बीएफ वीडियो बढ़िया वाला

छवि स्रोत,देसी सेक्सी विदेशी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

थाल पूजा का लेकर: बीएफ वीडियो बढ़िया वाला, मेरी चुत ने पानी छोड़ा था, लेकिन जल्दी ही उसने मुझे फिर तैयार कर दिया.

दुनिया की सबसे अच्छी सेक्सी

मेरा लौड़ा पूरी तरह से शीना की गांड के अन्दर घुस गया था और आगे पीछे हो रहा था. सेक्सी कर्नाटक सेक्सी वीडियोकैसे हो दोस्तो, मैं राज अपनी कहानी का अंतिम भाग आपको बताने जा रहा हूं.

जैसे ही उसकी जुबान मेरे सुपारे पर लगी, तो मेरे भी मुँह से आह निकली और मेरे लंड से पिचकारी निकल पड़ी. वेब सीरीज xxxउसने भी मेरी आँखों में आंखे डालते हुए हामी भरी और धीरे से मेरे कान के पास अपना मुंह लेकर धीरे से मेरे कान में कहा- शालू, तुम हो बड़ी चालू!सच कहूँ तो तुम्हें देखते ही तुम मुझे पसंद आई थी, जब तुम्हें पहली बार रोड पर कार में लाल सूट में देखा तो तुम्हें चोदने की इच्छा पैदा हो गई थी.

माणिक मेरी चूत चाटने के बाद और मेरे पूरे जिस्म को चाटने के बाद उठ गया.बीएफ वीडियो बढ़िया वाला: उसके बाद मेरी जानू की आवाज आई- रुको भाभी, आपके मोबाइल से फोटो लेती हूँ.

वो मेरी चूत के रस को अपने मुँह में भर पी गया और उसके तुरंत बाद मेरी चूत को फैला कर अपना लंड लगा दिया.भाभी बोलीं- किसे?मैंने भाभी को उस लड़की के बारे में सब कुछ बता दिया.

सेक्सी वीडियो फुल हद सेक्सी - बीएफ वीडियो बढ़िया वाला

मैं पूरी मस्ती में आ गयी थी … मेरी दोनों आंखें बंद हो चुकी थीं … और मैं चुदाई के पूरे मज़े ले रही थी.विशाल के शब्द:मुझे ज्यादा कुछ बनाना नहीं आता, लेकिन मैं कुछ डिशेस बना लेता हूँ जैसे कि ऑमलेट एंड कॉफी.

”नीतू इधर तुम अपनी जवानी के जलवे बिखेर कर मुझे सता रही हो और उल्टा मुझे ही कह रही हो कि मत सताओ. बीएफ वीडियो बढ़िया वाला कहते हुए उसने मेरे गाल को खूब जोर जोर से खींचा। मैं भी मौके का फायदा उठाते हुए तुरन्त ही उसकी जांघों के बीच में आ गया और अपनी उंगली उसकी चूत की फांकों के बीच चलाने लगा और उसकी पुतिया से खेलने लगा।पुतिया से खेलते-खेलते मैं शुभ्रा की तरफ देख रहा था, अब शुभ्रा सिसकार रही थी, अपने होंठों को चबाये जा रही थी, चूची को दबाने लगी थी, जांघें उसकी फैल चुकी थीं.

वो रो रही थी, बोल रही थी- ये तूने सही नहीं किया सुहानी, इसका बदला लूँगी मैं!मैंने कहा- क्या बदला लेगी? मैं तो पहले ही मरवा चुकी हूँ, तूने मुझे बेवकूफ बना के फिर से चुदवाया तो मैंने भी तेरी गांड मरवा दी!और हंसने लगी।अब मैंने हर्षिल से कहा- चल बे, अब मेरी बारी … और चूत में डालियो.

बीएफ वीडियो बढ़िया वाला?

मगर मैंने उसकी चूचियों के निप्पल को दबा कर उसको गर्म करना शुरू कर दिया. उन्होंने मेरी चूत के छेद में उंगली फंसाने की कोशिश की तो मैंने उनके हाथ को पकड़ लिया. लावा भरा पड़ा था … शायद इसी वजह से कुछ 17-18 झटकों में मेरी पूरी गांड भर गई.

लेकिन एक बात तो पक्की थी कि वो राधिका नहीं थी, क्योंकि राधिका को मैं अच्छे से पहचानता था. उसने लगभग आधे से कम ही लंड को मुँह भरा और बाहर निकाल कर ऊपर मेरी तरफ देखकर बोली. अब तक आपने पढ़ा था मैंने और नम्रता ने सारी रात चुदाई के बाद एक दूसरे के हस्तमैथुन के द्वारा निकला हुआ रस भी चाटा.

मैंने भी उसकी चूत में लंड को अंदर-बाहर करते हुए उसका पूरा साथ देना शुरू कर दिया. थोड़ी देर मौसी का पेट सहलाने के बाद मैंने अपना हाथ नीचे की तरफ सरकाया, मौसी ने भी अपनी सांसें खींच कर पेट दबा लिया, जिससे मेरा हाथ आसानी से मौसी की चूत पर पहुंच गया. मेरे मुंह से जोर जोर की कामुक आवाजें निकलने लगीं- आह्ह … मर गयी … ओह्ह सर … आह्ह … मैं तो गयी.

इस पर शीना मुस्कुराते हुए और इतराते हुए बोली- हां मेरे राजा … ऐसे ही मुझे रौंद दो कि जिंदगी भर मैं तुम्हारी रखैल ही बनकर रहूं. मेरे कंठ से आवाज निकलने लगी- गूंगुन्गूउऊऊ …ये आवाज ठीक वैसे ही आ रही थी, जैसे अंग्रेजी ब्लू फ़िल्म में बाल पकड़ कर लड़की का मुँह चोदा जाता है.

” बोलकर अंकल ने मुझे पीठ के बल लिटाया, मेरे पैर घुटनों में फोल्ड करके फैला दिए और मेरी टांगों के बीच आ गए.

फिर उधर से फोन कट गया और नम्रता मेरे तरफ घूमती हुए मेरे गालों को अपने हथेली के बीच फंसाकर मेरे होंठ को कसकर चूसने लगी.

जाऊं तो कैसे जाऊं? कोई देख लेगा तो? सारा दिन इन्हीं ख्यालों में उलझी रही. इस तरह होंठ चूसते हुए उसने अचानक से अपनी जीभ निकाल कर मेरे मुँह डाल दी. पर जैसे ही भाई आता है, सीढ़ियों का गेट लगाता है और मुझको मेरे रूम से अपनी गोद में उठा कर अपने रूम में ले आता है.

मैंने कहा- क्या यह सब करना तुम्हें अच्छा लगता है?बिन्दू ने मेरी तरफ देखा और हाँ में अपना सिर हिलाया. एक काम करो नम्रता, तुम भी अपनी चूत का मुँह मेरे मुँह के पास कर दो, ताकि मैं भी मजा ले सकूं. मैंने अब तक कभी भी सेक्स नहीं किया था लेकिन हस्तमैथुन जरूर कर लेता था.

आशीष बोला- वाह बंध्या, तुम तो ऐसे कर रही हो जैसे रियल में ही लंड चूस रही हो.

चाची के होंठों को चूसते हुए मैं अपनी जीभ उनके मुंह में डाल कर उनके मुंह की गहराई को नापने लगा. बॉस मुझे बहुत वासना भारी निगाह से देख रहे थे और मैं सर झुका के खड़ी थी. मूतने के बाद वो मुड़ी और मुझे देखकर आंखें मटकाईं, जैसे पूछ रही हो कि पीछे-पीछे क्यों आए हो.

इसके बाद उसने वे दोनों कटोरियां रीमा और निखिल को दे दीं और रितेश को आंख मार दी. ”मत जाओ … कहने को तो दो … महज़ दो लफ्ज़ ही थे लेकिन इन के मायने बहुत वसीह थे. नम्रता- चलो, कल देखती हूं तुम अपनी बीवी के लिए कैसे-कैसे कपड़े खरीदते हो.

जब कई दिन मानसी की गांड मारे हुए हो गये तो मैंने उसको एक रात चुपके से अपने कमरे में बुलाया और दरवाजा बंद करके उसकी गांड की चुदाई कर डाली.

फिर मैंने उसकी सफ़ेद ब्रा को भी निकाल फेंका और जब मैंने उसकी उठी हुई चूचियों को देखा, तो मेरा लंड बिल्कुल अकड़ गया. हाथ लगाओ न इसे … वो तुम्हें खाएगा नहीं … उल्टा तुम्हें उसे खाने का मन होगा.

बीएफ वीडियो बढ़िया वाला भाभी भी सोफे पर लेट कर भैया की फुल चुदाई और मेरी हाफ चुदाई की थकान उतार रही थीं. आंखें मूंद कर कुछ पल इंतजार करने के लिए शाबासी और उपहार स्वरूप मुझे होंठों पर एक गहरा और मादक चुंबन मिला.

बीएफ वीडियो बढ़िया वाला ऐसा होना ही ग़ज़ब ढा गया … तत्काल वसुन्धरा ने दोनों बाज़ु उठा कर मेरे दोनों कांधों पर रख कर कोहनियों के जोर से मुझे अपनी ओर खींचा और अपनी ठुड्डी मेरे बाएं कंधे पर टिका दी. मैं जल्दी ही अपनी दूसरी सच्ची कहानी डालूंगा, जिसमें मैंने अर्चना की फ्रेंड एकता को कैसे चोद कर सील तोड़ दी थी.

अतः हम एक दूसरे की बांहों में चिपक कर सो गए और इतने दिनों में जो घटित हुआ उसकी बातें एक दूसरे से करने लगे। करीब 2:00 बजे थे और बातें करते करते हमारे नीचे के सामान (लंड और चूत) फिर तैयार हो गए थे और हमने तीसरे राउंड की चुदाई की।आज की रात मैंने अपने दोस्त की बीवी की गांड नहीं मारी थी.

बीएफ सेक्सी इंडियन ब्लू

मेरी बात पर हीना ने कहा- तो क्या हुआ सर … आप मेरे अन्दर ही समा जाइए न … बाकी मैं संभाल लूंगी. अब मैं हवा में उड़ रहा था, वो भी मेरे ऊपर बैठकर ऊपर नीचे अपने शरीर को कर रही थी. उसने तुरंत ही मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ा और मेरे लंड को देखकर बोली- बाप रे समीर.

मैंने उसकी ब्रा को थोड़ा ऊपर उठा कर उसकी एक चूची को आज़ाद किया और उसे मुँह में लेकर चूसने लगा. उसी समय उसकी इस आदत ने मुझको गरमा दिया था और उसके साथ सेक्स करने को उत्तेजित कर दिया था. मैंने सुना था कि दिल्ली में लड़कों के साथ में रिलेशन बनाना काफी आसान होता है जबकि इसके विपरीत हरियाणा में किसी लड़के को पटाना काफी मुश्किल होता है.

ये कुकोल्ड सेक्स स्टोरीज इन हिन्दी थी मेरी बीवी के शब्दों में! आप मुझे हेंगआउट्स पर मेल और फेसबुक पर भी मेसेज कर सकते हैं.

उसने पूछा कि मैंने पहले भी किसी लेडी को डेट किया है?मैंने ना में सिर हिलाया और कहा- लड़कियां तो बहुत चोद चुका हूँ, पर आप जैसी लेडी आज तक नहीं मिली. वैभव हैंडसम है और रोमांटिक भी, इसलिए मैंने भी उसे लिफ्ट देना शुरू कर दिया. रिया ने गिलास उठा लिया और मुस्कराते हुए रमेश के लंड से निकले पेशाब को गट गट करके पीने लगी.

आशीष भी जब पहली बार मुझे मिला था तो उसको भी मेरी नाक बहुत पसंद आयी थी. बस मेरी जिंदगी यही थी, लेकिन जब से तुमने मुझसे पहली बार इस तरह अपन गिफ्ट मांगा. मैंने हल्के से वसुन्धरा को अपने साथ लगाया और उसके बाएं कान में अपनी गर्म सांस छोड़ते हुए उसके कान की लौ को अपनी जीभ से हल्के से छुआ, जिसके जबाव में वसुन्धरा ने मेरे दाएं कंधे पर जोर से काट लिया.

खैर मैंने शुभ्रा की टांगें पकड़ीं और लंड को बहन की चूत के मुहाने से लगाकर अन्दर घुसेड़ने की कोशिश करने लगा। तभी दो बातें एक साथ हुईं. जैसे ही प्रियंका को मालूम हुई कि हम लोग मुम्बई लैंड करेंगे, तो प्रियंका और जीजू दोनों बहुत जिद करने लगे कि हम लोग उसके यहां आएं.

ऐसे ही हम कुछ मिनट तक एक दूसरे के होंठ चूसते रहे और फिर इसके बाद मैंने देर न करते हुए उसकी टी-शर्ट निकाल दी और लोअर को भी नीचे कर दिया. ये देख कर नम्रता बड़ी खुश हुई और फिर उसके बाद कुप्पी को गोल-गोल घुमाते हुए उसने कुप्पी के लम्बे भाग को पूरा अन्दर पेल दिया. अब मैं शीना की चूत के अन्दर झड़ रहा था और मेरी हर एक पिचकारी शीना अपनी चूत में महसूस कर रही थी.

ये बात 2 महीने पहले की है जब मैं अपनी इंजीनियरिंग के सेकण्ड ईयर में था.

उसके होंठों में रह-रह कर थिरकन सी हो रही थी और अपने होंठ को न थिरकने देने के लिए जूझती वसुन्धरा की ठुड्डी की सतह रह-रह कर गड्डे से बन-बिगड़ रहे थे. फिर मैं गर्लफ्रेंड के साथ बेड पर लेटा रहा।कुछ समय बाद ही मैंने उसे फिर से गर्म करना शुरू किया. पर मेरे ऊपर जब वज्रपात सा हुआ जब मेरे पापा ने अपनी आर्थिक स्थिति का हवाला देकर मुझे आगे पढ़ाने से इन्कार कर दिया और कहा- हम छोटे लोग हैं तूने इन्टर तक पढ़ लिया, वो बहुत है तेरी शादी के हिसाब से.

मतलब कब हम दोनों के कपड़े उतर गए और किसने किसका क्या उतारा, ये भी याद नहीं. फिर मैंने दूसरा धक्का लगाया तो साना ने मुझे वापस धकेला और लंड को बाहर निकालने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने लंड को नहीं निकाला.

और अआअ आअ आह हहह अअअ अअह हह करके अपनी बेटी सुमीना के चूचों पर ही निढाल हो कर लेट गये. आसमान की ओर देखते हुए नम्रता बोली- शरद भगवान भी कभी-कभी नाइंसाफी कर ही देता है. इसलिये रायपुर से आगे हमें बस से जाना पड़ा और ग्यारह बजे के करीब हम‌ मोनी के घर पहुँच पाये।मोनी के घर के बारे में क्या बताऊं मैं … वो घर तो क्या था, बस चार दिवारी के अन्दर एक कमरा ही था जिसमें सामान के नाम पर बस सोने के‌ लिये एक बेड पड़ा था.

रंडी सेक्सी बीएफ वीडियो

नीचे की तरफ उनका लंड मेरी चूत के आस-पास रगड़ खा रहा था और चूत से बार-बार टकरा रहा था.

दूसरी बात यह कि यदि बाहर कोई ऐसा आदमी मिल गया जो ब्लैकमेल करे या कोई बीमारी लगा दे तो सारी जिंदगी बेकार हो जाएगी. मेरी गांड दवा के प्रभाव से सुन्न हो चुकी थी, तो मुझे पता ही नहीं चला. नीता और पिंकी दोनों साथ में आ गईं और नितिन से अपने मन की बात बोल दी.

वैसे तो मैं एक पैग में मैनेज कर लेता था, मगर आज शुभ्रा ने भी डिमांड रख दी, सो शुभ्रा के जाने के बाद मैंने अपनी पॉकेट चेक की तो पाया कि एक क्वार्टर के लिये पैसे हैं। मैं चुपचाप बहाना बनाकर घर से निकला और एक क्वार्टर खरीद कर ले आया।मामा अपने दोस्तों के साथ बिजी थे, इसलिये उनकी तरफ से कोई दिक्कत होने वाली नहीं थी. कुछ समय बाद मेरी शादी एक अच्छे जॉब वाले लड़के से हो गई, मेरी शादी के समय सुमन ने वैभव और खुशी को मिलाया था. सेक्सी मूवी बलात्कारक्योंकि बाहर के देशों में इससे भी कम उम्र की लड़कियां लंड का मजा ले चुकी होती हैं.

मैंने अपनी पूरी जीभ उसके मुँह में डाल दी और जैसे मैं उसका लंड चूसती हूँ … वैसे ही वो मेरी जीभ चूस रहा था. इधर नम्रता भी मेरी जीभ को अपने मुँह के अन्दर कैद करके उसके लार को पी रही थी.

”मैंने ट्रे से दूध का ग्लास उठाते हुए कहा- बट अभी मैं अपना ब्रेकफास्ट पूरा करूंगा. मैं बंद आंखों से उसे देख रहा था और वो शर्मा कर अपनी आंखें बंद करके मेरे सामने खड़ी थी. तभी मुझे कुछ सूझा, तो मैंने अपने एक दोस्त से पूछा कि औरतों की टांगों के बीच में क्या होता है.

जीजा जी ने कहा- अगर तुम रुकने के लिए तैयार हो तो मेरे साथ ही चल पड़ो बाइक पर? मैं जाते हुए तुम्हें घर छोड़ दूंगा क्योंकि मुझे ड्यूटी के लिए भी निकलना है. पर तभी हीना ने मुझे टोका- सर आप मेंहदी खराब नहीं करोगे … मैं हूँ ना सर!ये कहते हुए उसने मेरा सर उठाया और पीछे एक तकिया और लगा दिया. मैं मम्मी मौसी के पास बैठकर बात करने लगा, वो कमरे में अपने कपड़े रख रही थी.

इतना कह कर मैंने उसके मम्मी की नाइटी पहन ली और उसके पापा के बेडरूम में चली गई.

फिर अपने घुटनों पर ऊपर हुई और पीछे होते हुए मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर सैट किया, धीरे से नीचे बैठते हुए ‘अअअ भईया अअअअअ आई …’ उसने धीरे धीरे पूरा लंड अन्दर ले लिया. मुझे पता था कि यह राधिका है, लेकिन मैं बस मौके का फायदा उठा रहा था.

जैसे ही उसकी नाज़ुक और पतली दो उँगलियाँ मेरे होंठों पर आयीं, मैंने तत्काल दोनों उँगलियाँ अपने मुंह में डाल लीं और अपनी जीभ से चुमलाने, चूसने लगा. यह मैंने तब जाना जब राज मेरे नंगे जिस्म से लिपट कर मुझे चूम रहा था. कोई 10-15 मिनट बाद फिर से मेरे हर अंग को चूसने के बाद वो उठा और मेरी सहेली के बेड के दराज में क्रीम देखने लगा.

अंकल जी से सम्बन्ध बनाने के बाद मेरा चित्त काफी हद तक शांत हो गया था, मेरा मन पढ़ाई में लगने लगा और मैं इंटरमीडिएट भी फर्स्ट डिविजन में पास हो गई. मैंने उसकी टांगों को ऊपर उठा कर अपने कंधों पर रख लिया और उसकी गांड का छेद मेरे सामने आ गया. भार्गव बोला- अरे पार्किंग में बहुत अंधेरा है … तुम अकेली कहां जाओगी.

बीएफ वीडियो बढ़िया वाला कहीं बात बनती भी थी, तो समय ना देने के कारण कोई भी ज़्यादा दिन तक साथ नहीं रहती. उतने में उसने बोला- आपकी गर्लफ्रेंड बहुत लकी होगी, जिसे आप जैसा ब्वॉयफ्रेंड मिला है.

ससुर बहू की चुदाई बीएफ सेक्सी

तभी मैंने कार से बाहर निकलते हुए भार्गव से कहा- अरे यार मेरे मोबाइल की बैटरी ही नहीं बची है … उसे चार्ज करना होगा … अब क्या करेंगे?भार्गव बोला- तुम चिंता मत करो … कार में केबल है, उससे तुम चार्ज कर लो. उन्होंने ने पीछे से मेरी चूत पर अपना लंड लगा दिया और मुझे घोड़ी बनाकर चोदने लगे. वो मेरे कान की लौ को चाटने के बाद मेरे पेट को चाटने लगा और उसके बाद मेरी नाभि को चाटने लगा.

उसने अपनी ड्रेस न पहन कर वार्डरोब से मेरी एक शर्ट पहन ली थी और नीचे सिर्फ पैंटी में थी. मैं मचल उठी और उसने मेरे शरीर पर अपना शरीर झुका कर मुझे एक लंबी किस की ‘उमाहम्म्ममम …’बस किस करते करते वो मेरी चूत के अन्दर धीरे धीरे धक्का देने लगा. सेक्सी वीडियो सुहागरात की सेक्सी वीडियोजैसे ही लंड एकदम कड़क हो गया, दीदी एकदम से खड़ी हो गई और अपना पजामा निकाल दिया.

मेरे काम का समय दस से नौ का होने के कारण मैं यहां कोई गर्लफ्रेंड नहीं बना पाया था.

जब मैंने उसकी चूत से लंड को बाहर निकाला तो उसकी चूत से खून और वीर्य दोनों साथ में बाहर आ रहे थे. पर लंड जब खड़ा रहता है, तो बिना छेद चोदे नहीं छोड़ता … यही हुआ उसने मुझे फिर से पकड़ा और आराम से टोपे को अन्दर पेल दिया.

”क्या?” मैंने महसूस किया नताशा के दिल की धड़कन बहुत बढ़ गई है और वह अपनी जाँघों के साथ अपने नितम्बों को भी दबा रही है।नताशा सच कहूँ तो तुम्हारे नितम्ब इतने खूबसूरत हैं कि एक बार मुझे उनके बीच अपने लंड को डालने का बहुत मन कर रहा है. पूनम उस समय बिना दुपट्टा लिए काम कर रही थी क्योंकि घर में कोई नहीं था. इतने में मैंने दीदी को छेड़ते हुए पूछा- ऐसा क्यों पूछ रही हो … क्या जीजू आपको खुश नहीं कर पाते हैं?इस पर दीदी बोली- तेरे जीजू तो मुझे बहुत ज्यादा खुश कर देते हैं … पर शायद अमित तुमसे खुश नहीं है.

दीदी की सास की बात मैं टाल नहीं सकती थी और दीदी के पास भी रुकने का मन था इसलिए मैंने रुकने के लिए हां कर दी.

काफ़ी सारा अमृत मुंह में गया और काफ़ी सारा नीचे गुड्डी रानी पर, मेरी छाती पर और बेबी रानी की टांगों पर छलक गया. मैंने भाभी को बताया कि उनके पति के जाने के बाद वह मेरे फोन पर कॉल करे,भाभी ने पति के जाने के बाद कॉल किया तो मैंने भाभी से कहा कि वह नीचे मेरी गाड़ी में आकर बैठ जाए. उसके बाद भाभी ने मेरे लंड को अपने हाथ में ले लिया और फिर से मेरे लंड के साथ खेलने लगी.

देसी हिंदी सेक्सी सेक्समेरे रहने से तुम दोनों पर कोई शक भी नहीं करेगा और तुम सेफ भी रहोगी. लेकिन वो दिखने में कुछ खास सुन्दर नहीं थी और उसका बदन भी दुबला पतला था।सच कहूं तो मैंने उसे देखते ही सोच लिया कि इसकी तो मैं चूत सुजा दूँगा.

बीएफ मूवी सेक्स मूवी

खाना खाने के बाद चाची बोलीं- तू गेस्ट रूम में चल, मैं बाबू को सुला कर आती हूँ. मैं मदहोशी से बेहोशी की ट्रिप पर निकल चुका था और अनिल भैया मेरे हाथ पैरों को पकड़ कर मुझे होश में लाने की कोशिश कर रहे थे. फिर वो मुझसे खुलने लगीं- तुमने ये सब किसी को बताया तो नहीं न?मैंने कहा- नहीं … प्लीज़ भाभी करने दो ना.

रमेश- क्या चाहिए कुत्ती खुलकर बोल? रमेश उसके बाल खींचते हुए बोला।रिया- लण्ड … आपका लण्ड मुझे मेरी गांड में चाहिए डैडी। मुझे अपने लंड का ईनाम दे दो डैडी।रमेश- भीख मांग लण्ड के लिए।रिया- प्लीज डैडी, मैं आपके लंड की भीख मांग रही हूं. पर मुझे 10 मिनट बाद निकलना था और मुझे वो 10 मिनट 10 घंटा लग रहे थे. वो प्यार भरे अंदाज से मेरी चूची को अपने बड़े-बड़े हाथों से सहलाने लगा.

और उसके बाद मेरी नज़र मेरी बेटी की कोमल चूत पड़ी जिस पर एक भी बाल नहीं था. मैं बोला- जिस तरह अपने पति को गांव से शहर ले आई, उसी तरह यहां आ जा. ऐसे ही एक दिन की बात है जब मैं नहा रहा था। मेरी आदत है खुले में नहाने की। नहाते समय मेरी चाची आकर मुझे छेड़ने लगी। वो मेरी चड्डी खींचने लगी.

कुछ समय पहले जब मैं लखनऊ गया था, तब मेरे बंगले के बगल के दुकानदार से दोस्ती हो गई थी. चाची फिर से गरम हो गई थीं, वे बस कामुक सिसकारियां निकाल रही थीं- अह्ह्ह्ह्ह् … इसस्स … इश्स … चोद दे मुझे राहुल बेटा … और ज़ोर से चोद.

फिर वो फ्रेश होकर बाहर आई और मुझे बोली- तू भी फ्रेश होकर और झांट निकाल कर आना.

इसलिए अब मैं भी जल्दी करने में मूड में आ गया और तुरंत अपना पैंट और चड्डी नीचे करके लंड बाहर निकाल लिया. बांग्लादेश की लड़की की सेक्सी वीडियोजब भी मैं उसके आधे से ज्यादा स्तन को अपने मुँह में भर कर गांड उठाता था … तो वो मजे से और भी ज्यादा सिहर उठती थी. सेक्सी वीडियो खुला चोदने वालाबेबी रानी लगता था कि नींद में भी चुदाई का स्वप्न देख रही थी क्यूंकि उसकी एक उंगली बार बार अपनी चूत पर चली जाती थी. घर वालों तक उनके प्रेम प्रसंग की बात पहुंची और उनकी शादी भी तय हो गई.

इस कहानी से पहले मेरी एक कहानीबिहारी नौकर ने मेरी कुंवारी चूत को चोदाप्रकाशित हो चुकी है.

थोड़ी देर बाद मैं काजल की पैन्टी को हाथ में लेकर अपनी नाक के पास ले गया. एक बार इशारा कर, तेरे लिये वो खुद तेरे सामने नंगी होने के लिये तैयार हैं।मैं उसे देखता ही रह गया लेकिन कुछ बोला नहीं। फिर कुछ देर तक वो अपनी नजर मुझ पर गड़ाये रही. भाभी ने मेरी तरफ वासना भरी निगाहों से देखा और मेरी तरफ अपने रसीले होंठ बढ़ा दिए.

हेतल तो जानती थी कि मेरे और मानसी के बीच चुदाई का खेल काफी दिन से चल रहा है लेकिन रितेश जीजू को अभी इस बारे में कुछ भी नहीं पता था. 15 हजार?” मेरे मुंह से निकल पड़ा।देखिये इससे ज्यादा आपको सैलरी नही पाऊंगा. उसने एक पल रुक कर लम्बी सांस ली और बोली- आह … सर … मुझे आपका लंड बिना बुरके के ही क़ुबूल है … क़ुबूल है … क़ुबूल है.

बीएफ फिल्मों के वीडियो

जब मेरा सिर्फ बोबों पर ही ध्यान था, तो वो बोलीं- और भी बहुत चीजें बाकी हैंभाभी ने अपनी चूत पर अपना हाथ रख दिया. मुझे उसकी चूत से चॉकलेट मिक्स चूतरस का इतना मस्त स्वाद आ रहा था कि मैं सब भूल ही गया था. मैं- हाय कैसी हो?दीपाली- मैं ठीक … और तुम?मैं- मैं भी एकदम मस्त हूँ.

वह गुस्से में बोली- थोड़ी देर रुक नहीं सकते हो क्या?मैंने कहा- कुछ नहीं कर रहा.

” और गिलास जांघों के बीच लगाया।नहीं अंशु मैं गिलास में नहीं … डायरेक्ट पिलाऊंगी। आ जा कामिनी!”और उसने अपनी पैंटी उतार दी।मैंने डॉक्टर आशा की चूत पे मुंह लगाया और वो धीरे धीरे मूतने लगी। मैंने पूरा पिया।अंशु तू भी इसकी प्यास बुझा दे!”नहीं आशा, मैं यहाँ से जाने से पहले इसे नहला दूंगी.

ये वाचमैन था- ये आपका पार्सल है, कल शाम घर में कोई नहीं था, तो मैंने रख लिया था. मगर चाची के चूचों को चूसते ही वो मुझे चोदना शुरू कर देती थी और मैं उनकी चूत के रसपान से वंचित रह जाता था. 25 सेक्सी फिल्ममेरे पीजी के साथ ही एक घर में रहती थी पूनम … जिसके साथ मेरी ये कहानी है.

रेखा बड़ी मासूमियत से बोली, लेकिन मैंने भी उसे झेलाने के लिए बोला- क्या डाल दूं. थोड़ी देर तक मैं उसकी बंद पाव जैसी चूत को देखता रहा, जो बादामी रंग की थी. मेरा नम्बर कहां लगेगा?भाभी बोलीं- रात को तुम उन्हें ज्यादा दारू पिला देना और मैं तुम्हें नींद की गोली दूंगी, तो वो तुम उनकी दारू में मिला कर उन्हें पिला देना.

घर से निकलते हुए वसुन्धरा ने दबी जुबान में पुराने कपड़ों वाला अटैची कार से निकल कर घर में ही छोड़ने की बात कही लेकिन मैं उसकी बात सुनी-अनसुनी कर गया. उसके साथ वाले घर में एक गुजराती परिवार रहता था, उसमें पूनम और उसकी फॅमिली रहती थी.

दोस्तो, मैं राजवीर महायाराना का दूसरा भाग आपके सामने पेश कर रहा हूं.

फिर तुम्हारा प्रोटीन भी आ जायेगा इस मीठे मसाले में और फिर ये डिश तैयार हो जायेगी. जब मेरी शादी हुई तो मैं अपने ससुराल गयी जो लखनऊ के एक जाने-माने इलाके में है. मैंने झट से अपने दोनों हाथों से उनके पैंटी में घुस रहे हाथ को पकड़ लिया.

सेक्सी चुदाई धमाकेदार अमन- क्या भाई विपुल … बड़ा खुश दिख रहा है … क्या भाभी से मिल कर आया?मैं- हां यार … क्या बोलूँ, जब भी भाभी को देखता हूँ … तो दिल खुश हो जाता है … क्या मस्त लगती हैं. बारी बारी से दोनों चूचियों को चूसते हुए मैंने सलवार के ऊपर से उसकी चुत में हाथ लगा दिया.

मैंने अपनी जीभ उनके मुँह में डाली हुई थी और उनकी जीभ को चूस रहा था. उस रात हम दोनों ने जी भरकर सात बार प्यार का खेल खेला और आज तक जब भी मौका मिलता है, खेल लेते हैं. मैंने अपने खड़े लंड को पैंट के अन्दर सैट किया, चैन बंद की और उसको एक किस करके बिना कुछ बोले वहां से निकल गया.

हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ चाहिए

मैं लंड झाड़ते ही लेट गया और वह तुरंत कपड़ा ढूंढ कर बाथरूम में घुस गई. मैं उसकी चूत को चाटने लगा तो वो पागल हो गयी और जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … फक मी … आआ … कमॉन डिअर … फक मी हार्ड।उसकी चूत चाटने में बहुत मस्त रस मिल रहा था. इधर शुभ्रा भी अपनी कमर को उचका कर लंड को चूत में मजे से अन्दर ले रही थी।कुछ समय बाद ही धक्कों की गति में तेजी आ गयी। बीच-बीच में रुक-रुक कर फिर से चुदाई शुरू हो जाती थी और फिर अन्त में जो होना था वो होने लगा.

उसने मेरा ब्लाउज़ उतार दिया उसने और उसके बाद अपने कुर्ता को हटा दिया. मेरे घर वाले कहीं जाते हैं तो वो लोग एक नौकरानी को मेरे साथ घर पर छोड़ देते है.

मगर वो मजबूर थी कि वो इस चुदाई के आनंद को सिसकारियों के रूप में बयां नहीं कर सकती थी.

तेरे मस्त चूतड़ और तेरी गांड के उभरे हुए छेद को देख कर मुझसे रहा नहीं गया. मेरी चूत को और चाटना चाहते हो क्या?मैं- नहीं इसकी महक को अपने नथुनों में बसाना चाहता हूं. फिर मैंने उसके हाथ में लंड देकर बोला- जान अब ये तुम्हारा है … इसको प्यार करो और किस करो.

मैं रात भर सो नहीं पाती, पर किसके साथ करूं … मुझे ये समझ में नहीं आता. मूतने के बाद वो मुड़ी और मुझे देखकर आंखें मटकाईं, जैसे पूछ रही हो कि पीछे-पीछे क्यों आए हो. साथ ही साथ अब वह अपनी चूत और गांड के अन्दर भी उंगलियां करने लगी थी … ताकि उसकी चूत पानी छोड़ने लगे और मुझे कुछ ज्यादा कष्ट ना उठाने पड़े.

काफी सारा थूक अपनी हथेली पर लगाकर मैंने उसकी गांड के छेद को चिकना कर दिया.

बीएफ वीडियो बढ़िया वाला: इसमें से उसके निप्पल बाहर आ जा रहे थे और चूत को ढंके हुए थे, पर गांड के हिस्सा खुला हुआ था. मैंने उसकी गांड पर लंड को रगड़ना शुरू किया तो उसने मुझे पकड़ कर आगे की तरफ खींचने की कोशिश की.

इस बार सब आराम से किया था, तो मज़ा भी बहुत आया और राउन्ड भी खूब लम्बा चला. कहते हुए उसने अपनी टांगें फैला लीं और अपनी बुर का मुंह को खोल दिया। मैं जांघों के बीच आकर उसकी लाल-लाल बुर पर एक बार फिर जीभ फेरने लगा. मैंने एक पॉर्न मूवी में देखा था और बहुत दिनों से चाह रही थी कि कोई मेरे साथ ऐसे ही चुदाई करे.

मैंने वसुन्धरा का चेहरा अपने दोनों हाथों में ले लिया और बढ़ कर वसुन्धरा की पेशानी पर एक चुम्बन अंकित कर दिया.

अंकल जी के चुम्बन का जवाब मैं भी तत्परता से देने लगी और उनके होंठ चूसने लगी. उनके लंड का सुपाड़ा जैसे ही निपोरकर मैंने अपने होंठों के पास किया तो मुझे उससे अजीब सी गंध आने लगी. हमें इस तरह लटक कर चोदते देख डॉक्टर जूली की भी हालत ख़राब हो रही थी.