बीएफ डीजे व्हिडिओ

छवि स्रोत,लड़की लड़की लड़की वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

क्सक्सक्स हिंदी ऑडियो: बीएफ डीजे व्हिडिओ, सौरव जैसे हैंडसम लड़के का लंड मेरी चूत में जगह बनाता हुआ गहराई में उतर रहा था और मैं उसकी लार को उसके मुंह से खींचने की कोशिश कर रही थी.

चोदा चोदी सेक्सी वीडियो इंग्लिश

मैंने दोबारा से मेरा लौड़ा उसकी चूत में डाला। मैं झटके पर झटके दे रहा था. सेक्सी वीडियो चोदा चोदी राजस्थानीमैं यहां आप लोगों को अपने बारे में बता दूँ कि मैं दिखने में बहुत ही औसत टाइप का लड़का हूँ और मेरा रंग भी थोड़ा सा सांवला टाइप का है.

उसका लंड ऋतु की गांड में हरकत करने लगा और उसके छेद के अंदर-बाहर होते हुए उसकी गांड के छेद पर घर्षण करने लगा. सेक्सी ऑंटी एचडीरजनी कभी कॉफ़ी बनाती तो कभी चाय … वो कपड़ों से उतनी ही लापरवाह थी, पर अब राहुल और उसके मन में कोई पाप नहीं था.

नौकर बोला- चुपचाप खड़े रहो, अगर ज्यादा बकवास की तो बिना हाथ पैर के ही रह जाओगे.बीएफ डीजे व्हिडिओ: मैंने देखा कि मेरे चूचों को देखते हुए उसका लंड तन गया है जो मुझे पैंट में साफ दिखाई दे रहा था.

उसने कहा- ओहो क्या बात है आज तो तारीफ पर तारीफ़ … और वो भी गजब अंदाज में … लगता है आज शायद शराफत बेच आए हो.तो दोस्तो, यह था मेरे जीवन का पहला सेक्स, मेरी पहली चुदाई की कहानी.

க்ஸ்க்ஸ்க்ஸ் வீடியோ தமிழ் - बीएफ डीजे व्हिडिओ

उसने बड़े स्टाईल से कोहनी को जमीन से टिकाते हुए और अपनी टांगों को फैलाकर, चूत के अन्दर उंगली डाली.मैंने सिगरेट का लम्बा कश खींचा और उसकी टांगों के बीच में बैठ कर उसकी चूत को किस किया.

वो पूछने लगी कि मैं आज दिन में फ्री हूँ क्या?तो मैंने हां बोला, तो वो बोली- यार दो महीने हो गए जयपुर आये हुए … मैंने अभी जयपुर ही नहीं देखा है. बीएफ डीजे व्हिडिओ थोड़ा आगे चलकर हमें एक झोपड़ी दिखी, तो हमने वहीं रुकने का विचार बनाया.

उसे देख कर मेरे मन में विचार आया कि आज से सुमन को अपने वश में रखूँगा.

बीएफ डीजे व्हिडिओ?

पुष्पिका- क्या मतलब है भाई आपका?मैं- पुष्पिका वो बिल्कुल तुम्हारी तरह ही सेक्सी थी. उसकी बड़ी बड़ी सुरमयी आंखें, खुले बाल, चाँद की रोशनी में चमकते उसके रसीले होंठ. वो जब भी मेरे पास आती थी मैं उसको टालने के लिए बहाने करने की कोशिश करता था लेकिन वो मान नहीं रही थी.

हालांकि इससे पहले मैंने उसे कई बार अपनी बाईक पे बिठाया था, लेकिन आज सब अलग सा था. अब मैं उनकी चुत चाटने लगा था और मैं एक बार पैन्ट में झड़ भी चुका था. इतने करीब कि मेरे और उसके होंठों के बीच शायद एक या दो सूत का फर्क होगा.

मैंने भी धक्के लगाने चालू कर दिए, तो वो चिल्लाने लगीं- आह … आउच … और जोर से और जोर से आह आह. हल्की ठंडी आरामदायक हवा बह रही थी, जो हमारे सेक्स की आग को और भड़का रही थी. उसके बावजूद भी अगर कोई गलती मिल जाए तो माफ़ कर देना।अब मैं कहानी पर आता हूँ। मेरी फैमिली में हम 4 लोग हैं। मम्मी-पापा, मैं और एक भाई।चूंकि कहानी मेरे बारे में ही है इसलिए मैं अपने शरीर के बारे में जरा विस्तार से आपको बताना चाहता हूँ.

जिससे मेरा वीर्य भाभी के हाथ पे ही छूटा और कुछ बूंदें नीचे गिर गईं. मगर मैंने प्रयास जारी रखा और धीरे-धीरे करके उसकी चूत में लंड को अंदर तक प्रवेश कराता रहा.

मैं उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके चुचों को चूमने लगा … जिससे वो भी मस्त हो गई और उसने आहहह निकाल कर अपनी चुदास जाहिर कर दी.

बस इतना सुनना था कि मेरे से चिपकते हुए बोली- ये आईडिया मुझे बहुत पसंद आया.

यह देख कर मैं समझ गया था कि ताऊ जी का गर्म वीर्य चाची के चूत में गिरने वाला है. फिर हमने खाने का सामान टेबल पे रखा और मैं फ्रिज से शैम्पेन की बोतल और दो गिलास ले आया. उसके बाद भी अंकल जी ने मुझे सहारा देकर कमरे में चार पांच चक्कर लगवाए, फिर मुझे कपड़े पहनाये और मेरी साइकिल बाहर निकाल दी और मैं चुपके से धीरे धीरे साइकिल चलाती अपने घर को निकल ली.

मैंने उसकी गांड के दोनों तबलों को ऊपर नीचे होते देखा, तो मैं अपने लंड को सहलाने लगा. कमर के ख़म के और नीचे हाथ ले जाने की बजाए मैंने पैंटी के इलास्टिक के साथ-साथ पेट के सेंटर की ओर हाथ बढ़ाया. मैंने जो हाथ से चूत को फैलाया, तो वह खुश होकर जीभ को चूत में घुसेड़ने लगा.

फिर उसके अन्दर ही मैं माल छोड़ देता था और फिर दोनों मियां बीवी करवट बदलकर सो जाते थे.

मुझे इसी सब से प्रेरणा मिली और अपनी ये अगली चुदाई की कहानी लिख पाया हूँ. मैंने शर्म से अपनी जांघों को भींच दिया था, पर उनका मर्दाना स्पर्श मुझे बहुत पसंद आ रहा था. अंकल ने अपने लंड को अम्मी के मम्मों के बीच में रखा और उनके मम्मों की चुदाई करने लगे.

मैंने चाची के मुंह पर हाथ रख दिया ताकि उनकी आवाज घर के बाहर न जा सके. फिर एक दिन मैंने उससे कहा- कल यानि हैप्पी न्यू ईयर को मुझे तुमसे ख़ुशी चाहिए. जब मैंने शादी में उस भाभी को देखा था तो मुझे वो ज्यादा खास नहीं लगी थी लेकिन उस दिन तो वो मस्त माल लग रही थी.

भोला बोला- देख साले, आज तुझे भी हिरोइन जैसी मस्त आइटम का मजा मिल रहा है.

मैंने अपनी बेटी मैंने सोफे पे लिटाया और जानबूझ कर पल्लू गिरा दिया ताकि मामला अब आर या पार हो ही जाए. मैं- आंटी, आपकी गांड के छल्ले को देखकर लग रहा है कि आपने शायद अपनी गांड की ठुकाई, चुदाई नहीं करवाई.

बीएफ डीजे व्हिडिओ जब मेरी सहेलियां अपने यारों के बारे में बातें करती थी तो मेरा भी मन करता था कि कोई मुझे अपने लंड से चोदे. तो दोस्तो यह थी मेरी कहानी, आपको पसंद आएगी या नहीं ये मैं नहीं जानता.

बीएफ डीजे व्हिडिओ मैं लगातार शॉट लगा रहा था और साथ में उन्हें सहला भी रहा था, कभी दूध पी रहा था. इसलिए मैंने अपने लंड पर तेल लगा लिया ताकि मेरा 9 इंच का लंड आराम से उसकी चूत में जा सके.

इसके बाद ताऊ जी चाची की जांघों के बीच में बैठ गए और अपने लंड को एक हाथ से पकड़ कर चाची की चूत से लगा दिया.

सेक्सी एचडी मूवी बीएफ

उसकी भी चीख निकल गयी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने पूछा- दर्द क्यों?तो वो बोली- बाबू साल भर बाद चुद रही हूँ … पति तो छूता भी नहीं है. गर्मियों के दिन थे और मेरा पूरा परिवार किसी शादी में गांव गया हुआ था. मेरी बात पूरी होने पर मैंने दीदी को बोला, तो दीदी ने सर हिलाकर इशारा किया.

सपना की पैंटी को थोड़ा साइड में किया और अपना कड़क लंड उसकी चूत पर सैट कर दिया. उसने मुझसे कोई बात नहीं की और गाली देकर सीधी मुझे बेड पर लेटा दिया. मुझे घर पर सवाल समझ नहीं आ रहे थे, तो मैंने देखा कि अमित की नोटबुक पर उसका नंबर लिखा था.

लण्ड अब मेरे कंट्रोल में नहीं था। वो झुक कर अपनी चूत में साबुन लगाने में मस्त थी। मैं चुपके से अंदर घुस गया। साथ में पाजामा और अंडरवियर भी उतार लिए। वो तो झुकी हुई थी और पीछे से मैंने अपना लण्ड उनकी उभरी गांड पर टिका दिया।वो अचानक से हुई मेरी इस हरकत से घबरा गई और मेरी तरफ घूमी.

अब आगे:नम्रता ने अपने हाथों को खिड़की से टिकाकर अपने जिस्म का वजन टिका दिया. अब ताऊ जी ने लंड को चाची के चूत के छेद पर रख के जोर से कमर को झटका दे मारा. उसे खड़े रहने में प्रॉब्लम हो रही थी लेकिन मैंने उसके दोनों हाथों को बाइक की सीट पर रख दिया जिसे वो खड़ी भी रहे और मेरे झटके से संभल सके.

एक दिन मेरा बहुत मन कर रहा था कि मैं किसी के लंड को पकड़ कर अपने हाथ में लूं. ट्रक की बात सुनकर मैं थोड़ा डर गया, क्योंकि मैंने कभी ट्रक में सफर नहीं किया था. मैंने पूछा- क्या देख रहे हो?उसने कुछ जवाब नहीं दिया और बस हवस भरी नजरों से मेरी तरफ देखता रहा.

” (मास्टर को तुम या तो सिसकारियां” लेते हुए पसन्द हो या तो बिल्कुल चुपचाप)उसने बोला- सॉरी मास्टर. आपने कल जोर से चोद दी।उस दिन भाभी ने अपनी चूत नहीं चुदवाई।मगर दिन में अब भाभी मेरे मोटे और लम्बे लंड से ही चूत को चुदवाने लगी.

लंड को चूत में समाने के बाद मैं उस पर उछलने लगी और उसके लंड से चुदाई का मजा लेने लगी. वैसे मेरी सहेली ने कई बार मुझे नंगी फिल्में दिखाई थीं इसलिए मुझे ये सब करने के बारे में पहले से पता था. चाची के नहाकर आने के बाद, मैं बाथरूम में जाकर उनकी ब्रा और पैंटी सूंघता था.

उसकी टांगें फैलाईं और अपने लिंग महाराज को उसकी चूत की गुलाबी फ़ांकों पर रख कर एक धक्का मारा.

जब मैं खुद अच्छा खासा कमा लेता हूं, तो दूसरों के भरोसे अपनी मस्ती खराब करने का मुझे कोई शौक नहीं है. उसने मुझे अपना सामान गाड़ी से उतरने के लिए रिक्वेस्ट की जिसे मैंने भी तुरंत मान लिया. मैंने रश्मि को 69 में ले लिया और उसकी पेंटी को एक बाजू करके चुत को चाटने लगा.

फिर मेरे लिंग महाराज को अपने मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह चूसने लग गयी. वह मेरी चूत को तेजी के साथ पेलने लगा और फच-फच की आवाज पूरे कमरे में सुनाई देने लगी.

अगली चुदाई कहानी तक के लिए नमस्कार, प्लीज़ कमेंट करके मेरा उत्साहवर्धन ज़रूर करना. वो एक छोटी से जालीदार फ्रॉक जैसी बेबीडॉल नाइटी में बहुत ही कामुक और हॉट लग रही थीं. उसने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ा तो मेरे मुंह से सिसकारी निकल गई.

काजल अग्रवाल बीएफ वीडियो

ऐसा कहते कहते उन्होंने एक शॉट लगाया और अपना सुपारा मेरी मां की टाइट चूत में डाल दिया.

मैंने अपने कांच में से उसको देखा और अपनी साड़ी का पल्लू नीचे गिर लिया और तौलिए से अपने बूब्स के ऊपर का भाग पौंछने लग गई. फिर हम दोनों ने बातें करनी शुरू की, तो उसने फिर से वही सब बताया कि वो जोधपुर में जॉब करके टाइम पास करती है. जब बॉस वापस आये तो मैंने देखा कि बाक़ी सभी लोग तो जा चुके हैं मगर वो अफ्रीकन आदमी नहीं गया था.

नम्रता ने बताया कि उधर टेबल पर रखी है … और उधर से मेरा मोबाइल लेते आना. उसने मेरी चुत और गांड चाटी थी इसलिए उसका लंड चूसने में मुझे कोई गंदी बात नहीं लगी. करीना कपूर खान की सेक्सी वीडियोमैं उनको आवाज लगाने को हुई, उसी समय मुझे उनके बेडरूम से ‘अउम्म … अहह … ‘ की आवाजें आ रही थीं.

मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि केवल 15 मिनट में एक चलते टैंपू में एक चूत का जुगाड़ हो जाएगा. दोनों छेद की मुलायम दीवारों के बीच मेरा लंड घर्षण की रगड़ से पस्त होने लगा था और किसी समय भी अपनी हार मान सकता था.

रास्ते में ही मैंने उसे फोन करके सब बता दिया और वह मेरे पहुंचने से पहले ही दरवाजा खुला छोड़ बाहर चला गया था. बैंक अधिकारी कंप्यूटर में देखते हुए- हाँ सर, आपका लोन पूरा पे हो गया है. प्रिया- तुम क्या करते हो?मै- बताया तो था कि पढ़ाई।प्रिया- मैं भूल गई थी। तुम्हारी गर्लफ्रैंड है?मैं- नहीं!प्रिया- क्यों? काफी हैंडसम हो, फिर भी एक भी नहीं है हो ही नहीं सकता।मैं- सचमें नहीं है.

उसके लंड पर मेरी चूत का खून लगा था। उसका वीर्य बहुत गर्म था। एक के बाद एक धार उसके वीर्य की मेरे पेट पर गिर रही थी।सारा माल लंड से टपकने के बाद वह उठा और मेरे माथे पर एक किस करके बाथरूम में चला गया जो मेरे बेडरूम में ही था. जब हम दोनों एक साथ झड़ने को हुए, तो उसने बोला- मैं भी आ रही हूँ … मेरा भी होने वाला है. सुबह से ही आसमान में काली घटाओं का आना-जाना लगा हुआ था और तेज़ हवाओं के कारण धूप-छाँव की आँख-मिचौली जारी थी.

मैं बोला- और जो कल दोपहर में आया था वो?मामी बोलीं- वो मेरे सहेली मनीषा के पति का दोस्त है अमित.

अगले ही पल मन में यह भी आता कि यह तो मेरा अपना ही दोस्त है और दोस्तों के बीच में ना कोई पर्दा होता है ना कोई संकोच. उसका लंड नमकीन सा पदार्थ छोड़ रहा था जिसका स्वाद मेरे मुंह में मुझे महसूस हो रहा था.

मैं तुम्हारा लंड लेने के लिए मरी जा रही हूँ।मैंने भाभी की चूत पर दो-तीन बार लंड को ऊपर नीचे किया तो मुझे तो जैसे स्वर्ग का सा मजा मिला. मैंने उससे यूं ही पूछ लिया कि आजकल तुम मुझे व्हाट्सैप पर रिप्लाय नहीं देती हो. रात को ही मैंने सपना से फोन पर बात की और उससे कहा- कल तुम जॉब पे मत जाना, मुझे तुमसे कुछ काम है.

वो पूरे घर के दरवाजे लॉक कर आई और अपनी कमर पर हाथ रख कर बोली- बताओ अब क्या पीना है … और कैसे पीना है?उसकी ये अदा देख कर मैं एकदम से विस्मृत रह गया. भाबी जी ने भी मेरे खड़े लंड पर मज़े से जंपिंग करना शुरू कर दिया, जिससे मुझे परम आनन्द की प्राप्ति होने लगी. मन में बहुत उथल-पुथल हो रही थी, क्या करूँ अभी चली जाऊं? या फिर उनके बुलाने का इंतजार करूं? किसी ने देख लिया तो?.

बीएफ डीजे व्हिडिओ सीमा वाल पकड़ कर प्रैक्टिस कर रही थी पर उसके पैर सीधे नहीं हो पा रहे थे. कौसर बेगम की पूरी चूत पानी से लबालब थी। अब्बू ने मेरी बीवी कौसर को जांघें चौड़ी करने को कहा.

बीएफ वीडियो सेक्सी देहाती हिंदी

बोली- जानू जोर से … मैं झड़ने वाली हूँ!इतना कहकर वह मुझे पागलों की तरह चूमने लगी. अब और बर्दाश्त नहीं हो रहा था, मैं उसको नीचे देखने गया तो दोनों बहनें आपस में बात कर रही थी. मेरे कंप्यूटर बिज़नेस में बहुत घाटा हो चला था, मेरे ऊपर दो लाख रुपये का कर्ज चढ़ गया था। मासिक किस्त भी भर पाना मुश्किल हो गया था।तभी रीना ने मुझे सुझाव दिया कि वो अगर कहीं कुछ महीने नौकरी कर लेगी तो मुझे मदद मिल जाएगी.

रात को आठ बजे के करीब वो खाना लेकर मेरे रूम में आई और मुझे गुस्से भरी नजरों से देखने लगी. ओह्ह! अच्छा अब क्या होगा पवन?”पवन बोला- तो अभी गाड़ी को गेरेज ले जाना पड़ेगा. హిందీ బిఎఫ్ కావాలిवो आंखों में आंसू लाकर बोलीं- मुझे तुम पर पहले से ज़्यादा भरोसा हो गया है.

उसके बाद तो मैं रात दिन भाभी को चोदने के सपने देखने लगा। मैंने आज तक किसी लड़की को नहीं चोदा था लेकिन चुदाई की कला से भली-भांति परिचित था। मैंने इंग्लिश की बहुत सी गंदी वीडियो फिल्म देख रखी थी और हिन्दी व इंग्लिश के कई गन्दे नॉवल भी पढ़े थे। मैं अब उन्हीं कल्पनाओं के सहारे भाभी को नंगी करने के बारे में सोचने लगा.

मैं क्या मतलब निकालूंगा तुमसे! क्या तुम अपनी जवानी को यूं ही बेकार करना चाहती हो? अगर तुम मुझसे नाराज हो तो सॉरी. ”तुत्ते … ??? क्या मतलब??? तुत्ते क्या होता है?” मुझे लगा शायद वो डिल्डो (लिंग के आकार का एकसेक्स टॉय) की बात कर रही होगी।फिर भी मैं अनजान बनते हुए हैरानी से उसकी ओर देखता रहा।ओहो … आप भी … ना … … वो तुत्ता नहीं होता???” उसने आश्चर्य से मेरी ओर देखा जैसे मैं कोई विलुप्त होने के कगार पर पहुंची प्रजाति का कोई जीव हूँ.

मैंने उसकी जांघों को दोनों हाथों से पकड़ कर दोनों तरफ फैला दिया और उसकी चूत पर लंड को लगाकर पहले हल्का धक्का दिया तो टोपा घुस गया. उसकी मुँह चुदाई शुरू की और मैं अपना सब माल उसके मुँह में उड़ेलने लगा, जिसको नम्रता गटक गयी और मेरे रस की एक-एक बूंद को उसने चाटकर साफ कर दी. साहिल ने उसको पहली बार देखा था तो साहिल की नजर उस पर से हट नहीं रही थी.

राहुल ने अब नीचे झुककर संगीता को माथे पर किस किया और उसके मम्मों को निप्पल्स के चारों ओर उंगली घुमाते हुए मसाज देना शुरू किया.

मुझे पता था कि रात को चुदाई करवाने के बाद मुझे बॉडी मसाज की भी जरूरत पड़ेगी. अब तो उल्टा मेरे घर जाने का समय हो गया था लेकिन घर जाने की हिम्मत नहीं हो रही थी. वसुन्धरा के शरीर पर बहुत सारे कपड़े (साड़ी, पेटीकोट और पैंटी) थे और मेरे सिर्फ एक (जॉकी).

सीमा की सेक्सी चुदाई’ उसने हल्का सा कसमसाकर दोनों हाथों से अपनी चुत को छुपाते हुए कहा।मगर अब मैं कहां रुकने वाला था, मैंने अपने दोनों हाथों से उसके हाथों को पकड़कर चुत पर से हटा दिया. पिछले हफ्ते आपने जी तनख्वाह दी थी, वो तो सब खर्च हो गयी, बची हुई की वो दारू पी गया.

लड़की का सील तोड़ने वाला बीएफ

ब्रा और पैंटी पहनने के बाद मैंने एक गुलाबी रंग की ही पारदर्शी नाइटी भी पहन ली. मगर जिसने भी लंड मुंह में देकर चुसवाया है वो जान पाएगा कि मुझे उस वक्त कैसा लग रहा होगा. संजीव मेरे नीले चमकीले ब्लाउज में से दिख रही मेरी चूचियों की दरारों को घूर रहा था.

उसके बाद श्वेता मैडम बोलीं- संजू हमारा एक दूसरे पे बहुत प्यार और भरोसा है. अब तो वो मुझे देख कर घूंघट भी नहीं करती थी, बल्कि मेरी तरफ गुस्से से देखती थी. तब तक सब लोग सो जाते थे, लेकिन मुझे मोबाइल चलाने की वजह से मैं जगा रहता था.

भाबी- फर्स्ट टाइम कब हुआ था?मैं- फर्स्ट टाइम … वो जब मैं एग्जाम देने एमपी गया था, तब वहां हुआ था. जैसे ही मैं कार से उतरा तत्काल ही वसुन्धरा सीढ़ियों से नीचे उतर कर बिल्कुल मेरे पास आ गयी. सीमा भाबी की शादी को 5 साल हो गए थे, उनकी एक 4 साल की छोटी लड़की भी थी.

मैंने अंजान बनते हुए पूछा- मतलब भाबी?भाबी- अब लंड दिखा रहा है या वहीं आकर निक्कर के ऊपर से पकडूं इसे?मैं भाबी के बेड के करीब आ गया. उसने कहा- जीजा, जल्दी से पेल दो अपना लंड मेरी चुत में … मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

कभी हाथ कभी मुंह से होते होते वो समय आ आ गया कि मैंने उससे मुंह खोलने को कहा और कहा- जब तक मैं न रोकूं, तुम चूसती रहना और जो जीवन अमृत निकले गटकती जाना.

हम दोनों एक साथ कितनी जगहों पर अकेले गए और आज भी हम दोनों एक ही बिस्तर पर लेटे हैं. बिहार की भाभी की सेक्सीइतने रसीले होंठ थे कि देखते ही उनको चूमने और चूसने का दिल करने लगा था. भाभी सेक्सी देवरइतना सुनने के बाद मधु रोने लगी, तो मैंने उसके करीब जाकर उसे अपनी बांहों में भर लिया और उसे अपने सीने से चिपका लिया. अब मैंने उसको लंड चूसने का बोला, तो उसने पहले तो मना कर दिया लेकिन मेरे जोर देने पर वो मान गयी और धीरे धीरे लंड को सहला कर किस करने लगी.

मैंने अब ध्यान से देखना शुरू किया, तो भाभी ब्लैक कलर की साड़ी में सेक्स बॉम्ब लग रही थीं.

मैंने उसे बोला- अदिति मेरी जिन्दगी की कुछ सच्चाई है, जिसे मैंने तुम्हें अभी तक बताया नहीं है. मुझे अब भी वो नजारा याद आता है, तो दोस्तों मेरा लंड अपने आप गीला हो जाता है. फिर बोली- सुनिये!मैं- हां बोलो क्या बात है?बीवी- तुम्हारे बिना वहां मन नहीं लग रहा था.

हम दोनों के ही दिल कह रहे थे कि समय ठहर जाए, पर वो मानने वाला नहीं था. मैं जैसे जैसे दीदी के स्तन को सहलाए जा रहा था, वैसे वैसे दीदी ज़ोर ज़ोर से सिसकारियां ले रही थीं. इधर किधर?”आपको आप की मंज़िल तक पहुँचाना नहीं क्या?” मैंने थोड़ा हंस कर कहा, हालांकि ठण्ड से मेरी कुल्फी जमे जा रही थी.

कुत्ते वाले बीएफ

वो साइड में हुआ, फिर मैंने अपने हाथ से मेरे पैर में जो पायल थी, वो निकाल के उसके शॉर्ट के पॉकेट में रख दी. इससे कोमल और जोर के साथ ‘आआह्हह्ह आऔऊऊ आआऊऊ नाआअ औऊऊ ऊओहहह आआह्हह …’ की आवाज के साथ चिल्लाने लगी. वैसे भी सीमा भाबी का फिगर नताशा भाबी जितना सेक्सी तो नहीं था, जिसे देख कर मेरा लंड भी सलामी दे दे.

मैं- तो फिर आप मुझे एक मौका दो ना भाभी आपकी सेवा करने का? अगर आपकी प्यास ठंडी न कर दी तो मेरा नाम बदल देना.

एक दो बार रजिस्ट्रेशन के नाम पर उन्होंने कुछ रूपये भी लिए, लेकिन कुछ नहीं हुआ.

उसके मुँह से थूक बह कर मेरे लंड को सराबोर कर रहा था, पर वो उसी थूक को ले कर दोनों हाथों से मेरे लंड की मसाज कर रही थी. मैंने हैरानी से पूछा- यहां क्यों आई हो?तो बोली- मुझे किचन में कुतिया बनाकर चोदो. माधुरी दीक्षित का सेक्सीमगर सुमिना मेरी बहन थी इसलिए उसके बारे में अपने मन में ऐसे ख्याल लेकर आने की इजाजत मेरा ज़मीर मुझे कतई नहीं दे रहा था.

मैंने उससे मजाक करते हुए कहा कि तो फिर आ जाओ, मुझे मूवी में कम्पनी दे दो. हम दोनों ने अपनी अपनी आंखें बंद कर ली थीं … और एक दूसरे के जिस्म की गर्मी को महसूस करने लगे थे. पहले मैं उनकी तरफ ज्यादा देखती भी नहीं थी, पर अब उसने नजर मिलाना और उनका मेरे बदन को निहारना, मुझे अच्छा लगने लगा था.

उसने मुझे बताया कि वो भी मुझे पसन्द करती है, पर डर लगता है कि उसके मम्मी पापा को पता चल जाएगा, तो वो उसे बहुत पीटेंगे. मैंने निहारिका के होंठों को अपने होंठों में ले लिया और उनको चूसने लगी.

अक्षिता मेरे इस प्यार से पागल होती जा रही थी।मैंने अपनी उंगलियों से उसकी फ़ांकों को फैलाया.

सबसे पहले मैं आप सभी का धन्यवाद करना चाहूँगा कि आपने मेरी पिछली सच्ची कहानीचचेरी भाबी के बाद किरायेदार भाबी चोदीको बहुत पसंद किया. मैंने उसका नाड़ा खोल दिया और उसकी चुत को पैंटी के ऊपर से ही सहलाने लगा. एक दिन सुबह-सुबह मैंने देखा कि मेरी पड़ोसन भाभी एक गाउन पहने हुए अपने घर के बरामदे में खड़ी हुई थी.

తెలంగాణ సెక్స్ తెలంగాణ సెక్స్ मैं सोच रहा था कि अब क्या करने आ रही है भाभी? मैंने फिर से न्यूज़पेपर को चेहरे के सामने कर लिया और टांगों को फैला कर चौड़ी कर लिया. मगर साथ ही इस बात की खुशी भी थी कि मैं कमल के लंड तक पहुंचने में कामयाब हो गया था.

बात शुरू करने के लिए पढ़ाई की बात करना ही सबसे बेहतर तरीका होता है क्योंकि इससे सामने वाला मना भी नहीं कर पाता है. शावर लेने के बाद मैंने अलमारी से एक गुलाबी रंग की ब्रा और पैंटी निकाली. इस चुदाई से हम दोनों काफी थक गए थे, तो मैं उसके ऊपर ही गिर गया और हम दोनों को कब नींद आ गयी, पता ही नहीं चला.

बीएफ हिंदी भाषा में चुदाई

चुदाई की कहानी का अगला भाग:मौसी की लड़की को पटा के चोदा-2लेखक के आग्रह पर इमेल आईडी नहीं दी जा रही है. उनके करवट लेने से मेरी गांड फट के हाथ में आ गई और मैं हड़बड़ाहट से बाहर निकलने की कोशिश करने लगा, जिससे दरवाजे के पास टेबल पर रखा ग्लास गिर गया. मेरे सामने उसकी चूत में लंड डालने के अलावा कोई रास्ता नहीं था, सो मैंने भी अपने आपको उसकी तरफ पुश किया ताकि लंड आसानी से अन्दर चला जाए.

उन सभी में से एक के अलावा मेरी कोई इतनी क्लोज़ नहीं थी, वो फ्रेंड शादीशुदा थी. ऐसी हल्की फुल्की बातें चलती रहीं।तभी राजेश बोला- 2-3 दिन छुट्टी है, कहीं घूमने चलते हैं।कहाँ?”मनाली!”नहीं, बहुत सर्दी होगी.

थोड़ी देर बाद उसने संगीता की बांहें ऊपर उठा कर उसके नीचे हाथ डाल कर बाँहों की एक्सरसाइज शुरू की.

अब मेरी चूत मस्त बज रही थी और फच फच फचाफाच फचाफाच आवाजें निकाल रही थी. इसलिए देवर रुक रहे थे, पर मैंने कह दिया कि आज शाम को ही उनके भैया यानि मेरे शौहर आने वाले हैं, इसलिए मैं अकेली नहीं रहूँगी, वो रहेंगे साथ में. मैं बताना भूल गया कि उसने उस दिन नीली रंग की लैगी और लाल टी-शर्ट पहनी थी.

उन्होंने मेरा सिर अपने सीने पे ले लिया और मुझे समझाने लगीं कि देख तू नज़रें गिरा मत. मैं बस उसके साथ आज सेक्स करना ही चाहता था किसी भी हालत में। पुष्पिका ने मेरा हाथ छुड़ाने की कोशिश की तो मैं कुर्सी से उठा और अपने हाथों से उसके गालों को पकड़ लिया. सोनम मेरी बीवी से पांच साल छोटी यानि बाइस साल की बहुत ही खूबसूरत बहुत ही सेक्स से भरी मलिका है.

विक्की ने मेरी चूत को अच्छी तरह से गीला कर दिया और अपना लंड डाल दिया.

बीएफ डीजे व्हिडिओ: इस वजह से मां को हल्का सा दर्द होने लगा और वो मादक आवाज में सिसकारी भरने लगी. मेरे मुंह से स्स्स… आह्ह … ओह्ह … संजीव … उम्म्ह… अहह… हय… याह… की आवाजें निकल रही थीं.

संचालक ने जुगाड़ करके मेरे ठहरने का इंतजाम पास के ही एक होटल में कर दिया था. मैं उसके चूचे देखता हुआ उसके सर की तरफ पड़ी सोफे की कुर्सी पर बैठ गया. इसके बाद खाना खत्म हुआ और फिर रात 10 बजे अंकल अपने घर चले गए, अब मैं और अम्मी टीवी देखने लगे थे.

मैंने उसे एक दिन हाथ हिला कर हाय का इशारा किया, तो वो गुस्से से देखने लगी.

उनके मेरे लंड पर बैठते ही मेरा 6 इंच का लंड उनकी चुत को फाड़ता हुआ पूरा का पूरा भाबी की चुत में फंस गया, जिससे भाबी को थोड़ा दर्द होना शुरू हो गया. मुझे इस बात का डर भी सता रहा था कि कहीं उसने मेरे बारे में अपने घर वालों को बता न दिया हो. जब वो शांत हुई तो मैंने उसे समझाया- पहली बार में दर्द होता ही है, अब मज़ा आयेगा.