भाई बहन का हिंदी में बीएफ

छवि स्रोत,xxii प्रतियोगी

तस्वीर का शीर्षक ,

बहिण-भावाचा सेक्स: भाई बहन का हिंदी में बीएफ, मैं बोली- कोई आ जायेगा!तो विशाल ने कहा- नितिन बाहर ही बैठा है, यहां कोई नहीं आ सकता.

देहाती नंगा डांस

आदित्य मेरे निप्पलों को घूरे जा रहा था और उसने गर्मी का बहाना बनाकर अपनी टीशर्ट उतार दी. थाईलैंड में देह व्यापारउस दिन दीदी को मेरे और आदि के बारे में पता चला कि हम दोनों का सेक्स का रिश्ता है.

भाभी ने पूछा- तुम मुझसे झूठ क्यों बोल रहे थे कि तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है. सेक्सी बूब्स पुचीउनकी ननद यानि कि मेरी छोटी बहन पढ़ाई करने के लिए घर से बाहर शहर में रहती है।घर गया तो भैया और भाभी घर में थे; बड़े पापा और बड़ी मम्मी कहीं काम से बाहर गए हुए थे और उनके बच्चे स्कूल गए हुए थे।मैं रीना भाभी को बहुत पहले से ही चोदना चाहता था.

मैंने उन्हें फिर से अपनी बांहों में खींचा और उनकी साड़ी की पिन निकाल कर उनका पल्लू नीचे गिरा दिया.भाई बहन का हिंदी में बीएफ: अब मैंने चुदाई की पोजीशन बनाई और ज़ायना की कुंवारी चूत में अपना लंड टिका दिया.

वो फिर भी नहीं रुकी और मैंने उसके सिर को लंड पर धक्के देना शुरू कर दिया.अब वो उसकी गांड के छेद को अपनी जीभ से ढीला करने लगा।कुछ देर बाद वो धीरे धीरे रानी की एक बार फिर से नाभि और चूचियों को चूसते हुआ खड़ा हुआ.

सुंदर स्तन - भाई बहन का हिंदी में बीएफ

और आपको क्या अच्छा लगा? मुझे जरूर बताएं।बाबा सेक्स पोर्न स्टोरी पर भी अपने विचार प्रकट करें.तकरीबन 5 मिनट तक लंड चूसने के बाद पूनम ने साहिल को खड़ा किया और उसके होंठों का रस पीना शुरू कर दिया.

सेक्सी चाची की गरम कहानी में पढ़ें कि मेरी किरायेदार आंटी ने मुझे बाथरूम में मुठ मारते हुए देख लिया. भाई बहन का हिंदी में बीएफ मैं एक कोने में खड़ी हुई थी लेकिन फिर भी आते जाते लोग मुझे घूर रहे थे.

उसने अलीमा को अपनी मजबूत बांहों में जकड़ रखा था और उसके बालों सहलाते हुए शांत करने की कोशिश कर रहा था.

भाई बहन का हिंदी में बीएफ?

नीचे देखा तो रानी अपनी सहेलियों के साथ पार्क में बैठी थी जो हमारे घर के सामने ही था. फिर रात को मैंने उसे मैसेज किया- तेरा आज का कारनामा तेरे बाप को भेज रहा हूं. भाभी ने मुझे उनके पैर दबाने को कहा तो …दोस्तो, मेरा नाम सनी है और मैं रायपुर (छत्तीसगढ़) का रहने वाला हूं। मैं अपने बारे में थोड़ा आप लोगों बता देता हूं.

विजय- क्या देख रही है जान बस आ जा मेरे ऊपर!मैंने भी अपनी टांगें चौड़ी की और उसके खड़े लौड़े के ऊपर चढ़ गई. मैंने दोनों हाथों से उसके चूचे पकड़ लिए और लंड को फिर से अन्दर डालकर धक्के देने शुरू कर दिए. प्रतीक दी की चूत के मजे ले रहा था।थोड़ी देर यूं ही चलता रहा। फिर दी प्रतीक के ऊपर आकर चुदने लगी।मेरा भी मन दी को चुसवाने की जगह चोदने का हुआ।मैंने कहा- दी एक साथ करें? मजा आएगा.

मैं भी बढ़िया सी शेरवानी लाल रंग की, सफेद पाजामा और एक सफेद स्कार्फ़ पहन कर तैयार हो गया. वो अब अपने घर पे साहिल को अपनी सहेलियों और खुद को चुदवाने के लिए बुलाने लगी. अब तू जा और कर ले!अर्पित- कैसा माल है? मजा आया कि नहीं?हर्षदीप- बहुत मस्त रांड है।ये सुनने के बाद अर्पित रूम के अन्दर गया.

थोड़ी ही देर में मैंने बुआ के मुँह में अपनी जीभ ठेल दी तो बुआ मेरी जीभ को चूसते हुए मजा लेने लगीं. Xxx चूत की कहानी के पिछले भागकॉलेज गर्ल की कुंवारी बुर का पहला चुम्बनमें अब तक आपने पढ़ा कि बलविंदर की हरकतों ने अलीमा को गर्म कर दिया था.

राजसी लन्ड पर उचक उचक कर अपनी चूत साहिल के मोटे लन्ड से मरवाने लगी.

मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था कि मेरे साथ ये सब हो रहा है और मुझे एक अलग ही रोमांच मिल रहा था.

मौका मिलने पर मैं उसको छू देता हूँ और कभी कभी गलती जताते हुए उसकी जांघ पर हाथ रख कर सहला भी देता था. एक मिनट बाद मैंने उसके मुँह पर हाथ लगाया और एक जोरदार झटका फिर से दे मारा. मैं सोच में पड़ गया कि इतनी क्यूट सी लड़की इतनी खुलकर बातें कैसे कर रही है.

मैं उठ कर खड़ा हुआ तो मेरा ढीला लंड अभी उसे चोदने की पोजीशन में नहीं था. ओये होये होये … क्या मस्त मजा आया था यार … ऐसा करते समय समझो मेरा तो काम ही हो गया था. इसलिए मैं घूम गयी और साहिल ने मुझे घोड़ी बना कर फिर अपना लन्ड घुसाया और मेरी गांड बजाने लगा.

लेकिन जैसे ही मैं गेट पर पहुंची तो देखा मेरे क्लास की एक लड़की रानी अंदर थी.

तो साहिल मुझे घर में मेरे कमरे तक लिटा दिया और मेरे माथे आर मेरे होंठों को चूम कर चला गया।अब जब दीदी आयी तो वो मेरे कमरे में आई. मेरे बाहर आते ही चाची ने मुझे अदरख वाली चाय पकड़ा दी और कहा- मैं तुम्हारे कपड़े वाशिंग मशीन में सुखा देती हूँ … कुछ ही देर में वो पहनने लायक हो जाएंगे. मुझे बहुत गुस्सा आया कि साला इसका पति भी शायद इसकी चूचियों पर बहुत मेहनत करता है.

मैंने हां बोल दिया लेकिन घर वालों के कहे बिना मैं खुद से हेमा चाची के घर कैसे जा सकता था. उसे इस तरह से अपनी गोद में लेने से मुझे बड़ी ही लज्जत महसूस हुई और मैंने उसके गाल पर एक लव बाईट ले लिया. अगर आपने पहले दो भाग नहीं पढ़े हैं तो आप इस कहानी को शुरू से पढ़ें और देसी लड़की की चूत कहानी का मजा लें.

मगर वो अड़ गया और लंड दिखाने की शर्त रख दी कि लंड चूसना पड़ेगा और गांड भी मरवाना पड़ेगी.

मुझे कुछ कुछ हो रहा है।फिर मैं बोला- मेरी जान … आज तो कुछ हो ही जाने दो. जब मेरी बारी आयी किराया देने की तो …नमस्कार दोस्तो, मैं आपका राज शर्मा स्वागत करता हूं फ्री हिन्दी सेक्स कहानी साइट अन्तर्वासना पर।फ्रेंड्स, मैं गुड़गांव में रहता हूं और मेरे लंड का साइज 7 इंच से कुछ ऊपर है.

भाई बहन का हिंदी में बीएफ [emailprotected]देसी न्यूड भाभी चूत कहानी का अगला भाग:ममेरी भाभी की शानदार गांड मारी- 3. मैं बोला- मैं जानता हूं कि अभी जो घर का खर्च चल रहा है वो सब चुदाई की कमाई से ही चल रहा है.

भाई बहन का हिंदी में बीएफ रूम बंद था और हम सबसे ऊपर वाले फ्लोर पर थे इसलिए नीचे आवाज जाने का कोई सवाल नहीं था. फ्रेंड्स, आपको मेरी गे क्रॉसड्रेसिंग इन पब्लिक स्टोरी कैसी लगी मुझे जरूर बतायें.

मैं सिर्फ अंडरपैंट में था।मैंने उसके हाथ पकड़कर खोले और उसे किस करने लगा।वो भी मेरा साथ दे रही थी।हम बेड पर लेट कर एक दूसरे को चूम रहे थे। मेरा एक हाथ उसकी पीठ और गांड को पैंटी के ऊपर से घूम रहा था; और दूसरा हाथ उसके चूचियों की दबा रहा था।थोड़ी देर चूमने के बाद मैं उसकी एक चूची को मुंह में लेकर चूसने लगा.

बीएफ एचडी टीचर

मेरा आधा लंड उसकी चूत को चीरते हुए अंदर चला गया।लंड घुसते ही वो एकदम से चिल्लाई- अह्ह्ह्ह … अह्ह्ह … रुको … ओओ … आईई … आह्ह।मैंने बोला- क्या हुआ?रानी- दर्द हो रहा है. मेरा इतना कहना था कि भाभी रोने लगीं और कहने लगीं- मैं आपको बाद में सब बताऊंगी, बस भैया को चले जाने दो. फिर हम दोनों एक दूसरे के ऊपर इस तरह लेटे कि मेरा लंड उसके मुँह में और उसकी चूत मेरे मुँह के पास थी.

उसने उंगली से करीब आने का इशारा किया, तो मैं उठा और सुलेखा के दोनों हाथों से हाथ मिलाकर उसे दीवार से टिका दिया और उसके शरबती होंठों को चूसने लगा. रोज बस में आने जाने वाली लड़कियों को घूरता रहता था और मेरा अच्छा टाइम पास हो जाता था. अब वो रिटायरमेंट लाइफ क्यों नहीं जीते?इस पर वो बोले कि वो सिर्फ एडवाइजर का काम करते हैं और बाकी सब लोग उनके नीचे ही काम करते हैं.

नेहा- हां जान जोर जोर से चोद दो अपनी इस रंडी को … आहह आअह्ह्ह मैं बहुत दिनों से नहीं चुदी हूँ … आअह्ह आअह्ह्ह आअघ्ह्ह जोर जोर और जोर से … बुला ले अमित को भी वो भी तेरे सामने मुझको चोद देगा.

ऐसा लग रहा था कि वो तो मानो आज मेरी बुर खा ही जाएगा और वो दो उंगलियों से मुझे चोदने लगा. वो सकपका गयी और एकदम से उसने मेरी ओर देखा; फिर मेरा हाथ झटक दिया और फोन सोफे पर पटक कर भाग गयी. कहानी के पिछले भागमेरी जवानी और सेक्स की प्यास- 1में आपने पढ़ा कि अपने रिश्तेदार लड़के का लंड देखने के बाद मैं उससे चुदाई करवाने के सपने देखने लगी.

आपको मेरी हॉट टीनेज गर्ल्स सेक्स स्टोरी अच्छी लगी या नहीं? मुझे मेल करना न भूलें. वो बोली- पहले मेरी चूत को चाट, मैंने भी तो तेरा लंड चूसा है!फिर उस लड़के ने रानी की चूत को चाटना शुरू किया. वर्ना हमारा परिवार तो बर्बाद हो जाएगा बिना बच्चे के।मैं- दीदी फिर अपनी सास को कैसे बताओगे कि किससे चुदवायी है?वो बोली- कोई बात नहीं.

मैंने हेमा चाची के चेहरे को अपनी हथेलियों के बीच लेकर मला और वीर्य को चेहरे पर मलता हुआ कानों तक ले गया … उनकी छाती और चूचियों को मला. मैंने अपनी फ्रॉक पहन ली और विजय ने तुरंत कमरे का दरवाजा खोला और बाहर झांक कर देखा.

फिर मैंने उसकी चुच्चियों को एक एक करके पीना शुरु किया।और फिर चुच्चियों को चूसते चूसते उसके पेट पर किस करने लगा. हेमा चाची मान गईं और बोलीं कि ठीक है भास्कर … चले जाओ, लेकिन रात में तुम पीछे से सेक्स कर लेना, मैं न नहीं कहूँगी. जिससे वो उचक गई।मैंने थोड़ा सा थूक लगाया और लंड को उसके मुँह में डाल कर गीला किया और फिर उसकी चूत में डालने की कोशिश की।मेरे लंड का सुपारा चिकनी चूत में घुस गया और उसकी चीख निकल गई- आआआ आ आओह … हहांह … हहाह …हहहो!मैंने तुरंत अपने होंठ उसके होठों के ऊपर रख दिए और उसकी चीखें दबा दी।उसे बहुत दर्द हो रहा था.

मैं दर्द में आवाजें करने लगी तो जय ने परम के ऊपर घुटनों के बल होकर मेरे मुंह में लंड डाल दिया.

वो एकदम से शांत होकर लेट गई और धीरे धीरे अपना हाथ मेरे लंड पर आगे पीछे हिलाती रहीदो मिनट बाद वो उठी और बाथरूम में चली गई. भाभी ने मुझे आकर जगाया और कहा- क्या बात है देवर जी? रात भर प्रोग्राम चला है क्या?मैं बोला- नहीं भाभी, हम जल्दी ही सो गये थे. मेरी अम्मी घबराते हुए बोलीं- हायल्ला अभी आगे की ही बात कर … पीछे से तो मैं कभी चुदी ही नहीं हूँ.

दीदी पागलों की तरह मेरे लंड पर कूद रही थी और चुदने के मजे में जैसे खो गयी थी. सुरभि ने मेरे पूरे लंड को चूस कर साफ किया और अपने हाथों से पेस्ट्री लगा कर लंड को खड़ा कर दिया.

उसकी नर्म नर्म गद्देदार गांड को दबाते हुए मेरी उत्तेजना और ज्यादा बढ़ने लगी. और रही बात दर्द की … तो तुम्हारे लिए मैं इतना दर्द झेलने को तैयार हूँ. वो दो गिलास में बनाना शेक लेकर आ गई और हमने बनाना शेक पी लिया।फिर मैं और मैडम बेडरूम में आ गए.

बीएफ सेक्स सीन

मैंने जीभ से चाची की चूत चुदाई शुरू कर दी।कुछ देर बाद मैंने चाची की गान्ड के नीचे तकिया लगाया और लंड को चाची की चूत में घुसा दिया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा।चाची ‘आहह हह ऊईई आहह सीईई आह!’ की सिसकारियां तेज़ करने लगी.

मैंने कंप्यूटर बंद किया और कुर्सी पर बैठे बैठे ही उनको अपनी गोद में खींच लिया. कुछ देर बाद उसका भी जवाब आया और इसी तरह कुछ देर तक हम दोनों की बात हुई।आप मेरी अन्तर्वासना एक्स कहानी पर अपनी राय अवश्य दीजिये. तो साहिल की मम्मी ने मुझे एक साड़ी दी और रागिनी को एक सूट … और बोली- साड़ी तुम्हारे लिए साहिल लेकर आया था अपनी पसंद से!फिर वे बोली- जाकर तैयार हो जाओ अब तुम दोनों! और कमरे में मेकअप का सामान भी रखा है।हम दोनों बहनें अलग अलग कमरे में आ गयी.

उस औरत ने मेरी बीवी का इलाज कैसे किया?दोस्तो, यह मेरी बड़ा लंड सेक्स कहानी एकदम सच्ची है, इसमें बस मैं स्थान का नाम बदल रहा हूँ. तो दोस्तो, इस तरह से गे साइट से मिले अंकल नेमेरी गांड का उद्घाटनकिया. होलिका दहन फोटोवैसे ही फिर मैंने नीचे वाले होंठ के साथ किया और फिर एक लंबा चुंबन दे दिया उसको.

उसने मुझे नीचे लिटाया और मेरी टांगें हवा में उठा कर मेरी गांड में लंड घुसेड़ दिया और दे दनादन चुदाई में लग गया. अभय नीचे लेट गया और बहन इस तरह से लेटी कि उसकी चूत अभय के मुंह पर गयी और बहन का मुंह अभय के लंड पर आ गया.

शाम के टाइम ज्योति मेरे घर आई और बोली- दीदी ने बोला है कि दो जगह खाना बनाने से बढ़िया है, एक जगह ही बना लेते हैं. लेकिन अब मैं उसे छोड़ने वाला नहीं था।ऐसे ही कुछ देर में उसके ऊपर रहा उसके होंठों को चूमने लगा. विजय मेरी पीठ को चूमता जा रहा था और अपना एक हाथ नीचे से डालकर मेरी चूत को भी सहला रहा था.

दूसरी बार झड़ जाने से हम दोनों की हवस शांत हो गई और इसी तरह चिपचिपे सफेद पानी में भीगी चूत और लंड के साथ हम दोनों कुछ मिनटों तक लेटे ही रहे. आप भी मुझे उस वक्त ये कह देतीं तो मैं अपने घर पर यही कह कर आपको ढंग से चोद कर ही जाता. मैं रहने वाली पुणे की हूं और यहाँ फ़िलहाल एक आईटी कम्पनी में असिस्टेंट मैनेजर के तौर पर जॉब करती हूं.

इससे मुझे बड़ी हिम्मत मिली और मैंने अपनी अम्मी की चीटिंग सेक्स स्टोरी को लिखना तय कर लिया.

एक बार फिर से मैंने पूरा जोर लगाकर धक्का मारा और वो एक बार फिर से बिलबिला गयी. जब वो हमारे घर आई तो …अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार!दोस्तो, मेरा नाम अनुज है.

मैं बोला- तो फिर आपने क्या कहा?दीदी- मैं अब उनको मना कर दूंगी कि मुझे शादी नहीं करनी. स्वीटी ने उससे कहा- क्या तुम भी इसका स्वाद लेना चाहोगी?फिर क्या था, वो सब खिल उठीं और तनु व ऋतु उठ कर मेरे लंड को बारी बारी से चूसने लगीं. दोस्तो, आपको हिंदी सेक्स भाभी कहानी कैसी लगी, अपनी राय मुझे मेरी ईमेल आईडी पर और हैंगआउट पर भेज सकते हैं.

जब वो उंगली से तेल लगा रहे थे तो चिकनी उंगली आराम से अंदर बाहर हो रही थी और मुझे बहुत मजा आ रहा था. आंटी ने मुझे चाय नाश्ता दिया और कहा- मैं अभी आई … तुम जब तक चाय पियो. वो अलीमा की अश्रुपूर्ण आंखों में देखकर आंखों से ही कह रहा था कि बस अब हो गया … अब और दर्द नहीं होगा.

भाई बहन का हिंदी में बीएफ साहिल ने मुझे चाबी दी और बोला- खोलो!मैंने ताला खोलकर दरवाजा खोला और उसने बाइक अंदर कर दिया और गेट बंद कर दिया. मेरे रहने के लगभग 3 महीने बाद हमारे पड़ोस के एक नए मकान में रूबी नाम की नई किराएदार और उसका पति रमेश आए थे.

बिहारी सेक्सी बीएफ दिखाइए

अगले भाग में नन्दा की मस्त चुत चुदाई की कहानी को विस्तार से लिखूंगा. जैसे ही मैंने उनके चूतड़ों पर अपना हाथ रखा … तो उन्होंने अपने चूतड़ों को मेरे लंड की तरफ धक्का दे दिया. अब मैंने उसकी चूत की फांकों को हाथ से हटाया तो उसकी चूत में बहुत पानी भरा हुआ था.

कभी वो झटके मारती … कभी मैं लंड को तेज़ कर देता।तब मैंने मामी की गांड के नीचे तकिया लगाया और उनके पैर खोल दिया. मेरी मदहोशी और बेकरारी को उसने समझा और मुझे नीचे देख कर चूसने का इशारा किया. सलमान खान एक्स एक्स वीडियोआंटी ने अपना एक पैर हर्षदीप की कमर पर रखा और हर्षदीप ने अपना लन्ड उसकी चूत में डाल दिया और उसे खड़े खड़े चोदने लगा.

मैं भी काफी दिनों से मामा मामी से नहीं मिला था, तो अगले ही दिन बाइक से मामा के यहां चला गया.

जब मॉम को चूत में उंगली का पूरा मजा मिलने लगा तो उसने मुझे बांहों में ले लिया और हम दोनों के होंठ मिल गये. उसने मेरे गले पर किस किया और मेरे होंठों को अपने होंठों में भरकर किस करने लगा और लगभग 20 मिनट तक हमने किस की.

मैं दीदी के पास गया और तुरंत अपना मुँह उनकी गुलाबी चूत पर लगा दिया।सच में दोस्तो, दीदी की चूत का स्वाद अलग ही था।चूंकि वो काम में लगी हुई थी इसलिए चूत में पसीने और कामरस का मिला जुला स्वाद आ रहा था. उनकी भी शादी हो चुकी है और तीन बच्चे हैं।मेरी मौसी का क़ातिलाना फिगर देखकर कोई भी मुठ्ठी मार ले क्योंकि उनके बूब्स बहुत ही बड़े हैं. लॉक डाउन के दौरान दो दिन के लिए बाजार खुलने का आदेश आया तो सभी को घर की जरूरतों का सामान लेने की लालसा जा गई.

मगर उस समय बुआ मुझे जकड़े रह कर मेरे लंड की रगड़ को महसूस करने के लिए कुछ न कुछ करती रहती थीं.

वो इंतजार करने के बाद बोली- कहां चले गये?मैंने कहा- अब तो कहीं नहीं जा सकता. मैं तुरंत खटिया पर सोने का नाटक करने लगा और वो भी तुरंत भाग कर बालकनी में खड़ी हो गयी ताकि किसी को कोई शक़ ना हो. फिर मैंने दिमाग लगाया और कहा- बाबू बर्थ-डे केक मंगवा लेता हूँ, तो उसको लंड में लगा कर चाट लेना और मैं तेरी बुर में केक की क्रीम लगा कर चाट लूंगा.

भाभी की फोटोमेरा लंड पूरे तनाव में भाभी के मोटे और कोमल कूल्हों के बीच में रगड़ खा रहा था. अब दीदी से झेला नहीं गया और वो ऊह्ह … आह्ह … करती हुई थोड़ी ही देर में झड़ गयी.

यानी की सेक्सी बीएफ

कभी वह मुझे रात में साड़ी पहना कर मेरे साथ साड़ी में सेक्स करते हैं, तो कभी जींस और टॉप पहना कर मुझे चोदने को आतुर हो जाते हैं. फिर जब भी मैं पीछे होता मैडम भी पीछे हो जाती।इस तरह करने से मैडम की चूत में पूरा लन्ड अंदर बाहर हो रहा था।मैडम के मुंह से आह … आह … की आवाज़ें आने लगीं।मैं पूरी तेज़ी से मैडम को चोदने लगा।लगभग सात आठ मिनट बाद मैडम ने मुझे रुकने का इशारा किया. मतलब कि किसी तरह की कोई शर्म नहीं। बुर और गांड चाटना, गाली देते हुए जोर जोर से चोदना।चाची ने कहा- इसमें बुरा मानने वाली क्या बात है? सबकी अपनी अपनी पसंद होती है।मैंने चाची से पूछा- आपको कैसे चुदवाना पसंद है?उसने मुस्कुराते हुए कहा- जैसे मेरे दोस्त को पसंद है वैसे ही.

तभी हेमा चाची ने मुझे आवाज लगाई और बोलीं- भास्कर 9 बजे घर पर आ जाना. फिर जैसे ही मुझे लगा कि अब अंकिता ठीक है, वैसे ही मैंने उसे चोदना चालू कर दिया. रंडी की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैं एक ग्राहक से चुदने गयी तो वहां पर उसके तीन दोस्त और एक नौकरानी भी थी.

मैंने अपने घर की सारी लाइट बंद की और ताला बंद करके जैसे ही मैं घर के बाहर निकला, तो मैंने देखा कि पूरे मोहल्ले में कोई नहीं था. माय हॉट सिस्टर की ग्रुप सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरे दोस्त ने मुझे बताया कि वे एक अन्य दोस्त के जन्मदिन पर मेरी बहन की चूत उसे गिफ्ट देना चाहते हैं. फिर मैंने उसको नीचे लिटा लिया और उसकी पीठ पर आकर उसकी चूचियों को दबाते हुए उसकी गर्दन को चूमने लगा.

वो चुम्बन लेने के बाद मुँह हटा कर बोलीं- मैं तेरे लिए ही तो यहां रुकी हूं मेरी जान!मैंने फिर से उनको एक चॉकलेट उसी तरह से खिलाई और फिर से हम दोनों चुम्बन करने लगे. मैंने अपने लंड को वहीं पर रोक कर पहले ज्योति के दोनों चूचे कस कर दबाये.

थोड़ी देर बाद ट्रेन आ गयी और सारी भीड़ उसमें चढ़ने के लिए भागी और अन्दर घुसने के धक्का मुक्की होने लगी.

मैंने बोला- अब मैं तुम्हें जिंदगी का हर वो सुख दूंगा, जिसकी तुम हकदार हो. मोर वीडियोमगर मेरी चूत टाइट थी औऱ लंड अन्दर नहीं जा रहा था इसलिए राहुल ने एक तेज धक्का लगा दिया. पहली बार सेक्स कैसे किया जाता हैहमारी पहली मुलाकात के समय हमने अपने कांटेक्ट नंबर एक्सचेंज कर लिए थे।हमारी हर रोज़ ही बात होने लगी और व्हाट्सएप्प पर मैसेज का सिलसिला चालू हो गया।कुछ दिन तक नार्मल बातों के बाद हमारी डबल मीनिंग बातें होने लगीं।एक दिन मैंने उसको चुदाई के बारे में बोला. मुझे समझ में नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं … लेकिन मुझे उसका वो मर्दाना टच अच्छा लग रहा था.

एक बार लंड दिख जाए, तो मेरी कोशिश रहती है कि उस लंड को पकड़ का चूस लूं या सहला कर उसकी गांड मार लूं.

मेरे नितम्ब मम्मी के सामने थे।कुछ देर बाद मम्मी सो गई और कुछ मिनट बाद मैं भी सो गया।जल्द ही अगला भाग आएगा। तब तक मेरे साथ बने रहें और कहानी का मजा लेने के लिए तैयार रहे।यह पहले दिन की ही कहानी है. उसका काला लंड बाहर निकल आया और वो उसको मेरी बहन के चेहरे पर रगड़ने लगा. उन्होंने उसके वीर्य से भरी हुई मेरी चूत में अपना लंड डाल दिया और उनका लंड एकदम से मेरी चुत की जड़ तक घुसता चला गया.

कुछ ही पलों में भैया ने भाभी की चुचिया एकदम नंगी कर दीं और भाभी के दोनों पैर ऊपर करके चुदाई की पोजीशन में आ गए. मैंने सोचा पहले बुआ को बता दूँ, पर मैंने नहीं बताया कि कहीं वो ‘रस अन्दर नहीं लूंगी. वो जान गए थे कि उनकी इंडियन देसी सेक्सी वाइफ इतनी खूबसूरत है कि मैं जहां भी जाऊं, लोग मुझे देखेंगे ही.

काजल अग्रवाल की सेक्सी बीएफ वीडियो

अब मन कर रहा था कि चाहे कुछ भी हो जाये एक बार तो दीदी की गांड को नंगी करके देख ही ले. मेरे लंड का पानी मेरे लंड से बाहर आने ही वाला था कि तभी मैंने वहां बगल में पड़ा हुआ हेमा चाची के सिर का दुपट्टा उठाया और अपने लंड को बाहर निकाल कर उस दुपट्टे से लपेट लिया. मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?वो बोली कि मेरा तो इस खाली घर में मन ही नहीं लग रहा है.

मेरी हॉट मैडम सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी? मुझे अपने विचारों से अवगत जरूर करायें.

उस समय रात के 2 बज रहे थे और शराब का नशा भी पूरी तरह से उतर चुका था.

कभी वो झटके मारती … कभी मैं लंड को तेज़ कर देता।तब मैंने मामी की गांड के नीचे तकिया लगाया और उनके पैर खोल दिया. इसके बाद साहिल ने रागिनी को भी नंगी कर दिया और उसके बूब्स के पीने लगा. माँ बेटे का रोमांस2 मिनट में मैंने भी दीदी की चूत को अपने लंड के पानी से भर दिया।दीदी ने मुझे जोर से हग कर लिया और मुझे चूमने लगी.

इस सेक्सी चुत की कहानी में मजा तो आ रहा होगा ना दोस्तो?प्रियम[emailprotected]सेक्सी चुत की कहानी का अगला भाग:हवाई यात्रा में मिली एक हसीना- 5. मैं वहाँ से उठ कर चला गया।फिर कुछ दिनों तक जब किसी ने मुझसे कुछ नहीं कहा तो मैं समझ गया कि इसने अब तक किसी को कुछ नहीं बताया है।मेरी हिम्मत बढ़ गयी और फिर से मैं छुप छुप कर कभी उसकी गांड को तो कभी उसकी चूचियों को घूरने लगा. वह अपने हाथ से मेरे सीने को ऐसे नौंच रही थी मानो वह कह रही हो कि उसका पूरा माल मैं अपने लंड में समा लूं.

मैंने खूब सारी लाल चूड़ियां पहनी और मैंने पायल भी पहनी।मैं बिल्कुल इस तरह तैयार हुई जैसे आज मेरी सुहागरात है. तो मैंने अपना खुद का हाथ मेरे मुँह पर रख दिया ताकि मेरी चीखें किसी को सुनाई न दें.

मैं अक्सर आदीबा को कहीं भी ले जाकर होटल या अपने दोस्तों के रूम पर चोदता था.

मेरा लंड चूत रस से भीग गया; फच्च फच्च … फच्च फच्च … करके लंड अंदर बाहर होने लगा।अब मैंने मामी को अपने ऊपर से उतरने का कहा और उनके मुंह में लंड डालकर घुसाने लगा. एक लड़का मेरे पास आया और बोला- क्या काम है?मैंने कहा- हमें सोनू ने भेजा है. उसने मुझे लंड पकड़ने से नहीं रोका और बोला- तुम गांडू हो क्या? लंड लेने का मन है क्या?मैंने कहा- नहीं, मुझे तुम्हारा लंड देखने का मन है.

सेक्स कैसे करते हैं बताओ क्या बताऊं यार … मुझे उस रात क्या मस्त मजा आने लगा था … शब्दों में बयान नहीं कर सकता. वो भी पूरी मस्ती में चूर हो गई और सिसकारियां भरने लगी- आह … आह … आह … आराम से करो … आह … धीरे से … आह्ह … ओह्ह …ऐसे करते हुए पांच मिनट के बाद फिर से भाभी की चूत ने पानी छोड़ दिया.

अम्मी की चुत झड़ी तो उन्होंने एक तेज आवाज के साथ अपनी चुत का रस सलमान के मुँह में छोड़ दिया. मेरा इतना कहना था कि भाभी रोने लगीं और कहने लगीं- मैं आपको बाद में सब बताऊंगी, बस भैया को चले जाने दो. दिसम्बर के महीने में ठंड की वजह से वो खुली धूप में केवल जांघिया पहने हुए नहा रहे थे.

बीएफ सेक्स वीडियो चोदा चोदी वाला

मगर मेरी चूत टाइट थी औऱ लंड अन्दर नहीं जा रहा था इसलिए राहुल ने एक तेज धक्का लगा दिया. अब जब भी बस हिलती तो मेरा हाथ कुछ टटोलने के लिए आगे आगे बढ़ता और फिर ऐसा करते हुए थोड़ी देर बाद मेरी उंगलियों को उसकी जांघ का स्पर्श हुआ. पांच मिनट बाद भाभी जब बाहर आईं, तो उन्होंने अपने बदन पर सिर्फ़ एक नाइटी डाली हुई थी और उनके हिलते हुए मम्मों से पता चल रहा था कि उन्होंने अन्दर कुछ नहीं पहना हुआ था.

उसे बिस्तर में लिटा कर मैंने उसकी टी-शर्ट उतार दी और उसके बूब्स चूसने लगा. हेमा चाची की मोटी चूचियों और गांड के अक्श को देख मेरा लंड जैसे तना जा रहा था, जिसे पजामे से साफ देखा जा सकता था.

मम्मी के गुलाबी होंठों पर किस करते हुए मैं एक अलग ही दुनिया में पहुंच गया था.

तो दोस्तो, इस तरह से मेरी बहन ने मेरे चार दोस्तों के साथ अपनी चूत और गांड की चुदाई पूरे जोश में करवाई. मुकाबला भी बहुत था इस लाइन में क्योंकि नये नये लड़के जिम करके इसी धंधे में उतरने लगे थे. फिर जब सेक्स कर करके मन भरने लगा तो फिर मेरे लिये मेरा काम जैसे एक मजबूरी बनने लगा.

उसने अपनी दोनों टांगों को मेरी गांड पर लपेट लिया और लंड को चूत में अपने आप सेट कर लिया. वो वैसे ही पेड़ से टिकी हुई हांफने लगी और मैं पैंट पहन कर जमीन पर बैठ गया. उसके बाद मैंने उसे नीचे लेटा दिया और उसकी चूत पर अपने लन्ड का सुपारा रख कर सहलाने लगा.

फिर कुछ देर बाद जब मैं पबजी खेल रहा था मेरी बहन मेरे रूम में आई और कहा- भैया … अनमोल भैया ने कॉल करके मुझे आपके साथ राहुल भैया के बर्थडे पार्टी पर इन्विटेशन दिया है अपने घर पर.

भाई बहन का हिंदी में बीएफ: उसकी चूचियों को छेड़ते हुए मैंने कहा- देख रही हो? कैसे तड़प रहा है तुम्हारे हाथ लगते ही।वो मुस्कराने लगी. नेहा- हां जान जोर जोर से चोद दो अपनी इस रंडी को … आहह आअह्ह्ह मैं बहुत दिनों से नहीं चुदी हूँ … आअह्ह आअह्ह्ह आअघ्ह्ह जोर जोर और जोर से … बुला ले अमित को भी वो भी तेरे सामने मुझको चोद देगा.

मैं शाम को बाजार से रेजर ले आया और सुबह नहाते वक्त मैंने अपने लंड के बालों को बिल्कुल साफ कर लिया. रानी अब मजे में सिसकारने लगी- आह्ह … आह्ह … हां … ये हुई बात … ओह्ह … जोर से … और अंदर … आह्ह … आह्ह …ऐसे करते हुए रानी ने उसके मुहं को पूरा अपनी चूत में दबा लिया. पर मैंने काफी जिद की तो भाभी ने कहा- ठीक है, मैं साड़ी ऊपर उठा कर तुम्हारी गोद में बैठ जाऊंगी।तो मेरे लंड में तनाव आ गया.

मेरे पति मुझसे बातों ही बातों में वो सब फिर से कहने लगे, जैसा कि वे हमेशा कहते थे कि मुझे किसी और से चुदते हुए देखना है.

कुछ दिनों बाद ही मुझे पता चला कि उसका पहले से ही कोई बॉयफ्रेंड है, तो मेरा तो मानो लंड ही मुरझा गया. बहुत अच्छा लगा मुझे!मेरा मन किया कि गांड को मामा के गर्म होंठों पर लगा दूं और वो मेरे छेद को जोर जोर चाटें और चूमें. वो गांड उठाते हुए जल्दी पेलने का इशारा करते हुए कह रही थी- अब देर न करो राजा आज मेरी इस बंजर जमीन को सींच दो.