बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स

छवि स्रोत,आदिवासी एक्स एक्स एक्स बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

वीडियो दिखा दे सेक्सी: बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स, भैया का नाम करण था व भाभी का नाम दिव्या था तथा उनके बेटे का नाम यश था.

हिजड़ों की बीएफ दिखाओ

मैं अभी सोच ही रहा था कि उधर से कुछ गिरने की आवाज आई और साथ ही भाभी की आवाज भी आई. नई-नई लड़कियों का बीएफवह धीरे धीरे मेरे हाथों की उंगलियों को अपने हाथों की उंगलियों में डालकर मेरे हाथ से खेलने लगा.

जावेद- और?उसकी आंखें मेरा जबाब सुनने को मुझ पर टिकी थीं, वह मुस्करा रहा था. मोटी लेडीस की बीएफ सेक्सीमेरे बहुत डराने धमकाने पर बोलने लगा- यार, मुझे तुम्हारी अम्मी बहुत पसंद हैं.

उसकी सहेली गुर्रा कर बोली- साले कुत्ते … चल कपड़े उतार अपने … पूरा नंगा हो जा.बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स: मैंने भी ज़्यादा ज़िद न करते हुए लंड पर कंडोम चढ़ाया और थूक लगा कर उसकी चुत को गीला कर दिया.

लगता है कि कुनबे में सबकी बुर तुम ही चाटते हो?वह बोला- हां चाटता तो हूँ पर सबसे ज्यादा मैं अपनी बेटी की सहेलियों की बुर चाटता हूँ। वो सब मेरा लण्ड इसी तरह चाटती हैं जैसे तुम चाट रही हो.उधर विशाल ने नारियल तेल की बोतल प्रकाश को देकर कहा- आज रात ये तेल काम आएगा.

हिंदी देहाती सेक्सी वीडियो बीएफ - बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स

मुझे सुनकर बड़ा दुःख हुआ लेक़िन मैं कुछ भी नहीं कर सकता था क्योंकि उसकी शादी जो हो चुकी थी.वो तो खिड़की में से बारिश की बूंदें अन्दर आ रही थीं, तो बारिश होने का अंदाज हुआ.

चाची के मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं; उनकी सांसें तेज़ होने लगीं. बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स वो दोनों बेड पर बैठ कर ही अपनी साड़ी को ऊपर करती हुई बोलने लगीं- चल पैर से चाटना शुरू कर.

भाभी- तो गांव जा रहे हो?मैं- नहीं भाभी, पहले सोचा था कि गांव जाऊंगा और दोस्तों के साथ नया साल मनाऊंगा.

बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स?

मैंने कहा- हायल्ला तुम भोसड़ी के … बहुत बड़े हरामी हो? तेरा लण्ड भी साला हरामी है।मैं गन्दी गन्दी बातें करके उसके लण्ड में जोश भर रही थी।सिसिया मैं भी रही थी और सिसिया वह भी रहा था।कुछ देर बाद मैंने कहा- हाय मेरे ससुर राजा, अब पेल दो अपना लौड़ा मेरी चूत में. तो मैंने उसे कहा- तुम कर लो काम … पर आज की रात तुम्हारी गांड मेरे लंड के नाम होगी. तभी विलास के पिताजी ने पूछा- विलास, अपना काम हो गया क्या?विलास ने कहा- नहीं पिताजी, कुछ पेपर और जोड़ने पड़ेंगे तो कल फिर जाना पड़ेगा.

कुछ ही देर उछलने के बाद उनकी हालत खराब हो गई और वो लौड़े की सवारी छोड़ मेरी बगल में लेट गई. ये एक ऐसी दमदार सेक्स कहानी है, जिसे पढ़ कर लड़की की चुत टपकने लगेगी और लड़के का लंड खड़ा होकर फटने को हो जाएगा. एक दो पल के बाद मैं हंस कर बोला- चाची आप तो बहुत सेक्सी हो और फोटोज भी बहुत सेक्सी लेती हो.

मैंने बिंदास कहा- आपकी गांड बहुत मोटी है, जिसे देखकर मेरा लंड खड़ा हो जाता है. भाभी हॉट लेस्बियन सेक्स कहानी के पिछले भागतीन जवान लड़कों से मेरी वासना का इलाजमें आपने पढ़ लिया था कि तीनों मर्द लौंडे मेरे जिस्म से खेल रहे था. उन्होंने किसी प्रकार की कोई ऐसी हरकत नहीं की, जिसके कारण मुझे परेशानी हो.

पर उसने मुझसे प्रॉमिस करवा लिया कि ये बात उसके और मेरे अलावा किसी को पता नहीं चलेगी. आपको मेरी Xxx देसी गर्लफ्रेंड की चुदाई कहानी कैसी लगी, कमेंट में जरूर बताएं.

अब मैं मुड़कर गाड़ी की डिक्की में ही बैठ गई और अंकल के हवा में लहराते हुए लंड को देखने लगी.

सभी को मेरा प्रणाम … इससे आगे भी आपका प्रिय कपिल, भाई बहन की चुदाई की और भी सेक्स कहानियां पेश करेगा.

मित्रो, आप इस मेरी सेक्स कहानी में बस स्टॉप से मिली स्वीटी के साथ चुदाई के मजे का रस ले रहे थे. अजय ने ये सुना तो वो बोला- अच्छा इसका मतलब उसकी लौंडिया शादी के लायक हो गई है, उसके लिए लंड की खोज चल रही है. मौसी मुस्कुराने लगीं और अगले ही पल अपनी ब्रा और पैंटी निकाल कर फिर से तौलिया लपेट ली.

उनके हॉस्पिटल जाने के बाद और उनके बेटे के स्कूल चले जाने के बाद भाभी घर का सारा काम समाप्त करके दिन में हमारे घर पर मम्मी से बातें करने आ जाती थीं. अब हम लोग एकदम फ्री हो चुके थे जिसके कारण मैं उनके हाथों में हाथ डालकर चल रही थी और हम दोनों किसी गर्लफ्रेंड ब्वॉयफ्रेंड की तरह घूम रहे थे. जब मैंने चलते हुए पीछे मुड़ कर देखा, तो वो मुझे देख कर हंसने लगे और कहने लगे कि अभी से ही लड़खड़ाने लगी जानेमन … अभी तो एक और राउंड बाकी है.

मेरे बार-बार कह़ने पर भी भाभी नहीं मानी और बोलीं- नहीं शुभ … मैं मैनेज कर लूंगी.

चुदाई के बाद मौसी ने अपने कपड़े पहनना शुरू किए और कहा- अब तुम कुछ देर आराम करो. मेरी तरह जिया दीदी भी गर्म हो चुकी थीं, वो सामने से मुझे किस करने लगीं और मैं भी जिया दीदी के गुलाबी होंठों को चूमने का पूरा मजा लेने लगा. मैं उसके रूम में घुस गया और अन्दर से दरवाजा बन्द करके सीमा को बांहों में भर लिया.

उसने पूछा- ज्यादा क्या होता है … किया तो तूने है ना!मैंने कहा- हां. दीदी चुदासी हो गयी थी और अब उसकी चूत उससे कह रही थी कि उसको लंड चाहिए. जब आंटी ने हां कहा तो मुझे ऐसा लगा कि आंटी ने चुदने के लिए हामी भर दी है.

ये लड़का लड़का सेक्स कहानी बिल्कुल सच है, इसमें टेस्ट के लिए अलग से कुछ भी नहीं डाला गया है.

वो इंडिया के बारे में मुझसे पूछता रहा और मैं भी उससे अमेरिका के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी लेती रही. सबसे पहले इस गाँव की देसी चुदाई स्टोरी में मैं आपको अपने शुरुआती जीवन के बारे में बताऊंगा कि मेरे जीवन में सेक्स की शुरुआत कैसे हुई.

बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स तब तक के लिए सुरक्षित रहिये … पेलते रहिये।इंडियन मेड पोर्न स्टोरी कैसी लगी ये भी जरूर बताना।मेरा ईमेल आईडी है[emailprotected]. पब्लिक सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं क्लब गई तो मेरा सेक्सी बदन देखकर कई लड़के हमारे पास मंडराने लगे। उनमें से एक को उसकी गर्लफ्रेंड ने धोखा दिया था। मैंने उसकी मदद की.

बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स फिर सोचा कि ये तो वैसे भी मेरे लंड से चुदने के लिए रेडी हैं और अभी पूरी रात पड़ी है … तो जल्दबाजी क्यों करूं!मैंने अपने बैग में से अपना बरमूडा निकाला और कपड़े बदलने चला गया. मम्मी पूछ रही थीं- क्या कर रहे हो … पढ़ाई कर रहे हो कि नहीं?मैंने कहा- हां मम्मी मैं फिजिक्स पढ़ रहा हूँ.

जब प्रकाश ने शादी के पहले प्रेम संबध के बारे में पूछा तो वह रोने लगी.

एक्स एक्स एक्स बीएफ सेक्सी चुदाई वीडियो

अभी आधे घंटे में जिया दीदी चले जाने वाली थीं और मेरे पास दी से बात करने के लिए बहुत कम टाईम था. मुझे लगने लगा था कि अब हम लाइफ टाइम इसी तरह रिलेशनशिप में बने रहेंगे. वो घोड़ी बन गईं और मैंने उनकी चूत में पीछे से अपना खड़ा लंड डाल दिया.

जैसे ही हम निकले कि मम्मी के फोन पर पापा का कॉल आ गया और उन्होंने मॉम को अपने आफिस बुलाया. मैंने उनकी कमर दबानी आरम्भ की तो मेरे हाथों ने उनकी ब्रा का हुक महसूस किया. फिर मैंने उसको पूरी नंगी होने को कहा तो उसने फटाफट अपनी सलवार उतार दी.

मुझे पता था विलियम मेरे होठों को अपने होठों में लेने की देर नहीं करेगा.

तभी मेरे दिमाग में विचार आया कि यह मौका हाथ से जाने नहीं देना चाहिए तो मैंने थोड़ा घबराहट में और थोड़ा शरमाते हुए कहा- मेरे बारे में क्या विचार है?वह शर्मा कर बाहर चली गयी. दोनों ने आगे पीछे से मेरी चुत और गांड में एक साथ अपना लंड घुसा दिया. दोनों ने आगे पीछे से मेरी चुत और गांड में एक साथ अपना लंड घुसा दिया.

फिर मैंने नींद में कसमसाने का नाटक किया और अपना सर खिड़की किसी की तरफ से हटाते हुए विलियम के दाएं कंधे की तरफ कर लिया और नींद में धीरे-धीरे अपना सर उसके कंधे पर रख दिया. नंगी लड़की की सेक्स कहानी में पढ़ें कि वेलेंटाइन डे से पहली रात मैंने अपने सामने वाले घर में पड़ोस की सेक्सी लड़की को पूरी नंगी होकर चुदाई करवाते देखा. आप बताओ जीजा जी … मैं कैसी लग रही हूँ?अब मैंने उसके पूरे शरीर को देखा और कहा- तुम परी जैसी दिख रही हो.

सत्या का लंड शनाया के सामने आ गया और वो लंड मुँह में लेकर चूसने लगी. मैं जाने लगा तो वो फिर से बोली- जब मेरी पढ़ाई हो जाएगी तो मैं तुझे फेसबुक पर मैसेज कर दूंगी.

मैं कुछ नहीं बोला और उसे तेज़ी से धक्के देते हुए बोला- ये तुम्हारा सही काम था, अब मैं बताता हूँ तुमको कि फर्स्ट नाईट की चुदाई का मतलब क्या होता है. जब भी मेरा हाथ उसकी चूत पर जाता, वो टांगों को फैला कर अपने चूतड़ उठा कर मुझे अपना गुलाम बना लो वाला अहसास लिए मुझे निमंत्रण दे देती. मेरी चूत चुसाई की वजह से पूरी गीली हो गई थी तो उसका लंड एकदम से चुत के अन्दर घुसता चला गया.

एक दिन एक फ्रेंड की बर्थडे पार्टी में पूरे क्लास वाले कैंटीन गए थे.

मेरी मम्मी भी बहुत ही जवान और खूबसूरत हैं, साथ ही उनका बहुत ही कातिल फिगर है. अगली सेक्स कहानी में आपको टीना की गांड चुदाई की कहानी पढ़ने को मिलेगी. कुछ समय से मैं भी उनके इस भरे हुए बदन को पाने के लिए बेचैन हो रहा था.

शनाया एक बार को हल्के से कराही और अगले ही पल वो मज़े से लंड के धक्के खाने लगी. दीदी मेरी इच्छा और मेरी खुशी के लिए अपना पूरा बदन मुझे सौंप चुकी थीं.

तो वो भी बंगलुरु चला गया और नई जॉब की वजह से काफ़ी बिजी रहने लग गया था. कुछ देर बाद दीदी बोली- देख भाई, चुदाई में तो मज़ा आ गया, पर तूने जो अन्दर पानी छोड़ा है … इससे मैं प्रेगनेंट भी हो सकती हूँ. मैं रूम से बाहर आ गया और बाथरूम में जाकर मम्मी बारे में सोचकर मुठ मारने लगा.

बुड्ढी बीएफ

तभी बाहर अचानक से बारिश होने लगी तो मैंने भी कोचिंग जाना रद्द कर दिया.

उसने भी शिल्पा के लिए कहा- हां भाई, तू भी मेरी जान शिल्पा की जवानी के पूरे मज़े ले ले. उधर जिया दीदी का बदन भी एकदम लाल पड़ गया था और उनकी चुत भी गीली दिख रही थी. वो राजी हो गईं, मगर उनका मन ये था कि लंड चुत से बाहर नहीं निकलना चाहिए.

शीना के मम्मे कभी तुषार की छाती से रगड़ खाते कभी राजीव से।चूमा चाटी तो बदस्तूर जारी थी।अब नीचे आग लगनी शुरू हो गयी थी और ऊपर से शावर की बूंदों ने अपना कमाल दिखाना शुरू कर दिया था।राजीव नीचे बैठ गया और शीना की चूत चाटने लगा. कल को मेरी शादी होगी और अगर मेरे उसे पता चल गया तो!मैंने कहा- कुछ पता नहीं चलता. जबरदस्त बीएफ हिंदीमैंने अपने होंठ उसके होंठों में दे दिए और मेरा शरीर एकदम से निढाल होता चला गया.

वो मुझे देख कर मुस्कुराया और कहा- साली रंडी, नौटंकी करती है, अब तक गांड भी तो नहीं मरवाई थी … तो आज लंड भी चूस ले साली. उसके साथ मेरी सेटिंग कैसे हुई, कैसे मैंने उसे चोदा?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम सचिन है.

अब मेरी सेक्सी दीदी की चूत चुदाई की कहानी में आगे क्या हुआ, वो मैं आपको इस कहानी के अगले भाग में लिखूँगा. वो मुझसे बोली- ओके तुम्हें जैसा भी लगा हो, पर तुम ये बात किसी से मत कहना. मैंने उससे पूछा- ऐसा क्यों किया?वो बोली- ये हमारी फर्स्ट नाइट है, तो मैं इसे ऐसे ही कैसे जाने देती.

मैंने मौसी से कहा- आप इस ब्रा में बहुत सेक्सी लग रही हो, लेकिन यह पैंटी इस ब्रा के साथ सैट नहीं हो रही है. इसका कारण तो मुझे महीने भर बाद पता चला कि गांव के ही तीन लड़के, जो उसी की क्लास में पढ़ते थे, पिछले कुछ समय से उसको जमकर चोद रहे थे. मैंने उसकी जींस का बटन खोला, तो उसकी लाल पैंटी में उसकी चुत की दालान देख कर मेरा काला नाग जैसे मदहोश होकर फुंफकारने लगा.

इधर मैं उसकी चुत को पूरी जीभ अन्दर बाहर करके चोद रहा था तो सरिता मेरा सर अपनी जांघों में जकड़ ले रही थी.

सोहल ने हनी की चुदास को समझ लिया और वो उसकी टांगों को खींच कर उसे बेड के किनारे पर ले आया. तभी सरिता ने आवाज दी- हर्षद ये क्या है?सरिता तकिया बाजू में रखकर मेरी ब्रीफ हाथ में लटकाकर मुझे दिखा रही थी.

अब मैं भी इतना बेवकूफ तो हूं नहीं कि कोई औरत इतना आगे बढ़ जाए और मैं कुछ ना करूं!बस दिक्कत यह थी कि ये मेरी सास है इसलिए मैं थोड़ा संकोच कर रहा था।मैं बस इसी असमंजस में उलझा हुआ था कि सास ने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और कुछ देर के लिए मैं उनकी सांसों की गर्मी में बह गया और किस करने लगा. मैंने हिम्मत करते हुए कहा- चाची, फोटो में क्या देख रही हो … लो सच में ही देख लो. रंडी मामी ने दूसरे रास्ते से नदी पार की और मैं उसी रास्ते से नदी पार करके सूरज के पास चला गया.

मैंने लम्बी सांस खींच कर महक का आनन्द लिया और भाभी से कहा- बड़ी ही मस्त महक आ रही है भाभी. गगन ने भी अपनी बहन के दूध मसल कर उसकी मंशा जानकर उसे सबसे पहले चोदने का मन बना लिया था. लेकिन वो बोला- अरे यार कौन है हम दोनों के सिवाए घर में … प्लीज रहने दो न.

बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स जिया दीदी- मेरी सेक्स लाईफ अच्छी चल रही है … मुझे नहीं, तुम्हें जरूरत है. मैंने विलास के पिताजी से कहा- अंकल, मेरी छुट्टी कल तक की है, तो मैं कल पांच बजे चला जाऊंगा.

बीएफ सी वीडियो में

उन्होंने मेरी तरफ पानी फैंकते हुए कहा- आ जाओ … तुम्हें नहीं नहाना है … ऐसे क्या देख रहे हो. फिर अपने लंड को अम्मी की चुत पर रख कर अपनी अम्मी से बोला- अपने दोनों पैर मेरी कमर पर एक दूसरे के ऊपर रखो. हमारे पड़ोसियों की फैमिली भी जॉइंट फैमिली है, जिसमें लवी, उसकी एक बहन और उसके मम्मी पापा और दादा दादी रहते हैं.

अब हम दोनों 69 की पोजीशन बनाए हुए मजा ले रहे थे और एक दूसरे को चाट चूस रहे थे. मैं पूरी तरह से कामुक होकर अपनी गांड नीचे से उठा रहा था और विलास का सर अपने हाथों से अपनी गांड पर दबा रहा था. हिंदी बीएफ ब्लू ब्लूइस बार मैंने उसकी चूची को जोर से मसल दिया जिससे जमीला की हल्की सी चीख भी निकल गई.

मैं सदा उनसे बात करने की कोशिश में रहता था लेकिन वो ज्यादा बात नहीं करती थीं.

सोनाली सीत्कारने लगी- ओह आह ऊंई इस्स हाय ऊं ऊं हर्षद आहिस्ता डालो ना. अचानक से मैंने एक जोर का झटका मारा और मेरा दो इंच लौड़ा चुत के अन्दर घुस गया.

इधर मेरी बेचैनी बढ़ रही थी, मेरा लंड खड़ा होकर टॉवेल के ऊपर तम्बू बना चुका था. उसने भी मुझे चुपके से मुझे हां में इशारा किया।आधी छुट्टी होते मैं सिर दर्द का बहाना बनाकर कक्ष मे ही रुक गया और वो अपने हिंदी के काम का बहाना बना कर कक्ष में रुक गयी. चुदाई के बाद उसने कहा- तुझे मेरी शर्त याद है या नहीं?मैंने बोला- हां सब याद है, बोलो तुम्हें क्या चाहिए?वो बोली- तुमको मेरी और मेरी सहेली को खुश करना पड़ेगा.

मैं बोला- क्या बात है मां, आज इतना टेस्टी और पोषक खाना?मां बोली- आजकल तू इतनी मेहनत जो कर रहा है! जॉब भी करता है.

पर शायद इसके बाद मुझे कोई दूसरा मौका न मिले इसलिए मैंने आखिरी बार तेज चलती हुई सांसों को रोककर आखिरी खतरा मोल लेने का निश्चय किया।इसके लिए मैं पांव दबाने में तेजी लाया और आखिरकार पांव दबाते मैंने अपना हाथ उनकी चूत पर रख दिया।पांव दबाते दबाते जब मैंने 2-3 बार चूत पर हाथ रखा तो चूत पर उगी उनकी कंटीली झांटें पैंटी के ऊपर से हाथ में आ गयी. वो सोच रही थी कि तभी मैं सोचूं कि हज़ीरा की चुचियां नारंगी जैसी बड़ी कैसे हो गई हैं, जबकि मेरी चुचियां कागजी नींबू के समान ही हैं. मैंने उनकी चूची को जोर से दबा दिया तो भाभी का मुँह खुल गया और मैंने लंड मुँह में पेल दिया.

ब्लू फिल्म बीएफ बीएफ ब्लू फिल्म बीएफमेरी कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करूं और किस तरह से अपने लंड को बैठा लूं. मेरी बीवी ने मुझसे भी कहा- मेरी छोटी बहन बहुत नाजुक है, उसे चोट न पहुंचान देना.

एचडी वीडियो बीएफ वीडियो बीएफ

मैंने जब ध्यान से देखा तो पाया कि उसने गहरे गले का ब्लाउज पहना है, जिसमें से लग रहा था कि उसके तीन तीन किलो के चुचे बाहर आने को मचल रहे हों. जमीला- हां जानू, तुम सही कह रहे हो, मैं अपनी अम्मी से बहुत डरती हूँ. मैंने कहा- क्या वो मान जाएगी?भाभी बोलीं- साली की चुत लंड के लपलप कर रही होगी, तभी तो छिप छिप कर चुदाई देख रही है.

उनके बीच यह तय हुआ था कि पांचों बाहर के किसी अन्य से यौन संबध नहीं रखेंगे. मैंने उससे बोला- मेरा होने वाला है, कहां निकालूं?वो नीचे से और तेज स्पीड बढ़ाते हुए बोली- अन्दर ही आ जा. वो दर्द में कराहते हुए बोली- आआह मालिक … प्लीज छोटे मालिक … बस करो, बहुत दर्द हो रहा है, चाहे जितनी मर्जी गांड मार लो मगर थप्पड़ से दर्द न दो वीरू बाबा!शब्बो अब उससे रहम की भीख मांगने लगी.

अब हम दोनों अपने चरम पर आ गए थे; एक दूसरे के बदन को हमने कसके जकड़ लिया था. मैंने लंड चुत में पेल दिया तो मौसी की आंह निकल गई और हमारी चुदाई शुरू हो गई. वो हमारे दरवाजे के पास आए और बोले- बेटा दरवाजा खोलो … अगर तुमने दरवाजा नहीं खोला, तो मैं आपके पापा को बता दूंगा.

उसने अपना लौड़ा मेरे हाथ में दे दिया और बोला- चल साली खड़ा कर इसे … ये आज तेरी गांड का छेद चोदेगा. मैंने बहुत कोशिश की मगर ना तो मुझे उसका फोन नम्बर मिला और न ही मुलाकात हो पाई.

अर्चना मेरे लंड को अपने मुँह में लेने के लिए न बोल रही थी लेकिन मेरे बोलने पर उसने लंड मुँह में ले लिया और आगे पीछे करने लगी.

मैंने उसे एक मिनट तक देखा तो उसने कहा- आपको संकोच हो रहा है तो मैं मोहल्ले से दो चार लोगों को मदद के लिए बुलवा लेता हूं. भोजपुरी बीएफ देहाती सेक्सीमैं उसे अपनी गोद में लिए हुए था और हम दोनों धीरे धीरे अपनी कमर को हिलाते चुदाई का आनन्द ले रहे थे. चोदा चोदी वीडियो बीएफ चोदा चोदीउन दोनों ने भाभी को अपने आगोश में भर लिया था और उनके जिस्म का जमकर भोग लगाने लगे थे. हॉट सेक्सी गर्ल Xxx चुदाई का मजा मुझे मिला मेरी रिश्ते में बहन से! उसने मुझे अपने घर बुलाया और अपनी कुंवारी बुर का उपहार दिया.

मैंने प्रिया के गले, होंठों, कंधों, पेट हर जगह किस किया और खूब चाटा.

मुझे तो कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि ये क्या चल रहा है, कौन सा छप्पर फटा है. अब मैंने अपना तौलिया हटा दिया तो मेरा मोटा लम्बा लंड पैंटी के ऊपर से अम्मी को रगड़ रहा था. उस दिन टाइमिंग इतनी सही थी कि कोहरा शाम 6 बजे से ही शुरू हो गया था और 10 बजे जब उसको आना था, तब तक पूरा गांव सो गया था.

तीसरा बंदा रह गया था, वह लंड हिलाता हुआ मेरे पास आया और उसने मुझे सीधा लेटा कर मेरी चूत में अपना लौड़ा डाल दिया. भाभी हंस दीं और बोलीं- चलो मैं देखती हूँ कि मैं उसे आपके लिए कैसे सैट कर सकती हूँ. एक दिन मेरे पापा के दोस्त के यहां शादी थी और घर के सब लोग बाहर जाने वाले थे.

बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी आवाज में

मेरा सिर थोड़ा सा दर्द हो रहा था तो मैं कक्षा कक्ष में ही बैंच पर बैठा था कि तभी मैंने थोड़ा सा सिर ऊपर किया तो मैंने देखा कि वो मेरे सामने खड़ी थी. लगभग दो घंटे बाद उठा तो देखा सामने पूजा रसोई में खाना बना रही थी, वो भी नंगी. आज तक कभी भी जिया दीदी ने मुझे राखी तो नहीं बांधी थी लेकिन जिया दीदी मुझे अपना छोटा भाई और बेस्ट फ्रेंड मानती हैं.

उन्होंने मुझे अपनी दोनों बांहों में जकड़ लिया था, इतना मजा आ रहा था कि क्या बताऊं.

वैसे मैं पहले ही बता दूं कि उस वक़्त तक मुझे सेक्स के बारे में कुछ भी नहीं पता था.

मैंने ड्राइवर अंकल को बोला- आप अन्दर से डिक्की खोलें, मैं सामान निकालती हूँ. मैं बिना डरे अम्मी से बोला- अम्मी मुझे आपसे प्यार हो गया है, दिन रात मैं सिर्फ आपके बारे में ही सोचता रहता हूँ. बीएफ इंग्लिश इंग्लिश बीएफमैं उसके गले को किस कर रहा था, वो चुपचाप मज़ा ले रही थी और साथ दे रही थी.

लेकिन उन दोनों का सील नहीं टूटी है, वो तुम्हारे लंड को सहन नहीं कर पाएंगी. मैं अब एक अच्छी दिखने वाली बॉडी वाला हो गया था क्योंकि मैं गांव में रहता हूं तो खेतों में काम करने की वजह से मेरी देहयष्टि काफी अच्छी थी. फिर वो बिंदास बोलीं- तुम्हारा लंड इतना बड़ा और मोटा कैसे है?मैं शर्मा गया.

बच्चे आ जाएंगे!भैया बोले- वे नहीं आ पाएंगे क्योंकि दोनों का एग्जाम है. ऐसे ही होते होते मेरी स्पीड अपने आप बढ़ने लगी और चुदाई अब जोरों से चलने लगी.

इसलिए मेरे माता-पिता ने मुझे एक महीने के लिए मौसी के घर भेज दिया क्योंकि उनका घर मेरे कॉलेज के पास था.

जिया दीदी ने बिना किसी संकोच के मुझे अपनी चुदाई होने की बात बता दी वर्ना कोई बहन अपने छोटे भाई को ऐसा नहीं बताएगी कि उसके पति मतलब लड़के के जीजाजी लड़के की बहन को चोद रहे हैं, तो बात नहीं हो पाएगी. उसने मुझसे पूछा- ठीक है न तू?मैंने उससे बोला- ठीक तो नहीं हूँ, पर जो मज़ा तूने दिया है … उसके आगे इतनी सी हालत खराब होना बनती है. मेरे सुपारे पर लगे वीर्य को देखकर उससे रहा नहीं गया, सरिता ने सुपारे पर लगे वीर्य को अपनी जीभ से चाट कर पूरा सुपारा साफ कर दिया.

बुर्का बीएफ सरिता की चुत को मैंने गौर से देखा तो चुत में सूजन आ गयी थी, फूल गयी थी. अर्चना ने कमरे को लॉक कर दिया और मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया.

तभी आंटी ने पूछा- तेरी कोई गर्लफ्रेंड है या नहीं?मैंने कहा कि अभी तो कोई नहीं है. मैंने धीरे धीरे उनसे बहुत सारी मीठी बातें की और उनको यहां वहां चूमता रहा. तो ससुर जी ने मेरी ब्रा मेरे मुँह में डाल दी और धीरे धीरे अपना लन्ड मेरी चूत में डाल दिया.

बीएफ दिखाइए फुल एचडी में

फिर जब भाभी नहा कर बाहर निकलीं तो मैं पेशाब करने के बहाने से बाथरूम में घुस गया. मैं उसे बड़े प्यार से देखता था, तो वो मुझे देख कर स्माइल पास कर देती थी. पिछले भागदोस्त की साली की धुआंधार चूत चुदाईमें अब तक आपने पढ़ा था कि सोनाली की चूत चुद चुकी थी और वो मेरे साथ लेटी थी.

उसके बाद उन्होंने अपने खड़े लंड पर तेल लगाया और मेरी गांड पर लंड रगड़ने लगे. कॉलेज गर्ल पोर्न स्टोरी के पहले भागमेरी कुंवारी चूत की गर्मीमें अब तक आपने पढ़ा कि मैं उस दिन कॉलेज से आकर अन्तर्वासना की एक मस्त सेक्स कहानी पढ़ रही थी जिस वजह से मेरी चुत में चुलबुली काफी हद तक बढ़ गई थी.

तभी धक्कों की रफ़्तार बढ़ी और उसका गर्म गर्म वीर्य … मैंने अपने मुँह में महसूस किया.

भाभी एकदम से सिहर उठीं और ‘इस्स आह मर गई मम्मी रे आह … आशु खा जाओ …’ उनकी मादक आवाजें गूँजने लगीं. मैं उसकी जवानी को भोगना चाहता था तो मैंने उससे नजदीकियां बनानी शुरू की लेकिन …दोस्तो, मैं इस साइट का बहुत पुराना पाठक हूँ और यहां प्रकाशित हुई लगभग सभी सेक्स कहानियां मैंने पढ़ी हैं. ऐस लिक हॉट स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी सहेली की शादी में गई थी। वहां दुल्हे का भाई मुझ पर लाइन मार रहा था.

दोस्तो, मैं केतन पटेल, अन्तर्वासना पर अपनी पहली सेक्स कहानी लिख रहा हूँ … प्लीज मेरी Xxx आंटी सेक्स कहानी पर अपने विचार देकर मुझे प्रोत्साहित करें. उसके पापा ने दूसरी शादी कर ली थी, पर जो उसकी नयी मम्मी हैं, वो श्वेता को तो पसंद करती हैं, पर नेहा को पसंद नहीं करती हैं. एक दो बार कोशिश करने के बाद भी लंड का सुपारा प्राची की गांड में नहीं जा रहा था.

दो दिन बाद उसका मैसेज आया ‘आज मूवी देखने चलें?’मैंने हामी भर दी और कॉलेज से बंक करके हम दोनों मूवी देखने आ गए.

बिहार का बीएफ एक्स एक्स एक्स: इस बार भाभी कि हालत खराब हो चुकी थी।वो झड़ चुकी थी पर इस बार मैं करीब 20 मिनट तक लगातार उनको ठोकता रहा और उनकी चूत में ही झड़ गया. फिर उसने मेरा नाम पूछा तो मैंने अपना नाम शालिनी राठौड़ बताया उसको!लेकिन उसको उच्चारण में थोड़ी दिक्कत हुई मेरे नाम को लेकर … तो दो-तीन बार मैंने उसको बताया और मैं मुस्कुराने लगी.

भाभी जोर से चिल्लाने लगीं- आह आह आह आह … मर जाऊंगी मत करो … आंह बहुत बड़ा है तुम्हारा … आंह मार डाला. अब उन्हें कुछ भी काम होता तो वो मुझे बोल देते और मैं उनका वो काम कर देता. इसके पहले की भाभी कुछ कह पातीं, मेरा हाथ ब्लाउज के हुक्स तक जा पहुंचा और मैंने एक झटके में तीनों चिटकनी वाले हुक खोल दिए.

मैंने उसको अपने नीचे से निकाला और वह, जिसका मैं लंड चूस रही थी, उसको छेद पर कब्जा करने के लिए कहा.

प्राची भी बेड पर नहीं थी, शायद मुझे अपने ऊपर से हटाकर वो उठकर बेडरूम में चली गयी होगी. अम्मी की चुत का पानी निकलने के कुछ मिनट बाद ही मैंने अपना वीर्य अम्मी की चुत के अन्दर ही गिरा दिया और अम्मी के ऊपर ही सो गया. वो छटपटाने लगी, तो मैंने छोड़ दिया और उसको खड़ा करके हाथ से गाल पकड़ कर कहा- मुँह खोल कुतिया.