मुठ मारना बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो डाउनलोड भेजें

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बनाने वाली सेक्सी: मुठ मारना बीएफ, रात को हम तीनों ने खाना खा कर लेटने का प्रोग्राम बनाया, क्यूंकि घर में वो, मैं और दादी ही थे.

सुहागरात चोदा चोदी सेक्सी

दोस्तो, मेरी पहली कहानीचुत चुदाई की चाहत में उसने मुझे घर बुलायाआप सबने पढ़ी और उसे सराहा. हिंदी में सेक्सी हिंदी हिंदी सेक्सीवो थोड़ी होश में थी शायद… मुझे धीरे से अलग किया, वो बोली- यह कब कैसे शुरू हो गया, मुझे कुछ याद नहीं?मैंने उसे सारी बात बताई, वो बोली- ओह, सॉरी.

फिर मैं उसका सर पकड़ कर अपना लंड उसके मुँह में अन्दर बाहर करने लगा और कुछ ही देर में मैं झड़ गया. सेक्सी वीडियोस रेपआखिर सुमेर का पानी छूटा, अब वह लड़के की बुरी तरह चूमा चाटी कर रहा था- अरे यार, थोड़ी तो लगती ही है! मेरा भैया! मेरा दोस्त! चल नाश्ता कर ले!उसने जबरदस्ती उसकी जेब में दस का नोट डाल दिया- चल!उसके चूतड़ सहलाए, उसके कई बार चुम्बन लिए, पीठ थपथपाई, सीने से लगाया.

मैं बोली- तू सच कह रहा है, मेरा दिन रात चुदवाने का मन करता रहता है, लगता है कि कोई भी मर्द आये और बस मेरे जिस्म को मसलने लगे और मेरे मुँह में अपना लंड डाल दे, फिर चूत का और गांड को इतना चोदे कि मुझे कुछ होश नहीं रहे.मुठ मारना बीएफ: कुछ देर बाद मेरा छूटने वाला था, मैंने लंड बाहर निकाल कर उसके पेट और चूत के ऊपर गिरा दिया.

तो कोई ख़ास बात नहीं है, मैं उस टीचर को भगा दूँगा क्योंकि तू सिर्फ मेरी है.मैंने उसके अनुरोध का सम्मान किया और उसकी बॉडी को सहलाते हुए उसकी ब्रा के हुक्स को खोल कर उसके 32″ के चुचों को आज़ाद कर दिया.

अपनी वाली सेक्सी - मुठ मारना बीएफ

मैंने पूछा तब उसने बताया- मेरा दूध है, मैं एक साल के बच्चे की माँ हूँ.और किचन की ओर जाते हुये मैंने उनसे पूछा- चाय पियोगे?वो बोले- हाँ, शांति (उनकी पत्नी का नाम) पीऊँगा।[emailprotected].

उसके बाद हम कई बार कॉलेज में इवेंट्स में साथ काम करते रहे और इस तरह से धीरे धीरे हमारी दोस्ती बढ़ने लगी थी. मुठ मारना बीएफ रितु को नशा होने लगा था और उसने अपना टॉप उतार दिया, वह ऐसे ही बैठ गयी.

उसके बाद हम जो प्रोजेक्ट बना रहे थे उसको एक तरफ छोड़ कर एक दूसरे के गले लग कर एक दूसरे को किस करने लगे.

मुठ मारना बीएफ?

मैंने उसको किस किया और पूछा- दर्द हुआ?उसने अपने होठों को जोर से बंद कर रखा था और नहीं का इशारा किया. तकरीबन बारह दिन का गेप था जब मैंने आंटी के साथ अंडरवियर वाला काण्ड किया था. वहां उसने मुझे पकड़ कर अपने पास खींच लिया और मेरे होंठों को चूसने लगा.

वो अच्छे से तैयार हुई, उसने लो-कट ब्लाउज बैकलेस पहना जिसमें आगे से उसकी चूचियां आधी से भी ज्यादा नज़र आ रही थी और पीछे से उसका पीठ पूरा ही नजर आ रहा था. जैसे ही वो चढ़ी उसकी गांड मेरी तरफ़ एकदम चौड़ी हो गयी और मेरे लंड की हालत खराब हो गयी. लेकिन मेरी उससे ज्यादा बात नहीं होती थी क्योंकि उसका एक ब्वॉयफ्रेंड भी था और उसके साथ वो सीरियस भी थी.

फिर 15-20 झटके लगाने के बाद मैंने अपना सारा पानी उसकी चुत में खाली कर दिया और मैं उस पर गिर गया. उससे पूछने पर पता चला कि वो बिना बुकिंग के बैठी है और वो अकेली ही थी. एक दिन मैं अपनी सहेलियों के साथ बाजार जा रही थी, तो वो लड़का मुझे बाजार में मिल गया.

उतने में मैंने किसी बड़े ऑफिसर आने की खबर सुनी और वहां पे ही खड़ा होकर देखने लगा. रोने की एक्टिंग कुछ ज्यादा ही करती हैं, डेथ पर रोते हैं तो कुछ लिमिट होती है, ये तो कुछ ज्यादा ही ओवर एक्टिंग कर रही थीं.

मैं- वैसे आज कुछ प्लान करें, पम्मी के साथ तो जब होगा तब होगा, काफ़ी दिन से कुछ नहीं किया है.

भले छोटी थी, पर तेरी मौसी की बेटी वन्द्या की सुंदरता की सभी बातें करते थे.

जैसे ही मैं अपनी बिल्डिंग के पास पहुँचा, मेरे मोबाईल पर अंजान नम्बर से फोन आया. लगभग सारे लोग ट्रेन में सो गए थे, कुछ एक दो लोग जागे हुए थे लेकिन जो लोग जागे हुए थे वे ऊपर वाली सीट पर थे और एक मैं ही जागा हुआ नीचे वाली सीट पर था. मुझे झूठ बोलकर बुला लेगा, कहीं मेरे साथ खड़े लंड पर धोखा हो जाए, इसलिए पहले उससे बात करा, तब मानूंगा.

वरुण- क्या तुम पोर्न देखती हो? या सेक्स स्टोरीज पढ़ती हो? और क्या ज्यादा पसंद है सेक्स स्टोरीज या पोर्न?स्मिता- मुझे सेक्स स्टोरीज ज्यादा पसंद हैं, उनमें ज्यादा एक्साईटमेंट रहता है. फिर उससे पूछा कि मैंने सुना है कि तुम्हारी बीवी कुछ लोगों के साथ में सेक्स करती थी. उसने आखें बंद करके बाप के गले लगते हुए उसको हल्के से चूमा और गहरी सांस लेते हुए एक छोटी सी सिसकारी छोड़ी.

अभी तक शाज़िया ने चाचा आधा लण्ड ही मुँह में लिया था मगर अब चाचा और ज़बरदस्ती लण्ड अंदर कर रहे थे। इधर मेरी उंगली पूरी तेज़ी से चूत के अंदर बाहर हो रही थी उधर चाचा ने ज़ोर से लण्ड उसके मुंह में दबा कर रोक दिया शायद वो उसके मुंह में झड़ रहे थे.

इस बार लंड एक बार में उसकी चूत, जिसे उसका मौसेरा भाई फुद्दी कहता था (ये बात उसी ने मुझे बताई) में चीरता हुआ चला गया. लेकिन अगले ही पल मैंने उसको अपने ऊपर बिठा लिया और अपना लंड उसकी बुर में फंसा दिया. मैंने उसके पासवर्ड को अपने मोबाइल से लीक कर लिया और फिर मैंने अपने ऑफिस में ही उसकी सारी मेल्स जो जाती थी और उसको मिलती थीं, पढ़ लीं.

इसके बाद मैंने उठा कर पैग बनाए और कोमल से बोला कि लो तुम अपना गिलास उठाओ. जब उसने मुझे अपनी ओर खींचा तो उसका नंगा जिस्म और उसके बड़े गद्दीदार तने हुए स्तन मेरे सीने पर दब गए, मैं एक अजीब सी सिरहन से पागल हो गया, इससे बड़ा सुख मैंने अपने जीवन में कभी नहीं पाया था. मेरा जोश और बढ़ रहा था मैंने मनोहर को अपनी बांहों में कस के पकड़ लिया और बोली- हां मेरे राजा, चलूंगी तेरे साथ, जहां तू बोलेगा, तू मुझे अपनी बीवी आज से अभी से मान लें, तू बहुत हरामी है मादरचोद मनोहर क्या मस्त चोदता है.

उसने टांगों को खोलने में थोड़ा वक्त लिया, पर धीरे धीरे पम्मी सहज हो चली थी.

तब मुझे समझ में आया कि ये आंटी का प्लान था, मैं बहुत खुश हुआ, जिसे वो समझ गईं. दोस्तो, वैसे भी जब हम बीवी की चुदाई करते हैं तो एक बार चुदाई करके शान्त हो जाते हैं, लेकिन अगर किसी दूसरी चूत की चुदाई करते हैं तो मजा कई गुना बढ़ जाता है.

मुठ मारना बीएफ मैं दोस्त की बीवी की चुत में ही झड़ गया और हम दोनों कुछ देर बाद अलग हो कर तैयार हो गए. ”उन्होंने कुछ नहीं कहा, मैंने उनके बदन पे हाथ फिराना शुरू कर दिया, वो तड़पने लगीं और मुझे अपनी साथ चिपका लिया.

मुठ मारना बीएफ वो दीपक की थी, उसमें उसने उसकी चूत में अपना लंड डालते हुए की बात की थी. आंटी मेरे बारे में पूछने लगीं कि कौन हूं, कहां से आया हूं, वगैरह वगैरह.

कुछ दिन बाद मेरी माँ अपने गाँव जा रही हैं, फिर हम दोनों मेरे घर पर ही मिल लेंगे.

सेक्सी आंटी वीडियो सेक्सी

खैर जब इसकी बात हो ही गयी तो मैं अपनी वर्जिनिटी लूज़िंग की कहानी से शुरू करता हूँ. सिर्फ यह याद था कि जूसी रानी की एक उसके जैसी ही सुन्दर सी, सेक्सी सी बहन है. मैंने कहा- ठीक है फिर तुम दोनों एक बार मेरे सामने फिर से चुदाई करो.

वो मुझसे बहुत खुल कर बात करती थीं और मुझे किसी न किसी बहाने छूती भी रहती थीं. जब से उसकी माँ का देहांत हुआ था, यह पहली बार था, जब उसके बापू उसके साथ वैसा व्यवहार कर रहा था, वर्ना हमेशा से उसका बापू उसको एक छोटी बच्ची की नज़र से देखता था. मैंने जूली की टांगों को चौड़ा किया और चूत के छेद को खोल कर देखा, छेद में ऐसा लग रहा था कि जैसे अन्दर जगह ही नहीं है.

फटाफट से हम दोनों ने अपने कपड़े उतारे और दीदी मेरे लंड को चूसने लगीं.

दोस्तो, आपको कैसी लग रही है मेरी न्यूड स्टोरी, बताने के लिए मुझे यहाँ मेल कर सकते हैं[emailprotected]आपके प्रोत्साहन से मुझे लिखने की प्रेरणा मिलती है।. वो मादक आवाजें निकालने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने शावर खोल दिया और धकापेल चुदाई शुरू हो गई. अब शादी ब्याह में तो ये सब चलता ही है और किसी की चुदाई भी हो जाय तो कोई बड़ी बात नहीं.

उसके बाद मैं नीचे पीठ के बल लेट गया और उसने मेरे लंड पर आकर अपने छेद को फिट करके धीरे से मेरा लौड़ा पूरा अन्दर खा लिया. अब चाचा अपना लंड मेरे मुँह में अन्दर बाहर करने लगे और गंदी गंदी गालियां देने लगे. वो एक हाथ से मेरा लौड़ा हिला रही थी और एक हाथ मेरी गोटियों से खेल रही थी.

मैं जब बोलती हूँ कि बुआ मैं आपके घर नहीं जाऊँगी, तो वो बोलती हैं कि मैं तेरे घर आती हूँ तो तू मेरे घर क्यों नहीं जाएगी. मेरी आँखों से बस पानी ही बह रहा था और वो बोल रहा था- अब इन आँसुओं को बचा कर रखो.

अपनी चूत जैसी कोमल जगह पर अपने बापू का लंड का अहसास पा कर पद्मिनी ने आँख मूँद लीं और अपने बापू को ज़ोर से बाँहों में जकड़ लिया. वो बहुत ही उत्तेजित हो रही थी, उसके मुँह से चुदास से भरी सिसकारियां निकल रही थीं. मैंने उनसे पूछा- आप में से अभिलाषा कौन है?उनमें से एक लड़की जो बहुत सुंदर दिखाई दे रही थी, उसने बताया कि अभिलाषा मैम रिसेप्शन के पीछे बने कमरे में बैठती हैं.

अगले एक हफ्ते तक हम दोनों ने चुदाई का मजा लिया, फिर अदालत में जा कर शादी कर ली.

मैंने बिना समय गंवाए उसके पैर फैलाते हुए ऊंचे कर दिए ताकि उसे ज्यादा दर्द न हो. थोड़े से बच्चे बाहर हॉल में बैठे थे और बृजेश उन्हें कुछ पढ़ा रहा था. उनके लंड के पानी का एक एक कतरा मेरी गांड में निचुड़ जाने के बाद सुरेश जी ने अपना मुरझाया लंड बाहर निकाला और हम दोनों नंगे ही सो गए.

वो बोल रही थी- और चोद और चोद बहनचोद फाड़ दे मेरी चूत!मैं अपने धक्के लगाता रहा और पूरे कमरे में हमारी सिसकारियां गूँज रही थी।करीब 15 मिनट की भयंकर चढ़ाई चुदाई के बाद मेरा होने वाला था मैंने उससे कहा- कहाँ निकालूँ जानेमन, मैं आ रहा हूँ. चाचा जी ने मुझे चोदने की शर्त पर किसी से न कहने की बात रख दी, जिसे पहले मैंने मान लिया, फिर मना करने लगी.

मैं तो बात ही भूल गई थी कि उस दिन मैंने एक टाईट सा टॉप और लैग्गी पहनी हुई थी. उधर मेरी बीवी को मेरा लंड इतना पसंद है कि वो कभी भी मेरे लंड को अपनी चुत में घुसा लेने के लिए अपनी चुत खोलकर तैयार रहती है. कुछ देर बाद उसने मुझे ठीक से सीधा लेटाया और अपनी दोनों टांगें मेरी कमर के दोनों ओर करके मेरे लिंग पर बैठने लगी.

सेक्सी वीडियो स्थान

साथ ही उसकी योनि में से कुछ गरम गरम सा बहने लगा और वो मेरे ऊपर ऐसे ही लेट गई.

इसके साथ साथ मैं अपने अन्तर्वासना के प्रबंधकों को भी प्रणाम करना चाहता हूं जिनकी सोच के कारण आज अन्तर्वसना इस मुकाम पर पहुँची है. इतनी हसीन गर्म जिस्म वाली कामुक लेडी अगर पास में सोई हो तो नींद कहां से आती है. मैं उसके मुँह में अपना लौड़ा आगे पीछे करने लगा, वो गों गों कर रही थी.

की आवाजें निकाल रही थी।करीब 15-20 मिनट की जबरदस्त चुदाई के बाद हम दोनों झड़ गए। वह बेड पर पेट के बल पसर गई. मैं अन्तर्वासना पर पहली बार स्टोरी पोस्ट कर रहा हूँ तो मुझे बहुत हिचक है और अगर कुछ गलती दिखे, तो प्लीज़ नया समझ कर नजरअंदाज कर दीजिएगा. सेक्सी सील तोड़ सेक्सीबहूरानी के जाने के बाद मेरा ध्यान फिर से उन छोरियों के झुण्ड की ओर चला गया जहां वे सब कुर्सियों का गोलचक्कर बना के बैठी किसी मोबाइल में आँखें गड़ाये चहचहा रहीं थीं.

अब मजा आ रहा है न?” उसने दूसरे हाथ को नीचे ले जा कर मेरी गोद में मौजूद दूध मसलते हुए पूछा।हं-हां।”बस ऐसे ही लंड से भी आयेगा, थोड़ा छेद ढीला हो जाये बस।”करो कैसे भी. लड़का कपडे़ नहीं पहन पा रहा था, सुमेर ने उसको पैन्ट पहनाई, बालों कपड़ों पर से धूल झाड़ी, सहारा देकर बाहर अपने कमरे तक ले गया, बिठाया, पानी पिलाया- थोड़ी देर बैठा रह, तब घर जाना।ऐसे ही दो दिन बाद लड़का आया तो फिर सुमेर ने उसकी गांड मारी, उसको गांडू बना कर छोड़ा!कहानी का अगला भाग:नई जगह, नये दोस्त-3.

मैंने लंड के सुपारे को भाभी की चूत पे लगाया और उनको बैठने का इशारा किया. वो मेरे बाल पकड़कर बहुत जोर से खींच के अपना लंड मेरे मुँह में अन्दर बाहर कर रहा था, उधर नीचे पीयूष अपनी पूरी जीभ मेरी चूत में डाल कर चूत को चूस रहा था. यही तो वो पल था जिसे देखने को मैं पागल हो रहा था… अपनी बीवी को किसी और लन्ड से स्खलित होते हुए देखना!आहहहह… आहहह… उफ.

उसकी गांड की फांक महसूस करके अब तो मेरा लंड भी पूरा खड़ा होकर उसकी गांड के छेद पर जा लगा. वो भी शायद 4-5 महीने से चुदी नहीं थी तो वो भी किस करने लगी और मेरे कपड़े निकालने लगी. मंजू का विरोध अब उम्म्ह… अहह… हय… याह… सिसकारियों में बदल गया था!राज उसके स्तनों को चूमते चूमते उसकी नाभि ओर चुत के ऊपर के भाग तक गया और उसने उसकी क्लोटेरियस को चूसना शुरू कर दिया.

उसकी आंखों से आंसू आने लगे, लेकिन वो चिल्लाई नहीं, हालांकि उसको बहुत तेज दर्द हो रहा था.

मैं पोर्न देखने लगा तभी मुझे अहसास हुआ कि आंटी का हाथ मेरे लण्ड पे है और वो पकड़ के बोली ‘एकदम मर्द है… चल मुझे स्वर्ग की सैर करवा दे!’ फिर हम एक दूसरे के साथ सेक्स में मस्त हो गए. मैं- वैसे आज कुछ प्लान करें, पम्मी के साथ तो जब होगा तब होगा, काफ़ी दिन से कुछ नहीं किया है.

उसने छोड़ा, मैं उसके कमरे में उसको ले गई और झट से पलंग का गद्दा मय चादर के ऊपर उठा दिया. फिर होंठों पर जीभ फेरते हुए अपने लंड को अपने पैन्ट में सीधा करने लगा. वो मेरी बगल में आकर बैठ गया और मेरी तारीफ करने लगा- तू मुझे बहुत सुन्दर लगती है.

उसके बाद चाची मुझ पर मेहरबान हो गयी और अपनी कामुकता के चलते वो अपना जिस्म मेरे हवाले कर रही इथी. वो नंगी ही किचन में चली गयी और जब वो आयी उन्होंने नाइटी पहनी हुई थी।मम्मी ससुर जी से बोली- आपने मुझे बहुत मजा दिया है. फिर मैंने उनको प्यार से चूमा तो कहने लगी- मेरा महबूब बड़ा प्यारा कसाई है, बहुत बेदर्दी से चोदता है, लेकिन मुझे जन्नत की सैर कराई.

मुठ मारना बीएफ फिर जिस दिन मिलना था, मैं तैयार हुआ अच्छे से और उससे मिलने चला गया, हमने एक पार्क में मिलने का प्लान बनाया था. उसने ब्लैक कलर की साड़ी पहनी थी और झीने काले रंग के ब्लाउज के अन्दर सफ़ेद रंग की ब्रा पहनी थी, जोकि एकदम साफ़ झलक रही थी.

nachoonga सेक्सी

अब मेरा बांया पैर बीवी के दोनों पैर के बीच में था और दांया पैर उठाकर बिस्तर पर बीवी की कमर के बाजू में रखकर बीवी की चुत चोदने लगा. अब उसने मुझे बैठा दिया और मेरी ब्रा खोल दिया और मेरे मम्मों को पागलों की तरह चूसने लगा. बीवी की चुत के ऊपर मेरा हाथ था, तो मैंने उसकी चुत को मुठ्ठी में भरकर हल्के से दबा दिया.

जब हमारी शादी हुई थी तब मेरी बीवी को चुदाई कैसे करते हैं, ये मालूम ही नहीं था. मुझे बहुत गुस्सा आया तो मैंने निशा को बोला- दीदी, उस भाई के पैर अकड़ जाएंगे. कॉलेज स्टूडेंट का सेक्सी वीडियोरात की चुदाई में सब कुछ भूल गई और जब सुबह तबस्सुम जाने को निकली तो मैंने उससे अपने दिल की बात कही.

सफर काफी लम्बा था हम बातें करती रही, तभी हम सेक्स की बातें करने लगी.

अब आगे…अगले ही पल मैंने अपने बॉस से फोन करके किसी कम्पनी में उसकी नौकरी लगवाने की बात पक्की करवा दी थी. हमारे यहाँ की रीतियों के अनुसार जब किसी की मृत्यु हो जाती है, तो 12 दिनों तक बेड पर सो नहीं सकते.

फार्म हाउस मैं हमारा बूढ़ा वॉचमेन रमेश अपनी दूसरी पत्नी रूपा के साथ वहीं रहता है. मैंने फिर से कोमल को अपनी गोद में लिटा लिया और मम्मों को दबाने लगा. वाइट शर्ट में हॉट पैंट शर्ट मम्मी की चुचियाँ बाहर को दिख रही थी।आकर वो ससुर जी की गोद में बैठ गयी।ससुर जी ने पहले तो मम्मी के नीचे के शर्ट के दो बटन को खोला और उनके पेट पर हाथ फिराने लगे, मम्मी को किस करने लगे.

मैंने चूंकि बारहवीं का प्राइवेट फॉर्म भरा था, इसलिए मुझे ट्यूशन कभी मिस नहीं करने का एक ये भी कारण था.

इस पर उसने कई सवाल किए कि मेरा नम्बर कहां से मिला था, क्यों फोन किया था. इस तरह हम दोनों में बातचीत होने लगी और हम दोनों रोज ही साथ में आने लगे. कभी कभी उसके दाने को दांत से पकड़ कर थोड़ा सा खींच कर छोड़ता तो उसको जैसे बिजली के झटके महसूस हो रहे थे.

सेक्सी चुदाई वीडियो एचडी फिल्मदिखने में सांवली, गठीला बदन, परफेक्ट शेप में गांड, बड़े बड़े मम्मे, तेज आंखें. लौड़े ने पूरी तरह अकड़ के चार पांच तुनके मार कर सूचना दी कि हाँ उसको भी जूतियों से आयी हुई रेखा के पैरों की सुगंध से मज़ा आया.

सर्दी सेक्सी वीडियो

उस दिन के बाद एक बार आया था और बिना चुदाई किए ही चला गया था और जाते वक्त बोला था कि पिंकी तुम किसी अच्छे लड़के से शादी कर लो, मैं तुम्हारे साथ पूरी जिंदगी नहीं रह सकता. इसके बाद मैंने उसको बिस्तर पर नीचे लेटा लिया और खुद उसके ऊपर चढ़ कर उसे किस करने लगा. विक्रम को जैसे विश्वास नहीं हुआ, वो ख़ुशी और उत्साह के मारे उसकी गोल-गोल बड़ी चूचियों को पकड़कर हल्के-हल्के से दबाने लगा.

तब मैं समझा कि ये सूखने डाले हुए कपड़ों को उतारने की बात कर रही हैं. हाय दोस्तो, मैं कुमार, मेरी पहली कहानीबीवी की चुत की दिलखुश चुदाईआपने पढ़ी होगी. पिता को पद्मिनी से बहुत प्यार था और अपने दिल के टुकड़े को वो हमेशा अपने साथ रखता था.

अब मैं सीधे कहानी पर आता हूँ! बात आज से 10 महीने पहले की है जब मैं स्कूल की पढ़ाई पूरी करके महाविद्यालय में प्रवेश लिया था. अहमदाबाद पहुँचने के बाद मैंने एक होटल में डबल बेड का एक रूम बुक किया, फिर उसे मिलने के लिए एक कॉफ़ी शॉप में बुलाया. राज ने धक्के लगाने चालू कर दिए! मंजू के हिलते हुए चूतड़ राज को और उत्तेजित कर रहे थे, कुछ ताबड़तोड़ झटकों के साथ राज का भी स्खलन हो गया, राज मंजू के ऊपर गिर पड़ा.

मैंने हिम्मत करके उनकी जाँघ को हल्का सा चूम लिया, उन्होंने कुछ नहीं कहा. जैसे ही मैं घर पर पहुँची तो गाड़ी से उतरते हुए मैंने राहुल को अपनी तरफ खींचा और उसके होंठों पर एक जोरदार किस कर दी, मगर राहुल ने इस बीच मेरा कोई साथ नहीं दिया.

मैंने उसकी तरफ देखा तो उसने कहा कि मेरी बहुत टाइम से चुदाई नहीं हुई है.

’मेल को गए अभी 5 मिनट भी नहीं हुए थे कि उसका जवाब आ गया कि वाओ क्या बात बताई है. इंडियन ओपन सेक्सी ओपनअब रजत का पूरा लंड मयूरी के चूत के अंदर था और रजत ने झटके मारने शुरू कर दिए थे. करीना कपूर की पिक्चर सेक्सीएक बार झड़ जाने के बाद हम दोनों ही मानो चुदाई के आधे नशे से चूर हो हो गए थे, लेकिन अभी बहुत कुछ करना बाक़ी था. वो मेरा पूरा साथ दे रही थी।पता ही नहीं कब उनकी जीभ मेरे मुंह में और मेरी जीभ मुंह में थी और एक दूसरे के होंठ जीभ चूसने लगे। मैं उनके दूधों को कस कस के दबाने लगा.

मैं आंटी के पीछे बहुत वक्त से लगा हुआ था और उन पर कुत्ते की तरह नजर रखता था कि कब तो मुझे मिले चांस उसे चोदने के लिए… लेकिन वक्त नहीं आ रहा था.

उन्होंने कहा कि अब मैं तुम्हारी हूँ, तुम जब चाहो तब मुझे चोद सकते हो. लेकिन तभी उसने बिना इशारा किए एक बहुत तेज धक्के के साथ अपना पूरा लंड मेरी कमसिन चुत में उतार दिया. उसकी कातिल जवानी की ये स्थिति थी कि वो जैसे ही बस में चढ़ी, सारे मर्द उसे हवस भरी नज़रों से देखने लगे.

मैंने डोरबेल बजाई, कुछ देर बाद अंकित ने दरवाजा खोला, वो सिर्फ अंडरवियर में ही था. ”उन्होंने कुछ नहीं कहा, मैंने उनके बदन पे हाथ फिराना शुरू कर दिया, वो तड़पने लगीं और मुझे अपनी साथ चिपका लिया. मुझे ढीला पड़ते देख कर भाभी खड़ी हुईं और मुझे खड़ा करके किस करने लगीं.

मुस्लिम सेक्सी वीडियो मूवी

करीब दस मिनट मुखचोदन करने के बाद वह तेज आवाज के साथ मेरे मुँह में ही झड़ गईं और मैं सारा रस पी गया. मैं एक बड़ी कम्पनी में काम करती हूँ और मेरी कम्पनी अपने वर्कर को ख़ुद का ख्याल रखने के लिए सैलरी से अलग पैसे देती है, तो मैं बॉडी मसाज़ करवा लेती हूँ ताकि अच्छा फ़ील हो. ’ यह कल्पना कर मैं अपने लंड को हिलाकर मुठ मारने में मग्न हो गया था।सुजाता को मैं मन ही मन में हर पोजीशन में … झुकाकर … लिटाकर … उसकी गांड में … उसके मुंह में … ऐसे सोच सोच कर मुठ मार रहा था।मुझे क्या पता था वहां मेरे अलावा कोई और भी था।वो थी सीमा…सीमा मेरे खेत में घास लेने आई थी तो वो सीधे हमारे मक्की के खेत में आ गई थी.

मैं बड़ी तेजी से आंटी की चूत में धक्के लगाए जा रहा था और मेरा लंड अन्दर बाहर हो रहा था.

कुछ लड़कियों के ग्रुप दूर कहीं कोने में किसी मोबाइल पर नजरें गड़ाये मजे ले रहे थे; हंसना मुस्कुराना, कोहनी मार के हंस देना … यह सब देख कर सहज ही अंदाज लगाया जा सकता था कि उनके मोबाइल में क्या चल रहा होगा.

मेरी बहन प्रीति मेरी तरफ अपनी गांड करके सोई हुई थी और मेरा लंड बैठने का नाम नहीं ले रहा था तो मैंने अपना पजामा थोड़ा नीचे किया और अपना अंडरवियर नीचे करके अपना लिंग हाथ में पकड़ लिया. थोड़ी देर बाद तुषार भैया अपने पूरे मूड में आ गए और उन्होंने टेबल लैंप ऑन कर दिया. इंडियन सेक्सी स्कूल गर्ल्समैं तो अपने होश खो बैठी थी, मुझे तो यह भी याद ना रहा कि मैं कहां हूँ.

उसके भाई विक्रम ने अपने जीवन काल में पहली बार नंगी चूत देखी थी, और वो भी अपनी खुद की बहन की… वो बहुत ही ज्यादा उत्तेजित हो रहा था. दोस्तो, यह मेरे पहले सेक्स की मेरी पहली सेक्स कहानी है, जरूर बताएं कि कैसी लगी. मुझे वो बहुत ही सेक्सी लगती थी लेकिन चूंकि वो मेरी बहन थी इसलिए मुझे उसके साथ ये सब करने की हिम्मत नहीं होती थी और मौका भी नहीं मिल सका था.

उन्होंने अपना हाथ धीरे से मेरे नीचे नंगी चूत में ले गए और बोले- यह तेरी चूत से रस बह रहा है, तू तो बहुत चुदासी हो रही है, चल जल्दी से तुम्हारी चूत को मैं साफ कर दूं और तुम्हें एक अलग सा मजा भी दे दूं. वो उसका पहला ओर्गास्म था उस सुहागरात में!और उन्हें लगा कि उन्होंने पैंटी में पेशाब कर लिया है.

वो मेरे बाल पकड़ कर अपने लंड से जोर जोर से धक्के चूत में मारने लगा.

रात के करीब 3:00 बजे थे और हम दोनों एक दूसरे की बांहों में टूट कर बिखर गए।आगे की कहानी मेरे अर्थात राजवीर के शब्दों में:लगभग इतना ही समय था जब मैं यानि राजवीर अपने साली की पत्नी सीमा की नंगी बांहों में लिपटा हुआ था, आज मुझे अपने करामाती दिमाग पर नाज हो रहा था। सीमा की आंख लग गई थी शायद दो बार स्खलित होने के बाद वह चरम सुख पाकर सुख में नींद लेना चाहती थी. उन्होंने अपना हाथ धीरे से मेरे नीचे नंगी चूत में ले गए और बोले- यह तेरी चूत से रस बह रहा है, तू तो बहुत चुदासी हो रही है, चल जल्दी से तुम्हारी चूत को मैं साफ कर दूं और तुम्हें एक अलग सा मजा भी दे दूं. फिर हम डांस करने लगे, मैं अपना हाथ उसकी कमर में फेर रहा था, जिससे वो थोड़ा हॉट होने लगी.

4 सेक्सी बीपी इतने में मुझे छेड़खानी करने का आइडिया आया और मैं उनकी बुर में उंगली करने लगा. काफी देर मनाने के बाद भी जब वो नहीं मानी तो मैं उसे समझाने लगा, कुछ देर समझाने के बाद वो मान गयी और आधे मन से उसे मुँह में लेकर चूसने लगी.

काफी देर तक वो मुझे चोदता रहा, फिर अचानक उसने अपनी स्पीड बढ़ा दी और 2-4 झटके के बाद उसने अपना लंड निकाला और मेरे पेट पर सफेद बहुत सारा पानी गिरा दिया. उन्होंने मुझसे लिख कर बोला था कि मीटिंग में थी, इसलिए कॉल नहीं रिसीव किया. वो बोली- क्यूँ भाई, तू तो बहनचोद बन गया आज?मैं बोला- काहे की बहन, ना तो हमारी माँ एक है, ना ही पिता.

काम करने वाली का सेक्सी वीडियो

तो क्यूँ न मिल कर एक दूसरे की इच्छा पूरी करें! भूल जाओ कि हम माँ-बेटे हैं, बस यह याद रखो कि तुम एक औरत हो और मैं एक मर्द। अगर आज की रात यादगार बनाना चाहते हो तो सिर्फ मेरी दी हुई बिकनी पहनकर मेरे आलिंगन में आ जाओ! और मैं वादा करता हूँ कि तुम्हें खुश रखूंगा। एक बेटे का लंड अपनी माँ को चोदने के लिए उत्तेजित है!आपका बेटामैं तो इंतजार ही कर रही थी इस घड़ी का! रात करीब 11. लालजी ने मुझसे पूछा- वन्द्या अंकित के एक अंकल हैं, वही हम लोगों को सब देते हैं. उन्होंने अपना हाथ धीरे से मेरे नीचे नंगी चूत में ले गए और बोले- यह तेरी चूत से रस बह रहा है, तू तो बहुत चुदासी हो रही है, चल जल्दी से तुम्हारी चूत को मैं साफ कर दूं और तुम्हें एक अलग सा मजा भी दे दूं.

इस बीच मैं उसे बहुत किस करता, उसकी चूची को कपड़ों के ऊपर से दबा देता. मैं- वैसे आज कुछ प्लान करें, पम्मी के साथ तो जब होगा तब होगा, काफ़ी दिन से कुछ नहीं किया है.

हम एक बार तो जरूर ही ये सब करेंगे, इसके लिए मुझे कितना भी दर्द क्यों न हो.

खाने के बाद मैंने जूली को फिर से अपनी गोद में बिठा लिया और उसकी चूचियों को मसलने लगा, उसकी चूचियाँ भी दर्द करने लग गई थी. तभी उन्होंने अपनी उंगली से मेरी फूली जगह, जिसके अन्दर पुसी या चूत होती है. मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डाल दी जिससे वो सिहर गयी और मेरा लण्ड चूस चूस कर चोदने लायक बना दिया और वो मुझे पागलों की तरह चूस रही थी।कभी मैं चाची की चूची तो कभी चूत को रगड़ रहा था.

मैं तो मानो उसके साथ चुदाई के इस खेल में मस्त हो गई थी और उसकी हर बात मुझे अच्छी लगने लगी थी. मैंने उसको बताया कि लड़की की चूत में बहुत लचीलापन होता है और वह बड़े से बड़ा लंड अपने अंदर ले सकती है. हम दोनों की काम वासना पूरी तरह से जाग गयी थी और एक दूसरे के ऊपर कंट्रोल नहीं रहा.

फिर थोड़ी देर तक मेरी चूची चूसने के बाद वो खड़ा हुआ और उसने अपना लंड.

मुठ मारना बीएफ: मैं कमरे में चारों तरफ चोर निगाह से देखा कि कहीं कोई कैमरा तो नहीं लगा है. वो मुझे बिठा कर बोलीं- मैं चाय बना कर लाती हूँ।मैंने मना कर दिया तो वो बोलीं- अरे इतना भी मत शरमाओ.

सुरेश जी रात भर कामक्रीड़ा करने के वजह से गहरी निद्रा में सोये हुए थे. अभिलाषा हंस कर कहने लगी- आज आप जूली के साथ वक्त बिताएं, बाकी कल देखेंगे. धीरे धीरे उन्होंने अपनी उछलने की स्पीड बढ़ा दी और कुछ ही देर में अकड़ने लगीं.

उसको चूमते हुए मैं उसके नीचे के इलाके में आ गया और उसकी सलवार खोलने लगा.

फिर अंकल रात को आये और बोले- थेंक यू विकी, तुमने अपना टाइम मुझे दिया. दोस्तो, मेरी पिछली कहानीमालिक की बेटी की कामवासनामें आपने पढ़ा कि बुआ जी ने मुझे और अनु दीदी को सेक्स करते हुए देख लिया था. सपना ने मेरे पास आकर मेरी 34 साइज गांड को पानी के अंदर मसलना शुरू कर दिया। मैं उस जाटणी की हिम्मत देख कर हैरान रह गई। वो पानी के अंदर मेरे सेक्सी बदना को सहलाने लगी.