एसएस बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,न अक्षर से लड़कों के नाम 2021

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी शर्मा: एसएस बीएफ पिक्चर, एक दिन मैंने कहा- आप मुझे भी घर के काम बता दिया करो, मैं आपकी हेल्प कर दिया करूँगा.

छोटी बच्ची सेक्सी

”बेबी ये किस लिए लाए हो?”जानू तुम्हारे जिस्म पर लगा कर इसे चाटने का मज़ा अलग ही होगा. बिंदी वाली रंगोली दिखाइएमैं बाथरूम से आकर उसे प्यार से देखता रहा और उसके गालों को सहलाता रहा.

अब बस एक महीने के आराम के बाद मुझे भाभी की चुदाई का मजा मिल जाएगा, ये तय हो गया था. सेक्सी पिक्चर देखने काउसके बाद मैं नीचे लेट गया और वो बैठ कर मेरे लंड पर लगे हुए पानी को चाटने लगीं.

कुछ ही देर में मुझे दिमाग में आया कि नाटक करके देखता हूँ कि मेरी बीवी कैसे चुदती है.एसएस बीएफ पिक्चर: उसके बाद उसने मेरी गांड में उंगली दे दी और खड़े खड़े ही मेरी गांड में उंगली करने लगा.

फिर उसके बाद जितने भी दिन गुजर रहे थे, बिस्तर पर जाते ही मैं यही सोचने लग जाती थी कि इसी बिस्तर पर मेरी चुदाई होने वाली है.मैं चिहुँक गयी और बोली- क्या कर रहे हो? आराम से करो ना!तो सन्नी बोला- यार ऐसे खूबसूरत बूब्स मैंने आज तक नहीं देखे।और उसने मेरी ब्रा भी उतार दी।मेरी नंगी चूचियों को देख उसकी आँखें चौधियां गयी। उसने मेरे चूचियों पर धावा बोल दिया और बड़े ही बेरहमी से पीने लगा।कभी वो मेरे निप्पलों को पीता तो कभी पूरी चूची को मसलता.

मस्त जवानी तेरी मुझको पागल कर गई गाना - एसएस बीएफ पिक्चर

उनके निप्पल और उसके पास का काला भाग देख कर मैं ललचा गया और मैंने दोनों बूब्स को दस मिनट तक खूब दबा कर चूसा.स्खलन से पूर्व मैंने पूछा- अन्दर छोड़ दूँ या मुँह में लोगी?उसने तुरंत पलट कर पूरा लिंग मुँह में ले लिया.

कुतिया अपनी चूत में तू कितने लंड घुसवा चुकी है … मगर कुछ बोल नहीं पाया. एसएस बीएफ पिक्चर उसे बेड पर ले जाकर पटक दिया मैंने!शैली को बेड पर पटकते ही मैंने झट से अपनी टी-शर्ट उतार फैंकी और अधनंगा होकर उसकी तरफ देखा.

मुझे लगा कि मेरे गीले बालों को देखकर कई लड़कों के लंड से पानी तो निकल ही गया होगा.

एसएस बीएफ पिक्चर?

भरे हुए बदन की औरत को सहलाना कितना कामुक और आवेश भरा होता है, ये तो आप सभी जानते हैं. इसी तरह शाम गुजर हो गई और साथ ही खबर आई कि हॉस्पिटल से सासू मां को डिस्चार्ज करने की हां हो गई. मैंने अभिवादन पूर्वक उसे धन्यवाद किया और फिर से उसके बाजू में बैठ गया.

मॉम को पूरा का पूरा माल पीना पड़ा क्योंकि वो कुछ कर ही नहीं सकती थीं. उसके बाद भी जब मन नहीं भरा तो मैंने उसको एक बार बाथरूम में भी चोदा. मेरे और ममता‌ जी‌ के सम्बन्धों के बारे में ज्यादा जानने के लिए आप‌ मेरी एकपुरानी सेक्स कहानी‌ पढ़ सकते हैं.

मुझे आप सभी के मेल मिल भी रहे हैं और मैं कोशिश भी कर रही हूँ कि आप सभी को जबाव दूं. फिर अगली सुबह मैं मां को गांव छोड़ आया क्योंकि वहां भी काम और खाना आदि बनाना होता था. दस मिनट धकापेल चुदाई के बाद मैंने उसकी चूत में ही अपना माल गिरा दिया.

अब आगे से कोई दिक्कत नहीं होगी … जब भी तुम बड़ी वाली लॉलीपॉप चूसोगे. मेरे ब्लाउज़ के बटन खोलकर मेरे बूब्स को वो दोनों बारी बारी से चूसने लगे.

आज मैं आपका अपना तरुण कुमार, आपके सामने अपनी एक सच्ची आपबीती को एक सेक्स कहानी के रूप में सामने रख रहा हूँ.

तो ये थी मेरी पहली चुदाई की कहानी। आगे भी मेरी चुदाई की कहानियां बताती रहूंगी।ये क्रॉसड्रेसर सेक्स स्टोरी कैसी लगी और मेरी क्रॉसड्रेसिंग को लेकर आपके क्या खयाल हैं, ये बताने के लिए मुझे नीचे दी गयी ईमेल पर मैसेज करें.

फिर मैं काफी देर तक उसकी चूचियों के साथ अपने लंड से चोदते हुए खेलता रहा. ये बोल कर मैंने भाभी की नर्म चूची को धीरे से दबा दिया, जिससे भाभी के मुँह से हल्की सी कराह निकली और वो बस ‘आह देवर जी. वो- और तेज करूं क्या डार्लिंग?मैं बोली- हां … करो ना … आह्ह … करो!पता नहीं ये सब मेरे मुँह से सुन कर उनका जोश और ज्यादा बढ़ गया और वो अपनी पूरी ताकत से मेरी चुदाई करने लगे।मेरी भी गांड अपने आप उचकने लगी और मैं भी चुदाई का पूरा मजा लेने लगी।जल्द ही मेरी आवाज तेज हुई- आह्ह … आईई … याह … आह्ह … ऊईई … आह्ह … करते हुए मैं झड़ ही गई.

बस स्टाप आने पर शायरा तो वहीं रुक गयी मगर मैं पैदल ही आगे बढ़ गया और कॉलेज आ गया. कुछ देर बाद मैंने उसको डॉगी स्टाइल में किया और उसके पीछे से लंड चुत में डाल कर उसकी चुत चोदनी शुरू कर दी. पर उसने मेरा हाथ पकड़ कर जमीन पर गिरा दिया और मेरे ऊपर चढ़ कर मेरे होंठ जोर जोर से चूमने लगा.

पूरी रात की चुदाई के बाद जब हम सुबह सोकर उठे, तो समीना बहुत खुश थी.

चोदते चोदते मैंने पूछा- भाभी मुझे आपकी गांड भी मारनी है?तो उन्होंने कहा- यार, पहले मेरी चूत को शांत कर दो. दोनों मिल कर खाने पर टूट पड़े क्यूंकि हम दोनों को पता था कि पेट की आग मिटाने के बाद हमें बदन में लगी आग भी बुझानी है. तभी शामली का फोन आया- तुम निकल जाना, मुझे आज ऑफिस से निकलने में देर हो जाएगी.

अब आगे आंटी न्यूड स्टोरी:मैंने देखा यह कहते हुए सरिता आँटी के चेहरे और आंखों पर अजीब खुमारी छाई हुई थी. यहां मैं सभी को बता देना चाहता हूँ कि मुझे औरतों की गांड सूंघना और चाटना बहुत पसंद है. मैं विजय को और तड़पाना चाह रही थी इसलिए मैं बैग की तरफ गई और जानबूझ झुककर बैग में से अपनी ब्रा पेंटी निकालने लगी.

तो आह आह करते हुए मामी बोलीं- तेरा लण्ड बड़ा जानदार है विजय, अपने बाप से भी ज्यादा!मैंने कहा- बाप से भी ज्यादा? मतलब आप मेरे पापा से भी चुदवा चुकी हो?हाँ, विजय.

मेरे लोअर में लण्ड का उभार अभी भी बना हुआ था और लोवर पर चूत और लण्ड के प्रीकम के गीले निशान बने हुए थे. फिर मैं बोली- क्या हुआ?तो सन्नी बोला- सच में यार … तुम्हारा पति बहुत लकी है जो रोज तुम जैसी माल को चोदता है।फिर मैं भी बोली- लकी तो तुम हो.

एसएस बीएफ पिक्चर रात को करीब ग्यारह बजे टेलीग्राम पर मैसेज आया- थैंक्यू अमित, पेमेंट दिखा दिया तुम्हारे अंकल को. हां लेकिन उसने ये जरूर बोला है कि पैसे लौटाने की कोई जल्दी नहीं है, अगर ना भी लौटा पाओ तो फिर भी किसी तरह वो संतोष कर लेगा.

एसएस बीएफ पिक्चर जैसे तैसे मैंने कॉलेज में समय बिताया और कॉलेज खत्म होने के बाद कॉलेज से बाहर आ गया. सोनी की स्नाकोत्तर की पढ़ाई भी पूरी हो गयी और सोनी नौकरी ढूंढने लगी.

नेहा ने आज हाफ जींस और स्लीवलेस कंधे पर डोरी वाला टॉप पहना था, जिसमें से उसकी 34 की जगह 36 की बड़ी बड़ी चूचियां झांक रही थीं.

लंड की फिल्म

खैर … शायरा तो शायद आज भी घर पर ही रहने वाली थी, मगर मैं कॉलेज आ गया. मेरी बीवी ने अब तक मेरा लंड ही लिया था, तो वो मोटे लंड से चुदाई करवाती हुई मादक चीखें निकाल रही थी. दोस्तो, सेक्स के बीच में बातें करते रहने से प्यार और सहयोग मिलता है.

मेरी बीवी को लंड चूसने का बड़ा शौक है और वह बड़े मज़े से उसका लंड चूस रही थी. मैं तुम्हारा साथ पूरी जिंदगी के लिए चाहती हूं मैं तुमसे सच्चा प्यार करती हूं. उस रात मैंने उसे तीन बार चोदा और हम दोनों सुबह 4:00 बजे तक सेक्स का मजा लेते रहे.

ताई जी अपने सहेली के घर पार्टी में थीं और मैं लैपटॉप पर उसी साईट पर सर्च कर रहा था.

ऐसा लग रहा था कि उससे दोस्ती करके मैंने खुद अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मार ली थी. दोस्तो, मीना की शादी को 7 साल हो चुके थे और उसके 2 बच्चे भी थे। उसकी उम्र 28 साल थी. मेरे जिन दोस्तों ने अपना लौड़ा चुसवाया है, वह जानते ही होंगे कि लंड चुसवाने से बड़ी जन्नत किसी को नहीं मिल सकती.

सुरेश शुरू में तो उसकी चूत में लंड को फिट करता रहा और फिर दो मिनट बाद उसकी गांड ऊपर नीचे हिलने लगी. और अच्छा लगता भी तो कैसे उसका दोस्त, उसका हमदर्द साथी, जो उससे दूर जा रहा था. वो करता तो है मगर तेरे जैसे बिल्कुल भी नहीं … बस अन्दर पेला और पुल्ल पुल्ल करके खत्म हो जाता है.

फिर मैंने उसको और ज्यादा तड़पाना ठीक नहीं समझा और मैंने उसकी टांगें फैला लीं. उन्होंने मुझसे कुछ नहीं बोला, तब मैं समझ गया कि शायद अब मुझे संभोग करने की हरी झंडी मिल गयी.

उन्हें ऐसे सेक्सी लुक बहुत पसंद हैं, इसलिए उन्होंने ये सब करने के लिए मुझसे कहा था. फिर मीना बुआ भी मुझे छोड़ना नहीं चाहती थीं इस वजह से रेखा बुआ की चुत मिलने में कुछ समस्या आ रही थी. उसने मेरे होंठों को चूम कर कहा- हाथों से नहीं … होंठों से वायदा किया जाता है.

मैं बोला- यार बात को समझा करो, संजू के साथ नहाने का मजा ही कुछ अलग है.

‘उउफ्फ़ … आह जान मजा आ रहा है और तेज करो …’‘हूँ आह इ … ले मेरी जान और अन्दर तक ले आ आह … उफ्फ़ …’कुछ देर बाद फिर से पोजीशन बदल गई. मैं चुप हो गया और सोचने लगा कि किस तरह से चलती बस में इसकी चुदाई का मजा ले पाऊं. फिर उसका मोटा लौड़ा अपने मुँह में लेकर मैं लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

क्या तुम मेरे साथ अब सेक्स नहीं करोगे?वो- मगर तुम तो कोई और नहीं हो ना. उसके धक्के धीरे धीरे कम होते गए जिससे मैं आराम से झड़ गई। मुझे असीम संतुष्टि मिल रही थी।मेरे झड़ने के बाद भी उसके धक्के रुक नहीं हो रहे थे.

रचना पागल सी हो गयी- ओह बेबी … आह बेबी … आह उम्म बेबी चूसो और चूसो!वो मेरे सिर को पैरों से चूत पर दबा रही थी. मैंने उसके हाथ को दबाते हुए कहा- आप परेशान मत हो, मैं आपसे कल बात करता हूँ. वो मंजिल थी रेनू की नयी नवेली योनि जिसके ख्वाब मेरे लिंग ने पहले दिने से ही देखने शुरू कर दिये.

ब्लू फिल्म निकालें

अब आगे गे स्टूडेंट वर्जिन गांड स्टोरी:मुझे वो सब देख कर अजीब सा नशा छाने लगा जबकि अंकल लंड सहलाते हुए मेरे बगल में आकर बैठ गए.

जैसे जैसे डॉक्टर की स्पीड बढ़ रही थी, मेरी आ आ की आवाज़ बढ़ रही थी और मुझे काफ़ी मज़ा आने लगा था. शायरा अब भी वहीं खड़ी रही और चुपके चुपके मुझे देखती रही … पर मैंने उस पर ध्यान नहीं दिया और चुपचाप घर से बाहर आ गया. उसके होंठों को मैं दो मिनट तक चूसता रहा और फिर उसकी चूचियों को दबाने लगा.

मेरी सांसें तेज होने लगीं और मैं और तेज कदमों के साथ शैली की तरफ बढ़ने लगा. सरिता आँटी खड़ी हो गई और मैंने उनको पीछे से अपनी बांहों में भरा और ज़ोर से भींचकर ऊपर उठा दिया. नेट बंद कराविपिन भी अब भी तेज तेज भरी हुई चूत में फच्छ फच्छ धक्के मार रहा था और अगले कुछ पलों के बाद वो एकदम से रुका और जोर से ‘आहह …’ करते हुए मेरी चूत में ही झड़ गया.

चाट ले सारा रस मेरी चूत का … आज ये चूत तेरी हुई!” मैं मस्ती के मारे बड़बड़ा रही थी।विजय मेरी चूत का रस अपनी जीभ से निकालने की भरपूर कोशिश कर रहा था जिससे मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।मैंने भी विजय के लंड को चूस चूस कर निहाल कर दिया।अब उसका लौड़ा मेरे मुंह में फूलने लगा और मुझे अहसास हो गया कि विजय के वीर्य की धार अब आने वाली है और मेरी भी चूत किसी भी वक्त पानी छोड़ सकती थी. वो टावल उठाते हुए बोली- ऐसे क्या देख रहा है, कभी लड़की नहीं देखी क्या?मैं बोला- देखी है भाभी, लेकिन आप जैसी नहीं.

मैंने उनसे कहा- क्या विचार है, लेना है या मुँह से ही चुसवा कर काम खत्म कर दूँ?वो बोले- बेटा, अभी तो मुँह से ही चूस ले … बड़ा मजा आ रहा है. अब सोनम आगे की कहानी को बतायेगी:दोस्तो, मैं सोनम आगे की स्टोरी बता रही हूं. हिन्दी Xxxx चुदाई की कहानी में पढ़ें कि हमारे घर चूड़ी बेचने वाला आया तो वो जवान लड़का मुझे अच्छा लगा, मैंने उसे घर के अंदर लेकर दरवाजा बंद कर दिया.

लण्ड चूंकि लंबा था अतः लोअर में सीधा नहीं हो रहा था फिर भी आँटी की चूत पर अड़ गया था. गोरा रंग, लम्बे काले बाल, गुलाबी होंठ और आंखें तो ऐसी कि जो उनमें देख ले उसका दिल घायल ही हो जाये. फिर धीरे से मैंने बोल दिया कि मुझे आपके बड़े बड़े गोल गोल वो बहुत पसंद हैं.

फिर …कुँवारी को न चोदिये जो चूत पर करे घमंड,चुदी चुदाई चोदिये जो लपक के लेवे लन्ड!हर बात कहने का एक अंदाज़ होता है.

फिर उसने वहीं से मेरी चूचियों को मुंह में भर लिया और मैं उसके ऊपर लेटी हुई उसको अपनी चूचियां पिलाने लगी. गोरा चमकदार रंग, बड़ी बड़ी आंखें, गोल चेहरा सुंदर नयन नक्श!कुल मिलाकर सरिता को देखते ही मेरे शरीर, मन और लंड में सनसनाहट होने लगी थी.

तभी उसने मुझसे कहा- तुम बस स्टैंड के आसपास ही कोई होटल ले लो, हम वहां पहुंच कर बाकी का काम कर लेंगे. फिर मैंने अपने तने हुए लंड को देखा और शर्म का नाटक करते हुए उस पर तकिया रख कर उसे छिपा लिया. मैं उसके कान के पास गया और पूछा- क्या तुम इसे एन्जॉय कर रही हो?उसने आंखें खोलीं और मेरे होंठों पर एक जोरदार किस दे दी.

विपिन बोला- कोई बात नहीं, कुछ देर तो रखो, फिर जब पेशाब करोगी तो निकाल देना, पर मेरे सामने नहीं. मेरे केबिन में सीसीटीवी कैमरा लगा था जिससे मुझे बाहर बैठा स्टाफ लैपटॉप की स्क्रीन पर दिखाई देता रहता था. फिर मैंने आंटी की नाइटी पूरी खोल दी और बैठ कर आंटी की जांघों को चूमना शुरू कर दिया.

एसएस बीएफ पिक्चर मुझको भी उसकी कमर पकड़ कर चुदाई करने में इतना मजा आ रहा था कि बस मैं ताबड़तोड़ लगा पड़ा था. फिर जब उससे रहा न गया तो बोली- मेरा बहुत मन कर रहा है, एक बार अंदर लेने का ट्राई करके देखूं?मैं बोला- क्या कह रही हो? अगर तुझे बच्चा हो गया तो?वो बोली- एक बार में क्या बच्चा होगा, तुम इतना कर रहे हो मेरे लिये, मैं भी तुम्हें थोड़ा मजा देना चाहती हूं.

सेक्सी वीडियो में सेक्स

हम दोनों अपनी चुदाई के खेल में ही मस्त थे और धीरे-धीरे दोनों की कमर की रफ्तार तेज होती जा रही थी. क्या मदमस्त कर देने वाला दृश्य था वो!मैं उसकी गांड की खुशबू सूंघने लगा. मेरे पास एक ही बैग था, जिसे मैंने अपना तकिया बना लिया … जबकि वो 3 बैग पैक कर लाई थी.

हॉट गर्ल Xxx हिंदी कहानी में मैंने अपने दोस्त की छोटी बहन की कुंवारी बुर फाड़ कर उसे कलि से फूल बना दिया. यह शायद इस वजह से हो सकता है कि मुझे बहुत दिनों बाद किसी मर्द का स्पर्श हुआ था. राखी वाला गानामैं अभी अक्कू को फोन लगाने ही वाला था कि उसका घर जाने का क्या प्रोग्राम है कि उसी समय अक्कू का कॉल आ गया.

उसे अपनी बांहों में कसके एक पल को छुआ और दूसरे ही पल मैंने उसे घुमा कर उसे पीछे से बांहों में कस लिया.

पर मुझे उसकी आंखों में मेरी उंगली को अपनी चूत में लेने की वासना दिखी. काले रंग की ब्रा और पैंटी के अलावा उनका पूरा जिस्म मेरे सामने नंगा था.

फिर जब मैंने अनामिका के चूचों और उसे निप्पलों पर चॉकलेट लगाई, तो उसके दूध मस्त दिखने लगे. अब मेरे शरीर पर केवल क़च्छा रह गया था और उनके शरीर पर केवल ब्रा और पैंटी. वो मदहोशी में सराबोर होकर चिल्लाने लगीं- आंह अक्की तेरे नामर्द भैया से कुछ नहीं होता … बस वो लंड डाल कर हिलाकर सो जाता है और एक तू है जो बिना मुझे चोदे एक बार और चोदने पर अब तक दूसरी बार झड़वाने जा रहा है.

कुछ ही झटकों के बाद उसके लंड से वीर्य निकल पड़ा और मेरे हाथ पर आकर फैल गया.

फिर मैंने अनन्या को अलग से ले जाकर पूछा कि लौंडा पसंद आया?वो बोली- क्या मतलब?मैंने कहा- अभी ये हम दोनों की चुत को ठोकेगा. उसने ‘अहह … आहहह … आहहह … ओह्ह शालू …’ करते हुए वीर्य की एक तेजधार मेरे गले के अंदर तक छोड़ी और दनादन अपने लौड़े से मेरे पूरे मुँह को वीर्य से भर दिया. मैं नौकरी करने के लिए उत्साहित तो थी लेकिन नहीं जानती थी कि ऐसे आधुनिक शहर की चाल से चाल मिलाना इतना आसान नहीं होगा.

రొమాన్స్ సెక్స్ వీడియోస్भाभी ने मुझे कस कर हग कर लिया और हम दोनों एक दूसरे की बांहों में खो गए. मैं- आपको पहली बार शर्माते हुए देख रहा हूँ … क्या बात है, मैंने कुछ ग़लत कहा क्या?वो- नहीं नहीं, वो तो बस बहुत दिनों बाद किसी ने तारीफ की है जिससे मुझे ऐसा लगा.

বাংলাদেশের থ্রি এক্স বিএফ

रेशमा को सामने वाली बर्थ पर लिटाते हुए मैंने उसकी टांगें खोल दीं और अपना लौड़ा उसके सामने ले गया. कुछ ही पलों बाद मेरा हाथ खुद ही उसके मस्त चुचों पर आ गया और मैंने उन्हें मसलना शुरू कर दिया. आआ आआहह … आअहह … हाआय यइईई … बस्स … अब कुछ आगे भी करऊओ ओह आग लग गई है.

मैंने संजू की चूत में जाकर अपना लंड घुसा दिया और लगा जोर जोर से चोदने. टिंकू भैया के साथ हम दोनों फैमिली का आना जाना बहुत था, तो हम सभी शादी में गए हुए थे. पूजा बुआ के घर में रात बिताने के बाद अगले दिन मैं काम ढूंढने निकल गया पूजा बुआ भी वर्किंग लेडी थीं, तो वो भी अपने काम पर चली गईं.

उसी पल एकदम से अदिति का शरीर अकड़ने लगा, उसने अपनी गांड ऊपर उठाकर अपनी चूत से मेरे लंड पर दबाव बना लिया. निर्मला जी से कुछ देर बातें करके ये पता चला कि ये भी निर्मला जी सेकंड मैरिज है … और उनके पहले पति बाइक एक्सीडेंट में गुज़र गए थे. ”मैं आगे बोली- मैं चाहती हूं कि हमारे इस प्यार को तुम कैमरे में कैद कर लो … और मुझे जब भी जयपुर में तुम्हारी याद आएगी और तुम मेरे पास नहीं होंगे तो मैं हमारे इस प्यार के पलों को देखकर तुम्हें अपने पास महसूस किया करूंगी!विजय बोला- शालू, तुमने मेरे दिल की बात कह दी.

दो महीने बाद ही देखना तुम्हारी उस चुत को मैं कैसे किसी और से चुदवा देती हूँ. मैं- आपको पहली बार शर्माते हुए देख रहा हूँ … क्या बात है, मैंने कुछ ग़लत कहा क्या?वो- नहीं नहीं, वो तो बस बहुत दिनों बाद किसी ने तारीफ की है जिससे मुझे ऐसा लगा.

मैंने गुलजान के मुँह से अपना लंड निकाला और हेलीमा सीधा को लिटा दिया.

मैंने अपने पड़ोस के एक लड़के को पटाया और उसने कई बार मेरी गांड मारी. टॉप 2 में जगह पक्की करने उतरेगा गुजरातचलाकर बाहर से बन्द कर दिया।चाय लोगे या ठंडा?” उसने तंद्रा भंग करते हुए कहा. బిఎఫ్ డౌన్లోడ్इन्द्रेश अंकल ने अपनी बीवी रूचिका आंटी को लिप किस करते हुए कहा- डार्लिंग, हमारी बेटी और बहू भी चुदने के लिए आ रही हैं … क्या करें? लंड तो कम पड़ जाएंगे. भाभी ने अपने होंठों को गोल गोल घुमा कर मुझे अपनी जीभ से चुदाई जैसा पोज़ बनाते हुए आंख मार दी और कहा- क्यों न तुम्हारा टेस्ट ले ही लिया जाए.

मुझे उस पर बहुत ही ज्यादा गुस्सा आ रहा था और मैंने गुस्से में चिल्ला कर कहा- अगर तुमने यह नहीं किया तो मैं तुम्हें यहां से बाहर निकलवा दूंगी.

स्खलन से पूर्व मैंने पूछा- अन्दर छोड़ दूँ या मुँह में लोगी?उसने तुरंत पलट कर पूरा लिंग मुँह में ले लिया. मैंने ऊपर नजर उठाकर देखा तो उसके दो पहाड़नुमा चूचों के पीछे उसके चेहरे पर मादकता आ गयी थी. वो बोली- ओह हर्षद, बहुत सुकून मिल रहा है … तुम्हारी गर्म पेशाब से बहुत मजा आ रहा है हर्षद.

भईया किसी कम्पनी में अच्छी पोस्ट पर हैं, उनका काम फील्ड का ज्यादा रहता है तो वो हफ्ते में 4 दिन घर से बाहर ही रहते हैं. उसको मना करने के बाद मैंने खुद भी उसको कोई अपना काम नहीं बताया।मैंने खुद भी उससे दूरियां बना लीं।इन बातों को सिर्फ 10 दिन ही बीते होंगे और उससे मुझको देखे बिना नहीं रह गया।वह मुझसे मिलने के लिए घर पर आ गया।मेरे हस्बैंड जॉब पर गए हुए थे।मैंने उसे देखते ही कहा- तुम यहां क्या कर रहे हो?वो बोला- आपको देखने मिलने ही आया हूं. वो अपने आपको बेड पर लिटाकर रखने की काफी कोशिश कर रही थी पर गांड और चूत का करंट उसके पूरे जिस्म में दौड़ रहा था.

सनी लियोन सेक्सी हॉट

कुछ ही देर में चाची जी ने अपनी चुत का सारा माल मेरे लंड पर ही निकाल दिया और मेरे सीने पर निढाल होकर गिर गईं. पर मैंने सोचा कि जब भाभी की चूत में आग लगी है और वो सामने से हाथ में लंड पकड़ रही हैं, तो मैं क्यों मना करूं. अन्तर्वासना के माध्यम से मिली भाभी की चुदाई करने मैं उसके घर पहुंचा.

फिर राज बोला- भाभी अंदर ही निकाल दूं क्या?मैंने कहा- नहीं, हरगिज नहीं.

कई बार तो मैं काफी गर्म हो जाती थी क्योंकि मैं उस फ्लैट में अकेली थी.

अब कविता मुझसे जिद करने लगी कि किसी तरह कुछ उपाय लगाओ कि वो प्रीति से मिल सके. पूरे देश से बच्चे यहां पर अलग-अलग सब्जेक्ट की कोचिंग लेने के लिए आते हैं. सेक्सी वीडियो आवाज सहितआहिस्ता आहिस्ता मैं हर धक्के के साथ थोड़ा थोड़ा लंड अदिति की चूत में और गहराई में उतारता रहा.

मुझे उसका गर्म गर्म वीर्य अपनी चूत में चलता हुआ साफ महसूस हो रहा था. ‘बेटा … मैं तो ये पे-वे नहीं चलाता, एक काम करो कल ATM से निकाल कर दे देना. उनकी ब्लू रंग की पैंटी में कसी और फूली हुई चूत बहुत ही हसीन लग रही थी.

मैंने फिर से गांड में लंड पेलना चालू किया लेकिन गांड का छेद इतना छोटा था कि लंड जा ही नहीं पा रहा था. गांव के ट्रैक पर जब वो ट्रैक सूट उतार कर शॉर्ट स्पोर्ट ड्रेस में आयी, तो क्या बुज़ुर्ग … और क्या जवान, सभी आहें भरने लगे.

चूंकि मैं समीना की चूत बहुत बार मार चुका था … इसलिए आज मेरा उसकी चूत चोदने का मन नहीं था.

जौहरा की उम्र 52 – 55 साल ज़रूर थी, मगर देखने में वो 45 साल से ज़्यादा की नहीं लगती थी. मेरी चूत उसके लंड का स्पर्श महसूस कर पा रही थी लेकिन अंडरगार्मेंट्स की दीवार अभी बीच में थी. मुझे कुछ समझ नहीं आया लेकिन अगले ही पल उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और मेरे होंठों से होंठों को मिलाकर मुझे अपनी आगोश में ले लिया.

मिठाई बनाना सीखना नीता मेरा लंड अपनी गांड की दरार में लेकर रगड़ती हुई बोली- तुम बहुत बदमाश हो हर्षद …. अब हमें इस बात का भी कोई डर नहीं था कि हमारी चुदाई की आवाज कोई सुन रहा है या नहीं.

अगले ही पल लंड को गांड में पेल दिया और ये देखकर मेरी सिसकारी छूट गई. कसरत के समय मैं बिना टी-शर्ट के कसरत करता रहता था, जिसे वो भाभी और उनकी किरायेदार लड़कियां देखती रहती थीं. अब मैंने गुलजान को अपने नीचे ले लिया और अपना लंड उसकी चुत में डाल कर उसकी चुदाई करने लगा.

सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर

कुछ ही पलों में मेरा मूत खत्म हो गया तो मैंने गर्म पानी बाल्टी में चालू किया और एक मग में गर्म पानी लेकर अदिति की चूत पर डालकर चूत सेंकने लगा. मेरी बीवी का नंगा बदन दिखा, तो वह सब एकदम से गर्म हो गए और नंगे होने लगे. थोड़ी देर बाद उसने गप्प से उस खीरे को अपनी चूत में घुसेड़ लिया और हमारी तरफ देखने लगी.

मैंने पूछा- क्या वो भी स्पोर्ट्स इवेंट में प्रतिभाग कर रहा था?वो बोली- नहीं. ऐसा नहीं था कि वो मुझे प्यार नहीं करते थे, वक़्त के साथ साथ हम दोनों ही काफी घुल मिल गए।चुदाई के साथ साथ एक दूसरे की परेशानी को समझना और दूर करना, अब एक अलग रिश्ता सा बन गया था हम दोनों के बीच में जो न तो पति पत्नी का था और न ही बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड वाला।मगर जो भी था मुझे भी अच्छा लग रहा था.

लगभग 15 मिनट तक चूत चाटने के बाद मुझे उसकी चूत से नमकीन पानी की बाढ़ आती महसूस हुई.

मैंने तो पहले भी गांड मरवाई हुई थी इसलिए मुझे किसी बात का कोई डर नहीं था. उधर मैंने अनन्या से कहा कि जैसे ही मनोज ऑफिस चला जाए, तुम मेरे घर आ जाना. दोनों बचपन में साथ नहाती भी थीं और हमेशा एक दूसरे के सामने कपड़े बदलना इनके लिए आम बात थी.

हम दोनों समझ गए कि लंड चूत के पास उगा जंगल साफ़ करने की बात चल रही है. खुद मुझे बर्थ पर धकेल कर अब रेशमा मेरे ऊपर आ गई; उसने मेरा लौड़ा अपने हाथ में ले लिया. विक्रम बोला- सॉरी यार, मैं महीनों से भूखा था, इसलिए तेरी बीवी को मैंने इतना परेशान किया.

पर फिर उसने सलवार के ऊपर से ही मेरी चूत को भींच दिया, तो मेरे शरीर में सिहरन सी उठ गयी और मेरा मन बदलने लगा.

एसएस बीएफ पिक्चर: सुरेश अब मेरी बेटी सोनी की गांड और चूत को सहला रहा था और सोनी चुपचाप लेटी हुई थी. फिर उन्होंने गर्दन पर किस करना शुरू कर दिया जिससे मुझे कंट्रोल करना बहुत मुश्किल हो गया था.

अपनी चूत की सफाई करने के बाद मॉम ने एक प्लास्टिक का लंड लिया और उसे चूस कर अपनी चूत में डालने निकालने लगीं. मेरी निगाहें मंडप पर थीं और मेरा ध्यान अपने बगल में खड़ी ब्यूटी पर था।ब्यूटी मुझसे इस कदर चिपक कर खड़ी थी कि उसकी गर्म गर्म साँसें मुझे अपने कंधे पर महसूस हो रही थी।मैंने हिम्मत करके अपनी कोहनी से उसके चूचों को हल्का हल्का दबाना शुरू कर दिया. अगले दिन पति शाम तो मुझे लेकर मनोज के घर गया और बोला- मनोज जी मैं सोचता हूँ कि हम अपनी दोस्ती को क्यों ना रिश्तेदारी में बदल दें.

उन्होंने मेरी कमर को जोर से थामा और मेरी गांड में कस कस कर शॉट मारने लगे.

मेरी निगाहें मंडप पर थीं और मेरा ध्यान अपने बगल में खड़ी ब्यूटी पर था।ब्यूटी मुझसे इस कदर चिपक कर खड़ी थी कि उसकी गर्म गर्म साँसें मुझे अपने कंधे पर महसूस हो रही थी।मैंने हिम्मत करके अपनी कोहनी से उसके चूचों को हल्का हल्का दबाना शुरू कर दिया. वो अभी भी सिर्फ पैंटी में लेटी हुई थी और ये सब देखकर सुनकर मुझे लग रहा था कि मेरा लंड आज फट जाएगा. लगता है आह दूध की टंकियों में दूध लबालब है, आज तो इसको पूरी खाली कर दूँगा.