सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ

छवि स्रोत,दुबई का बीएफ सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

marathi झवाझवी: सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ, उसके बाद मज़े ही मज़े हैं… तू खुद कहेगी कि रोज गाण्ड मरवाऊँगी।मैं- भाई, प्लीज़ आराम से डालना.

सेक्स बीएफ जबरदस्ती

मैं जानता था कि उत्तेजना के कारण वो ज्यादा देर नहीं टिकेगी और वही हुआ, उसने 10 मिनट में ही अपना पानी छोड़ दिया और मैं उसे पी गया।मैं तो जानता था कि वो जाग रही है लेकिन उसे यह नहीं पता था कि ये सब मेरा ही प्लान है।फिर मैंने उसके टॉप को ऊपर उठाया और ब्रा को ऊपर कर दिया, अब मैं मज़े से उसकी चूचियाँ चूसने लगा. बीएफ मूवी चुदाई वाली फिल्मघर पहुंचते ही सबसे पहले तो मैंने सुलेखा भाभी को देखा जोकि रसोई में खाना बना रही थीं.

सच में उन लोगों ने मेरा बहुत ख्याल रखा और जब मैं वहाँ से आई थी तो मेरे अकाउंट में पैसे भी काफी डाल दिए थे. हिंदी में बोलने वाली बीएफ पिक्चरगीत को शायद मेरा इस तरह करना अच्छा लगा। जब उसने कोई प्रतिक्रिया नहीं की.

अब उनकी चूत से पानी आने लगा और भाभी बार-बार चोदने के लिए कहती रहीं।मैं भी समझ गया कि भाभी अब बिल्कुल गर्म हो चुकी हैं, मैंने देर ना करते हुए उनकी चूत पर अपना लंड रख दिया और एक ही झटके में पूरा लौड़ा घुसा दिया।भाभी की तो जान ही निकल गई और बहुत तेज़ से चिल्ला पड़ीं- आआहह.सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ: वो भी मुझे पागलों की तरह ऐसे किस करने लगी मानो उसने कभी किया ही न हो.

तुम्हारी चूत तो चुदने के लिए उतावली हो रही है।पति ने मेरी पैन्टी पैर से बाहर निकाल दी और बोले- जान… अभी मैं तुम्हारी चूत में लण्ड घुसाकर कुछ राहत दे देता हूँ.जिसे एक मर्द संतुष्ट नहीं कर सकता, जो एक साथ तीन को खुद के ऊपर चढ़वा लेने में भी नहीं हिचकती।उपरोक्त लिखित पहली तीन किस्म की औरतों से पाला पड़े भी तो आदमी पार हो भी जाए.

छोटी छोटी लड़कियों का बीएफ वीडियो - सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ

मैं जितना रो रही थी, दर्द के मारे जितना ज्यादा चिल्ला रही थी, जगत अंकल और उतनी ताकत से जोर जोर से चोदने में लग गए थे.मैंने लण्ड के टोपे को थोड़ा अन्दर डालकर जोर से एक धक्का लगाकर पूरे लण्ड को सरकाकर चूत की सील तोड़ दी।‘उउउ.

दिल तो नहीं भरा था चुदाई से, मगर उसका टाइम हो चुका था, इसलिए उसने बाय बाय कर दी. सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ फिर हम सब साथ मिलकर नहाए और खाना खाया।मैंने गीत और संजय से विदा ली और आ गया।गीत अब हमसे चुदाई करवा कर काफी खुल चुकी थी, हममें कोई भी शर्म नहीं रही थी और उसे गालियाँ देना और सुनना बहुत पसंद है, गीत को हमारी चुदाई से बहुत ज्यादा मज़ा आया, उसके बाद तो मानो वो चुदवाने के लिए तड़प उठी कि ऐसी चुदाई उसकी रोज़-रोज़ हो।एक दिन गीत का मूड बहुत सेक्सी था और उसने कॉल किया.

फिर मिलेंगे और जी भर के चुदेंगे।आपके ईमेल और कमेंट्स का इंतज़ार रहेगा।[emailprotected].

सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ?

मैं- कैसा लगा?अनु- बहुत मज़ा आ रहा है।मैं- इस समय वो भी तुम्हारी पैन्टी को चाट और सूंघ रहा होगा. कभी गाण्ड टच करता।एक दिन वो बोली- ये सब कब तक चलता रहेगा?तो मैं बोला- सब्र करो. प्रिया की चूत में लंड जाते ही उसके होंठ और भी रसीले हो गए और अब मैं उसके होंठों का रस भी पी रहा था और धीरे धीरे अपने लंड से उसकी चूत की चुदाई भी कर रहा था.

वैसे तो सब ठीक ही चल रहा था, मगर मेरे भैया उस समय छुट्टी आये हुए थे, इसलिये अब शायद आगे कुछ लिखने की जरूरत नहीं है. मेरे होंठो को चूसने लगीं।मैं भी उनसे कसकर चिपक गया। अब मैंने भाभी की दोनों टाँगों को फैला दिया और उनकी चूत पर हाथ फेरने लगा।फिर पैन्टी के ऊपर से ही लंड घिसने लगा। मेरा मन तो कर रहा था कि अभी घुसा दूँ पूरा का पूरा. तो 4 बज चुके थे।उसने कहा- अब मैं जा रही हूँ।मैंने विनय को उठाया और उसने उसे देख कर पूछा- कैसी रही चुदाई जानू?तो वो हंस कर विनय के गले से लग गई।हम दोनों काफ़ी खुश थे।विनय उसे उसके गेट तक छोड़ आया।तो दोस्तो, कैसी लगी यह मेरी सच्ची कहानी।आपके कमेंट्स का मुझे इंतजार रहेगा। इस आइडी से आप मुझे फ़ेसबुक पर भी मिल सकते हो.

मैं गाण्ड मार लेता हूँ।फिर मैंने चाची की गाण्ड मारी। सच बता रहा हूँ दोस्तों. मैं एकदम चुप था।मैडम- बच्चे, तुम क्यों ज़िद कर रहे हो? ऐसा मैंने कभी भी कुछ नहीं सोचा. अब मैं उसी की सिफारिश पर एक अच्छी कंपनी में नौकरी करने लगा हूँ और जब भी समय मिलता है, तो उनसे कांटेक्ट करके किसी ना किसी औरत की मालिश करता हूँ और उसे शांत करता हूँ.

लेकिन वो सावधान रहना चाहती है।मैंने उससे कहा- तुम अपना फोटो भेजो और कोई एक्सपीरियेन्स शेयर करना चाहती हो. इतनी बड़ी और गोल थी कि मेरा दिल करने लगा कि इस अभी पीछे से पकड़ लूं.

मैं पूरी भीग चुकी हूँ।तो मैंने उसे कपड़े निकाल कर दे दिए और पानी साफ करने जाने लगा।उसने बोला- दरवाजा बंद करते जाना।क्योंकि कीर्ति को नाइट ड्रेस बदलना था।मैंने पूरे घर में पानी साफ किया बाद में कीर्ति के कमरे में गया और उससे बोला- चलो उठो अब खाना खा लो।कीर्ति बोली- पहले तुम ये भीगे कपड़े बदल लो.

करीब 10 मिनट के बाद मैंने उनके मुँह में अपना पानी छोड़ा और उन्हें पिला दिया। फिर हम नंगे ही नहा कर बाहर आए और मैंने उन्हें बिस्तर पर पटक दिया और कहा- अब तुम्हारी चूत चोदूँगा।वो बोलीं- प्लीज़ चूत में मत डालो.

रेवती ने मुझे अपनी कार में आने का इशारा किया तो मैं कार के पास जाकर खड़ा हो गया. ’मेरी तरफ से कोई उत्तर न पाकर चाचा ने पीछे मेरी मिनी स्कर्ट उठा कर लण्ड मेरी चूत पर लगा दिया। अब वे एक हाथ से कूल्हों को और चूचियों मसल रहे थे और दूसरे हाथ से चूतड़ों की दरार और चूत पर लण्ड का सुपारे को दबाते हुए रगड़ने लगे।चाचा के ऐसा करने से मैं तड़प कर सीत्कार उठी- अह्ह ह्ह्ह्ह्ह ह्ह्ह. उसका पूरा बदन एक झटके के साथ लकड़ी की तरह अकड़ गया और वो काँपती हुई नीचे से एक मशीन जैसी तेज़ी से ऊपर को झटके लगाने लगी.

इस पर चाबी बनाने वाले ने कहा- मुझे जल्दी है … तुम पहले मुझे दुकान पर छोड़ आओ. पता ही नहीं चला।लेकिन मुझे अन्तर्वासना की सब कहानियाँ अच्छी लगती हैं।अब कहानी पर आते हैं. नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम संजय है और मैं आज आपके सामने अपनी जिंदगी की एक हसीन दास्तान बताने जा रहा हूँ, जो मेरे साथ कुछ साल पहले हुई थी.

मेरा अनुभव कहता है कि कुछ लोगों को संभोग करके मजा आता है, कुछ को दूसरों को देख कर और कुछ लोगों को किस्से सुन कर रस मिलता है.

वो ठीक से चल भी नहीं पा रही थी।मैंने उसे किस किया और कहा- मज़ा आया?तो उसने बदले में मुझे भी किस किया और मुस्कुराते हुए अपने घर चली गई।फिर कई साल तक पिंकी और मैंने मज़े किए। एक साल पहले उसकी शादी हो गई. मेरे साथ बने रहिए!आप ईमेल जरूर लिखिएगा।कहानी जारी है।[emailprotected]पोर्न स्टोरी का अगला भाग :लेस्बो मकान-मालकिन की चूत की प्यास -3. मैं उसके दो या तीन दिन बाद जयपुर आ गया और अब मैं उससे रोजाना बात करता हूँ.

फिर कभी इनकी गाण्ड भी फाड़ डालूँगा।उन दो दिनों में मैंने मामी को 8 बार चोदा।दोस्तो, मुझे बहुत मज़ा आया. मगर तभी मेरी नज़र खिड़की पर पड़ी और हमें अपनी चुदाई बीच में ही छोड़नी पड़ी. ये ऐसे ही तो बुझने वाली नहीं थी।जैसे-तैसे हमने दिन में अपने अरमानों को काबू में रखते हुए दिन बिताया, सारा दिन हमने एक साथ बिताया, खूब एन्जॉय किया.

और मेरे साथ एंजाय कर सकें।एक बार हमेशा की तरह मैं काम से पुणे गया और वहाँ पर एक होटल में रूम लिया।जब वेटर मेरा सामान रखने आया.

हर जगह नाखूनों के निशान और शौच करते समय बहुत दर्द हुआ और थोड़ा सा खून भी निकला. मेरे सामने आकर रिया भाभी बोलीं- ठीक है विराज, मैं सेक्स करने के लिए रेडी हूँ लेकिन मैं एक बार ही करूँगी.

सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ मैंने उसकी चुत में थोड़ा और थूक लगाया और जोर जोर से उंगली हिलाने लगा. तो देखा कि उसने आज पैन्टी नहीं पहनी थी। मेरा हाथ सीधा उसकी चूत पर उगे कोमल बालों के ऊपर था।अब वो ‘सी सी.

सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ मैंने उसको समझाया कि पहली बार ऐसा होता है लेकिन थोड़े से दर्द के उसे भी मज़ा आयेगा।मैंने उसको चूमना जारी रखा और जब उसका दर्द कम हुआ तो मैंने एक झटके में पूरा लंड उसकी चुत में घुसा दिया. मेरे बॉयफ्रेंड ने चोद कर खोल दी थी।वो आदमी मेरा हाथ पकड़ कर मुझे घर में ले गया और मुझे ड्रॉइंग रूम में ले जाकर बैठा दिया।मैं घबरा रही थी.

जैसे मैं रुई के फाहे दबा रहा होऊँ।फिर मैं उसकी टी-शर्ट के अन्दर हाथ डालने लगा, तभी उसने मेरी टी-शर्ट को भी उतार दिया। मैं उसकी शर्ट के अन्दर हाथ डालते हुए उसके गोल मम्मों को मस्ती से दबा रहा था.

গুদের জালা

धीरे-धीरे उसने भी रिस्पॉन्स देना शुरू किया और उसकी आँखें बंद होने लगीं। ऐसा लग रहा था मानो हम एक-दूसरे में खो जाना चाहते थे।कुछ देर बाद मेरा हाथ उसकी कमर से होता हुआ. अंकल ने जीभ को और अन्दर घुसाया और चूँ… चूँ… कर चुत का रस पीने लगे, मुझे तो अजीब लग रहा था. वो रोने लगी। मैं पूरा पेल कर ऊपर-नीचे करता रहा।लण्ड पेलते-पेलते उसकी गांड को बाइस्कोप बना दिया और फिर चूत में उंगली डालने लगा।फिर उसकी बुर को भोसड़ा समझ कर चोदने लगा।वो पानी छोड़ बैठी और चली गई।फिर अनु आई.

बोली- आकाश, मैं तुमसे बेहद प्यार करती हूँ लेकिन तुमने मुझे बताने का कब चान्स दिया।उसने मेरे होंठ पर होंठ रख दिए। मैं तो अन्दर ही अन्दर बहुत खुश हुआ और ‘आई लव यू प्रिया. मैंने भाभी से कहा- उस दिन तो आप कह रही थीं कि मैंने तो इसका भोसड़ा बना दिया है और आज आप चूत कह रही हो. मैं साड़ी पहन कर तैयार हो गई और हम दोनों राकेश जी के घर पहुँच गए।वहाँ एक पार्टी थी.

उसके जिस्म को पागलों की तरह इधर-उधर ज़बान से खूब चाटा। गोल गहरी नाभि अपनी अदाओं से मेरी जीभ को चाटने का आमंत्रण दे रही थी और मेरा लंड भी उसे चाटना चाहता था।अनु बोली- जल्दी से चूत को चाट कर चूत की खुजली मिटाओ भैया.

और गाण्ड मार मार कर मैंने उनका पूरा छेद खोल दिया, मैं उनकी गाण्ड पर थप्पड़ मारने लगा. वो उसके मुँह में ही गया।इस दिन के बाद मैं हमेशा ही निलय से अपने लंड को चुसवाने लगा। मैंने अपने दोस्तों को भी यह मज़ा दिलवाया।वैसे यह तो केवल शुरूआत थी. मैंने दरवाजा बंद किया और मेरी बहन की गांड के ऊपर एक हाथ रख कर सहलाने लगा.

मैं पिछले 5 सालों से अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ, मैंने सारी कहानियाँ पढ़ी हैं। आज उन्हीं से प्रेरणा लेकर मैं आप सभी को अपनी एक सच्ची कहानी बताने जा रहा हूँ।मेरी यह कहानी पूर्णतया सच्ची है, मैं अपने साथ बीते इन हसीन पलों को आप लोगों के साथ बाँटना चाहता हूँ।पहले मैं अपना परिचय दे रहा हूँ। मेरा नाम महेश है. वो मछली की तरह झटपटाने लगी।उसकी चूत में बहुत तेज परपराहट के साथ दर्द होने लगा. ’मैं मस्ती से चूत को चूस रहा था।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !वो कहने लगी- मेरे पति तो ऐसे कभी नहीं करते.

तुरंत जबाव आया।सुनयना- हैलो कहाँ से हो आप? मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा कि आपका रिप्लाई भी आएगा. नहीं तो भीग जाएगा।फिर मैंने रबिंग पैड से उनकी कमर को ज़ोर से रगड़ा.

यह सुनकर रेवती तकिये के कवर को हाथ में लिए खड़ी की खड़ी रह गई और मुझे देखने लगी. लेकिन बाद में तुम पैसे भी ले लोगी।मैं- मैं अपनी मम्मी को कुछ नहीं बताऊँगी और जैसा आप कहोगी. एकदम सपाट पेट देखकर मुँह में पानी आ गया।मैंने उसका टॉप थोड़ा और ऊपर उठाया तो हैरान रह गया.

फिर मैं वैसे ही नंगा बैठ कर टीवी देखने में लग गया और भाभी भी नंगी अवस्था में किचन में चली गईं.

वह भी मेरी चूत को जल्द चोद लेना चाहता था।मैं बड़बड़ाते हुए बोलने लगी- ओह. आपने तो गोली खा रखी है… शुरू में गाण्ड मारोगे तो पता नहीं कितना दर्द होगा. मेरी भाभी की 5 फुट 3 इंच हाइट की थीं और वे ज्यादा पतली नहीं थीं, पर मोटी भी नहीं थीं.

छीईईई …ईई … हटाओ … इसे …” प्रिया ने मेरे हाथ को झटकते हुए कहा और खुद ही अपने सूट को उठाकर मेरे लंड को साफ करने लगी. मैं पूरा मधु को आलिंगन करके कुत्ते की भान्ति चोद रहा था और बड़ी बेरहमी से उसकी चूची और निप्पल को दबा दबा के मसल रहा था.

फिर थोड़ी देर बाद मेरा रस निकलने वाला था, तो मैंने बिना उससे पूछे उसकी ही चुत में माल झाड़ दिया. उसके थन तो जैसे ब्लाउज फाड़कर बाहर आ रहे थे। मेरी तरफ देखकर अपनी साड़ी के बीच में ऐसे हाथ फिरा रही थी कि वहीं पटक कर चोद देने का मन हो रहा था।’‘इसीलिए कल उसने मुझसे पूछा था कि तेरा पति घर कब आता है. विक्रम तौलिया रखकर बाहर जाने लगा तो शीतल बोली- अच्छा सुन बेटा!विक्रम- हाँ माँ…शीतल- अब जो तू अंदर आ ही गया है तो क्या मेरी पीठ में साबुन लगा देगा?विक्रम- जरूर माँ…विक्रम को शीतल ने साबुन दिया, पेटीकोट ऊपर तक होने की वजह से पीठ आधे से ज्यादा ढकी हुई थी.

हिंदी सेक्सी वीडियो आंटी की

और कहा- आज ये तेरा बाजा बज़ाएगा।उसने मुझे सीधा बिस्तर पर गिरा कर लिटा दिया और एकदम से मेरे ऊपर चढ़ कर अपने लण्ड का सुपारा मेरी चूत पर रख कर एक ही धक्के में अन्दर चूत की जड़ तक ठेल दिया।मैं एकदम से हुए इस हमले से चिल्ला उठी- आहह.

मेरी हया और हालत इस बात की चीख-चीख कर गवाही दे रही थी कि मैं चुदने आई हूँ।तभी उसने मुझसे कहा- तुम इस हाल में उस कमरे में क्या करने जा रही थीं?मैं हकलाते हुए बोली- कुछ नहीं. फिर उसने शाम को स्टेडियम मिलने का बोल के फोन रख दिया और मैं भी सो गया. इसलिए हम दोनों सही मौके और जगह की तलाश में थे।शुक्रवार को उसका फोन आया और कहा- कल शाम 5 बजे बाद मेरे घर पर कोई नहीं है.

पर मैंने पूछा- ये क्या है?तो उन्होंने बताया- वाली का कुकांगा।नाम सुन कर मेरी हँसी छूट गई।बातों-बातों में तीनों से हमारी पूरी कहानी अपने दोस्त को बता डाली और जेरोम ने खुलेआम मेरी शार्ट में हाथ घुसा कर चूत के साथ अठखेलियाँ करने लगा। मैं खा रही थी. विक्रम भी अपना लंड उसके मुँह में डालकर आगे-पीछे करने लगा और अपनी नंगी माँ के मुँह की चुदाई करने लगा. हिंदी सेक्सी रोमांटिक बीएफउसने लंड का कुछ हिस्सा अपने मुँह में ले लिया, तभी धक्का देकर पूरा मूसल लंड उसके गले तक पेल दिया.

तो वो माथा ठोक कर बोली- पहले तू ऊपर आजा मेरे बाप… फिर तेरा लंड अपने आप चूत में घुस जाएगा. मुझे थोड़ा अकेलापन तो लगता है, पर तुम सबको खुश देखकर मैं बहुत खुश होता हूँ.

उस रात को हमने एक बार और जोरदार चुदाई की और मैंने एक बार उसकी गांड भी मारी. मैंने प्रीति आंटी को अपनी बांहों में भरा और उनके लिपिस्टिक से सने लाल रसीले होंठों को चूसने लगा. ’ कर रहा था।फिर करीब 20 मिनट की चुसाई के बाद वो मेरी चूत चाटने लगा। मैंने उसके मुँह में ही अपना पानी छोड़ दिया।फिर उसने मेरी चूत पर अपना लंड रख दिया।मैं उसके साथ अपनी लाइफ का पहला सेक्स कर रही थी.

मी प्रथमचा लंड जसजसा चोखत होते तो उसासे देत माझ्या तोंडात लवडा पूर्ण घुसवण्याचा प्रयत्न करू लागला. यह बात 2 साल पहले की है, मैं अपने घर के आगे चौकी पे बैठा फ़ोन में एडल्ट साइट देख रहा था. उसकी छूने की इच्छा और मेरे तड़पाने का अंदाज उसे बहुत उत्तेजित कर रहा था।शायद चुदाई के समय लड़की को गले लगाने या उसके बूब्स दबाने से उसे आराम मिलता या उस संतुष्टि का अनुभव होता है.

जैसी मेरे बीवी की चूत से आती है।मैंने हैरान हो कर कहा- क्या तुम सच कह रहे हो.

लेकिन राजेश इतनी ज्यादा मात्रा में झड़ गया था कि उसका बहुत सा वीर्य मेरे मुँह से बाहर आकर मेरी ठोड़ी पर फैल गया और मैंने अपनी जीभ बाहर निकाल कर उसे भी चाट लिया।मैं अपनी हवस से खुद आश्चर्यचकित हो गया था।मैंने कहा- मेरा मुँह तो भर गया. मैडम तो ऐसे जैसे जन्मों की प्यासी हों… मेरे आते ही गेट खोला।मैडम- आ गए तुम.

अभी मैं कुछ वक्त के लिए यही हूँ।उसके इन शब्दों ने जैसे मुझे नींद से जगा दिया हो. तब तक वेटर हम लोगों के लिए ड्रिंक्स ले आया और मैंने पूजा को एक ग्लास ब्लडी मेरी पकड़ा दिया. तो मैंने यह बात बताई। हम दोनों दोस्त एक-दूसरे से झूठ नहीं बोलते थे.

वो कहीं बाहर चला गया। अब किसी के आने का ख़तरा भी नहीं है।इतना कहकर पुनीत अपने कपड़े निकालने लग गया. जिससे वो मुझसे और अच्छी तरह से बात करने में खुल गई।हम दोनों ने खाना आदि खा-पीकर छत पर टहलने प्रोग्राम बनाया। हम छत पर गए. उसी वक्त मेरा दिल उस पर आ गया और मैं उसके बेड पर चला गया। उसने भी मुझे जगह दे दी और हम फिर से बातें करने लगे।बातों-बातों में मैंने कहा- न जाने क्यों मेरी निक्कर लूज हो गई है।उसने कहा- देखूँ तो.

सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ मुझे मेरा दोस्त (नीरज़) बदला हुआ नाम बुलाने के लिए आ गया।उसने मुझसे कहा- चलो बाल कटाने के लिए चलते हैं।मैंने कहा- मैं पहले ब्रश कर लूँ. मैंने आंखें नहीं खोली तो अंकित मेरी आंखों को चूमने लगा और बोला- मुझे पता है कि तू जग रही है मेरी डार्लिंग, बस आंखें खोल, तू भी अपने मन की बातें बोल!और मुझे हिलाने लगा.

कुत्ता और कुतिया की सेक्सी मूवी

इसीलिए मैंने अपनी जीन्स के अन्दर हाथ डाला था कि तुम भी मुझे उंगली करते देख लो. तो ऐसा लगा कि मेरा लण्ड उसकी चूत में कहीं अटक गया है।तभी घुटी आवाज में वो चीख पड़ी और कहने लगी- उई माँ. हम दोनों की ही सांसें अब फूल गयी थीं और हम दोनों पसीने से बदन नहा गए थे.

’करीब 8 से 10 मिनट तक पिंकी को घोड़ी बना कर चोदा और फिर मैं पिंकी को बिस्तर पर लेकर आ गया।बिस्तर पर लाकर उसे पीठ के बल लेटा दिया और 2 मिनट उसकी चूत को चाटने के बाद फिर से अपना लण्ड उसकी चूत में डाल कर फुल स्पीड में चोदना शुरू कर दिया।थोड़ी ही देर में पिंकी अकड़ उठी ‘ऊऊह्ह्ह ह्ह्ह्ह. विकास भी बिना कुछ बोले चुपचाप कमरे से मेरी तरफ देखता हुआ बाहर चला गया. जाने वाली सेक्सी बीएफवो फटाक से मेरे ऊपर 69 की अवस्था में आ गई।हम दोनों एक-दूसरे को जन्नत की सैर करा रहे थे।फिर मैंने उसे चित्त किया और उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा।वो ‘अहह… ससस्स…’ करने लगी और कहने लगी- अब और न तड़पाओ.

डैड मामी को जितना जोर से धक्का मार कर चोदते, उतनी ही मॉम की तरफ से सिसकारी और आनन्द का इज़हार होता.

मैं एक बहुत ही साधारण किस्म की औरत हूँ और हमेशा अपनी फैमिली का ख़याल रखती हूँ। लेकिन पता नहीं क्यों मेरे पति मुझसे सेक्सुअली संतुष्ट नहीं रहते हैं।काफ़ी कोशिश के बाद भी मैं उन्हें खुश नहीं रख पाती हूँ। पिछले 3 साल से वो मेरे साथ नहीं हैं. दस बजे करीब हम ऊपर आएंगे और हां तुम ऊपर जाकर थोड़ा बेड एक सा ठीक कर दो, उस पर कोई नई सी चादर डालके उसे अपन तीनों के लिए तैयार कर दो.

क्योंकि मेरी नौकरी अब इसी की बदौलत चलने वाली है वरना मैं तो कहीं धूप में सड़ती रहूंगी. पता है उस रात तुमने एक रजाई तो नीचे बिछा रखी थी और एक रजाई को ओढ़कर सो रहे थे, तुमसे रजाई लेने के लिये हमने तुम्हें कितना जगाया मगर तुम उठे ही नहीं. फिर मैंने धीरे से हाथ घुमाना शुरू किया तो बुआजी मेरी आँखों में देखते हुए अपने मुँह से मादक सिसकारियों की आवाज़ सी निकालने लगीं.

आप जानते ही हैं कि लंड और पानी अपना रास्ता ढूँढ ही लेते हैं। कुछ हफ्तों तक पढ़ाने के बाद मेरे लंड ने भी हरकतें करना शुरू कर दिया।अब तक केवल मेरे मन में केवल निलय से अपना लंड को मज़ा दिलाने की ही विचार थे.

मैंने लंड बाहर निकाल लिया और वो उठकर बैठ गई और चूत को जांघों के बीच में दबाकर दर्द से कराहने लगी।मैंने कहा- सॉरी यार… ज्यादा दर्द हो रहा है क्या?वो रोने लगी. अब राजीव अंकल पूरी ताकत से जोर जोर से मेरी गांड में अपना लंड पूरा डाल कर जमकर चोदने लगे और मुझे बहुत गालियां देने लगे. हम दोनों कांच के आगे खड़े होकर आपस में एक दूसरे को देखने लगे और मुस्कुरा उठे.

बीएफ ब्लू सेक्सी ब्लू सेक्सीदोस्तो, मैं उस जगह इस डर से 12:30 पर ही पहुंच गया कि कहीं वो मुझे न पाकर वापस ही ना लौट आए. मैंने भी दो-तीन दिन की छुट्टी ले ली लेकिन भाभी को बताया कि रात की ड्यूटी है.

बिहार के सेक्सी देहाती

और मेरा लण्ड भी तैयार हो गया।अब मैं सुनीता भाभी के ऊपर चढ़ गया मैंने उसकी दोनों टाँगें चौड़ी कर दीं और फिर अपना लोहे की सख्त लण्ड उसकी चूत के मुँह पर रखा और उसे पहले किस करने लगा. हम और हमारे चाचा ताऊ सब एक ही आंगन में बने घरों में रहते थे … बाद में अलग अलग हुए थे. पर उस शख्स ने मेरी एक ना सुनी।अंत में मुझे बताना पड़ा कि मैं यहाँ चुदने आई थी चाचा से.

’ कर रहा था।फिर करीब 20 मिनट की चुसाई के बाद वो मेरी चूत चाटने लगा। मैंने उसके मुँह में ही अपना पानी छोड़ दिया।फिर उसने मेरी चूत पर अपना लंड रख दिया।मैं उसके साथ अपनी लाइफ का पहला सेक्स कर रही थी. इसलिए मैंने उसे वो फ्रेंडशिप बैंड और वो लैटर दिया और हम दोनों अपनी कक्षा में चले गए।मैं भी आज बहुत खुश था क्योंकि मेरा अरमान और इंतज़ार दोनों पूरे होने जा रहे थे।दिन-प्रतिदिन हमारे बीच की नजदीकियाँ बढ़ती चली गईं. और ज़ोर-ज़ोर से चोदने लगा। उसका जिस्म एकदम से इठ गया और शायद वो झड़ने की कगार पर आ चुकी थी।फिर मेरा भी काम होने को था.

तो वो भी मुझसे चुदने को तैयार हो गई। उन दोनों ने अपने-अपने घर में फीस 11000/- बताई।दोनों ने रुपये देकर रजिस्ट्रेशन फीस जमा करके कंप्यूटर सेण्टर ज्वाइन कर लिया और रोज़ाना जाने लगीं।करीब एक हफ्ते बाद सपना के घर वाले एक शादी में जाने वाले थे. फिर मैंने उस रात को उसकी 2 बार और लम्बी लम्बी चुदाई करी और सुबह 5 बजे ही उसके घर से निकल गया … क्योंकि उसके भाई का कोई पता नहीं था, कब आ जाए. फिर पिंकी ने गुडनाईट कहते हुए एक लम्बा सा चुम्बन किया और कॉल काट दी।दोस्तो, आगे मैंने कैसे सोनी को पूरी रात चोदा.

उसी वजह से मैं वो सब अपनी बहन पर आजमाता था जैसे कि मैं उसकी गांड में उंगली कर देता था या कभी उसकी चुचियों को दबा देता था … वगैरह वगैरह. मेरी जीभ भी तुम्हारी गाण्ड में आसानी से जाती है और तुम्हारी गाण्ड तो अन्दर से साफ हैं.

पेलोगे कैसे? मेरी चूत और गांड तो एकदम सूखी है।”अब तुम ही बताओ।” दोनों ने अर्थपूर्ण स्वर में कहा।थोड़ा सोचने की एक्टिंग करने के बाद उसने अपनी टीशर्ट उतार फेंकी और ऊपरी धड़ से नंगी हो गयी। उसके हल्के उभार मगर जबरदस्त एरोला और पफी निप्पल वाले वक्ष दोनों हवसियों के आगे अनावृत हो गये।देखो बेटा.

तो मैंने थोड़ा आगे होकर उसकी गर्दन पर किस किया और उसकी गर्दन को चूमता हुआ उसकी पीठ की तरफ अपनी जीभ घिसने लगा।उसकी कमीज़ बीच में फंस रही थी. बीएफ सेक्सी एचडी मूवी वीडियोओके नो प्रॉब्लम, मैं उठा शॉर्ट्स टी-शर्ट पहनी, गाड़ी निकली और निकल पड़ा अपनी ड्यूटी निभाने. बीएफ फिल्म बीएफ फिल्म चाहिएतो उससे दर्द के कारण चला भी नहीं जा रहा था। मुझे पता था कि ऐसा होगा इसलिए मैं दर्द निवारक गोली और आई पिल्स अपने साथ लाया था।मैंने उसे दवा दे दी और साथ मैं गर्भनिरोधक गोलियां भी दे दीं. मैं खिड़की पर जा कर देखने लगा, भैया भाभी को किस कर रहे थे और बूब्स दबा रहे थे.

क्या उसमें आज इतना बड़ा जा पाएगा।मैंने टाँगें फैला दीं और कहा- मोनू धीरे-धीरे डालना.

इस बार वो अपनी चीख़ों को दबा नहीं पाई- आहह … आ … आह … ओह … हम्म … अ … आहहहह …तभी मैंने उसकी टांगों को खोला और जैसे ही फिर से लंड अन्दर डाला. बड़े नखरे कर रहे थे?मैंने हंस कर बोला- हाँ मार तो खानी है, पर तुझ से नहीं, इस मीशू की हील से जरूर मार खा लूँगा. वो खेलते खेलते मेरे पास आई और मेरे फ़ोन में देखने की कोशिश करने लगी.

फिर आकर चुदाई चालू हुई।उनमें से सबसे सेक्सी नेहा लग रही थी।मैंने आनवी और अनु को दूसरे कमरे में बन्द कर दिया और नेहा को चोदने लगा. खैर, सबको खाना खिलाने और साफ-सफाई करने के बाद शीतल नहाने के लिए बाथरूम में घुस गयी, दोनों लड़के हॉल में बैठकर टीवी देख रहे थे. फिर उसने कहा- तुम्हारे पास कल रात तक का समय है, रात को 2 बजे गाड़ी है जो तुम्हें समय से नागपुर पहुंचा देगी।मैं बोला- ठीक है, मेरी भाभीजाण एक बार थारे को गले तो लगाण दे, 1 महीने से घणी उतावरो कर री हे बर्दास्त होवे कोणी!बोल कर मैंने उसको अपने सीने से चिपका लिया और उसकी कुर्ती के अंदर हाथ डाल कर उसकी पीठ को सहलाने लगा, उसके चुचे मेरे सीने से रगड़ खाकर कड़े होने लगे थे.

सेक्सी वीडियो xx

उनकी हाइट 5’5″ है और वो एक बहुत ही सेक्सी लेडी हैं, उनका फिगर 38-30-36 का है, उनकी उम्र 38 साल की है. मैं उस समय तो करण को कुछ नहीं बोल सकता था, क्योंकि इससे मेरी बहन का इज़्ज़त खराब होने का डर था. जिससे मैं आराम से उसकी चूत को सहला सकता था।अब वो थोड़ी-थोड़ी हिल रही थी और एकदम से अकड़ गई और चित्त लेट गई।थोड़ी देर बाद वो बोली- भाई मुझे बाथरूम आई है.

मुझे उम्मीद है कि आपको ये चुदाई कथा बहुत पसंद आ रही होगी अभी इसमें और भी मजा आना बाकी है।मेरे साथ अन्तर्वासना से जुड़े रहिए और मुझे अपने मेल भेजते रहिए।[emailprotected].

उसने मुझे समझाया और कहा- देख तू चाहे तो सब कुछ कर सकती है। एक बार कोशिश तो करके देख.

देवर ने मेरी पेंटी को निकाल कर मुझे एकदम नंगी कर दिया और मुझसे बोलने लगा- भाभी, मैं आपको बहुत पहले से पसंद करता था लेकिन आपके साथ ये सब करने की हिम्मत नहीं होती थी. कुछ ही देर ऐसे चुदाई करते हुए हुआ होगा कि प्रिया अब और जोर जोर से सांसें लेने लगी. हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर भेजोउसने बताया कि उसके पति को लंड चुसवाना और फुद्दी चूसना बिल्कुल भी पसंद नहीं है.

अब दोनों छेद चुदने के लिये तैयार हैं।” थोड़ी देर बाद उसने मेरे लिंग को मुंह से निकालते हुए कहा।तीनों लोग उससे अलग गये।तो टॉस करो रे. अंकित वहाँ से उठा और जो बाकी के दो कमरे थे, दोनों में गया, देखा पर जब वहाँ दोनों कमरों में कोई ना कोई एक या दो लोग सोए हुए थे तो लौट के आ गया और बोला कि कमरे में तो जगह नहीं है, इसे यहीं कर लीजिए मैं देखता रहूंगा. तीसरे दिन राज अंकल फिर मेरे पास आए और बोले कि सोनू मैंने सब कुछ सैट कर लिया.

मुझे चोद दो ना!मैंने भी परिस्थिति को समझते हुए अपना लंड सपना की चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया, सपना सिसकारियाँ भरने लगी।मैंने भी मौके की नज़ाकत को देखते हुए सपना की चूत के छेद पर लंड टिका कर एक करारा झटका लगा दिया. और आज उसकी छाती पर और पीछे चिपके कपड़े देख मेरा मन मचल रहा था।संजय की बात सुनकर मुझे लगा कि इसके बाद संजय खुद ही कीर्ति को चोदने के लिए आगे बढ़ा होगा.

फिर दोनों माँ-बेटी में चुम्बन का एक लम्बा दौर चला… दोनों औरतें जैसे एक-दूसरे को या तो खा जाना चाह रही थीं या एक-दूसरे में जैसे समा जाना चाहती थी.

!मैं एकदम चुप हो गया। भाभी ने मेरा लोवर नीचे की ओर खिसका दिया। लण्ड अंडरवियर में था. उसने मुझसे मूवी छोड़ कर कहीं बाहर किसी होटल में जाने के लिए बात की, पर मैंने उसे मना कर दिया. खैर, सबको खाना खिलाने और साफ-सफाई करने के बाद शीतल नहाने के लिए बाथरूम में घुस गयी, दोनों लड़के हॉल में बैठकर टीवी देख रहे थे.

बीएफ माता लगभग ग्यारह बजे मेरे दोस्त की बहन ज्योति का मैसज आया कि मैं जा रही हूँ … वापस एक बजे तक आ जाऊंगी, वहां ही मिलना. वह मेरी कराह देख कर काफी देर तक चूत में लण्ड डाले पड़ा रहा।मुझे ही कहना पड़ा- चोदो ना.

इसलिए मैंने धीरे धीरे अपनी गांड पीछे सरकाई और उसके लंड को गांड की फांक में सैट करने लगी. मी समोर गेलो आणि पहिली चिट्ठी उचलली आणि उघडली त्यात मेनकचे नाव होते. भले ही हम दोनों की मंशा चुदाई की थी, लेकिन एकदम से चुदाई की मंशा एक दूसरे के सामने प्रकट कर देना भी ठीक नहीं होती है.

16 साल लड़की के साथ सेक्सी वीडियो

मुझे लग रहा था कि अकेले कमरे मेरे साथ रहना और ऊपर से मौसम भी रंगीन और इन सबसे पूजा का मिज़ाज़ भी कुछ ज़्यादा ही रंगीन हो गया है. तो बोला- आज कर लेने दो।इतने में दीप भी आ गया। उन दोनों को देख कर मैं समझ गई कि आज तो मेरा बच पाना मुश्किल है।रज्जन ने मुझे पकड़ते हुए बोला- मालकिन हम दोनों ने तुम्हारे नाम की बहुत मुठ्ठ मारी है. मेरे पति जब भी मुझे चोदते हैं तो वो जल्दी झड़ जाते हैं जबकि मैं और सेक्स के लिए तड़पती रहती हूँ.

मेरे देवर ने मेरी चूत को बहुत देर तक चाटा जिससे मेरे अन्दर की सेक्स की आग बाहर निकल गयी और मुझे अपने देवर से चुदवाने का मन करने लगा. मेरी चूत में दर्द कम हो नहीं रहा है तो मैं समाली अंकल से लिपट गई और जोर से चिल्लाने लगी- बचा लो मुझे मार डालेंगे मेरी चूत में दर्द है, अंकल बहुत दर्द हो रहा है.

जिसमें मेरा लण्ड फूला हुआ दिख रहा था और ऊपरी हिस्सा फ्रेंची के बाहर आ रहा था।दोस्तो, काफी समय के बाद मैं अपने लण्ड में इतना कसाव और कड़ापन देख रहा था। ममता ने मुझको इस हालत में देख कर शर्म से अपनी आँख ढक लीं।मैंने धीरे से उसके हाथों को उसकी आँखों से हटाया और फिर उनको अपनी फ्रेंची के ऊपर रख दिया।उसने तुरंत हाथ हटा लिया.

इस बीच आंटी का एक बार हो गया था। मैंने आंटी से पूछा- कहाँ निकालूँ?उन्होंने कहा- अन्दर ही छोड़ दे।एक बार चुदाई के बाद हम दोनों लेट गए. उसने लंड का कुछ हिस्सा अपने मुँह में ले लिया, तभी धक्का देकर पूरा मूसल लंड उसके गले तक पेल दिया. तो चाची मेरे सामने खड़ी थीं।वे एकदम से बोलीं- कितनी देर से आवाज़ दे रही हूँ.

मैंने उससे दूर होते हुए कहा- अरे यार इतनी भी क्या जल्दी है … पहले डोर तो लॉक कर दो, कोई देख लेगा. उसने कहा- मैं 5 बजे तक ही फ्री हूँ क्योंकि उसके किड्स 5 बजे के बाद घर आ जाते हैं. कुछ देर तक सील टूटने की पीड़ा झेली और फिर जैसा कि अपनी चुदक्कड़ सहेलियों से पहली चुदाई के दर्द के बाद मजा आने का सुना था, ठीक वैसा ही … बल्कि शायद महसूस करने में, उससे उन सुनी सुनाई बातों से भी ज्यादा मजा आने लगा था.

मेरे देवर ने मेरी ब्लाउज निकाल दी और उसके बाद वो मेरे ब्रा को भी निकाल कर मेरी बड़ी बड़ी चूची को अपने मुंह में लेकर चूसने लगा.

सनी लियोन का जबरदस्ती बीएफ: वो मेरी एक-एक बूँद चाट गई।मैंने उसका चेहरा उठाया और उसे जमकर किस किया।वो मुझसे बोली- तुम मेरी चूत चाटो।मैंने उसकी टाँगें फैला दीं और उसकी चूत पर मुँह लगा दिया। मैं अपनी ज़ुबान उसकी चूत में अन्दर तक घुसेड़ने की कोशिश करने लगा। उसके मुँह से ‘एयाया. तो चुदाई का मजा लेने के लिए अगले पार्ट का इंतज़ार करिए और इस कहानी पर अपनी प्रतिक्रिया मुझे मेल के द्वारा ज़रूर भेजिएगा।मेल आईडी है.

जिससे मेरा तना हुआ लंड उसकी गांड की दरार में पूरी तरह समा गया और मैं बिल्कुल उसके साथ चिपक गया. चाची मेरा सिर पकड़ के चुत के अन्दर खींच रही थीं और मेरे सिर में हाथ फेर रही थीं. मैंने भी दो-तीन दिन की छुट्टी ले ली लेकिन भाभी को बताया कि रात की ड्यूटी है.

’ राजा इतक्या लवकर नको ना सुरु करू ?’म्हणत तिने आपले दोन्ही गोळे त्याच्या हातात दाबायला दिले.

चूसने का मन कर रहा था।दो दिन तक उसकी कोई मेल नहीं आई मैंने बस पिक के लिए लिखा कि आप फोटो में बहुत प्यारी लग रही हो. मैंने कहा- देख ले अपनी रीमा दीदी की चूत।मोनू आँखें फाड़-फाड़ कर देखने लगा और बोला- दीदी आपका छेद तो बहुत छोटा है।मैं बोली- इसमें 6 महीने से कुछ भी घुसा नहीं है. इतना बड़ा कैसे?मैंने कहा- लौंडिया चोद-चोद कर बड़ा किया है।मैंने उन्हें धक्का देकर बिस्तर पर चित्त लिटा दिया और उनके ऊपर चढ़ गया और उनके होंठ चूसने लगा।मैं उनकी चूत को भी सहला रहा था।भाभी कसमसाने लगीं और उन्होंने कहा- आह्ह.