बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी

छवि स्रोत,सेक्सी डॉट कॉम सेक्सी फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

ओपन खुला सेक्सी वीडियो: बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी, वो बोल रहा था- अब तो छोड़ दो भाई … कब तक मेरी गांड चुदाई करोगे?मैंने बोला- साले तूने ही तो कहा था न कि लौड़े की गर्मी को शांत कर लो … अब लंड शांत तो हो जाने दे भोसड़ी के.

सेक्सी वद

मैंने अपना लंड का सिरा पूरा बाहर निकाला और वापस एक ज़ोर लगा कर अपना आधा लंड उसकी गांड में घुसेड़ दिया. हिजड़ों की सेक्सी फिल्मेंइस खुले एरिया में हम दोनों बेशर्मों की तरह एक दूसरे के होंठों को चूस रहे थे.

इधर मैंने भी अपना कच्छा उतार कर जेब में रख लिया। अब हम दोनों हॉल में आकर बैठ गये. सेक्सी देसी सेक्सी देसी सेक्सी देसीमैं- अरे ये कैसे होगा … मैं किसी को ये नहीं बता सकती कि मेरे भाई को लड़के पसंद हैं … ख़बरदार जो तुमने भी किसी को बताया या किसी के साथ सेक्स किया तो ठीक नहीं होगा.

दीपा मनोज अपने कमरे में गए और सुनील को बोल दिया- ड्रिंक करेंगे, तुम भी रूम में आ जाना कपड़े बदलकर!मनोज ने रूम में पहुंचकर दीपा पर चुम्बनों की बरसात कर दी.बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी: मैंने रोका भी लेकिन वो नहीं रुकी!मैंने उषा को कहा- तुम्हारी चूत से मेरा वीर्य गिरता हुआ गया था.

कोई दस मिनट की किस के बाद सुहास ने मुझे गोद मैं उठा लिया और पूल से बाहर जाने लगा.जब मैंने शीशे से उनको देखा, तो वो लगातार मेरे खड़े लंड को देखे जा रही थीं.

राजस्थान ओपन सेक्सी पिक्चर - बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी

जाने के समय मैंने और परमीत ने मनु के यहां अपनी साइकिल छोड़ी थी … और ऑटो से वहां गए थे, इसलिए मुझे अपनी साइकिल के लिए मनु के यहां जाना था.मैंने यशिमा से कहा- मैं अब आने वाला हूँ … रस कहां निकालूं?यशिमा बोली- आज तो अन्दर ही डाल दो … बहुत साल हो गए लंड की गर्मी लिए … अन्दर ही निकालो जान …बस कुछ मिनट में ही मैं उसकी चुत में झड़ गया.

कहानी के प्रथम भाग में आपने पढ़ा था कि मुझे अपने साढ़ू के इलाज के लिए अमेरिका में अपनी साली के साथ जाना पड़ा. बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी चार दिन के टूर में दो दिन तो हम कपल्स ट्रैवल कंपनी के मार्गदर्शन में ही घूमे लेकिन फिर बाकी के दो दिनों में हमें अपनी मर्जी से मन मुताबिक कहीं भी घूमने की आजादी थी.

कॉलेज का पहला साल पढ़ाई के अलावा माहौल में ढलने, लोगों को समझने में चला गया.

बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी?

मैं उनके मम्मों को चूसने लगा और मम्मों का दूध निकालने की कोशिश करने लगा. वो एक दूसरे से हमेशा बात करते थे और एक साथ बैठ कर बात करने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं थी. मनोज सुनील को दीपा के पास अकेला छोड़ना नहीं चाहता था क्योंकि वो जानता था कि उसके हटते ही सुनील दीपा की चूत में घुस जाएगा और मनोज वह पल देखने से चूक जाएगा, जिसकी उसे इतने दिनों से प्रतीक्षा थी.

बॉस बहुत जिद करने लगे, तो मैंने अपने और विनय के लिए भी गिलास ला दिया. पिंकी ने हैण्ड शावर से मोटी धार सेट करके सबकी चूत की मालिश की तो सभी ने नायरा के मम्मे दबाये. इस खुले एरिया में हम दोनों बेशर्मों की तरह एक दूसरे के होंठों को चूस रहे थे.

ये कहते कहते उन्होंने मेरा एक हाथ अपने मम्मों पर रखा और मेरे हाथों के ऊपर अपना हाथ रखकर अपने मम्मों को जोर से दबा दिया. वो मुझे पसंद करती थी तो वो मुझे किस करने लगी और तभी मेरी गर्लफ्रेंड आ गयी. मैं सामने के शीशे में देख रहा था कि वो अपने ही हाथों से अपने दोनों मम्मों को मसलने और अपने निप्पलों को काटने लगी थी.

उस वक्त तक मैं लेडी बन कर ही बात कर रहा था और मैंने उसको बोला कि मैं तो अपनी चूत में रोज़ उंगली करती हूं. मैं नंगी होकर वाइब्रेटर के वजह से बिना पानी की मछली की तरह लंड के लिए तड़प रही थी.

सामने संजय का लौड़ा तो फनफनाते ही जा रहा था और दूसरी तरफ संदीप का लंड पैंट में ही फुंफकारने लगा था.

उनमें से मैंने उतने ही मेहनताना रखा जितना कि मुझे पार्लर में मिलता है और बाकी उसको वापस कर दिये.

वो दोनों टांगें फैला कर बैठ गये और मैंने बारी बारी से उनके लंड को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. रोहन- रियली?सोनिया- हम्मम्म … इसलिए जब भी मैं तुम्हें चंपू बुलाऊं, तो समझ जाया करो … मैं तुम्हें चिढ़ा नहीं रही हूं, बल्कि तुम्हारी मासूमियत के प्रति अपनी पसंद जाहिर कर रही हूँ. शायद वो भी समझ गई थी कि आज उसकी सिसकारियां निकलने वाली हैं और वो मस्त चुदने वाली है.

मैं समझ गयी कि अब जेठजी का भी काम तमाम होने वाला है, जैसे जैसे जेठजी का टाइम नज़दीक आ रहा था, वैसे वैसे ही उनके धक्कों की स्पीड भी बढ़ती जा रही थी. मैंने कहा- डोंट वरी जानू … बिल्कुल आराम से डालूंगा तुमको मालूम भी नहीं चलेगा. कुछ देर बाद उससे मुझे वेस्ट्रन कमोड पर हाथ रख कर झुकने को बोला, मैं कुतिया बन कर झुक गई.

भाभी ने मेरे हाथ में तीन हजार रूपये थमाते हुए कहा- ध्यान रखना मेरी बच्ची का.

अंकित का लिंग उसके पति से ज्यादा बेहतर था और अंकित की कम उम्र ने उसमे चार चाँद लगा दिए थे. वह बहुत ही कामुक होकर सिसकारियां भर रही थीं ‘ईईईई आआआ उउउ आ आ आह …’कुछ देर बाद मैंने परी मैम को घोड़ी बनने के लिए बोला. एक दूसरे के पड़ोस में रहते हुए भी हम कभी आपस में आमने सामने बात नहीं करते थे क्योंकि मैं नहीं चाह रहा था कि किसी को मेरे बारे में या भाभी के बारे में शक हो जाये.

मैंने फिर उन्हें अलग करके सुनीता की चूत में अपना लौड़ा डाल दिया और धक्के मारने लगा. गांड को चिकनी करने के बाद उसने मेरी गांड के छेद पर लंड लगा दिया और लंड को मेरी गांड में घुसाने की कोशिश करने लगा. वो कहने लगी- प्लीज़ जल्दी करो मेरी जान … जल्दी से अपना ये लंड मेरी चुत में डाल दो … वरना मेरी चुत में से फिर छूट हो जाएगी … अब मुझसे सब्र नहीं होता … प्लीज़ जल्दी डाल दो ना.

हम दोनों को ही आनन्द की ऐसी अनुभूति हो रही थी कि शब्दों में बयान करना मुश्किल है.

कामवासना की गर्मी को हम दोनों नहीं सह पाए और किस करते करते ही पैंट के अन्दर ही झड़ गए. उसने लिखा था- क्या तुम इसे ले पाओगी … इसको खुश कर पाओगी?उसका लंड देख कर मैं एकदम से गरम हो गई थी और मेरी चुदास ने मुझे कुछ अलग ही करवा दिया.

बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी मगर पिछले कुछ सालों से वहां पर विदेशियों की तर्ज पर ही भारतीयों ने भी वही अंदाज दिखाना शुरू कर दिया है. एक बार मुँह में घुसने के बाद तो उसे लन्ड को जड़ तक चूसने से मेरे पूरे जिस्म में सिरहन पैदा कर दी.

बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी उसने मुझे गोद में उठा कर जोर से बेड पर फेंक दिया और खड़ा हो कर अपने कपड़े उतारने लगा. मुझे बहुत दर्द हो रहा था लेकिन चीख न निकले इसलिए उसने मेरे मुंह पर हाथ रखा हुआ था.

मैंने उसके पैरों पर हाथ रख दिए और उससे कहा- इसका मतलब अभी तक तुम वो हो.

हिंदी भाषा में सेक्स बीएफ

उसी रात की बात है कि जब मैं खेतों में पेशाब करने के लिए गई थी तो दो लड़कों ने मेरी चूत को अपने हाथ से छेड़ दिया था. यह आइडिया शबनम का था जिसने अपने साथ चारों के लिए वाइब्रेटर, सिगरेट और बियर रखनी थीं. तूने तो देखा था कल कैसे उसने पूजा की चुदाई की थी।हालांकि कल पूजा की चुदाई के बाद से और रात में उंगली करने की वजह से मुझे भी मोहित से सेक्स करने का मन होने लगा था। मगर मैंने अपने मन पर कंट्रोल रखा.

उधर मैंने देखा कि राहुल रीमा के मम्मों को जोर से दबा बैठा, जिससे रीमा तड़प उठी. वो सब कहानी मैं आपको फिर कभी बताऊंगा कि कैसे हमने कोचिंग क्लास में भी सेक्स का मजा लिया. वो मुझे अपने कमरे में ले गयी और मेरे अन्दर आते ही उसने कमरे का दरवाजा बंद कर दिया.

मेरी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स की पिछली कहानीगर्लफ्रेंड के साथ लिव इन रिलेशनशिपमें आपने पढ़ा कि मेरी गर्लफ्रेंड मेरे साथ मेरे रूम में रहने लगी थी और मैं रोज गर्लफ्रेंड की चूत चुदाई करता था.

उसका चेहरा पूरा लाल हो गया था लेकिन उसके चेहरे पर अब एक संतुष्टि अलग से दिखाई दे रही थी. पैग को खाली करने के बाद राखी कहने लगी कि काश उस दिन फोन पर मैंने आपकी बात को गंभीरता से ले लिया होता तो मैं भी आज अपनी बहन की तरह आपके मोटे और दमदार लंड का मजा ले रही होती. उन्होंने धीरे से अपने पैरों को हिलाते हुए नीचे से अपनी पैंट और अंडरवियर दोनों को ही निकाल दिया था.

कुछ समय बाद, छन छन आवाज़ आई, उसने दरवाज़े के अंदर सिर्फ अपना हाथ किया और चुड़ी खनका कर उंगली से मुझे आने का इशारा किया. दो दो पैग लेने के बाद मेम ने अपना फोन उठाया और अपने पति को फोन लगाया और उनके हाल चाल पूछने लगीं. पांच मिनट के बाद वो उठ गया और मुझे सीधा लेटा कर मेरी दोनों टांगों अपने हाथ में पकड़ कर मेरी गांड में लंड को पेलने लगा.

उसने मेरे लंड को बहुत गौर से देखा, शायद उसके पति का मुझसे छोटा लंड था. राहुल ने एक पूरा विलेज यानि पाँचों बुक करवा लिए, जिससे उन्हें कोई डिस्टर्बेंस न हो.

मैंने बुर्का पहन रखा था और अंदर हरा टॉप और सफ़ेद लेगी पहनी थी, हम काफी दूर ऐसी जगह पर गए जहां कोई देखने वाला नहीं था।गाड़ी को स्टैंड पे लगा के मैं सीट पे बैठी थी, वो मेरे करीब था. हम दोनों को भूख भी लग रही थी और अमृता से खड़ा भी नहीं हुआ जा रहा था तो मैंने उसे बाथरूम में ले जाकर बाथ टब में लेटा दिया और गर्म पानी भर दिया. दरवाजे खुलने की आवाज सुन कर श्वेता दीदी अपने कमरे से बाहर आ गई और दीदी को देखते ही पूछने लगी- क्या हुआ तुम चादर क्यों लपेटे हो?दीदी कुछ नहीं बोली और दौड़ती हुई बाथरूम की तरफ गई और वो ओ.

न सभी सेक्सी भाभियों और आंटियों को भी, जो सेक्सी साड़ी में मस्त माल लगती हैं.

जैसा कि पिछली कहानी में मैंने बताया था कि मैं फाइनेंस कंपनी में हूं तो मुझे ज्यादातर बाहर ही घूमना-फिरना पड़ता है. बाक़ी बीस प्रतिशत भी इतनी अधिक मनोरंजक होती हैं कि लंड खड़ा हो ही जाता है. ”क… क्या मतलब?”दीदी ने मुझे टेबलेट्स लाकर दी हैं?”क… कैसी टेबलेट्स?” मेरा दिल किसी आशंका से धड़कने लगा था।वो बोलती है तुम्हें कमजोरी बहुत है तो रोज यह दवाई और एक टेबलेट लिया करो.

अभी तक मेरी माँ के मेरी बुआ के साथ लेस्बियन और मेरे चाचाओं के साथ यौन सम्बन्धों की कहानी के पहले भागमेरी मम्मी की जवानी की कहानी-1में पढ़ा कि मेरी मम्मी मुझे अपनी जवानी की, वासना की कहानी सुना रही थी. उन्होंने मुस्कुरा कर मुझे देखा और पूछा- दो दो लंड एक साथ लगी रंडी?मेरी ख़ुशी का तो ठिकाना ही नहीं था.

दोस्तो, मेरी शादी को 8 महीने हो चुके हैं लेकिन जब से भाभी ने मुझे इस घटना के बारे में बताया है तब से मेरा मन भी करने लगा है कि काश मुझे भी कोई इस तरह से प्यार करे. अब ज्योति कुतिया बनी हुई थी और सगा बाप पीछे कुत्ते की तरह अपनी बेटी के चूतड़ों के बीच मुँह दिए हुए उसकी चूत चाट रहा था. उन्होंने मुस्कुरा कर मुझे देखा और पूछा- दो दो लंड एक साथ लगी रंडी?मेरी ख़ुशी का तो ठिकाना ही नहीं था.

कुंवारी दुल्हन सेक्सी बीएफ हिंदी

मैंने कहा- हां मादरचोद … मैं तेरी चूचियों को निचोड़ कर तेरी चूत को फाड़ दूंगा आज.

मैंने जबरदस्ती उसकी पैंटी पर हाथ टिका दिया जो पूरी तरह से गीली हो चुकी थी. तो ऐसे ही सितंबर के महीने में हमारे स्कूल को अन्य दूसरे स्कूलों के साथ वाद विवाद में प्रतियोगिता में हिस्सा लेना था. मैं नहीं रुका और उस गाँव की भाभी की चूत में अन्दर तक जीभ डाल कर चाटता रहा.

उसके दिमाग में केवल यही विचार आते थे कि कैसे अंकित उसके शरीर के ऊपर आकर उससे प्यार कर रहा था. वहां बहुत सारे बांस के पेड़ों के झुंड थे, जो एक दूसरे से थोड़ा दूर दूर थे. देवर भाभी सेक्सी वीडियो ब्लूमैंने अपनी पहले की कहानियों में वह सब लिखा हुआ है कि कैसेमेरी बीवी की उत्तेजनाउसको बेशर्म बना देती है.

फिर वो बोली- मुझे आज तुम्हारे लंड की सैर करनी है जानू … मुझे अपने लंड की सवारी करवा दो।मैंने कहा- हां मेरी जान … अभी करवाता हूं. सीमा ने जींस स्कर्ट के साथ शर्ट स्टाइल का टॉप लिया जिसके ऊपर के बटन काफी नीचे थे.

पापा लंड पूरा भीग गया और पानी बहकर नीचे की तरफ मेरी नाभि से होकर मेरी चूचियों तक आ रहा था. मैं उसके मुँह में अपना जीभ घुमाने लगा, वो भी अपनी जीभ और होंठों से मेरी जीभ चूसने लगी. वो बोला- मैं तो मान लूंगा लेकिन पूरे गांव के लोग तुम्हारे बारे में यही बात करते हैं.

अब मेरा मन भी करने लगा था कि उनके लंड को पकड़ लूं लेकिन दुल्हन वाली शर्म अभी भी रोक रही थी. फिर मेरे शरीर के ऊपर के हिस्से को पीछे की ओर धकेल कर खड़े खड़े ही धक्के लगाने लगे. विवेक बोला- अब बंध्या मेरी रानी, अब तू मेरी कुतिया बन जा!मैं बोली- चाहे कुतिया बना या घोड़ी, मेरी गांड को फाड़ कर रख दे साले.

जब लेडी डॉक्टर ने अपने शरीर से कपड़े हटाये तो मेरी साली उसके बूब्स को देख कर हैरान रह गई.

मैं- ठीक है भैया …ये कह कर मैंने भाबी के पैरों को फैलाया और उनकी बुर की फांकों में अपना मुँह लगा कर लपर-लपर चाटने लगा. दीदी की चुत इतनी गीली हो रही थी कि उसका पानी बह कर मेरे आंडों को गीला कर रहा था.

हमें पता था कि सीमा इस अदला-बदली के लिए इतना जल्दी मान जाएगी क्योंकि एक तो रकुल ने उसे इतना चिढ़ा दिया था कि वह मन ही मन यह सोच रही थी कि उसे रकुल से किसी भी प्रकार जीतना है. फिर मैंने अपनी स्पीड को बढ़ाया, तो उन्होंने भी नीचे से ऊपर होना शुरू कर दिया. मुझे ये पहनावा इसलिए भी पसंद है … क्योंकि एक तो ये चलन में हैं और दूसरे मुझे लगता है कि इस तरह के कपड़े पहनने से मैं आकर्षक दिखती हूँ.

कुछ देर बाद मेरा अब निकलने ही वाला था कि भाभी ने मुझे कस कर पकड़ कर अपने सीने से भींच लिया. वो बोला- पापा से भी चुदवा ली तूने!मैंने कहा- हां, मैंने पापा से चूत चुदवा ली है. सारिका ने मुझे किस किया और बोली- मैं चली सोने … पर तू आज इसकी चीखें निकलवा … और इसकी आग ठण्डी कर दे.

बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी मैंने कहा- ठीक है, ऐसा करते हैं कि हम थोड़े से और गहरे पानी में चलते हैं. फिर धीरे-धीरे मैंने उस लेडी से सेक्स के बारे में भी बात करनी शुरू कर दी.

सेक्सी बीएफ वीडियो देसी बीएफ वीडियो

उसको अब भी वो दिन याद आते हैं, जब वो एक दूसरे की आँखों में देर तक देखा करते थे, एक दूसरे को बांहों में जकड़े हुए और उन भावनाओं को अपने अन्दर पनपते हुए जिसकी उन दोनों को तलाश रहती थी. आप लोग तो जानते ही हैं कि अभी गीत मुझे अपनी पिछली जिंदगी के बारे में बता रही थी, तो मैं संदीप नाम सुनकर चौंक पड़ा. वो बोले- बंध्या, जो भी तुम्हारी चूत को पा लेगा, वह उसके लिए लाइफ का सबसे बड़ा अचीवमेंट होगा.

वो बोले- क्या हुआ भाभी … ठंड सी फील हो रही है … तो आप बोलो न … आपको गर्म कर देते हैं न. उन्होंने बोला- झूठ मत बोल … मैंने खुद कई बार तुझे ऐसा देखते हुए देखा है. गाँव कि सेक्सीजब मैं बाहर आई, तो मयूर मुझे देख कर दंग रह गया और धीरे से बोला- ऊम्म … आहह … मेरी तृप्ति को किसी की नजर ना लगे.

हम भी तो देखें कि जितनी मस्त ये बाहर से देखने में लग रही है, क्या अंदर से भी वैसी ही है या इसके जीजा ने इसकी झूठी तारीफ की थी.

अगर तुम्हें ये सब ठीक नहीं लग रहा है, तो कोई बात नहीं मैं तुम्हारे साथ कुछ नहीं करूंगा. ब्यावर जाते वक्त में राजस्थान रोडवेज की बस में गेट से आगे की 2 लोगों वाली सीट पर बैठा और पास वाली सीट पर अपना बैग रख दिया.

फिर अगले ही कुछ पलों में उन्होंने मेरी लोअर को भी खींच कर नीचे कर दिया. फिर उसने मुस्कुराकर पूछा- अब बोलो कैसी जगह है?मैंने कहा- यह जगह तो बहुत अच्छी है. अब आगे की कहानी मेरे यार रजत की जुबानी:मेरा मन था कि मैं इन हसीन लम्हों को यादगार बना दूं.

मैंने बाथटब में गर्म पानी भरने के लिए नल चला दिया … और सुसु करके कमरे में वापस आ गया.

मैं कभी डॉगी स्टाइल में मासी को चोदने लगता, तो कभी मैं नीचे लेट कर मासी को अपने लंड पर कुदाने लगता. मैंने कहा- वेट, आई सेक्स आफ्टर ड्रिंक (मैं पीने के बाद सेक्स करूंगा)ऐसा कहने पर उसने वाइन की बोतल को उठा कर देखा. कॉलेज में वो साला मुझे बहुत लाइन मारता था, लेकिन मैं उस पर कभी ध्यान नहीं देती थी.

सेक्सी वीडियो गंदेमोटा सख्त लौड़ा रिया के मुँह में थोड़ी तकलीफ और चुभन से जा पा रहा था, लेकिन रिया को उसकी गर्मी से खुद को पूरी तरह वाकिफ करवाते हुए अन्दर जाने देने लगी. पिंकी तो मस्ती के मूड में थी … उसने तो स्पोर्ट्स ब्रा और एक बरमूडा पहन लिया ताकि वेक्सिंग अच्छे से हो जाए.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी भाषा

मैंने कहा- तो फिर दिखा, मैं भी तो देखूं मेरी बहन की चूत गर्म होने के बाद कैसी लगती है!श्वेता सिसकारते हुए मुझसे अलग हो गई और मैंने उसके चूचों से हाथ हटा लिए. हम सब 4-5 पैग पीने के बाद सब एक दूसरे को हवस की नजर से देखने लगे। मैंने खुद उनके बॉस के लिए पेग बनाए. उसके बाद सुहास ने मुझे और 3 बार चोदा, पर गांड मरवाने के बाद मैंने सुहास का लंड एक बार भी अपने मुँह में नहीं लिया.

मुझे दर्द हो रहा था, मेरे मुंह से ‘आहह हहह बाबू … आराम से … आहहह हहह!’ निकल रहा था. मैं उसके साथ टिफिन का खाना खाता, वो मेरे खाने को अपने साथ साझा करती. जैसे ही उनका दर्द कम हुआ, तो मैंने उनसे पूछा कि आगे की कार्रवाही शुरू की जाए.

मैं इस सेक्स कहानी से पहले अपने लंड के छोटे होने की बात से काफी परेशान भी था. इस तरह हम फिर एक बार इस बात को बेपर्दा होने से बचा लेंगे कि कौन किसके साथ था. मैंने भी उसकी आंखों में आंखें डाल कर उसी नजरों को अपनी चाहत से रूबरू करा दिया.

मैंने मेम की ब्रा और पेंटी बड़ी नजाकत से उन्हें सहलाते हुए उतार कर बेड से दूर फेंक दी. उसने कहा- आप बार बार धन्यवाद मत बोलो … मैं बहुत ही फ्रेंक टाइप की हूं सभी से फ्रेंडली रहती हूं.

थोड़ी देर बाद सुधीर सर ने पीछे से मेरी चूत में अपना लन्ड डाल दिया और राजेश्वर सर मेरे मुख में अपना लन्ड पेलने लगे.

चाची मेरे लंड की ओर ही देख रही थीं और मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा भी रही थीं. हिंदी सेक्सी मालिशऐसे चोदने में उसकी चूत काफी टाइट लग रही थी, तो थोड़ी देर में मैं थकने लगा. शिल्पी राज सेक्सी वीडियो भोजपुरीबाद में हमने फैसला किया कि हम दोनों शादी कर लेंगे, लेकिन पहले प्रतीक को सब कुछ बता देते हैं. रास्ते में जाते हुए मैंने अपने एक स्कूल के दोस्त को फोन करके कह दिया कि एक कंडोम का पैकेट ले लेना.

कोई दो मिनट लंड चुसाने के बाद मैंने परी मैम को खड़ा किया और उनकी एक टांग को अपने कधे पर रख कर उनको दीवार से लगा दिया.

अब तक मैंने सेक्स नहीं किया था, लेकिन मेरी वासना अंगड़ाई लेने लगी थी. हालांकि कॉलेज में प्रथम वर्ष होने की वजह से थोड़ा नियम से रहती थी, पर उसके स्वभाव में कोई खास परहेज देखने को नहीं मिला. कुछ देर तक चोदने के बाद उसके पिताजी ने अपना लंड ज्योति की चूत से बाहर खींचा और उसके मुँह में डाल दिया.

अब भाभी बैड पर पेट के बल लेटी गई थी और भैया ने उनका पेटीकोट भी उतार दिया था। अब दोनों मादरजात नंगे थे। भैया उसके दोनों नितम्बों के बीच अपना हाथ फिराना चालू कर दिया। फिर उन्होंने क्रीम वाली शीशी का ढक्कन खोला और लगभग आधी शीशी क्रीम अपनी हथेली पर उंडेल ली। अब एक हाथ की अँगुलियों से उसके नितम्बों की खाई में क्रीम लगाने लगे।उईई … मुझे गुदगुदी हो रही है. जब लंड को बाहर निकाला तो उसकी गांड से खून बह रहा था जिसके इलाज के लिए एक लेडी डॉक्टर को बुलाया गया. मैंने उंगली वापस बाहर निकाली और उनकी चुत के पानी से गीली करके वापस गांड में डाल दी.

मिथुन का बीएफ

मैंने अपनी एक टांग उसकी टांग में फंसाई और उसे नीचे झुकाते हुए ज़मीन पर लिटा दिया. वो उम्र में तो 30-35 की थी लेकिन उसके चूचे एकदम 22-25 साल की लड़की की तरह तने हुए थे. बहुत कहने के बाद ही रीता ने अपने चूचे मुझे दिखाने के लिए हां की। फिर व्हाट्स एप उसने अपने बूब्स की पिक भेज दी.

उसकी जीन्स की चेन खोली और उसकी नीली जालीदार पैंटी में मुंह दे दिया.

मैंने उस आंटी रीता के साथ सेक्स भरी बातें करके उसको गर्म करने की सोची.

आआई! … अहह् इस्स …” जैसे ही लंड का मोटा सुपारा ज्योति की कुँवारी गांड में घुसा उसके मुँह से चीख निकल गयी. मैं- औरत में ऐसा क्या होता है, जो लड़की में नहीं? तुम लड़के लोग औरतों में इतनी रूचि क्यों रखते हो?शान- यार ऐसी बात नहीं है. हिंदी सेक्सी वीडियो हिंदी सेक्सी हिंदीमेरी मां खुद को और मुझे कोसते हुए मुझे अपनी भाषा में गाली देने लगी.

बॉस बहुत जिद करने लगे, तो मैंने अपने और विनय के लिए भी गिलास ला दिया. मैं घर में आ जाती, तो वो सीटी की धुन पर कोई न कोई गाना निकालते हुए आगे बढ़ जाता. वो बोली- मेरा वो पूरा दर्द कर रहा है … और अब शक्ति भी नहीं रह गई है.

मैंने एक निप्पल को चूसने के साथ ही दूसरे चूचे को दबाना शुरू कर दिया. आंटी की चूत में उंगली जाने के बाद वो ऐसे तड़प रही थी जैसे बिन पानी की मछली होती है.

इसने अपने मन की बात कही, तो तुम्हें फोन करके इसके लिए यहां बुलाया है.

चूंकि उन दिनों मैं अपने एग्जाम की तैयारी कर रहा था, इसलिए उस पर ध्यान नहीं दे पा रहा था. इसके बाद मेरा सोनिया के साथ सचमुच का सेक्स कैसे हुआ, उस कहानी को मैं अपने एक अन्य भाग में लिखूँगा. ये हॉल बड़ा सा था, चारों ओर एंटीक पीस और मंहगी पेंटिंग्स से सजावट की गई थी.

हिंदी सेक्सी झारखंड मैंने अपने हाथ से उसका मुँह बंद कर दिया और एक और झटका दे मारा, तो मेरा आधा लंड चुत में चला गया. कुछ ही देर में जॉली की नाराजगी, उसके लंड से गहरा गाढ़ा रस बनकर निकलने को तैयार थी.

2 मिनट बाद उसके झटके तेज हो गए और वो ‘अह हह ह्म्मह हह रंडी मैं आ गया बहनचोद!’ करता हुआ झड़ गया और मेरे ऊपर ही लेट गया. उसने मुझे दो बार यूं घूरते हुए पकड़ लिया था, फिर भी वो मुझे अनदेखा कर गई. कहानी के पिछले भाग में मैंने बताया कि दोनों सेठों ने अपने मूसल लंड से मुझे चोदने के लिए तैयारी कर ली थी.

अंग्रेजी बीएफ चलने वाली

वो रोहित की गोद में लैपटॉप की तरफ सर करके लेट गई और बीएफ देखने लगी. ”(वो मुझे पसीने से भीगा हुआ देखना चाहता था)मामी जी का फ्लैट दसवें माले पर था. मैंने पूछा- इससे मुझे क्या मिलेगा?वो बोलीं- मैं तेरी हो चुकी हूँ, बोलो मेरे जानू को क्या चाहिए?मैंने कहा- जो तुम्हारी मर्ज़ी हो, भेज देना.

मां बोली- तू उसी की बात कर रही है ना वो जिसके साथ तुमने सोनम चाची पकड़ी थी, उसी का भान्जा है न वो?मैंने हां में मुंडी हिली दी. फिर उसने एक झटके में पूरा लन्ड मेरी बेचारी नन्ही सी बुर में डाल दिया.

मैं कभी डॉगी स्टाइल में मासी को चोदने लगता, तो कभी मैं नीचे लेट कर मासी को अपने लंड पर कुदाने लगता.

मनोज ने खुद ड्राइविंग न करके कैब बुक करी क्योंकि पार्किंग की बहुत समस्या होती है. कुछ देर तक मैं वैसे ही खड़ी रही और पिछले एक घंटे में जो कुछ हुआ वही सब दिमाग में चलने लगा. मैं उसकी गांड मारता रहा और धक्के पर धक्के लगाए जा रहा था और वह रोये जा रही थी.

ये भी सच था कि मैं जेठजी से एक बार तो चुद चुकी थी, पर वो सब हालात की वजह से हुआ था और उस वक़्त मैं तैयार भी नहीं थी. दो दिन बाद मैंने देखा कि प्रतीक का मूड बहुत अच्छा है और आज उसको छट्टी भी थी. मैंने अभी उनकी चूत में दबाव बनाया ही था कि बाहर से मेरी फ्रेंड की मम्मी की आवाज आई.

कोई 10-15 धक्कों के बाद मैंने अपना सारे पानी की एक एक बूंद उसके अन्दर निकाल दी.

बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी: मैंने मौसी की चूत को हाथों से साफ़ किया और मौसी में मेरे बाल पकड़ लिए. दोनों एक दूसरे के होंठों को चूसने में ऐसे लगे हुए थे जैसे जन्मों के प्यासे हों.

वहां बहुत सारे बांस के पेड़ों के झुंड थे, जो एक दूसरे से थोड़ा दूर दूर थे. फिर अगले ही कुछ पलों में उन्होंने मेरी लोअर को भी खींच कर नीचे कर दिया. बचे तो सिर्फ तीन लोग राज, उसकी भाभी जो अपने मायके ही रहती है, और तीसरी उसकी बहन उषा!उषा की शादी हो गई थी पर उसका पति उसे छोड़ कर कहीं चला गया.

दीपा मनोज अपने कमरे में गए और सुनील को बोल दिया- ड्रिंक करेंगे, तुम भी रूम में आ जाना कपड़े बदलकर!मनोज ने रूम में पहुंचकर दीपा पर चुम्बनों की बरसात कर दी.

मन कर रहा था कि इसको भी पूरी आजादी दे दूं लेकिन भारतीय होने के नाते थोड़ा लिहाज करना भी जरूरी था. फिर पीछे की मसाज पूरी होने के बाद प्रिन्स बोला- भाभी जी, सीधे हो जाइए तो सामने की मसाज कर दूं. घूमने जाने से पहले मेरे मन में कुछ शरारत सूझी और मैंने दुकान से जाकर एक डेयरी मिल्क की बड़ी वाली चॉकलेट ले ली.