 वर्षों से मैंने किसी स्त्री को आंख उठा कर नहीं देखा था, लेकिन कौशल्या की मिलनसारिता और हँसमुख मिजाज ने मुझसे बातें करना सिखा दिया था. मेरा जोश बढ़ता ही जा रहा था। बहुत दिनों बाद मुझे इतना मस्त माल हाथ लगा था, इसलिए मैं उसका पूरा मज़ा ले रहा था. वो मेरी तरफ झुक कर पढ़ रही थी जिससे मुझे उसके टॉप से झांकती हुई चूचियों को देखने का मजा मिल रहा था.

मुझे उसकी तड़प और मज़ा देने लगी और मैं अपने फौलादी लंड को उसकी चूत में डालने लगा.

फिर मैंने उससे किस मांगा, तो उसने जैसे ही मेरे तरफ मुँह किया, मैंने मेरी जीभ उसके मुँह में डाल दी और नीचे के होंठ काटने लगा. लड़की को अधूरे में कोई चोदना छोड़ दे तो वह सोच नहीं सकता कि लड़की की क्या हालत होती है. इसलिए मैं खुद ही राहुल को अपनी चुदाई करने के लिए बुला लेती हूँ। वह आता है और मेरी चुदाई करके चला जाता है.

चाची ने धीरे से मुझसे कहा कि कुमार मैं तुम्हारे हाथ जोड़ती हूँ, कहो तो पाँव पकड़ती हूँ, प्लीज़ ज़िंदगी में ये बात किसी को मत बताना, जो हमारे बीच कल रात हुआ था. मैंने उसकी पैंटी भी उतार दी और उससे चूमते चूमते लिटा कर उसकी चूत को भी चाटने लगा. उसने डरती सी आवाज में मुझसे पूछा- आप कब आए?मैंने कहा- जब तुम बाथरूम में थीं, पर तुम बिना कपड़ों के कैसे? बाहर गांड मरवा के आ रही हो क्या?उसने कहा- नहीं वो बस कोई घर पर नहीं था.

हम दोनों लोग बिस्तर पर नंगे लेटे हुए थे और वो मेरी दोनों जांघों के बीच में मेरी चूत को चाट रहा था.

इस बात को लेकर मालिनी ने मुझे फ़ोन किया और मुझसे सुझाव लेने लगी कि उसे क्या करना चाहिए. मैं धीरे धीरे आगे बढ़ रहा था, तो उसने मुझे रोका और बोली- यहां नहीं … कमरे में चलते हैं.

देसी आंटी बीएफ सेक्स जगत अंकल कान में मेरे बोले कि अपनी टांगें फैला कर थोड़ा मेरी गोंद में ऐसे बैठना कि मेरा लौड़ा तेरी चूत में घुस जाए. ’‘मतलब?’मैंने झिरी में से बाहर झांका और देखा कि वे दोनों सोफे पे बैठे हुए थे.

देसी आंटी बीएफ सेक्स जब उसने मुझे कमरे में लाकर चोदना चालू किया था, तब कंडोम लगा लिया था. उसने देखा कि गाड़ी में हमारे अलावा कोई नहीं है तो उसने मुझे एक ज़ोर का हग किया और बोली- तुम्हें सबकी कितनी फिकर है.

अब कौशल्या को भी मेरे साथ टाइम बिताने की आदत सी हो गयी थी, पर वो सब कुछ एक सीमित दायरे में होता था.

सेक्सी पिक्चर मराठी साडीवाली

लेकिन मेरी अभी हिम्मत नहीं थी, मैं बोला- तू शावर ले ले, मैं थोड़ी देर में आता हूँ. अभी टाइम पर पानी नहीं मिला खेत को, तो फसल खराब हो जाएगी, तो क्यों न मैं पानी लगा दूँ. मेरी इस हरकत से वो बहुत गर्म हो गयी और मुझे कहने लगी- साले मादरचोद … अगर प्यासी छोड़ दिया तो घर जाते ही तेरी गांड टूटेगी.

मैंने घड़ी में देखा तो रात के साढ़े चार बजे थे, मैं भी दबे पांव वहां से निकल कर अपने रूम में आकर सो गई. सरिता की चुत इतनी टाईट थी कि चार पाच झटकों के बाद ही मेरा लंड मंजिल तक पहुंच सका. मेरी इस चालाकी पर नेहा जब और कुछ कर नहीं पायी तो वो मस्त आवाजें निकालने लगी ‘ओय्य्यय … ह्ह्हहह … हुहुँ हूँअ … हूँहऊ …’ वो अपने दूसरे हाथ से मेरी पीठ पर घूंसे बरसाने लगी.

फिर दूसरे दिन सुबह जब मैं उठा, तब तक उनके दोनों बच्चे स्कूल चले गये थे.

उस बुड्ढे ने जैसे ही मुझे देखा तो बोला- रमीज तू कैसे इतनी तारीफ कर रहा था कि वो लड़की नहीं कयामत है. मुझे सन्नी से इतना ज़्यादा प्यार हो गया था कि मैं उसके लिए अपनी जान भी दे सकता था. उसके बाद मैंने नीरू और अपनी तो बीवी दोनों को बेड पर डॉगी स्टाइल में चुदाई शुरू की.

मैंने आंटी के बल पकड़े और उनकी आँखों में आंखें डाल कर देखा; साली आंटी हवस में जल रही थी. मैंने पूछा- खाला, मज़ा आ रहा है?वो धीरे से बोलीं- हाँ बहुत मज़ा आ रहा है … मेरी इस चूत का इलाज सिर्फ तुम्हारी चुदाई ही है … हायईई … म्म्म्मम!मैंने धक्के तेज किए तो वो जोर-जोर से चिल्लाने लगीं. अनिल फुल मस्ती में हो कर मीनाक्षी को खूब गालियां दे रहा था- हाय मेरी कुतिया … मेरी रांड … खा जा रे मेरा लौड़ा … मजा आ रहा रे रंडी वेश्या!वो ऐसा बोलता जा रहा था.

तभी नीरू बोली- पायल, अभी क्या उछल रही है, अभी तो सारे मजे बाकी हैं! देखना तुझे कितना मजा आएगा!पायल बोली- हां नीरू, मुझे बहुत मजा आ रहा है. उसने रूम के छज्जे से मुझे गाड़ी दिखा दी।फिर मैंने अपना पर्स उठाया, तन्वी मेरे पास आई और बोली- जा सुहानी जा … जी ले अपनी ज़िंदगी।और हंसने लगी।मैं चुपचाप सीधा गाड़ी में आ के बैठ गयी। उसमें बस ड्राईवर था.

एक दो बार मुझे इशारा कर चुके हैं कि थोड़ा कुछ तो जैसे तेरे बूब्स दूध दबा दें या चुम्मी ले लें, पर मैंने सोचा पहले मैं तुझे गर्म कर दूं, तो गर्म करने के चक्कर में मुझसे रहा नहीं गया और तू भी आउट आफ कंट्रोल हो गई. इस तरह मात्र दस दिन में ही हम दोनों एक दूसरे के सेक्स करने को आतुर हो उठे. भाभी बोली- हर रोज़ सुबह-सुबह ऊपर खड़े हो कर यही देखते हो न, आज अच्छी तरह से देख लो.

बेहद गोरे मम्मे … उनके ऊपर दो भूरे रंग के निप्पल और निप्पलों के इर्द गिर्द भूरे रंग के सर्किल.

उसने बिना मुझसे कुछ और सुने उस डिल्डो (जिस पर उसने पहले से ही कोई क्रीम लगा रखी थी) मेरी चूत के मुँह पर रख दिया और बोली- ले मीता तू आज से लड़की नहीं रहेगी … अब तू औरत बनने जा रही है. ऐसे में प्रशांत ने नीना की चूचियों पर अपना फिराते हुए अपने ऊपर लेकर बेड में समेट लिया और ब्रा का हुक खोल दिया. उसके बाद मैं उसके पेट पर किस करते हुए नीचे की तरफ आ गया और उसकी चूत पर चूम लिया.

अगले ही झटके में मेरा 6 इंच का मोटा लंड उसकी चूत में पूरा अन्दर चला गया था. वो मेरे सीने पर अपने हाथ रख कर चूत चुदवाते हुए कहने लगी- आह राज और जोर से करो.

उसके तने हुए चूचुक मेरी आंखों के सामने थे जिन पर बिना देर किये ही मैं टूट पड़ा और उसके निप्पलों को अपने दांतों से काटने लगा।वाह! क्या बूब्स थे उसके, मैंने दोनों बूब्स को मस्त तरीके से चूसा. कौशल्या दर्द से चीख उठी- आहह्ह्ह … मर गई …वो मुझे धक्का देकर फट से थोड़ा पीछे हो गयी. जैसे ही मालती का मुँह मेरी चूत पर पड़ा, तो मैंने उसके सर को बहुत जोर से दबा दिया और मैं तो अब मानो असके सर को चूत से हटाना ही नहीं चाहती थी.

मराठी सेक्सी बीप्या मराठी सेक्सी बीप्या

तभी उसने कहा- सर … हैलो सर … क्या हो गया …? आप इतनी गौर से मुझे देख रहे हैं?मैडम ने ये थोड़ा इतरा कर बोला, तो मैंने हकलाते हुए कहा- नहीं नहीं … कुछ नहीं.

मामी की गांड चोद कर सुहागरात मनायी-4से आगे की कहानी:जब रूपा बर्तन साफ करके, पास के स्टोर रूम में जा रही थी, तो वो रूम के दरवाजे की दहलीज पर रुक गई. वो ऊपर चला गया और उसके जाते ही मेरे आंसू आ गए, जो रुक ही नहीं रहे थे. हम बाहर मिले और शाम के वक्त मैंने उसके चूचों को दबा दिया और उसके होठों पर किस भी कर दिया.

जहां तक तुम्हारी बात है तो मुझे ऐसा लगता है कि तुम्हारी उम्र की औरतें जैसा मजा दे सकती हैं वैसा कोई जवान औरत नहीं दे पाती. ”कोई परेशानी नहीं है, आप फ्रेश होके आइए, मैं खाना गर्म करती हूँ, वरना फिर कभी चाय नहीं पिलाऊंगी. बीएफ पिक्चर वीडियो बीएफइससे चाची गनगना उठीं- जल्दी घुसाओ न … कितना तड़पा रहा है … चोद न जल्दी.

हमें देखते ही एकदम एकता की तरफ बढ़ कर उसे गले लगाया और बोली- ओ माय स्वीट भाभी … कितने दिन लगा दिए इंदौर में, यहाँ मैं अकेले बोर हो रही थी. बिल्कुल छोटी सी, कमसिन और चिकनी चुत थी उसकी और चूत की दीवारें रस से भरी हुई थीं.

फिर मैंने दो उंगलियां एक साथ डाली तो इस बार उसे थोड़ा ज्यादा दर्द हुआ और वो बोली- सूर्या, प्लीज फिर कभी गांड मार लेना, अभी बहुत दर्द हो रहा है. नेहा की चूची को चूसते हुए मैं एक हाथ से उसकी मुनिया को भी मसल रहा था जिससे धीरे धीरे अपने आप ही अब उसकी जांघें पूरा फैल गईं और उसकी मुनिया पर मेरे हाथ का अधिकार हो गया. रूपा- बुड्डे तेरे लंड में तो दम है नहीं, इसीलिए तो मेरी चुत की आग दूसरों से ही बुझनी पड़ती है ना.

कुछ समय तक हमारी नॉर्मल बात होती रही फिर जब बस की लाइट बंद हो गई तो वो बोली- मुझे नींद आ रही है. मेरी पत्नी ने मुझसे कहा- देखो कितनी तड़प रही है! यह तो चुदने के लिए बिल्कुल तैयार बैठी है. मैंने नेहा से पूछा- फिर बोल … क्या करना है?नेहा कामुक मुस्कान के साथ बोली- हम दोनों की चुत को ठंडा करना है, बस तुम साथ दो.

फिर अगले हफ्ते उन्होंने बुधवार के दिन रामगढ़ जाने की बात बताई और कहा कि रात तक आएंगे.

जैसे ही मैंने उसके निप्पलों को चूसा, रोजी सीत्कार उठी- उम्म उम्म्ह… अहह… हय… याह… आअह!दूध तो नहीं निकला लेकिन कसम से मजा आ गया।रोजी के हाथ मेरे बालों में बहुत तेजी से घूम रहे थे। मैंने एक दूध के बाद दूसरे पर हमला बोल दिया. उसका जोश इतना अधिक था, मानो न जाने कितने दिनों से वो लंड की भूखी हो.

ये सब मैं रवि से नहीं बताना चाहता था कि मेरी बहन उसकी बहन से भी बड़ी चुदक्कड़ है और वो पैसे के लिए चुदती है. मैं उदास सी शक्ल बना कर बैठ गया, तभी मनीषा का जवाब सुना तो खुशी से मन झूम उठा जैसे माँगी मुराद मिल गयी हो. पियू को अन्तर्वासना पर लिखी हुई मेरी कहानी पसंद आई; उसने मेरी अन्य कहानियाँ भी पढ़ी और मुझसे थोड़ी नाराज़ हो गयी, बोली- मुझे नहीं लगा था कि तुम इतने कमीने हो! तुमने कितनी औरतों से संबंध बनाए हुए हैं.

मैं नींद में थी, तभी मुझे महसूस हुआ कि मेरे पति ने मेरे दोनों हाथों को पकड़ा हुआ है और अपने पैरों से मेरे पैरों को भी जकड़ रखा है. नेहा की चुत का एक बार मैं रसपान कर चुका था और रस्खलन के बाद मेरा पप्पू भी अब मूर्छित अवस्था में था. टटोलते हुए मैंने धीरे-धीरे उसके लंड को ढूंढ लिया और मेरा हाथ किसी मोटे डंडे जैसे लौड़े पर जाकर सेट हो गया.

देसी आंटी बीएफ सेक्स उसके बड़े-बड़े मम्मे देखकर मेरा लौड़ा वापस खड़ा हो गया और मैं उसके मम्मे चूसने लगा. ये सब बोलकर उसने मुझे गले लगा लिया और रोने लगी, वो मुझे गर्दन पर चुम्बन करने लगी और फिर मैं भी पिघल गया.

सेक्सी चूत की फिल्म

चोदना चुदाने के बाद नंगी तुम मेरी छाती पर सर रखकर मेरे दोनों स्तनों की घुंडियों को दबाकर मुझे उत्तेजित कर रही थीं. इधर जगत अंकल, छत्तू अंकल के साथ जो बड़ी-बड़ी मूछों वाले थे, उसके कानों में कुछ कुछ बोल रहे थे. थोड़ी देर बाद विराट बोला- यार, मैं तो थक गया, मुझे नींद आ रही है और शराब भी चढ़ गई है.

कोई पैंतीस चालीस साल का मुस्टंडा वह आदमी इतना तो समझता था कि केवल दूध पीने पिलाने की बात नहीं है. तभी मेरी आँखें खुलीं और एक डर के चलते मेरे बदन में करंट सा दौड़ गया. बीएफ एचडी एचडीउनको भी वही चाहिए था, उन्होंने मुझे पलट कर नीचे लिटाया और मेरी जांघों के बीच में आ गए.

चाची मेरा लंड लेने के बाद पागल हुई जा रही थी, मेरे होठों को चूस रही थी, मेरी कमर को नोच रही थी.

मैंने अब एक उंगली चाची के मुंह में डाल दी और चाची मेरी उंगली को लंड समझ कर चाट रही थी. आंटी ने कहा- क्या?मैंने थोड़ा डरते हुए कहा- आप मुझे बहुत ही अच्छी लगती हैं और मैं आपको बहुत प्यार करता हूँ.

मैंने लंड पर हाथ फेर कर उसे नीचे आने का इशारा किया, तो वो थोड़ा रुकने का इशारा करके अन्दर चली गयी. थोड़ी देर में सन्नी के मोनिंग की आवाज़ें आने लगी, शायद अभिषेक सन्नी के साथ बहुत अच्छा बॉडी प्ले कर रहा था. फिर एक दिन…मैसेज में मैं- प्रमिला दीदी … मेरे घर में सीलिंग का कुछ प्रॉब्लम है.

प्रिया ने नीले रंग की पैंटी पहनी हुई थी, मगर उसकी चुत के पास से वो गीली होने के कारण अलग ही नजर आ रही थी.

अचानक से प्रिया की इस हरकत के कारण प्रिया का हाथ मेरे हाथ से छूट गया और वो सीधा मेरे पेट पर चढ़कर बैठ गयी- ऐसा क्या है उसके पास … अं … बोल … अंअं … क्या है अंअंअं? क्या है उसके पास जो, मेरे पास नहीं है?प्रिया ने गुस्से से मेरे सिर के बालों को पकड़कर कहा और फिर जोरों से मेरे गालों व होंठों को चूमने काटने लगी. मेरी बातें सुनकर उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा, वह दौड़ कर मेरे पास आए और मुझे किस कर लिया. मेरी इस हरकत से वो चिहुँक कर पलट गई, उसके पलटते ही मैं ललिता को गोद में उठाकर किस करते हुए पास के एक ट्यूबवेल पर ले गया.

किन्नर बीएफ वीडियोइस तरह मात्र दस दिन में ही हम दोनों एक दूसरे के सेक्स करने को आतुर हो उठे. मैंने थोड़ा बनते हुए उसे कुछ देर और गिड़गिड़ाने दिया और फिर माफ कर दिया.

हिंदी सेक्सी वीडियो गांड में लंड

राज अंकल बोले- देख सोनू, तेरी मम्मी लगता है जम के चुदवा रही है, पूरी गाड़ी खड़ी कैसे हिल रही है. मूवी को आधा घंटा हो गया था, मुझे सिर्फ़ मूवी और मेरे दोस्त पर ध्यान था. मैं उनकी चूत को अपनी जीभ से चोद रहा था, जिससे वो थोड़ी ही देर में झड़ गईं.

मैं कुछ नहीं बोला तो उसने मुझसे पूछा- क्यों क्या आप अपनी गर्लफ्रेंड से भी यही सब करते हो??मैंने उसको कहा कि हम दोनों 2 साल पहले ही अलग हो गए हैं. नूरी खाला- मेरे राजा, पहले मेरी चुत चोदो … फिर जैसा चाहे वैसा कर लेना … लेकिन धीरे से चोदना … ताकि दर्द न हो. जैसे ही उन्होंने कल का बोला … मेरे को गुस्सा आ गया- भाभी, उनसे बोलना पैसा नहीं पटा सकते … तो गाड़ी को कंपनी को दे दें.

हमारी गौशाला से सटे मकान में कोलकाता से एक बंगाली परिवार रहने को आया था. मैंने भी धक्का मारते हुए बोला- आह नैना मेरा भी निकलने वाला है … क्या मैं अपना लंड बाहर निकाल लूँ?तो वो गिड़गिड़ाते हुए सी बोली- नो प्लीज अन्दर ही रहने दो … अन्दर ही डिस्चार्ज कर दो. मैंने अब देर ना करते हुए अपने सुपारे को सही से उसके प्रवेशद्वार पर लगाया और एक जोर का धक्का लगा दिया.

राज अंकल बोले- देख सोनू, तेरी मम्मी लगता है जम के चुदवा रही है, पूरी गाड़ी खड़ी कैसे हिल रही है. सुलेखा भाभी को देखकर ऐसा नहीं लग रहा था कि मैं उन्हें चोद रहा हूँ बल्कि ऐसा लग रहा था जैसे कि भाभी मुझे चोद रही हों.

काश, तुम मेरी बीबी होती, तो मैं रोज रात को तुम्हें मेरे साथ नंगी सुलाता.

उसका लंड मेरे मुँह में अन्दर बाहर होने लगा और फिर… मेरे प्रियतम का सफेद पानी मेरे होंठों के बीच में बरस गया. कॉल बॉय सेक्सजोर से अपना लौड़ा डाल के चूत में जम के इसको रगड़ माँ की लौड़ी बहुत मजा दे रही है. हिंदी सनी लियोन की बीएफवो मुझे छोड़ते ही नहीं।इधर मैं परेशान थी कि पति दुकान से आते और साधारण चुदाई करके सो जाते।एक दिन मैंने शिखा को सोशल मीडिया साइट पर रिक्वेस्ट भेज दी। उसकी बातों ने मुझे पागल कर रखा था। जब भी आती, ऐसा कोई किस्सा सुना देती।इंटरनेट पर फ्रेंड बनकर एक दिन उसकी प्रोफ़ाइल खोली तो देखा कि सच में उसका मर्द बहुत ज़बरदस्त था. वह मेरी पहली कस्टमर थी और जब उनको यकीन हो गया कि मैं सही बन्दा हूँ तो मैंने अपने ट्रेवल का चार्ज 2000 रूपये बताया.

केवल अब मैं विचार में डूबी थी कि यदि मैं उसे हां कह देती हूं, तो गोपनीयता कैसे बनी रहेगी.

फिर मैं भाभी को ड्राइंगरूम में ले गया और सोफे पर खड़ी करके उसकी चुदाई की. मुँह से मुँह लगा कर चुम्मी लेने से मेरा 7 इंच का लंड अब पूरा मोटा तंबू बना हुआ था. तभी मैंने उनको मेरी तरफ देखते हुए पाया और फिर वो नीचे घर में जाने लगीं.

उसका थोड़ा सा लंड मेरी बहन की चूत में अन्दर गया तो मीनाक्षी उछली और उसने अनिल को कस के पकड़ लिया. मवालियों वाली टोन में उससे कहा- आज तेरी चूत को ऐसे चोदूंगा कि वो लंड लेने से पहले कई बार सोचेगी. सबीना आंटी जब बुरके में चलती थीं तो उनकी मोटी मजबूत गांड मुझे आमंत्रित करती थी कि विक्रम आ जा.

अमेरिका सेक्सी वीडियो डाउनलोड

मैं उनकी इस रुखाई से डर गया कि कहीं वो मेर इस हरकात को मेरी मम्मी को ना कह दें. इन कहानियों को पढ़ कर मुझे लगा कि मुझे भी अपनी कहानी आपको बतानी चाहिए. नेहा ने मेरी ब्रा एक साइड से नीचे करके मेरा एक मम्मा बाहर निकाल लिया.

सर्राफा मार्केट और पिपली बाजार में खाने पीने की चीजों की बहुत शानदार दुकानें हैं.

फिर कुछ देर के बाद मैंने महसूस किया कि मेरा लंड पानी से भीग रहा है.

मैंने जांघों को कस कर भींच लिया ताकि मेरी चूत में लंड आसानी न जा पाए और मेरे चूतिया पति को लगे कि मैं कुंवारी ही हूँ अब तक. मैंने उससे पूछा- क्या तुम पहले भी किसी के साथ सेक्स कर चुके हो?उसने बताया कि वो अपनी बहन की एक और सहेली को भी चोदता है. हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ फिल्मउसने जब ये बात मुझसे कही, तो मैं समझ गई कि इसको अपनी बहन की चुदाई की आदत के बारे में सब पता है.

ओये होये … माँ कसम … क्या चूत है तेरी … दिल करता है इसको तो मैं काट कर अपने साथ ही ले जाऊँ!” कहकर उन्होंने सिसकारियाँ भरते हुए मेरे नितम्बों को अपने दोनों हाथों में पकड़ा और अपनी जीभ निकाल कर एक ही बार में योनि को नीचे से उपर तक चाट गये. मैंने लंड हिलाते हुए कहा- अरे मेरी जान, डरती क्यों हो … जरा अपनी टांगें फैलाओ … मैं तेरी चूत को चिकन बना दूंगा. अरुणा चीख पड़ी क्योंकि अंकल का लंड मेरे लंड से बहुत मोटा और लम्बा था.

उस रात की चुदाई के बारे में सोचकर ही मेरा लण्ड चूत के लिए त़ड़पने लगता है।अगर इस कहानी में मुझसे कोई गलती हो गई हो तो मुझे करना।कहानी पर अपनी राय ज़रूर दें. कुछ ही देर की मशक्कत से मेरे पति के लंड का सुपारा मेरी गांड में घुस गया था.

ये जन्म से ही मेरा दूध नहीं पीता है और उसे बॉटल का दूध की पिलाना पड़ता है.

सेक्टर 17 में मुझे लोन लेने वाले के बारे में जानकारी करनी थी। जब मैं वहाँ गया तो दरवाजा एक नौकरानी ने खोला।मैंने मालिक के बारे में पूछा तो वो मुझे ड्राइंगरूम में बिठा कर मालिक को बुलाने चली गई।कुछ देर बाद एक बहुत खूबसूरत औरत बाहर आई. वैसे तो उन्होंने कल रात को उसकी चुदाई की थी, पर वो आज उसे अच्छे से देख पा रहे थे. लचकती 24 साइज़ की पतली कमर और बाहर को निकली हुई 36 की साइज की गांड.

सुहागरात सेक्सी वीडियो सुहागरात दरअसल इस उम्र में लड़कियां शारीरिक सुख पाने के लिए बेचैन होती हैं और मैंने सोनू की बेचैनी तभी भांप ली थी जब मैंने उसको बार-बार अपने कमरे की तरफ देखते हुए पाया था. इस्स्स्स … स्स्स्स्स … आह्ह्ह … करती हुई भाभी बिस्तर की चादर को नोंचने लगी.

मैंने अपना लंड भी बाहर निकाल लिया था, तो एकता अपने हाथों से उसे भी ऊपर नीचे कर रही थी. मैं भी जोश में थी, मैंने उसका सारा लंड मुंह में ले लिया और गपागप चूसने लगी. तभी उसने मेरे कान पे अपने दाँतों से काटा और कहा- कहाँ खो रहे हो?मैं- कहीं नहीं!मनीषा- बताओ ना … क्या सोच रहे थे?मैं- कुछ भी नहीं सोच रहा था.

सेक्सी नंगी फिल्म वीडियो सेक्सी

इसके 2 घंटे बाद मालिनी पूजा करके आ गयी और आते ही एक अच्छी पत्नी की तरह उसने मेरे पैर छुए. दो पल बाद जैसे ही उसने अपना लंड बाहर निकाला, तो ऐसा लगा कि उसके लंड ने मेरी गांड का कोई पार्ट निकाल लिया हो. मैम ने नीचे से गांड उठा कर इशारा दिया तो मैंने अपने लंड का टोपा उनकी चूत पे रख कर जोरदार धक्का दिया.

और 9 इंच का मूसल जैसा लंड मेरी चूत में सेट किया और ज़ोर से धक्का मारा. तो मैं उन्हें ट्रेन में चढ़ाने के लिए स्टेशन तक गया और उन्हें गाड़ी बिठाकर वापसी आया.

अब उसकी एकदम क्लीन शेव चुत बिल्कुल मेरे मुँह के पास थी, उसमें से एक अजीब मनमोहक खुशबू आ रही थी.

पर तुम्हें देख कर मैं अपने आप पर काबू नहीं रख पाता हूँ और तुम भी तो मेरा साथ पसंद करती हो. पूजा चिल्ला रही थी- सालो … मेरी चूत फाड़ दी मादरचोद!उसकी चूत दो लंड के हिसाब से बहुत टाईट थी. उनसे हंस हंस के बातें करती और उनके नजदीक जाती तो खूब गांड हिला हिला कर चलती.

जवान लड़की की देसी चुदाई स्टोरी आपको कैसी लगी, मुझे ईमेल करके जरूर बताएं. अगर कोई मुझे चुदाई के दौरान मजा बढ़ाने वाली सलाह भी देना चाहता है, तो वो भी लिख दीजिये. फिर खुद की ही टॉप अपने जिस्म से अलग कर दिया और अपने कबूतरों को टॉप से आज़ाद कर दिया.

मैंने भी अब अपनी जीभ को पूरी तरह से बाहर निकाल कर उसकी चूत की दरारों पर ऊपर से नीचे की तरफ सहलाया, जिससे प्रिया का पूरा बदन सिहर गया और उसने ‘इइईईईई … श्श्श्शशश … महेश्श्श्श …’ जोर से सिसकते हुए कहा और मेरे बालों को खींचने लगी.

देसी आंटी बीएफ सेक्स: मैंने उनको दीवार से टिकाया और उनकी नाइटी उठा के उनके घुटनों के पीछे के हिस्से को चाटने लगा. आज इतने साल बाद मेरा लंड इतना खड़ा हुआ है और मैंने इतना चोद पाया है तुझे.

धीरे धीरे सोनल के होंठ दादाजी के लंड को आगोश में लेना शुरू कर दिया और लंड को चूसने लगी. मैं नाके पे शनिवार रविवार जाता था, वो अपने घर की शॉपिंग के लिए आती थी. मेरी चूचियों मेरे देवर के हाथों में थीं और वो मेरी चूचियों का भुरता बनाने में लगा था.

आपको कैसी लगी यह सब आप मुझको मेरे मेल कर बता सकते हैं या कमेंट देकर भी बता सकते हैं.

मेरा देवर मेरी गर्दन को चाटने के बाद मेरे ब्लाउज के ऊपर से मेरी चूची को दबाने लगा. उनकी ससुराल में बहन के सास ससुर और मेरे जीजा तथा एक मेरी बहन की ननद का लड़का हैं तीन साल का. मैंने नुपूर को बेड पर लिटा दिया और उसकी चुत पर मुँह लगा कर उसका रस पीने लगा.