सेक्सी बीएफ फुल बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी अंग्रेजी सेक्सी फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ रसिया: सेक्सी बीएफ फुल बीएफ, मैंने एक दिन पहले ही अपनी सब पैकिंग आदि कर ली और अगले दिन का जो भी काम था, वो सब भी निबटा लिया.

यूट्यूब चालु करा

फिर मैंने पानी की बाल्टी जोर से गिरा दी और चिल्लाया कि ‘आआआ मैं गिर गया. सेकसी मारवाडीनिशा यूनिवर्सिटी में टॉपर है … और ये पढ़ने वाली लड़कियां कुछ ज्यादा ही रोमांटिक होती हैं, मैं आज समझ चुका था.

जैसे मैंने टांगें फैलायी विशाल ने मेरी चूत में मुंह लगा दिया और मेरी चूत को चाटने लगा. धनगर सेक्सीमैंने कहा- कितने पैसे?उसने कहा- तेरी मां की चूत, बहन की लौड़ी कुछ काम पैसे से नहीं होते.

मैंने गुस्से में कहा- याद आ गया हमारा रिश्ता, उस समय तो याद नहीं आ रहा था.सेक्सी बीएफ फुल बीएफ: बैडरूम में अँधेरा था, अंदर जाने से पहले रीना ने थोड़ा जोर से आवाज़ लगायी- दादा … क्या आप अंदर हैं?कोई जवाब नहीं!रीना हिम्मत करके अंदर गयी.

वो मुझसे क्यों नहीं सहज हो पा रही थी, ये मुझे अभी तक समझ नहीं आ रहा है.वैसे तो मुझे कोई इस तरह देखे तो अच्छा नहीं लगता मगर मैं भी उसकी जानदार बॉडी को देख रही थी.

मलाइका अरोड़ा xxx - सेक्सी बीएफ फुल बीएफ

ध्यान रखना कि कोई देखे नहीं, मैं सबको खिला कर रात में सोने के लिए आऊंगी।मैं रात के खाना खा कर पूजा के साथ बातें करते हुए निधि के आने का इंतज़ार कर रहा था.लेकिन मुझे रेजर से डर लगता है कि कहीं कट न जाए … इसी वजह से आज तक कभी बाल नहीं काटे हैं.

जैसे ही रानी मेरे कमरे में गयी, मैं सोफे से उठ के अंदर जाने लगा तो बहू मुझे ही देख रही थी. सेक्सी बीएफ फुल बीएफ मैं और मेरी चूत हमेशा तुम्हारी सेवा के लिए हाजिर है।फ़िर हमारे बीच ये चुदाई का खेल चलता रहा। अब तीन चूत एक ही बिल्डिंग में मिल थी.

वहीं तुम आ जाना।अगले दिन दोपहर में ही मैं उसके खेतों में पहुँच गया.

सेक्सी बीएफ फुल बीएफ?

मैंने दुबारा से उन्हें कॉल किया, तो मैंने उन्हें अपनी कसम दी और बात बताने के लिए कहा. तब तक मैं मटर तोड़ लेती हूँ।मैंने तोड़े हुए मटर की तरफ इशारा किया और कहा- आपको सिर्फ ध्यान देना है कि कोई इधर न आये. जब एक दो मिनट तक कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो मैंने दोबारा से ट्राई करने की सोची.

जैसे ही मैंने उसे प्रपोज़ किया, तो उसने मुझे कसके गले से लगा लिया था और किस किया. मैंने भी उसे गाली दी और कहा- साली कुतिया है तू … रंडी है मेरी … मैंने पैसे दिए है तुझे … आज तुझे चोद चोद कर अपनी रंडी बनाऊंगा, मुझे कुत्ता बोलती है मादरचोदी … ले और एक ले. मैंने कहा- बहू उसका नाम है शालिनी!बहू बोली- वही न जो अपने घर से थोड़ा दूरी पर रहती है?मैंने कहा- हाँ बहू वही!बहू बोली- डैडी जी, वो तो काफी जवान है अभी.

पहली चुदाई के बाद तो मुझे चूत चोदने का चस्का सा लग गया था और तब से लेकर मैंने आज तक कई चूतें चोदी हैं. गीता बोली- एक बार जब बाहर का खाना खाने की आदत लग जाती है तो घर का खाना बेस्वाद लगने लगता है. लड़की को मैं पहले से जानता था परन्तु वो उस समय काफी छोटी थी। मैंने मन ही मन यह सोच दिया था कि लड़की को देखकर ना बोलना है।जून 2012 को जब मैंने सिम्मी (लड़की का नाम) को 4 साल बाद देखा तो देखता ही रह गया.

ओहो सेजल … तुम इतने वक्त तक कहां थी … मैं तुमको पहचान नहीं पाया वरना अब तक मैं ही तुम्हारा पेट भर चुका होता. मैंने अम्मी से कहा- अम्मी मुझे आशीर्वाद दीजिए कि मैं जल्द से जल्द आपकी यह इच्छा पूरी कर सकूँ.

मुझे उसके उस जवान होते शरीर में एक मस्त सेक्सी चुदास से भरी प्यासी रंडी दिखने लगी थी.

अब 15 दूल्हे और 20 दुल्हनें एक साथ अपनी सामूहिक सुहागरात मना रहे थे।मैंने रेशमा की चूत में अपनी जुबान लगाई हुई थी और फातिमा मेरे लन्ड को चूस रही थी, आयशा मेरी गांड के छेद में अपनी जुबान घुसा रही थी।इधर मेरा साथी मनोहर, महरुन्निसा को चोद रहा था और रुबिया की चूत उसके मुँह में थी.

पर मैडम ने मेरे खड़े लंड को नोटिस कर लिया था। वो बार बार मुझे झुक कर अपने बूब्स दिखा रही थी और मैं पागल हुआ जा रहा था।बातों बातों में उन्होंने बताया कि वह अपने हस्बैंड को बहुत मिस करती हैं. मैंने पूछा- कितना?तो उसने कहा- कम से कम दो हजार!मीनू ने कहा- ये तो ज्यादा है. फिर मैं उसके होंठों पर अपना लंड रगड़ने लगा, तो उसने हाथ से हटाने की कोशिश की, जिससे उसके हाथ चूचों से हट गए और मैंने उसी समय उसके मम्मे पकड़ लिए.

कल्पना रंडी की चूत चुदाई की कहानी पढ़ कर आपके लंड और चूत गीले हो गए होंगे. उसने पूछा कि क्या पूरा अन्दर चला गया?मैंने बताया कि नहीं अभी आधा लंड अन्दर गया है. एक पल के लिए तो वो चौंक गयी मगर फिर वो भी मेरा साथ देने लगी,हम दोनों एक दूसरे के बालों में हाथ डालकर उनको सहला रहे थे.

पिछले 4 महीने से मेरी भी उससे कोई बात ना हुई है। जिस वजह से मैं अब अकेला पड़ गया हूँ और हाथ से ही काम चला रहा हूं।तो दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी यह आप बीती? मुझे जरूर बताइयेगा.

एक तरफ से मैं उसकी चूचियों को दबा रहा था और दूसरी तरफ मैं उसके होंठों को चूस रहा था. तभी मेरे कमरे का दरवाजा थोड़ा सा खुल गया और मेरी बहू हल्के से अंदर देखने लगी. तभी अनिल ने कहा- अगर कॉलेज में कोई दिक्कत हो या कोई हेल्प चाहिए हो तो मुझे बताना, मैं वहां के बारे में सब जानता हूँ.

मेरे दोस्त ने अपनी उंगली भी मां की चूत के अंदर घुसा रकही थी और वो मेरी माँ की चूत भी चाट रहा था. रचना ने 5 मिनट के बाद मेरे होंठ से अपना होंठ छुड़ा लिया और कराहने लगी. मेरी इस बात से वो थोड़ा नाराज हो गई और मेरी तरफ आंखें तरेर कर देखने लगी.

मैंने सोचा कि मेरे शहर में कोई परेशान है, मुझे खुद से भी थोड़ी मदद करनी चाहिए.

मैंने सैम से कहा- अब चोदो भी, मुझसे रहा नहीं जा रहा … जल्दी से डाल दो अपना लौड़ा मेरी चूत में. मैंने कहा- बेटा, बात थोड़ी अजीब है, ये हम दोनों के बीच में ही रहनी चाहिए.

सेक्सी बीएफ फुल बीएफ मैंने अपनी बहन की तरफ देखा तो उसने कहा- मैं समझ गई कि आप क्या कहना चाहते हो. तभी मैंने रानी से कहा- रानी, ये लड़का जो सुबह तेरे साथ वो कर रहा था, वो तेरा बॉयफ्रेंड है क्या?रानी कुछ बोल नहीं रही थी.

सेक्सी बीएफ फुल बीएफ उस दिन के बाद आकांक्षा के पीरियड शुरू हो गए थे, तो 4-5 दिन सूखे ही गुजारना था. आप बिना किसी जरूरी काम के घर से बाहर ना निकलें और ना ही अपने परिवार के सदस्यों को बाहर जाने दें.

वह भी नीचे से अपनी गांड उठाकर उस लंड को अपनी चूत में लेना चाहती थी.

भारत सेक्सी ब्लू फिल्म

हम दोनों लेट गये तो मैंने अपना मोबाइल निकाला, उसमें एक स्कूल मास्टर द्वारा छात्रा को चोदने का वीडियो था. और क्यूंकि मैं भी थकी हुई थी लम्बे सफ़र के बाद तो रूम में जाकर कपड़े बदल कर शॉर्ट्स और टॉप पहना और बेड पर सो गयी. अब चिन्ना सरक कर करोना की दोनों टांगों के बीच में आकर बैठ गया और अपने दोनों हाथ आगे बढ़ा कर दोनों चुटकियों में करोना के निप्पलों को पकड़ लिया और आगे झुक कर जीभ करोना के गीली चूत पर फिराई.

मेरी माँ की चूत का रस विशु ने अपने मुंह में ही रखा और वापस मां को किस किया और सारा माल मां को पिला दिया. हां मेरा भाई शुभम … हर बार पहले मेरे मम्मों पर अपना बड़ा लंड रगड़ता है. मैंने भी गाली बकना शुरू कर दी और उससे कहा- आह भैनचोद … मेरी चूत फाड़ दी मादरचोद … साले आराम के डाल.

उसको प्यार से समझाते हुए कहा- कोई बात नहीं, आज के लिये इतना ही बहुत है.

लेकिन बस मैं उसे बहुत पसंद करने लगा था!पता नहीं कब हम वक़्त के साथ एक दूसरे के करीब आते गए. मैं हाथ नीचे ले जाकर उसकी चूत के दाने को उंगली से कुरेदने लगा, जिससे उसकी आंखें मस्ती से बंद होने लगीं. इसके बाद नीचे आते हुए मैंने उसकी चूचियों को चूमा, उसकी चूचियों को हाथों में पकड़ कर दबाना शुरू कर दिया.

पर वो मुझसे दूर बैठी थी और मैं चाहता था कि वह मुझसे चिपक कर बैठे ताकि उसके मम्में मेरी पीठ पर टच हों. भाभी ने मुझसे पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?मैंने कहा- हां मगर यहां नहीं है. धीरे धीरे अपने हाथों को मेरे लंड पर आगे पीछे करने लगी।अब मैं उसकी चूत मारने को बेताब था। मैं उसके ऊपर लेट गया.

दीदी- देखो राज … अब तुम जवान हो गए हो … और मैं भी तुम्हारी परेशानी समझ रही हूँ. पहले मैं अपने बारे में बता दूँ, अभी मेरी उम्र 25 साल है और मैं लखनऊ में रहता हूं.

पहले मैं अपने बारे में बता दूँ, अभी मेरी उम्र 25 साल है और मैं लखनऊ में रहता हूं. मुझसे अश्लील भाषा में बात करो, मुझे चोदो, मेरी चूत की धज्जियां उड़ा दो, मेरी चूचियां नोचो, काटो. मैंने देखा कि उसकी गांड इतनी ज्यादा उभरी हुई थी कि मेरा मन कर रहा था कि इसकी गांड में लंड डाल दूँ.

हम दोनों अब भाई-बहन से ज्यादा बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड की तरह रहने लगे थे.

भाभी ने मुझसे पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?मैंने कहा- हां मगर यहां नहीं है. पूरा दिन यूँ ही बीत गया पता ही नहीं चला, रात के करीब 9 बजे खाना खाने के बाद सिम्मी की भाभी ने हम दोनों को मिलाया. कल्पना फिर से भलभला कर झड़ गई और मैं उसकी चूत का नमकीन अमृत चाटता चला गया.

चाहे इसकी फोटू लो या फिर जिस्म की गर्मी!उन दोनों ने मॉम और पुष्पा आंटी के साथ बहुत सी फ़ोटो ली, सेक्सी पोज में किस करते हुए, बूब्स दबाते हुए सारी सेक्स पोजिशन में!फिर मॉम वहाँ से आने लगी. करोना को अपने लण्ड को कनखियों से निहारता हुए देख कर औरतखोर चिन्ना बहुत खुश हुआ सोचने लगा कि अब कुछ ही देर बाद करोना की चूत का कुंवारा पानी मेरे नागराज को चखने के लिए मिलेगा.

उत्सुकता से उसने पूछा- अच्छा, मुझे भी तो बताओ कौन है वो लकी गर्ल?मैंने कहा- नहीं, ऐसे नहीं बता सकता मैं उसके बारे में. हालांकि नसरीन दर्द से छटपटा रही थी और अपने आप को मुझसे छुड़वाने का प्रयास कर रही थी. हम दोनों के बीच में शादी के 6 महीने के बाद ही मन-मुटाव होना शुरू हो गया था लेकिन घर की इज्जत की वजह से मैंने शादी को खींचे रखा.

सेक्सी वीडियो एचडी गेम

यह कहकर मैंने कल्पना को बेड पर लिटाया और उसकी टांगें फैला कर चूत को किस किया.

करोना ने भी बिना कुछ सोचे समझे बेहोशी के से आलम में अनायास ही अपने हाथ ऊपर उठा दिए. इतना बोल कर पापा ने उसकी चूचियों को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. उसके बाद मैंने उसको उल्टा कर दिया और उसकी पीठ से लेकर उसकी जांघों तक किस करने लगा.

रूम में जाने के बाद मैं पूरा नंगा हो के अपने खडे लंड को हिलाने लगा और बहू को मन में चोदने लगा. पहले तो उसने मुझे इधर उधर की बातों में उलझा कर रखा पर कुछ देर बाद उसने हाँ कह दिया।उस दिन के बाद से हमारी प्रेम कहानी परवान चढ़ने लगी. हॉट सेक्सी आंटीमैं समझ गया कि अब मेरी बहन की कुंवारी बुर का सैलाब निकालने वाला है.

मैंने पूछा- क्या हो गया तुम्हें? बुखार तो नहीं हो गया है, दिखाओ मुझे. मैंने कहा- तुमने मुझे इतना मजा दिया है, मैं भी तुम्हें थोड़ा मजा देना चाहता हूं.

जब मुझे लगा कि वो थोड़ा सा मस्त हो रहा है … तो मैंने अपना 7 इंच का लंड निकाल कर उसके हाथ में दे दिया. अंधेरा होने की वजह से उसने फोन की लाईट जला रखी थी, जिस वजह से मुझे उसका लंड दिखाई दे रहा था. इसी में घुस कर टीवी भी देखेंगे और चाय भी पियेंगे।”वो मेरे से तो खुल ही गयी थी तो उसे आने में कोई दिक्कत नहीं थी।भाभी आने से पहले कमरे का दरवाजा बंद कर दो; बड़ी ठंडी हवा चल रही है.

मैं उसके करीब गया और उसे सर पर किस किया, फिर आंखों पर, फिर गाल पर … और लास्ट में लिप किस करने लगा. मैं कमरे का दरवाजा खोलने ही वाला था कि कमरे के अन्दर से आ रही आवाज ने मेरे कदम रोक दिये. मैंने देर ना करते हुए अपने होंठों उसकी चूत पर लगाया और किस और सक करने लगा.

उसकी गांड के छेद पर रख कर मैंने लंड के टोपे को धीरे धीरे अंदर घुसाना शुरू किया.

पर अब तो लण्ड को नई चूत में जाना था इसलिए मैंने भी अब मकान मालकिन के पास जाना शुरू कर दिया।वो भी मुझ से खूब बातें किया करती थी। मकान मालिक तो अपने ऑफिस गया तो दिन में उन्हें पटाने के चान्स बहुत थे।मैंने एक दिन कहा- भाभी जी, कभी मेरे रूम में भी आकर चाय पी लिया करो ताकि हिसाब बराबर रह सके. उपर्युक्त सभी बिन्दुओं पर ध्यान देने के अलावा मेंहदी या हिना के दुष्प्रभावों से बचने के लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखने की आवश्यकता है.

हनी इतनी जोर से चिल्लाई कि एक बार तो मैं भी डर गया लेकिन अब छोड़ने का कोई मतलब नहीं था. जब कुछ मिनट बाद उसको होश आया, तो मुझे अपनी कोली में लेकर मुझे मेरे होंठों पर किस करते हुए सो गयी. चोपड़ा का दो ही मिनट बाद कॉल आ गया- अंजलि … तेरा ये माल तो बढ़िया लगा … इसका रेट बताओ.

आगे की पढ़ाई करने के लिये मुझे भी मेरे घरवालों ने लखनऊ जाने के लिये कहा. कल्पना फिर से भलभला कर झड़ गई और मैं उसकी चूत का नमकीन अमृत चाटता चला गया. जैसे ही हम दोनों रूम में गए, उसने कहा- पहले रूम का दरवाजा अच्छे से बंद कर दो.

सेक्सी बीएफ फुल बीएफ मगर मैं उसे प्यार से चोदना चाहता था, मैंने कहा- जितना भी होता है, कर लूंगा. मैंने फिर लंड हाथ से उसकी गांड के गुलाबी छेद पर लगाया और झटका दिया.

2020 की सेक्सी वीडियोस

मैंने उसकी ब्रा खोल दी और उसकी टीशर्ट उसके कंधों तक ऊपर कर दी जिससे उसकी पीठ एकदम नंगी हो गई. उसने आज फिर से लंड पकड़ लिया और बोली- इसको इतनी ठंड क्यों लगती है?मैं पीछे होकर बोला- पकड़ क्यों लेती है … छोड़ पहले. मैंने अपनी बेटी की खुशी के लिए उसकी ननद का क्या इलाज किया? इस मजेदार सेक्सी स्टोरी का मजा लें.

मैक्सी को मैं अब उसके कमर के ऊपर तक ले आया और उसकी चूत नीचे से नंगी हो गयी थी. मैंने जोर से उनको मसला, तो कल्पना के मुँह से फिर से आह … की आवाज निकल गई. देसी सेक्स गुजरातीहनी धीरे धीरे मेरा लण्ड चूसने लगी तो मैंने उसकी चूचियां सहलाना शुरू कर दिया.

ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, इसलिए अगर कोई गलती हो जाए तो प्लीज नजरअंदाज कर दीजियेगा.

उन्होंने कहा- बस चुदाई कह कर बात खत्म न करो … पूरी बात बताओ कि चुदाई में क्या क्या कर लेते हो?अब बातें खुल कर होने लगी थीं. ’कह कर मुझसे कहा- ठीक है ले जाओ … और सुनो कल शाम को तुम्हें मुझे जिम पर पिक करने आना है.

चूत को रगड़ने से वो इतनी गर्म हो गयी कि उसने मेरे सिर को पकड़ कर मुझे नीचे धकेलते हुए बैठने का इशारा किया. भाभी बोली- तुम्हें जितना गंदा सेक्स पसंद है, उससे कहीं ज्यादा एक मेरी फ्रेंड है … उसे पसंद है … तो उसे भी बुला लूं?मैंने कहा- ठीक है कोई बात नहीं … उसकी उम्र क्या है?उसने कहा- कोई 48 साल की है. मैंने देखा कि मेरा लंड नसरीन की चुत की सील टूटने की वजह से खून से सना हुआ था.

मैंने उसका ब्लाउज पकड़ कर खींच दिया तो वो पूरी तरह फट गया। मैं उसके 38 साइज के मम्मों को पकड़ कर चूसने लगा।आह.

मैंने उससे दोस्ती कैसे बढ़ाई और फिर उसकी कुंवारी बुर चुदाई कैसे की?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम रमेश है और मैं हरियाणा के सोनीपत जिले से हूं. जैसे ही हम लोग कार में बैठे तो पहले की तरह ही मैंने चाची को गोद में बिठा लिया और कुदाने लगा. मानो बस ऐसे ही हाथ से सहलाते हुए मुझे जैसे उसके गुप्तागों से खेलने का अनुमति पत्र मिल गया था.

आदिवासी आदिवासी सेक्सी वीडियोमैं अपनी जीभ को उसके मुँह में डाल रहा था, तो कभी सिम्मी मेरे मुँह में अपनी जीभ डाल रही थी. उधर से मैं लिक्विड चॉकलेट की बॉटल उठा लाया और उसके पूरे बदन पर गिरा कर उसको चॉकलेट से मसाज करने लगा.

सेक्सी बड़े लंड की वीडियो

उसकी चूत पर लंड रख कर मैंने पूछा- पहले लिया है क्या जानू?वो बोली- नहीं, बस उंगली से सहला देती थी. मैं पंकज की बात सुनकर खुश हो गया और मैंने उससे कहा- उससे मैं कैसे मिल सकता हूँ?उसने मुझे उस रंडी का नंबर दे दिया और कहा- ले इस नम्बर पर उस रंडी से चुदाई की बात कर ले. चूत पर लंड को सेट करके मैंने एक जोर का धक्का मारा तो कोमल की चूत में लंड गच्च से उतर गया.

अब मैं धीरे धीरे अन्दर बाहर कर रहा था और एक हाथ से उसकी चूत भी सहला रहा था, जिससे उसका मज़ा दुगुना हो गया. चूत से पानी निकलने के कारण जब चूत में लंड जा रहा था तो रूम में पच-पच की आवाज होने लगी. ये सब सोच कर मैंने उसे एक चूतियापंती वाली सलाह देते हुए कहा कि जब दांत में दर्द होता है, तो उसे भींचने से आराम मिलता है.

टूर का पांचवां दिन था, पैर में हल्की सी मोच के कारण नीलम हम लोगों के साथ घूमने के लिए तैयार नहीं हुई तो मैं, सुधा व कमल घूमने निकल पड़े. भाभी के ऐसा कहते ही मैं उनके ऊपर हो गया और उनके एक निप्पल को काट लिया. मैंने उसके हाथों पर हाथ रख दिए और बोला- किधर है बताओ?उसने मेरा हाथ ले कर अपनी चूत के पास रख दिया।मैं- अच्छा इधर … इसका इलाज़ है मेरे पास.

इस बार उनके चूतड़ों के नीचे दो तकिये रखे जिससे चूत का मुंह आसमान की तरफ हो गया. तो हम दोनों भी तैयार हो गये और नीरज नाम का वो लड़का भी तैयार हो गया.

अब पूरी चुदाई का किस्सा नहीं बताऊँगा क्योंकि अभी दो लड़कियों के बारे में भी बताना है.

वैसे चाची के एक लड़का और एक लड़की थी लेकिन वो दोनों ही बाहर पढ़ाई कर रहे थे. पंछी बोले है क्याकुछ देर की चुदाई के बाद पहले वाला वेटर मेरी चुत में ही झड़ गया और बाहर चला गया. इंग्लिश सेक्सी हॉट वीडियोजब आंटी से रुका नहीं गया तो इसके बाद आंटी ने मुझे रोका और पलट कर घोड़ी बनते हुए बोलीं- अब पीछे से आकर मेरी चूत में लंड को डालो और पूरा घुसेड़ दो. मैंने उसे दोबारा बुक करना चाहा तो …मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागचूत चुदाई की हवस कॉलगर्ल से बुझी-2में आपने पढ़ा कि मैं कल्पना नाम की रंडी की चुदाई करते हुए उसकी चुत में झड़ गया था.

वह भी नीचे से अपनी गांड उठाकर उस लंड को अपनी चूत में लेना चाहती थी.

उसे दर्द हो रहा था लेकिन शायद वो भी चुदाई का मजा लेने को उतावली थी तो उसने दर्द को सहन किया. उसके दूध मेरे सीने से लगते ही नीचे पेंट में मेरा लंड खड़ा हो गया, जो उसे चुभने लगा. इसके बाद जब भी हमें मौका मिलता था हम चुदाई कर लेते थे।दोस्तो, यह मेरी पहली सेक्स कहानी है इसलिए मेरी गलतियों को माफ करना.

मैंने भी सामान्य व्यवहार जारी रखा और उनके छुपे हुए हाव भाव पढ़ने की कोशिश करता रहा. भैया की शरीर को देखने के बाद मुझे लगा कि रचना भाभी की प्यास भैया से बिल्कुल नहीं बुझती होगी. महिला घर पर अकेली थी क्योंकि आज घर वाले सभी किसी की शादी में गए हुए थे।उस महिला ने हमको एक कमरा, जिसमें डबल बैड था, वह दे दिया.

सेक्सी वीडियो कर्नाटक सेक्सी वीडियो

अगले दिन मैं कॉलेज नहीं गई क्योंकि मुझे पता था आज मोहन भाई ट्रायल के लिए आएगा. एक बार जब मामी मेरे घर आईं, तो मैंने सोचा ये मामी को चोदने का सुनहरा मौका है. सबसे पहले तो उसके मन में डर था कि होटलों में ब्ल्यू फिल्म बन जाती है.

मैंने उससे कहा- अब रहा नहीं जाता प्लीज!वह कहने लगी- अरे रुको, अभी इतनी भी क्या जल्दी है? जब 5 साल और इंतजार किया है तो और 5 मिनट इंतजार नहीं कर सकते क्या?मैंने कमरे की लाइट बंद कर दी और सिर्फ मोबाइल के टॉर्च को जलाकर टेबल पर उल्टा रख दिया जिससे कि हल्की हल्की रोशनी रहे.

यह मेरी पहली कहानी है और बिल्कुल सच्ची कहानी है इसमें जरा भी झूठ नहीं है.

उसकी चूत में मेरा लंड जैसे फंस सा गया था। धीरे-धीरे ही होंठों को चूसने और सहलाने पर उसका दर्द कम होता गया तो उसने भी मुझे अपनी बांहों में भर लिया. ये आवाज तेज हो पाती, उससे पहले ही मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया और हम दोनों मजा लेने लगे. सेक्स फिल्म हिंदी एचडीमैंने उसके बूब्स को पकड़ कर उसके होंठों को अपने होंठों से बंद कर दिया.

जैसा कि उसने ये फैसला किया है कि शादी होने तक वो मेरे अलावा किसी से नहीं चुदेगी … इसलिए वो मेरे लंड के नीचे ही रहती है. फिर भी मैं कल्पना की चूत में लगातार अपना लंड आगे पीछे कर रहा था और उसके चूचे दबा रहा था. कल्पना की गांड पर मेरी जाँघें टकरा कर थप थप की आवाजें निकाल रही थीं.

मुझे नंगी करने के बाद उसने मेरी टांगों को फैला दिया और सामने सेमेरी चूत चाटने लगा. उसके बाद मैंने उससे दारू के लिए पूछा, तो उसने गिलास उठा कर एक ही झटके में पूरा खींच लिया और मेरे हाथ से सिगरेट लेकर मुँह का स्वाद ठीक करने लगी.

अब मैंने सारिका का कुर्ता ऊपर खिसका कर उसकी चूचियां निकाल लीं और उन्हें बड़ी बेरहमी से मसलने लगा.

मेरी जांघें उनके चूतड़ों से टकरा रही थी, बहुत मजा आ रहा था।मैं बस धक्के पर धक्के लगाए जा रहा था. दीदी मेरे होंठों को चूमते हुए मेरे सिर को पकड़ कर मेरे बालों को सहलाने लगी. हमारे पास ज्यादा टाइम भी नहीं था तो मैंने जल्दी से अपनी बहन की स्कर्ट और पेंटी को एक साथ नीचे किया और उसकी चूत चाटने लगा.

7 देवियों के नाम चाय पीते पीते अचानक से वह मुझे बोली- आशु ये रात को जो तू हरकतें करता हैं, इन्हें बंद कर दे. साली वैसे भी नखरे ही तो कर रही थी। मैंने एकदम से उसके गालों को चूम लिया.

फिर धीरे-धीरे उसने अपना मुंह मेरे लंड के ऊपर लगाया और लंड को अपने मुंह में ले लिया. उन्होंने कहा- बस चुदाई कह कर बात खत्म न करो … पूरी बात बताओ कि चुदाई में क्या क्या कर लेते हो?अब बातें खुल कर होने लगी थीं. वहाँ जाकर कीहोल से देखा तो मेरी बहू अंदर शावर के नीचे नंगी खड़ी होके नहा रही थी.

वर्षा उसगावकर सेक्सी

और पहली बार चूत के उद्घाटन के बाद तुम अपनी चूत को आराम देने के लिए मेरे लण्ड को चूसोगी. एक घंटे बाद करीब 9 बजे नवीन जी फ्लैट में आये और बोले- अंजलि, क्या तुमने डिनर रेडी कर लिया. कच्ची कली की चुदाई में मेरा लण्ड कमजोर न पड़ जाये इसलिये मैंने सुबह शाम शिलाजीत के दो कैपसूल खाने शुरू कर दिये.

मैं अपना अंगूठा नीलम की चूत में चला रहा था और नीलम मेरे लण्ड को अपनी मुठ्ठी में दबोचे हुए थी. उसने पूछा- और क्या चल रहा है?मैंने कहा- फोटो भेज कर बताऊं?वो बोली- हां बताओ.

बाद में मैंने उससे लंड चूसने के लिए बोला, तो इस बार वो रंडी की राजी हो गई थी.

हे भगवान! सुबह के 4 बजे यह लड़की … यहां … मैंने अंदर बुलाया, गेट बंद किया।सीमा- क्यों जनाब कैसा लगा सरप्राइज?मैं- तुम पागल तो नहीं हो? इतनी रात में क्या कर रही हो?सीमा- आपसे मिलने आयी हूँ। लाइट ऑफ करो. जैसे ही हम दोनों रूम में गए, उसने कहा- पहले रूम का दरवाजा अच्छे से बंद कर दो. मैंने दिमाग लगाया कि मम्मी को और भी गरम किया जाए और कुछ ऐसा किया जाए … जिससे उनका ध्यान मेरी तरफ चला जाए.

मैंने दीदी को गर्म करके सिस्टर सेक्स का मजा लेने का मन बना लिया था. उसके मुंह से इतनी मात्रा में निकलने वाली लार ये जता रही थी कि उसके मुंह में लंड के लिए कितना पानी आ रहा था. करवट में सो रही मम्मी सीधी हो गईं, अपनी टांगें चौड़ी कर दीं और मेरा लण्ड अपनी मुठ्ठी में पकड़कर मुझे अपने ऊपर आने का इशारा किया.

मैंने कहा- कोई बात नहीं!फिर मैंने तनु की चूचियों को दबाते हुए उसकी चूत को तेजी के साथ जोश में पेलना शुरू कर दिया.

सेक्सी बीएफ फुल बीएफ: दोस्तो, ये मेरी पहली गांड चुदाई की कहानी थी, मुझे उम्मीद है कि आप सभी को पसंद आई होगी. मेरे लंड का सुपारा ही अन्दर गया था कि आकांक्षा चीख उठी- आआईईई मां उफ़्फ़ ओहह हह उईईई मार डाला …आकांक्षा छटपटाने लगी.

मैंने आंगन में जाकर उसको फिर से दबोच लिया और उसको दीवार के साथ में सटा लिया. उसके ऐसा करते ही अब तक करोना के चूतड़ों के नीचे दबा हुआ करीब 8 इंच का मोटा कला लण्ड एक झटके से उठ खड़ा हुआ और लुंगी से बाहर आ कर करोना को देख कर फुफकारने लगा. करीब 10 मिनट पेलने के बाद मेरा होने वाला था पर मैं उसके साथ ही झड़ना चाहता था इस कारण मैं रुक गया.

उन्हें देख कर मैं बोली- जी मैं अंजलि … कुकिंग के लिए!वो मुझे तीखी नजरों से देखते हुए बोले- हां हां … आओ अन्दर आ जाओ.

फ्रेश हो गये तो मैं आपके लिए नाश्ता लगा दूँ?मैंने कहा- नहीं बहू, मैं अभी नहीं करूँगा. पुष्पा आंटी कह रही थी- रेनू, तू आज बहुत सेक्सी लग रही है मेरी जान!तो मॉम भी कहने लगी- पुष्पा, तू भी बहुत रंडी लग रही है. करोना की चूत अब चिन्ना के लण्ड को अपने पानी से सराबोर करने लगी।हालाँकि अनुभवी चिन्ना को इसका अहसास हो चुका था पर वह जानबूझकर अनजान बना रहा क्योंकि वो आखिरी चोट करने से पहले लोहे को थोड़ा और गर्म करना चाहता था.