बीएफ स्कूल टीचर

छवि स्रोत,इंग्लिश एक्स एक्स एक्स एक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

સેક્સ વિડીયો: बीएफ स्कूल टीचर, वो भी मेरे साथ बात करने का कोई ना कोई बहाना ढूंढती रहती थी और मैं भी उससे बात करने का कोई न कोई बहाना ढूंढता रहता था.

बस की चुदाई

फिर चाहे मैं रात भर उससे चुदती रहूँ या मेरा कोई भी फ्रेंड चाहे वो लड़का हो या लड़की हो … रात भर के लिए मेरे कमरे में रह सकता था. पंजाबी बीएफ एचडी[emailprotected]गाँव की लड़की की सेक्स कहानी का अगला भाग:गांव में बिल्लो रानी की जबरदस्त चुत चुदाई- 2.

एक दिन शनिवार को नेहा ने मुझसे कहा कि मुझे इंग्लिश का वर्क कंप्लीट करना है, तो मुझे अपनी इंग्लिश की कॉपी कल मेरे घर पर आकर दे जाना. एक्स बीएफ सेक्सी व्हिडिओअब मैंने उसको चुप कराते हुए कहा- तुम चुपचाप लेट जाओ, मैं लगा देता हूं.

उफ्फ वो सीन आज भी याद आ जाता है तो मुठ मारे बिना रह ही नहीं पाता हूँ.बीएफ स्कूल टीचर: सरिता भाबी ने मुस्कुरा कर कहा- तो वो ही मेरी सेवा करेगा क्या?दूध वाला बोला- अरे वो तो अभी छोटा है; पढ़ता है.

सभी दोस्तों को सादर अभिवादन।मैं आपका जाना पहचाना हूँ लेकिन कुछ नए पुरुष एवं महिला दोस्तों को अपना परिचय देना आवश्यक हो जाता है.मैंने कोमल की आंखों में देखा, तो उसकी आंखों में लाल डोरे तैर रहे थे.

एक्स एक्स मूवी दिखाइए - बीएफ स्कूल टीचर

यह देख कर वर्षा भाभी की गीली और गुलाबी चूत ने मुझे और भी पागल कर दिया.उसके कुछ देर बाद मैंने उसकी गांड में उंगली डाली तो वो मना करने लगी.

अपनी मॉम की मादक गांड की दरार देख कर रोहन का लंड फिर से पैंट फाड़ने को तैयार हो उठा. बीएफ स्कूल टीचर मुझे चुप देखकर जेठानी ने मुझसे पूछा- तुझे अपने जेठजी पसंद आए?मैंने सर झुकाये हुए ही हां में सर हिला दिया.

करीब दस सेकंड तक दोनों समझ ही नहीं पा रहे थे कि क्या करें … वो दोनों बस आपस में खोए हुए थे.

बीएफ स्कूल टीचर?

उसने अब अपनी कमर पर जोर देना शुरू किया और आहिस्ते आहिस्ते लंड चूत को चौड़ा करता हुआ अन्दर जाने लगा. कुछ मिनट की किसिंग के बाद फिरंगी ने मेरा टॉप उतार दिया और रॉय ने मेरी मिडी निकाल दी. चुत की फांकों में लंड सैट हुआ कि मैं एकदम से लंड चुत में घुसा दिया.

कुछ देर बाद मैंने एक उंगली पर थूक लगाकर धीरे से उसकी गांड के छेद में उंगली डाल दी. कुछ देर बाद मैंने कहा- यार पूजा, मैं तेरी चूत को एक बार चोदना चाहता हूँ. फिर आकृति आंटी ने उसकी वजह भी मुझे बताई कि उन्होंने रिट्ज को क्यों नहीं जाने दिया.

फिर पीयूष ने अपना लौड़ा शीना के मुँह से निकाल लिया और अब वो अपनी बहा की चुत की फांकों पर घिसने लगा. मैंने दीदी की पीठ को सहला सहलाकर मसाज की; उसके पैरों की मालिश की।दीदी को बहुत आराम मिला और जब वो मसाज करवाकर उठी तो वो मुस्करा रही थी. इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी मेरी दोस्त की एक मस्त माल सहेली की है.

हमारे बीच बातचीत की शुरुआत काफी अच्छे मूड में हुई थी, तो अब हम दोनों थोड़ी मस्ती मजाक भी कर लिया करते थे. मेरा हाथ सीधा उनकी चूत पर पहुंच गया जिस पर मामी ने पैंटी भी नहीं पहनी थी.

उनका चौड़ा सीना और कड़ियल गोरा जिस्म देख कर मुझे मेरी चुत में चींटियां रेंगने लगीं.

मैं उनको ही देखता ही रह गया … क्या गजब की माल दिख रही थीं वो … ऐसा लग रहा था कि आंटी अभी नहा कर आई थीं.

ये कहते हुए विजय ने कपड़ों के ऊपर से भाभी के एक मम्मे पर अपना मुँह लगा दिया. मेरा वजन 52 किलो है और स्लिम बॉडी है और मेरे लौड़े का साइज साढ़े छः इंच का है. वहां जुआ के अड्डे पर सब मर्द ही थे, सबके हाथों में सिगरेट और शराब के जाम थे.

मैंने उसको कस कर पकड़ लिया और फिर मैं झड़ने लगी।उसके लंड से चुदते हुए मैं झड़ गयी। मुझे बहुत मजा आया लेकिन समीर चोदता ही रहा।वो मुझे बीस मिनट तक लगातार चोदता रहा। अब वो मेरी चूत को फाड़ने में लगा हुआ था. ऐसा लग रहा था कि अब वो अपनी जीभ से मेरी चूत को चोदने लगा हो।कुछ देर चूत चाटने के बाद मैं उसके मुंह में ही झड़ गई और वह मेरा चूत का सारा पानी पी गया और मेरी चूत चाट चाट कर साफ़ कर दिया।अब सागर खड़ा हुआ और अपना खड़ा लन्ड मेरी चूत में डालने की कोशिश करने लगा. अब मैंने उसे दरवाजे के साइड में दीवार से सटा दिया और उसकी फूली हुई चूत में उंगली करने लगा.

इस मौके का फायदा उठाकर वो मेरे होंठों को चूसने लगे और मुझे भी अच्छा लगने लगा.

हम दोनों का जीवन इसी तरह मस्त चल रहा था कि एक रात में आकृति आंटी ने मुझे अर्जेंट अपने घर बुलाया. मेरी पिछली कहानी थी:होली में पड़ोसी लड़के से चुत चुदवा लीये नयी सेक्स कहानी वाइफ स्वैप सेक्स पर आधारित एक सच्ची कहानी है. इन कामुक और रसभरी सेक्स कहानी को पढ़ कर मैं बहुत गर्म हो जाता हूँ और मुठ मारकर अपना जोश ठंडा कर लेता हूँ.

कुछ दिनों बाद मुझे मामी का मैसेज आया, इसमें उन्होंने मां बनने का संदेश लिखा था. मुझे उनसे बात करने में अच्छा लगा तो अब हमारी रोज ही बात होने लगी थी. अब मंजू शादीशुदा 30 साल की महिला है, लेकिन देखने में वो आज भी किसी कमसिन 20 साल की कुंवारी लड़की से कम नहीं है.

वर्षा भाभी मेरे और मेरे लंड की तरफ देख कर हंसते हुए बोलीं- क्या अमन … आज आपने हमारे साथ तो होली खेली ही नहीं … हमें तो आपने सूखा सूखा ही छोड़ दिया.

पहले दिन का डांस का समय पूरा हुआ और मैं कमरे में साड़ी पहनने आई तो इकबाल मुझे अपने कमरे में ले गया. मैंने देखा तो कंडक्टर के साथ एक लड़की थी।कंडक्टर बोला- भाई, आपका केबिन बड़ा है और बस में सीट खाली नहीं है, मैडम को भी अजमेर जाना है।तभी वो लड़की बोली- मैं पुलिस में हूं.

बीएफ स्कूल टीचर मैंने उसको फिर से कसके पकड़ा और इस बार लंड सैट करके कुछ ज्यादा ही ज़ोर लगा दिया. मम्मी को यूं सामने देख कर मुझे थोड़ी शर्म आ गयी तो मैं उसके लंड से हटने लगी.

बीएफ स्कूल टीचर फिर पंकज मेरी बहन की चूत चाटने लगा और बहन कामुक सिसकारियां लेने लगी- आह आह ई उईई म्म उफ़ पकंज चाटो … और चाटो मेरी चूत … आह मजा आ रहा है. किसी और से मुठ मरवाने का मजा ही कुछ अलग होता है … और खास करके कोई भाभी जैसी चुदक्कड़ माल मिल जाए तो पूछना ही क्या.

मैं बोला- देखो अगर मैंने यास्मीन से शादी की, तो फायदा तुमको ही होगा.

योगा सेक्सी वीडियो दिखाइए

मैं उससे बात करने के लिए तड़प रहा था, बहुत हिम्मत जुटा कर जैसे तैसे मैंने उससे बात करने की कोशिश की. मेरी पिछली कहानी थी:भाई के दोस्त को पटाकर चूत चुदवा लीइस सेक्स कहानी के पात्र बहन भाई हैं. उन्होंने तुरंत ही वीडियो देखा, तो मैंने उनको सॉरी कहके बोला कि ये गलती से चला गया.

मैंने दीदी को थोड़ा उल्टा कर दिया, जिससे दीदी की गांड मेरी तरफ हो गई थी. उसको लगा कि अगर अब ये सब तुरंत बंद नहीं हुआ तो सारा अगले कुछ मिनटों में उनके और अपने कपड़े उतार फेंकेगी. मेरा काम बस इतना था कि मैं रोज कॉलेज जाता था और पढ़ाई करके वापस रूम पर लौट आता था.

उसके बाद रिया अक्सर मेरा लंड चूसने लगी और मेरे लंड के वीर्य पी जाती थी.

भाभी महीने में दो तीन बार मुझे अपने पास एक दो रात के लिए बुला लेती थीं. लेकिन जब वो अपने लिए रेड कलर की ब्रा और जालीदार पैंटी ले रही थीं, तब मैंने उस समय इस बात को नोटिस किया कि उनके मम्मों का साइज़ 34 इंच ही था. भाभी की मोटी गोरी जांघों को देखकर मुझसे रहा नहीं गया और मैं उनकी जांघों को बहुत बुरी तरीके से चाटने लगा.

मैंने एक हाथ उसके दूध पर रखा और दूसरा हाथ उसकी गांड पर रख कर दबाया. आखिर मेरी बहन ने मानते हुए कहा- ठीक है … सिर्फ एक बार होगा … फिर कभी नहीं कहोगे. अब सेक्स कैसे शुरू हुआ?दोस्तो,आपने मेरी पिछली कहानीमॉल में मिली लड़की की चूत और गांड चुदाईपढ़ी और पसंद की.

अपने आपको संभालते हुए मैं उसके पास गया और अपना मेल दिखाते हुए अपना परिचय दिया. फिर भाभी इस शहर से चली गईं और उन्होंने अपना नंबर भी हमेशा के लिए बंद कर दिया.

धीरे धीरे रिट्ज को शायद चुदास चढ़ने लगी थी क्योंकि वो अपनी गांड एकदम मेरे लंड पर चिपकाए थी. साथ में दारू पीने के कारण मेरी और सुहैला की अच्छी दोस्ती हो गयी थी. उसने मेरी टांगें फैला कर घुटनों को मोड़ा और अपने मोटे लंड को मेरी चुत की फांकों में फंसा दिया.

भाभी ने कहा- हां तो!मैंने बातें बनाते हुए कहा- आपको पता ही होगा कि ओ.

तो उसने आज के लिए मना करते हुए कहा- पीछे की किसी और दिन … आज केवल मेरी चूत की प्यास को मिटा दीजिये. थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि वह लड़की छत पर गई और अपने कपड़े उतारने लगी. अचानक मुझे रोने की आवाज सुनाई देने लगी, तो मेरा ध्यान स्नेहा की ओर गया.

ये अनीषा मैडम ऐसा क्या काम करती हैं?वो आदमी बोला- यार तुम इस बिल्डिंग के सिक्योरिटी गार्ड हो, तुम्हें पता नहीं है कि क्या काम होता है?मैं बोला- अरे यार मुझे नहीं पता है, अगर पता होता तो मैं तुमसे क्यों पूछता. वो मेरी जीभ की खुरदुराहट को अपनी चुत पर महसूस करने लगी और सिसकारियां लेने लगी, अपने मम्मों को दबाने लगी.

फिर भाभी की गांड में अन्दर तक उंगली चलाई और अन्दर तक शैंपू उतार दिया. धीरे-धीरे उसने मेरे कंधे पर हाथ रख दिया, इससे मुझे जैसे कई करंट लग गया. उसने मेरे लंड को इतना चूसा … इतना चूसा कि आज भी उसे याद करता हूँ तो बड़ा अच्छा लगता है.

खुल्लम खुल्ला सेक्सी वीडियो फिल्म

बीवी मेरा लंड तना हुआ देखकर हॉट हो गई और वो तौलिया के ऊपर से ही मेरा लंड सहलाने लगी.

वो पानी पी रही थी कि अचानक उसे खांसी आई और उसका पानी का ग्लास गिर कर उसके कपड़ों पर गिर गया, जिससे वो आगे से भीग गई और इस भीगे कुर्ते से उसके बूब्स और ब्रा दिखाई देने लगे थे. उनकी चूचियां 36 के साइज की थीं और उनके सूट में उनके सीने पर पूरी कसी हुई रहती थीं. उस हॉट लड़की ने कहा- तुम सीधे लेट जाओ और मैं तुम्हारे मुँह के अन्दर पेशाब करूंगी.

मुझे इस समय अपने अन्दर चुदाई की आग लगी थी क्योंकि हॉल में मेरे ब्वॉयफ्रेंड ने मुझे हद से ज्यादा गर्म कर दिया था. सरिता भाभी की आंखों से आंसू निकलने लगे, पर विजय ने उसकी जरा भी परवाह नहीं की. मुसलीम सेकसनासिर जी दुआ देते हुए बोले- सभी बहनें तेरे जैसी हों तो किसी भाई को कभी कष्ट ही न हो.

असल में उसे अहसास हो गया था कि लकी और सारा आपस में उसके पीछे से चिपटे हैं, बस यह देख कर उसका खड़ा हो गया और उसने इस आग को और बढ़ाने की सोची. सुहैला मेरे मोटे और बड़े लंड को देख काफ़ी खुश हुयी और बोली- तुम्हारा तो बहुत बड़ा है.

मैं उसका लंड हाथ में लेकर बोली- इतना छोटा और ढीला!जय बोला- बचपन में मुठ मारते मारते यह ऐसा हो गया. मैं तो तुमसे शादी करूंगा नहीं, लेकिन तुमको आज चुदाई का मजा भरपूर दे दूंगा. ये बोल कर बसंत ने मेरी ब्रा से एक दूध बाहर निकाल लिया और उसे दबाने लगा.

ये सब सोचते हुए रोहन अपने हाथ को लंड पर ले गया और तेजी से लंड हिलाने लगा. मन तो कर रहा था कि साली के बोबों को खा जाऊं, लेकिन नहीं खा सकता था. उस पल एक बार उसे वो अहसास भी हुआ कि जिस चूत से उसने अपने इस बेटे को जन्म दिया था, आज वही बेटा अपना लंड उसी चूत में घुसेड़ने जा रहा है.

इसके बाद वो मेरा दूसरा हाथ भी अपनी कमर पर रखवा कर मेरे सीने से अपनी मोटी मोटी चुचियों को चिपका कर हिलने लगीं.

लगभग 20 मिनट के बाद मैंने भी उसकी बुर में ही अपना गर्म गर्म पानी छोड़ दिया और उसके ऊपर ही ढेर हो गया. वो बोले- ठीक है तुम सुबह साढ़े सात बजे तैयार रहना, मैं तुमको लेने आ जाऊंगा.

इसके बाद हमारी थोड़ी बहुत बात हुई, तो मैंने उससे उसकी कुछ फोटो मांग लीं. आकृति आंटी ने मुझे सहलाया और बोलीं- देखो जिस तरह मुझे इस उम्र में भी तुम्हारी ज़रूरत पड़ गई है. ‘आहह उह ओहह उम्मह आहह करके वो लंड ले रही थी।केबिन में इतनी जगह तो नहीं थी फिर भी मैंने उसे उठाकर घोड़ी बना दिया और उसकी चूत में लन्ड घुसा दिया और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा.

इस बार भाभी ने जैसे जैसे चोदने को बोला, वैसे वैसे मैं करता चला गया. मुझको जब भी समय मिलता था, तभी मैं सुरीली के चुच्चों को दबाने और चूसने के काम में लग जाता था. कमल ने उससे अपने लिए भी बनाने को कहा तो वो बोली- मुझे डिनर भी लगाना है, मैं तुम्हारे ड्रिंक से ही ले लूंगी.

बीएफ स्कूल टीचर दूसरी का नाम अनामिका ये 37 साल की है और तीसरी सुमेधा, जो 40 साल की और चौथी ममता है. अब मेरी बहन मादक सिसकारियां लेते हुए बोली- अहा अहा पंकज आह मजा आ रहा है … आह चोदो मुझे … और तेज चोदो आआह अपनी पूजा जानू की चूत फाड़ दो.

बरसात सेक्सी

दो दिन के बाद वह अपने कॉलेज से जल्दी निकल आया और मेरी छुट्टी होने के बाद हम दोनों साथ में ऑटो से बैठ कर आए. वो मेरे नीचे कैसे आयी?नमस्कार दोस्तो, मैं रॉकी आपके सामने हाजिर हूँ. उसकी ब्रा को उतारा और उसके मोटे मोटे मम्मों को अपने हाथों से मसलने लगा.

मेरा हाथ सीधा उनकी चूत पर पहुंच गया जिस पर मामी ने पैंटी भी नहीं पहनी थी. उसके साथ मैंने कैसे अपनी सुहागरात की शुरुआत की?दोस्तो, आज मैं आपको अपनी एक नई कहानी बताने जा रहा हूँ।वैसे तो आप कहानी के नाम से ही समझ गए होंगे कि कहानी किसी दूसरी शादी के बाद होने वाली सुहागरात की है. भाई बहन बीएफभाभी बोलीं- तुम मुझे ऐसे क्यों घूरते हो?तो मैंने जवाब दिया- आप आप इतनी हॉट हो कि आपसे नजर ही नहीं हटती.

अब मैं तेरे नाना नानी के साथ तो मजाक कर नहीं सकती इसलिए आज थोड़ा हल्का महसूस कर रही हूं.

जिस दिन मुझे अमित से मिलना था, उसके ठीक एक दिन पहले ही मैंने अपनी सब तैयारी कर ली. मेरा तना हुआ लंड देख कर चंचल बोली- जीजू, आपका बहुत लंड बड़ा है … दीदी तो मर ही जाती होगी.

लिली ने सफेद कलर की ब्रा पहन रखी थी जिसमें वो बहुत कामुक लग रही थी. मीनू नींद में थी और मामा का हाथ उसकी चूची पर चल रहा था।उधर मामा का दूसरा हाथ उनके पजामे में तेजी से उनके लंड पर चल रहा था. वो पूरी मस्ती से मेरा लंड ले रही थी और मैं उसके गालों और कानों को चूमते हुए उसे चोद रहा था.

उसी सेक्स कहानी को मेरी बीवी मेरे पूछने पर मुझे बता रही थी कि उसने अपने जेठ से अपनी चुत किस तरह से चुदवा ली थी.

शायद समीक्षा भी यही चाहती थी कि मौका मिल जाये और हम दोनों चुदाई कर लें. क्योंकि हॉस्टल में रोका-टोकी बहुत होने के कारण इतनी आज़ादी नहीं है इसलिए फ्लैट लेना ज्यादा बेहतर लगा. पहले मेरे होंठों का रुख उसकी नाभि पर हुआ, फिर मेरे होंठ एकदम से उसकी जन्नत घाटी को पार करते हुए सीधे जांघों पर अपना प्यार लुटाने लगे.

सेक्सी पिक्चर हिंदी में बीएफकरीब 20 मिनट तक उसके मम्मे चूसने के बाद मैं स्नेहा की साइड में हो गया और उसकी पैंटी उसके बदन से अलग कर दी. मदमस्त आवाजें निकाल रही थी वो!इससे मैं और भड़क गया और उसे और तेजी से चोदने लगा.

सेक्सी वीडियो मराठी एक्स एक्स

उन्होंने एक दूसरे के कान में कुछ फुसफुसाया और फिर वो उठकर नीचे चली गयी।मुझे लगा कि मीनू नाराज होकर नीचे गयी है।दो मिनट के बाद मामा भी उठकर नीचे चले गये. रोज सवेरे कपड़े सुखाने जब वो छत पर आती, तो मैं उसे काम पिपासु नजरों से ताड़ता रहता. पीयूष ने पान वाले को बोला- क्या देख रहे हो भाई?तो पान वाला बोला- भैया आपकी गर्लफ्रेंडवा बहुतेई सेक्सी है.

मेरा शरीर ज़ोर से अकड़ा और नीचे से ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाते हुए में फिर से झड़ गई. मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड का सर अपने मम्मे पर दबाया और बाजू वाले से आंख के इशारे से पूछा कि किधर गए थे. इससे उसकी पैंटी गीली हो गई और मैं चुत का स्वाद लेकर अपने रूम में चला आया.

उसने दूध वाले को उस समय अन्दर बुलाया, जब वो बाथरूम में बिल्कुल नंगी थी. इस इंडियन सेक्सी चुदाई कहानी के पहले भागगर्म लड़की ने पड़ोसी युवक को पटायामें आपने जाना था कि कैसे अपनी सेक्स लाइफ में बोर होने के बाद सारा कुछ नया आजमाना चाहती थी. मैंने कहा- आप कुछ कहना चाह रही थीं?उसने कहा- खाना खत्म करो फिर बताती हूँ.

बांहों में भरके मैंने उसे बहुत जोर से हग किया, वो मेरी बांहों में रिलैक्स महसूस कर रही थी. इतना कहने के बाद मैंने उसके होंठ पर अपना होंठ रख दिए और उसे चूमने लगा.

अब धीरे धीरे उजाला बढ़ने लगा तो मेरी नज़र उसकी गान्ड पर गईमैंने लंड निकाल लिया और उसकी गान्ड में थूक लगाया और उंगली घुसा दी.

मैं सुरीली के चुच्चों को लगातार मरोड़ रहा था और उन पर चांटे मार रहा था. बिहारी हिंदी बीएफएक दिन की बात है, जब दूध वाला आया तो सरिता भाबी ने उसको अन्दर बुला लिया. भाभी की गरम चूतवो जोर से चिल्ला उठी- कौन हो तुम?रोमी कुछ बोल तो नहीं पाया, पर वो सरिता भाबी को एकटक नज़रों से देखे ही जा रहा था. उसी दिन रात को मॉम ने मेरे कंधे पर हाथ रख कर मुझे सहलाते हुए मुझसे कहा- मुझे अकेले डर लगता है, तू मेरे साथ सो जाएगा क्या?मैंने उनकी आंखों में झांकते हुए हां कर दिया.

इस हालत में ही उसके पैर मेरे पैरों पर आ चुके थे और मेरे हाथ उसकी कमर को कसके दबाने लगे थे.

फिर वो घुटनों के बल बैठ कर पैंट के ऊपर से ही मेरा तना हुआ लंड सहलाने लगीं. कमरे में जेठानी बैठी थी, तो मैंने जेठानी से कहा- तुम यहां से जाओ क्योंकि मुझे तुम्हारे पति से कुछ अकेले में काम है … और ध्यान रखना कि मांजी कहीं जाग न जाएं. मैंने रिया का सर कम्बल में घुसेड़ा और अपना लंड उसके मुँह में लगा दिया.

लगभग 20 मिनट के बाद मैंने भी उसकी बुर में ही अपना गर्म गर्म पानी छोड़ दिया और उसके ऊपर ही ढेर हो गया. क्योंकि हॉस्टल में रोका-टोकी बहुत होने के कारण इतनी आज़ादी नहीं है इसलिए फ्लैट लेना ज्यादा बेहतर लगा. उसकी चूत कुछ ज्यादा ही टाइट थी और मेरा लंड बुरी तरह से उसकी चूत में कसा हुआ था.

सेक्सी वीडियो देखने वाली चुदाई

वो मेरी मम्मी के पास चली गई और मैं बाजार से कंडोम लाने के लिए चला गया. मैं उसको पीछे से चोदने लगा।मुझे चोदते हुए दो मिनट ही हुए थे कि प्रिया की चूत से झरना बह निकला. मैंने बोला- क्या मुझे आप इसके कुछ फ़ोटो और भेज सकती हैं? अगर अच्छा लगा … तो मैं कल आकर ले जाऊंगा.

मुझे ऐसा लग रहा था कि रानी मेरी इस मालिश से उत्तेजित हो रही थी क्योंकि उसकी सांसें तेज चलने लगी थीं और बार बार वो अपने हाथों से चादर को भी मुट्ठी में भर रही थी.

इसके बाद मैंने सुरीली को उठा कर बिस्तर पर पटक दिया और उसके मुँह से अपनी चड्डी निकाल दी.

मैं थोड़ी देर बाद लेट गया और वो अपनी गांड ऊपर नीचे कर रही थी, जिससे मेरा लंड उसके चुत के मुँह के पास तक आकर चुत की गहराई तक आ जा रहा था. चार दिन बाद अनिकेत चला गया और मैं फिर से भाभी की चुदाई का मजा लेने लगा. शादी की सुहागरात की सेक्सी वीडियोमेरी पत्नी बताए जा रही थी:आपने पीछे से अपने हाथों को आगे लाकर मेरी चूचियों को दबाने की कोशिश की, लेकिन मैंने आपका हाथ हटा दिया.

अबकी बार सारा के दिमाग में लकी का लंड था इसीलिए उसका भी जल्दी ही पानी छूट गया. फिर मेरी साड़ी ब्लाउज की तरफ देख कर वो मुझे ऊपर से नीचे तक बड़ी गौर से देखने लगी. उसमें से एक सवारी हमारी सीट पर बैठ गई और एक सामने वाली सीट पर बैठ गई.

सेक्सी लेडी पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि आंटी को मैं तो चिड़ना चाहता ही था पर आंटी को लंड की ज्यादा जरूरत थी. उस दिन मैंने सुनील को फ़ोन लगाया और उसे सामूहिक चुदाई वाले प्लान के बारे में याद दिलाया.

कार्तिक मेरे ऊपर चढ़ कर मेरे होंठों को किस कर रहा था और साथ ही साथ उसके पैर का घुटना मेरी चूत पर रगड़ रहा था.

मैंने जेठजी की आंखों में आंखें डाल कर मुस्कुरा कर इशारे से सर को हां में ऊपर से नीचे करते हुए उनको चोदने का इशारा किया. मैं उसकी पीठ पर किस करने लगा और उसकी पैंटी के अन्दर हाथ डालकर चूत में उंगली करने लगा. मुझे कुछ संकोच लग रहा था कि मैं इस मस्त लंड पर कैसे अपने हाथ को रखूं.

विदेशी पोर्न फिल्म फिर हाथ पीछे ले जाकर मेरी ब्रा खोल दी और मेरी शर्ट उतार दी, ब्रा भी उतार दी।अब मैं ऊपर से पूरी नंगी हो चुकी थी और सागर बारी बारी से मेरी दोनों चूचियों को चूसता और चाटता जा रहा था।सागर ने मेरे दोनों निप्पल पे भी बहुत चाटा और मेरे निप्पल पे काट भी लिया।सागर की इस हरकत से मुझे भी बहुत तेज उत्तेजना चढ़ने लगी. मैंने अपनी चुदाई की स्पीड को बढ़ा दिया और भाभी के मम्मों को मसलते हुए जोर जोर से उनकी चूत चोदने लगा.

दीदी को भी लंड का मजा मिल रहा था और वो मेरे पूरे बदन पर हाथ फिराते हुए चुदने का मजा ले रही थी. मैं बोला- सच में तेरे मम्मे बड़े मस्त हैं यास्मीन! कल वाली रेहाना के मम्मे तो साले सड़े आम से थे. भाभी को लंड सहलाने में प्राब्लम हो रही थी, तो उन्होंने मेरी पैंट निकाल दी.

ट्रिपल एक्स सेक्सी न्यू

रमेश और अंजलि 69 की पोजीशन में थे इसलिए रमेश को मेरी बीवी की चुत चाटने में आसानी थी. तुम्हारी मम्मी से कहने जा रही हूँ कि आज घर में कोई नहीं है, तो मैं छत पर सोने नहीं आऊंगी. मैं भी खुश हो गया।रात में हमने बीयर पी और 3 बार जमकर चुदाई का मज़ा लिया.

अब कुछ देर के बाद मेरे लिंग महाराज का गर्म लावा भी बाहर आने को बेकरार था. कुछ मिनट बाद जब मेरा काम तमाम होने को आया, तो मैंने उन्हें बिना बताए ही अपना वीर्य उनके मुँह में निकाल दिया, जिसे वो पूरा पी गईं.

जब वो अपनी चुदाई की कहानी सुना रही थी, उस दौरान मैं उसकी चूचियों को चूसता रहा और उसकी चूत में उंगली डाल कर कभी उसकी भगनासा को रगड़ देता, जिससे वो चिल्लाने लगती.

उसके मुँह से एक हल्की सी आह निकली और उसने मेरे लंड को गांड के पहले छल्ले में फंसा लिया. अंकल ने मुझे किचन कि स्लैब पर झुका कर घोड़ी बना दिया और ताबड़तोड़ गांड मारने लगे. मैंने कुछ ही पलों बाद अपने दोनों हाथों से उसकी दोनों छातियों को दबाना शुरू कर दिया था.

मैंने उसकी गर्दन के पास अपना मुँह ले जाकर कहा- मुझे तो बहुत कुछ हो रहा है. मेरी आंखों के सामने अब उनकी घुटने से नीचे की नंगी और चिकनी टांगें साफ़ दिखाई देने लगी थीं जो अब मुझे और ज़्यादा कामवासना में लीन करने लगी थीं. मैंने उसकी पैंटी के उसी छेद में से लंड घुसा कर गांड के छेद पर सुपारा लगा दिया.

इस समय भी उसी निप्पल को जेठजी अपने मुँह में भरे हुए थे … लेकिन वासना के मजे का अनुभव, उस दर्द से कहीं ज्यादा था.

बीएफ स्कूल टीचर: मैंने तुरंत बाहर का रुख किया और सावधानी से इधर उधर देखता हुआ एकता के घर में आ गया. अभी तो पापा भी अपने दोस्तों के साथ बैठ कर जाम का मज़ा ले रहे हैं … कुछ देर और रुक जाओ.

फिर दो दिन बाद में दिल्ली आ गया आते समय रास्ते भर पुलिस वाली रजनी को याद किया और दो बार मुट्ठी मारी. वो घर खाली था, तो मैंने इसका फायदा उठाया और उस छत पर उतर कर नीचे कागज ले आया. आज झड़ने पर कुसुम को जो संतुष्टि मिली थी, वो उसे शेखर से सेक्स के दौरान भी नहीं मिलती थी.

मेरा ऐसे करते ही कार्तिक ने मुझे बेड पर धीरे से धक्का देते हुए गिरा दिया.

काफी देर के बाद मेरे गाल और गले को चूमते हुए मेरी शर्ट के सारे बटन खोल कर उसे उतार फेंका. इसके बाद बाकी का सफ़र मैंने उसकी चुचियों को मसलते और अपने लंड को उसके हाथ से सहलवाते हुए ही पूरा किया. मैंने बड़े प्यार से लंड से कंडोम उतारा और नवाब का लौड़ा चाट कर साफ़ कर दिया.