बीपी बीएफ देसी

छवि स्रोत,इंग्लिश बीपी वीडियो इंग्लिश बीपी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

रामलाल के सेक्सी वीडियो: बीपी बीएफ देसी, अब नीतू ने उसकी आग को और भड़का दिया था, मगर वो चुत नहीं चाटने वाली थी.

ओल्ड मैन गे सेक्स

!मैंने जल्द से उसके एक चूचे को अपने मुँह में भर लिया और उसे चुसकने लगा. सनी देओल की सेक्सउसने अच्छे से अपनी चूत की झांटें साफ़ कर रखी थी।मैं और गर्म हो गया और उसकी सफाचट चिकनी चूत देख कर… मैंने उसकी चुत को दो मिनट तक चूसा। वो मेरा सिर पकड़ कर बोल रही थी- आह विजय.

उसके मुंह से आह निकल गई और बोला- अब आगे बता क्या हुआ?मैंने कहा- रवि मेरे ऊपर गिरा हुआ था और मेरी टांगें उठाकर अपना लंड मेरी गांड पर रगड़ रहा था. भाई और बहन कीउसने अपना लंड ठीक किया पैन्ट के ऊपर से ही और मेघा की चूत जो पेंटी पहने होने के कारण छुपी हुई थी, नहीं तो शर्ट तो ऊपर हो गई थी.

मुझे कमरे की भरपूर रोशनी में पहली बार अनीता दीदी की चूत की झलक मिली, मेरे छोटे उस्ताद ने तुरंत उछल कर सलामी दी.बीपी बीएफ देसी: लेकिन वो मेरे समझाने पर जल्द मान भी गई और फिर मैंने देर न करते हुए लंड उसकी चुत में घुसा दिया.

एक दिन मैं रूपा के घर गया, तब फ़ूफा जी बाज़ार गए हुए थे और बुआ जी किचन में खाना बना रही थीं.‘तो मैं कब तुमसे प्यार नहीं करती बुद्धू?’ ऐसा कहकर भाभी ने मेरे गाल पर चुम्मा दे दिया और कहने लगी- अब तो मैं भी तुमसे बहुत प्यार करने लग गई यार … पर मिलन कैसे होगा, मुझे इसी बात का डर है.

सनी लियोन का सेक्सी वीडियो ओपन - बीपी बीएफ देसी

उसके साथ उसने मुझे एक मैचिंग की ब्लैक ट्रांसपेरेंट ब्रा-पैंटी भी दे दी.वो बार बार बात करते करते मेरे मम्मों को देखता था, मुझे थोड़ी शर्म आई.

’मैंने उसकी गर्दन पर किस करना शुरू किया और धीरे-धीरे नीचे आकर उसकी नाभि को चूसने लगा. बीपी बीएफ देसी बहू रानी मेरे लम्बे मोटे दीर्घाकार लंड की दीवानी हो चुकी थी तो मैं भी उसकी कसी हुई चूत का दास हो चुका था.

जब फ्लॉरा ने कपड़े बदल लिए वो वहां से चला गया और सोचने लगा कि फ्लॉरा इतनी भी छोटी नहीं है.

बीपी बीएफ देसी?

मैंने फिर पूछा- तुम अपना वायदा खुद तोड़ रही हो?वह बोली- आज जान भी ले लोगे तो वो भी माफ़, अब जल्दी से अंदर डालो. मुझे जॉब के सिलसिले में कई बार बाहर जाना पड़ता है तो एक बार करीब एक वर्ष पहले मैं मध्यप्रदेश के एक छोटे से शहर नीमच 15 दिन के लिये गया. सविता के विवाह के समय उनकी कुछ अन्तरंग सहेलियां मजाक कर रही थीं कि सविता जैसी लड़की को एक लंड से कैसे संतुष्टि मिलेगी.

अब मुझे समझ में आ चुका था कि आज मुझे कोई जवान मर्द नहीं मिलेगा और मेरी लंड की प्यास अब नहीं बुझेगी. फ्लॉरा- जी भाई कहो क्या बात है?जॉन- तुझे ये बड़ी वाली लॉलीपॉप अच्छी लगती है ना. उसके पति नॉर्वे में सर्विस करते हैं और साल में 8-10 दिन के लिए आते हैं.

मैं ऊपर आ जाता हूँ।भाभी उठकर बिस्तर पर लेट गईं और मैंने उनके ऊपर आकर अपना लंड उनकी चुत में पेल दिया. [emailprotected]आप मुझे FB पर भी कॉंटॅक्ट कर सकते हैं, मेरा FB आई डी है pream. डांस फ्लोर पर मटकाने से लेकर ड्रिंक्स की पूरी मस्ती लेकर दोनों 10 बजे पब से निकली.

अब आगे हम लोग सुमन की तरफ चलते हैं जहां बाप बेटी सेक्स का खेल चल रहा है. वैसे ही अपने हाथ उनके चूचों पे रख कर दबाने लगा तो वो दूर हट गईं और बोलीं- आज नहीं आज तेरे चाचा बाहर ही हैं.

क्या तुम रात में इसकी देखभाल के लिए रुक सकते हो? रात में तुम रुक जाना और फिर सुबह मैं आ जाऊंगा.

थोड़ी देर मैं उन्होंने रेजर लाकर मेरी प्यारी सी मुनिया का मुंडन कर दिया.

करीब 10 बजे मैंने कहा- मंजीत, क्या हम चलें?वो उठ कर खड़ी हो गई- चलो जी, आपको भी जन्नत की सैर करवा लाऊं. अब मैं अपनी सुन्दर बीवी की कमर के पीछे कुछ असामान्य पोज में लेटा हुआमेरी बीवी की गांडमारने में लगा हुआ था, जबकि उसकी योनि में एंड्रयू का विकराल लंड फचर-2 की आवाज के साथ अन्दर बाहर हो रहा था. तू भी सिंगल है और वो भी, सो मैंने लगे हाथ उसको रिक्वेस्ट सेंड कर दी.

मुझसे रह नहीं गया और मैं ऋतु की जांघों पे चाटने लगा और धीरे धीरे उसकी चूत पर मुँह ले गया. मैंने देखा आज मेरी चुत पापा के लंड का पानी पीकर बहुत सुन्दर लग रही थी. लेकिन घर में जवान बीवी हो तो और शादी भी नई-नई थी तो मजे ही कुछ और थे.

भगवान खुद यही चाहता है कि आज तुम खुलकर जी लो ताकि फिर कभी पछतावा ना हो कि ग्रुप सेक्स का मौका मिला था मगर मैंने गंवा दिया.

ऋतु ने पूछा- कैसा लगा?पूजा बोली- मजेदार… काफी नर्म और गर्म है ये तो… मुझे नहीं लगता ये जल्दी पहले जैसा कड़ा हो सकेगा. मैं सोने की कोशिश कर रही थी पर अब नींद नहीं आ रही थी और मूवी वाले दिन की बातें याद आने लगी. चलो न प्लीज!”अच्छा चलो!”हाय यार, तुम्हारी गांड चलते टाइम क्या मस्त लग रही है! उम्म उम्म्म!”अरे गांड पर पप्पी ले रहे हो… आआअ स्सस्सआआ!”ये क्या, तुमने सारे कपड़े उतार दिए? नंगे ही चलोगे मेरे कमरे में?”जब चोदना है तो कपड़े उतार कर ही चोदूँगा न… तो देर कैसी अब?”अच्छा बाबा चलो, मेरे भूखे मन का बहुत फायदा उठा रहे हो आप!”वो तो उठा ही रहा हूँ.

तभी भाभी ने अपनी चूचियां हिलाईं तो मैंने बाकी की डेरी मिल्क उनके बड़े मम्मों पर रगड़ दी. फिर उसने म्यूजिक सिस्टम चालू किया और एक इंग्लिश गाना लगाकर मुझसे डांस करने को बोला. भाभी गांड मटकाते हुए किचन में गईं और अचानक मुझे उनके गिरने की आवाज़ आई.

उसकी बुर पूरी गीली हो रही थी और लंड को योनि पर रगड़ने से लंड गीला हो गया.

अब सुमन फिर से लंड पर उंगली घुमा रही थी और लंड था कि बस अकड़े जा रहा था. हमने स्थिति को समझ कर अपने लंड मुंह से बाहर निकाल लिए और मेरी बीवी ने कृतज्ञता स्वरुप अपनी नर्म-गुलाबी जीभ को नुकीला कर उनके टोपों को चाटना जारी रखा.

बीपी बीएफ देसी मामाजी की किचन वाली बात सोच कर मैं मुस्कराने सी लगी, खुश सी रहने लगी. अभी थोड़ी देर पहले जो हम दोनों के बीच हुआ उससे उसकी चूत बहने लगी थीं और मैं जानता था कि बस एक हथोड़ा और… और फिर इसकी चढ़ाई पक्की है.

बीपी बीएफ देसी बहुत दोस्तो को शुरू से लगता था कि गोपाल और मोना का सुमन से कोई रिश्ता होगा. मोटे अंगूर के दाने के जैसे निप्पल एकदम से नर्म और मुलायम थे जिनमें दूध भरा हुआ था.

”मैं जान गया कि भाभी को जल्दी ही चोदना पड़ेगा क्यूंकि उसकी ननद के आने का वक्त हो चला था…भाभी ने अपने हाथ से अपनी नाईटी को ऊपर किया.

हिंदी देहाती बीएफ सेक्सी फिल्म

घर में अन्दर तो आ जाओ।मैंने एक कातिल मुस्कुराहट दी और मैं अन्दर गया और भाभी से पूछा- आपके घर में कोई नहीं रहता क्या?तो उन्होंने कहा- मेरे पति बंगलोर में रहते हैं, वे महीने में एक बार आते हैं और महीने भर मैं सेक्स से भूखी रह कर तड़पती रहती हूँ।मैं- कोई बात नहीं अब आपको और नहीं तड़पना पड़ेगा. उसके बाद हम दोनों फिर एक दूसरे में खो गए, कभी मैं उसको गले पर चाटता कभी वह मेरी छातियों को. शादी में पहुँचने पर सविता भाभी अपनी सहेली ममता से मिलीं और उसे बधाई दी.

उन्होंने फ्लॉरा की कमर को कस कर पकड़ा और दे दनादन गांड की ठुकाई शुरू कर दी. गुलशन- अरे बाहर क्यों? हम दोनों साथ मिलकर बनाते हैं ना, बात भी होती रहेगी और परांठे भी बन जाएँगे. वह मेरे सीने से लग गई और बोली- पहली बार किसी गैर मर्द के सामने नंगी हुई हूँ, तो अब क्या प्यासी ही लौटाओगे?तभी रूबी अंदर आ गई और बोली- अपने रिस्क पर अंदर लेना, मेरी चीखें निकल गईं थीं.

चन्दन ने उनकी कमर को थाम लिया तो संगीता ने अपनी बांहें चन्दन के गले में डाल दीं.

इतनी बात बताने के बाद उस आदमी ने हम सभी को एक किनारे खड़ा होने के लिये बोला, जब हम सभी एक किनारे खड़े हो गये तो वही पहलवान टाईप के दिखने वाले आदमियों और उन लड़कियों ने कुर्सियों को बीच से हटाकर साईड पर लगा दिया और फिर हमसे बैठने के लिये बोला गया. मेरे प्यारे साथियो, आप मुझे मेरी इसबाप बेटी सेक्स कहानीपर कमेंट्स कर सकते हैं. फिर मैंने उसके एक बूब को मुँह में डाल लिया और वो मदहोश हुए जा रही थी…फिर उसने अपना हाथ पैन्ट के ऊपर मेरे लंड पर रख दिया और लंड को सहलाने लगी, उसने मुझसे कहा- मुझे आपका देखना है.

काश तू रोज ऐसे ही सुबह सुबह मेरे लंड को शांत कर दिया करे तो कितना मजा आए. थोड़ी देर बाद उसमें थोड़ी हिम्मत आई और उसने अपना हाथ मेरे हाथ पर रख दिया. अपनी बीवी को दो-2 मोटे लंड को इकट्ठे चूसता देख मैं तो पागलपन की हद तक उत्तेजित हो उठा था! मैंने न सिर्फ अपने धक्कों कि गति बढ़ा दी थी, इसके साथ-2 मैं नताशा के क्लिट पर भी समय-2 पर अपने उत्तेजित लंड के टोपे से चपत लगाने लगा था.

मेरा लंड अब तन चुका था, उसे अब भूख लग चुकी थी, चूत की भूख!मैंने अपने हाथों को उसकी गांड की दरार से सरका कर उसकी चूत में सहला दिया. मैंने रजनी के चूचों को कस कर दबाया और उसके होठों पर एक मस्त किस किया.

मैं आपके सामने ऐसे नंगी पड़ी हूँ छी: नहीं भाई हमने ये सही नहीं किया. क्या कर रहे हो? दूध कपड़े से छान कर पी रहे हो क्या?हाँ जानू!”मैं अब चूत के चारों और पजामे के ऊपर से ही किस कर रहा था. जहाँ पर मेरी ट्यूशन थी, वहीं वैशाली भी ट्यूशन के लिए आती थी और एक गली छोड़ कर उसका घर था.

सजा के बाद बुर की चुदाई का मजा-1स्मृति की बात सुन कर तो मेरी गांड फट गई… हवस गायब हो गई.

मैं उनके पेट पर किस करते हुए और मम्मों को मसलते हुए धीरे-धीरे उनकी पैंटी तक पहुँच गया. लेकिन उधर एंड्रयू से सब्र नहीं हुआ, जब मैं वाइफ की गांड के छेद को देख रहा था, तो उसने अपना हैवी लंड रूसी लड़की की गुलाबी, बालरहित चूत में घुसेड़ दिया. मैंने उसकी तरफ देखा तो वो नजदीक आकर कुछ बोला मगर म्यूजिक इतना तेज था कि मैं कुछ सुन नहीं पाई.

भाभी की छातियाँ उनके सांस के साथ ऊपर नीचे हो रहीं थीं और साथ ही मेरे लण्ड में भी कसाव आना शुरू हो गया था. ‘इन्हीं होठों ने मेरे लंड को न जाने कितनी बार चूसा है, चूमा है मैंने मन ही मन सोचा.

फ्लॉरा ने उसका तना हुआ लंड बाहर निकाल लिया और अपने होंठों में दबा कर ऐसी चुसाई शुरू की कि अतुल पागल हो गया- सस्स नहीं. दाएं हाथ से उसने मेरी पैंट टहोक कर उसकी जिप खोलते हुए मेरा खड़ा लंड स्वतन्त्र कर दिया. एक बार हम भारत आये तो हम एयरपोर्ट पर उतरे तो मामा जी गाड़ी लेकर बाहर खड़े थे.

शादीशुदा औरतों की बीएफ

कहते हैं कि जब भगवान दयालु हो तो जो आपके मन में हो, सब आपको मिल जाता है.

कुछ मिनट बाद मैं झड़ने को आया तो मैं बोला- मेरा होने वाला है, कहाँ निकालूँ?वो बोली- मुझे तुम्हारा रस पीना है. जैसे ही मामा का हाथ मेरी चूत पर गया, मेरी चिकनी चूत पाकर मामा की आँखों में एक चमक सी आ गई और मुझसे पूछे- चुत के बाल कहाँ गए?यही सरप्राइज था. अब मुझे उनके चूचे छूने में शर्म आती थी और वो भी अब मुझे उतना नहीं चिपकाती थीं.

कुछ देर में एंड्रयू भी मेरी बगल में आकर खड़ा हो गया, और मुझे वाइफ का मुंह उसके साथ शेयर करना पड़ा. कोमल- हेलो, बोलो जमीला डार्लिंग क्या कर रही हो?जमीला- कुछ नहीं भाभी, बस नंगी हूँ और चूत चटवा रही हूँ. इंग्लिश ब्लू पिक्चर इंग्लिशचाची के साथ होम सेक्स की कहानी में इतना ही दोस्तों, मैंने और भी कई औरतों और लड़कियों को चोदा, पर वो सब अगली कहानी में बताउंगा.

रोहन को वापस बुला मैं और सरिता एक दूसरे कोने की तरफ चलने लगे जिस तरफ लोग बहुत कम थे. वो बदल बदल कर चोदते रहे और ऐसी ज़बरदस्त चुदाई के आगे फ्लॉरा फिर ढेर हो गई.

रुचिका और नेहा ने सभी को काफी सर्व की और खुद भी काफी का कप लेकर हमारे बीच आकर बैठ गईं, सुलेखा को मैंने पहले ही अपने पास बिठा लिया था जब हम अरमान को छेड़ रहे थे, तो हमें देख कर नेहा बोली- ओह इधर ये जनाब जी, फिर सुलेखा को पास लिए बैठे हैं. महफ़िल के बाद डिनर पर हम बैठे तो शहज़ाद सर ने अपनी कुर्सी मेरे साथ रखी ताकि कोई न कोई बात होती रहे. मैंने उन्हें तसल्ली दी- पण्डित जी, अगर आप सोच रहे हैं कि मैं आप पर नाराज़ हूँ, तो ऐसा बिल्कुल नहीं है.

फिर मैंने झट से अपने लंड को मामी की चूत की फांकों में फंसा कर एक तगड़े झटके से घुसेड़ डाला. वो मुझसे चुद कर मजा ले चुकी थी और अब अपने मकान मालिक की बहु को चुदाई का मजा दिलवाने की फिराक में है. भाभी एकदम सेक्सी पोज़ में दूध हिला कर बोलीं- जानू, इट्स फॉर अस फॉर रिमेंबरिंग दिस फकिंग.

मेरे मौसाजी दुकान चले गए थे तो मैं मौका देख कर घर आ गया और उसे चोदने का प्लान बना लिया.

थक गई होगी।सुमन- पापा एक बात कहनी थी आपसे।गुलशन- हाँ कहो बेटी क्या बात है?सुमन- पापा वो सब ड्रेस तो मैंने आपकेदोस्त की बेटीके हिसाब से लिए है, वो लन्दन से आई है ये सोच कर मैंने इसमें कुछ ज़्यादा ही मॉर्डन ड्रेस ले लिए हैं।गुलशन- अरे तो क्या हुआ. लेकिन मैंने उसकी परवाह ना करते हुए एक और ज़ोर का धक्का दिया और पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया.

वह बोली- कहाँ?मैंने कहा- ट्रेन आने में अभी वक्त है, चलिए थोड़ा जहाँ कोई ना हो वहाँ चलते हैं. उसकी चूत में से एक परिचित विशिष्ट गंध आ रही थी जो मुझे हमेशा अच्छी लगती है. एक दिन बातों-बातों में चाची ने मुझसे मेरे बॉयफ्रेंड के बारे में पूछा, पहले तो में शर्मा गई लेकिन चाची के पूछने पर मैंने उन्हें अपने एक दोस्त के बारे में बता दिया.

मुझे उम्मीद है कि मेरी इस कहानी को लड़कियां और भाभियाँ जरूर पसंद करेंगे… और दोस्तों का क्या है वो तो चुत के नाम पर वैसे ही चोदने के लिए लंड खड़ा कर लेते हैं. उसने अपना नाम अवनी बताया और उसकी उम्र 28 के करीब होगी, उसकी फिगर 34-28-36 थी, वो दिखने में हॉट एंड सेक्सी लग रही थी. और मैंने उसकी पजामी का नाड़ा खोल दिया, उसने रेड कलर की कच्छी पहनी हुई थी, क्या मस्त लग रही थी.

बीपी बीएफ देसी मैं उसे किस करने लगा और उसके बूब्स सहलाने लगा जिससे उसे थोड़ा अच्छा लगने लगा और उसका थोड़ा दर्द कम हुआ. दो दो स्टूडेंट को मिल के प्रॅक्टीकल करना होता था, वो जान बूझ कर मेरे साथ ही रहती थी.

सेक्सी दे सेक्सी बीएफ

कुछ दिन हुये, हम सब दोस्त बैठे पेग शेग लगा रहे थे कि तभी एक दोस्त ने कहा- यार आज मौसम बड़ा अच्छा, दारू पीने का भी बहुत मज़ा आ रहा है, ऐसे में अगर साथ में एक रंडी चोदने को मिल जाए, तो मज़ा और भी दुगना चौगुना हो जाए. थोड़ी देर बाद मामी दूध पिलाते हुए ही सो गईं पर उनके ब्लाउज से चूचे बाहर ही निकले हुए थे. मैं सुमन भाभी के पांव और जांघ को चाटते हुए उनकी चूत के करीब आ गया और फिर सुमन भाभी के दोनों पैरों को फैला कर सुमन भाभी की चूत को अपनी जीभ से छेड़ने लगा और एक हाथ की उंगली से उनकी चूत के दाने को मसलने लगा.

‘तिवारी जी, कम ओन, एक दिन के लिए क्या आप अंगूरीजी को नहीं पेलेंगे तो कोई फर्क पड़ेगा? वैसे भी अंगूरीजी तो आप के पास ही रहेंगी, आप जब चाहे उनको पेल सकते हैं, उससे प्यार कर सकते हैं, लेकिन प्रिया? प्रिया तो कल शाम को ही चली जाएगी, क्या आप एक दिन मेरे लिए इतनी सी कुर्बानी नहीं दे सकते? आपको मेरी कसम आप मना नहीं करेंगे. थोड़ी देर बाद रिया आई, उसने जोर से कहा- लव यू निकी डार्लिंग! तुम्हारी वजह से मैं तो जन्नत में आ गयी यार!मैंने भी उसे ख़ुशी ख़ुशी गले लगा लिया. डीजे सेक्सी गानेमैंने उसे उठाया और उसने मेरी कमर के चारों तरफ अपने पैरों को क्रॉस करके लपेट लिए.

भले ही अनजाने में वो मुझे अपना पति समझ कर पूरी नंगी होकर मेरा लंड चूस चूस कर चाट चाट कर मुझे अपनी चूत मारने को उकसा रही थी.

अनुराधा- उम्म्ह… अहह… हय… याह…और फिर वैसा करते ही मैंने उसकी स्कर्ट को खींच कर उसके जिस्म से अलग कर दिया. वैसे तो नीतू का मन मोना की चुत चाटने का नहीं था, मगर मोना ने उसको एकदम चुत से चिपका रखा था और दूसरी तरफ़ खुद उसकी चुत को कसके चूस रही थी.

फिर उसने मुझे बिठाया और मेरे मेरे गाउन की बेल्ट खोल कर उसे उतार दिया. इस रात की सुबह नहीं-1कहानी के पहले भाग में आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपनी बुआ और भाभी को अजनबी मर्दों से चुदवाते देखा. क्यों मेरी जिंदगी बर्बाद की आपने?गुलशन- वो नाटक तेरी माँ को दिखाने के लिए था ताकि उसको शक ना हो मगर मैं करता भी क्या? तुम्हारी माँ शुरू से ऐसी ही थी.

उसने लंड सहलाते हुए मुझे इशारा किया, तो मैं बिकनी उठा कर वॉशरूम में जाने लगी.

मैं बड़े मनोयोग से उनकी मालिश कर रहा था और अपने लंड को उनके चूतड़ों से रगड़ रहा था. उसने कब अपनी जीभ मेरे मुंह में धकेल दी, पता ही नहीं चला, मैं उसे चूसता रहा और फिर दोनों बूब्स दबाता मसलता रहा. मैंने देखा कि चाची एकदम नंगी होकर नहाती थीं और बार-बार अपनी चूचियां और चुत को रगड़ कर धोती थीं.

अमरीश पुरी का भाई कौन हैमैंने शहज़ाद की बनियान उतार दी और उसके अंडरवियर से लंड को बाहर निकाल कर धीरे धीरे उसके साथ खेलने लगी. वो तो गोरे-गोरे सॉफ्ट गेंद की तरह थे। मैं उन मम्मों को बड़ी बेताबी से चूस रहा था।कोई 5 मिनट के बाद उसने बोला- सिर्फ़ तुम ही चूसते रहोगे या मुझे भी लॉलीपॉप चूसने का मौका दोगे?मैं उसकी बात समझते हुए उठा और उसने मेरे सारे कपड़े उतार कर मेरा 7 इंच का लौड़ा अपने हाथ में ले लिया।उसने बोला- अरे वाह.

बीएफ जी वीडियो

मैंने एक सिगरेट सुलगते हुए कहा- दोस्तो, माफ़ करना, हमने आप सबसे एक बात छुपाई. सुमन- क्या बात है दीदी, आज आप इतनी जल्दी बाहर निकल आईं, सब ठीक तो है ना?टीना- अरे हाँ यार, सब ठीक है, शाम को संजय का फ़ोन आया था, उसने जल्दी आने को कहा था. तभी तेज हवा के कारण अधखुली खिड़की का पल्ला धाड़ से खुला और बंद हो गया.

काका ने उसकीचुत का भोसड़ाबना दिया था अगर अभी वो गोपाल से चुदवाती तो उसको पता लग जाता और दूसरी टेंशन साधु वाली बात की थी. फच फच की आवाज़ से गूँज रहा था।इस धकापेल चुदाई से हम दोनों ही पसीने से भीग गए थे। वो भी मेरी बॉडी के पसीन से लथपथ हो गई थी। मैंने उसको अपने ऊपर लिटा कर चोदना स्टार्ट किया. मेरी एक कहानी पढ़कर मुझे मुंबई के एक 18 साल के लड़के का मैसेज आया उसने मुझे फेसबुक पर अपना दोस्त बनाया और मुझसे बात करने लगा.

उसकी क्रीम कलर की पैंटी पूरी तरह ट्रांसपेरेंट हो गई थी और मुझे उसकी झांटें साफ़ दिख रही थींअनुराधा- भैया. एक दिन मैं कमरे में अकेला बैठा था अचानक से मेरे फोन की बेल बजी और एक भाभी मुझसे मिलने के लिए बोली. मेरा लंड मेरीबहन की गांडके नीचे झूल रहा था और वो मेरे निपल्स को चूस रही थी… मैं तो जैसे जन्नत में था.

मैं मामा से बोली- एक बात पूछूँ?मामा बोले- हाँ पूछो?मैं बोली- आपका लंड इतना ज्यादा और इतनी ज्यादा गर्म पानी कैसे छोड़ता है?तो मामा बोले- पहली बार मैंने चुदाई की है ना. तो मैंने कहा- फिर मैं दूध कैसे पीऊंगा?बोली- सिर्फ़ ऊंचा करके कर लो.

मेरा हाथ उसकी सलवार में डलते ही उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और कहा- नहीं ये नहींईई प्लीज.

पर कुछ ही पलों बाद जब मैं अपना पेन लेने वापस अन्दर गया, तो देखा कि चाची ऊपर से एकदम नंगी थीं. करीना कपूर xxऔर अगर उन्होंने हमें पैसे देकर खरीद लिया तो रात भर वहशी बन के नोचेंगे सब हमें! हम नहीं जाएंगी, चल वापिस चल!मगर रिया टस से मस ना हुई, उसने कहा – ठीक है ना यार, जिंदगी में एक बार वेश्या बनना भी मंजूर है. क्या की सेक्सी वीडियोऔर अब तो वे मुझे बेडरूम तक भी जाने नहीं दे रही थी। वहीं डाइनिंग हाल में सोफे पर उन्होंने मुझे बैठने को कहा. जॉन अब सारा दिन यही सोचता रहता कि कैसे इसे पटाऊं और इसकी कमसिन जवानी को मसलूँ.

सब मेरी जिस्म का गुणगान कर रहे थे, कोई कह रहा था- साली की गांड एकदम कसी है.

नीलम की माँ ने भी अपनी बेटी के इस भाई बहन के रिश्ते का जोर शोर से एलान किया था. शीघ्र ही आपको अपनी अगली कथा प्रेषित करुँगी जिसमे पण्डित जी ने मेरे गुदामैथुन किया था. अब मेरी हिम्मत भी जवाब दे चुकी थी, इससे ज्यादा दर्द अब मैं किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं कर सकता था इसलिए मैंने उससे कहा- अब तो चाहे कुछ भी हो जाये लंड इससे ज्यादा अंदर नहीं ले पाऊँगा.

जब अनीता वापस आती है तो देखती है कि तिवारी अपने हाथों से अपने खड़े लंड को ठीक कर रहा होता है, वो खिलखिला उठती है और तिवारी की बगल में एकदम सट कर बैठ जाती है. तो एक शाम पापा ने कहा कि सुमि क्या तुमने कभी ब्लू फिल्म देखी है?मैंने कहा- ब्लू फिल्म? ये क्या होता है?पापा ने बताया कि ब्लू फिल्मों में लौंडा लौंडिया को चुदाई करते हुआ दिखाते हैं. दोस्तो, यह कहानी भी काल्पनिक है जो केवल आप लोंगो के मनोरंजन के लिये ही है.

बीएफ वीडियो चलने वाला हिंदी

थोड़ी देर तक बैंगन को मैंने चूत के अन्दर ही घुसे रहने दिया और फिर से वीडियो देखने लगी. पहली मीटिंग में फोर्मल बातें हुई जैसे क्या करते हो और ऐसा कुछ!वो एक अच्छी हाइट और एवरेज बॉडी की थी, मैंने उसको मूवी के लिए पूछा पर उसने मना कर दिया. हालांकि मुझे मिडल बर्थ मिली जो मुझे अच्छी नहीं लगती लेकिन अदिति बहूरानी से पुनर्मिलन में इन छोटी मोटी परेशानियों से कोई फर्क नहीं, अगर जनरल क्लास में भी जाना पड़ता तब भी मैं एक पैर पर खड़े होकर जाने को तैयार था.

फिर मैंने अपने दोनों हाथ उसके कंधे पे रखे और धीरे से उसे बिस्तर पे लिटा दिया.

कुछ देर छेदों के साथ खेलने के उपरांत चंगेज़ ने रुस्लान को प्रेमिका का छोटा छेद सौंप दिया और रुस्लान घुटनों के बल लेट चुकी अभिनेत्री के चूतड़ों के ऊपर खड़ा होकर उसकी गांड मारने लगा.

तो ये बात तुम कैसे कह सकती हो?फ्लॉरा- व्ववो यार ये तो कॉमन सी बात है. गुलशन जी बाहर आए और सुमन को ऊपर से नीचे तक गंदी नज़रों से देखते हुए सुमन के खाना बनाने के सवाल पर बोले- अपने पापा का बड़ा ख्याल है तुझे. योनि के बारे में बताइएअब आगे:अब मेरे पास कोई दूसरा चारा भी नहीं था मुझमें तो लंड लेने की आग सी लगी हुई थी और अब इतनी मुश्किल से ये जवान लंड हाथ आया था इसे मैं कैसे छोड़ सकता था.

जॉन धीरे से बिस्तर पे आया और अपना लंड पैन्ट से निकाल कर फ्लॉरा के होंठों पे रगड़ने लगा. फिर कुछ दिन बाद में मेरी बुर में उंगली डालती थी, लेकिन मेरी आग शांत नहीं होती थी. संजय समझ गया कि ये ठंडी हो गई है, तो उसने अपनी रफ़्तार कम कर दी और पूजा के होंठ चूसने लगा.

कभी बदन अकड़ सा जाता क्योंकि सेक्स किये बिना मुझे 2 महीने से ज्यादा समय हो चुका था. इस बार वह अपनी आवाज रोक ना पाई ‘आअह्ह्ह्ह ह्ह्ह्ह माँ, धीरे डालो थोड़ा… अह्ह्ह्ह!’लेकिन मैं तो चाहता था कि वह कुतिया की तरह चीखे ताकि उसका बेटा ऊपर सुन सके किउसकी माँ कैसे चुद रही है.

संजय और वीरू का तो बड़ा मन था कि सुबह सुबह एक राउंड और हो जाए मगर उनकी फ्लाइट में टाइम कम बचा था इसलिए टीना ने मना कर दिया.

फिर मैंने पूछा- मौसी एक बात बताओ, तुम घर का इतना काम भी करती हो, सब से प्यार से बात भी करती हो. टीना ने जब गौर किया और संजय को टोका तो संजय झेंप गया और उसने जल्दी से बात घुमा दी. एक दिन लवली के घर पर कोई नहीं था। सारे लोग किसी रिलेटिव के शादी में गए हुए थे और एग्जाम नजदीक थे, लवली नहीं गई थी। इस दौरान मैं उसके घर पर पढ़ने जाता ही था।उस दिन पढ़ते-पढ़ते काफी रात हो गई थी.

कब सेक्सी पैंटी उतरते ही मैंने सुमन भाभी के पांव को चाटने लगा और धीरे-धीरे पांव को चाटते हुए ऊपर आने लगा. मैं सोने की कोशिश कर रही थी पर अब नींद नहीं आ रही थी और मूवी वाले दिन की बातें याद आने लगी.

अब वो मुझे नोचने लगी थी और इससे पहले कि वो मेरी टी-शर्ट को फाड़े, मैंने उसे खुद ही उतारना ज्यादा बेहतर समझा. रूपा कमरे में बैठी थी, मुझे पता था मुझे देखते ही वह गर्लफ्रेंड ब्वॉयफ्रेंड की बातें करेगी, इसलिए मैंने जाते ही फ़िल्म देखने की बात कर दी. ‘चलो अच्छा ही है’ मैंने भी मन ही मन सोचा और मुझे राहत भी मिली, आखिर गलत काम करने का दोषी तो मैं भी था.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो सेक्सी

तभी यश ने कहा- चलो, इसे अंदर बेड पर लेकर चलते हैं, अब की बार जरा तबियत से चोदना है भाइयो!राहुल ने अपना लंड मेरे मुंह से निकाल कर मुझे अपनी गोद में उठाया और सब अंदर चल पड़े. पर मैंने उसको काम ज़्यादा होने के बारे में बोला और उसको सिचुयेशन संभालने के लिए बोला. उस खटिया में जगह ही कितनी थी, अतः एक-दूसरे से चिपके ही थे। वह मेरा लंड सहलाने लगा.

फिर एक बड़ी दीदी ने बताया की कोई भी औरत अपने पति के साथ दूसरी लड़की को ये सब करते देख कर गुस्सा हो जाती है. ऐसे ही शाम को जब मैं किचन में उन्हें चूमने लगी, तो पापा ने मुझे देख लिया.

फिर वो नीचे झुकते हुए मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर बोली- वाऊऊऊ, यमी…मेरा लंड अभी लटका हुआ था.

जमीला बोली- सबीना डार्लिंग आहह… उम्म्म… मस्ताना मेरी चूत में कस कर घुसा है लग रहा है उम्म्म… ओहह… चूत फट जायेगी. अब यश अपने मेरे निप्पल चूसते हुए मुझे झंझोड़ रहा था, मेरे दूसरे मम्मे पे तड़ातड़ चांटे मार रहा था. मैंने हल्के से आँखें खोल कर देखा तो वो अपनी पैंट उतार के अपनामोटा सा लंडहाथ में लिए खड़ा मेरे बदन को देख रहा था.

मैंने बहूरानी की कमर के नीचे तकिया लगा कर उस पर एक अखबार बिछा दिया ताकि तकिया गंदा न हो. मेरे मम्मी-पापा आज आउट ऑफ स्टेशन गए थे और अगली सुबह आने वाले थे तो मैं तो फ्री था मगर कल्याणी आ गई तो प्राब्लम हो जाती. सुमन भाभी तड़प गईं और वह जोर से चीखने लगीं, मगर मेरा मुँह उनके मुँह पर ढक्कन की तरह लगे होने से उनकी आवाज मेरे मुँह में घुट गई.

यह देखकर मनोज ने मुझे आँख मारी तो मैंने उसे नेहा को छोड़ कर मेरे सामने आने का इशारा किया तो मनोज मेरे सामने आ गया और मैंने सुलेखा को अपने कूल्हों पे कर लिया और उसके मम्मों को अपनी छाती से दबा कर उसके होंठों को अपने होंठों में लॉक कर दिया.

बीपी बीएफ देसी: उसकी चुचियों को देख कर कोई भी उन्हें दबाने से अपने आपको नहीं रोक सकता था. एक दिन की बात है, सुबह 9 बजे रमेश आँगन में सिर्फ लुंगी पहन कर नहा रहा था.

मेरे मम्मी-पापा आज आउट ऑफ स्टेशन गए थे और अगली सुबह आने वाले थे तो मैं तो फ्री था मगर कल्याणी आ गई तो प्राब्लम हो जाती. इसके तुरंत बाद मैंने अपने हाथ को सलवार के अन्दर डाल कर चड्डी के ऊपर से ही उसकी चुत को छुआ, वो एकदम से हिल गई. लंड जरा सा गया ही था कि उसकी चीख निकल पड़ी- आःह्ह्ह रुको, दर्द हो रहा है, थोड़ा और गीला करो!लेकिन उसकी सुनता कौन?किसी भी महिला की चुदाई में महिला को जितना दर्द होता है, मर्द को उतना ही मजा आता हैं इसका कारण शायद पुरुषों को लगता है कि उसने महिला को दर्द देकर सेक्स में उसे अपनी मर्दानगी दिखा दी है.

सासू माँ को लगा कि आज यह लौकी जैसा लम्बा लंड मेरे गले को फाड़ता हुआ पेट तक जा कर मानेगा.

मैंने चाची को अपनी गोरी-गोरी चूचियों को मसल कर साफ करते हुए जो देख लिया था. ”वो चाय लेकर आई तो मैंने उसे अपने पास बिस्तर में दीवान पर बैठा लिया- बहूरानी, आज तो तेरी पिंकी का मुंडन संस्कार है न?मैंने कहा. इसी तरह समय बीत गया और 9 महीने के बाद भाभी ने एक बहुत सुंदर से बच्चे को जन्म दिया.