सनी लियोन के बीएफ दिखाएं

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ फिल्म सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

एक्स ब्ल्यू फिल्म हिंदी: सनी लियोन के बीएफ दिखाएं, मेरी हालत तो उस लोमड़ी की तरह हो गई थी, जिसके सामने अंगूर लटके हुए थे, पर खा नहीं सकता था.

राजस्थानी एक्स एक्स एक्स वीडियो एचडी

मैंने अपने पंजे चूचियों में गाड़ दिए थे और बड़ी ताकत से मैं उनको नोच खसोट रहा था. बंगाली सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्समगर कुसुम पूरी घाघ थी, वो मेरे पास आकर बोली- चल जरा चाय पी कर आते हैं.

मैंने अपनी वाइफ को तिरछी नज़रों से देखा तो उसकी चुत साफ दिख रही थी. बीएफ और सेक्सी बीएफ और सेक्सीफिर वो उठे, मेरे सीने के अगल बगल दोनों टांगें करके मेरे बूब्स को दोनों हाथों से जम के पकड़ लिया और फिर अपना लन्ड मेरे बूब्स के बीच में घुसा दिया और थूक लगा के लंड से बूब्स को चोदने लगे.

कमरे में चंदर भी नंगा बैठा अपना लंड हिलाता हुआ मेरा इंतज़ार कर रहा था उसका लंड तन्नाया हुआ खड़ा था, जैसे वो मेरी चूत का कई दिनों से इंतज़ार कर रहा हो.सनी लियोन के बीएफ दिखाएं: साहब अपना आपा खो बैठे और मुझे सोफे पर ही लिटा दिया, मेरे सर के नीचे चौकोर वाला तकिया लगा दिया.

मेरी दीदी मुझसे ऐसे चुदवा रही थीं कि शायद ही कोई पोर्न की हीरोईन अपने हीरो से चुदवाती होगी.तभी वो बोली कि आज वो घर से निकली ही इसलिए थी कि किसी ना किसी को ढूँढेगी, नहीं तो किसी जिगोलो की मदद लेगी.

बड़ी भाभी का सेक्सी वीडियो - सनी लियोन के बीएफ दिखाएं

भाभी ने बोला- ये क्या कर रहे थे? मैं तेरी भाभी हूँ, तेरी गर्लफ्रेंड नहीं.वो बोले साड़ी ही पहननी थी तो इंडिया में ही किसी तीर्थ स्थल पर चल लेते.

कुछ देर बाद मैंने उसको कुतिया बनाया और पीछे से उसकी चूत में लंड पेल दिया. सनी लियोन के बीएफ दिखाएं उसके ब्लाउज के हर एक बटन खुलने के साथ उसकी चुचियां मुझे और साफ दिखने लगतीं.

एक मिनट बाद वो थोड़ी संयत लग रही थी तो थोड़ा सा पीछे हो के मैंने वापस एक झटका मारा.

सनी लियोन के बीएफ दिखाएं?

मेरा लंड थोड़ा बड़ा और मोटा है तो हो सकता है कि शुरू में दर्द ज्यादा हो… लेकिन यह गारंटी है कि बाद में बहुत मजा आएगा. थोड़ी देर बाद दीदी अपने एक हाथ से अपने एक पैर को पकड़ कर फैलाने लगीं ताकि चुत थोड़ी और खुल जाए और दूसरे हाथ से दोबारा करेले को पकड़ सीत्कारियां लेते हुए उसको अपनी चुत में अन्दर बाहर पेलने लगीं ‘ओह फ़क… ओ माय गॉड… आह आह ओह…’थोड़ी ही देर में दीदी की हाथों की रफ़्तार मशीन की तरह बढ़ गई थी और दीदी चेयर की पीछे की ओर गर्दन झुकाये हुए चिल्लाते हुए अपनी चुत चोदे जा रही थीं. मैंने पूछा- तुम तो शादीशुदा होकर भी पति से दूर हो, तुम कैसे संभालती जवानी को?तो वह थोड़ा रूककर बोली- जवानी संभालने के लिए नहीं, लुटाने के लिए होती है और मैं मेरे हिसाब से लुटाती हूँ.

पर तभी मुझे ख़याल आया कि अभी उन दोनों को रंगे हाथ पकड़ता हूँ, पर मैंने सोचा मैं पकडूँगा और बाद में घर में ये बताऊंगा तो बहुत काम लोग मेरा यकीन करेंगे क्योंकि मेरी साली की छवि ही इतनी उजली थी कि हर कोई यही सोचता कि वो ये नहीं कर सकती. पांच से सात सुधा के साथ रसोई आदि का काम, सात से नौ अपने कम्प्यूटर पर प्रेक्टिस, नौ बजे डिनर, साढ़े नौ से सोने के टाइम तक बच्चों और सुधा के साथ गप-शप. दीदी ने मेरे बालों को पकड़ कर अपने चूचों पर दबाना शुरू कर दिया। अब मैंने नीचे खिसकते हुए दीदी को पेट पर चाटना किस करना शुरू किया, दीदी बार बार ‘स्स्स धीरे करो न आर्य… प्लीज स्स्स हल्के से…’ प्लीज बोल रही थी।मैंने दीदी की गोल नाभि में अपनी जीभ डाल कर घुमाना शुरू कर दिया.

फिर मैंने उन्हें घोड़ी बनाया और दोनों चूतड़ों को पकड़ कर फिर से उनकी चूत में लंड ठोकने लगा. अब वो मेरे मम्मों को दबाने लगा और मेरे निप्पलों को मुँह में भर भर कर पीने लगा. उसने मुझसे पूछा था कि तुम्हारे सारे कपड़े निकालने है या ऐसे ही सोती हो ना मेरी तरह?मैंने नशे में हाँ कह दिया.

वो ब्लैक ब्रा और पेंटी में मेरे सामने बिस्तर पर पड़ी थी और मैं रेड अंडरवियर में उसके सामने खड़ा था. मुझे उसे किसी और लड़के के साथ देखना पसंद नहीं था, चाहे वो उसका साथ पढ़ने वाला दोस्त ही क्यों न हो.

थोड़ी देर चूमा चाटी के बाद मैंने उसके टॉप में हाथ डाल कर बहन के चूचे दबाए, जिससे उसको और भी मजा आने लगा.

उस समय एक लड़का जो कि मुझसे उम्र में 4 साल छोटा था, हमेशा ही मेरे पास आता रहता था.

तभी मैंने परीक्षित को भी, जो मुझे किस कर रहे थे, उन्हें अपने से अलग किया और उनके भी लंड को सहलाने लगी. मैंने उसे ऐसे करने के लिए छोड़ दिया और कुछ देर बाद मैंने जाना कि कोई हल्की सी गर्म चीज मेरे लंड पर घूम रही है. वाह… क्या नशीला अहसास था वो… जैसे ही मैंने अपने जीभ को उसकी चुत के अन्दर बाहर करना शुरू किया, वो और ज्यादा सिसकारियां भरने लगी.

एक खिड़की किसी ने खींच कर खोल भी दी और हम दोनों को उसी चुदाई की हालत में देख कर बहुत जोर से जीजा को गाली देकर वो चिल्लाया, बोला- दरवाजा खोल गांडू शुक्ला!जीजा फटाक से डर के उठे, बोले- मकान मालिक है, साली चिल्लाकर गड़बड़ कर दी!और उठ खड़े हुए, जल्दी से सिर्फ अंडरवियर पहना. माफ़ी चाहता हूँ दोस्तो, मैं अपनी भावनाओं के आगे उस लड़की के बारे में बताना ही भूल गया. मैंने कहा- अब बोलती ही रहोगी या फिर कुछ तरक्की जैसा कुछ मजा भी दोगी?उसने कहा- बेटा तूने अभी मजा देखा ही क्या है.

माँ बेटे की xxx पोर्न वीडियो देख कर और सेक्स स्टोरी पढ़ कर मेरी मॉम से मेरा इस तरह का लगाव तो जवानी की दहलीज पर आते ही हो गया था.

उनके चेहरे के भाव लगातार एक्साइटमेंट में चेंज होते देख मुझे जोश आ गया. मैं- क्या?वो बोला- मैं चूत ऑपरेशन करके ऐसा बना दूँगा जैसे कि वो अभी तक किसी से चुदी ही नहीं हो, मगर इसमें एक लाख रुपए खर्च करने होंगे. अब मुझे भी शक हुआ क्योंकि मुझे मालूम था कि पंकज एक सेक्स एडिक्ट था.

तुम भी सोच लो अगर मेरी तरह से कुछ करने का इरादा हो तो पूरे पैसे दिलवा दूँगी और मज़ा तुम्हें ही मिलना है. हमें शाम को ट्रेन से जाना था तो हमने खाने का पूरा बंदोबस्त कर रखा था. अब आगे:पूजा को बड़ी भाभी ने छोटी भाभी को बातों में लगाने को बोला और मुझे अपने बेडरूम में ले आईं.

दोस्तो, आज जो बात मैं मॉम की चुदाई की सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हूँ, वो कोई स्टोरी नहीं है बल्कि मेरी जिन्दगी की सत्य घटना है.

सबसे पहले मैं अपने बारे में बता दूँ, मेरा नाम राज है और मैं जयपुर का रहने वाला हूँ. मैंने अपनी बेल्ट खोली और पैन्ट को थोड़ा नीचे किया और अंजलि को थोड़ा नीचे करके लन्ड उसके मुँह में दे दिया; अंजलि मेरा लन्ड जोर जोर से चूसने लगी.

सनी लियोन के बीएफ दिखाएं मेरी बहन ने एक नज़र मेरे लंड को देखा और वापस अपनी आँखें बंद करके लेटी रही. रोशनी की चूत की महक एकदम चमेली के फूल जैसी थी, मुझे वो रूम में अभी भी महसूस हो रही थी.

सनी लियोन के बीएफ दिखाएं यदि कोई दूसरा पुरुष मेरी पत्नी को वो सुख दे रहा है जिसकी वह अधिकारिणी है, तो एक प्यार करने वाले पति को इससे क्यों गुरेज होने लगा! और होना ही नहीं चाहिए, क्योंकि उसका तो कर्तव्य है कि उसकी पत्नी दुनिया का सारा सुख भोगे, नाना प्रकार के विभिन्न आकार प्रकार वाले लंडों का स्वाद चखे!!अचानक आर्थर ने अपना लंड बाहर निकाल लिया, और उसे अपनी मुट्ठी में भींच लिया. मैं उसे पढ़ाने बैठा तो बच्चे काफी शोर कर रहे थे, जिस वजह से पढ़ाई नहीं हो पा रही थी.

उनकी नज़र मेरी तरफ चली गई और उन्होंने अपनी साड़ी झट से नीचे करके कहा- तू यहां क्या कर रहा है?तो मैंने बोल दिया- मुझे लगा आप कुछ काम कर रही हो तो मदद करने आ गया था.

बीपी मूवी बीपी मूवी बीपी मूवी

जब भी मैं उसे टच करता, उसका चेहरा एकदम से फूल जाता था, मुझे ये सब बातें समझ में आने लगी, तब मैंने फ़ैसला किया कि अब इसके साथ मुझे आगे बढ़ना चाहिए. करीब दस मिनट लंड चूसने के बाद मैंने उनका मुँह लंड से हटाया और खड़ा होकर उनको अपनी गोद में उठा लिया. अब मैंने अंजलि को पिछली सीट के बीच वाले गैप में झुकाया और लन्ड उसकी चूत में डाल दिया, चूत बिल्कुल गीली थी, लन्ड बिना रुके अंदर चला गया और मैं धक्के लगाने लगा.

मैंने उनकी पेंटी निकाल कर अपनी एक उंगली उनकी चूत में डाल दी, तो वो तो एकदम पागल सी हो गईं. पर तभी मुझे ख्याल आया कि मैं भी अपनी साली को चोद सकता हूँ क्योंकि मेरे पास उसकी इस चुदाई का क्सक्सक्स वीडियो भी है. तो सोचिये कि दिन की हालत कैसी होगी।अब मुझे मेरे ऑफिस जाने के लिये सुबह जल्दी निकलना पड़ता है।ऐसे ही एक सुबह मैं अपने ऑफिस के लिए घर से निकला कि कुछ दूर जाने पर एक लड़की ने मुझे हाथ का इशारा देकर रूकने के लिये कहा। उस समय वो अपने मुंह को ढके हुयी थी।मैं उसके पास जाकर रूक गया.

वो एकदम से कामुक हो गयी, मैंने जूही को इशारा किया कि उसके मुंह में अपनी चूत रख दे.

मैं जीभ से प्रिया के रस-भरे उरोज़ चाटता, चूसता प्रिया की बालों रहित बगल में प्रिया के पसीने की मादक सुगंध लेता-लेता बगल की रेशमी त्वचा चूम रहा था. कुछ समय बाद दोनों एक साथ झड़ गए मैं खड़े खड़े ही उनको पकड़ कर निढाल हो गई, न पकड़ती तो गिर ही जाती. कामिनी बस आअह्ह्ह आअह अह ऊऊह ऊह ऊऊह्ह्ह करती रही और कमरे में उं दोनों की सिसकारियों के साथ ‘फिच फिच फिच फिच फिच’ की आवाज भी गूँज रही थी.

फिर जब पूरा पानी निकल गया तो मेरी टांगें और हाथ खोल कर बोला कि बाथरूम में जाकर सफाई कर लो, सुबह ऑफिस भी जाना है. नीला पानी के भीतर मुझे जकड़ती हुई बोली- तुम मुझे अपनी बांहों में भरकर मेरे ऊपर चढ़ जाओ. तब मुझे ये सब नहीं देख रहा था, मेरे ऊपर तो बस चोदने का भूत सवार था.

चाची मेरे लंड को बड़ी लालसा वासना से निहार कर बोलीं- सच में अब तुम बच्चे नहीं रहे… जवान हो गए हो. आह… मैं तो अब जैसे जन्नत में था, मेरी तो आँखें ही बंद होने लगीं और मुँह से हल्की हल्की आवाजें भी आने लगीं.

मैंने कहा- यार पंकज, मुझे आए हुए तीन दिन हो गए, पर कहीं घूमने नहीं गया घर पर अब बहुत बोरियत हो रही है. जब नाज़ की आंखें कामुकता से बंद होने लगी तो मैं और जूही चाय बिस्कुट के साथ बाहर आ गए, नाज़ आपने आप को संभाल कर बैठ गयी, मगर उसकी गीली सलवार साफ झलक रही थी. फिर मैंने लंड निकाल कर आंटी की फुद्दी पर थूक लगाया और लंड रख कर ज़ोर लगाया, लंड पूरा अन्दर चला गया.

उसकी बात सुनकर मेरा लंड फनफना गया कि लौंडिया खुद चुदने के लिए कह रही और मैं उसको न चोदूँ, ये तो सरासर बेइंसाफी है.

इस धक्के में मेरा आधे से ज्यादा लंड दीदी की गांड की गहराइयों में उतर गया. वो खुद की मुठ मारने वाली क्लिप देख कर गिड़ागिड़ाने लगा- मेमसाब मेरी शिकायत ना कीजिएगा. दोस्तो, मेरा नाम अखिल (बदला हुआ नाम) है, मैं तीन कॉलेज यानि महाविद्यालय का कर्ता धर्ता हूँ.

तभी अचानक ही मेरी कमर अपने आप ऊपर हो गई और मेरी चूत ने पानी निकाल दिया. अब मैंने अपना सीधा हाथ उसके टी-शर्ट के ऊपर ले गया और उसके मम्मों को हल्के से सहलाने लगा.

उसके बाद चिंटू ने परीक्षित को धक्का देकर अलग किया, यह देखकर मुझे हँसी आ गई और परीक्षित भी मुस्कुरा दिए. कुछ देर बाद मूवी में एक हॉट गाना आने लगा तो उसको भी कुछ कुछ होने लगा. फिर मां लेट गईं और उन्होंने अपनी टांगें पूरी तरह से खोल दीं, जिससे उन की चूत का नजारा साफ़ देखने लगा.

सेक्सी वीडियो बीपी सेक्सी

अचानक ही प्रिया जैसे होश में आयी और मेरी सख्त पकड़ से खुद को छुड़ा कर प्रिया ने मुझे ठीक अपने ऊपर, अपने आगोश में ले लिया और मेरे सर के बालों में अपनी उंगलियाँ फेरने लगी.

जिस तरह कुत्ते कुतिया को चोदते हैं, ठीक उसी तरह से वो मुझे पकर पकर पेल रहे थे. कमरे में चंदर भी नंगा बैठा अपना लंड हिलाता हुआ मेरा इंतज़ार कर रहा था उसका लंड तन्नाया हुआ खड़ा था, जैसे वो मेरी चूत का कई दिनों से इंतज़ार कर रहा हो. इसलिए मैंने अपने लिए एक सेपरेट फ़्लैट किराये पर लिया हुआ है, जो मेरे कालेज से लगभग 2 किमी दूर है.

कुछ देर के बाद उसने मुझे उठा कर मेरी पैंटी निकाल दी और बेड पे लिटा दिया और जुबान डाल डाल के मेरी बुर को चाटने लगा. वो मेरे कान में बोला कि सच में यार तेरी गांड बहुत टाइट और बड़ी मस्त है. सनी लियोन की एचडी बीएफदीदी अचानक मेरे दोनों ओर अपने पैर फैला कर बैठ गईं और मेरा लंड निकाल कर पूरा थूक से चिकना कर दिया.

उसने कहा- मैं अपने कपड़े निकाल दूँ?उसी नशे में मैंने कह दिया- हां निकाल दो, और मेरे भी निकाल देना, ये कुछ कसे से हैं. मेरे चाहने वाले तो मेरे बारे में जानते ही हैं कि मैं कितना मस्त हूँ.

मुझे आज गांड ही मरवानी है मगर तेरा लंड जोश में मेरी गांड फाड़ ने दे इसलिए चुत को ही और चौड़ी कर दे. वो बड़े ही खूबसूरत और भरे हुए जिस्म की मालकिन है, वो हमेशा ही सादे कपड़ों में रहने वाली लड़की है, बड़ी कंटीली लड़की है, एकदम गोल चेहरा, मस्त गुलाबी होंठ, पांच फीट दो इंच की हाईट, परफेक्ट गोल चूतड़, थोड़ा बाहर को निकला हुआ पेट, जो कि मुझे बहुत पसंद है. उनको माँ की इच्छा की कोई चिंता नहीं रहती है, या शायद वे इस मामले में कुछ भी नहीं कर पाते हैं.

आह… मेरी माँ मेरा लंड चूस रही थीं, मुझे जन्नत का अहसास होने लगा था. उस लड़के ने इस दौरान मेरी साली के चूतड़ों को सहलाना चालू कर दिया था, वो भी जैसे अब हवस में पागल हो गया था. फिर कुछ देर के बाद मैंने मैंने खुद को थोड़ा सा नीचे को मोड़ा ताकि मेरी रानी के मम्मे मेरे मुंह के पास आ जाएं.

किस करते टाइम हमारी जीभ काफ़ी अन्दर तक जाकर एक दूसरे को मजा दे रही थी.

तो ये घर आज शाम तक खाली कर देना।मैं तो डर सी गई, मैंने हाथ जोड़े और कहा- प्लीज़ कोई और सेवा बता दीजिए. क्योंकि वो बिस्तर से ही नहीं उठ सकती थीं। थोड़ी देर इधर-उधर की बातें की, जब तक मधु चाय-नाश्ता ले आई और हमारे पास बैठकर बातें करने लगी।थोड़ी देर बाद मैं बोला- मैं सफर से थक गया हूँ.

मैंने प्रिय के बाएं निप्पल को मुंह में ले कर चुमलाया, तत्काल प्रिया मेरे लिंग को अपनी योनि की ओर खींचने लगी. उनकी कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो मैंने उनकी गांड को दबाना चालू किया. और मैं अंजलि की तलाशी लेने का नाटक करने लगा और उसके पूरे बदन के कपड़ों के ऊपर से दबा दबा कर देखने लगा.

थोड़ी देर बाद दीदी अपने एक हाथ से अपने एक पैर को पकड़ कर फैलाने लगीं ताकि चुत थोड़ी और खुल जाए और दूसरे हाथ से दोबारा करेले को पकड़ सीत्कारियां लेते हुए उसको अपनी चुत में अन्दर बाहर पेलने लगीं ‘ओह फ़क… ओ माय गॉड… आह आह ओह…’थोड़ी ही देर में दीदी की हाथों की रफ़्तार मशीन की तरह बढ़ गई थी और दीदी चेयर की पीछे की ओर गर्दन झुकाये हुए चिल्लाते हुए अपनी चुत चोदे जा रही थीं. स्वाति बोली- क्या आप मुझे मेरे पसंद की चीज नहीं दिखाओगे?मैं- हाँ हाँ. फिर मैंने धीरे से उचका कर उसके कन्धों को हल्का सा नीचे को दबा दिया.

सनी लियोन के बीएफ दिखाएं मैंने आज पहली बार काव्या को अपने सामने जीती जागती देखा तो मैं मस्त हो गया. अब आगे…अब भाभी मेरे ऊपर आ गईं और मेरी छाती पर निकले खून को चाट गईं.

भाभी की चुदाई हिंदी ऑडियो

फिर 15 मिनट तक उनकी चूत को चोदते हुए उनकी चूत को अपने वीर्य से भर कर उनके ऊपर ही लेट गया. मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको मेरी ये देसी पोर्न कहानी बहुत पसंद आएगी. उन्होंने मुझको कालर से पकड़ लिया, एक ने मेरी बाइक वहाँ पोल एक खम्बे के साथ खड़ी करके लॉक कर दी और चाभी अपने पास रख ली और बोला- साले देख के नहीं चलता?मैंने भी कहा- मेरी चाभी दो!वो बोला- साले बहुत ज्यादा चर्बी चढ़ गई है?और उन्होंने मुझको अपनी गाड़ी में खींच के डाल दिया और गाड़ी आगे बढ़ा ली.

इतने में उसने मेरा लंड चूस चूस कर पूरा निचोड़ लिया और मैंने उसके मम्मों पर ही अपना लंड का रस गिरा दिया. चुदाई के बाद मैंने लौड़ा उसकी चूत में ही पड़ा रहने दिया और उसे चूमने लगा. जीजा साली की सेक्सी हिंदी वीडियोअगर मुझे कोई तकलीफ होती तो उनको तुरंत पता चल जाता था और उन्हें कुछ हो तो मुझे खबर मिल जाती थी.

जब वो मेरे खजाने को देख रहा था उसी वक्त मैं उसके लंड की तरफ भी तिरछी नज़र लगाए रही.

इतने में मेरे दोस्त का फ़ोन आ गया तो वो बाहर जाकर बात करने लगा तो भाभी ने मुझसे पूछा- तो आप भी इसी के जैसे ही खिलाड़ी हो या अनाड़ी हो?तो मैंने कहा- भाभी जी, अब मैं अपनी तारीफ खुद कैसे कर सकता हूँ!और हम हँसने लगे. मैंने कहा- ऐसे कैसे… सिर्फ़ नाम की घरवाली होती है, उसके साथ वो सब कैसे कर सकते हैं, जो बीवी के साथ करते हैं?तो उसने कहा कि इसके लिए हिम्मत होनी चाहिए.

दस मिनट तक मैं उसे किस करता रहा और इसी बीच मैंने धीरे से उसकी ब्रा खोल दी. इन दोनों के बाद अभी 2 दर्जन से ज़्यादा लड़के मेरी गांड मारने के लिए खड़े थे. मैं बोला- क्या करूँ?तो वो बोलीं- मैं इस कोने में कुछ खाली बोतल गिर गई हैं, मैं वो निकालने की कोशिश रही हूँ, लेकिन बाहर निकालने में दिक्कत हो रही है.

मेरी पत्नी ने बेटी होने के बाद जॉब छोड़ दिया था, पहले वो एक टेलीकॉम कंपनी में ऑफिस रिसेप्शन पर थी.

अंजलि कहने लगी- और जोर से धक्का लगाओ, मेरा निकलने वाला है!कुछ ही देर में अंजलि झड़ गयी लेकिन अभी मेरा नहीं निकला था तो मैं जोर जोर से धक्के मारता रहा. जिस समय नीला ने मेरे लंड को अपनी चुत में लिया था, उस वक्त उसकी एक तेज कराह भी निकली थी. उसने कहा- मुझे डर लग रहा है कुछ होगा तो नहीं?मैंने फिर कंडोम का पैकेट उठाया और उसको मेरे लंड पर लगाने को कहा तो उसने लंड को चूम कर उस पर कंडोम चढ़ा दिया.

बीपी सेक्सी फिल्म भेजोमैंने उसके चूचों को दबाते हुए मज़े लेने लगा तो वो कसमसा सी गई और सिसकारियां भरने लगी. वो अब उसकी चुत को जम कर चोदते थे और वो भी बहुत खुश नज़र आने लगी थी.

ભાભી ની ચૂદાઈ

उस एग्जाम में मुन्नालाल सर (मेरे ईको के टीचर) की ड्यूटी लग गई और जब सर सभी स्टूडेंट्स की चैकिंग कर रहे थे तो वे मेरे पास आए और मेरी चैकिंग करने लगे. मैं उनके घर जाता तोमेरी मौसी की बेटीऔर उसकी बहन मुझसे बहुत लिपट कर बहुत ख़ुशी जाहिर करती थीं. मैंने अपने होंठ भाभी की चुत पर लगाया जिससे भाभी एकदम से उछल सी गयी.

उसके पुष्ट स्तन मेरे सीने से दब गये और मैंने अपनी बाहों का घेरा उसके गिर्द कस दिया. उसने मुझे पीने के लिए एक शरबत दिया और बोली- डियर अब खुल कर सेक्सी वर्ड्स यूज करना सीख लो. ट्रेन के प्लेटफोर्म पर लगते ही हम अपनी कोच में चढ़े और कूपे में जा पहुंचे.

इस वक्त शराब का हल्का हल्का सुरूर चढ़ने लगा था और अब मुझे साली की नशीली आँखें थी लंड खड़ा करने पर मजबूर कर रही थीं. फिर मेरी तरफ गिलास बढ़ा कर बोले- लो पी लो… लंड लेने में आसानी रहेगी. चाहे कामऱज़ की वजह से प्रिया की योनि पहले से ही खूब चिकनी हो रही थी, तदापि चित टांगों के साथ योनि भेदन में प्रिया को बहुत दर्द होना था तो मैंने प्रिया के दोनों पैर मोड़ कर प्रिया के नितंबों से करीब एक फुट की दूरी पर रख दिए; इससे प्रिया की योनि की मांसपेशियाँ थोड़ी सी ढीली हो गयीं जिस से मुझे प्रिया की योनि में अपना लिंग प्रवेश करवाने में थोड़ी सुविधा होने वाली थी.

जैसे ही ब्रा खुली उसके मदमस्त दोनों कबूतरों को उछलते थिरकते देख कर मैं पागल ही हो गया और उन पर टूट पड़ा. वो दूसरे कमरे में जाकर अपना पजामा और कमीज़ डाल कर वापिस आया और बोला- गर्मी की वजह से मैं आराम से बैठा था.

यह बात आज से कुछ समय पूर्व की है, जब मैं बारहवीं कक्षा में था और महक ग्यारहवीं कक्षा में पढ़ रही थी.

तो क्या तुम मुझे माँ बनने का सुख दोगे?मैंने कहा कि इससे आपके घर वालों को शक नहीं हो जाएगा?उन्होंने कहा- नहीं होगा. देसी सेक्सी वीडियो गुजरातीमैंने उसकी तरफ देखा और कहा- अब क्या ऐसे ही पेल दूँ?उसने कहा- कंडोम नहीं पहनोगे?मैंने कहा- नहीं चाहिए… मुझे ऐसे ही करने दो न. बीएफ सेक्सी मोटा लंडमैंने भी अपने हाथों से उनके मम्मों को मसलना शुरू कर दिया और उनकी चूचियों के निप्पलों को मींजना शुरू कर दिया. दिव्या ने खुद से अपनी टाँगें चौड़ी की और मेरा लंड अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत पर लगाया और मुझे धक्का मारने के लिए कहा.

नशे में होने के बावजूद भी उसे बहुत मजा आ रहा था लेकिन उसे यह नहीं मालूम था कि बुर चाटने वाला उसका पति नहीं बल्कि उसके पति का दोस्त है।मुझे बहुत ही मजा आ रहा था, मैंने अगले ही पल उसकी जांघों के बीच अपने लिए जगह बना कर अपने लंड को उसकी बुर के मुहाने पर रख दिया और धीरे धीरे उसे अंदर डालने लगा.

मेरे पति मुझसे बहुत नाराज हुए, पर मेरी जिद के सामने किसी की नहीं चली और हम अलग हो गए. मैंने इक निःश्वास भरी- ठीक है प्रिया! जैसा तुम चाहती हो वैसा ही होगा. आआह आआह… स्सस्स…”उसने चूत के पास तक हाथ लगाया- यहाँ से होते हुए… यहाँ से होते हुए… यहाँ तक…चूत से टचिंग क्या हुई, मैंने तो गनगना गई.

मेरा लंड सटीक ललिताने पर लगा था और ललिता की चूत भी रस से रसीली थी, साला लंड एक बार में पूरा अन्दर घुसता चला गया. वो अपने खड़े लंड को सहला रहा था और अपना नंबर आने का इंतज़ार ही कर रहा था. फिर मैंने बैग में से व्हिस्की की बोतल निकाल ली और डिस्पोजेबल गिलास में बढ़िया सा पटियाला पैग बना के सिप करने लगा.

थ्री एक्स हिंदी में

आपके हब्बी की कितनी है?उसने कहा- हब्बी से दोस्ती की है या मुझसे की है? अगर उनसे की है तो आपको मैं उनका नम्बर दे देती हूँ. मैंने उन्हें टाइट हग किया और आदाब बोलकर स्टेशन की तरफ रवाना हो गया. कुछ देर बाद मैं उसके ऊपर चढ़ गया और कभी उसको किस करते हुए, उसकी चुचियां चूसते हुए उसको चोदने लगा.

मैं धीरे धीरे अपने हाथ को उनकी पीठ से सरकाते हुए उनके नितंब यानि गोल गोल चूतड़ों पर ले आया और उन्हें कस कर दबा दिया.

मैं अन्दर तेल डालता हूँ।मैंने वैसे ही किया। तेल मेरी गांड के अन्दर तक जाता हुआ मुझे फील हुआ।उसने बोतल साइड पर रख दी। फिर वो अपने लंड को मेरी गांड पर घिसने लगा.

जब जब तीन चार दिन की छुट्टियां होती थीं, आशीष हॉस्टल से घर आ जाता था. उन्हें इस बात का एहसास हो गया था, तो वो बोलीं- माफ करना, दरअसल मैं अपनी लीड ढूँढ रही थी. कुत्ता लड़की सेक्सी वीडियोमैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया और चूत के ऊपर रगड़ने लगा और अपना काम-रस उसकी चूत के ऊपर गिरा दिया उसने भी मेरे लंड रस को अपनी पूरी चुत पर मल लिया.

अब मुझे यकीन हो गया था कि लड़की पट चुकी है, बस मौका मिला तो काम बन ही जाएगा. कार पार्किंग से निकल कर आगे बढ़ा और उससे पूछा- अरेरा कॉलोनी में कहाँ जाएँगी?उसने अरेरा कॉलोनी का अपना मकान नम्बर बताते हुए कहा- आप चलिए, मैं बता दूँगी. तो उन्होंने पूछा- और शादी के बाद कितनी को शहीद किया?मैंने कहा- अब लड़कियों में मजा नहीं आता भाभी… अब तो बस आप जैसी कोई भाभी ही मिलती है.

वो बीच बीच में कामुक सिसकारियां ले रही थी- आह्ह्ह… उह्ह्ह… उम्… ओहह… राजा… ओह्ह्ह मेरे राजा… और करो जोर से करो!उसके बाद मैं धीरे धीरे उसके पेट की तरफ बढ़ने लगा और उसके पेट को, नाभि को और उसकी कमर के ऊपर वाले हिस्से को पूरा चाटने लगा और चूमने लगा. कुछ करो ना।मैंने कहा- मेरी जान अभी तो बहुत कुछ बचा है। आगे-आगे देखो क्या होता है। पूरी जिंदगी तुम ये दिन भूल नहीं पाओगी।बस फिर क्या था.

मैं खुद उस दिन बहुत हैरान था इस बात को लेकर… लेकिन जो उस दिन हुआ, वो मैंने लिख दिया.

मैं मुठ मारने में इतना खो गया कि मुझे पता ही नहीं चला मेरा पैर नीचे पड़े साबुन पर पड़ गया और मैं फिसल कर गिर गया. करीब 15-20 मिनट तक बारी बारी से उसके दोनों मम्मों को चूसता रहा और उसकी जींस के ऊपर से उसकी चुत को सहलाने लगा. मेरा लंड थोड़ा बड़ा और मोटा है तो हो सकता है कि शुरू में दर्द ज्यादा हो… लेकिन यह गारंटी है कि बाद में बहुत मजा आएगा.

चाइना का बीएफ अब मेरा फनफनाता लंड पूरी तरह से आजाद होकर हवा में लहराया और फिर उसने एक हाई जम्प लगा कर बहूरानी को जैसे सलाम ठोका, बहूरानी ने भी इस अभिवादन को स्वीकार करते हुए इसे प्यार से अपनी चूत पर टच किया और फिर पकड़ कर इसकी फोर-स्किन को पीछे करके टोपा को दबाने मसलने लगी, फिरलंड को जड़ के पास से पकड़ कर दबाया सहलाया साथ में अण्डों को भी दुलारा. तभी उनके जिस्म ने एक झटका सा खाया, मुँह से एक खुशी की किलकारी निकली और सेजल भाभी मेरे मेरे मुँह में झड़ने लगीं.

मैंने भी अपने हाथों से उनके मम्मों को मसलना शुरू कर दिया और उनकी चूचियों के निप्पलों को मींजना शुरू कर दिया. उसकी साड़ी खोलने के बाद उसने मेरे सामने ही मेरी वाइफ को पूरी नंगी कर दिया और बोला- वाह भाबी, आप तो बहुत हॉट माल हो. भाई साहब को छुट्टी नहीं मिली, जिस कारण भाभी कह कर गईं कि थोड़ा भाई साहब को देखती रहिएगा, अगर हो सके तो खाना बना कर बाई के हाथ भिजवा दीजियेगा.

राजस्थानी पोर्न वीडियो

कुछ देर बाद जब मैं उठा तो वो निढाल होकर आँखें बाद किये बिस्तर पर लेटी थी, उसके चेहरे पर दर्द और आनन्द के मिले जुले भाव थे. तभी बालू बोले- ऐसी भी क्या जिद है? चलो देखता हूं, कैसे अभी रह पाओगी बिना मेरा लोड़ा घुसवाये!मैं बोली- देख लो, आजमा लो, पागल तो मुझे कर ही दिया है!उसी समय फिर एक हाथ से मेरे नंगे बूब्स दबाने लगे, एक हाथ से चूत में अपनी उंगली डाल दी, बालू को मुझे तड़पाने में बहुत मजा आ रहा था. उसने अपने पर्स में से ट्रिपल फाइव सिगरेट की डिब्बी निकाली और मेरी तरफ बढ़ा कर बोली- सिगरेट जलाओ.

फिर मैं धीरे धीरे उसके पेट को चाटे गये नीचे की ओर सरका और उसकी लेगी को उसकी जांघों पर से सरका कर पूरा उतार दिया. मेरी भाभी का नाम ज्योति है, उनका रंग दूध की तरह गोरा है, हाइट में वो मेरे कान तक हैं.

एक दिन जब मैं ऑफिस जा रहा था तो सोचा कि निशा से पूछ लूँ कि शाम के लिए बाजार से कुछ चाहिए, तो मैं उसके घर गया.

रुक जाओ।लेकिन वो तो मज़े से मेरी सवारी कर रहा था, उसने अपनी थोड़ी स्पीड बढ़ा दी, मैंने बेडशीट कस कर पकड़ ली. वो मेरे ऊपर बैठ कर मेरे साथ सेक्स कर रही थी, इससे उसकी चूत और टाइट हो गई और मेरे लंड में भी दर्द होने लगा. परन्तु घर में उसकी माँ यानि मेरी सास रहेंगी। मेरी तो कुछ समझ में नहीं आ रहा.

अब उन चारों ने बारी बारी से मेरी गांड में उंगली डालना शुरू कर दिया. थोड़ी देर बाद उठकर हम दोनों बाथरूम में गए और वहाँ पर भी जमकर उसकी चुदाई की. ये मेरी फर्स्ट सेक्स स्टोरी है, उम्मीद करता हूँ कि आप सबको बहुत पसंद आएगी.

मैं बहुत खुश हुआ कि मुझे सील बंद चुत मिली हैमैं अब रूका और उसे किस करने लगा.

सनी लियोन के बीएफ दिखाएं: एक मिनट बाद जब आंटी बाहर आईं तब मैंने ध्यान से देखा कि वास्तव में आंटी कुछ परेशानी में दिख रही थीं. उनको आने में समय लग रहा था तो मम्मी ने मुझसे फोन करके कह दिया था कि कोई दिक्कत हो तो फोन कर लेना.

अब इस ऑफर में भैया के बॉस का मूड था वो आपको अगले और अंतिम भाग में जानने को मिलेगा. वो दोनों एक दूसरे में खो चुके थे पूरी तरह; कामिनी ने अपने जीभ बाहर निकाली, वो विवेक चूसने लगा, फिर उसने धीरे से कामिनी का बेबी डॉल उतार दिया, अब कामिनी का गोरा गोरा बदन सिर्फ लाल कलर की ब्रा और पेंटी में था. जब भाभी चलती हैं, तो मैं चोर नजरों से उनकी गांड को देखता रहता और सबकी नजरें बचा कर अपने लंड को सहला लेता.

भाभी ने मेरे फूलते लंड को एक पल के लिए देखा और अपने पल्लू को ढुलका कर मेरी तरफ झुक कर अपनी मारू जवानी के दीदार कराते हुए मुस्कुराने लगीं.

एक दिन मेरे पति अपने किसी पुराने दोस्त को खाने पर लाए, खूब बातें वगैरह हुईं, वो बहुत अमीर था. उन लोगों के आगे बढ़ते ही मैंने अपनी छाती उनकी पीठ पर सटाते हुए कस कर अपने बाहुपाश में जकड़ लिया, मेरी दोनों चूचियाँ उनकी पीठ से दब कर उन्मुक्त होने के लिए छटपटा रही थीं. यह सब नजारा नीलम अपनी आंखों से देख रही थी लेकिन नशे की वजह से उसे मजा आने लगा था और वह उन दोनों को नाचते हुए देखकर खिलखिला कर हंस रही थी।मैं समझ गया कि धीरे धीरे इस पर नशा का असर हो रहा है और यही मौका देखकर मैं उसका हाथ पकड़ कर डांस करने के लिए खड़ा कर दिया.